मुसलमानी का सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी व्हिडिओ साडीवाली सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

वीडियो मे बीएफ सेक्सी: मुसलमानी का सेक्सी बीएफ, अपने बन्दों की नुमाइश के लिए कभी गुलफाम कली उनके पास भी जाती तब वे लोग उसकी चूचियों को ऊपर से ही दबा कर आनन्द प्राप्त कर लेते थे.

सेक्सी वीडियो एक्स एक्स एक्स चुदाई

अभी तक सेक्सी चुत की स्टोरी में आपने पढ़ा कि स्नेहा जैन पूरी नंगी मेरे सामने पूरी नंगी हो गई है और अपने दोनों हाथों से चुत के द्वार खोले लेटी है. आंटी का वीडियो सेक्सएक रात राधा चुत सहला रही थी और मैं बाहर खड़ा उसे देख कर मुठ मार रहा था, तभी मेरे पैर पर किसी जानवर ने काटा और मैं जोर से चिल्ला दिया। बस राधा की नज़र सीधे खिड़की पर गई और उसने मुझे देख लिया तो मैं जल्दी से वहां से भाग गया।थोड़ी देर बाद राधा मेरे कमरे में आई और मेरे पास आकर बैठ गई।मैं कुछ कहता, इतने में वो रोने लगी।राजू- अरे आप रो मत.

मैंने भी आंटी को अपनी ओर खींच कर उनके बूब्स को ब्लाउज के ऊपर से मुंह में भर लिया. बीएफ पिक्चर एचडीलेकिन एक दिन मैंने देखा कि उनके घर की लाइटें बंद थीं और भाभी बहुत परेशान सी खिड़की के पास बहुत देर तक खड़ी रहीं.

उसके दोस्त ने मुझे लिटा दिया और अपने लंड को मेरी चुत पर रख कर अन्दर पेल दिया.मुसलमानी का सेक्सी बीएफ: हर बार चुदाई में मामा जी एक अलग सा अहसास दिला रहे थेमैं गर्म हो गयी थी, मेरी चूत से पानी निकलने लगा था, मैं बड़बड़ाने सी लगी थी- मामा जी, जल्दी से चोदिये, अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

मैंने ध्यान लगा कर देखा, तो ये तो मौसी थी, जो मेरे लुल्ले को अपने मुँह में लेकर चूस रही थी, और मेरी छाती के दोनों निप्पल को अपनी उंगली और अंगूठे से मसल रही थी.इतने में संदीप नशे में बोला- अरे राजू… उंगलियों से ही चोदेगा क्या इसको?सुन कर राजू बोला- थोड़े मजे तो लेने दे इसकी गांड के!संदीप बोला- अंदर डाल कर देख और फिर बता मज़ा आया या नहीं!इतना सुनते ही राजू ने अपना लंड मेरी गांड के छेद पर लगाया और टोपा अंदर फंसाते हुए लंड धीरे-धीरे अंदर डालने लगा.

बीएफ पिक्चर अंग्रेजों की - मुसलमानी का सेक्सी बीएफ

हम ऐसे कैसे जाएँगे?काका ने उसको बता दिया कि आज कोई उठने वाला नहीं, फिर वो राधा को पकड़कर आराम से ले गया। इधर मोना और राजू अपने काम में लग गए थे।दोस्तो मज़ा आ रहा है ना.मैंने भी आकाश को नहीं रोका, मैं तो कब किसी बाहर वाले से चुदने को तैयार थी.

जब उससे सहा नहीं गया तो उसने लपक कर पीटर का लंड अपने मुँह में ले लिया और किसी आइस क्रीम की तरह चूसने लगी. मुसलमानी का सेक्सी बीएफ अगर तुम चाहो तो?पूजा- वो कभी भी नहीं तैयार होगा इस पागलपन के लिए… ये सिर्फ मेरे मन के विचार हैं और कुछ नहीं इन्हें ज्यादा गंभीरता से मत लो.

तू बात को समझती क्यों नहीं?गुलशन- अरे क्या बातें हो रही हैं माँ-बेटी में.

मुसलमानी का सेक्सी बीएफ?

आज इसके दिमाग़ में सेक्स चढ़ गया था, जिससे इसके छोटे निप्पल तन कर बाहर निकल आए थे और चूत आग की भट्टी बनी हुई थी. ऐसा लग रहा था जैसे मेरा लंड उसकी चूत की सिलाई को ही फाड़ कर रख देगा. देख के मुझे तो कोई ख़ास आनन्द नहीं आया बल्कि गुस्सा आया कि जितने उत्साह से वो फरीद को चोद रहा है, वो उत्साह मुझे चोदने के टाइम कहाँ चला जाता है!खैर!जो टाइम फिक्स हुआ था सही उस वक़्त राजे आ गया.

सुमन- क्या दीदी जब मॉंटी के साथ मैंने ये सब कर लिया, तो अब मैं कुछ भी कर सकती हूँ और वैसे भी मैंने आपको बताया नहीं कि आज पापा ने मुझे कैसा सरप्राइज दिया है. जैसे ही उसने मुंह मेरी तरफ किया, वो मेरे इतनी करीब आ गई कि हमारी सांसें आपस में टकरा रही थी. मैंने अपने दोनों हाथों से उसके चूतड़ों को फैला कर उसकी गांड के छेद को चौड़ा कर दिया और अपनी एक उंगली को अपने थूक से गीला करा कर उसकी गांड में धकेलने की कोशिश करने लगा.

