बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,बीएफ लाइव रिजल्ट

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स गैंगरेप: बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो, अब मैंने सोचा कि क्यों न मैं भी अपनी एक सेक्स कहानी लिखकर आप सभी पाठकों के मन को रोमांचित करूं!जंगल सेक्स कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको अपना परिचय दे देता हूं.

गांड चोदने वाला बीएफ

मैं- क्या हुआ?ज़ारा- मुझे शर्म आ रही है!ये सुनकर मैं हंसने लगा- मुझसे शरमा रही हो?ज़ारा- हम्म!मैं- मुझसे कैसा शरमाना?ज़ारा- पता नहीं क्यों? लेकिन आ रही है!मैं- चलो फिर से सेक्स करते हैं, तुम्हारी शर्म दूर हो जायेगी!ज़ारा- जान मेरी चूत दुखने लगेगी!मैं- चलो गांड में कर लेते हैं!ज़ारा- जान प्लीज! मान जाओ!मैं- ठीक है जैसा तुम चाहो!कहकर उसे आगोश में ले लिया और हम सो गये. अनुष्का शेट्टी सेक्सी बीएफमैं बिना किसी लिहाज के सबसे पहले अपने गीले कपड़े खोल कर बिल्कुल नंगा हो गया और बिना किसी हिचिचाहट के बेड पर चादर ओढ़ कर बैठ गया.

मुझे यह भी नहीं पता था कि दिव्या मेरा लिंग आराम से ले ली पाएगी या नहीं।इसीलिए मैंने अपने मुंह से थोड़ा सा थूक निकालकर अपने लिंग पर लगा दिया. ब्लू बीएफ मूवी सेक्सीतभी उस गर्माई हुई अमीर रंडी ने उसका अंडरवियर लिया और उसे सूंघने लगी.

मैंने उसका मन समझ लिया था कि ये अंधेरे में मेरे साथ सहज है और शायद कुछ चाहती भी है.बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो: वो भी मेरी नजरों को पढ़ कर मेरी तरफ घूंसा दिखाते हुए मुस्कुराने लगी.

कुछ पल बाद मैं उनके पीछे आ गया और मेरा ध्यान बस मोना भाभी के हुस्न को प्यार करने का था.वे बोली- राज! मुझे पक्का विश्वास है कि तुम इस काम में पक्के ट्रेंड हो, मुझे बताओ कौन है वो जिसने इतनी सी उम्र में तुम्हें इतना अच्छा चोदना सिखाया है?मैं चुप रहा.

गाड़ी बीएफ - बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो

मैंने मुस्कराहट के साथ उससे गर्मजोशी से हाथ मिलाया और हम सब रूम की ओर लिफ्ट में जाने लगे.मामी मुझे नहलाने लगीं और साबुन लंड पर लगा कर उसे अच्छे से साफ कर दिया.

बेबी बोली- आह अब जल्दी से अन्दर डाल दो … मुझसे रुका नहीं जा रहा है. बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो कुछ देर यानि लगभग दो मिनट के बाद उसके पति का पानी साक्षी की चूत में निकल गया और वो चोदता हुआ रुक गया.

दीदी इस वजह से जाग गईं और बोली- ये क्या कर रहे हो तुम?मैंने अपने लंड से दीदी को झटका मारा और बोला- आज यही करना है.

बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो?

उनकी बात सुनकर मैंने कहा- चाची, अब तुमको किसी बात की चिंता करने की जरूरत नहीं है. आखिर मैंने उससे कहा- ओके अगर तुम मेरे एहसान का बदला चुकाना ही चाहती हो तो बस तुम मुझे एक ड्रिंक पिला देना. धीरे धीरे हम दोनों में प्यार भी हो गया। हमने एक ही रूम में शिफ्ट कर लिया और अच्छे से रहने लगे.

क्यों मॉम, इससे हमारी पढ़ाई का नुकसान भी नहीं होगा और थोड़ा चेंज भी हो जाएगा?स्नेहा- एक दिन में क्या घूमेंगे?चिराग- दो दिन पूरा हमारे पास है. उनकी दोनों टांगें उठा कर गांड में लंड डाल दिया और चाची के होंठों को चूसने लगा. ऐसे ही भाभी ने अपने दूसरे चुचे को मेरे मुँह में दे दिया और उसको भी दबा दबा कर पिलाया.

