मद्रासी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,देसी फुल बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

বাংলাদেশী চুদা চুদি: मद्रासी वीडियो बीएफ, भाभी बोलीं- तुम्हारे भैया बोल रहे थे तुमने रिश्वत ली है … मेरे को ले जाने के लिए?मैंने बोला- क्या भाभी?भाभी ने तुरंत कहा- तुमने उस रात पूरा तो निचोड़ लिया था उसको … अब क्या बचा है.

न्यू देसी सेक्सी बीएफ

दोपहर का खाना खाने के बाद मैं और मम्मी जी साथ में बैठे … ना तो मम्मी जी कुछ बोल रही थीं और न ही मैं. बीएफ वीडियो में ओपनफिर मैंने अपना लंड चाची की चूत में से बाहर निकाला और चाची ने कंडोम का सारा माल अपने मुँह में ले लिया और फिर लंड को चूसने लगी.

तो मैं घर से किसी को कुछ भी बताए बिना अपने भाई के पास दिल्ली चला गया. हिंदी बीएफ सेक्सी मुसलमानीलगभग दस मिनट तक उसके होंठों को चूसने के बाद मैंने उसकी टांगों के बीच में आकर चुत पे किस कर लिया, जिससे वो एकदम से गनगना उठी और मेरे बाल पकड़ कर मेरे सर को अपनी चुत पे दबाने लगी.

वो अभी तक कुंवारी कैसे हो सकती है?मैंने चौंकते हुए कहा- क्या? क्या कहा अभी आपने?कल्पना थोड़ा उदास होते हुए बोलीं- हां, मैं अभी तक कुंवारी हूँ.मद्रासी वीडियो बीएफ: जिससे प्रीकम की वह बूंद मेरी नाक में किसी दवा की बूंद की तरह चली गयी और साथ ही उनके चॉकलेटी लंड से आती मदहोश कर देने वाली वीर्य की महक मेरी नाक से होते हुए मेरे दिमाग में घुल गयी.

मैं देख रहा था, वो वापस आ रही थी उतने में वो सड़क के बीच में थी तब एक ट्रक आ गया, मैंने फिल्मी स्टाइल में उसे बचाया.मैं अब उसके कपड़े उतार चुकी थी, सिर्फ अंडरवियर उसके शरीर पर रह गया था.

बीएफ एक्स एक्स एक्स देसी - मद्रासी वीडियो बीएफ

अब देखो मेरी रचना कितना तड़प रही है … चुदवाने के लिये पागल हो रही है.मैंने कहा- प्लीज़ हनी आज ये रहने दो, बहुत दिन बाद किया है नहीं झेल पाऊंगी.

मैंने भी मैडम की इच्छा को भांप कर अपना लंड अनुष्का की चूत में धकेल दिया. मद्रासी वीडियो बीएफ मेरा उतरा हुआ चेहरा देखकर वो बोलीं- समझो यार, मैंने कभी नहीं किया आज तक … इसलिए मना कर रही हूँ.

जब दूसरी बार मुझे महसूस हुआ कि अब मेरा पानी निकलने ही वाला है तो मैंने जीजा की तरफ अपने होंठों को बढ़ा दिया.

मद्रासी वीडियो बीएफ?

जैसे ही अंडरवियर को खोला, उसका 7 इंच का लंड उछल कर बाहर आ गया और मेरे करीब होने के कारण सीधे मुँह पे टकरा गया. रिया ने पहले भी ग्रुप सेक्स में अपनी गांड और चूत में एक साथ लंड के मजे लिए थे और इस बार भी वो यही सब सोच कर मेरे साथ आई थी. वह बोली- अगर देख लिया हो तो मुझे भी दिखा दो कि लड़के नंगे होने के बाद कैसे लगते हैं! तुम भी अपने कपड़े उतार दो न यार, मैं भी तुमको नंगा देखना चाहती हूँ।मैंने कहा- तुम ही उतार दो अगर ऐसी बात है तो.

जैसे-जैसे मैं लंड को सहलाता जा रहा था रीना के बदन के कपड़े भी उतरते जा रहे थे. तभी उसने अपना लंड निकाल के मेरे मुँह में डाल दिया और जोर जोर से धक्के मारने लगा और एक मिनट बाद उसने अपना पूरा माल मुझे पिला दिया. ‘अन्तर्वासना’ एक ऐसा ही पटल है, जिसके माध्यम से हम दोबारा उन कहानियों को जीते हैं.