आपको मेरी हेल्प करनी होगी अगर गोपाल को बचाना हो तो!सुधीर- अब सब्र का बाँध टूट रहा है. सब मज़े से बियर गटक रहे थे।संजय ने अजय को इशारा किया कि वो प्लान को शुरू करे।अजय- अरे यार सब ऐसे चुप क्यों हो. दूसरे दिन मेरे पास किसी मेडीसिन का स्टॉक लेने आई तो मैंने उससे उस बात के लिए सॉरी कहा.

हम दोनों एक साथ झटका लगाते और फूफा जी का लंड मेरी चूत में जड़ तक घुस जाता. इस समय मुझे बहुत तकलीफ हो रही थी शायद क्योंकि इतना भारी पीस मेरे जाँघों पर चढ़ा था लेकिन सेक्स और किस के नशे में कुछ पता नहीं चल रहा था, हम बेतहाशा चूमे जा रहे थे.

मैंने पहले सीडी चैक की, वो सब ब्लू फ़िल्म थी, देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया.

वो वहाँ से मुझे अपने घर ले गई, वहाँ उनके घर की एक नौकरानी भी थी, थोड़ी अधिक उम्र थी उस नौकरानी की… करीब 50 होगी.

अब उसकी शादी तय हो गई है… हम कभी-कभी मिलते हैं, पर चुदाई वगैरह कुछ नहीं होता है. तो यहाँ से भी अंकल आंटी और काम वाली बाई सब साथ गए हैं। मैंने कहा मुझे मामू के साथ खेलना है तो मैं यहीं रुक गई।संजय- और आर्यन नहीं रुका ऐसे तो वो मुझसे बहुत चिपकता है?पूजा- उसने तो बहुत ज़िद की मगर उसको बुखार है ना. गाड़ी को पार्किंग में लगा कर हम दोनों रेस्तरां के बाहर ही एक एक कोक की बोतल लेकर बैठ गए और बातें करने लगे.

लगभग 15 मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद पूजा ठंडी हो गई मगर संजय तो दूर-दूर तक झड़ने के करीब नहीं था. मेरी मामी की उम्र 30 साल है और क्या लगती हैं वो… उनका फिगर 34-32-36 का है. पूजा- हाँ मामू मैंने भी गौर किया ये… और मेरे स्कूल के लड़के भी मुझे अब घूरने लगे हैं, पता है एक क्या बोला?संजय- क्या बोला बता तो मुझे भी?पूजा- वो बोला देख तो यार दिन पे दिन ये तो खिलती ही जा रही है.

आज मुझे देख कर तेरा मन बदल गया है और इसलिए तू ये नाटक चोद रहा है हरामी.

इसके बाद मैं थोड़ा सा पीछे की ओर झुक गई, जिससे मेरी चूत निखर कर सामने आ गई और उसमें बड़ी आसानी से गौरव ने अपना लंड डाल लिया।मेरे मुंह में विकास का लंड था क्योंकि अगर मैं चूसने से मना करती तो वो कमीना अपने हब्शी लंड से मेरी गांड फाड़ देता जिसके लिए मैंने साफ मना कर दिया था।अब मैं उहह आहहह ओहहह जैसी आवाजों कामुक आवाजों के साथ चुदने लगी. मेरे मुंह में भी पानी आने लगा… और लंड में भी… मैं जल्दी से अपने लंड को झटके देने लगा और आखिर मैंने भी कुछ लम्बी धार अपनी अलमारी के अन्दर मार दी. नेवली खुर्द के मेन रोड तक पहुंचने के बाद मैं जाखोद खेड़ा की तरफ जा रहे हाइवे की तरफ चल पड़ा.

इसी मौके का फायदा उठा कर टीना ने पासा फेंका जो निशाने पे लगा।टीना- कहाँ से लाया है ये बियर. बेहद भारी थी मौसी!उसके पिचके से चूतड़ और पतली सूखी बेजान सी टाँगें मेरे ऊपर थी. अब यही आगे की पढ़ाई करेगी, तो उसके पापा उसको सरप्राइज देना चाहते हैं। बस उन्होंने मुझे ये काम सौंप दिया और मैं तुझे यहाँ ले आया हूँ।सुमन- पापा मेरी तो कुछ भी समझ नहीं आ रहा, आपके दोस्त की बेटी लन्दन से यहाँ आई तो मेरा उसमें क्या काम?गुलशन- अरे मेरी भोली सुमन.

जो सोया हुआ था। मैंने अंदाज लगाया कि करीब 8 इंच का होगा। मैंने अन्दर जाने से पहले गिरने का नाटक किया और मेरे हाथ ने सीधे उनके लंड को पकड़ लिया.

हम 69 अवस्था में आ गए, चाची लंड चूसने में उस्ताद थीं, वो लंड ऐसे चूस रही थीं जैसे लंड को पी रही हों और इधर मैं भी जहाँ तक मुझे पता था वो ही कर रहा था. क्या कमाल की लड़की है, साला रोहन कितना लक्की है!’ ये सब वे कहते रहे.

मुसलमानी का सेक्सी बीएफ शायद फूफा जी को पता नहीं था कि उनकी बगल में मैं हूँ, नहीं तो वो मेरे कंधे को नहीं सीधा मेरे चूचे पकड़ते. अब मैं जमीला की चूत चूसते हुए एक हाथ से उसके मम्मे दबा रहा था और एक हाथ से सबीना की चूत सहला रहा था.

मुसलमानी का सेक्सी बीएफ तो चुदाई करने का कम मौका मिलता है।दोस्तो, मेरी मामी की चुत की चुदाई की कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करें।[emailprotected]. पसीने से भीग रही माला हाँफते हुए बोली- बस, मैं थक गई हूँ और नहीं कर सकती.

