बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो एचडी देखने वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स गैंगरेप: बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो, अब मैंने सोचा कि क्यों न मैं भी अपनी एक सेक्स कहानी लिखकर आप सभी पाठकों के मन को रोमांचित करूं!जंगल सेक्स कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको अपना परिचय दे देता हूं.

हिंदी सेक्स ओरिजिनल

मैं- क्या हुआ?ज़ारा- मुझे शर्म आ रही है!ये सुनकर मैं हंसने लगा- मुझसे शरमा रही हो?ज़ारा- हम्म!मैं- मुझसे कैसा शरमाना?ज़ारा- पता नहीं क्यों? लेकिन आ रही है!मैं- चलो फिर से सेक्स करते हैं, तुम्हारी शर्म दूर हो जायेगी!ज़ारा- जान मेरी चूत दुखने लगेगी!मैं- चलो गांड में कर लेते हैं!ज़ारा- जान प्लीज! मान जाओ!मैं- ठीक है जैसा तुम चाहो!कहकर उसे आगोश में ले लिया और हम सो गये. पंजाबी सेक्सी मूवी एचडीमैं बिना किसी लिहाज के सबसे पहले अपने गीले कपड़े खोल कर बिल्कुल नंगा हो गया और बिना किसी हिचिचाहट के बेड पर चादर ओढ़ कर बैठ गया.

तो उन्होंने जवाब दिया- तो आज़ाद कर दो न … ऱोका किसने है?यह सुनते ही मैंने उनकी ब्रा के हुक खोल दिए. रियल सेक्सी मूवीफिर मैंने धीरे धीरे करके पूरा टीशर्ट ऊपर तक कर लिया और उसकी चूचियां मेरी नजरों के सामने नंगी उसके सीने पर पसरी हुई थीं.

मैंने उसका मन समझ लिया था कि ये अंधेरे में मेरे साथ सहज है और शायद कुछ चाहती भी है.बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो: वो भी मेरी नजरों को पढ़ कर मेरी तरफ घूंसा दिखाते हुए मुस्कुराने लगी.

मैं दवा धीरे धीरे मलने लगा।अब मेरा लंड खड़ा होने लगा।मैंने कहा- भाभी दवा साड़ी में लग रही है।वो बोली- हां लग तो रही है लेकिन थोड़ा बचाकर मालिश करो.उसने ड्रेस को सामने से हटाया तो उसकी सफेद ब्रा और पैंटी में उसके बदन का बीच का हिस्सा दिखने लगा.

गांव की लड़की - बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो

मैंने मुस्कराहट के साथ उससे गर्मजोशी से हाथ मिलाया और हम सब रूम की ओर लिफ्ट में जाने लगे.मामी मुझे नहलाने लगीं और साबुन लंड पर लगा कर उसे अच्छे से साफ कर दिया.

बेबी बोली- आह अब जल्दी से अन्दर डाल दो … मुझसे रुका नहीं जा रहा है. बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो कुछ देर यानि लगभग दो मिनट के बाद उसके पति का पानी साक्षी की चूत में निकल गया और वो चोदता हुआ रुक गया.

दीदी इस वजह से जाग गईं और बोली- ये क्या कर रहे हो तुम?मैंने अपने लंड से दीदी को झटका मारा और बोला- आज यही करना है.

बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो?

एक तेज धक्के से लंड चुत के अन्दर घुस जाने से उसकी तो सांस ही रुक गई. उसकी जांघों पर पसीना भर गया और फच्च फच्च की आवाज आने लगी।वो बोली- राज तुम मुझे हमेशा ऐसे ही चोदोगे?उसको कस कर धक्के देते हुए मैंने कहा- हां, ऐसे ही चोदूंगा. इस पर मयंक ने जवाब दिया- मैडम हम दोनों को पैसे की जरूरत है इसलिए इधर आ गए थे.

’‘ओके … देखिए आप बुरा ना मानिए, अभी मुझसे रूपा नहीं, रूपा जी ही बोला जाएगा. यामिना- पूरे चार साल, मैं तो इस सब के लिए तरस गई थी, आज आपने फिर से बदन में आग लगा दी है. इसके बाद वे हमें पास में एक छोटे से होटल ले गए, वहां हम दोनों ने छक कर खाना खाया.

