प्रियंका चोपड़ा के बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,सेक्सी व्हिडिओ पाठव

तस्वीर का शीर्षक ,

लड़की की बीएफ पिक्चर: प्रियंका चोपड़ा के बीएफ सेक्सी, धीरे धीरे भाभी का भी दर्द कम होने लगा और वो अपनी गांड को उछाल उछाल कर मुझसे चुदवाने लगीं.

सेक्सी पिक्चर वीडियो में अंग्रेजों की

करीब 20 मिनट के बाद मैं भी उनकी चुत में ही डिसचार्ज हो गया और अपना सारा पानी उनकी कसी हुई चुत में ही छोड़ दिया. सेक्सी पिक्चर पानी वालाथोड़ी ही देर में मेरे प्रयासों से वह सामान्य हुई और मैं धीरे धीरे बड़े प्यार से अपने लिंग को उसकी चुत में आगे पीछे करके चोदने लगा.

ये सब उसने अकेली प्लान किया था और उसने सारी बात अपने परिवार में किसी को भी बताई नहीं थी. मुसलमानी सेक्सी चुदाई वीडियोवो अपनी गदरायी जाँघों के बीच मेरा सर और अन्दर दबाते हुए अपनी चुत चुसवाने लगीं.

यह बात कुछ महीने पहले की है, मैंने और मेरे दो दोस्तों ने मिलकर हमारे मोहल्ले की एक लड़की के साथ खूब मस्ती की थी.प्रियंका चोपड़ा के बीएफ सेक्सी: वहीं पास में कुछ लोग और खड़े थे, फिर भी अंकित पास आकर बोला- वन्द्या मान जा और चुदाई करवा ले! मुझसे अच्छा लन्ड और कहीं नहीं पायेगी.

मैंने एकदम से उसकी चुत के होंठ खोल दिए और अपनी जीभ को अन्दर-बाहर करने लगा.वो अपने फार्म हाउस, जो शिमला के पास है, में रहना पसंद करते हैं और इसलिए बीच-बीच में वहां जाते रहते हैं.

सेक्सी नंगी फिल्में दिखाओ - प्रियंका चोपड़ा के बीएफ सेक्सी

मैंने इतना माल बरसाया कि उसकी ठोड़ी पर से बहता हुआ माल उसके मम्मों के ऊपर टपकने लगा.ये जगह मेरे दोस्त के खेत पर बना एक फार्म हाउस का कमरा था, इसलिए कोई आ भी जाए, तब भी किसी तरह का बवाल होने जैसी सम्भावना नहीं थी.

फिर किस बात की कमी? और सबसे बड़ी बात आप किसके चक्कर में मुझे यहाँ खींच लाईं?तब वो बोलीं- छोड़ो उस मादरजात को. प्रियंका चोपड़ा के बीएफ सेक्सी यह अपने परिवार को लेकर ही नहीं, और भी कई लोगों के लिए बाबा ने सच्ची बातें बताई हैं। सोचने समझने की बात तो है अगर उन्होंने कोई संकट बताया है तो हम उसका इलाज करें क्योंकि उन्होंने कहा था कि अगर तुम सूझबूझ से काम लोगे तो उस संकट से बचा जा सकता है.

वो फोन पे हल्दी, मिर्ची, चीनी, मसाला वगैरह चीजों का ऑर्डर ले कर डिलीवरी दे देती थी.

प्रियंका चोपड़ा के बीएफ सेक्सी?

मेरे खयाल से उसे वो सब वापस मिल रहा था, जो उसने कुछ देर पहले तारा को दिया था. जब वो आगे आये तो मोमबत्ती की रोशनी में हल्का सा दिखा कि वो लोग बहुत लंबे चौड़े हैं, खैर फिर मैंने उन दोनों को भी केक खिलाया. फिर मैंने उनके रेट वगैरा पूछे और 1 घंटे बाद उस मसाज पार्लर में पहुंच गया.

तब वो बोलीं- बस इतना ही? तभी तुम भाग रहे थे?तो उनकी इस बात पर मुझे हल्का सा गुस्सा भी आया और मैंने उन्हें बेड पर लिटाकर पहले उनके मम्मों से जी भर के खेला, फिर नाभि के रास्ते उनके गदराए हुए बदन को चूमते हुए उनकी मखमली योनि तक आ पहुंचा, जहाँ एक भी बाल नहीं था. थोड़ी देर बाद मैंने अपना सारा वीर्य स्नेहा के पेट पर निकाल दिया और चुपचाप रिलॅक्स होकर सो गया. हमारी जीभें कितनी ही देर तक आपस में गुटरगूं करती रहीं, लड़ती झगड़ती रहीं और फिर वो हट गयी और लेट कर अपनी अपना मुंह अपनी हथेलियों से छिपा लिया और गहरी गहरी सांसें भरने लगी.

मेरा पापा ने कहा- जब वो तुम्हारे पास आयें तब मुझे बताना, हम लोग उनसे मिलने के लिए आएँगे. मैं भी आंटी की गांड को कभी ज़ोर से दबाता, तो कभी ज़ोर से थपथपाते हुए चमाट मारता. मैं जब देहरादून गया था तो मैंने वहां कोई जॉब नहीं की थी, तो मैं घर पर ही रहता था.

