बीएफ सेक्सी फिल्म दीजिए

छवि स्रोत,चीन सेक्सी फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

प्रीता की सेक्सी: बीएफ सेक्सी फिल्म दीजिए, उससे मिल आओ!मैं- वहां जाऊंगा भी तो भी मौका थोड़ी ना मिलेगा?भाभी- तो अब क्या करोगे?मैं- भाभी मैंने आपको भी उंगली करते देख लिया है, आपके पास तो मेरे भैया हैं, फिर आप क्यों ऐसा करती हो?भाभी ने उदास होकर कहा- तुम्हारे भाई तो रात को आते ही थक कर सो जाते हैं और मैं भी तड़पती रह जाती हूँ.

करिश्मा कपूर का सेक्सी वीडियो दिखाएं

जैसे जैसे डीके के धक्के बढ़ते गए, मेरे और जॉन के बीच का घर्षण भी बढ़ता गया. हिंदी चूत की सेक्सीजैसे ही मैंने उसकी फोटो देखी तो बस मुँह से एक ही शब्द निकला कि मस्त सेक्सी…वो एक हीरोइन से कम नहीं लग रही थी.

अब मैंने बेहिचक पायल की कमर को कसकर पकड़ लिया और अपने लंड को चुत के छेद पर सैट कर दिया. सेक्सी ब्लू फिल्म हिंदी एचडी वीडियोफिर मैं उसको दीवार से सटा कर उसके गले में किस कर रहा था, पर वो मेरा साथ न देते हुए मेरी कैद से छूटने की चाहत दिखा रही थी.

देखो कितना जोर जोर से चूत में दो दो उंगलियां डाले अन्दर बाहर चला रहा है.बीएफ सेक्सी फिल्म दीजिए: नताशा के मुंह से लार की लकीर बह चली थी और दीमा के लंड के बाहर निकलने के साथ-साथ उसी के संग बाहर तक खिंची चली गई.

इसलिए मैं हमेशा पति से अपनी चुत कभी भी और कैसी भी स्थिति में चुदवा लेती हूँ.मैंने जब भाभी के बारे में पूछा तो वो बोली कि वो यहीं है लेकिन अभी अपनी फ्रेंड की बेटी की शादी में गई हैं.

सेक्सी व्हिडिओ इंडियन एचडी - बीएफ सेक्सी फिल्म दीजिए

इस तरह सीमा पूर्ण रूप से नंगी अपने पेट के बल अपनी गोरी सेक्सी पीठ तथा कूल्हों का प्रदर्शन करते हुए लेटी हुई थी.पापा मेरा अर्धनग्न शरीर अचंभित हो कर देख रहे थे- मार्वलस… नीतू तुम तो किसी संगेमरमर की मूरत की तरह हो.

तभी भाभी को कुछ महसूस हुआ और वो हिलने लगीं तो मैंने झट से उनकी साड़ी ठीक कर दी. बीएफ सेक्सी फिल्म दीजिए वैसे ही वो इस वक्त काले रंग की ब्रा पैंटी में एक मस्त सेक्सी लग रही थी, मुझसे रहा नहीं जा रहा था.

जवान लड़की के नाजुक अंगों का किसी मर्द से स्पर्श लड़की को भी बेचैन कर ही डालता है सो वही अनुभूति कम्मो को भी जरूर हुई होगी तभी वो मुझसे एक मिनट बाद ही दूर खिसक गयी.

बीएफ सेक्सी फिल्म दीजिए?

वो मेरी चुची मसलते हुए बोला- वन्द्या, तू कब से चुदवाना शुरू करवा चुकी है, इतने मस्त तेरे फीचर्स हैं इतना जबरदस्त फिगर है वो भी इतनी छोटी उम्र में! वन्द्या तू लाजवाब है, इतनी छोटी उम्र में किसी भी लड़की का इतना मस्त फिगर नहीं होता है, तुम वन्द्या बहुत ज्यादा चुदाई करवा चुकी हो, सच बता मुझे भी!परन्तु मैं आज सच में कुछ नहीं बोल रही थी. मैंने जैसे ही प्रिया की चूत में दो उंगलियां डालीं, तो अभी दोनों उंगलियां आधी ही अन्दर गई होगीं कि प्रिया सिसकारने लगी- ओह … दर्द हो रहा है. वो थोड़ी देर तक ऐसे ही बैठे रहे, फिर पापा ने भी अपने दोनों हाथ से बेटी को जोर से पकड़ लिया और मयूरी की गांड को जोर से दबा दिया.

