भोजपुरी बीएफ सेक्सी इंडियन

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो देसी खेत में

तस्वीर का शीर्षक ,

सपने में होली खेलना: भोजपुरी बीएफ सेक्सी इंडियन, फिर मैंने राजधानी एक्सप्रेस की रफ़्तार से जो धक्के ठोके तो रानी की सिसकारियाँ बंध गई.

अनुष्का सेन का नंबर

मैं पूरी कॉल गर्ल बन गई और खुद ही उन लोगों के रिफरेन्स से कस्टमर ढूँढने लगी… जिन्होंने मेरी चुत में अपना लंड डाल कर हिलाया था. सांगली सेक्सये कह कर नवीन झट से मॉम के चुचों को मुँह में भर के दशहरी आम की तरह चूसने लगा.

चूँकि मैं खिड़की वाली सीट पर बैठा था तो मैंने सोचा क्यों न सिगरेट पी जाए. அமலா பால் sexअब उसने अपनी दो उंगलियों से मेरी फ्रेंची की स्ट्रिप पकड़ी और नीचे करने लगी.

इसके अलावा मेरी भाभी ने मेरे को 7 और लड़कियों की चुत भी दिलवाई, उनके बारे में भी मैं आपके लिए हिंदी में मसालेदार चुदाई की कहानी लिखूंगा.भोजपुरी बीएफ सेक्सी इंडियन: ठप ठप ठप की मधुर आवाज़ के साथ वो आहह आहह आहह कर रही थीं और उनकी गांड स्प्रिंग की तरह दब के ऊपर नीचे हो रही थी, सच में बहुत ही मज़ा आ रहा था.

मैं चाहती हूँ कि जब वो अपना मुँह दिखाना नहीं चाहता, तो तुम भी क्यों दिखाओ.यह मेरी पहली सेक्स कहानी है, इस कहानी का अनुभव अगर अच्छा रहा तो आगे की अन्य कहानियां भी प्रस्तुत करता रहूँगा.

सेक्सी विडियो हिंदी भोजपुरी - भोजपुरी बीएफ सेक्सी इंडियन

जब चुदास बढ़ी तो मैंने उसके कुरते को उसकी कमर तक नीचे कर दिया और उसकी पूरी पीठ को चाटते चाटते उसकी कमर तक पहुंच गया.उसने उस चादर से मेरे को कमर से नीचे ढक दिया और सीट पर बैठे हुए ही चादर के अन्दर से ही मेरा लंड मुँह में लेने लगी.

आशीष से बिंदु माँ ने अपनी चुत खोलते हुए कहा- देख… तेरी जन्मभूमि, जिसमें से तू पैदा हुआ है. भोजपुरी बीएफ सेक्सी इंडियन ’ की आवाज निकल रही थी। वो पूरी गर्म हो चुकी थीं।मामी जी के स्तनों को चूसते वक्त मेरा लंड सख्त हो गया था जो कि मामी जी को चुभ रहा था। मामी जी को जब वह महसूस हुआ तो मुझे कहने लगी- अरे राहुल, तुम्हारा लंड तो सख्त हो रहा है चलो ऐसे में मैं इसकी चुसाई कर देती हूं और तुम मेरी चूत की चुसाई करना।मैंने कहा- यह तो सोने पे सुहागा है.

मोबाइल जिसमें वीडियो चालू था उसे उठा लिया और बालू मुझे बोले- वन्द्या, सीधी लेट जाओ!मैं जैसे सीधी हुई, उनका हाथ अब मेरे सामने जांघ में पैंटी के ऊपर से ही सीधे मेरे चूत के ऊपर फूली हुई जगह में रख गया और वो मेरे वहीं पर अपना हाथ चलाने लगे.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी इंडियन?

इस दौरान हमने एक दूसरे के नंगे फोटो भी शेयर करे।उसका नंगा बदन देख कर मुझे तो उसको चोदने की लत सवार हो गई, उसके मम्मे देख कर तो दिल करता कि बस इन्हें अभी चूस कर निचोड़ लूं. उसके जिस्म के पसीने में जर्दे की खूशबू मिक्स थी जिसने मुझे दीवाना बना दिया था. तथा उसको भी जाने के लिए बोल दिया।मुझे ऑफिस में रुक कर काम करना था और आज छुट्टी भी थी.

फिर मैं क्या करता, खुश तो था ही कि आख़िर मेरी एक फंतासी तो पूरी हुई. उसने मुझसे पूछा- क्या मुझे किसी सेक्स उत्तेजना वाली कोई गोली, स्प्रे या कंडोम की जरूरत तो नहीं?मैंने मना कर दिया, उसने मुझे अपना कार्ड दिया और कहा- फ्री टाईम में बात करना. आप मुझसे बात करना चाहते हैं तो मेरी मेल औऱ फेसबुक की आईडी यह रही![emailprotected].

