मूवी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी ब्लू वीडियो सेक्सी ब्लू पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ देहाती हिंदी: मूवी वीडियो बीएफ, वह भी समझ गया था कि मैं जाग गई हूँ, उसने मुझसे कहा- माँ, मैं आपकी गांड मारना चाहता हूं.

पेट्रोल वाली सेक्सी

प्रियंका जब अनामिका की टी-शर्ट नहीं उतार सकी, तो उसने उसका लोअर नीचे खींच दिया. महिंद्रा सेक्सीसर ने थोड़ी देर तक अपना लंड अन्दर पेलने से रोके रखा … ताकि मुझे दर्द कम हो.

धन्यवाद, आप सब मुझे अपने प्यार से नवाजें और मैं अपनी जिंदगी के और हसीन पल आप लोगों के साथ साझा करूं. ई-मेल मे सेक्सी वीडियोमैंने भाबी को चूमा, तो भाबी ने अपनी सांसें कम करते हुए मेरे हाथों के लिए जगह बना दी.

मैंने उससे पूछा- मस्ती किधर लोगी बेबी?उसने आंख दबाते हुए बोला- अपनी मस्ती मेरी मस्ती के अन्दर डाल दो.मूवी वीडियो बीएफ: सारी रात बात ही करेंगे या और कुछ भी करेंगे?वो हंसने लगी और फिर वो शावर लेने मलतब नहाने चली गयी.

अब अंत में मैंने हर तरह से चेक किया कि सब कुछ सही है और फिर मैंने अपनी टीशर्ट को उतार दिया.प्लान के मुताबिक मैंने उसके नंगे बदन पर हंटर चलाना शुरू किया और कुछ कोड़े मारे.

घड़ी वालों की सेक्सी वीडियो - मूवी वीडियो बीएफ

अब बदले में मैं सर की तो नहीं मार सकता था, इसलिए उनके लौडे की गांड में पेल दिया था.उस पैकेट में एक छोटी सी किताब भी थी … जिस पर अभी तक मेरा ध्यान नहीं गया था.

कुछ देर के दर्द के बाद चूत लंड में दोस्ती हो गई और मुझे उनकी बात मुझे सही होते दिखने लगी. मूवी वीडियो बीएफ संगीता- किसी दिन हमारी नाक कटवायेगी ये लड़की … जब देखो बचपना करती फिरती है.

जैसे ही मैंने फोन रखा कि राहुल शिल्पा के ऊपर ऐसे टूट पड़ा, मानो शिल्पा मेरी नहीं उसकी बीवी हो.

मूवी वीडियो बीएफ?

उनका मूसल सा तनतनाता हुआ लौड़ा देख कर एक पल के लिए तो मैं डर ही गयी थी. फिर मैंने भी इसका रिप्लाई दिया और उन्हें कसके अपने गले से लगा लिया. अब आरिषा भाभी के टाइट 34 इंच के खुले हुए मम्मे रामू के सामने नंगे हो गए थे.

उसकी सिसकियों की कामुक आवाज सुन सुन कर मैं अपने बेड से उठकर उनके दरवाजे पर ऐसा खिंचा चला आया मानो कोई नाग सपेरे की धुन को सुन कर आपने बिल से निकल कर सपेरे के पास जा खड़ा होता है!उधर अमित पूजा के जिस्म से एक एक कपड़ा उतार रहा था इधर मैं पूजा को नंगी होती देख देख कर खुद ब खुद नंगा होता जा रहा था. बोली- आह साहब, बहुत ही मस्त लन्ड है आपका!और मेरे लन्ड पर हाथ फेरने लगी. इससे थोड़ा समय मिल जाता है और सेक्स की टाइमिंग बढ़ जाती है।यास्मीन को मैंने अपने लंड पर बिठाया, मैंने अपने हाथ से लंड फुदी पर रखा और यास्मीन की गांड पकड़ कर नीचे दबाया.

मामी बोलीं- राजा मेरी चूत भी चाटो ना … जब से चोद रहे हो, गांड ही चाट रहे हो. ऐसे दूध इतनी कम उम्र में किसी किसी के ही होते हैं।ऐसा बोलते हुये उन्होंने अपनी दोनों बांहों को फैला कर मुझे अपनी बांहों में भर लिया. थोड़ी देर बाद रंगोली और रोहित दोनों ऊपर आए, तो मैंने रोहित को किसी बहाने से कमरे में भेज दिया.