मैं- अरे इधर किधर … कॉलेज बाहर ले जा रही है?सीमा- आज कॉलेज नहीं जाना. मैंने कहा- इतने दिन से बिना तेरी चूत के लंड में आग लगी हुई है … और तुम हो कि चुदना नहीं चाह रही हो. जैसे ही मेरे होंठों ने शायरा के होंठों के रस को पीना शुरू किया, एक बार फिर से उसने अपनी बड़ी बड़ी आंखें खोलकर बन्द की, मगर फिर अगले ही पल उसने भी धीरे धीरे मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया.

निखिल- क्या?मैं- यही कि उस बारिश वाली रात हमारे बीच जो कुछ हुआ, वो केवल ठंड से बचने के लिए किए गए काम का हिस्सा था. उसके उभारों से थोड़ा सा दूध चूसकर निप्पल दांतों से काटते हुए उसके सपाट पेट पर अपनी जीभ फेरने लगा.

एक विदेशी गोरे ने मेरी बीवी की चूचियां दबाना शुरू कर दिया और दूसरा उसके होंठ चूस रहा था.

लॉकडाउन में कम तनख्वाह में घर भी चलाना था, इस वजह से भाभी नया फोन या टैबलेट नहीं ले पा रही थीं.

वो चित लेट गईं तो मैं तीनों की ब्रा निकाल कर उनको किस करने लगा और चुचे दबाने लगा. आपका रोहित[emailprotected]हॉट भाभी देवर कहानी का अगला भाग:सगी भाभी ने दूध पिलाकर चुत चुदवायी- 2. वो सरसों के तेल की शीशी लेकर आईं और मेरे लंड पर तेल टपकाते हुए उसकी मालिश करने लगीं.

मैंने भी धीरे से अपना लौड़ा थोड़ा सा बाहर खींचा और उसे फिर से रंजू की चूत में जबरदस्त झटके के साथ घुसेड़ दिया. मैं एक-एक डोरी चूमता और वो आहें हैं भरती!डोरियां खुलीं तो सामने आ गयीं ब्रा में कसी उसकी गोरी चूचियां!मैं ब्रा निकाल कर चुभलाने लगा उसकी चूचियों को और ज़ारा लंबी-लंबी आहें भरती हुयी एकदम से झड़ गयी. फिर मैंने उसे शाम को फ़ोन किया कि गाड़ी को ठीक होने में चार दिन लगेंगे.

मैं उसकी चूचियों को मसलने लगा और पैंटी पर हाथ डालकर उसकी चूत को ऊपर से सहलाने लगा.

शर्मा जी ने पूछा- काम हो गया?मैंने अपने पर्स से 50000 निकाले और शर्मा जी को दे दिए. तभी स्वाति भाभी निधि से बोलीं- यार निधि तुझे शिव से भी मजे लेने हैं क्या? मैं तो रात भर आज इनके साथ रहने वाली हूँ. मैंने बड़े प्यार से हाथ मिलाया और उसकी आंखों में झांकते हुए मुस्कराहट बिखेर दी.

मैं बोला- चाची ज्यादा ना सोचा करते … जो सोचे हैं ना … वो कदी होया ना करता. उस समय मैंने पापा को मम्मी की चुदाई करते हुए अपनी आंखों से देखा था. मैं निखिल को बार-बार उसके होंठों और गर्दन को चूमते हुए धक्के लगवा रही थी.

रोशना ने मेरा लंड देखा, तो उसके मुँह से निकल गया- वाओ … व्हाट ए टूल.

जूस पीकर चाची जाने लगीं, तो मैंने हाथ पकड़कर चाची को बिठाया और उनसे कुछ देर और बैठने को कहा. उसकी 32 डी की चूचीयां और बाहर को निकली तोप सी गांड जबरदस्त कहर बरपाती है.

बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो उसकी इन दो-अर्थी बातों से मेरे अन्दर आग लग गई थी और मैंने सोच लिया था कि पहला मौका मिलते ही इसकी चुत फाड़ दूंगा. अपनी जुबान की नोक से मैं प्राची की चूत को कुरेदने लगा तो कभी उसकी चूत के होंठों को अपने होंठों में पकड़ कर खींच लेता.

बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो इंडियन आंटी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे आंटी ने मुझे अपना जिस्म दिखाकर अपनी चूत चुदाई के लिए तैयार किया. मैंने उनकी पैंटी को भी टांगों से नीचे खींचा तो भाभी ने अपनी गांड उठा कर झट से पैंटी को उतर जाने दिया.

लेकिन वह अभी झड़ा नहीं था और मेरी गांड में जोर जोर से धक्के मारे जा रहा था.

