बीएफ सेक्सी भेजिए तो

छवि स्रोत,नंगी पिक्चर का वीडियो बताइए

तस्वीर का शीर्षक ,

चंद्रमुखी सेक्सी वीडियो: बीएफ सेक्सी भेजिए तो, मैंने पूछा- दीदी टाइम क्या हुआ?वो बोली- रात हो गयी, खाना खा और फिर से सो जा!मैंने खाना खाया और फिर से लेट गया.

गैलरी सेक्सी वीडियो

पूरी रात तुझे चोदूंगा,मैंने अपनी नाइटी हटा दी और उसके सामने चुत खोल दी. chudai फोटोमैंने बोला- बस थोड़ी देर और!ये कह कर मैंने उसकी सलवार का नाड़ा थोड़ा ढीला किया और अपना हाथ अन्दर डाल दिया.

अपनी चूत, अपने बूब्स, अपने होंठ अपना कौमार्य वो सब कुछ मुझे सौंप चुकी थी. अमेरिका एक्स एक्स एक्सजब मैंने भाभी की चुत में उंगली की, तो भाभी की चुत ऐसी लगी जैसे किसी आग की भट्टी में उंगली डाल दी हो.

मैंने कहा- आया को सब मालूम है, इसका क्या मतलब है भाभी?भाभी ने हल्की सी स्माइल देते हुए कहा- वो ही मेरी सहारा है.बीएफ सेक्सी भेजिए तो: बुआ का नंगा बदन मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मैं कोई पोर्न वीडियो में किसी पोर्न ऐक्ट्रेस को नंगी देख रहा हूँ.

मौसा जी ने उनसे पूछा तो उन्होंने बताया कि उनकी तबीयत ठीक नहीं है और शायद वो नहीं जा पाएंगी।लेकिन उन्होंने सबसे जाने को कहा.उनको मैंने अपनी बांहों में भर लिया और बोली- अगली बार जब सनी दिल्ली आएगा तो मैं आपके सामने चुदूँगी और आप छुप कर देखना.

सेक्सी ब्लू पिक्चर्स - बीएफ सेक्सी भेजिए तो

हम दोनों ही नंगे थे तो उठते ही मैंने भाभी की चुत में एक बार फिर से लंड पेल दिया और धकापेल चुदाई शुरू हो गई.उसका क्या मिलेगा?ये सुनकर तो वह बहुत ज्यादा खुश हो गया और बोला कि फिर तो बहुत अच्छी कमाई होगी.

मैंने दोपहर के वक्त क्षिति से काफी रोमांटिक बातचीत की और कहा- सही समय का इंतजार करो, हम मिलेंगे. बीएफ सेक्सी भेजिए तो मेरा नाम आकाश (नाम बदला हुआ) है, मैं दिल्ली का रहने वाला हूं और मेरी उम्र 21 साल है.

अब आगे बुर फाड़ चुदाई की कहानी:मीना- उई मांआआ आह मर गईई … मार डाला आशु तूने … आंह निकाल बाहर … नहीं करना मुझे … आंह निकाल जल्दी से.

बीएफ सेक्सी भेजिए तो?

अब चाची केवल लाल कलर की ब्रा और ब्लैक कलर की चड्डी में मेरे सामने थीं. वो वासना से बोली- विजय मेरी जान … आज तुमने मुझे सच में एक औरत होने का अहसास दिया है. उसमें भी लंबे समय तक अगर आपका इंटरकोर्स होता है, तो आपको अगले दिन की सूजन व जलन से बचने के लिए सम्बन्धित दवा ले लेनी चाहिए.

उस लड़के ने अन्दर जाते ही सीधा दीदी को बिस्तर से बांध दिया और शिल्पा दीदी भी उसका साथ दे रही थीं. इसमें कोई शक नहीं कि मंजू को आज जो मिलने वाला था वो दर्द भरा अहसास होगा. चिराग मुझसे बोला- अभी तो सारी दवाई और तेल मेरे बक्से में बंद हैं, तुम रात में आओगी … तो मैं खोज कर रखूंगा.

दीदी मुझे हर एक बात बता देती थीं कि जीजू किस तरह से उन्हें चोदते हैं. अन्तर्वासना की सेक्स कहानी और पोर्न फिल्म देखकर मुझे सेक्स करने के बारे में काफी ज्ञान हासिल हो चुका था. हम दोनों भाई बहन नंगे ही साथ में नहाए, फिर हमने कपड़े पहने और कमरे पर आ गए.

