बीएफ सेक्सी कॉम वीडियो

छवि स्रोत,मराठी सेक्सी सॉंग

तस्वीर का शीर्षक ,

सूरत वाला सेक्सी वीडियो: बीएफ सेक्सी कॉम वीडियो, फिर वो बोले- मेरा वीडियो कॉल पर बात करने का मन है … क्या मैं कर सकता हूँ?मैं बोली- अरे भैया, इसमें कौन सी बड़ी बात है, खूब कीजिए.

एक्स एक्स व्हिडिओ सेक्सी बीपी

रेखा भाभी की आवाज सुनकर तो मेरे रौंगटे खड़े हो गए, सारे शरीर में सनसनी सी होने लगी. सेक्सी वीडियो बीपी पिक्चर एचडीमैंने उससे पूछा- तैयार हो काव्या?वो बोली- मैं नंगी लेटी हूं, अब तुझे किस चीज की इजाजत चाहिए?मैंने बैडरूम के ड्रेसिंग टेबल से एक क्रीम निकाली और उसकी बुर की फांकों को फैलाकर उस पर क्रीम मल दी.

जल्द ही हम दोनों फिर से गर्म हो गए और मैंने उसकी फिर से चुदाई करनी शुरू कर दी. हिंदी मूवी सेक्सी भाभी की चुदाई[emailprotected]इरोटिक गर्ल X कहानी का अगला भाग:चढ़ती जवानी में सेक्स की चाह- 2.

रूपा चिल्लाने लगी- आआहह आआह्ह मम्मीईई आआह … मत करिए प्लीज अंकल मत करिए.बीएफ सेक्सी कॉम वीडियो: भाभी ने भी मेरी अंडरवियर उतार दी और लंड को हाथ में लेकर सहलाने लगी.

मैं घर आया और आते ही जैसे भाभी को देखा, तो भाभी साड़ी बांध कर मस्त लग रही थीं.मेरे फ्लोर का पैसेज पूरी तरह खाली था, तब जाकर मेरी जान में जान आयी.

पुष्कर मधु के सेक्सी वीडियो - बीएफ सेक्सी कॉम वीडियो

या जब मुझे घर पर मौका मिलता है तो मैं उसे बुला लेती हूँ और वो मेरी फुद्दी लेने मेरे घर चला आता है.जब मैं रसोई में दोपहर का खाना बना रही थी, उस वक्त ससुर जी बाहर कमरे में बैठे हुए मुझे देख रहे थे.

माँ बेटी दोनों एक साथ बोलीं- ये क्या कर रहे हो?मैंने कहा- चार बजे की फ़्लाइट में टिकट बुक है. बीएफ सेक्सी कॉम वीडियो उसका पति बाहर काम करता है, वह सिर्फ खास त्यौहार पर ही घर आता है।उसकी यह बात सुनकर मेरी खुशी का ठिकाना ना रहा.

उधर अपने घर जाकर नहा लेना क्योंकि थोड़ी देर में मेरा चूतिया पति आता ही होगा.

बीएफ सेक्सी कॉम वीडियो?

शेखर के दिमाग़ में कई सवाल कौंध गए … अब क्या करेगी ये? अभी और कितना तड़पाएगी?”दिमाग़ में उठ रहे सवालों का जवाब भी उसे जल्द ही मिल गया … धारा ने पूरी तरह आगे सरकते हुए अपनी मख़मली चिकनी हसीन चूत के दरवाज़े को शेखर के होठों के बिल्कुल क़रीब कर दिया. वो बोली- तुम किसी को कुछ मत बताना बस थोड़ी देर रुक जा … मैं कुछ करती हूं. मैं पूरा दीवाना हो गया हूँ तुम्हारा!देविका ने मेरी बातें सुनकर अपना हाथ बाक्सर के ऊपर से ही मेरे लंड पर रख कर उसे सहला दिया.

तो वह जरूर सेक्स के लिए तड़पती होगी और उसका भी मन किसी मोटे लंड को चूत में लेने का होता होगा।कुछ दिन ऐसे ही बातों का सिलसिला चलता रहा।एक रविवार की बात है, कॉलेज की छुट्टी थी और मैं उस दिन सुबह देर तक सो रहा था. इतना बोलने के साथ ही उसने अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिए और चूसने लगा. वो इतनी मादक दिखती है कि उसे पहली बार में देख कर ही कोई भी उसे चोदने के लिए गर्मा जाए.