जीके के सेक्सी सवाल

अगर आप भी कुछ उत्तेजक, कामुक और निजी पल दिल्ली की इस हसीना तान्या (फोटो ऊपर दी गयी है) के साथ बिताना चाहते हैं तो उसकी प्रोफाइल चेक करने के लियेयहां क्लिक करें. मैं अभी भी उसकी वो ब्रेजियर की काली पट्टी और दूधिया बूब की लाइन को ही याद करते हुए गर्मा रहा था. भाईजान बहुत खूबसूरत थे … उनकी आंखें तो अब भी लड़कियों को मात करती थीं.

मैं इसकी चूची पीती हूं तब तक। उसके बाद एक तगड़ा झटका मार कर लन्ड को इसकी चूत में पूरा उतार देना. मुझको सच में इतना मज़ा आ रहा था कि मेरे लंड ने भी वीर्य निकाल दिया. अब मैं भी झड़ने वाला था, तो मैंने पूछा- रस कहां निकालूं बेबी?वो उठ कर घुटने के बल बैठ गई और उसने अपना मुँह खोल दिया.

मैंने तुरंत अपने दोनों हाथों से भाभी की टांगों को पकड़ा और उनकी पिघलती चूत की फांकों के बीचे में जीभ रगड़ दी.

ऐसा करने से बूब्स में रक्तप्रवाह बढ़ता है और ऐसा करने से बूब्स की बिगड़ी हुई शेप भी सुधरने लगती है. मैंने दरवाज़ा थोड़ा सा बंद कर दिया था, जिससे कि मेरे घर का अन्दर का कुछ न दिखे. बाकी आप लोग मेल करके बताना कि यह हॉट कॉलेज गर्ल्स स्टोरी कैसी लग रही है.

शर्मा जी ने पूछा- काम हो गया?मैंने अपने पर्स से 50000 निकाले और शर्मा जी को दे दिए. आपका रोहित[emailprotected]हॉट भाभी देवर कहानी का अगला भाग:सगी भाभी ने दूध पिलाकर चुत चुदवायी- 2. आपकी रूपा रानी[emailprotected]भाई का लंड कहानी का अगला भाग:इस चुत की प्यास बुझती नहीं- 3.

उस दिन के बाद उन्होंने ऐसे सेक्स के लिए मुझे नहीं कहा, लेकिन ऐसे और भी रोमांचक पल हैं मेरे जीवन के, जो मैं आपसे शेयर जरूर करूंगा. मैंने बिल्कुल एक ही शेप की ऐसी खूबसूरत चूचियाँ और उनके ऊपर अति सुंदर भूरे गुलाबी रंग के गोले आज से पहले कभी नहीं देखे थे.

मैं कभी उसके होंठों को चूमता तो कभी चूचियों को।कभी उसकी चूत को चाट लेता तो कभी उसकी गांड में उंगली डालने की कोशिश करता. जब मैं बाहर आया तो उसने मेरी चुटकी ली- हाथ धो आए जीजू, चलो गर्म गर्म भजिया खा लीजिए. मैंने इससे पहले कई औरतों की चूत मारी थी और एकाध भाभी की चुदाई भी कर चुका था.

धीरे धीरे इसकी चाहत बढ़ती गयी और मैं रोज ही अपने लंड को हिला कर अपनी अन्तर्वासना को शांत करने लगा.

रात में जब मैं मम्मी के कमरे में सोने को गया तो पापा ने मुझसे अलग कमरे में सोने को कहा. अब पहले वाले ने मुंह से लंड निकाला और दूसरी तरफ जाकर मेरी बीवी की चूत में डाल दिया. अगले दिन मैं नियत समय पर पहुंच गई और निरीक्षण के बाद जब वापिस जाने लगी.

मुझे लगा वो असहज हो गयी तो मैंने उसे पानी की बोतल देते हुए सॉरी बोला और पानी से कुल्ला करने को बोला. उसने सिर्फ एक ट्रांसपेरेंट नाईट गाउन डाला, वो भी बिना ब्रा पैंटी के.

वो अनीता को बेड पर ले आया और दोनों लेटकर फिर से एक दूसरे के होंठों को पीने लगे. तब मैंने चोदते चोदते यामिना का साथ पड़ा फोन खोला और फ़लक की छोटी निक्कर वाली फ़ोटो खोल ली और यामिना पर टूट पड़ा. फिर वो मुझे जोर जोर से किस करने लगी और हम दोनों दो मिनट के अंदर नंगे हो गये.

