मासूम बीएफ

छवि स्रोत,कुंवारी लड़की की सेक्सी हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

bhabhi काम: मासूम बीएफ, तो उसने मुझसे कहा कि क्या अब कोई कहानी नहीं लिख रहे हैं?मैंने कहा कि अपनी एक जोरदार कहानी की तलाश कर रहा हूँ.

सेक्सी डॉट कॉम सेक्सी फोटो

हम दोनों पसीने से लथपथ होने लगे थे, मगर कोई भी एक दूसरे से हार मारने को तैयार न था. फर्स्ट टाइम सेक्सी वीडियो इंडियनउसका शर्ट जो मेरे हाथ में था, उसे लौटाते हुए बोला- नहीं, गान्ड में तो नहीं लूँगा… मुंह में जितनी चुदाई करनी है कर लो… मैंने गान्ड का बोला ही नहीं था.

मेरे पति मर्चेंट नेवी में काम करते हैं और वो साल में 6 महीने शिप पर रहते हैं… और 6 महीने घर पर रहते हैं. डीएफ सेक्सीउससे बोलना कि तुम उसी के साथ रहोगी ताकि तुम्हें वो यह ना समझे कि तुम उसको छोड़ कर चली गई हो.

मैं उसको फोन करने ही वाला था कि रीटा का खुद फोन आ गया, वो मुझसे चुदने के लिए कहने लगी.मासूम बीएफ: मैंने आंटी की चूत से लंड निकाल लिया और उनको नीचे किस करते हुए उनकी चुत पर आ कर चुत चाटने लगा.

तो मैंने भी आवेश में उनकी एक चूची को दबा दिया हालाँकि दीदी के मुँह से एक ‘आह…’ की आवाज निकली, पर मैं डर के मारे दौड़ कर अपने रूम में छिप गया.इसके बाद हम दोनों उसके स्टडी बेड पर ही एक दूसरे से मजाक में झगड़ने लगे.

सेक्सी गाना बिहारी - मासूम बीएफ

मैं फिर से गरम हो गई और अब मुझे रहा ही नहीं जा रहा था अब अन्दर डालो जल्दी से… उम्म्म…”उसने मुझे पलंग के किनारे पर लिटाया और लंड को चुत के अन्दर डाल कर मुझे चोदने लगा.जल्दी ही आर्थर का लंड टनटनाने लगा और आकार में दुगना तीन गुना हो गया! अब वो मेरी परी के नन्हे से मुख में नहीं समा रहा था और ब्लॉन्ड रसियन बार्बी डॉल उसे अपने दाहिने हाथ में पकड़े हुए उसके छतरी जैसे चौड़े-मांसल टोपे को अपनी सुन्दर, गुलाबी जीभ को बाहर निकाल कर चाटने लगी थी.

”पिंकी ने मौका देख कर कहा- सर आप भी न, पहले आप प्यार से दीदी के अंगूर को चूमिए, उनके आमों को सहलाइए. मासूम बीएफ दरअसल मेरी मम्मी ने मौसी को अपने तरीके से समझा दिया था और अब सोनिया मेरे घर पर ही रहने लगी थी.

थोड़ी देर बाद उन्होंने उठकर अपने सारे कपड़े निकाल दिए मैंने उनके लंड को फिर से मुंह में ले लिया उसको खूब चूसा, चूमा.

मासूम बीएफ?

आर्थर का लंड अब तक फिर लोहालाट हो गया था और अब नताशा को उसे अपने हाथ से सहारा देने की जरूरत नहीं रह गई थी, आर्थर अब अपने चूतड़ चलाता हुआ मेरी प्राणप्यारी पत्नी के मुंह में पचर-पचर की आवाज के साथ अपना गधे जैसा लंड घुसेड़ रहा था और इसलिए नताशा ने अपने हाथ से एरिक के सिर को अपनी चूत से सटा दिया और उससे अपनी चूत को और गहरे तक चाटने की अपेक्षा करने लगी. अब उसने मुझे झटके से पलट दिया जिससे मेरी गान्ड उसके लंड की तरफ हो गयी और बोला- अब होगी इस गान्ड की चुदाई!मैं फ़ौरन उसकी तरफ़ मुड़ा और मैंने फ़ौरन बाथरूम का गेट खोल दिया और बोला- भाई! मैं गान्ड में नहीं लूँगा लंड… मैंने चूसने की ही बात की थी… तुम्हारे इस लौकी जैसे लंड से मुझे अपनी गान्ड नहीं फड़वानी है… और मैं वैसे भी गान्ड नहीं मरवाता. भाभी की चुत गीली और फैली हुई थी जिससे मेरा लंड एक बार में अन्दर चला गया.

