एक्स एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ वीडियो भाई बहन के

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी तेलगू: एक्स एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश बीएफ, एरिक पीछे से लग गया और उसके छोटे, परन्तु अब तक भोसड़ा बन चुके छेद को चोदने लगा.

सेक्सी बीएफ हिंदी में नया

कहाँ मिली… सब जोड़ों में हैं, अगर कोई अकेली है भी तो वो इतनी सुन्दर और जवान नहीं!” आर्थर खिसियाता हुआ बोला. कैटरीना के बीएफ पिक्चरपर आज मेरा सपना पूरा होने की घड़ी आ गई थी, आज मोहन के बड़े भाई की शादी थी और मैं अपने पति रवि के साथ शादी में जाने वाली थी.

अर्पी, मेरी जान, अपनी गांड को थोड़ा ढीला छोड़ो, सिर्फ एक बार दर्द होगा, फिर मजा ही मजा!”जैसे ही अर्पिता ने थोड़ी गांड ढीली करी, मैंने एक जोरदार झटका मारा, क्योंकि इस बार नहीं डालता तो फिर शायद कभी नहीं डाल पाता. बीएफ सेक्सी एचडी डाउनलोडमौसी तो एक बार झड़ कर कुछ शांत सी हो गयी थी लेकिन मेरे लंड का तो बुरा हाल था, मैंने मौसी को मेरा लंड चूसने को कहा तो उन्होंने एकदम मना कर दिया.

भाभी भी मेरे सर को दबाते हुए मेरे मुँह में अपने मम्मों को दिए जा रही थीं.एक्स एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश बीएफ: उसने मुझे धीरे से सीने से लगा लिया और बोला कि विराट तुम भी बहुत अच्छे हो.

कुछ देर बाद मैंने उसके लंड को मुँह में ले लिया और मस्त होकर चूसने लगी.तभी चाचा ने दूसरी बात करते हुए चाची से कहा कि वे खेत के किसी जरूरी काम से शहर जा रहे हैं.

बीएफ जानवर सेक्सी - एक्स एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश बीएफ

मैंने जींस पेंट खोली और भाभी की तरफ फिर से देखा तो मैंने देखा कि मेरा खड़ा लंड देख कर भाभी के चेहरे पर हल्की सी चमक आ गई थी.मैंने जब उनसे पूछा कि यहां कौन रहने आ रहा है?मकान मलिक ने कहा- एक मैडम जी हैं, वे बहुत पढ़ी लिखी हैं.

वो फिर बोली कि वो और राहुल भी (उसका पति और उसका बेटा) अपनी दादी के यहां गए हैं. एक्स एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश बीएफ उसके रस भरे होंठ, उसकी बड़ी-बड़ी आँखें, उसका बिंदास स्वभाव मेरे को रम गया था.

मैं बस अपने ख्यालों में खोया हुआ था, तभी मुझको एहसास हुआ कि कोई मेरे कंधों को पकड़ कर मुझको हिला रहा है.

एक्स एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश बीएफ?

मेरे लिए क्या शायद अंजलि के लिए भी यह किसी जवान लड़के का यह पहला चुम्बन ही था. हम रेड लाइन की तरफ जा रहे थे एकदम चुपचाप… हम दोनों में से कोई भी नहीं बोल रहा था. वो मेरे दूध को पी रहा था और दूसरे मम्मे को अपनी हथेलियों से मसले जा रहा था.

उसको बेहद दर्द हो रहा था, वो छटपटा रही थी मुझे अपने नाखूनों से नोंच रही थी, लेकिन मुझे मालूम था कि ये तो नारी का प्रारब्ध ही होता है. फिर कभी नहीं ओके!उसके हां भरते ही मैं उसके पास चला गया और उसके चेहरे को देखने लगा. मैंने अगले दिन रीटा को चोदने की खुशी में तीन बार मुठ मार कर अपना पानी निकाला था.

मैं पूरा 6’1″ लंबा गोरा पंजाबी लड़का हूँ, फ़ुटबाल खेलने का शौक़ीन हूँ इसलिए फिटनेस भी खिलाड़ियों जैसी ही है. फिर हम दोनों ने एक दूसरे के होंठों को चूसा और सहर ने मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ लिया और उसको सहलाने लगी. करीब बीस मिनट बाद मैं अपने घर की छत पे गया तो देखा कि भाभी के यहाँ पास की कुछ महिलाएँ बैठीं थी और बात चीत चल रही थी।फिर मेरे दिमाग में एक आईडिया आया, मैं उनके घर गया और कहा कि मेरी दीदी आपको बुला रही और जल्दी आने को कहा है!इतना कह कर मैं एकदम सभ्य लड़के की तरह अपने घर आ गया.

अगर आप में से कोई नागपुर आये किसी काम से तो मुझसे मिल सकता है, या हो सकता है मैं आप के शहर आया तो मैं आप से मिल सकता हूँ. इसके बाद मैं अपनी सगी बहन के ब्लाउज के ऊपर से ही उसकी चूचियों को पीने लगा.

