हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ मूवी हिंदी में चलने वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी इंडियन video: हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ, उनकी माताजी ने बात संभालते हुए कहा- बेटा तू आज ही आया है, आज तू भी यहां रुक जा, अपने जीजा से बातें कर ले, सुबह जल्दी निकल जाना.

सूरज बीएफ

फिर मैंने उसके मोबाइल में गैलरी में जाकर उसकी पिक चैक करने लगा, तो वहाँ उन दोनों की कुछ न्यूड फोटो पड़े थे. दिल्ली में बीएफ सेक्सीमैंने अपनी चाटने की स्पीड और बढ़ा दी और उसके क्लीट को भी चूसने लग गया.

जब मैंने उसकी जांघों पर अपने कोमल हाथ फिराये तो मेरे अंदर एक चुदास सी जग गई. एसएसएस बीएफ वीडियोमैंने उसकी गांड के छेद को अपने उंगली से टटोला और फिर उसकी गांड में उंगली डाल दी तो वो उचक गई.

जब तक हम गैरेज पहुंचे तब तक काफी अंधेरा हो चुका था और बरसात भी बंद हो चुकी थी.हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ: रात की चुदाई के बाद मेरी चूत दर्द कर रही थी मगर उसकी उंगलियों की मसाज से मेरी दुखती हुई चूत का दर्द कम होने लगा.

लेकिन कहते हैं कि कई बार ऊपर से खराब दिखने वाला आम असल में अंदर से बहुत ही मीठा और रसीला होता है.उनका चांदनी जैसा बेदाग़ बदन था, स्वर्ग की अप्सरा जैसी चाची मेरे सामने एकदम नग्न थीं.

वाराणसी का बीएफ - हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ

पहली बार जब भाभी को शादी वाले दिन चोदा था तो इतना मजा नहीं आया था मगर आज जब भाभी पूरी नंगी थी और मैं भी पूरा नंगा था तो चुदाई का मजा भी अलग ही आ रहा था.बारिश में ही जैसे-तैसे टायर बदला लेकिन इस सारी कार्यवाही में तक़रीबन चालीस-पैंतालीस मिनट लग गए.

बाकी तेरी मर्जी…ठीक है … जैसा तू कहे।” काजल ने सुमिना की ज़िद के सामने घुटने टेक दिये. हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ मैं मेरी सहेली हम दोनों लोग मेरे बेडरूम में टीवी देख रहे थे तभी मम्मी ने मुझे अपने रूम में बुलाया तो वहां मेरे पापा के दोस्त और उनका बेटा आया था.

मैंने पूछा तो कुछ लोगों ने बोला कि ट्रक वालों से भी पूछ लो, वे भी ले जा सकते हैं.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ?

(आह सुमित मेरे चूतड़ों को चाटो और मेरी चुत को चूसो)उसकी इन बातों को सुन कर मुझमें दोगुना जोश भर गया और मैंने उसके चूतड़ों पर कट्टू करना शुरू कर दिया. इतना सुखद अहसास कभी नहीं महसूस किया था मैंने।मैंने पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया और फिर अपनी कमर को हिलाते हुए उसकी चूत की चुदाई करने लगा. मैंने झुकते हुए अपनी नजर को उसकी चूत पर गड़ा दिया, नम्रता ने भी अपने हाथ को चूत से हटाकर अपने मम्मों पर रख लिया.

इस पर वो हंसने लगी और बोली- आपका छोटू कुछ ज्यादा बड़ा नहीं हो गया है?मैंने कहा- हां थोड़ा बड़ा हो गया है लेकिन इसे अब छोटा तो तुझे ही करना होगा. मुझे रहा नहीं गया तो मैंने उसकी थोड़ी तारीफ करनी चाही पर वो बोली- लाइन किसी और पर मारना।मैं चुप हो गया. फिर मैंने एक दिन उससे बात की और मैंने उसको समझाया कि कुछ नहीं हुआ, इस उम्र में ये सब होता है.

कुछ ही मिनट बाद अंकल जी का लण्ड आराम से सटासट अन्दर बाहर होने लगा और मेरा मन होने लगा कि मैं भी अपनी कमर को ऊपर की तरफ उठा के चुदाई का मज़ा लूं. बड़ा ही गोरा, भरा हुआ और गरदाया जिस्म था भाभी का।उनके बाल काले और लम्बे थे जो घुटने तक लटक रहे थे। बड़ी-बड़ी आंखें थी भाभी की. भाभी को अब पहले से भी ज्यादा मज़ा आ रहा था, इसलिए वो खुल कर अब मेरा साथ दे रही थीं.

