फुल चुदाई बीएफ

छवि स्रोत,नंगी चुदाई ब्लू फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

2022 का बीएफ हिंदी: फुल चुदाई बीएफ, मेरे मुंह पर चूत को दबाते ही वो अकड़ने लगी और इधर मैं भी लंड को उसके मुंह में घुसेड़े हुए अकड़ने लगा.

ऑंटी सेक्स मराठी

तभी मैंने थोड़ा थूक लेकर उसकी गांड में डाल दिया और थोड़ा लन्ड पर लगा दिया और टोपे को उसकी गांड के छेद पर रख दिया। वो भी जैसे पूरी कमर कस चुकी थी मेरे लंड से अपनी गांड चुदाई का उद्घाटन करवाने के लिए. एक्स एक्स वीडियो चलने वालाउसके मेहंदी लगे हाथों को अपने हाथों में लेकर चूमते हुए मैं बोला- नसरीन … मेरी जान.

मैंने पूरी लगन और उत्तेजना की हद पार की और उंगली से उसकी चुत की गर्मी का मजा लेने लगा. इंग्लिश सेक्सी वीडियो नंगीउसने मुझे सोफे पर बिठाया और खुद अपनी चूत को लंड पर सैट करके सोफे को पकड़ कर बैठ गई और ऊपर नीचे होने लगी.

मैं राहुल पटेल, मैं आपको अपनी पहली सेक्स कहानी सुनाने जा रहा हूं जो बिल्कुल सच्ची कहानी है कि कैसे मैंने अपने मामा की जवान बेटी की चुदाई की।सबसे पहले लंड के राजाओं और चूत की रानियों को मेरा सप्रेम नमस्कार.फुल चुदाई बीएफ: मुझे अचानक कमरे में आया देखकर हनी सकपका गई और जल्दी से लैपटॉप बंद करना चाहा.

दो या तीन दिन बाद मुझे रात की ड्रिंक के लिए पैसे की जरूरत थी, तो मैंने इधर उधर कोशिश की.वो मेरी तरफ देख कर बोली- आज यहीं रूक जाओ न!मैंने कहा- घर पर क्या बोलूंगा?उसने कुछ सोचते हुए घर पर फोन कर देने का कहा.

দেশি বৌদি সেক্স ভিডিও - फुल चुदाई बीएफ

उधर लण्ड पर कुंवारी चूत के लगातार रगड़ों की वजह से करोना के छक्के छूटने लगे थे और उसकी साँसें भारी हो चली थी और वो झड़ने के करीब आती जा रही थी.मुस्कुराने की एक्टिंग करते हुए करोना धड़कते दिल के साथ बैठ गई और इधर उधर की बातें करने लगी.

क्या गज़ब के कूल्हे थे रीना के!बड़े बड़े फूले हुए चूतड़, थोड़ा बाहर की तरफ उठे हुए।औरत के गोरे और गदराए, रसभरे नितम्ब, नीचे चिकनी मोटी जाँघें केले के पेड़ के तने जैसी, पैंटी दोनों नितंबों की दरार में खो गयी थी. फुल चुदाई बीएफ अनिल कपूर व श्री देवी की फिल्म मिस्टर इंडिया दो दिन पहले ही रिलीज हुई थी, दो टिकट लिये और हॉल में जा बैठे.

लेकिन मैंने उसकी एक न सुनी और उसको टेबल पर फिर से झुका कर थोड़ा और जोर लगा अपना एक इंच लंड और अन्दर डाल दिया.

फुल चुदाई बीएफ?

मेरा मन उसके लंड को देखने का था मगर अँधेरा था और झिझक के कारण मैं लंड को देख न सकी. बहू की जीभ का स्पर्श मेरे लंड पर पड़ते ही मेरी आँखें बंद हो गयी और में सुख के सागर में थामैं बहू के बालों में हाथ फेर रहा था और वो मेरा लंड बड़े मज़े से चूस रही थी. फिर मैंने सोचा कि मामी को लंड कुछ इस तरह से दिखाऊं कि मामी को लगे गलती से लंड दिख गया.

आगे मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैं बिना शादी किए ही एक लड़की का बाप बन गया. मेरे लंड का गीला हो चुका सुपारा मैंने तनु की गर्म बुर के मुंह पर लगा दिया. उसने फिर मेरे अंडरवियर में हाथ दे दिया और मेरे लंड को हाथ में भर लिया.