शिखा- अरे मेरे प्यारे मैगी, दीदी भी बोलता है और ऐसा भी कहेगा? वैसे भी मुझे अपने भाई से बहुत जरूरी में मिलना है. मैंने उन्हीं कमीने दोस्तों से जब ये सुना कि लड़की की चूत मारने में बहुत मजा आता है, हाथ से लंड हिलाने में तो कुछ भी मजा नहीं है. बल्कि मेरा तो सुझाव है कि इस तरह के झंझट में ना पड़ कर सीधे सीधे किसी तरह का बिजनेस कर लो वो अच्छा है.

उधर मनीष भी बहुत खुश है कि मैं आज भी उसकी वाइफ के जैसे उसकी हर माँग पूरी करती हूँ. दिशा को प्रीति और दीक्षा की चूत चाटने का काम मिला जिसे वो बखूबी निभा रही थी, जिससे प्रीति की चूत ने दिशा के मुख में अपना कामरस छोड़ दिया.

और सुन जाने से पहले यह सुनती जा कि कल जैसे ही मेरा फोन आए, बिना कुछ सोचे बिना चड्डी ब्रा पहने आ जाना.

वो मेरे चूचों पर कोई रहम नहीं करने वाला था क्योंकि वो मेरे चुचों के अंगूरों के कवर्स को खींच खींच कर ऊपर लेकर छोड़ता था, इससे मुझे बहुत दर्द होता था.

इसके बाद खाना आदि खाने के बाद दिन में उसने मेरी एक बार और चुदाई की. चुदाई के बाद चंदर बोला- बिंदु जी, जिस दिन आपका पति कहीं आउट स्टेशन हो, तो आपको मुझसे चुदाई के लिए पूरी रात के लिए आना होगा. मैंने आंटी से रिमोट छीनने की कोशिश की और उनको धक्का मारकर उनके ऊपर चढ़ कर उनके हाथ से रिमोट छीनने की कोशिश करने लगा.

झड़ने के एक पल बाद वो उस लड़की के ऊपर से हटा और अपने कपड़े पहनने लगा. उसकी बुर की तेज गंध मेरे नथुनों में भर गई और मैं अनायास ही उसकी तरफ बढ़ गया. मैंने उससे कहा- मैं ये नहीं करूँगी लेकिन इसके बदले में यदि तुम कुछ और करने को कहोगे तो वो मैं कर दूँगी.

इसलिए मैं उसकी तरफ झुकती चली गई और अपने बॉयफ्रेंड से मैंने ब्रेकअप कर लिया.

मैं बेड पर खड़ा हुआ, अंडरवियर उतार कर लंड बाहर निकाला और लंड को पकड़ के धीरे से ऊपर नीचे करने लगा. मैंने चूचा मुँह में लिया और उन्होंने बोटल को मुँह पे लगाया और 2-3 घूंट नीट रम पी गईं. मेरी कहानी के पहले भागपड़ोसन भाभी का सेक्स-1में अब तक आपने पढ़ा कि सुमन भाभी को मैंने अपनी गिरफ्त में ले लिया था और उन्हें चूमने की कोशिश करने लगा था.

अब पूनम पूरे जोश में थी… इतने जोश में कि पूनम मेरी चूत दांतों से खाये जा रही थी जिससे मैं अपनी चूत उसके मुँह में पेले जा रही थी और पूनम भी मेरी चूत को बहुत मजे से चाटे जा रही थी, ऐसा लग रहा था कि पूनम बहुत पहले से लेस्बीयन सेक्स करती रही हो!और उसे मजा भी बहुत आ रहा था मेरी चूत चाटने में!फिर मैं उठी और बैठ गई. इतने में ही पार्किंग वाले ने हमारी विंडो पे नॉक किया, तो हम संभल कर बैठ गए. मैंने रूखे स्वर में कहा- मुझे कोई बात नहीं करनी है, जाओ घर पर कोई नहीं है, बाद में आना.

फिर उसने एक एक करके मेरे सारे कपड़े उतार दिए और जानवरों की तरह मुझ पर टूट पड़ी.

मैंने ऊपर जाकर दादाजी को बताया कि मैं आज अपनी चाची के साथ ही सोऊंगा. यही बात मैंने अलका से भी कही कि सब कहानियां मेरी गर्ल फ्रेंड्स में ही घूम रही हैं.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी इंडियन तो फिर क्यों हम ठगी जिगोलो एजेंसियों का कंप्लेंट नहीं कर सकते? क्योंकि हमें डर है कि यह अवैध व्यापार है. साथ ही वो मादक आवाजें भी निकालने लगी ‘आह उहह हह आोहह हह…’उसकी कामुक आवाजें सुन कर मुझे भी जोश आ गया और मैं ओर तेज तेज धक्के लगाने लगा.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी इंडियन मैंने उसी वक़्त उसके बूब्स को मुख में भर लिया और ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा. पर मेरे फ्रेंड ने बोला- पूजा का 5 दिन पहले एक्सीडेंट हुआ था और उसकी मौत हो गई थी.

