मां बेटे का बीएफ मां बेटे का बीएफ

छवि स्रोत,तमिल हीरोइन सेक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

गाड़ी पर लिखने की शायरी: मां बेटे का बीएफ मां बेटे का बीएफ, फिर 10 मिनट बाद मम्मी बाहर आयी लेकिन उनसे ठीक से चला नहीं जा रहा था.

हिंदी सेक्स वीडियो डाउनलोडिंग

मैंने हंसते हुए कहा- क्या नहीं बताऊं किसी को?वो कहने लगीं कि रात वाली बात!मैंने उन्हें छेड़ते हुए कहा- कौन सी बात … ज़रा खुल कर बताओ न?उन्होंने दबे हुए स्वर में बोला- ससुर जी के साथ सेक्स वाली बात!मैंने कहा- देसी हिन्दी में बोलो ना?अब उन्होंने रंडियों की तरह सीना फुलाया और बोला- मेरे ससुर से चुत चुदाने वाली बात. सेक्स हद वीडियो”मैंने लण्ड को अंदर बाहर करते हुए देखा कि मेरा लण्ड खून से सना हुआ था.

वे मारते मारते बोले- लग तो नहीं रही? धीरे करूं?मैं कहना चाहता था- ‘उस्ताद और जोर से।’ मगर कह नहीं पाया. सेक्स वीडियो newमनमाफिक लंड मिलने की खुशी में मैं खुद अपना चेहरा आगे बढ़ा कर जेठजी के होंठ चूमने लगी.

इसलिए इसको शराब जरूर पिलाऊंगा।दोस्तो करीब 6 घंटे के सफर के बाद हम दोनों पचमढ़ी पहुँच गए। वहाँ पर एक अच्छे से होटल में मैंने एक ऐ.मां बेटे का बीएफ मां बेटे का बीएफ: तुम मुझे चुदने पर मजबूर नहीं कर पाए … इसलिए अब कभी भी मुझे छूने की कोशिश मत करना.

पूरी रात में आदी ने मुझे 4 बार चोदा, जिसमें से 3 बार चूत बजाई और एक बार गांड मारी.थोड़ी देर में वो शांत हो कर अपना हाथ ढीला करते हुए बेड पर गिर पड़ी, पर उसकी कमर अभी भी मेरी कमर से सटी हुई थी … जिस कारण से मेरा लंड अभी भी चूत के अन्दर था.

सेक्सी पिक्चर छत्तीसगढ़ी में - मां बेटे का बीएफ मां बेटे का बीएफ

भाभी हंस दीं और बोलीं- तुमको कैसे मालूम कि ये महंगी है?मैंने कहा- मुझे इसलिए पता है क्योंकि अपनी बीवी के लिए ब्रा और पेंटी मैं ही खरीदता हूँ.तो मैंने बिस्तर पर एक तौलिया बिछाया जहां पर मेंहदी गिरने की संभावना थी.

उनके पीछे पीछे चलते हुए मैं आंटी की बलखाती गांड को ही देखे जा रहा था, शायद आंटी की गांड इस वक्त कुछ ज्यादा ही मटकने लगी थीं. मां बेटे का बीएफ मां बेटे का बीएफ चूत के आशिक और लंड की दीवानी चूतों को मेरा प्यार भरा नमस्कार! मैं सबसे पहले आप सभी पाठकों का धन्यवाद करना चाहूंगा कि आपने मेरी पिछली कहानीडॉक्टर की बीवी के हुस्न का रसपानको सराहा और उसके बारे में अपनी प्रतिक्रियाएं भी दीं। आप सभी के प्यार ने मुझे एक और घटना लिखने के लिए प्रेरित किया।अब ज्यादा देर न करते हुए आज की कहानी की शुरूआत करते हैं.

वैसे भी तुम्हें तो और एक चूत चोदने को मिलेगी … बस झेलना तो हमें ही है.

मां बेटे का बीएफ मां बेटे का बीएफ?

कभी कभी वो मेरी चूचियां भी दाब देते, तो मैं उनके मंदिर का घंटा बजा कर उन्हें उत्साहित कर देती. बाकी सब तो परसों सवेरे 10-11 बजे के आस-पास दिल्ली से स्कूल की बस से वापिस डगशई के लिए निकलेंगे. तभी स्वीटी आंटी ने मेरे हाथों को हटाते हुए कहा कि ये क्या कर रहे हो, कोई देख लेगा.

चूंकि वह मेरे साथ ही पढ़ रही थी इसलिए हम दोनों एक दूसरे को पहले से जानते थे. गिन्नी मदहोश होने लगी थी और मेरा लण्ड लोअर के अन्दर फड़फड़ाने लगा था. भाभी की चूत इतनी गर्म थी कि मेरा लंड अन्दर की गर्मी पाकर और भी मोटा हो गया था.

