सेक्सी बीएफ 2021 की नई

छवि स्रोत,असामीस बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

रिंग टैटू: सेक्सी बीएफ 2021 की नई, नाड़ा काट देते हैं, लहंगा रिपेयर कर के नया नाड़ा डालते हैं और चलते हैं.

नांगी फोटो

हम दोनों के बीच कोई बात नहीं हुई, पूरी रात चुदाई के खेल के कारण सो नहीं सका और अब नींद मुझे जकड़ रही थी. बीएफ पिक्चर सेक्सी ब्लूलेकिन मैंने उसको ऐसा करते हुए देख लिया और एक कातिल मुस्कान उसकी तरफ छोड़ दी.

मैं बताना भूल गया कि उसने उस दिन नीली रंग की लैगी और लाल टी-शर्ट पहनी थी. लेडीज पेशाब कैसे करती हैबातें करते करते पता नहीं चला कब मेरा हाथ उसको मेरे करीब ले आया, हमने किस किया, एक दूसरे को गर्म किया.

दूध पीने के बाद हमने कुछ देर तक टीवी देखा और फिर आधे घंटे के बाद सब लोग सोने के लिए तैयार हो गये.सेक्सी बीएफ 2021 की नई: और फिर जैसे जैसे मैं उसकी चूत के पास बढ़ने लगा तो मानो उसमें एक आग सी लग गयी.

आप यहां से जाओ।भाभी- मैं नहीं जा रही हूं। मैं यहीं रहूंगी। तेरे साथ ही सोऊंगी.राहुल ने मना भी किया पर सीमा के भीगे बदन से निकलती आग और उसकी नजदीकी ने राहुल को रुकने पर मजबूर कर दिया.

एक्स एक्स एक्स एक्स इंडियन बीएफ - सेक्सी बीएफ 2021 की नई

उसने कहा- इतना क्या देख रहे हो? वही हूँ पुरानी पूजा!मैंने कहा- मैं पूजा नाम की लड़की को जानता था, आज पूजा भाभी से मिल रहा हूँ।वो थोड़ा शरमा सी गई और बोली- चलो भी अब अंदर … या यहीं करोगे सब?और उसने आंख मार दी।उसने कहा- बैठो, मैं कॉफी बना लूं।कॉफी पीते हुए बातें हो रही थी तो उसने बताया- यार तेरी चुदाई के लिए तरस रही हूँ।मैंने कहा- इतनी तड़फ थी तो गुजरात बुला लेती.मैंने उसकी पैंटी को दांत में पकड़ कर जांघ तक खिसका दिया और फिर एक झटके में उसकी पैंटी को निकाल दिया.

तो वो बोली- अचानक तुमने मेरी चूत पर पेशाब करना शुरू कर दिया, तो गर्म धार की वजह से ऐसा हो गया. सेक्सी बीएफ 2021 की नई ऊपर भाभी ने मैचिंग कलर का स्लीवलैस ब्लाउज़ पहना हुआ था, जिसमें पीछे की तरफ केवल डोरियां बंधी थीं.

मैंने उसके चूचों पर से मुंह हटाया और उसकी पैंटी को पकड़ कर खींच दिया.

सेक्सी बीएफ 2021 की नई?

मैं उसके कमरे में जब सफाई करने गई तो वो अपने लैपटॉप में कुछ देख रहा था. इस तरह से पूरे दस मिनट तक अजय ने स्पीड में मेरी बीवी ऋतु की गांड चोदी और फिर वो एकदम से ठहरता चला गया. बाकी की डिटेल मैनेजर ने खुद ही हम दोनों को पति पत्नी मानते हुए भर ली.

मेरा जो साढ़ू है, वह लगभग काम के सिलसिले में हर समय घर से बाहर ही रहता है. मैंने पीछे से मौसी की चूत में लंड को पेल दिया और उनकी कमर को अपने हाथों से थाम कर तेजी से उनकी चूत की चुदाई करने लगा. मुझे ऐसी बुक्स पढ़ना बहुत पसंद था, इसलिए मैंने उस मैगज़ीन को अपनी स्कर्ट में छिपा लिया और आंटी घर के अन्दर आने के बाद ‘घर पे कुछ काम है.

मैंने नहाकर आज शरद की दी हुई साड़ी पहनी और मेरे मिनी लैपटाप पे ये कहानी लिख दी. थोड़ा आगे चलकर हमें एक झोपड़ी दिखी, तो हमने वहीं रुकने का विचार बनाया. मैंने देखा कि भाभी ने पहले से ही सारी खिड़कियां बंद करके उन पर पर्दा लगा दिया था.