मैंने काफी टाइम तक उनके लंड को चूसा, उनके अंडकोष दो मोटी गेंदों जैसे थे, जिनको चूसने में मुझे इतना मजा आया कि मैं बता नहीं सकता. जैसे तैसे सुबह से दोपहर हुई और मैं अपने लेक्चर के टाइम से 10-15 मिनट पहले ही क्लास में पहुंच गया. मैं अपने घर आ गया और अपने लंड को अपने हाथ से शांत करके खुशी में सो गया.

[emailprotected]चुदाई की कहानियाँ हिंदी में का अगला भाग:क्लासमेट की डर्टी सेक्स की तमन्ना पूरी की- 2. मैं धीरे धीरे से धक्के लगाने लगा और वो भी गांड में रगड़ लगने से मजे ले रही थी.

सुनीता की चूत पहले से पानी पानी थी, मेरे एक धक्के में ही लंड चूत में फच की आवाज के साथ अन्दर घुसता चला गया.

मैंने समझ लिया कि कोई भी बहन अपने भाई को इस तरह तभी जलील करने की सोचेगी, जब उसे खुद चुदने के लिए ये एक मौका दिख रहा हो.

अब वो मेरे लंड का चिकना सुपाड़ा अपनी चूत की दरार में रखकर ऊपर से दबाने लगी थी. मैंने कहा- भाभी, कोई आएगा तो नहीं?भाभी बोली- दरवाजा बंद है ऊपर आने का, कोई नहीं आयेगा. जैसे ही मैंने लौड़ा बाहर निकाला, वैसे ही शिराज अपने बहन की फुद्दी देखने चला आया.

पापा के दोस्त राजेश अंकल भी हफ्ते में एक दिन आकर मुझे खुश करके जाते हैं. मैंने उसके दोनों पैरों को फैला कर नीचे रखे हुए तकिया को अच्छे से सैट किया और अपने लंड को उसकी बुर पर रगड़ने लगा. मैंने उसको समझाया कि आज तेरी चूत अच्छे से खिल गयी है अब कभी खून नहीं निकलेगा.

वो समय मुझे कुछ ज़्यादा अच्छे से याद है क्योंकि घर पर होने के कारण जीवन बिल्कुल फीका सा हो गया था.

उसके हाथ मेरे पूरे शरीर पर घूम रहे थे और उसकी जीभ मेरी पीठ से होते हुए मेरे चूतड़ों पर घूम रही थी जिससे मेरी टांगें खुद ब खुद फैलती जा रही थीं. मैंने ललिता भाभी को घोड़ी बना दिया और पीछे से लंड चूत में पेल कर चोदने लगा. रुचिका वन्दना से बोली- अभी तो कुछ नहीं है, जब ये वापिस मुम्बई जाएंगे, तब तुम रोकर विश करोगी.

मैं रूम से निकला तो नौकर गोपू आ चुका था और उसने चाय नाश्ते का इंतजाम किया. उस समय मेरी हालत एकदम किसी सस्ती रांड की तरह हो रही थी क्योंकि मैं पूरी तरह से भीगी थी और उस आदमी की चुदाई के बाद मेरा मेकअप भी फ़ैल गया था. कहानी के पिछले भागपापा के दोस्त ने मेरी गांड मार लीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरे पापा के ख़ास दोस्त राजेश अंकल ने किचन में ही मेरी गांड में लंड पेल दिया था और भकाभक पेलने लगे थे.

मैंने पूछा- क्या हुआ, आप घर से इतनी दूर आई हो, एंजाय करो न मेरी जानू मॉम!मॉम बोलीं- वीडियो डिलीट करो, मुझसे ग़लती हो गयी.

मुझे भी यही सही समय लगा कि जब मैं साबिरा की चूत को पूरी तरफ से खोल सकता था. भैया तो मुझे कुछ देर तक देखते ही रह गए, उनकी आंखें मेरे ऊपर से हट ही नहीं रही थीं.