अब मैंने उसकी कमीज ऊपर उठानी शुरू की और उसकी ब्रा साईड में हटा के उसके निप्पल चूसने लगा.

मुझे ये तो मालूम था कि मैं इस तरह के नेट्वर्क को खत्म तो नहीं कर सकूँगा.

मैंने उसकी ब्रा के ऊपर से उसके बूब्स को खूब दबाया और उसकी पैंटी के ऊपर से उसकी चूत को सहलाने लगा. आर्थर के धक्कों की गति समय के साथ बढ़ती जा रही थी और वो समय समय पर अपने दोनों हाथों से मेरी प्यारी पत्नी के चूतड़ों को खोलता हुआ उसकी गांड को उंगलियों से सहलाता मुझे दिखाता बडबड़ा रहा था- ले ले! और अन्दर! मजा आया?हाँ… और, और, और… और अन्दर तक… कस के धक्के मारो! फाड़ दो मेरी चुदक्कड़ चूत को!” नताशा भी उसके धक्कों का दिल खोल कर स्वागत कर रही थी. मैंने शिकायत करते हुए कहा- अगर पहले बोल देतीं, तो अब तक कितनी बार मज़ा कर लेते और मुझे बार बार बाथरूम में मुठ नहीं मारनी पड़ती.

इस वक्त वो मुझे वात्सायन की कोई काम वासना के विरह से पीड़ित… प्रणय की भीख मांगती हुई एक नायिका सी लगीं. मकान मालिक मुझे हचक का चोद रहा था और हम दोनों लोग मादक सिसकारियां ले रहे थे और कमरे में आह आह आह की आवाज आ रही थी. मेट्रो स्टेशन रेवेल्यूशन स्क्वायर से हम पैदल जमा भीड़ को निहारते हुए क्रेमल की ओर चल दिए.

तभी चाचा ने दूसरी बात करते हुए चाची से कहा कि वे खेत के किसी जरूरी काम से शहर जा रहे हैं.

)वह ठेट मलवीय कड़क भाषा में बोलता हुआ बहुत सेक्सी लग रहा था लेकिन आगे की बातचीत मैं आपको हिंदी में ही बताने जा रहा हूँ. दोस्तो, मैं आपको यहां बताता चलूँ कि मुझे यहां रहते हुए करीब एक साल हो चला था और दी से मेरी बात भी मुश्किल से तीन बार हुई थी. मेरी रोमांटिक कहानी के पहले भागमेरी स्टूडेंट ने मुझे दुनिया दिखाई-1में आपने पढ़ा कि मुझे अपनी एक स्टूडेंट से प्यार हो गया था.

फिर उसने कहा कि शीनू तुझे ऐसे क्यों देख रही है, जैसे तुझे अभी खा जाएगी. बिंदु माँ अपने रूम में जाकर नंगी होकर मेरे रूम में आ गईं और आशीष और मेरे कमरे के बीच का दरवाजा खोल दिया. मेरे कुछ चाहने वाले बोलते हैं कि मैं एक बहुत ही सेक्सी और क्यूट सा माशूक लौंडा हूँ.

करीब 10 बजे रहे होंगे, चाचा जी चले गए, अब घर पर मैं और चाची जी ही थे। चाची जी को बाहर छोड़ने के बाद मेरे कमरे में आई, मैं सोने ही जा रहा था कि चाची जी ने कहा- रवि, आज तुम मेरे कमरे में मेरे साथ सो जाओ।पहले तो मैंने थोड़े नखरे किये पर मैं मान गया।चाची जी की यह बात सुन कर मेरे मन में तो लड्डू फूट रहे थे।कहानी जारी रहेगी.

मेरी बगल में कोई नहीं था, मुझे ऐसा लगा कि मेरा सैयां मुझे छोड़ कर चला गया हो. उनको देख के वो लोग मुस्कुराने लगे… और उनमें से एक बोला- तू कौन है छमिया?इसके बाद वे लोग मेरी तरफ देख कर बोले- ओये हीरो तेरी आईटम है क्या??उतने में सेजल भाभी बोलीं- तुम सबकी बाप हूँ मैं… क्यों परेशान कर रहे हो इसको?उनमें से एक आदमी बोला- ये तू अपने इमरान हाशमी से पूछ कुतिया.

एक्स एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश बीएफ मैंने एक उंगली उनकी गांड में डाल कर आगे पीछे कर रहा था, साथ ही उनके मम्मों को दबा कर चूस रहा था. मेरे पति अब बिल्कुल बेकार हो चुके हैं और काफी समय के बाद मेरी अच्छे से किसी मर्द के बच्चे ने चुदाई की है.