मोहिनी शनिवार को मायके चली गयी, मैंने शर्माजी को फोन किया कि मैं घर में अकेला हूं और अगर उनके पास समय हो तो वो आ जाएं। हम पीकर मजा करेंगे।वो मान गए और मेरे घर आ पहुंचे।थोड़ी पीने के बाद सेक्स की बात होने लगी. अब मैं बोला- क्यों भोसड़ी वाली साली ऐसे रंडी बनेगी … भैन की लौड़ी चिल्ला चिल्ला कर रो रही थी … क्या हुआ तेरी दम निकल गयी बहन की लौड़ी साली कुतिया रांड छिनाल.

भाभी भी मेरी जीभ की लार को पीती हुई मुझे अपनी जीभ का रस पिलाने लगीं.

पर मैं एक हिंट दे सकता हूं कुछ करके!मैंने अपना लंड दीदी की गांड में हल्का सा दबा दिया.

विकास धक्के देते हुए बोला- साली छिनाल … आज तेरी चुत को फाड़ ही दूंगा … भैन कि लौड़ी बहुत चुदती है न लोगों से … ले हरामन लंड खा. मैंने पूछा- हां वही तो पूछा कि कैसे करती हो!फिर उसने बताया कि वो डिल्डो को अपनी चुत में आगे पीछे करती है और इसी से संतुष्ट हो जाती है. नीचे एक लड़का मेरी चिकनी चूत पर जीभ फिराए जा रहा था … बीच बीच में वो मेरी चुत की पंखुड़ियों को चूसता, हौले से काटता … तो कभी ठिठनी को जोर जोर से चूसने लगता था.

‘फ़च … फ़च … फ़च … फ़च … सटासट सटासट …’इन आवाजों के साथ मेरा लंड तेज़ी से चूत में समा रहा था. उसका बदन कांपने लगा था तो वो फुसफुसाती हुई आवाज में बोली- आशु, कोई आ जाएगा!मैं बोला- ऐसे ही खड़ी रहो वरना हम पकड़े जाएंगे और आऊट हो जाएंगे. ऋतु बोली- ये सब देखो क्या हाल बना दिया तुमने मेरा?वो उसे बेड शीट को दिखाने लगी.

लेकिन हमें फिर से आवाज सुनाई देने लगी तो मैंने वह आवाज ध्यान से सुनी.

आजा मेरे बेटीचोद अब्बू मेरी बुर में अपना मूसल ठोक दे और मेरी बुर का भोसड़ा बना दे. जब मैं नीचे गया, तो वो भी अपने रूम में हल्का सा दरवाजा लगाए सो रही थीं. वो मेरे खड़े लंड को देख कर बोली- अभी ही चोदेगा क्या … चल पहले नीचे सब इंतज़ार कर रहे हैं.

अब हम दोनों ने अपने अपने लंड इक्शाना के मुँह के पास रख दिए जिन्हें इक्शाना बारी बारी से चूसने लगी. अगर जीजा कहीं बाहर जाने वाले होते हैं तो मैं उसके घर चला जाता हूँ और खूब चुदाई करता हूँ. फिर मैंने चुत में लंड लगाने की सोची और अपने लोअर से लंड बाहर निकाला और उनकी गांड पर रगड़ने लगा.

कुछ देर बाद वो उठीं और उन्होंने अपने दोनों हाथ मेरे सीने पर हाथ रख लिए.

उन्होंने मेरे मम्मों के बीच में अपने फौलादी लंड को रखा और हाथों से मम्मे दबा कर मेरी बूब फकिंग करने लगे. भाभी एक बार किसी को देख कर बस जरा सा मुस्कुरा दें तो इस बात की गारंटी थी कि उसका पानी तुरंत निकल जाएगा.

बीएफ सेक्सी भेजिए तो मुझे और चुदवाने का हिम्मत नहीं थी तो मैंने उसका लंड पकड़ लिया और मुठियाने लगा. जल्दी से मैंने उससे ब्रा मांगी और उसे पहनने लगा, पर मुझसे उसका पीछे का हुक बंद नहीं हो पा रहा था तो मैंने मीना की मदद से हुक को लगाया.