बीएफ सेक्सी कॉम वीडियो थोड़ी देर बाद उसने मुझे पलट दिया और मेरी चूत के नीचे दो तकिया लगा दिए जिससे मेरे चूतड़ पीछे की तरफ उठ गए. जब कभी भी मेरे पति मेरे निप्पल चूसते थे तो मैं बेकाबू हो जाती थी।आज भी वैसा ही कुछ हुआ.

बीएफ सेक्सी कॉम वीडियो लाल रंग में भाभी की मोटी मोटी और गोरी चूचियां देखकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. वो बोलने लगीं- अब बस करो … जल्दी से लंड डाल दो … और मत तड़पाओ … प्लीज लंड डाल दो.

मॉम ने मुझसे एक प्रॉमिस लिया कि ये बात डैड को पता नहीं चलना चाहिए और अकेले में मैं मॉम को उनके नाम से बुलाऊं.

हिंदी बीएफ फिल्में दिखाएं

उसके बाद तो लगातार चार दिन तक हम दोनों के ऊपर बस चुदाई का भूत सवार था. मैं उसका एक निप्पल अपने होंठों में पकड़ कर खींचा तो उसकी मदभरी आह निकली और वो खुद अपने हाथ से अपने दूध को पकड़ कर मुझे पिलाने लगी. सुजय सर मुझे तेज़ी में चोदे जा रहे थे और मैं अपने सर से चूत चुदवाए जा रही थी.

फिर वो मेरे लंड पर कूदने लगी, उछल उछल कर मेरा लंड अपनी चूत में लेने लगी. सबसे पहले उन्होंने मेरी साड़ी निकालनी शुरू की और जल्द ही मेरी साड़ी निकल गई।इसके बाद जैसे ही उन्होंने मेरे ब्लाउज का बटन खोलना शुरू किया. ड्रेस निकाल कर रेशमा फिर से नंगी हो गयी और फिर से मेरी बांहों में आकर सो गयी.

मेरे भाई समझ गए कि बहन को भाई के लंड से चुदवा कर मजा आया है और कहीं न कहीं भाई को भी मेरी टाईट चूत पसंद आ गई थी.

मैंने नीता को पकड़कर उसे नीचे ले लिया और मैं उसके ऊपर अपने घुटनों के बल बैठ गया. उतने में ही भाभी के मुँह से एक तेज ‘अह मर गई … धीरे राजा …’ की आवाज निकल पड़ी. मैं वहां 6 दिन रुका और तब तक उसके कमरे की ये हालत हो गई थी कि फर्श पर जहां तहां मेरे लंड का वीर्य पड़ा हुआ सूख गया था.

मैंने अपने लौड़े पर तेल लगाया और गांड में गिराकर जैसे ही धक्का लगाया, ललिता भाभी ‘ऊई ईई ऊईईई आहह आहह …’ करने लगी. पूनम ने मेरे लंड को पकड़ लिया और नीचे ज़मीन पर लगे हुए बिस्तर पर मुझे धकेल कर लिटा दिया. मैंने दरवाजा खोला तो सामने एक नाइट ड्रेस में खड़ी थी और बड़ी ही कामुक लग रही थी.

मेरी बहन आह कहते हुए कहा- तुम ये क्या कर रहे हो … मालूम भी है कि मैं तुम्हारी बहन हूँ. मैंने उसकी चड्डी नीचे करते हुए उसे नंगी कर दिया और अपना लंड बाहर निकाल कर उसके हाथ में दे दिया.

थोड़ी देर बाद दोनों एक दूसरे को चूमने लगे और मैंने अपना हाथ ललिता की चूत में रखकर सहलाना शुरू कर दिया. सच कहता हूं दोस्तो मौसी की ये बात सुनकर मैं तो बहुत ज्यादा खुश हो गया था कि मौसी के साथ सोने का मौका मिल गया. थोड़ी देर बाद मैंने आंटी को घोड़ी बनाया और चूत में लंड डालकर चोदने लगा.

उसके पापा का ट्रांसफर यहां के बैंक में हो गया है और आज स्कूल आते वक्त जल्दबाजी में वो अपना टिफिन लाना भूल गई थी.