उसने मुझसे मैसेज करके पूछा कि तुम कौन हो … मैं तुमको नहीं जानती, तुम मुझसे क्या चाहते हो?मैंने लिखा- तुम मेरे लिए क्या कर सकती हो. मैं झिझका तो खुद उसी मेरे होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और मुझे किस किया.

नमस्कार दोस्तो, मैं देव कुमार जयपुर से आपके लिएआंटी की प्यासी जवानी मांगे लंड-1से आगे का भाग लेकर आया हूँ.

हमने देखा कि कोई देहाती लोग जो दो लोग थे और वो बाइक लेके लकड़ियाँ काटने आये थे.

जब पूरे बदन में तेल लग गया, तो ताऊ जी ने कोमल का हाथ पकड़ के अपने लंड को पकड़ाते हुए कहा कि जब पूरे शरीर में तेल लगा दिया है, तो इसमें भी तेल लगा दो. भाभी बोली- आज मन किया तुम्हारा … हम लोग कितने दिन से बातें कर रहे हैं. मैंने कहा- ठीक है मां, हम भी बस निकल रहे हैं यहां से।पार्किंग में आने के बाद पांचों के पांचों गाड़ी में बैठ गये और फिर वही वाली स्थिति बन गई जो आते समय थी.

अतः मैं अपने प्लान का शुभारंभ करते हुए रीना को हमारे शयनकक्ष में लेकर गया। रीना ने बहुत उत्तेजित करने वाली नाइटी पहन रखी थी जिसे कि मैंने उतरवा दिया और कहा- मेरे पास इससे भी ज्यादा कुछ नया है।रीना को पता नहीं था कि मैं क्या करने वाला हूं।मैंने उससे उसकी नाइटी खोलने की गुजारिश की. चूंकि दिशा (साली) जीत गई थी, इसलिए नियमानुसार मुझे उसका टास्क पूरा करना था. मैंने आंटी की बुर से लौड़ा निकाला और आंटी के पेट पर बैठ कर दोनों चूचों के बीच में आंटी की चुत रस से भीगे लौड़े से चूचों की चुदाई करने लगा.

तभी उसने मुझे बुलाया- एक्सक्यूज़ मी!मैंने उसकी तरफ देखा, तो वो बोली- गाड़ी जयपुर कितने बजे पहुंचेगी?मैंने बोला- सुबह 4 के आस पास.

मैंने अपने घुटनों के नीचे से हाथ डाल कर अपने पांव खूब अच्छी तरह से ऊपर उठा दिये और एक टॉवेल फोल्ड करके मेरी कमर के नीचे बिछा दी. विक्रम ठण्डे मन से- अच्छा फिर क्या हुआ?रीना ने पूरी बात बतायी:हम लोग शिमला पहुंच गए और वाकई में वहां ऑफिस का कोई काम था. इस बात पर मैंने उसे जिम ज्वाइन करने की सलाह दे डाली कि पास में ही जिम है, जहां और भी लेडीज आती हैं, तो वो भी आराम से वहां जिम कर सकती है.

उसके मुंह दर्द भरी आवाजें निकलने के साथ ही उम्म्ह… अहह… हय… याह… आनंद की सीत्कारें भी आने लगीं जिनसे पूरा कमरा गूंज रहा था. बेडरूम में जाते ही मैंने दरवाजा बंद कर दिया और उसने मेरी तरफ बढ़ते हुए कहा- चलिए मैडम, अब शुरू करते हैं. मैं उसके सहलाने दिया और वो मेरे लंड को यूँ ही पांच मिनट तक सहलाती रही.

हां, हमने इतना ख्याल जरूर रखा कि चूत के भीतर कभी कुछ नहीं घुसाया बस ऊपर ही ऊपर से मज़े लिए.

तेरे मौसा की बेरूखी के कारण मैं तो मर्दों के लंड का स्वाद लेना भूल ही चुकी थी. मुझे ऐसी बुक्स पढ़ना बहुत पसंद था, इसलिए मैंने उस मैगज़ीन को अपनी स्कर्ट में छिपा लिया और आंटी घर के अन्दर आने के बाद ‘घर पे कुछ काम है.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ लेकिन … इधर कहाँ?” एकांत में दबंगई और अहंकार का कवच फिर से टूट गया था और एक बार फिर से डरी-सहमी वसुंधरा मेरे रु-ब-रु थी. अब ताऊ जी ने लंड को चाची के चूत के छेद पर रख के जोर से कमर को झटका दे मारा.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ तो मैंने उसे बता दिया कि मुझे ज्यादा कुछ समझ नहीं आया क्योंकि मेरी गणित कमजोर है. मैं एकदम से डर गया क्योंकि वो एकदम से मेरे पास आकर मेरे साथ सोफे पर बैठ गई.