मेरे मेसेज करने के बाद लगभग 20 मिनट तक न उसका कोई मेसेज आया और न ही वो आई.

हिंदी में बातें करने वाली सेक्सी वीडियो

मैंने कहा- पहले तुम सब कर आओ, फिर मैं जाऊंगा।सबने हाँ भर दी।अब सबसे पहले खुद राकेश गया और बाहर आकर उस रंडी की, उसकी चूत की, उसके बदन की तारीफ करने लगा।फिर नदीम और फिर अंकित सब चुदाई करके आ चुके थे. उसके बाद भी उसकी आग न बुझी तो कुत्ते ने नहाने के फ़ौरन बाद ही एक बार फिर से चोद डाला. फ्लॉरा बेचारी क्या जाने कि उसका भाई उसे किस इरादे से गोली दे रहा है.

मैं कुछ कहता इस पहले ही वो आगे को बढ़ी और मेरे लोअर को नीचे को खींचने लगी. इसी कारण से उसने मुझे बीच में ही रोक दिया, इसलिए मैं उस दिन झड़ ही नहीं पाया. तो तुझे पता नहीं था। अब तू बड़ी हो गई है तब मज़ा आ रहा है और जोर से करूँ तो और मज़ा आएगा तुझे।पूजा- आह.

पहले चुत को चोद।सौरभ- ले रंडी और अन्दर ले मादरचोदी।सोनी- हाँ पेल दे मादरचोद चोद मेरी चुत को.

तो थानेदार के साथ सोना पड़ेगा, नहीं तो तेरे पति की वो धुलाई करेंगे कि जिंदगी भर तुझे चोद नहीं पाएगा. जब मैंने चूत पे हाथ डाला तो सारा रस सुख गया था और मेरी चूत में चिपचिपाहट सी लग रही थी. रास्ते भर हम अपने इस नए ‘बिज़नेस’ के बारे में बातें करते रहे कि कैसे ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाए जाएँ.

आपको भी ये उतारनी पड़ेंगी।मैंने कहा- ठीक है… मैं भी उतार देती हूँ!और इतना बोलकर मैंने अपनी ब्रा का हुक खोलकर उसे नीचे गिरा दिया और फिर अपनी उंगलियों से खींचकर पैंटी को भी उतार दिया. यसस्स्स फक मी हार्डर और तेज चोदो!मैंने लंड बाहर निकाल कर दुबारा से जीभ डाल कर गांड को चूसने लगा. ’ कुछ ही देर बाद वो बोली और मिसमिसा कर अपनी उंगलियाँ मेरे कंधे में गड़ा दीं और झड़ने लगी.

नीतू पहले जहाँ खड़ी थी, अब भी वहीं खड़ी रही, जिसे देख कर मोना को उस पर बड़ा प्यार आया और वो उसके पास जाकर बैठ गई. फिर 4 राहुल की में मार के चोदता।अब मेरा टाइम भी होने वाला था। मैंने राहुल को तेजी से चोदना शुरू किया.

सबीना भी अपनी गांड ऊपर उठा उठा कर रफीक को जोश दिला रही थी और सबीना मजे भी ले रही थी. पीटर ने जैसे रिया को नीचे सरकाया तो रिया की चुत पीटर के मुँह के पास आ गयी और उसका तना हुआ हलब्बी लंड रिया के मुँह के पास आ गया. मैं अपना मोबाइल रख जाऊंगा जिसमें तुम लोगों की चुदाई रिकॉर्ड करनी है तुमको, जिससे मैं वापस आकर देख सकूँ कि कैसे चोदा तुमने और बिमलेश को कितना मजा आया चुदवाने में!मैंने कहा- ठीक है!फिर हिम्मत बोला- यदि बाद में बिमलेश मान गई तो रात को तेरे कमरे में भेज दूँगा, तुम दरवाजा बंद मत करना, मैं पर्दे के पीछे से तुम लोगों की चुदाई देखूँगा।मैंने कहा- जैसी आपकी मर्जी!कहानी जारी रहेगी.

कुछ मिनट लंड चुसवाने के बाद मैंने उसे एक बड़ी पेटी पर बिठाया और उसकी टाँग अपने कंधों पर रख कर अपना लंड उसकी चूत में घुसाने की कोशिश करने लगा.

मैं उसकी इस बात पर हंस दी और उसे प्यार से एक थप्पड़ मारकर सोने चली गई. माँ ने कहा- अशोक, कहाँ जा रहा है?मैंने कहा- माँ चाची को सूई देना है, बस दे के आ जाता हूँ. जैसा मैंने बताया कि मेरा कोई दोस्त नहीं है तो मैं वहां भी एक टेबल पर अकेला ही बैठता था, अकेला ही आता जाता और सिर झुकाकर चलता था.

दोस्तो क्या माल थी वो… एकदम गदराया हुआ बदन, उसके बूब्स तो इतने मस्त थे कि मन कर रहा था कि अभी जाकर उन्हें मुँह में भर लूँ! उसका फिगर शायद 32-28-30 का होगा. वैसे घर कब तक अपने अंडर में है?संजय- जब तक सारा काम नहीं निपट जाता तब तक तो है.

भाभी और मैं एक-दूसरे को गाँव से ही पहचानते थे और मजाक किया करते थे, लेकिन गाँव में बातें सिर्फ हल्के-फुल्के मजाक तक होती थीं. मैंने उसकी साड़ी का पल्लू नीचे गिरा दिया और पहले उसके होंठ आराम से चूसे. एक दिन की बात है मैं और मेरा दोस्त रात को सिनेमा देखने पणजी गए थे और आते वक्त रात के 11:00 बज रहे थे.