हिंदी में सेक्सी भाभी का वीडियो

इतना कह कर उन्होंने मेरे हाथ में बाउल थमाया और चली गयी।एक तरफ मैं थोड़ा सा घबराया हुआ भी था कि पता नहीं भाभी मेरे बारे में क्या सोच रही होंगी और दूसरी तरफ उनके सहज़ बर्ताव से थोड़ा सुकून भी मिला।उस दिन शाम को जब मैं छत पर टहलने गया, तब वेभी छत पर अपने कपड़े उठाने आयीं।मुझे उनसे नज़र मिलाने में थोड़ी हिचक हो रही थी इसलिए मैंने धीरे से खिसकने की सोची.

एक दिन आंगन में नहाते समय उसने मेरा खड़ा लंड देख लिया, तो वो मुस्करा कर पट गई या यूं कहो कि मुझे पटा लिया. यह सुनते ही मैंने यामिना की चूत में एक जोर का शाट मार दिया, यामिना के मुँह से आह … निकल गई. चलो ठीक है, इसे मेरे ऊपर छोड़ दो, मैं इसे एक अच्छा नजारा दिखाने जा रही हूं जो इसे जरूर पसंद आयेगा.

शादी के दो सालों के बाद उनके बेटे ने उनकी दुनिया को और भी रंगीन बना दिया था. मामी अपने तने हुए चूचे देखती हुई बोलीं- कैसा मजा?मैंने एक कुर्सी दर्पण के सामने रख दी और मामी को उस पर ऐसे बैठा दिया, जिससे उन्हें दर्पण में सब कुछ दिखे. राजस्थान सेक्स वीडियो डाउनलोडभाभी चिल्लाई- बहन के लौड़े, क्या कर रहा है!! आराम से करना था!उसके मुंह से गाली सुनकर मैं हैरान हो गया.

भाभी बोलीं- क्या काम … और रुक क्यों गए?मैंने भाभी को अपनी गोद में लिए हुए था. मैंने अपने दिल को हजारों बार समझाया मगर ये जवानी बहुत ही तकलीफ देने वाली होती है.

दोस्तो, किंजल की चुत चुदाई की कहानी में मजा आया हो तो प्लीज़ मुझे मेल करना न भूलें. मैं अपने एक हाथ से उनके चुचे को दबा रहा था और दूसरे चुचे को मुँह में लेकर चूस रहा था. तुम्हें बस घर के हल्के फुल्के काम करने होंगे और आराम से रहना और वहीं पर खाना.

मैं उसके बराबर में लेटा और उसकी एक टांग उठाकर पीछे से उसकी चूत में लंड घुसा दिया. अलवीना के बारे में आप लोगों को सीधे तौर पर बताऊं … तो अलवीना एक नम्बर की माल लौंडिया थी. मैं- सॉरी क्यों?भाभी- वो मैंने आपको अब तक पानी या चाय का कुछ पूछा ही नहीं.

अब क्या चाहिए?इतने में वो बोला- मुझे तो तुम्हारी गान्ड मारनी है।इतना सुनते ही मैं गुस्से में बोली- अपनी हद में रहो! और जल्दी करो.

मैंने मोना भाभी को मोड़ कर करवट दिला दी और उन्हें औंधा करके पेट के बल लेटा दिया; पीछे से उनके ब्लाउज़ को खोल दिया. उस शीशी के छेद से लंड पर तेल टपकाते हुए चाची ने लंड को तेल में पूरा भिगो दिया था.

अनीता ने उसे प्यार से समझाया कि जब वो दोनों इतना प्यार करते हैं तो और कोई क्यों?इस पर प्रकाश बोला कि विजय और उसकी बीवी इसके लिए इच्छुक हैं। अब आगे से एक बार विजय यहाँ आएगा, एक बार मैं उसके घर जाऊंगा।वो बोला- अगर तुमको कोई दिक्कत न हो तो मैं विजय से बात करूं?अनीता ने कहा- अभी नहीं, मैं सोचकर बताऊंगी इस बारे में।फिर ये सब बातें होने के बाद दोनों सो गये. मैंने लिली को थोड़ा धक्का देकर बेड पर लिटा दिया और उसकी जांघों को खोल दिया. इसी बीच अमितेश और श्वेता के बीच के झगड़े के कारण उन्होंने अपने बेटे को उसके दादा-दादी के पास आगे की पढ़ाई के लिए भेज दिया था.

