विदेशी वाला बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ फिल्म हिंदी में नंगी

तस्वीर का शीर्षक ,

पजाबी चुत: विदेशी वाला बीएफ, मैंने देर ना करते हुए उनके मुँह को ऊपर किया और होंठों पर चुम्बन कर दिया.

बीएफ सेक्स शॉर्ट

मगर वो लंड पुलकित का था, तो मोहित ने मेरे चूतड़ पर थप्पड़ मारकर कहा- साली, आज तेरी हार्डकोर चुदाई होगी. हिंदी हॉट बीएफ मूवीमैंने मंजू से पूछा कि रोहित ने कौन सी गोली खाई?वह बोली कि उसने वियाग्रा की टैबलेट खा ली है, अब वह रात भर चुदाई करेगा.

और जब वो वापस आयी तो उसके चेहरे पर एक कातिलाना मुस्कुराहट थी, वो बोली- मुझे मॉल में ही तुम्हारे लंड का उभार देख के पता चल गया था कि तुम मेरी बुर लिए बिना नहीं जाओगे. मां और बेटे की हिंदी बीएफये कह कर वो मेरे लंड को सहलाने लगी आर जल्द ही उसने फिर से लंड मुँह में ले लिया.

आप मुझे मेल करने के लिए स्वतंत्र हैं कि आपको यह रोड सेक्स हिंदी कहानी कैसी लगी?दोस्तो, मेरी बीवी अरुणिमा की प्यासी चूत गांड चुदाई की कहानी में मैं आपको आगे का हाल सुनाऊंगा.विदेशी वाला बीएफ: लेकिन अनुष्का का बॉयफ्रेंड बोला- तुझे तो रोज ही चोदता हूँ बाबू, आज मेरे लंड को हबीबा की चूत का रस पिला लेने दे.

मुझे लगा कि दस मिनट बाद वो लोग आ जाएंगे, पर इंतजार करते करते लगभग एक घंटा हो गया, लेकिन वो नहीं आए.वो इंटरनेट चलाने वाली लड़कियों में से थी, तो दुनिया के खेल को समझने लगी थी.

भोजपुरी बीएफ वीडियो फिल्म - विदेशी वाला बीएफ

सुनील बोला- संगीता, मैंने तुम्हें ब्रा पैंटी में देखने का सपना कई बार देखा था, आज वह सपना पूरा हो गया.मैं जो भी करना चाहता था उसकी मर्जी से, अगर वो तैयार नहीं होती तो मैं उसे कुछ नहीं करता.

वो बोला कि मैं तो सिर्फ वीडियो देखता ही हूँ, जबकि मेरे फ्रेंड्स तो वीडियोज में जो होता है, वो सब कर भी चुके हैं. विदेशी वाला बीएफ कविता मेरी तरफ देख रही थी और नितिन उसकी जांघ सहलाने में लगा हुआ था.

मुझ पर वह विश्वास भी करते थे इसलिए उन्हें भाभी को अकेला छोड़ने में कोई दिक्कत नहीं थी.

विदेशी वाला बीएफ?

मैं अपनी उंगली भी डाल डाल कर मॉम की चूत का सारा पानी पी रहा था और वो सिसकारियाँ लेकर मचल रही थीं. चाची मुझे नीचे करके मेरी कमर पर बैठ गईं और अपना ब्लाउज निकाला, फिर ब्रा उतार दी. पिंकी भाभी की आंखों में आंसू आ गए और कहने लगीं- आंह मर गई … आज बहुत दिनों की प्यास बुझेगी मेरी आह उई आज तो मर ही गई.

मैंने उसको 9 बजे से 10 बजे तक अच्छे से पढ़ाया ताकि उसके दिमाग में कुछ पढ़ाई की बात ही जाए. मदन जी ने मेरा ब्लाउज व ब्रा मेरे शरीर से अलग कर दी, साथ ही उन्होंने अपना कुर्ता भी उतार दिया. उसने मुझे हल्के से बेड पर रखा और मेरी दोनों टांगों को हवा में उठा दिया.

