सेक्सी बीएफ आ जाए

छवि स्रोत,गांव की देसी बीएफ पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स डॉट कॉम बीएफ: सेक्सी बीएफ आ जाए, आपको मेरी भांजी अंजू की सील तोड़ चुदाई की कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल करके जरूर बताएं.

एचडी बीएफ राजस्थानी

तो अगर अभी हम जैसे सोफे पर बैठे थे दूसरे पार्टनर के साथ चाहे तो वैसे बैठ लें या चाहे बदल लें. एक्स एक्स एक्स बीएफ गुजरातीमैं उसके एक निप्पल को अपने होंठों में दबा कर चूसने लगा, गालों पर भी हाथ फेर कर उसे प्यार करने लगा.

दोस्तो, आपको क्या लगता है? आपकी क्या राय है मेरी बीवी के बारे में? क्या वो एक सती-सावित्री है या फिर एक रंडी है? आप मुझे मेरे सवाल का जवाब जरूर दें. इंडियन बीएफ सेक्सी चुदाई वीडियो‘आआहह … उम्म्ह… अहह… हय… याह… मर गई सर …’मुझे पता भी नहीं चला और सर ने अपना आधा लंड मेरी गांड में डाल दिया.

अनिल ने कहा कि मैं उसकी चूत को ऊपर से चाटता रहूं तो मैंने उसके कहने पर ऐसा ही किया.सेक्सी बीएफ आ जाए: कुछ देर तक मेरी चूत को चोदने के बाद दीदी ने डिल्डो को पूरा अंदर डाल दिया और तेजी से उसको मेरी चूत में चलाने लगी.

ऐसा करके उनकी गांड में नारियल का तेल डाल कर उंगली अंदर बाहर करनी शुरू कर दी.जीजा को लंड हिलाते हुए देख कर मुझे उन पर तरस आ गया और मैंने उनको अपने पास आने का इशारा किया.

गूगल बीएफ फिल्म - सेक्सी बीएफ आ जाए

मैं अपने दोस्त के घर लगभग पन्द्रह दिनों तक रहा था और इन सारे दिनों में मैंने अंकल के साथ अलग अलग तरीके से गांड चुदाई की.जिन पाठकों ने मेरी वो कहानी नहीं पढ़ी है, वे इस लिंक पर जाकर पढ़ सकते हैं.

दोस्तो, कैसी लगी मेरी ये पहली सच्ची कहानी? अभी आपको बहुत कुछ बताना है कि कैसे मैंने और रुचि ने चुदाई का मजा लिया. सेक्सी बीएफ आ जाए मैं रसोई में पानी लेने के लिए गया और दीदी से नजर बचाकर मॉम की कमर पर मैंने एक च्यूंटी काट ली.

मैंने उसकी चूत के नीचे तकिया लगा दिया, जिससे उसकी चूत और ऊपर की ओर उठ गई.

सेक्सी बीएफ आ जाए?

हल्के-हल्के उसका लंड मुझे अपनी गांड पर बड़ा होता हुआ महसूस हो रहा था। मुझे उसका लंड बहुत ज्यादा बड़ा लग रहा था. मैं समझ नहीं पा रहा था कि वो अब मुझे अपने करीब क्यों नहीं आने देती है. टी-शर्ट में उसकी चूचियों के बीच में ‘हग मी’ (मुझे गले लगा लो) लिखा हुआ था.

लेकिन मेरा वीर्य अब शायद उबल चुका था और किसी भी समय बाहर निकल कर उसकी चूत में भरने वाला था. मेरी मां विनय पर बहुत भरोसा करती थी इसलिए उनको भी उसके होने से किसी तरह का डर नहीं था. पहले चाची 36 साइज़ के मम्मों वाली, फिर दूसरी हिना आंटी 38 वाली, फिर तीसरी मेरी परवीन आंटी 40 साइज़ के मम्मों वाली.

मेरे दोनों हाथों में आंटी के मस्त चूचे थे और उनकी चूत में लंड घुसा हुआ था. दोस्तो, मेरी यह सेक्स कहानी एकदम सच है, मैंने जो अनुभव किया था, वो जस का तस आपके सामने लिख दिया है. उसने मेरी गर्दन पर होंठ रगड़ते हुए कहा- मेरी रानी, आस-पास कोई भी नहीं है.

चूंकि मैं पहले झड़ चुका था, तो दोबारा झड़ने में मुझे टाइम लगा और करीब 12 मिनट बाद मेरा झड़ने को आया. उसने अपने अंगूठे से गान्ड की दरार को हल्के से दबाया … अंगूठा उसकी चिकनी गान्ड में फिसलता हुआ ऊपर की ओर बढ़ता गया। उफ़फ्फ़ इतनी चिकनी और मुलायम गान्ड मुकुल राय ने आज तक नहीं देखी थी.

