मनीषा कोइराला बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,सेक्सी आदिवासी घाघरा वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

एक्स वीडियो दिखाओ: मनीषा कोइराला बीएफ सेक्सी, अब मैं उसकी ख़ूबसूरती को निहारने लगा और मेरी निगाहें उसकी चौंतीस साइज के मम्मों पर टिकी हुई थीं जो ऊपर से दिख भी रहे थे.

देसी सेक्सी वीडियो लड़कियों की

जैसे ही वो नंगा हुआ तो मैंने देखा कि उसका लंड मेरे पहले पति से बहुत मोटा और लंबा था. हिंदी सेक्सी फिल्म हिंदी वालीअब वह मेरे ऊपर आ गया था और मेरी टांगें उठाकर मेरी गांड में लंड घुसा दिया.

मेरी पैसे वाली बात सुनकर उसने कहा- यार देख … तुझे तो पता ही है कि मुझे हमेशा नयी चूत चाहिए और तुझे इस समय पैसे की बहुत जरूरत है. बाप बेटी सेक्सी मूवीसेक्स चैट के दौरान पता नहीं वो संतुष्ट हाती थीं या नहीं, लेकिन अगर उनको मजा आता था तो उसके बाद मैं उनसे पर्सनली मिलने जाया करता था.

तेरी आंटी की तो चीख निकलती थी इस लंड से!फिर मैंने कहा- इस लंड से तो किसी की भी चीख निकल जाये!तो वो बोले- चल मेरी जान चूस न!मन तो मेरा भी बहुत था मगर मैं कोई जल्दबाजी नहीं करना चाहती थी.मनीषा कोइराला बीएफ सेक्सी: अब वो मस्त हो चली थी, तो मैं धीरे धीरे लंड को चुत में अन्दर-बाहर करने लगा.

अबकी बार शायद जौहरा को और भी ज्यादा चुदास चढ़ गयी थी, तो वो मेरे सामने सोफे के नीचे बैठ कर मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी और साथ साथ पैग पीने लगी.तो वो बोले- मेरी जान, कुछ दिखा ना!मैंने चौंकते हुए पूछा- यहाँ क्या देखना है आपको?वो बोले- अपने बूब्स दिखा!मैंने कहा- आपका दिमाग ख़राब है क्या? यहाँ कैसे दिखा सकती हूँ?तो वो बोले- कोई नहीं देखेगा.

सेक्सी वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी - मनीषा कोइराला बीएफ सेक्सी

अब अनन्या कुछ ना बोली मगर उसके हाव भाव से पता लग रहा था कि उसे लौंडा पसंद आ गया था.उसने मेरे बूब्स की, मेरी नंगी चूत की और मेरी नंगी फोटो ली, और हम दोनों ने भी साथ में बहुत सारी नंगी फोटोज ली.

बस फिर क्या था … उसने मेरी चुत की भी वैसे ही चुदाई की, जैसे अनन्या की की थी. मनीषा कोइराला बीएफ सेक्सी उसने ब्रा नहीं पहनी थी, तो उसके कड़क निप्पल्स मेरे सीने पर चुभ रहे थे.

आंटी जोर से चीखने लगी- निकाल ले राज … आआईई … आऊऊ … मर जाऊंगी मैं!पूरा लंड डालकर मैं रुक गया और आंटी की चूचियों को मस्ती में दबाता रहा.

मनीषा कोइराला बीएफ सेक्सी?

मेरी इतनी सी तमन्ना पूरी नहीं करोगे हर्षद!अदिति की बातें सुनकर मैं कुछ नहीं बोल सका. ऊपर तीन बेडरूम और एक स्टोर रूम है, जिसमें घर का पुराना टूटा फूटा फर्नीचर और भी अटाला भरा पड़ा है. आपने कोई जीव या सांड को देखा हो तो बताइए कि क्या वो अपनी मां या बहन देखता है, तो बस चोदने के लिए ही चढ़ जाता है या नहीं! ये सारे नियम हम लोगों ने ही बना लिए हैं.

मेरे हर झटके से उसके स्तन झूले की तरह हिल जाते और एक दो बार मैंने लिंग उसके गुदाछिद्र में भी डाल दिया. वो मेरे लिंगमुंड को दांतों से काटते हुए बोली- मेरा तो सारा योनिरस ना जाने कितनी बार पी लिया और अपना एक बार भी नहीं पिलाओगे? मुझे तुम्हारे वीर्य का स्वाद लेना है।फिर मैंने उसे थोड़ी सी पोजीशन बदलने को कहा।अब मेरा मुँह उसकी योनि पर था और उसके मुँह में मेरा लिंग. हाय दोस्तो, मैं योगी मैं फिर से हाजिर हूँ आप लोगों ने मेरी भतीजा बुआ सेक्स कहानीखेत में चुदाई करके मिटाई बुआ की चूत चुदासको बहुत पसंद किया.