मैंने कहा- पति माना है न तो बच्चा भी ले लो न!वो हंस दी और बोली- अभीजवानी का मजालेने का समय है मेरे राजा!मैंने ओके कह दिया. अब उसे बेडरूम में लाकर खड़ा कर दिया और उसकी पीठ की तरफ से उससे लिपट गया. वो धक्के भी काफी ज़ोर से लगा रहा था जिससे अरुणिमा कराह रही थी मगर उसके चेहरे पर दर्द की शिकन भी नहीं थी.

अपनी बात बोलने के बाद उसने फिर से अरुणिमा के होंठों को चूमना चालू कर दिया. तो किशन अचानक से बोला कि भैया मुझे आपका लंड देखना है?मैं ये सुनकर अचंभित हो गया और उससे बोला- ये क्या बोल रहे हो?वो बोला- कुछ नहीं भैया … बस ऐसे ही देखना है कि आपका लंड कैसा है.

चाची बोलीं- तुम एक दिन में इतना कैसे होशियार हो गए!मैं तारीफ़ सुनकर खुश हो गया कि मैं एक चूत की मालकिन को सुख दे पाने में कामयाब हो रहा हूँ.

उनके मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं और उनकी चूची मेरे हाथ से दबी जा रही थी.

मैं बिना रुके उसकी चूत चाटता रहा और बहुत जल्द ही वो दुबारा गर्म हो गई. वो भी कमोवेश कुछ ठंडी होने का अहसास करती थी मगर अब मेरे अकेले के लंड से उसकी चूत गांड की खुजली शांत नहीं होती थी. बुआ की सिसकारियां तेज़ होने लगी भाभी लंड के रथ पर बैठकर स्वर्ग का मजा ले रही थीं.

उसने पक्का उस वक्त ब्रा नहीं पहनी थी क्योंकि उसके निप्पल्स की नोक टी-शर्ट से बाहर झलक रही थीं. काफी देर तक चाटने के बाद मैं खड़ा हुआ और अपना लंड चूत में लगाया और उसकी कमर को पकड़ कर जोर से धक्का दे दिया. भाभी भी खूब तेज तेज सिसकारियां लिए जा रही थीं मानो उनका भी निकलने वाला ही हो.

रिया ने कहा- बहनचोद पागल है, अगर इससे उनकी गांड मारी तो डिल्डो गांड में जाएगा, मगर आंखों की गोटियां बाहर आ जाएंगी.

अगर तू अपने खाबिन्द की रूह के साथ सेक्स करेगी, तो इस घर पर आया हुआ काला साया दूर हो जाएगा. इसी दौरान उन्होंने मुझसे पूछा- तेरी कोई गर्लफ्रेंड है?मैंने कहा- नहीं मामी जी. वो दूध सी सफेद रंग की, पांच फिट आठ इंच की लंबाई वाली और 34-28-36 के फिगर वाली महिला थी और उसका नाम लक्की था.

पहले भागब्यूटीशियन की चूत की गर्मीमें अब तक आपने पढ़ा था कि नूर नाम की एक ब्यूटीशियन मेरे साथ चुदने के लिए तैयार हो गई थी और उसने मुझे देर तक चुदाई करने वाली दवा खिला दी थी. दूसरी ने पहली की बात में हां में हां मिलाई- हां यार … हम लोग तो दिन में चुदाई कर पाती हैं. फिर एक दिन हिम्मत करके साड़ी को हाथ से सरका के ऊपर करना चाहा पर कुछ हलचल हो गई तो उनकी नींद टूट सी गयी.

उस रात मुझे नींद नहीं आ रही थी क्योंकि मैं मामी के बारे में ही सोच रहा था.

उनकी इस हल्की फुल्की ना में मुझे हां नजर आ रही थी और अब मैं भी कहां कुछ सुनने वाला था. अब मेरा लंड उसकी गांड के नजदीक आ गया और यही मन कर रहा था कि उसी समय उसे कमर से पकड़ कर उसकी गांड अपने लंड पर टिका दूँ.