चाची ने मेरे हाथ को मुँह से हटा दिया- आह साले … तेरा लंड कितना बड़ा है … और इतना मोटा … मैं तो मर गई … तेरे चाचा का तो इसके सामने बेकार है … उई … फट गई रे मेरी चुत … चुद गयी रे मैं … आआह ऊऊह … कमीने धीरे धीरे चोद.

हम रोज रात नंगे बदन एक दूसरे की बांहों में लिपट कर प्यार की बातें किया करते थे.

पर भाभी की सुंदरता ने मेरे अंदर आग सी लगा दी थी।दोस्तो, जितनी आनंददायक चुदाई होती है उतना ही रोमांचक उसको हासिल करने का सफर भी होता है। प्रेयसी की छोटी से छोटी बात के मायने निकलना उसके इरादों को समझने की कोशिश करना, अपनी बात समझाने की कोशिश करना, इन सब में गांड फटी में रहती जब एक-एक कदम आगे बढ़ाते हैं कि कहीं बात बिगड़ न जाये और इज्जत का कचरा न हो जाये. मेरी पहली चुदाई की यह मेरी पहली कहानी है इसलिए कोई गलती हो तो माफ कीजियेगा. मैं अभी कुछ समझ पाता कि भाभी ने अपनी नाक की नोक से मेरे सुपारे को टच किया और उसकी खुशबू लेने लगीं.

अब मुझे मजा आने लगा और वो मेरे दूध को दबाते हुए मुझे जोर से किस करने लगा. जैसे ही भाई ने मेरे आने की आहट सुनी तो उसके होश उड़ गये और वो अपने लंड को अंदर करने लगा लेकिन मैंने आगे बढ़ कर उसके लंड को हाथ में पकड़ लिया. लेकिन क्या हम दोनों लिव इन रिलेशनशिप में नहीं रह सकते हैं?मैं- हां रह सकते हैं.

इन आवाजों को सुन कर एक बार तो मैंने सोचा कि शायद आज फिर सुमिना ने कुणाल को अपनी चूत की प्यास बुझाने के लिए मेरी गैरमौजूदगी में बुला रखा है.

इसी बीच मुख्यालय से उन लोगों को तीन दिन की ट्रेनिंग के लिए चेन्नई बुलाया गया. बीस मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के दौरान वो दो बार अपना पानी छोड़ चुकी थी. उसके बाद जब भी हमें मौका मिलता तो मैं और दीदी दोनों ही एक दूसरे के साथ मजे लेने लगती.

हम दोनों एक दूसरे से कसके चिपके हुए चूम चाट रहे थे और एक दूसरे के कपड़े भी उतारते जा रहे थे. ” महेश ने अपनी बहू की चूत से पानी को निकलते देखकर एक सिसकारी ली।आआह्ह्ह बेटी, क्या तुम मेरी आखिरी बात मानोगी? मैं सारी ज़िंदगी तुम्हारा गुलाम बनकर रहूँगा. एक संडे को हम सास दामाद चुदाई कर रहे थे कि मेरी साली सीमा ने हमें चुदाई करते देख लिया.

मेरी पत्नी ने अपने दोनों पैरों को ऊपर किया और मैंने उसके पैरों के ज्वाइंट में अपने हाथ फंसा कर उसकी चूत को एकदम पूरी तरह से खोल दिया क्योंकि मुझे बोला गया कि मैं उसके दोनों पैरों को जितना ज्यादा चौड़ा कर सकता हूं, करके पकड़ लूं.

जीजा बोले- तुम तो बहुत चुदवाती हो बंध्या, तुम्हारी चूत तो बिल्कुल गीली और फूली हुई है. लेकिन लंड डालते समय मैंने उसका मुँह मेरे मुँह में लिया था … क्योंकि मुझे डर था कि ये जोर चीखेगी.

सेक्सी बीएफ आ जाए इस समय उसकी रसीली हो चुकी चूत को मैं भी पूरे जोश में उसको चोद रहा था. लेकिन जब वो मेरी ब्रा निकाल कर मेरी चूची को चूस रहा था तो मुझे बहुत अच्छा लग रहा था.

सेक्सी बीएफ आ जाए आंटी की चूत गर्म भी थी और मेरे ठंडे होंठों के लगने से और भी ज्यादा गर्म हो गई थी. उसने मेरे वापस आते ही मुझे चाय पिलाई और मेरे पास बैठ कर काफी देर तक बातें करती रही और उनके पति के बारे में बात करते हुए रोई भी.

मैं- थोड़ा सा दर्द होगा … बस फिर तुम्हें अच्छा लगेगानित्या- नहीं मत डालो … तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है.