वो इतने गुस्से में थी कि बस अपने पति को गालियां देकर ही उसकी बातें करती जा रही थी. अनु दीदी किसी अप्सरा सी लगती थीं, सुंदरता में रंजू और रीना दीदी भी कम नहीं थीं. यामिना ने एक हाथ की कोहनी से अपनी आंखें बंद किये किये मेरा लण्ड पकड़े रखा और उसे ऊपर नीचे करने लगी.

आते ही उसने मुझे खुशी के मारे गले से लगाया और बोला- भाई पैसे कमाने का रास्ता मिल गया. फिर नाश्ता किया और वो चले गए।फिर साफ सफाई के बाद पहले मैं नहाने चली गयी और फिर मैं बाहर तौलिया बांधकर जब निकली तो उसकी नज़र मुझ पर थी लेकिन मैंने उसको पता नहीं चलने दिया कि मुझे मालूम है कि वो मुझे देख रहा है।अब समीर ने भी नहाकर एक पुरानी पैंट और शर्ट पहन ली और फिर दोपहर में खाने के बाद हम दोनों सो गए.

मैंने खिड़की से देखा कि श्वेता उदास बैठी है और उसकी आंखों में आंसू थे.

दूसरी तरफ बिना किसी संकोच के कमरे में दो सगे भाई बहन मिलकर अनु दीदी को बगल के बिस्तर पर बुरी तरह चोद रहे थे.

प्राची ने बच्ची को गोद में उठाते हुए उसके मुँह में एक निप्पल दे दिया और उसे दूध पिलाने लग गयी. भाभी- चूस साली … चूस बहन की लौड़ी … देख तेरे भाई से बड़ा और मोटा लण्ड है. दोस्तो, मैं संजीव एक बार फिर आपके सामने अपमनी सेक्स कहानी के साथ हाजिर हूँ.

मेरा लंड उसकी चुत में अन्दर कहीं रगड़ रहा था जिससे उसको दर्द हो रहा था. साथ ही मैं अपने इस दोस्त के साथ अपने जागे हुए नसीब को भी याद कर रहा था. उसने मेरे मन को पढ़ते हुए कहा- पहली बार मेरी चूत को किसी ने ऐसी मस्ती से चाटा है कि मैं इतनी झड़ गयी.

निखिल ने मेरी चुत की दरार में लंड का टोपा फंसाया और अन्दर लंड उतारने लगा.

लेकिन मम्मी ने कहा- दो चार दिन में इसका एक दीवान खरीद कर ड्रॉइंगरूम में डाल देंगे, यह वहीं पढ़ लेगा तथा वहीं सो जाया करेगा, वैसे भी इसे तो कोटा में कोचिंग के लिए जाना ही है. शादी के कुछ सालों बाद ही उन्होंने मुझमें रुचि लेना बन्द कर दिया था। अब जब तक बेटे मेरे साथ थे तो घर में मन लगा रहता था लेकिन अब ये अकेलापन मेरे बस के बाहर था। मेरी चुदाई की तमन्ना भी बरकारार थी. भाभी- ठीक है … और अब बिना कपड़े के सोओगे … तो भी कोई प्रॉब्लम नहीं है.

कुछ देर बाद उसने कहा- मैडम!तो मैंने उसे रोकते हुए कहा- मेरा नाम रूपा है … मैडम नहीं, आप मुझे रूपा कह कर बुलाइए. मैंने सवाल किया- कौन कह रहा था, बुलाओ उसे!लड़का बदल गया, उसने कुछ भी नहीं कहा. अंकल ने मेरे मुँह से लंड निकाला और मुझे देख कर बोले- चल अब तेरी सील तोड़ने की बारी है.

दोस्तो, आपको मेरी Xxx बस सेक्स कहानी कैसी लगी? आप अपने विचार मुझे मिल करके जरूर बताइएगा.

सभी पाठकों को नमस्कार। एक बार फिर से अपनी रियल हिंदी सेक्स स्टोरी में आपका स्वागत करता हूं. अब आगे हिंदी ओपन सेक्स स्टोरी:कितनी देर तक हम उसी तरह बांहों में सिमटे रहे.

बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो मुझे यह भी पता था कि अब इससे काम के सिलसिले में आगे कोई और मुलाकात नहीं होगी. वो हंस दीं और बोलीं- हां कई बार … तू आज मुझे सारी रात चोद दे … मेरी आग बुझा दे.

बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो इंडियन आंटी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे आंटी ने मुझे अपना जिस्म दिखाकर अपनी चूत चुदाई के लिए तैयार किया. आप लोगों से निवेदन करना चाहूंगा कि कृपया करके मुझसे मेरी क्लाइंट की डिटेल ना पूछें, मैं वो सब आपको नहीं दे पाऊंगा.

