सेक्सी बुर चोदने वाली बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो ओपन बताओ

तस्वीर का शीर्षक ,

दूध वाली सेक्सी चुदाई: सेक्सी बुर चोदने वाली बीएफ, चाची- अब तेरी मम्मी को बोल कर तेरी शादी करनी पड़ेगी, फिर करना उसके साथ, जो तुझे करना है.

हॉट सेक्सी बफ हिंदी

इस बार वो बिंदास बोली- चोद दे मादरचोद … भैन के लौड़े … लंड बाहर क्यों निकाला, अन्दर डाल कमीने. सेक्सी हिंदी सेक्सी हिंदी सेक्सइधर भाई ने अपना लंड मेरी चूत में घुसाने के लिए जोर से धक्का दे मारा.

चाची ने इस बात पर आपत्ति जताते हुए पूछा कि मैं देव को क्यों ला रहा हूँ. सेक्सी पिक्चर राजाअब भाभी मेरे सामने केवल पैंटी में थीं और उन्होंने ब्रा नहीं पहनी थी.

मौत के कुंए का खेल जैसे ही चालू हुआ, तो मुकेश ने फिर से अपना हाथ मेरी गांड पर रख दिया और मेरी गांड को दबाने लगा.सेक्सी बुर चोदने वाली बीएफ: मित्रो, यह मेरी अन्तर्वासना में पहली सेक्स कहानी है, तो हर गलती को नजरअंदाज करके कहानी का मजा लीजिएगा.

दीदी बोलीं- हम्म … तब तो मुझे भी पहली बार कुंवारे लंड का मजा मिलने वाला है.मैंने उनके मम्मे को टटोलना शुरू किया और जल्द ही मुझे चाची के मम्मे का कड़क होता निप्पल मिल गया.

ಇಂಡಿಯನ್ ಆಂಟಿ ಸೆಕ್ಸ್ - सेक्सी बुर चोदने वाली बीएफ

जिस दिन उसकी मम्मी उसके नाना के घर गईं, उसी दिन मैं अपनी बाइक लेकर मार्केट पहुंच गया और उसके फोन का इंतजार करने लगा.मैंने बेड पर देखा तो सरिता ने अपनी पैंटी और ब्रा एक बाजू निकालकर रख दी थी और वो अलमारी में कपड़े ठीक से लगा रही थी.

उन्होंने कई बार मुझे अपने घर पर बुलाया … लेकिन उस वक़्त तक मुझे ये नहीं पता था कि वो मुझे अपने पास क्यों बुला रही हैं. सेक्सी बुर चोदने वाली बीएफ अपनी चुत में लंड घुसवाते ही वो थोड़ा चिल्लाई मगर मैंने उसकी आवाज को अनसुना करते हुए धक्के मारने शुरू कर दिए.

मैंने भी वक्त की नज़ाकत को समझते हुए आगे कुछ नहीं किया और उसके साथ चुम्मा चाटी के बाद अलग हो गया.

सेक्सी बुर चोदने वाली बीएफ?

टीना- आंह मम्मी रे … मैं मर गयी, मर गयी!पर अभी मेरा पूरा लंड चूत में नहीं गया था. लेडी डॉक्टर पोर्न स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक प्यासी डॉक्टर ने मुझे अपने घर बुलाकर अपनी गर्म चूत मेरे हवाले कर दी. उस जगह का नाम इसलिए नहीं बता रहा हूँ कि लोग उस जगह से धर्म जाति और नारी की प्रवृत्ति का अनुमान लगा लेते हैं, जो कि गलत है.

तभी केविन और लांस दोनों जो कि अभी भी नंगे ही थे दोनों ने फिर से उनके लण्ड को सहलाना शुरू कर दिया. इतना सुनते ही उन्होंने मुझे पकड़ लिया और बोले- बेटा तू लड़की होता … और जिसके पास जाता, उसे बहुत खुश रखता. कुछ ही देर में उसने अपनी उछलने की स्पीड को तेज कर दिया और उसकी आवाजें भी जोर जोर से निकलने लगीं.

फिर दीदी शांत होकर बोलीं- कोई बात नहीं राजू, इस उम्र में ऐसा हो जाता है. कहानी के पिछले भागभाभी की चचेरी बहन की पहली चुदाईमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने शिल्पा को चोद कर लंड का माल इसके पेट पर गिरा दिया था और उसके बाजू में लेट गया था. तभी मुझे कुछ समझ आया कि भाभी ने मेरे कमरे में चुदाई के समय ही किराने का काम करने के लिए क्यों बोला था और बच्चों को वापस क्यों भेजा था.