एक्स एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश बीएफ पापा- विक्रम, तुम अपना इरादा बता दो फिर आगे की बात तुम्हारे पापा से करूँ. फिर हमें मौका मिला, मेरे घर वाले सब शादी पर दूसरे शहर जा रहे थे, मैं घर पर रुक गया, कह दिया कि काम काफी है, छुट्टी नहीं मिल सकती.

जैसे ही उस लड़के ने मुझे उस बुड्डे के पास धकेला तो बूढ़ा मेरी चुत पर मुँह मारने लगा.

वीडियो बीएफ पिक्चर वीडियो बीएफ

वो मेरे दूध को पी रहा था और दूसरे मम्मे को अपनी हथेलियों से मसले जा रहा था. फिर मोहन कपड़े पहन कर काम पे निकल गया और मैं भी कपड़े पहन कर घर चली गई. आते ही वो फिर से मेरे से लिपट गई और एड़ियाँ उठाकर मुझे होंठों पे किस करने लगी। उसकी हाइट कम होने के कारण उसे थोड़ा परेशानी हो रही थी, मैंने उसे उठा कर टेबल पर बिठा दिया और हम फिर से किस करने लगे। मैं उस की कमर पर हाथ फिरा रहा था और वो मेरी कमर पे। हम दोनों ही एक दूसरे के भीतर समा जाने को आतुर थे.

वो खुद किसी कंपनी में काम करती हैं, उसी के प्रॉजेक्ट के लिए यहां आई हैं. पर यहां ये सब उपलब्ध नहीं था क्योंकि मैं तो अपने घर आ गया, पर मौसी की चुत बहुत मिस कर रहा था. आर्थर ने सिर्फ अपने कंधे उचकाए और मैंने मेहमानों को मेज के गिर्द बैठने का आमंत्रण दिया और कहा- कोई बात नहीं, जब जाएँगे, तो साथ ले जाइयेगा.

अगले दिन मैं पहुंचा तो देखा तो सोनल आ चुकी थी, दोनों बहनों ने साड़ी पहन रखी थी जिसमें वे सेक्सी लग रही थी.

हर लाइन के घरों के फ्रंट उसकी अगली लाइन के घरों के फ्रंट के आमने सामने हैं. भाबी मेरे लिए कोल्डड्रिंक बिस्किट नमकीन और ना जाने बहुत सी चीजें लेकर आ गईं. बात आज से करीब एक साल पुरानी है, तब मैं अपनी इंजिनियरिंग की पढ़ाई ख़त्म करके अभी नया नया ही बिहार के मुज़फ़्फ़रपुर में रहने के लिए आया था और जॉब के लिए तैयारी कर रहा था.

मॉम तेज़ तेज़ सीत्कारें लेते हुए अपने आप को खुद ही चोद रही थीं ‘आह आह आह. वो मेरे मुँह में अपनी जीभ पूरी ही डाल देता था, मैं उसे चूसने लगता था, जैसे भूखा बच्चा अपनी माँ की छाती को चूसता है. मैंने रानी के कान के पीछे अपनी जीभ गीली करके फिराई तो रेखा रानी कसमसाई.

फिर मैंने उसे नीचे लिटाया और अपनी चूत उसके मुंह पर रख दी और अनुज को इशारा किया कि अब इसकी चुदाई शुरू कर दे. नीरज बोला- साले तू क्या गान्डू है??मैंने बोला- चुप रह साले, जो बोलता वो दे.

हम लोग चुदाई में इतना मस्त थे, हम लोग दरवाजा बंद करना भी भूल गये थे और हम लोगों को पता भी नहीं चला कि कोई हम लोगों की चुदाई को देख भी रहा है. अब तक मेरी सेक्स स्टोरी ले पिछले भाग में पढ़ा था कि मेरी सौतेली माँ बिंदु ने मेरी चुत की सील तोड़ने के लिए अपनी मेरे सौतेले भाई को कह दिया था. तो वो बहुत उदास लग रही थी। मैंने उसे बाइक पर बिठाया और पास ही एक रेस्टोरेंट में ले गया।वहाँ उसने जो बताया उसे सुन कर मुझे रोना आ रहा था।उसने बोला- मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूँ.

आराम से मसलो न उम्म्मम्म…”कोमल केवल चुसवाओगी ही या चूसोगी भी…?”अरे जरूर जल्दी से 69 में आ जाओ.

गांड शब्द सुन कर के ही मेरे दिमाग में अब नशा चढ़ने लगा- नहीं, मैंने बाहर नहीं लिया था. उन दोनों ने मुझे भंभोड़ते हुए बेरहमी से चोदा और इसके बाद आशीष उस कमरे में मुझे चंदर के पास पूरी रात चुदने के लिए छोड़ गया. वो फ्रेश होकर जब आई तो पूरी नंगी ही बाथरूम से निकली थी और मुझको अपनी चूत दिखाने लगी.