कुछ ही देर में मेरे लण्ड से वीर्य की पिचकारी निकली और गर्म वीर्य फ़लक के मुँह में भरने लगा.

जीके के सेक्सी सवाल

किंजल की चूत में जैसे ही लंड झटके से घुसा, वो जोर जोर से चीखने लगी. अचानक से शेखर के दिमाग़ में ललित की वो बात घूमने लगी जो कि उसने धारा के बारे में बतायी थी, धारा से बात करने वाली बात!पता नहीं क्या हुआ, शेखर ने अचानक से लंच छोड़ दिया और अपने डेस्क की तरफ़ दौड़ा. मैम के चूचे अपने हाथों में दबोचकर मैं उन्हें चोद रहा था और वो भी जवाबी धक्के मार रही थीं, परिणामस्वरूप मेरे लण्ड ने पिचकारी छोड़ दी.

फिर दोनों हाथों से उसके चूतड़ पकड़ कर फैला दिए और लंड अन्दर बाहर करने लगा. रनवीर मेरा बहुत अहसान मानता बोला- सर आपको चुत दिलवाऊं?मैंने संकोच तोड़ कर कह दिया- यार दे सके तो अपनी दे दे!प्रमोद मेरे से तो कह रहा था कि रनवीर की दिलवाऊंगा, पर शायद उसने कहा नहीं. लेकिन मैंने उसे कंधे से दबाकर अपने लंड की तरफ खींच लिया जिससे मेरा लंड सीधे उसके बच्चेदानी के अंतिम छोर से जाकर टकराया.

जिससे मोना भाभी की उत्तेजना और भी ज्यादा हो गई और वो जोर जोर से सिसकारियां निकालने लगीं.

हमारी तरफ उसकी पीठ थी।मैंने लोलिशा को पकड़ते हुए कहा- आंटी, आप हमारे साथ नहीं आएंगी?मृणालिनी- नहीं दामाद जी, मुझे काम है. कहानियाँ पढ़ते वक़्त कभी-कभी उसके हाथ बग़ल में सोयी रेणु के जिस्म पर रेंगते रहते और कभी उसकी गोल-गोल दूध से भरी चूचियों को सहला लेते।या तो कभी उसकी साड़ी और साये के अंदर हाथ डाल कर उसकी नर्म मख़मली चूत को सहला दिया करता और फिर अपने लंड को झटके दे-दे कर अपना पानी निकाल लिया करता. फिर उन्होंने मेरे लंड को चाट चाट कर गीला कर दिया और मेरे गोटों को मुँह में भर के चूसने लगीं.

वो भी मस्ती से टांग हवा में उठाए मेरा लंड अन्दर लेने के लिए अपनी गांड को आगे पीछे कर रही थी. एक बात और … आप लोगों से मुझे इंस्टाग्राम पर बात करके बहुत अच्छी फीलिंग आती है. पार्टी में डिनर के बाद बुआ ने सभी बच्चों के लिए पुराने मकान में सोने के लिए व्यवस्था कर दी थी.

शायरा मेरे साथ दोस्त की तरह रहना चाहती थी … मगर मैं ही उससे गलत उम्मीद लगाए बैठा था. उसका गधे के जैसा लंबा और मोटा लंड देखकर मेरी बहन रीना की आंखें फटी की फटी रह गईं.

हौले हौले से पैर रखते हुए वो मेरी ओर अपनी कमर को लचकाते हुए आगे बढ़ रही थी. और अचानक ही प्रीति फिर से झटके खाने लगी और रह रहकर अपनी चूतड़ उठाने लगी।मुझे समझ आ गया था कि प्रीति बार बार झड़ रही है।उसे मैं इस तरह सिसकारते और अंगड़ाई लेते देख कामुक हो रही थी।अब मैंने उसकी चूत में दो उंगलियां अंदर डाल दीं. मेरा मालकिन वाला स्वभाव अपने पूरे चरम पर था और मैं अमन को अपना पालतू गुलाम बनाकर इस पल का फायदा उठाना चाहती थी।मैंने कंप्यूटर टेबल के पास की ड्राअर से एक नकली चूत का सेक्स टॉय निकाला और उसको ऐसी जगह रखा कि वो कंप्यूटर की कुर्सी पर से सामने साफ दिख सके।तभी घंटी बजी और मैं अपने विजयी अंदाज में दरवाजा खोलकर अमन का स्वागत करने के लिए बढ़ी.

