बीएफ पिक्चर व्हिडिओ एचडी

छवि स्रोत,देशी लडकी सेक्सी विडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडियन बीएफ बीएफ सेक्सी: बीएफ पिक्चर व्हिडिओ एचडी, बाजी ने मुझे काफी बात सुनाई और समझाया मगर मैं नहीं माना।वो थक हारकर चली गई।अगले दिन सुबह मैं दुकान पर आने के लिए तैयार था तो आसिफा बाजी अपनी बेटी को गोद में ले कर आईं.

2021 का सेक्सी वीडियो नया

फिर हम दोनों अगल होकर ऐसे ही पढ़ाई की बात कर रहे थे तो अंकल पूछने लगे- घर में सब कैसे हैं?मैंने बोला- सब ठीक हैं अंकल. अंतरा सिंह के सेक्सी वीडियोमैं जानता था कि मॉम ब्रा नहीं पहनती हैं, पर पैंटी पहनती हैं, ये मैंने आज जाना था.

चाची बस वासना से ओतप्रोत आवाजें निकाल रही थी और मजा लिये जा रही थी. सेक्सी मूवी हिंदी में देखना हैफिर धीरे से उसने लंड के टोपे वाली चमड़ी को पीछे हटाकर टोपे पर चूम लिया.

सिसकारियां लेते हुए उसने बीच में ही टोकते हुए कहा- आह्ह … बस करो, अब मेरी चूत में लंड को डाल दो.बीएफ पिक्चर व्हिडिओ एचडी: मैं अपनी प्यारी दीदी को गालों पर किस करते हुए उसके मम्मों को दबाने लगा.

आपको मेरी ये कहानी कैसी लगी मुझे ईमेल करके जरूर बताएं ताकि मुझे और भी कहानियां लिखने की प्रेरणा मिले।[emailprotected]मेरी ये सेक्सी फ्रेंड की चुदाई कहानी का अगला भाग:अपनी दोस्त और उसकी कुंवारी दीदी को चोदा- 2.फिर मैंने उसकी पीठ पर अपना सारा भार डाल दिया और उसके पेट के नीचे से हाथ ले जाकर चूचे दबाते हुए उसको जोर जोर से चोदने लगा.

कुत्ता और लड़की के साथ - बीएफ पिक्चर व्हिडिओ एचडी

उसकी कोमल और मुलायम जांघों पर हाथ फिराते हुए मेरे हाथ उसकी पैंटी तक पहुंच गये थे.वहां पर मैंने अपनी चाची के घर पर बहुत समय बिताया और उनकी फैमिली के साथ भी काफी घुल मिल गया था.

उसने मेरा हाथ पकड़ा और बोली- ये लो आपका पर्स!मैंने अपना पर्स लिया और उससे बोला- थोड़ी देर बैठकर बात करते हैं. बीएफ पिक्चर व्हिडिओ एचडी फिर भाभी ने मुझे बताया कि उनके पति को कुछ दिन के लिए बाहर जाने का प्लान बन गया है … आप आ जाओ.

उसकी बड़ी गांड मेरी आँखों के सामने थी।मैंने बैठकर उसकी गांड को खोलकर देखा.

बीएफ पिक्चर व्हिडिओ एचडी?

हालांकि वो इस वक्त चरम पर आने को थे लेकिन तब भी वो मुझे पूरा जोर लगा कर चोद रहे थे. इस पर मां बोलीं- मालिश बेटा रहने दे, तू थोड़ी कमर ही दबा दे, तुझे भी नींद आ रही होगी. जब वो रोने लगी तो मैं बोला- ठीक है, अगर तुमने गलती की है तो सज़ा तो मिलेगी ही.

दो-तीन दिन बाद अर्चना का एक मैसेज आया- हेलो क्या हाल है?मैंने उसका रिप्लाई देते हुए कहा- मैं ठीक हूं, आप बताओ कैसे हो?तो उसने मेरे को बोला- आप जैसा छोड़ गए हो, वैसी ही हूं. हैलो फ्रेंड्स, मैं विहान एक बार फिर से अपनी हॉट भाभी स्टोरी हिन्दी में अपनी पड़ोसन निशा भाभी की चुत चुदाई का मजा देने आ गया हूँ. मेरी मंशा उसकी गांड मारने की भी थी, मगर इतनी थकान के बाद न उसमें हिम्मत बची थी … और न मुझमें दम बची थी.