लगभग 12 से 15 दिन बाद जब वापस आया तो मेरे दोस्त ने बताया कि वो गिफ्ट दुकान वाली रिचा मेरे बारे में पूछ रही थी. वो समझ गया कि पिंकी तुक्का मार रही है क्योंकि उसके साथ शबनम तो थी ही नहीं.

मेरी आंखें बंद हो गई थीं और मेरे मुँह से कामुक सिसकारियां निकल रही थीं.

फिर कुछ मेकअप किया और टेबल लगा कर इंतजार करने लगी।कुछ देर बाद बेल बजी.

धकाधक ठोकरें और सीमा के चूतड़ों के जवाबी उछाल ने मुझे मंजिल पर पहुंचा दिया. इस समय मेरी मस्ती बढ़ने लगी थी और ऐसा लग रहा था मानो मेरा नसीब आज मुझे किसी और ही दुनिया में ले गया था. मैंने बताया तो उन्होंने मुन्ना को एक तरफ लिटाया और मुझे सामान दे दिया.

जनवरी में मेरी मां कुछ दिनों के लिए अपने भाई मतलब मेरे मामा जी के यहां जाने वाली थीं. उसने मेरे चूतड़ों के नीचे एक तकिया लगा दिया जिससे मेरी चूत उभर कर ऊपर आ गयी।मुझे उस समय बहुत शर्म आ रही थी, मैंने अपनी आँखें बंद कर ली थीं।फिर रोहित ने अपना लिंग मेरी चूत की बीच दरार में फंसा दिया. विक्रम ने उसकी हालत देखकर उसे बेड पर लिटा दिया और उसकी चूत से लंड निकाला, तो चूत से घप्प की आवाज आई.

उसने मेरे मुंह को अपने होंठों पर से हाटाया और अपनी चूचियों में लगा दिया.

पायल अपनी चुची चुसवाते हुए सेक्सी आवाजें निकाल रही थी- आह चूस लो … पूरी खा जाओ … आआआ आहहह … बहुत मजा आ रहा है. मगर मेरे पास तो बस पॉकेट मनी‌ से जोड़ तोड़ कर सारे ही छह सौ साढ़े छह रुपए के करीब पड़े थे. मैं खींच तान कर उसे अपनी बड़ी चूतड़ों के ऊपर ला पाई।पैंटी मेरे चूतड़ों की दरार में ही फंस कर रह गई.

वो फिर से गर्म हो गयी और बोली- साहब जी, अब डाल दो अपना लन्ड मेरी चूत में!मैं खड़ा हुआ और मैंने लन्ड को आशा के मुंह में दे दिया. वहाँ पूरे शरीर की वैक्सिंग कराई, फेशियल सब कराया।फिर वहाँ से समय गुजारने और आराम के लिए स्पा गई. अंत में वो बोली- फूफाजी, आज के आनन्द को मैं जिन्दगी भर नहीं भूलूंगी.

मैं एकदम से सिसकार उठी- आह्ह … प्रीत … स्स्स … क्या कर रहे हो … आह्हह!वो बोला- भाभी, यहीं तो मर्द की जन्नत होती है.

अनिता का काम जल्द समाप्त हो जाए, इसलिए अविना भी रसोई में उसका साथ देने लगी. तब तक अगर परिवार वालों के साथ रही तो मम्मी, पापा भैया भाभी और हम सबके बच्चों को भी खतरा है.

मूवी वीडियो बीएफ उसी रात 12 बजे की बस से मेरी बुकिंग थी, जो मैंने ऑनलाइन करवा रखी थी. नंगी कहानी में पढ़ें कि मैं भारी जवानी में ही विधवा हो गयी और मैंने दोबारा शादी नहीं की.

मूवी वीडियो बीएफ शायद शायरा को अपबे हज़्बेंड के और मेरे लंड में बहुत फर्क लग रहा था … तभी तो वो मेरे लंड को इतने ध्यान से देख रही थी. कुछ देर बाद पूजा आयी और बोली- अमित खाना भी तैयार है; आप कहो तो लगा दूँ?अमित- पूजा डॉलिंग, अभी तो शुरू हुआ है.

तभी बीच में ही बैंचों पर बैठी हुई कुछ लड़कियों में से एक ने कहा- ओय … कहां?उसने शायद मुझे आवाज दी थी, मगर एक तो मेरे हाथ में चोट लगी थी और दूसरा मुझे गुस्सा भी आ रहा था.