मुझे लगा कि जैसे उसे पता हो चल गया था कि मैं उसे प्रपोज़ करने वाला हूँ. हम दोनों एक दूसरे को इतना अच्छे से जानते और समझते थे कि हम आँखों ही आँखों में इशारे समझ जाते थे. दूसरे वाले ने अपने सारे कपड़े उतारे और वो सीट पर सीधा होकर पीठ के बल लेट गया.

फिर मैंने आकांक्षा को बेड पर लेटाया और आकांक्षा के पैर उठा कर अपने कंधे पर रख लिए. भाभी की बातों से मालूम हुआ कि वो मुझे काफी पहले से पसंद करती थीं, मगर उन्होंने कभी अपने मुँह से कहा नहीं था.

मैंने चुदाई तो अभी तक की नहीं थी, इसलिए जैसा ब्लू फिल्मों में देखा था, वैसे ही उनको सोफे पर लेटा दिया और उनकी चूत को चाटने लगा.

साली वैसे भी नखरे ही तो कर रही थी। मैंने एकदम से उसके गालों को चूम लिया.

अब मैंने वहां रुकना ठीक नहीं समझा और मैं भी फ्रेश होकर वहां से निकल लिया. किस करते हुए उसने पैंटी को मेरे मुँह में डाल कर मुँह पर हाथ रख दिया. कुछ मिनट तक आराम से बहन को चोदा, फिर मैंने एकदम अपनी रफ्तार ज्यादा कर दी.

इस बार मेरी पढ़ाई पूरी हो चुकी थी इसलिए मैं गांव में काफी दिनों के लिए रुकने वाला था. तभी एक झटके के साथ मैंने अपना लन्ड उसके मुँह में ठूंस दिया और उसने अपनी चूत मेरे मुँह पर दबा दी. मैंने पूछा- अब चाचा आपकी बुर को नहीं पेलते क्या?वो बोली- तेरे चाचा तो रात के समय केवल चुदाई के टाइम पर आते हैं.

कुछ देर उसके होंठों को चूसने के बाद मैंने एक बार फिर से उसकी चूत पर लंड को सेट कर दिया.

इसीलिये इस तरह के प्रयोग करते समय आप रखें कि आप केवल प्राकृतिक हिना या मेंहदी का ही प्रयोग करें क्योंकि यौनांग बहुत ही संवेदनशील होते हैं. मेरी जांघें उसकी जांघों से टकराने से जोर जोर से थाप थाप की आवाज आ रही थी. तीन-चार मिनट में ही मेरे लंड में तनाव आ गया और एक बार फिर से मेरा लंड खड़ा हो गया.

उसके नाजुक और संगमरमरी बदन को चिन्ना देखकर दंग रह गया, उसे अपनी किस्मत पर रश्क होने लगा, उसकी लार टपकने लगी. मेरी चूत की सील टूट चुकी थी और उसके बेड पर उसका निशान भी लग चुका था. इससे बंटवारा भी नहीं करना होगा और सबका अहसान भी पूरा हो जायेगा।उसकी इस बात का समर्थन सभी हुस्न की मलिकाओं ने किया.

और वह वहां से चला गया।रात को रात बरात आने के बाद सौम्या ने मुझे फोन करके शादी में आने के लिए कहा.

मगर 1 घंटे बाद मेरे गेट खुलने की आवाज से मैं उठा और रूम की लाइट जलाई तो मेरी बहू मेरे टी शर्ट लोअर में खड़ी थी. यदि मैं उन्हें देख कर कुछ भी रिएक्ट करता, तो शायद मुझे ये लाइव फैशन शो देखना मिलना बंद हो जाता.

फुल चुदाई बीएफ वो बोली- वो कैसे?मैंने कहा- जब लड़के का लंड लड़की की चूत में घुस कर उसकी चूत को चोदता है तो वो औरत बनने लगती है. तो मैंने उसकी पेंटी के अन्दर अपना हाथ डाला और चूत के अंदर उंगली करने शुरू कर दी।मेरी उंगली उसके चूत के रस से पूरी तरह भीग गई थी.

फुल चुदाई बीएफ मैंने अपने हाथ और लंड दोनों की स्पीड बढ़ा दी … और हम दोनों एक साथ झड़ गए. बस फिर क्या था … मैं धीरे धीरे उसके दूध को सहलाने लगा और अपना पैर उसकी जांघ पर रगड़ने लगा.