दो पल की शिथिलता के बाद अब वो भी नीचे से धक्के लगाने लगी और बोलने लगी- आह. तभी मैंने ज़ोरदार पिचकारी मारी, मेरा पूरा रस उसके मुँह पर फैल गया था और वो उसे चाट रही थी.

मैं और मकान मालिक खाना खाने के बाद होटल से बाहर आ गए और उसके बाद मकान मालिक मुझसे बोला कि और कुछ लेना है?मैं बोली कि डॉक्टर के पास चलते हैं. उसने कहा- रोड के पास हमारे खेत हैं, वह पर मिलूँगी!फिर मैं बस में से वही रोड पे उतर कर उस से मिलने चला गया, मैं उससे बात करते करते खेतों में पहुँच गया. मैं खड़े खड़े ये सोच रहा था कि जो लड़की इतनी सुन्दर है, उसकी चूत कितनी रसीली होगी, जिस लड़की को देखने मात्र से मुझे इतना मज़ा आ रहा है, उसको चोदने में कितना मज़ा आएगा.

बीएफ न्यू सेक्सी

फिर अचानक से मॉम गुस्से के स्वर में बोलीं- वैसे तू आज कल बहुत बढ़ गया है.

फिर अंकल नहाते नहाते मुझे पकड़ा और फिर से मेरी गांड दबा कर मेरे बदन को चूमने लगे. मैं उसकी तरफ हैरानी से देखने लगा क्योंकि शिखा इस वक्त एक छोटे से निक्कर में थी और ऊपर उसने ब्रा जैसा टॉप पहना हुआ था. यह बात अभी 6 महीने पहले की है, जब मैं, मेरा भाई और मेरी मम्मी, मौसी के यहाँ कुछ दिनों के लिए गए थे.

मगर इधर बिंदु की सूजी हुई चुत को देख कर मेरी चुत भी लपलापने लग गई थी कि उसके साथ भी ऐसा ही हो. मेरे घर वालों से भाभी ने मुझ रात में सोने के लिए भेजने को बोला और खाना खाने के बाद मैंने और भाभी ने काफ़ी सेक्स किया. सनी लियोन की बीएफ फिल्म एचडी वीडियोक्या वे लफंगे किस्म के शोहदे तो नहीं हैं, जो एक सभ्य महिला के साथ संसर्ग कर सकें.

सड़क पर चलते हुए आर्थर ने हमसे हमारे साथ ही घूमने की अनुमति मांगी क्योंकि उसे मास्को के रास्ते नहीं मालूम थे. भाभी- वो ये बात है… जब से शादी से आयी हूं, तेरे भैया ने एक बार भी जम कर नहीं चोदा.

मैं भी समझ गया कि चाची की चुत चुदने के लिए मचल रही है तो मैं भी सारी शर्म छोड़ कर लग गया. भाईजान ने बहुत ही आहिस्ता से जंपर के दोनों सामनों को इधर-उधर कर दोनों चूचियों को थोड़ा थोड़ा नंगा कर दिया. वो लंबी सांसें लेने लगी, मैंने तुरन्त मौका देखा और चौका मारते हुए उसके होंठों को अपने होंठों की गिरफ्त में ले लिया.

मेरे आने से पहले माँ ने चाचा जी को बता दिया था कि मैं आने वाला हूँ. ये लड़कियां उसको अपने मोबाइल पर से उसको चुदाई वाले वीडियो भी दिखाती थीं. भाभी बड़े प्यार से मेरे बालों पर हाथ चलाते हुए अपना दूध मुझे चुसाने लगी थीं.

’मॉम अपनी कामुक आवाजों में नवीन को बड़बड़ाए जा रही थीं ‘घर क्यों जा रहा है कमीने.

उनको देख के वो लोग मुस्कुराने लगे… और उनमें से एक बोला- तू कौन है छमिया?इसके बाद वे लोग मेरी तरफ देख कर बोले- ओये हीरो तेरी आईटम है क्या??उतने में सेजल भाभी बोलीं- तुम सबकी बाप हूँ मैं… क्यों परेशान कर रहे हो इसको?उनमें से एक आदमी बोला- ये तू अपने इमरान हाशमी से पूछ कुतिया. फिर भाबी किचन से वापस आईं और गुस्से में बोलीं- तुम्हें शर्म नहीं आई कि तूने अपनी शादी शुदा भाबी को आई लव यू बोला… और साथ में मुझे भाबी भी बोलता है.

जैसे ही सुपारा अंदर गया, उसने मुझे रुकने का इशारा किया तो मैं भी रुक गया. मैंने गुर्रा कर कहा- अच्छा… तो बिल्कुल भी सबर नहीं हो रहा हराम की चुदक्कड़ पैदाइश… चल तू भी क्या याद करेगी अब ठोक ही देता हूँ तेरी मलाई वाली चूत को… भोसड़ी वाली रांड, अब हो जा तैयार इस लौड़े को झेलने!जीजा साली सेक्स की कहानी जारी रहेगी. )वह ठेट मलवीय कड़क भाषा में बोलता हुआ बहुत सेक्सी लग रहा था लेकिन आगे की बातचीत मैं आपको हिंदी में ही बताने जा रहा हूँ.