फ़क मीन्स

अपनी उंगलियों और हथेलियों पर लगा घी मैंने रेखा के चूतड़ों पर मल दिया. प्रीति ज़ोर ज़ोर से सिसकारियां भर रही थी, जिससे मुझे और जोश आ रहा था. रेखा की कमर को मजबूती से पकड़कर मैंने दो तीन धक्कों में पूरा लण्ड रेखा की गांड में उतार दिया.

वो घोड़ी बनी थी, सो ऐसे ही बिस्तर पर लेट गयी … मैं भी उसके ऊपर ही गिर गया. उसका अपने कूल्हों हिलाना मेरे लिए ये उसका एक इशारा था कि मैं अब उसकी चूत को फाड़ सकता हूँ. एक बार ऐसे ही रात को 12 बजे के करीब मैं अपने कम्प्यूटर में पोर्न वीडियो देख रहा था.

तुम मुझसे हमेशा मेरे और मेरी किसी सहेली या बहन के साथ थ्रीसम करना चाहते थे.

मैंने अपनी पोजिशन ले ली और अपने खड़े लंड को भाभी की मखमल जैसी चुत पर सैट कर दिया. हाँ कभी उनसे सेक्स के बारे में नहीं सोचा था क्योंकि मुझसे वो काफी बड़े थे। मगर माँ को क्या ज़रूरतआ पड़ी। पापा भी तो माँ की हर ज़रूरत की पूर्ति करते ही होंगे, या फिर अरविंद सर ने माँ को पटा लिया।पर अगर वो चाहते तो मुझे भी पटा सकते थे. उसने झट से मेरे लौड़े को पकड़ लिया और मेरे अंडरवियर को खींच कर फाड़ दिया.

उसने बिना किसी झिझक के मेरे सामने अपना टॉप उतारा, तो उसके शरीर पर पड़ी एक एक बूंद ऐसे चमक रही थी … जैसे समुद्र में पड़ा सीप के मोती हों. मुझे अब बहुत मजा आ रहा था मेरी गांड मरवाते हुए।रोशिता भी मुझे जोर जोर से चोद रही थी।अब मैं पूरी औरत ही महसूस कर रहा था क्योंकि एक मर्द जैसे लंड से मेरी चुदाई भी हो रही थी. शबनम ने नायरा को भी कांफ्रेंस पर ले लिया … उसका भी यही हाल था … उसके तो होंठ दुःख रहे थे, राहुल ने चुदाई के साथ उसके होंठों की चुसाई भी भरपूर की थी.

वो बुरी तरह से मुझसे लिपट गई और अपने नाखून गड़ाने लगी।अब उसकी चूत से फच फच फच की आवाज आने लगी।15 मिनट तक मैं उसे बिना रुके ही चोदता रहा।इस बीच वो झड़ गई मगर मैं अभी भी टिका हुआ था और बस उसे चोदे जा रहा था।उसकी चूत अब पूरी तरह से खुल गई थी और मेरे लंबे लंड को बड़े आराम से ले रही थी।अब मैंने अपना आसन बदला और बिस्तर पर लेट गया. मैं बच्चों से शैक्षणिक व सांस्कृतिक गतिविधियां करवाता रहता था, जिसका मुझे बहुत अच्छा रिस्पांस मिला था.

खैर मैं तो यही कहूँगी कि गलती तो दोनों की होती है।इस तरह से प्यार करते करते हमें दो साल हो गए थे. अगर तू रेडी है तो बता?मेरी हालत ऐसी थी कि मैं कुछ सोच नहीं पा रही थी. पर उसने पिंकी से पूछा- क्या तुम चुद गयीं उस रात? और अगर चुद भी गयीं तो मुझे कोई एतराज नहीं.

वो बोले- थोड़ी चीनी मिलेगी?उन्हें मैंने अंदर आने को कहा और खुद उनके आगे आगे चलने लगी.

शायरा भी मेरे कहते ही उल्टा लेट गयी, जिससे मैंने अब पीछे से उसकी चूत में लंड डाल दिया. वो मेरे करीब आयी।मैंने उसे अपनी बाँहों में ले लिया और उसे चूमने लगा।मेरे दोनों हाथ पीठ से धीरे धीरे नीचे सरक रहे थे और फिर अपनी मंजिल पर आकर रुक गए।मैं उसकी गांड सहला रहा था और उसके होंठों को चूस रहा था।मैंने एक हाथ उसकी पैंटी के अंदर डाल दिया और उसकी मस्त गांड को दबाने लगा. मीना के कहने पर मैंने अपनी स्पीड ट्रेन की तरह तेज कर दी।8-9 घस्से मारने के बाद उसके पैरों में कंपन शुरू हो गई और इसके साथ ही वो झड़ने लगी।5 मिनट और चुदाई करने के बाद मैं भी उसकी चूत में झड़ गया और फिर हम आराम करने लगे.

