देवर भाभी का बीएफ एचडी

छवि स्रोत,देवर भाभी की चुदाई सेक्सी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

पंजाबी बीएफ सेक्स मूवी: देवर भाभी का बीएफ एचडी, मैंने पूछा- भाभी कहां दर्द हो रहा है?उसने अपनी साड़ी ऊपर कर दी। उसकी जांघों पर लाल निशान थे.

सेक्सी बीएफ भोजपुरी एचडी

शाम को जीनिया मेरे पास आई और बोली- राबर्ट कह रहा है कि वो पायल को चोदना चाहता है, मैं जुगाड़ लगा दूँ. ब्लू पिक्चर बीएफ दिखाओफिर अगर कर भी लेगा तो अच्छा है, इससे तुम्हें भी आत्मग्लानि नहीं होगी।रमण प्रकाश के आने से पहले चला गया।प्रकाश आया और आते ही पहले की तरह अनीता को पेल दिया।उसने हँसते हुए कहा कि अगर तुम्हें अब भी आपत्ति है और स्वैपिंग पसंद नहीं तो रात वाली बात कैन्सल।अनीता ने उसे चूमते हुए कहा कि वो उससे बहुत प्यार करती है। मगर स्वैपिंग के लिए वो राजी नहीं है.

प्रीति एक अमीर घर की लड़की थी और हम दोनों मिडिल क्लास के लड़के हैं. साडीवाली भाभी सेक्स’सॉरी बोलकर मैं खड़ा हो गया और उन्हें ज़बरदस्ती नीचे बैठा कर उनके सिर को पकड़ कर बोला- लो लंड चूसो.

चाची- मुझे जाने दो वेलू, रात 9 बजे तक मेरे पति और बच्चे भी आ जाएंगे.देवर भाभी का बीएफ एचडी: जब जब मेरे मन में सेक्स जागता तो मैं उसी दिन सेक्स कहानी को आगे लिखने लगता था.

मैंने कहा- शर्त मंजूर है लेकिन क्या शर्त है … वो तो बताओ!तब उसने कहा कि मुझे भी तुम्हारा लंड देखना है.वो दोनों ब्रा और पैंटी में ही मेरे पास बिस्तर पर चादर ओढ़ने आने लगीं.

छोटा सेक्सी बीएफ - देवर भाभी का बीएफ एचडी

तुम्हें यहां कोई कुर्सी नहीं दिख रही ना मेरे बैठने के लिए।” मैंने उसको बताते हुए कहा।वो नीचे कूबड़ निकाल कर बैठ गया ताकि मेरे लिए कुर्सी बन सके।मैंने अपनी गांड की फाड़ों को खोला और गांड के छेद को उसके चेहरे पर रगड़ने लगी.तीन कमरे के फ़्लैट में शेखर और रेणु का प्यार शादी से लेकर उस वक़्त तक बिलकुल वैसा ही था जैसा कि अभी-अभी शादी हुई हो.

भाभी कामुक हंसी हंसते हुए बोलीं- यश तुमने मेरे अरमानों को पंख लगा दिए हैं. देवर भाभी का बीएफ एचडी कल रात से जब से तूने मेरी चूत को चाटा, तब से मन कर रहा था कि मैं अपनी चूत हमेशा तेरे मुँह पर रखी रहूँ.

Xxx भाभी चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरा दिल अपनी पड़ोसन भाभी पर आया.

देवर भाभी का बीएफ एचडी?

मैंने मामी को पीठ के बल लेटा दिया और उनकी चुचियों और पेट पर तेल गिरा कर सामने से उनकी मालिश करने लगा. कैसे भी करके ये लॉकडाउन हटने से पहले मुझे प्राची के चूत के मजे लेने थे उसको सुकून से चोदना था. असकी इस हरकत से मैं एकदम से सिहर सी उठी।मैंने उसका हाथ पकड़ा तो समीर ने धीरे से मेरे कान में बोला- मैं हूं, मेरा हाथ है ये.

अब मैंने उसके होंठों को चूमा और उसके कान की लव को झुमके समेत मुंह में लेकर चूसने लगा. बात करते करते अचानक से श्वेता की गर्दन में दर्द होने लगा- आह … मेरी गर्दन!मैं बोला- क्या हुआ?श्वेता- मेरी गर्दन अचानक से बहुत दर्द करने लगी. अब तक आवाजें सुनकर दिनकर भी उठ गया था, उसने चमेली को आता देखा, तो वो उससे सवाल करने लगा.