उस वक्त एक नया बैच आया था और उसमें संजीव नाम के एक लड़के ने भी ज्वाइन किया था. मैंने हर तरह से उसके होंठों को किस किया, फिर मैंने बूब्स पर ध्यान केंद्रित किया और एक एक करके मैंने दोनों मम्मों को चूसना शुरू कर दिया. आज मैं आपको अपनी ही मकान मालकिन ललिता भाभी की जबरदस्त चुदाई की सेक्स स्टोरी सुना रहा हूँ.

मैंने मन मन में सोचा कि अब आयेगा मज़ा।फिर हमारा खाना ख़त्म हुआ और वो जाकर बिस्तर पर लेट गए. इधर कविता मुझसे निरंतर हर एक या दो दिन के अंतराल में बात करती रहती.

इनमें से एक बैग को छोटा नहीं कहा जा सकता था, मगर उसे न जाने क्या लगा कि ये बैग डिक्की में खराब न हो जाए, इसलिए उसने इसे अपने पास ही रखना तय कर लिया था.

क्यूंकि मेरी चुदाई भी बहुत दिनों बाद हो रही थी तो मैंने अपनी चूत को भी अच्छे से चिकनी कर लिया.

फिर उसने मेरे बदन को खूब चूमा, चूचियों को खूब मसल मसल कर चूसा, मेरी जबरदस्त तरीके से चूत चाटी और बहुत जल्दी मेरा पानी निकाल दिया. उसमें से छोटी वाली लड़की हमेशा ही मुझे देखकर अपने होंठों पर जीभ फिरा देती थी. मगर जिस दिन हमें जाना था, उसी दिन पता चला कि ममता तो इस टुअर के साथ जा ही नहीं रही हैं.

फिर कई दिनों बाद मैंने डॉक्टर के यहां हॉस्पिटल ज्वाइन कर लिया क्योंकि हर महीना राकेश कि जॉब में कुछ ना कुछ प्राब्लम होती ही रहती थी. मैंने उससे मजाक में कहा कि मेरे पास के एफसी का बकेट है, उसमें कर लो. उसने ब्रा नहीं पहनी थी, तो उसके कड़क निप्पल्स मेरे सीने पर चुभ रहे थे.

मैं हैरान थी 60 साल की बुड्ढे में इतनी ताकत देखकर!एक बार को तो दिमाग में आया कि इस बुड्ढे से ही शादी कर लेती हूँ.

बड़ी मुश्किल से तो उसने मुझसे बात‌ करना शुरू किया था … और अब ये हो गया. मैंने उससे कई बार बोला था, पर उसे लौड़ा मुँह में लेना अच्छा नहीं लगता था और गांड में लेने में उससे डर लगता था. मैंने कहा- अरे नहीं मम्मी, आप नयी हैं हमारे घर में, आपको अभी काम करने में परेशानी होगी.

अपनी बेटी के इस कामुक आलिंगन को देखकर मेरे लंड में झटके लगने लगे थे और सोच रहा था कि अब सोनी छोटी नहीं रही, वो तो औरत बनने के ख्वाब सजाये हुए है और उसका ये ख्बाव आज मेरे दोस्त के मोटे लंड से चुदकर पूरा भी होने जा रहा है।वैसे तो इससे पहले वो इन सब चीजों से अनजान थी लेकिन एक मर्द के हाथ का स्पर्श औरत को खुद ही लाइन पर ले आता है और वो स्वयं ही सब कुछ उसके सामने खोलकर रख देती है. नीचे पतली सी गोरी कमर उसकी मोटी चिकनी जांघें और बीच में हल्के भूरे गुलाबी रंग की छोटी सी चूत मुझे मदमस्त किये दे रही थी. किसी भी मर्द का उसे देख कर ही पानी निकल जाए, वो इतनी कामुक दिख रही थी.

मैंने उसकी बातों पर ध्यान नहीं दिया और उसके दोनों निप्पलों को बारी-बारी से चूसने लगा.

मैंने अपना ईमेल नीचे दिया हुआ है जिस पर आप अपने मैसेज भेज सकते हैं. पिछले काफी समय से पाठकों को कुछ नया देने का प्रयास कर रहा था किंतु निजी व्यस्तता के कारण कुछ भी लिखना संभव नहीं हो पा रहा था।मेरी पिछली कहानी थी:वो तोहफा प्यारा साअब कोरोना और लॉकडाउन ने इतना समय दे दिया कि मैं अपने पाठकों के लिए कुछ नया और रोमांचक प्रस्तुत कर सकूं.