कुछ पल मैंने उसकी चूत को उंगली से रगड़ा और फिर उसने खुद ही टांगें हल्की सी फैला दीं. अब दोनों ही सिसकारियां निकलने लगे- आहह आहह आहह राज और चोदो मुझे आहह! तुम कितना अच्छा चोदते हो. हमने आपस में खुल कर सेक्स पर बात की और वैशाली ने मुझे अपना फोन नम्बर दे दिया.

मैं यह देख कर बहुत उत्तेजित हो गया और यीशा को बहुत जोर से चोदने लगा. उन्होंने मेरे लंड को चड्ढी के ऊपर से पकड़ लिया और लंड मसलते हुए बोलीं- कितने महीनों से लंड का स्वाद नहीं चखा है.

मैंने उनसे कहा- अब देर न करो, पहले मेरी प्यास बुझा दो, मैं अभी कुँवारी हूँ, बाद में में मेरे जिस्म से खेल लेना.

मित्रो, एक बात तो है … जब कोई स्त्री आपके मन में घर कर जाती है तो आपको बस उसका ही ख्याल रहता है.

इतना सुनकर शनाज़ भी हंस कर बोली- जानती हूँ आपके खतरनाक लंड और आपके गर्म माल से मैं हर बार हमल से हो सकती हूँ. मुझे समझ नहीं आया कि क्या लिखूं … तो मैंने लिख दिया- डू यू नो मी?उसने बोला- जी हां मिस्टर सेकंड फ्लोर … मैंने आपकी डीपी से आपको पहचान लिया है. मैंने उसको पूछा कि तुम कहां पर रहती हो?तो उसने मेरे को बताया कि मैं मोहाली में रहती हूं और मैरिड हूं.

दोस्तो, जिस चुत से जन्म लिया, जिस चुत से हम सब निकले, उस चुत को चोदने, चाटने में कोई बुराई नहीं है. लास्ट वाले केबिन में एक बीस साल का लंबा, चौड़ा, गोरा बहुत स्मार्ट सा एक लड़का बैठा था. ये बात तो खुलकर कर रही हैं, पर आज तक किसी और से नहीं चुदीं, तो मेरे लंड से कैसे चुदेंगी.

फिर मैंने उसके अन्दर से अपना लंड निकाला और कंडोम हटा कर नीचे डाल दिया.

हमको अब चुदाई के अलावा कोई ध्यान नहीं था।उसकी साड़ी का पल्लू अब उसकी छाती पर नहीं था. मेरे प्यारे पाठको, आपको मेरी फैमिली सेक्स स्टोरी कैसी लगी?[emailprotected]. माँ के स्तन पूर्वी से बड़े थे पर पूर्वी के स्तन थोड़े छोटे होने की वजह से पापा तो उनको निचोड़े जा रहे थे.

फिर मैंने निधि को ज़मीन पर पीठ के बल लिटा दिया और उसके हाथ उसके सर के ऊपर कर के चेयर से बांध दिए. सब घर के काम उनको ही करने पड़ते थे।अब गरम रजाई की बात करते हैं।काफी रात हो गई. मगर राजीव यीशा के होंठ पकड़ कर चूसने लगा, इससे यीशा को थोड़ी राहत मिल गई और वो चुप हो गई.

धीरे धीरे अमित मेरे गले की ओर बढ़ने लगा और मेरे निप्पल पे हाथों से सहलाना चालू किया.

मगर मैं चुदाई में मशगूल था और नीता मेरा लंड लेने में।अब मुझे किसी चीज का ख्याल नहीं रह गया था. मेरा जी तो उसकी मक्खन सी गांड मारने का कर रहा था, पर अभी मुझे चुत के बहुत मजे लेने बाकी थे.

बीएफ पिक्चर व्हिडिओ एचडी मैं आगे बढ़ रहा था और मुझे अहसास नहीं था कि मेरे हाथों का जोर कितना उनकी चूची पर पड़ रहा है. वो कहने लगी- आशु प्लीज और मत चोद मुझे बहुत दर्द हो रहा है … प्लीज आशु प्लीज आशु.

