ब्लूटूथ पिक्चर बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी युट्युब

तस्वीर का शीर्षक ,

एचडी एक्स एक्स बीएफ: ब्लूटूथ पिक्चर बीएफ, ‘आआह आह आआह …’बहुत देर ऐसे ही चुदने के बाद वो अपने पैरों के पंजों के बल ऐसे बैठ गई, जिस तरह देसी टॉयलेट सीट पर बैठते हैं.

सेक्सी आंटी नंगी

हमारे होंठ जुड़े हुए थे तो आवाज तो आ ही नहीं रही थी, बस गर्म सांसों की गर्मी ही हम दोनों को उत्तेजित किए जा रही थी. एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर वीडियोमेरी मॉम मुझसे बोली- अब से तू मुझे मॉम समझ कर नहीं, बीवी बनाकर चोदेगा.

मेघना अगर ऐसा कर रही थी तो मेरे हिसाब से कोई गलत नहीं कर रही थी क्योंकि मैं उसे किसी भी तरह से संतुष्ट नहीं कर पा रहा था. किन्नर का सेक्सी वीडियो ओपनअगर मैं घर पर सीसीटीवी कैमरा लगवाता हूँ, तब भी ये बात मेघना को पता चल जाएगी और उसके अलावा मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था.

अजय के हाथ मेरी कमर पर लगातार चल रहे थे और उसका कड़क होता लंड मुझे मेरी लुल्ली पर रगड़ता हुआ सा महसूस होने लगा था.ब्लूटूथ पिक्चर बीएफ: फिर मैंने आंटी को घोड़ी बना दिया और गांड में लंड घुसा कर चोदने लगा.

रेशमा की चीख की परवाह किए बिना पाटिल जी ने उसे बड़े धमाकेदार तरीके से चोदना चालू कर दिया.मैं अपने दोनों हाथों की बड़ी वाली उंगलियों में थूक लगा कर अपने निप्पल्स पर रगड़ने लगी.

इंडिया हीरोइन सेक्सी वीडियो - ब्लूटूथ पिक्चर बीएफ

ललिता ने देर न करते हुए मेरे लौड़े को चूसना शुरू कर दिया और गपागप गपागप लॉलीपॉप की तरह बड़ी मस्ती से चूसने लगी.मेरे ना चाहते हुए भी जाने क्यों, अचानक मेरा हाथ उसकी पैंटी पर चला गया.

कुछ देर बाद उसकी चूत में अपनी जीभ नुकीली करके डाल दी और चूत के होंठों को अपने मुँह में भरकर आम की तरह चूसने लगा. ब्लूटूथ पिक्चर बीएफ तो हमारी क्लास की सभी लड़कियों और मुझे एक दूसरी क्लास में साथ बिठाया गया जो एक कंप्यूटर की क्लास थी.

कुछ देर यूं ही चोदने के बाद मैंने सुमैत्री से कहा- अब तुम डॉगी स्टाइल में झुक जाओ.

ब्लूटूथ पिक्चर बीएफ?

मैंने अपने लौड़े की रफ्तार बढ़ा दी और सटासट सटासट तेजी से चोदने लगा. मैं समझ गया था कि भाभी का मन करने लगा है कि वो मेरे लंड को अपनी चूत में घुसवा ले. वो सब भी हमेशा मुझसे यही बोलते थे कि जिससे तुम्हारी शादी होगी, वो बड़ा किस्मत वाला होगा.

जैसा कि मैंने आप सबको पहले ही बताया कि ये घटना मेरे दोस्त के साथ घटी थी, उसका नाम राजीव (काल्पनिक) है. भाभी जैसे ही घोड़ी बनी, मैंने अपना लंड पीछे से उसकी चूत में डाल दिया और ताबड़तोड़ चोदने लगा. चूंकि इस बार लंड पर कंडोम नहीं चढ़ा था तो चूत रगड़ने में मस्त मजा आया था.

वैसे तो मेरी क्लास शनिवार और रविवार को रहती थी लेकिन शनिवार को काम ज्यादा होता था और उसी वजह से मुझे रविवार को भी काम निपटाना पड़ता था. ये शार्ट टीशर्ट थी, जिससे मेरा पूरा पेट खुला था और मेरे स्तन के बीच की काफी गहरी घाटी भी साफ नजर आ रही थी. क्योंकि ये सिर्फ एक सेक्स कहानी नहीं, एक सच्ची घटना है, जो अभी कुछ दिन पहले मेरे एक खास और अजीज दोस्त के साथ घटी थी.