कुछ ही दिनों में वो भी मुझसे खुलने लगी थी और मुझसे सट कर बैठने लगी थी.

बर्फ बर्फ वीडियो

मेरे खड़े लंड को देख कर भाबी की दोनों आँखें बड़ी हो गईं और उनके दोनों हाथ मुँह पर आ गए. मगर अबकी बार आंटी होंठों पर किस करने लगीं और मेरा मुँह को दबाकर मेरी जीभ को चूसने लगी, जिससे मुझे भी मस्ती आने लगी. मैं- भाभी मेरे से क्या छुपाना… मैं कोई परायी थोड़ी ना हूं… जो सब को बता दूंगी.

लेकिन आखिर कब तक टिकता… लंड के भाग्य में तो यही लिखा है कि चूत की गहराई में जाकर चूत को सींचना और एक नए जीवन का सृजन करना…मेरे लंड ने भी अंततः मौसी की चूत की सिंचाई कर दी इसी आशा से कि इस सिंचाई से मौसी को संतान फल की प्राप्ति होगी. लगभग 15 मिनट तक लिप लॉक के बाद हम थोड़ा शांत हुए। मैंने उसे खुद से अलग किया और मैं मेन गेट को अंदर से बंद कर के आया। वापस आकर मैंने उसे जूस पिलाया जो मैंने अननोन नंबर वाली लड़की के लिए ला कर रखा हुआ था।हम दोनों ने जूस पिया।फिर वो बोली- क्या मैं जाऊं अब?मैंने कहा- मन तो नहीं जाने देने का…वो बोली- क्या मन हैं फिर?मैंने कहा- तुम्हें किस करते रहने का मन कर रहा है. मोहन मेरे मम्मों पर झुक कर मेरे शहद से भरे होंठों पे अपने होंठ रख कर चूसने लगा.

दरअसल अबकी बार भाभी की गांड मैं नहीं मार रहा था, बल्कि वे खुद अपनी गांड मेरे लंड से मरवा रही थीं.

अब उसने अपनी दो उंगलियों से मेरी फ्रेंची की स्ट्रिप पकड़ी और नीचे करने लगी. मैंने जानबूझ कर सबसे पीछे वाली दो सीट वाली तरफ की एक सीट बुक करवा ली. सुबह लगभग चार बजे वो आशीष से बोलीं- जाओ अपने रूम में और किसी को कुछ भी भनक नहीं लगनी चाहिए कि आज यहाँ पर क्या हुआ है.

उसके होंठ चूसते हुए मैंने अपने हाथों से पहले उसके हाथ सहलाए, फिर थोड़ी देर गाल सहलाए और फिर गर्दन से हाथ फेरते हुए अपने हाथ उसकी चुचियों तक ले गया. मैंने शीशे में देखा कि मेरी पूरी की पूरी चुत तो बाहर ही निकल कर आ गई है. उसके बाद गेस्ट हाउस, फिर क्लब और उसके बाद सड़क के दायीं तरफ फैक्ट्री के इंचार्ज यानि मेरा बंगला; और उसके सामने यानि सड़क के बायीं तरफ बच्चों का खेल कूद का मैदान जिसमें छोटे बच्चों के लिए झूले इत्यादि लगे हैं, एक बड़ा सैंड पिट, एक स्केटिंग रिंक है, एक बैडमिंटन कोर्ट, एक टेनिस कोर्ट और एक बड़ा सा प्लेग्राउंड हैं.

उस दिन मेरा मूड थोड़ा ऑफ था क्योंकि उस दिन मेरे 18000 रुपये खो गए थे. मेरे घर वालों से भाभी ने मुझ रात में सोने के लिए भेजने को बोला और खाना खाने के बाद मैंने और भाभी ने काफ़ी सेक्स किया.

उन्होंने मुझे बेड पे लेटा दिया और मेरी टांगों के बीच आ गए और लंड को मेरी चूत पे सैट करके एक ही झटके में मेरी चूत में ठोक दिया. मैं अब कुछ नहीं बोल सकती थी सिवाए अपनी किस्मत को गालियां देने के…जब मैं वापिस घर आई तो कहा कि मैं इंटरव्यू में पास नहीं हुई. कुछ ही मिनट बाद मैंने पूजा को लिटा दिया और उसकी चूत के मुँह पे लंड टिका दिया.

जब मैं वापस आया तो सोनू की आँखों में जबरदस्त प्यास थी, वो बोली- बहुत देर लगा दी आप ने! आज आपको मुझ से कोई नहीं बचा सकता…मैंने कहा- कौन साला बचना चाहता भी है.

