भाई बहन वाला सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,व्हिडिओ सेक्सी इंडिया

तस्वीर का शीर्षक ,

एक्सएक्सएक्स बीएफ मूवी: भाई बहन वाला सेक्सी बीएफ, फिर उसने मुझसे पूछा कि मैं कहाँ रहता हूं तो मैंने बता दिया कि मैं भी जबलपुर का ही हूँ.

चोपड़ा की सेक्सी मूवी

बड़े पापा से बात करते करते मुझे नींद आ गई और मैं वहीं गहरी नींद में सो गया. सेक्सी गर्ल व्हिडिओ सेक्सीमैंने खोलकर देखा, उसमें एक इमरजेंसी गर्भनिरोधक गोली थी और डॉटेड कॉण्डोम का बड़ा पैक.

चौरसिया जी के निधन के बाद उनके परिवार की मदद करते करते मैं और किरण आपस में काफी खुल गये थे. आई ची झवाझवी[emailprotected]इसके आगे की देसी इंडियन Xxx स्टोरी :ममेरी सास और उसकी नवविवाहिता पड़ोसन- 3.

मैंने गाड़ी स्टार्ट की और उससे बिना कोई बात किए उसके घर में गाड़ी जाकर खड़ी कर दी.भाई बहन वाला सेक्सी बीएफ: उसको देखकर किसी बूढ़े का भी लन्ड भी जवानी पर उतर जाए।लखविंदर और धर्मपाल ने दो दिन बाद मिलने का वादा किया और वो दोनों अपने अपने घर चले गए।दोस्तो, आपको यह मस्तराम हिंदी सेक्स स्टोरी पसंद आई होगी.

फिर एक तूफानी धक्के के साथ पूरा लंड नीरजा देवी की बच्चेदानी से जा टकराया.मेरे दिमाग में अभी भी सेक्स ही था, लंड बैठने का नाम नहीं ले रहा था.

फूलन देवी सेक्सी - भाई बहन वाला सेक्सी बीएफ

मां ने राजेश की बेटी की ओर इशारा करके मुझसे कहा- अपनी दीदी को अंदर ले जाओ.मैं मुठ मारकर बाथरूम से बाहर आया और दोपहर का खाना खाते हुए माँ के बोबे और गांड ही देख रहा था।यह बात मैंने पूर्वी को नहीं बतायी कि माँ को मैं चोदना चाहता हूँ.

गुवाहाटी से मेरी फ्लाइट शाम छह बजे उड़ी और सवा आठ पर दिल्ली पहुंच गयी. भाई बहन वाला सेक्सी बीएफ थोड़ी देर में मेरा निकलने वाला हुआ तो मैंने लन्ड उसके मुंह से निकालकर 3-4 कम शॉट उसके मुँह पर मारे और वो चुपचाप आंखें बंद करके लेटी रही।उसके बाद हमने एक दूसरे के चूत लन्ड साफ किए और वो मेरे ऊपर टांगों की तरफ मुंह करके लेट गयी और अपनी चूत मेरे मुँह पर रख दी और लौड़ा मुँह में भर लिया।थोड़ी देर बाद मैंने उसको लेटाया और उसकी चूत पर लौड़ा रगड़ा.

निधि की हाइट 5 फिट 2 इंच थी, वो सांवली रंगत की थी, लेकिन एक भरे जिस्म की मालकिन थी.

भाई बहन वाला सेक्सी बीएफ?

रोहन हमेशा आंखों से ही उसे बोलता कि तुम अपना लंड चूसने दो ना सेक्सी!उसे ऐसा महसूस होता कि रजक लाल ने भी आंखों से ही जवाब दिया हो कि ये ले मेरा लंड चूस लो और अपनी हवस को मिटा लो. तब मैं वहाँ के माहौल में ढला और मेरे घर के सामने की एक लड़की पटा ली जिसको मैं बहुत प्यार करता था. हमारे ग्रुप में रूबी ही एक ऐसी लड़की थी, जो कि कॉलेज में आने से पहले ही चुदाई का मजा ले चुकी थी.

अलीमा बलविंदर के आगोश में अपने आपको पूरी तरह से समर्पित कर चुकी थी. वीर्य स्खलन के बाद मैं बेदम होकर भाभी के माथे को चूमते हुए उनके ऊपर लेट गया. लंड अन्दर जाते ही नीरजा देवी चीखने को हुई, पर ठाकुर ने तुरंत अपना मुँह उनके मुँह से लगा दिया.

