बिहारी सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ

छवि स्रोत,अमेरिका की सेक्सी दिखाओ

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ एचडी वीडियो भेजो: बिहारी सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ, मुझे एक शहर के सबसे बड़े और नामी गर्ल्स स्कूल में भर्ती कराया गया था.

शिक्षा वाली सेक्सी

अगर मेरी बात झूठ निकले तो मुझे अपने पास से काम से हटा देना और सबके सामने 20 जूते मारना।अभय ने कहा- बंध्या, तेरे जीजा की इस बात से हम लोगों को विश्वास हुआ. सेक्सी वीडियो चुदाई करते हुए वीडियोअब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा था मैं उसकी गांड की हाथों से मालिश करना चाहता था.

दिन में तो कहीं भी जाया जा सकता था, पर संजय ने रात को ही बुलाया था. मोनी राय की सेक्सी फोटोभैया- तो कब कराएगी मेरी सैटिंग?तो दीदी बोली- देखूँगी पर … आपको वही टेक्नीक लगानी होगी, जो आपने मेरे साथ किया था.

हँसते हुए उसने कहा- मैं भी बेबी की तरह अपना घर का नाम बता देती हूँ.बिहारी सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ: रानी थोड़ा उठ न … तेरे लिए एक छोटी सा भेंट लाया था जो तुझे नंगी देखने से पहले देना चाहता हूँ … मेरा दिल करता है किसी भी लड़की को रानी बनाने से पहले उसको एक अपनी ख़ुशी वाला तोहफा दूँ … हालाँकि तेरी सुंदरता के सामने ये गिफ्ट बहुत मामूली सी है फिर भी हिम्मत करके देना चाहता हूँ … बड़े दिल से लेकर आया था.

संजू उठ कर बैठ गई और उसने एक जोरदार अंगड़ाई ली, जिससे उसकी गदराई चुचियों का पूरा उभार सामने आ गया.दोनों पूरे नंगे हो गए थे और मेरे भी ने उस लड़की की चूत चाट कर उसे एक बार चरम आनन्द की हालत में पहुंचा दिया था.

हिंदी फिल्म सेक्सी आवाज में - बिहारी सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ

इस तरह से मुझे लगातार चोदने के बाद उसने अपना पानी मेरी चुत में ही छोड़ दिया.आपके कॉलेज में जाने पर तो कभी कभी मुझे आपकी गीली पैंटी मिल जाती थी जिसे मैं सूँघता और चाटता था.

मैंने टीचर से पूछा कि आप मेरे साथ क्या करने वाले हो?वो पहले तो बोले- जो तुम चाहो. बिहारी सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ वो चारों आराम से बैठकर टीवी देख रही थीं और हम चारों खड़े रहकर मसाज कर रहे थे.

उसके बाद से हम दोनों की नजर एक दूसरे के लिए बदल गई।इसके बाद क्या हुआ कैसे मैंने और मामीजान ने पहली बार संभोग किया वह आपकी प्रतिक्रिया के बाद अगली कहानी में लिखूंगा। आपके कमेंट का इंतजार रहेगा।[emailprotected].

बिहारी सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ?

मैंने अंकल से कहा- मेरा निकलने वाला है, मैं बाहर निकालूं या अन्दर?वो बोले- अन्दर ही निकाल दो. मैं इस बार गर्मी में घर नहीं जा पाया ज्यादा काम की वजह से तो मेरी माता जी दिल्ली घूमने 15 दिन के लिए आ गयी. पर मैं उसे तड़पाना चाहता था।मैंने सुमन के गाउन में हाथ डाला और उसके चूचों को दबाते हुए उसके होंठ चूस रहा था। पायल शायद मेरे लौड़ा मुँह में नहीं लेना चाहती थी इसीलिए बैठ कर वो बस उसे हिला रही थी।अचानक उसने अपने मुलायम होंठों में मेरा लौड़ा लिया और जितना हो सकता था अंदर लेने की कोशिश करने लगी.

मैंने दीदी को सिगरेट दी और उन्हें गोद में उठाकर उसी कमरे में ले गया … जिधर जीजा जी अपनी बहन आलिया को चोदने के लिए गए थे. मैंने सुहास के लंड को अपने हाथ में ले लिया और उसके लंड के ऊपर की खाल हटा कर उसके टोपे को मेरे लाल रस भरे होंठों से एक किस किया. अहहा सुहास आह आह … सुहास!” मैं उसके लंड पर और जोर जोर से उछलने लगी.