जिससे वो एकदम चुदास से भर के जोश में आ गयी और अपनी कमर उठा कर मेरा लंड अपनी चुत में लेने की कोशिश करने लगी, पर वो नाकामयाब हो रही थी. उनके घर पहुँचते ही उन्होंने मुख्य द्वार बंद कर दिया और बोलीं- आज जैसी चाहो, होली मना सकते हो. पहले तो मैंने भी उसे वैसे ही समझते हुए बताया, जैसे दो दोस्त आपस में बात करते हैं.

कमरे के अन्दर ले आकर उसकी उफान मारती जवानी को चूसने का समय आ गया था. मैंने थोड़ा सा ऊपर उठकर नीचे अपने लंड की तरफ देखा तो मेरी आंखों में एक नयी चमक सी आ गयी, क्योंकि मेरा आधे से ज्यादा‌ लंड प्रिया की चुत में घुसा हुआ था और उस पर मुझे कुछ खून लगा हुआ दिखाई दे रहा था, इसका मतलब था कि सही‌ में प्रिया अभी तक कुंवारी ही थी. मेरी भाभी की चुदाई की कहानी आपको अच्छी लगी या नहीं, अपने कमेंट मुझे ज़रूर भेजिएगा.

हम लोग मस्ती में दरवाजा लॉक करना भूल गए थे और चाची के दरवाजा बजाने से दरवाजा एकदम से खुल गया और उन्होंने हम दोनों को चुदाई करते देख लिया. मैंने सेक्सी भाभी को उठा के बेड पर पटक दिया और अपनी लोअर और टी-शर्ट उतार दी.

जैसे ही उसके नीचे के दोनों होंठ चूस कर मैंने जीभ अन्दर डाली, उसके सब्र का बाँध टूट गया और चुत से सैलाब निकल कर मेरे चेहरे को नहला गया.

क्या बताऊं यारो … वो इतनी प्यारी लग रही थी कि मन मचल रहा था कि बिना इन्तजार किये बस अभी ही लंड डाल दूँ इसकी चूत में … लेकिन मैंने अपने पर काबू किया.

दोस्तो, मेरा नाम रोहन है और काफ़ी टाइम से मैं सेक्स कहानियाँ पढ़ता आ रहा हूँ. थोड़ी देर तक एक दूसरे की आंखों में देखते हुए आंखों से ही बातें करते रहे. मैं प्रिया की चूत पर अपनी जीभ को लगा कर उसके दाने को जीभ से चाटने लगा.

अब भाभी भी जोश में आकर मुझसे कहने लगीं- उफ़फ्फ़ थोड़ा और ज़ोर से दबाओ ना. मैंने उसी तरह प्रिया होंठों को चूसते हुए ही पहले तो अपने लंड को थोड़ा सा बाहर खींच लिया, जिससे प्रिया को कुछ राहत मिल गयी और मेरी कमर पर उसके हाथों की पकड़ भी कुछ हल्की हो गयी. कुछ देर रुक कर मैंने प्रिया को चूमना शुरू किया और साथ ही उसके चुचे भी दबा रहा था.

चाची अपने मोटे चूतड़ उछाले जा रही थीं और मैं चुची चूसते हुए चाची की चूत में लंड पेल रहा था.

बेडरूम में पहुँच कर मुन्ना (उस लड़के का नाम, जिससे पिंकी की शादी होनी थी) ने पिंकी को अपने पास खींच कर जोर से गले लगा लिया और उसके होंठों को चूसने लगा. इसलिए उसको अपनी चुत का रंग और मम्मों को दिखा दिखा कर उसे अपने कब्ज़े में कर लेना और हर रात उससे बोलना कि तुम मेरे पूरा ख्याल रखने का वादा करो. लो पहले चाय पी लो और आज जाना नहीं क्या?मुझे जाना तो था, पर भाभी को देखकर मन बदल गया.

