गांव की लड़कियों की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,नंगी औरत का बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

nx वीडियो: गांव की लड़कियों की सेक्सी बीएफ, अब वो रोज रात मैसेज में मेरी ब्रा और पैंटी के बारे में पूछने लगे और मुझे मेरी खूबसूरती के बारे में बताने लगे जिसे जानकर मुझे भी काफी अच्छा लगने लगा.

बीएफ सोंग्स

मैं खिड़की को बंद करने लगी तो अंकल ने कहा- क्या चल रहा है … बताऊं तेरे पापा को!मैंने कोई जवाब नहीं दिया और झट से खिड़की बंद कर दी. खेसारी लाल का बीएफउसको मैं देख ही रहा था कि अचानक वो मेरे पास आकर बोली- अगर मैं गलत नहीं हूं, तो तुम नवीन हो ना?मैं एकदम से चौंक गया और उसको पहचानते हुए बोला- अरे तुम तो मीनाक्षी हो ना?उसने मुस्कान के साथ कहा- हां मैं मीनाक्षी हूँ.

मगर मेरी साली गुलाब कहने लगी- ये मेरी भूल थी कि मैं आप दोनों के बीच में पड़ी. बीएफ पिक्चर नंगी बीएफ पिक्चरवैसे भी मुझे भूख लगी थी और मैं निमंत्रण का इंतजार भी नहीं करने वाला था.

अब मेरी साली ने मुझसे कहा- आह जीजा जी मजा आ रहा है … आ आह आप मस्ती से मुझे चोदते रहो … बस इतना ख्याल रखना कि मेरे अन्दर न झड़ जाना.गांव की लड़कियों की सेक्सी बीएफ: उससे मेरा हंसी मजाक भी अच्छा खासा चलता था और हम दोनों आपस में किसी भी तरह की बात को शेयर कर लिया करते थे.

दोस्तो, मेरी ये सेक्सी मामी की रंडी बनने की कहानी एकदम सच है, आपको कैसी लगी, प्लीज़ मेल करें.उस दिन मैंने स्किन टाइट डार्क ब्लू कुर्ता और लाइट ब्लू जींस पहनी थी जिसमें मेरा फिगर अलग ही लग रहा था.

बीएफ सेक्सी एचडी में भोजपुरी - गांव की लड़कियों की सेक्सी बीएफ

मैंने भी स्टार्ट करते हुए अपना बांए हाथ से उसकी कमर पर चुटकी ले ली.मेरे दोस्त ने धीरे-धीरे करके रेणु के सारे कपड़े उतार दिए और वो दोनों आपस में चुम्मा चाटी करने लगे.

अब मैं सरिता की दोनों टांगों के बीच अपने घुटनों के बल बैठ गया और अपनी चुदाई की पोजीशन में आ गया. गांव की लड़कियों की सेक्सी बीएफ मेरा लंड अंडरपैंट में पूरा तनाव में आकर सरिता की चुत पर ठोकर मार रहा था.

मैं अभी झड़ने ही वाला था और मैंने ‘आह मामी लो मेरा रस खा लो …’ कहकर मैंने पूरा वीर्य चूत में डाल दिया और मामी को गिरा कर उनके ऊपर लेट गया.

गांव की लड़कियों की सेक्सी बीएफ?

मेरी मॉम का भरा हुआ बदन, बड़े बड़े बूब्स और मोटी गांड किसी को भी पागल कर सकती है. तब मैंने उसे हाइमन के बारे में आधुनिक सोच बताई और उससे कहा- कोई तनाव मत लो. मैंने भी अपना एक हाथ उसकी मांसल, मुलायम गांड की दरार में रखकर बीच की उंगली से गांड के छेद को टटोलने लगा.

मैंने सरिता से कहा- रो रही हो मेरी जान?तो सरिता बोली- हां बहुत दर्द हो रहा है हर्षद … तुम्हारा लंड ही इतना बड़ा है कि शायद इसने मेरी चुत फाड़ दी है. जैसे ही उसने मेरे बूब्स को अपने हाथ में भरा, मेरी चूत ने जवाब दे दिया, मेरी चूत का रस बहता हुआ मेरी टांगों तक जा पहुंचा. मैंने आगे कहा- अच्छा ये नहीं बता सकती हो तो ये बताओ कि उन लड़कों को तुम्हारे साथ क्या मजा आया था?वो बोली- ये तो वो लड़के ही बता सकते हैं या …मैंने कहा- क्या या …वो आंखें चमकाती हुई बोली- या तुम बता सकते हो कि उन्हें मेरे साथ क्या मजा आया था.