हम तीनों ने अपना अपना ड्रिंक खत्म किया और मैंने फिर से गिलासों में व्हिस्की डाल दी और सोडा भी. अब उसने झटके देना शुरू कर दिए और मैं भी अपनी गांड पीछे को हिलाते हुए उसका साथ दे रहा था. इनके दो लोगों ने कल मुझे बहुत मस्त चोदा था और आज भी दो चोदने वाले हैं, अभी कुछ देर पहले आधा शूट खत्म हुआ है.

लंड के सिकुड़ने के बाद मैंने लंड बाहर निकाल लिया और उसकी चूत में उंगली डाल कर देखा. उसने किसी को पर्ची पर दवा का नाम लिख कर दिया और 10 कंडोम भी मंगवा लिए.

मुझे ज़रा भी होश नहीं था कि कामोत्तेजना में मैं खुद ही अपनी योनि का रस चूस रही थी।ऐसी हालत तो किसी मर्द के लिए भी नहीं हुई थी मेरी!अब मुझे समझ आ रहा था कि कविता एक अनुभवी खिलाड़ी रही होगी.

फिर कार पार्क करके एक आदमी उसकी बांहों में हाथ डालकर रिशेप्सन की ओर बढ़ा.

होंठों को चूसने में मैं भी मैम का साथ देने लगा तो मैम ने अपनी जांघ पर रखा हुआ मेरा हाथ अपनी स्कर्ट के अन्दर खिसकाकर अपनी बुर पर रख दिया. इस वजह से पूरे एक साल तक एक दूसरे से दूर रहने की बात दोनों को ही खल रही थी. मैं ट्रेन से अपने घर गया और उधर एक दिन रुक कर उधर से बस से उसके गांव गया.

अब अंकल मेरे टीशर्ट के ऊपर से मेरे बूब्स दबा रहे थे और मुझे किस भी किए जा रहे थे. उसने एक झीना सा गाउन पहन रखा था, अन्दर से उसकी ब्रा पैंटी क्लियर दिख रही थी, मेरा लंड तो नाचने लगा था. जैसे ही मैं लण्ड को अंदर डालने के लिए जोर की ठोक लगाता, आँटी ऊपर खिसक जाती.

अब भाभी फिर से आहें भरने लगीं- आआह … आआ शुभ और तेज पेलो … आहह … उउऊह.

मैं रूम में घुसा तो अम्मा लेटी थी।फिर दूसरे रूम में गया।भाभी बिस्तर पर लेटी थी और दर्द से कराह रही थी।मैंने कहा- कैसे हुआ?वो बोली- किचन की सफाई करते हुए गिर गई।मैंने कहा- खन्ना जी का फोन आया था, आप अस्पताल चलो!वो बोली- नहीं, वहां अलमारी में दवा रखी है, वो लगा दो. फिर मैंने डिपार्टमेंटल टेस्ट दिए और अपनी मेहनत के दम पर एक ऑफिसर बन गया. इसके बाद के सपने में मैं देख रहा था कि एक बार चुदाई होने के बाद अब तो हर रोज मैं पिंकी भाभी की चुदाई अलग अलग तरीकों से करने लगा था.

एक दिन फिर उसने मुझे बुलाया भी।वहां पर जाकर कैसे मैंने उसकी चुदाई की वो मैं आपको अपनी स्टोरी के अगले अंक में बताऊंगा. ये बात मेरे दिमाग में आते ही मैंने तुरन्त ममता‌ जी‌ को फिर से पकड़ लिया. कुछ पल ऐसे ही मोना के होंठों को चूमने चूसने के बाद मैंने पागलों की तरह जल्दी जल्दी चूमना शुरू कर दिया.

वो नीचे अपनी जांघों के सहारे बैठ गयी जिससे उसकी गांड एक नाशपाती की आकृति में हो गयी.

काफी देर से साथ होने के कारण मेरा भी दिल उस पर आ गया था और मन ही मन उसे चोदने की इच्छा होने लगी थी. मगर मैंने जब उससे पूछा कि क्या तूने पोर्न में लंड चुसाई नहीं देखी?वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुराने लगी.

देवर भाभी का बीएफ एचडी धीरे से चाची अपना हाथ मेरी छाती के आगे ले आयी और हाथ को छाती पर चलाते हुए नीचे मेरे पेट की तरफ हाथ पहुँचाने लगी. जाते हुए मम्मी ने मुझसे कहा कि मैं दूसरे कमरे में अपने छोटे भाई बहन के साथ सो जाऊं.