मेरा भाई मुझे किस किया तो मैं उसकी तरफ देखने लगी लेकिन मेरी आँखों में कोई विरोध नहीं था. अब मेरी प्यारी सी छोटी चूत उसके सामने खुली पड़ी थी वो मेरी चूत को अपनी उंगलियों से छूने लगा तो मैं बोली- यार, अपने लंड से छुओ, उंगली से नहीं!वो मुस्कुराया और अपनी पैन्ट और चड्डी निकाल दी.

अब मैं बिल्कुल मदहोश हो गई थी, मैं अपनी कमर उठा उठा कर उंगलियां और अंदर बाहर करवाने लगी.

वो भी शायद यही चाहती थी इसलिए उसने मुझे नहीं रोका और वो उत्तेजित होती जा रही थी.

मुझे इस बार उनकी गांड मारनी थी … वो भी उनकी मर्जी से … तो उसके लिए उन्हें तैयार भी करना था. हाँ… तुम लेट जाओ…मयूरी अपनी माँ के इस व्यव्हार को अच्छे से नोटिस करती है और वो समझ गयी कि उसकी चाल एकदम सही दिशा में है. !मैंने उसकी बात को अनसुना करते हुए कहा- तेरे घर पे आया हूँ, कुछ खाने पीने को नहीं पूछेगी?वो बोली- हां तू कोई मेहमान थोड़े न है, कुछ खाना है तो बोल?मैंने कहा- हां मैं कौन सा मेहमान हूँ, ये तो मेरे ससुर का घर है.

मेरी होंठों की लिपस्टिक उनके होंठों पर भी लग गई, मैं भी उनका सर पकड़ कर ज़ोर से किस करने लगा. यारों मेरा मन तो हुआ कि बस दौड़ कर जाके चूस लूँ, मगर क्या कर सकते हैं, कोई भी लड़की इतनी जल्दी अपने चूचे हमारे होंठों में नहीं दे सकती है ना. मैं भी पूजा की बातों को मानकर अपना लंड थोड़ा ऊपर खींच कर अब जोर से धक्कों के साथ चोदने लगा.

मौसी ने बिस्तर के किनारे को पकड़ा और फर्श पर टांगें फैला कर चुत खोल कर खड़ी हो गईं.

रजत- सच दीदी…मयूरी- हाँ मेरे प्यारे छोटे भाई… खा जाओ अपनी दीदी के इस जवान शरीर को!रजत आगे बढ़ा और अपने होंठ मयूरी के होंठ पर रख दिये, उसका एक हाथ मयूरी की जांघों के बीच चुत के साथ छेड़छाड़ करने में व्यस्त हो गया जबकि दूसरा हाथ उसकी एक चूची को उमेठने में लग गया. उस झूले में एक साथ बस दो ही लोग बैठ सकते थे तो उसने उन लड़कियों को साथ में बैठा दिया और खुद एक अलग जगह जाकर बैठ गयी. मामी ने मुझे ऊपर उठाया, मुझे कस के पकड़ लिया और बोलीं- आज अपनी मामी को पेल दे रोहन… मैं बहुत तड़फती हूँ इसके लिए, तेरे मामा तो 24 घंटे नशे में होते हैं, इसीलिए उनसे बात तक करने का मन नहीं करता.

लेकिन अगर तुम्हारे घर किसी को पता चल गया तो मुझसे कहेंगे कि मैंने इस बारे में उनको क्यों नहीं बताया तो मैं क्या जवाब दूँगा. थोड़ी दूर और अन्दर जाने पे पता चलने लगा कि ये राष्ट्रीय उद्यान है और ये मुझे पीछे की तरफ ले जा रही थी. चलो राज भाई, यह अधूरी प्यासी है बेचारी … अपन दोनों मिलकर इसको आज तृप्त कर देते हैं.

आज तू अपनी इस रानी की चुत को फाड़ दे और आज गुरुपूर्णिमा भी है, मुझे अपनी दासी बना लो और मुझे चुदाई का गुरुज्ञान दे दो.

तो उसने उदास सा चेहरा बनाकर मुझसे पूछा कि कब जाओगे?बस रिज़ल्ट आने के बाद ही यहां से चला जाऊंगा, तब तक हम ऐसे ही फ्रेंड तो रह सकते हैं ना?”उसने कहा- हां यार. मगर उस दर्दनाक हादसे और उसके बाद जो तुमने किया वो मुझे बहुत हैरान कर देने वाला था.