मैं भी हंसकर बोला- ठीक है सरिता … लेकिन तुम भी मुझे सिर्फ हर्षद ही कहोगी. मैंने जो रेड कलर की शॉर्ट फ्रॉक पहनी थी वह मुझे काफी टाइट हो रही थी. हालांकि उस वक्त मैंने अपने ब्वॉयफ्रेंड की बात नहीं मानी और उसके दोस्त के साथ चुदने से मना कर दिया.

मैंने चाची की पैंटी निकालने के लिए उनको उठने को कहा तो उन्होंने अपने कूल्हे ऊपर उठा कर पैंटी को निकलने का रास्ता दे दिया. ये सुनकर मैंने पूरी स्पीड में दीदी की चूत में धक्के लगाने शुरू कर दिये.

उसी में एक लड़की भुवनेश्वर से आई थी जिसे मैंने सुबह ऑफिस में देखा था.

बता चोदेगा मुझे?ये सुनते ही संभव ने मेरा गला जोर से पकड़ा और मुझे स्मूच करने लगा.

रीना ने भी उसे वासना से देखा तो हसित ने रीना की कमर के नीचे हाथ रख कर उसे जरा सा उठाया और पेटीकोट नीचे करते हुए उतार दिया. आप मुझे मेल करें कि यह Xxx अम्मी सेक्स कहानी आपको कैसी लगी?[emailprotected]. मैं चूची को धीरे से सहलाने लगा वो तो मस्ती से चुत लंड पर रगड़ रही थीं और उनकी आवाज भी अब बहुत कामुक हो गई थी.

मैंने भी लंड बाहर निकाल कर भाभी की चूत में डाल दिया और धक्के मारने लगा. मुझे नींद नहीं आ रही थी, पर मेरा प्लान आज रात का नहीं था, ये कुछ अलग था. हर धक्के के साथ में नीचे से अपना तीव्र धक्का लगाता और उनके मुँह से कराह निकल जाती.

उनके घर में सब मिला कर 12 रूम थे और दो स्टोर रूम भी थे, जिनमें आसानी से चुदाई की जा सकती थी.

रमेश मुस्करा कर बोला- और हम दोनों की चुदाई देखकर चोदने को बोलेगी, तो तुम क्या करोगी?हज़ीरा कुछ सोचती हुई बोली- आप मेरे बाद उसको भी चोद देना मेरी जान. रात भर लगातार ये लोग मेरी चुत का भोसड़ा बनाते रहे और मैं बिना कुछ बोले इनके नीचे पड़ी चुदती रही. भाभी मुझसे हंस हंस कर बातें कर रही थीं और हमारे बीच सब कुछ दोस्तों जैसी चैट चल रही थी.

उस दिन मैंने अपने मोबाइल में चुदाई का सेक्स वीडियो डाउनलोड कर लिया था ताकि बाद में नेट स्लो होने पर मेरा प्लान खराब ना हो जाए. मैं उनके रूम में जाने के लिए जैसे ही उठा तो मैंने देखा कि चाची बिल्कुल नंगी होकर आंगन में नहा रही थीं. नंगी लड़की की Xx कहानी में पढ़ें कि कैसे हम दो सहेलियों ने एक सर्राफ को उसकी दूकान में उसके जेवर पहन नंगा फोटो शूट करवाने के लिए मनाया.

मैंने पूछा- चाची क्या हुआ?वो बोलीं- कुछ नहीं बस वो फोटो देखने के बाद कुछ कुछ हो रहा है.

रीना के मम्मे हसित के सीने में दबे हुए थे और दोनों के होंठों मिले हुए थे. मुझे हल्का नमकीन सा लगा पर भाभी तो उछल गई।मैंने 3 – 4 बार ऐसे ही किया।फिर मैं उनके उपर आकर उनके होंठ को चूसने लगा.

गांव की लड़कियों की सेक्सी बीएफ मैं- ससुर जी, तड़पाइये मत मुझे … अब अंदर डाल भी दीजिये।ससुर जी- जैसा तुम चाहो बहू!ससुर जी के लन्ड का सुपारा जैसे ही मेरी चूत में गया, मेरी चीख निकल गयी. मेरी मॉम का भरा हुआ बदन, बड़े बड़े बूब्स और मोटी गांड किसी को भी पागल कर सकती है.