कुछ देर तक मैं सोनू के नंगे शरीर के ऊपर लेट गया उसके दोनों गालों को अपने हाथों में लेकर उसके होंठों पर प्यार किया. पानी से बाहर आकर हमने यहां-वहां देखा और अपने लिए कोई सुरक्षित सी जगह देखने लगे. बैडमैन मेरे ऊपर लेट गया और मुझे लिप-किश करने लगा, मेरे चूचों को दबाने लगा.

अंकल ने पूछा- फिर बताओ हिंदी में क्या कहते हैं?मैं बोली- उसे ‘चुम्मी. वोह बहुत चुस्त कपड़े पहन के आयी थी और बहुत स्माइल कर कर के बात कर रही थी.

अब मैंने भाभी की टांगें खोलीं और उसकी चूत देखी, भाभी की चूत पर एक भी बाल नहीं था, शायद नहाने से थोड़ी देर पहले ही भाभी ने चूत शेव की थी.

अब वो मेरे सामने बेड पर चुदने के लिए ऐसे चित पड़ी थी, जैसे वो मेरी रखैल हो.

काफी देर लंड तना होने के कारण वो भी भाभी की मस्त चुसाई के कारण आखिरी मोड़ पर आ गया. उसने खुश होते हुए बोला कि मेरा सब कुछ तो तुम्हारा ही है, जब तुम चाहो मुझे चोद सकते हो. फिर कुछ मिनट के बाद माँ की चूत झड़ गयी लेकिन मेरा लंड अभी भी खड़ा था.

उसकी मुस्कराहट के तो क्या कहना; यारों कुल मिलाकर एक नपुंसक भी यदि उसके सामने आ जाए, तो वो भी मर्द बन जाए. पर क्या करूँ … आज देखता हूँ कोशिश करके … कहीं आपकी बात सही तो नहीं. बंद दरवाजे के अंदर कमरे में शीशे के सामने खुद को ही निहारती रहती थी.

मेरे मुँह से लंड निकाल कर आशीष मुझसे बोला कि तुम कुतिया की तरह बन जाओ.

फिर मैंने उससे कहा- एक वादा करोगी?वो बोली- हां बोलो?मैंने कहा- जो मैं बोलूंगा, वो करोगी?वो मेरी बात मान गई. यह हरकत चाची ने चुपके से देख ली, पर मेरा ध्यान तो सिर्फ़ बड़े बड़े मम्मों पर टिका हुआ था. लण्ड चूत के अंदर तक समाकर चूत की दीवारों में घर्षण पैदा कर रहा था तो चूत लण्ड को अपने में जकड़ लेने की कोशिश कर रही थी.

मैं घबरा गया, मैंने मना कर दिया, फिर भी वो बहुत ही चुड़क्कड़ स्वभाव की थी, भाभी ने मेरा लंड चूसना चालू कर दिया, मैं नहीं नहीं करता रहा मैं किसी और के साथ सेक्स नहीं करना चाहता था. रमेश- ह्म्म्म … ये तो मुझसे बेहतर कौन जानता है मालिक हा हा हा लेकिन आप छोटी बहू की भी चाल बदल देंगे, यह तो मैंने भी नहीं सोचा था. मैंने एक हाथ से उसके दूध पकड़ कर जोर से दबा दिए और वह सिसकिया लेने लगी अहहह अम्म्म ऊऊऊ मम्मम और वह कहने लगी की और जोर से दबावों.

दस मिनट हम दोनों उठे और एक दूसरे की बांहों में बाहें डाल के बाथरूम से बाहर आ गए.

सोनल ने अब उसका हाथ मेरी जांघों से मेरी चुत की तरफ बढ़ा, तभी उत्तेजना की वजह से मेरी कमर उछल गयी. मैं अक्सर राजेश को सोचकर या फिर रवि मामा के हैंगर पर टंगे कपड़ों की महक लेते हुए मुठ मार लिया करता था.