दीदी की आंखें और बाल गहरे काले और होंठ फूल की पंखुड़ियों की तरह पतले और लाल हैं. तभी आर्थर ने अपने दाहिने हाथ से लंड को मेरी बार्बी डॉल की गांड से बाहर निकाल कर उसकी चूत में ट्रान्सफर कर दिया और चुदाई जारी रखते हुए अपने दोस्त से पीछे जाकर फ्री की वेश्या की गांड मारने को कहा. वह मुझे अपने हाथों से खाना खिलाए जा रही थीं और फिर मेरे मुँह पर लगा खाना चाटे जा रही थीं.

करीब 15 मिनट बाद मैं थक गया तो मैं नीचे हो गया और वो मेरे ऊपर आकर मेरा लंड अपनी चूत डालने लगीं. पर उनके जोर देने पर मैंने बता दिया कि मेरे रुपये खो गए हैं तो उदासी मेरे दिलोदिमाग पर छाई हुई है. ”मैं और मकान मालिक उनकी कार में बैठकर डॉक्टर के पास गए और वहां पर मैंने डॉक्टर से कुछ विटामिन्स की गोलियां और कुछ सीरप वगैरह लिखवा लिए क्योंकि मैं ऑफिस जाती हूँ और काम करती हूँ तो थक जाती हूँ.

चाचा के जाने के बाद अब चाची ने कहा- बच्चू… अगर ये बातें मैं आपके चाचा जी को बता दूँ तो जानते हो क्या होगा?मैंने चाची से कहा- प्लीज़ आप ये बात किसी से नहीं कहना… मैंने आप पर भरोसा करके आपको ये सारी बातें बताई हैं. मैंने उससे कहा कि एक काम करना तुम मेरे लिए एक मस्त माल खोजो ताक़ि उसके साथ तुझे भी चोद सकूँगा.

भाभी भी मेरे सर को दबाते हुए मेरे मुँह में अपने मम्मों को दिए जा रही थीं.

जब उसने मुझसे मेरे बारे में पूछा तो मैंने भी उसको अपने बारे में सब कुछ सच सच बता दिया.

भाबी ने फिर से लंड पर अपना सारा पानी निकाल दिया, जिससे मेरा लंड, मेरी जांघें सारी जगह भाबी के पानी से गीली हो गईं. मैंने अपने लन्ड को बहू की चूत में पड़ा रहने दिया और पूजा को किस करने लगा. मैं बाइक चला रहा था, मेरे पीछे मेरा दोस्त और उसके पीछे वो काँटा लड़की बैठी थी.

मैंने भाबी से कहा- भाबी, घर में भैया हैं… मैं इनको नहीं पहन सकती हूँ. इस बीच मेरे लंड फिर खड़ा हो गया तो भाभी बोली- क्यों? ये नहीं मानेगा क्या?और हाथ से मेरी मुठ मारने लगी, थोड़ी देर बाद वो मेरा लंड मुह में लेकर चूसने लगी।इस बार मुझे काफी मजा आया, मैं पूरी तरह से मदहोश हो चुका था और अंत में मैं भाभी के मुँह में ही झड़ गया. ” रानी ने दोनों हाथों में मेरा चेहरा थाम के चुम्मियों की बौछार कर डाली.

कुछ देर बाद चाची के जाते ही मैं अपने कमरे में आया और देखा कि भाबी मैक्सी पहने मेरे कमरे में बैठी हुई हैं.

अब वो कामिनी की चिकनी वैक्स की हुई चिकनी चुत में तेल डाल के मालिश करने लगा. वो बोली- ज्यादा तो अनुभव नहीं है, लेकिन हर लड़की में ये कुदरती ही होता है. मैं बोला- पूजा, अब तो एक ही रास्ता है कि हम दोनों ही एक दूसरे की मदद करें… लेकिन अगर अंकुश को पता चला तो?पूजा बोली- अंकुश को कुछ फर्क नहीं पड़ेगा चाहे उसके सामने ही हम कुछ भी करें!मैंने पूजा का मन भी टटोल लिया कि वो भी लंड की भूखी थी.

अब तो वो पगली सी सिसकियां ले रही थी- आह… शिईय… आह… सीई… उह्ह्हो…फिर मैं उसके पेट पर उसकी नाभि पर जीभ फेरने लगा. नीलम भाभी ने कहा- हाथ पकड़ कर क्या करने वाले हो?मैंने कहा- आपका नसीब देखने वाला हूँ. दीदी ने मुझे रानी दीदी की खींची हुई चार सेल्फी दिखाईं, जिसमें वो मेरा सोये हुए का लंड चूस रही थीं.

फिर मैंने नीचे जाकर उसके नंबर पे मिसकाल किया और फिर उसके कॉल का इंतजार करने लगा.