एकाएक रोहित रोने लगा और संजू के सामने बोलने लगा- भाभी, आपका ये रूप देखकर अगर मैंने सेक्स नहीं किया, तो मैं जिन्दा नहीं रह पाऊंगा. ”इससे पहले कितने लण्ड देखे हैं?” इतना पूछते पूछते मैंने कविता को लिटाकर अपना लण्ड फिर से उसकी चूत में पेल दिया. उसने अपनी टाँगें मेरी टांगों में कस के लपेट लीं थीं और गुड्डी की चूत में जीभ से चुदाई कर रही थी.

उन्हीं अहसासों में खोये रहकर उसकी बताई थीम के आधार पर कविता लिख भेजी. अंकल बोले- आप भी बहुत सुंदर हो बेटा, आपको मेरे साथ जो करना है, सब कर सकते हो.

मैंने गुलाबी रंग का गोल लांग गाऊन फ्राक पहन लिया, गुलाबी की लिपस्टिक लगा ली और सामान्य सी ही तैयार हो गई.

ब्रा पैंटी रात में वैसे भी नहीं पहनती थी, तो मेरे बड़े बड़े चूचे देख कर आदी स्माइल करने लगा.

मैंने झुक कर बहुत नरमी से वसुंधरा के तने हुए बायें निप्पल को अपनी जीभ से छुआ. परमीत को तो जैसे खजाना मिल गया हो, वो नीचे बैठकर लंड पर लगा केक लंड चूसते हुए खाने लगी. अपनी योनि के भगनासे पर मेरे लिंग-मुंड की बार-बार रगड़ लगने से वसुंधरा के काम-आनंद में तो सहस्र गुना वृद्धि हो गयी और वसुंधरा का काम-शिखर छूना महज़ वक़्त की बात रह गया था.

वहां मैंने अपने जेब से उसको डेरी मिल्क दी और मैंने उसको उसको प्रपोज कर दिया. अब मेरा ध्यान मेरी गीत के वक्ष स्थल पर गया और मैंने उस स्थान को बड़े सम्मान के साथ देखा, क्योंकि ये औरत का वह ऐसा अंग होता है, जिससे गौरव, अभिमान, सुंदरता, परिपक्वता, सृजनता, कामुक्ता, ममत्व, सुडौलता का भान होता है. पर बढ़ती उम्र के साथ मुझे लगने लगा कि लोग मेरी झूठी तारीफ करते हैं, या रिश्तेदार यूँ ही स्नेहवश परी कह देते हैं.

लण्ड मेरा अभी भी उसकी चूत में था क्योंकि मेरा तो अभी हुआ नहीं था मैं उसके बाल में प्यार से उंगली फेर रहा था.

मेरे प्यारे दोस्तो और मस्त मस्त गरमागरम भाभियों, बहुत दिनों से मैंने यहां अन्तर्वासना पर कुछ नहीं लिखा है. किसी को यकीन हो या ना हो लेकिन मेरा लंड नौ इंच बड़ा है जो कि शायद ही भारत में किसी का होता होगा. तभी मैंने वसुंधरा का बायां हाथ अपने दाएं हाथ से जाने दिया और अपने दायें हाथ से बहुत हौले से वसुंधरा का बायां उरोज़ थामा.

वो दूसरे हाथ से अपनी बहन की चूत में फिंगरिंग कर रहे थे और होंठों से कभी गर्दन, कभी कान, तो कभी संजू का मुँह घुमाकर उसके होंठ चूस रहे थे. फिर हम खाना खाकर बर्तन साफ करने लगे और वो चारों सोफे पर बैठकर टीवी देखती रहीं. मैं बाहर गई और आदी से बोली- तुम बाहर जाओ और अगर राहुल कॉल करे, तो बोल देना कि तुम बाहर हो.

दोस्तो, मैं मुस्कान अपनी एक नई कहानी के साथ एक बार फिर से आप लोगों के सामने पेश हूँ।मेरी पिछली कहानीजवान लड़की की सेक्स कहानीआप लोगों ने बहुत पसंद किया उसके लिए आप लोगों का धन्यवाद।मुझे आप लोगों के बहुत सारे मेल मिले.

अब मैं उसके चूतड़ों की हल्के हाथ से मालिश भी करना चाह रहा था।अब मैं उनके जिस्म को अपने कब्जे में लेना चाहता था। आंटी को भी शायद अब मज़ा आने लगा था अभी मेरे हाथ उसकी चिकनी जाँघ पर ही थे. फिर मैंने उसको और गरम करने के लिए उसकी चूत को उसको पैन्टी के ऊपर से दबाकर रगड़ने लगा.

बिहारी सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ तभी सतीश का लंड सीमा ने अपने हाथ में पकड़ा और अपनी चूत पे रख कर बोली- अब यहाँ मज़ा ही मज़ा भर दो मेरे मर्दो!कहानी जारी रहेगी. वाह … शादी और बेबी होने के बाद तो स्वीटी आंटी क्या मस्त माल बन गई थीं.