मगर मैंने जब उससे पूछा कि क्या तूने पोर्न में लंड चुसाई नहीं देखी?वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुराने लगी. मैं दीदी के दोनों चुचों के बीच लंड फंसा दिया और दीदी ने अपनी दोनों चुचियों को दबाते हुए लंड को कस लिया. क्लासमेट सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी कॉलेज की दोस्त मुझसे चुदाई के लिए आतुर हो रही थी.

बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो मैंने बिना कुछ कहे चपरासी से कहा- ऑफिस का रूम बंद कर दो, मैं खुद ही ऑटो ले लूंगी. जिस दिन मैं अशोक से चुदवाने जाती तो बोल देती कि आज मीटिंग है, देर हो जाएगी.

सेक्सी कंट्री

कुछ ही देर में मैंने उसकी चूत को गीला कर दिया और उसे लंड पर झुका दिया. मेरा नाम रोमिल है और मैं कानपुर (उत्तर प्रदेश) से हूँ। मेरी हाइट 5 फीट 5 इंच है. अब दोनों की सिसकारियां तेज़ हो गई थी और आहह ओहह उम्महह करके अंदर बाहर लंड गपागप गपागप चोदने लगा।थोड़ी देर बाद दोनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया और एक-दूसरे से लिपटकर चूमाचाटी करने लगे।कुछ देर बाद हम दोनों अलग हुए और बाथरूम चले गए.

मेरी दीदी ने ग्रेजुएशन पूरा कर लिया है और अभी वो घर के ही काम करती हैं. मुझे लगा वह मुझे ही अपनी चुत में घुसा लेगी, तभी मैं भी उसकी चुत में ढेर सारा माल गिराने लगा. लेडीस की डिलीवरी कैसे होती हैवहां मैं अपने गांव के परिचित और मुझसे तीन चार साल बड़े एक गबरू सजीले नौजवान नसीम भाई मिल गए थे.

कुछ देर अनुरोध करने के बाद दिव्या भी लूडो खेलने लगी।तो साथियो, करीब 2 साल बाद लिखी गई मेरी कहानी आपको कैसी लगी मुझे जरूर बताएं.

आवाज आते ही पापा ने वैसे ही एक दूसरा झटका पूरी ताकत से दे मारा और उनका पूरा 9 इंच का लंड मेरी चुत में घुसता चला गया. वैसे अब आपने मुझे और ज्यादा बेचैन कर दिया है और मैं रुक नहीं पा रही हूं.

सुबह तुझे नंगी देख कर ही समझ गई थी कि तूने रात को अपनी चूत में उंगली की होगी और नंगी ही सो गई थी तू … है न!स्नेहा शरमाते हुए अपनी दीदू की गोद में सिर रख कर सोफे पर ही लेट गई. चाची ने भी अपने हाथ से लंड पकड़ कर चुत पर लगा लिया, तो मैंने जोर से झटका दे मारा. मैं कुछ आवाज़ कर पाती तब तक एक ने मेरे मुंह में अपना पूरा लंड दे दिया.

अब मैंने अपने हाथों के बल अपने शरीर को ऊपर उठा‌ लिया और नीचे से अपनी पूरी तेजी व ताकत से ममता जी चुत में लंड के धक्के लगाने शुरू कर दिए.

उन्होंने कुछ देर उसकी गांड को सहलाया और फिर मेरी बीवी की पैंटी पूरी उतार दी. मैंने कुछ सोचा और जब समझ नहीं आया तो मैंने भाभी से पूछा- हम्म … फिर आपने क्या किया?उन्होंने मुझे एक फोटो दिखाई, जिसमें एप को लेकर सारी विधि लिखी थी. मैंने पहले चुत में एक, फिर दूसरी उंगली डाल कर अन्दर बाहर करना शुरू कर दी.

तुम पागल हो एक नंबर कीमेरा सपना था कि भाभी को पूरी तरह से उन्मुक्त कर दूं और तभी उनकी चुदाई का मजा लूं. चूंकि पापा भी घर में रहते थे, तो न दिन में और न ही रात में, मुझे अपनी मम्मी को चोदने का मौका मिल ही नहीं पा रहा था.

दर्जी सेक्सी पिक्चर

उस समय रात के दो बजे थे, इस समय वो क्या कर रहा था मुझे ये जानने की उत्सुकता हुई. मैं वहां काम करने लगी … साथ में यहां भी मुझे अपने शरीर की आवश्यकता का ध्यान रखना था. निखिल मेरे तरफ देख रहा था, जब रोशनी में मेरा नज़र उससे टकरातीं, तो वो नज़रें झुका लेता था.