दूसरे वाले वेटर ने मुझे कुछ देर तक चोदा और अपना सारा माल मेरे मुँह में झाड़ कर चला गया.

देसी सेक्सी वीडियो सेक्स वीडियो

फिर भाभी अंगड़ाई लेकर बोलीं- अच्छा जी … और क्या क्या अच्छा लगता है मुझमें. उसने अपनी जीभ मां की चूत के अंदर डाल दी थी और वह अपने एक हाथ से मां की चूत के दाने को मसल रहा था. मैं नया नया जवान हुआ था लेकिन इतना भी ठरकी नहीं बना था कि अपनी मामी की चूत के बारे में ही सोचने लगूं.

फिर मुझ से चुदवाने का कैसे सोच लिया? मन नहीं भरता क्या आपका इतना चुदने के बाद भी?”अरे चुदाई से भी किसी का मन भरता है क्या? शादी से पहले मेरे बहुत बॉयफ्रेंड थे. मगर मैं बहू के साथ और मज़ा करना चाहता था शायद बहू भी इस बात को जानती थी इसीलिए वो मुझे चिड़ा रही थी. मम्मी की चूत भी काफी गीली हो चुकी थी और धक्का मुक्की में मैं भी जल्दी ही डिस्चार्ज हो गया.

उसने मुझे रास्ते से पिक किया और बोला- कहां जाना है?मैंने कहा- जहां आपकी मर्ज़ी!फिर हम उसके दोस्त के घर गए जहां पहले से ही तैयारी पूरी हो चुकी थी.

मुझे इसमें कुछ अजीब नहीं लगा क्योंकि मैं काफी समय से ड्रिंक करती आ रही हूं. वह मना करने लगी, कहने लगी- हॉल में इतना कुछ अच्छा नहीं लगता, आसपास भी काफी लोग हैं।मैंने उससे कहा- आसपास जितने भी लोग हैं, सब पिक्चर देखने में व्यस्त हैं। किसी को आसपास से क्या लेना. मैंने धीरे से भाभी की बुर के छेद में लंड का सुपारा सैट करके धक्का लगा दिया.

उसने अपने कोमल हाथ में जैसे ही मेरा लंड पकड़ा, मेरा लंड फुंफकारता हुआ टाइट हो गया. मुझे लगता है कि वो कोई आयुर्वेदिक तेल था, जिसके कारण गर्म लग रहा था. मेरे घर के सामने एक मेरा बगीचा है और बगीचे के बाद रोड है रोड की दूसरी तरफ सौम्या का घर है।मैंने फोन काट कर उसके भाई को देखा तो वह गहरी नींद में सो रहा था.

दर्द के मारे करोना के आँखों से आंसू बह रहे थे और चिन्ना के मोटे काले टट्टे करोना की नाजुक गांड को जोर जोर से थपकाने लगे थे. टी टी ने कहा- क्यों, तू क्या करेगी इसका?मैंने मुस्कुराते हुए कहा- मैंने आप जैसा मर्द नहीं देखा है, मुझे भी याद रहेगा.

मुझे मेल करके जरूर बताएं, जल्द ही मैं अपनी चुत चुदाई की कहानी आपके लिए ले कर आऊंगी. कोई दस पंद्रह मिनट के बाद मेरे को अजीब सा फील होने लग गया और मेरा लंड भी खड़ा हो गया. करोना की चीखें रोकने के लिए एक हाथ करोना के मुँह पर रखा एक हाथ से करोना का एक निप्पल पकड़ा और आगे झुक कर मुँह में दूसरा निप्पल पकड़ कर चूस लिया.

हम दोनों 12वीं तक एक साथ पढ़े हैं तो हमारी पक्की दोस्ती थी, पारिवारिक सम्बन्ध थे.

सुहागरात की बात सुनकर मेरे अंदर भी शादी की पहली रात जैसा जोश भर गया जैसे. फिर उसने कपड़े पहने, हल्का मेकअप लगाया और बोली- भैया मैं कैसी लग रही हूँ. जिस चाची की चूत के बारे में सोच कर मैं मुठ मारा करता था, वह चूत आज मेरे लंड से चुदने के लिए तैयार थी.