देवर भाभी का बीएफ एचडी तभी एक कामुक आवाज आई- बस देखती ही रहोगी या इसे प्यार भी करोगी?इतना कहते ही प्रीति ने अपनी बाईं टांग उठा कर कुर्सी पर रख ली।मैंने सिर उठाकर उसे देखा तो उसकी आंखों में काम की ज्वाला भभक रही थी. कुछ इतना काफी है ना?स्नेहा खुशी से उछलते हुए बोली- वाओ भैया … फिर तो मजा आ जाएगा.

अब मैंने मोना भाभी के लहंगे के ऊपर से ही उनकी गांड को फिर से दबाना शुरू कर दिया.

सेक्सी देहाती भाभी की

वो मेरी चूचियों पर आ गया और मेरी ब्रा को झट से खोल कर मेरी चुचियों पर ऐसे टूट पड़ा … जैसे कोई जंगली भेड़िया अपने शिकार पर टूटता है. सेक्स विद फ्रेंड Xxx कहानी में पढ़ें कि पराये मर्द का लंड लेने के बाद पत्नी ने अपने पति को उसके दोस्त की बीवी की चुदाई करने की बात कही. इसके बाद संगीता वहीं पर वापिस आ गई, जहां बैठकर हम लोग बातें कर रहे थे.

प्राची हंसते हुए बोली- इतनी जल्दबाजी अच्छी नहीं … एक एक करके चूसो और खाली कर दो मेरे कलशों को. सेक्सी कहानियों की कई साइट थीं और इस साइट के माध्यम से ही कई दूसरी साईटों पर भी शेखर विजिट कर लिया करता था. तो यह सुनकर वो और भी खुश हो गयी और उसका मन मुझसे मिलने के लिए ललचाने लगा.

अंकल पोर्न स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने पड़ोसी अंकल की गांड बड़े डिल्डो से मार कर अपनी पुरानी अभिलाषा पूर्ण की.

अनीता सोचने लगी कि अब कैसे रमण को ऊपर पहुंचाए?उसने प्रकाश से कहा कि उसका मन बीयर पीने को कर रहा है, मगर साथ प्रकाश को व्हिस्की से देना होगा।प्रकाश बोला- नहीं, आज पहले तुम मेरा लंड चूस दो। साले विजय ने बार बार तेरी चूत दिलाने की बात कह कर मेरा लंड खड़ा कर दिया।अनीता ने फटाफट रमण को पर्दे के पीछे छिपने का इशारा किया और रूम में जाकर पहले लाइट बंद की. मैं- आप क्यों नहीं गईं?चाची- मुझे अकेला रहना पसंद है … तुम्हारी तरह. मैंने रीना से पूछा- लंड कैसा लग रहा है जानू!रीना- बहुत ही मस्त लग रहा है … तुम्हारा लंड सच्ची में मज़े दे रहा रहा है.

[emailprotected]कजिन सेक्स कहानी का अगला भाग:मौसेरे, फुफेरे भाई बहनों की खुली चुदाई- 2. उनकी बलखाती कमर और चूतड़ों में पैदा होती थिरकन, युवाओं और भूतपूर्व युवाओं को भी गजब का आकर्षित करने सक्षम थी. तो मैंने भी बिना वक़्त गंवाए बोल दिया और उन चार हज़ार के अलावा दस हज़ार और दीदी के हाथ में रख दिए.

मैंने बिना देर किए उसकी साड़ी ब्लाउज और पेटीकोट को उतार कर अलग कर दिया. बस खाने पीने का खर्च लगेगा, तो अब बोलो क्या कहते हो सब!फिर एक मिनट रुकने के बाद समीर ने सबकी तरफ बारी बारी से देखते हुए कहा- अब बोलो विराज?आकाश, जो कम ही बोलता था.

मैंने अपने सामने भाभी को देखा तो वो मुझे सपने वाली परी जैसी ही लगीं. मस्त चूत चोदने को मिली थी इसलिए ज्यादा देर टिक नहीं पाया और पांच सात मिनट में भाभी की चूत में खल्लास हो गया. मेरे लंड का साईज कभी नापा नहीं, पर लंड लेने वाली को पूरी मस्ती देता हूँ.

इधर किंजल मुझसे इतनी बात करती, तो मुझे भी लगता कि मैं भी इससे कुछ बात करूं.