बातों बातों में वो मुझे बताने लगी थी कि इनको सेक्स में कोई इंटरेस्ट ही नहीं है. सुमैत्री एक मोमबत्ती लेकर आई और बोली- तुम बैठो में चाय बना कर लाती हूँ. आंटी निढाल होकर लेट गईं और मैं लंड चूत के अन्दर डाले हुए ही आंटी के ऊपर लेट गया.

एक दिन मैं जैसे ही अपने ऑफिस के लिए निकला, ठीक उसी वक्त मेरे सामने वाले फ्लैट से एक गजब का माल निकली. मैंने लंड को हाथ से पकड़ ऊपर-नीचे किया तो उसका सुपारा खुलने और बंद होने लगा.

कुछ देर बाद मैंने उसे फिर से रोका और उससे बोला- अब मेरे लंड के छेद पर अपनी जीभ चलाओ. प्यारे मित्रो, आज आपके सामने मैं एक मस्त हॉट साली चुदाई कहानी सुना रहा हूँ. दोस्तो, मैं आपका दोस्त संजू आर्यन!मेरी पिछली कहानीजेठ के लंड ने चूत का बाजा बजायाकरीब 3 साल पहले आई थी.

रानी मुखर्जी के सेक्सी वीडियो बीएफ

आह आह … आज एग्जाम से वापस आकर तेरी चूत चोदने मिल जाए तो सच में मजा जाए.

निधि मेरे लन्ड से खेल रही थी और मैं उनकी चूत में अपनी उंगली का जादू दिखा रहा था. आइए चलते हैं इस कहानी के अगले और अंतिम भाग की ओर …बिस्तर पे असहाय बंधे हुए शेखर के सामने एक और रोमांच खड़ा था … अपने चेहरे को पूरी तरह से मास्क से ढक कर एक झीनी साई छोटी नाइटी में!शायद शेखर के रोमांच की सभी इच्छाओं की पूर्ति आज ही हो जानी थी. आज उसकी जवान बहन एक जवान लड़के से चुद गयी थी और उस लड़के का वीर्य उसके बहन की कोख़ में गिर गया था.

लेकिन तेरे लंड की सख्ती की वजह से आज मैं चुदाई का पूरा मजा ले रही हूं. मैंने पास रखे कपड़े से उसकी बुर और अपने चेहरे को साफ किया और फिर से उसकी बुर चाटना शुरू कर दिया. सेक्सी वीडियो एनिमल सेक्सी वीडियोमैं इतना ही बोला और भाभी के होंठों को अपने काबू में करके उन्हें लिपलॉक किस शुरू कर दिया.

सर मेरी तरफ देखते हुए बोले- हां, हम लोग कब से तुम्हारा इंतजार कर रहे हैं. पूरी रात में लैंप की हल्की रोशनी से मैं चाचा के शरीर को निहारता रहा.

कुछ मिनट अच्छे से लंड हिलाने के बाद मैंने पूनम से कहा- मेरा निकलने वाला है, थोड़ा और तेज़ करो. एजेंट ने कहा कि क्योंकि आप हर लड़की को दो दिन अपने पास रखते हैं इसलिए आपको इसके लिए पचास हजार लगेंगे. मैंने देखा तो पूछा- क्या हुआ, मुस्कुरा क्यों रही हो?उसने कहा- कुछ नहीं बस यूं ही.

मैंने भी उनको प्रत्युतर में बांहों में भर लिया और चूमती हुई लिपलॉक करने लगी. उनके नाज़ुक स्पर्श के आगे मैं ज्यादा देर नहीं टिक पाया और मेरा पानी निकल गया. मैंने भी अपना लंड उसकी गांड के सुराख पर लगाया और जोर देते हुए अन्दर डालने लगा.

अञ्जलि ने तकिये में अपना मुँह देकर अपनी चीखों को दबाया, मैंने भी आखिरी तेज धक्का मारा और उसकी कमर छोड़ दी.

पर वन्दना ने एसी बंद करके पंखा चालू कर दिया और चादर हटा कर हमारी चुदाई देखने लगी. पूरी क्लास को हमारी प्रेम कहानी के बारे में पता था और कोई परेशानी नहीं हो रही थी.