मैंने आंखें खोलीं और अंधेरे में अंदाजा लगाया कि ये मेरा बड़ा भाई है. तीन महीने के बाद भाभी ने मुझे बताया कि उनके पीरियड्स बंद हो गये हैं. रिंकी और प्रिया ने भी अपने कपड़े उतार दिए और बेड पर सुनील के इधर उधर लेट गयीं.

मैं कभी ट्रक में चढ़ी नहीं थी, तो मुझे ऊपर चढ़ने में काफी दिक्कत आ रही थी. फिर मेरा कान छोड़ के अपना कान पकड़ते हुए कहा- मुझे माफ कर दो यार … मैंने तुम लोगों को बताया नहीं, पर पिछली गर्मी की छुट्टियों से ये मुझे भी हो रहा है.

मैंने उठ कर अपने को रानी के ऊपर जमाया ताकि मेरे घुटने उसकी जाँघों के इर्द गिर्द आ गये और लंड सीधा चूत के ऊपर.

इसका नतीजा ये हुआ कि पांच छह बार के अभ्यास के बाद मैं उम्मीद से अच्छा डांस करने लगा.

मेरी सुहागरात की सेक्स कहानी के पहले भाग में अब तक आपने जाना कि सुहास और मैंने कैलीफोर्निया में सुहागरात की चुदाई के मजे लेना शुरू कर दिए थे. अचानक सेगुड्डी रानी ने खुद को उचकाया, मेरी गर्दन पकड़ के झूल गई और अपनी टांगें मेरी कमर में कस के लिपटा के भिंची भिंची सी आवाज़ में बोली- राजे … राजे … मुझे अपनी बांहों में संभाल ले … मेरा दिल बैठा जा रहा है … मुझे लग रहा है कि मैं आकाश से नीचे गिरे चले जा रही हूँ … मेरे तन बदन में बिजली सी दौड़ रही है … थाम ले राजे मुझे थाम ले … आज तेरीगुड्डी रानी चल बसेगी. मैंने कहा- तुम्हारी छुट्टी कब होती है?उसने कहा- यहाँ ड्यूटी शिफ्ट में होती है सर! मैं अभी डे शिफ्ट में हूँ.

अचानक दोनों ने मेरे दोनों स्तनों के निप्पलों को अपने अपने मुँह में लिया और कसके चूसने लगे. मैंने मस्ती भरे स्वर में कहा- हां यार … वो क्या है, थोड़ी नींद लग गई थी और नींद में तुम्हारे सपने आने लगे थे. ”यदि एक जोड़े की रात खराब हुई तो बाकी सबकी रात का मजा चौपट हो जायेगा और सारा प्लान फेल हो सकता है.

धीरे धीरे मयंक ने सोनम की पैंटी को अपने दांतों से खींचना शुरू किया.

उससे बात होने के बाद मेरा फिर से उसके साथ सेक्स रिलेशन बनाने का मन कर रहा था. चाची बोलने में लगी थीं- आह भड़वे अआह साले मादर…चोद ओह अआह बस कर … अआह ओह्ह हाय अआह. धीरज अंदर घुसते ही- हेलो माय स्वीट हार्ट! इतने टाइम बाद … मुझे तो लगा मिलोगी नहीं.

इसके दो साल बाद मेरे साले की शादी हुई और एक एक करके उसकी दो बेटियां पैदा हुईं. अब आगे की कहानी:दोस्तो, मैंने आपको आपको राजीव के बारे में तो बताया ही नहीं है, राजीव एक 35 साल का गबरू जवान मर्द है, शादीशुदा है मगर बाकी सारे मर्दो की तरह बाहर मुँह मारने की आदत से मजबूर है, चलिए अब कहानी पर आते हैं।फिर मैं सारा दिन सारी रात सोचती रही कि किस तरह राजीव को तड़पाया जाए. सड़क पर सभी वाहनों में हेडलाइट जला कर अपने-अपने गंतव्य पर जल्दी से जल्दी पहुँचने की एक होड़ सी लगी हुई थी.

उसके पास जाकर मैंने कहा- श्यामली मुझे तुमसे कुछ बात करनी है।श्यामली- बोलो जो बोलना है। मेरे पास ज्यादा वक्त नहीं है.

नाक में मौज़ूद हीरे का लौंग वसुंधरा के दबंग व्यक्तित्व को एक गरिमापूर्ण स्त्रीत्व प्रदान कर रहा था. मैंने उसके चूचों पर किस करते हुए कहा- नहीं डार्लिंग, तुम चिंता मत करो.