मनीषा कोइराला बीएफ सेक्सी उन्होंने मुझे एक फ़ाइल के बारे में बताया और उसके रखे होने की जगह बताते हुए बोले- अभी राजेश अंकल घर आएंगे, उनको वो फ़ाइल दे देना. ये बोलते हुए मैंने अपनी भाभी की मस्त मुलायम चूचियों पर हाथ रख दिया.

मनीषा कोइराला बीएफ सेक्सी शायरा बस से आई थी इसलिए वो मुझसे पहले घर पहुंच गयी थी … मगर शायद मकान मालकिन से बात करने के लिए वो नीचे खड़ी हो गयी थी. मैंने उसे पूछा- अपना माल कहां निकालूं?उसने कहा- मेरे राजा, मेरी गांड पर ही निकालो और अपने माल से मेरी गांड के छेद और गोलाइयों पर अपनी उपस्थिति दर्ज कर दो।उसकी बात मानते हुए मैं उसकी गांड की गोलाइयों को दबाते हुए उसे चोदने लगा.

विक्रम बोला- अच्छा आप इसे प्यार से चूसो … आप को खुद ब खुद इससे प्यार हो जाएगा.

ब्लू पिक्चर सेक्स बीएफ वीडियो

मैं- ठीक है, अब तुम जाओ, कोई जेंट्स की बॉडी मसाज करने वाली हो तो उसे भेज देना. मैं उसकी टांग उठाए हुए अब थक सा गया था, तो मैंने उससे कहा- तुम बाल्टी पकड़ कर डॉगी पोज़ में आ जाओ. रचना के दोनों मम्मे एक दूसरे से चिपक गए थे, मम्मों के बीच में बिल्कुल भी जगह नहीं थी.

उन्होंने बस हल्की सी सिसकारी ली- आअह्ह्हा स्स्शह स्सह्ह आअह्ह!1 मिनट रुकने के बाद मैंने दूसरा जोर से झटका मारा और पूरा लंड भाभी की चूत के अंदर!अब की बार भाभी उछल कर पड़ी. अब तक आपने मेरी इस सेक्स कहानी के पिछले भागकॉलेज गर्ल की अन्तर्वासनामें पढ़ा था कि मनीष ने अपनी बीवी की चूचियां दबा कर उसे बाय बोला और ऑफिस निकल गया. मुझे ये विश्वास नहीं हो पा रहा था कि इतनी सुन्दर लड़की मेरे सामने कभी इस तरह से अपने आपको मेरे हवाले कर देगी.

हम फिर से एक दूसरे के होंठों को बेतहाशा चूम रहे थे और हमारे हाथ एक दूसरे के शरीर से खेल रहे थे.

ये सब देख कर मेरे भी लंड ने मुझसे हिलाने की डिमांड की और मैंने मुठ मारकर लंड से पानी निकाल दिया. वो हंस कर बोली- चलो फिर देखती हूँ, लेकिन आज बारिश बहुत हो रही है, तो मैं भीग भी सकती हूँ. उधर अर्चना के ऊपर सिर्फ ब्रा और पैंटी के ऊपर पतली कमर में नेट की मिडी गजब कहानी बयां कर रही थी.

मैं धीरे से बाथरूम के दरवाजे के पास गया और अंदर झांकने की कोशिश करने लगा. हम दोनों की पंसद मिल गई थीं तो हम दोनों बिंदास अपनी चैट आगे बढ़ाने लगे. एक धक्के के बहाने से राज मेरे ऊपर आ गिरा और उसने मेरी चूचियों को दबा दिया.

कुछ देर तक उसके दोनों दूध चूस चूस कर लाल करने के बाद अब मुझे सब्र नहीं था. मेरे दोस्त का नाम राहुल है, वो कनाडा में एक साफ्टवेयर कम्पनी में काम करता था.

फिर उसकी ब्रा को खोलकर चूचों को आज़ाद कर दिया। उसके चूचे मानो मुझे निमंत्रण दे रहे थे कि आओ शौर्य आज इन्हें दबा दबा कर इनका दूध निचोड़ डालो।ब्यूटी ने मुझसे कहा- शौर्य अब मैं तुम्हरी रंडी हुई, मुझे तृप्त कर दो मेरे सैयां जी।मैं उसकी चूचियों को चूसने लगा. मुझे हल्का सा दर्द भी हुआ इसलिए मैं उसकी आंखों में देखती हुई अपने होंठ खोल कर हल्के हल्के से ‘आहह … आहह … स्सी … स्सी …’ करने लगी. आह्ह … दोस्तो … भाभी की चूत एकदम से फूल गयी थी और बहुत रसीली हो गयी थी.