अंकल बोले- अभी तेरी अम्मी आने वाली है, वो मेरे लिए नाश्ता लेकर आएगी. एक काम करो ना, तुम मेरे घर पे आओ न … वहीं साथ में बात करते करते टीवी देखेंगे.

उस दिन हीना ने साहिल को पहली बार देखा था मगर फोन पर होने वाली चैट पर वो एक-दूसरे को पहले से ही जानते थे.

फिर मेरी उन्होंने मेरी जीन्स उतार दी और पैंटी के ऊपर से मेरी चुत सहलाने लगे। एक झटके में उन्होंने मेरी पेंटी उतार दी और अपनी जीभ मेरी चुत पे लगा दी.

फ्रेंड्स … मेरा नाम दीपक कुमार है, मैं 26 साल का हूँ, मैं जोधपुर सिटी में रहता हूँ और अभी कॉम्पटीशन के एग्जाम्स की तैयारी कर रहा हूँ. मैं उनकी आंखों से आंखें नहीं मिला सकी और अपनी आंखें बंद कर कर उनके लंड को अपने आप ही हिलाने लगी. जैसे ही उसने मेरे बूब्स पर अपने दोनों हाथ रखे तो मेरी आह … निकल गयी.

नमस्कार दोस्तो, मैं देव कुमार जयपुर से आपके लिएआंटी की प्यासी जवानी मांगे लंड-1से आगे का भाग लेकर आया हूँ. रात को मैं सोचने लगा कि कैसे भी करके इनमें से एक को तो पटाना ही है. अम्मी अंकल के सीने पर किस करने लगीं और उनकी घुंडियों को काटने लगीं.

तेजी से मेरा हाथ लंड की मुट्ठ मार रहा था और दूसरे हाथ में आंटी की पेंटी पकड़े हुए उसको मैंने नाक से लगाया हुआ था.

नम्रता ने मेरे यह शब्द सुनते ही मेरे लंड पर अपना शिकंजा कस लिया और खेलने लगी. उनकी टाईट जींस और चुस्त टॉप से उनकी चुत का फूला हुआ आकार और उठी हुई गांड बड़ी मस्त लग रही थी. एक बार तो सोनू ने उसे चूसने से मना करते हुए बाहर निकाल दिया लेकिन मैंने उससे कहा कि उसकी चूत को भी तो मैंने दो बार शांत किया है.

मैडम, आप गाड़ी किसी स्पीड में दौड़ाना पसंद करती हैं?”मैंने अपने टी-शर्ट को पीछे से हल्का सा थोड़ा ऊपर किया अब मेरे हिप्स पीछे से पूरे नंगे हो गए थे और उसके लंड को अपनी गांड की दरार में एडजेस्ट करते हुई बोली- जितनी तुम रेस कर दो कि मैं उतना दौड़ा दूंगी. वो बाइक से उतर गई और घुटनों के सहारे बैठ गई, मैं खड़ा हो गया और लंड उसके मुँह के पास ले गया. बस एक बार धक्का लगना क्या शुरू हुआ कि फट-फट, फक-फक की आवाज सुनाई पड़ने लगी.

वहां एक भैया-भाभी अपने बच्चों के साथ रहते थे।आंगन में पहुंचने के बाद मैंने भाई को आवाज लगाई तो भाभी ने जवाब दिया- देवर जी अभी घर में कोई नहीं है इस वक्त.

मानो मैं आंखों ही आंखों में कह रहा था अगर मौका दो तो मैं आज तुम्हारी चूत का भोसड़ा बना दूं. लेकिन जब रात को वो मेरी बांहों में लेटी हुई थी तो मैंने फिर से उसको नंगी कर दिया.

सेक्सी बीएफ 2021 की नई मैंने कहा- बोलो … सही कहा न मैंने! बताओ आप क्या करते मेरे साथ?वो बोला- तुम्हें लड़की ही होना चाहिए था. मुझे तो सिग्नल मिल गया, मैंने मोबाइल एक तरफ रखा और भाभी को सीधा करके उनके होंठों पर किस करने लगा.