भैया ने भाभी की ठोड़ी को पकड़ा हुआ था और वो दोनों एक दूसरे की आंखों में झांक कर हल्के हल्के से मुस्कुरा रहे थे. एक दिन लुच्ची हमारे घर आई और बोली- आज मैं अपने घर जा रही हूं चलो थोड़ा खेल लेते हैं. मेरी आंखों के सामने रेशमा किसी पराये मर्द से दो कौड़ी की बाजारू रंडी की तरह चुद रही थी.

अब मॉम ने मुझे अपनी दोनों टांगों में दबा लिया और एकदम से मेरा सारा माल उनकी चूत में निकल गया. मैं भी उसी करवट लेट गया और अञ्जलि ने अपने एक पैर को घुटने से मोड़ा और अपनी जांघ हाथ में उठा कर चूत चौड़ी की. मेरे ना चाहते हुए भी जाने क्यों, अचानक मेरा हाथ उसकी पैंटी पर चला गया.

बीएफ सेक्सी कॉम वीडियो इतने दिनों से लंड की प्यासी मेरी चूत ने कुछ ही झटकों में लंड को जज्ब कर लिया और मैं मजा लेने लगी. मैं- अहह मेरी बेगम जान, आज अपने पति के लौड़े से चुदवाकर कैसा लगा मेरी रांड बीवी … आह क्या मस्त चूत है तेरी रंडी … रोज तुझे ऐसे ही चोदूंगा इस हिजड़े कुत्ते के सामने … आहह ऐसे ही पकड़ मेरा लौड़ा अपनी चूत में छिनाल.

बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी हिंदी

करीब 5 मिनट तक चूसने के बाद वो मादक आवाजें निकालती हुई कहने लगीं- अब मेरी चूत फाड़ दो. लेकिन तेरे लंड की सख्ती की वजह से आज मैं चुदाई का पूरा मजा ले रही हूं. मैंने तो चादर ओढ़ रखी थी लेकिन ससुर जी ऐसे ही खुले में नंगे लेटे हुए थे.

मैं फिर भी अनजान बनते हुए बोला- बड़ा तो मैं भी हुआ हूं लेकिन मेरे तो ये इतने बड़े नहीं हुए हैं. मॉम ने उसकी गांड चाटनी शुरू कर दी जिससे दीपाली की गांड गीली हो जाए और उसमें मेरा लंड आराम से जा सके. सेक्सी जागरण वीडियोआज सुबह से ही अंधेरा था और बड़ी ज़ोरदार बारिश में एकदम गजब का मौसम हो रहा था.

मैंने चाची की अल्मारी से उनकी ब्रा पैंटी और एक घुटनों तक आने वाली मैक्सी निकाली और अपने कमरे में आ गया.

भाभी- क्या आप अभी सिंगल हो?मैं- हां, क्यों क्या हुआ?भाभी ने हल्की स्माइल देते हुए कहा- क्यों कोई जीएफ नहीं है क्या?मैं- नहीं भाभी जी. आज मैं पूरी तरह से संतुष्ट हुई थीं और अमित जी का भी पूरा साथ दिया था जिससे वो भी मुझसे पूरी तरह से संतुष्ट हो गए थे।एक बार चुदाई करने के बाद हम दोनों लोग बिस्तर पर लेटे हुए थे, हम दोनों ही ने पहली चुदाई में ही एक दूसरे को संतुष्ट कर दिया था।करीब आधे घंटे तक हम दोनों लेटे रहे।इसके बाद अमित जी ने मुझे पकड़ कर अपने ऊपर लिटा लिया।मैं उनके सीने पर अपना सर रख कर लेटी रही.

इतना सुनते ही मैं काफी खुश हो गया था और मन ही मन आरती को चोदने के सपने देखने लगा. कुछ ही देर में मेघना का पानी निकलने लगा और फर्श पर ऐसे गिरने लगा, जैसे वो पेशाब कर रही हो. पायल- पर ऐसे भी कोई चोदता है क्या?राहुल- मैं चोदता हूँ ना … पर अब तुझे किसी और की जरूरत नहीं पड़ेगी.