बीएफ सेक्सी भेजिए तो अब तो मुझे घर से बुलावा आ चुका था और मुझे जाना भी था, तो मैंने सोचा कि उस लड़के की तरफ़ नहीं देखूंगी. यह मेरा ही आईडिया था क्योंकि इसकी वजह से मैं आराम से उनके बूब्स देख सकता था.

न ही शैंकी के झटके रुके और न ही मेरे मुँह से ‘अअह …’ निकलना बंद हो पाया.

सेक्सी वीडियो दिव्या

हर धक्के के साथ भाभी की चीख निकल रही थी और मेरा लौड़ा सीधा उनकी बच्चेदानी से जाकर टकरा रहा था. [emailprotected]भाई बहन टीनेज़ सेक्स कहानी का अगला भाग:भाई ने दिया प्यारा बर्थडे गिफ्ट- 2. मंजू अपने हाथ देखती हुई बोली- ये क्या था?मुझे- क्या पता?मंजू- क्यों नहीं पता, तुम्हारे में से निकला है … तुमको तो पता होगा.

थोड़ी देर के बाद आंटी मेरे लंड के ऊपर बैठ गईं लेकिन मैंने अपना लंड आंटी की चूत से बाहर निकाला और आंटी को अपने सीने से लगा लिया. मीना ने अकबका कर मुँह हटा लिया- क्या करता है आशु … पूरा मुँह में घुसाएगा क्या!मैं- अरे मैंने जानबूझ कर थोड़े किया, वो तो अपने आप मेरे चूतड़ उछल गए. अब आगे लड़की का पहला सेक्स दर्द भरा:तभी मैंने देखा कि मीना दरवाज़े की ओट से हम दोनों को देख रही है.

चाचा अपना हाथ मम्मी के सलवार के अन्दर डालना चाहते थे तो उन्होंने मम्मी को इशारा किया.

बस तू कुछ गज़ब की माल है तो मैंने बोला था कि सबको तेरी चूत दिखा दूंगा. उईईई मां मार गयी … आह ओह … उफ़!” जोर जोर से चीखते हुए अपनी चूत मेरे मुंह पर रगड़ने लगी. मोना भाभी थकी हुई आवाज में बोलीं- आंह राज … आज जो तुमने मुझे मज़ा दिया है, इसके लिए मैं कबसे इंतज़ार कर रही थी.

कुछ ही देर में पापा का पूरा लंड उस लड़के की गांड में अन्दर तक जा चुका था. वो वासना से बोली- विजय मेरी जान … आज तुमने मुझे सच में एक औरत होने का अहसास दिया है. इसी बीच मेरे दिमाग में ख्याल घूम रहा था कि हमारे बीच कल रात जो हुआ था, वो मेरे लिए जन्नत से कम नहीं था.

भाई बेहन Xxx कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने जवान भाई को अपनी सहेली और एक कामवाली से बचाकर अपनी चूत चुदाई का रास्ता साफ़ किया. पर वहां जो भी मिलता … वो या तो बहुत दूर का होता … या फिर टाइम पास करने वाला होता.

दूसरे दिन मैंने बुआ की कुंवारी गांड भी खोली, वो सब कैसे हुआ, मैं अगली अपनी सेक्स कहानी में आपको लिखूँगा. मामी की मादक आवाज निकलने लगी- ऊम्म्म अम्मह!इन आवाजों को सुनकर मेरे जीभ ने चुत के छेद से गांड के छेद तक की नाली को चाटना चालू कर दिया. मैं अपने जाने की तैयारी कर रहा था तो रेणु ने साथ आने की ज़िद पकड़ ली.

मैंने बोला- हां बोल ना!उसने कहा- यार, मैं तुम्हें बहुत ज़्यादा पसंद करता हूँ और मैं बहुत दिनों से बोलने की कोशिश कर रहा था लेकिन बोल नहीं पा रहा था.

फिर तो उस अधकचरी सेक्स की किताबों का ज्ञान काम आया और मैं उसको गर्दन और यहां वहां चूमने लगा. पन्द्रह दिन बाद लॉकडाउन में जरा ढील मिलते ही मैं वापस अपने घर चला गया. साफिया बोली- हाँ मामूजान … मैं आपकी प्यारी भांजी हूँ , रंडी हूँ … आज से मैं आपकी रखैल हूं। आप मुझे जितना चोदना चाहते हैं चोदिए … मैं आपको कभी मना नहीं करूंगी। चाहे मुझे रंडी बना दीजिए.