बिहारी सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ मैंने कहा- तो फिर अब क्या इरादा है?वो बोली- कुछ दिन के बाद मेरे पति अपनी मां के साथ गुड़गांव जा रहे हैं. पहले तो वो मेरे साथ बड़े सलीके से पेश आया था, लेकिन बाद में अभी थोड़े दिनों से उसने मुझे अपनी आंखों से चोदना शुरू कर दिया था.

पर मैं बार-बार यही सोचती थी कि मेरे इतने कड़क भैया, दीदी की बात मान क्यों गए.

इंग्लिश पिक्चर नंगी सेक्सी वीडियो

अपने एक हाथ से उसने मेरे हाथों को जकड़ा हुआ था दूसरे हाथ से वो मेरी टांगों को चौड़ी करने लगा. वो भी एकदम मस्त मस्त गालियों को साथ।‌‌उसका पति मेरा लौड़ा ऐसे देख के खुश हो रहा था। उसके दिमाग में ना जाने क्या था, वो बोला- तुम दोनों चुदाई करो, मैं आता हूँ दुकान से।उसके बाद वो चला गया और बाहर का ताला लगा दिया।अंदर मैं आशना भाभी के मुँह की मस्त चुदाई करने में बिजी था। मैं उसके बाल पकड़ के रंडी बना के उसके मुँह में धक्के मार रहा था।अब वो बोली- कुत्ते अब चल लेट!ऐसा सुन के मुझे अच्छा लगा. और मेरी तरफ नज़र करके बोली- छोड़ दो मनोज उसे … और पहले मेरे पास आओ।परेशान मत हो मैडम। मैं सबको बराबर सर्विस दूंगा.

अब मुझे समझ में आया कि लड़के और लड़कियां आपस में क्या बात करते रहते हैं … क्यों इतनी देर तक बात करते रहते हैं. मैंने राहुल को कॉल किया कि मुझे कहीं जाना है … तुम प्लीज़ मुझे ड्राप कर दो. यह बात सुनकर प्रिंस खुश होने लगा और मुझसे कहने लगा- आपके साथ कल सुबह तक का मौका है मेरे पास! मैं आपको कल सुबह तक चोद सकता हूं.

बाबू हंसने लगे और मेरी चूचियों को मसल कर मुझे दर्द से निजात दिला दी.

अब मुझे लगा शायद मामी भी जग रही हैं और वे भी इस सब का आनंद लेना चाहती हैं।अब मैं पेंटी के ऊपर से मामी की चुत को रगड़ने लगा और वे भी मेरे निकर के ऊपर से मेरे लंड को अपने हाथ से सहलाने लगी।मुझसे रहा नहीं गया तो मैं सीधा होकर उनकी तरफ मुंह करके लेट गया. बेड के सारे अंजर-पंजर ढीले हो गए थे और समूचा बिस्तर हमारी लय पर चूँ-चूँ कर रहा था. अचानक ही वो जोर से चीखते हुए मेरे चूचों को कस कर दबाने लगा और उसका पानी मेरी गांड में ही गिरने लगा.

भाभी- तूने साबित कर दिखाया है कि मैंने तेरे साथ चक्कर चला कर कुछ ग़लती नहीं की. अविनाश- हम तीनों को सील पैक बीवी मिली और तुम्हें तो चार मर्द से चुदी हुई बीवी मिलेगी. वो मेरे पास आकर बोलीं- मेरे राजा … कैसी लग रही हूँ?मुझसे रहा नहीं गया और मैं उनको अपनी बाहों में भर कर बोला- जानलेवा लग रही हो.

धीरे धीरे मैंने उसकी टी-शर्ट पूरी ऊपर सरका दी और उसके पेट और जांघों को सहलाने लगा. !! लेकिन मैंने तो वो!आलिया- जहां तुमने छुपाए थे, वो हमें क्लू ढूंढते समय मिल गए थे … और अब रात को हम उसका इस्तेमाल करेंगे.

शर्ट निकलते ही मेरी बालों से भरी छाती उसके सामने थी जिस पर उसने वासना से भर के हाथ फेरा और झुक के मेरे निप्पल को मुँह ले लिया. तभी मुस्कान ने सतीश के लौड़े को अपने होंठों में भींच लिया और और उसके झड़ रहे लंड की घूंटें भरने लगी। सतीश का लौड़ा भी मुस्कान के मुंह में अपनी बरसात कर रहा था।जैसे ही सतीश के लौड़े ने अपनी बरसात कम की तो मुस्कान ने उसका लौड़ा अपने मुंह से निकाला और अपने भरे मुंह से सतीश का सारा रस सीमा के मम्मों पर डाल दिया. फिर उसने अपने कपड़े पहने और मेरी ब्रा और पैंटी को मेरे मुंह पर मार कर चला गया.