फिर ऋतु ने दोनों अंडरगार्मेंट उतार दिए और फुल न्यूड होकर बिल्कुल नंगी होकर मॉडल लड़की की भान्ति वॉक करने लगी. उसने मेरी तरफ परेशानी से देखा, तो मैं उठ कर किचन में गया और अपने लंड पर घी लगा लिया. एक बार को तो यह सोच कर मेरी बुर में सिहरन हो गई थी कि आज मैं इसके चूचों और बुर की मालकिन हूँ.

थोड़ी देर में ही मेरा पानी निकल गया और मैं शांत हो कर रूम में जाकर सो गया. उस दिन अर्पिता ने स्कर्ट पहनी हुई थी, जो पानी के कारण ऊपर हो रही थी.

और किसी भी 26-27 साल की लड़की की तरह सुंदरता उनके सामने एकदम बेकार हो जाये. डॉली ने लंड को जड़ से पकड़ रखा था और वो मेरी बॉडी को भी चूमे जा रही थी. आप क्या वो यहां पर नौकरी करती हो?उसने बताया कि वो डिस्को की मालकिन है और फिर पूछा कि मैं पहले कहां जाता था.

2 दिन से लैट्रिन नहीं हो रहा है

सुन कर, अपने घर में उसको अकेले रहना पड़ेगा सोचकर वो थोड़ा घबरा गई।दूसरे दिन शाम को उसकी सासू माँ ’15 दिन बाद आती हूँ.

जैसे प्यास लगते ही हम पानी पी लेते हैं, उसी तरह से चूत में लंड भी डलवा लेती हैं. उनके चेहरे पे फ़िर से वही डेविल स्माइल आ गई, वो मेरे करीब आईं और मेरे लंड को घूर कर देखा. नमस्कार दोस्तो, मैं काशी आपके सामने अपना एक और सच्चा अनुभव लेकर आया हूँ.

और उन्होंने मेरी चूत को पेंटी के ऊपर से ही दबा दिया, बोले- यह बहुत फूली है, पता है फूली चूत बहुत सेक्सी और चुदासी लड़की की रहती है।मैं यह सब नहीं जानती थी, मैं खड़ी थी, उसने बैठकर मेरी पैंटी के ऊपर से फूली हुई जगह पर अपनी नाक रख दिया और बोले- बहुत सुगंधित महक आ रही है तुम्हारी चूत से!और मेरी जांघों को खड़े खड़े ही चूमने लगे. जैसे प्यास लगते ही हम पानी पी लेते हैं, उसी तरह से चूत में लंड भी डलवा लेती हैं. கீர்த்தி சுரேஷ் செஸ் வீடியோफिर आंटी ऊपर से किस करते हुए नीचे लंड पर आकर लंड को मुँह में लेकर चूसने लगीं, घप्प्प… प्पप्प…” की आवाज आने लगी.

उसके गुलाबी होंठ, तनी हुई गोल गोल चुचियां, सपाट चिकना पेट, पेट के बीच गहरी नाभि, पतली कमर, उभरा हुआ सा पेडू और उसके नीचे दो पुष्ट जंघाओं के बीच फंसी पाव रोटी की तरह फूली छोटी सी बुर, जिसके ऊपर छोटे छोटे घुंघराले काले रेशमी रोएं, मैं तो टकटकी लगाए देखता ही रह गया. कृपा करके मेल के माध्यम से मुझे अपने विचार बतायें।शरद सक्सेना[emailprotected][emailprotected].

दोनों आके मेरे आस पास कुर्सी पर बैठ गईं और बोलीं- और क्या किया दोनों ने अकेले अकेले?एकता ने कहा- अरमान ने मुझे अच्छे से सारे शरीर पर बॉडी वाश से नहलाया और फिर मुझे यहाँ उठा कर खाना खिलाने लाया ही था कि तुम दोनों आ गईं. वो सेजल भाभी के कामरस से बहुत ही गीली हो चुकी थी और उनकी चूत से एक बहुत मादक खुशबू आ रही थी. इस वक्त मैं भाभी की चुत को पूरे ज़ोर से चाट रहा था तो उस दौरान भाभी की मदभरी आवाज निकल रही थी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… क्या खा ही जाओगे… आह…उनकी कामुक आवाज़ मुझे और अधिक गरम कर रही थी.

शाम को हमने भूतों की फ़िल्म देखी, मैं डरने का नाटक करते हुए उसके बदन से चिपक जाती और उसके लंड को छू लेती. क्योंकि उसने चार लड़कों को बुला रखा था और पता नहीं उन सबसे क्या बोला था कि सबके सब नंगे अपना लंड खड़ा किए हुए बैठे थे. मैं आपको मेरे बारे में बता दूँ, मैं दिखने में काफी हैंडसम हूं, और बॉडी भी अच्छी है.

और हां पूरी रात तुम्हारी चुदाई करनी है, जब जब इस का पानी निकलेगा तो तुम्हें पीना पड़ेगा, नहीं तो मैं चुत को ही भर दूँगा.