उसका क्या करूं?कभी कभी तो मन करता है काश मेरे पति मुझे भी अपने साथ ले जाते क्योंकि रात को जेठ जी के रूम बहुत ही ज्यादा कामुक आवाजें आती हैं जो मुझे गर्म कर देती हैं।अब जेठ बहू Xxx कहानी का मजा लें. बस वाले लड़के और होटल के स्टाफ ने मिलकर सारे टूरिस्ट का सामान बस से नीचे उतार दिया.

मैंने कॉल काट कर झट से एक पहचान वाले ऑटो वाले को बोल दिया कि जल्दी घर आ जाना.

सरिता भी बहुत मदहोश होकर मेरा सर अपने स्तन पर दबाकर मुझे दूध पिला रही थी.

हॉट गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड की चूत बहुत चोद चुका था. मैंने अपनी जीभ भाभी की चूत पर रखी, तो वो बोलने लगीं- यार ये सब मुझे पसंद नहीं है … प्लीज़ ऐसा मत करो. वो हंसती हुई मुझसे अलग हो गई और बोली- अब तुम जाओ, मैं तुम्हें कॉल करती हूं.

किसी के मुझसे जुड़े रहने की आकांक्षा को भी मैंने त्याग दिया क्योंकि ऐसा करना मुझे तकलीफ़ देता था. उन्हें लंड चूसते देख कर ऐसा लगा रहा था कि जाने कब से लंड की भूखी थीं. मैं कुछ बोलने को हुआ कि मैडम …तो उससे पहले उसने मेरे होंठों पर हाथ रख दिया और चुप रहने का इशारा किया.

फ़लक के साथ बर्फ से खेलने में मुझे बड़ा मजा आ रहा था और इस खेल को मैं कहानी के अगले भाग में जारी रखूँगा.

मैंने धीरे से उसकी पैंटी निकाल दी और उसकी चूत की बगल में किस करने लगा. उसके हाथ के स्पर्श के अहसास से मैं एकदम सिहर गया था और उसे पाने की कोशिश करने लगा था. मैंने कहा- ठीक है, अभी लेकिन डाक्टर ने कहा है कि तीन चार दिन दवाई लगवाने के लिए क्लीनिक आना पड़ेगा.

ये वाली ट्रेन बड़ी स्लो चलती है, एक तरह से इसमें मुझे दूसरी ट्रेन से चार घंटे ज्यादा लगने वाले थे. उसके बाद मैंने उसकी मां को कैसे चोदा, ये मैं अगली सेक्स कहानी में बताऊंगा. उसका लंड मेरी गांड में आधे से ज्यादा जा चुका था और उसके पहले ही झटके में मेरी आंखों से आंसू तक निकल आए थे.

थोड़ी देर बाद मैं थोड़ा नीचे सरक कर उसके पेट और नाभि पर आ गया और नाभि को लगातार अपने होंठों से चूमने लगा था.

वैसे मैं आपको बता दूँ कि जहां वो टैंट लगा रहे थे, वो हमारी अपनी जगह थी. अब मैं उसकी गांड में लंड डाले उसके चुम्बन लेने लगा होंठों गालों गर्दन सब चूम डाले.

सेक्सी बुर चोदने वाली बीएफ [emailprotected]Xxx इंडियन भाभी सेक्स स्टोरी का अगला भाग:सेक्सी मम्मा से वासना भरा प्यार- 3. इतना सुनकर मैंने नीचे देख लिया और धीरे धीरे उनकी बाल भरी छाती चूमती हुई नीचे आती गई.

सेक्सी बुर चोदने वाली बीएफ हॉट गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी शुरू करने से पहले मैंने एक बार फिर से अपना परिचय दे देता हूँ. इस तरह से दोस्तो … निशा की शादी होने तक मैंने निशा और शिल्पा को बाथरूम में, स्टोर रूम में … और निशा के रूम में बहुत बार चोदा.

मेरे पिता जी का देहांत हो गया था, उनकी मृत्यु के बाद अंतिम संस्कार के बाद सभी विधियां चल रही थीं.