ऑफिस गर्ल Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मेरी सहकर्मी लड़की मुझसे अपनी मालिश करवा रही थी.

उसके पेशाब कर लेने के बाद मैंने बोला- तुझे शर्म नहीं आई?वो बोली- इसमें काहे की शर्म … जैसे तेरी बीवी का शरीर, वैसा ही मेरा है. हुआ यूं कि हमारी बैंक की ट्रेनिंग एक साथ आ गई थी और हम पहली बार ट्रेनिंग सेंटर पर मिले थे. मैंने अपने पैंट के बटन और चैन खोली और अपने मोटा लंड निकाल कर उसके हाथ में दे दिया जिसे वो बहुत प्यार से सहलाने लगी.

शायद मेरी तरह ही पुराने गांडू थे।मैं लंड डाल कर उन पर चुपचाप लेटा रहा. उसका शौहर शाईस्ता हमारी चुदाई को देखते हुए सामने बैठ कर अपने लंड को हिला रहा था.

तेज चोद साली रांड को।वो बोला- हां साली … पूरी रांड है ये … मेरे लंड को गांड में भींच रही है. दोस्तो, मेरी पिछली स्टोरी को पढ़कर बहुत से दोस्तों के ईमेल आये और उन्होंने बहुत प्यार दिया. विक्रम ने संजू को नीचे बैठाया और अपना लंड संजू के गदराई हुई चुचियों के बीच में रखकर चुचियों को ही चोदने लगा.

बीएफ सेक्सी डाउनलोड करें

मैंने एक हल्का सा गाउन पहना और चाय बना कर टीवी देखने लगी।करीब 6 बजे अनिल जी का फोन आया और उन्होंने बताया कि वो 8 बजे तक आ जायेंगे और कहा कि खाने में कुछ मत बनाना क्योंकि वो सब लेकर ही आएंगे।जैसा उन्होंने कहा था, 8 बजे के करीब ही मेरे फ्लैट की घंटी बजी.

इतने में मैंने नंगी ही सारा सामान अंदर रसोई में रख दिया और आकर अंकल की बाँहों में लेट गयी. साबुन लगाकर उसकी चूत को चोदने से उसकी चूत एकदम से साफ और अधिक कामुक लग रही थी. अपनी ही उंगलियों को गांड में डालकर उनसे गांड मरवाने का आनन्द लेती थी.

एक पैंटी जैसी चमड़े की पेटी थी, जिसे पहना जा सकता था … और एक डिब्बी में चिकनाई के लिए क्रीम थी. मैं भी भाभी के बूब्स और निप्पल्स से खेल रहा था, उनके निप्पल्स भी कड़क होने लगे थे. देखना सेक्सी वीडियोउन्होंने भी लपक कर मेरा मोटा लंड मुँह में भर लिया और टोपे पर जीभ चलाने लगीं.

मैंने अपनी नंगी बुआ को अपनी बांहों में ले लिया और उनके होंठों को बेतहाशा चूमने लगा. बात करते करते मैंने आपा से कहा- आपा आपसे एक बात बोलूं, आप गुस्सा तो नहीं होगी ना!आपा ने कहा- बोलो क्या बात है?मैं बहुत हिम्मत करके आपा से बोला- आपा आप बहुत खूबसूरत हो, मैं आपसे बहुत प्यार करता हूँ आई लव यू!आपा बोली- पागल हो क्या, मैं तुम्हारी बहन हूँ.

जगह का तो कुछ लगेगा नहीं, बस डेकोरेशन का खर्चा आएगा और वो भी मैरिज प्लेस से कम खर्च में पड़ेगा. मुझे आप लोगों के ईमेल्स का इंतजार है क्योंकि उसके बाद ही मैं अपनी अगली स्टोरी लिखना शुरू करूंगी. मैंने पीहू को सो जाने के लिए बोला तो उसने थोड़ी देर में सोने का कह दिया.

वो आवाज ऐसी मीठी लगी कि उसके बाद मेरी रातों की नींद और दिन का चैन खत्म हो गया. उस पर मैं और शेखर जी सोने लगे तो गेस्ट साहब भी हमारे साथ लेटने लगे. कमरे में पंखा चलने पर भी हम पसीने से तर थे और मैं भाभी के शरीर का पसीना भी चाट रहा था.

वो भी थोड़ी सहज होती जा रही थी और मेरी बातों के सही तरीके से बिना हिचके जवाब देती थी.