वैसे मेरा अनुमान था कि उन जिगोलो ने भले ही बहुत सी चूत बजाई हो, पर हमारी जैसी कमसीन नवयौवना को चोदने का सौभाग्य शायद ही उन्हें प्राप्त हुआ हो … क्योंकि ज्यादातर उम्र दराज औरते ही जिगोलो बुलाती हैं और उन्हें देखकर ऐसा भी नहीं लगता था कि उन दोनों की कोई ऐसी हस्ती है, जिससे बिना जिगोलो जॉब के, वो हमारे जैसी खूबसूरत अपसराओं को भोग सकें.

प्रियंका चुदासी हो गई थी, सो वो बोली- जीजा जी फिर से डालिए ना!मैं बोला- भाभी जी, मेरे लंड के ऊपर आ जाइएगा. मैंने कुछ कुछ दूरी पर ब्रेक मारना शुरू कर दिया, जिससे स्वीटी आंटी मेरे और करीब खिसक आईं. कुछ ही देर में उनका लंड एक बार फिर फड़फड़ाने लगा और हम दोनों का आलिंगन फिर शुरू हो गया.

आखिर में मैंने उससे अपने दिल की बात कह ही दी कि मैं तुम्हें चोदना चाहता हूँ. फिर मैंने दीदी को खड़ा करके उनका शॉर्ट और पैंटी निकाल कर उन्हें सोफे पर 69 में लिटा दिया.

एक मिनट बाद आशा दो गिलास पानी लायी, तो नीतू आशा से मजाक करते हुए कहा- आशा, आज तो तू बड़ी खिली खिली लग रही है. कुछ पल बाद हम दोनों अलग हुए, तो नीतू बेड पर बैठ कर अपने स्पोर्ट्स शूज उतारने लगी. ये मस्त और कामुक बातें सोचते हुए मैं और भी मस्ती से लंड पर उछलने लगी.

நேபால் செக்ஸ்

उसकी चुत हल्की सी गुलाबी कलर की खुली सी दिखी, जिस पर एक भी बाल नहीं था.

आज भी उस सेक्सी चुदक्कड़ आंटी को याद करता हूं तो लंड खड़ा हो जाता है. उसने मेरी पैंटी को खींच कर उतार दिया और सीधा मेरी चूत में जीभ देकर चाटने और चूसने लगा. मैंने अपनी एक सीनियर से पूछ लिया- ये दोनों तरफ करते हैं क्या?उन्होंने बताया- हां पीछे भी एन्जॉय करने के लिए करते हैं, इससे बच्चे होने का डर भी नहीं रहता और मजा भी बहुत आता है.

मैंने बिना लंड निकाले, उसे अपने ऊपर लिया और अब वो मेरे ऊपर आ गई थी. अत्यधिक योनि-स्राव और रज़प्रवाह के कारण वसुंधरा को अपना योनि-प्रदेश गीला-गीला सा महसूस हो रहा होगा और वो उसी को साफ करने गयी थी. अंग्रेजों की सेक्सी फुल एचडी मेंमैंने मोबाइल लेकर वीडियो डिलीट करने लगी, तभी वो मेरे चूचे दबाने लगा.

इधर रोहित संजना के होंठों को छोड़कर कभी संजू के गर्दन, कभी कान तो कभी गर्दन के नीचे क्लीवेज पर भी बेतहाशा चूमे जा रहा था और दोनों हाथों से ब्लाउज के ऊपर से ही कभी चूचियों को मसल रहा था, तो कभी खड़े हो चुके दोनों निप्पलों को उमेठ कर मींज रहा था. मैं उठा और सोफा पर बैठ गया तथा प्रियंका को अपनी गोद में इस तरह बैठाया कि मेरा लंड उसके चूत में घप्प से घुस गया.

विक्की ने मुझे बताया कि वो कॅनेडा जा रहा है … उसकी दीदी का एक्सीडेंट हो गया है, सो वहां उसे थोड़ा टाइम लगेगा. उनका पूरा माल दीदी की चुत में निकल गया था … और दीदी का भी रस निकल गया था. मेरे लंड का सुपारा गुलाबी रंग का है और मैं अपने लंड की साफ सफाई का पूरा ध्यान रखता हूं.

सिल्क की एक बात मुझे अच्छी लगी कि उसने संदीप के पहले बच्चे को भी अपना लिया. तब चाची की चूत मेरे लंड पर ही थी तो मुझे बहुत मजा आ रहा था।फिर मैंने उठ कर चाची की ब्रा के हुक खोले और उनके बूब्स को आजाद किया और चूसने लगा. नमस्कार दोस्तो, शॉर्ट स्कर्ट वाली जवान लड़कियो, सेक्सी साड़ी वाली दूधिया बॉडी की मालकिन भाभियों और चुदक्कड़ आंटियो … मैं आपका रॉकी राज एक और कामुक कहानी लेकर हाजिर हूं.