थोड़ी देर बाद भाभी भी नहाकर नई सफ़ेद नाईटी पहन कर छत पर आ गईं और मेरे बगल में आकर सो गईं.

मैंने दीदी को अपने सामने इस अवस्था में पहली बार देखा था, तो उनकी चूचियों को देखकर मैं पागल होने लगा. किंजल झड़ने के टाइम भी जोर जोर से अपनी चुत उठा उठा कर लंड को धक्का मारे जा रही थी. तो मैंने उन्हें भी वही सलाह दी कि उनको भी भीगे हुए कपड़ों से और भी अधिक ठंड लगेगी, गीले कपड़े हटा कर चादर में ही आ जाओ.

एक दो पल मैंने शर्बत पीने में लगाए और फिर से भाभी की तरफ देखने लगा. मैं मन ही मन खुश हो गया कि शायद अभी ही इसके साथ कुछ करने का मौका मिल सकता है.

वो अनीता को बेड पर ले आया और दोनों लेटकर फिर से एक दूसरे के होंठों को पीने लगे. ‘अह्हह अह्ह उह्ह्हम्म मानस, ऐसे ही कर कुत्ते … आह खा जा मेरी गांड … उई मांआआ चाट कुत्ते, चाट मेरी गोरी गांड. पर मेरी पत्नी मेरा साथ नहीं दे रही थी, वो तो बस मुझसे छूटने की कोशिश में लगी हुई थी.

हिंदी में सेक्सी भाभी का वीडियो

मैं- क्या?भाभी- पीरियड खत्म होने के बाद तुम मेरी चुदाई भी पायल के सामने ही करोगे.

मैंने भी हिम्मत करके और आगे बढ़ कर उसके होंठों में अपने होंठ रख दिये और किस करने लगा. अब मैं ये जान चुका था कि आज नहीं तो कल मैं इसके साथ सेक्स ज़रूर करूँगा।यह फ़ोन सेक्स का सिलसिला अच्छे से चल पड़ा था मगर हमको मिले हुए काफी वक़्त हो गया था।एक दिन घर पर कोई नहीं था और मैंने उसको मिलने के लिए बुलाया।मैं यह सोच चुका था कि आज तो मैं उसको सेक्स के लिए पूछ ही लूंगा।वह घर आई और उसने उस वक्त एक खुली टीशर्ट के नीचे शॉर्ट्स पहन रखे थे. पूरा लंड आराम से अन्दर बाहर होने लगा तो मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसके गले में हाथ डाल कर गाल चूमने लगा.

फिर हमको क्लाइंट के बताए हुए एड्रेस पर जाना होगा और चुदाई का काम करना पड़ेगा. हम दोनों काम के दरिया में डूबे जा रहे थे कि तभी प्राची मेरे मुँह में झड़ गयी. बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लूउसकी मदमस्त गोरी मांसल जांघों पर हल्के हल्के काटते हुए उसकी चुत पर अपना मुँह रख कर चूसने लगा.

मामा जी के जाने के बाद नानी के कहने पर मामी मुझे अपने कमरे के बाजू वाले कमरे में ले गईं. ”जैसे ही वो ब्रा को उठाने के लिए फर्श पर लेटा, मैंने उसकी चुस्त गांड पर अपना पैर रख कर दबा दिया.

एक रात बारिश होने से सर्दी बढ़ गयी तो …दोस्तो, यह मेरी पहली सेक्स कहानी है, जो मैं अन्तर्वासना पर शेयर करने जा रहा हूं. ममता जी‌ को भी अब मजा आ रहा था इसलिए उनके मुँह से फिर से तेज सिसकारियां निकलना शुरू हो गईं. तो हम लोग भी मना नहीं कर पाये और सोचा कि इसी बहाने साक्षी का ससुराल भी देख आयेंगे.

जैसा कि मैंने बताया है कि मैं एक सरकारी ऑफिस में वरिष्ठ अधिकारी के पद पर हूँ और वो मुझसे मेरे ऑफिस में अपने किसी काम के चलते मुझसे मिला था. वह मुस्करा दिया और बोला- अरे सर कम से कम पैंट तो उतार लेते … इतनी जल्दी भी क्या है. मैं मम्मी के पैरों के बीच में बैठ गया और चुदाई से निकलने वाला मालपानी अपने मुँह में लेने लगा.

उसने नीचे काले रंग की शॉर्ट्स पहना था, वो उसकी आधी जांघों तक भी नहीं आ रहा था.