विदेशी वाला बीएफ वो सेक्स कहानी मैं अगली बार में लिखूँगा कि कैसे मुझसे चुद चुद कर वो पेट से हो गई थी और उस मुश्किल से कैसे निजात मिली. मैं अपनी बहन के गले में किस करने लगा, चेहरे पर होंठ लगा कर उसकी मक्खन सी त्वचा का रस पीने लगा.

विदेशी वाला बीएफ करीब 15 मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद हम दोनों झड़ गए और एक दूसरे के साथ लेट गए. अब आगे जवान सेक्स कहानी:मैंने उस पर चढ़ कर उसे चूमते हुए कहा- तुम्हें मेरी चूत कैसी लगी?वो कहने लगा- मैंने उंगली से चैक किया था.

उस रात मैंने उसे उसके गुप्तांगों के बारे में बहुत सटीक जानकारी दी और उसे सबसे संवेदनशील क्लाइटोरस के बारे में बताया और उसे उस अंग को बार-बार मसाज करने की सलाह दी.

क्सक्सक्स की वीडियो

मैं कंडोम को फाड़ कर जैसे ही पहनने जा रहा था, तो पिंकी भाभी बोलीं- कोई जरूरत नहीं. मैं अपनी बहन के गले में किस करने लगा, चेहरे पर होंठ लगा कर उसकी मक्खन सी त्वचा का रस पीने लगा. आखिर दिन के 3 बजे के करीब वो वहां अपनी कार में आ गये और मुझे कॉल की और अपनी कार का नंबर बताया.

फॅमिली रंडी सेक्स कहानी मेरी अम्मी और बहन की पैसों के बदले चुदाई की है. वो मेरे लंड के सुपारे को चमड़ी से बाहर निकाल कर सुपारे पर अपने अंगूठे को प्यार से घुमा रही थी. पहली बार मेरे बदन को कोई इस तरह से चूम रहा है मेरे राजा … आंह खूब चाटो!इसी तरह मैं धीरे धीरे नीचे आने लगा.

बाबा ने घर पर किसी के न रहने की बात कही थी लेकिन मैंने सोच लिया था कि कुछ भी हो जाए, मैं मंगल के दिन घर में ही रहूंगा.

कभी कभी मैं थोड़ा ऊंचा होकर उसके कंधे के पास से मोबाइल को देखता, जिससे मेरी छाती उसकी पीठ से रगड़ खाती. ऐसे में मैं मन ही मन यह योजना बनाने लगी कि कैसे इन दोनों के नीचे लेट इनके लौड़े लिए जायें।दीपक और धीरज को ये लगे कि ये मेरा फायदा उठा रहे हैं और सब उन्होंने किया. पूरे कमरे में बस भाभी की ‘उह आह … और तेज … आह बड़ा आज मजा आ रहा है … आह आह चोदो …’ की आवाज आ रही थी.

मैंने जानबूझ कर स्लीपर बुक किए थे ताकि मॉम के साथ लेटने का मजा मिल सके. आप मुझे मेल और कमेंट्स के माध्यम से बताएं कि आपको हॉट लड़की की पहली चुदाई का खेल कैसा लग रहा है. संजना बोली- मुझे आपसे कुछ कहना है जो बात मैं आपसे फोन में कह नहीं पाई थी.

कुछ ही पलों में मैं झड़ने वाला था, मैंने संजना से कहा- जान, मैं आ रहा हूँ. वो बोलीं- देखो रवि, तुम मुझसे 9 साल छोटे हो और अपनी उम्र से बड़ी उम्र की औरत के साथ यह सब करने से कमजोरी आ जाती है.

बिग ऐस सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरी कार ख़राब हुई तो हाई वे पर निर्जन स्थान पर एक गैराज मिला. सेक्सी सिस्टर की चुदाई का अवसर मुझे मामा के घर में उनकी बेटी की चूत चोदकर मिला. उसके चिल्लाने से मुझे भी थोड़ा अचंभा हुआ क्योंकि उसकी गांड को मैं कई बार मार चुका था.

अब आगे :पिंकी भाभी ने वाइब्रेटर लेकर भाभी की चूत में पेल दिया और फुल स्पीड कर दिया.