बीएफ पिक्चर व्हिडिओ एचडी तब तक माँ ने अपनी ब्रा और पैंटी भी निकाल दिया।माँ इतनी जल्दी कहाँ झड़ने वाली थी। थोड़ी देर चूत चूसने के बाद अब बारी उनकी थी. यह सोच कर ज़ोहरा खुशी से झूम रही थी कि उसकी जो औलाद होगी वो सबसे निराली होगी क्योंकि वो फ़रिश्ते की औलाद होगी.

मैं दिखने में औसत हूँ, उम्र 27 साल है, रंग गोरा है और हाइट 5 फुट 8 इंच है.

हिंदी सेक्सी बीपी हिंदी सेक्सी वीडियो

मेरे दिल दिमाग में भी एकदम से कामुकता जागने लगी, लेकिन इस समय कुछ किया नहीं जा सकता था. वो थोड़ी सकपकायी और बोली- आप कुर्सी पर बैठिये ना भैया, मैं चाय लेकर आ तो रही हूं. दोस्तो, मैं राज आपको देसी नंगी भाभी सेक्स स्टोरी के पिछले भागहवस की मारी भाभी की जोरदार चुदाई कीमें बता रहा था कि बिस्तर पर नंगी पड़ी माधवी भाभी के जिस्म पर मैं मेहंदी और रंग से डिजायन बना रहा था.

फिर वो सहलाते हुए बोली- जिन्दगी में पहली बार मुझे सेक्स में ऐसी संतुष्टि मिली है।मैंने पूछा- मौसी तुम कब झड़ीं?वो बोली- जब तू मेरे होंठों को चूसते हुए मेरी चूत को तेजी से चोदने में लगा हुआ था. वह बहुत ही ज्यादा कमीने और गंदे इंसान थे यह मुझे बाद में अच्छे से समझ में आ गया. अब जब मैं अगली बार चाची की चुदाई करूंगा तो आप लोगों को जरूर बताऊंगा.

वैशाली भाभी वहीं एक झीना सा नाईट सूट पहन कर बेड पर बैठी हुई थीं और पास में टेबल पर खाना रखा हुआ था.

वो बोली- ऐसा क्यों?मैंने कहा- जिसकी इतनी सेक्सी गर्लफ्रेंड होगी वो तो सच में ही लकी होगा. फिर उसने आकर मेरा हाथ पकड़ा और मुझसे कहा- देखो, मैं मजे लेने के लिए ही तुम्हें यहां ले आई हूं, तो आज की रात तुम भी खुलकर मजे लो और मुझे भी असली चुदाई का आनन्द लेने दो. वहां चाची की बेटी के मस्त बदन को देख मेरा मन बहन की चुदाई के लिए करने लगा.

फिर भी मैंने लंड पर थोड़ी सी क्रीम लगाई और दोबारा से भाभी की चूत पर लंड सेट कर दिया. तो मैंने सोचा कि चलो कोई बात नहीं वह स्कूल तो जाएगी ही मैं बाद में ही ले लूंगा. इसके बाद प्रशान्त ने अपना लंड मम्मी की चूत में रखा और झटके से अन्दर डाल दिया.

बहुत ही मजे से मेरे लंड को चूत में लेते हुए चुदाई का आनंद ले रही थी. मेरा पानी निकलने के बाद मेरे दिमाग ने जैसे काम करना बंद कर दिया था.

मुझे पता था कि सेक्स में बहुत मजा अता है क्योंकि मेरी कुछ सहेलियों ने अपने चोदू यार पाल रखे थे और वे उनसे अक्सर अपनी चूत चुदवाती रहती थी. वो मुझे गाली देने लगी- तू अपनी बहन को चोद दे बहनचोद … उसकी भी चूत में खुजली होती होगी … उसे भी ऐसे ही चोदना. फिर पूरी रात हम दोनों ने खूब मजे किए, सुबह लौटते समय उसने मुझे कुछ पैसे भी पकड़ा दिए.

फिर उन्होंने खुद मेरे चेहरे को पकड़ा और फिर मेरे होंठों को चूसने लगीं.

सुनीता एकदम नई दुल्हन की तरह लग रही थी कसी चूचियां गोल चूतड़!शकील ने अम्मी की गर्दन को पकड़ा और अपना लंड उनके मुंह में डाल दिया और सुनीता को होठों पर किस करने लगा. पांच मिनट चोदने के बाद वह सही हो गई और नीचे से अपनी गांड को उछाल उछाल कर मेरा साथ देने लगी. इससे उसका काम और भी आसान हो गया और उसका बात खुल जाने का डर जाता रहा.