दोनों की पहली चुदाई संपन्न हो चुकी थी, मामा भानजी दोनों शांत हो चुके थे।थोड़ी देर बाद मामा अपनी भांजी के नंगे जिस्म से अलग हुआ और उसकी आंखों में देखने लगा. वो मेरे घर पर अक्सर आया करते हैं और उनको लेकर मुझे शक तो पहले से ही था.

अगर आपने अच्छे से सेक्स किया है तो दो बार में ही आपके साथी और आपके औजार सूज जाते हैं. साथ ही उसने मेरे सर को पकड़ कर चूचियों में दबा लिया और जोर से चीख पड़ी- अह्ह आशु मेरा कुछ निकल गया आंह ओह मांआआ … मुझे कुछ हो रहा है उई ईस्स!ये कहते हुए मीना ने मुझको जकड़ सा लिया और शिथिल सी पड़ गई. वो भी चुदाई की बहुत बड़ी लोलुप हैं इसलिए वो भी मेरे मोटे लंड से चुत चुदवाने के लिए खुद ही नंगी हो जाती हैं.

देसी चाची सेक्स वीडियो

अब मैं लेट गया और वो लंड पर बैठ कर अपना कमाल दिखाने लगीं- आह यही सुख तो तेरे जीजा जी नहीं दे पा रहे थे.

तभी दीपक फिर से कमरे में आ गया और कहने लगा- क्यों धीरज तू भी चोद रहा है क्या?धीरज- हम दोनों बात कर रहे हैं, तू जा सो जा. जॉन ने उसे अपने सीने से लगा कर एक लंबा स्मूच किया और दो मिनट तक नेहा के दोनों चूचों को सहलाया, चुप्पा लगाया. मेरी बीवी ने पूछा- मां, क्या हुआ?तो वो बोलीं- पैर में मोच आ गयी है.

पर अब मम्मी नहीं थी तो दीदी ने कहा– भाई, तुम मेरे बालों में तेल लगा दो!मैंने कहा– ठीक है दीदी, मैं आपके बालों में तेल लगाकर अच्छे से मालिश कर दूंगा!क्योंकि मुझे मालिश करनी बहुत अच्छे से आती है. राजेश अंकल मेरी मम्मी की चुत में लंड डाल कर उनकी ताबड़तोड़ चुदाई कर रहे थे. एक्स एक्स एक्स फोटोतो खंखार का मैंने उसका ध्यानाकर्षण अपनी तरफ कराया और इशारे से उसे ऊपर बुलाया।अंधा क्या चाहे… दो आंखेंवाली बात थी और वह फौरन दो-दो सीढ़ियां लपकते ऊपर आ गया.

वो मेरे होंठों और गर्दन को चूमने चाटने लगे, जिससे मैं पूरा जोश में आ गया. तो एक दिन मैंने बोला- यार हम दोनों बात करने से सिर्फ़ दिल को बहला पाते हैं.

सहलाते सहलाते मेरे हाथ उनके मम्मों पर पहुंच गए और मैं मामी के दोनों दूध दबाने लगा. जैसे चाचा मम्मी के सलवार में हाथ डालते थे, वैसे ही मेरा हाथ भी दीदी की सलवार पर चला गया. मैंने पहले भी कहा है कि लड़कियां खुद मौके दिलवाती हैं कि हम लड़के उसका फायदा उठा सकें.

मैंने अपना एक पैर भाभी के पैर पर रख दिया तो भाभी ने मेरी तरफ देखा और फिर से वीडियो देखने लगीं. मैं बेड से नीचे उतरा और उनके पलंग के नीचे से प्रेगनेंसी किट निकाल कर बोला- ये सब क्या है … पिताजी को मेरे हुए तो इतने साल हो चुके हैं, फिर इसकी क्या जरूरत है?फिर मैंने उस किताब को भी निकाला और पूछा- ये सब क्या है?वो सहम गईं और चुप हो गईं. पिछली सेक्स कहानी पर मुझे बहुत ही ज्यादा मेल्स आए और आप सबने मुझे बहुत ही ज्यादा प्रोत्साहित किया.

प्रदीप ने मेरा लंड देखा तो वो कहने लगा- भाई सच में तुम्हारा लंड तो काफी बड़ा है.