मां बेटे का बीएफ मां बेटे का बीएफ पर कविता की बात सुनकर मैं एकदम से भौचक्की थी कि खुद अपने बेटे के साथ सेक्स कैसे करूं. उन दोनों के बीच में कई बार चूमा-चाटी हो गयी थी इसलिए अब मुझे उनको कुछ कहने की जरूरत नहीं थी.

मां बेटे का बीएफ मां बेटे का बीएफ मेरा अनुभव कहता है कि उसने चार पांच रोज पहले चूत के बाल साफ किये होंगे. अब उनका पानी निकालने का टाइम था तो देवर जी मुझे जमकर चोद रहे थे। उनकी प्यारी भाभी जिसके साथ अब तक सिर्फ एक दोस्त वाला रिश्ता था.

कोमल का पति दो दिन के लिए कंपनी के काम से बंगलौर जाने वाला था, उसके घर में उसके साथ रहने वाली ननद भी अपनी मौसी के घर गई थी, जिसको कुछ दिन बाद वापस आना था.

खूबसूरत लड़की की बीएफ सेक्सी

मेरी पिछली पारिवारिक चुदाई की कहानीमौसी की चुदाई:में आपने पढ़ा कि उत्तेजनावश किस तरह रोहित ने मेरी जांघों को चोद कर अपने लण्ड को शांत किया।अब आगे:कुछ देर बाद जब डोरबेल बजी तो मेरी नींद खुल गयी. फिर मेरा कान छोड़ के अपना कान पकड़ते हुए कहा- मुझे माफ कर दो यार … मैंने तुम लोगों को बताया नहीं, पर पिछली गर्मी की छुट्टियों से ये मुझे भी हो रहा है. मैंने भी अपने कपड़े बदल लिए … क्योंकि मुझे पता था कि अब नीतू को चोदना है.

पर उसने मेरे लिंग को हाथों में थामते हुए कहा- सर आप मेरी उम्र की बात कर रहे थे ना? तो सचमुच मेरी उम्र अभी 23 की ही है, और मैंने अपने बॉयफ्रेंड के साथ सिर्फ चार बार किया है।इतना कहते हुए उसने लिंग को थोड़ा आगे-पीछे किया और चुम्मी दे डाली. मेरी पत्नी ने हनी से पूछा- हनी ये बताओ, तुम्हारे और प्रियंक के रिश्ते तो ठीक हैं ना?हाँ. लेखक की पिछली अन्तर्वासना हिंदी स्टोरी:मेरी माँ की कामवासनामेरा नाम आयुष है और मैं ठाणे में काम करता हूं.

”मैंने लण्ड को अंदर बाहर करते हुए देखा कि मेरा लण्ड खून से सना हुआ था.

नजमा भी मेरे साथ ही ऊपर नीचे होकर अपनी चूत को जीजा के होंठों पर रगड़ रही थी. उसकी चूत पर बाल नहीं थे लेकिन साफ पता चल रहा था कि चूत के बाल अभी ही काटे गये हैं. मैं सोने की तैयारी ही कर रही थी रूम में अपने कि उन्होंने पीछे से आकर मेरी कोली भर ली और मुझे किस पर किस करने लगे.

बेबी रानी के गले से सी…सी…सी … उम्म्ह… अहह… हय… याह… आवाज़ें आ रही थीं. बेबी रानी ने चिल्ला कर कहा- सुन गुड्डी की बच्ची … अब अपनी मुराद पूरी कर ले … चूत से बहुत कुछ निकल रहा है… सब पिलाती हूँ … रुक ज़रा सा कमीनी. अभी हम तीनों के पास दो और दिन थे, जिसमें बस हमारे बीच चुदाई ही होने वाली थी और कुछ नहीं.

सुधा नीचे से अपनी गांड उठा आकर लंड अन्दर लेने की कोशिश कर रही थी मगर मैं था कि लंड चूत के अन्दर पेल ही नहीं रहा था. भाभी को देखने से ऐसा लग रहा था कि उनकी शादी हुए अभी ज्यादा टाइम नहीं हुआ था.

फिर मैंने अपनी डांस पार्टनर प्रतिभा के साथ अभ्यास को अंतिम रूप दिया. फिर उसने पूछा- दीदी, बाहर में उतना मजा नहीं आता, हमेशा जल्दी लगी रहती है. जब मैं जवाहर से मिला था तो उसके कुछ महीने के बाद ही मैं अपने पैतृक शहर वापस आ गया था.

वो असहज होते हुए बोली- क्या कर रहे हो, जान निकालोगे क्या?मैंने कहा- इतनी प्यारी जान की जान निकाली नहीं जाती है, इसके लिए तो जान दी जाती है.