तुम सब जानते हुए भी मुझे तड़पाती रही, आज मैं तुमसे उन सारी रातों का हिसाब जरूर लूंगा. मैंने जब सैट-टॉप बॉक्स को देखा तो उसमें कोई स्मार्ट कार्ड ही नहीं लगा था.

मैंने बिना देर किए उसकी चूत पर अपना जीभ को टिका दिया और चुत चाटने लगा. कुछ देर तक इसी तरह वो मेरे लंड पर उछलती रही और उसके बाद मैंने सोनी को घोड़ी बना लिया. तो वो बोली- आफिस में जाकर पता कर लो, वहीं से मिलेगा।अब मैं चली आयी आफिस!वहां तीन या चार लोग अलग अलग केबिन में बैठे थे.

सेक्सी शराब

मगर शर्म के कारण मैंने उनका हाथ झटक दिया और अपने दोनों हाथों से अपनी चड्डी छुपाने लगी।उस समय मैं 55 किलो की थी मगर जीजा ने एक झटके में मुझे अपनी गोद में उठा लिया। उनकी मजबूत बांहों में मैं किसी गुड़िया की तरह थी।उन्होंने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और तुरंत मेरे ऊपर आ गए और मेरे गालों, होंठों को चूमने लगे.

एक बार मैंने उसे मेरे कॉलेज में देखा के एक प्रोग्राम में देखा था, तब हमारी नज़र मिली थीं. हालांकि मुझे मालूम था कि भाभी बिस्तर में चाची को टक्कर नहीं दे सकती थीं. जैसे ही उसने मेरे लंड को हाथ में पकड़ा तो मैंने उसकी गर्दन को अपनी ओर घुमाकर उसके होंठों को किस करना शुरू कर दिया.

अभी तक मैं उनके ऊपर ही था और भाभी के ठोस मम्मों की लज्जत का मजा ले रहा था. शकील ने कहा- इसमें परेशान होने की क्या बात है?अम्मी ने कहा- उसका पति उसे अच्छे से खुश नहीं कर पाता. गे सेक्सी विडियोफूफा जी ने चिकने चूतड़ महसूस करते ही कहा- लगता है तुम्हें गांड मराने में मजा आने लगा है.

ऐसे ही शादी भी सिमट गई और मैं और रिंकी धीरे धीरे अच्छे दोस्त भी बन गए. हालांकि मेरी तरफ से इतना सब कुछ नहीं था लेकिन वो जैसे मुझ पर जान छिड़कता था.

मैंने एक ज़ोर से धक्का दिया, तो मेरा लंड पूरा अन्दर तक घुसता चला गया. रात की बात याद करके मुझे बहुत शर्म भी आ रही थी और ठरक से लौड़ा भी टाइट हो रहा था. उस दौरान मैं अपनी छिपी नजरों से दोनों बुआओं के मस्त मम्मों का जायजा लेता रहा.

उसकी इस बात से मुझे उत्तेजना आ गई और मैं समझ गया कि आज ये मुझे चुत देने की बात कर रही है. वो सहन नहीं कर पाई और मुझे बांहों में कसने लगी और उसकी ‘आह्ह्ह आह्ह्ह …’ की आवाजों से हॉल गूंज उठा. तीन-चार बार में उसने अच्छे से दूध घाटी को, मेरे स्तनों के किनारों को चाटा और उन्हें गीला कर दिया.

मैंने पैंटी को चाटते और सूँघते हुए मुठ मार ली और सारा माल उसकी पैंटी में निकाल दिया.

फिर उस लेडी ने मुझे अपने पीछे आने का इशारा किया और खुद आगे को चलने लगी. मुझे पेशाब करना था और इस प्रकार का बाथरूम मैंने पहले कभी यूज नहीं किया था.

मुझे पता नहीं था और ना ही उसने बताया कि चुदवाने से आठ दिन पहले उसकी एमसी बंद हुई थी. मुझे लगा था कि प्रिया मैडम और कोई सर अन्दर हैं, लेकिन मुझे तब और भी ज़्यादा आश्चर्य हुआ, जब सर की आवाज़ सुनाई दी. मैंने बोला- आप दोनों के गिलास कहां हैं?उन्होंने बोला- हम दूध पीकर क्या करेंगी?मैंने बोला- नहीं … मैं आपके लिए भी ले कर आता हूं.