वो खुश हो गई, उसकी ख़ुशी ठीक वैसी ही थी, जैसे चुदाई की कहानी की किताब मिल गई हो. मुझे देख कर बदमाशी वाली मुस्कान से बोली- क्यों राजू यहां क्या कर रहा है? किसी लड़की पर तो लाइन नहीं मार रहा न?मैंने हंस कर उसके ब्लाउज में तनी हुई चूचियों और साड़ी में नंगी कमर देखते हुए कहा- अरे भाभी हमारी ऐसी किस्मत कहां. इतनी कामुक लड़की देखकर उसका मन किया कि वो उठे और जाकर बेटी की दोनों चूचियों को जोर से पकड़कर मसल दे और उसका वो टॉप फाड़कर अपनी बेटी को नंगी कर दे… स्कर्ट ऊपर-नीचे होने से उसको यह भी पता चल गया कि मयूरी ने अभी पैंटी नहीं पहनी हुई है.

ये देख तारा ने हाथों में बहुत सारा थूक लगाया और अपनी योनि को मलनी शुरू कर दी.

भाभी मेरे नीचे पड़ी हांफ रही थीं और मैं बड़े बड़े धक्कों से उनकी चूत को नहला रहा था. मैं तो जैसे पागल हो गया … मजा सजा बन गया था।फिर उसने अचानक मेरी अंडरवियर उतार दी.

बीएफ सेक्सी फिल्म दीजिए फिर मैंने भी अकेलेपन को दूर करने के लिए अन्तर्वासना पर कहानी पढ़नी शुरू कर दी और मुझे भी लगने लगा कि मेरे जीवन में भी कोई जान होना चाहिए. मैंने उससे कुछ नहीं कहा और एक पत्र लिख कर उसे यह कहते हुए दिया कि तुम्हें उसकी कसम है, जिससे भी तुम सबसे ज़्यादा प्यार करते हो, अगर इस को वापिस घर पर पहुँचने से पहले खोला या पढ़ा.

बीएफ सेक्सी फिल्म दीजिए मैं अक्सर अपनी मौसी के घर जाता रहता हूँ, क्योंकि मैं अपनी मौसी को बहुत पसंद करता हूँ. यह सब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो पाया, इसी लिए मैं उनसे मिलने भी नहीं आया.

मुझे ये सुन के बहुत अच्छा लगा कि अब जब तक भाभी वापस नहीं आ जातीं, मेरी बहुत चुदाई हुआ करेगी.

बीएफ पंजाबी बीएफ पंजाबी बीएफ

मनीषा हल्के हल्के मेरे लंड को पूरा अन्दर तक लेने की कोशिश कर रही थी. इस बार वो इतनी जोर से पायल का मुँह चोदने लगा कि पायल आहें भरने लगी. यह हुए कहते आंटी ने मेरे लंड को हाथ में लेकर ज़ोर से दबाते हुए अपनी चुत के मुँह पर रख लिया.

अगर वाटसऐप्प पर कोई भी एडल्ट जोक आये तो तीनों आपस में फॉरवर्ड करने में देर नहीं लगाते थे. बाहर जाते समय उसने अपने कमरे का दरवाजा बंद कर दिया था ताकि मयूरी आराम से अपने कपड़े पहन सके. इस वक्त मुझको भी एक लंड की ज़रूरत महसूस हो रही थी, तो मैंने कुछ नहीं बोला.

वो- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या?मैं एकदम से चौंक गया क्योंकि किसी कस्टमर ने आज तक मुझसे ऐसा नहीं पूछा था.

और घरवालों को पता नहीं है कि मैं फ़ोन रखती हूँ और किसी लड़के से बात करती हूँ. उसने मुझसे कहा कि इस कहानी को अन्तर्वासना को भेज कर प्रकाशित करवा दूँ, इसलिए मैं यहां उसके लिए ये कहानी लिख कर भेज रहा हूं और उम्मीद करता हूं कि अन्तर्वासना के सभी पाठक इस कहानी को जल्द से जल्द पढ़ कर मजा ले सकें. कॉलेज के लगभग दो महीने पूरे हो गए थे, सब लोग दूसरे को समझने लगे थे.

अंकित ने मेरे कूल्हों को अपने हाथ से फैलाया और थोड़ा सा मेरे पैर को और किनारे किया, वो भी अपने हाथ से … अब उसका लौड़ा पूरी तरह मेरी गान्ड में सेट हो चुका था. अब मैं उनके खड़े हुए टाइट निप्पल को अंगूठे और उंगली के बीच लेकर ज़ोर ज़ोर से कुरेदते हुए मसलने लगा. इसे पढ़कर मुझे ठीक वैसा ही लगा जैसे वर्षों पहले सत्यम से गांड मरवाकर लगा था.