हालांकि अभी मुझे नहीं मालूम था कि भाभी मुझे दिखाने के लिए ही बाथरूम का दरवाजा खोल कर नहा रही हैं. अगर आप मुझे देखेंगे तो आपको मैं कुंवारा लड़का लगूंगा, लेकिन मैं चुत चुदाई का खेल इंटरस्टेट तक खेल चुका हूँ.

हमने उस दिन का रिटर्न टिकट रद्द कर दिया और एक हफ्ता बहाना बना कर वहीं रुक गए. मेरी एक कहानी इस साईट पर पहले भी आ चुकी हैदोस्त की प्रेमिका मुझसे चुद गयीआज मैं अपनी नयी सेक्स कहानी आपको बता रहा हूँ. मैंने थोड़ा घबराते हुए पूछा- तुम ठीक तो हो न … मुझे बताओ बात क्या है?उसने रोते हुए बताया- विनोद भैया ने सब कुछ देख लिया और रिकॉर्ड कर लिया.

सनी जोश में आ गया और उसने पूरा लंड निकालकर फिर से एक ही धक्के में चुत के अन्दर घुसा दिया. नमस्कार दोस्तो, आज जो सेक्स कहानी मैं आप लोगों को बताने जा रही हूं, वो दो साल पहले की है और ये मेरी सच्ची सेक्स कहानी है. अपनी चूत, अपने बूब्स, अपने होंठ अपना कौमार्य वो सब कुछ मुझे सौंप चुकी थी.

बीएफ सेक्सी भेजिए तो मैं जाने के लिए रेडी हो गई थी और मीना का इन्तजार कर रही थी कि वो आए और मेरा मेकअप कर दे. वो कभी प्रीति के स्तनों के साथ खेलने लगतीं, तो कभी प्रीति को किस करने लगतीं.

আরবি সেক্স

दीपक रोज रात को देर तक अपने लैपटॉप में लगा रहता और सुबह देर से उठता. इस समय भाभी मेरे सामने बैठी थीं, वो मुझे झुक झुक कर खाना परोस रही थीं. लेकिन यह हुआ कैसे?जब जवान डॉक्टर सविता भाभी के सेक्सी जिस्म का निरीक्षण करने लगा तो उसका लण्ड बेकाबू हो गया।तो क्या सविता भाभी ने डॉक्टर का मजा कराया या नहीं?ये जानने के लिए यह आवाज वाली वीडियो देखें.

अब्बू के दोस्त पैसे वाले हैं और अब्बू की पॉलिटिकल पावर है तो चार्ज भी कम ही लग रहा था. भाभी- तो फिर क्या चैक किया?मैं- भाभी आपके दूध सच में बहुत मुलायम हैं. मां बेटे का चुदाईमैंने अपनी लंड में ढेर सारा तेल लगा कर लड़के की गांड के मुहाने पर रख कर रगड़ना शुरू कर दिया.

राजेश ने मुझे देखा और वो मेरे पास आकर बोला- ठीक हो न!मैं बोला- गदहे का लंड लेने के बाद कौन ठीक रहेगा.

ये कह कर मीना ने मुझको फुसलाया और अपनी चूचियां मेरी पीठ पर दबा कर रगड़ दीं. उसने मुझसे कहा- रानी, मेरे सर में थोड़ा हाथ फिरा दो, मुझे नींद नहीं आ रही है.

उसने मुझे खुद की तरफ देखते हुए देखा, तो बोला- तुम भीग गयी हो, तो पहले कपड़े चेंज कर लो. मेरे ब्रेकअप को 6 महीने हो चुके थे। मैं अपने दुख दर्द से उबर चुकी थी।इधर रिंकी और मेरे भाई के बीच तनातनी चल रही थी, भाई रिंकी से नाराज थे।भाई ने 3 महीनों से मेरी सहेली की चुदाई नहीं की थी।इस बीच मैंने भैया को बहुत मनाया, रिंकी बहुत रोयी लेकिन वो नहीं माने!एक दिन मेरे भाई शेखर का चुदाई का मन हुआ तो उसने रिंकी से बात की. मैं उठा और भाभी के नीचे एक तकिया रख कर उन्हें चुदाई की पोजीशन में ले आया.