सीमा भाबी की शादी को 5 साल हो गए थे, उनकी एक 4 साल की छोटी लड़की भी थी.

2020 का बीएफ फिल्म

इस बार मैंने भाभी को सीधा किया और अपना लंड उनकी चुत पर रख कर झटका मारा दिया. जैसे ही वो घर आयी तो मैंने तुरंत उसको चलने के लिए कहा क्योंकि मूवी का टाइम होने ही वाला था. गुड, कैरी ऑन!अब शायद वो भी मेरी बातों के उत्तेजित हो गया था पूरा, और मुझे अपने पास बुलाने के लिए बोला- अरे मेडम! जरा यहाँ आ सकती हो आप? पकड़ना है.

मेरे मन में यही ख्याल आते रहते थे कि भाभी नंगी होने के बाद कैसी लगेगी।जिस तरह भाभी के बाल लम्बे और घने थे वैसे ही काले, घने बाल भाभी की चूत पर भी होंगे। भैया मेरी भाभी को कौन-कौन सी मुद्राओं में चोदते होंगे? एकदम नंगी भाभी टांगें फैलाए हुए चुदवाने की मुद्रा में बहुत ही सेक्सी लगती होगी. रेलवे स्टेशन जा कर पार्किंग में गाडी पार्क करके ट्रेन का इंतज़ार करने लगा. मैं फिर भी खुश हूँ तेरे लिए, तू मेरा इतना सा काम नहीं कर सकती?मैंने कहा- मैं क्या कर सकती हूँ? हर्षिल का लंड पकड़ के तेरी चूत में तो नहीं डाल सकती ना!उसने कहा- जैसे मैंने उसे तेरी सील तोड़ने के लिए सेट किया था, ऐसे ही तू मेरा करवा दे बस एक बार।मैंने सोचा कि तन्वी ने मेरी इतनी मदद की है, शादी में भी मेरी सेटिंग करने में मदद की तो मुझे भी अपनी सहेली की मदद करनी चाहिए.

10 मिनट बाद मेरे बॉस ने अपने लंड का पूरा पानी मेरी चूत में छोड़ दिया.

मैंने देखा कि कुछ ही पलों में अम्मी पूरी अकड़ सी गयी थीं और उनके मुँह से बेकाबू कामुक ‘इसस्स. मैं कैसे भी करके अपनी जिस्म दिखा कर अपने पति से रोज एक बार तो चुदवा ही लेती थी. भाबी- किस बारे में बात करने के लिए आए थे?मैं- भाबी जो अभी आपने कहा, आपने उस दिन मुझे और नताशा भाबी को चुदाई करते हुए देख लिया था, इसलिए मैं आपसे रिक्वेस्ट करने आया था कि प्लीज़ इस बात को मम्मी को कभी ना बताएं.

मैं सिर्फ अंडरवियर में रह गया और मैंने अपना 6 इंच का खड़ा हुआ लंड परवीन के हाथ में दे दिया. एक दिन उसने मुझसे पूछा- सुना है फर्स्ट टाइम बहुत दर्द होता है?मैं- पता नहीं, मैंने कभी महसूस नहीं किया!सुन कर तेज़ी से हंस पड़ी. ये अमित है और ये युवराज, ट्रेनिंग में हमारी मुलाकात हुई, दोनों आज शाम को वापिस जाने वाले थे इसलिए दोनों को आराम करने के लिए घर ले आया, बोला कुछ चाय नाश्ता कर लो, फिर तुम्हें एयरपोर्ट ड्राप कर दूंगा.

दीदी बहुत ज़ोर से चिल्ला पड़ी और बोलने लगी- हरामखोर जल्दी बाहर निकाल. चूंकि मैं जब भी बाहर जाती थी, बुरका पहन कर निकलती थी इसलिए कोई मेरी आंखों के अलावा कुछ नहीं देख सकता था.

मैं बोला- अरे यार इतनी शर्मा क्यों रही हो … तुम्हें चोदने के लिए उतारा है. मैं नहाकर आती हूं।मैं बाथरूम के सामने ही कुर्सी लगा कर बैठ गया।भाभी- अरे यहां क्यों बैठे हो? बरामदे में बैठो न?मैंने कहा- भाभी आप नहा लो न। नहलाने तो आप दे नहीं रही हो। तुम्हें नहाते हुए ही देख लूं।हट बेशर्म!” भाभी ने झेंपते हुए जवाब दिया।मैं- भाभी प्लीज़, बहुत दिन हो गए हैं किसी को नहाते हुए नहीं देखा। तुमसे दूर तो बैठा हूँ. अजय के कुछ कहने से पहले ही उसने उसका लंड अपनी चूत पर लगवा लिया और उसको अपने ऊपर लिटा लिया.