फिर संजय ने परमीत को छोड़ा और बहुत सा केक हाथों में लेकर अपने लंड पर लगा दिया.

मैंने दीदी की चुत पर लंड सैट करके एक जोर का धक्का लगा दिया, जिससे आधा लंड चुत में घुस गया. साड़ी ब्लाउज के साथ मैंने एक लाल कलर की ट्रांसपेरेंट ब्रा पैंटी भी निकाल ली और बाथरूम में आ गयी.

सोच रही थी कि अगर भाई को बुलाऊंगी तो वो सोचेगा कि मेरी बहन चुदने के लिए कितनी उतावली हो रही है. मैडम मेरे सीने से सट गईं और मैं उनके मम्मों को ब्लाउज के ऊपर से रगड़ने लगा. संजू को थोड़ी सी राहत मिली और अब वो चूत चूसे जाने की वजह से चूत से पानी निकालने लगी और सीत्कार करने लगी.

!’तभी मैं वसुंधरा की गर्दन को चूमते-चूमते नीचे की ओर आया और मैंने एक हल्का सा चुम्बन वसुंधरा की रोम-विहीन, रेशम-रेशम बायीं कांख में लिया. अब आगे:तभी परमीत मुझसे थोड़ा अलग हुई और उसने मुझे पांव की उंगलियों से चूमना और चाटना शुरू कर दिया. मैंने मौका देखकर वहीं खुली सड़क पर उसके बूब्स दबा दिए और फिर हम वापस होटल आ गए।वापस आकर मैं बोला- क्योंकि कंडोम लाने के नाम पर सरीना की गांड फट गयी थी इसलिए उसे सजा मिलेगी और नीलू को इनाम मिलेगा.

बिहारी सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ ये कहानी आज से करीब 3 साल पहले की है, जो कि मेरे और मेरी एक शादीशुदा महिला मित्र के बीच की है. उधर नीरज धीरे धीरे अपनी बहन की गांड में लंड थोड़ा-थोड़ा अन्दर बाहर करने लगा.

बॉलीवुड सेक्सी मूवी हिंदी में

मैंने सोचा इस पर ट्राई करके देखता हूं, अगर इसके लंड को टच तक भी कर पाया तो बहुत बड़ी उपलब्धि होगी मेरे लिये. बस तुम मुस्कुराते रहो!कह कर वो उठी और मेरे मुरझाए बेजान लण्ड को चूमकर बोली- ये बहुत बदमाश है आपका!और मेरे लण्ड को पकड़ के बाथरूम में ले गई जहाँ हम दोनों ने एक दूसरे को साफ किया और नहलाया. लेकिन उसे अभी बहुत मिस कर रहा हूँ क्योंकि वो सच में काफी मजेदार माल है.

जिया- नो वे …राज- नीरज तू एक काम कर … कंडोम लेकर आ … प्लीज़ वरना तेरी बीवी प्रेग्नेंट हो जाएगी. उल्टा … तुम्हें इतना ज्यादा हर्ट किया था कि वो दर्द मुझे खुद भी महसूस हुआ था. भिवानी की सेक्सी वीडियोउन्होंने खुद से मेरे पल्लू को ठीक किया और कहा- बर्तन यहीं रख दो, कल ले जाना.

वो कहने लगा- जीतू यार, किसी भी तरह इस लड़की से मेरा पीछा छुड़वा दे.

उसने अपने हाथों से मेरे बाल पकड़ लिए और मेरे सर को अपनी चूत पर दबाने लगी. वो अकसर मेरे सामने आती जाती थी और एकटक निगाह मिला कर ऐसे देखती थी, जैसे कुछ कहना चाहती हो.

मैंने उनकी चुदास देखी तो जल्दी से लंड को चाची के पेटीकोट से पौंछा और लंड उनके मुँह में दे दिया. वो मुझे ऐसे नोंच रही थीं, जैसे न जाने कितने बरसों से चुदाई की भूखी हों. आज भी मैं रोजाना व्यायाम करके अपने शरीर की देखभाल करता हूं।जब मैं 32 साल का था तभी मेरी पत्नी का एक बीमारी में देहांत हो गया। मेरा एक बेटा है जो अब 22 साल का है और गुजरात में जॉब करता है। दिल्ली में मेरी एक दुकान है.

उसने पहले ही कह दिया था कि वो रिलेशनशिप के चक्कर में नहीं पड़ना चाहती है.