उसने अपना सर उठाकर कहा- सच हर्षद?मैंने उसके आंसू पौंछकर कहा- हां सच में!इतना कहकर मैंने अपने दोनों हाथों में उसका चेहरा पकड़ा और उसका माथा चूम लिया.

फिर एक बार में ही उसने मेरे लौड़े को अपने मुँह में अपने गले तक उतार लिया. नीता उठकर बैठ गयी और मेरे लंड को कामरस से लबालब देखकर अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. जैसे ही भाभी रूम में आईं तो मैंने उनको बांहों में भर लिया और उनकी गर्दन पर किस किया.

नेताजी का सेक्सी वीडियोकि दोपहर में मिहिरा मेरे घर आई, उसके कॉलेज के प्रॉजेक्ट में उसको मेरी हेल्प चाहिए थी. अलग अलग लंड का मज़ा वो बड़ी मस्ती से ले रही थी और उसका अहसास मुझे भी हो रहा था.

बीएफ सेक्स वीडियो एक्स

ललिता भाभी बोलीं- ठीक है, लेकिन अगर मुझे दर्द हुआ तो फिर मैं कभी नहीं करने दूंगी. कुछ ही मिनट में ही उसको चरम सुख की प्राप्ति होने लगी और उसकी चूत से पानी बाहर बहने लगा. उधर से- ओह सॉरी!फिर उसने मुझे बाकी सारी बातें बताई तो मैं बोला- ठीक है, मैं शाम तक आकर चेक कर लूँगा.

दोस्तो, मेरी पिछली सेक्स कहानीमकान मालकिन ललिता भाभी की गांड मारीमें मैंने आपको बताया था कि किस तरह से मैंने अपनी मकान मालकिन ललिता भाभी को दो दिन तक खूब चोदा था. कुछ ही देर में मेघना पसीने से पूरी तरह से भीग चुकी थी और उसका नंगा जिस्म पसीने के कारण चमकने लगा था. मैंने भी अपनी टांगें फैला दीं और गांड उठाकर उस मास्टर से अपनी चूत चुसाई का मजा लेने लगी.

मैंने कहा- ले साली रंडी, तू मेरी मॉम तो है ही … साथ में मेरी रंडी भी है. कुछ देर तक उसने खुद अपनी गांड को चुदवाया और पूरी तरह से बर्बाद कर दिया. उसने लंड बाहर निकालना चाहा लेकिन मैंने उसका सर थाम लिया और पूरा पानी उसके मुँह में भर दिया.

किरण को वहीं पर छोड़ कर मैंने अपना मोर्चा रेशमा की तरफ बढ़ाया और छलांग लगा कर बिस्तर पर चढ़ गया. मन में तो आया कि कह दूं कि मर्दों के लोड़े से बेहतर नशा कुछ नहीं है.

वो अपनी रफ्तार बढ़ाती जा रही थी और उसके दूध जोर जोर से ऊपर नीचे हो रहे थे.

मैं उसके निप्पल के ऊपर अपनी जीभ को घुमा रहा था और अपना एक हाथ उसकी चूत पर लेकर रगड़ने लगा. घड़ी सेक्सी वीडियो चोदा चोदीभाभी- तुम्हें कैसे मालूम था कि मैं नींद में थी?मैंने कहा- आपकी आंखें बंद थीं न. ट्रिपल सेक्सी व्हिडीओ बीपीवो कहने लगी- आह आह … चोदो और चोदो मुझे … आह … बहुत मजा आ रहा है प्रशांत … चोदो मुझे. मैंने साउंड सिस्टम में अच्छा सा गाना शुरू किया और रूपा को नंगी नाचने के लिए कहा.

मेरा आधा लंड गीता की चूत की दीवारों को चीरता हुआ चूत में प्रवेश कर चुका था.

कुछ देर बाद जब सब लोग चले गए, तब संजीव भैया मेरे लिए केक, चॉकलेट्स, नाश्ते के लिए भी बहुत कुछ लेकर आ गए. कुछ ही देर में वो अन्दर आई और मुझे लंड सहलाते देख कर मुस्कुराने लगी. फिर मैंने एक अपनी स्पेशल चड्डी पहनी जो मेरी लुल्ली को दाब कर ऊपर से चूत का शेप देती थी.