प्रियंका चोपड़ा के बीएफ सेक्सी शीतल- सॉरी बेटा… ज्यादा जोर से दबा दिया क्या मैंने?मयूरी- नहीं माँ… बहुत अच्छा लग रहा है… ऐसे ही करो न… आह!शीतल- ठीक है बेटा… तो तुम क्या कह रही थी?मयूरी- माँ… आप गुस्सा तो नहीं करोगे ना…शीतल- नहीं बेटा… आप बिना डरे अपनी बात बताओ?मयूरी- माँ… कुछ दिनों से मेरे मन में…शीतल- बोलो बेटा?मयूरी- वो… मैं …शीतल- अरे कोई बात नहीं बेटा… आप बताओ… क्या बात है… डरने की कोई जरूरत नहीं है. मैंने मुस्कान की दोनों टांगें अपने दोनों कंधों पर रख लीं, जिससे मेरा लंड अब मुस्कान की चूत में काफी अन्दर तक जा रहा था.

प्रियंका चोपड़ा के बीएफ सेक्सी मुझे लगा कि मैं कोई सपना देख रहा हूँ और किसी भी टाइम मेरी आँख खुल जाएगी. उनका पति सुबह जाता था और रात को ही आता था, जिस कारण वो अपनी सारी बातें मुझे बता देती थीं.

मैं समझ गया कि उसका पानी निकलने वाला है तो मैं चूसने के साथ साथ चूत में उंगली भी करने लगा.

देसी सेक्स वीडियो सेक्सी

अशोक- कैसे?फिर मयूरी ने अशोक को अपने और रजत एवं विक्रम के साथ हुई चुदाई की सारी बात बताई, बस बताया कुछ इस तरह कि लगे कि सब अपने आप हुआ हो और इसमें मयूरी की कोई प्लानिंग नहीं थी. मुझे लगा भी कि खून आ गया है लेकिन वो तो मेरे होंटों को और जोर से चूमने लगी और मेरे कटे हुए होंठ को मस्त जोर जोर से चूसती रही और खून बंद कर दिया. भाभी कहने लगी- राज! हिमानी की थोड़ी स्टडीज़ में हेल्प कर दो, यह एक दो सब्जेक्ट में थोड़ी ढीली चल रही है.

घोड़ी सजी खड़ी थी और वो डी जे वाला फिर से कुड़कुड़ करने लगा था कि दो किलोमीटर दूर बारात जानी है कम से कम दो घंटे तो लगेंगे ही पहुँचने में और आठ यहीं बज चुके है. जैसे उन्होंने अपना लंड मेरी चूत के होल पर रखा, मैंने अपने हाथ से उसे थोड़ा सा अपनी चूत पे घिसते हुए लंड को चुत के होल के ऊपर रखा और उनको धीरे से बोला- हां अब डालो. उनकी बात सुनकर ही मेरे तो मुँह में जैसे लड्डू आ गया कि अब तो अंकिता चुदाई के लिए तड़प रही होगी.

हल्के हल्के धक्के देना शुरू किए, लेकिन रशीद जोर जोर से धक्का देने लगा … तो पायल चिल्लाने लगी थी, वो छटपटा रही थी.

मैंने उसकी चिल्ल-पों पर कोई ध्यान नहीं दिया और जोर जोर से उसे चोदने लगा. जब मैं लंच में उनके पास मोबाइल लेने गया तो उन्होंने मुझसे पूछा- क्या तू गे है?मैं एकदम से सकपका गया, मैंने कहा- नहीं सर, वो तो बस ऐसे ही पढ़ रहा था. फिर मैं प्रिया के ऊपर चढ़ गया और प्रिया के एक चुचे को दबाते हुए दूसरे को मुँह में लेकर चूस रहा था.

हम लोग दबे पांव चलते हुए एक कोने वाले कमरे तक गये और उसे खोल कर अन्दर चले गये और फिर मैंने भीतर से दरवाजा बंद करके बत्तियां जला दीं. तू तो मेरी प्यारी प्यारी गुड़िया रानी है न!” मैंने बहुत ही मीठी आवाज में उसे मक्खन लगाया. उतरने के बाद मैं नीचे गया और उसके पास जाकर खड़ा हो गया, पर ज्यादा पास नहीं गया और बस उसे घूरने लगा.

दूसरे ही पल पूरा लंड जोर के धक्के के साथ पहले से भी ज्यादा अन्दर तक घुसेड़ दिया. भाभी का पति अपनी फैमिली को अपने पास शहर में ले गया और मैं आज तक प्यार की तलाश में अकेला ही हूँ.

मेरी चूत एकदम साफ़ थी क्योंकि मैंने आज ही अपने चूत को बाथरूम में जाकर साफ़ किया था. मैंने उसको टेबल से उठाया और दीवार के साथ खड़ा करके उसकी एक टांग उठाई और चुत में अपना लंड सीधा डाल दिया, जैसे ही मेरा लंड उसकी चूत में घुसा, वो दर्द से चीखने लगी. मुझे खुशी होगी करने में तुम जैसे लायक लड़के के लिए!इतने में मैं बोली धीरज को देखकर बोली- बोलो ना पापा से कि मेरी प्रमोशन तो अब आपके ही हाथ में है.

जब शीतल ने मयूरी की चूचियों की मालिश शुरू की तो उसको बहुत ही ज्यादा आनन्द आ रहा था.