जैसे-जैसे लिंग अंदर जा रहा था, लिंग को उतनी ही मेहनत करनी पड़ रही थी. वो सीट पर आगे हो कर बैठी थी और मैं नीचे उसके पैरों के बीच में बैठा था.

तो बस में क्या हुआ?मेरा नाम स्वयम है, मैं छत्तीसगढ़ के अम्बिकापुर से हूँ. यह कह कर मैंने अनन्या को अलग से कहा कि अगर मनोज कुछ करना चाहे, तो थोड़ी नानुकर करके कर लेने देना. मैंने कहा- क्या कभी तुम्हारी चूत को किसी ने चूमा है?वो चौंक गयी, बोली- छी: … वहां कोई क्यों चूमेगा? चूमने के लिए ये होंठ हैं ना!मैंने बोला- लड़की के पास दो किस्म के होंठ होते है और आदमी का फ़र्ज़ बनता है कि वो इन दोनों होंठों के बीच कोई फर्क न करे.

उसकी ये बनावट देख किसी योगी का भी लंड खड़ा हो जाता … और मैं तो था पहले से ही हवस का पुजारी. अब मैंने रचना को बेड पर लिटाया- रचना जान, मेरा सांप तेरे बिल में जाने वाला है. मैंने उनके सामने गिलास कर दिया और उन्होंने मेरे हाथ से गिलास पकड़ लिया.

मनीषा कोइराला बीएफ सेक्सी अदिति नीचे से गांड उठाकर मेरे लंड को अपने चूत में लेती हुई बोली- हां हर्षद, मैं भी यही चाहती हूँ. थोड़ी ही देर में भाभी अचानक से अकड़ने लगीं और एक ‘आह …’ के साथ झड़ गईं.

हिंदी बीएफ गाना वीडियो

मुझसे जितना हो रहा था, मैं उतना अन्दर तक उसकी चूत में जीभ डाल कर चूस रहा था, भले ही मुझे सांस लेने में थोड़ी तकलीफ हो रही थी. उसने कहा- तुम चिंता ना करो, मैं उसको पूरी चुदक्कड़ बना दूंगा, फिर वो लंड के बिना रह ही नहीं सकेगी. मेरी गांड तो कुलबुलाने लगी कि इतना मस्त हथियार तो मेरी गांड में भी भोला डाल दे, मगर मैं कह नहीं पाया.

उसने मेरे हाथ से पिघली हुई चॉकलेट वाली बोतल ले ली और ढेर सारी चॉकलेट अपनी चूत में लगा ली. हम दोनों घर आकर मस्ती करने लगे और उसे एक बार पूरी मस्ती से चोद कर मैं अपने घर निकल गया. सेक्सी विडियो हिंदी में सेक्सीमुझे उसका हाथ पकड़ते ही मस्ती छाने लगी और अपने प्लान की सफलता दिखने लगी.

मुझे ऐसे देखकर उनके तो जैसे होश ही उड़ गए!वो बहुत देर तक मुझे ऐसे निहारते रहे.

गांव का रास्ता बहुत अच्छा नहीं था, गड्डे ज़्यादा होने के कारण बार बार ब्रेक लगाना पड़ रहा था. हम्म … याद है तुमने वादा किया था कि शादी के बाद सुहागरात के दिन तुम जो चाहो, जितना चाहो कर लेना.

दोस्तो, हुआ यूं कि हमारे पड़ोस में 2 साल पहले एक परिवार रहने के लिए आया था।वह एक अंकल और आंटी थे. जब आराम हो गया तो वो बोला कि दीदी कैसा लगा मेरा लौड़ा?मैंने कहा- अच्छा है, पर इतना आराम से क्यों कर रहे हो, थोड़ा तो जंगलीपना दिखाओ न … मेरा पहली बार नहीं है, तो डरो मत, थोड़ा तेज तेज करो. इससे वो दोनों बहनें फिर से एक साथ ही झड़ गईं और मैंने अपना लंड गुलजान के मुँह से निकाल कर अपने हाथ से हिलाना शुरू कर दिया था.

उनकी चड्डी में पीछे से हाथ डालकर उनके चूतड़ों की दरार में हाथ घुसा दिया और चूतड़ दबाने लगा.