अचानक ही वसुन्धरा का एक हाथ मेरे सर पर से खिसकता-खिसकता, मेरी पीठ पर से होता हुआ मेरे जॉकी के अंदर जाकर मेरे दाएं कूल्हे पर फिरने लगा.

उसके बाहर जाते ही मैंने अपनी साड़ी का पल्लू नीचे गिरा दिया और अपने बालों को सुखाने लगी. मैं एक हाथ से उसके स्तन को मसल रहा था और एक हाथ से उसकी चूत को सहला रहा था. यह एक ऐसा सवाल है जिसका ज़वाब हर स्त्री को पहले से ही अच्छे से पता होता है लेकिन फिर भी वो अपने चाहने वाले से पूछती है … बार-बार पूछती है.

मैंने उन दोनों से कहा- तुम बातें करो तब तक मैं वॉशरूम होकर आता हूं. मैंने टाइम देखा तो 11 बजे थे।मुझे खाना बनाना नहीं आता था और भूख भी लग रही थी तो वह बाहर से खाना ले आया और हमने मिल कर खाना खाया और ऐसे ही बिना कपड़ों के नंगी होकर मैं उसके ऊपर लेटी हुई थी.

इससे पहले कि मैं इस कहानी में आगे बढूँ, मैं आप सभी को सीमा भाबी के बारे में बताना चाहूँगा. ”मैंने उन्हें अंदर बुलाया, सोफे पर बिठा के उन्हें पानी दिया, दोनों लगभग नितिन की ही उम्र के थे।” सॉरी भाबीजी … आप को खामखा तकलीफ दी. भाबी- फर्स्ट टाइम कब हुआ था?मैं- फर्स्ट टाइम … वो जब मैं एग्जाम देने एमपी गया था, तब वहां हुआ था.

10 साल लड़कियों का बीएफ

फिर मैंने उसका ब्लाऊज़ खोल दिया तथा ब्रा को हटाकर उसके स्तन में से दूध पीने लगा तथा दूसरे हाथ से उसका दूसरा स्तन मसलने लगा.

तभी फिर उसने अपना घोड़े के लंड जैसा लंड मेरी चुत पर रखा और जोर से धक्का लगा दिया. मेरे मुँह से चीखें निकल रही थी, उसने मेरे होंठों पर होंठ रख दिए और जोर जोर से झटके देने लगा. जिसकी इतनी सुन्दर भाभी हो वो भला किसी और लड़की की तरफ कैसे देख सकता है!”ओह हो! अब तुझे कैसे समझाऊं? देख रामू जिन बातों के बारे में तुझे अपनी बीवी से पता लग सकता है और जो चीज तुझे तेरी बीवी ही दे सकती है वो मैं नहीं दे सकती, इसलिए कह रही हूं कि तू शादी कर ले।”भाभी ऐेसी भी क्या चीज है जो सिर्फ मेरी बीवी मुझे दे सकती है और आप नहीं दे सकती?” मैंने अनजान बनते हुए पूछा.

यह कहानी एक रियल घटना से प्रेरित है, जिसमें मैं नाम बदल कर आपके सामने पेश कर रहा हूँ. वो बोल रही थी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’तभी मैंने परवीन को कंधों से पकड़कर कस लिया और एक जोरदार धक्का दे मारा. एक्सएक्स बीएफ फिल्मअब तक उसने हीना के ब्लाउज को निकाल कर उसके चूचों को नंगा कर दिया था.

मैंने बेडशीट अपनी मुट्ठियों में दबा ली और दर्द को सहन करने की कोशिश करने लगी. मैंने भाभी से एक बार और चुदाई के लिए कहा और तुरंत ही उनके ऊपर चढ़कर चुदाई शुरू कर दी.

उसने पैग नीचे रख कर एक मादक अंगड़ाई ली, जिससे मुझे उसकी चुदास साफ़ दिखने लगी. मैं बॉस की तरफ देखी तो बॉस ने कहा- अरे कोई बात नहीं, पी लो अगर प्यार से पिला रहे हैं तो!तो मैं धीरे धीरे पी गई. आपके जज़्बात की कदर करती हूँ, पर जो नहीं हो सकता, वो कभी नहीं हो सकता.