मैं मादक अंदाज में चलते हुए उसके बिस्तर पर जाकर बैठ गई और बोली- कुछ भी करने से पहले तुम जिनसे सेक्स चैट करते हो, मुझे वो दिखाओ. एक बात और … आप लोगों से मुझे इंस्टाग्राम पर बात करके बहुत अच्छी फीलिंग आती है.

उसी दिन शाम को भाभी से बात हुई तो मैंने उनसे पूछा- वैसा माल और भेजूं?भाभी ने हंस कर सर हिला कर हामी दे दी. कुछ देर आना-कानी करने के बाद उसने अपनी चैट खोली और मेरे सामने चैट करना शुरू कर दी. हम लोगों के वहां पहुंचने पर घर में अतिउत्साह और उल्लास का माहौल बन गया था.

तभी मुझसे रहा नहीं गया और मैंने सीमा से पूछ ही लिया- सीमा तुझसे एक बात पूछूँ … प्लीज़ तू गुस्सा मत होना. अब मैंने अपना लंड निकाला और उसकी गांड से छुला कर एक बार उसे लंड का अहसास दिया और औंधा कर दिया. मैंने भी झटकों की रफ्तार तेज कर दी और तेजी से लंड को अंदर-बाहर करने लगा.

बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो मैंने बिना कुछ कहे चपरासी से कहा- ऑफिस का रूम बंद कर दो, मैं खुद ही ऑटो ले लूंगी. जब वो वैसा करने लगा तो मैंने फिर से उसकी गांड पर जोर से पैर को रखकर दबाया ताकि उसकी चिल्लाहट मैं दोबारा से सुन सकूं क्योंकि उसके आंड फर्श और उसकी बॉडी के बीच में दब गये थे.

सेक्सी कंट्री

तभी आवाज आई- रूम सर्विस!मैंने तुरंत टॉवल लपेटा और गेट पर चली गई। मैंने ट्रे ली और कमरा अंदर से बंद कर दिया. मैं यही बात प्राची को बताने के लिए उसके घर गया, तो घर का दरवाजा खुला ही था. वो भी शायद वासना की आग में जल रही थी तो वो बोली- ठीक है मैं दूध देने के बहाने से आ जाऊंगी.

फिर मैंने उसको बोला- जैसे वो अपने में खुश है, तो तू भी किसी को पटा ले!वो बोली- एक बार तूने उस लड़के के चक्कर से मुझे निकाला था. अभी उससे कुछ कहने के लिए मैंने मुँह खोला ही था कि उसने मेरी बीवी को आवाज लगा दी- आप उधर अकेली क्या कर रही हो, मैं आ जाऊं?मेरी बीवी की आवाज आ गई- हां आ जा. बीएफ दिखाइए तो हिंदी मेंमैंने लगातार चार पांच शॉट लगाए तो चूत से पच … पच फुच फुच … की मस्त आवाज आने लगी थी.

जब दोस्तों के साथ हम मिल कर हैंड प्रैक्टिस करते तो दोस्त कहते थे कि साले तेरा कितना बड़ा और मोटा है … साले मादरचोद घोड़े का सा लंड मिला है, जिसको चोदेगा साली की गांड चुत फाड़ कर ही रहेगा.

मैंने उनकी चूचियों को मसला और अपनी तरफ खींच कर उनके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया. शायरा अब भी खिड़की पर ही थी मगर वो मेरे देखते ही एकदम से नीचे बैठ गयी थी.

इसके बाद सबने होटल में खाना खाया और इसके बाद सब हाथ मिलाकर चलने लगे. दो घंटे से बातें करते-करते शेख़र और धारा एक दूसरे से काफ़ी हद तक खुल चुके थे. उसने धीरे-धीरे अंदर बाहर करना शुरू कर दिया।मेरी एक टांग उसके कंधे पर थी और दूसरी बिस्तर पर!कुछ देर बाद मुझे मजा आने लगा.

अब आगे होटल रूम सेक्स स्टोरी:वो बोली- ठीक है, मैं कहानी पढ़कर आपको बताऊंगी.

मैं- ओह पूनम …पूनम बुआ- राहुल, मेरी जान …मैं- पूनम, आज आपने मज़ा बाँध दिया. मैं एक मजबूत मर्द था, गोरा हैंडसम स्मार्ट कसरती बदन का छरहरा बांका नौजवान था. कॉलेज में सिर से पैर तक लम्बे चोगे में ढकी रहने वाली मैम मेरे सामने टेनिस प्लेयर जैसी छोटी सी स्कर्ट और ब्लाउज में थीं.