शायद अब दिव्या के बदन में भी सेक्स की आग लग चुकी थी और वो चुपके से आकर रूम में लेट गयी. तो मैंने उन्हें रोका और बोली- ऐसे ही झड़ने का इरादा है या कुछ करके झड़ना चाहते हो?वो बोले- मेरी जान, अभी कुछ मत बोल बस मुझे जो करना है, बस करने दे!तो मैं भी चुप हो गयी और देखने लगी कि ये आगे आगे क्या करते हैं।फिर वो मेरी गर्दन को चाटने लगे. नीचे से सरदार ज़ोर ज़ोर से झटके दे रहा था और पीछे से मेरी बीवी की गांड में लंड चल रहा था.

करीना कपूर की नंगी सेक्सी वीडियोजब तक भाभी बाथरूम से बाहर आयी तो मेरा खड़ा लंड देख कर बोली- लंड है या क्या है ये यार? अभी चूत से झड़ कर बाहर निकले इसको 10 मिनट भी नहीं हुए हैं. मैंने भाभी की गांड में उंगली से तेल लगाया और उसकी गांड को चिकनी कर दिया.

भाई बहन की सेक्सी बीएफ मूवी

आपको बस सेक्स KLPD स्टोरी कैसी लगी या आपका कोई सुझाव हो तो मुझे मेल करें. मुझको भी उसकी कमर पकड़ कर चुदाई करने में इतना मजा आ रहा था कि बस मैं ताबड़तोड़ लगा पड़ा था. ये समझते ही मैंने अपने हाथ उसके चूतड़ों पर से निकाल कर उसके चेहरे पर रखे और बोला- बस अब कुछ नहीं होगा.

थोड़ी देर बाद उसने गप्प से उस खीरे को अपनी चूत में घुसेड़ लिया और हमारी तरफ देखने लगी. वो नीचे टांगों से नंगी थी और गैस पर ताहरी चढ़ाने की तैयारी कर रही थी. मैं- नहीं ज़ारा …ज़ारा- मुझे गुंडागर्दी दिखाने को मजबूर मत करो जान!मैं- नहीं यार … प्लीज!ज़ारा- अब चलते हो या उठा के ले जाऊं आपको?मैं- मान जाओ यार!ज़ारा- आप ऐसे नहीं चलोगे!ये कहकर जैसे ही वो मुझे उठाने लगी, मैंने उसे रोक दिया.

उन्होंने आंख मारते हुए हां का इशारा किया और मैं 4-5 झटके मार कर लंड को उनके गले में फंसा दिया. मैं उसी शाम उसके घर जा पहुंचा और उसे रात को अकेले में मिलने के लिए बुलाया।हमारा मिलन होते ही दोनों एक दूसरे के जिस्मों में गुत्थमगुत्था हो गये और चुम्बनों के दौर के पश्चात् नग्न जिस्मों की आग को चुदाई से मिटाने के लिए तैयार हो गये. बाथरूम से निकल कर मामी अपने कमरे में चली गईं और कुछ देर बाद सज संवर कर आ गईं.

मगर शायरा ने बीमारी का बहाना बना दिया, पर मैं जानता था कि शायरा को कौन सी बीमारी हुई है. उसके स्पर्श से मेरा लौड़ा खड़ा होने लगा था और दो ही मिनट में एकदम टनटना उठा.

मैंने अपने लैपटॉप पर पोर्न पिक्चर लगा कर छोड़ दी थी और वह हल्का खोल दिया था.

ये सुनकर उन्होंने आगे बढ़ कर मेरे एक गाल को चूम लिया और वो बाहर आ गए. गुजराती बीपी सेक्सी बीपीसंजू के गदराए हुए चुचे जोर जोर से हिल रहे थे और संजू मस्ती से चिल्ला रही थी- आह … ओह … ओय मम्मी धीरे से … ओह विक्रम!उन दोनों की चुदाई का हरेक शॉट इतना जबरदस्त था कि संजू की गांड और मांसल जांघें भी पूरी तरह से हिलोरे खा रही थीं. अंग्रेजी सेक्सी पिक्चर वीडियो एचडीनेहा किचन से चाय लेकर आते हुए- बोल क्यों चिल्ला रही है?स्नेहा की नजर जैसे ही नेहा पर पड़ी, उसे देखती रह गई. मैंने डांटते हुए कहा- तुम्हें जॉब चाहिए तो चुपचाप वैसा करो जैसा मैं बोल रही हूं.

इसलिए मैंने बिना जाने अपनी ओर से उत्तेजक और रोमांस भरी बातें करना शुरू कर दिया.