यह मेरा पहला एक्सपीरियंस था इसलिए मैं हर चीज को खोलने की कोशिश कर रहा था. भाभी बोली- आज तो अकेले हो … बीवी नहीं है, तो रात कैसे कटेगी?मैंने कहा- हां यार … क्या कर सकते हैं … आज तो अपने हाथों से ही काम चलाना पड़ेगा … और तुम क्या करोगी? तुम्हारे हस्बैंड भी तो नहीं हैं … तुम भी तो अकेली हो. उसके होंठ लगते ही मेरे मुंह से सिसकारी निकालते हुए मैंने आह्ह … की आवाज की.

तो दोस्तो, यह था मेरे जीवन का पहला सेक्स, मेरी पहली चुदाई की कहानी.

घर के अन्दर आ गयी थी, फिर भी मेरी धड़कन शांत होने का नाम नहीं ले रही थी. जब नम्रता को बर्दाश्त नहीं हुआ, तो उसने लंड को पकड़ा और थोड़ा आगे की तरफ खिसककर लंड को अन्दर ले लिया और अपनी कमर को चलाने लगी.

अब शायद मैं आश्वस्त हो गया था कि उसे भी मैं पसंद हूँ क्योंकि अगर ऐसा न होता तो वो मुझे इतना आगे नहीं बढ़ने देती. एक दो बार रजिस्ट्रेशन के नाम पर उन्होंने कुछ रूपये भी लिए, लेकिन कुछ नहीं हुआ. फिर उसकी आंखों में देख कर उसे बताता रहा कि मैं तेरे जिस्म का रसपान कर रहा हूंवो भी खेल में घुस चुकी थी.

मैंने जल्दी से उठ कर एक लाल रंग की ब्रा और पैंटी पहनी और उसके ऊपर से लाल रंग की ही नाइटी डाल ली. कहीं गई है क्या?भाभी- अर्चना और उसके अंकल सुबह जाते हैं और शाम को आते हैं. उनकी चुदाई से मेरा मन नहीं भरता था, लेकिन के करूं, मेरे पति तो एक बार चोदने के बाद सो जाते थे और मैं अपनी चूत में उंगली करके सो पाती थी.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ मैं घर का काम करती हूँ और कभी कभी मम्मी को स्कूटी से बाजार करवाने के लिए लेकर जाती हूँ. दोस्तो, मेरा नाम रितिका सैनी है और जो कहानी मैं आपको बताने जा रही हूँ उस वक्त मैं बाहरवीं कक्षा की छात्रा थी। मेरा फिगर बिल्कुल मस्त है जिसे देख कर किसी का भी लंड खड़ा हो जाए।अपनी फीगर के बारे में आपको एक आइडिया दे देती हूँ.

चोदा चोदी बीएफ सेक्स वीडियो

मुझको मज़ा आया, तो मैं उसे लिफ्ट देने के लिए अपनी चूचियों को उभार देते हुए उसकी तरफ ललचाई और मदभरी आंखों से उसकी ओर देख कर बोली- ओह्ह अंकल. ”मैं हँस पड़ा- तुझे अच्छा लगेगा तो ब्रा क्या ब्रा पैंटी दोनों पहन लूंगा. मुझे बहुत गुस्सा आ रहा था कि सबने मिलकर मेरी रोमांटिक मूड की वाट लगा दी थी.

बोली- नहीं, रूको नहीं भोसड़ी वाले, चीर दे इसी तरह मेरी गांड, बड़ा इठलाती थी … आह मेरे राजा आह. अब राहुल ने भी सीमा का तौलिया अलग किया और सीमा को गोदी में उठाकर सीधा बेड पर ले गया. बलात्कार बीएफ सेक्सी वीडियोपर उसने मना कर दिया, मुझे बिस्तर पर धकेल दिया और मेरे बगल में आ कर लेट गयी.

मैंने उसके पीछे खड़े होकर लण्ड का सुपारा उसकी गुफा के द्वार पर रखा और पेल दिया.

मैं यह सुन कर मुस्करा रहा था क्योंकि जिस तरह अब तक मुझे भाभी की चूत के सपने आते थे अब भाभी को मेरे लंड के सपने आयेंगे. मैंने मस्त नमकीन पेशाब को पिया और फिर उनके लंड अपने फेस पर लगा लिए.

वह औरत मेरी आंखों की दरिंदगी समझ गई, उसने तुरंत अपना मुँह दूसरी तरफ से लिया. जब उसे मैंने चोदा था, उस वक्त उसके लिए मेरी कोई लव जैसी फीलिंग नहीं थी. उनकी मैक्सी का गला इतना बड़ा होता था कि अगर भाबी कभी झुकी हुई दिख जाती थीं, तो मुझे उनकी दोनों चुचियां बाहर आती हुई दिखने लगती थीं.