मैं धीरे धीरे करके लंड को घुसाने लगा और वो भी दर्द में तड़पती रही।थोड़ी देर के बाद वो मेरा खूब साथ देने लगी।वो अब कमर हिला हिलाकर चुदवाने लगी। चाची कईयों का लंड ले चुकी थी इसलिए पूरे अनुभव के साथ मुझसे चुदवा रही थी।चुदाई में मस्त होकर वो मेरी पीठ कर खरोंचने लगी. मैं- इस समय हम दोनों को एक-दूसरे की जरूरत है भाभी … और अब मुझसे कन्ट्रोल नहीं हो रहा.

मुझे उससे प्यार हो गया और उसने मेरी हर महत्वाकांक्षा और बात को मान लिया. फिर मैं बोला- अब सोचो कि मैं तुम्हारी टांगों के बीच चुम्बन ले रहा हूँ. इधर तो लंड आन्दोलन कर ही रहा था, सो मैंने भी मौका देख कर हां कर दी.

12 साल लड़की की सेक्सी वीडियो

अब मैं ऐसे नहीं कर सकती थी क्योंकि अगर मैं नहीं मिलती तो फिर वो जरूर पूछता.

मेरी इस मदमस्त प्यासी जवानी की चुदाई की कहानी पर आपके मेल का मैं इन्तजार करूंगी. उसने अपनी टांगें फैला दीं और मेरे लंड का सुपारा धीरे से चुत की फांकों में घुस आया. रास्ते में अंकल ने मेडिकल से आई-पिल ला कर दी। फिर थोड़ा आगे चल कर अंकल पानी की बोतल लाये, मैंने वहीं वो गोली खाई.

तभी उन दोनों की नजर मुझ पर गई, तो विक्रम बोल उठा- यार, मैं तुम्हारा और भाभी जी का ये उपकार जिंदगी भर नहीं चुका पाऊंगा. उईई आह्ह्ह्ह पिता जी … अपना लंड डाल दो ना … अपनी बेटी की चूत में!” ज्योति ने इस बार अपने चूतडों को उछाल कर ज़ोर से सिसकारी भरते हुए सारी शर्म को त्याग दिया. सेक्सी वीडियो मराठी हिंदी मेंजैसे ही मैंने उसकी कच्छी उतारी, उसकी चूत देख कर मेरे मुंह से वाओ निकल गया.

नीता को मसाज की आदत पड़ गई, अब उसको मसाज के बिना नींद ही नहीं आती थी. बाप रे … इतना दर्द होता है गांड चुदाई में!!मेरा चेहरा लाल हो गया और मैं रोने ही वाला था.

’ की मधुर ध्वनि के साथ लंड को अपने अन्दर समाहित करने का प्रयत्न किया. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:कॉलेज टीचर के साथ फर्स्ट टाइम सेक्स का मजा- 2. मामी बोलीं- कोई नहीं राजा … मैं दूसरी ले लूंगी … फिलहाल अभी जो कर रहे हो, वो करो.

मेरी चूत में बहुत जलन हो रही थी लेकिन भाई के लंड से चुदकर मुझे मजा भी बहुत मिला. मैं- क्या तुमने पहले कभी किसी को चोदा है?सूरज- चोदा है … पर सिर्फ रंडियों को! कभी आप जैसी माल को नहीं चोदा।मैं- मुझे माल के जैसे नहीं … रण्डी की तरह चोदना. फिर वो मेरे पूरे पेट को चूमते हुए मेरी नाभि तक आया और उसके कुछ देर बाद उसने मुझे सबसे आगे वाली टेबल पर बिठा कर मेरी स्कर्ट को उतार दिया.

जल्दी से अपने इस मूसल लन्ड को मेरी चूत में डालो। फाड़ दो आज मेरी चूत को चोद चोदकर।मैं भी उसकी बात सुन कर जोश में आ गया औरर उसको दीवार के पास घोड़ी बना दिया.