मद्रासी वीडियो बीएफ मैंने बिना देर किये पूरे गर्म सुपारे को अपने मुँह में भर लिया और लौड़ेपॉप (लॉलीपॉप का नया नाम) की तरह चाटने लगा. पायल इतरा के बोली- जीजू, अन्दर नहीं बुलाओगे?मैं उसे देखता ही रह गया था … जिसके बारे में सोच रहा था, उसे सामने देख कर ही मैं सब भूल गया था.

मद्रासी वीडियो बीएफ मैंने उसकी तरफ मुंह घुमाया और उससे कहने लगी- मैं नीचे क्या पहनूँ अब?मैं उसके सामने खड़ी थी और मेरा बेटा राजन मुझसे कुछ ही दूरी पर खड़ा हुआ था. नवीन के लंड से चुदकर मुझे पहली बार इतना आनंद मिला कि मुझे उससे प्यार ही हो गया.

लंड दो इंच ही अंदर गया होगा कि उम्म्ह… अहह… हय… याह… भाभी दर्द से कराहने लगी.

एक्टिविटी सेक्सी वीडियो

मैंने जल्दी जल्दी घर में रखे दारू का सामान निकाला और भैया भाभी के रूम के अन्दर झांकने की जुगाड़ लगाने लगा. कल्पना भाभी की तेज़ सांसें मैं भी अपने गले के आसपास महसूस कर रहा था. इसके बाद उसने लंड मुँह से निकाला और किसी कामुक रंडी की तरह मेरी तरफ अपनी नशीली आँखों से देख कर अपनी चूत पर खुद का हाथ फेरा.

मैंने कुछ देर तक उसकी नाभि में जीभ को घुसाकर उसको और ज्यादा उत्तेजित कर दिया. मैं- मैडम यहां ऑफिस से घर जाने के बाद पार्ट टाइम काम करने की हिम्मत बिल्कुल भी नहीं हो पाएगी. सुहागरात में जब आशा कमरे में सेक्सी नाइटी में मेरा इंतज़ार कर रही थी.

मैंने फिर से उसके चूचों को दबाना शुरू कर दिया और उनको जोर से मसलने लगा.

थोड़ी देर बाद मैंने एक जोरदार धक्का और मारा तो मेरा लंड लगभग पूरा अंदर चला गया और वो तेज तेज चिल्लाने लगी. मगर मेरी मैडम का फेवरेट पोज डॉगी तो अभी बाकी ही रह गया था, उसके बिना नीना को अपनी चुदाई सूखी रोटी जैसी लगती है. मैंने उससे कहा- क्या देख कर ही मन भर लेना है आज?उसने उत्तर दिया- सारिका जी, आप इतनी सुंदर और कामुक लग रही हो कि देखते ही रहने का मन कर रहा.

उन्होंने कहा- प्लीज़ थोड़ा आयल लगा लो … मेरे हब्बी और ब्वॉयफ्रेंड का भी मिला कर इतना बड़ा नहीं है. उसका लंड वापस सिकुड़ना शुरू ही हुआ था कि उसके फोन की रिंग बजने लगी. अब वे जल्द ही अपनी बाकी बेटियों नरगिस और आयशा की शादी कर देना चाहती हैं.

उसकी गांड क्या मस्त थी … मेरा मन कर रहा था कि अभी अपना लंड उसकी गांड में डाल दूँ. मेरे दिमाग ने काम करना बंद कर दिया, समझ में ही नहीं आ रहा था कि क्या करूँ … इसलिए मैंने मम्मी जी को कहा- मम्मी जी, मुझे थोड़ा और टाइम दे दीजिए सोचने के लिए … कल मैं आपको अपना फाइनल डिसिजन बताती हूँ.

भाभी के नाखून मेरी पीठ को आकर खरोंचने लगे तो मैंने तुरंत उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिये. फिर मैंने अपना एक हाथ से आहना के बालों को पकड़ कर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. मैंने उनसे कहा- कल मुझे यूनिवर्सिटी जाना होगा, यदि आपको ऐतराज़ न हो तो मैं आज से ही आ जाता हूँ.

उसने एक जगह दिखा कर मुझे बताया- तुम जब चाहो ले जाओ और फिर छुपा कर रख देना.

हम लोग बगल से बैठी हैं तो कमीना दे नहीं रहा?मैं बोली- मैं नहीं जानती कि कौन है. मैं पार्क में 9 बजे चला गया, मैंने पार्क में जाकर सारी जगहों का मुआयना किया. मैं सीन देखकर एकदम से डर गया कि अब क्या होगा … कैसे निकले यहां से, किससे हेल्प मांगू.