वो भी कामुक आवाज निकाल कर मुझसे कह रही थी- आंह ऐसे ही … और जोर से अहह आह. फिर मैंने दोबारा से उसके मुंह के पास लंड को किया और उसने मेरे लंड को मुंह में ले लिया.

आकांक्षा अभी सिसक रही थी और कराहते हुए कह रही थी- आआईई ईईईई उफ़्फ़ अह हहह … उई मां मर गयी … प्लीज कुणाल तुम्हें मेरी कसम … इसे निकाल लो प्लीज. असली मर्द की ताकत आज नहीं दिखाई तो इसके सामने मैं अपना मुंह नहीं दिखा पाऊंगा. थोड़ा दर्द भी हो रहा था उसे क्योंकि मैं काफी जोर से उसके बूब्स दबा और मसल रहा था.

सेक्सी फिल्म लड़की सेक्सी

उसने भी बिना देरी किये मेरे लंड को अपने हाथ में थाम लिया और मेरे लंड को अपने हाथ से दबाने लगी.

आप कैसी हो?वो फिर से मुस्कुराते और मम्मे तानते हुए बोलीं- तुम बताओ कि मैं कैसी हूँ?उनकी ये बात सुनकर मुझे लगा कि शायद भाभी संग कोई बात बन सकती है … तो मैं जरा खुल कर बोला कि आप तो बहुत सुन्दर हो. थोड़ी देर में बहू बाहर आयी तो मेरी तो आँखें और लंड दोनों बाहर आने को होने लगे. ऐसा लग रहा था जैसे मेरे सामने कोई न्यूड फोटोशूट वाली मॉडल खड़ी हुई है.

भाभी इतना ही सुनते ही और मुझसे बोली- क्या तुम मेरे साथ यह सब कर सकते हो?मैंने कहा- तुम्हारे साथ क्या … मैं तो किसी के साथ भी कर लूंगा. … और जोर से … पूरा अन्दर तक आह … आह और चूसो ना आह खा जाओ मेरी चूत को … आह हा. भोजपुरी सेक्सी चूतअब मैं समझ गयी कि मुझे इससे चुदना होगा, जिसके लिए मुझे कोई दिक्कत नहीं थी.

चुदाई के बाद हम दोनों तेज तेज सांसें लेते हुए एक दूसरे से लिपटे पड़े थे. फिर उन्गोने मेरी चलित को अपनी ऊँगली और अंगूठे के बीच में लेकर मसला तो मेरी सिसकारी निकालने लगी और मेरे चूतड़ अपने आप ही ऊपर को उठाने लगे.

अब मेरे दोनों छेद में दो लंड घुस गए थे और मैं भी खूब उचक उचक कर चुदवा रही थी. फिर पता नहीं मामी के मन में क्या आया कि वो पूछ बैठी- तुमने अभी तक कोई गर्लफ्रेंड बनाई है या नहीं?मैंने कहा- नहीं मामी, मेरी तो कोई गर्लफ्रेंड नहीं है. मैंने सोच लिया था कि यदि अब मैंने लंड को बाहर निकाला तो ये दोबारा से लंड को अंदर नहीं जाने देगी इसलिए मैंने उसकी चूत में लंड को धीरे धीरे धकेलना जारी रखा.

रात में न सोने की वजह से सुबह लेट तक सो रहा था कि तभी अचानक किसी ने मेरी चादर खींची. फिर मैंने उनसे पूछा- क्या मैं आपसे इस नम्बर पर फोन लगा कर बात कर सकता हूँ?भाभी बोलीं- हां लगा लिया करो. मैं मैम की चूत चाटता रहा।और फिर मैं उठा, मैंने अपना अंडरवियर उतारा और उनसे कहा- अब आप मेरा लंड चूसो.

उन्होंने मुझे अपने घर पर ही बुलाया था इसलिए मैं अच्छे से तैयार होकर उनके घर पर चला गया.

जीवन में पहली बार मरदाना हाथों के सख्त मगर प्यार भरे स्पर्श से करोना के बदन में एक झुरझुरी सी दौड़ गई और एक अजीब से सनसनाहट होने लगी. हमारी मम्मी को मरे हुए तीन साल हो चुके थे और पापा रिटायर्ड हो चुके थे.