मैंने उनके पेटीकोट को हटाया तो अंदर का नजारा देख कर मेरे मुंह में पानी आ गया. अब आगे की कहानी उन्हीं के शब्दों में सुनिए … तब तक मैं अपना लंड हिलाता हूँ. फिर मेरा हाथ उसकी चूत पर चला गया और मैं अपनी बहन की चूत मसलने लगा और उंगली करने लगा.

बीएफ पिक्चर व्हिडिओ एचडी बाबा बोले- इतनी क्या जल्दी है … आजा एक बार मेरी जांघों पर!बाबा ने मेरा हाथ पकड़ लिया और मुझे अपनी गोद में अपनी जांघों पर बिठा लिया. पर मुझे आज कुछ अजीब सा लगा क्योंकि मॉम ने कभी हमें इतनी जल्दी सोने को नहीं बोला था.

आदिवासी सेक्सी पिक्चर आदिवासी सेक्सी

तभी 2-3 मिनट बाद बुआ ने छोटी बुआ को आंख से इशारा किया और मेरा लंड मुँह में ले लिया. मैं उनके हाथ पकड़ कर बीच में ले गया और बोला- मैं एक एक को सिखाऊंगा, तब तक दूसरा किनारे पर रह कर नहा लेना. जब मैं जीन्स या कोई चुस्त कपड़े पहनता हूँ, तो उसमें मेरी गांड बहुत ही ज्यादा उभर कर दिखती है.

उस सोफे पर जगह कम थी तो वो दोनों एकदम एक दूसरे में घुसे थे।सागर सीधा लेटा था और सुधा सागर के तरफ मुंह करके उसके सीने पर हाथ रखे थी, उनकी चूचियाँ उसके बाजू से छू रही थी।अब सुधा उससे पूछने लगी- सागर क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रैंड है?सागर- नहीं आंटी, कोई नहीं. इधर मैं अपनी उंगली से ज़ोहरा आपा की कसी चूत महसूस करके अपने मन में सोचने लगा कि पांच सात दिन शनाज़ की चुदाई नहीं हुई तो मेरी बीवी की चूत तो कुंवारी लड़की की चूत की तरह से टाइट हो गई. चांदी कैसे बनती हैमामी सागर के बाल पकड़ कर उसका सिर पूरा अपनी चूत में घुसा रही थी।कुछ देर लाजवाब चूत चटाई के बाद मामी ने अपना सारा पानी सागर में मुंह पर छोड़ दिया.

मेरे लंड पर गर्म गर्म तरल लगा तो मेरी उत्तेजना का चरम भी एकदम से आ गया.

मेरा सुपारा अन्दर चला गया और वह जोर से चिल्ला उठी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैं उसके होंठों को चूसने लगा और उसके निप्पलों को सहलाने लगा. मम्मी पापा थक गए थे, तो वे दोनों 7 बजे आराम करने के लिए अपनी बर्थ पर चले गए.

मेरा लंड इस समय पत्थर के जैसा कड़क होकर भाभी की चुत में फुल स्पीड में आगे पीछे हो रहा था. तब तक मामी पीछे पलटी तो आगे से उनके चूचों की गहराई और उनके काले निप्पल उस पीले ब्लाउज में साफ दिख रहे थे. वहां पर मैंने अपनी चाची के घर पर बहुत समय बिताया और उनकी फैमिली के साथ भी काफी घुल मिल गया था.

मुझे अपने मुँह से सेक्सी कह देने के बाद कुछ डर सा लगने लगा कि कहीं भाभी ये बात मेरे पापा से न कह दें.

इतनी देर से मौसी की चूत गीली हुई पड़ी थी और मेरे लंड पर भी मौसी ने ऊपर से नीचे तक अपनी लार चिपका दी थी. जब हम पेपर डांस कर रहे थे, तब उसके मम्मे मेरी छाती से चिपके हुए थे. मगर मन में एक बात भी थी तो मैंने रिंकी से पूछा- लंड चूसना कहां से सीखा?वो लंड चूसते हुए बोली- पोर्न देख कर सीख गयी.