सेक्सी बीएफ 2021 की नई मेरी मां ये सुनकर एकदम से चौंक गई और घबराते हुए बोली- ये आप क्या बोल रहे हो रमेश जी? आपको जरूर कोई गलतफहमी हुई है. पहले मैंने थोड़ा आराम से सहलाया फिर उसकी चुचियों के बीच की घाटी में उंगली डाल दी.

जब भी उसकी नजर मुझसे मिलती, तो वो एक हल्की और प्यारी मुस्कान छोड़ देती.

जानवर वाला सेक्सी ब्लू फिल्म

यह कह कर अंकल ने ऊपर से धक्के देना और तेज कर दिए और आंटी के बड़े स्तन चूसने लगे. संजीव मेरे नीले चमकीले ब्लाउज में से दिख रही मेरी चूचियों की दरारों को घूर रहा था. फिर उसके अन्दर ही मैं माल छोड़ देता था और फिर दोनों मियां बीवी करवट बदलकर सो जाते थे.

मैंने उसे अपना नंबर दे दिया।जब मैं सौरव को नम्बर बता रही थी तो बाकी छात्र हम दोनों की तरफ ही देख रहे थे। मैं आराम से आकर सीट पर बैठ गई।मेरी दो-चार सहेलियाँ भी आ गईं, मुझसे पूछने लगीं- क्या चक्कर चल रहा है तेरे और सौरव के बीच में?मैंने मजाक में कह दिया कि वो मेरा नंबर मांग रहा था तो मैंने दे दिया।मेरी सहेलियाँ भी खुश हुईं और मैं भी हँसने लगी।जब घर पहुँची तो मोबाइल देखा. चाची- उम्म्ह… अहह… हय… याह… और कितना तड़पाएगा, डाल दे रे जीशान, अब रहा नहीं जा रहा है. मैंने सोचा था कि आज जवानी के दिनों की कोई आपबीती को सेक्स स्टोरी में लिखूंगा.

कुछ देर इसी अवस्था में रहने के बाद मैंने अपना हाथ उसकी छाती पर फेरना शुरू कर दिया.

मुझे उसके होंठ इस समय इतने मस्त लग रहे थे कि मैंने उसके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया और उसके होंठों का रस चूसने लगा. आप सबके प्यार के लिए थैंक्स, बस ऐसे ही अपना प्यार मेल करके बताते रहिएगा. इस वक्त ताऊ जी ऐसे लग रहे थे जैसे चाची की चूत पर वो दंड पेल रहे हों.

मैं भी वहां से हट कर वापस सोफे पर आकर लेट गया और सोने की एक्टिंग करने लगा. साहिल सोफे पर बैठ गया और समीरा बानू ड्रेसिंग रूम में जाते हुए बोली- मैं अभी चेंज करके आती हूं. तेरे मौसा की बेरूखी के कारण मैं तो मर्दों के लंड का स्वाद लेना भूल ही चुकी थी.

मैं लगातार भाभी की चुचियों को पीता रहा और दूसरे को हाथ से दबाता रहा. पुष्पिका की चूत चोदने की प्लानिंग दिमाग में चल रही थी मगर समझ नहीं आ रहा था कि यह सब होगा कैसे? यही सोचते-सोचते मैं कब सो गया, पता ही नहीं चला।सुबह मेरी बहन पुष्पिका की आवाज से ही मेरी आँखें खुलीं.

उस रात को भी उसने मेरे उभरते हुए नीम्बुओं को खूब दबा दबा कर सहलाया. उसने अपने एक पैर को मेरे दोनों पैरों के बीच डाल दिया और अब उसका खड़ा लंड मेरे हिप्स पे महसूस हुआ, जैसे ही उसका लंड मेरे हिप्स में टच हुआ मेरी मुँह से सिसकारियां निकलने लगी,अब ‘पहले उसका पैर, फिर मेरा पैर, फिर उसका और अंत में मेरा …’ इस पोजिशन में खड़े थे हम. मेरे मुँह से चीखें निकल रही थी, उसने मेरे होंठों पर होंठ रख दिए और जोर जोर से झटके देने लगा.

मैं बस से अपने बहन के ससुराल गया, तो वहां मेरे जीजा भी उसी दिन अपनी सर्विस से छुट्टी पर आये हुए थे.

करीब 4 बजे मैंने अपने कपड़े पहने और बुरका पहन के अपने घर के अन्दर आ गयी. कुछ देर की खुली बातचीत के बाद मामी बोलीं- हां मेरा भी एक ब्वॉयफ्रेंड था. मेरे मायके में यहां जाइंट फैमिली है इसलिए बड़े से घर में बहुत सारे रिश्तेदार साथ में रहते हैं.