गांव की लड़कियों की सेक्सी बीएफ मेरा लंड एकदम कड़ा हो गया था और वो उस नाजनीन लौंडे की गांड में जाने को बेताब हो गया था. अब मेरे लिए केवल उस अंग्रेज के पास वाली खाली सीट पर ही बैठने का विकल्प था.

एकदम गुलाबी चूत और उसकी छोटी-छोटी सी चूचियां एकदम उठी हुई नजर आ रही थीं.

ससुर बहु सेक्सी स्टोरी

बोलो क्या तुम इधर आओगी?वो हंस कर बोली- हां, मगर उधर कोई खतरा तो नहीं है?राजेश ने कहा- अरे यार वो मेरा पक्का दोस्त है. वो घोड़ी बन गईं और मैंने उनकी चूत में पीछे से अपना खड़ा लंड डाल दिया. अभी आधे घंटे में जिया दीदी चले जाने वाली थीं और मेरे पास दी से बात करने के लिए बहुत कम टाईम था.

करीब तीन घंटे की धींगामुश्ती के बाद भूख लग आई थी और लंच टाइम भी हो गया था. वह कुछ महीनों के लिए यहां रहेगी इसलिए हमें उसके लिए अलग सोने की व्यवस्था करनी चाहिए. मैंने भाभी को लिटा दिया, उनके बूब्स दबाने लगा और उनकी गर्दन पर किस करने लगा.

मैंने उनसे कहा- चाची एक बार इसे मुँह में लेकर भी प्यार करो न!उन्होंने इसके लिए मना कर दिया.

भाभी- आशु, एक बात बताओ तुम मुझे पसंद करते हो ना!मैं डर गया और कुछ नहीं बोला. उसने हसित को देख कर आंख मारी और लंड पर पहले किस किया, फिर कंडोम उस पर लगा दिया. उन दोनों को देखकर मुझे बड़ा सेक्स चढ़ता था और मुठ मारने का मन करता था.

मैंने देखा कि गांड मारने वाले लौंडे का वीर्य उसके लंड और जांघों पर लगा हुआ था. वैसे मैं आपको बताऊं, मैं तो लवी की फ्रेंड को देख कर ही हैरान था कि क्या मस्त माल है. जिया दीदी- तुम्हारे कई दोस्त आए हुए थे, जिसमें लड़कियां भी थीं लेकिन तुम्हारी गर्लफ्रेंड नहीं दिखी.

रवि ने सोनू को शहर में चाय की दुकान की नौकरी, तनख्वाह, कमीशन के बारे में बताया. अगली बार मैंने मौसी मां की चूत पर जैसे ही हाथ रखा, मेरा लंड झटके मारने लगा.

फिर उसने अपना टॉप उतारा, मैंने उसकी ब्रा को हटाया और मम्मों को चूसने लगा. एक मर्तबा मेरे दोस्त अरुण के साथ ये तय हुआ था कि संडे को एक्सट्रा क्लास के बहाने कैफे जाएंगे. डैड कार चला रहे थे, उनके पास मॉम बैठी थीं और मैं और जिया दीदी पीछे बैठी थीं.

एक दिन फिर मैं घर पर अकेला था तो मैंने चाची को कपड़े बदलते हुए देखा.

आंटी ने मेरी मम्मी से कहा- संजय को मेरे पास सोने के लिए भेज दो प्लीज़ मुझे अकेले डर लगेगा. मेरा लंड सरिता की चुत की दीवारों को चीरकर आधा अन्दर जा चुका था, चुत छोटी होने के कारण लंड एकदम कसा हुआ फंसा था. भाभी कराहती हुई बोलीं- आंह आराम से करो यार … मैं बहुत दिनों से चुदी नहीं हूँ और तुम्हारा बहुत मोटा भी है.

और न ही कोई शारीरिक संबंध भी बांधा।कुछ दिन हम उस शोक के चलते घर में ही रही. कुछ ही देर में वह अपनी चरम सीमा पर पहुंच गया और उसने भी अपना सारा वीर्य मेरी गांड में ही निकाल दिया.