सोनाली बेंद्रे की सेक्सी मूवी

रात के करीब 11 बज गए थे, इस वक़्त तक हमें एक भी ऐसी लड़की नहीं देखी जो नशे में धुत्त अकेली बाहर निकली हो.

उसके मेरे संबंधों के विषय में विस्तार से जानने के लिए अन्तर्वासना में छपी मेरी दो कहानियाँ पढ़ लें. बहुत देर बाद हम दोनों ने पानी छोड़ा जिसमें उनका पानी मुझसे दो मिनट पहले छूट गया।फिर क्या था… हमें जब भी टाइम मिलता था और जब भी मूड होता… हम शुरू हो जाते थे. लगभग 10 मिनट तक जोर-जोर से शॉट मारकर मैं एकदम से उसकी चुत में खाली हो गया.

मुझे मालूम था कि अगर कोई दूसरी चूत मिल जाए और वो भी मेरी इजाज़त से, तो कमीना चोदे बिना रहेगा नहीं!सुमित बोला- ठीक है तू पूछ ले उस रंडी से!इस वार्तालाप से उत्तेजित होकर उसने मुझे वहीं बाथरूम में शावर चला के चोद दिया. उन सबकी चुदाई की कहानी फिर कभी लिखूंगा, अभी आप मेरी इस चाची सेक्स स्टोरी पर अपने कमेंट्स कर सकते हैं. ब्लू फिल्म सेक्सी नंगी पिक्चरमैं जमीला की चुचियों में मुँह देकर और जमीला मेरा मस्ताना पकड़ कर सो गए.

थोड़ी देर बाद रिया भी हमारे पास आकर बैठ गई और करीब से हमारी लाइव चुदाई देखने लगी. पीटर किसी जन्म जन्म के भूखे इंसान की तरह, लपड़ लपड़ कर रिया की चुत खाने लगा.

तुझे लंड से प्यार से चुदाई कर खुश कर दूंगा।’‘हां अंकल चोद डालो मुझे. करीब दस मिनट बाद पीटर ने मेरी गांड से लंड निकला और फिर मेरे मुँह में दिया। मैं उसका लंड हिला हिला कर चूस रही थी. इस बार मुरुगन एकदम जंगली हो गए थे और उन्होंने मुझे गालियां देते हुए चोदा.

आदी को बहुत मजा आने लगा, वो कहने लगा- यस प्रमिला भाभी, आज मेरी लंड की भूख को मिटा दो।मैंने कहा- हाँ क्यों नहीं देवर जी, आज आपके लंड की भूख मैं मिटा दूंगी और तुम मेरी चूत की प्यास बुझा देना!आदी ने कहा- हा क्यों नहीं भाभी, आज आप जो बोलोगी, वो मैं करूँगा।मेरे देवर आदी ने मेरा सर पकड़ा और अपने लंड को मेरे मुँह में अंदर बाहर करने लगा. मज़ा आ गया उफ़ कितना अलग टेस्ट है।साहिल की बात सुनकर वीरू और विक्की ने उसको धक्का दिया- साले अकेला ही पिएगा क्या. घर जाकर तेरी आंटी को चोदूँगा, तभी चैन मिलेगा मुझे!’ मैंने कहा और उठ कर खड़ा हो गया.

तब चाची अपने एक हाथ से मेरे बालों को सहलाने लगी और मेरे लिंग को अपनी योनि में ही समेटेने की चाह में दूसरे हाथ से मेरे नितम्बों को नीचे की ओर दबाने लगी.

क्या तुम्हें डर नहीं लगा?’वो मुझे से लगातार पूछ रही थी- बताओ मुझे! क्या तुम्हें ज़रा भी शर्म नहीं महसूस नहीं हुई या पाप का अहसास नहीं हुआ? अपनी बहन को चोदते हुए!!मैंने अपना सिर नीचे झुका लिया और कोई जवाब नहीं दिया. अपने बन्दों की नुमाइश के लिए कभी गुलफाम कली उनके पास भी जाती तब वे लोग उसकी चूचियों को ऊपर से ही दबा कर आनन्द प्राप्त कर लेते थे.

ये सच था चोर ने मेरी जाँघ पर ब्लेड से वार किया था, जिससे मेरी पैन्ट खून से लाल हो गई थी. मैंने जल्दी से बाहर की तरफ देखा कि कहीं ससुर जी देख तो नहीं रहे… मगर वो जा चुके थे. पास जा कर मैं घुटनों के बल हो गयी और रिया के साथ साथ मेरा मुँह भी पीटर के लंड पे चला गया.

पूजा झटपटाने लगी पर ऋतु ने उसके होंठ जकड़े हुए थे तो उसकी सिर्फ गूऊऊओ… गूऊऊऊऊ… की आवाज ही सुनाई दी. कहीं वो डर के भाग ना जाए। उसके सामने तोआप चुत ही चोद लोताकि उसको लगे चुदाई में कितना मज़ा आता है. शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-13अभी तक आपने पढ़ा कि मैं रवि की तलाश में हिसार जा पहुंचा और बस में मिले संदीप की बाइक पर बैठकर रवि के गांव की तरफ जा रहा था.

मुसलमानी का सेक्सी बीएफ सभी ने एक साथ चाकू को पकड़ा और ‘हैप्पी ग्रुप पार्टी’ बोलते हुए केक काटने लगे. जब मैं दीपा के घर अचानक उसे ढूँढते हुए उसके घर चली गई। दोपहर का समय था घर में सुनसान था। मैंने दरवाजा धक्का मारा और अन्दर आ गई.