शाम को जब ऑफिस से वापस आया, तो अम्मी ने यह खुशख़बरी दी कि ज़ेबा ने अपनी सहमति दे दी है. साथ ही रीना को भी खबर न लगे कि उसका देवर और देवरानी वहां जा रहे हैं. मैंने उसे जाते ही किस करना शुरू कर दिया और वह भी मेरा पूरा साथ दे रही थी.

फिर आंचल ने थक कर कहा- तो आप ही बताइए ना … आप क्या चाहते हैं?मैंने कहा- मैं जो चाहता हूँ, वो मिलेगा?आंचल ने चौंक कर और गंभीर होकर कहा- क्या मतलब?मैंने कहा- मेरा मतलब पुराना गाना मिलेगा?आंचल ने कहा- हां, क्यों नहीं!वो गूगल पर सर्च करके गाने दिखाने लगी. फिर वे खड़ी हुई और मुझे भी खड़ा होने के लिए बोला।भाभी फिर से किस करने लगी और उन्होंने मेरे दोनों हाथ पकड़ कर अपने नितंबों के रख दिया और दबाने लगी.

रस की एक फुहार मेरे लंड पे सब तरफ से गिरी, और रानी ने मुझे पूरी ताक़त से भींच डाला. दीदी को सारी कहानी समझ आ गई और वो मेरे सीने से लग कर मुझे चूमने लगीं. वह जमकर मेरी गांड को चोद रहा था और मैं हल्के हल्के दर्द के कारण चिल्लाए जा रही थी.

बाप बेटी की सेक्सी वीडियो दिखाएं

बीच बीच में वो मेरी चुत में दांत चुभो देते थे, जिससे मैं और बेकरार हो जाती थी.

जीजू का लण्ड पूरी तरह से टाइट हो गया और मेरी चूत भी चुदवाने के चरम पर थी. मैं बेचीं हो गयी, मैंने अपने चूतड़ नीचे से उचकाये तो समीर का लंड थोड़ा सा मेरी चूत में घुस गया. आप लोगों ने मेरी स्कूल सेक्स स्टोरीसुधा के साथ वो रातपढ़ी और आपके कई मेल प्राप्त हुए.

आलस में उठ कर दरवाजे तक गयी और दरवाजा खोला तो सामने ज्ञान जी एक कागज का लिफाफा लिये खड़े हुए थे. मैंने कहा- तुम क्यों बना रही हो?तो उसने कहा- कोई बात नहीं … मैं बना लेती हूं. मॉडल सेक्समेरी रीढ़ की हड्डी में एक बिजली का करंट ने दौड़ लगायी और ऐसा लगा एक कुछ मोटी सी चीज़ रीढ़ की हड्डी में ऊपर से भागती हुई नीचे लंड में समा गयी.

अब आगे:मैंने उनके बिस्तर के पास आकर उन्हें प्यार से देखा, तो भाभी ने आंख मार दी. मैं बिंदास बोली- ठीक है, कर लो मनमानी … लेकिन आराम से करो और जल्दी करो.

प्रिया के गोरे गोरे मांसल मम्मे अब विशाल के हाथों की गिरफ्त में थे. वो चिल्लाने लगी- आंह और जोर से चोदो मुझे … फाड़ दो मेरी कमीनी कुतिया चुत को … चुदक्कड़ कुतिया की चुत को. यूं तो उसका लंड कुछ ज्यादा बड़ा नहीं था, पर क्योंकि तीन लोगों ने पहले से मेरी चुत की दुर्गति की हुई थी इसलिए थोड़ी परेशानी हो रही थी.

वो कभी मेरे पीठ को दोनों हाथों से जकड़ लेती थी, कभी चादर को भींचने लगती थी. उसके मुँह से ये सुनते ही शीना भी नीचे से बाहर आ गई और वो संजना की गांड के बीच में अपना मुँह डालने लगी. जिया- हमारा चैलेन्ज तो याद है न!मैं- हां तुम दोनों मुंबई आने के लिए तैयार रहना.

इसके बाद मैंने सुहास की शर्ट के बटन भी खोल दिए और उसकी शर्ट उतार दी.

मेरा हाथ उसकी बाजुओं और चूचियों से होता हुआ उसके पेट और उसकी जांघों और पटों पर चलने लगा. शिवानी भाभी को भी लंड चूसना पसंद नहीं है इसलिए मैंने उनको फोर्स नहीं किया.

मैंने जैसे ही अपनी जीभ को उनकी चुत पर लगाया, चाची ने एकदम मुझे दूर कर दिया, वो कहने लगीं- हट … ये गंदी जगह है इसे मत चाट. ज़ेबा ने जैसे ही बाथरूम के दरवाजे को नॉक किया, मैंने दरवाजे ओपन कर दिया. उधर विशाल बेड पर खड़ा हो गया और रिंकी ने उसका लंड अपने मुँह में ले लिया.