मैं मूलतः आगरा का नहीं था, जिस वजह से मेरा टिफिन एक कैंटीन से आता था.

वो बोली- पंकज मैं मर जाऊँगी क्योंकि तुम्हारा लंड बहुत बड़ा और मोटा है. फिर जब हमारे होंठ अलग हुए, तो अदिति मेरी तरफ देख क़े मुस्करायी और मेरे माथे पे और गालों पे किस करके मेरे ऊपर ही लेट गयी. इस सेक्स कहानी के पहले भागमैडम ने जिगोलो बनने का रास्ता दिखाया-1में अब तक आपने पढ़ा कि मेरे साथ काम करने वाली श्वेता मैडम के साथ मेरी काफी नजदीकी बढ़ चुकी थी.

घोड़ा और लड़की की सेक्सी बीएफ वीडियो”मैंने उन्हें अंदर बुलाया, सोफे पर बिठा के उन्हें पानी दिया, दोनों लगभग नितिन की ही उम्र के थे।” सॉरी भाबीजी … आप को खामखा तकलीफ दी. दीदी इसके लिए तैयार तो नहीं थी, पर उसे यह अच्छा ही लगा और वो आह भर कर रह गयी.

इजराइल का बीएफ

बातों ही बातों में पता चला कि वो हफ्ते में तीन बार जयपुर से उदयपुर ट्रक लेकर जाते हैं. थोड़ी देर के बाद जब वो शान्त हुयी तो मैंने अपने धक्के लगाने शुरु कर दिये. मैं रात को उसी के बारे में सोचती हुई सो गई कि क्या वो मुझ पर आकर्षित है या मैं उसकी तरफ आकर्षित हूँ या आग दोनों तरफ बराबर लगी है?अगली सुबह उसने मुझे मैसेज किया किया कि वो बाइक पर है और मुझे ले लेगा, दोनों साथ में ही चल पड़ेंगे.

उसके होंठों को अपने होंठों में दबा कर मैंने ऊपर नीचे दोनों होंठों को चूसा. वो बोली- राज तुम दिल से तैयार तो हो न … मेरे लिए सब कुछ कर रहे हो! आई लव यू माय डार्लिंग. बुक्स उठाती हूं तो पढ़ने में मन लगता ही नहीं है, किताब में क्या लिखा हैवो दिमाग में घुसता ही नहीं है बल्कि दिमाग बुर की तरफ डाइवर्ट हो जाता है.

10 मिनट के बाद वो मेरे कंधों की तरफ वापस आ गया और मुझे फिर से मजा सा आने लगा. मैं फिर भी खुश हूँ तेरे लिए, तू मेरा इतना सा काम नहीं कर सकती?मैंने कहा- मैं क्या कर सकती हूँ? हर्षिल का लंड पकड़ के तेरी चूत में तो नहीं डाल सकती ना!उसने कहा- जैसे मैंने उसे तेरी सील तोड़ने के लिए सेट किया था, ऐसे ही तू मेरा करवा दे बस एक बार।मैंने सोचा कि तन्वी ने मेरी इतनी मदद की है, शादी में भी मेरी सेटिंग करने में मदद की तो मुझे भी अपनी सहेली की मदद करनी चाहिए. मैंने दीदी के कमरे को नॉक किया, तो दीदी थोड़ी अस्त व्यस्त हालत में बाहर आईं.

मैं बोला- और जो कल दोपहर में आया था वो?मामी बोलीं- वो मेरे सहेली मनीषा के पति का दोस्त है अमित. मैंने भी लंड को धक्का मारा, तो मेरा लंड दीदी की चूत में घुसता चला गया.

मगर मेरा मजा इतना ज्याद बढ़ गया था कि मैं उसके ऊपर ही लेट गया और मैंने उसको अपने शरीर के भार के नीचे दबा लिया.

”वाओ, सच में डॉली?”हां मेरी प्यारी बन्नो, पर तुझे कसम है किसी से कह मत देना कहीं. सेक्सी बीएफ भोजपुरी पिक्चरफिर मैंने श्वेता मैडम को बेड पे लिटा दिया और उनके पैरों के बीच आ गया. बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी न्यूबस अगले पल ही उसका पूरा जिस्म ढीला हो गया और कसे हुए पैर अलग हो गए. मैंने धीरे से कहा- नैना ये शॉर्ट्स उतार दे ना … मुझ पर भरोसा नहीं है क्या.