वह मेरी हालत समझ चुकी थी और मुझसे पूछने लगी कि क्या मैं ड्रिंक करता हूँ. दीदी बोली- ओके एग्जाम खत्म हो जाने दो … फिर पक्का सोचूंगी … आख़िर मैं भी तो देखूं कि तुम कितनी हद तक गिर सकते हो. फिर देखते ही देखते कॉलेज में 6 महीने कब निकल गए, कुछ पता ही नहीं चला.

हम दोनों एक ही हॉस्पिटल में काम करती हैं।इस कहानी को लड़की की आवाज में सुनें. तरह तरह के देशी विदेशी यात्री, इठलाती बलखाती गहरे मेकअप में सजी, अपने हुस्न के जलवे लुटातीं धनाड्य नवयौवनाएं.

हम तुम्हारे मम्मी पापा से झूठ बोलकर तुम्हें एक साल के लिए अपने गांव ले जाएंगे.

सबसे अच्छी बात ये लगी कि मंजुला का ऑफिस वहां से एक किलोमीटर के लगभग था और वो बड़े आराम से आ जा सकती थी.

मगर चूंकि उसका पहली बार था इसलिए दर्द के मारे उसका चेहरा भी लाल हुआ जा रहा था. मैं उम्मीद करता हूं कि आप लोगों को मेरी यह पहली सेक्स कहानी पसंद आयेगी. अलीमा बलविंदर के आगोश में अपने आपको पूरी तरह से समर्पित कर चुकी थी.

उसको तैराकी सिखाने के बदले में मैंने उससे कहा कि मैं उसको नंगी देखना चाहता हूं. दामाद की आंखों को एक बार देख कर ही सास नीरजा देवी ने उसकी मंशा को जान लिया. उन्होंने मुझसे कहा- लड़के तो तुम मुझे अच्छे लगते हो लेकिन ऐसी अश्लील बातें क्यो करते हो?तो मैंने उनसे कहा- सॉरी आँटी, आज के बाद नहीं करूँगा।वो बोली- मैं तो उसके पापा को सब बताने वाली हूँ.

उन्होंने गुलाबी और हरे रंग की साड़ी पहन रखी थी, उसमें वो किसी गुलाब के फूल से कम नहीं दिख रही थी.

वो आदमी मेरी मां की जीभ को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और दोनों एक दूसरे की लार पीते रहे. अक्षय के आने के बाद हम साथ में टीवी देखने लगे और बातें भी करने लगे. बाजी बोली- राबिया चुदाई तो सब करते हैं, पहली बार में दर्द होता ही है.

बच्चे के जन्म के बाद मेरी बेटी ने मुझे और रुकने के लिए कहा, जिसे मैंने सहर्ष मान लिया. दूसरे हाथ से उसके बड़े बड़े मम्मों को बारी बारी से पकड़ कर मसलना चालू कर दिया था. संजय ने कार्ड दिखाया और नीरजा से बोला- ये मेरे दोस्त की शादी है और तुमको भी चलना है.

दामाद जी ने अपना लंड चुसवाने के बाद एक राउंड में पहले मेरी चूत और गांड मारी.

मेरी रिजर्व बर्थ होने के बावजूद मुझे अपनी बर्थ तक पहुंच पाने का अवसर बड़ी मुश्किल में मिल सका. मेरी चुत अमन का लंड खा रही थी और ऊपर में अमन के हाथों से खाना भी खा रही थी.

भाई बहन वाला सेक्सी बीएफ वो उसकी बहन की चूत चाटने लगी और इधर में आरती की चूत में लंड डालने की कोशिश करने लगा. मैंने मामी के एक दूध को अपने होंठों के बीच दबा कर अपनी तरफ खींचा तो मामी आह आह की आवाज के साथ बोलीं- आह जोर से पियो मेरे राजा … आह पी जाओ पूरा … आह आह मुझे आज पूरा शान्त कर दो.

भाई बहन वाला सेक्सी बीएफ मैं उनकी बातें सुनते सुनते सो गया।रात को मेरी नींद खुली तो मुझे पेशाब लगा हुआ था. ये घटना मेरे साथ उस समय घटी जब मैंने नया नया अपना काम शुरू किया था।श्रावण का मास चल रहा था.