नीरा की पैन्टी उतारने के लिए मैंने हाथ बढ़ाया तो उसने रोक दिया और मेरा लोअर नीचे खिसकाकर मेरा लण्ड चूसने लगी. वो- तो तुम्हारे भाई की शादी यहां कैसे हो गयी?मैं- कैसे हो गयी से क्या मतलब!वो- मेरे कहने का मतलब … यहां तुम्हारी पहले कोई रिश्तेदारी थी … या फिर कैसे. फिर उन्होंने बोला- अब कैसा शर्माना मेरी रानी … मुझे आज जी भर कर देख लेने दो.

मां बेटे का बीएफ मां बेटे का बीएफ अब उसे मुझ पर पूरा भरोसा था। मैंने धीरे-धीरे उससे अब सेक्स की तरफ धकेलना शुरू किया. फिर भी मैंने थोड़ा साहस किया और बोला- भाभी उस दिन के लिए सॉरी। मुझे नहीं पता क्या हो गया था उस दिन मुझे.

सेक्सी बायका

मैं- तुम्हारा कोई ब्वॉयफ्रेंड है?प्रिया समझ गई और आंख नचाते हुए ऊपर नीचे देखते हुए बोली- ब्वॉयफ्रेंड … हूँ … ऐसा तो कोई नहीं है. अचानक से नशे में विक्रम बोला- यार म्यूजिक तो अच्छा है थोड़ा डांस वगरह भी हो जाता तो मज़ा आता!धीरज- हां क्यों नहीं बिल्कुल … व्हाई नॉट!रीना ने अपना नाच बोले तो नंगा नाच शुरू कर दिया, माहौल गरमा-गरम हो रहा था. मैं- अब ये बातें छोड़ … हमने जो अधूरा काम छोड़ा था … वो पूरा करें?कोमल- कौन सा अधूरा काम?मैं- चुदाई का.

और तुमको पेशाब करने जाना है तो नंगी ही जाओ!” कहकर मैंने चादर खींच ली।वो चादर छोड़ कर लंगड़ाती हुए बाथरूम की तरफ भागी। भागते समय सायरा के कूल्हे ऊपर नीचे हो रहे थे।काफी देर बाद सायरा पेशाब करके बाहर आयी तो मैंने पूछा- अन्दर देर क्यों लगा दी?तो वो बोली- पापा, पेशाब करते समय मुझे जलन महसूस हुयी तो मैंने देखा तो पेशाब के साथ-साथ हल्का-हल्का खून भी आ रहा था. मैं 5 मिनट रुक कर उसके फ्लैट पर पहुंचा, गेट धकेला, तो वो खुल गया और मैंने उसके रूम में आ गया. वाली कहानियां भूत वाली कहानियांएकदम से उसने मेरी तरफ मुंह किया तो मेरी खुली हुई आंखें उसने देख लीं और उसको पता लग गया कि मैं पूरे होश में ये सब कर रहा हूं.

अगली और एक रोमांचक कहानी के साथ फिर मिलूंगा, तब तक लिए नमस्कार मेरी चुदाई की कहानी पढ़ने के लिए धन्यवाद दोस्तो.

वैसे शादी में बच्चे और बहुत से अन्य मेहमान भी आए थे, जिनको मैं नहीं जानता था. मैंने दीपिका से कहा- चिंता मत करो, अब मैं तुम्हारी सभी इच्छायें पूरी कर दूँगा.

तभी मैंने नींद में से उठने का नाटक करते हुए ज़ोर से चिल्ला दिया- सेजल दीदी आप यह क्या कर रही हो?वो दोनों अचानक से अलग हुए … तभी मैंने उठ कर लाइट ऑन करके दोनों को रंगे हाथ पकड़ लिया. मुझे एसा लगा जैसे मेरी रीढ़ की हड्डी पिघल गयी हो और मैं मूर्छित सा होकर रानी के ऊपर ढेर हो गया. जिसके बारे में आपको पहले बताया था कि हम दोनों कई बार आपस में ही मिलकर आधा अधूरा सेक्स कर लिया करती थी और लेस्बियन सेक्स से ही अपनी वासना को शांत कर लिया करती थी।पर ये सब करना हमारे दोनों के लिए ही नाकाफी था। बस अब तो मन करता था कि कहीं से भी कोई जवान लौड़ा मिल जाए तो इस सेक्स की भूख को शांत किया जाए।नहीं तो इस आग में अब और नहीं जला जाएगा.

फिर संजना एकाएक आंखें मूंदे ही बोली- आह बाबू … आज बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा है.