सरिता बोली- हर्षद, अब डाल दो अपना लंड मेरी चूत में … अब नहीं रोक सकती अपने आपको. शाम तीन बजे जब मैं भाभी के घर गया तो भाभी बेड पर लेटी टीवी पर हिन्दी फिल्म देख रही थीं और उनके बच्चे खेलने के लिए पड़ोस गए हुए थे. वो मुझसे छूटने की कोशिश करने लगीं लेकिन मैंने आंटी को मजबूती से पकड़ रखा था.

తమిళం సెక్స్ తమిళం సెక్స్

भाभी लगातार शरारती मुस्कान के साथ बात कर रही थीं और मैं भी उनके करीब जाना चाहता था.

गुलाब ने आवाज देकर कहा- मुझे अब रोशनी की जरूरत नहीं है और मैं सोना चाहती हूँ. अपने हाथ से मैंने उनके ब्लाउज को हटाया तो मेरे सामने जन्नत की हूर के दो कसे हुए स्तन थे. तो वो नाम बताती हुई बोलीं- इधर से मेरे गांव का रास्ता कोई 5 घंटे का है.

जब वो मेरे वीर्य का कतरा कतरा सटक गयी तब जाकर मेरा लौड़ा उनके मुंह से बाहर आया।अब लंड सासू माँ के थूक से बिल्कुल लथपथ था और धीरे धीरे मुरझाने लगा था,. यह मेरी पहली सच्ची गरम सेक्स कहानी है, जो मैं आप सबको आज बताने जा रहा हूँ. ब्लू पिक्चर हिंदी ब्लू पिक्चर बीएफफिर शिल्पा बोली- आप क्या करते हो और कहां रहते हो?मैंने कहा- मैं तो दिल्ली से ही और मैंने बी.

इस तरह पांच मिनट जोरदार चुदाई के बाद वो फिर से झड़ने के कगार पर आ गई थी. वो मेरी बात सुनकर एकदम से बोलीं- चोदोगे मुझे?उनके मुँह से यह बात सुनकर मैं हड़बड़ा गया.

जिया दीदी को हल्का हल्का सा दर्द हो रहा था जो उनकी कामुक आवाजें बता रही थीं. चूत से निकलने वाले कामरस की महक से मेरे ऊपर भी एक खुमार सा चढ़ता जा रहा था. विलास ने अपने होंठों में मेरे लंड को सुपारे को पकड़ा हुआ था, तो मेरा लंड पूरे तनाव में आने लगा था.

उसने दरवाजा खोला तो मैंने देखा कि वो थोड़ी मोटी सी औरत थी, अच्छी खासी भरी हुई थी. मुझे इस बात का अहसास बेहद सनसनी दे रहा था … और शायद दीदी को अहसास मजा देने लगा था. फिर मैंने एक दिन सोच ही लिया कि किसी भी तरह से दीदी को चुदाई के लिए मनाना ही है, चाहे कोई तरकीब लगानी पड़े.

उस पर लवी खुद बोली- वो आज क्या था मम्मी कि ज़्यादा कुछ पढ़ाई करनी थी, इस वजह से मैं लेट हो गई.

उसकी दोनों टांगें मेरे कंधों पर थीं और मैं धीरे धीरे अपना लंड अन्दर ठेल रहा था. वो मेरे सामने नंगी लेट गयी और मुझे मेरी ट्रैक पैंट की ओर इशारा किया.

चाची ने चुदी हुई रंडी की तरह मुस्कान सी और बोलीं- साला राक्षस है पूरा!मैंने कहा- अभी मैं झड़ा नहीं हूँ. पति ने अपना मोटा लंड हाथ में पकड़ कर मेरी गांड की छेद पर रखकर लंड पर थूक दिया और हल्का सा दबा दिया. मैं अपना काम छोड़ कर वहीं किचन से देख रहा था कि घर पर कोई है या नहीं.

जावेद- और?उसकी आंखें मेरा जबाब सुनने को मुझ पर टिकी थीं, वह मुस्करा रहा था. निशा बोली- ओह तो तू ये सब देखता है?मैंने कहा- क्यों कोई गलत है क्या? जब तुम हो ही इतनी मस्त, तो देखना तो बनता है न यार!निशा हंस दी और बोली- चल मैं तेरा काम करूंगी, पर तुझे भी मेरा एक काम करना होगा. इस वाली बोतल में व्हिस्की का एक एक पैग ही बन सका था तो मैं नंगी ही जाकर एक दारू की बोतल और ले आई.