नथिया नथिया

फिर अगले दिन सुबह चाची के यहां पर मैं नाश्ता करने के लिए गया तो चाची ने कहा- जब तुम्हारे घर वाले शादी अटेंड करके वापस नहीं आ जाते तो तुम तब तक मेरे यहां पर ही रुक जाओ. तभी उसकी कमर में कुछ हलचल हुई, तो मैं समझ गया कि लौंडिया नार्मल हो गई है. उसकी चूत की बारिश से मैं भी पिघल गया और मैंने अपना पूरा वीर्य उसकी चुत में ही छोड़ दिया.

वाकयी में उसके गोरे गोरे मम्मों पर गहरा नीला/लाल सा निशान पड़ गया था. उसके मुंह से जोर से आह्ह … आह्हह की आवाजें निकल रही थीं और मेरा हाल भी कुछ ऐसा ही था. दिन में हम दोनों आराम से मजे लेते हुए गांड चुदाई का आनंद लेना चाहते थे.

फिर मैंने एक हाथ से उसके गालों को पकड़ लिया और उसके होंठों से अपने होंठ चिपका दिये.

मैं उसके होंठों को चूसने की कोशिश कर रहा था लेकिन वो अपने होंठों को आपस में चिपका कर भींच कर रखे हुए थी. मेरी गांड से उनका वीर्य बाहर रिस रहा था, जो कि मैंने अपनी उंगलियों पर लेकर चाट लिया. मेरे जीवन की हर सच्चाई को मैंने आपके सामने अपने शब्दों में लिखा जिसे आपने पढ़ा और सराहा भी, उसके लिए मैं अंतर्वासना व इसके पाठकों का बारम्बार आभार व्यक्त करती हूं।मेरा नाम बंध्या है.

आंटी की फूली हुई चूत को देख कर मन कर रहा था कि बस आंटी की चूत को नंगी करके अपने दांतों से काट ही लूं. मैंने बारहवीं अच्छे नंबरों से पास किया और मेडिकल की तैयारी के लिए कोटा आ गया, एक नामी कोचिंग संस्थान में एडमिशन ले लिया. कुछ देर उसकी चूत चाटने के बाद मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर टिकाया तो वो बेचैन सी होने लगी और बोली- प्लीज अब जल्दी अंदर डाल दो, अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

परीशा को आज तक यह बात समझ नहीं आई थी कि लड़कों को लड़कियों की गांड चाटने में क्या मज़ा आता है।अब पापा ने परीशा की चूत के रस में से सना हुआ लंड उसकी गांड के छेद पे टिका दिया. मतलब आपकी रात में ड्यूटी है इसीलिए आप रूम पर हो और उनकी दिन में ड्यूटी है.

… वो दो साल तक नहीं आने वाला है, जब तक उसका प्रोजेक्ट पूरा नहीं हो जाता. मैंने उनकी चूत चाटने के बाद अपना लंड चूसने के लिए इशारा किया, जिस पर उन्होंने झट से मेरा लंड मुँह में ले लिया और अच्छे से चूसने लगीं. मेरी यह सेक्स कहानी बिल्कुल सच्ची है, जो मेरी किसी जान पहचान वाली के साथ घटित हुई.

इससे उनके कंगन खनकने लगे।अब मैं ज्यादा दूर नहीं था तो मैंने अपना हाथ उनके 34 साइज के बूब्स पे रख के दबाना चालू कर दिया.

मुझे सांवले या हल्के गहरे रंग की लड़कियां काफी पसंद हैं और अगर वो चश्मा लगाती हो, तो मेरे लिए खुद को संभाल पाना एक बड़ा काम है. मैंने भाभी के दूधिया मम्मों को अपने हाथों में जकड़ लिया और उनके दोनों चुचों को भींच कर उनके बीच में अपना लंड फंसा दिया. तभी उसने अपना बांया हाथ चूतड़ों पर ले जाकर लंड को छू कर देखा कि कितना अन्दर गया है.

नॉनवेज स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक ससुर अपनी जवान और हसीन बहू को अपनी कामवासना का शिकार बनाना चाह रहा है. ‌वैसे मेरा छोटा सा व्यापार है, मगर फिर भी वो मुझसे ज्यादा पैसे वाले थे.

उसने मेरे हाथ और पांव खोल दिये और मुझे उल्टा लिटा दिया और खुद भी अपने खड़े लंड के साथ मेरे ऊपर आकर लेट गया. उसकी चिकनी चूत देख कर हम दोनों ही उस पर टूट पड़ने के लिए बेताब हो रहे थे. उन्होंने मुझसे पूछा- क्या देख रहे हो … पहली बार किसी की चूत देखी है क्या?मैं कुछ नहीं बोला और उनकी चूत चाटने लगा.