প্রিয়াঙ্কা চোপড়া এক্সऔर एक दिन उसने मुझे बताया कि मैं बाप बनने बाला हूं और वो बहुत खुश है. जब शाम को मैं रसोई में अकेली थी, तो तनिष्क ने पीछे से आकर मुझे पकड़ लिया.

सेक्सी पिक्चर वीडियो में देखने में

कभी मैं भाभी की गांड मारता और कभी भाभी की चूत!तो भाभी की चूत और गांड की चुदाई की मेरी यह रियल कहानी कैसी लगी आपको? और कमेन्ट करके जरूर बताएं![emailprotected]. तो मैंने लाये हुए दोनों चॉकलेट के पैकेट उसके हाथों में दिए और उसको गोद में उठाकर उसके कमरे में ले आया।बाहर जाकर उसकी मम्मी के कमरे का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया और पीहू के रूम में आया। चॉकलेट के दोनों पैकेट पिघल गए थे।पीहू ने कहा- भइया, ये तो पिघल गए हैं. वहां पर उसकी मम्मी और बुआ और सब रिश्ते की महिलाएं ही थीं, वो सब भी साथ बैठ कर पी रही थीं.

वहां क्या हुआ? मम्मी की चुदाई करके मैंने उनकी अन्तर्वासना को शांत किया. उन्होंने मुझे उनकी चूचियां घूरते देख लिया। फिर भी गुस्सा होने के बजाए मुस्कुरा कर चली गयी।मैं रात होने का इंतजार करता रहा। शाम को सब खाना खा के टीवी देखने लगे। मैं अपनी बीवी को आंखों के इशारों से कह रहा था कि आज रात में हम बहुत मस्ती करेंगे. चूंकि हम दोनों ने कुछ देर पहले ही कोल्ड ड्रिंक पिया था तो उसके होंठों की मिठास और ज्यादा बढ़ गयी और साथ ही ज्यादा मादक भी लग रही थी.

मैंने पूछा- उसमें मुझे करना क्या होगा?भाभी ने बताया- मेरी तरह मेरी बहुत सारी सहेलियां हैं जो अपने पति से संतुष्ट नहीं होती हैं. उस साल गणित और अंग्रेज़ी में मेरी सप्लिमेंट्री आ गयी, मैं फ़ेल होते बचा. श्रुति ने मेरा मोबाइल लिया हुआ था और वो मेरे फोन में मेरे मैसेज पढ़ रही थी.

तो चाची मना करने लगी लेकिन मैं कहाँ ऐसे मानने वाला था और मैंने चाची को जबरदस्ती एक किस करने की कोशिश की और उन्होंने मुझे पीछे धकेल दिया लेकिन कुछ कहा नहीं!मैं उनके कमरे में लेट गया चुपचाप!थोड़ी देर बाद चाची आयी और कहने लगी- नहीं, ये सब गलत है, हम ये सब नहीं कर सकते. मुझे बहुत शर्म आ रही थी लेकिन मेरी उत्तेजना और मेरे लंड पर मेरा कोई कंट्रोल नहीं था.

मेरे पूछने पर उन्होंने बताया कि उनके पति एक होटल में मैनेजर की पोस्ट पर हैं.

मैंने भी मामी के मखमली होंठों पर अपने होंठों को रखा और उनका रस पीने लगा. घोड़ी बनाकर चोदने वाली सेक्सीमैंने अपनी स्थिति कुछ ऐसी बना ली थी कि साइड से बाइक के पास खड़ी उन दोनों लड़कियों को मेरा लंड दिख जाये. कुर्ता और प्लाजोफूफा जी जब भी घर आते, उनके लिए अच्छे-अच्छे पकवान बनाए जाते और अम्मी अब्बू भी उनसे बहुत खुश रहते थे. उसने जाते समय दरवाजा उड़का दिया और मैं बिना लॉक किए नंगी ही बिस्तर सो गयी.

मैं लड़की के बूब्स दबा रहा था और वो बूढ़ा उसकी चूत को सहलाने लगा था.