उस दिन तुम आने के लिए तैयार रहना।जब हम एक दूसरे के सामने आए तो वह मुझे देखता ही रह गया।वह मुझसे बड़े अच्छे से बोला- भाभी, आप तो बहुत खूबसूरत हो।मैंने भी उसको मुस्कुरा कर जवाब दिया- अच्छा ऐसा है क्या … मुझे तो लगता था मैं खूबसूरत ही नहीं हूं.

ब्लू पिक्चर सेक्सी हिंदी

उसने बोला- मैं उस वक्त जाग रही थी जब आपने मेरी चूत को बाथरूम में पेशाब करवाने के बाद धोया था. मिशनरी पोजीशन में, खड़े खड़े, डौगी स्टाइल में, अपनी गोद में बैठा कर; मतलब जो जो मेरे या उसके मन में आया उसी हिसाब से वो चुदती रही. तो उसने बताया कि उसका परिवार दो दिन बाद एक रिश्तेदार के घर शादी में जाएंगे, तब तुम मेरे घर में ही आ जाना.

इस पर भाई ने कहा- जब अकेले शुभम को ही जाना है तो इसके तीन चार जोड़ी कपड़े दे दो, मैं इसे संडे को वापस छोड़ जाऊंगा. मैं किसी तरह उसके साथ पकड़ा कर बाहर गाड़ी तक आई और उसके साथ घर चली आई. तो ड्रिंक्स की बात सुन कर ही मेरे मुँह में पानी आ गया और मैंने हाँ बोल दिया.

लंड अन्दर घुसते ही मम्मी ने आह की आवाज निकाली और उसके बाद धकापेल चुदाई शुरू हो गई.

जब मैं नहा कर नंगी बाहर कमरे में आकर अपना जिस्म पौंछ रही थी, तभी मेरे दामाद का छोटा भाई विजय उधर से गुज़र रहा था. दांत साफ करते हुए मैं सोच रहा था कि कैसी अजीब विडम्बना है ये कि मैंने मंजुला को किस भी कर लिया उसके होंठ चूस लिए, उसकी चूत चाट ली, उसने मेरा लंड चूस लिया और चुदाई भी कर ली पर दूसरे का टूथब्रश इस्तेमाल करने में ये झिझक क्यों होती है?चाय पीकर मैं अपने होटल चला गया और वहां से जल्दी नहा धोकर तैयार होकर अपना सामान समेटा और चेक आउट करके वापिस मंजुला के पास आ गया. कल्लू ने भी अपनी रफ़्तार बढ़ा दी तो अनु फिर से झड़ गई।अब भी कल्लू उसे चोद रहा था तो अनु बोली- थोड़ी देर पीछे भी कर दे!कल्लू ने अपना लंड निकाला और अनु को उल्टा लेटा कर उसके ऊपर चढ़ गया.

अब अगली बार मैं आपको अपनी नयी स्टोरी बताऊंगी कि उसके बाद मैंने और प्रियंका ने कैसे और किसके साथ मजे किये. इससे मेरी मम्मी की चुत का छेद बार बार बंद तथा खुलता हुआ दिखने लगा था. पौने नौ बजने के कुछ ही पहले किसी ने दरवाजे पर नॉक किया तो मैं समझ गया कि वही एस्कॉर्ट होगी.

राखी की चीख सिसकारियों में बदल गई।अब लंड भी आराम से अंदर बाहर होने लगा था।मैंने उसकी चूचियों को मसलना शुरू कर दिया और झटकों की रफ्तार बढ़ा दी. मुझे शर्म आ रही थी लेकिन मैंने अपने सूट और सलवार को उठाकर एक तरफ रख दिया.

बाजी बोली- आज तो गांड का जायजा लेगा ये बहनचोद!मैंने बाजी को कहा- कुर्सी पर झुक जाओ. ऐसे ही मेरा एक हाथ सोनाली के बूब्स पर था और दूसरा गरिमा के बूब्स पर।मैं सोनाली की गर्दन पर किस कर रहा था जिससे वो मचल रही थी और उसकी सिसकारी सुनकर मेरी गर्लफ्रेंड जोश में आती जा रही थी. फिर शाम होने तक मुझसे रुका न गया और मैंने मौका पाकर अंजलि को छत पर चलने के लिए कहा.