सेक्सी पिक्चर चोदा चोदी चाहिए

एक दिन मैं अञ्जलि को पढ़ा कर और उसको काम देकर आंटी से बात करने आ गया.

पिछली कहानी में आपने पढ़ा कि काजल के भाई ने मेरे माता-पिता की गैर-मौजूदगी में मेरी बहन सुमिना की चूत मेरे ही घर में चोद दी। मैंने उन दोनों को देख भी लिया था लेकिन इसी कश्मकश में डूबा रहा कि अगर मैं सुमिना की सहेली की चूत चोद सकता हूँ तो फिर कोई मेरी बहन की चूत भी चोद सकता है. चूत में कुछ चिकनाहट हो जाने से लंड अब जल्दी जल्दी अन्दर बाहर होने लगा था … मेरी सील टूट गयी थी. मैं- अरे इतनी जल्दी?परवीन- अंजू (उनकी बड़ी बेटी) की तो 22 में शादी कर दी थी मैंने.

फिर उसने मेरे लंड के शिश्न को होंठों में रखा और तिल को जीभ से सहलाने लगी। मैं आनन्द के सागर में गोते लगाने लगा।धीरे धीरे वो अपने मुँह में जितना लंड ले सकती थी उतना अंदर लेकर अंदर बाहर करने लगी। फिर मैंने उसको उठाकर अपने सीने से लगाया।एक तरह से ये मेरा उसको धन्यवाद था कि उसने मेरा लंड मुँह में लेकर मुझे कितनी ख़ुशी दी थी।फिर मैंने उसको बेड पर उल्टा लिटा दिया और उसकी सम्पूर्ण पीठ पर चुम्बन करने लगा. जब मैंने अपनी फेसबुक पर लॉग इन किया तो मुझे पहले से ही उसकी रिक्वेस्ट आई हुई दिखाई दी. सेक्सी बीएफ कर्नाटकऔर ऊपर से मामी की दी हुई ये धमकी … वो भी इतना आगे बढ़ने के बाद।तभी मुझे सीढ़ियों से अखिल उतरता नजर आया.

कुछ देर तक उसकी चूचियों को मसलने के बाद हमने उसे उठाया और बेडरूम में ले गये. वो बोला- ये सब क्या है?मैंने कहा- सॉरी भैया … मैं फिर कभी ऐसा नहीं करूंगी.

परवीन- हो क्या गया है तुमको जीशान? इतने अच्छे बच्चे थे तुम … मैं तुम्हारी अम्मी की उम्र की हूँ. मेरे घर में मेरी मॉम मीना देवी, मेरी 23 साल की सुमन दीदी, छोटी बहन 19 साल की चांदनी है और पापा हैं, जो अक्सर बिजनेस के सिलसिले में बाहर रहते हैं. सभी मित्रों को मेरा प्यार भरा नमस्कार! मेरा नाम पवन कुमार है, मैं जयपुर राजस्थान का रहने वाला हूँ.

जब डॉक्टर मेरी बीबी की चूत को भरपूर चूस चुका तो बोला- बोला हो गई क्लीन तो!लेकिन मेरी वाइफ की चूत सुलग चुकी थी, वो बोली- ऐसे कैसे पता कि क्लीन हुई या नहीं?यह कहते हुए उसने अपनी चूत में उसके चेहरे को भींच लिया. आज जो बात मैं आप लोगों को बताने जा रही हूं यह मेरी जिंदगी की कड़वी सच्चाई है. आंटी ने भी इस बात को नोटिस कर लिया था और फिर वो भी मुस्कुरा देती थीं.

जब भाभी बेड पर लेटी थीं, तब पहली बार मुझे भाभी की चूत के दर्शन हुए.

वो जितना विरोध कर रही थी मेरा लंड उसकी चूत को चोदने के लिए उतना ही बेचैन होता जा रहा था. थोड़ी देर तो अर्पित भी मुझे देखता रह गया और बोला- यार क्या माल लग रही हो तुम आशना … तुम्हारे सर तुमको चोदें, उससे पहेले शायद में ही तुम्हें ना चोद डालूं.

लंड चुसाई के बीच में मैंने जब अपनी गर्दन घुमा कर देखा, तो उसकी लिपस्टिक मेरे लंड पर लगी हुई थी. कुछ देर तक चोदने के बाद उन्होंने अपना लंड परीशा की चूत से बाहर खींचा और उसके मुँह में डाल दिया। पापा का पूरा लंड और बॉल्स परीशा की चूत के रस में सने हुए थे. ” आखिरकार नीलम ने हार मानते हुए कहा क्योंकि वह अपने ससुर को किसी कीमत पर भी दुखी नहीं करना चाहती थी। नीलम ने सोचा कि एक बार अपना जिस्म दिखाने में भला उसका क्या बिगड़ जाएगा उसके बाद तो सारी ज़िंदगी उसकी जान छूट जायेगी।ओह्हह बेटी, मुझे अपने कानों पर यकीन नहीं हो रहा है। तुमने मेरी बात मान ली थैंक्स बेटी, मैं तुम्हारा अहसान सारी ज़िंदगी भर याद रखूँगा.