सिंगापुर सेक्सी फिल्म

मैंने हाथ से उसका लंड छेद पर टिकाया और उसने जोर का झटका देकर लंड पूरा पेल दिया. वो अपने हाथ से मुझे अपने दूध पिलाने लगी और मादक आवाजें भरती हुई मुझे उकसाने लगी. उसने दो कदम चल कर मुझे बेड पर लेटा दिया और अपनी पैंट की चैन खोलकर अपनी पैंट को अपने शरीर से अलग कर दिया.

सर का फ़ोन काटने के बाद मैंने समीर से कहा- मेरे बाबू आपका लंड कैसे खड़ा है?‘यार तू पास है तो खड़ा क्यों नहीं होगा. मैंने कहा- अरे वाह … वो कब चला गया?नीरजा- वो अभी एक महीने पहले ही तो गया है. भैया- चल ठीक है रंडी, तेरा पति नहीं मारता है क्या?मैं- वो मेरी गांड मारता तो है साले लेकिन मुझे आज तेरा लंड चाहिए, उसका नहीं.

बस फिर क्या था, मैंने भी जरूरत नहीं समझी बात करने की।क्योंकि शादी मैं कर नहीं सकता था और इसके अलावा कोई रास्ता नहीं था।पर कहते हैं न कि दाने दाने पे लिखा है खाने वाले का नाम।देखिए किसी भी सम्बन्ध में आपकी कद काठी, सुंदरता मायने रखती हो या न रखती हो, पर आपका व्यवहार मायने जरूर रखता है।अब हुआ यह कि मेरा व्यवहार अच्छा था! उसके दिल में मेरे लिए जगह थी औरसेक्स की इच्छाथी.

मैं मॉम को लेकर मामा के घर पहुंचा, तो नाना ने पूछा- अरे राजेश, तुम कब आए और तुझे तेरी मम्मी कहां मिल गयी?मैं बोला- मैं घर से आ रहा था तो मॉम अपनी सहेली के साथ पैदल आ रही थीं. मैंने लंड पर साली का हाथ रखते हुए उसको बोला- जानू, यही तुमको सबसे ज्यादा खुश करेगा. करीब दस दिन तक ताबड़तोड़ चुदाई हुई और जब माहवारी का समय निकल गया, तो भाभी बेहद खुश हो गईं.

मुकेश ने आगे से मेरी साड़ी को साये के अन्दर हाथ डाल कर खींचा और मेरी साड़ी एक ही क्षण में जमीन पर गिर गई. मैंने उन्हें बेड पर लिटाया, उनके दूध को मुँह में लेकर चूसने लगा और उनके निप्पल काटने लगा. फिर मेरे सामने ही हार्दिक ने शनाया को फ़ोन करके पूछा- चुदाई में मज़ा आया?शनाया हंस कर बोली- हां.

परंतु एक लड़की से बात हुई जोकि दिल्ली में रहती थी।लड़की का नाम श्रेया था. फिर रिया की गांड के नीचे तकिया लगाकर उसकी चुत को थोड़ा ऊपर उठा लिया.

मैं आपको बताना चाहूंगा कि उस लड़की का नाम शालू था, काफी ज्यादा गोरी-चिट्टी थी और भरे हुए शरीर की मालकिन थी. इससे रेखा मदहोश होकर सिसकारियां लेने लगी, उसके मुँहसे मादक आवाजें निकल रही थीं- ऊंई मां उफ्फ स्स्स् स्स हाय हर्षद उई मत करो … मैं मर जाऊंगी बस करो … स्स स्स हुं हुं ऊंई मां. कहानी के पिछले भागदोस्त की बीवी को वीर्यदान दियामें अब तक आपने पढ़ा था कि सारी रात सरिता मेरे लंड से चुदवाती रही थी और हम दोनों चार बजे नंगे ही सो गए थे.

वो कहने लगीं- कैसे?मैंने कहा- अगर आप थोड़ी हिम्मत दिखाओ तो अपना काम आपके फ्लैट की छत पर ही आज रात को हो सकता है.

इतना सुनते ही उन्होंने मुझे पकड़ लिया और बोले- बेटा तू लड़की होता … और जिसके पास जाता, उसे बहुत खुश रखता. सेक्सी चाची की चूत मारी मैंने! और यह सारा खेल चाची और उनकी बेटी ने मिलकर रचा था. वो भी मूड बना कर आई थी इसलिए वो भी गर्म होने लगी और मेरा साथ देने लगी.