ऐसा लग रहा था कि किसी लड़की का नहीं, साले किसी गाय के थन दुहने की कोशिश कर रहे थे. मेरी बीवी की चूचियों, चूत और गांड तीनों को ही एक साथ मसलने व रगड़ने के कारण राशि 15 मिनट में ही दो बार झड़ गई. मेरी दोनों आंखें बंद हो गयी थीं और मैं उसके नर्म होंठों का पूरा मज़ा ले रही थी.

मोटापा कम करने के नुस्खेएक छोटे सा लेख लिखकर मुझे बतायें।जो लेख अच्छा होगा उसे मैं अपने इंस्टाग्राम पर पोस्ट करुँगी।Insta/sonaligupta678आप स्त्री हो या पुरुष अगर आप मेरी कहानियों पर कुछ कहना चाहते हैं तो मेल करने में बिल्कुल भी संकोच ना करें. इतने में स्नेहा भाभी बोलीं- आप क्या करते हो?मैंने कहा- मेरी अभी तो स्टडी चल रही है जी.

सेक्सी वीडियो पंजाबी ब्लू पिक्चर

”अब तो शाम में मर्द लोग भी मेरे घर में जमने लगे थे, पर मैं दारू सिगरेट एकदम से बंद कर रखा था. और रही बात तेरे घर वालों की, तो उनसे मैं तुझे तीन दिन की छुट्टी दिलवाकर लाया हूँ, तो तू बस मजे कर. फिर हम लोग रोज बात करने लगे।एक दिन बातों बातों में उसने ही अपना नंबर दिया और फिर हमारी काल पर और मैसेज पर भी बात होने लगी।धीरे-धीरे हम लोगों को एक दूसरे से प्यार हो गया। अब तो हम दोनों रोज मिलते थे, ट्रेन में एक साथ जाते थे बात करते थे।ऐसे ही 6 महीने निकल गए.

आलिया- मतलब?मैं- दो दिन पहले नताशा तुम्हारे घर पर दीदी से मिलने के लिए आई थी. मेरे थोड़ा छटपटाने के बाद उन्होंने मुझे अपने होंठों की गिरफ्त से आज़ाद कर दिया. आह मौसी की गोरी चिकनी जांघें मेरी आंखों को वासना से सराबोर कर रही थीं.

सेक्सी भाभियो और हॉट लड़कियो, अपनी चूतों से पानी निकलवाने के लिए यश के लंड के लिए तैयार हो जाओ. तेरे भाई ने भी शुरू में अपना विरोध जताया था … लेकिन शायद शान के प्रति तेरी ममता व स्नेह को देख उसने अपनी सहमति दे दी है. और जीजाजी तुझे कोई तकलीफ नहीं देंगे। तू चाहे तो पहले हम दोनों को देख ले।इतना बोलकर मैं जीजाजी के पास चली गई और जीजाजी ने मुझे चूमना शुरू कर दिया।मैंने नज़मा से कहा- पहले हम करते हैं, बाद में तुम्हारा मन हो तो कर लेना, नहीं तो रहने देना।तो जीजाजी ने कहा- यार सपना, तुमने कई बार आनंद लिया है.

तब तक मुझे सेक्स के बारे में कुछ भी नहीं पता था कि सेक्स क्या होता है, बल्कि मैंने यह शब्द भी नहीं सुना था. फिर मैंने सोचा कि मम्मी और पापा के तलाक के बाद से मम्मी की चुदाई हुई नहीं है इसीलिए उनकी चूत में खुजली होना स्वाभाविक था.

मेरे गले को लगातार चूमता रहा और अपने लंड से छोटे छोटे धक्के लगाने लगा.

बेबी रानी के गले से सी…सी…सी … उम्म्ह… अहह… हय… याह… आवाज़ें आ रही थीं. अंग्रेजी सेक्स वीडियो अंग्रेजीमैंने जब उसकी चुत पर किस किया, तो पता नहीं मैं अपने होंठों को वहां से हटा ही नहीं पाया. गोरखपुर कॉल गर्लउसको काफ़ी दर्द हो रहा था पर वो सह रही थी। मेरा टोपा अंदर जा चुका था और उसकी आंखों से आंसू निकल रहे थे।मैंने थोड़ा ज्यादा जोर का धक्का मार दिया जिससे वो आगे की खिसक गई. जिन लोगों को मेरे बारे में नहीं पता है उनके लिए मैं बता दूं कि मेरा नाम शुभम है और मैं नोएडा का रहने वाला हूं.

संजू चहक कर बोली- अरे वाह इतनी शक्ति!मर्द को भी चुदाई के दौरान अपनी बढ़ाई सुनने से हिम्मत बढ़ती है, सो रोहित संजू को गोद में उठाकर चोदने लगा.