लेकिन जिस प्रकार तुम मेरी भाभी की कोख भरने वाले हो, यह तो तुम्हारा मुझ पर और मेरे परिवार पर अहसान है, मैं इसका कर्ज कैसे चुकाऊंगी. वो मेरी आंखों में आंखें डालकर बोली- हां मेरी कुंवारी चुत में अपना लंड डालकर मुझे चोद दो. फिर मैंने क्या किया?नमस्कार दोस्तो, मैं आपका राज शर्मा आपका स्वागत करता हूं हिन्दी सेक्स कहानी की सर्वोत्तम वेबसाइट अन्तर्वासना पर।आज मैं आपके लिए अपनी एक अनोखी हॉट लेडी सेक्स स्टोरी लेकर आया हूं.

उसी पल एकदम से अदिति का शरीर अकड़ने लगा, उसने अपनी गांड ऊपर उठाकर अपनी चूत से मेरे लंड पर दबाव बना लिया. मैंने कंफर्म करने के लिए मोबाइल की टॉर्च ऑन की और रूबी की चूत देखी. नीता की चूचियां अब मेरे सीने पर रगड़ने लगीं और नीचे मेरा लंड गाउन के ऊपर से चूत पर रगड़ खा रहा था.

अच्छा सेक्सी बीएफ

मैं- ठीक है यामिना, भगवान ने चाहा तो जरूर पहनेगी, उसे मैं अपने हाथों से पहनाऊँगा … लेकिन वह स्मार्ट और सुंदर होनी चाहिए, इन लड़कियों की तरह. यामिना बस अपनी पियोन वाली ग्रे यूनिफॉर्म की वजह से मेरा ध्यान आकर्षित नहीं कर सकी थी. हैलो फ्रेंड्स, मैं रूपा एक बार फिर से अपनी सेक्स कहानी में आपका स्वागत करती हूँ.

मेरे होठों पर प्रगाढ़ चुम्बन करके वो मेरे बगल में कुछ देर लेटी रही। उसकी आँखों में संतुष्टि साफ साफ झलक रही थी। उसके बाद मैंने उस ब्यूटी सेक्स को कई बार चोदा और उसकी गांड का भी उद्घाटन कर दिया.

वो आवाज ऐसी मीठी लगी कि उसके बाद मेरी रातों की नींद और दिन का चैन खत्म हो गया.

मैंने उसके मजबूत कंधों को अपने हाथों से पकड़कर उसकी गर्दन पर चुम्बन अंकित कर दिए।वो चुम्बनों से सिहर उठी और पलट कर मेरे सीने से चिपट गयी और सीने के बालों में उंगलियां फिराने लगी।मेरे हाथ उसके सौंदर्य के पर्वतीय स्थलों का भ्रमण करने लगे और उसके माँसल नितंबों को पहली बार सहलाया।चाय और कामुकता दोनों ही उफान पर थे. और ममता जब तक‌ कुछ समझती, तब तक मैंने एक‌‌ जोर का धक्का मारकर अपना आधे से ज्यादा लंड चुत में घुसा दिया. सेक्सी वीडियो दिखातीउसे तुम बहुत पसंद आई हो और वो चैक देने के लिए तैयार है, लेकिन बदले में वो तुम्हारे साथ एक रात बिताना चाहता है.

आज सही समय लग रहा है मुझे क्योंकि मुझे पता था आज तुम्हारी मम्मी तुम्हारी मौसी के घर जाएगी और तुम घर पर अकेले होंगे. कचनार की कली अर्चना अपने आनन्द के उन्माद में दोनों हाथों में तकिया भींच रही थी और दोनों टांगें ऊपर हवा में लहराते हुए चुत में जड़ तक सात इंच लंबा लंड के हरेक चोट को हलक में घोंट रही थी. गोरा रंग, लम्बे काले बाल, गुलाबी होंठ और आंखें तो ऐसी कि जो उनमें देख ले उसका दिल घायल ही हो जाये.

दोस्तो, मैं आपको अपनी जिन्दगी से जुड़ी बहुत ही कड़वी सच्चाई बताना चाहता हूं. मैं भी करिश्मा भाभी के अकेलेपन को कम करने ही आया था इसलिए उसकी इच्छाओं का पूरा ध्यान रख रहा था.

आगे यामिना बोली- साहब, मेरा सपना है कि मेरी बेटी भी अपनी कंपनी की सफेद शर्ट और लाल स्कर्ट पहने.

ये अचानक आए मज़े से भाभी की ‘औईई …’ निकल गयी और उन्हें बेहद मज़ा आने लगा. विजय ने तुरंत मेरी गर्दन पर किस कर दिया और मुझसे बोला- प्लीज़ शालू … क्यों तड़पा रही हो, मेरी जान निकल जाएगी. खैर … जैसा कि मैंने आपसे वादा किया था कि मैं आपको आगे की सेक्स कहानी जरूर बताऊंगा.