अब वो मेरे चूत की खुदाई अपने मोटे लन्ड से करने लगा।दर्द के मारे मेरी जान निकली जा रही थी लेकिन मैं ना तो उसको रोक सकती थी और ना ही कुछ बोल रही थी।इसी तरह सागर ने काफी झटकों में अपना मोटा लन्ड मेरी चूत के पार किया.

मंजुला ने वैसा ही करते हुए अपने दोनों हाथों से अपनी गांड की दरार खूब अच्छे से पसार दी. मैंने उसके बदन को चाटना शुरू कर दिया। उसके मम्में बहुत सॉफ्ट सॉफ्ट लग रहे थे।अब मैंने उसकी चूचियों को चूसना शुरू किया। मुझे डर था कि कहीं वो उठ न जाए। मगर मैं खुद को रोक नहीं पा रहा था. मेरी पिछली सेक्स कहानीमेरी चुत की चुदाई कार मेंको आप लोगों ने बहुत पसंद किया था और आपके ढेर सारे मैसेज मिले थे.

मैं- छोड़ो अंकल छोड़ो … यह आप क्या कर रहे हो?तब मैं अपने आपको छुड़ाने की कोशिश करने लगी मगर अंकल की मजबूत बांहों से छुड़ा ना सकी. दूसरे कमरे में चल … तेरा पति तो पीकर सो गया है, उसको कुछ नहीं पता चलेगा तेरी मां की चूत रंडी … आज तेरा भोसड़ा फ़ाड़ दूंगा मैं!अब मेरी बीवी और जोर जोर से अमित का लंड चूसने लगी और बीच बीच में उसके आंड भी चाट रही थी.

उसी ने मुझे बताया कि ईशानी मैं तुझे एक वेबसाइट का नाम लिखकर दूँगी उसे अपने लॅपटॉप पर खोलकर उसमें कहानियाँ पढ़ेगी तो तुझे बहुत अच्छा लगेगा।तभी से मैं अन्तर्वासना की पुरानी पाठिका हूँ। मैं पिछले 3 साल से इस साइट की निरंतर पाठिका रही हूँ। तीन साल से इस साइट की अनवरत पाठिका होने के कारण मेरा भी मन करने लगा कि मुझे भी अपनी कहानी को आपके साथ शेयर करनी चाहिए. उसने मुझ से पूछा- हरजिंदर तूने अभी कमरे में सुमन के साथ क्या किया?मैंने बताया कि मैंने तो बस उससे सकिंग करवाई है. आपको मेरी यह सेक्स रिलेशन स्टोरी कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपनी राय जरूर देना और मेरी ईमेल पर मैसेज करना.

सेक्सी भाभी वाली

मैं तो जैसे सातवें आसमान पर उड़ रही थी … आह!कभी वो मेरी जीभ चूस रहे थे, कभी मैं उनकी जीभ चूस रही … कभी होंठों को काट रहे थे.

थोडे़ से लटके झटके दिखाऊंगी मर्दों को तो चार पांच तो फिसल ही जाएंगे मेरे ऊपर. फिर आरिया की टांगें खोल कर अपना लंड आरिया की चूत पर सैट किया और आरिया की चूत चोदने लगा. अब उसने मेरी चूचियों को जोर जोर से दबाना शुरू कर दिया और मेरी आहें निकलने लगीं.

रोहन की गांड से अशोक की जांघें टकराने से थपाक थपाक जैसी आवाजें आ रही थीं. मेरे घर में मैं इमरान (25 वर्ष), पिताजी (50 वर्ष), मां (47 वर्ष), मेरी बहन रुबीना (23 वर्ष), बहन राबिया (21 वर्ष), बहन इसराना (19 वर्ष) और मेरी दो विवाहित बहन हैं- नजमा (29) और आसिफा (27). फिल्म शादी में जरूर आना फुल मूवी हिंदीऐसे ही मुझे किस करते हुए वो कहने लगी- आई लव यू भैया … आह्ह … मैं आपसे प्यार करती हूं.

अब मेरा शक गहरा होता जा रहा था क्योंकि कोई चीज चूत में जा रही है और उसको पता भी नहीं चल रहा है? ये कैसे हो सकता था?मगर मेरे ऊपर अब सेक्स का भूत चढ़ गया था. मैंने मिरर में देखा, ससुर जी का लण्ड निखिल के लण्ड से काफी बड़ा था और मोटा भी.