साबिरा अपनी हंसी को रोक कर बोली- हाय ये क्या है भाईजान? तू मानस जी का लंड देख, मूसल है … और तेरी तो पूरी खड़ी होने के बावजूद इतनी सी है?मैंने शिराज के बाल पकड़ कर उसके मुँह पर थूक दिया और कहा- हां मेरी रांड, अब तो तेरा भाई उम्र भर गांडू ही रहेगा, इस मादरचोद का निकाह मत करवाना. भाभी गाड़ी से उतरी और मुस्कुराते हुए गाड़ी खड़ी करके मुझे भी उतरने के लिए कहा।मैं गया तो वहां भाभी की मां और बाबू थे. अगर इस वक्त शेखर के हाथ खुले होते तो शायद उसने धारा की वो झीनी नाइटी फाड़ कर उसकी रसभरी चूत में अपना लंड गाड़ दिया होता.

बीएफ वीडियो चंडीगढ़

पीठ पर हाथ फेरा तो मेरी कामुक नजरें उनके शरीर के अन्य अंगों पर घूमने लगीं. मैंने भी अपनी छाती उसके पीठ पर चिपका कर उसके गर्दन और कान को चूसने लगा. माँ बेटी दोनों एक साथ बोलीं- ये क्या कर रहे हो?मैंने कहा- चार बजे की फ़्लाइट में टिकट बुक है.

उसके बाद से अब लच्छो रोज रात में मेरे साथ ही सोने लगी और अब वो मेरे साथ पूरी तरह से खुल चुकी थी.

देखिए मैं बहुत अच्छा राइटर तो नहीं हूँ, पर कोशिश कर रहा हूँ कि आपको मजा दिन.

वो दर्द की वजह से उछलने लगी पर वो नशे में थी तो उसे ज्यादा दर्द नहीं हुआ. मैं भी बैठे बैठे अपनी कमर आगे पीछे करते हुए उसका मुँह चोदने लगा और दूसरे हाथ से मैंने साबिरा की चूत का दाना मसल दिया. सेक्सी फिल्म दिखाओ बढ़िया वालाकहानी कुछ इस तरह से शुरू होती है कि शुरू शुरू में यशवंत भैया से मेरी बात नहीं होती थी पर धीरे-धीरे हमारी बात होने लगी थी.

मैं अपनी गाड़ी में बैठा और पूनम से मिलने लाजपत नगर के लिए निकल गया. भाभी का गोरा बदन मोती सा चमक रहा था और भाभी अपने गुलाबी होंठों को मींजती हुई काट रही थी. कुछ देर बाद मैंने ललिता भाभी को उठाकर अपने लौड़े पर बैठा दिया और चूचियों को मसलने लगा.

मैं अपने एक हाथ से उसके सर को थपथपाने लगा और दूसरे हाथ से उसकी पीठ सहलाने लगा. वास्तव में आप बहुत अच्छी चुदाई करते हो।मैंने निधि से कहा- आपको कभी भी जरूरत हो, मुझे तब बुला लेना.

फिर मैंने अपने लंड से गर्म पिचकारियां निकालना शुरू की और उसके चूचों पर लंड रस छोड़ दिया.

तभी मैंने मॉम के होंठों को अपने मुँह में लॉक किया और ज़ोर के झटकों के साथ उनकी चूत चुदाई करने लगा. तब भी भाभी को मेरेबड़े लंड की जरूरतपड़ती है, तो वो मुझे मैसेज कर देती हैं. ऐसे ही कुछ मिनट चुदाई करते करते मैंने पूरा लंड देविका की चूत में उतार दिया था.

सनी लियोन सेक्सी वीडियो देखने वाली मैंने कहा- नहीं, आपको आपकी जवानी बहुत परेशान कर रही थी न … बहुत लंड चाहिए था … अब ले मेरा लौड़ा ले साली और ले मेरा लंड. मॉम की चूचियां मस्त हिल रही थीं और उनकी मादक सिसकारियां मुझमें जोश भर रही थीं.