सेक्सी वीडियो 2021 वाला दो जोरदार आहों के बाद उसने अपनी चूत का मुँह खोल दिया और उसका सारा नमकीन पानी मेरे मुँह और चेहरे पर लग चुका था. नेहा स्नेहा के जाते ही मन में सोचने लगी कि इसकी नजर भी ना … बाज की नजर है.

पर विक्रम को कोई फर्क नहीं पड़ा और वो संजू को डॉगी पोज में चोदने लगा. तेल लेकर मैंने आंटी की गांड में 5-6 बूंदें तेल की डालीं और उसकी गांड में उंगली घुसाने लगा. पूरी तरह से लौड़ा तैयार करने के बाद उन्होंने उस लड़के की गांड में लंड को धीरे धीरे घुसाना शुरू किया.

बीएफ सेक्सी देसी फिल्म

कुछ ही देर में उन्होंने समर्पण कर दिया और वो बोलीं- ओके ठीक है, पर अभी ये सब नहीं. उन दोनों बाबाओं ने मुझे बहुत घूर कर और ललचाई हुई नज़रों से मेरे बड़े बड़े मम्मों को खूब बढ़िया से देखा. मेरे चुंगल से छूटने के लिए उसकी फड़फड़ाहट देख कर मैंने उसके दर्द की ज्यादा चिंता किए बिना आखिरी वार करते हुए पूरा लौड़ा रेशमा की तंग चूत की फांकों में पेल दिया.

पार्क में जिस समय आंटी एक्सरसाइज़ करती थीं, तो उनकी छातियां ऐसी हिलती थीं, जैसे कोई मदमस्त हथिनी उछल रही हो. मैंने तो प्रीति को अपने पति से सुख पाने के लिए उसे सारे उपाय बता दिए थे.

वो मेरी आवाज सुनकर बाथरूम में पास आयी और देखा कि दरवाज़ा खुला है तो हल्के से दरवाज़े की ओट से मुझे देखने लगी.

उसे क्या नहीं पता कि लड़का और लड़की जब अकेले हों और वो भी दोनों पूरी तरह से भूखे, तो क्या करेंगे. फिर हमने बाथरूम में जाकर सफाई की और रागिनी ने भाभी को उनकी इच्छा के विरुद्ध उनके कमरे में भेज दिया. देर होते देख शशि ने शीघ्रता से चुदाई को अंजाम देने का आग्रह किया और मैंने उसे घुटनों के बल डॉगी स्टाइल में झुका लिया.

इस वजह से उस हुस्न की मल्लिका के चुचे बार बार मेरी पीठ से टकरा रहे थे. उन दोनों को निबटा कर मैंने अपना बैग खोला और दारू की और पानी की बोतल बाहर निकाली. ’स्नेहा- विनीता दी वाली स्टोरी सुनाओ ना दीदू?नेहा- फिर कभी, क्योंकि वो कहानी एक घंटे या एक दिन में खत्म होने वाली नहीं है.

मेरे जैसे चुदक्कड़ आदमी के लिए ऐसी चूत का मिलना बहुत किस्मत की बात थी.

मनीषा कोइराला बीएफ सेक्सी: हां किसी भी मर्द को काबू में करना हो तो उसे अपनी चुत और मम्मों की झलक तो दिखानी ही पड़ती है. अगले कुछ ही पल बाद उसने मेरे लौड़े की चमड़ी पीछे करते हुए सुपारा बाहर निकाल लिया.

एक हाथ से मैं फोन में चैट कर रहा था और दूसरे से अपने लंड को भी साथ साथ सहला रहा था. आधा लण्ड अन्दर बाहर करते हुए एक बार मैंने जोर से ठोकर मारी तो सोनल की बुर की सील टूट गई. मैंने आज तक बहुत सारे लंड लिए है लेकिन आज पहली बार इतना लंबा और मोटा लौड़ा मेरी चूत में उतरा था तो दर्द की तो कोई सीमा ही नहीं थी.

उसके मुँह में मेरा लिंग होने की वज़ह से वो सीत्कार भी नहीं पा रही थी, मगर उसके नितंब सिकुड़ जाते थे।मैं झड़ने वाला हूँ!” मैंने उत्तेजना को संभालते हुए कहा.

तो दोस्तो, इस बार आपको सेक्स कहानी में कैसा लगा … प्लीज़ मेल करना न भूलिएगा. जब मेरा लण्ड उसकी बुर में जाने के लिए बावला होने लगा तो मैं उठा और टांगें फैला कर बैठ गया. मैंने डांटते हुए कहा- तुम्हें जॉब चाहिए तो चुपचाप वैसा करो जैसा मैं बोल रही हूं.