तुम आराम से सुबह ही आ जाना, बारिश में भीगते हुए आने की कोई जरूरत नहीं है. मैंने कहा- क्या हुआ जानेमन गर्मी चढ़ गई है क्या?वो बोली- साले, तूने ब्लू-फिल्म दिखा कर मुझे गर्म कर दिया है और गिरने का ड्रामा करके मुझे लिटा लिया है. मैंने भाभी से पूछा कि क्या हुआ?भाभी ने धीरे से कहा- सरप्राइज़ है, जल्दी से फ्रेश हो जा.

उसकी सांसें थम गई थीं, जब मैंने अपनी गोटी उसके बिल्कुल दो घर पीछे रखी. फिर पापा ने मम्मी की साड़ी और ब्लाउज को पूरा निकाल दिया जिसमें से उनकी गोरी गोरी खरबूजों जैसी चूचियां ब्लैक ब्रा के अन्दर पूरी टाइट हुई दिख रही थी.

हाथ खुलते ही उसने मेरा हाथ थामने की कोशिश की पर मैं नहीं रुकने वाला था. हालांकि रूम में बिस्तर अलग-अलग थे लेकिन इन दोनों के बीच अपनापन और एक दूसरे के प्रति लगाव इतना ज्यादा हो गया था कि रूम बंद होने के बाद दोनों एक ही बिस्तर पर ही सोने लगे थे. फिर चाहे वो औरत एक महारानी ही क्यों न हो और उसे चोदने वाला मर्द उसका गुलाम ही क्यों न हो.

सेक्सी वीडियो नंगे नंगे

लेकिन वो एक बिस्तर था कोई टेबल तो नहीं थी कि मरीज अच्छी तरह पोजीशन आ जाए.

इस दरम्यान कब मेरा हाथ उनकी कमर पर गया या शायद उन्होंने मेरा हाथ खींच कर अपनी कमर पर रखा. आप सभी जानते हैं कि मैं और आयेशा कितनी बार लेस्बियन सेक्स कर चुके हैं. वो भी ‘अअह … उउहह …’ करने लगी और कहने लगी- अक्षय अब मुझे और मत तड़पाओ, मुझे जल्दी से चोद डालो … मेरी चूत को आज फाड़ दो.

और दोनों हंसने लगे।मैं नींद में होने का ड्रामा करने लगी।और देखते ही देखते मुझे धीरज का हाथ मेरे गले से होते हुए मेरी चूचियां छूता महसूस हुआ; बिल्कुल हल्के हाथों से, ताकि वो मुझे गलती से जगा ना दें।मैं मन ही मन बोल रही थी- जोर से दबा ना लोड़ू, निचोड़ दे मेरी चूचियां!उधर दूसरी तरफ से एक उंगली धीरे धीरे मेरी टांगों के बीच फिरती सी महसूस हुई. मैंने कहा- मैं जो तुम्हारे लिए चॉकलेट लाया हूँ, उसको मेरे लंड पर लगा कर चुम्मी करो. बीएफ दीजिए तो बीएफजब मैं वहां के नजदीक पहुंचा, तो ठीक उसी टाइम बाइक का टायर पंचर हो गया.

भाभी का अच्छा मूड देखकर मैंने उसी दिन भाभी की गांड भी चोदने को बोला परंतु भाभी ने अगली बार बोलकर मना कर दिया. मैंने भी पूछ लिया- मुझे मिस किया क्या?वो बोली- फोन को बहुत मिस किया.

अब धीरे-धीरे आंटी ने भी अपना एक हाथ मेरे लंड पर रखा और जोर से दबाने लगीं. मदन जी की मेरे साथ रात बिताने की बारी, चौधरी जी के बाद वाले दिन आती. अब मुझे मीनू की चिंता हो रही थी क्योंकि वो इतनी ज्यादा पी चुकी थी कि चल भी नहीं पा रही थी.