कुछ देर तक मेरी बहन के चूचे चूसने के बाद फिर उसने खुद को अलग किया और उसके तुरंत बाद पल्लवी ने अविनाश को लेटा कर उसके बदन को चूमना शुरू किया और आखिर में उसके सोये हुए लंड को जीभ से चाटने लगी. सुबह ज़ेबा जाग चुकी थी और बच्चे के लिए दूध का फीडर तैयार कर रही थी. मैं- थोड़ी देर रुक जाओ, दर्द कम हो जाएगा।मैं वापस उसकी चिकनी चूत चाटने लगा तो मेरी गर्लफ्रेंड गर्म होने लगी.

अन्तर्वासना के पाठकों को मेरा नमस्कार! जैसा की आपने मेरी पिछलीचूत का भूतऔर खूब ईमेल भी किये। यह कहानी काल्पनिक है, मनोरंजन मात्र के लिए लिखी गयी है. अविनाश ने इमोशनल होकर कहा- कोई बात नहीं, मुझे लगा तुम जरूर मदद करोगे. चाची चुदते हुए बोलीं- आंह मेरी जान ये मेरी सबसे मस्त पोजीशन है, मुझे ऐसे चुदने में बहुत मजा आता है.

सिक्स बीएफ

मैंने टेबल के नीचे से सबकी नजर बचाते हुए अपने हाथ को स्वीटी आंटी की नंगी कमर पर फेरना शुरू कर दिया. फर्क इतना सा था कि मेरा वीर्य उसके मुंह में गया था और मयंक का वीर्य उसकी चूत ने पी लिया था. मैं चुदाई करते समय हांफ भी रहा था … साथ ही कोमल की अच्छी तरह से चुदाई कर रहा था.

इस बार वो मना नहीं कर पायी।हम दोनों ने ही एक दूसरे को बांहों में भर लिया.

उसकी चूत को एक आदमी बुरी तरह से पेल रहा था और लड़की की मादक आवाजें सुन कर हम तीनों भी उत्तेजित हो रहे थे.

मैंने आहिस्ते से उनकी साड़ी को पेटीकोट के साथ कमर से नीचे सरका दिया. उनसे कुछ इधर उधर की बात करने के बाद मैंने उनसे पूछा- एक बात पूछूँ?उन्होंने कहा- हां पूछो ना!मैंने एकदम से साफ़ कहा- जीजाजी का देहांत हुए चार साल हो चुके हैं, तो इसके बाद आपको सेक्स की ज़रूरत नहीं होती?मेरे सवाल पर दीदी ने शरमाते हुए कहा- धत्त … ऐसी बात नहीं करते. ಮಲಯಾಳಂ ಸೆಕ್ಸ್वे गाते भी थे और साथ ही तबला और हारमोनियम बजाने का अच्छा ज्ञान भी रखते थे.

अब बस मुझे स्नेहा भाभी का सेक्सी फिगर और उनकी टाईट साड़ी ही नजर आ रही थी. ऐसा करती हूं कि मैं दूसरा बच्चा तुमसे ही पैदा करवा लेती हूं, हम दोनों दोस्त भी हैं और ये बच्चा किसका है इसके बारे में किसी को पता भी नहीं चलेगा. जो दूसरे वाले अंकल थे, जो नए आए थे, उन्होंने मम्मी को घोड़ी बनाकर चूत में लंड डाल दिया.

बस 3-4 मिनट के बाद उनका कामरस मेरे मुँह में आ गया, जो मैंने चाट कर पी लिया. वो भी ये बात किसी को नहीं बताएगा।उसने कुछ देर सोचा फिर बोली- अगर ऐसा हो सकता है तो मैं तैयार हूं।मैंने उसे सुखविंदर के ही बारे में बोला तो वो बोली- अरे वो तो तेरा दोस्त है.

जिया मुझे देखकर एकदम से चौंक गई और मुझसे ऐसे हाथ मिलाने लगी, जैसे हम पहली बार मिल रहे हों.

फिर वो दोनों मुस्कराने लगीं और खाना बनाते हुए चुदाई की बातें करने लगीं. जैसे जैसे मेरे डिस्चार्ज का समय करीब आ रहा था, मेरी स्पीड बढ़ती जा रही थीं. वो मेरे वीर्य और अपने कौमार्यभंग वाले रक्त का एक अणु भी बर्बाद नहीं करना चाहती थी.

पाकिस्तानी सेक्सी वीडियो फिल्म मेरे बार बार कॉल करने पर उसने फोन उठाया और फोन उठाते ही मुझे गालियां देना शुरू कर दिया. अब तक मेरी अन्तर्वासना की कहानी में आपने पढ़ा कि मेरी शादी उसी से हो गई जिससे मैं प्यार करती थी.