हाथों से मैं चूचे मसल रहा था और साथ में मैंने मैडम के होंठों को किस करना भी चालू रखी थी. इसके बाद ताऊ जी चाची की जांघों के बीच में बैठ गए और अपने लंड को एक हाथ से पकड़ कर चाची की चूत से लगा दिया.

मैंने उसके चुचे जो कि बाहर ही थे, उन्हें दोबारा दबाना चालू किया और करीब 4 या 5 मिनट बाद मैंने कहा- मैं झड़ने वाला हूँ. सोसायटी अच्छी थी, तो रोज शाम को आंखें गर्म करने के लिए चुपचाप लड़कियों का चक्षुचोदन करता. मेरी मुँह बोली साली सोनम, जो कि मेरी बीवी की कुछ ही समय पहले बनी सहेली है.

सेक्सी रिकॉर्डिंग बातें

मैंने अपनी जीभ जितनी अंदर जा सके उतनी डाल दी और चुत का स्वाद लेने लगा.

चाचा के घर से निकल कर मैंने सोचा कि मैं कौसर को बता देता हूँ कि मैं देर से आऊंगा, नहीं तो वो नाहक मेरा इंतजार करेगी. थोड़ी देर इसी तरह बैठे रहने के बाद दोनों बिस्तर पर आए और एक दूसरे से कस कर चिपक गए. उसने वीडियो देखके फ़ोन वापिस कर दिया … लेकिन वो मुझे देखे जा रही थी.

मैं मधु की दोनों टांगों को चूमने लगा और जब मैंने उसकी जाँघों को किस किया, तो मधु की आवाज मदहोश हो गयी. जब मेरी आंख खुली, तो गाड़ी जयपुर पहुंचने वाली थी, सुबह के 4 बज चुके थे. पंजाबी बीएफ सेक्सी चुदाईउसने कहा- यार सॉरी बाइक खराब हो गयी, रास्ते में ही मैकेनिक के पास खड़ी कर दी.

अजय ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और फिर दोनों ही गांड चुदाई का मजा लेने लगे. अब आगे:भोला सिंह ने कहा- मुझे अपने बाप की तरह समझ और खुल कर इंजॉय कर … यह जिंदगी मजा लेने के लिए है.

अमित खेती बाड़ी करता है और उसके पास ट्रैक्टर ट्राली और खेती का खुद का सारा सामान है, मतलब एक तरह से वो एक संपन्न परिवार है. वो बोले जा रही थी- आई लव यू … मस्त है तुम्हारा लंड जान … बहुत मस्त है, आज मैं जन्नत में हूँ … बस मुझे चोदते रहो. सुबह सुबह वैसे ही मेरा लंड खड़ा रहता है … जो कि अंडरवियर के ऊपर से ही साफ साफ दिख रहा था.

लंड को उसकी चूत की फांकों से लगा दिया और चूत को अपने लंड से सहलाने लगा. मैंने फिर पूछा तो उन्होंने बताया कि उनके पति किसी और के साथ चक्कर चल रहा है. मैं उसके लंड को पूरा गले गले तक ले रही थी और वंश मेरी चूत को और गांड को पूरी जीभ डाल के चाट रहा था.

मैंने उनसे पूछ लिया- आप कहाँ जा रहे हो?रोहन ने मुझे बताया कि वह अपने फ्रेंड्स के साथ घर जा रहा है.

फिर मैंने उसको ऐसे ही हाय लिख फेसबुक पर मैसेज किया, तो उसका हाथों हाथ जवाब भी आ गया. मैंने बिना देरी किए उसके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया और उसे चूसने लगा.

मैंने उसकी गांड के छेद को अपने उंगली से टटोला और फिर उसकी गांड में उंगली डाल दी तो वो उचक गई. विक्की के लेटते ही मैंने विक्की की तरफ पीठ करके उसके लंड पर चूत रख दी और पूरा लंड अन्दर डलवा लिया. पायल इसलिए निकाली, क्योंकि लंड चूत की धकापेल में पायल बजने की आवाज़ ना आए.