मैं होंठों में सिगरेट दबाए और कानों में हेड फोन लगा कर गाना सुन रहा था.

तब सनी को पता नहीं क्या सूझा और उसने मेरा हाथ पकड़ कर मेरे घर के मंदिर के सामने खड़ा कर दिया. भाभी कहने लगीं- अमित यदि तुम्हें कोई प्रॉब्लम न हो … तो तुम्हारे भैया जैसा प्यार मैं तुम्हें भी करना चाहती हूँ. यह सुनकर मैंने देर करना सही नहीं समझा और उनसे ‘आई लव यू’ बोलते हुए उनके होंठों को चूसने लगा.

police ब्लू फिल्ममैं बहुत डर गई थी कि ऐसे में यदि दीदी जाग गईं तो क्या होगा!जब दीदी ने आंख नहीं खोलीं तो जीजू फिर से शुरू हो गए. संजय- कैसी हो सीमा, दर्द तो नहीं हो रहा है?मैं- कौन हो तुम और मेरा नाम कैसे जानते हो?संजय- मेरा नाम संजय है और मैं तुम्हारे कॉलेज में ही पढ़ता हूँ.

आंटी सेक्स व्हिडीओ

भाभी ने मेरी आंखों में देखा, तो मैंने उन्हें कुतिया बन जाने का इशारा किया. समता मुस्कुरा दी और कहने लगी- प्लानिंग सिर्फ हम दोनों करेंगे?तब विकास ने कहा- जी … इससे कुछ सार्थक बात सामने आएंगी. कबीर- पूछ जॉन से … तेरी चूत ने मुझे कैसे एक ही बार में अपना दीवाना बना लिया.

कुछ ही मिनट में पहला वाला लड़का मेरी बहन को चोदने के बाद झड़ने हो गया और उसने बहन की चूत में ही अपना सारा माल गिरा दिया. हर धक्के पर उसकी गांड आगे की ओर जाती, जिससे उसकी चूत पूरी तरह से ऊपर उठ जाती मानो सनी को और ज्यादा चोदने के लिए उकसा रही हो. करीब दो मिनट के बाद मैं उनकी चुत में ही झड़ गया और मामी के ऊपर ही लेटा रहा.

मैंने कहा- मैं रोज आपको देखता हूं, आप किसी आफिस में काम करती हैं न!वो बोलीं- हां, मैं पास ही एक आफिस में काम करती हूं. सुमन 5 मिनट में झड़ गई लेकिन मैं बिना रुके पेलता रहा।20 मिनट पेलने के बाद मैं चूत में ही झड़ गया और सुमन के ऊपर लेट गया।दोपहर में हम दोनों नंगे लेटे हुए थे. उसे और मुझे पता था अगर उसके पापा उठ भी गए और बाथरूम की तरफ आ गए, तो आकांक्षा उनको खुद अन्दर होने की बता कर उन्हें दूसरे वाले बाथरूम में भेज देगी.

उस समय शादी में लाइट के लिए जनरेटर चलते थे इसलिए मुझे रोशनी देख कर बहुत अच्छा लग रहा था. मेरे इतना बोलते ही मौसी ने मेरे सर को पकड़ा और एक जोर का किस कर लिया.

इससे उस लड़के ने दूसरे हाथ से मेरी छाती के गोल कठोर उभारों को बारी बारी से मसलने शुरू कर दिए.

किस करते करते उनके एक हाथ ने मेरे कमर को पकड़ा हुआ था तो दूसरे ने मेरे दाहिने चूचे को।मैं आँखें बंद कर के मजे ले रही थी कि तभी भैया ने अपनी जीभ से मेरे चूत को चाटना और चूसना शुरू कर दिया।मेरे पूरे बदन में जैसे झुरझुरी सी दौड़ गयी। मैं अपने हाथ से भाई का सर अंदर दबाने लगी।मेरे लिए ये और भी उत्तेजक अहसास था, मुझे अपने चूत में मिली जुली नमी महसूस होने लगी. सेक्स के बाद खून बह रहा हैझड़ने के बाद लंड सिकुड़ कर बाहर आता गया और ऋतु उसका सारा वीर्य हलक में गटक गई. सक्सेस कोट्स इन हिंदी फिल्म वीडियोमेरी मम्मी सीधी होकर राजेश अंकल के गले से लग गईं और बोलीं- मेरा तो और मन कर रहा था … तू अभी से झड़ गया. उस उस दिन क्षिति ने गुलाबी लहंगा चुन्नी पहना हुआ था और पीछे से बाल भी खुले हुए थे.