मैं कल्पना कर रहा था कि इन ज़बरदस्त झटकों से रानी के चूचे किस प्रकार से नाच रहे होंगे. दिल्ली में मेरी एक सहेली किराये पर रहती है और वो मेरे साथ कॉल सेण्टर में जॉब करने जाती है.

मासूम बीएफ फिर मैं बाइक लेके उनके पास गया और मैंने पूछा कि क्या मैं आपकी कोई हेल्प कर सकता हूँ. मैंने नाक और भीतर घुसाने के कोशिश की तो कुछ सख्त सख्त सा महसूस हुआ.

मासूम बीएफ तो मैंने भी मौके का फायदा उठाया और होली में रंग लगाने के बहाने हाथ में अबीर ले कर उनके ब्लाउज के अन्दर हाथ डाला और चूची पर अबीर मलने लगा. बीच बीच में मैं अपनी चुदाई की गति धीमी कर देता ताकि देर तक टिक सकूँ.

सजी हुई बनावटी «अमेरिकन » मुस्कान वाली काउंटर गर्ल, जिसने हमें विजय दिवस की शुभकामना भी दी, से अपने बर्गर्स की ट्रे प्राप्त कर हम लोग अपनी सीट पर आ गए.

वीडियो टीवी सेक्सी वीडियो

फिर ऐसे ही कुछ ही दिनों में हम अच्छे दोस्त बन गए और हर तरह की बातें करने लगे थे. अब तक मेरी सेक्स स्टोरी ले पिछले भाग में पढ़ा था कि मेरी सौतेली माँ बिंदु ने मेरी चुत की सील तोड़ने के लिए अपनी मेरे सौतेले भाई को कह दिया था. किस के दौरान मैं उसके चूचों और गांड को भी सहलाए जा रहा था, जिसके कारण हम बिल्कुल गर्म हो गए थे.

नीलम के मुँह से सिसकारी निकल रही थीं- प्लीज़ जानू… चूसो मेरी चुत… मेरे पति से मेरी चुत ठंडी नहीं हो पाती… वो चूतिया मुझको मज़ा नहीं दे पाता… आह… मैं चाहती हूँ… कि आज तुम मेरी चुत को ठंडी कर दो… अपनी रांड बना लो…मुझको भी उनकी गरम बातें सुनकर मज़ा आ रहा था. मैं ठंडाई लेकर बाहर आ गया और चाची कुछ खाने के लिए बनाने में जुट गईं. एक तकिया मैंने उसकी गांड के नीचे टिका दिया और पहले उसकी प्रदेश पे हाथ फेरा.

हम एक दूसरे के मुँह में जीभ डालकर घुमाते और होंठों को दांतों से काट लेते.

दोस्तों मेरा अपना अनुभव है, जो मज़ा एक नई लड़की नहीं देती, वहीं एक शादीशुदा चुदी चुदाई चूत देती है. उसने उठा कर अलमारी से मेरे कपड़े निकाल कर मुझे दिए और कहा कि पहन कर तैयार हो जाओ. न जाने कब से अन्तर्वासना पर भाई बहन की चुदाई की कहानी पढ़ कर तेरे लंड से चुदने का मन बनाया हुआ था.

ऐसे ही चूत चूसने के बाद वो वहीं प्लास्टिक के छोटे स्टूल पर बैठ गया और कामिनी को अपने ऊपर बैठा कर उसकी चूत में लंड घुसा दिया. उम्हह…अचानक से नीतू मैडम का शरीर अकड़ने लगा और वो अपने चूतड़ उछाल उछाल कर ओरल सेक्स का मजा ले रही थी. भाभी ने भी आतुरता दिखाते हुए मेरी कमर से शॉर्ट को नीचे कर मेरे लंड महाराज का माप लिया.

आईईईई स्सीईईई प्लीज कहती हुई मुझसे कहने लगी- अब तुम जल्दी से अपना पूरा का पूरा लंड डाल दो मेरी इस प्यासी चूत में… अहहहहाआ उईईईई…मामी की नंगी कमर को कस के पकड़ कर मैंने एक और जोर का झटका मारा तो मेरा पूरा का पूरा लंड उनकी चूत में समा गया. इसके बाद तो वो जैसे ही मौका मिलता, वो हमारे घर आ जाती, मेरी तरफ देखती रहती और मैं भी उसकी तरफ देखता रहता.

वो बड़ी मस्ती से मुझसे अपना लंड चुसवा रहा था और कुछ देर एक बाद लंड चूसने के बाद वो मेरे मुँह में ही झड़ गया. मैंने ड्रेस को उनके घुटनों के थोड़ा ऊपर तक काटने के बाद छोड़ दिया और उनके दोनों घुटनों को चूसने लगा. दोस्तो, चुदाई करते वक्त लंड और चूत का नजारा देखने का मजा कुछ अलग ही होता है, क्योंकि साली सोफे पर अपनी टांगें फैलाए बैठी थी तो मुझे ये नजारा साफ साफ दिख रहा था.