मैं मजा तो सातवें आसमान का ले रही थी … लेकिन मेरी चुदास इतनी ज्यादा बढ़ गयी थी कि और सह पाना मेरे वश में नहीं रह गया था. तो मैं बस इंतजार कर रही थी 10 बजने का।मुश्किल से सवा नौ बजे … तब मैं नज़मा को अपनी बांहों में भर कर उसे किस करने लगी तो वो भी प्रतिउत्तर देने लगी।मैंने अपना कुर्ता खोल दिया और उसका भी खींचने लगी तो उसने भी उतार दिया. मैं उसकी बात समझ गई … और मैंने उसके बिना बताए उसका लंड अपनी चुत में लेकर उसकी गोदी में बैठ गयी.

सेक्स सेक्स वीडियो चाहिए

दोनों ने अब तक मेरी जांघें भी फैला दी थीं और मेरी चुत पर उंगली फिराने लगे. पर उसकी दबी हुई मुस्कुराहट बता रही थी कि अंदर तक असर हो रहा है।फिर मैंने सोचा क्यों ना कुछ और बातों पर छेडूं. वो बोली- जिसने मेरी चूत में आग लगाई है, मैं अब उस आग को उसी के लंड से ही शांत करवाऊंगी.

फिर उस अनुभव को बार-बार दोहराने के लिए चौरासी लाख योनियों के फेर में पड़ना भी मंज़ूर करते हैं. मैंने फिर कहा- घबरा मत डार्लिंग, प्रियंका से पूछ कर देख कितना मज़ा आता है.

फिर उन्होंने अपनी एक टांग मेरे ऊपर रख ली। लेकिन मैं फिर भी एक ऐसा नाटक कर रही थी जैसे मैं सोई हुई हूं। लेकिन शायद वे जानते थे कि मैं जगी हुई हूं.

वो बोली- अब अन्दर करो ना!ये सुनकर रोहित ने संजना की चूत में डॉगी पोज में अपना लंड घप्प से घुसा दिया. धर मेरा लोहे जैसा अकड़ा हुआ लंड देख कर, सूंघ कर उसकी कामोत्तेजना बढ़े जा रही थी. चूस क्या रहा था बल्कि कहना चाहिए कि लौड़ा रानी के मुंह को चोद रहा था.

उम्म्ममेघा … तू बहुत हॉट है यार… मुझे भी चूसने दे न!”मैं बेड पे लेट गई. एक रात को करीब दो बजे मेरी आँख खुली तो देखा चाची बिल्कुल नंगी लेटी हुई थीं और चाचा उन पर चढ़े हुए थे. धीरे धीरे मेरा इंटरेस्ट मेरे देवर में और बढ़ने लगा क्योंकि वो मेरी हर बात मानते थे.

मैं थोड़ा नरम होते हुए उनके ससुर से बोला- माफ़ तो मैं तुम्हें कर दूँगा … लेकिन इसकी सज़ा देने के बाद.

मां बेटे का बीएफ मां बेटे का बीएफ: फिर पायल ने पास आकर कुछ देर कुछ बातें समझाईं, म्यूजिक को चलाया, रूकवाया और कब क्या करना है … ये सब कुछ स्पष्ट करने के बाद मुझे स्टेज पर चलकर रिहर्सल करने का न्यौता दिया. शरीर के बदलाव के साथ ही हमारे स्वभाव मिजाज व्यवहार और हंसी मजाक के तौर तरीकों में भी बदलाव होने लगा.

इसलिए मैं अपने नखरों को छोड़कर अपने आपको जीजू को समपर्ण कर दिया और उनका साथ देने लगी. तभी न जाने क्या हुआ कि मुझे ऐसा लगने लगा कि पीछे से एक शोर सा रहा था कि रे-प करने वालों को फांसी दो, फांसी दो, रे-प करने वालों को फांसी दो फांसी दो. सुनीता- समीर क्या बात है … तुमको सर्दी कुछ ज्यादा ही लग रही है और तुमने नाइट पैन्ट अब तक क्यों नहीं पहनी?मैं- आंटी … वो मेरी अंडरवियर गीली है.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:दिल्ली के चोदू लड़के से गांड चुदवा ली-2.

आंखें मूंदे मैं इसी तरह की बकबक करते हुए मुठ मार रहा था कि तभी चाची मेरे रूम के दरवाजे पर आ गईं और खड़ी हो कर ये सब देखने लगीं. उसकी चूत के चारों तरफ से निकलता गर्म रस तथा उसके संकुचन और फैलने की गति से मालूम हो रहा था कि वो झड़ रही है. वहां पहले से ही कुछ लड़कियां मौजूद थीं, जिनके हाथ में डायरी और पेन थी.