सबसे ज्यादा मजा तो मेरे लंड को लग रहा था क्योंकि नम्रता की चूत से निकलती हुई भाप सीधा मेरे लंड से टकरा रही थी, जिसके वजह से लंड बीच-बीच में फुंफकार कर चूत को छूने की कोशिश कर रहा था. स्टेशन के बाहर आकर हमने नाश्ता किया और ऑटो करके उसकी बहन के रूम पर आ गए. दोस्तो, मेरे गांव का नाम मत पूछना क्योंकि मैं सभी बातें गुप्त रखता हूँ.

सेक्सी बीएफ 2021 की नई इधर उसकी नजरें मेरा पीछा करती थीं, तो मैं भी ये समझ गया था कि उन्हें मैं पसंद हूँ. )नेहा- इट्स ओके यार (ठीक है)फिर मैंने ही उससे पूछा- तुम कहां से आते हो अमित?उसने बताया तो पता चला वो मेरे गांव से अगले वाले गांव से ही आता है.

सेक्सी ब्लू फिल्म एचडी सेक्स

मेरी कौसर इतनी ज्यादा सेक्स की भूखी है कि इतने लम्बे मोटे लंड का मजा वो छोड़ नहीं सकती थी, चाहे वो लंड उसके अपने ससुर का ही क्यों ना हो!फिर अब्बू मेरी बीवी के चूचों को पकड़ कर मसलने लगे और अब मेरी बीवी अपने आपको कंट्रोल कर रही थी लेकिन तब भी मजे से उसकी सिकारियां निकली जा रही थी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’अब्बू का लंड मेरी बीवी की चूत को रगड़ रहा था. उसके इशारे पर कंचन भी नीचे बैठ कर उसके लंड के साथ खेलने लगी और उसे चूमने लगी। उसे उस लड़के के साथ ऐसे करते देखते हुए मुझे थोड़ा दुःख हुआ क्योंकि मैं तो खुद ही चाहता था कि उस लड़के की जगह मैं हो पाता, लेकिन मैं फिर भी उसी तरफ देखता रहा। कंचन ने उसके लंड को चूसना शुरू ही किया था कि वह लड़का फिर रुक गया. मैंने उंगली को उसके लबों पे फेरा, तो वो मीठी आहों के साथ बस इन खुराफातों का मजा ले रही थी.

रीना- क्या मतलब? मैं समझी नहीं!बॉस- अरे बाबा! छोड़ो ना … बताओ कैसा लग रहा है? शिमला पहले कभी आयी हो पति के साथ?रीना- कहाँ सर … इनका तो शॉप है कंप्यूटर की … आजकल पूरा वक़्त उसी में दे देते हैं. मैं नीचे गया तो नेहा ने बोला- कहां जा रहे हो?मैंने उसे बताया- सब्जी लेने जा रहा हूँ. ब्लू पिक्चर की वीडियो दिखाओजब मैं मुट्ठ मार कर बाहर आया तो देखा कि मेरे फोन की रिंग बज रही थी.

थोड़ी देर बाद लंड चूत के बाहर निकल गया और मैं रेखा के ऊपर से उतरकर बगल में लेट गया.

साहिल- कहीं प्यार-व्यार का चक्कर तो नहीं?हीना- नहीं मामा, ऐसी कोई बात नहीं है. मैंने ये देख कर अंकल को कॉल करके बता दिया कि अंकल अम्मी आ रही हैं, आप तैयार रहना.

अब शादी प्रिया की हो रही थी, मेरे शहर में हो रही थी ऊपर से मेरी रहनुमाई में हो रही थी और मैंने अपने जान-पहचान वाले फ़्लोरिस्ट से जय-मालाएं और बाकी हार बुक किये थे, इसलिए अब यह कार-सेवा तो मुझे ही करनी थी. उनके साथ फोन पर बातों में मैं उनसे सेक्स के विषय को लेकर काफी खुल चुकी थी. मेरी सहेली कभी भी मेरे घर आ सकती थी, क्योंकि वो अपने घर की चाभी मुझे ही देकर गयी थी कि उसका पति अगर घर आए, तो मैं उसको चाभी दे दूँ.

कुछ देर बाद उसके नर्म होंठ मेरे गालों को छू कर निकल गए और अपनी लिपस्टिक का निशान छोड़ गए.

थोड़ी देर के बाद जब वो शान्त हुयी तो मैंने अपने धक्के लगाने शुरु कर दिये. शमा ने मेरे तने हुए लंड को अपने हाथ में लेकर हिलाया और उसको अपने मुंह में भर कर चूसने लगी. फिर राधिका ने उन दोनों किस करना रोक दिया क्योंकि वे दोनों बियर की मस्ती में एक दूसरे को बड़ी सेक्सी तरीके से चूमने में मशगूल हो गई थीं.