मैंने स्पीड बढ़ाई तो मैम आह ऊह करते हुए बोलीं- राबर्ट मैंने बहुत लड़कों से चुदवाया है लेकिन तुम्हारे जैसा कोई नहीं चोद पाया, तुमने मेरी बुर को तृप्त कर दिया. शर्मा जी ने फोन उठाया और बोले- अरे भाई थोड़ा सब्र कर … माल देखने ही आया हूँ. बहुत बार तो ऐसा हुआ कि मैं किसी काम की कह कर घर से निकल जाता और दो तीन दिनों के लिए उसे अपने साथ घुमाने ले जाता.

तभी मैम उठीं, एक कॉण्डोम लेकर मेरे लण्ड पर चढ़ा दिया और बेड पर हाथ टिकाकर घोड़ी बन गईं और बोलीं- हमको घोड़ी बनाकर चोदो राबर्ट. शेखर के मन में मिले-जुले ख़्याल उमड़ रहे थे, उसकी सेक्सी बातें उसे उत्तेजित कर चुकी थीं लेकिन उसकी वास्तविकता पर संदेह का ख़्याल उसे असमंजस में डाल रहा था.

फिर नसीम भाई बोले- अब तो नहीं लग रही … मजा आ रहा है न!प्रभात मुस्करा कर रह गया. नीमून पर ही रेणु को पता चल गया था कि शेखर कितना कामुक और सेक्स के मामले में बेशर्म मर्द है. उसने मुझसे बोला कि जितना मजा तुम मुझे देते थे, मेरा हज़्बेंड नहीं देता है.

मिस टीचर सेक्सी

मगर इन सब के बीच ललित ने एक और बात बतायी जो शेखर के लिए भी रोमांच से भरपूर था और वो बात यह थी कि ललित और धारा जब भी किसी को अपने घर पर बुलाकर उसके साथ चुदाई का खेल खेलते तो धारा की आँखों पर पट्टी बंधी होती और उस अनजाने आदमी की आँखों पर भी वैसी ही पट्टी होती.

मैंने मयंक से पूछा- आज ऐसा क्या मिल गया भोसड़ी के … जो तुम इतना उछल रहे हो?मयंक ने जवाब दिया- अबे भैनचोद … सुन … मेरी कंपनी में एक लड़का काम करता है, उसने आज कमाल का आईडिया दिया है. हमारे पीछे पीछे पिंकी भाभी और रोमिल आ गया।वापस आकर सबने एक एक पैग पिया और बिस्तर पर आ गए।भाभी रोमिल का और दीदी मेरे लौड़े को चुसने लगी और हम दोनों उनकी चूचियों को मसलने लगे।अब शर्म तो जैसे किसी कोने में छुप गई थी।अब हमने दोनों को लिटा दिया और ननद भाभी की चूत चाटने लगे. मैंने उनको आगे से थोड़ी नीचे होने को कहा, तो उसने वैसा ही किया … जिससे बुआ की गांड थोड़ी बाहर को उभर आयी और मेरे लिए थोड़ी आसानी भी हो गयी.

इसी वजह से मैंने प्रीति से कई बार बोला भी था कि तुम अपने पति से कहकर किसी एक कंपनी में हम दोनों को नौकरी दिलवा दो. मैं उस सामान के बीच में से जैसे तैसे बचता हुआ अपने दरवाजे तक आया और चाबी से दरवाजा खोल कर अन्दर आ गया. सेक्सी ब्लू ब्लू सेक्सउसका मोटा लम्बा हथियार देखकर मेरी बहन रीना अपनी बुर में लंड लेने से मना कर रही थीं.

पापा ने आह करते हुए अपने पूरे लंड को मेरे मुँह में ही निचोड़ा और धीरे से अपना लंड मेरे मुँह से बाहर निकाल लिया. फिर मैंने लंड चाट चाट कर उसका काला मोटा चमड़ी वाला लौड़ा साफ़ कर दिया.

मैंने उससे कहा- अगर कोई लड़का कुछ मांगे तो बोलना कि अगर चाहो तो एक लेडी ऑफिसर पेश कर सकती हो. जब तक भाभी का गिलास खाली न हो गया, तब तक मैं उनकी चुचियों को बारी बारी से चूसता रहा. हॉट लेडी सेक्स कहानी मेरी चाची के उफ़नते हुस्न और गदराए जिस्म की है.

मैंने दो तीन बार तेल में उंगली डुबो कर गांड में डाली और गांड को लंड के लिए तैयार कर दी. ज्योति- छोड़ यार … मेरी चूत में चीटियां रेंगने लगी हैं, फालतू गर्म मत कर … चल सोते हैं. जो दो एक मेरे साथी लौंडे उनके लंड का मजा लेने से बच गए थे, उन्हीं में एक मैं भी था.