मैं उसको किस करने लगा और ऊपर से नीचे आते हुए मैंने ओने दांतों से उसकी पैंटी खींचते हुए उतार फेंकी. उसके बाद मैंने उसके चेहरे को ऊपर किया और उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उनको चूसने लगा.

दूसरी तरफ से लड़की की इतनी प्यारी आवाज सुनकर मेरे दिल में लड्डू फूटने लगे. उसके बाद मैंने उसकी नाइटी को ऊपर उठाना चाहा तो मेरे हाथों को पकड़ कर रोक दिया. दोनों की ही 26 साइज़ एकदम पतली बलखाती कमर और 32 इंच की तोप सी उठी हुई मस्त गांड के पहाड़ थे.

सेक्सी पिक्चर सील तोड़ना

थकहार कर मैंने जाने के लिए ऑटो को आवाज दी, तो मुझे एक अनजान नंबर से कॉल आयी.

तुझे क्या लेना है?चिन्टू मीना के घर अब बेखटके और बिना किसी रोक टोक के आने जाने लगा था. शोभन भूखे भेड़िए की तरह से मुझ पर टूट पड़ा और मेरे मम्मों की धुनाई करने लगा, कभी चाटता, कभी काटता, कभी चूत पर मुँह मारता. दोस्तो, सुचेता को मैंने सिर्फ हवस का लिए इस्तेमाल नहीं किया बल्कि मैं उसे एक अच्छी दोस्त भी मानता था.

दूसरी वाली भाभी को भी चुदाई के लिए पटाने में लगा हूँ, जैसे ही सफलता हाथ लगेगी, आप सब तक खबर पहुंचा दूंगा. हालांकि मुझे बड़ी उम्र की भाभियां या आंटियां चुदाई में सबसे ज्यादा पसंद हैं. बीएफ वीडियो डाउनलोडलेकिन फिर कुछ दिनों बाद कुछ प्रॉब्लम के कारण हम दोनों का ब्रेकअप हो गया.

मैं उसके साथ कभी कभार नशे की हालत में सेक्स चैट करता हूँ तो वो भी मेरा साथ दे देती है. उसको देखते ही वह पागल से हो गये- वाह … इसको कहते हैं चूचक … कितना प्यारा और रसीला है.

मेरी ननद ने मेरे पति को देखते हुए कहा- भाभी, लगता है कि आज भैया ये भूल गए हैं कि उनकी सुहागरात है. मैं थोड़ा कम नशे में था, तो मैं भाभी की ओर लपका और थोड़ी सी भागा-भागी के बाद मैंने उन्हें पकड़ लिया. काफी देर लंड तना होने के कारण वो भी भाभी की मस्त चुसाई के कारण आखिरी मोड़ पर आ गया.

कुछ दिन बाद अजमेर में हमने नया मकान लिया, तो वो भाभी भी भैया के साथ आई. अब मेरा लंड भी अकड़ रहा था और मैंने भी अपने लंड का रस उसके मुँह में गिरा दिया. तब मैंने उसे समझाया कि तेरे पति में कोई कमी नहीं है बल्कि कमी तुम्हीं में है.

मिसेज पाटिल डॉली को सुन भी रही थीं और मेरे लंड का मजा भी ले रही थीं.

मैंने धीरे से पूछा- आपने एकदम से क्यों डाल दिया?आपको पता है कि इस तरह कितना दर्द हुआ मुझे. बारात पास के ही गांव में जानी थी, तो सभी छोटे बड़ों को भी ले जाया गया.

अब वो भी मेरी बातें सुन सुन कर अपने चाचा से चुदने के बारे में सोचने लगी. अंधेरे की वजह से मैं कुछ देख नहीं पा रही थी। बहुत कोशिश के बाद चाचा मेरी सलवार के नाड़े को खोलने में कामयाब हुए। वे मेरी सलवार को नीचे खींचने लगे पर मुझे लाज लग रही थी इसलिए मैंने अपनी टांगों को जोर से भींच लिया. आपने मेरी पिछली कहानीचुदक्कड़ भतीजी की चुदाईपढ़ कर बहुत मेल किए, उसके लिए धन्यवाद.