पिक्चर ब्लू हिंदी मेंखैर मैंने दीदी के निप्पल को देखते हुए उसको सब बताया और उससे अभी के अभी चलने को कहा. आज की जो कहानी मैं आपको बताने जा रहा हूँ वह भी मेरे जीवन की ऐसी ही एक घटना है जिसमें मैंने पहली बार किसी लड़के के लंड तक पहुंचने की कोशिश की थी.

अफगानिस्तान सेक्सी फिल्म

मैंने अपने आप को संभाला और कहा- फिर मेजबान और मेहमान दोनों तैयार हैं तो शुरू करें पार्टी?उसने कहा- यहाँ नहीं।फिर कहाँ, कहीं और चलना है क्या?” मैंने पूछा. क्या मस्त नजारा था दोस्तो … चाची के भरे हुए मम्मे देख कर मेरे तो होश ही उड़ गए थे. अगले दिन अंकल दरवाजे पर खड़े पेपर पढ़ रहे थे, मैं और आंटी किचन में थे.

मैंने भाभी को थैंक्स लिखके भेजा, तो उन्होंने ख़ुशी भरा मैसेज भेजकर उस मिले आनन्द के लिए थैंक्स बोला. भाभी की गांड पर लंड को सटा कर मैं उनकी गांड पर लंड को ऊपर नीचे रगड़ने लगा. अंकल का सांवला रंग, चौड़ा बदन, पतले हुए बाल और गुस्सैल चेहरा होने की वजह से कोई उनसे ज्यादा बात नहीं करता था.

फिर बबीता ने बताया कि उसका पति पूछने लगा कि उसको कैसा लगा तो बबीता ने कहा- पहले तो बहुत दर्द हुआ लेकिन बाद में बहुत मजा आया. इधर मैं भी उसके बालों को वैसे ही पकड़े हुए उसके उसके कंधे पे लगी पसीने की बूंदों को जीभ से चाट रहा था. मैंने जल्दी से ज़िप खोलते हुए अपने फड़फड़ाते हुए लंड को बाहर निकाला.

इतना ही नहीं … भाभी पढ़ाई में भी मेरी सहायता करती हैं। मैं उनसे मैथ्स पढ़ता हूँ. शान्ति के बारे में आपको बता दूं कि उसकी उम्र 50 या उससे एक-दो साल ऊपर, शरीर पांच फीट आठ इंच की लम्बाई से कुछ ज्यादा ही लगता है, वज़न 90 किलो से ज्यादा ही होगा, 48 इंच का सीना आज भी कसाव लिये हुए है और जब मदमस्त हथिनी की तरह चलती है तो एक दूसरे से रगड़ खाते कूल्हों को देख कर लंड फुंकार मारने पर मजबूर हो जाता है.

एक बार तो मेरा मन भी सुमिना के उस टॉप में उठे उसके उरोजों को देखकर जैसे वहीं पर ठहरने सा लगा था.

मैंने राधिका की तरफ देखा तो उसने मुझे आंख मारते हुए अपने मम्मे को दबाते हुए एक इशारा दिया. बीएफ नंगी सेक्सीमेरी गलती को सुधारने तथा अपनी राय मुझे[emailprotected]पर जरूर मेल करें. हिंदी क्सनक्सक्स वीडियोपहले मैंने थोड़ा आराम से सहलाया फिर उसकी चुचियों के बीच की घाटी में उंगली डाल दी. फिर बिस्किट लेकर और चाय का कप लेकर फिर से अपने रूम की तरफ जाने लगा तो सुमिना ने मुझे रोक लिया.

इस तरह लंड चुत की चुदाई कर रहा था और उंगली से उसकी गांड की चुदाई हो रही थी.

जैसे ही उसका सुपाड़ा मेरी बीवी की गांड में घुसा तो वो चीखने लगी उम्म्ह… अहह… हय… याह… लेकिन अजय ने अपना दबाव बनाना जारी रखा. अब वो मेरे सामने लाल ब्रा और पेन्टी में लेटी थी और अपने बदन को दोनों हाथों से छुपाने की कोशिश कर रही थी. और अपनी पैन्ट की जिप खोल के लंड बाहर निकाल दिया और वापिस किस करने लगा.