देविका ऐसी तेजी से मेरा वीर्य पी रही थी, जैसे वो बरसों से प्यासी हो. मैंने कहा- अभी तो शुरुआत है मेरी जान!वो बोलीं- आह राज तुम बस ऐसे ही चोदते रहो.

तो गीता अपने दोनों हाथों से मेरा सर अपने स्तन पर दबाने लगी थी- ओह हर्षद और जोर से चूसो … आंह आज पहली बार कोई मर्द मेरे स्तन चूस रहा है … आंह मैं बहुत खुश हूँ.

यह फार्म हाउस विलेज़ सेक्स वाली बात उस समय की है, जब मैं बीस साल का था.

मोहन बाबू मेरी चूत को जीभ से चाटने लगे और बीच बीच में कसके चूस लेते थे. ये सब देखने के बाद भी मैंने उसे चोदा लेकिन हमेशा की तरह आज भी मेरे साथ वैसा ही हुआ और मैं जल्दी ही झड़ गया. मेरे इतना कहते ही उसने झट से अपने कपड़े उतार फेंके और अपना लंड सीधे मेरे मुँह में घुसा दिया.

मैंने कहा- कोई बात नहीं पागल, फ्लैट पहुंचने की देर है, मैं तुझे ढेर सारा प्यार दूंगी. उसे सीने से जकड़ते ही उसके 34 के चूचे मेरे सीने में गड़ गए और मुझे उसकी जवानी की महक ने मुझे अन्दर तक रोमांचित कर दिया. मैंने सही मौका देख कर शिराज से कहा- सुन गांडू, देख साले तेरी बहन के बोबे दर्द दे रहे है, चल अच्छे से मसल मसल कर मालिश कर दे.

अपनी आँखें बंद किए शेखर अपने लंड को ठुनकी मार-मार के धारा के मुँह में जाने का इंतज़ार कर रहा था.

मैंने उसका लंड हाथ में पकड़ लिया और उसकी खाल पीछे करके सुपारा मुँह में ले लिया. इस पर मैंने उन्हें धन्यवाद कहा और उनके कहने पर केक काटने के लिए टेबल की तरफ आ गयी. साबिरा ने मेरा लौड़ा पकड़ कर ज़बरन शिराज के मुँह में ठूंस दिया और उसका सर मेरे लौड़े पर दबाते हुए उसे और जलील करने लगी.

लगभग 10 मिनट के बाद उनकी चूत ने अपना कामरस निकाल दिया जो बहता हुआ बाहर मेरे टट्टों पर आ रहा था. मैंने कहा- सही कह रहा है आसिफ! मुझे तो खुद इस लेडीबॉय रूप में अपने आपसे प्यार हो रहा है. तुम मेरा पहली बार ले रही हो ना!गीता बोली- मैं सब कुछ सह लूंगी हर्षद!उसकी बात सुनकर मैंने नीचे से हाथ ले जाकर गीता की गांड के नीचे एक तकिया रख दिया ताकि मैं उसे आसानी से चोद सकूं और गीता को भी सब कुछ साफ़ दिखे.

भाई के जोर लगाने के बावजूद भी उनका लंड मेरी चूत के अन्दर नहीं घुस पा रहा था.

जैसे तैसे सुबह से दोपहर हुई और मैं अपने लेक्चर के टाइम से 10-15 मिनट पहले ही क्लास में पहुंच गया. मैं आज न्यूली मैरिड सेक्स कहानी में आपको बताऊंगा कि मैंने नई नवेली शादी हुई भाभी की कैसे चूत मारी.

ब्लूटूथ पिक्चर बीएफ फार्म हाउस विलेज़ सेक्स का मजा मैंने अपनी भाभी के साथ खेतों में बने ट्यूबवेल वाले घर में लिया. ललिता भाभी बोलने लगीं- राज चोदो मुझे … आह और जोर से धक्का लगाओ … आहह आहहह लव यू जान तुम कितना अच्छा चोदते हो.

ब्लूटूथ पिक्चर बीएफ इसे किसी के घर की बहू बना कर भेज दो, ताकि ये अपनी गांड मरवाने का सुख लेता रहे. उस वक्त मेरे पास उसकी आंखों में देखने की हिम्मत नहीं थी इसलिए उसकी तरफ पीठ करके मैंने उसको सारी बात बता दी और खामोश खड़ा रहा.