मैंने कहा- चल!फिर रूम में मैंने गेट लॉक किया और रानी को उठाके अपने रूम में ले गया उसे बैड पर लिटा दिया और खुद उसके पास बैठ गया. बहू बोली- कैसी लग रही हूँ डैडी जी?मैंने कहा- बहुत खूबसूरत लग रही हो बहू. अब जब भी हम बात करते, ऐसा लगता कि हम एक दूसरे को सालों से जानते हैं।पहले फोन पर नॉर्मली बातें होती थी.

जीजाजी 5 दिन नहीं आने वाले थे, इस वजह से उन 5 दिनों तक सुबह से शाम तक जब मन हुआ, मैंने नन्दिनी के साथ बहुत मजा किया मतलब सेक्स किया. जब चाची ने देखा कि मेरा लंड सो रहा है तो उन्होंने मेरे लंड को पहले से हाथ से सहलाया और फिर मुंह में लेकर उसको चूसने लगी. तो अगले दिन क्या हुआ?टेलर मास्टर से मेरी चूत और गांड की चुदाई कहानी के पहले भागलेडीज टेलर का लंड और मेरी चूत गांड-1में आपने पढ़ा कि मोहन नाम के टेलर ने मुझे अपनी दुकान में ही चोद दिया था और अगले दिन मेरे घर आकर मुझे लहंगे चोली की ट्रायल लेने की बात कही थी.

फुल चुदाई बीएफ तभी उसने अपने हाथ पीछे ले जाकर लहंगे में डाल दिए और मेरे चूतड़ पकड़ कर कहा- तेरे चूतड़ बड़े सालिड हैं. रास्ते में जाते हुए मैंने मेडिकल शॉप से एक कॉन्डम का पैकेट भी खरीद लिया.

मुस्लिम सेक्सी वीडियो इंग्लिश

आपकी अंजलि शाह[emailprotected]चूत चुदाई कहानी का अगला भाग:लेडीज टेलर का लंड और मेरी चूत गांड-2. अभी तक करोना की कुंवारी चूत चड्डी में छुप कर चोदू चिन्ना की हरकतों की वजह से आंसू बहा रही थी. दोस्तो, जिस चाची के बदन को मैं छुप-छुप कर देखा करता था, आज वो मेरे सामने पूरी नंगी लेटी हुई थी.

मुझे ऐसा लग रहा था आज का दिन पता नहीं कितना बड़ा हो गया है।6:00 बजे मैं कंपनी से निकला और रूम पर आया. उसके बाद हम लोगों ने साथ साथ लंच किया और जब मैं उसके घर से निकलने लगा, तो उसने मेरा मोबाइल नंबर अपने फोन में सेव कर लिया. তামিল বফঁमैंने बोला- तुम भी इसको चूसो न!आप सबको पता है मारवाड़ी महिलाएं ये काम कम पसंद करती हैं.

मेरी भाभी को बच्चा होने वाला है तो मुझे जाना पड़ेगा।कुछ देर बाद मीनू अपने वही बड़े गले वाली टीशर्ट पहन कर आ गयी और मेरे पास बैठ गयी.

जैसे ही मेरा लावा उसकी बुर में गिरा, वो भी कंपकंपाते हुए अपना यौवन रस निकालने लगी. मैंने सोचा पहले मामी का मन जान लिया जाए कि मामी के मन में क्या है, कहीं ऐसा न हो कि जल्दबाजी के चक्कर लेने के देने पड़ जाएं.

मम्मी दो बार पेशाब करने के लिए बाथरूम गईं और मैं बाथरूम में उनको पेशाब करने की कल्पना करके, उनकी चूत के बारे में सोचकर अपना लण्ड सहलाता रहा. मेरा लंड पूरी तरह खड़ा हो गया था और पैंट के अन्दर से फुंफकार मार रहा था. तो दीदी की चुदाई कैसे हुई?अब तक इस सेक्स कहानी के पहले भागकुंवारी दीदी की चुत चुदाई का मजा-1में आपने पढ़ा था कि मेरी दीदी मुझसे चुदने के लिए राजी हो गई थीं.

देखने में भी इतनी सुंदर हो, फिर तुम्हारे भी बहुत सारे बॉयफ्रेंड होने चाहिएं न?ये बोल कर मैंने उसको आंख मार दी.

उन्होंने मुझसे कहा- नहीं, मुझे तो तुम्हारी प्यारी सी चूत के अंदर ही करना है और मुझे मजा आने वाला है. हमें तेज नींद आ रही थी, लेकिन मेरा एग्जाम 10 बजे से था … मानवी का एग्जाम दो बजे से था. तो आवाज लगा कर मैंने कहा- दीदी, स्नेहा के कमर में दर्द हो रहा है इसके बाम लगा दो.