ऐसा कहकर वो एक रूम में चली गई और अन्दर से हाथ में एक पैसों का बंडल लेकर आई. मैंने नाराजगी के लहजे में कहा- चाची, ये क्या बात हुई, अब मैं क्या पीऊँ?मैं उदास हो गया और चाची के मम्मों की ओर देखने लगा. आज कभी कभी मैं सोचता हूँ कि शायद उस दिन मम्मी पापा को चुदाई करते नहीं देखता तो मैं भी अच्छे इंसान की तरह अपनी बीवी की पहली बार चुदाई करता.

उसने मुझे बेड पर बिठा दिया और अपनी धकापेल की गति बहुत ज्यादा बढ़ा दी. मैं उसकी चूत में उंगली करता रहा और उसकी चूत हर पल गीली होकर मेरा जोश बढ़ाती रही. दोस्तो, यह मेरा पहली सेक्स कहानी है, इसलिए कृपया गलतियों पर ध्यान न दें और स्कूल फ्रेंड सेक्स कहानी पर अपने सुझाव मेरे ईमेल पर भेजें.

कुछ दिनों बाद उसका फोन आया- मैडम जिस काम की परमीशन ली थी, वो पूरा हो गया है और मुझे उसकी शुरुआत आपसे ही करवानी है, इसलिए आप अपनी रज़ामंदी दें और जो भी समय आपके लिए उचित हो दे दीजिए. स्नेहा- चाची मैं बाबू के लिए दूध लाऊं?संध्या- नहीं बेटा, ये अभी मेरा दूध पियेगी.

कुछ देर बाद संगीता मयंक को लिप किस करने लगी और उसने मुझको भी अपनी तरफ खींच लिया.

मैंने बहुत सारा तेल मामी की गांड पर गिरा दिया और मामी को घुटने मोड़ने को कहा. पैर का सूजन कैसे ठीक करेंमैंने मज़ाक़ किया- कुछ मदद करूं?श्वेता- क्या मदद कर सकते हो?मैं बोला- सफ़ाई करते करते थक गई होगी … मैं चाय बना दूंगा?श्वेता- हम्म … चलेगा, पर इधर ही आकर बना लो. गुलाबाचे फुल दाखवाकई लौंडों की गांड तो कुंवारी थी, पहली बार भाईजान ने ही लंड पेल कर उनकी सील तोड़ी और गांड का उद्घाटन किया था. आंटी खलास हो गई थी उन्होंने मुझे कुछ देर जकड़े रखने के बाद एक लंबी सांस लेते हुए अपनी टांगें मेरी कमर से खोल दी और बोली- राज! बहुत दिनों बाद, मुझे बहुत मज़ा आया और मैं जल्दी ही खल्लास हो गई.

राबर्ट की कहानी सुनकर मैं समझ गया कि इसे चूत तो चाहिए लेकिन पायल राजी कैसे हो?रात का खाना हम चारों ने एक साथ खाया और योजनानुसार जीनिया पायल के साथ सोने चली गई और राबर्ट मेरे घर में सोया.

संगीता नौकर को समझा रही थी, यह ड्रिंक का सारा सामान उनके कमरे में पहुंचा दो … और जो भी मांगे उनको मिलना चाहिए … समझ गए!नौकर ने कहा- जी मैडम, उनको कोई परेशानी नहीं होगी. नमस्कार दोस्तो, मैं अर्नव एक बार फिर आप सबके बीच अपने जीवन में घटित कुछ यादगार पलों को कहानी के रूप में पिरोने की कोशिश कर रहा हूँ. मैंने भी धीरे से अपना लौड़ा थोड़ा सा बाहर खींचा और उसे फिर से रंजू की चूत में जबरदस्त झटके के साथ घुसेड़ दिया.

मैं- मामी मुझे आपकी कुंवारी गांड चोदनी है … बताओ न कब चोदने दोगी?मामी- उंह … वो नहीं हो पाएगा मुझसे. भाभी बोलीं- क्या काम … और रुक क्यों गए?मैंने भाभी को अपनी गोद में लिए हुए था. मैंने बीस मिनट चुदाई करने के बाद फिर से भाभी को पेट के बल लेटा दिया और उनकी चूत में लंड डाल कर फिर से चुदाई करना चालू कर दी.