मेरी हिन्दी कहानी के पहले भागअनजानी दुनिया में अपने-1में आपने पढ़ा कि कैसे मैं राजस्थान में जंगली इलाके में फंस गया और कैसे एक मां बेटी ने मेरी जान बचायी. बाप बेटी सेक्स की इस कहानी के दूसरे भागमम्मी से बदला लिया सौतेले बाप से चुदकर-2में आपने पढ़ा कि मैं कामवासना से जल रही थी, अपने कमरे में ब्ल्यू फिल्म देख कर अपनी चूत में उंगली कर रही थी. मैं अपना हाथ को आगे बढ़ाते हुए उसकी छाती को मसलते हुए पेट पर आया और इधर से नीचे की जांघों से होकर उस मखमली नाजुक मुलायम द्वार पर मेरी उंगलियां आ पहुंची.

मैंने शबाना आंटी से बोला- हम इनके घर वाले को नहीं जानते, हम तो बतायेंगे नहीं, आप जानती हो तो आप भी मत बताना प्लीज।शबाना आंटी बोली- ऐसी बात बताई नहीं जाती।शबाना आंटी ने स्मिता आंटी से कहा- मिल लो यार, बहुत दूर से आये हैं। कौन तुम्हें अंदर आकर देख रहा है।आखिर थोड़ा ज़ोर देने पर स्मिता आंटी मान गई और मेरा दोस्त उनको अंदर लेकर चला गया. एक दिन की बात है कि कविता मेरे पास आई और झिझकते हुए मुझसे बोली- सर मुझे आपसे कुछ बात करनी है.

वो मेरा सारा माल बड़े प्यार से पी गयी और चाट चाट कर मेरा लंड साफ़ करने लगी. माइक को मैंने जवाब दिया कि मुझे सोचने का समय चाहिए, मेरे लिए घर से निकल पाना मुश्किल है. मुस्कान अब मेरे ऊपर पेट के बल लेटी हुई थी और उसका मुँह मेरे लंड को चूस रहा था.

बिहार की सुहागरात सेक्सी वीडियो

चचेरी बहन से सेक्स की चाहत की इस कहानी के पिछले भागताऊ की लड़की को चोदा-2में आपने पढ़ा कि मैं अपनी चचेरी बहन को चोदना चाह रहा था और वो भी मुझे अपनी हरकतों से जता रही थी कि वो भी मेरे बिस्तर की रानी बनना चाहती है.

लंच टाइम हो गया था तो मेरे साथियों ने मुझे बोला उससे बात करने को, तो मैंने उसके पास जाकर उसको लंच के लिए पूछा. मेरी उम्र अभी इक्कीस साल है और मेरे लंड का साइज़ सवा छह इंच है, लंड की मोटाई तीन इंच है. चूंकि मेरा लंड उसकी गांड में चुभ रहा था, जिससे उसकी हालत खराब हो रही थी और मुझे भी अब रहा नहीं जा रहा था.

मगर उसके अपने सिद्धांत थे, क्या सिद्धांत हो सकते हैं एक गांड मारने वाले के. दोनों के बीच कोई वार्तालाप नहीं हुआ पर जैसे दोनों को पता था कि आगे क्या करना है. सेक्सी 16 साल की लड़की के साथअब मुझे उन लड़कियों का भी थोड़ा देखना था, जिन की शादी नहीं हुई और वो कैसे काम करती हैं.

बेचारी के मुँह में और चुत में तीन बार, पीछे से एक बार ठुकाई के बाद जान निकल गयी थी. अब हम दोनों ही साथ में एक दूसरे को कस के पकड़ कर लेटे हुए थे और होंठों पर किस कर रहे थे.

इस बात को समाली अंकल समझ गए और बोले- वन्द्या, मैंने अपना पूरा लंड तेरी गांड में घुसाया हुआ है. कहानी पढ़ते समय मैं अपने मन में एक छवि बना कर उस कहानी के नायक को अपने ऊपर महसूस करके अपनी चुत की आग को शांत कर लेती हूं. वो बाथरूम नहाने गयी और जानबूझकर नहाने के बाद पहनने वाले कपड़े लेकर नहीं गयी.

चूत के पानी और वीर्य से मिश्रित भीगा हुआ लंड अभी भी झटके खा रहा था. स्कूटी के झटकों से वो मेरे लंड पर अपनी मस्त गर्म गर्म और नर्म नर्म गांड भी घिस रही थी. इधर मनोहर ने अपना लंड मेरे मुँह में घुसा दिया, जिससे मेरी आवाज़ अब निकल नहीं पा रही थी.

दोस्तो, मैंने मेरे आफिस में काम करने वाली एक गांव की लड़की की चुदाई की।मेरा नाम कुणाल है और मैं जयपुर का रहने वाला हूँ.

उसे इस हालत में देखते हुए मेरा लण्ड पूरी तरह खड़ा हो गया, उसने मेरा अंडरवियर उतार दी और मेरे लण्ड को मुट्ठी में भरकर आगे पीछे करने लगी जिससे मैं मदहोश होता गया. मैंने भी मन ही मन तय कर लिया कि इसे रोशनी में पूरी नंगी करके अपने लंड पर झूला न झुलाया तो मेरा भी नाम नहीं.