ससुर जी मीठा खाने के बड़े शौकीन थे इसलिये अब मैं रोज रात को खाने के बाद एक कटोरी मेवे की खीर बाबूजी को देने लगी. मेरा दिल किया कि साली को अभी ही पटक कर चोद दूं, लेकिन मैंने अपने आप पर कण्ट्रोल रखा. हम दोनों को खूब मजा आया इस सेक्स में!देसी इंडियन लड़की चुदाई कहानी के चौथे भागजवान लड़की की वासना जगायीमें आपने पढ़ा कि सफर में दोस्त बनी लड़की को मैंने सेक्स के लिए गर्म कर लिया था.

मैंने पूछा- क्यों … इतने रुपए क्यों चाहिए?जिया बोली- असलम जी मेरे पति को एक नया काम शुरू करना है. मैंने पूछा- तुम्हें मैं पसंद हूं क्या?उसने कुछ जवाब नहीं दिया लेकिन हल्के से मुस्करा कर नीचे गर्दन झुका ली. जब उसका लंड एकदम से कड़क हो गया तो मैंने अपनी टांगें उसके सामने फैलाते हुए अपनी चूत को उसके सामने खोल दिया.

रात के अंधेरे में कई बार मैं श्वेता के ऊपर अपनी टांग भी रख लेता था.

लगभग सात या आठ मिनट बाद ज्योति का शरीर अकड़ने लगा और मेरी बहन की बुर ने पानी छोड़ दिया मैं उसका सारा पानी पी गया।इसके बाद ज्योति ने मुझसे कहा- भैया, मुझे आपसे बात नहीं करनी है. कई बार मैं उसको डबल मीनिंग जोक भेज दिया करता था और वो भी कुछ नहीं कहती थी.

मौसी तुरंत नीचे बैठ गई और मेरी चड्डी के ऊपर से ही मेरे लंड को चाटने लगी. मेरे झटकों से पूजा कभी कभी लंड मुँह से बाहर निकल कर सिसकार रही थीं. मैं बस उसको देख रहा था और सोच रहा था कि आज मेरा सपना पूरा होने वाला है.

मैंने उसका स्वागत किया और माया भी उसके लिए कॉफ़ी बनाने रसोई में चली गई. मगर इससे पहले मैं अपने काबू से बाहर होता उसने अपनी ब्रा को खोलना शुरू कर दिया. शिफ़ा- क्या कर रहे हो, पागल हो गये हो क्या? किसी ने देख लिया तो? छोड़ो मुझे.

भाई बहन वाला सेक्सी बीएफ जब आधे घंटे बाद हम दोनों उठे, तो मैंने देखा कि मेरा लंड उसकी बहन अपने हाथ में लेकर सहला रही थी. मैंने जीभ अंदर डाल दी और ऊपर नीचे करके चाटने लगा।अंजलि मस्त होकर सिसकारने लगी- इस्स … उम्म … आह्ह … मेरे राजा … खा लो पूरी चूत!तभी मेघा ने करवट बदली और उसकी गांड मेरी तरफ हुई.

राजस्थानी सेक्सी भाभी

मुझे ये देख कर एक बार को तो बहुत बुरा लगा और उसके आंसुओं को मैंने पी लिया. उसने टांगें खोलकर अच्छी तरह से सेठ का लंड अपनी चूत पर रगड़वाना शुरू कर दिया. मेरी हालत देख कर वो घबरा सा गया और वहीं पर रुक गया लेकिन उसने लंड को बाहर नहीं किया.

मैंने कहा, एक ऑप्शन ये है कि कहीं से ड्रेसेज किराये पर ली जायें और खुद फोटोग्राफी की जाये. वो थोड़ा शांत लगने लगी तो मैंने फिर दूसरा धक्का मारा और बाजी कराह उठी।मैंने उनका मुंह अपने मुंह में दबा लिया. उल्लू हॉटबड़ी कृपा होगी आपकी!” वो बोली और अपने पर्स में से पैसे निकाल कर मुझे देने लगी.

वो मेरे बालों में उंगलियां फिराते हुए मेरा सर अपनी छाती पर दबाए जा रही थीं.

कुछ देर बाद अलीमा अपने रूम के बाथरूम से स्नान करके निकली ही थी कि बलविंदर पीछे से जाकर उसे हग करने लगा. मैंने मनजीत को लम्बी सी किस की और अपने कपड़े पहन कर वापिस अपने घर आ गया.