कानपुर की सेक्सी वीडियो हिंदी में

मेरे तेज तेज धक्के लगाने से मेरी जांघें ममता जी के भरे हुए मांसल कूल्हों से टकरा रही थीं जिससे उनकी‌ मीठी सिसकारियों के साथ साथ कमरे में जोर जोर की ‘पट … पट …’ की आवाजें भी निकलना शुरू हो गयी थीं. आज वो दोनों कुछ ज्यादा ही फ्रेंक हो रहे थे क्योंकि आज ये लोग मौका का फायदा उठाना चाहते थे. गर्मी तो आई नहीं मगर मज़ा बहुत आने लगा।फिर मैं जल्दी से कपड़े हल्के सुखाकर बाहर आ गई।हम सब भीग गए थे तो सर ने हमें वापस होटल ले जाने के लिए गाड़ी बुलाई और ड्राइवर से बोला- तुम यहीं रुको मैं छोड़कर आता हूं.

दीपक ने अनु दीदी के साथ मस्ती में उनकी ब्रा-पैंटी के साथ-साथ अपना अंडरवियर भी उतार दिया.

कभी मैं सोचता कि अभी चाची को पकड़कर बांहों में भर लूँ; कभी दिमाग में आता कि चाची की उस पैंट को उनकी कच्छी समेत नीचे खिसका कर चाची को नंगी कर दूँ और चाची को गिरा कर चोद दूँ.

ताई ने मेरी तरफ अपनी गांड कर रखी थी और उन्होंने मुझसे पलट कर लेटने के लिए कह दिया था. मैंने अपनी पकड़ पूनम बुआ पर बहुत मज़बूत बनाई हुई थी इसलिए बुआ किसी भी तरह मेरा लंड अपनी गांड से बाहर नहीं निकाल सकीं. देसी सेक्सी मूवी हिंदीमामी पूरी जी जान से अपनी गांड उछाल कर मेरे लंड को अपनी चूत में ले रही थीं.

हमारी चूमाचाटी शुरू हो गई और हम दोनों ही चुदाई के लिए उतावले हो गए. हालांकि इस तरह से गर्भ नहीं ठहरने की गारंटी तो नहीं होती, तब भी काफी हद तक वीर्य का असर खत्म हो जाता है. इससे पहले कि मैं वाइब्रेटर उठाकर लाती, मेरा ध्यान लिफ्ट वाले लड़के अमन की हरकतों पर चला गया.

महिला पाठिकाओं को जान लेना चाहिए कि इस तरीके से सही मालिश करवाने से या करने से बूब्स बड़े हो सकते हैं. संगीता ने हम दोनों के लौड़े सहलाते हुए कहा- आर्यन मेरी जान तुम दोनों जुड़वां तो नहीं हो … दोनों के लौड़े बिल्कुल सेम हैं.

मुझे ये रास्ता ठीक लगा कि जूली को फिल्म दिखा कर सैट किया जा सकता है.

वो बोला- डील फाइनल करने के लिए उन्हें खुश करना है और इसके लिए तुम्हें अलग से रूपये भी मिलेंगे. अजय फोन में देखते हुए बोला- हां दिख तो रहा है कि तेरी फिल्म की शूटिंग हो रही है. चूत की दोनों मोटी फाँकें आपस में चिपकी हुई और बाहर को निकल कर उभरी हुई थीं.

आलिया भट्ट एक्स एक्स एक्स फोटो मैंने कुछ नहीं कहा, तो दीदी ने मेरे पास आकर मेरे मुँह से आती सिगरेट की गंध को सूंघा और बोलीं- सिगरेट पी है तूने?मैं सिगरेट पीता था, ये बात दीदी को मालूम थी लेकिन उन्होंने कभी कहा नहीं था. मैं यही बात प्राची को बताने के लिए उसके घर गया, तो घर का दरवाजा खुला ही था.

इसकी चूत में अपने लंड को देकर मैं इसकी चूत की सही से चटनी बनाती और सारा रस निकाल देती इसको चोदकर।मैंने हल्के से उसकी टांगें फैलाईं और योनि को छुआ. कश्मीरी गर्ल सेक्स के लिए बेचैन हो रही थी तो उसने तुरन्त लण्ड को चूत के छेद पर सेट किया और अपने चूतड़ों को पीछे की ओर दबाव देते हुए बैठ गई. आज मुझे दूसरी बार भाभी के इतने गोरे-चिट्टे चुचों के खुले दर्शन हो रहे थे.