वैसे ही शायरा की तरफ देखा तो मेरी नजर अब शायरा के पर्स पर भी चली गयी. फिर मैंने उससे पूछा- क्या तुम हमेशा ऐसे ही चूत को साफ रखती हो?तो वो बोली- जी साहब … क्योंकि साहिल जी को मेरी ऐसी ही चूत पसंद है.

यही मौका था, मैंने दादी से कहा- दादी सच बताना, चुदवाने में औरत को क्या मजा मिलता है?मजे की बात नहीं है, विजय. मेरा हाथ उसके घुटनों के बीच से होते हुए उसकी जांघों के जोड़ तक चला गया. वो ‘आह ऊऊऊ ओह हाये मम्मी मर गयी … संजू लंड बाहर निकालो … उई बहुत दर्द हो रहा है … मैं मर जाऊंगी … प्लीज़ निकाल लो आह आह.

इसका मतलब मेरी जितनी भी पैंटी और ब्रा गायब हुई हैं, सब तुम्हारे पास हैं. मैं उठी और महसूस किया कि मेरा पूरा मुँह और चेहरा वीर्य से सना है और सूख गया है. कोई दस मिनट और उसकी गांड चोदने के बाद मेरा भी पानी छूटने को हुआ, तो नीरू को पता चल गया.

मूवी वीडियो बीएफ मैं अपने लंड को आगे पीछे चलाने लगा और बीच बीच में पूरा लंड निकाल कर अन्दर डाल देता … जिससे भाभी की चीख निकल जाती. अब मैं उसके सीने पर सर रखकर चौड़ी छाती पर उगे बालों को अपने होंठों से पुचकार रही थी; सीने पर हाथ फिराकर अपने प्रेम का लेपन कर रही थी.

सेक्सी मूवी एचडी में

अब मैंने भाभी को डॉगी पोजीशन में खड़ा किया और उनके पीछे आकर उनकी चुत में लंड पेल कर चोदने लगा. लंड घुसेड़ने के बाद मैं उसके बड़े बड़े चूतड़ों पर थप्पड़ मारता हुआ उसे चोदने लगा. उसके बाद एक झटके में आधा लंड गांड में पेला ही था कि वो जोर से चिल्ला पड़ी.

उसके बाद लूसी और शिवम छत वाले रूम में चले गये और मैं तथा विवेक पीछे वाले रूम में चले गये. फिर विक्रम ने 15 मिनट की चुदाई के बाद संजू को अपनी गोदी में ले लिया और उसकी चुत चुदाई करने में लग गया. माँ की सेक्सी वीडियोअब वो काले पेटीकोट और काले ब्लाउज़ में खड़ी थी और उसने मेरे लोअर के ऊपर से ही मेरा लन्ड सहलाते हुए बोली- हाय साहब जी, आपका लन्ड तो बहुत सख्त मोटा और लम्बा है.

वह भी मेरी चूत के गर्म पानी से पिघल जाने के लिए बेचैन हो गया और झड़ने वाला हो गया था.

उसकी लम्बाई साढ़े पांच फुट की थी, जो कि उसको काफी सेक्सी बना रही थी. घर में सारा दिन अकेले रहने से अच्छा उसने बैंक में ये नौकरी कर ली, जिससे उसका समय भी बीत जाता था और नौकरी भी हो जाती थी.

औरत खुद का सर ड्राइवर सीट पर रखा हुआ था, जिससे किसी को उनके खेल के बारे में ध्यान जा ही नहीं सकता था. लेकिन मन ही मन उसकी चाहत जरूर थी या यूं कहो कि मैं भी यही चाहती थी. फिर उसने मेरी गांड के छेद में बहुत सारी क्रीम भर दी और मेरी गांड फाड़ने के लिए रेडी हो गया.

उसके बाद दिव्या ने भी मेरी पैंट में हाथ डालकर देखा तो मैंने भी पैंटी नहीं पहनी हुई थी.