उसके इस तरह करने से मैं और भी उत्तेजित हो रही थी और ऐसा लगने लगा था कि अब ये मुझे ऐसे ही झड़ जाने पर मजबूर कर देगा.

सनी देओल का सेक्सी वीडियो

मैंने कहा- गीता, तुम्हारे पति तुम्हें पूरी तरह से संतुष्ट नहीं कर पाते हैं क्या?इस पर गीता बोली- मेरे पति अच्छे हैं, उन्होंने बहुत धन दौलत कमाई है, लेकिन उनके पास मेरे लिए समय नहीं है. इस तरह रोज मैं शाम को कसरत करता था और वो रोज शाम को मुझे अपनी छत पर देख कर आ जाती थीं. उनकी पत्नी मेरे सामने होनी चाहिए थी, जिससे मैं इतनी सारी बात किया करता था.

उसके बाजू के ऊपर के हिस्से को चूमने के बाद जैसे ही मैंने उसकी बगल (आर्म पिट) को किस किया तो वह चिहुंक उठी. मेरा फार्मूला यह था कि जब भी मैं भाभी की तरफ को जाता था तो मैं भाभी की तरफ को जरूर देखता था. मैं सोचने लगा कि साले अभिषेक की क्या किस्मत है, भैन के लौड़े को कितनी हॉट माल मिली है.

मैंने बाथरूम में लगे आईने से ध्यान से देखना शुरू किया तो समझ गया कि चाची के पंजे थे.

कहानी के पिछले भागपड़ोसी दोस्त की बहन से सेटिंग कीमें अब तक आपने पढ़ा था कि आज रात मैं अपने दोस्त की बहन की चुदाई करने के लिए उसके घर जाने वाला था. मुझे कोई ऐसा चाहिए था जो मेरी चूत में उंगली करे!इसके लिए मैंने योनि मसाज के बारे में सोचा और एक दो मर्दों से नग्न मसाज भी ली. हमारी ऐसी कामुक बातों से रेशमा को भी लगने लगा कि सच में उसे अपने नामर्द शौहर के सामने चुदवाना चाहिए ताकि उसे भी पता चले कि उसकी बीवी को उसकी छोटी सी लुल्ली से संतुष्टि नहीं मिलती.

धीरे धीरे आंटी की गांड आगे पीछे होने लगी और वो आह आह करके सेक्सी मूवी वाली औरत की तरह चुदवाने लगीं. नहा धोकर बाहर आने के बाद मैंने रेशमा को मेरे बैग में से निकाल कर एक थैला पकड़ा दिया. मैंने वैसे ही किया और आसिफ ने तेल की बोतल उठा कर मेरी चिकनी गांड पर गिराने लगा.

अब धारा ने एक आख़िरी हमला किया, उसने शेखर के लंड के नीचे लटक रहे सामान्य से बड़ी गोटियों पे हंटर की नोक को भिड़ा दिया और दोनों गोटियों के चारों ओर गोल-गोल हरकत करने लगी. पर घर में थोड़ी वोदका रखी है, क्या जूस से साथ ट्राई करना चाहोगी?मैंने हामी भर दी क्योंकि मैंने पहले कभी वोदका नहीं पी थी और मेरा ठरकी मन चाहता था कि मैं नशे में खो जाऊं और किसी तरह ये शाम एक थ्रीसम या फॉरसम की रात में तब्दील हो जाए।कुछ देर पीने के बाद मुझे थोड़ा सुरूर होने लगा.

आज तक मैंने जिसे भी चोदा है, वो पूरा मजा लेकर चरमसीमा पर अवश्य पहुंचती है. मैं- ओह सॉरी!कोमल- वैसे तुम मेरी बेटी को घूर क्यों रहे थे?मैं- इतनी सुंदर जिसकी बेटी हो, उसको तो सभी घूरेंगे ही. जैसे ही मेरा भाई घर के अन्दर आया, उसने रोहन को हॉल में बैठने को बोला और वो अन्दर चला गया.

उसकी बड़ी गांड मेरी जांघों से लड़ने की वजह से थप थप की आवाज़ें आ रही थीं, जिससे उसकी उत्तेजना और बढ़ जा रही थी.