फ़ोटो में उसने टाइट जींस टी-शर्ट पहन रखी थी जिसमें उसके संतरे के आकार के गोल गोल मम्मे और उभरी हुई गांड साफ साफ दिख रही थी. पहले मैंने एक दो कहानी पढ़ीं, इन्हें पढ़ने के बाद मुझे आनन्द की अनुभूति हुई और मुझे इतना मजा आने लगा कि अब मैं रोज एक न एक सेक्स कहानी जरूर पढ़ता हूं.

लेकिन दूसरी मंजिल आने के दो रास्ते हैं, जिसमें से एक ज्यादातर बन्द रहता था. एक तो दरवाजे में ऐसी जगह छेद कर दिया, जहां अन्दर से छेद दिखाई न दे, लेकिन उस छेद में से सब देखा जा सके. इन सब में वो मुझे कभी खुद के ऊपर ले आता, मुझे अपने घोड़े की घुड़सवारी करवाता, तो कभी बेदर्दी के साथ पटक कर मेरी लेने लगता.

नंगी सेक्सी चोदते हुए वीडियो

एक दिन एक भाबी आकर मेरे बगल में बैठ गईं, तब मैं यूट्यूब पर वीडियो देख रहा था.

अब वह लण्ड को बूब्स के बीच में आगे पीछे करके मेरे मुंह में देने लगा. ये Xxx गंदी सेक्स कहानी एकदम सच्ची है, जो मेरे साथ हुआ वो मैंने लिखा. मेरा पूरा रस निकलने के बाद उसने बड़े प्यार से मेरे लंड को अपनी जीभ से चाट चाट कर साफ कर दिया.

मैंने बोला- वो क्या?भैया- मुझे एक साल के लिए ट्रेनिंग के लिए यूएस जाना पड़ेगा और तुम्हारी भाभी यहां अकेली रह जाएगी. लंड सकिंग सेक्स स्टोरी लोकल ट्रेन में मिली एक भाभी के साथ चलती गाड़ी में अश्लील कारनामों की है. தமிழ்நாடுசெக்ஸ் தமிழ்நாடுசெக்ஸ்उसकी गांड का फूला हुआ छेद और फूली हुई लाल चूत देखकर मेरा लंड फड़फड़ाने लगा.

मैंने कहा- हां, वो तो तेरी चुत चाटते समय ही समझ आ गया था कि तुमने अभी ज्यादा सेक्स नहीं किया है. पर शायद वो अपने आपको कंट्रोल नहीं कर पा रही थी इसलिए अंतत: वो पूरी बेशर्म होकर मेरे लंड को देखने लगी.

मैंने उससे मुँह में लंड लेने के लिए बोला पर उसने मना कर दिया तो मैं थोड़ा गुस्सा हो गया. जब मेरा लंड उसकी चूत में अन्दर खिन टकराता तो फच फच की आवाज आती जो मुझे और भी ज्यादा उत्तेजित कर रही थी. पता नहीं क्यों, उस दिन मैंने खिड़की से झांकना चाहा … और फिर जो अन्दर का नजारा देखा, उसे देखकर मैं दंग रह गया.

हम जब कपड़े पहनने लगे तो वो बोली- ऐसा करो, तुम मुझे कपड़े पहनाओ … और मैं तुम्हें पहनाऊंगी. मैंने अपने लंड पर थूक लगा कर भाभी की गांड के छेद पर भी थूका और अपना लंड उनकी सेक्सी गांड पर सैट करने लगा. उसकी जेब में पैसे थे, फिर भी वो झुकी और मेरे सामने बैग से पैसे निकालने लगी.

जिस दिन उसकी मम्मी उसके नाना के घर गईं, उसी दिन मैं अपनी बाइक लेकर मार्केट पहुंच गया और उसके फोन का इंतजार करने लगा.

मेरा बैग रास्ते में चोरी हो गया था इसीलिए मैं तौलिया में ही …सौम्या को अब होश में आया. शायद मेरे खड़े लंड का अहसास पाकर वो भी कुछ कर गुजरने के मूड में आ गई.