तीसरे दिन आंटी किसी काम से मेरे घर पर आईं और गलती से मैं उनके सामने आ गया. यह सुन कर नवीन पे मानो शैतान सवार हो गया और एकदम से कस कस कर मॉम को चोदने लगा. मॉम के उकसाने पर नवीन और तेज़ तेज़ चोदने लगा था और गालियां बके जा रहा था- चुप रंडी कहीं की.

एक्स एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश बीएफ तभी कंपाउंडर ने नीना को अगले दिन आने को कहा क्योंकि वह खुद भी जा रहा था. फिर मैं उसकी चुत को चाटने लगा, लगातार चाटते रहने से उसकी चुत से पानी निकलने लगा.

देसी बाबा बीएफ

उसने सही कहा था कि उसकी चूत किसी कुंवारी लड़की की तरह से सिकुड़ गई थी क्योंकि वो सालों से नहीं चुदी थी. आह… अजय तुम जीत गए… बोलो अब क्या चाहते हो मुझसे? सिर्फ नंगी देखना चाहते हो क्या या कुछ और भी?”बहुत कुछ…”अच्छा तुम्हारे लिए एक सरप्राइज है वो अलमारी खोलो. फिर अचानक से भाबी उठ गईं और बोलीं- यहां का एसी बहुत तेज चल रहा है, मुझे तो ठंड सी लग रही है, मैं बाहर जाकर सोती हूँ.

नमस्कार दोस्तो, आज मैं आपको मेरी सच्ची गरम चुत चुदाई कहानी भेज रही हूँ, ये चुदाई खुले आसमान के नीचे खेत में हुई थी. उसने मेरे होंठों पर एक कसकर चुम्मी दी और नीचे अपने कमरे में चली गई. सेक्सी बीएफ नई लड़कियों कीफिर उसने कहा कि शीनू तुझे ऐसे क्यों देख रही है, जैसे तुझे अभी खा जाएगी.

तो भाबी बोलीं- मैं तो ये चाहती हूँ कि तुझे वीरू से अभी मेरे सामने चुदवाना होगा.

अब हमहूँ घर जाहिके तैयारी में रहेले कि हमार बॉस हमके रोक के कहिले- बबीता, थोड़ा काम बाक़ी बा… औ के खत्म करवा दौ… फिर हम ही तौके घर छोड़ देब…हम कहिने कि ठीक बा… और वैसे भी हमरा खातिर काम ज्यादा मायिने रखत रहे!शायद हमरी बात से हमरे सर इम्प्रेस हो गईले. अर्पिता को भी ये सब पसंद आया, वो भी पानी में गोते मार कर मेरा लंड चूसती और फिर सांस लेने के लिए बाहर आती.

अब मैंने हल्का हल्का सा उसे सहलाना शुरु किया, वह दोबारा से हल्की हल्की आहें भरने लगी. उसने मेरी चुत में लंड पेला और मेरी टांगें उठाते हुए मुझे ठोकना चालू कर दिया. इस वक्त भाभी की नाईटी उनके घुटनों के ऊपर थी और वे अपने पैर पसारे लेटी थीं.

जब तीसरी बार वो चुद रही थी तो बोली- सर इन दोनों की दोस्ती पक्की करवा दीजिए.

तो अब मैंने आंटी से पूछा कि आप इतनी रात को एकदम अकेली कहाँ जा रही हैं?तो उन्होंने बताया कि वो बार में जा रही हैं, उसके पति कनाडा में इंजीनियर हैं, उनके दो बच्चे हैं जो देहरादून में पढ़ते हैं और वही होस्टल में रहते हैं. उसने अपना कौमार्य मुझे समर्पित कर दिया था, इस बात से मुझे बड़ी प्रसन्नता थी. एक बार फिर गांड पर थूक लगाया और लंड का सुपारा टिका कर धक्का देकर अन्दर कर दिया.

सेक्सी बीएफ एचडी में दिखाएंमैं तो खुद ही ऐसा कोई काम नहीं करना चाहती, जिससे घर में किसी को भी किसी तरह का शक़ हो आ परेशानी हो. इस बार मैंने उसके जवाब का इंतजार किए बिना ही अपनी एक उंगली अन्दर डाल दी और उसकी चुत को टटोलने लगा और दूसरे हाथ से उसका दाना भी रगड़ने लगा.