मेट्रो में घुसते ही भाभी रुक गई पर मैं पीछे से भागता हुआ आ रहा था तो अपने आपको रोक नहीं पाया और भाभी की गांड से अपना लंड गलती से टकरा दिया.

मुझे भी मजा आ रहा था लेकिन उसकी गांड टाइट थी इसलिए मैं ज्यादा देर नहीं रोक पाया. लेकिन अब मेरे लिए उसका लंड चूसना मुश्किल होता जा रहा था क्योंकि उसका लंड अब खड़ा हो गया था. साले तू रात भर उस मोटे को चोद सकता है तो मेरी मारने में क्या परेशानी है.

जैसे ही मेरे लंड का सुपारा चाची की गांड में घुसा, चाची की चीख निकल गई और साथ ही मेरी भी. उसने अपनी जीभ मेरे मुँह में घुसा दी तो मैं एकदम से बहक गई और मैंने भी उसकी जीभ को अपनी जीभ से चूसना शुरू कर दिया.

वो नीचे उतर कर मेरे लंड को पकड़ कर खींचने लगीं, फ़िर वो सोफे के नीचे घुटनों के बल बैठ के मेरा लंड चूसने लगीं. दूसरे दिन वो ऑनलाइन थी तो मैंने पूछा- आपने कॉल तो किया ही नहीं?उसने कहा- मैंने कॉल इसलिए नहीं किया कि अगर मैं कॉल करती तो आप ये सोचते कि कैसी चिपकू लड़की है, नंबर दिया नहीं और कॉल कर दिया. हम दोनों इतने घुले मिले थे कि कई दुकानदार मुझे और चाची को पति-पत्नी समझ रहे थे.

सेक्सी अंग्रेज वाला सेक्सी

हम जैसे वहां पहुंचे, दी ने मुझसे कहा- आज मैं तुमसे बहुत सारी बातें करूँगी.

मुझे पूजा पहली ही नजर में पसन्द आ गई थी, पर शुरूआत में मैं उससे ज्यादा बात नहीं करता था. काफ़ी देर तक मुझे चोदने के बाद मैंने उससे कहा कि माल अन्दर मत गिराना. दिल्ली में मिल ले प्लीज, फिर देखो मैं तुझे क्या क्या पिलाता हूँ! उसने हँसते हुए कहा.

लेकिन कब जाना है ये तय नहीं था और किधर जाना है ये भी नहीं बताया था और कब वापसी आयेंगे. तब उसको स्क्रीन पर उसके पहले दिन का लिया हुआ सेक्स क्लिप दिखा कर बोला कि यहाँ से चलते बनो वरना यह क्लिप तुम्हें जेल की हवा तो खिलवा ही देगी और जो भी सुनेगा और देखेगा तुमको चप्पलें मारेगा. मारवाड़ी सेक्सी लड़की कीहम दोनों के बीच एक अनजाना सा रिश्ता बन गया था जोकि मैं समझता था कि ये शायद चाची को सेक्स के नजरिये से पसंद आ रहा था.

मेरे कमरे से निकलने के बाद कामिनी बोली- इसको थोड़ा और विटामिन चाहिये जानू. वह बोला- जीभ लपलपा रही है या उसकी मारने को लंड सुरसुरा रहा है… सही सही बोलो.

दोस्तो आप तो समझ ही सकते हैं कि जब कोई ख्वाब सच हो जाता है तो क्या होता है? मेरा सपना भी एक दिन सच हो गया. हम दोनों ही सीधे शावर के नीचे चल दिए और गर्म भाम्प वाला शावर बाथ लेकर ही बाहर आए. मेरी इस हरकत से वो थोड़ा कसमसाई और अपनी टांगें बंद करने लगी, मैंने भी थोड़ी देर तक उसके दाने को रगड़ना चालू रखा, वो थोड़ा उत्तेजित हो गई और उसकी चुत पानी छोड़ने लगी.

अब मैंने अपनी ज़ुबान को आंटी की चुत में डाल दी और ज़ोर ज़ोर से चुत चाटने लगा. आपकोमेरी चुड़क्कड़ चालू बीवीनीना की चुदाई कहानी कैसी लगी? प्रतिक्रिया देंगे तो और लिखूंगा. पर मुझे तो अब ख़ुशी के मारे नींद भी नहीं आ रही थी और मैं उसके सपने देखने लगा कि मैं उसे किस किस तरह से चोदूँगा.

तू इतना स्मार्ट है और शरीर की फिटनेस भी ठीक है… इस पर भी तू परेशान है.