[emailprotected]Xxx लेडी सेक्स कहानी का अगला भाग:विधवा मकान मालकिन के साथ होटल में हनीमून- 2. उसके झुकते ही उस फोटोग्राफर ने अपना लंड उसकी गांड में डाल दिया और उसके मम्मों का कचूमर बनाते हुए उसकी गांड मारने लगा. मुझे भाभी का मम्मे देख कर उसे खाने का मन कर रहा था तो मैं मम्मों को देख कर और तेजी से चोदने लगा.

बस ये अच्छी बात थी कि वो मेरे साथ चैट करती थी और मेरी बात से गुस्सा नहीं होती थी.

हैरी को समझ आ गया कि मैंने उसको खुद को सौंप दिया है तो अब वो मुझे और ज्यादा बेताबी से किस करने लगा. पहले उसने मुझे होंठों पर किस किया और फिर मेरी छाती पर जोर से काट लिया.

उनकी भाभी के गहने घर में ही रह गए हैं, जिन्हें लेने उन्हें उनके मायके जाना है. मैंने उनकी बात से सहमति जताई और कह दिया कि मुझे उससे कोई परेशानी नहीं होगी. हम दोनों ही कविता को देखकर मुस्कुराए और नितिन आगे बढ़ कर कविता के पास बैठ गया.

मेरी सेटिंग इन दोनों से इस तरह से है कि हम तीनों मिल कर यौन क्रियाओं का आनन्द लेते हैं. अपनी बहन के मम्मों को पीने के बाद में उसके ऊपर ही लेट गया और सोने लगा. आंटी बोलीं- देखा, मेरी चूत तुम्हारा लंड लेने के लिए कितनी व्याकुल है.

विदेशी वाला बीएफ मेरी बीवी ने मुझसे कहा- आप चुप क्यों हो यार … बताओ ना कि मैं क्या करूं?मैंने उससे कहा- उसकी उम्र है, अभी जवानी फूट रही है. इस बार बोतल अमन की तरफ थी, तो मैंने पूछा- ट्रुथ या डेयर?तो वो बोला- डेयर!आयेशा ने उससे कहा- नेहा को पूरी नंगी करो … और हां एक बात याद रहे, अगर नेहा को नंगी करने में तेरा लंड जरा सा भी खड़ा हुआ तो तेरी सजा ये होगी कि आज तुझे किसी की चूत में लंड डालने को नहीं मिलेगा.

सेकसी विडियो गाना

वो मेरी मंशा भांपते ही मुझे धकेल कर मेरे ऊपर चढ़ गईं और खिलखिलाती हुई बोलीं- मैं कहां भागी जा रही हूं. उनका लंड मेरी गांड में काफी टाइट जा रहा था, जिससे हम दोनों को ही काफी मजा आ रहा था. मैं उनकी दोनों चूचियों को बारी बारी से जोर जोर से चूस रहा था और काट रहा था.

उस वक्त मैंने बाहर आकर बुआ से भी कुछ नहीं कहा और कुछ देर रुक कर वहां से घर आ गया. संजना के एक दूध को फिर से मसलने लगा और अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. बीएफ बीएफ न्यूज़ meaning in englishअपनी बहन के मम्मों को पीने के बाद में उसके ऊपर ही लेट गया और सोने लगा.

चाची बोलीं- क्या हो रहा है!मैं चुप … गला सूख गया, जुबान हलक में जाम हो गई.

एक तो साली चिल्लाने लगी थी और दूसरी बात ये कि मेरा लंड इतनी आसानी से चुत में कैसे चला गया. उसका शौहर न तो उसे ठीक से चोदता था और न ही मजे दे पाता था; बस कपड़े उतारकर चूत में लंड घुसेड़ देता था.

जो मेरी गोपनीयता का पूरा ध्यान रखे और मुझे उसके साथ किसी भी प्रकार की जोखिम न हो. उनके चूतड़ों पर मैं थप्पड़ मारने लगा जिससे उनके दोनों चूतड़ एकदम लाल हो गए. सुनील ने एक झटके में अपना लंड मेरी गांड में डाल दिया और धुआंधार चुदाई करने लगे.

अब मैं दोपहर में उनके सोने का इंतज़ार करता और सो जाने के बाद कपड़े अस्तव्यस्त होने पर टेबल फैन ऐसे सैट करता कि उनकी साड़ी और ज्यादा सरक जाए.