देसी कपल स्वैप स्टोरी में पढ़ें कि मेरे शहर के एक कपल ने स्वैप के लिए मुझसे सम्पर्क किया.

मैंने पूछा- तो आपसे जो मैंने पढ़ने के लिए कहा था, वो पढ़ा आपने?वो बोली- हां, मैंने पढ़ा. आज से मेरी चूत में तुम्हारा लंड राज करेगा।मैं उसकी चूत में लन्ड रगड़ने लगा और उसकी सिसकारियां बहुत तेज़ हो गईं.

एक बात और भी बता दूँ कि चमेली की बड़ी बहन आशा को भी मैंने ही चोद कर तैयार किया था. मैं भाभी की चूत को और जोर जोर से सहला रहा था, जिससे भाभी शांत हो रही थीं और गर्म हो रही थीं. ” शेखर ने रघु को जवाब दिया और उसे अपने कमरे से विदा करते हुए दरवाज़ा फिर से बंद कर लिया.

ममता- आईई … आआह्ह्ह्ह … उईईई … श्श्शशश … क्या खा लिया है तूने … आह बहुत अन्दर तक लंड पेल रहा है … आह आज तो मजा आ गया. आज वो गजब की सुंदर लग रही थी; मैंने कहा- आज तो आप बहुत सेक्सी लग रही हो. यामिना- सर, लेकिन उस साली को चोदना जरूर, उसका हस्बैंड तो किसी काम का है नहीं, वह तो मन्द बुद्धि है, इसीलिए वह लेडी कुंठित रहती है क्योंकि उसकी चूत की खारिश तो मिट नहीं पाती.

देवर भाभी का बीएफ एचडी पूरा डिल्डो तो उनकी गांड में जा ही नहीं सकता था इसीलिए मैंने आधा डिल्डो डालकर ही मजा लेने का सोचा. पर ये क्या कम था कि मेरी ड्रीमगर्ल (स्वप्नसुंदरी) रमिला चाची की चूत मुझे चोदने को मिल गई थी.

सेक्सी एचडी जापानी

मैं लगातार चूत को चोदे जा रहा था और संगीता की दोनों चूचियों को मसल रहा था. सेक्स कैसे शुरू हुआ?दोस्तो, मैं अमित आपको अपनी मकानमालक की जवान और हॉट माल जैसी दिखने वाली सेक्सी बीवी की चुदाई की कहानी में सुना रहा था. वीर्य छूटने के कुछ देर तक तो वो होश में नहीं थी लेकिन फिर जब उसको होश आया तो उसने मुझे जल्दी से उठने के लिए कहा और खुद को भी संभाला.

उस शीशी के छेद से लंड पर तेल टपकाते हुए चाची ने लंड को तेल में पूरा भिगो दिया था. मुझ पर हुआ सेक्स का भूत सवार!मैंने उसे बांहों में भरा और मिशनरी पोजीशन में चुदाई करने लगा. इंग्लिश हिंदी ब्लूयामिना- हाँ, फ़लक बोल?फ़लक- मम्मा, आज लेट कैसे हो गई? आई नहीं अभी तक?यामिना- हाँ, आज आफिस में रुकना पड़ा है, साहब की मीटिंग थी, इसलिये?फ़लक- ये आपका सांस क्यों उखड़ा हुआ है?यामिना ने मेरी आँखों की ओर देखा और बोली- वो … मैं.

अब क्या चाहिए?इतने में वो बोला- मुझे तो तुम्हारी गान्ड मारनी है।इतना सुनते ही मैं गुस्से में बोली- अपनी हद में रहो! और जल्दी करो.

मैं दवा धीरे धीरे मलने लगा।अब मेरा लंड खड़ा होने लगा।मैंने कहा- भाभी दवा साड़ी में लग रही है।वो बोली- हां लग तो रही है लेकिन थोड़ा बचाकर मालिश करो. मैं लगातार संगीता की चूत को खोल रहा था, चूत से गर्म पानी लगातार निकल रहा था.

उसी समय मैंने उसका एक दूध तेजी से दबा दिया, तो रोशना की आह निकली और उसका मुँह खुल गया. उसने अन्दर एक साटन की झीनी सी ब्रा पहनी थी, जिसमें उसकी 32 नाप की चूचियां कैद थीं. दीदी ने दरवाजा खोला और इठला कर अमन के सामने अपनी सेक्सी बॉडी की नुमाइश की.