पर इस बार मेरे दिमाग में उसकी चूत नहीं, उसकी गांड मारने का प्रोग्राम चल रहा था. उसके बाद वो मुझे पार्क में घुमाने के लिए ले गया और हम दोनों लोग एक दूसरे को किस करने लगे. मैं अब विनय के हाथों का मजा अपने दूधों पर लेते हुए पोर्न वीडियो देखने में खो सी गई.

सेक्सी बीएफ आ जाए मैंने उससे कहा- मुझे ठीक से पकड़ लो, अन्यथा तुम्हारे गिरने की सम्भावना हो सकती है. मैंने माहौल को ज़्यादा सीरीयस होते देखा, तो कहा- अरे आप दोनों माँ बेटी भी कहां किस लफड़े में फंस गई हो, चलो चलो जल्दी जल्दी एक पैग और बनाओ और मम्मी जी का सब गम ग़लत करो.

करीना कपूर सेक्सी नंगी फोटो

उस वक्त मुझे लग रहा था कि प्रिया ने शायद अपना प्रेमी जान कर नींद में ही मेरा लंड पकड़ लिया होगा और जब उसकी आंख खुली होगी तो उसने अपना हाथ वापस बाहर निकाल लिया होगा. उस पूरे दिन वो मेरे आस-पास ही घूमते रहे और किसी ना किसी बहाने से मुझे टच करने लगे. उसी के बारे में इस कहानी में मैं आपको विस्तार से बताने जा रहा हूं कि कैसे मुझे मेरे जवान लंड के लिए एक चूत मिल गई.

पूल में पम्प से पानी गिर रहा था, आंटी लोग मुझे मोटी धार के नीचे ले गए. इस कामुक कहानी में आप लोग पढ़ेंगे कि किस तरह मैंने अपनी कुंवारी भांजी की सील तोड़ चुदाई की. सेक्सी वीडियो हिंदी में सेक्सी बीएफ” ज्योति ने अपनी नाइटी उतारने में अपने भैया की मदद करते हुए कहा।बहन आप बेहद ख़ूबसूरत हो.

हालांकि अभी म्यूजिक चल रहा था, पर दोनों की कामाग्नि अब उन्हें सिर्फ डांस तक चिपकने की इजाजत नहीं दे रही थी.

उसका एक हाथ मेरे लंड को सहला रहा था, जिसके चलते मेरा लंड भी अब एकदम कड़क हो गया था. धीरे धीरे हमारी बातें प्यार में बदलने लगीं और फिर थोड़े दिन बाद हम दोनों सेक्स चैट करने लगे थे.

उसने मेरे चेहरे को देखते हुए नीचे मेरी लोअर में तने हुए लौड़े पर नजर गड़ा ली. फिर हमने सोचा कि क्यों न अपने माल को विदेश में भी भेजने का प्रयास किया जाये. तो मैंने उसी से पूछ लिया कि ऐसे में क्या करना चाहिए?उसने कहा कि अगर तुमको कोई एतराज़ नहीं हो, तो क्या मैं आज तुम्हारे साथ तुम्हारे फ्लैट पर चल सकती हूँ.

मैंने सब कुछ वैसा का वैसा ही लिखा है जैसा मेरे साथ हुआ है।आप सभी अन्तर्वासना के पाठकों को दिल से प्यार और शुक्रिया.

मैंने मजाक में स्मायरा से कहा- आपको मेरे साथ डर तो नहीं लग रहा?वो बोली- मुझे आप मत बोला करो. सर हल्के हल्के हाथों से मेरे मम्मों को दबा रहे थे … ओर मेरी चुचियों के गुलाबी निप्पलों को मसल रहे थे. मेरी इस सेक्स कहानी के पिछले भागसास के साथ चरम सुख की प्राप्ति-1में आपने पढ़ा था कि मैंने अपनी वासना की पूर्ति के लिए अपनी सास को उनकी मर्जी से चोद दिया था.

बीएफ व्हिडीओ भोजपुरी मेइस पर वो उदास होकर अपनी सारी व्यथा मुझे बताने लगी, कहने लगी- सच कहूं तो उन्होंने कभी मेरी परवाह की ही नहीं. मां बोली- ठीक है, तो फिर मैं विनय को बोल देती हूं कि हमारे जाने के बाद वो भी तेरे साथ आकर पढ़ाई कर लेगा ताकि तुम्हें अकेली न रहना पड़े.