मीना ने एक टैक्सी रात तक के लिए बुला ली और रवि को लेकर उस एक्सपोर्ट हाउस के ऑफिस चल दी. मैं- क्या बात कर रहे हो?कुमार- अरे चुप रहो … ये बात विक्की को मत बोल देना … नहीं तो वो मुझसे गुस्सा हो जाएगा. इसके बाद मैंने शैम्पेन की बोतल, जो मैं अपने साथ लेकर आया था, उसको खोला और शैम्पेन का एक गिलास बेबी रानी और एक गुड्डी को दिया.

देहाती लड़की सेक्सी हिंदीचाची अपनी गांड में मेरी उंगली पाते ही एक पल के लिए चिहुंकीं, मगर मैंने अगले ही पल लंड गांड में पेल दिया. मेरी समझ में नहीं आ रहा था कि क्या करूँ … क्या कहूं? और उनकी इस हरकत पर कैसे रियेक्ट करूं?जेठजी का तो पता नहीं, पर मेरे दिमाग में यही सब चल रहा था … अभी मैं यही सब सोच ही रही थी कि इतने में जेठजी बोले- सॉरी जस्सी, मुझे लगा कि श्वेता वापस आ गयी है और उसे सरप्राइज देने के चक्कर में मैं तुमसे …इतना कह कर जेठजी चुप हो गए.

हिंदी नंगी सेक्सी हिंदी नंगी

आलिया कामुक आवाजें कर रही थी- आहह उह आह!कुछ देर मम्मों का मजा लेने के बाद मैंने उसकी गीली पैंटी भी निकाल दी और आलिया की चुत को चाटने लगा. एकाएक संजू उठी और उसने अपनी भाभी को दबंगों की तरह मेरे लंड से जबरदस्ती उठा कर अलग कर दिया. मुझे आदी के साथ अब कोई प्रॉब्लम नहीं थी … क्योंकि आदी तो सब जानता ही था.

अब मुझे चुदाई का मन कर रहा था लेकिन आलिया सो रही थी, इसलिए मैंने आलिया को उठाया. ये थी मेरी टीचर की चुदाई कहानी … मुझे उम्मीद है कि आप सबके लंड का पानी तो निकल ही गया होगा और अगर नहीं निकला है तो जाकर निकाल जरूर दोगे. राज! आज की रात मुझे ऐसे प्यार करो कि आप का अंश मेरी कोख में पैर पसार ले.

मैंने उसको अपनी जीन्स की जिप खोलने के लिए कहा तो उसने जिप भी खोल दी. बातों ही बातों में मैंने भाई के सामने ही उस बोटिंग ड्राइवर से गांड मरवाने वाली बात बता दी. मैंने नाचते हुए हसन की ब्रीफ की ओर देखा, तो उसका आधा लंड बाहर आ गया था और उसका गुलाबी गेंद के आकार का सुपारा मुँह चिढ़ा रहा था.

मैंने इस बार प्रियंका को उसकी बाजू से पकड़ कर अपने पास खींचा, बोला- साली इधर आ … तू ही रह गयी अब मेरे लंड से चुदने से!वो तुरंत बोली- मैं तो रोज़ आपसे ही ठुकती हूँ डियर, अब रेस्ट करो सभी!मोनू कहने लगा- देख लो यार … रेस्ट करना है तो कर लो. वापस आते हुए हमें तनु ने देख लिया तो मेरी फट गयी कि अब पता नहीं ये क्या बोलेगी.

खाने के बर्तन धो दिए हैं और फिर जब प्यार किया तो डरना क्या!राजन ने ममता का तौलिया खींच दिया.

मीना बोली- इससे मुझे क्या मिलेगा?कुणाल बोला- इतना बड़ा बिजनेस दे रहा हूँ. सुहागरात वाली सेक्सी पिक्चर दिखाओमगर वो मैनेजर कहने लगा कि बाप बेटी की चुदाई तो मैं पहली बार देख रहा हूं. मां का सेक्सी पिक्चरअब शादी के बाद उसे ऐसा मरदूद पति मिला जिसे पीने से ही फुर्सत नहीं तो वो उसे क्या चोदता. फिर से मैंने अपना लंड प्रतीक्षा की चूत बिना निकाले पूरा बाहर खींच लिया और एक और जोरदार धक्के के साथ अपना लंड प्रतीक्षा की चूत में पेल दिया तो मुझे महसूस हुआ कि मेरे पोते प्रतीक्षा की गांड वाले छेद से टकरा रहे थे.

चल आ जा ज़रा मुँह में लंड लेकर इसे खड़ा कर ना!दीदी फिर से भैया का लंड चूसने लगी.