उसका एक हाथ मेरी जांघों को सहला रहा था, तो दूसरा मेरे निपल्स को मसल रहा था, मैं आंखें बंद करके दबी आवाज में सिसकारियां भर रही थी. मैंने रिया से पूछा- कैसा लगा?रिया ने इतना ही कहा- मादरचोद बहुत बड़े लंड वाले थे और बहुत देर तक चोदा … साली गोली का असर भी खत्म हो गया था. मैंने उसे देखते ही अपनी बाँहों में भर लिया और दोनों रोमांटिक पोज़ में थोड़ा डांस करने लगे.

मद्रासी वीडियो बीएफ मैं उसके बताये हुए पते पे पहुंचा, तो एक बहुत ही सुन्दर सी स्त्री ने दरवाजा खोला. इतना जल्दी क्या इतना आसान था रवि मामा के इस दानवी लंड को पाना?क्या मैं बेवजह ही चिंता में था?आखिर मुझे इतने साल क्यों लगे इसे पाने में?और क्या इससे पहले भी यदि मैंने कोशिश की होती, तो मुझे इस जवान मर्द के लॉलीपॉप का स्वाद चखने का मौका मिल सकता था, जो अभी मेरी मुट्ठी में है?यही सारी बातें मेरे दिमाग में घूम रही थीं.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो गाना

मैंने कहा- अगर तुम्हें कुछ और जरूरी काम नहीं है तो मैं अब सोना चाहती हूँ. कुछ देर बाद वो खुद आई और उसने आसपास देखा और कागज को लेकर नीचे चली गई. मुझे चोदने के बाद उस साले का लंड थोड़ी देर बाद फिर से तैयार हो गया.

मुझे विश्वास ही नहीं हुआ कि आशा ने हाँ कह दी, पर मैंने सोचा इसका मन है तो इसको कर लेने दो. थोड़ी देर में मीना 2 गिलास में छाछ ले आई तो चिन्टू ने पूछा- मौसा जी आये थे क्या?हां … आये थे, लेकिन दो दिन बाद ही चले गए. सेक्सी बीएफ ओपन सेक्सी बीएफ ओपनअब मैं राजे तुझे नंगा करुँगी … लेकिन पहले एक बात सुन ध्यान से!”मैंने कहा- कहिये मैडम जी … मैं सुनूंगा ध्यान से.

फिर मैंने उसको सीधा लेटा दिया और उसके चूचों पर एक बार फिर से टूट पड़ा.

अभी मैंने दो तीन ही धक्के मारे थे कि सारा ने दर्द से तड़फ कर मुझे रोक दिया, वो बोली- दर्द हो रहा है … आपका तो बहुत बड़ा है … मेरी चूत बहुत छोटी है फट जाएगी. तभी एक सुरीली आवाज मेरे कानों में पड़ी- क्या काम है?मैंने अपना परिचय दिया तो उन्होंने मुझे अंदर आने को बोला और सोफे पर बैठ कर इंतजार करने के लिए कहा.

तभी अचानक पीछे से आवाज आई- हैलो!मैंने सर घुमाया तो फिर से बोल गूँजे- हैलो!मैंने पीछे मुड़कर देखा, तो वही लड़का था. बस सारा दिन आशीष मेरे सामने रहे और मैं उसके पास रहूं, यही मेरी इच्छा रहती थी. अभी भाभी को लंड का पूरा मजा देने मैं भी पूरी ताकत के साथ उनकी चुदाई कर रहा था, जिससे मेरी भी कामुक आवाजें निकलने लगीं ‘आहहह.

मैं बोली- आशीष कोई आएगा तो नहीं? मुझे बहुत डर लग रहा है, मैं तो तुम्हारे प्यार में मजबूर होकर आ गई हूं … वरना मुझे बहुत डर लगा, पर तुम्हारे लिए तुमसे मिलने की चाह में आ गई.

यह सब देख कर मेरी आग भड़क गई और मैंने अपनी चूत आरती के मुँह पर रख कर चटवानी शुरू कर दी. कुछ देर ऐसा करने के बाद मैंने एक हाथ उनकी चूत पर रख दिया … वह मचल उठी. उसकी व्हाइट शर्ट में से उसके चूचे शर्ट के बटन तोड़ने को उतावले रहते थे.