वीडियो इंग्लिश फिल्म सेक्सी

गोपाल- आह… बहुत अच्छे… हाँ ऐसे ही करो… आह… ओह नीतू तुम सच में बहुत अच्छी हो… तुम्हें एक नहीं… दो आईसक्रीम लेकर दूँगा. और वो लोग मेल न करें जिन्हें कोई जुगाड़ की जरूरत है, मैं कोई दलाल नहीं हूँ. उसके बाद मैंने मामी से कुछ देर तक यौनक्रीड़ा की बातें करी और जब मामी हस्तमैथुन कर के अपने आप को संतुष्ट कर लिया तब मैंने कहा- अच्छा, अब मैं फोन रखता हूँ, जब भी समय तथा मौका मिलेगा आप से बात करता रहूँगा.

मामा जी को समझ आ चुकी थी कि मुझे गांड का छेद चटवाने में मज़ा आ रही है. लेखक: अभिनव गुप्तासंपादक एवम् प्रेषक: सिद्धार्थ वर्माअन्तर्वासना की पाठिकाओं एवम् पाठकों को सिद्धार्थ वर्मा का स्नेह भरा नमस्कार!लगभग तीन माह पहले मुझे अन्तर्वासना के एक पाठक एवम् मेरी रचनाओं के प्रशंसक अभिनव का सन्देश मिला जिसमें उसने उसके जीवन में घटी एक यौन सहवास सम्बन्धी घटना के बारे में बताया. राम रहीम बाबा की कहानीमुझे बड़ा मज़ा आ रहा था। मेरा लंड और भी फूल कर कुप्पा हो गया।कुछ देर बाद मैंने उसे लेटा दिया और उसकी चूत पर अपना मुँह रख दिया। मेरे चूत पर मुँह रखते ही वो एकदम मचलने लगी और उसके मुँह से ‘अह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह माँ मरी अह्ह्ह उह्ह्ह.

मैंने आकाश से कहा- मैं तो मज़ाक कर रही थी यार, तुम सच में पैसे ले आए?आकाश बोला- तुम्हारे लिए ये सब मज़ाक होगा पर मैंने तुम पहले ही कहा था तुम्हारे लिये में कुछ भी कर सकता हूँ.

इस पर मरियम बोली कि उसकी एक बार और लंड को चूत में लेने की इच्छा हो रही है और वो चाहती है कि इस बार भी सुधा साथ रहे. अब तो उसके अन्दर जाकर ही ये शांत होगा।पूजा- मामू ये आप क्या बोल रहे हो.

’‘अच्छा चल जा अन्दर से थाली निकाल ला।’मैं जाते वक्त उनके कच्छे से उनके लंड को देखने लगी. लेखक: अभिनव गुप्तासंपादक एवम् प्रेषक: सिद्धार्थ वर्माअन्तर्वासना की पाठिकाओं एवम् पाठकों को सिद्धार्थ वर्मा का स्नेह भरा नमस्कार!लगभग तीन माह पहले मुझे अन्तर्वासना के एक पाठक एवम् मेरी रचनाओं के प्रशंसक अभिनव का सन्देश मिला जिसमें उसने उसके जीवन में घटी एक यौन सहवास सम्बन्धी घटना के बारे में बताया. मैडम ने मुझसे मुरुगन को हर प्रकार की यौन संतुष्टि देने के लिए कहा और ये भी कहा कि पूरी ट्रिप में मुझे मुरुगन की बीवी बन कर रहना होगा.

जिसमें घुसकर तूफ़ान मचा दे।आखिरकार जब कोई नहीं मिला और सब जगह से निराश हो गया तो एक ही उम्मीद थी और वो नामी जगह नेहरू पार्क थी।मैं रात को 9:00 बजे वहाँ पहुँचा और पार्किंग के वहां एक मंदिर के उधर थोड़ा अँधेरे में मेरी सिल्वर बाइक खड़ी करके मैं उस पर बैठ कर चैट करते हुए इन्तजार करने लगा कि कोई मस्त माल आ जाए तो लंड को शान्ति मिले।करीब आधा घंटा हो गया.

मेरा काफी लम्बा और मोटा है, जैसा कि आप लोग जानते हैं कि सभी औरतें लम्बा और मोटा लंड पसंद करती हैं. आबिदा के मम्मी पापा दोनों ही सुबह आठ बजे जॉब पर जाते थे और रात के 8 बजे वापस आते थे क्योंकि दोनों का ऑफिस बहुत दूर था. मोना ने डबल मीनिंग बात कह दी और हंसने लगी, साथ में सुधीर भी हंसने लगा। फिर थोड़ी देर और दोनों इधर-उधर की बातें करने लगे। जब मोना को लगा कि सुधीर उसके रूप के जाल में फँस गया है, तब उसने पासा फेंका।मोना- सुधीर जी अब आप मुझे बताओ कौन लड़की थी जिसके कारण आप दोनों अलग हुए?सुधीर- भाभी मैंने बताया ना.

बीएफ सेक्सी इंडियन भेजोवो रैंगिंग वाली बात तुम सीनियर्स की कैटेगरी में आती हो।फ्लॉरा- ओह कोई बात नहीं. ले संभाल मेरे मूसल को।इतना कहकर काका ने लंड चुत पे टिकाया और जोर का झटका मार दिया.