ब्लू फिल्में नई नईतभी मेरी नज़र एक टेबल पर गयी, जहां 6-7 लड़कियां बैठी हुई थीं और वे सब शायद किसी का बर्थडे सेलीब्रेट कर रही थीं. थोड़ी देर में सैम ने केक की क्रीम मेरी चूत पर लगाई और फिर से चुत चाटने लगा.

साउथ के सेक्सी व्हिडीओ

मुझे अच्छा तो लग रहा था लेकिन वो इस तरह से मेरी नंगी चूत को घूर रहे थे कि मुझे शर्म आने लगी. तुम इतना रिएक्ट क्यों कर रहे हो?पवन- वो … म् … म … म … मैं … व … वो!मैं- तुम कह क्यों नहीं देते कि तुम भी मुझे चोदना चाहते हो … ऐसे चुप रहने से क्या होगा?पवन- न … न … नहीं … अ … आप गलत समझ रही हैं. इससे उसकी हल्की से चीख निकल गई और उसने मेरे सर को जोर से पकड़ कर अपनी चूत पर दबा दिया और सर को चुत पर रगड़ने लगी.

मैं- वो दीदी …दीदी- राज फोन दे …अब मैं पूरी तरह से डर गया और क्या करूं, मेरी कुछ समझ में नहीं आ रहा था. बढ़ती खुमारी की वजह से करोना अब जानबूझकर यह क्रिया दोहराकर अपने टॉप मैं कैद अपनी चूचियों की घुण्डियां और जोर से चिन्ना की छाती के बालों से रगड़ने लगी. आखिअर मैंने अपने कूल्हे ऊपर को उचकाये तो उनके लंड का सुपारा मेरी चूत के छेद में फंस गया.

मैंने उसे कसकर पकड़ लिया और उसके गुलाबी होंठों पर अपने होंठ रगड़ने लगा. मैंने तुरंत तनु को अपने पास खींचा और उसके मुंह में लंड को डाल दिया. बहू बोली- रात में 2 बार महनत भी तो करवाई है मैंने … इसीलिए!फिर मैं और बहू दोनों हंसने लगे.

कल्पना ने देखा कि मेरे कंडोम से बहुत सारा वीर्य बह कर वहीं बेड पर गिर रहा है. मेरी मामी ने मेरे सामने ही एक साइड से ब्लाउज के ऊपर करके अपनी चूची बाहर निकाली और अपने बेटे को दूध पिलाने लगी.

तभी बहू बोली- वैसे रानी सारा काम कर गयी?मैंने कहा- हाँ वो तो आधे घंटे पहले ही चली गयी थी.

रानी की आँखें बंद थी और हल्की सी प्यार भरी आवाज ‘आह’ उसके मुँह से निकली. विदेशी चुदाई वीडियोकुछ समय बाद वह दिन भी आ गया और रात भी … मैंने सब तैयारियां कर ली थी, बस मुझे वहां जाना था. हॉट एक्स एक्स एक्स सेक्सीमैंने अपनी उंगली बाहर निकालते हुए उसे अपने मुंह में ले जाकर धीरे से चूसा. चुदाई के लिए और क्या चाहिए?मम्मी अपने कमरे में चली गईं और मैं चुदाई का तान बाना बुनने लगा.

मैंने जो पैर में चोट लगने का नाटक किया था, तो उसने मुझसे कहा- चलो मैं तुम्हें छोड़ देती हूं, जहां जाना है वहां ले चलती हूँ.

मेरी भाभी को बच्चा होने वाला है तो मुझे जाना पड़ेगा।कुछ देर बाद मीनू अपने वही बड़े गले वाली टीशर्ट पहन कर आ गयी और मेरे पास बैठ गयी. मैंने एक बार लंड को हाथ से पकड़ कर सही जगह सेट किया और फिर उसके ऊपर लेट कर एक झटका दे दिया. खाना खाते समय उसने मुझे आखिर पूछ ही लिया- तुम मुझे बाथरूम में क्यों देख रहे थे?मैंने बोल दिया- बस ऐसे ही.