चाचा मुझसे लिपटे लिपटे बोले कि चल वन्द्या डार्लिंग अब लेट जा, अब अपन मस्त चुदाई का खेल शुरू करते हैं. इस वक्त मेरा पूरा लंड दीदी की चुत के अन्दर उनकी बच्चेदानी तक जा रहा था.

कभी सोचती कि काश लंडों की कुर्सी होती तो पूरे समय लंड पर बैठने का सुख उठाती. कभी कभी मैं जब खेलने जाता था तो उनके कमरे से ‘आआहठह ऊऊठहह ईईईईए अअअअअ ऊऊऊऊ. रांड ले लंड ले… खा जा लंड को साली… अहह अहह अहह’ करते हुए उसे चोद रहा था.

खेत वाले कमरे के अंदर मस्त बेड लगा हुआ है और गद्देदार गद्दा लगा हुआ है जिस पर रोमांस करने का एक अलग ही मजा आता है।वो समझ गया कि किस लिए चाबी चाहिए, वो बोला- ठीक है ले जा!क्योंकि हम बहुत अच्छे दोस्त हैं, दोस्त तो क्या भाई हैं।मैं चाबी ले आया और अगली सुबह का इंतजार करने लगा.

मैं उनकी बातों से और उत्तेजित हो गया और उनके बालों को ज़ोर से पकड़ कर उन्हें बिठाया और उनके मुँह में अपना 6 इंच लंबा और मोटा लंड पेल दिया. हां मगर पहले नाम अपना ही रखना ताकि यह ना समझा जाए कि मेरे मन में कोई खोट है. मुझे लगा कि साली इतनी मस्त माल है कि पूरी ज़िन्दगी इसे यहीं बैठ कर चोदता रहूँ.

अंकित मेरे पैरों तरफ से आया और सबसे पहले मेरे मेरे पैर के अंगूठे को अपने मुँह में भर कर चूसने लगा और फिर उसने मेरी टांगों को चूमना शुरू किया. उन्होंने अपना हाथ मेरी पैंट के ऊपर से मेरे लंड पर रख दिया, जो कि पहले से ही खड़ा हो गया था.

चाची ने भाभी को बोला- तुम और दिव्येश खेत में जाकर बैलों को पानी पिला कर चारा आदि डाल आओ. मुनीर के अलग होते ही तारा माइक के ऊपर घोड़े पे बैठने के अंदाज़ में बैठ गयी और लिंग को हाथ से पकड़ योनि की दिशा दिखा बैठ गयी. रजत की आँखों और मयूरी की चुत के बीच मुश्किल से 5-6 इंच का फैसला होगा.

देव बीएफ वीडियो

चाची नथुने फैलाकर और अपनी शक्ल को बिगाड़ बिगाड़ कर मेरे आंखों में आंखें डाल कर सिसकारी भरे जा रही थीं.

वो अपना मुँह मयूरी की चुत के पास ले जाकर उसको सूंघने लगा और मयूरी ने अपनी चुत की झाँटें आज ही साफ़ की थी तो उसका योनिक्षेत्र एकदम साफ़ सुथरा था. बताओ ना तुम और कितने लंड अपनी चुत में पिलवा चुकी हो? वैसे जब तुम्हारे पति को गांड मरवाने और मारने का शौक है. मैंने फिर मना किया तो बोली- मैं तुमसे जिस लाइफ के गिफ्ट की बात कर रही थी, वो ये ही है.

कुछ ही देर में मैं उनके मुँह में और वो मेरे मुँह में अकड़ कर झड़ गईं. मैं दर्द से बिलख रही थी, पर उनके हाथ मेरे मुँह से निकलने वाली आवाज को रोके हुए थे. सेक्स फिल्म नंगी सेक्सी फिल्मउसने नोटिस किया कि उसका लंड उसके शॉर्ट्स में तम्बू बनाये हुए है और वो अब इतना टाइट हो चुका है कि फटने को तैयार है.

उसके मैसेंजर में उसने कई लड़कों से बहुत सी चुदाई की बातें की हुई थीं. मयूरी ने ये नोटिस किया और उसने अपने कदम कमरे की अलमारी की तरफ बढ़ा दिया.