फिर खाना खाने चलते हैं… आप बड़े दिनों बाद हमारे साथ बैठी हो… बहुत अच्छा लग रहा है. यह कहानी मेरी पड़ोस में रहने वाली भाभी, जिनका बदला हुआ नाम माया है, के साथ हुई एक घटना की बारे में है. प्रिय अन्तर्वासना पाठकोअक्तूबर 2018 प्रकाशित हिंदी सेक्स स्टोरीज में से पाठकों की पसंद की पांच बेस्ट सेक्स कहानियाँ आपके समक्ष प्रस्तुत हैं…पूरी कहानी यहाँ पढ़िए…पूरी कहानी यहाँ पढ़िए…पूरी कहानी यहाँ पढ़िए…पूरी कहानी यहाँ पढ़िए…पूरी कहानी यहाँ पढ़िए….

मेरी बहूरानी और कम्मो दोनों भी खूब जम के डांस कर रहीं थीं; मैंने जेब से रुपये निकाल कर उन दोनों के ऊपर से न्यौछावर कर बैंड वालों को दे दिये. फिर मैंने उसको सीधा बिस्तर पर लेटाया और उसकी कमर के नीचे दो तकिया लगा दिए. लंड तो छोड़ दो!मयूरी- नहीं, अगर तुम भाग गए तो? मैं तो नंगी हूँ, अभी तुम्हारा पीछा भी नहीं कर सकती इस अवस्था में?रजत हथियार डालते हुए- ठीक है.

प्रियंका चोपड़ा के बीएफ सेक्सी मैं जान गया था कि वो भी पूरी तरह से गर्म हैं और मज़ा करना चाहती हैं. थोड़ी देर बाद उनकी चुत में लंड की सैटिंग हो गई और भाभी को आराम मिलने लगा.

हिन्दी सेक्सी सेक्सी

वहां अपनी गर्लफ्रेंड से मिला और उसको बोला- कल हम दोनों मेरी चाची के घर पे मिलेंगे. उसने जाते समय मुझसे अलग से घर बुला कर चुदाई की बात तय कर ली थी, मैं भी राजी था. मैं समझ तो रहा था कि मुझे इसकी चुत मिलने वाली है, पर वो इतनी तेज निकलेगी, ये मैंने भी नहीं सोचा था.

और हाँ मैं पैसे क्यों लूंगा? और पहले तो आप ये बताइए कि ये क्या दादागिरी है. डार्लिंग, तुम्हें घुड़सवारी पसंद है ना! चलो, आज नए घोड़े के ऊपर बैठ कर मजे लो, और मैं पीछे खड़ा होकर तुम्हारी प्यारी सी गांड को ठोकूंगा!” मैंने नताशा के मूड के अनुसार एक शानदार ऑफर पेश किया. ब्लू फिल्म सेक्सी देखनालेकिन वो इतना कामुक हो गई थी कि कहने लगी- अब जल्दी से एक राउंड कर लो, फिर बॉडी मसाज कर दूंगी!मैं हैरान था कि चुदाई की जल्दी तो मुझे होनी चाहिए लेकिन मेरी जगह येचुदाई के लिए मरी जा रही है.

यह कह कर टीचर जब उठे, तो उनका तौलिया गिर पड़ा या उन्होंने जानबूझ कर गिरा दी.

उस वक्त चूंकि सिर्फ बात होती थी, उसमें सेक्स से भरी हुई बातें हुआ करती थीं तो हम दोनों ही बहुत हॉर्नी हो जाते थे. लेकिन वो बोल रही थी- मुझे छोड़ दो समीर, मैं तुम्हारी सगी मौसी हूँ!लेकिन मैंने मौसी की चूत में उंगली करना जारी रखा.

फिर उसने सोचा कि अपने भाइयों को टारगेट करती हूँ, पर किस भाई को, छोटे को या बड़े को … यह फिर बहुत मुश्किल सवाल था, बहुत सोचने के बाद उसने फैसला किया कि दोनों पर लाइन मारी जाये, जो पट गया उसी का लंड अपनी चुत में डलवा लूंगी, पर चुदाई तो होकर रहेगी. तुरन्त नहाने की वजह से मयूरी के शरीर पर अभी भी पानी की बूंदें थी और ये सब रजत को और भी मदहोश कर रहा था. मैं बीच बीच में उनके बोबों को भी छू रहा था और साबुन के साथ पीठ पर पर गुदगुदी भी कर रहा था.

पैर इंतजार कर रहे हैं।” थोड़ी देर बाद उसने टोका।मैं पीछे सरकता उसके पैरों पर टखनों तक पंहुच गया और वहां से दोनों जांघों तक तेल फैला कर उन्हें मलने लगा। इस पोजीशन में हालाँकि उसके कूल्हों को तौलिये से ढक रखा था लेकिन फिर भी नीचे से योनि के दर्शन हो रहे थे और मेरे लार टपकाने के लिये इतना काफी था।और ऊपर तक.