उसकी फैमिली में वो, उसकी खूबसूरत बीवी शबाना और एक बेटा शाहिद और एक बेटी हिना थी.

पहले मैंने उसके नाइटी के बटन को खोल कर ऊपर से ही हाथ घुसा कर उसकी चूचियों को दबा कर मजा लिया. इधर मेरी चुत अभी सिर्फ एक बार ही चुदी थी और उसे भी काफी समय हो गया था. मैंने अपने बेटे से शरीरिक संबंध बनाया, इसका कोई दुख नहीं है बल्कि मुझे अपने आगे का रास्ता मिल चुका था.

गंदी बात सेक्सीथोड़ी देर में उसने पूछा- और चुदवाना है?उसकी थप्पड़ की मार से मेरे आंडों में दर्द हो गया था. खीज़ कर मैंने कहा- क्या हुआ?चाची- चल हट, कोई आ जायेगा, मैं तेरे लिए दूध ला रही हूँ!और ऐसा कहते हुए चाची किचन में चली गई.

बड़े लिंग की सेक्सी पिक्चर

उसे अपने कुछ काम के लिए मेरे घर पर आना था क्योंकि मेरी बीवी ने ही उसे बुलाया था. चाचा आते भी देर से थे और कभी कभी तो पेग लगा कर आते थे और आते ही सो जाते थे. फिर थोड़ा सा तेल लेकर उसकी गुलाबी चूत पर भी टपका दिया और अपने गाल को चुत पर रगड़ कर साथ में उंगलियों की मदद से चुत की मसाज करने लगा.

फिर उसने अपना मुंह मेरी गांड पर लगाया और अपनी जीभ से मेरी गांड को चाटने लगा. जो दिखता है वो कभी नहीं होता है … और जो महसूस होता है, वही हमारी हकीकत होती है. नसीम भाई भी उन्हें खूब मक्खन लगाते ताकि वे दुबारा गांड मरवाने को तैयार हो जाएं.

इतने में मामी ने अपना दुपट्टा थोड़ा नीचे गिरा दिया और मेरे और पास में आ गईं. स्नेहा- किस-किसकी चूतें और किस-किसके भोसड़े देखे और चाटे हैं?नेहा ने बात को टालते हुए कहा- छोड़ ना यार!स्नेहा- बताओ ना दीदू, कब और कहां देखा ये सब?नेहा- तू नहीं मानेगी. लंड को रोज नई नई चूत चोदने को मिल रही थी, तो मुझे बीवी की कमी महसूस नहीं हुई.

मेरी पिछली कहानी थी:देवर भाभी एक दूसरे के काम आयेमुझे अपनी फेसबुक आइडी पर भी पाठकों की काफ़ी रिक्वेस्ट भी मिलीं और टेलीग्राम पर भी लोगों के कमेंट्स पढ़ कर अच्छा लगा. एक दिन आंगन में नहाते समय उसने मेरा खड़ा लंड देख लिया, तो वो मुस्करा कर पट गई या यूं कहो कि मुझे पटा लिया.

प्रकाश भी घूमने नहीं जा पाया और न ही अनीता ऊपर जा सकी।अनीता को मन में ग्लानि भी हो रही थी कि प्रकाश इतना प्यार करता है उससे, फिर उसने ऐसा क्यों किया!उसने रात को प्रकाश को भरपूर प्यार दिया।मगर कल रात सेक्स के दौरान प्रकाश ने उससे कहा कि क्यों न एक बार किसी कपल से स्वैपिंग की जाये?वो गंभीर होकर ये बात कर रहा था.

शायरा के चेहरे पर पहले झूठी हंसी तो होती ही थी … पर शायद मैंने वो भी छीन‌ ली थी. एक्स एक्स एक्स सेक्स मूवी बीएफमैंने यामिना से कहा- यामिना, मैं भी कितना मूर्ख था कि तुम्हें छोड़कर उस लिली को देख रहा था. देहाती बुर छुडाईअब आगे सेक्स विद फ्रेंड Xxx कहानी:अनीता जैसे आई थी, वैसे ही रमण के साथ गाड़ी में लौट गयी और थोड़ी देर में टैक्सी से घर आ गयी।रमण उसके पीछे पीछे ही आया।प्रकाश तो नशे में धुत्त था। वो सोफ़े पर ही लेटा रहा. थोड़ी देर बाद उसने लंड निकाल दिया और बोली- कौन आई थी?मैंने कहा- क्या मतलब?वो बोली- मुझसे झूठ मत बोलो तुम्हारे लौड़े में चूत का पानी लगा है.