शाम को अपने घर की चाभी, भाभी को देकर मैं दोस्तों के साथ घूमने निकल गया.

एक मिनट के बाद उसने मेरा हाथ छुड़ाया और बोली- हाथ धोकर अन्दर कमरे में आ जाओ. आप जब चाहें मुझे बुला सकती हैं, पर मैं अपनी सुविधा के अनुसार ही आऊंगा. मेरा नाइट फॉल हो जाता है, तब पर भी तुम मेरे अंडरवियर में गिरा माल साफ़ करके धो देती हो.

मेरे पिताजी के मरने से पहले भी उनका बहुत से मर्दों से चक्कर चलता था. वो किताबें और ब्रा पैंटी मेरे हाथ ना लगे, इसीलिए वो मेरे साथ ज़िद करके आई थी. इस सबके बीच मैंने लंड को गुलाबी चूत के छेद में सरका दिया और मेरे लंड का सुपारा जगह बनाते हुए अन्दर फंस गया.

नंगा सेक्सी ब्लू पिक्चर

एक चीज जो मैंने इतने सालों में नोट की कि लड़कियां जब पहली बार चुदाई करती हैं, तब वो साड़ी में भरपूर शृंगार करना पसंद करती हैं. आप में से कितने ही ऐसे लड़के और मर्द हैं, जो बोलते रहते हैं कि हमारी कहानी लिख दो. घनी काली झांटों के बीच कम से कम 8 इंच का खीरे सा मोटा लंड काले नाग की तरह फन उठाए हुए था.

मैंने बिना कुछ बोले अपने दोनों हाथों से उसके एक चूचे को पकड़ा और दबाने लगा.

सलीम अम्मी अम्मी अम्मी चिल्लाने लगा और झटकों की रफ्तार तेज होने लगी।सलीम नफीसा की चूचियों को दबाने लगा और जोर जोर से झटका लगाने लगा.

आज मैं अपने अब्बू और खाला की चुदाई की कहानी लेकर आया हूं, जो कि अभी हाल की ही घटना है. मामी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी जवान मामी को लंड चुसवाकर इतना गर्म कर दिया कि वो चूत में लंड घुसाने की जिद करने लगी. भारतीय एक्स एक्स एक्सजिस वक्त मैं उनके घर रूम देखने गया था शायद उस वक़्त उनके घर में कोई नहीं था.

मम्मी ने कहा- चल अन्दर हाथ सेंक ले … बहुत ठंड है और जल्दी से सो जा!मैं कहां टिक कर रहने वाला था. इस बार दीदी के होठों में अपने लंड के रस का भी टेस्ट आ रहा था जो मेरी कामोत्तेजना को बढ़ा रहा था. मैं कुछ देर बाद भाभी की चुत में लंड को तेजी से अन्दर बाहर करने लगा.

ऋतु ने जैसे ही लंड को देखा, उसकी गांड फट गई कि ये तो पहले से कितना मोटा और तगड़ा हो गया है. बस इसमें ये हुआ कि मेरी और भाभी के बीच सेक्सी बातें होनी शुरू हो गईं और वो अपने और अपने पति की बेमजा चुदाई की बातें बताने लगीं.

अब नीचे से वो चूत का भोसड़ा बनाने में लगे थे और पीछे से सन्नी मेरी गांड मारने में लगा था.

मैंने अब एक पल की भी देर न करते हुए भाभी की चिकनी चूत की दरार में लंड को घिसना शुरू कर दिया. मैंने नफीसा आंटी को बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी चूत में लन्ड घुसा दिया. मम्मी ने पहले शर्ट उतारा और फिर सलवार उतार कर मुझसे कहा- ये बाहर रख दे.

आइडियो गाना मैंने कहा- सॉरी दीदी अगर आपको बुरा लगा हो!तब दीदी हंसती हुई मेरे कान में बोली- नहीं जान, बुरा नहीं लगा!दीदी के मुंह से अपने लिए जान शब्द सुनकर मैं बहुत एक्साइटेड हो गया और अपना पजामा और अंडरवियर उतार कर फेंक दिया. मुझे पता है तुम और अधिक चाहती हो, लेकिन आज तुम इंचार्ज नहीं हो। आज की रात मेरी मर्जी चलेगी मैं जैसा बोलूंगा वैसा ही तुम्हें करना है।”जो आज्ञा मालिक जैसा आप चाहें.