तब मुझे पता चला कि रेनू सच बोल रही थी क्योंकि वह अभी कमसिन कली थी, उसकी चूत बिनचुदी थी, सीलबंद थी. प्रियंका थोड़ा आगे बढ़ कर ध्यान से देख रही थी जैसे वो भी ऐसा करने की तमन्ना रखती हो. नीतू भी आकर मेरी बगल में बैठ गयी और मुझसे बोली- तो अब क्या क्या करने का इरादा है जनाब का?मैं बोला- आज की रात सब कुछ तुम्हारी मर्जी से होगा.

तब मैंने उनको नीचे लिटा दिया और लंड को चाची की चूत में डाल दिया और उन्होंने अपने पैर मेरी पीठ पर लपेट दिए थे, अपने हाथों से मुझे जकड़ लिया था, मेरे हर शॉट के साथ वो भी ऊपर नीचे हो रही थी. मैं शर्म और डर से गड़ी जा रही थी कि अब क्या करेगी ये औरत? क्या पूरे गांव में बदनामी हो जाएगी?पर उसने मुझसे अपनी साड़ी उठाने को कहा. मेरे लौड़े से भी इतनी उतेजना बर्दाश्त नहीं हुई और साथ ही मेरे लौड़े ने पिचकारी छोड़ दी.

मोटी गांड वाला सेक्सी वीडियो

परमीत मुझे चाटते हुए जब चूत तक पहुंची, तो उसने चूत में पूरा मुँह लगा दिया. मोटर बोट की स्पीड काफी तेज थी और मेरे बाल उड़ कर उसके चेहरे पर लग रहे थे. सीमा ने सतीश का इशारा समझ लिया और और वो थोड़ा पीछे को हो गयी मेरा लंड सीमा की गांड के अंदर ही था.

लड़का- फिर क्या हुआ?लड़की- देर तक रगड़ती रही, फिर पता नहीं क्या हुआ … मेरे नीचे से सफेद सा कुछ निकला, फिर थकावट लगी और नींद आ गई.

वह बोली- अमित मैं अपनी ही बेवकूफी के कारण तुम्हारी दुल्हन नहीं बन पाई.

थोड़ी देर बाद जब उसका दर्द कम हुआ, तो मैं धीरे धीरे लंड चुत में अन्दर बाहर करने लगा. तो मैंने सरीना की गांड से लन्ड निकाला और नीलू की टांग पकड़कर उसे उल्टा कर दिया और घोड़ी बना दिया और उसे गांड फैलाने को कहा. सेक्सी सेक्सी ओपन फिल्मएकदम सधी हुई किसी पर्वत चोटियों के समान कड़ी हुई चूचियां बेहद कामुक लग रही थीं.

वो थोड़ा टपोरी टाइप था, या फिर यूं कहें कि गुंडा टाइप का इन्सान था. मैं संजू के ऊपर से हट गया और संजू से पूछा- कैसा लग रहा है?वो आंखें मूंदे ही बोली- आह … एक नया अनुभव और नया अहसास हो रहा है. हमने नंबर एक्सचेंज किये और एक दूसरे को अलविदा कह कर वहां से चले गये.

मेरा मतलब ये कि मैं उसे उसकी तरफ से निमन्त्रण मिलने पर ही भग्न चाहता था. हम सबने उससे कहा- वाहह रे, तू तो अब तबीयत का बहाना बना के छुट्टी भी लेने लगी है.

फिर तेरे जीजा ने तीन दिन पहले जो तेरी फोटो दिखाई थी उसमें तू नॉर्मल दिख रही थी लेकिन आज जब तुझे रियल में देखा है तो हमसे रहा न गया.

सिल्क- संदीप, आज जो कुछ भी हुआ उससे पहली बार मुझे ऐसा लगा कि मैं किसी अपने के साथ हूँ. शीला की अब समझ में आया कि क्यों कल ही मेमसाब ने अपनी चूत उससे साफ़ करवाई थी. मैंने अपने पैर सेट किये और उसकी दोनों टांगें अपने कंधो पे रख कर अपना लण्ड निकाल कर उसकी चूत और लण्ड को पौंछा और एक झटके में उसकी चूत में डाल दिया.

गांव के साथ सेक्सी वीडियो रोजी की छाती तेजी से ऊपर नीचे हो रही थी।मैंने एक हाथ उसकी पीठ पर ले जाकर उसके कुर्ते की चेन खोल दी. मैंने कहा- तो फिर बाहर देख कर आओ … सब सो गए क्या … या नहीं … और आते समय कुण्डी लगा कर आना.

वो एकदम से बिलबिला कर हाथ पैर फेंकने लगी- आह … अमित अब कुछ कर … रहा नहीं जाता … आह तूने ये क्या कर दिया … उई माँ. इस लड़की का पहले मेल आया- चूतनिवास जी, मैं आपकी कहानी पढ़ के आपकी चुदाई के स्टाइल से बहुत प्रभावित हुई हूँ, इसलिए मैंने आपकी इसके पहले छपी हुई सभी कहानियां भी पढ़ लीं. मैंने उनकी साड़ी को ऊपर किया, तो वो गुस्सा हो गईं और बोलीं- जो करना है … ऊपर से ही कर लो … और शांति से करो.