मैं दर्द से चीख पड़ी लेकिन मेरी चीख उनके मुंह में ही दब गई कुछ देर ऐसे ही रुकने के बाद मुझे दर्द कम हो गया और मज़ा आने लगा. लेकिन मुझे तो अपनी नौकरी पक्की करनी थी, मैंने भी सोचा कि कुछ नया करते हैं।मैंने फार्महाउस को किसी हनीमून डेस्टिनेशन की तरह सजवा दिया.

अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज के पाठको, कैसी लगी मेरीमेरी चालू बीवी की गैर मर्द के साथ गंदी कहानी? मुझे मेल करके बताएं![emailprotected]. मैं हमेशा सेक्सी साड़ी और लोकट गले और छोटी आस्तीन का ब्लाउज पहनती हूँ, जिस कारण मेरा पेट और नाभि और चिकने हाथ हमेशा रंडी के जैसे खुले रहते हैं. शिखा- अरे मेरे प्यारे मैगी, दीदी भी बोलता है और ऐसा भी कहेगा? वैसे भी मुझे अपने भाई से बहुत जरूरी में मिलना है.

बिंदु बोली- देख ज़रा चूस चूस कर चुत का क्या हाल कर दिया है… कितनी सूज गई है. काफी दिनों तक तो मैं उनको टालता रहा, पर फिर वो मुझे जान से मारने की धमकी देने लगे थे. मैंने कहा- पर तुम कुछ भी कहो, तुम्हारी चूत अगर अनचुदी होती तो इतनी ढीली नहीं होती, मेरी उंगली आसानी से अन्दर बाहर हो रही थी.

मासूम बीएफ क़यामत तो नहीं, पर गोरे बदन पे लाल रंग और ऊपर से तंग फिटिंग का होना, मेरे शरीर का एक एक अंग अलग से दिख रहा था. कुछ देर बाद दीदी मुझे लंड निकालने को कहा और गांड पर थूक लगाने को कह दिया.

xxx video सेक्सी वीडियो

उसके दोनों पैर मेरे पैरों के ऊपर थे और उसने अपनी एड़ियां उठा रखी थीं. फिर धीरे धीरे मैं उसके नाभि की तरफ बढ़ा और उसकी गहरी नाभि में अपनी जीभ फिरा कर चूमने लगा, जिससे वो और भी उत्तेजित होकर मेरे सिर पर अपने हाथ फिराने लगी. मैंने मौका देखते ही मंजू को कस लिया, वो भी चुदासी हो गयी पिछली रात मज़ा आते आते जो रह गया था।फिर से उसको चूसना शुरू कर दिया, अब वो भी मज़ा लेने लगी.

आज मैं अन्तर्वासना पर अपनी पहली कामुकता भरी कहानी लिख रहा हूँ जिसमें मैंने अपने पड़ोस की चुदासी आंटी को चोदा था. मैंने अपने दोस्त (जिसने मुझे यह सुझाव दिया था) के पास से मैंने डिपाजिट की रकम का इंतज़ाम करके डिपाजिट की रकम जमा कर दी. चुदती हुई सेक्सी वीडियोमैं तड़प उठा, पर उसने पूरी अन्दर तक दोनों उंगलियां ठूंस दीं और उन्हें चलाने लगा.

उसके बाद भी कभी कभी जिया से वीडियो चैट हो जाती थी, लेकिन उसकी शादी के बाद मैंने वो भी बंद कर दिया ताकि वो अपने जीवन में खुश रह सके।तो दोस्तो, यह रही मेरी सच्ची कहानी! यह मेरी पहली कहानी है, अगर आपने उत्साह बढ़ाया तो आगे भी लिखूंगा।आपका आर्यनमुम्बई[emailprotected]मेल आईडी दूसरे नाम से है यह मेरी।.

वह साला गाँव की भाषा में इतनी चोदू और सेक्सी बातें बोल रहा था कि मुझसे अब रहा नहीं गया और मैंने भी अपने कदम रोक दीये और उसके सामने खड़े होकर उसके लंड को तेज दबा दिया और मसल कर उसके जिस्म से लिपट गया. जैसे ही पानी निकलने को हुआ, उसने फिर से मेरे मुँह में लंड डाल दिया.

ऐसा वो उस वक्त करने का प्रयास करती थी, जब वो उनसे डिक्टेशन ले रही होती थी. वहां पहुँचते ही मैंने उसे कॉल करके बुला लिया और साथ में गार्डन में चले गए. मॉम ने भी एकदम से पैरों को हवा में ही मोड़ लिया, जिससे मॉम की चुत एकदम बाहर निकल आई.

हम पैदल शहरियों की भीड़ से भरी त्वेर्स्काया स्ट्रीट पर चलते हुए बिग थिएटर तक आ गए.