मुझे तीव्र पीड़ा हुई, मेरी आंख से आंसू निकल गए पर मैंने हिम्मत नहीं हारी. उसने कच्छी साइड कर दी और अपनी उंगली अंदर डाल दी।मैं जोर जोर से आहें भरने लगी. कुछ देर में हम दोनों थक गए थे और अब शायद हमारा रस भी मिल जाने को आतुर था.

सेक्सी बीएफ चोदी चोदा चोदी चोदाखैर … उनके मुस्कुराने से एक बात तो साफ़ हो गई थी कि वो इस बात को किसी से कहने वाली नहीं थीं. मदन जी की मेरे साथ रात बिताने की बारी, चौधरी जी के बाद वाले दिन आती.

हाय रानी सेक्सी वीडियो

मंजू मेरी एक चूची को चूस रही थी और मैं उसकी चूची से हाथ से मसलने लगी. वो मुझे देख तो रही थीं नजरें चुराकर … लेकिन कुछ समझ नहीं आ रहा था कि आख़िर हो क्या रहा है. मेरी पिछली सभी सेक्स कहानियों को आप पाठकों ने इतना पसंद किया, उसके लिए आप सभी का बहुत बहुत शुक्रिया.

तीस सेकंड बाद ही अमित ने अपना पानी मेरे मुँह में निकाल दिया, तब कहीं जाकर उस भैन के लंड ने मेरे मुँह छोड़ा. मेरा एक हाथ ज्योति का बायाँ मम्मा सहला रहा था, उसका दूसरा मम्मा रोहित का हाथ सहला रहा था. एक बार मैंने चाची को मम्मों के ऊपर पेटीकोट बांधे देखा तो …दोस्तो, मैं राज उत्तर प्रदेश के एक छोटे से जिले से हूं.

शायद वो मेरे यही कहने का इन्तजार कर रहा था; उसने झट से मेरे लंड को मुँह में भर लिया और लॉलीपॉप की तरह लंड चूसने लगा. मैंने उससे पूछा कि उसके और उसके बॉयफ्रेंड के बीच कितनी बार संबंध बने थे और उसके और किसी के साथ भी तो संबंध नहीं थे. वो दोनों लौंडे अनुपम और कार्तिक मेरी बहन और अम्मी के मम्मे भी दबा रहे थे.

वे जब स्कूल या कहीं बाहर जाती हैं तो ज्यादातर ऐसी ही टाइट साड़ी व टाइट ब्लाउज पहनकर जाती हैं जिसमें से उनके चूचे पर साड़ी का पल्लू रहने पर भी उनके संतरों का अनुमान कोई भी आसानी लगा सकता है. कुछ ही समय में हम दोनों भैया बहन के रिश्ते से कुछ आगे बढ़ कर काफी घुल मिल गए थे.

इतना कहकर वो सामने पड़े सोफे पर जाकर बैठकर हम दोनों की चुदाई देखने लगी.

थोड़ी देर बाद मैं पूरे लंड को अन्दर बाहर करने लगा और वो भी मेरा साथ देने लगी. deepak बीएफमैंने पहले उसके हाथ सेनेटाइज करवाए और मास्क दिया, उसके बाद उसे दवा दे दी. देवर भौजाई का बीएफ वीडियोमेरी बीवी ने मुझसे कहा- आप चुप क्यों हो यार … बताओ ना कि मैं क्या करूं?मैंने उससे कहा- उसकी उम्र है, अभी जवानी फूट रही है. चूंकि वो पहले घुटने के बल खड़ी थी और मैं नीचे बैठा था तो उसकी गांड मेरे लंड के ऊपर थी, जिसमें मैं बार बार अपना लंड रगड़ रहा था.

शायद वो भी अपनी बेटी की चुदाई देख कर बहुत ही ज़्यादा गर्म हो चुकी थीं इसलिए उनकी गीली चूत में सट से लंड घुस गया.