सेक्सी वीडियो मैप

तो हम तीनों के बीच हंसी के गुब्बारे फूट पड़े और रूम में खुशनुमा माहौल हो गया. फिर मैंने उससे पूछा- अब, चालू करें?उसके दांत बाहर आ गए मैंने इसे उसकी हां समझी और धक्के देना शुरू कर दिए. फिर कुछ दिनों के बाद मैंने नोटिस किया कि उनका वे दोस्त मुझे दूसरी ही नजरों से देखने लगा.

अब मैंने शुरू की चुदाई!कुछ ही देर में ज़ारा लंबी-लंबी आहें भरने लगी- आह … जान … आअ आहाआ आ जान!मैं- ऊपर आ जाओ!कहकर मैं सीधा लेटा तो वो ऊपर आयी और लंड को पकड़कर चूत में घुसा लिया और उछलने लगी. अब मेरा भी दर्द कम हो गया था … मैंने अपनी बांहें उनके गले में डाल दी थीं.

इस बार मेरी बहन रीना की चूत फट गयी और अमन का आधा लंड चूत में घुस गया था.

जैसे फ़िल्म इंदू की जवानी में किआरा बोली थी ना कि मेरे भाई और बाप को छोड़कर सारे लोग उसमें झंडा गाड़ने चाहते हैं. अभी दो मिनट ही हुए थे … तीन मिनट और निकालना मेरे लिए बहुत ही मुश्किल होने वाला था. मैंने उससे चाय के लिए पूछा, तो वो मना करने लगी कि रहने दो, कौन बनाएगा.

उसके बाद मुझे बाहर जाना पड़ा।पर अब भी मैं जब कभी कानपुर जाता हूँ तो उनसे जरूर मिलता हूँ।दोस्तो, मैं अर्णव अब आपसे विदा लेता हूँ।आपको मेरी फीमेल ओर्गास्म सेक्स कहानी कैसी लगी मुझे जरूर बताइयेगा। मुझे आपके सुझाव और प्रतिक्रियाओं का इंतज़ार रहेगा।[emailprotected]. खन्ना जी का ही कॉल था- हैलो राज, कहां हो?मैंने कहा- मैं रूम पर हूं।खन्ना- तू जल्दी से मेरे घर पहुंच. ये आवाज कुछ तेज थी और ऐसा लग रहा अता जैसे किसी कपल में बहस हो रही हो.

अलवीना के बारे में आप लोगों को सीधे तौर पर बताऊं … तो अलवीना एक नम्बर की माल लौंडिया थी.

बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो: मेरे देवर ने मुझसे कहा- भाभी भरोसा रखो … यह मैंने आपकी खुशी के लिए ही किया है. फिर मैंने कहा- चलिए अब आप मेरी चुदाई कीजिए! अब मुझसे और बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

मैंने रीना से पूछा- लंड कैसा लग रहा है जानू!रीना- बहुत ही मस्त लग रहा है … तुम्हारा लंड सच्ची में मज़े दे रहा रहा है. पर मैं शादीशुदा हूँ और इन्हें धोखा कैसे दे सकती हूँ?मैंने कहा- आप मुझे बेहद पसंद हैं और आपको मैं … और इसमें हम दोनों की रजामंदी भी है। अब इससे ज्यादा आपको क्या चाहिए। पर इंसान को अपने अंदर की लड़ाई खुद लड़ना चाहिए इसलिए यह फैसला मैं आप पर छोड़ता हूँ क्योंकि जिंदगी में जो भी काम करो पूरे मन से ही करना चाहिए. मैंने पापा का लंड निकाल कर मुँह से साफ कर दिया और मम्मी की चूत से निकलते हुए मालपानी को मुँह से चूस लिया.

वे चारों खुश हो गए और उनमें से एक लड़का बोला- मैम आप चाहें तो आप हमारे रूम पर आ सकती हैं.

वहां पर जितने भी लड़के खड़े थे, हम दोनों उन सबसे हैंडसम और स्मार्ट दिख रहे थे. उसके बाद दिनकर सुम्मी से कह गया था कि कल उसकी बेटी चमेली को देखने लड़के वाले आ रहे हैं, तो अजय और गगन को भेज देना. मैं आप लोगों को भी यह सलाह देना चाहूंगा कि दिल्ली सेक्स चैट पर हम नंगी वेबकैम मॉडल्स के साथ जैसे मन चाहे वैसे मजा ले सकते हैं.