बीएफ दिखाओ ओपनमेरा सपना था कि भाभी को पूरी तरह से उन्मुक्त कर दूं और तभी उनकी चुदाई का मजा लूं. तभी प्राची बोल पड़ी- आज पहली बार इतना मजा आया है!मैं बोल पड़ा- अभी तो और मजे देने वाला काम बाकी है.

दर्जी सेक्सी पिक्चर

बहुत बड़े बड़े दूध थे … ब्लाउज का गला गहरा था, सो आधे से ज्यादा बाहर को आ रहे थे. दोस्तो, मैं संजीव एक बार फिर आपके सामने अपमनी सेक्स कहानी के साथ हाजिर हूँ. शेखर का एक प्यारा सा बेटा जो उस वक़्त क़रीब 4 साल का था और धारा की एक प्यारी सी बिटिया थी जो 6 साल की थी.

ऐसा कहकर वो एक रूम में चली गई और अन्दर से हाथ में एक पैसों का बंडल लेकर आई. हॉट सेक्सी आंटी चुदाई कहानी के पिछले भागमकानमालिक की जवान बीवीमें आपने पढ़ा कि कि वो आधी रात को मेरे साथ मेरे फ्लैट में मेरे ही बेडरूम में थीं और मेरे कमरे की टेबल पर रखे हुए कंडोम के पैकेट को हाथ में लेकर देख रही थीं. मैं तुमको एक जगह बताता हूं, वहां पर तुम दोनों हाथ पर कोई रंगीन कपड़ा बांधकर खड़े हो जाना.

जिसके कारण मैं गर्मी बर्दाश्त नहीं कर सकी और मेरी चूत ने अपना अमृत निकाल दिया, जिसे उसने पूरा पी लिया. संगीता अपनी जीभ से मेरे लंड के सुपारे को चाट रही थी और ‘शुर शुर अल्ल अम्म लपर लपर उम्म्म. उन्होंने अपनी आंख से पट्टी उतार दी और बोली- यह क्या कह रही हो?मैंने कहा- मैं यह करना चाहती हूं, यह मेरी बहुत बड़ी इच्छा है.

अब मैंने लंड में थूक लगा कर गांड पर टिका दिया और उनकी कमर पकड़ कर कसके धक्का दे दिया. तथा दीपू के साथ चिपक कर फोरप्ले करती रीना को पकड़ कर मैं बिस्तर पर खींच लाया और धीरे धीरे मैं रीना दीदी को चूमते चूसते, उनके एक एक कपड़े को उनके मदमस्त जिस्म से अलग करता रहा.

फिर थोड़ा घी लंड पर भी लगा लिया और अब गांड को दोनों हाथों से चौड़ा करके लंड को गांड में सैट कर दिया.

आह्ह … फाड़ दूंगा आज साली … ले … आह्ह … और ले।फिर मैंने भाभी से पूछा- कहां निकालूं? मेरा निकलने वाला है. बीएफ वीडियो चुदाई एचडीफिर मैं दूध निकालने के लिए, दबाने के साथ-साथ चूचियों के गुलाबी निप्पलों को मींजने लगा. बीएफ दिखाओ चालूममता जी की सिसकारियां अगर मुझमें इतना जोश बढ़ा रही थीं, तो शायरा का क्या हाल हो रहा होगा?मैं सोच रहा था कि शायरा की पैंटी कितनी गीली हो गई होगी. कुछ पल ऐसे ही मोना के होंठों को चूमने चूसने के बाद मैंने पागलों की तरह जल्दी जल्दी चूमना शुरू कर दिया.

मैं चौंक कर बोली- क्या बात कर रहे हो पापा … आप मेरी पैंटी पर मुठ मारते थे?पापा मेरे माथे को चूम कर बोले- हां मेरी जान.

उसकी इन दो-अर्थी बातों से मेरे अन्दर आग लग गई थी और मैंने सोच लिया था कि पहला मौका मिलते ही इसकी चुत फाड़ दूंगा. इसके बाद भाभी बोलीं- शर्माओ मत … मैंने तुम्हें ऐसा पहली बार नहीं देखा है, कई बार देखा है. उसको मैंने बाइक पर बैठाया और फिर हम उसके गांव की तरफ चल पड़े जो देवा में था.

लण्ड बाहर आते ही आँटी की चूत से गर्म लावा बहते हुए उनकी गोरी गाँड के छेद से होते हुए स्टूल पर टपकने लगा. तो मैंने खुश होकर उसके मुँह में अपना लंड दे दिया और वो मजे से लंड चूसने लगी. उन्होंने दोनों हाथ मेरे लोअर में डाले और मेरी गांड भींच कर मुझे अपनी ओर खींच लिया.