पर अगर पिंकी तुम अपने और मेरे संबंध अच्छे रखना चाहती हो, तो अब ये सब बंद कर दो. पायल किलकारी भरती हुई बोली- आंह हां … और अन्दर पेलो … आह अब से मैं आपकी ही हूँ … बहुत परेशान किया है इस चूत ने … आज अपने लौड़े से इसकी जमकर चुदाई करो. जैसे जैसे मैं धक्का लगाता गया, वैसे वैसे भाभी की कामुकता बढ़ने लगी थी.

www.com सेक्सी वीडियो डाउनलोडिंगगोवा के माहौल और वहां आस-पास मौजूद सेक्सी कपल्स की वजह से हमारी वाली दोनों बीवियां भी थोड़ी बिंदास हो गई थीं और ऐसा लग रहा था कि खुले जिस्म पर गोवा की ठंडी हवा का उन पर असर होने लगा था जिससे अब वह थोड़ी खुल रही थी और बेबाक भी हो चली थीं. जिसे योगेश ने सहर्ष स्वीकार कर लिया।रात्रि के 12:00 बजे से भी ज्यादा हो चुके थे इसलिए योगेश अब अपने घर चला गया।योगेश के जाने के बाद मैंने गर्म पानी से अपने शरीर को रगड़ रगड़ कर साफ किया।गर्म पानी के स्नान से मेरी चुदाई की थकान काफी हद तक दूर हो गई।रात्रि को बिस्तर पर सोते हुए मैंने फिर से योगेश के प्रस्ताव के बारे में सोचा।मुझे लगा एक हफ्ता मस्ती का यह सही वक्त है और इसमें रोहित का भी भला है.

सेक्सी वीडियो फूल हद

मैं बहाने से उसकी पीठ पर हाथ फिरा रहा था और वो कुछ बोल भी नहीं रही थी. ” ज्योति ने अपने पिता के मोटे लम्बे लंड को अपनी चूत में अंदर बाहर होता हुआ महसूस करके ज़ोर से सिसकारते हुए अपने चूतड़ों को उछालते हुए कहा।अब ज्योति को दर्द से ज्यादा मजा आ रहा था और वो अपने चूतड़ उछाल उछालकर अपने पिता से चुदवाने लगी।आह्ह्ह … पिता जी बहुत टाइट और मोटा है आपका लंड. मैं अपना लंड मामी की गांड में घुसा कर सो गया और मामी भी ऐसे ही नंगी सो गईं.

मैं बस यही चाहता था, मैंने उसका नंबर लिया और शादी मैं एन्जॉय करके घर चला गया. वीर्य से सनी दादी की चूत साफ करके मालू ने दादी से पूछा- दादी मैं थोड़ी देर के लिए बगल वाले कमरे में जाऊं. अंकल ने मम्मी के दोनों चूचों के बीच में मुँह दे दिया और मेरी मॉम अपने हाथों से उनके मुँह को अपने चूचों के अन्दर घुसाने लगे.

फिर मैंने ढेर सारा थूक हाथ पर डाला और उसकी गांड के छेद में उंगली करने लगा. मैंने फोन काट दिया और ओवन में खाना गर्म होने रख दिया।फिर मैंने ए सी को बढ़ाया. उधर राहुल मेरी बीवी को चूमते हुए अपने दोनों हाथों से शिल्पा की गांड को सहला रहा था.

फिर एक दिन आरिषा भाभी और रमेश की फिर से लड़ाई हुई और रमेश घर से बाहर जाने लगा. मुझे मनीष के लंड से चुदते हुए अब बहुत मजा आ रहा था और मैं उसके लंड से चुदते हुए मदहोश होती जा रही थी.

बिन्नी बार बार झड़ रही थी लेकिन मैंने अपना ध्यान चूत से हटाकर और कहीं लगा लिया था जिससे मेरा डिस्चार्ज का समय बढ़ गया था.

करीब रात के 9 बजे मुझे पायल का फोन आया कि मैं अपनी फ्रेंड के साथ उसके घर के बाहर खड़ी हूँ. लेडी डॉक्टर सेक्सी वीडियोउसकी तरफ से कोई विरोध नहीं हुआ … तो मैं समझ गया कि शायद उसकी गांड भी चुद चुकी थी. सेक्सी पिक्चर पिक्चर वीडियो में”वो थोड़ा सा रुकी और फिर कुछ सोचते हुए बोली- दीदी ने तल मुझे साड़ी पहनना सिखाया था. ’मैंने भी देर ना करते हुए भाभी की दोनों टाँगों को अपने कधों पर रखा और अपना लंड चूत के मुँह पर लगाकर एक जोरदार धक्का दे मारा.

इसीलिए आज मैंने अपनी कुंवारी चूत को उसे बर्थडे में उपहार में देने का तय कर लिया था.