ये उससे बात करने का अच्छा मौका था और मैं इस मौके को हाथ से जाने नहीं देना चाहता था. फिर श्वेता मैडम ने थोड़ा आगे होकर मेरे लंड को हाथ में पकड़ लिया और उसको निहारने लगीं. नाइटी पहन कर मैं बाथरूम से बाहर निकली और मेरे बाहर निकलते ही उसने मेरी तरफ देखा.

कंपनी का सेक्सी वीडियो

जब वीर्य के बाहर निकलने या अंदर ही रखने पर मेरा कोई वश न रहा तो मैंने वीर्य के आवेग को अपने मन में उठ रहे आनंद के हवाले कर दिया. यूं ही मस्ती करते-करते पता ही नहीं चला, कब शरारतों में हम इतनी दूर निकल आए. जब मुझे भाभी के आने की आहट सुनाई दी तो मैंने न्यूज़पेपर को चेहरे के सामने कर लिया और पढ़ने का नाटक करने लगा लेकिन मैं पीछे से सब कुछ देख सकता था.

बाद में करीब 9 बजे सीढ़ियों से वापिस आ रहा था, तो पारुल अपनी बाल्कनी में मोबाइल पे किसी से बात कर रही थीं.

मैंने कहा- उसके साथ ऐसी फोटोज निकलवा कर तुम तो खुश हो, मगर मेरा क्या होगा.

सीमा ने राहुल के तौलिया में तम्बू से झांकते बम्बू को हवा लगाने के लिए राहुल का तौलिया खींच दिया और नीचे बैठ कर उसका खड़ा लंड अपने मुंह में ले लिया. दोस्तो, मेरा नाम परम है और मैं दिल्ली में रहता हूं। मैं हमेशा से ही हिन्दी सेक्स स्टोरी पढ़ा करता था। आज मैं भी आपको अपने साथ हुई एक सच्ची घटना बताना चाहता हूं। यह कहानी एकदम सच है। ये मेरी पहली स्टोरी है. छोटी बच्ची बीएफमैं भी दनादन लंड आगे पीछे कर रहा था और उसके पूरे शरीर को चूमते हुए चोदे जा रहा था.

इसके बाद मैंने परवीन की चूचियों को छोड़कर उसकी मस्त सीलपैक चूत को चूसना चालू किया. राधिका- सोनल सोच ले … तुम्हारी भी बारी आएगी, तब मैं भी अपना हिसाब बराबर करूंगी. उसके बाद वो अपनी चूत में उंगली डालकर क्रीम निकालती और मुझे चटाती जाती.

हम दोनों ने उठकर मौसी से पूछा, तो हमें पता चला कि हमारी नानी को दिल का दौरा आया है और उन्हें तुरंत पास के एक हॉस्पिटल में दाखिल करना पड़ा है. मैंने उसके होंठों को चूसा और उसके चूचों को दबाया और उसके ऊपर लेट कर पूरा लंड उसकी चूत में घुसा दिया.

मैंने सोच लिया कि अब से मैं कौसर बेगम को कभी अकेली नहीं रहने दूँगा.

आंटी ने अपना सामान खरीदा और हमने बाजार में साथ में बैठकर चाय पी और हम वापस घर आ गए. बाद में करीब 9 बजे सीढ़ियों से वापिस आ रहा था, तो पारुल अपनी बाल्कनी में मोबाइल पे किसी से बात कर रही थीं. सुचिता का भी यही हाल था तो हमने बाहर निकल कर पहले पेट भर कर खाना खाया और मैंने वापस आते वक़्त सुचिता को उसके हॉस्टल पर छोड़ दिया और मैं वापस अपने हॉस्टल पर आ गया।आशा करता हूँ कि आपको मेरी ये कहानी भी पसंद आई होगी। मेरी कहानी आप लोगों को कैसी लगी ये ज़रूर बताना। आंटी और भाभियों के मैसेज के लिए तो मैं हमेशा इंतजार करता रहता हूँ किंतु अगर कोई जवान लड़की भी मैसेज करना चाहे तो उसका भी स्वागत है.

एक्स एक्स भोजपुरी बीएफ वीडियो उसके होंठों के पास अपने होंठों को ले जाकर देखा, तो उसकी सांसें तेज हो चली थीं. मैंने फिर सोफे से नीचे उतरते हुए मौसी को वहीं फर्श पर लिटा लिया और उनका गाउन निकलवा दिया.