उनके गोल और बड़े आकार के मम्मों को छूकर मैं मन ही मन बहुत खुश हो रहा था. करीब एक घंटे बाद मैंने देखा कि सरिता पूरी तरह से सो चुकी है तो मैंने धीरे से उसकी दोनों टांगें खोलीं और डरते-डरते मैंने उसकी पजामी के फटे हुए हिस्से में अपनी उंगली डाल कर कांपते हुए हाथों से उसकी चूत को धीरे से सहलाया. और मेरे उठे हुए मोटे मोटे चूतड़ मेरी गांड को बड़ा ही सेक्सी लुक देते हैं.

सुहागरात की सेक्सी देहातीमैंने उसी तरह प्रिया होंठों को चूसते हुए ही पहले तो अपने लंड को थोड़ा सा बाहर खींच लिया, जिससे प्रिया को कुछ राहत मिल गयी और मेरी कमर पर उसके हाथों की पकड़ भी कुछ हल्की हो गयी. उधर मेरा हाथ उसकी ब्रा में घुस चुका था और उसके फूल से कोमल उरोजों से खेल रहा था फिर जल्दी ही उनसे खिलवाड़ करने लगा.

सनी लियोन की चूत सेक्सी वीडियो

मतलब मेरी तो कंडीशन बहुत बुरी हो चली थी, ऐसा लग रहा था कि मेरा लंड भाभी के चुचे देख कर बस यहीं पे ही पानी निकाल देगा. फिर सुबह सुबह किसी के दरवाजा ठोकने की आवाज से उठा, तो देखा 10 बज रहे थे. यह कहते ही उन्होंने एक ज़ोर से झटका दे मारा, मेरी आँख से आँसू निकल गए.

कामरस ने चुत की दीवारों की चिकनाई को और भी बढ़ा दिया और मेरा लंड अब आसानी से चुत के अन्दर बाहर होने लगा. फिर मैंने केक काटा तो सबसे ताली बजाकर मुझे जन्मदिन की शुभकामनाएं दी. उसकी हिचकिचाहट देखकर जॉन उसे मेरे पास ले आया, मेरी जांघों पर उसे लिटा कर उसको किस करने लगा.

मैंने रीता के दोनों मम्मों को बारी बारी से अच्छे से लाल लाल कर दिया. थोड़ी देर में सब लोग बाहर हॉल में आ गए, सब लोग सामान्य दिखने का प्रयास कर रहे थे पर अंदर से सब एक दूसरे से कुछ छुपा रहे थे. सबकी तरह कम्मो ही कहिये न!”ओके कम्मो, चलो बताओ जो मैंने पूछा?”पहले आप ये बताओ कि मैं आपको क्या कहूं? आप अदिति आंटी के फादर इन ला हो तो मेरे दादा जी जैसे हुए रिश्ते के हिसाब से तो!”कम्मो, जो तेरा जी चाहे कह ले मुझे!” मैंने मुस्कुरा के कहा.

शीतल अपने कमरे में जहाँ वो अशोक के साथ सोती थी और रोज़ अलग-अलग अंदाज़ में चुदवाती थी, वहाँ का बिस्तर ठीक कर रही थी. मैंने भी देर न करते हुए चुत के छेद पर लंड को टिका कर एक जोरदार मस्त धक्का लगा दिया.

वो तो ठीक है, लेकिन मुझे वहाँ का माहौल देखना पड़ेगा और वैसे भी अगर मेरे पति का लंड ठीक और मजेदार हुआ, तो फिर तो मुश्किल हो जाएगी.

मैंने सोचा कि शायद उसको आज कामवाली नहीं मिली होगी, इसलिए यह अपनी इसी फ्रेंड के साथ यही बताने के लिए आई है. सेक्सी व्हिडीओ डीजे सेक्सी व्हिडीओवह अलमारी में वैक्स हीटर, वैक्स, वैक्स स्ट्रिप्स, टैल्कम पाउडर, स्ट्रिंजर और कोल्ड क्रीम रखी है, सब यहाँ टेबल पे रख लो और समझ लो कि एक चीज़ तो यह कि वैक्स हल्का गर्म ही लगाना है तो उसके लिये स्पेटुला पे बहुत हल्की लेयर ले कर एकाध सेकेंड हवा में रख कर फिर स्किन पे गिराते ही फ़ौरन फैलानी है. सेक्सी पिक्चर कुत्ता और लड़की कीमयूरी- वो तो ठीक है… पर आपको मेरे लिए भी वक्त निकालना चाहिए… वरना मुझे कौन प्यार करेगा?पापा- एकदम सही बात… अच्छा… एक बात बताओ?मयूरी- क्या पापा?पापा- आप अपने पापा को प्यार करते हो?मयूरी- हाँ पापा!पापा- कितना?मयूरी अपनी दोनों बांहें फैलाती हुई- इतना सारा… आ…और ऐसा करते हुए उसने अपने पापा के चेहरे को अपनी बांहों में भर लिया. मैं तुरंत तैयार तो नहीं हुआ, पर दो चार बार के वार्तालाप के बाद में उस लड़के को बस एक नजर देखने को तैयार हो गया.