हिंदी इंग्लिश वीडियो बीएफ

वह मेरे लिए एक व्हिस्की का लार्ज पेग बना कर लाई और उसने म्यूजिक सिस्टम पर ‘जॉनी मेरा नाम’ फ़िल्म का गाना ‘हुस्न के लाखों रंग, का कौन सा रंग देखोगे’ लगाया जिस पर फ़िल्म में पद्मा खन्ना डांस करती है और अपने शरीर से एक एक कपड़ा उतारती है. क्या आपको मंज़ूर है?आप ख़ुशी से कहते हैं कि हाँ भाई मंज़ूर है, मुझे बस ग्राहक से मिला दो. ” वह डरते हुए बोला।कुछ नहीं… बस अपनी धोती उतारो!” बोलते हुए राखी वैसे ही ब्रा पैंटी में उसके पास चली गयी।न… न… नहीं…” वह हकलाने लगा- अ.

हाँ तुमने सही कहा मैं चूमता हूँ जूसी रानी के हाथ और पैर… बहुत आनंद आता है. उसने मेरे होंठों पर एक कसकर चुम्मी दी और नीचे अपने कमरे में चली गई. हेलो हाय के बाद उसने अर्जेंसी में मेरा दो घंटे का समय माँगा। कहीं दूर जाना नहीं था, हॉस्पिटल के पास ही उसका काम हो जाना था.

दीदी के चूचे और गांड उभरे हुए और सुडौल हैं लेकिन पेट बिल्कुल सपाट है. सुबह उसने मुझसे कहा- तुम अपना पासपोर्ट बनवा लो, फिर मैं तुम्हारी पूरी हेल्प करूँगा, जिससे तुम इस दलदल से पूरी तरह से निकल जाओगी. वो बाथरूम में चली गई और थोड़ी देर में वो गोल्डन ट्रांसपेरेंट ओवर कोट और गोल्डन ब्रा पैंटी पहन कर आ गई.

मैंने फ़ोन उठाया और पूछा- कौन?वहां से कुछ देर तक कोई आवाज नहीं आई, फिर थोड़ी देर बाद एक लड़की की आवाज आई- हैलो सनी, कैसे हो?मैंने उसकी आवाज पहचान ली. इस वक्त बड़ा ही गरम माहौल बन गया था, जिससे भाभी फिर से चुदासी हो गईं.

मैं डॉली के बाल पकड़ कर मेरा लंड उसके मुँह में पूरा डालने की कोशिश कर रहा था.

दोस्तो, चुदाई करते वक्त लंड और चूत का नजारा देखने का मजा कुछ अलग ही होता है, क्योंकि साली सोफे पर अपनी टांगें फैलाए बैठी थी तो मुझे ये नजारा साफ साफ दिख रहा था. मिथिला बीएफ”इस पे जरा शर्माते हुए नीतू बोली- ऐसा नहीं है सलीम भैया… मैं इतनी भी ग्रेट नहीं हूँ!उसकी तारीफ से नीतू शर्मा कर लाल हो गयी थी। अपने पति के अलावा किसी ने भी उसकी इतनी तारीफ नहीं की थी।इतना स्वादिष्ट खाना खिलाने के लिए मैं तुम्हें एक गिफ्ट दे कर थैंक्स बोलना चाहता हूं। पांच मिनट में, मैं तुम्हें घर से लाकर देता हूं, रुको!” ऐसा बोलकर सलीम उठने लगा. सेक्सी डॉक्टर बीएफमैंने उसे गले लगा लिया और पीछे हाथों से ब्रा का हुक खोलने लगा, पर मुझसे नहीं खुला तो वो हँसने लगी और खुद ही ब्रा खोल कर मुझे दूध की तरफ इशारा करके आमंत्रित करने लगी. क्या आपको मंज़ूर है?आप ख़ुशी से कहते हैं कि हाँ भाई मंज़ूर है, मुझे बस ग्राहक से मिला दो.

करीब बीस मिनट बाद मैं अपने घर की छत पे गया तो देखा कि भाभी के यहाँ पास की कुछ महिलाएँ बैठीं थी और बात चीत चल रही थी।फिर मेरे दिमाग में एक आईडिया आया, मैं उनके घर गया और कहा कि मेरी दीदी आपको बुला रही और जल्दी आने को कहा है!इतना कह कर मैं एकदम सभ्य लड़के की तरह अपने घर आ गया.

मैंने उसकी ब्रा के ऊपर से उसके बूब्स को खूब दबाया और उसकी पैंटी के ऊपर से उसकी चूत को सहलाने लगा. मैंने राय देते हुए आर्थर की तरफ देख कर कहा- हमारा डबल बेड दूब की लकड़ी से बना हुआ बेहद मजबूत बेड है और नताशा के अलावा सिर्फ वही हमारी आज की फाइट को सह सकता है!आर्थर हंस दिया और सहमत हो गया. शुक्रवार को मैंने देखा कि कामिनी बहुत बन ठन रही है, उसने डीप कट वाला टॉप पहना और स्किन टाइट जीन्स पहनी हुई थी.