बीएफ पिक्चर वीडियो फिल्ममैं और अविनाश हमेशा एक साथ ही कॉलेज जाते थे और रास्ते में हमें साक्षी मिल जाया करती थी, तो हम तीनों ही एक साथ कॉलेज पहुंचते थे. उसके बाद अनुष्का ने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया और मेरे लंड के टोपे को पीछे खींचकर उसको सहलाने लगी.

मुट्ठ मार सेक्सी वीडियो

उन्होंने एक दो बार मेरे होंठों को चूसा और फिर नीचे आकर मेरे चूचों को दबाते हुए मेरी चूत में लंड को घुसाने की कोशिश करने लगे. मुझे तब पता चला कि औरत के इस छोटे से छेद में उनके आनन्द का दरिया छिपा है. चूत भी चिकनी थी और भाभी ने अपने मुंह में लेकर मेरे लंड को भी पूरी तरह से चिकना और गीला कर दिया था.

मुझे उसके जागने का भी डर था, मगर न जाने मैं ये सब कैसे कर पा रहा था. मुझे असहनीय दर्द होने लगा मगर वह अपना पूरा भार डालता हुआ मेरे ऊपर लेट गया और उसकी छाती मेरी कमर पर आकर सट गई- आई. सुबह में हम बंगलोर पहुंचने वाले थे, तो हम दोनों एक दिन रिटायरिंग रूम में बिताने का सोचा.

भाभी फिर से मुझसे पूछने लगी कि अब से पहले कितनी बनाई हैं?मैंने भाभी को सारी सच्चाई बता दी. खैर हमारी बातें होने लगी और मुझे लगने लगा कि मैं उसे पसंद आ गया हूँ तो मैंने भी फ़्लर्ट करना शुरू कर दिया. मैंने कहा- तुम्हारी चूत पर इतने सारे बाल थे?उसने कहा- नहीं मैं तो अपनी चूत के बाल हर महीने निकालती हूँ, पर आज मुझे लंबा ओर मोटा लंड लेना था, तो चूत मैंने अच्छे से साफ करवा ली ताकि तुम्हें अच्छा लगे.

मैं अपने उसी साइट पर फिर से व्यस्त हो गयी और फिर इसी बीच मेरी गुजरात की सहेली, जिसका वर्णन मैंने अपनी पिछली कहानी में किया था, उससे दोबारा बात शुरू हो गयी. इस पर पहले तो बहुत शरमाई, पर उसे लगा कि मैं कोई समाधान निकाल सकती हूं.

उसने भी मेरा सिर पकड़ लिया और मेरा मुंह में अपना लंड अंदर बाहर करने लगा जैसे कि वो मेरे मुंह में ही चोद रहा हो.

वो अंदर गयी और जैसी उसने गिरने की एक्टिंग की तो विपिन उसको लपक कर बचाने लगे. हिंदी बीएफ 2005मीना को तन का जो सुख चिन्टू से मिल रहा था, वो सुख ननकू के बस में नहीं था, चिन्टू का नया खून था, नया जोश था उसमें … और फिर चोरी का फल तो ज्यादा मीठा लगता ही है. बिहारी बीएफ देसीविजय ने कुछ टाइम बाद पता कराया कि माला अपनी एक फ्रेंड के घर रोज जाती थी. अब मेरे पति तो बहुत साल पहले गुजर चुके थे, सिर्फ एक बेटी है तो अब मैंने सोचा कि अब मुझे ही दामाद जी से खुल कर बात करनी पड़ेगी और इस समस्या का समाधान निकालना पड़ेगा.

अब मेरे घर में मैं और माँ ही बचे थे पिताजी की मौत के कारण खेत का काम मेरे सिर पर आ गया.

मेरी बीवी बनेगी इसलिए आगे चल के तुझे बहुत बचाना होगा क्योंकि हर कोई तुझे चोदना चाहेगा. थोड़ी देर बाद मैंने एक जोरदार धक्का और मारा तो मेरा लंड लगभग पूरा अंदर चला गया और वो तेज तेज चिल्लाने लगी. उसको देखते ही वह पागल से हो गये- वाह … इसको कहते हैं चूचक … कितना प्यारा और रसीला है.