मेरे लंड का साइज 7 इंच है जो किसी को भी संतुष्ट करने के लिए काफी है. क्या आप लोगों के लिए पहले ही बहुत ज्यादा नहीं हो चुकी?” मेरी पत्नी ने आँखें तरेरते हुए कहा. मेरा गारमेंट्स का बिजनेस कुछ ठीक नहीं चल रहा था, मैं हमेशा दुखी और चिड़चिड़ा रहने लगा था.

आदिवासी निमाड़ी सेक्सीमैं तो उस पटाखा को देखता ही रह गया और सोचने लगा कि काश ये लड़की मिल जाती तो दबा कर चोद दूँ. तभी मेरी थाली में रोटी खत्म हो गई तो मैं भी दिशा की तरफ देखने लगा लेकिन दिशा का ध्यान मेरे लंड पर था और मेरा दिशा पर।फिर कुछ देर बाद भाभी ने ही रसोई से दिशा को आवाज दी, तब वो दौड़ी दौड़ी गई और रोटी लेकर भाभी के साथ वापस आई, उसने मेरी थाली में रोटी रखी और भाभी के साथ मेरे सोफे पर बैठ गई।जब मैं खाना खा चुका था तो दिशा मेरे झूठे बर्तन उठाकर ले गई और वापस आकर मेरे बगल में बैठ गई.

बीपी सेक्सी पिक्चर साडीवाली

उस रात को मुझे बहुत मज़े से नींद आई क्योंकि चूत के दर्शन ही नसीब में नहीं थे कई सालों से. फिर मैंने कोल्डड्रिंक खत्म करके बात करना चालू किया तो उसने मेरे लबों पे हाथ रख कर कहा कि अब और बातें नहीं. या यों कहो कि हम अभी इतने आगे नहीं बढे थे कि सेक्स जैसी कोई बात होती.

मैंने कहा- मेरी जान अब शरमाओ मत… ये तुम्हारा ही तो है, चलो अब इसे थोड़ा प्यार करो, जैसे मैंने तुम्हारी चूत को प्यार किया था. जैसे मुक्का मारते हैं, वैसे ही समीर मेरे लंड को धीरे धीरे ठोकता रहता था. तो मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागहैंडसम पंजाबी मुंडे का सेक्सी लंड-2में आपने पढ़ा कि अर्जुन मेरे साथ सो रहा था और मैंने उसके लंड के साथ खेलना शुरू कर दिया.

चूंकि वो बहुत ही सेक्सी थी, एक बच्ची हो जाने के कारण वो और भी ज्यादा निखर गई थी उसकी चूचियों में दूध भरा रहने के कारण और भी भराव आ गया था. उसके चूतड़ ऊपर उठाये और पलक झपकते ही धम्म से लंड को पीछे से चूत में पेल दिया. इस कहानी के पिछले भागसरकारी अस्पताल में मिला देसी लंड-1अभी तक आपने पढ़ा कि मैं सरकारी अस्पताल में किसी देसी लंड की तलाश में था, एक लंड मुझे पसंद भी आया था लेकिन उसने मुझे पहले तो दुत्कार दिया था लेकिन फिर वो मेरे पास आया.

पहले तो मैंने वहाँ पर चूमा, फिर उतर कर फ्रिज से ढेर सारी बर्फ निकाल कर दाग पर लगाने लगी उन्हें यह अच्छा लग रहा था बर्फ और मेरे स्पर्श के कारण उनका शरीर भी कांप जा रहा था, सिहर सिहर कर रोयें खड़े हो रहे थे।तभी मुझे शरारत करने को सूझी। ढेर सारी बर्फ का टुकड़ा लेकर लंड पर फिराने लगी, वे बोले- अरे, ये क्या कर रही हो?मैं अपने शरारत में मशगूल रही… उन्हें भी अब ये अच्छा लगने लगा था. चंदर का लंड तो खड़ा हुआ ही था, उसने मुझे पीछे से पकड़ कर मेरे मम्मों को खींचते और दबाते हुए मुझे अपनी गोद में बिठाया.

भाभी की चुचियां ज़्यादा बड़ी नहीं थीं, लेकिन उनकी गांड बहुत ही अच्छी तरह से उठी हुई थी, बिल्कुल राउंड शेप में.

तेरे जैसी को छोड़ कर नहीं चोद कर जाते मेरी जान… पर क्या करें भाई का पैसों का ऑर्डर है तो खैर… कभी तेरी अकड़ भी निकालेंगे रंडी. भोजपुरी सिंगर का सेक्सी वीडियोइसके बाद उसने मेरी पेंटी निकाल दी और मेरी साफ़ चूत को देख कर वो मेरी चूत को चाटने लगा. देसी पोर्न सेक्सी फिल्मवो थोड़ी देर मुझे घूरने के बाद बोलीं- सोच लो… जो मैं बोलूँगी वो तुम्हें करना पड़ेगा. जब हम अपने रूम में आए तो वो बोला यार तुम्हारी माँ तो सच में बहुत जबरदस्त सेक्सी हैं.