ब्रा इतनी अधिक टाईट थी कि मम्मी के मम्मे आजाद होने को आतुर दिख रहे थे. उसे अच्छी तरह से पता था कि अगर मेरी गोटी पहले पहुंची तो मैं कोई भी टास्क दे सकता हूँ. मेरे लंड का सुपारा संजना की गांड के पहले अवरोध को पार करके घुस चुका था.

बाथरूम में घुसते ही वह तुरंत कमोड पर बैठकर मूतने लगी और उसकी चूत से सीटी बजने की आवाज आने लगी. मैंने कहा- कमरे में चलें क्या?भाभी- किस लिए?मैंने कहा- एक बार फिर से जोरा-जोरी हो जाए. वो आई तो मैंने उसे अपनी बांहों में कस लिया और हग किया; उसके होंठों को अपने होंठों से चूम लिया.

एक्स वीडियो बीएफ एचडी

फिर सुनील नीचे लेट गए, विक्रम ने अपना लंड डालकर मेरी चीख का मजा लिया. अचानक मुझे ख्याल आया कि क्यों ना अपनी रंडी बीवी अरुणिमा को ही चुदवा दूँ. मैं- तुम्हें उज्जैन जाना ही है न मॉम?मॉम- हां ना, अभी बाद में बाद में करके इतना टाइम निकल चुका है.

बड़ी हसीन लाइफ थी दोस्तो, याद करता हूं तो रो पड़ता हूँ की क्या कभी दुबारा ऐसा होगा, वो मेरे पास वापिस आएगी भी या नहीं.

मैंने उसके बदन पर टिकी हुई उसकी बनियान को ऊपर करते हुए हटा दिया और उसके गदराये मम्मों को आजाद कर दिया.

मेरा दिल कर रहा था कि अभी उसकी ब्रा पैंटी को फाड़कर लंड घुसेड़ कर चोद डालूं. जबकि तूने मेरी टांगें चौड़ी करके ही लंड पेला था, इसलिए तेरा थोड़ा बाहर रहा. तमिल में बीएफ सेक्सीफिर संजय ने मुझे अपनी सच्ची कहानी शुरू से बताई, उसकी सहमति से ही मैं उसकी गे सेक्स कहानी लिख रहा हूँ.

दूसरे दिन सुबह से मैंने शिवानी से कह दिया- अपनी सहेली के यहां चली जाओ, शाम को आना. मैं दरवाजे की ओर जाने लगा और बोला- नहीं, मुझे उनसे बात करनी ही पड़ेगी. उसके चेहरे से लग ही नहीं रहा था कि वो कैसे लंड लेने की शौकीन हो गई है.

इतना कहकर वो पानी लेने चली गई और फिर से आकर मेरी चूत में उंगली करने लगी. उसकी हालत ये देख कर मैं दंग रह गया कि उसकी चुदास पर ब्लूफिल्म अपना असर दिखा रही थी.

उसके धक्के मारने से लग रहा था कि वह भी पूरी मस्ती में चूत को पूरा मजा दे रही थी और खुद भी उसका मजा ले रही थी.

मैं उससे दो साल बाद मिला तो वो काफी बदल गयी थी, उसका रिश्ता तय हो चुका था. मैंने कहा- फिर क्या उंगली से काम चलाती हो?वो- हां साहब … मैंने बहुत बार खीरा भी मेरी चूत में डाला था, मैंने बहुत कुछ किया है अपनी चूत को शांत करने के लिए … मगर बिना लंड के इसे चैन कहां मिलता साहब. इधर मैं उससे चुदाई करवाना चाहती थी परन्तु अपनी तरफ से पहल करना नहीं चाहती थी.

सेक्सी बीएफ देसी हिंदी मैंने भाभी को उतार दिया और रोटी बना रही बुआ के मुँह में लौड़ा घुसा दिया. मैंने एक दिन अलफिया से मिलने का कहा तो अलफिया ने कहा- ठीक है, शनिवार को 11 बजे मिलते हैं.

मैंने कभी बोला क्या कि स्वप्निल बस हो गया, अब हमारे नाम का इस्तेमाल मत करो. मुझे लगने लगा था कि हो सकता है कि मैं प्रिया को अपने नीचे लाने में कामयाब हो सकता हूँ. नमस्कार दोस्तो, मैं विकी एक बार फिर से उत्तेजक कहानियों की इस वेब साइट पर आपका स्वागत करता हूं.