लेडी ने मेरी जांघ पर हाथ फेरते हुए पूछा- फिर तुम क्या करते हो?मैंने उसका हाथ अपने लंड की तरफ बढ़ता हुआ महसूस किया. वो अब मेरे मुंह की चुदाई करने लगा, फिर मुझे उल्टा लिटा दिया और घोड़ी बना दिया. उसके स्तन भी बहुत अच्छे आकर में थे, इसलिये उसे ऐसी ब्रा लेने को कहा, न केवल जो पारदर्शी हो, अपितु स्तनों को सही जगह रखे.

इंडिया का सेक्सी व्हिडिओ

माँ की गांड एकदम गोरे कलर की थी और अब मैं उनकी गांड के छेद को देखकर ललचा गया था और माँ की गांड को अपनी जीभ से चाटने लगा था. पलट कर देखा, तो वो अपनी रूमाल को कुत्ते की तरह ही झुक कर नाक से टटोल टटोल कर सूंघ रहा था. राजन भी तकिया चोदकर बोर हो चुका था और आज उसको असली चूत मिल गई थी इसलिए मेरा बेटा मेरी चूत को अच्छी तरह चोद रहा था.

मैंने उन्हें होंठों पर एक किस किया और कहा- बधाई हो मामी जी, आखिर आपकी गांड का उद्घाटन हो ही गया.

बच्चे बड़े हो रहे हैं और तुझे रोमांस सूझ रहा है?तो क्या अब हम बूढ़ीया गये हैं?” मीना ने कहा.

अपनी मेरी पिछली कहानीभाई की कुंवारी साली की चुदाईपढ़ कर बहुत मेल किए उसके लिए धन्यवाद. तभी जीजा जी अंदर आ गए और मुझे बांहों में भर कर अंदर वाले कमरे में ले गए. bhojpuri gana बीएफ वीडियो सॉन्ग यूट्यूबउन्होंने थोड़ा खाना खाया और कहा- बाकी मैं घर जाकर खाऊंगी अभी आपके जितना ही बनाया है, आप भूखे रह जाओगे तो मुझे दूध पिलाना पड़ेगा.

सुबह उठने पर सारा ने मुझसे पूछा- रात कैसी गुजरी?मेरे मुँह से सिर्फ इतना ही निकला:गर फिरदौस बर रूये ज़मी अस्त/ हमी अस्तो हमी अस्तो हमी अस्त(धरती पर अगर कहीं स्वर्ग है, तो यहीं है, यहीं है, यही हैं)मैं बोला- जन्नत की सैर की रात भर. मतलब एक ऐसी शादीशुदा लड़की, जिसको देखकर लग रहा है कि इनकी शादी काफी दिन पहले हो गयी है. तो मेरे भाइयो, भाभियो यह थी मेरी भाभी की फस्ट नाइट … बोले तो सुहागरात थी.

तू सब जानता तो है कि वो कितने कितने दिन गाँव नहीं आता, फिर भी पूछ रहा है?” मीना ने कुछ गुस्से से कहा. संजीव ने मुझे जूते उतारने को कहा तो मैं भी जूते निकालकर गद्दे पर चढ़ गया.

मैंने अब उनकी गर्दन को बांहों में भर लिया और अब मैं भी गर्म होने लगी.

मुझे ऐसा लगा कि वो जैसे मेरी ही गर्लफ्रेंड है … और न जाने कितने साल में मिली हो. भाभी की गांड के आसपास भी कुछ बाल थे, मैंने उसे भी साफ किया और उंगली गांड में देने लगा. वह शायद पानी लाने के लिए किचन की ओर गई हुई थी। उसको देख कर मेरा दिमाग कहीं खो सा गया था.

हिंदी फिल्में बीएफ वीडियो मैं साइड टेबल से सिगरेट का पैकेट उठा कर सिगरेट पीने ही लगा था कि उसने मुझे फ्लास्क से दूध निकाल कर गिलास को भर कर दिया … जो नीम गरम था. अब मुझे समझ में आने लगा कि हितेश मुझसे दूर क्यों भागता है, उसने क्यों कभी मुझसे बात करने की कोशिश नहीं की.

आपके मेल मिलने के बाद मैं दूसरी सेक्स स्टोरी भाभी और आंटी के बारे में डिटेल में भेजूँगा. मैं घबरा गयी, मैंने घबराहट में पूछा- क्या नहीं करते? क्या तुझे प्यार नहीं करते? मारते हैं क्या?मेरी बेटी ने कहा- अरे नहीं मम्मी … वो रात को पता नहीं कैसी कैसी डिमांड करते हैं. उसके बाद हमने कमरे में आकर वोदका के पैग बनाए और वापस बाथरूम में आ गए.