कानपुर की सेक्सी वीडियो हिंदी में

उन्होंने मेरी जांघों पर हाथ फेरा और मेरे कंधे को इशारे का धक्का दिया. लेकिन मन में बहुत रोमांच भी हो रहा था कि आज मेरी अच्छे से चूत चुसाई होने वाली है।अगले दिन मैं रोज के टाइम से पहले ही घर से निकल गयी क्यूंकि आज मुझे बस से जाना था तो उसमे टाइम ज्यादा लगता है. मैंने मना किया था ना!मैंने बोला- साली बहन की लौड़ी रंडी … मुझे पता ही नहीं चला कि मेरा रस कब निकल गया.

मैं अभी भी उसकी वो ब्रेजियर की काली पट्टी और दूधिया बूब की लाइन को ही याद करते हुए गर्मा रहा था.

अनु दीदी की मस्त जवान चुत से बाहर निकल रहे गर्म पानी को अपने हाथों में लेकर मैंने रंजू की गांड और चुत पर मल दिया, जिससे उसकी पानी छोड़ रही चुत में चिकनाई हो गई.

उसकी दोनों चूचियां छाती पर सीधी तनी खड़ी थीं।मैंने धीरे धीरे फिर से दिव्या का बदन से सहलाना शुरु कर दिया।सहलाते हुए मैंने महसूस किया कि दिव्या की योनि में हल्का सा गीलापन है।मैं बस इसी समय के इंतजार में था. अब आगे मेरी प्यासी चुत की कहानी:प्रकाश शॉप से घर आया तो अनीता ने उसे दरवाजे पर ही चूम लिया।वह समझ गया कि मैडम आज मूड में हैं. एक्स एक्स वीडियो चाहिए बीएफएक बार यामिना ने मसाज करते हुए कुछ पीछे देखा तो मैंने अपने टॉवल की गांठ को तुरंत निकाल कर ढीला कर दिया.

पिछले भागअमीर बिजनेसमैन को पटा कर चुदाई करवा लीमें आपने पढ़ा कि अशोक ने मेरी चुत की फांकों में अपना मोटा लंड लगा दिया था और वो अन्दर पेलने की कोशिश कर रहा था. चाची ने भी अपने हाथ से लंड पकड़ कर चुत पर लगा लिया, तो मैंने जोर से झटका दे मारा. मैं एक हाथ से उसकी मस्त चूची को सहलाने लगा और दूसरे चूची को मुँह लगा कर पीने लगा.

मगर क्या आप सच में इतना मजा दे देते हो? मैं तो आपकी सेक्स कहानी पढ़ते हुए न जाने कितनी बार पानी पानी हो गयी!उसकी बात पर मैंने कहा- क्यों? आपको यकीन नहीं है कि मैं इतना मजा दे सकता हूं?वो बोली- मैं तो बस पूछ रही हूं. मगर तुम सिर्फ ये बता दो कि तुम मुझे पैसे दे क्यों रहे हो, जबकि संजू मुझे वापिस कर देगा?”आई लव यू.

उसने कहा- कौन सी पढ़ाई कर रही हो?मैंने कहा- बी ए में हूँ अंकल!उसने कहा- ओके चलें … फिर मुझे कहीं बाहर जाना है.

वो अपने दोनों होंठ काटने लगीं और मेरे हाथ को पकड़ कर अपने बूब्स पर ज़ोर ज़ोर से दबाने लगी. मैंने दो तीन बार तेल में उंगली डुबो कर गांड में डाली और गांड को लंड के लिए तैयार कर दी. मुझे नहीं पता था कि वो जानबूझकर अपनी जांघों को खोलकर ड्रेसिंग टेबल के सामने बैठी थी.

बीएफ फिल्म हिंदी बीएफ हिंदी मैंने कुछ नहीं कहा, तो दीदी ने मेरे पास आकर मेरे मुँह से आती सिगरेट की गंध को सूंघा और बोलीं- सिगरेट पी है तूने?मैं सिगरेट पीता था, ये बात दीदी को मालूम थी लेकिन उन्होंने कभी कहा नहीं था. ममता जी की सिसकारियां अगर मुझमें इतना जोश बढ़ा रही थीं, तो शायरा का क्या हाल हो रहा होगा?मैं सोच रहा था कि शायरा की पैंटी कितनी गीली हो गई होगी.