आज 68 साल में जिंदगी में पहली बार अनटच जैसी कम उम्र की लड़की को चोदने वाला हूं.

अगर मुझसे कोई गलती हुई हो तो प्लीज माफ करना और अपनी राय मुझे आप मेल भी कर सकते हैं. हां वो तो मैं कल ही आपकी नज़रें देख कर समझ गयी थी कि आपकी नज़र मुझ पर है लेकिन ये पता नहीं था कि बात यहां तक पहुंचेगी. मैंने उससे कहा- जानेमन मेरा भी पानी निकलने वाला है … कहाँ निकालूं?तो उसने कहा- आज मैं सभी प्रकार से सभी सुख लेना चाहती हूँ … इसलिए अन्दर ही निकाल दो मेरी जान.

जब मैं पानी पी रहा था, तब वो बोलीं- वैसे तुममें भी कोई कमी तो नहीं लगती है. मैंने सोचा बातें करने के लिए तो और भी बहुत लोग हैं, लेकिन चोदने के लिए तो ये ही सही माल है और सही वक्त है, तो बातें छोड़ प्यारे. मेरा नेचर बड़ा हंसमुख और मजाकिया स्वभाव का है, इसलिए लोग मुझसे इंप्रेस भी जल्दी हो जाते हैं.

काली औरत सेक्सी वीडियो

करीब दस मिनट बाद भाभी मेरे मुँह में ही झड़ गईं और मैंने भी जोश में आकर उनकी चुत का पूरा रस पी लिया. आज बातचीत के दौरान मेरी मौसी मुझसे कभी कभी मज़ाक भी कर रही थीं कि कोई लड़की दोस्त बनाई या नहीं. धीरे धीरे उसने अपनी स्पीड बढ़ा दी और हम दोनों का बदन चुदाई से पसीने से भीग गया था और हमारी साँसें बहुत तेज चल रही थी.

क्लास ओवर हो गई, उसके बाद मैंने उनसे अपना मोबाइल लेने की बहुत रिक्वेस्ट की.

फिर मयूरी हॉल में आयी और टीवी के सामने एक कामुक मुद्रा में खड़ी हो गयी.

मैं भी उसके होंठों का मजा लेते हुए वैसे ही धीरे धीरे धक्के‌ लगाता रहा, जिससे कुछ ही देर में प्रिया अपना सारा दर्द भूल कर उन मादक पलों का आनन्द लेने लगी. उसने कहा- मारो गोली उनको, जिन्होंने ऐसा कहा है, तुम एक बार करवा के देखना. डॉग और लड़की की सेक्सी पिक्चरतो उसने मुझे रोका और मुझे लेटने को कहा और वो मेरे लंड के ऊपर बैठकर अपनी गांड को ऊपर नीचे करने लगा.

क्या तुम मुझे चोदते चोदते थक गए क्या?मैं तब पूजा की चूची को अपने मुँह से निकालते हुए बोला- अरे यार समझती नहीं क्या? मुझे लगा कि मेरा लंड अपना पानी छोड़ने वाला है और इसीलिए मैंने तुम्हारी चूत की चुदाई थोड़ी देर के लिए रोक दी ताकि लंड का जोश थोड़ा ठंडा हो जाए और मैं तुम्हें देर तक चोद सकूँ. मैंने उसको अहसास दिलाया कि मेरे लिये हमारी दोस्‍ती ज्‍यादा मायने रखती है।कुछ दिन बाद उसने मुझसे पूछा- क्या तुम्हारे माता-पिता ने तुम्हारी शादी अभी तक कहीं पक्की नहीं की?मैंने कहा- मेरे पिता तो बहुत जल्दी कर रहे हैं मगर मैं ही नहीं मानती. वो गर्म होता गया और अब तो वो कभी कभी मेरे दोनों आंडों को एक साथ लेकर चूस ले रहा था.

मैं- क्यों फिर चुदवाने का मन है क्या?चाची- चुदवाना तो आज सारी रात है. क्योंकि मैं जानता था कि ये सब वो छोड़ देने की कहकर दिखावा कर रही है.

उधर ही छत पर एक लकड़ियां वगैरह रखने की एक जगह सी बनी थी, जिसे पड़ोसी बाथरूम की तरह यूज़ करते थे.

वैसे ही शीतल को मयूरी और विक्रम-रजत के साथ हुए चुदाई की कोई जानकारी नहीं थी. डीके ने उसकी टांगें उठाकर गांड में लंड डाला और मैंने होंठ फैलाकर उसके मुँह में लंड डाला. फिर मैं उसके बताए अनुसार उसी फ्लोर पे पहुँचा तो देखा सामने वाले रूम में वो खड़ी थी.

जयपुर की सेक्सी चुदाई हां, जितना हो सकता है उसे अपने पिता के साथ समय बिताने का समय दे देना. मैंने भी अब धीरे धीरे अपने कूल्हों को उठाकर धक्के लगाने शुरू कर दिए … जिससे प्रिया फिर से कराहने लगी और मेरे होंठों से अपने होंठ अलग करके सिसियाना शुरू कर दिया था.