तो रेशमा ने मेरी तरफ देख कर जैसे मेरी इजाजत मांग ली और मैंने भी उसको मूक सहमति देकर पाटिल जी के पास जाने का इशारा कर दिया. दोस्तो, मैं विराज आपको पाटिल जी की सेक्रेटरी किरण और मेरी सेक्रेटरी रेशमा की ग्रुप सेक्स कहानी सुना रहा था. इसलिए मैं वहीं एक खाली पड़े केबिन में बैठकर उसके आने का और अपना बैच शुरू होने का इंतजार करने लगा.

बीएफ नंगा वाला वीडियो

अभी तक तो मैं फातिमा से ही प्यार करता था पर अब लग रहा था कि यार मैं भी कितनी सुंदर हूँ. जब तक इन छेदों को अच्छे से चाट कर पानी पानी न कर दूँ, मुझे चोदने में मजा नहीं आता है. वो मुझे जिंदगी भर याद रहेगी और उसका गोरा बदन गुलाबी चूत और उसके गुलाबी दूध मैं कभी नहीं भूल सकता.

आज उसके चेहरे पर चमक बढ़ने लगी थी और आहह आहह करके अपनी रफ़्तार बढ़ा कर मेरे लौड़े को चोदने लगी. उससे वो बहुत गर्म हो गयी और जोर जोर से सिसकारियां लेने लगीं- आह … इनको खा ले आशीष … आंह पूरा खा ले!मैं बारी बारे से उनके दोनों मम्मों को चूसता रहा.

मेरा हाथ अपने हाथ में पकड़ कर उसने अपनी चड्डी पर रखा और खुद मेरा हाथ अपनी गर्म चूत पर रगड़वाने लगी.

भाभी की चूत से कुछ लिसलिसा सा पानी बहने लगा था जो कि तार बन कर भैया की उंगलियों में लग कर साफ़ दिखाई दे रहा था. जब आसिफ ने अपना लौड़ा निकाला तो मैंने देखा कि उसका लंड मेरी गांड के खून में सना हुआ था. फ्रेंड्स, मैं विराज!आपने इस कहानी के पिछले भागबिजनेस पार्टनर से प्राइवेट सेक्रेटरी की अदला बदलीमें अब तक पढ़ा था कि पाटिल जी रेशमा को अपने साथ ले गए थे और मैं पाटिल जी की सेक्रेटरी किरण को अपने लंड की तरफ खींच रहा था.

मैंने सुमैत्री की गांड को थोड़ी देर चोदा और वापस अपना लंड बाहर निकाल लिया. हुआ यूं कि शुक्रवार का दिन था और अगले दो दिन कंपनी का काम बंद रहने वाला था. पेनफुल एनल सेक्स के कारण ‘अम्म्मी उईई जान निकल गई … आंह … रुक जाओ मेरी जान.

इस समय मौसी की उछलती हुई चूचियां देख कर मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था.

बीएफ सेक्सी कॉम वीडियो: चूंकि दोनों में एक साल का ही अंतर है तो हमारा बचपन साथ ही गुजरा था. सुमैत्री ब्लाउज और पेटीकोट में थी और अपने बाल तौलिया से झाड़ रही थी.

तब सुची उनसे बोली- और कोई तो नहीं आ रहा?मोनी बोली- हम दोनों तो अकेले आए हैं. वो मेरे बगल में कुछ इस तरह बैठी थीं कि अगर कोई सामने बैठा होता तो उन्हें उनकी पीठ दिखाई देती. जैसे ही उसके कानों में हमारी प्रेम कहानी की बात पड़ी, उसे गुस्सा आ गया.

[emailprotected]न्यू रण्डी सेक्स कहानी का अगला भाग:कुंवारी रंडी की चुत गांड चुदाई का मजा- 3.

शाम हुई तो मामी जी ने मुझसे कहा- बेटा तुम अपनी भाभी के साथ खेत वाले घर में रुक जाओ. मैं एक हाथ से दूध मसल रहा था और दूसरे हाथ से उसकी चूत के दाने को मसलने लगा. तभी मैंने पाया कि मौसी अपनी गांड पीछे करके मेरे खड़े लंड पर रगड़ रही थीं.