फनी सेक्सी हिंदी में

अगले दिन सुबह जब मैं यूनिवर्सिटी जाने लगा तो मुझे नीचे भाभी दिखाई दी. सोनू शी …शी … करती रही, मुझसे कहने लगी- बहुत दर्द नहीं करना, नहीं तो मैं चीख पडूँगी. तो आशीष मेरे ऊपर चढ़ गया और बोला- बंध्या यार बुरा मत मानना, मैं बहुत गंदा बोलूंगा … तुम भी बोलना.

फिर वंश के लंड के लड्डुओं पर आकर मैंने एक लड्डू को अपने मुँह में भर लिया. तभी उसने अपना लंड निकाल के मेरे मुँह में डाल दिया और जोर जोर से धक्के मारने लगा और एक मिनट बाद उसने अपना पूरा माल मुझे पिला दिया.

मैडम जी, आप बहुत बहुत सुन्दर हैं … वो फोटो वाली हीरोइन आपके सामने क्या है … कुछ भी नहीं.

काफी देर तक जब मैं कुछ नहीं बोली, तब मम्मी जी ने ही बात करना शुरू किया- कल्पना बेटा, मैं जानती हूं कि तू अभी तक कुछ भी डिसाइड नहीं कर पायी है, क्योंकि तू क्या सही है क्या गलत इसमें कंफ्यूज है. मैं कितनी कमीनी हो गयी हूँ कि अपने ही पापा को पटाने पे लगी हूँ!इसके बाद मैं रोते रोते सो गई और अपने रूम का दरवाजा लॉक करना भूल गयी।रात को 3 बजे मेरे पापा मेरे कमरे में आये और मुझे उन्होंने उठाया. मैंने उसके मम्मों को कसके दबाया और उससे पूछा- आज से पहले तूने किसी का लंड अपनी चुत में लिया है?तो उसने मना कर दिया.

जब मेरा माल उसकी चूत में गिरने को हो गया तो मैंने लंड को बाहर निकाल लिया और बाहर निकालते ही रीना ने मेरे लंड को अपने मुंह में ले लिया. ऐसा मन करता था कि उसे पकड़कर जी भर के उसकी गांड मारूं … पर डर के कारण कुछ नहीं कर सका. जब वो तैयार हो गयी, तो मैंने एक और जोर से धक्का दिया और मेरा लिंग पूरा अन्दर हो गया.

अपनी स्पीड को बढ़ाते हुए जीजा जी ने मेरे गालों को चूमना शुरू कर दिया.

मद्रासी वीडियो बीएफ: वहाँ पर लड़के-लड़कियाँ यहाँ-वहाँ कोने में छिपे हुए चूमने-चाटने में लगे हुए थे. फिर जब मैं 21 साल का हुआ, तो आर्थिक तंगी के कारण एक कम्पनी में जॉब पर चला गया.

हर बार मैं अपना मुँह उसकी योनि के पास ले जाता, लेकिन उसे छूता तक नहीं … और वो बस अपनी योनि रस छोड़े जा रही थी. कोमल ने हिना को ये बताया, तो उस लड़के ने जल्दी जल्दी दोनों को चोद कर खुश कर दिया. बस उसने सीधे मेरी गांड पर अपनी हथेली को रखा और अब बैठकर मेरी गांड में अपना मुँह लगाकर मेरी गांड के सुराख पर अपनी जीभ लगा कर उसे चूमने लगा और मेरी गांड को चाटने लगा.

उसे लगा था कि रोज की तरह किसिंग और स्मूचिंग ही होगी, पर मैं उसे चोदने के लिए पूरी तरह से तैयार था.

सर ने अपने होंठों पर जीभ फिराई और पिंकी की ओर देख कर धीरे से बोले- इसको तो भेज दिया होता. मैंने एक हाथ लेडी की पैंटी में डाल दिया और उसकी चूत में उंगली करने लगा. दूध के पैसे देते समय मैंने पिछला उधार भी ले लेने को कहा, तो हंसते हुए मुझसे मेरा परिचय लेने लग गए.