सेक्सी वीडियो फुल ओपन हिंदी

मौसी अब भी मेरी बगल में नंगी लेटी थी, मुझसे बोली- ऐसा कर इसे हवा लगवा, फिर जल्दी ठीक हो जाएगा. धीरे धीरे उसकी गर्दन और उसकी चूचियों को कपड़ों के ऊपर से ही चाटने लगा था. मुझे बहुत मजा आ रहा है… ओह भाई तुम कितना मजा दे रहे हो, ओहहह… चाटो… मेरी जान मेरे कुत्ते मेरे हरामी बालम!उससे मैंने कहा- आज तू मुझको जब तक गन्दी-गन्दी गालियाँ न बकने लगे, तब तक तेरी बुर को चचोरता रहूँगा साली.

अब चलो मैं राधा को नीचे ले जाता हूँ तुम दोनों ये खराब चादर वो सामने जो अनाज का कमरा है. मैंने मामा से पूछा- आज इतनी बड़ा क्यों दिख रहा है आपका लंड, और कैसे घुसेगा मेरी चूत में?तो मामा बोले- मॉर्निंग टाइम है ना इसलिए इस टाइम में सबसे ज्यादा रस भरा होता है इसलिये लंड ज़्यादा तना हुआ और खड़ा और मोटा लंबा होता है, किसी ना किसी तरह से घुसा दूँगा. मेरी चूत से खून की पिचकारी फूट पड़ी और मुझे बहुत तेज दर्द होने लगा.

साला सुड़क सुड़क भी किये जा रहा था और जीभ से चूत की दीवारों पर ठोकर भी मारता था. मॉंटी को देख कर सुमन को वो सीन याद आ गया तो वो मुस्कुराने लगी, जिसे देख मॉंटी भी मुस्कुरा दिया. हम साथ साथ एक ही क्लास में पढ़ते थे और एग्जाम टाइम में उसके घर ही पूरी रात रहता था.

मैंने वो पहले से ही खुला छोड़ दिया था तो ऋतु दरवाजा खोलकर अन्दर आ गई उसने गाउन पहन रखा था. वो हैरान था… वो बोलता रहा- अरै के होया… (अरे हुआ क्या)… कुछ बताएगा या ऐसे ही रोता रहेगा?वो बोलता रहा और मैं रोता रहा…फिर उसने अपने मजबूत हाथों से मुझे अपने से अलग किया और पूछा- बावला हो गया के.

मैंने चड्डी पकड़ी, अपना लंड उसकी चूत से निकाला, पहले अपना लंड साफ किया, फिर उसकी चूत.

रूम में उनके कपड़े रखे थे, मैंने उनका ब्लाउज और पेटीकोट उठाया और सूंघने लगा, उनमें से खुशबू आ रही थी. ब्लू फिल्म डॉग ब्लू फिल्मक्यों ना आज उसको बुला कर हम साथ में मज़ा लें?मेरी बात सुनते ही भाई ने झट से ‘हाँ’ बोल दिया।मैंने उससे कहा- तो चल तुझे अपनी तरह तैयार करती हूँ।मैंने उसको पूरा माल किस्म की लौंडिया जैसा तैयार किया, फिर उस डिलीवरी बॉय को कॉल करके आने को कह दिया।कुछ टाइम बाद डोरबेल बज़ी तो मैंने झट से भाई से कहा- तू साइड में छुप कर देख. इंडियन सेक्सी xxxउसमें अभी वक़्त है, तू जल्दी ठीक हो जा बस।काका- अरे क्या बातें हो रही हैं. फिर उन्होंने मेरे लंड को पकड़ कर कहा- अशोक, अब मत तड़पा, जल्दी से घुसा दे, अपने मोटा लंड मेरी चूत में.

तुम्हारा पढ़ाई में मन नहीं लगता है और तुम इधर-उधर की बातों में ही दिमाग लगाए रहते हो.

हम सोच रहे थे कि जाने से पहले कैसे ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाए जाएँ. मेरा मन तो कर रहा था कि मैं जाकर मेरी बहन की चुत में अपना लंड डाल के खूब चोदूँ. वो वैसे ही मुझे पकड़ कर उठ गया और मुझे हवा में उठा लिया दोनों हाथों से… मेरे पैर उसकी कमर पर लिपटे हुए थे और हाथ गर्दन पे लिपटे थे.

दोस्तो, मैं आपको बता दूँ कि चोदने का असली मजा तो शादीशुदा औरतों को चोदने में ही है क्योंकि उनका शरीर और मम्मे पूरे भरे जाते हैं. कभी झाड़ू लगाने के बहाने मेरे पास आकर झुकती और मुझे उसका क्लीवेज साफ दिखाई देता. इसमें सुमन का वो वीडियो भी है जब वो पूरी नंगी होकर मॉंटी के साथ मज़े ले रही थी.

लेटेस्ट हिंदी सेक्सी वीडियो

फिर मैंने पूजा को लेटाया, उसके ऊपर आया, उसके दोनों पैर अपने कंधे पर रखे और अपने लंड को उसकी चूत में सेट करके जोर से धक्का दिया, पूरा लंड एक बार में चूत में घुसता हुआ बच्चेदानी से टकरा गया. दोस्तो फ्लॉरा चेंज कर रही थी मगर जॉय के रिमोट के चक्कर में वो सिर्फ़ ब्रा-पेंटी में बाहर आ गई थी. मैं पटना से गाँव के लिए बस लेने के लिए बस स्टॉप पर आ कर खड़ा हो गया.

रफीक को मैंने मेरी इसी पोजीशन पर खड़े मस्ताना पर कंडोम चढ़ा कर मेरे मस्ताना पर बैठने को कहा अब रफीक ने कंडोम मेरे मस्ताना पर चढ़ाया और मैंने रफीक की गांड में कोल्ड क्रीम भरी जिसको रफीक ने गांड ढीली करवा कर भरवा ली और फिर रफीक मेरी टांगों के दोनों तरफ पैर रख कर मेरे कंधों पर हाथ रख कर मस्ताना पर बैठने लगा.