बहरहाल डॉक्टर को ही मेरी चुदक्कड़ बीवी की पैंटी निकाल कर उसके हाथ में देनी पड़ी. नीलम भाभी ने कहा- हाथ पकड़ कर क्या करने वाले हो?मैंने कहा- आपका नसीब देखने वाला हूँ.

अब मेरा भी पानी निकलने वाला था तो मैंने पूछा- बोलो पानी कहाँ निकालूँ?तो सुहानी बोली- जीजू अन्दर ही निकालना, ये मेरा पहला सुहागदिन है. मैं अभी भी सुबह की घटनाओं में ही डूबा हुआ था और मॉम मुझसे सवाल पूछ रही थीं. फिर वो कामिनी के बिल्कुल पास चला गया और उसको एकदम अपने से चिपका कर बोला- तो मेरी जान ये तो तुम्हारे पति लायक है नहीं, पर जरूरतें भी तो पूरी करनी पड़ती हैं.

इतने में आंटी भी नहा कर बाहर आने वाली थीं, तो जल्दी से में नीचे भाग आया. उसके साथ में पढ़ने के लिए हम एक दूसरे के घर ग्रुप स्टडी के लिए जाया करते थे. थोड़ी देर तक उसके लिप्स को चूसा, फिर उसके चूचों को दबाया, उसने अपनी कमीज को ऊपर किया और उसके दोनों चूचों को आज़ाद कर दिया.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी इंडियन मैंने भी 69 में आकर भाबी की टांगों को फैला दिया और उनकी झांट रहित गुलाबी चुत पर अपने होंठ रख दिए. इतने में आंटी भी नहा कर बाहर आने वाली थीं, तो जल्दी से में नीचे भाग आया.

सोनिया जी

मैं चिल्लाती रही कि अब छोड़ दे इसको…मगर वो बोल रहा था कि हरामजादी मुझे चैलेन्ज कर रही थी ना… अभी तो कुछ नहीं हुआ… देखना सुबह तक तुम्हें चलने लायक भी नहीं छोड़ूंगा. उनके जाने के बाद अकेले बोर होने से बचने के लिए फ़ेसबुक पर आई तो आपसे दोस्ती हो गयी. थोड़ी देर बाद आरुषि जब बाथरूम से निकली तो उसने काले रंग की कैपरी ओर सफेद खुले गले वाली टी शर्ट पहने थी,आरुषि को देख कर मेरे लंड महाराज ने भी कच्छे में हरकत की जिसे आरुषि ने देख लिया था और वो कातिल मुस्कान देते हुए मेरे तरफ़ बढ़ी.

मैडम की ब्रा अभी खुली नहीं थी तो बेचारा डॉक्टर ब्रेस्ट कैसे चेक करता।नीना का वही बहाना- डॉक्टर साहब, हुक पीछे है, खोल दो न ब्रा का हुक!यह कहते हुए नीना करवट बदलीं और डॉक्टर ने हुक को ढीला कर दिया।इसके साथ ही मेरी नीना के मोटे मोटे आज़ाद कबूतर हवा में लहरा उठे. इसके बाद मैंने उससे लंड चूसने को बोला तो उसने मना कर दिया क्योंकि गुजरात में लड़कियां लंड चूसने को अच्छा नहीं मानतीं, इसलिए रीटा ने भी लंड नहीं चूसा. सेक्सी पोर्न वीडियो एचडी हिंदीअब बस उस मौके का इन्तजार है, जब चाची और कंचन दोनों को एक ही बिस्तर पर चोद सकूँगा.

फिर माँ ने मेरे रूम को अन्दर से बंद करके मुझसे अपनी चूत चुसवानी शुरू की वो भी पूरी रात भर चुदाई को देख कर अब तक बहुत गरम हो चुकी थीं.

एरिक लंड को विश्वसुन्दरी के मुख से निकाल कर उसके चूतड़ों के पीछे जा पहुंचा और लंड को सही पोजीशन में लाकर गांड में घुसेड़ दिया. उधर भाभी को भी थोड़ा पता लगा कि उनकी गांड में कुछ सख्त सा आइटम चुभ रहा है, तो वो मेरी तरफ घूम गईं और मुझसे सॉरी बोलने लगीं.

उसके पानी से मेरे चूचे, मेरा पेट, मेरी गर्दन सब सन चुके थे, पर अभी भी वो मुझे नहीं छोड़ना चाह रहा था. मकान मालिक मेरे पीछे आ गए और बोले- हाथ ऊपर करो वन्द्या!मैंने नहीं किये तो अपने आप करवाए और मेरे टॉप को नीचे से खड़े खड़े उतार दिया, जैसे ही मेरा टॉप उतरा… तब पीछे खड़े मकान मालिक सीधे मेरी पैंटी के ऊपर से ही मेरी पीछे गांड में अपना लन्ड रगड़ने लगे और पीछे से मेरे दोनों दूध कस के पकड़ लिए. कमला ने तो मजे के कारण अपनी आखें ही बंद कर लीं और जोर जोर से आहें भरने लगी.