आज तक मुझे किसी लड़की के साथ ऐसा मजा नहीं मिला था, जो मजा मुझे रूपा दे रही थी. सफ़र में हम दोनों ने कुछ ज्यादा बात नहीं की और वहां पहुंचकर होटल में चैकइन कर लिया. दोस्तो, वो भाभी एक जाने माने स्कूल की प्रिन्सिपल थीं जो उन्होंने बाद में मुझे बताया था और उनके पति जयपुर में ही एक इंजीनियर की जॉब करते थे.

मैंने भाभी से कहा- थोड़ा धीरे धीरे करो!भाभी बोली- भोसड़ी के, चुपचाप पड़ा रह, अब तेरे लंड को तोड़ डालूंगी तभी रुकूंगी. मैं दूसरे हाथ से बीच बीच में उनकी चूचियों को दबाने लगा, पीठ पर चूमने लगा और कूल्हे पर हाथ फेरने लगा.

इसके साथ ही रीना ने फिर से मेरा लंड मसलना शुरू कर दिया और चूसना शुरू कर दिया. अब मेरे मन में सिर्फ एक ही बात चल रही थी कि भाभी को किस तरह से चोदूं. तुम्हारा लंड अपनी चूत में पाकर, मेरा बरसों पुराना सपना आज पूरा हुआ है.

सेक्सी दे सेक्सी वीडियो

गर्दन को चाट चाट कर मैंने फिर से साबिरा का निप्पल मुँह में भर लिया और शिराज को देखते हुए निप्पल को जोर जोर से चूसने लगा.

कोई कंप्यूटर भी खाली नहीं था जिस पर मैं प्रैक्टिस करके टाइम बिता सकूं. वो गर्म हो गई थी और उसकी चूत से पानी निकल कर उसकी जांघों पर बह रहा था. अगर मैं घर पर सीसीटीवी कैमरा लगवाता हूँ, तब भी ये बात मेघना को पता चल जाएगी और उसके अलावा मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था.

छुट्टी के दिन मैं कभी कभी दोपहर में भी घर पर आराम करने चला जाया करता था. अगर ये कॉन्ट्रैक्ट आपको चाहिए तो मुझे एक रात इन हसीन मैडम के साथ बितानी देनी होगी. मधु शर्मा के भोजपुरी सेक्सी वीडियोआज किरण बहुत ही ज्यादा हॉट और सेक्सी लग रही थी, मैं तो उसे देखता ही रह गया.

मैं चूंकि क्लीन शेव्ड रहता हूँ तो मेरे होंठों पर लिपस्टिक ने मुझे एकदम किसी लौंडिया जैसा रूप दे दिया था. उसने अपनी टांगें खोल कर उसने मेरे लिए अपनी जांघों के बीच में जगह बना दी और मेरा लौड़ा अपनी फुद्दी पर लगा लिया.

सोनम बिस्तर में आकर श्वेता की चूत में उंगली डाल कर चोद रही थी और मेरा लन्ड चूस रही थी. जैसे ही उसके थूक से मेरा लौड़ा पूरा गीला हुआ, वैसे ही मैंने अपना लौड़ा उसके मुँह से बाहर निकाला. तुम्हारी इतनी चिकनी, गुलाबी और कसी हुई चूत देखकर मैं अपने लंड पर काबू नहीं कर सकता.

फिर अपनी जीभ से उसकी चूत, नीचे से ऊपर तक चाटकर पूरी जीभ उसकी चूत में डाल दीं. मैंने अपने तेज धक्कों को रोका और एक पैर उठा कर पलंग पर रखा और दूसरे पैर से जमीन पर खड़ा रह कर, उसकी गांड पर दोनों हाथों से चाटें मारते हुए अञ्जलि की कमर पकड़ ली. श्वेता- बाहर खड़े हो कर क्या कर रहे हो? अंदर आओ।मैं- कुछ नहीं, लग रहा है मैं किसी फिल्म स्टार के घर आ गया हूं.

उसने एक बहुत बारीक रबर या सिलिकॉन की कच्छी सी निकाली, जिसके बीचों बीच रबर की चूत बनी हुई थी.

नीता ने अपनी टांगों से मेरी कमर को जकड़ लिया और अपने दोनों हाथों से मुझे कस लिया था. इस तरह सर ने हम दोनों का परिचय करा दिया और हम दोनों को अलग पढ़ाना शुरू कर दिया.