चूत और गांड की चुदाई कहानी का अगला भाग:गांड मराने का शौक क्या क्या न कराए- 2. यामिना के तपते होटों को मैंने चूसते हुए उसकी चूचियों को मसल दिया और अपने एक हाथ से उसकी चूत को मुट्ठी में भरकर दबा दिया. मेरा सपना था कि भाभी को पूरी तरह से उन्मुक्त कर दूं और तभी उनकी चुदाई का मजा लूं.

सेक्सी वीडियो मैप

भाभी मेरी बांहों में सिमट गई थीं और अपने होंठों से मेरे कान की लौ को चूमने लगी थीं. पहली चुदाई के बाद उसने बताया कि उसने अपना कौमार्य मेरे लिए ही बचा कर रखा था. कुछ वीर्य उसके होठों के किनारों से निकलने लगा, बाकी फ़लक सारा अंदर ही पी गई.

मैंने दोनों उंगलियों को चूत के अन्दर फिक्स किया और दूसरे हाथ से उनकी टी-शर्ट और चूचे पकड़ लिए. मेरी इस नई सेक्स कहानी को पढ़ते हुए लड़के अपने लंड की मुठ मारने के लिए और लड़कियां अपनी चूत में उंगली करने को तैयार हो जाएं.

उसने पूछा- आज आप ऑफिस नहीं गए?मैंने बोला- हां ऐसे ही … आज जाने का मन नहीं था.

जिसका मतलब साफ था कि मेरा पति अपने वाहियात दोस्तों के साथ उनको कंपनी देने के लिए गया हुआ है।मैंने मोबाइल फोन निकाला देखने के लिए कि उसने कहीं कोई मैसेज न छोड़ा हो।मुझे उसका मैसेज मिला- जान, मैं अपने दोस्तों के साथ आया हुआ हूं. मैं- भाभी आप ये क्या बोल रही हो, आप मेरी भाभी हो! मैं आपका दूध कैसे पी सकता हूँ?भाभी- तुम मेरे देवर हो … इसी लिए तो मैं तुम्हें दूध पिलाने की सोच रही हूँ. प्राची चूत में लंड लेने को इतनी उतावली हो चुकी थी कि वो अपनी गांड उठाकर मेरे लंड को चुत में लेने की कोशिश कर रही थी.

मैंने कोशिश की तो पाया कि पर्दे के एक तरफ से अंदर का नजारा देखा जा सकता था. अब मैं हाथ की कोहनियों के बल थोड़ा ऊपर हुआ और लौड़ा अन्दर बाहर पेलने लगा. चुदने के कारण मेरे बूब्स 38 के हो गये और गांड भी काफी भारी हो गयी और मैं जैसे रंडी ही लगने लगी.

बुर पर लण्ड का स्पर्श पाते ही पायल बड़ी मादक आवाज में बोली- विजय मेरी जान!पायल के चूतड़ों को मैंने अपनी ओर दबाया तो मेरे लण्ड का सुपारा उसकी बुर के मुखद्वार में फंस गया.

बिहारी एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो: मेरे देवर ने मुझसे कहा- भाभी भरोसा रखो … यह मैंने आपकी खुशी के लिए ही किया है. फिर मैंने कहा- चलिए अब आप मेरी चुदाई कीजिए! अब मुझसे और बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

चूत और गांड की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं गांडू हूँ पर मौक़ा मिले तो चूत भी मार लेता हूँ. मैं बोला- मैडम, हाथ कंगन को आरसी क्या और पढ़े लिखे को फारसी क्या? आप रूबरू होकर देख लीजिये, आपको स्वयं ही पता चल जायेगा कि मेरी क्या विशेषता है. ये सुनकर मेरे मन में लड्डू फूटने लगे और मैंने दीदी की तरफ देखा तो दीदी ने भी आंख दबा कर मुस्कान दे दी.

मेरी नजर उसी बिंदू पर टिकी हुई थी जहां पर डिल्डो उसकी गांड के छेद में घुसा हुआ था और बार बार उसकी गांड का छेद खुल बंद हो रहा था.

लेकिन कुछ भी समझ नहीं आया।अगर थोड़ा और उजाला होता तो शायद किसी निष्कर्ष पर पहुँचा जा सकता था. उनकी बात मान कर मैंने अपना माल गांड पर निकाल दिया और हाथ से चूतड़ों पर मल दिया. मैं- इतने सारे!मैं सोचने लगी कि 5000 रुपये तो वाकयी बहुत ज्यादा थे.