वो बोली- मैंने अभी तक किसी का लंड तो छोड़ो अपनी उंगली को भी अन्दर नहीं लिया है. मैं अपनी बीवी को हमेशा चुत चाट कर पहले एक बार संतुष्ट करता था, फिर चुदाई करता था. साथ ही मैंने एक हाथ से शिल्पा की गर्दन को पकड़ कर उसे अपने पास खींच लिया और उसके होंठों को चूमने लगा.

और अगर तुमने जबरदस्ती से पेला, तो फिर मैं तुमसे कभी भी सेक्स करूंगी ही नहीं. फिर जैसे ही उसकी जीभ ने मेरी चुत और भग पर हरकत की, मैं सातवें आसामान में उड़ने लगी थी. तुम ऐसा करो कि रिसेप्शन पर जाकर एक रूम बुक करो अपने लिए! उसका पेमेंट में कर दूंगा.

सेक्सी बुर चोदने वाली बीएफ धीरू ने ब्लाउज के ऊपर से मेरे कप वाले मम्मों को दबा दबा कर मुझे बेहाल कर दिया. कोई दस मिनट तक भाभी का शरीर और कमर दबाने के बाद वापस मैं उनकी गांड पर तेल लगाने लगा और चूत सहलाने लगा.

सेक्सी नहीं होता

अब मुझे बस उस टाइम मशीन को चला कर सौम्या के पास पास्ट में उसको चोदने जाना था. मम्मी भैया के लंड को चूस रही थीं और पापा ने मेरी चूत में अपने बड़े लंड को घुसेड़ दिया था. तो हर्ष ने अपनी जीभ से कुछ थूक नीचे सरकाया और अपनी एक उंगली नेहा की गांड में भी कर दी।नेहा कसमसाई पर फिर उसको मजा आने लगा।हर्ष पिला पड़ा था उसकी चूत और गांड के छेद पर!नेहा की चुसाई इतनी असरदार थी कि अब हर्ष को लगने लगा कि अगर उसने अपने को नेहा से नहीं छुड़ाया तो उसका लंड तो नेहा के मुंह में ही खाली हो जाएगा।उसने नेहा से कहा- अब मुझे ऊपर आने दो.

उसने क्रीम कलर की ब्रा और ब्लैक जाली वाली पैंटी पहनी थी, जिसे मैंने झट से निकाल दी. कुछ महीने से पढ़ाई की वजह से मैं कहीं गया भी नहीं था तो मैंने सोचा कि जब तक रिज़ल्ट आए, तब तक क्यों ना कहीं घूम आता हूँ. घर की नौकरानी का सेक्सी वीडियोमैंने उसे नीचे लिटाकर उसकी ब्रा पैंटी निकाल दी और नीचे को होकर उसकी चूत देखी.

मैंने अपने लौड़े पर थोड़ा सा थूक लगाया और थोड़ा सा थूक अपनी साली की बुर में लगा दिया.

‘आआह्ह हम्म्म हम्मह यश आह इस्स्स … कितना रगड़ रहे हो आह …’मैंने- हां साली जी, रगड़वा लो मेरे लौड़े से … आह मजा आ रहा है न!वो- हां बड़ा मजा आ रहा है यश … मस्त चुदाई करते हो यार … एकदम गांड से रगड़ कर चूत में लंड पेल रहे हो … आह. अब पहले फ़लक बोली- मुझे कुछ काम है और मैं यहां किसी से मिलने जाने वाली है.

अब शिल्पा की मस्त आवाजें मेरे कानों में गूँजने लगीं- आहह ओह … अम्मम … ओहहह!शिल्पा अपनी गांड को भी हिला रही थी और लंड को भी अन्दर ले रही थी. मैंने देर न करते हुए उसकी ब्रा उतार दी और उसके मम्मों को अपने मुँह में भरने लगा. फिर मुझे पूछने लगा- क्या मुझे भी मौका मिलेगा तुम्हारी गांड चोदने का?तो मैंने सर हिला कर उसको स्वीकृति दे दी.

मैंने चुम्बन रोक कर उसकी आंखों में देखा, तो उसने देखने के बजाये वापिस चूमना शुरू कर दिया.

चाची की Xxx कहानी के पहले भागमेरे दोस्त ने अपनी चाची को चोदामें अब तक आपने पढ़ा था कि अनीता चाची की लाइव चुदाई देखने के बाद मेरे लंड में तनाव सा बना हुआ था, जिस वजह से मेरा लंड खड़ा था. बाहर मैंने आंटी से कहा- थैंक्स आंटी, आपके चलते मेरा और मेरी मॉम का सपना पूरा हुआ. निशा- तो आप मुझे जाते हुए घर से बुला लिया करो, मैं भी आपके साथ चला करूंगी.