जिस पर एक दारू की बोतल रखी थी और कुछ नमकीन और ड्राई फ्रूट्स रखे थे।उसने मुझे एकदम पास बैठने को कहा और मेरे कंधे पर हाथ रख दिया।मैं रोने लगी कि प्लीज मुझे छोड़ दो।वो बोला- थोड़ी देर के बाद तू बोलेगी मुझे चोद दो।मैं चुपचाप उसे देखती रही।वो हँसने लगा और बोला- मैंने इस जग़ह पर कईयों को पेला है, ये काली औरत जो तू तुझे लाई है.

वो तब तक नहीं रुकी जब तक मेरा सात इंच का लंड उसके गले से नहीं टकरा गया. सुमित ने खुश होकर कीकू के गाल पर चूम लिया और अपनी पेंट और चड्डी उतारने लगा, झटपट वो बिल्कुल नंगा हो गया, उसका तना हुआ लंड हवा में लहरा रहा था. हिंदी बीएफ वीडियो मूवीतभी जग्गी ने अपने साथी से कहा- आ जा राजबीर, तू भी देख ले एक बार हाथ लगा कर इसके चूतड़!इतना सुनकर राजबीर हंसा और उसके पास आकर मेरी गांड को दोनों हाथों से दबाने लगा… वो बोला- हाय रे… मस्त माल है यो तो!वो दोनों अचानक खड़े हुए और मेरी आँखों के सामने उन्होंने अपनी लोअर नीचे गिरा दी.

संजय- अच्छा ये बात है और सुना कोई लड़का तुझे तंग तो नहीं करता ना?पूजा- नहीं ऐसे तो कोई नहीं करता मगर बस मैं कभी-कभी कोई मुझे पीछे से टच करता है. हाथ लगा के देख!पूजा ने अपनी चुत पर हाथ लगा कर देखा वो भी कामवासना में जल रही थी।पूजा- हाँ मामू, मेरी फुन्नी भी गरम हो रही है मगर ये ऐसे गर्म क्यों है?संजय- अरे भोली गुड़िया जब मेरी फुन्नी और तेरी फुन्नी आपस में मिलती हैं ना. इस वक्त उसने अंडरवियर भी नहीं पहना था तो बरमूडा तन के तंबू बन गया।संजय को पता था उसका लंड बेकाबू हो गया है.

मुझे एक टंच माल चाहिए, जितना भी खर्च लगेगा मैं दूँगा।मेरे पास यही मौका था, मैंने बोला- समझिए कि काम हो गया।वो खुश होकर बोले- क्या?मैंने बोला- एक लड़की है. मेरी बातें आपको भी पसंद आएगी क्योंकि पहला प्यार सबको होता है और सबको याद रहता है।मैं सीधे चुदाई की बात नहीं लिखने आया तो थोड़ा सब्र रखें और अपने सुझाव जरूर साझा करें।[emailprotected]कहानी का अगला भाग:सेक्स स्टोरी नहीं, मेरे किये काण्ड-2.

वो चिहुक उठा… ‘हाँ…और गुसो… अन्दर तक घुसो…’मैंने लंड को उसकी गांड में पूरा घुसा दिया और फिर अन्दर बाहर करने लगी.

मैंने अपना लंड पेट पर लिटा लिया और इसे पकड़े रहा ताकि उछल कर खड़ा न हो जाए. मैंने जाकर दरवाज़ा खोला तो उसने ऊँची आवाज़ में पूछा- मुझे मोना से मिलना है. अब भी ऐसे ही बैठूंगी। आप मेरे प्यारे मामू हो ना।संजय- अरे उस टाइम तू छोटी थी अब मोटी हो गई है हा हा हा हा.

बीएफ सेक्सी फिल्म ब्लू अपनी ननद की शादी की तैयारी में यह भी हमारे विचार विमर्श में कुछ योगदान दे देगी. उस आदमी ने मेरी बहन की गांड में थूक लगाने के बाद अपने लंड पर भी थूक लगा लिया.

माला ने भी मेरे लिंग की त्वचा को पीछे सरका कर लिंग-मुंड को बाहर निकाल लिया और फिर उसके किनारों को अपनी उँगलियों एवम् अंगूठे से सहलाने लगी. मैंने चाची को इशारा करके उनके बारे में पूछा, तो वो हंसने लगीं और मुझे किस करके बोलीं- मेरे कन्हैया. चो…अ…दिए ना?मैंने कहा- डालिंग अब बेचारे इस बूढ़े को भी अपनी चुत का अमृत पिला दो, ये लो ये बूढ़ा तेरी चुत में अपना लंड डाल रहा है।ये कह कर मैंने तुरंत अपना लंड संजना की चुत में डाल लिया।वो जैंसे चिहुँक उठी और लंबी सी ‘इ…स… अअअअ.

गाँव की सेक्सी वीडियो

‘आआअह… इस्स… काटो मत यार… दर्द हो रहा है… आआह… मेरी चूत में आग लगी है… कुछ करो न…!’‘तो गाड़ी रोको और उन पेड़ों के झुण्ड में चलो. और वैसे भी मैं चुदाई करता हुआ नहीं रुकूँगा, हाँ ऐसे ही चूस और टोपे को भी चाट… तुम गोलियों को मस्त चूसते हो एक एक गोली मुँह में लेकर. शायद मेरे बोलने से आपको अच्छा ना लगे, मैं शॉर्ट में बताता हूँ।मोना- सबसे पहले तो आप मुझसे ये भाभी बोलना बंद करो.