संदेश सेक्सी सीन

फिर मैंने उसकी चुत के दाने को रगड़ना शुरू किया, तो वो आहें भरने लगी. ऐेसे ही एक दिन जब मैं उसके सामने नहा कर बाहर निकली तो मेरे बालों की क्लिप नीचे गिर गई. मैंने पूछा- ये कहां से लाईं?वो बोली- हॉस्पिटल से आते टाइम हॉस्पिटल के मेडिकल स्टोर से ले लिया था.

चाची- ज़ीशान ये क्या कर रहा है तू? मैंने तुमको कितना मासूम समझा था और तुम दीदी … ये सब क्या है? इसके साथ ऐसा करने में आपको जरा भी शर्म नहीं आई. कपड़े पहनने के बाद मैं खुद ही बाहर जाने लगी तो वो कहने लगा- मैं तुम्हें छोड़ देता हूं. जब रीतिका आ गयी थी और थ्री सम सेक्स का क्या मजा हुआ, वो मैं आपको बाद में बताऊंगा.

तभी जैसे आंटी ने मेरा दर्द समझा और मेरी जींस का बटन खोल कर मेरी जींस और चड्डी को उतार दिया. मैं सलवार के ऊपर से ही उसकी चूत को सहलाने लगा और साथ में ही अब हमारी जीभें एक दूसरे के मुँह में थीं. मॉम ने कहा- हां बेटा मैं तुझसे ही चुदवाऊंगी … जब तुम्हारे पापा नहीं रहेंगे, तो मैं तुम्हारी रंडी बनकर रहूंगी.

थोड़ी देर बाद जब वो सामान्य हुई, तो उसके चेहरे पर एक हल्की सी मुस्कराहट दिखी. रंग का गोरा था लेकिन मुझसे थोड़ा कम। हमारी दोस्ती काफी समय पहले से थी लेकिन उस वक्त मैंने उस पर कभी ध्यान नहीं दिया था.

तीनों ही फिर से मजा लेने लगे और पूरा कमरा कामुक सिसकारियों से गूंजने लगा.

थोड़ी देर बाद मैं भी झड़ने को आया तो चाची से पूछा- मेरा निकलने वाला है तो कहाँ निकालूं?चाची बोली- बहुत दिनों से मेरी चूत प्यासी ही है. हिंदी में बीएफ फिल्म भेजोवह इतनी उत्तेजित हो गयी थी की अपने चूतड़ पीछे की ओर उचका उचका के अपने पापा का लंड अपनी चूत में ले रही थी।मुकुल राय- परीशा मेरी जान, तुम्हारी मम्मी को चोद कर भी आज तक इतना मज़ा नहीं आया था. बीएफ वीडियो जींस वालीवो मुझे लंड निकालने के लिए कहने लगी लेकिन मैंने उसकी चूत में धक्के लगाने बंद नहीं किये. मैंने उन्हें बता दिया, तो उन्होंने इशारा किया कि माल मेरे मम्मों पर डालो.

उसके बाद उन्होंने मुझे इशारा किया, तो मैं समझ गयी, दरसल उन्हें तम्बाकू खाने का शौक था, मैंने पास में रखी उनकी तम्बाकू की डब्बी उठाई और तंबाकू और चूना निकाल कर अपनी हथेली में ले लिया.

… आह बड़ा मज़ा दे रहा है … मेरी जान ये चुत अब तेरी है … तू जब चाहेगा, तुझे तब मिल जाएगी … आह और ज़ोर से चोद अपनी चाची को … आह मादरचोद. फिर मैंने उसकी ब्रा और टी-शर्ट को बिल्कुल ही निकाल दिया और वो ऊपर से पूरी नंगी हो गई. मैंने उससे हर समय साथ निभाने का वादा किया, मैंने कहा- तुमको कभी भी … कहीं भी मेरी जरूरत हो, बस याद कर लेना.

फिर मैंने उसके लंड को हाथ में लेकर सहला दिया तो वो भी समझ गया कि मैं क्या चाहती हूं. मैं रीना के पीछे हो गया और लंड को उसकी गांड पर लगाकर चुचों को सहलाने लगा. मैंने तुझे उस लड़के के सामने कुछ नहीं कहा, इसका मतलब यह नहीं कि मुझे कुछ पता ही नहीं चला.