भाभी का एक पैर बेड के किनारे लटका हुआ था और दूसरे पैर को मैंने अपने हाथ में ऊपर की तरफ करके पकड़ लिया था. मेरी देसी GF सेक्स से बेचैन होकर मेरे सिर को अपनी चूत पर दबाने लगी और बोलने लगी- आह और जोर से चूसो … खा जाओ इसे आह आह … और जोर से आह आह. फिर मेरी गांड में अपना कड़क लन्ड डाल कर चलती राह में मुझे भकाभक चोदने लगा.

मैंने उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसकी चूचियों को दोनों तरफ से दबाया और उनको भींचने लगा.

अमित ने अपनी रफ्तार को बढ़ा दिया और जोर जोर से मेरी बीवी की चूचियों में दांतों से काटने लगा. इस समय रोहन के मुँह में तीनों लंड का वीर्य था, उसका अपना, रजक लाल का और अशोक का. मैंने उसे गांड ढीली रखने की हिदायत दी और लंड में तेल लगा कर गांड में पेल दिया.

सऊदी अरब का सेक्सी फिल्मउन्हें देख कर यही लगता कि ये होता मेरा पति, तो अब तक मेरा काम लग गया होता. उसने कहा- थोड़ा और ऊपर तक करो न!इस बात से मैं खुश हो गया और मैंने उसकी साड़ी को और ऊपर कर दिया.

हिंदी चुदाई वीडियोस

कोई पंद्रह मिनट तक भीषण चुदाई करने के बाद अमन ने मुझे घोड़ी बना दिया. फिर उसने मेरे सिर को पकड़ लिया और जोर से मेरे मुंह में अपनी चूत को सटा दिया. अपनी चूत की आग ससुर जी से बुझवाने की मेरी योजना पर दो सवालिया निशान थे.

उसकी गांड का जायजा अपने हल्के हाथों से लिया।मेरा मन कर रहा था कि मेघा का भी स्वाद चख लूं कि तभी अंजलि बाथरूम से निकल आयी।मेरा लण्ड मेघा को टच करके वापस खड़ा हो गया था. ये सुनकर मॉम शर्मा गईंदरअसल मेरी मॉम थोड़ा कम बोलतीं हैं … इसलिए वो चुप ही रहीं. पहले कपड़े तो उतार दे?अब सेठ ने खुद ही बीवी की साड़ी खींच ली और उसको पेटीकोट में कर दिया.

अब आगे:उसने जाते जाते पलट कर एक बात बोली- जानू सुनो सबकी, पर मानो दिल की!वो ये कह कर मुस्कुराते हुए बाहर निकल गयी. ऑफिस के काम में बिजी होने के कारण बीवी को ज्यादा वक्त देना मुमकिन नहीं हो पा रहा था और इसी के चलते बीवी की भी शिकायतें चलती रहती थीं. फिर मैंने थोड़ा जोर लगाया तो लंड उनकी चूत में पूरा का पूरा उतर गया.

अगले दिन तकरीबन 10 बजे वो उठकर चाय पी रहा था। तब मैं उसके सामने झुक झुककर झाड़ू पौंछा लगा रही थी. वो बोला- क्या काम है?मैंने कहा- हमारे टीवी का जो सेट टॉप बॉक्स है, उसने अचानक से काम करना बंद कर दिया है.

ऑफिस के काम में बिजी होने के कारण बीवी को ज्यादा वक्त देना मुमकिन नहीं हो पा रहा था और इसी के चलते बीवी की भी शिकायतें चलती रहती थीं.

पहले मैं एक हॉस्टल में रहता था, परन्तु जब कॉलेज में आया … तो खुद का कमरा किराए पर लेकर रहने लगा. ब्लू सेक्सी सेक्स ब्लूअलीमा की एक चूची पर उसका मुँह होता था … तो दूसरी चूची पर उसका हाथ जम जाता था. सेक्सी वीडियो चूत में लंड डालपीछे हाथ ले जाकर भाभी की गांड और चूत पर भी हल्के हल्के हाथ से सहला रहा था. तो थोड़ी देर में दरवाजा खुला सामने जो देखा तो ऐसा लगा मैं फॉरेन में आ गया हूँ.

मेरी मां को भी कभी कभी किसी मर्द के नीचे पिस जाने का मन करता था … पर वो डरती थीं कि कहीं कोई उनको परेशान न करने लगे.