उसके हाथ मेरे मम्मों को दबा रहे थे, जो पूरी तरह से नंगे किए हुए थे. यही सोच कर मैं एक महीने तक नेहा के कॉलेज की तरफ नहीं गया और इसी बीच मैं मोनिका से कोई दस बाद मिला. अगले दिन फिर मुझे उनकी पेंटी बाथरूम में दिखी, तो मैंने फिर से उसमें मुठ मार दी और कल के जैसे फिर मौसी कपड़े धोने चली गईं.

सच बताऊं कम उम्र की नयी लड़कियों को भी फुसलाकर उनकी भी गांड चुदाई की. वो मुझे कई बार बोलती थी कि आप इतने साल से बिना सेक्स किए कैसे रहती हो. वैसे ही उनकी चुत में लंड घुसाते हुए अपने हाथ से आंटी के मम्मों को कचाकच निचोड़ने लगा.

क्या करूँ?भाभी ने अपनी कमर पर मालिश करने को बोला और भाभी खटिया पर उल्टा लेट गईं.

जब मैंने लड़की दिखाने की बात की तो एक नेपाली और एक इंडियन जिसकी उम्र करीब 28 से 30 साल की रही होगी, बेहद गोरी और बहुत कामुक दिख रही थी, उसके उभार बड़ी बड़ी चूचियां साफ दिख रही थी. विक्रम- यह नहीं हो सकता?मयूरी- क्यूँ नहीं हो सकता?विक्रम- इसने मेरी गर्लफ्रेंड के साथ…मयूरी- अरे भैया… तुम पागल हो क्या? रजत भी तो यही बोल सकता है? पर तुम दोनों समझ क्यूँ नहीं रहे कि सपना ने तुम दोनों का चूतिया काटा है वो भी एक साथ… रजत ने जो भी किया उसकी मर्जी से ही किया न? उसके साथ को जबरदस्ती तो नहीं की न?विक्रम- वो जो भी है? पर मैं इस धोखेबाज के साथ कुछ शेयर नहीं कर सकता.

उनका हमारे घर से बहुत अच्छा व्यवहार है और हम लोग तकरीबन रोज मिलते हैं. इसी प्रकार श्लोक को भी उसके बच्चे से अपनापन होगा, हम चारों के बच्चे हमारे बच्चे होंगे और कोई भेद नहीं होगा। अगर ऐसा होता है तो तेरा बच्चा मेरा बच्चा की भावना भविष्य में हमारे सामने नहीं आएगी. मग़र मैंने अपनी भावनाओं पर कंट्रोल किया और पूजा के पास चला गया।जैसे ही मैंने पूजा को देखा तो मन किया कि अभी चोद दूँ.

मेरी उम्र 20 साल की है, औसत दुबला सा शरीर है और मैं बाइसेक्सुअल हूँ. जब से मामा की उनसे शादी हुई थी, तब से ही मैं मामी को पेलने का ख्याल अपने मन में संजोए हुए था कि हो ना हो. फिर सब कपड़े पहनकर सामान्य माँ-बेटों की तरह तैयार हो गए क्योंकि मयूरी के घर आने का वक्त हो चला था.

बीएफ सेक्सी फिल्म दीजिए अचानक उसमें एक नंगी मैगज़ीन भी निकल आई, मैंने कहा- ये क्या है? तुम्हारे पास कहाँ से आई?वह चुप रही. मैंने कहा- ठीक चल रहा है भैया!मैं अक्सर घर में टाइट लेगिंग और टीशर्ट पहनती हूँ जिससे मेरे दूध साफ उभरे हुए नजर आती हैं, वो भैया शायद मेरे दूध को ही देख रहे थे.

देहाती बीएफ ब्लू सेक्सी

मैं तुम्हारी मर्दानगी को अपनी योनि के रास्ते मेरे भीतर आते हुए महसूस कर सकती हूं. उसने जानबूझ कर यह सब कहा होगा ताकि वो उसकी चूत पर जल्दी से अपना लंड डाले. उसका लंड चिकनाई की वजह से झट से लगभग आधा मयूरी की गांड में चला गया.

अब मेरी आँखों के सामने उसके खरबूजे के समान चूचे एक छोटी से सफेद रंग की ब्रा में बंधे हुए थे. दूसरी ने एकदम से मुझसे पूछा- ओ भाई, पहचाना या नहीं?मैंने कहा- नहीं. सेक्सी वीडियो नंगा चोदा चोदीवो अब पूरी तरह से उत्तेजित हो गयी थी, इसलिये उसकी चुत ने भी अब कामरस उगलना शुरू कर दिया.