गांव की लड़कियों की सेक्सी बीएफ मैंने सोचा कि अब मुझे वापस लौट जाना चाहिए क्योंकि अब तक जमीला ने एक बार भी मुड़ कर नहीं देखा था. फिर मैंने दीदी की बैक में मोनू के काटने के निशान को देखा, जो हल्का सा लाल सा दिख रहा था.

मेरे मुंह में लॉलीपॉप

मगर मेरी साली गुलाब कहने लगी- ये मेरी भूल थी कि मैं आप दोनों के बीच में पड़ी. मेरी मॉम का भरा हुआ बदन, बड़े बड़े बूब्स और मोटी गांड किसी को भी पागल कर सकती है. तो भाभी ने बताया- मैंने आते जाते उस पान ठेले पर आपको दो-तीन बार देखा था.

एकाएक ढीला होकर मैं उसके ऊपर गिर गया लेकिन वो अभी भी तेज़ गति से मुझे चोदे जा रहा था. मैं जबलपुर की रहने वाली हूं और मेरे फूफा जी का भोपाल में बिजनेस है. बीएफ सेक्सी हिंदी आवाजशब्बो अब कुतिया की तरह उसके सामने बैठकर उसका लौड़ा चूस रही थी।वीरू का हाथ अब भी शबाना की गांड का छेद मसल रहा था, दूसरे हाथ से शब्बो का सिर अपने लौड़े पर दबा रहा था.

आख़िर में हनी डरते डरते दिल्ली जाने को तैयार हो गया क्योंकि वो सोहल को खोना नहीं चाहता था.

उधर विशाल ने नारियल तेल की बोतल प्रकाश को देकर कहा- आज रात ये तेल काम आएगा. बस जब वो तुमसे पूछें, तो उनको बोल देना कि तुम मुझे लाने ले जाने को रेडी हो.

उनके दाढ़ी मूंछ को एलेक्ट्रोलिसिस विधि से से हमेशा के लिए निकाल दिए गए. मैं बोला- साले बहनचोद, तू ये सब अब बता रहा है मुझे? मेरा लंड रोज अकड़ कर दर्द करता है. रुचित ने अपनी मिडल उंगली रति की चूत में डाल दी।एक साथ हुए तिहरे हमले से रति तड़फने लगी।वो शायद वासना से सिसकार रही होगी.

”मैंने उसे एक हाथ से अपनी ओर खींच लिया तो सरिता के हाथ में पकड़ा हुआ मेरा लंड सीधे जाकर सरिता की चूत पर रगड़ खाने लगा.

निशा योग और एक्सरसाइज करती थी तो उसकी बॉडी में फालतू का फैट था ही नहीं. मुझे ज्यादा चोट लग गई थी तो सब लोग सड़क निर्माण करने वाले ठेकेदार को बहुत कोस रहे थे. ये सुनकर मम्मी ने बोला- अरे बस इतनी सी बात, तुम परेशान मत हो … मैं अभी शुभ से बोल देती हूँ, वो तुमको मार्केट ले जाएगा.

बीएफ फिल्म दिखाओ ब्लूइससे पहले कि कुछ मैं बोलता, जमीला तेजी से धड़कते दिल पर हाथ रखकर बोली- अब जाओ यहां से, हम फिर जल्द ही मिलेंगे. तब तक उसकी बेटी भी सो चुकी थी तो अब मैंने उसके दूसरे उरोज को मुँह में भर लिया और दूध पीने लगा.

तामिळ सेक्सी तामिळ सेक्सी तामिळ सेक्सी

दोस्तो, मैं यश हॉटशॉट एक बार फिर से अपनी एक स्टोरी के साथ हाजिर हूँ. मैं जितनी जीभ बाहर निकाल सकता था, उतनी निकाल कर उसकी चुत के दाने पर रख कर चाटने लगा. भैया हंसने लगे और बोले- साली कुतिया … अभी तो तेरी सिर्फ चूत चाटी है … अभी मेरे लंड का स्वाद भी तुझे लेना बाकी है.

संभव फिर से मेरे मम्मों को चूसने लगा था और चूत में उंगली करने लगा था. ये एक काल्पनिक दास्तान थी, जिसमें मैंने अपने मामा की शादीशुदा बेटी के साथ सेक्स किया था. पहले भागभाभी की चचेरी बहन पर दिल आयामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपनी भाभी की बहन निशा की शादी में उनके घर गया था.