वे मेरे लंड को हाथ से पकड़ कर ऐसे देखने लगे, जैसे नाड़ी चैक कर रहे हों. शायरा के झड़ जाने से उसकी चुत अब पानी‌ से भरी हुई थी और उसमें मेरा लंड जाने से ‘फच्च. शायरा ने मेरी गर्दन पकड़ रखी थी, इसलिए मैंने अपनी गर्दन को हिलाकर उसे छोड़ने का इशारा सा किया.

आज मैं आपको एक ऐसी हॉट लेडी सेक्स स्टोरी बताने जा रहा हूँ, जो बिल्कुल सच है. अब आगे की हॉट बुर हिंदी कहानी:मैं- प्रोग्राम कैसा रहा?बिन्नी- ए-वन प्रोग्राम था. ”हम्म” मैं सोच रहा था मधुर तो गीत और डांस का आज कोई मौका नहीं छोड़ने वाली।आपते लिए चाय बनाऊँ?”ना … थोड़ी देर रूककर पीते हैं.

जपानी बीपी

रामू- भाभी आप मुझे बता सकती हैं और आप वैसे मुझे अपना दोस्त बोलती हो, तो बता दीजिए न मुझे!आरिषा- क्या क्या बताऊं तुम्हें … एक रमेश है, जो मेरा पति होकर भी मुझसे सही से बात नहीं करता है. लेकिन उसकी जुबान बयाँ कर रही थी कि मदिरा ने अपना काम करना शुरु कर दिया है. मैं तो ना जाने कब से इस प्रेमरस को पीने के लिए तड़प रहा था, इसलिए जैसे जैसे शायरा की पिंकी प्रेमरस छोड़ती गयी … मैं भी उसे चूस चूसकर और चाट चाटकर पीता चला गया.

स्नेहा उछल कर बिस्तर से बाहर आई और एक झटके में अपने सिर से नाईटी निकाल कर संगीता के ऊपर फैंक दी.

हां, लेकिन मेरी चूचियों, चूत के पास या गांड को उसने अभी तक टच नहीं किया था.

हम रात को खाना खाने के बाद अब साथ में टीवी देखते हुए देर रात तक बातें करते रहते … लेकिन मैंने कभी अपनी लिमिट क्रॉस नहीं की. और तुम मुझे आप नहीं प्रेमा बोल कर पुकारो।सूरज- ठीक है रण्डी प्रेमा।उसने शराब की बोतल ली और पैग बनाने लगा।मुझे भी उसने एक ग्लास दिया. सेक्सी मारवाड़ी चोदने वालीमेरी चुत पर ढकी मेरी गीली काली पैंटी को भी उसने निकाल फेंका और मेरी चुत में अपना मुँह घुसा कर चाटने लगा.

कुछ ही देर में ज़ारा गर्म होकर एकदम लाल हो गयी जैसे कि हल्की सी खरोंच से ही कहीं पर भी खून छलछला जायेगा. मुझे चाची की चीखों से मजा आ रहा था- अब बोल चाची भैन की लौड़ी … अपनी दोनों बहनों की चूत मुझको कब दिलाओगी. मुझे ऐसा प्रतीत हो रहा था, जैसे किसी तपती भट्टी में अपनी उंगली पेल दी हो.

उसने अपने कमरे में मेरा बिस्तर लगा दिया और हम अपने अपने बेड पर आ गये. वे दोनों हंसने लगे और बोले- इतनी आसानी से नहीं चोदेंगे तुझे … तूने हमें बहुत तड़पाया है.

वे बोलीं- मैंने कब सताया है?मैं स्माइल करके बोला- भाभी मुझे आपके ऊपर चढ़ने की परमिशन चाहिए.

वैसे तो इस तरह की हालात पर मैं शायरा से काफी हंसी मजाक करता था, मगर मुझे वो‌ मूवी देखनी थी और मेरे कुछ कहने से शायरा टीवी को बन्द कर देती. थोड़ी देर में एक मैसेज आया, ये श्रेया का मैसेज था … उसने लिखा था- कहां हो. मीरा ने झट से सीमा की सलवार और पैन्टी उतार दी और फिर कुर्ता व ब्रा उसके शरीर से अलग करके उसे पूरी तरह से नंगी कर दिया.

नंगा चुदाई सेक्सी जैसे मैं उनकी चूत में उंगली डालता, तो वो ‘उह्ह्ह अह्ह उईई मां मार डाला रे …’ की मादक आवाजें निकाल देतीं. पर इतने में एक दूसरी सेल्सगर्ल जो कि काउंटर पर खड़ी थी, वो बोल पड़ी- मैम साईज क्या है?शायरा तो अब शर्म से पानी पानी ही हो गयी थी … मगर फिर भी मुझे मजा आ रहा था.