తెలుగు sex comमैंने कहा- क्या उन्हें नींद की गोली दे दी थी?वो हंस दी और आंख दबा कर वापस चली गई. दोनों हाथों से गांड खींचकर मैंने सरिता की चूत में अपनी पूरी जीभ डाल दी तो सरिता कसमसाने लगी.

इंग्लैंड सेक्सी दिखाइए

मैंने उन्हें देख कर एक स्माइल दी … और वो दोनों मुझे ‘हैलो गौरव भैया …’ बोल कर अपने जूते उतारने लगे. मैं- अरे ऐसे कैसे यार!मेरी जान सौम्या बोली- वो मैं कुछ नहीं जानती, मुझको सुहागरात से पहले तुम ही चोदोगे और मेरी चूत में अपनी मलाई भी छोड़ोगे. तब मैं धीरू से बोली- मैंने जब आपका लंड पहली बार देखा, तो सोचा नहीं था कि ये मेरी गांड मारेगा.

जब जब मैं उफान पर आती, तो वो रुक जाता और फिर से तेज होकर लंड अन्दर बाहर करने लगता. अब मुझे दिल्ली से ट्रैवल करके यूपी के छोटे से गांव पुरैनी आना पड़ा. वो कुतिया सूंघते सूंघते यहाँ आएगी जरूर!दोनों ने लंच किया और मेज़ साफ करी।आशु ने अपने पहने कपड़ों में ही रही सही सफाई निबटानी शुरू की।अब उसने वैक्युम क्लीनर चला लिया था ताकि आवाज़ बाहर तक जाये।रेखा का मन अब सफाई में कहा था, वो इधर उधर से आते जाते आशु को चूम रही थी।तभी डोरबेल बजी.

हमारे यहां रोज उधर रात में दिया रखते थे ताकि लाइट जाने पर भी थोड़ा उजाला बना रहे. 8 बजने को थे तो मेरे दोस्त अपने घर चले गए और दिशा के घर से भी कॉल आ गया तो वो जाने को कहने लगी थी. मैं वैसे तो बहुत अच्छा खाना नहीं बनाती हूँ, पर कैसा लगा, जरूर बताना.

मेरे टमाटर काटने की स्पीड को देख कर बोली- क्या बात है … आपकी बीवी तो आपसे बड़ा खुश रहेगी. तभी उस नर्म होंठों वाली नाजनीन ने अपने होंठों से मेरे लंड को छुआ, मैं पूरा हिल गया.

फिर चाची बोलीं- और वो मादरचोद राहुल कहां है?तभी राहुल पर्दे के पीछे से सामने आ गया और वो प्यार से चाची को समझाने लगा.

एक दिन मैं अपने काम में व्यस्त था, तब अचानक मुझे महसूस हुआ कि कोई मेरी टेबल के पास खड़ा है. सेक्सी ट्रिपल सेक्स व्हिडीओलगभग 20 मिनट बाद मैंने सौम्या को गोद से नीचे उतारा और सौम्या को बेड पर पीठ के बल लिटा दिया. मल्याळी सेक्सये वाली ट्रेन बड़ी स्लो चलती है, एक तरह से इसमें मुझे दूसरी ट्रेन से चार घंटे ज्यादा लगने वाले थे. मैक्सी में चाची के बड़े बड़े चूचे देख कर मेरा दिमाग खराब हो जाता था लेकिन लंड हिलाने के लिए मुझे बाथरूम में ही जाना पड़ता था.

इतने में लाइट आ गयी और अब जो उसका चेहरा मुझे नज़र आया … आह दिल में से आवाज़ आयी.

फिर भाभी ने मुझे इशारा किया तो मैं समझ गया और उनकी टांगें फैला कर उनकी चुत पर अपनी जीभ रख दी. उसने ये भी लिखा था कि रात को जल्दी मत सोना, मैं 11 बजे तुम्हें मैसेज करूंगी. वो रोने लगी और बोलने लगी- मैं कल जिम कैसे जा पाऊंगी, मेरी कल के एक्सरसाइज कैसे हो पाएगी अमित, कुछ करो … मुझे जल्दी से ठीक करो, मुझे कल जिम जाना है.