उन्होंने हिचकते हुए मेरे लंड को पकड़ा और अपनी चुत के मुँह पर मेरे लंड को रख दिया.

उसने शराब का गिलास होंठों से लगाया और एक हाथ से अपने लंड को सहलाते हुए बोला- वॉक करो. मैं उसकी चूची दबाने लगा और उसे उसका दर्द भुलाने के लिये उसे गर्म करने लगा. मेरा मतलब है तुम अचानक चले जाओगे तो घर में कामकाज की दिक्कत हो जाएगी.

ಸೆಕ್ಸ್ ಫಿಲಂ ಡೌನ್ಲೋಡ್कुछ देर गांड में लंड का मजा लेने के बाद मैंने उनकी चुत में अपने लंड को घुसेड़ दिया और उनकी धकापेल चुदाई शुरू हो गई. चूंकि हम लोगों की छत आसपास की छतों से ऊँची थी तो ये सब कोई देख भी नहीं सकता था.

सिक्स ईपी लाइव वीडियो

तभी भाभी ने अपनी चुत का पानी छोड़ दिया और मैंने उनकी चूत का सारा पानी मुँह में ले लिया. दोस्तो, मेरी कई सेक्स कहानी अन्तर्वासना पर आ चुकी हैं, जैसेसौतेली मॉम की चुदाईमॉम की अन्तर्वासना शान्त कीघर की चूतों के छेदअब मेरी नई सेक्स कहानी पढ़ें. मैं- सोनिया ये सब कब से चल रहा है?सोनिया- भैया एक साल से!मैं- और जो ये आज कर रही थी, ये सब कितनी बार किया है?सोनिया- भैया 3 बार…मैं- कहां पर?सोनिया- यहीं पर.

मैंने उस रात काले रंग की ब्रा और पैंटी पहनी और ऊपर से वन पीस पहन के कॉलेज गई. मैंने उसकी दोनों टांगें काफी फैला दी और पूजा ने दोनों हाथ से चूत को जितना खुल सकती थी खोली. मैं उसकी चूची दबाने लगा और उसे उसका दर्द भुलाने के लिये उसे गर्म करने लगा.

बहनचोद मर्दों पर बिजलियाँ गिराने के लिए उसने साड़ी नाभि के नीचे बांध रखी थी. मैंने ज़रा सा उठ कर फ़ौरन अपनी बनियान उतार फेंकी और साथ ही प्रिया के कन्धों से उसकी ब्रा की पट्टियाँ बाहर की तरफ दाएं-बाएं उतार कर प्रिया की आँखों में देखा. हम लोगों को देख कर बोला- तुम भी अपने फॉर्म में आ जाओ मतलब कि पूरी नंगी हो जाओ और अपनी चुत की मालिश करना शुरू कर दो.

हम दोनों ओरल सेक्स करते हुए एक दूसरे के आइटम को चूसने के मज़े लेते रहे. कुछ घण्टे बाद हमने फिर खेल शुरू किया और इस बार हमने डॉगी पोजीशन में सेक्स किया.

अब आर्थर ने अपने लंड को गांड में सीधा घुसाना आरंभ कर दिया और हथौड़े से किसी कील को ठोकने के अंदाज में मेरी बीवी की गांड मारनी शुरू कर दी.

मुझे भी अब इस बात का एहसास हो चला था कि वो मुझसे इतनी सीनियर हैं और अब उनकी शादी भी होगी, तो थोड़ा अपसैट रहने लगा था. हिंदी सेक्सी खेलने वालीकोई बात नहीं, सीख लेंगी, अगर आपके दोस्त को आती है तो…” मेरी पत्नी से बातें करने का बहाना लेता हुआ आर्थर जबरदस्ती हाथ नचाता हुआ बोला. राजस्थानी सेक्सी वीडियो ससुर बहूअब इस सब काम में मेरी लाडो बुर का भी हाल बुरा हो चला था, जो बिना प्यार के अब बिल्कुल नहीं रुक सकती थी. आजकल मेरे लिए खतरनाक दिन चल रहे हैं, इसलिए तुम अपने लंड को बाहर ही झड़ाना.

सर चाय का कप पकड़े हुये कह रहे थे- अरे छोड़ो… चाय गिर जाएगी।पर मुझे क्या… मैं तो लंड चूसने में व्यस्त थी। लंड तो बहुत देर से बर्फ का स्पर्श झेल रहा था साथ ही मैं मुठ मार मार कर उसे निकलने के अंतिम क्षण तक ले आयी थी.