मैं दिखने में अच्छा लगता हूँ और मैंने जिम जा कर थोड़ी अच्छी बॉडी भी बना ली है।बात आज से तीन महीने पहले की है जब हमारे आफिस में एक नई लड़की ने जॉइन किया था, उसका नाम कोमल था, उसकी उम्र 21 साल थी दिखने में एकदम सीधी सादी, गोरा रंग, कसा हुआ शरीर, लंबे बाल।वो जयपुर के पास ही किसी गांव से यहाँ जॉब करने आयी थी, उसका पहला दिन था आफिस में तो वो किसी से कोई ख़ास बात नहीं कर रही थी.

उसकी चूचियों को मस्ती से मसकता हुआ, मैं उसको दबा कर चोदे जा रहा था. कुछ ही मिनट में मयूरी की चूत से ढेर सारा पानी निकल गया जिसको अशोक ने चाट-चाट कर साफ कर दिया.

मैंने कहा- शाम का टाइम है, देख लो?बोली- सब देख लिया… तो चल।हम चल दिये. फिर सबने जब मयूरी से पूछा- तुम अपनी चुदाई की कहानी बताओ?तो वो एक पल को चुप सी रह गयी. वो चुदाई के आसनों से अभी अंजान थी, इसलिये मैंने उसे अपने ऊपर किया और उसकी चूत पर लंड सैट करके उसे ऊपर नीचे होने के लिये कहा.

फिर मेरे मन में शरारत सूझी तो मैंने उसकी चुत में उंगली कर दी और उसके चुत के दाने को मसलने लगा.

धीरे धीरे माइक और कमजोर से धक्के मारता गया और तारा की भी पकड़ ढीली पड़ती चली गयी. वो अपने सहेलियों की चुदाई के बारे सोचे जा रही थी और कितनी भी कोशिश करने पर अपने आप को रोक नहीं पा रही थी. जीभ को गोल कर के उसके नमकीन पानी से भरे छेद में घुसाया और जहां तक संभव था, अंदर ले गया.

वीडियो सेक्सी पिक्चर मराठीमयूरी की आहें अब और भी तेज़ हो रही थी पर वो अपने पर नियंत्रण रखे हुए थी क्योंकि वो अपनी आवाज़ को बाहर नहीं जाने देना चाहती थी. अब आगे:इधर मुझसे भी अपनी बारी आने का सब्र नहीं हो रहा था और मैंने दुबारा लंड को उसके दीमा के लंड से भरे मुंह से लगाया तो वो एक बारगी दीमा का अभी-अभी मुंह में लिया लंड छोड़ कर मेरे लंड को चूसना शुरू हो गई, लेकिन दीमा ने दुबारा उसके मुंह का पीछा करते हुए अपने लंड को उसके होठों से लगा दिया.

पहली सुहागरात की बीएफ

सब जगह देखने के बाद वो फर्स्ट फ्लोर पर एक रूम में किसी लड़की से बतिया रहीं थीं. मैं तुमसे दिन रात चुदवा सकती हूँ मेरे राजा!वो ये सब कहती रही और अचानक पलट कर मेरे ऊपर बैठ गयी. हम तीनों के मुँह से सेक्स की उत्तेजना से भरी अजीब अजीब आवाजें निकल रही थीं.

” नौकरानी ने कहा और वो पलट कर जाने लगी।उसके लौटते ही मैंने दरवाज़ा बंद कर दिया, वापस सोफ़े पर बैठ गया और सिगरेट सुलगाकर कश लेने लगा।कहानी जारी रहेगी. फिर वो मजाकिया अंदाज में बोलीं- रात में दूध पिया या नहीं?मैं उनकी बात का कोई जवाब नहीं दे पाया, तो वो बोलीं- आज पिला देंगे. धीरज एक मिडिल क्‍लास परिवार से था, उसने मुझे बताया कि वो एक मिडल क्लास के परिवार से है और उसके कुछ रिश्तेदार तो बहुत ही ग़रीब हैं.