उसके बड़े बड़े बूब्स शान से थिरक रहे थे और उसकी शेव्ड काली चूत मुंह बाये हुए दिख रही थी. लेकिन कुछ देर के बाद वह फिर से तैयार हो गया और उसका लंड पूरा टाइट हो गया।वह मेरे बदन के साथ फिर से खेलने लगा, मुझे किस करने लगा. लंड चुत दोनों ही गीले थे इसलिए मेरा पूरा लंड मामी की चूत में घुसता चला गया.

रास्ते में वो थोड़ा थोड़ा मुझे छेड़ने लगी थी, ये शायद बियर की वजह से था. दूसरे मर्दों की तरह वो आदमी भी मेरी मां के सौन्दर्य पर अपनी कामुक नजर रखता था. मैंने भाभी की टांगों को उठाया और अपना लण्ड उनकी चूत के छेद पर सटा दिया.

देसी खेत में चुदाई

जैसे ही मेरी उंगली उसकी चूत में जाती तो वो ऊपर उचक जाती जैसे कोई नीचे से उसकी चूत में लंड देकर उसकी कामाग्नि को भड़का रहा है. मगर उस वक्त चाची का महीना चल रहा था इसलिए 4-5 दिन से हमारे बीच में कुछ नहीं हो पाया था।मैं जैसे ही टॉयलेट के बाहर आया तो मेरे आगे मेरी बहन श्वेता खड़ी थी. चुत पर होंठ लगते ही मंजू के शरीर में तेज कंपन हुई और उसने एक तेज रस की धार ठाकुर के मुँह में छोड़ दी.

मैंने अंजलि की कमर पकड़ कर गांड में अपना लण्ड सटा दिया।अंजलि ने कहा- क्या कर रहे हो? मेघा देख लेगी।मैंने कहा- अभी तो नहीं है वो घर में शायद!फिर मैंने उसके दोनों हाथ पीछे पकड़ कर कपड़ों के ऊपर से ही अपना लण्ड उसकी गांड और चूत में गोल गोल टकराना शुरू कर दिया.

वो वाशरूम चली गईं, तो मैंने वहीं एक दूसरे कमरे में नहाने के लिए मैनेजर से कहा.

मैंने फोन उठाया तो वो मेरी गर्लफ्रेंड का नाम लेते हुए बोला- मैं इसकी माँ बोल रही हूं. मुझे ये भी बतायें कि मौसी के साथचुदाई का रिश्ताबनाकर और फिर उसको अपने साथ अपने घर में रखकर क्या मैंने कुछ गलत किया?मुझे आप लोगों की प्रतिक्रियाओं और मेरे सवाल के जवाब का इंतजार रहेगा. सेक्सी पिक्चर चोदा चोदाउस हालत में बिखरे हुए, फर्श पर नशीली हालत में हम दोनों बेसुध पड़े थे.

तभी मैं उसकी साड़ी खोलने लगा तो वाइफ ने मना कर दिया और साड़ी को अपने पेट पर पलट लिया. मैंने जैसे ही अपनी जीभ उसकी चूत पर लगाई तो उसकी सिसकारी निकल गयी- आह्ह … आआआह्ह … नहीं. बाजी आज कुछ दवाई वैगरह खाकर अपनी हिलान की रफ्तार दिखा रही थी।कुछ ही देर में बाजी का लावा फूट गया और उनकी चूत से पानी निकाल गया.

अब वो उस लड़के के लंड को बारी बारी से चूसने लगीं और लड़का एक की चूचियों को पीते हुए दूसरी की चूत में उंगली करने लगा. वो दोनों रोहन को देख कर हंस पड़े, इससे रोहन को पता चल गया कि रजक लाल ने उसके और रजक लाल के बीच में जो हुआ वो शायद सेक्यूरिटी गार्ड को बता दिया है.

पांच मिनट में ही गुरप्रीत आ गई, अपना बैग रखकर वो मेरी तरफ मुड़ी और कातर निगाहों से देखने लगी.

मैंने आरती को पलंग पर धक्का देकर गिरा दिया और मैं आरती के ऊपर टूट पड़ा. इस बार मैंने जल्दी से उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और पागलों की तरह किस करने लगा. फिर मैं थोड़ा और ऊपर सरका जिससे कि उसका हाथ मेरे लंड के करीब आ जाये.