फिर उसने मेरे सामने ही पेशाब की, तो उसकी बुर से अन्दर का माल बाहर आने लगा, जिसमें खून भी निकल रहा था. मैं मम्मी के कमरे में पहुंचा तो मम्मी पेटीकोट, ब्लाउज पहने हुए ड्रेसिंग टेबल के सामने अपने बाल संवार रही थीं. निधि भी मेरे चूतड़ों को पकड़ कर अपनी तरफ खींचने लगी और मेरा पूरा लन्ड उसकी चूत में समा गया।अब मैं निधि की चूत को धीरे धीरे धक्के लगा कर चोदने लगा.

बंगाली सेक्सी वीडियो गाने

सारिका की कमर को कसकर पकड़ा और लण्ड को सारिका की गांड में ठोंक दिया. अपनी मम्मी की चूची चूसते चूसते मैंने अपना लण्ड मम्मी की चूत में धकेला तो धीरे धीरे पूरा लण्ड मम्मी की चूत में समा गया. भाभी ने मुझे एक प्यार से थप्पड़ मारा और कहा- तुझे ज्यादा शौक है ना गंदा सेक्स करने का … और कुत्ता बनने का … आज मेरे हस्बैंड भी घर पर नहीं है … चल आज मैं तुझे असली मजा दूंगी, जैसा तू चाहता है.

तभी अपने पति को छोड़ दिया मैंने।फिर कुछ देर हमारी बात चली और मैंने उसके जांघ पर हाथ रख दिया.

मम्मी की चूत के लबों को खोलकर अपने लण्ड का सुपाड़ा मम्मी के चूत के मुखद्वार पर सेट करके मैं आगे की ओर झुका और मम्मी की दाहिनी चूची अपने दोनों हाथों से पकड़कर चूसने लगा.

मैं धीरे धीरे उसके करीब गया और उसको अपनी बांहों में भर लिया … क्योंकि अब मुझसे सब्र नहीं हो रहा था. मैंने उसकी चुत पर काट लिया, उसने बहुत जोर से आवाज की और कहा- मेरी जान निकालना चाहते हो जान!मैं- नहीं निशु … तुम्हारे लिए जान देना चाहता हूँ. इंडियन xnxxमैं यह जानता था कि किले का फाटक बहुत मज़बूत है, उससे ध्वस्त कर किले में प्रवेश करना आसान नहीं है.

मेरी खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा, जब नसरीन ने अपनी बांहों से मेरी पीठ को जकड़ लिया. मैं देरी ना करते हुए उसके कपड़े उतारने लगा और उसके दूध बाहर निकाल कर चूसने लगा. अब शादी के बाद अगर दो बच्चे हो जाएं तो एक औरत की चुदाई की भूख क्या शांत हो जाती है?नहीं ना?लेकिन ये बात मेरे पति को कौन समझाए.

तभी उसने अपने हाथ पीछे ले जाकर लहंगे में डाल दिए और मेरे चूतड़ पकड़ कर कहा- तेरे चूतड़ बड़े सालिड हैं. उसका हमारे यहां आना जाना हमारे बचपन से था और वो उम्र में मुझसे दो साल बड़ी भी है.

रानी मुझे बार बार मना कर रही थी मगर जब मैं उसका हाथ सहला रहा था तो वो कुछ नहीं बोल रही थी.

निधि के आने से पहले ही चली जाए!तभी अचानक निधि भी छत पर आ गयी और उस लड़की को देखकर तुरन्त वहाँ से जाने लगी। मैंने उसे आवाज देकर रोकने की कोशिश की. अब वो मेरे मुँह में अपनी पूरी जुबान डाल रही थीं और मैं भी उनकी जीभ को चूसे जा रहा था. अभी विशु ने मां के दोनों बूब्स के बीच में अपना लंड रख दिया और अपना लंड मां के बूब्स के बीच में लंड को घिसने लगा.

एक्स एक्स एक्स स्कूल गर्ल और तभी उन्होंने मुझसे कहा- मैं इस बार तुम्हारी चूत में ही झड़ने वाला हूं. मैंने उसका एक बूब पकड़ा और दूसरे हाथ से उसके बाल पकड़ कर जोर जोर से चोदने लगा.

वो मुझे बोल रही थी- आंह बड़ा पेन हो रहा है … प्लीज़ अज्जू मत करो … बहुत दर्द हो रहा है. उसको प्यार से समझाते हुए कहा- कोई बात नहीं, आज के लिये इतना ही बहुत है. जिन्होंने मेरी पहली कहानी नहीं पढ़ी है उनकी जानकारी के लिए बता देता हूं कि हरप्रीत एक बहुत ही खूबसूरत औरत है.