वो औरतें सब्जी लेने आईं और मेरी तरफ देख कर गंदे डबल मीनिंग में सब्ज़ी वाले से बोलीं- भैया, हमको तो अच्छे वाले गाजर पसंद हैं. और मुझे पिंकी कहते हैं, तुम?मैंने अपना नाम पीटर, दिल्ली का रहने वाला बताया।तो पिंकी बोली कि वह भी दिल्ली में ही रहती है और किताब मेरे हाथ से छीन ली।पढ़ते पढ़ते ही हम लोग बातचीत में भी मशगूल रहे और परिचय बढ़ा लिया। उसने पूछा कि क्या मैं उसका दोस्त बनना पसंद करुंगा?तो मैंने कहा- कोई बेवकूफ ही इतना अच्छा आफ़र ठुकरा सकेगा. इस आसन में करीब दस मिनट ऐसे ही चुदाई का खेल चलता रहा, फिर चाची बोलीं- अब मैं झड़ने वाली हूँ.

हिंदी तमिल सेक्सी

फिर मैंने दूसरी तरकीब की; उसकी सलवार को पकड़े पकड़े ही मैंने अपने बीच की उंगली से सलवार के ऊपर से ही उसकी चूत को कुरेदना शुरू किया. समाली अंकल मेरे से गले से लिपट कर मेरे बदन को पूरी ताकत से दबाने लगे, वे बोले- वन्द्या, जो लालजी ने बोला था, उसके सामने तू सौ गुनी मस्त लगती है. बस तुम मुझसे गांड मरवाने की बात मत करो, चुत में चाहे जितनी मर्ज़ी लंड पेलो, रात भर चुत में लंड डालकर पड़े रहो.

रेशमा बार-बार विनती करने लगी, मैं हल्का सा डालता, फिर बाहर खींच लेता. तो मैंने कहा- मेरे बारे में यहाँ कौन सा सामूहिक मेल मिलाप चल रहा है.

लेकिन रेस लगाते हुए क्या कोई धीमी रफ़्तार से भाग कर जीतने की सोच सकता है! कुछ धक्के लगाने के बाद मेरे लंड ने स्वतः रफ़्तार पकड़ ली और मैं दुबारा हुचक-हुचक कर चुदाई करने लगा.

कुछ दिन बाद अमित उसके मामा के यहां चला गया, तो मैं अकेला ही सर के घर क्लास पढ़ने जाता था. अब मुझसे रहा नहीं गया और न जाने मुझे क्या हुआ, मैं हाथ ले जाकर खुद जगतदेव अंकल का लंड पकड़ कर अपनी चूत में फिट करने लगी और अपनी चूत के छेद में लंड सैट कर भी दिया. और जोर से करो!इसके बाद हम दोनों साथ में झड़ गए और उसके बाद आधा घंटा ऐसे ही पड़े रहे.

फिर लंड पर थोड़ा तेल लगाया और एक बाक़ी की बची फुहार से मैंने अपना सारा माल उसकी पैंटी में डाल दिया. बीच की सीट में एक उम्रदराज आदमी बैठे थे, समझो करीब 60 साल के ऊपर के रहे होंगे. मैं- अब और कितना जोर से चोदूँ … अपनी पूरी ताकत लगा कर ही तो चोद रहा हूँ.

मैं तो तुम्हारे बाप की नज़रों में एक वस्तु थी, जिसे उन्होंने अपने पैसे के बलबूते पर खरीदा था.

प्रियंका चोपड़ा के बीएफ सेक्सी: इतने में जो सबसे एजेड अंकल थे, वे आए और सीधे मेरी चूत में अपना मुँह रख दिए और बोले- इसकी तो चूत बहुत बह रही है. फिर 3-4 क्लास के बाद हमारी छुट्टी हो गई और हम एक्स्ट्रा समय में पढ़ने के लिए दूसरे कमरे में आ गए.

मेरी चूत अभी तक चुदी नहीं थी, इसलिए इसे चुदाई के लिए कोई सख्त लंड चाहिए था. तभी ना जाने क्या हुआ संमाली अंकल मेरी गर्दन पकड़ कर मुझे जम के चोदने लगे और बोले- वन्द्या, तू आने वाले दो-तीन साल में बहुत बड़ी छिनाल रंडी बनेगी. भाभी गहरी सांस लेती हुई धीरे से बोली- मार ही डाला यार तूने तो … फाड़ दी मेरी चूत तूने … बहुत दर्द हो रहा है.

जहां कपड़ा भी उनके पास ही था, सिर्फ़ हमें कलर और फेब्रिक पसंद करना था.

मैं पूरा न्यूड होकर मनीषा के ख्यालों में खोकर रज़ाई में सोते सोते मुठ मार रहा था. फिर संपत जी ने मम्मी के ब्लाउज के ऊपर से ही उनकी चुचियों को मसलना चालू कर दिया. जिन चुचियों को ब्लाउज के ऊपर से देखा करता था, आज वो दोनों कठोर मम्मे मेरी आंखों के सामने चमचमा रहे थे.