अगले दिन ऑफिस में आ कर मैंने अपने साथ नंगे नाच करने वाली लड़कियों से कहा कि इस लड़की को हमेशा गरम कर के रखा करो. प्रिय अन्तर्वासना पाठकोअप्रैल 2018 प्रकाशित हिंदी सेक्स स्टोरीज में से पाठकों की पसंद की पांच बेस्ट सेक्स कहानियाँ आपके समक्ष प्रस्तुत हैं…यह कहानी है 19-20 साल की एक लड़की मंजरी की जिसने कामवासना में अपने ममेरे भाई के साथ अफेयर किया. हम दोनों लोग एक होटल में मिले और हम दोनों ने कॉफ़ी पीते हुए बहुत देर तक बातें की.

मैंने अपने जीवन में इतना सेक्स दो दिनों में नहीं किया था और स्खलित हुआ था।आज इन मैम की शादी हैं ये आराम से चुदकर सो रही हैं।मैंने उनके सर को अपनी गोद में लिया फिर उसे दूध पिलाने की कोशिश की, अर्धनिंद्रा में मैम ने दूध पी लिया।फिर मैंने उनके ओष्ठ पर लगे दूध को अपने ओष्ठ से चूस कर साफ किया।करीब ग्यारह बजे वो उठी, बोली- जानू, शरीर में बहुत दर्द हो रहा है. भाभी- इनको दोनों हाथों से दबाओ और मुंह से पियो!मैं भाभी की चूची पर टूट पड़ा और चूसने लगा. सर चाय का कप पकड़े हुये कह रहे थे- अरे छोड़ो… चाय गिर जाएगी।पर मुझे क्या… मैं तो लंड चूसने में व्यस्त थी। लंड तो बहुत देर से बर्फ का स्पर्श झेल रहा था साथ ही मैं मुठ मार मार कर उसे निकलने के अंतिम क्षण तक ले आयी थी.

हर वीडियो डाउनलोड

’मॉम अपनी कामुक आवाजों में नवीन को बड़बड़ाए जा रही थीं ‘घर क्यों जा रहा है कमीने. इसके बाद तो जब तक जूसीरानी मायके से वापिस नहीं आ गई, रोज़ रोज़ सभी रातें चुदाई में ही व्यतीत हुई. तभी मैडम ने आवाज़ दी- प्लीज़ थोड़ी सी रोशनी करे रखना, मुझे अँधेरे से डर लगता है.

शहर की सीमा आने पर एक जगह दीदी ने मेरे हाथ पर गाड़ी रोकने का इशारा किया तो मैंने गाड़ी पार्क की.

मैंने उसके गीले बाल एक साइड किए और उसके गर्दन से होते हुए जैसे ही मैंने उसे कान पे किस किया, वो अचानक हट गई और मुझे देखने लगी.

सेजल भाभी एक खूबसूरत चेहरे की मालकिन थीं, वो हमेशा ट्रेडिशनल कपड़े पहनती थीं तो उनके फिगर का अन्दाजा लगना बहुत मुश्किल था. वो चिल्लाना चाहती थीं, पर उनके मुँह में बॉल घुसा होने की वजह से चिल्ला नहीं पाईं. రేఖ సెక్స్अब तक मेरी सेक्स स्टोरी ले पिछले भाग में पढ़ा था कि मेरी सौतेली माँ बिंदु ने मेरी चुत की सील तोड़ने के लिए अपनी मेरे सौतेले भाई को कह दिया था.

यह खेल प्रशांत का ट्रांसफर होने के बाद ही रूका।प्रशांत और नीना चुदाई के बाद की कहानी मैं कभी शेयर करूँगा।इसी तरह जब मैंने नीना के साथ मिलकर थ्रीसम में अपने बचपन के दोस्त अमित का 8” का मस्त लंड शेयर किया तो नीना की बल्ले-बल्ले हो गई. पूजा को खींच कर मैंने फिर से बेड पर गिरा लिया और उसकी तौलिया खोल दी. मैं रात के 10 बजे पूजा के घर के पीछे छुप कर सबके सोने का इंतजार करने लगा.

दीदी ने गुलाबी रंग का पंजाबी सूट, पैरों में पंजाबी जूती और आंखों पर नज़र का चश्मा लगा था. भाभी भी उसी स्टेशन पर उतर गई मेरे साथ,मुश्किल से 4-5 लोग ही थे इस प्लेटफॉर्म पर भी.

मेरी बात सुनकर वो मुस्कुरा देती थी और मुझे दिलासा देते हुए कहती थी कि वक्त का इन्तजार करना सीखो.

नीचे मैंने जोर बढ़ाया और अपना मूसल लंड उसकी बुर को चीरते हुए अंदर तक पेल दिया. मैं उसकी चूचियों पर हाथ चला रहा था और वो मेरे लंड पर हाथ चला रही थी. मैंने कहा- ओके मैं कल ही चलती हूँ और ऑफिस में घर से ही एप्लिकेशन भेज दूँगी कि मैं किसी सिक रिलेटिव को देखने आउट ऑफ स्टेशन जा रही हूँ.