जब ये बताया तो ये भी बता देता कि लंच में तेरी बीवी की ही चूत खाई है.

” मैंने अमन को कहा।शुक्रिया मेरी सेक्सी मालकिन, मैं इन सुनहरी यादों को लम्बे समय तक याद रखूंगा. ठंड से उनका भी बहुत बुरा हाल हो गया था, तो वो दोनों ज्यादा देर तक इस हालत में खड़ी नहीं रह सकती थीं. मैंने निधि भाभी को अपनी सारी सेक्स कहानी के लिंक्स भेजे और उनको पढ़ने का बोला.

उसको मैंने अहसास कराया कि वो अब फंस गया है।हड़बड़ाहट में उसने उस रबर की चूत को दूर फेंकेते हुए अपना ट्राउजर ऊपर कर लिया. कल्पना मामी तड़पती हुई बोलीं- आह राहुउउल्ल छोड़ दे ना मुझे … क्यों तड़पा रहा जल्दी से चोद दे. कुछ देर बाद हम दोनों ने किस करना बंद किया और एक दूसरे की आंखों में देखने लगे थे.

देसी सेक्सी वीडियो अंग्रेजों की

दोस्तो ये हॉट भाभी बूब स्टोरी श्वेता की है, जो मेरे पड़ोस मैं रहने आयी है. मगर हम लोग मिलेंगे होटल में ही। मैं आपके लिये सारा इंतजाम कर दूंगी. अजय- हां मैंने भी सुना है … और तेरे बाप ने बताया है कि तुझे नंगी फिल्मों में काम मिलने लगा है.

चाची जब हमारे घर रहने आई तो मैं चाची के उफ़नते हुस्न और गदराए जिस्म को देखता ही रह गया.

संगीता मेरे लंड की तारीफ में बोले जा रही थी- आर्यन, आज मैं तुमको एक और खास बात बताती हूं.

मेरी इस बात पर वो थोड़ी देर तो कुछ नहीं बोली, फिर एकदम से रोने लगी. दीदी ने एक बार फिर से मेरा लंड मुँह में भर लिया और मैंने दीदी की चुत पर जीभ फिरा दी. भोजपुरी सेक्सी बीएफ देसीअब मैंने एक हाथ भाभी के गाल पर रखा और उनके रसीले लाल होंठों का रस पीने लगा.

उनका पूरा सामान मंजिल पर बिखरा हुआ पड़ा था और मजदूर आकर एक एक करके सामान घर में लेकर जा रहे थे. मैं- अरे इधर किधर … कॉलेज बाहर ले जा रही है?सीमा- आज कॉलेज नहीं जाना. दीपक ने तो उस वक्त एक पोज में हद ही कर दी थी, जब उसने अनु दीदी और रीना दीदी दोनों को अपनी जांघों पर बैठा कर सेल्फी क्लिक किया.

मैंने चार पांच धक्के अपनी पूरी तेजी व ताकत से लगाए और हल्के हल्के धक्कों के साथ उनकी चुत को अपने ज्वार से भरना शुरू कर दिया. मैंने भाभी की चूत के दाने को अपनी जीभ से सहलाना शुरू किया तो भाभी की कामुक सिसकारियां निकलना शुरू हो गईं.

प्रभात तो चुप रहा पर मैंने कहा- सर हम दोनों बच्चे दूर मध्य प्रदेश से रेलवे का टेस्ट देने आए थे.

उसका हस्बैंड गुजरात की एक बड़ी कंपनी में काम करता था और वहीं पर रहता था. फिर उसके बाद …दोस्तो, मैं शैल आपके लिये अपनी स्टोरी का दूसरा भाग लेकर आया हूं. दारू की दुकान से एक हाफ लिया और रात 9 बजे मैं फोन करके उसके घर पहुंच गया.

नंगा नाच हिंदी में जैसे ही स्पीड बढ़ी यामिना हर झटके पर आगे जाने लगी जिसे मैंने जोर से पकड़े रखा. बुआ मुस्कुरा रही थीं, जैसे कह रही हों कि अब आया मज़ा?मैं अब और खतरा मोल नहीं ले सकता था इसलिए मैंने पूनम को 69 अवस्था में आने को कहा.