इजाजत है … तुम गुस्सा तो नहीं करोगी ना!रेखा बोली- हर्षद तुम कुछ भी पूछ लो. वे अपनी सहेली की शादी में गाँव में गयी तो उन्होंने क्या किया?यह कहानी सुनें. उसे न जाने ऐसा क्यों लगता था कि हम दोनों उसके लिए कुछ सरप्राइज प्लान कर रहे हैं.

एक्स एक्स एक्स एक्स सेक्सी एचडी वीडियो

विलियम मुझे जबरदस्त तरीके से चूमे जा रहा था और मैं भी अब जंगली बिल्ली की तरह उसे इधर-उधर चूम रही थी और काट रही थी. इतने में सरिता अपने दोनों हाथों से मेरी गांड को दबाकर मुझे रोकने लगी और लंड को अन्दर खींचने लगी. ‘अअह हहह …’ करती हुए उसका पानी निकल गया और वो शान्त होकर लंड अपनी चूत में लेकर बैठ गई.

उसकी गर्दन पर काटते हुए मैंने उसकी चूत में हल्के धक्के मार कर लंड अन्दर घुसा दिया.

चाय नाश्ते के बाद, विशाल ने कहा- मोहन और रवि, तुम दोनों एनीमा लेकर आ जाओ.

हार्दिक ने लंड के टोपे को हल्का सा धक्का मारा तो लंड चूत में घुस गया. मैं खुश हो गया पर मैंने उससे कहा- ये क्या है?वो बोली- क्या हुआ?मैंने कहा- इसकी क्या जरूरत थी?वो बोली कि तुम्हारा फ़ोन टूट गया था. सेक्सी वीडियो देसी औरतमैंने देर ना करते हुए अपनी चाची को पलटाया और उनकी गांड में उंगली करने लगा.

व्ट्सअप से होते हुए बात वीडियो सेक्स तक पहुंची और फिर होटल के रूम तक!दोस्तो, मैं प्रथम हूं और ये मेरा बदला हुआ नाम है. वर्जिन स्कूल गर्ल X कहानी में पढ़ें कि एक दिन मैंने स्कूल की लाइब्रेरी में अपने क्लासमेट को मुठ मारते देखा. लेकिन मैं अपने परिवार के साथ रहता था और हरियाणा के घरों के माहौल से आप सभी परिचित ना हों, तो बताना चाहूंगा कि अधिकांश परिजन बहुत सख्त होते हैं.

निशा ने कहा- मेरे बाथरूम के शॉवर में से पानी टपकता रहता है, आप किसी प्लंबर को बुलाकर दिखवा सकते हो?मैंने कहा- पहले मुझे दिखाओ. यही सब सोचते हुए मेरे दिमाग में एक बात आई कि यदि मैं राहुल को बियर लेने भी भेज दूँ, तो मुझे कुछ टाइम मिल जाएगा.

एक दिन टीना ने मुझे नव्या भाभी की चुदाई करते पकड़ लिया और नाराज़ हो गयी.

मैंने खाना बना कर सबके लिए टेबल पर रख दिए और हम सभी ने खाना खा लिया. मेरा लंड इतना बड़ा हो गया था कि मॉम की मुट्ठी में पकड़ने के बाद आधा से ज्यादा मेरा लंड बाहर था. वो बोली- फिर कैसे?‘तुम अपना घूंघट डालो और मेरा इंतज़ार करो कि कब मैं तुम्हारा घूंघट उठाऊंगा और कब सुहागरात मनाऊंगा.

इंडियन बीपी सेक्सी व्हिडिओ मराठी फिर कुछ पलों के बाद उन्होंने मेरा बॉक्सर खींच कर नीचे उतार दिया और मेरा लंड पकड़ते ही सीधा मेरे लौड़े को मुँह के अन्दर डाल कर चूसने लगीं. मैं झट से उठा और आंटी के दोनों पैरों को सोफे पर रखकर उन पर चुम्बन की बरसात करने लगा.

मैं- तो बताओ कहां दर्द है … मैं एक थैरेपिस्ट के पास ही काम करता हूं, तो मैं तुम्हारी मदद कर सकता हूं. मुझे तो बहुत मजा आ रहा था लेकिन मौसी को बहुत ज्यादा दर्द हो रहा था. जय मुझसे पूछने लगा- इतना अच्छा लंड चूसना कहाँ से सीखा?तो मैंने मुस्कुरा कर कहा- ये मैंने पोर्न मूवी से सीखा है।हम दोनों ने थोड़ी देर बातें करने के बाद स्कूल से जल्दी निकलने का प्लान बनाया.