नीचे से हीरा बाबू बहुत तेज़ तेज़ धक्के देने लगा, जिससे मेरे मुँह से दबी हुई कामुक सिसकारियां निकलने लगीं. मॉम ने ये सुनिश्चित कर लिया कि आज से मैं दीपाली की केवल गांड को ही चोदूंगा. फिर मैंने भाभी की चूत से अपना लंड बाहर निकाला और भाभी के मुँह के तरफ देखा तो भाभी की आंखों से आंसू निकल आए थे.

उसकी शादी के बाद से ही हम दोनों में खूब जमती थी क्योंकि आपको तो पता ही है कि सलहज और जीजा में कुछ ना कुछ तो चलता ही रहता है. मोहन बाबू ने जब महिला की आवाज सुनी तो एकदम विनम्र हो गए- जी, मैं पहचान नहीं पाया. उसका लौड़ा इतना सख्त था कि मेरे छोटे से लंड और गांड के बीचों-बीच टक्कर मार रहा था और अब मुझे मीठी मीठी सी गुदगुदी होने लगी थी.

ब्लूटूथ पिक्चर बीएफ फिर नेहा ने मुझे घुमा कर शीशे की तरफ कर दिया और बोली- देखना तो!मैंने सामने शीशे में देखा तो बिल्कुल हैरान रह गया. मैं लगा रहा और वो आंह आंह करती रही अपनी चूत मेरे मुँह में देती रही.

जीजा साली की चुदाई की कहानी

ऑफिस से घर और घर से ऑफिस बोर भी हो गया था क्योंकि बहुत दिनों से किसी को चोदा भी नहीं था. मैं- मेरी तारीफ़ के लिए धन्यवाद भाभी जी … मगर क्या करूं, पढ़ाई से फुर्सत ही नहीं मिलती. उसकी इच्छा तो नहीं थी लेकिन मेरी परेशानी समझ कर उसने लंड चूत से निकाल लिया.

अब बचा हुआ लंड मैंने और एक धक्का देकर गीता की चूत की गहाराई में डाल दिया था. वो दर्द की वजह से उछलने लगी पर वो नशे में थी तो उसे ज्यादा दर्द नहीं हुआ. इंग्लिश पिक्चर फिल्म ब्लू सेक्सीमैं- ऐसी कोई बात नही, बस हो गया?श्वेता- चलो फिर करके दिखाओ।उसने अपने सारे कपड़े उतार दिए.

करीब आधे घंटे तक मेरी धकापेल चुदाई करने के बाद उसने मुझे पीठ के बल लेटा दिया और मेरे चूतड़ों के नीचे तकिया रख कर मेरी चूत में लंड पेल दिया.

रेशमा- वीरू जी, आपके प्यार के सामने रेशमा का दर्द कुछ भी नहीं है, आज मुझे मेरी जिंदगी जी लेने दो. मैंने अपने दोनों हाथ नीता की पीठ के नीचे डालकर उसे कस लिया और जोर जोर से धक्के मारने लगा.

दोस्तो, मैं आप का अपना राहुल एक बार फिर से आप के सामने एक नई कहानी लेकर आया हूं। यह भाभी की फ्री पोर्न सेक्स कहानी 100% सही है।बात आज से 1 साल पहले की है। मैं घर पर बैठा बैठा बोर हो रहा था. यह उन दिनों की बात है, जब मैं 2 साल पहले पुणे में जॉब के लिए गया था. सबको चाय देकर देविका ने मुझे भी चाय दी और खुद लेकर मेरे पास बैठ गयी.

उसने अपना एक हाथ पीछे की तरफ किया और लंड को पकड़ कर दबाने लगी।मेरा लंड इतना टाइट हो गया कि मैंने उसको बोला- मुँह में लेकर इसको खाली कर दो!फिर वो पेट के बल लेट गयी और मेरा लंड उसके होंठों से टक्कर मारने लगा.

रास्ते में बेगम ने मुझसे कहा- अब तेरा नाम फातिमा है समझी!मैं समझ गया कि आसिफ मुझे फातिमा बना कर चोदेगा. मैं कहानी शुरू करूं उससे पहले, थोड़ा अपने और अपनी फैमिली के बारे आप लोगो को बता देता हूँ. अब भैया ने मेरी फ्रॉक को पूरी तरह से खोलकर मेरे बदन से अलग कर दिया.