एकाध बार मुझे ऐसा लगा कि शायद चाची ने मुझे उनको इस तरह से वासना भरी निगाहों से घूरते हुए देख लिया है. मेरी इस हरकत से वो अब अपना आपा खो रही थी, अब वो अपनी आँखें बंद करके आहें भरते हुए इसका मजा ले रही थी. मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागमेरे घर में मेरी चालू बीवी को उसके बॉस ने चोदामें आपने जाना था कि मेरी बीवी अपने बॉस के साथ पूरी रात कमरे में चुदवाती रही.

वीडियो में बीएफ हिंदी

हां एक बात अब मैं बिंदु को बिंदु नहीं माँ बुला कर बात करती हूँ और उससे किया हुआ वादा पूरी तरह से निभा रही हूँ. उसे पलंग पर लिटा कर मैं उसके नंगे शरीर के ऊपर चढ़ गया और उसके होंठ, गाल, गर्दन पर लगातार किस करने लगा और पूजा की अविरत सिसकारी निकल रही थी, वो भी मुझे हरेक जगह प्यार कर रही थी, मेरे लंड को उसने अपने हाथ में पकड़ रखा था जैसे कोई बच्चा डर रहा हो कि उसका खिलौना कोई चुरा ना ले. फिर जहाँ कहोगे वहाँ डिनर करके तुम उसे अपने साथ ले जाना और मैं किसी और का बिस्तर गरम करने चली जाऊंगी.

चाची अब जोर जोर से कराह रही थीं, लेकिन उनकी कराह वहां सुनने वाला कौन था? चाचा तो भांग पी कर बेहोश पड़े हुए थे.

फिर मैं उसकी चुत को चाटने लगा, लगातार चाटते रहने से उसकी चुत से पानी निकलने लगा.

चलिए आज आप लोग मेरे यहाँ आइये डिनर पर!मैंने कहा- जैसी आज्ञा मैडम अलका जी!अलका खिलखिला के हंसी- बॉस आप हैं और आज्ञा मेरी. अगर उसको भी चोदना चाहते हो?उसने कहा- जब उसकी बेटी सामने होगी तो वो नहीं आएगी. कुंवारी दुल्हन बीएफ फिल्मवो लगातार उम्म्म म्म्म्म उम्म्म्म उम्म्ह… अहह… हय… याह… हाआआआ हाय य्य्य हाआआआय्य य्य्य उम उम अह्ह्ह अह्ह्ह कर रही थी.

फिर मैं अपनी गाड़ी धीमी कर देता और वो बड़े आराम से मेरा लंड निगल जाती. और हम क्या करें कोमल?”राहुल और अंश अब जब तुम लोग बाद में देखोगे तो इससे अच्छा है कि अभी कुछ नजारा देख लो. उस दिन मेरी सहेली का मकान मालिक ने भी बोला कि उसको भी शॉपिंग करनी है, तो वो भी अपनी वाइफ के साथ हम दोनों लोगों को भी अपने साथ लेकर शॉपिंग करने के लिए ले गया.

आग मुझे लग ही चुकी थी, पर मैंने उनसे खुद को छुड़वाने की कोशिश की, क्योंकि ये मेरा पहला संभावित सम्भोग था, और मैंने मामा जी के साथ कभी ऐसा सोचा भी नहीं था, इसलिए इतनी हरकतों और चूत की इजाजत के बाद भी मेरा दिल, मेरी अंतरात्मा इस चुदाई के लिए गवाही नहीं दे रही थी।दोस्तो, हिंदी एडल्ट कहानी जारी रहेगी. जब भी मैं उसकी गांड पे थप्पड़ मारता, तो उसकी गांड थोड़ी देर देर तक हिलती रहती थी.

तो दोस्तो आपको मेरी कहानी कैसी लगी? आप अपने विचार अवश्य दें!मेरी मेल आईडी है:[emailprotected]आप मुझे फेसबुक पर भी मिल सकते हैं, मेरी फेसबुक आईडी है:[emailprotected].

पैंट के अन्दर से भी उसके लंड का मोटापन ऋतु को भी अपने चूतड़ों पर महसूस हुआ, जिससे उसने अपनी गांड इधर उधर को की. मेरी यह पहली सेक्स कहानी है, इसलिए पहले मैं अपने बारे में आपको कुछ बता देना चाहता हूँ. उसका 7″ लंबा और 3″ मोटा (डायामीटर) मेरी अनचुदी चुत में 15 से 20 मिनट तक अपना काम करता रहा था, इस वजह से उसके मूसल लंड को झेल कर मेरे शरीर में दम ही नहीं बचा था.

बीएफ चुदाई देवर भाभी एक घंटे बाद उसका लंड फिर से पूरा लौड़ा बन कर चुदाई के लिए तैयार हो गया था. मुझे पता चला कि वो दिल्ली से ही है और अच्छे खासे परिवार से है, यहाँ पर एक शादी अटेंड करने आये थे और ये उनकी नागपुर की पहली ट्रिप थी.