इसी चक्कर में मेरे दोस्त आपका खड़ा हो जाता है कि साली चुत भी चुदाई के लिए मिलेगी और पैसा भी मिलेगा.

मैंने धीरे धीरे नीचे आकर मुँह से ही उसके पजामे की डोरी को खोल कर पूरा निकाल दिया. रोशनी ने उसी समय बीच में बोला कि नहीं अभी सर मेरे पुट्ठों को फुलाने का तरीका बताएंगे. जब भी मुझे मौका मिलता तो मैं उसको किस कर देता था, उसके मम्में दबा देता था.

यहां मैं यह बता देना चाहता हूँ कि कुंवारे जीवन से ही काफ़ी सारे सेक्स आर्टिकल्स,बॉलीवुड फंतासी स्टोरीजपढ़ते पढ़ते मेरे मन में कई तरह की फंतासियां घर कर गई हैं, जिसे मैं पूरा करना चाहता हूँ. मैंने उससे कहा कि एक काम करना तुम मेरे लिए एक मस्त माल खोजो ताक़ि उसके साथ तुझे भी चोद सकूँगा. अब मोहन ने बेधड़क मेरी चुत से अंगूठा निकाल कर मेरी नाभि पर लगा दिया और नाभि के छेद को रगड़ने लगा.

नंगी पिक्चर नंगी पिक्चर सेक्सी

30 पर उनका फोन आया कि मैं जहाज़ पर बैठ गया हूँ और अभी उड़ने वाला ही हूँ. ? सोनिया ये सब कैसे किया तूने?सोनिया- भैया जिस दिन हम ये सब करते थे. अधिकतर पुरुषों को दूसरे की बीवी को देख कर तो जोश बहुत आता है लेकिन जब उनकी खुद की बीवी की बात करो तो सांप सूंघ जाता है, ऐसा नहीं होना चाहिये.

कुछ देर बाद चंदर ने आशीष से बोला- यार, तू भी कुछ योगदान दे ना अपनी माँ की चुदाई में!आशीष भी मेरे चूचों पर टूट पड़ा और मेरे मम्मों को जोर जोर से दबा दबा कर चूसने लगा.

अब मैं उसे लाइन पर लाना चाहता था तो मैंने उससे पूछा- क्या नहीं किया है?वो कुछ नहीं बोली, मैंने कहा- मुझे साफ साफ शब्दों में बताओ कि क्या नहीं किया?वो थोड़ा सिकुड़ते हुए धीरे से बोली कि सेक्स नहीं किया.

मैं मीठे दर्द से चिल्ला उठी, लेकिन मेरी चीख उसे बिल्कुल सुनाई नहीं दी. पायल भाभी पागल ही हो गईं और मेरे बाल पकड़ कर अपनी चूत में मेरा मुँह दबाने लगीं. वर्जिन सेक्सी वीडियोउसने मुझसे पूछा कि क्या चाहिए?मैंने भी हिम्मत करके बोल दिया कि आपका लंड चाहिए.

एक कहानी लिखी थीपति के दोस्त ने मेरी फ़ुद्दी चोद दीजिसमें मेरे पति के दोस्त ने मेरी फुद्दी चोदी थी. वो बोला- चुपचाप को-ऑपरेट करो… वरना तेरे इन मस्त मम्मों पर दांतों के निशान भी बना दूंगा. बस आप सभी से एक इल्तिजा है कि आप किसी महिला मित्र का नम्बर मांगने की जिद न किया करें… आप सिर्फ एक कहानी समझ कर ही इसका आनन्द लें.

मैं अपने लंड से उसके चुत को सहलाने लगा, वो पूरी तड़प रही थी और बोल रही थी- जल्दी डालो. उसके साथ मैं थोड़ी देर यूं ही इधर उधर की बातें करने के बाद अपनी सहेली के साथ ऑफिस चली जाती थी.

आह… अजय तुम जीत गए… बोलो अब क्या चाहते हो मुझसे? सिर्फ नंगी देखना चाहते हो क्या या कुछ और भी?”बहुत कुछ…”अच्छा तुम्हारे लिए एक सरप्राइज है वो अलमारी खोलो.

घर चलने से पहले उसने मुझसे कहा कि आज वो पूरे दिन फ्री है तो चलो पहले मुम्बई घूमते हैं. वे लोग वहीं परदे आदि लगा कर खाना बनाते और सोने के लिए सिर्फ एक ही चारपाई का उपयोग करते थे. मैं दीदी की शादी में रात तक उनके घर रुकी थी और वहीँ पर मैं उनके देवर से चुदी.