सेक्सी भाई बहन का प्यार

ममता ने प्रकाश से कहा- चलो चेंज कर लो, थोड़ी देर सोते हैं, कल तो छुट्टी है. फिर सुहास ने मेरी पैंटी की डोरी भी पकड़ कर खींच दी और पैंटी भी मेरी बात न सुनते हुए नीचे गिर गयी. ऐसा कर तू संजय के पास चली जा और हम दूसरे दिन तेरा बर्थडे सेलिब्रेट कर लेंगे.

मैंने आरती से पूछा- तुम्हें मैं पसंद आ गया क्या जो मेरे से इस तरह चिपक रही थी?पहले तो उसने कुछ जवाब नहीं दिया, फिर वो बोली- हां. संजू ने मुझे पास बुलाया और बोली- आप बहुत दिन से इसकी फिराक में थे … अब आ जाइए ना.

अब आप बोलो कि अगर आप मुझे आधे घंटे का टाइम दो तो, तो मैं फटाफट नीचे से कुछ सामान लाकर आपको ड्रिंक के साथ कुछ नाश्ता देती हूँ और फिर रात को गरमा गर्म खाना.

एक दिन मनोज और कविता घर पर नहीं थे तो आंटी ने मुझे बुलाया और सारी बात बताई. दोस्तो, मेरा नाम इमरान खान है और मैं देश की राजधानी दिल्ली के पास हरियाणा के एक शहर फरीदाबाद का रहने वाला हूँ. अब मैं भी उन दोनों के बीच में जाकर लेट गयी और दिव्या की चुदाई देखने लगी.

मैं- अगर तुम जीतना चाहती हो, तो जीत सकती हो … लेकिन इसके लिए तुम्हें मुझे कुछ देना पड़ेगा. जब ये बात उस लड़की तो पता चली कि प्रियंका मेरी गर्लफ्रेंड है, तो वो भी मुझे छोड़कर चली गयी. अचानक एक दिन मेरी माँ का फ़ोन आया और उन्होंने एक शादी में शामिल होने के लिए मुझे कुछ दिनों के लिए मायके बुलाया।शाम को जब पति आये तो मैंने उन्हें ये बात बताई.

नीरज- वो इसलिए जीजा जी क्योंकि जब मैंने आपकी बहन की गांड मारने की कोशिश की, तो उसने दर्द के मारे मना कर दिया.

बिहारी सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ: वो आह हहह उहह हह उई की आवाज़ निकाल रही थी मगर लगातार वो अक्षय के लंड को देख रही थी और मैं नंगी पड़ी सरीना को!मैंने नीलू से पूछा- अक्षय से भी चुदने के मन है क्या?तो वो बस मुस्कुरा दी. जब मेरी चूत का दर्द कुछ कम हुआ, तो मैं उचक उचक कर अपने बाप का लंड घपाघप लेने लगी थी.

स्वीटी आंटी ने शरमाते और मुस्कुराते हुए बोला कि बस बस … बहुत हो गई मेरी तारीफ. राहुल ने तो बमुश्किल ही कुछ लिया, वो तो बहक रहा था और जल्दी ही अपने रूम में चला गया. पहले तो वो लड़की मुझे बहुत सीधी लगी लेकिन बाद में मुझे जैसे जैसे ज्यादा टाइम बीतता गया मुझे ऑफिस के बाकी लोगों से उसके बारे में बहुत कुछ पता चलने लगा कि वो बहुत ज्यादा चालू किस्म की लड़की थी.

अंशी मुझे गालियाँ देने लगी- साले बहुत मजा आ रहा है तुझे … जब तेरी गांड में मूसल जाएगा, तब तुझे मालूम पड़ेगा कि गांड का दर्द क्या होता है.

अब तक उसका लंड 9 इंच का हो गया था और लंबा रॉड की तरह कड़क ही गया था. सिल्क- संदीप, आज जो कुछ भी हुआ उससे पहली बार मुझे ऐसा लगा कि मैं किसी अपने के साथ हूँ. ‘अह्ह …’ की आवाज करके मेरी तरफ देख के मुंह बना लिया। मैंने शायद इस बार तेज़ चूँटी काट ली थी इसलिए वो खुद अपने पेट पे सहलाने लगी।मैंने कहा- ज्यादा तेज़ काट ली क्या?और कह के उसके पेट पे सहलाने लगा।उसने अपना हाथ हटा लिया, मैं उसके पेट पे आगे भी सहलाने लगा.