हिंदी सेक्सी वीडियो करिश्मा कपूर

नीलम के होठों पर अपने होंठ रखते हुए मैंने अपना हाथ नीलम की चूत पर रख दिया. लेकिन जब मैंने उन्हें देखा कि वे तो मेरी नंगी चूत से खेलने में ही लगे हुए हैं तो मैंने अलसी और कामुकता भारी आवाजा में कहा- अब ऊपर भी आ जाओ ना. मजे में सिसकारते हुए उसने कहा- आह्ह … चोद दो यार आज … अब तक ये चूत कुंवारी थी और मैं भी कुंवारी थी.

मैंने कहा- अगर तुम्हें भी दीदी की तरह मजा लेना है तो इस बारे में किसी को कुछ मत बताना. इसके बाद वो फिर से मेरे पीछे आया और मेरी गांड में फिर से लंड पेल दिया.

वो दर्द से चीखते हुए बोली- आंह जीजू … बड़ा दर्द हो रहा है … लंड जल्दी से बाहर निकालो … उई मां बहुत दर्द हो रहा है.

मैं कॉलेज में आगे पीछे दोनों तरफ से लंड ले चुकी थी, इसलिए मुझे चुत गांड मरवाने में कोई दिक्कत नहीं थी. मेरी इन्सेस्ट सेक्स स्टोरीपसंद आपको आई या नहीं? मुझे मेल करके बताइयेगा. उसने मुझे सोफे पर बिठाया और खुद अपनी चूत को लंड पर सैट करके सोफे को पकड़ कर बैठ गई और ऊपर नीचे होने लगी.

फिर तो मुझे बहन की चूत चुदाई करने का शायद ही मौका मिल पाएगा।तो मेरे प्रिय दोस्तो, आपको मेरी ममेरी बहन की पहली चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी? प्लीज़ मुझे मेल करके बताइएगा और कमेंट्स भी लिखिएगा. सामने दीवार पर 43 इंच का एलईडी लगा हुआ था … जिसमें ‘मेरी आशिकी तुमसे ही. कुछ देर बाद बहू मेरे नीचे आ गयी और मैं उसके ऊपर! बहू ने मेरा लंड अपनी चूत में डाल लिया.

जब तक वो बियर लायी, तब तक मैं जल्दी से ब्रा पैंटी और हाई हील्स और साथ में स्टॉकिंग ले आया, जो आते समय मैंने उसे बिना बताए कार में और फिर अन्दर रख लिए थे.

फुल चुदाई बीएफ: मैंने एक बार फिर से श्वेता की बुर व गांड का मुआयना किया और थोड़ा सहला भी दिया. मैंने धीरे से एक उंगली को चुत के अन्दर डाल दिया और अन्दर की दीवारों को रगड़ा.

अब तो वैसे भी वो चुदने के लिए मेरे नीचे मेरे कमरे में आ ही गई है तो मना नहीं कर पाएगी।उल्टा होकर वो लेटी ही थी, गांड लंड के सामने थी तो मैं उसके ऊपर लेट गया। अपने लंड को उसकी गांड पर स्पर्श करने लगा। मैंने उसकी गांड पर और अपने लंड पर अच्छे से थूक लगाया और अपना लंड उसकी गांड के छेद पर टिका दिया. उन्होंने अपनी उंगली मेरी चूत की दरार पर फिराई तो मेरा पूरा बदन झनझना गया. मैंने कहा- मामी आपके दूध इतने बड़े कैसे हो गये?वो बोली- मुझे भी नहीं पता.

मैंने मम्मी को बांहों में भरकर चूमते हुए कहा- रेनू, मेरी जान, मेरे बच्चे की मम्मी, आई लव यू.

वो भी नीचे से अपने कूल्हे उछाल कर चुदाई में साथ दे रही थी और पूरा मजा ले रही थी. जाते जाते मैंने भाभी को एक ज़ोर सा चुम्बन दिया और उनसे विदा लेकर वहां से निकल गया. एक होटल में मैंने ऑनलाइन बुकिंग की, मैंने सिंगल कमरे में दो अलग अलग बेड वाला बुक कर लिया.