मेरा दोस्त आया और उसने मुझे आँख मार कर कहा- जा दोस्त, अब तेरा नम्बर. जब उसने मुझसे मेरे बारे में पूछा तो मैंने भी उसको अपने बारे में सब कुछ सच सच बता दिया. गरम गरम जीभ का प्रहार से मैं बहुत जल्द उत्तेजित होने लगी थी, उनके सिर के बाल को पकड़ कर अपने चूत में दबाने लगी थी.

सरदार का बीएफ

मैंने भी उसके गालों पर, गर्दन पर और चूची पे ऊपर से ही किस करना शुरू कर दिया. मैंने भाबी के चूचों को पकड़ कर होंठों को बहुत बुरी तरह चूमना शुरू कर दिया. मेरा लंड उनकी इस हरकत से और ज्यादा तनतना गया, सख्त हो गया, फूल गया.

दोस्तो आप तो समझ ही सकते हैं कि जब कोई ख्वाब सच हो जाता है तो क्या होता है? मेरा सपना भी एक दिन सच हो गया. इसी बीच हम दोनों ने थोड़ी दारु भी पी ली जो पूल के किनारे पर ही रखी थीहम दोनों के कपड़े धीरे धीरे हमारा साथ छोड़ रहे थे, मैं उसके और वो मेरे कपड़े उतार रही थी, ठन्डे पानी में भी हम एक दूसरे के जिस्म की गर्मी महसूस कर रहे थे.

हाँ इसे छोड़ने का पूरा इंतजाम करवा देना, इस पर जो मेरे साथ गाड़ी में आया था.

आह्ह … और करो … चोदो … आह्ह … चोदो … मेरी जान …कुछ देर तक इसी पोज में उसकी चूत की चुदाई की. फिर मैंने आंटी जी को चोदने की पोजीशन में किया और एक ही झटके में लंड को चुत में डाल दिया. सर्वप्रथम उसके दोनों हाथ मेरे सर के पिछली ओर आ जमे और मुझे और मेरे होंठों को नीचे की ओर गाईड करने लगे, दूसरे, प्रिया के मुंह से रह रह कर तेज़ सिसकारियाँ और आहें निकलने लगी- सी… ई… ई.

हैलो फ्रेंड्स, मैं अमन कपूर… मैं नॉएडा की एक मल्टीनेशनल कम्पनी में काम करता हूँ. मेरे जिन दोस्तों ने मेरी पिछली चुदाई कहानी नहीं पढ़ी है तो मैं उनको कुछ अपने बारे में बता दूँ…मेरा नाम अमन है, मैं गंगा किनारे ऋषिकेश उत्तराखंड का रहने वाला हूं, दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ाई करता हूँ और दिल्ली में फ्लैट लेकर रहता हूँ. उसने मेरी छाती को जब पहली बार छुआ, तो मेरे शरीर में एक बिजली सी दौड़ गई थी.

केवल 40 सेकंड के अन्दर ही मेरा लंड पूरी तरह खड़ा होकर भाभी को सलामी दे रहा था.

एक्स एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश बीएफ: बताओ कैसी कही?मैंने उन तीनों से पूछा तो तीनों ही खुश हो गई और जो पोजीशन मैंने बताई थी वैसी ही हो गई।दिशा प्रीति और दीक्षा की बारी बारी से चूत चाटने लगी जिससे वो दोनों सिसियाने लगी और मस्त होकर मेरे लंड और पोते चूसने लगी. वो आज ऑफिस में भी मुझसे चुदवाना चाहती थी मगर मैंने उस को कोई लिफ्ट नहीं दी.

सभी मेम्बर लेडीज ही थीं, जो अपने ब्वॉय फ्रेंड साथ में लाई थीं या अकेले ही आई थीं. ये सब करने के बाद मैंने अशोक को मैसेज किया कि सब कुछ प्लान के मुताबिक रेडी हो गया है. उनके लिए ये एजेंसी कैसे तय करती होंगी कि केवल सभ्य पुरुषों को ही आपके होटल के कमरे का नंबर मिले.

दीदी ने कहा- रानी सच बोल रही थी, तेरे जितना लंबा और मोटा लंड मुझे आज तक नहीं मिला.

सुबह भाबी ने एक टाइट सा टॉप निकाला और मुझे पहनने को दिया, मैंने पहन लिया… ये टॉप पूरा टाइट फिटिंग का था. रोशनी को एक जोर का झटका लगा, वो ऊपर उछली, पर पिंकी की पकड़ से नहीं छूटी और आगे की तरफ गिरते हुए दोनों हाथों को पलँग पर रख दिया. कामिनी एकदम से बोली- तुम भी न बुरा क्यों मान गए?वो बोला- हां मान गया और जब तक तुम इस चूतिये को मुँह पर नहीं बोलोगी कि ये तुम्हारे साथ सोने लायक नहीं है, मैं तब तक नहीं रुकूंगा.