हिंदी सेक्सी ब्लू दिखाओ मैंने कहा- हां जान, पागल तो उसी दिन हो गया था जिस दिन तुमने मुझे मेरा लंड हिलाते हुए देख लिया था. मैंने उसकी चूत पर और मेरे लंड पर थोड़ी क्रीम लगायी और फिर दबाब बनाने लगा.

फिर मैंने ऊपर देखा तो श्वेता की आंखों में कामवासना का एक मद भर चुका था. मेरी मेल आई डी[emailprotected]कहानी का दूसरा भाग:चुदाई की तमन्ना कॉलबॉय से पूरी की-2. वो अजीब से चेहरे बनाकर कुछ सोच रही थी।तभी बाजी बोली- इमरान, कहां चलें?तो मेरे से पहले राबिया बोल पड़ी- रसोई में चलो.

বাবা মেয়ের চুদা চুদি

क्या देना चाहती हो और कैसे लूं? एक बार बताओ तो सही?” मैं उसकी आंखों में देखते हुए बोला. उसके बाद उन दोनों ने मुझे अपने घर पर पार्टी और मस्ती करने के लिए आमंत्रित किया. ये बात मुझसे कुछ दूर पर बैठा संजय समझ गया और उसने मुझे इशारे से बुला कर एक किनारे दो पैग लगवा दिया.

मैं रुक नहीं पाया और अपनी हाफ पैंट को उतार कर आपा की पीछे चिपक गया. मैंने अपने होंठों में सिगरेट फंसा ली, उधर उसने मेरे लंड को थाम लिया और मेरे लंड से खेलने लगी.

मैंने चोर नज़रों से फिर हवलदारों के तरफ देखा पर इस बार मेरे रौंगटे खडे़ हो गये.

जैसे ही उसने छलांग लगाई वो पानी में नीचे डूबने लगी और मैंने उसको संभाला. वो मुझे किस किये जा रही थी और मेरे हाथ उनके पूरे शरीर पर घूम रहे थे. काफी मान मनौव्वल के बाद वो मान गई और बोली- जगह ऐसी होनी चाहिए कि कोई जानकार ना हो.

वो उसका मोटा और लंबा लंड देख कर चौंक गयी और खुश होते हुए लंड को हाथ में लेकर देखने लगी. [emailprotected]चुत की प्यास की कहानी का अगला भाग:प्यार सेक्स और चुदाई के अरमान पूरे किये- 4. मैंने भी हंसते हुए उसे विवाह और भावी सुखमय जीवन की अनेकानेक शुभकामनायें दीं.

हिंदी न्यूज़ इसलिए कहा कि गुवाहाटी की मुख्य भाषाएं बंगाली और असमियां ही हैं और होटल के टीवी इन्हीं भाषाओं में प्रोग्राम्स दिखाते हैं.

भाई बहन वाला सेक्सी बीएफ: मैं- यार शनाज़ … तुम पागल हो क्या? इस खुले हाल में हम दोनों नंगे हो कर सेक्स करेंगे? कोई आ गया तो इज़्ज़त का कचरा हो जाएगा. थोड़ी देर के लिए हमने आराम किया और फिर शाम को 5 बजे हमने शराब निकाली.

मेरी बहन किचन में स्टूल पर से गिर गयी थी और उसके ऊपर बेसन का डिब्बा भी गिर गया था, जिससे उसके सिर में भी चोट लग गई थी. लगभग 20 मिनट की चुदाई के बाद लंड ने उसकी चुत में ही वीर्य गिरा दिया. अब आगे:मैंने अपने लंड को तैयार किया और चाची को हटा कर सोनी की बुर पर लंड को सेट कर दिया.

मैंने तौलिया उतार दिया और वो मेरी ब्रा में कैद मेरी चूचियों को घूरने लगा.

इस सबके बाद मेरी सास मुझसे बोलीं- देखो बेटा जीवन भर तुमने अपने पति का ख्याल रखा है, लेकिन अब तुम्हारी बेटी को तुम्हारी ज़रूरत है, तो तुमको उसके पास जाना चाहिए. मैंने झुककर ज्योति के दोनों होंठों को अपने मुंह में लेकर एक झटका उसके दोनों कंधों को अपने हाथों से दबाते हुए लगाया. दोस्तो, मैं भास्कर एक बार फिर से अपनी पड़ोसन हेमा चाची की चुदाई की कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.