देहाती ब्लू फिल्म देहाती

मैं बार बार उंगलियां अन्दर बाहर करने लगा, जिससे उसकी हालत खराब होने लगी. मैं उसको ले आया लेकिन उसकी तबियत खराब थी, तो कुछ बात ज्यादा नहीं हुई. फिर उसे, उसकी अम्मी ने भी बताया था कि मैंने उसकी अम्मी के साथ सेक्स किया है और उसकी अम्मी संतुष्ट हैं.

मैं अपनी बहन की चुदाई से संतुष्ट हो चुका थाउसके बाद मैंने सोनल से घर में ही रुकने को कहा. जांघें जांघों में रगड़ खा रही थीं और लंड चूत एक दूसरे को निहारते हुए कभी कभी एक दूसरे को छू रहे थे.

करीब एक महीने तक ऐसे ही चलता रहा लेकिन अभी उसका दूध पूरा बन रहा था और वो निकल नहीं रहा था तो डॉक्टर ने उसे सक करके निकलने को बोला.

[emailprotected]बैड सेक्स रिलेशन कहानी का अगला भाग:भतीजी के घर में घमासान- 3. बातों बातों में इतना पता चल गया था कि उसका कोई बॉयफ्रेंड नहीं था और मैंने भी उसको जानबूझ कर बता दिया था कि मेरी भी कोई गर्लफ्रैंड नहीं है. फिर मैंने बाइब्रेटर की स्पीड को स्लो कर दिया और फिर से चूत में दे दिया.

[emailprotected]पोर्न स्टार कहानी का अगला भाग:मैं खाली घर में पड़ोसी लड़के से चुद गयी- 2. फिर मैंने बायां हाथ उनकी कमर पर से सरकाते हुए उनकी गांड के उठान पर रखा. वाइब्रेटर सेक्स का मजा लेती हुई भाभी एकदम से उछल गईं और तेज़ी से सांस लेने लगीं.

मैं- क्या शर्त?प्रिया- आप जो मेरे साथ करना चाहते हैं, मैं केवल एक बार ही करूंगी … उसके बाद नहीं.

विदेशी वाला बीएफ: उसने अपनी छोटी छोटी चूचियों को थोड़ा बड़ा कर लिया था जो एकदम टाइट थीं. पर तीसरी बार झल्ला कर उठाया, उन्होंने कड़क कर पूछा- क्या हुआ भड़वे?मैंने आवाज में नर्मी लाते हुए कहा- आप मुझसे इतना क्यों नाराज हैं? अरुणिमा को आप चारों ने चोद लिया.

दस मिनट से ज्यादा हो गया लेकिन वो वापस नहीं आई तो मैं भी किचन की तरफ गया. उंगली एकदम से गीली चूत में अन्दर चली गयी जिससे साफ हो गया कि उसकी चूत शायद पानी छोड़ चुकी थी और अन्दर तक गीली हो गयी थी. मैंने थोड़ा गरज कर कहा- ये क्या हो रहा है?तो एक नौकर बोला- विश्वेश्वर जी की जितनी भी रंडियां हैं, उनके जाने के बाद हम एक दो बार उन रंडियों को ज़रूर चोदते हैं.

नमस्कार दोस्तो, मैं विक्की एक बार फिर से इस चुदाई की साइट पर एक और कामुक और उत्तेजित सेक्स कहानी के साथ आपका स्वागत करता हूं.

मैंने टी-शर्ट के अन्दर ब्रा नहीं पहन रखी थी क्योंकि मुझे मयंक को ललचाना था. उसी समय मैंने देखा कि वो आंटी अपने पति के साथ मेरी मेडिकल शॉप के ऊपर वाले घर में जा रही थीं. ज्योति- वाओ बहुत मज़ा रहा है … लग रहा है जन्नत यही है … बस … बहुत तमन्ना थी मुझे तुझसे चुदने की … चोद दे अह.