मेरी नंगी चूची को देखते ही सर अपनी जीभ अपने होंठों पर और हाथ लंड पर फिराने लगे. प्राची ने शुरूआत में नानुकुर की, थोड़ा सा झूठ-मूठ का गुस्सा भी दिखाया. कुछ ही समय में चाची की आंखें खुल गईं और वो मीठे दर्द के अहसास से मेरी तरफ बड़े प्यार से देखने लगीं.

कुछ देर के बाद तो वो हाथ में हाथ डालकर घूमने लगा, दोनों फोटो लेने लगे. और यही नहीं, अब गेयर पर हाथ रखने के बहाने वो मेरी चुत पर भी हाथ रख देते और उसे सहला देते.

उसको अभी तक किसी ने टच नहीं किया था तो वो 5 मिनट में ही अकड़ने लगी और मेरे मुँह पर अपनी चूत दबाने लगी.

यही सोच कर मैंने अपने पति की वोडका की बोतल से दो पैग जल्दी जल्दी खींचे और बाहर निकल आई. बीएफ हिंदी इंग्लिश दोनोंमैंने थोड़ी सी क्रीम उंगली पर लगाकर प्राची की गांड में उंगली ठूंस दी और गोल गोल फिराकर उसकी गांड में क्रीम लगा दी. बीएफ बीएफ2मैं- मैं भी पटाना चाहता हूं लेकिन अभी कॉलेज बंद हैं और जिसे पसंद करता हूँ … वो मिल नहीं सकती. Xxx भाभी सेक्स स्टोरी मेरे ताऊ के बेटे की पत्नी के साथ सेक्स की है.

मैंने मेम से कहा- मजा आ रहा है?वो हंस कर मुझसे चूमती हुई बोलीं- हां बहुत … पहले तो तुमने मुझे मार ही दिया था.

उसकी सांसें रुक जातीं तो वो लंड बाहर निकाल देती और फिर से अन्दर ले लेती थी. भाभी एक सुनसान गली में घुसी और एक मोड़ पर रुक गई, जहां पर लाईट नहीं थी. फिर उसने गले से हटाया और बोली- क्या बात है … आज बहुत लेट हो गया तू?मैंने कहा- हां दीदी, वो आज एक टैक्स रिटर्न फाइल करनी थी तो इसलिए लेट हो गया.

इधर मैं अपने हाथ ऊपर करके उसकी चूचियों को ऐसे मसल रहा था जैसे अब इनमें से दूध निकल ही आएगा. मैं बोला- क्या बात है मां, आज इतना टेस्टी और पोषक खाना?मां बोली- आजकल तू इतनी मेहनत जो कर रहा है! जॉब भी करता है. हनी की गांड में कुलबुली होने लगी थी और वो भूल गया था कि आज उसकी गांड का उद्घाटन होने वाला है.

સેકસી સાયરી

बिना देरी किए हुए विवेक अंदर पहुंचा और उन्हें डराने के लिए अपने मोबाइल से वीडियो बनाने लगा. मैंने उसे बताया- मैं क्रीम लगा दूँ इसमें प्रिया?प्रिया- हां जल्दी से लगा दीजिए बहुत जलन हो रही है. वो जब भी आते, तब मैं जानबूझ कर अपनी शर्ट के दो बटन और स्वेटर की थोड़ी चैन खोल कर रख देती जिससे वो मेरी क्लीवेज देख पाएं.

कुछ देर बाद तेल की चिकनाई से लंड ने अपनी जगह बनानी शुरू कर दी और चुत में समाता चला गया.

तब तक लंड वाले अपने लंड हिलाते रहें और चूत वालियां अपनी चूत को सहलाती रहें.

जवानी की दहलीज पर कदम रखते समय जिस तरह के सेक्स के सपने दिमाग को उत्तेजना के शिखर पर पहुंचा देते हैं, उस सबका समावेश इस हिंदी सेक्स कहानी में आपको पढ़ने को मिलेगा. मैंने मन बना लिया है कि आज तुम्हारे घर आकर तुम्हारी गांड जरूर मारूंगा. बीएफ ब्लू फिल्म पिक्चरसीमा ने तुरंत ही पहचान लिया और मेरी बात काट कर वो बीच में बोल पड़ी।वैसे भी सीमा एक असाधारण प्रतिभा वाली लड़की थी, दिमाग से तेज़, गोरी भी इतनी कि कोई मेकअप की ज़रूरत ही न पड़े।जब उसने बीच में मेरी बात काटी तो वो थोड़ी देर उसको देखता ही रह गया।बाकी सारे मर्दो की तरह ही उसकी भी नज़र सीमा की पहनी हुई काली ब्रा पर पड़ी।बोलो, क्या मदद कर सकता हूँ?” उसने ब्रा को ताकते हुए ही पूछा.