सेक्सी व्हिडीओ फॉर्मकुछ देर बाद मैंने रूपा का सर पकड़ा और उसके मुँह में अपना लंड डाल दिया. उसको तो अहसास भी नहीं हुआ था कि वो कब अपनी चूत में उंगली करने लगी थी और उसको जोर जोर से रगड़ने लगी थीं.

पुरुष सेक्स

जैसे ही मैंने बिना आवाज किए हाथ से पर्दे को हटाया तो देखता हूं कि सुनीता के हाथ में मूली थी, जिसे वह अपनी चूत में डाल रही थी और अन्दर बाहर कर रही थी. मैंने कहा- कोई बात नहीं पागल, फ्लैट पहुंचने की देर है, मैं तुझे ढेर सारा प्यार दूंगी. मैंने एक झटका दे दिया तो वो चिल्ला पड़ीमैं एकदम से डर गया और साला लंड भी चूत के अन्दर नहीं गया.

उसके गले का पट्टा, जो मेरे हाथ में था, उसको मैंने छोड़ दिया और वही हाथ उसके पेट से नीचे ले गया. पूनम मेरी गोद में थी तो मैं भी उसकी गांड को नाइटी ऊपर करके सहला रहा था, साथ में चूत में भी उंगली कर दे रहा था. कुछ मिनट चूत चाटने में वो गर्म हो गईं और बोलीं- मुझे पेशाब आ रही है … मैं मूत कर आती हूँ.

मुझे हमेशा से सेक्स की बातों और सेक्स में रुचि रही है लेकिन अभी तक मेरा उद्घाटन नहीं हुआ था. आह्ह्ह … आह्ह्ह … ओह्ह!” धारा और शेखर दोनों के मुँह से एक साथ आह की आवाज़ आयी और दोनों एक साथ ही झड़ गए!धारा एकदम से निढाल होकर शेखर के सीने पे पसर गयी. हम दोनों मां बेटा इस मधुर चुदाई से इतना थक गए थे कि पता ही नहीं चला, कब नींद आ गई.

थोड़ी देर बाद मॉम भी आ गईं और पूछने लगीं- तनु क्या कर रहा है?मैं मुस्कुराते हुए लंड में हाथ फेरते हुए बोला- मां बेटी की चुदाई की सच्ची कहानी पढ़ रहा हूं. फिर उनकी गर्दन पर चुम्बन करने लगा और पेट को चूमते हुए उनकी दोनों जांघों को चूमना शुरू कर दिया.

उसी समय मैंने एक तगड़ा झटका मारा और अपना पूरा लंड उसकी चूत में अन्दर तक घुसा दिया.

जिस नंबर से ये कॉल आई थी, वो नंबर मेरे फोन में पहले से ही सेव था तो मुझे लग ही रहा था कि कहीं फोन पर भाभी तो नहीं हैं. सेक्सी पिक्चर इंडियन चुदाईघर में भाभी की मां ही थी, इस समय बाकी सब शादी की तैयारियों में जुटे हुए थे।खाना खा पीकर सोने की तैयारी शुरू हुई. सेक्सी भाभी सेक्स भाभीमुझे शर्म आ रही थी, पर फिर भी मैंने एक एक करके अपने कपड़े उतार दिए और सिर्फ कच्छे में बैठ गया. उसे अपने सीने से चिपकाए हुए उसके चूतड़ों को दोनों हाथ से थाम कर जोर जोर से चोदने लगा.

देविका ने एक कपड़े से अपनी चूत साफ कर दी, तकिया और बेडशीट को भी साफ कर दिया.

तो उन्होंने मुझसे कहा– मैं तुम्हें पीछे से करना चाहता हूं।मैं– मतलब?अमित जी– मतलब तुम्हारी चूतड़ को चोदना चाहता हूं।मैं– नहीं नहीं … मैंने कभी वहां नहीं किया और आपका इतना बड़ा है कि मैं झेल नहीं पाऊंगी।अनिल जी– ऐसा कुछ नहीं होगा. मैंने चूत की फांकों में लंड का सुपारा सैट किया और पूरी ताकत से पेल दिया. मैंने गीता की चूत पर लंड टिका कर बैठक जमाई और उसके दोनों स्तनों को अपने दोनों हाथों में पकड़कर लंड तेज गति से अन्दर बाहर करने लगा.