फिर वो अपने लंड को हाथ में पकड़ कर मेरी चूत के मुँह पर रखने लगा, चुत की दरार में लंड फिराने लगा. एक तो दीदी ऊपर से नंगी भी थी और ऊपर से दीदी ने जोश जोश में मुझे स्मूच भी कर लिया. मैंने पूछा- किससे दोस्ती कराएगी?वो- मेरे पड़ोस की लड़की से … करेगा!मैंने हां कर दी.

एक्सएक्सन

फिर मैंने धीरे से उसके एक टांग को अपनी तरफ करके उठा सा लिया जिससे उसकी चुत में लंड डालने के लिए जगह बन गई. मैं टी-शर्ट के ऊपर से ही उसका एक बूब चूसने लगा और दूसरा वाला दबाने लगा. अब मैंने उनकी दोनों टांगें अपने दोनों कंधों पर रख उनकी चूत में अपना लम्बा मोटा लंड रख दिया.

नव्या अपनी सहेली के पास रुक गई और मैं हम दोनों के बैग लेकर ऊपर के कमरे में आ गया. जब मैं उधर गया तो नाना नानी 3 दिनों के लिए किसी शादी में गए हुए थे.

उसने मेरी चड्डी उतार दी तो मेरा लंड सीधा आसमान की ओर अपना मुँह किए खड़ा था.

मैंने उसका घूंघट उठाकर कहा- तुम तन मन से कितनी सुन्‍दर हो मोहिनी! तुम सच में मोहिनी हो।हम दोनों लेटकर आलिंगनबद्ध हो गये. दोस्तो, मैं बता नहीं सकता कि वो इस वक़्त क्या लग रही थी!कुछ पल के लिए मुझे लगा कि सच में ही मेरे सामने एक्ट्रेस रक्षंदा खान खड़ी है. वैसे तो मैं दीपिका को भी साथ ले जाती, पर उसके एग्जाम चल रहे हैं और एक पेपर बचा है.

ऋतु ने सनी की पैंट के साथ ही सनी का अंडरवियर भी निकाल कर अलग कर दिया. मैं पीछे से जाकर उनसे चिपक गया और कसकर हग करते हुए दोनों हाथ उनके पेट पर बांध लिए. आंटी ने घर के काम कर लिए थे तो मैंने आंटी से कहा- चलो चुदाई करते हैं.

अब्बू बोले- इसी लिए जोर से दबा रहा हूँ … जिससे तुझे दर्द हो मेरी रानी.

बीएफ सेक्सी भेजिए तो: अन्तर्वासना पर सेक्स स्टोरी पढ़ते हुए मुझे कमेंट में एक लड़की का कमेंट दिखा, जिसमें लिखा हुआ था. आज मैंने भी सोचा कि मैं अपने साथ घटित एक सेक्स कहानी आप लोगों के साथ साझा करूं.

सच में बड़ी मस्त आइटम थी वो … एकदम गोल गोल चुचियां थीं उसकी!मैं बहन के दूध दबाने और पीने लगा. भाभी को काफी दर्द हो रहा था तो वो कराहती हुई बोलीं- आह साले फाड़ दी मेरी गांड … तेरे भाई का इतना बड़ा नहीं है … उनका लंड बस 4 इंच का है. मुझे तीन पैग से पहले ही नशा हो चुका था और ऊपर से जॉन जैसे सुंदर तगड़े आदमी को देख कर मेरा मन मचलने लगा.

अब मैंने अपना पुराना काम छोड़ दिया है और एक प्राइवेट कंपनी में मैनेजर के तौर पर काम करता हूँ.

कहानी के पहले भागशादी की उम्र निकलने पर लड़की की सेक्स इच्छाhttps://www. और तभी बुआ की चूत से पानी निकलने लगा और मेरे लौड़े को गीला कर दिया. संजय- कैसी हो सीमा, दर्द तो नहीं हो रहा है?मैं- कौन हो तुम और मेरा नाम कैसे जानते हो?संजय- मेरा नाम संजय है और मैं तुम्हारे कॉलेज में ही पढ़ता हूँ.