तो दोस्तो, आपको मेरी हॉट सिस Xxx कहानी कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं. मुझे नींद नहीं आ रही थी, पर मेरा प्लान आज रात का नहीं था, ये कुछ अलग था. वो स्माइली भेज कर बोली- नाम किसने बताया?मैंने कहा- एक दिन मेरी मम्मी तुम्हारी मम्मी से बात कर रही थीं, तभी तुम्हारी मम्मी ने तुम्हारा नाम लिया था.

खूब मोटी मोटी और गोरी जांघें … और जांघों के बीच में छोटी सी सिल्की काली पैंटी. अब दोनों एक दूसरे से विपरीत दिशा में होने के कारण वीरू को फिर से शब्बो चाची की चूत पीने का मन हुआ।उसने इस बार अपनी 3 उँगलियाँ एक साथ उसकी फुद्दी में घुसा दीं और चिल्लाकर बोला- आअह चाची … चाट माँ की लौड़ी, खा जा मेरी गांड बहनचोद, घुसा तेरी जीभ मेरी गांड में चाची!कहते हुए उसने अपनी गांड शब्बो चाची के मुँह पर रगड़ना चालू की और दूसरी ओर वो अपनी रंडी शब्बो चाची की चूत अपनी उंगलियों से खोलने लगा था.

हमने नंगी रहकर ही मैगी खाई।9 बजे तक हम ऐसी ही नंगी रही और एक दूसरी के कभी जिस्म से खेलती, कभी किस करती, कभी एक दूसरे को चाटती।तब हम दोनों तैयार हुई और मुकेश को फ़ोन लगाया।मुकेश की ओर से साफ सिग्नल मिलते ही हमने 10 मिनट तक आपस में किस किया और फिर सीमा मुकेश की दुकान पर चल पड़ी।सीमा के पीछे पीछे कुछ दूरी पर मैं थी.

मैं सारा दिन हैंडसम लड़कों और आसपास घूमते फिरते लोगों में देखता कि किसकी बॉडी अच्छी है. कोमल के सास और ससुर भी गांव गए हुए थे और वो साथ में अपने पोते को भी ले गए थे क्योंकि वो कोमल और उसके पति के साथ ज्यादा नहीं रहकर दादा दादी के पास ज्यादा रहता था. वे उछल उछल कर लौड़े को अन्दर ले रही थीं जिससे उनके दोनों बूब्स ऊपर नीचे हो रहे थे.

ब्लू वीडियो में बीएफ एक दिन रीना बोली- आशीष, मुझे घर पर बड़ी बोरियत होती है, अगर तुम कहो तो मैं कोई जॉब कर लूँ?मैंने कहा कि तुमको जॉब करने की क्या जरूरत है?वो बोली- जरूरत तो कुछ नहीं है, बस मेरा समय पास हो जाएगा. मेरी चुत में चुनचुनी होने लगी थी और लगने लगा था कि किसी भी तरह मेरी चुत में एक लंड घुस जाए और मुझे ताबड़तोड़ चोद कर मेरी चुत को फाड़ दे.

मुझे उस पर गुस्सा आ रहा था क्योंकि उसने न अपनी चूची चूसने दी और न ही चूत चाटने दी. मेरे भईया एक पावर हब में काम करते हैं और उनकी शादी को 8 साल हो चुके हैं. मैंने जल्दी से आंटी के बदन से पैंटी को भी अलग कर दिया और उनकी चूत पर अपना मुँह लगाया.

एक लड़की 3 लड़के

सीमा ने झाड़ियों में ध्यान से देखा, तो उसे हज़ीरा का चेहरा दिखाई दिया. ये कह कर उसने पैंटी के ऊपर से ही रीना की चूत को किस किया और ऊपर उठने लगा. फिर वो अपने दोनों हाथों को रीना के चेहरे से निकाल कर उसके बालों के अन्दर ले गया और रीना के चेहरे को ऊपर उठा कर अपने होंठ आगे बढ़ा दिए.