हेमा मालिनी की सेक्सी चूत

कामवासना से प्रेरित होकर एक बार मैंने भाभी को नहाते समय नंगी देखा था बाथरूम के रोशनदान में से … लेकिन मैं पकड़ा गया था … भाभी ने भी मुझे झांकते हुए देख लिया था और उस दिन मुझे खूब डांटा और बोली- तुम्हें शर्म नहीं आती ऐसी हरकत करते हुए? आने दो तुम्हारे भैया को … मैं यह बात उनको बता दूंगी. ” महेश ने अपने हाथ को अपनी बहू की चूत से हटाते हुए कहा जिसे वह अपनी लार से गीला करके अपनी बहू की चूत को चिकना कर रहा था।महेश ने अपने दोनों हाथों से अपनी बहू की चूत के छेद को पूरी तरह से फ़ैला दिया।आह्ह्ह्ह बहू, तुम्हारी चूत का छेद कितना सुंदर है. ब्लाउज में बंद उसके बड़े बड़े गोल गोल स्तन देख कर ऐसा लग रहा था कि उसका ब्लाउज फाड़ के दोनों स्तन अपने मुँह में भर के चूस लूं.

मैंने आंटी से कहा- जरा आराम से चूसो, नहीं तो मेरा माल आपके मुंह में निकल जायेगा.

उसने वहीं शबनम को घोड़ी बनाया और अपना मूसल पीछे से उसकी चूत में दाखिल करा दिया.

” शैली लेट गयी। अंशु उसके चेहरे पे बैठ गयी, उसके चूतड़ शैली के गालों से और गांड का छेद होंठों से जुड़ गया। प्रोग्राम शुरू हो गया।अंशु ने शैली का टॉप और ब्रा ऊपर सरकाई और चुचियाँ दबाने लगी। नीचे शैली के होंठ और जीभ अपना काम कर रहे थे- मस्त है साली, चुचियाँ ज़ोरदार हैं और चूस के मज़ा भी खूब देती है।फिर मेरी बारी आयी।मैं ऐसे प्यार नहीं करवाऊँगी. मगर एक दिक्कत ये थी कि जिस होटल को हमने बुक किया हुआ था, उसमें चेक-इन सुबह के दस बजे का था. जास्त बीएफकरन ने मुस्कुरा कर मुझ कमर से पकड़ के उठा कर घोड़ी बना दिया। मैं समझ चुकी थी कि करन गांड में चोद के ही झड़ेगा.

विवान थोड़े ज्यादा ही मुझसे बात करने लगे थे और कभी कभी तो वो मेरे घर के बाहर भी खड़े रहते थे और मुझे देख कर स्माइल करते थे. वो आशा को भी तो बोल सकती थी चाय बनाने के लिए? मगर वो तो उस मुच्छड़ को देख कर ऐसे खुश हो रही थी कि पता नहीं किसी सुपर स्टार को देख लिया हो उसने।खैर, उसके जाने के बाद मैंने सुमिना से उसके बारे में पूछा तो उसने बताया कि ये काजल का भाई था कुणाल।हॉट गर्ल की सेक्स कहानी अगले भाग में जारी रहेगी।. मैंने अपनी पूर्व की कहानी का लिंक दिया है, जो दोस्त मेरी जवानी से परिचित न हों, वे प्लीज़ मेरी इस लिंक को खोल कर मुझसे परिचित हो लें.

उसको देख कर तो कोई भी लड़की उससे चूत चुदवाने के लिए तैयार हो सकती थी. मैंने मुश्किल से उसको अपनी लोअर में छुपाया लेकिन उसका आकार अभी भी साफ दिखाई दे रहा था.

मैंने कहा- कोई देख लेगा, यहां रोड पर …वो बोली- प्यार भी करते हो और डरते भी हो?मैंने कहा- कहीं और चलें?वो बोली- कहाँ?मैंने कहा- जहां मैं कुछ पल तुम्हारे साथ अकेले में बिता सकूँ!मैंने दिमाग दौड़ाया.

एक दिन की बात है जब मैं ऑफिस से लौटा तो वो बुरी तरह बुखार से तप रही थी, उन्होंने अपने पति को कॉल किया तो उन्होंने आने से मना कर दिया. कुछ ही देर में हम दोनों पागलों की तरह एक दूसरे के होंठों को चूसने में मस्त हो गए थे. क्योंकि वो तो आपको उसके फिगर में बारे में जानने के बाद अपने आप ही पता लग जाएगा.

बीएफ सेक्सी एचडी फुल हिंदी वो एकदम से जाग गए और बोले- गुड मॉर्निंग डार्लिंग … वाह तुमने तो मेरा मूड बना दिया. मैंने थोड़ा सा दबाव डाला, तो मेरा लंड उसकी कुंवारी चूत में सैट हो गया.