विडिओ सेक्सी हिंदी मैं अपने पूर्व पति की और सास की तरफ उंगली करते हुए तरफ उंगली करते हुए बोली- मैं तो तुम्हारी बहन और बेटी को भी यही सब बनाना चाहती थी मगर आखिरी पल में मेरी अंतरात्मा ने मुझे यह सब करने से रोक दिया, वरना आज तुम्हारी बहन भी इसी तरह से कइयों से चुद चुकी होती. मैंने आंटी की चूत से लंड निकाल लिया और उनको नीचे किस करते हुए उनकी चुत पर आ कर चुत चाटने लगा.

मैं अब उसके बोबे चूस रहा था, काफी देर तक एक एक करके उसके दोनों बोबे दबाता और चूसता रहा. मैं और भाभी बहुत बातें करते हैं और मुझे उनसे बातें करना बहुत अच्छा लगता था. वो विवेक से बोली- इस भड़ुए ने तुम्हारा लंड चूस कर खड़ा कर दिया मेरी जान… अब अपनी इस जान की चूत मार लो.

ब्लाउज डिजाइन पीछे

उसके बाद मैंने पूछा- अंकल आपकी हो गई है ना?बोले- हां मेरी शादी को 5 साल हो गए हैं, मैंने लेट शादी की थी. जैसे ही वो मेरे आलिंगन में आई मेरा लंड फिर से टन से खड़ा हो गया जो पूजा के बदन को छू रहा था. दोस्तो! पिछली कहानीलिफ्ट लेकर दिल्ली के रास्ते में चुदीमें आपने पढ़ा कि कैसे मैंने सिमरन नाम की एक लड़की, जो शादीशुदा थी, को दिल्ली जाते हुए अपनी कार में लिफ्ट दी और उसे पटा कर रास्ते में एक होटल में मजे से चोदा.

मैं उसका कहना मान कर उसके साथ ही बाथरूम में गई और बोली- तुम खुद ही मेरी इस चूत को धो लो ताकि तुम्हें पूरी तसल्ली हो जाए. एक दिन मेरी मेकनिक्स की क्लास थी तो सब अपना अपना जॉब वर्क कर रहे थे.

मैंने भाभी की गांड पर थूक लगाया और फिर लंड को टिका कर दबाव बनाता गया.

या यहीं पर करोगी?मैंने कहा- क्यों मुझ ग़रीब को अपने स्टाफ के सामने जलील करना चाहते हो. मगर हर चुदाई के सिर्फ 10000 ही मिलेंगे और मैं बस एक बार ही चोदूंगा. गिड़गड़ाने लगी- राजे, अब तो बख्श दे अब इतना तो मज़ा भी बर्दाश्त नहीं हो रहा.

भाबी- मेरी ननद रानी, इतना क्यों शर्मा रही हो… कल से तुमको यही कपड़े पहने हैं. ऐसा लगता था कि कब उसके लंड को अपनी गांड में ले लूं!हिंदी गे स्टोरी जारी रहेगी. बालू बोला- हां आशीष, तुम मस्त चाटते हो रोज आकर चाट जाया करना!दोनों ही बहुत मस्त चोद रहे थे.

मेरे घर वाले मुझ पर यकीन करते थे सो उन्होंने भी मुझसे कुछ नहीं कहा.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी इंडियन: मैंने देखा कि भाभी नजर नीचे करके मेरे लंड महाराज को फूलता हुआ देख रही थीं और मेरी नजर भाभी की चुत पर और चुचियों पर टिकी हुई थी. गर्मियों के दिन हैं, आपको तो पता है कि मेरे पति फौजी हैं, अभी 20 दिन पहले ही आकर गये हैं.

मैं भी नीचे से धक्के मारने लगा तो आंटी समझ गईं कि अब मैं उनके साथ इस खेल में तैयार हूँ, तो उन्होंने मेरे हाथ खोल दिए. कैसे लग रही है आपको ये सेक्स स्टोरी, आप मुझे निम्न इमेल आईडी पर मेल करके अपनी राय दे सकते हैं. कामिनी बोली- बहन का टका चोदने के लायक तो है नहीं… लंड तो चूसना सीख ले… पहले गोलियों पर जीभ मार हरामी!मैंने गोलियों पर जीभ मारनी शुरू की.

मैंने अपना एक हाथ धीरे धीरे उसके पेट पे फेरते हुए उसकी बुर तक ले जाना शुरू कर दिया.

जब चुत में लंड जाने का रास्ता बन गया, तब मैंने धीरे से एक झटका दिया. जिम बिल्कुल पैक और लॉक करके रखा था क्योंकि मूड हुआ तो यहीं चालू हो गए, हल्का हल्का म्यूजिक चल रहा था. फिर जब देखा कि चाची हंस हंस कर बातें कर रही थीं और भांग के नशे का सुरूर दिखने लगा.