कंपकंपाती ठंड में, खाली घर के बंद कमरे में, बिस्तर पर मेरे हाथों में मेरे ख्वाबों की मल्लिका मेरी मामी का नग्न शरीर था और उनकी कोमल चूत में मेरा कठोर व सख्त लंड घुसा हुआ था. वो जब काम करतीं तो मैं उनके सामने खड़ा हो जाता और वो झुकतीं, तब मैं उनके हिलते हुए मम्मों को देखता रहता था और उनके सामने ही अपने लौड़े को सहलाने लगता था. एक रोज मैंने भाभी से कहा- भाभी एक रोज आपने कहा था कि आप मुझे कोई बढ़िया चीज दिलवाएंगीं, वो कौन है?भाभी ने बताया- तुम्हारे भैया जब टूर पर जाते हैं तो पहले मेरे पास मकान मालिक की एक प्लस टू में पढ़ने वाली लड़की ‘हिमानी’ सोती थी.

यह बात आज से लगभग 5 महीने पहले की है, जब मैं अपना एक एग्जाम निपटा के कुछ दिन के लिए अपने गाँव आया था. उसकी जाँघों के बीच चुत वाले हिस्से पे हाथ से थोड़ा स्पर्श करने पर भी वो नहीं जगी.

थोड़ी देर बाद मैंने अपने लंड से कंडोम उतारा और उसे गले लगा कर थैंक्स कहा.

बस मैं उसके ऊपर किसी भुक्कड़ की तरह टूट पड़ा और दोनों मम्मों को भींच कर दबाता और हॉर्न जैसे दबा दबा कर चूसता जा रहा था. देसी सेक्सी दिखानाहां मगर पहले नाम अपना ही रखना ताकि यह ना समझा जाए कि मेरे मन में कोई खोट है. सेक्सी वीडियो चाहिए बिहार वालाअब आगे:मैंने ध्यान से देखा कि उसकी चुत पैरों में दबी होने के कारण बहुत हल्की सी दिख रही थी, लेकिन उसके चूचों को मैं बिल्कुल साफ़ देख सकता था. अध्याय – 0 – मन का बीजतो बात आज से करीब 6 साल पहले की है यानि की मयूरी की शादी के लगभग 5 साल पहले.

सुबह विक्रम उठा और अपने कोचिंग चला गया जहाँ वो कम्पटीशन की तैयारी करता था.

उसकी गोरी गोरी मांसल जांघें जैसे चमक रही होती हैं और इन सब चीजों पर से इंसान तो क्या फ़रिश्तों की भी नज़र नहीं हट सकती. मैंने मजबूर होकर उनको किस किया और कपड़े पहन कर खुद को ठीक करके घर आ गया. मैं अपने बारे में आपको बता दूँ कि मैं एक आम सा दिखने वाला लड़का हूँ.

फिर उसने सोचा कि अपने भाइयों को टारगेट करती हूँ, पर किस भाई को, छोटे को या बड़े को … यह फिर बहुत मुश्किल सवाल था, बहुत सोचने के बाद उसने फैसला किया कि दोनों पर लाइन मारी जाये, जो पट गया उसी का लंड अपनी चुत में डलवा लूंगी, पर चुदाई तो होकर रहेगी. मैं अपने हाथों से पकड़ कर उनका चेहरा अपनी चूतड़ों में घुसेड़ रहा था और वो भी जीभ मेरी गांड के अन्दर डाल कर मुझे मजा दे रहे थे. पायल मजा ले रही थी- आहह जीजू मजा आ रहा है … और अन्दर तक करो ना … आह … जोर से करो … आहह रशीद साले दर्द मत दो … आहहहह प्लीज … उई माँ …थोड़ी देर बाद रशीद झड़ गया और बाजू में जा के नशे में टुन्न हो कर गिर गया और मैं पायल की चूत को चोदता ही रहा.

सेक्सी नंगी सीन वीडियो बीएफ

मेरी यह बात सुनकर उसने मुझे सहारा दिए रखा और जब मैंने कमजोरी का सा दिखावा जारी रखा, तो उसने मुझे गोद में उठा कर कहा- चलो मैं तुम्हें वहाँ पेड़ के नीचे लिटा दूं. कुछ देर बाद मैंने प्रिया को डॉगी स्टाइल में आने को बोला और मैं उसके पीछे घुटनों के बल खड़ा हो गया. अब रजत अपनी एक उंगली मयूरी की गांड के छेद पर रखकर धीरे-धीरे घुसाने की कोशिश कर रहा था.

तब तारा ने एक हाथ में थूक लगा फिर से अपनी योनि में मला और लिंग को पकड़ कर सुपाड़े तक अपनी योनि में घुसा लिया.