कमसिन कॉलेज गर्ल के साथ मेरी सेक्स कहानी में अभी तक आपने पढ़ा कि डॉली को चोदने के बाद हम दोनों नंगे ही लिपटकर सो गये. मेरे मुँह से चीखें निकल रही थी, उसने मेरे होंठों पर होंठ रख दिए और जोर जोर से झटके देने लगा. तो हुआ यूं कि मैं भी अपने चाचा के घर जाकर उनके साथ बिस्तर पर बैठ गया.

हिंदी सेक्सी शूटिंग

मैंने अपना लण्ड बाहर निकाल कर कॉन्डम हटा लिया और लंड को उसके मुंह में डाल दिया. ”कोई दिक़्क़त नहीं लेकिन आप आज ही वापिस क्यों जाना चाहती है?” मैंने मन ही मन हिसाब लगाया कि वसुन्धरा का मुझे लगभग डेढ़-पौने दो घंटे का साथ और मिल सकता है. इसके बाद मैं अपनी अगली सेक्स स्टोरी में लिखूंगा कि नताशा भाबी, जो कि अब तक अपनी बेस्ट फ्रेंड प्रिया के घर कुछ दिन रहने के लिए गई थीं.

मैंने कहा- मम्मी मुझे तो घर जाना है और मैं भी निहारिका और विक्की भाई के साथ अपने घर जाऊँगी. सीमा वाल पकड़ कर प्रैक्टिस कर रही थी पर उसके पैर सीधे नहीं हो पा रहे थे.

सुबह 8 बजे मेरी नींद खुली, तो मैंने सबसे पहले बाहर जाकर देखा कि अम्मी और अंकल हैं या नहीं.

लगभग दस मिनट ऐसे ही कुर्सी पर मेरी चुदाई करने के बाद उसने मुझे नीचे फर्श पर बैठा दिया और अपना लंड मेरे मुंह में डाल दिया. उसकी इस बात से मुझे पक्का यकीन हो गया कि लौंडिया चुदने को मचल रही है. बीस मिनट के बाद ही मैं तीसरी बार झड़ गई मगर वो अभी भी नहीं रुका और मेरी चूत में नीचे से धक्के देता रहा.

सोनम- क्या जीजू, आप लोग मुझे क्या सिखाना चाहते हैं?मैं- सेक्स का प्रेक्टिकल ज्ञान. वहां उन्होंने मेरी नाइटी को निकाल दिया और मेरी चूचियों को ऊपर से दबाने लगे. मुझे जैसे ही यह बात समझ आई कि चाची ने मेरी इस हरकत को समझ लिया है, मुझे बहुत लज्जा आई.

येलो कलर का लॉन्ग कुरता, उसके नीचे ऊंचा प्लाज़ो पैन्ट टाइप और बालों में फंसा धूप का चश्मा.

सेक्सी बीएफ 2021 की नई: सी!उधर वसुन्धरा के दोनों हाथों की उँगलियों के नाख़ून मेरे सर में गड़े जा रहे थे और इधर मेरा बायां हाथ वसुन्धरा के पेट का पूरा जुग़राफ़िया नाप रहा था. वो नाइटी पहन कर कपड़े धोती और मैं अपने घर के दरवाजे के पास खड़े खड़े देखता रहता था.

उस वक्त मेरी आग जरूर शांत हो गई थी, पर मेरी वासना मुझे शांत बैठने नहीं दे रही थी. शाम तक मैं उसी के साथ रहा और बाद मैं मैं घर से निकल कर काम पर वापस आ गया. नीला ने मुझे डिनर करके जाने के लिए बोला, तो अदिति के ज़ोर देने पे मैं भी रुक गया.

मैंने अपने ऊपर से नम्रता को हटाया और वहीं बैठते हुए नम्रता से छत पर चलने की फरमाईश कर दी.

मैंने गिड़गिड़ाते हुए कहा- सॉरी! इसमें गलती मेरे अकेले की नहीं थी, आप भी बराबर के कसूरवार हो।बॉस- रीना तुम्हें जाना ही होगा, अपना इस्तीफा दो और निकलो. वो अकेली थी, तो उसकी मम्मी ने घर में मेरी मम्मी कॉल करके कहा- आदी को भेज दो, आज वो जानू अकेली. इतना ही नहीं … भाभी पढ़ाई में भी मेरी सहायता करती हैं। मैं उनसे मैथ्स पढ़ता हूँ.