मेरे नीचे उतरने के बाद उसका साथी सीट से उठकर ऊपर स्लीपर केबिन में चला गया और उसने पर्दा लगा लिया. मगर मैं उसकी तरफ से चुदाई के लिए रजामंदी सुनने का इंतजार कर रहा था.

पर डॉक्टर साहब बस उसकी बात सुन सुन कर मुस्कुराते रहते।रूपा वहाँ उनसे पर्दा तो नहीं करती थी पर शराब के दौर में वो अपने कमरे में ही रहती।उसने कई बार देखा कि आफताब उसे घूरता रहता है और अब उसे उसकी निगाहों में वासना की भीख भी दिखाई देने लगी।रूपा ने कई बार डॉक्टर साहब से इस बात की शिकायत कि तो वो हंस कर बोले- अब उसकी बीवी तो दुबई में है तो किसी की तो देखेगा.

हनी अब भी चुदना चाहता था लेकिन इस बार वो किसी विदेशी लंड से अपनी गांड मरवाना चाहता था. उसकी जीभ ने मेरी चूत की फांकों को तीन चार बार ऊपर से नीचे तक चाटा तो मेरी टांगें खुलने लगीं और रवि ने भी मुझे ढीला छोड़ दिया. चूंकि भैया भाभी हमारे पड़ोसी थे तो इस वजह से हमसे काफी अच्छे संबंध हो गए थे.

सर का मन अब पढ़ाने में नहीं था, उनको तो कैसे भी करके मेरे पूरे बूब्स देखने थे लेकिन वो सफल नहीं हो पा रहे थे. अर्चना की सगाई होने की तारीख तय हो गयी तो उसने मुझे और मेरी बीवी को एक दिन पहले बुलाया. शिवम से रहा नहीं गया, उसने कहा- कुछ मिनट बाद तुम और लूसी अंदर आ जाना कमरे में!मैं बोली- मुझे असली दृश्य देखना है, मैं आ जाऊंगी.

मैंने भी भाभी को अपनी बांहों में भींचते हुए कहा- मैं इस पल का पांच साल से ज्यादा इंतजार किया है.

गांव की लड़कियों की सेक्सी बीएफ: मैंने जब देखा कि चुत की आग तेज हो गई तो मैंने उसके मुँह पर हाथ रख कर दबाया और पूरा बूब मुँह में भर लिया और अपनी उंगलियां उसकी चूत में अन्दर डाल दीं. हमारे पड़ोसियों को यानि कि लवी और उसकी फैमिली को पता लग गया कि मेरे पास कहीं भी आने जाने की पर्मिशन है.

करीब दस मिनट तक मैंने मामी की गांड मारी, फिर उसकी गांड में ही खाली हो गया, वो भी एक बार पानी छोड़ चुकी थी।उसके बाद मैं उसके ऊपर ही गिर गया और कुछ देर तक लेटा रहा।अगली सुबह मैं वहां से वापस घर आ गया. फिर थोड़ी देर बाद मुझे वही फिर झपकी आने लगी तो ड्राइवर ने अपने साथ के स्टाफ़ को बोला कि मेडम के लिए पीछे कोई सीट की व्यवस्था कर दो अगर हो सके तो!जैसा कि मैंने आपको बताया था कि उस बस में सभी विदेशी ही थे तो सबकी सीट रिजर्व थी, सीट मिलना मुश्किल था. मैं कंडोम लगाने लगा तो भाभी बोलीं- कंडोम मत लगाओ, इससे मजा नहीं आएगा.

जैसे जैसे वो फोटोज आगे देखती जा रही थीं, मेरी धड़कनें बढ़ती जा रही थीं.

वो बोली- ये तो तुम्हारी है ना हर्षद?मैंने उठकर शर्माते हुए कहा- हां सरिता ये मेरी ही है. अगर आप मना करेंगी तो हो सकता है हम में से किसी को बात बुरी लग जाए और कल आपके सहयोग के चित्र मोहल्ले भर में बंट जाएं. एक दिन हुआ यूं कि खबर आई कि मेरी नानी की तबियत अचानक बिगड़ गयी है तो मेरे मम्मी पापा नानी के गांव चले गए.