पहली बार के प्रयास में उसका लंड मेरी गांड के अन्दर जा ही नहीं पाया. मगर बात करना तो दूर … वो तो मुझे अपने घर बुलाकर अपने हाथों का बना‌ नाश्ता भी करने‌ को कह रही थी. वो कुछ हैरान होकर बोला- क्या मतलब?शिवानी ने कहा- जिस लंड से मैं चुदना चाहती थी, मैं उसका काम देखना चाहती हूँ.

𝐬𝐞𝐱 𝐯𝐢𝐝𝐞𝐨

उसके बाद मैंने एक उंगली उसकी चूत में धीरे से अंदर डाल दी।उंगली जाते ही उसे कामरस की ऐसी अनुभूति हुई कि उसकी आह्ह निकल गयी. वह एक मिनट तक चूत को पास से देखता रहा; फिर वह मेरे ऊपर 69 वाली पोजीशन में लेट गया और अपनी जीभ से मेरी चूत को कुरेदने लगा. वो रात मेरी पहली रात थी, जब मैंने पूरी रात किसी की फुद्दी चोदी थी और वो भी इतना खुल कर मजा लिया था.

शिल्पा- अहह ओह राहुल यू आर क्रेजी मैन … आह्ह बस करो … मेरी दम निकाल कर मानोगे क्या … आह मैं झड़ गई … आह. तो वो बोले- बेटी तो नहीं हो ना!फिर मैंने मन मन में सोचा कि साला बुड्ढा सच में बहुत हरामी है.

अपनी पैंट को निकाले बिना ही उन्होंने लंड को बाहर निकाल लिया और मेरी चूत पर लंड को टच करने लगे.

वह भी मुझे मिलने के लिए बुलाया करती थी लेकिन मैं नहीं जाती थी।एक बार सर्दियों का मौसम था. तुम बाम लगा दोगे?रामू- अगर भाभी आपको कोई दिक्कत नहीं है, तो मैं लगा दूंगा. हम दोनों ने गाने की धुन के साथ एक मिनट ही नाचा होगा कि उसने मेरे कान में कहा- अब आगे बढ़ो मेरे सरताज और मेरी शर्त पूरी करो.

दो मिनट के बाद मैंने उसके गाल पर हल्की चपत मार कर बताया कि मेरे लंड से रस निकलने वाला है. उसने पूछा- क्या … बताओ तो?तो मैंने बोला- बाद में बता दूँगा … और उसे मेडिसिन कैसे लेनी है, वो बता दिया. मैंने उस मूवी को अब लगा तो लिया मगर कुछ देर बाद ही उस मूवी में किसिंग और लिपटने चिपटने के सीन आना शुरू हो गए.

फिर उसके बाद एक दो दिन बाद तक तो उसका फोन नहीं आया लेकिन दो दिन के बाद वो फिर से कॉल करने लगी.

मूवी वीडियो बीएफ: मैंने उससे कुछ नहीं पूछा और अगले ही दूसरा झटका मार कर अपना पूरा लंड उसकी चुत में पेल दिया. रोज सुबह शाम दूध के साथ शिलाजीत कैप्सूल खाते हुए मैं इन्तजार करने लगा कि कब सीमा को निम्फोमेनिया का दौरा पड़े और मीरा मुझे बुलाये.

फिर अंकल मॉम की उंगली में चूत डाल कर उन्हें तैयार करने लगे और मॉम की चूत जल्दी ही चुदने के लिए तैयार हो गई. मेरे होंठों की छुवन से ही शायरा के होंठ अब थरथरा से गए, सांसें तेज हो गईं और बदन का तापमान तो पारे के जैसे एकदम से ही बढ़ गया. तो मैंने लोशन अपनी उँगलियों पर लगा कर तीसरी उंगली भी उसकी चूत में डाल दी.

वो भी यही चाहती थी कि मिलने से पहले हम दोनों एक दूसरे को ठीक से समझ लें.

उसने उस वक़्त काफी कोशिश की मुझे हटाने की क्योंकि उसे दर्द हो रहा था. कुछ मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना पूरा वजन मॉम के ऊपर डाल दिया और मॉम को जकड़ लिया. और ये बोल कर मैंने उसे अपनी तरफ घुमाया तो मैंने उसकी आंखों में देखा जो वासना से लाल हो रखी थी.