मेरे आते ही उसने मुझे गले से लगा लिया और फिर हम अलग होकर रूम में आ गए. फिर कुछ देर रुकने के बाद मैंने फिर से एक जोरदार झटका मारा, तो मेरा आधा लंड उसकी चूत में जा चुका था. 5 इंच का है और 3 इंच मोटा है।मेरा लंड देख कर बोली- भाई, ये तो बहुत मोटा और बड़ा है।मैंने मजा लेने के लिये कहा- क्या बड़ा है मेरी जान?ये आपका लंड।”हाँ है तो बड़ा, पर तुम्हारी चूत के लिये तो शायद छोटा ही पड़े।” मैंने हवस भरे अंदाज में कहा.

हिंदी सेक्सी गजल

नीलम अब मैं तुम्हें कैसे समझाऊँ?” समीर ने गुस्से से बेड पर मुक्का मारते हुए कहा।अरे इतना गुस्सा मत हो और अब जाओ यहाँ से, तुम्हारी बहन चुदाई के लिए तुम्हारा इंतज़ार कर रही होगी. गाउन के अंदर लटक रहे नर्म और गद्देदार चूचे दबाते हुए मैं उसकी गांड पर अपने लंड की रगड़ दे रहा था. उसके बाद मैंने उसे बहुत बार चोदा। अब जब भी टाइम मिलता है वो मुझसे अपनी चूत की चुदाई करवा लेती है और हम दोनों ही मजे करते रहते हैं.

मैंने अपनी पैंट खोली और वहीं पर अंडरवियर निकाल कर नीचे से नंगा हो गया. मेरे पूछने पर पूजा ने बताया कि पवन के माता-पिता यानि कि उसके सास-ससुर भी किसी प्रसिद्ध मंदिर में दर्शन के लिए गये हुए हैं.

तभी मेरे कमरे का दरवाजा खुला और साक्षात अप्सरा समान मेरी भाभी इठलाते हुए रूम में अन्दर आ गईं.

उनमें कोई ऐसी पॉपुलर साइट नहीं रह गई थी जहां पर मैंने चुदाई के वीडियो देख कर मुठ नहीं मारी हो. मेरा हाथ उसकी चूत को सहलाने लगा और मेरे होंठ उसके चूचों पर जा धंसे. ”क्या?” मेरी उलझन बढ़ती जा रही थी। ये साली मधुर की बच्ची भी बात को इतना घुमा फिर कर बोलती है कि बन्दे का पानी कच्छे में ही निकल जाए।वो आज दीक्षा लेते समय मैंने अकेले में गुरूजी से एक बात पूछी थी.

दोनों लडकियां मोटी सी हैं देखने में मगर शेप में हैं और एक भरे शरीर की मालकिन लगती हैं. मैंने उसकी चूत को देखा, जो साफ़ साफ़ समझ आ रही थी कि लौंडिया अनटच माल है. भाभी ने भी ज़रा सी देर नहीं लगाई और ज्यादा जोश से मेरे मुख में जीभ डाल के चुम्बन का मजा लेने लगी। बहुत देर तक हम ऐसे ही एक दूसरे को चूमते चाटते रहे और लंड ने मेरी पैंट में तंबू बना दिया.

करीब 5 मिनट की चटाई के बाद वो मेरे मुँह में ही झड़ गईं और मैं उनका पानी पी गया.

सेक्सी बीएफ आ जाए: मक्खन देख कर महेश के दिमाग में नीलम की मस्त गांड मारने का ख्याल आया। वह धीरे से मक्खन का डिब्बा अपनी तरफ खींच कर और मक्खन निकाल कर नीलम की टाइट गांड के गोरे छेद पर मक्खन लगाने लगा. वो मेरे सामने वाली सीट पर बैठ गई, तो मैंने उसे पानी की बोतल थमा दी.

सुबह उठने के बाद हम दोनों ही एक दूसरे से निगाह नहीं मिला पा रहे थे. मैंने भाभी के कंधे दबाते हुए उनसे पूछा- भाभी इधर दबाने से आपको कैसा लग रहा है?भाभी बोलीं- सच में मुझे बहुत अच्छा लग रहा है. कुछ महीनों बाद उसको कंपनी ने निकाल दिया तो हमारा रिलेशन भी वहीं ख़त्म हो गया.

उसकी चूत का पानी निकलने की वजह से मेरा लंड एकदम से चूत से निकल कर उसकी गांड में घुस गया.

इसलिए मैंने नीचे बैठकर उनके लंड को अपने मुंह में भर लिया और तेजी से चूसने लगी. आंटी ने घुटनों से अपने पैर मोड़ लिये थे इसलिए आंटी की जांघों के ऊपर से बहता हुआ तेल उनकी चूत पर जाने लगा था. एक मिनट से भी कम समय में मैंने भाभी के मुँह में ही अपना पूरा वीर्य छोड़ दिया.