भाभी अपने मोबाइल में कुछ उत्तेजक देख रही थी और अपनी चूत में उंगली कर रही थी. उसकी झांटें वगैरह साफ़ करके उसे नहलाया और अपनी बहन की चूत चोदने रेडी हो गया. मैंने उधर एडमिशन ले लिया, लेकिन मुझे वहां से रोज आना जाना काफी मुश्किल होने वाला था … इसलिए मैं उधर ही एक कमरा किराए पर लेने की सोच रहा था.

फिर उन्होंने मेरे सिर को पकड़ लिया और जोर से लंड को अंदर घुसाने लगे. लेकिन मैंने ऐसा अभिनय किया, जैसे मुझे समझ नहीं आया कि वह क्या कह रही हैं. वो शरमाते हुए अपने हाथों से अपनी चूचियां और चूत को ढकने की कोशिश करने लगी.

इंडिया सेक्सी वीडियो चुदाई

मैंने पूछा- इससे क्या करूँगा मैं?तो वो बोली- इससे आज अपनी बहन को दुल्हन बना कर चोदोगे।मैंने उसे लन्ड चूसने का इशारा किया तो मेरे दोस्त की बहन मेरा लन्ड अपने मुंह में लेकर चूसने लगी. अम्मी ने बाहर निकल कर कमरे का दरवाजा बंद किया और फूफा जी के कमरे में पहुंच गई. इतना कह कर वो बाहर जाने लगे और मुझसे बोल गए कि तैयार होकर बाहर आ जाना.

प्रशांत और मैंने मम्मी का बहुत ध्यान रखा और प्रेगनेंसी में भी उन्हें चोद कर खुश किया.

तभी छोटी बुआ ने कहा- लेकिन दीदी, बच्चे तो घर पर ही हैं?बड़ी बुआ ने कहा- मयूर, बच्चों को रात को खाना खिला कर दूध पिला कर सुला देंगे.

भाभी बोली- सीधे इसके ऊपर लेट जाओ और लंड को चूत के अंदर ही डाले रहो. और ये बात सिर मुझे पता है कि सागर ने मेरे घर की सभी औरतों को चोदा है. इंग्लिश सेक्सी मूवी वीडियो मेंअब मैं धीरे धीरे उसकी कमर पर किस करता हुआ, उसकी पीठ को चाटता हुआ उसके ऊपर अपने शरीर को रगड़ने लगा.

भाभी बोलने लगीं- मजा आया परिमल!मैंने हामी भरते हुए बोला- हां बहुत मजा आया भाभी जी. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था।फिर मैं झड़ गया और बाजी रुक गई।वो मेरे ऊपर लेट गई।मैंने बाजी को चूमा और हम कपड़े पहनने लगे. मगर नीता ये नहीं जानती थी कि शिल्पी को भी उसकी चुदाई के बारे में पता चल गया है.

फिर मैं मस्ती में आकर बहन की चुदाई करने लगा और वो भी मेरे लंड से चुदते हुए मस्त हो गयी. तो शायद सुधा ने पूछा- क्या हुआ?तो मामी बोली- कुछ नहीं, मेरा पैर मुड़ गया है.

मेरा मन था उसके मुंह में लंड देने का लेकिन हमारा ये पहली बार था इसलिए मैं बने बनाये माहौल को बिगाड़ना नहीं चाह रहा था.

बहुत बार चुत चुदाई के बाद आखिर सेक्सी आंटी गांड मरवाने को भी राजी हो गईं. हम दोनों को ही ऐसा लग रहा था कि न जाने हम कितने वर्षों बाद मिल रहे हैं. हम दोनों कुछ देर तक लेटे रहे और फिर उसके बाद मैंने दोबारा से आंटी को लंड चूसने के लिए कहा.

हॉलीवुड सेक्सी गाना अब मैं और मेरा बेटा हम दोनों खुशी से अपना जीवन बिता रहे थे … लेकिन मुझे इस खुशी की कीमत अभी तक अलग अलग लोगों से चुदवा कर चुकानी पड़ रही है. फिर जब मेरा वीर्य निकलने को हो गया तो मैं उसके ऊपर आ गया और तेजी के साथ उसकी चूत को पेलने लगा.

आप मेरी इसहिंदी सेक्सी चुदाईकहानी पर मस्त मस्त कमेंट और मुझे मेल करना ना भूलना. तभी नीता दरवाजे में से आई और जोर से हंसने लगी।मेरी तो कुछ समझ में नहीं आ रहा था. वो तेजी के साथ मेरी चूत में धक्के लगाते हुए हांफते हुए ये सब बातें कर रहा था.