मेरे ख्याल से मेरा लंड एकप्यासी चूतकी प्यास बुझाने के लिए एकदम फिट है.

तभी दोनों ने मुझे नीचे धक्का दे दिया और बोले- लंड चूसो … जब तक हम ना नहीं कहें. काश नम्रता का परिवार भी एक दिन बाद आता, तो आज रात भी मेरे लंड को नम्रता की चूत चोदने का मजा मिल जाता. मेरी मां को दर्द हो रहा था लेकिन अंकल को उससे कोई लेना-देना नहीं था। अब अंकल ने अपनी स्पीड बढ़ा दी.

हिरेन ने उस पैंटी को अपनी नाक पर लगाया और तेजी के साथ अपने लंड को हिलाने लगा. उसने गले को पकड़ रखा था और ठीक वैसे ही मेरे मुँह में लंड पेल रहा था, जैसे ब्लू फिल्म में होता है. उसका पति पहले से ही नंगा हो चुका था और उसका लंड ऐसा था जैसे किसी हाथी का लंड हो.

एचडी बीएफ सेक्सी फिल्म वीडियो

बाथरूम का दरवाजा पूरी तरह से बंद नहीं था और चौखट के पास हल्के सी दरार रह गई थी. फिर उन्होंने अपने लंड को कोमल की गांड पर सटा कर एक जोर के झटका मारा और कोमल के मुख से एक जोर की आवाज निकली ‘आआह्हह … माँआआ …’अब ताऊ जी अपनी कमर को धीरे धीरे हिलाने लगे. मुझे जैसे ही यह बात समझ आई कि चाची ने मेरी इस हरकत को समझ लिया है, मुझे बहुत लज्जा आई.

थोड़ी देर तक मैं अपने लंड को घिसता रहा, फिर लंड ने एक बारगी फव्वारा छोड़ना शुरू किया, जो सीधे नम्रता के चेहरे से टकराने लगा.

फिर दीक्षा की पढ़ाई आरम्भ हो चुकी थी, तो वो लखनऊ अपने हॉस्टल में चली गयी, मैं भी दिल्ली आ गया.

फिर मैंने उसको बेड पर पटक दिया और अपना लंड उसकी चूत पर लगा कर एक जोर का धक्का मारा. दीदी ने झट से पूरा पानी अपने मुँह के बाहर थूक दिया, लेकिन मैंने दीदी का पूरा पानी पी लिया. दुनिया बीएफमैं अभी कुछ सोचता कि एक दिन अच्छी बात ये हुई क़ि वो लड़का मेरी बिल्डिंग के पास ही अकेले खड़ा था.

इधर खेत में आराम से चोदने की जगह नहीं थी, तो मैंने उसे खड़ा होने को कहा. वो लोग बोले कि यहाँ पर कई रूम्स का इंतजाम किया हुआ है मेहमानों के लिए. शायद उसको भी पता चल गया था कि मैं उसे चोर नज़रों से देख रहा हूँ, पर वो फिर भी अनजान बनी हुई थी और अपनी किताब पढ़ने में मस्त थी.

नमस्कार दोस्तो, मैं देव कुमार जयपुर से आपके लिएआंटी की प्यासी जवानी मांगे लंड-1से आगे का भाग लेकर आया हूँ. ट्रक की बात सुनकर मैं थोड़ा डर गया, क्योंकि मैंने कभी ट्रक में सफर नहीं किया था.

थोड़ी देर बाद नौकर बहुत सारे ड्राईफ्रूट्स और दूध लेकर आया। मैं भूखा होने के कारण जल्दी से वो सब चट कर गया और थोड़ी देर इन्तजार करने के बाद जब कोई नहीं आया तो मेरी भी आँख लग गयी।लगभग दोपहर के 2 बजे मैडम आयी और उन्होंने मुझे उठाया.

इसी के साथ ही मैंने लंड भाभी की चूत में पेल दिया था और अन्दर बाहर भी करने लगा था. मानसी बोली- जल्दी करो दीदी, मैं राज के लंड के दर्शन करना चाहती हूं. मैंने अपनी दिशा बदली और अपना मुंह उसकी चूत के पास ले जाकर चूत के लबों पर जीभ फेरना शुरू किया.

बीएफ बीएफ एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स अपनी गर्लफ्रेंड के बाद मुझे अगर किसी की चूत इतनी प्यारी लगी, तो वो थी कीर्ति की चूत. मैं सनी जी को किस करने लगा, तो बंटी जी मेरा मुँह अपनी अपनी तरफ खींचा और मेरे होंठों को चूसने लगे.