माँ की नजर मेरे ही लंड पर थी- ओह…! तुम दोनों एक साथ, पापियो, क्या मैंने तुम्हें यही शिक्षा दी थी, ओह… तुमने मेरा दिमाग़ खराब कर दिया, भाई-बहन हो कर… ये कुकर्म करते हो!मेरा लंड का पानी अभी नहीं निकला था, वो निकलने वाला ही था, अचानक से एक झटके के साथ उसमें से एक तेज धार के साथ पानी निकल गया. मेरा लंड अन्दर-बाहर होता हुआ दीदी की चुत की गहराइयों तक जा-आ रहा था.

वो औरत हल्के से हंसी और बोली- वो लड़की से साथ गया है, अब वो एक डेढ़ घंटे बाद ही बाहर आएगा बाबू!तो इसलिए आपने मेरी हंसी उड़ाई है, मैं समझ गया.

आप अपने विचार मुझे मेल कर सकते हैं, साथ ही इंस्टाग्राम पर भी जोड़ सकते हैं. जो उसे इसके बारे में सही से बता पाएगा। वो तैयार हो गई।उसने अपने घर पर बताया कि उसके अन्दर ही कमी है जोकि थोड़े से इलाज़ के बाद ठीक हो जाएगी। इससे घर में सब लोग खुश हो गए। अगले दिन डॉक्टर ने हमें सब कुछ सही तरीके से समझा दिया कि हमें क्या-क्या करना होगा, जैसे कि वीर्य का चयन. स्मृति की आयु तब साढ़े उन्नीस साल की थी, उसका कद 5’5″ रंग गोरा, वक्ष 32, कमर पतली 26″ के करीब, देखने में श्रद्धा कपूर जैसी है.

बस्सस…’पिंकी सिसक रही थीं उसकी देह इधर उधर हो रही थी, उसकी कच्ची गोलाइयों का रस पीकर मेरी भी आँखें आनन्द से अपने आप मुंदने लगी थीं। मैंने जीभ से एक बार इसके उत्तेजित निप्पल को ऊपर से नीचे तक जोर से चूस लिया ओर फिर उसके कानों के पास होंठ लगा कर हल्के से बोला- ऐ सुन. मेरी नोन वेज स्टोरी में आपने पढ़ा कि मेरा यार हम दोनों सहेलियों का लेस्बियन सेक्स देख रहा था. अब हम बहुत करीब थे। मेरे होंठों से उसके होंठ एक उंगली के दूरी पर थे। मैंने उनके फेस की तरफ अपना फेस आगे बढ़ाया, उनका बर्फ वाला हाथ मेरे छाती पर मुझे पीछे धकेलने लगा, लेकिन मैंने झट से उनको मेरी तरफ खींचा और किस करना शुरू कर दिया। उन्होंने कुछ सेकेंड रिप्लाइ दिया और मुझे जोर से पीछे धकेल कर उठ गईं।‘ये ग़लत है.

नीतू बहुत शर्मा रही थी मगर मोना ऐसे बर्ताव कर रही थी जैसे ये उसका रोज का काम हो.

मुसलमानी का सेक्सी बीएफ: मेरी उत्तेजना का कोई ठिकाना ना था, मैं इसस्सस कर उठी, वासना के मारे आँखें लाल हो गई, मैं बिना नशा किये भी मदहोश होने लगी. मैं सूई देने के बाद कुछ देर तक रुई से सहलाता रहा, फिर चाची से कहा- हो गया.

ऋतु का तो बुरा हाल था, उसने अपने दोनों हाथों से मेरे बाल पकड़ लिए और खुद ही मेरे मुंह को ऊपर नीचे करके उसे नियंत्रित करने लगी. बहुत सारा मज़ा लेना है।संजय- अच्छा फिर कुर्सी को जाने दे तू बिस्तर पर सीधी लेट जा, मैं मेरी फुन्नी को तेरी फुन्नी से अच्छे से मिलाऊंगा तब बहुत ज़्यादा मज़ा आएगा।पूजा बेचारी मज़े की मारी संजय की बातों में आ गई। अब संजय के मज़े थे वो खुल कर मज़ा ले सकता था।संजय ने पूजा के पैर फैलाए और लंड को हाथ से पकड़ कर चुत पर घिसने लगा।पूजा- आह आह मामू सच्ची आह. अब तक की इस चुदाई की कहानी में आपने पढ़ा कि अनिता ने अपनी माँ के दूसरे पति गुलशन के साथ चुदाई करने के लिए अपना मन बना लिया था और इस वक्त वो बिस्तर पर चुदाई के लिए गुलशन जी की अंकशयिनी बनी पड़ी थी.

थोड़े दिन बाद मैं अपने घर चला गया, घर जाने से पहले मामी की खूब चुदाई की.

मेरे भी आनन्द की सीमा न थी मैं भी सिसकार रहा था- हाय मेरी रंडी, तुम्हारी बुर कितनी टाइट और गर्म है, ओह मेरी प्यारी बहन, लो अपनी बुर में मेरे लंड को… ओह ओह. अब उसने अपनी ब्रा पेंटी भी उतार दी, हम दोनों ननद भाभी बिल्कुल नंगे हो गई. !और विशाल की आवाज सुनकर वो जोड़ा हड़बड़ा गया और बिना कपड़ों के ही इधर उधर भागने लगा।यह नजारा देख कर हमारी हंसी रुकने का नाम ही नहीं ले रही थी.