सील पैक लड़कियों की सेक्सी वीडियो

सुनीता ने कहा- तुम्हारा भांजा आया हुआ था इसलिए मैं तुमसे एक बार बार मिलने नहीं आई. उसके बाद घर में और ज्यादा दुःख का माहौल हो गया।मैं दफ्तर में गया और सब जानने की कोशिश की. वो चिल्ला उठी- हाय मैं मर गयी … आह्ह्ह आह्ह्ह ऊओह ओह्ह इतना दर्द प्यार में होता है … पता ही नहीं था.

साली की इतनी उम्र होने के बावजूद भी ये आज किसी कच्ची कली की तरह मजा दे रही थी. मैं उसे अपनी बांहों में खींचने ही वाला था कि किसी ने आने की आहट हो गई.

यीशा बोली- आज आपने बिना बताए ही गांड में लंड डाल दिया? क्या आज कुछ ज्यादा ही पी ली है?मैंने उसके मम्मे मसलते हुए उससे कहा- हां रानी, आज मेरा मूड गांड मारने का अचानक से बन गया.

तो भाभी भी हंसने लगीं और बोलने लगीं- आज से पहले मुझे इतना मजा मेरी पूरी लाइफ में नहीं आया था. तो मुझे नहीं पता था कि कितना वक्त था मेरे पास। लेकिन मैंने मीनाक्षी के गालों को चूमा, फिर उसके होंठों को चूमा और दोनों हाथों से उसके चूतड़ मसल दिए. तभी जूही जाग गयी और अपनी मम्मी पर चिल्लाने लगी तो उसके मम्मी उसको समझाती हुई बोली- मुझे पता है कि रोज़ रात तुम अपने कमरे में चूत में उंगली करती हो.

इस वेबसाइट मेरी यह पहली कहानी है जो मैं आप लोगों को बताने जा रहा हूं. पर वर कुछ नहीं माँ, अपनी माँ के साथ सेक्स नहीं कर सकते, ये सब मिथ्या है असल में ऐसा कुछ भी नहीं है।”माँ ने कुछ सोचते हुए कहा- ठीक है. अब बाबा लंड को धीरे धीरे धकेलने लगे थे और मैंने फिर एकदम से पीछे हाथ ले जाकर बाबा की कमर को पकड़ा और अपनी गांड पर उनके बदन को सटा लिया.

ऐसा लग रहा था कि चाची के चूचे उनके ब्लाउज को चीर कर बाहर निकल आएंगे.

बीएफ पिक्चर व्हिडिओ एचडी: मैं एक घंटे में आ जाऊंगी, फिर चोद लेना।इतना बोल कर मैं थोड़ी देर के बाद घर से बाहर आ गयी. उन्होंने अपने पैरों से मेरे दोनों पैरों को दबा लिया और अपने दोनों हाथों से मेरे हाथों को पकड़ लिया.

मैंने एकदम से लंड को बाहर खींच लिया और उसकी चूचियों की ओर लंड को करके एक दो बार हिलाया और मेरे लंड से वीर्य की पिचकारी निकल कर उसकी चूचियों पर गिरने लगी. उसकी चूचियां बहुत टाइट थी अंदर से! पता नहीं मुझे ऐसा पहली बार फील हो रहा था क्योंकि मैं पहली बार किसी लड़की की चूचियों को दबा रहा था. फिर मैं नीचे बैठा और अपना लंड उसके मुँह के ऊपर सटाकर अपना माल छोड़ दिया.

इस समय मेरे मन में बड़ी बुआ घुसी थीं … क्योंकि उनकी गांड और चुचे बड़े थे.

हर धक्के के साथ मैं उसकी निप्पल को दांत से हल्का काट लेता था और वो मेरी पीठ पर खरोंच देती थी. भाभी बोली- चिंता मत करो मेरी ननद … तुम्हारे भाई का लंड बहुत अच्छा है. तेज-तेज चलती सांसें, अत्यंत व्यस्त सी काली मैक्सी।मैं अपने दोनों हाथ नीचे से चारू की मैक्सी में डाले और उसकी मैक्सी को उसके गले के उपर से ही किचन में ही उतार दिया.