लंड चूसते चूसते उसने अपनी लार और थूक टपका कर कई बार मेरे लौड़े पर लगायी ताकि चूसने में उसको और मुझे दोनों को मजा मिलता रहे. क्यों रेशमा रांड … बोल चुदेगी उस हिजड़े सलमान के सामने भोसड़ीवाली?रेशमा का मुँह तो मेरे गांड के नीचे दबा था इसीलिए वो तो कुछ बोल नहीं सकी पर किरण ने अपना मुँह पाटिल जी की गांड से बाहर निकाला और मेरी तरफ मुस्कुरा कर देखने लगी. फिर आने वाले संडे को हमारी मीटिंग होना तय हुई क्योंकि संडे को मेरे घर वाले भी बाहर जा रहे थे और मैं पढ़ाई का बहाना करके घर पर ही रुक गई थी.

बिपी ऐप्स

गीता सिहर उठी और मादक सिसकारियां लेकर बोली- हर्षद, अब नहीं सहा जा सकता मुझसे … प्लीज अब अपना ये मोटा लंड डाल दो ना मेरी चूत में … बहुत आग लगी है. जल्द ही आगे की सेक्स कहानी आपके मनोरंजन के लिए लेकर हाजिर हो जाऊंगा. मैंने लच्छो के दोनों दूध को थामते हुए उसकी पीठ को चूमते हुए कहा- तुम मुझे बहुत पसंद आई लच्छो, तुमको छोड़ने का मन नहीं करता.

‘कहां ले जा रहे हैं साहब?’‘मैंने कहा था न आज से तू रोज मेरे साथ ही सोएगी.

जैसे ही मैंने नाइटी को उतारा, उसका संगमरमर की मूर्ति सा बदन मेरी आंखों के सामने खुल गया था.

वो धीमी आवाज में बोली- मजा ले ले बेटा … किसी को बताना, मत बाकी का काम हम रात को करेंगे. मुझे कोई ऐसा चाहिए था जो मेरी चूत में उंगली करे!इसके लिए मैंने योनि मसाज के बारे में सोचा और एक दो मर्दों से नग्न मसाज भी ली. इंडियन सेक्सी फिल्म एक्स एक्स एक्सवो बोले- अच्छा तो ये होती है नाईट ड्रेस … और क्या पहना है मेरे बाबू ने?मैंने बोला- क्या मतलब भैया?उन्होंने कहा- अरे लड़कियां अन्दर और भी कुछ पहनती हैं ना?मैं बोली- हां भैया मैं भी पहनती हूँ, पर रात में अन्दर कुछ नहीं पहनती हूँ.

बातों ही बातों में मैंने रूम का दरवाजा बंद कर दिया और वासना भरी निगाहों से पूनम को निहारना शुरू कर दिया. इसके बाद मैंने भाभी की दोनों टांगों को फैला दिया और उनके दोनों चूतड़ों की खाई को सहलाने लगा. वह कसमसाती हुई अपने मुँह से मादक ‘आह आ आ स्स्स स्स्स स्स्स …’ की मादक आवाजें निकालने लगी.

दोस्तो, मैं हर्षद मोटे आपको सरिता भाभी की मौसी सास देविका की चूत चुदाई की कहानी सुना रहा था. वो सिसकारी भरते हुए आहें भरने लगी लेकिन उसने मुँह से लंड नहीं निकाला.

जब मैं 12 वीं क्लास में था, तो मुझे पुरुषों के प्रति आकर्षण महसूस होने लगा था.

मैं- सूंघ मेरी गांड रंडी की औलाद, साली तेरी मां ने भी दस लौड़े ख़ाकर तुझे पैदा किया होगा. तब सुची उनसे बोली- और कोई तो नहीं आ रहा?मोनी बोली- हम दोनों तो अकेले आए हैं. हालाँकि शेखर के मुँह में अब भी धारा की उंगली थी और वो अपनी ज़ुबान से उसकी उंगली के साथ अठखेलियाँ कर रहा था लेकिन फिर भी अपनी सिसकारी नहीं रोक सका.

सेक्सी औरत का सेक्सी इतने में उसने जोर से अपनी गांड पीछे धकेली और मेरा लौड़ा फिर से अपनी गांड में भर लिया. मैं धीरे धीरे लंड को कुछ इंच तक बाहर निकाल कर फिर से अन्दर करने लगा.