कोमल बोली- ताऊजी, आप मुझे नंगी क्यों कर रहे हो?लेकिन उसकी बात का असर ताऊ जी पर कुछ भी नहीं पड़ रहा था. मौसी जब तक हमारे साथ रही उसने कई बार मुझसे अपनी चूत की प्यास बुझवायी. मुझे लगता है कि जो भी कोई उनको एक बार देख लेगा, तो मुठ मारे बगैर नहीं रह सकता.

हिंदी बीएफ अमेरिका

फिर जीजा ने अपना लंड अपनी जिप से बाहर निकाल लिया और उसको जोर से हिलाने लगे. जब तक मुस्कान के मुँह से उसके पति से उसकी चुदाई की दास्तान न सुन लूँ, मुझे चैन ही नहीं मिलता था. कॉलेज में चलते वक्त या फिर क्लास में लड़कों की और कुछ प्रोफेसर की नजर मेरे छाती पर या फिर नितम्बों पर टिकी रहती थी.

लेकिन उसने पूछा कि कोई रूम है क्या मेरे पास?मैंने कहा- रूम तो नहीं है पर किसी सुनसान जगह पर चलते हैं. मेरा गार्मेन्ट्स का बिजनेस है और मेरी बीवी ऋतु (बदला हुआ नाम) 25 साल की है.

हीना ने आगे स्वैप किया तो उसने देखा कि साहिल ने एडिटिंग करके उसके चेहरे को नंगी लड़कियों की फोटो पर लगा दिया है.

मेरे प्यारे दोस्तो, मैं रॉकी एक बार फिर हाज़िर हूँ आपकी सेवा में, सभी को मेरा नमस्कार!मेरी पिछली कहानीइंजीनियरिंग की लड़की की पहली चुदाईपर आपके आये ईमेल के लिए सभी का शुक्रिया अदा करता हूँ. … अच्छा एक काम करते हैं, अभी ऊपर चलते है, छुप कर देखते हैं, अगर कोई हुआ तो नीचे वापस आ जाएंगे, नहीं तो फिर थोड़ा खुली छत का मजा लेंगे. मेरे मायके वाले बहुत गरीब थे, वहां वापस जाकर मैं उन्हें तकलीफ नहीं देना चाहती थी और सास के सामने उनके बेटे की हकीकत बयां करना भी समस्या का हल नहीं था.

शादी के बाद मेरा थ्रीसम सेक्स का मूड बन गया और चुदाई का माहौल बन गया था. इतनी कम उम्र में इतनी फैल गई है तेरी चूत … मगर मेरी रांड तू ये नहीं जानती कि मेरा लौड़ा इन उंगलियों से दस गुना ज्यादा बड़ा है. बस मन हुआ कि सारी उम्र इन्हें चूसता रहूं।मैंने आगे बढ़ कर उन्हें अपने हाथों में पकड़ा.

चाची ने अपनी आंखें बन्द कर लीं और अपने हाथ को ताऊ जी के लुंगी के अन्दर डाल दिया.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ: अक्षिता मेरे इस प्यार से पागल होती जा रही थी।मैंने अपनी उंगलियों से उसकी फ़ांकों को फैलाया. मैं- सॉरी … मैंने सुना नहीं। और तुम खाना ले कर आयी, यह तो मेरी किस्मत है.

पर ऐसा वो मेरी मम्मी के सामने ही बोल देती थी, तो मैं शर्मा कर रह जाता था. उसने 60-70 बार फिंगर फ़क किया था कि मैं अपनी जवानी का पहला कुंवारा पानी बहाने लगी, जिसे दोनों बाप-बेटी फ़ौरन जीभ से चाटने लगे. मैं- सब तुम्हारे लिए है … कैसा लगा सरप्राइज?ज्योति- बस अब मैं जब फोन करूं, तो आ जाना … तुम्हारा सरप्राइज भी तैयार रहेगा.

उसके हाथ ऊपर थे, जिससे उसकी बगलों से आती हुई खुशबू मुझे पागल कर रही थी.

और तो और इस बार वो अपनी हथेलियों को मेरी जांघों पर कस कस कर रगड़ रही थी और लंड को उमेठ रही थी. मैंने मोबाइल एक तरफ किया और अपनी जीभ उस सुराख के अन्दर डालकर चलाने लगा. पूरी यात्रा में उसकी चूत का रस लिया मैंने।हम अभी भी चोरी-छिपे मिलते रहते हैं क्योंकि दुनिया के रीति-रिवाज से तो डरना ही पड़ता है.