जिस औरत को माँ बनने में दिक्कत होती है उसे डॉक्टर 14 इंजेक्शन लगाने के लिए बोलते हैं. आज भी जो पूर्व में मेरे साथ हो चुका था, वही इस सेक्स कहानी में लिखा हुआ है. आज तक मुझे उसका वो खिला हुआ चेहरा याद है, जब वह मेरे पास आकर बेड पर बैठी तो बहुत खुश थी.

हिंदी सेक्सी वीडियो बोलकर

इतने में भाभी बोलीं- क्या हुआ … अभी भी नाराज हो?मैं बोला- आपसे कोई कैसे नाराज हो सकता है. वो बाहर वाले बाथरूम में नहाने चला गया और मैं अपने बेटों के कुछ पुराने कपड़े ले आयी।जैसे ही मैं बाथरूम के बाहर गयी तो उसने दरवाज़ा बन्द नहीं किया था. फिर मैंने छाया (छाया बुआ की चुदाईके बारे में आप मेरी पहले की कहानियों में पढ़ सकते हैं) को फ़ोन किया.

इस कहानी के पहले भागदोस्त की भतीजी से कामुक बातेंमें आपने पढ़ा कि मैं अपनी क्लाइंट रेशमा को फोन कर रहा था. हालांकि बस खाली दिख रही थी लेकिन फिर भी उसमें बैठने के लिए जगह नहीं थी तो मैं जाकर अंदर खड़ी हो गई.

वो दीवार की तरफ बिना पलकें झपकाये पता नहीं क्या देख रही थी या फिर पता नहीं कुछ सोच रही थी.

हमारे यहां से बाजार बहुत दूर है, जहां जाकर वापस आने में टाइम लगता है. उसने भी लंड को सहलाया और धीरे से नीचे झुक कर मेरी पैंट खोलकर लंड बाहर निकाल लिया. वो अपनी पानी निकलती हुई चुत मुझे दिखाती, मैं उसे अपना खड़ा लंड दिखाता.

कॉफी पीने के बाद उसने एक लिफाफा निकाल कर मेरी तरफ रखा और बोला कि देखिए इन्कार ना कीजिएगा. ज्योति, जो बैग में से अपने कपड़े निकाल रही थी, पलट कर देखते हुए सीटी बजाकर बोली- क्या बात है जानेमन, ये बिजली किस पर गिराने का इरादा है?उसने पीछे से आकर स्नेहा को बांहों में भर लिया और उसके गाल पर किस करते हुए मस्ती करने लगी- क्या बात है यार … तेरे आम तो दिन पर दिन बड़े होते जा रहे हैं, आज कल किससे दबवा रही है?ये कहते हुए ज्योति ने स्नेहा की रसभरी चूचियों पर अपने हाथ रख दिए. आपको हॉट देसी औरत चुदाई कहानी कैसी लगी … बताने के लिए मुझे मेरी मेल पर अपनी राय जरूर भेजिएगा.

उस भूरे रंग के छेद में अपना लौड़ा आते-जाते देख मानस मन ही मन में खुश हो रहा था.

देवर भाभी का बीएफ एचडी: मेरे साथ ही चलना। मैं रात को आऊंगा आपके पास। तब तक आप आराम करो।शाम को सर आए, मेरा सारा सामान लिया और अपने रूम के सामने वाली बिल्डिंग में रूम दिलवा दिया और साथ ही साथ मेरी एक बार और चुदायी की।मैं बहुत खुश थी. मगर जब वापिस आती है तो रास्ते में ही किसी जगह पर मुझे बुला लेती है.

फिर आंटी बोली- बेटी तुम्हारी चुत काफी सूज चुकी है … इसलिए रात को सोते समय गरम दूध में थोड़ी हल्दी डाल कर पी लेना. मैं मिशैल के कामुकता भरे डांस के कारण लंड में उठ रही लहरों का विरोध नहीं कर पा रहा था और खुद को मुठ मारने से रोक नहीं सकता था. मैंने फ़लक को वाशटब के किनारे पर बैठाया और उसके मुँह में लौड़ा डाल दिया.

मैंने उसको बेड पर बैठने के लिए कहा।मैं उसके पास जाकर बैठ गयी और उसके लंड और आंडों को सहलाने लगी.

भाभी ने हंसते हुए कहा- हां हां क्यों नहीं … आप अपनी चीज को रोज देखने आ जाया करो. तुम पायल की चूत चाटो, ये तुम्हारा लण्ड चूसेगी और मैं तुम्हारी गांड चाटूंगी. मैं समझ गया और मैंने अपना लंड बाहर निकालकर दीदी के सामने लहराने लगा.