उस रात मैंने निधि के साथ चार राउंड और करे और सुबह 5:00 बजे अनुराग ने मुझे मेट्रो स्टेशन छोड़ दिया और बाय बोल कर चले गए. साबिरा की ‘आअह उम्म्म उफ्फ …’ जैसी कामुक आवाजें सुनकर मेरे लौड़े ने भी नींद से बाहर आना चालू कर दिया. वह ऐसा दिखावा कर रही थी जैसे कि उसको पता ही न हो कि मैं उसे देख रहा हूँ.

पंजाबी गाने mp3

जैसे ही मेरा हाथ उसके उस गीली फुद्दी पर लगा, तो रेशमा के बदन में एक थरथराहट हुई. उसने जैसे ही अपना टॉप उठाया तो मैं उससे बोला- कुछ कंफर्टेबल सा पहन लो!तो उसने हाफ पेंट और टीशर्ट पहन ली. शिराज ने यही मौका देख कर अपनी लुल्ली साबिरा के मुँह में दे दी और जोर जोर से अपने लुल्ली से अपनी बहन का मुँह चोदने लगा.

’इसी बीच मैंने उसके चूचों के ऊपर 4-5 जगह लव बाइट्स दे दिए जिसने उसकी कामुकता और भड़का दी. दिल करता है कि हमेशा तुम्हारे पास ही रहूँ हर्षद!”मैंने अपना एक हाथ उसके गले में डालकर सीधा उसकी चूची पर रखा और सहलाते हुए कहा- देविका, इतनी भी तारीफ मत करो मेरी.

भाभी सबको देख रही थी तो लेडी दुकानदार बोली- भैया आप भी कुछ मदद कर दीजिए पसंद करने में!इस पर भाभी बोली- हां विराट तुम भी कुछ बताओ कौन सी लेना है.

हालांकि ये चुदाई केवल दो मिनट की थी लेकिन मुझे यकीन था कि ससुर जी आगे अपना जलवा जरूर दिखाएंगे. मैंने गाड़ी को किनारे लगा दिया और अपने होंठों से उसके होंठों पर चुम्बन का ताला लगा दिया. उसका लंड मेरी चूत में सटासट चल रहा था और 3 उंगलियां मेरी गांड में थीं.

थोड़ी देर बाद गीता सामान्य हो गयी और आहिस्ता आहिस्ता अपनी गांड ऊपर नीचे करने लगी. कुछ देर बाद मैंने उसे फिर से रोका और उससे बोला- अब मेरे लंड के छेद पर अपनी जीभ चलाओ. मैंने पूरी वीडियो ढंग से बना लीं और चुपचाप वहां से बाहर निकल कर अपने रूम में जाकर लेट गया.

अगर उसे किसी ने मेरे घर में आते देख लिया, तो सब लोग मेरे और सोनी के बारे में क्या सोचेंगे?बिल्डिंग वालों की नज़र में मेरी छवि भी एक अच्छे लड़के की थी.

ब्लूटूथ पिक्चर बीएफ: गीता दो बार झड़ चुकी थी लेकिन मेरा लंड इतनी जल्दी स्खलित होने वाला नहीं था. लेकिन अब कैसा लग रहा है?देविका बोली- बहुत दर्द हो रहा है, लेकिन तुम्हारा मूसल जैसा लंड चूत में लेकर बड़ा अच्छा लग रहा.

इस तीसरे पैग के बाद मुझे खूब अच्छी चढ़ गई थी, लेकिन अभी भी मैं होश में थी. मैंने कहा- ठीक है लेकिन अंकल आ गए तो?वो बोलीं- अंकल 2 दिन के लिए बाहर गए हैं. मैंने उससे प्यार करने की कह कर उसका हाथ पकड़ा और उसे अपनी बांहों में खींच लिया.

मुझे ये नहीं पता था कि उस ब्रा को थोड़ी देर में ही उठा कर मशीन में डालने वाली है.

मैं उसके चूचों को ब्रा के ऊपर से ही दबाने लगा और काफी देर तक दबाने के बाद उसकी ब्रा की हुक खोल दी. कुछ ही देर बाद वो झड़ गई लेकिन मेरा काम नहीं हुआ था इसलिए मैं लगा रहा. उसने जैसे ही अपना टॉप उठाया तो मैं उससे बोला- कुछ कंफर्टेबल सा पहन लो!तो उसने हाफ पेंट और टीशर्ट पहन ली.