बीफ सेक्सी मराठी हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम राहुल है, मेरी हिंदी गे कहानी आपके लिए पेश कर रहा हूँ. इसके बाद मैंने मेरी सहेली के मकान मालिक से पर बहुत दिन तक बातें की और मैं उसके साथ काफी हद तक खुल गई.

यह पहला मौका था जब मैं किसी लड़की के साथ पूल में था और फार्म हाउस पे कोई नहीं था. कपड़े उतारते समय भाभी बोली कि रुको थोड़ी देर आप एक काम करो, किचन में जाओ और वहां से एक कोल्ड ड्रिंक की बोतल लेकर आओ. लिहाज़ा मेरी होंठों और जीभ का सफ़र उस पर्वत की चोटी पर पहुँचने से पहले ही रुक गया.

भोजपुरी भाभी सेक्सी चुदाई

जैसे ही मैं गाड़ी में बैठी राघव के मुँह से मेरी तारीफ में कुछ न निकल पाया. मैंने उनका टॉवल उतार दिया, पायल भाभी की गांड को पकड़ा और कहा- आप घोड़ी जैसे बन जाओ. कामिनी बोली- अरे यार विवेक, क्या कर रहे हो?वो बोला- तुमको तो मालूम है.

तब से लेकर मैं और मौसी लगातार फोन पर सम्पर्क बनाए रहे, मौसी ने डेढ़ महीने बाद ही मुझे बता दिया था कि वे पेट से हैं. मैंने महसूस किया कि उसका लंड 8 इंच से कम लंबा नहीं होगा और 3 इंच से कम मोटा नहीं होगा.

करीब 45 मिनट के वर्क आउट के बाद डॉली मेरे पास आई और मेरे सामने आकर मेरे सीने पर हाथ फेरने लगी.

वॉव, उसका 7 इंच का लंबा लंड मेरे सामने ऐसे आया जैसे कोई साँप वर्षों से पिजरे में कैद रहा हो और अभी आज़ादी मिली हो. भाबी- आआअआह… आआअह… मर गई…मैं पीछे से भाबी के ऊपर लद गया और उनके दूधों को दबाए जा रहा था. मैं भी उनके लंड को स्पर्श करके दबा रहा था, फिर मैंने अंकल के लंड को चूसना शुरू कर दिया.

दो मिनट की चुदाई के बाद उसने मुझे अपने ऊपर से हटने का इशारा किया और घोड़ी बनने का कहा. अब मेरा भी गुस्सा कुछ कम हो गया था और मेरी फोटोज देख कर मुझे भी अच्छा लगने लगा था. वो जोर जोर से सिसकारियाँ लेने लगी- आह… आह… आह… कम ऑन और जोर से मसलो काटो… मुझे तुम्हारा वाइल्ड सेक्स… बहुत पसंद आ रहा है.

मैंने उसकी मुसम्मियों को सहला कर उसे मूक दिलासा दी और अपना लंड उसकी कमसिन बुर के मुहाने पर लगा दिया.

मासूम बीएफ: मैं जितना साफ़ करता, विवेक के लंड की मलाई फिर बाहर आ जाती, मैंने कहा- ये तो निकलती ही जा रही है. खुद नीचे से अपनी गांड उठा कर लंड ले रही थी ‘आआआहह… आअहह…’भैया जब तेज झटके मारते थे तो मैं ‘उईईईई मम्मीं… मर गई…’ मचल कर कामुकता से बोलने लगती थी.

भाबी भैया से बोलीं- कल मुझे मार्केट जाना है, आपकी बहन को कुछ कपड़े दिला दूँ… नहीं तो ये गर्मी में मर जाएगी. ये सब देख कर बूढ़ा उसे उकसाए जा रहा था- हां बेटा, ज़रा जोर से चोदो, यह तुम्हारी बहन नहीं है. मैं अब समझ चुकी थी कि नेहा के साथ जो मैंने किया ये मुझको उसी का फल मिल रहा है.

वो थोड़ी मचलने लगी, दर्द से कराहने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह…पर मैंने कहा कि थोड़ा दर्द झेल ले.

मॉम ने झट से अपने एक हाथ से अपनी पैंटी चुत से एक साइड खिसका दी और एक हाथ से थोड़ा सा थूक अपने मुँह से निकाल कर अपनी चुत के अन्दर लगा दिया. मैंने उसकी नंगी छाती पर एक बार हाथ घुमाया और उसने अपना शर्ट पहन लिया. अब तक की जीजा साली की चुदाई की कहानी के पहले भागकमसिन साली की मस्त चुदाई-1में आपने पढ़ा था कि मैंने अपनी साली की चुदाई की वीडियो बना ली थी और अब मैं उसके सामने बैठा था.