सेक्स सुहागरात सेक्सी सुहागरात

कुछ देर इसी तरह चूमाचाटी में ही हम दोनों को कब नींद आ गयी, कुछ पता ही नहीं चला. देसी हाउस मेड सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी खाना बनाने वाली औरत को बिना किसी भूमिका के कमरे में लाकर चोद दिया. और फिर लगे फचाफच चोदने! मुझे ऊपर की ओर उछाल उछाल कर!मेरे दोनों दूध हवा में उछलने लगे।मैंने अपने दोनों हाथ उनके कंधे पर रखे हुए थे और उनका लन्ड मेरे चूत की दीवारों पर रगड़ खाते हुए अंदर बाहर हो रहा था.

मैंने कहा- मतलब … जरा ठीक से बताओ भाभी!भाभी बोलीं- ओके ध्यान से सुनो. अब चाचा ने टूरिंग का काम पकड़ लिया था तो वो ज्यादातर बाहर ही रहने लगे थे.

फिर जैसे ही चाची की आवाजें थमीं, मैंने चाची के मुँह से हाथ हटा दिया और धीरे धीरे लंड हिलाने लगा.

पेशेंट डॉ पोर्न कहानी के पिछले भागगर्म चूत वाली ने मेरा लंड चूस कर चुदाई कराईमें अब तक आपने पढ़ा था कि डॉक्टर रेखा मेरे साथ चुद कर झड़ चुकी थी और मैंने भी अपने लंड का जल उसकी चूत में छोड़ दिया था. उसकी सिंकाई करके मैंने उसे दवा दे दी और पट्टी करने के बाद मैंने उसकी कमर देखने की बात कही. इस तरह हम दोनों ने अगले पूरे दिन और पूरी रात जमकर चुदाई का खेल खेला.

कुछ महीने से पढ़ाई की वजह से मैं कहीं गया भी नहीं था तो मैंने सोचा कि जब तक रिज़ल्ट आए, तब तक क्यों ना कहीं घूम आता हूँ. विलास ने अच्छी तरह से लंड को क्रीम लगाकर चिकना बना दिया और मेरे सामने ही मेरी तरफ गांड ऊपर करके और मुँह गद्दे पर रखकर हो गया. मुझसे भी रहा नहीं गया तो मैंने भी जोरदार तरीके से अपनी पूरी ताकत से आठ दस धक्के मारे और मैं भी झड़ गया.

सरिता मेरे होंठों को चूसने लगी तो मैंने कहा कि मेरे जाने के बाद जल्द ही खुशखबरी बताना.

सेक्सी बुर चोदने वाली बीएफ: आपको मेरी ये पोर्न भाभी की चुदाई कैसी लगी, मुझे ईमेल के जरिए जरूर बताइएगा. वो मुझसे बोली- इतनी देर तक सोते हो … रात में क्या करते हो?मैंने उससे कहा- तू अभी तक स्कूल नहीं गयी?उसने कहा- संडे को भी स्कूल जाया जाता है क्या?मैंने कहा- तो इतने गुस्से में क्यों है, धीरे बोल न!फिर वो कुछ नहीं बोली.

इस बार मैंने देर ना करते हुए चाची की चुत में अपना लंड पेल दिया और धीरे-धीरे चोदने लगा. फिर आंटी दोबारा मेरा लंड मुँह में लेकर चूसने लगीं और पूरा लंड चूस चूस कर उसे साफ कर दिया. जैसा कि आपने पिछली कहानी में पढ़ा था कि नैना और मैं सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे थे.

मेरी आंखों का पीछा करती हुई वो भी लजा गई और उसने अपने पैरों से गोरी चुत ढकने का प्रयास किया.

जिन्हें लगता है कि कॉलब्वॉय सिर्फ सेक्स के लिए ही आता है, तो हैडी के साथ ऐसा नहीं था. उसने बेडशीट निकालकर दूसरी डाली और मुझसे बोली- हर्षद अब तुम थोड़ी देर सो जाओ. भाभी- तो क्या रात में तुम ही थे?मै- हां भाभी, आपने मुझे भईया समझ कर सुहागरात मनाई.