कुछ ही देर में मेरे लंड ने उसकी चूत में जगह बना ली थी और उसका दर्द कम होता चला गया.

वहां अपनी गर्लफ्रेंड से मिला और उसको बोला- कल हम दोनों मेरी चाची के घर पे मिलेंगे. सो मैंने खाने के लिए सिर्फ़ वो ही तैयार करवाया है, लेकिन आज हमारी पहली मुलाकात है, सो स्वीट तो चलना ही चाहिए. भुवनेश्वर माली सही सेक्सी वीडियोमैं आंटी को अपनी बांहों में लेकर प्यार से गालों पर चूमता, तो कभी नाक पर, तो कभी माथे पर और गले पर चूमने लगा.

मेरे हाथ उसके मम्मों पर थे और लंड पूरा चुत में अन्दर-बाहर हो रहा था. कभी सोचती कि काश लंडों की कुर्सी होती तो पूरे समय लंड पर बैठने का सुख उठाती. जैसे ही मैंने हल्का सा धक्का लगाया, तो जो पानी निकलने की वजह से उसकी चूत चिकनी हुई पड़ी थी, उसका फायदा हुआ और मेरा दो इंच लंड अन्दर चला गया.

मैं भी उछल उछल कर उनके लम्बे लंड से गांड चुदाई के मजे ले रही थी और कामुक सिसकारियां निकाल रही थी ‘आहहह हहह. पर एक सवाल का जवाब इमानदारी से देना, क्या तुम कभी पैसे लेकर चुदी हो? या किसी मर्द ने तुम्हें पैसे दिया है चोदने के बाद? अगर सच बोलेगी तो मैं तुझे बहुत पैसे दिला दूंगा अपने ही गांव में!फिर बोला- चल अच्छा एक बात बता खुल कर संकोच मत करना; अगर मैं तुझे पैसे दिलवाऊं तो तू चुदवायेगी? मेरे दो अंकल हैं, एक नेता हैं, दूसरे रिटायर इंजीनियर; दोनों बहुत पैसे वाले हैं, उन्हें नया नया माल चाहिए.

नींद में उसकी नाइटी ऊपर की ओर खिसक गई थी और नीचे उसने पैंटी पहनी हुई थी.

तो मैंने कहा- लगता है, हारने से डर गई हो?वो कहने लगी- मैं डरती नहीं हूँ. मैंने यहीं उदयपुर में रह कर अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की है और यहीं एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम कर रहा हूँ. माइक ने भी तारा को पकड़ अपनी ओर खींचा और स्तनों को मुँह से चूसना शुरू किया.

देहाती सेक्सी वीडियो लड़की की चुदाई मुझे उसके लंड का स्पर्श मेरी चूत के अन्दर तक महसूस हो रहा था जो मुझे मजा दे रहा था. वो समझ गयी कि बेटी मयूरी ने अपने बाप अशोक का लंड अपने चूत में डलवा लिया है.

मैंने कहा- आपको ऐसी सेक्सी हालत में देखने के बाद इरादा तो ठीक कहां से रहेगा. जिन चीजों को सिर्फ पॉर्न फिल्मों में होते हुए देखा था, आज वो चीजें मेरे सामने, मेरे बदन पर हो रही थीं. मुझे फैशन का बहुत शौक है और जब भी मेरे चाचा का लड़का आता है, जिसको मैं भाई बोलती हूँ, वो मेरे जिस्म की खुशबू से ही मदोश हो जाता है.

एक्स एक्स एक्स बीएफ हिंदी फुल एचडी

इसलिए मैं हमेशा पति से अपनी चुत कभी भी और कैसी भी स्थिति में चुदवा लेती हूँ. उनको हल्का दर्द भी हो रहा था, लेकिन वो दांत दबा कर दर्द को सहते हुए मेरे लंड को खा गईं. आज तेरी हर फरमाइश पूरी होगी?” मैंने कहा और उसकी जांघ को हौले से सहलाया.

मैंने यहीं उदयपुर में रह कर अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की है और यहीं एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम कर रहा हूँ. उसने जल्दी ही अपनी कुछ फ्रेंड्स के साथ आने को कहा है, उसके बाद का किस्सा जब होगा तो आप सभी को जरूर लिखूंगा.

तभी फूफा जी ने उनकी चुत पर हाथ से सहलाना शुरू कर दिया और उनकी नाइटी को ऊपर कर दिया.

इस दिनों मैं अनु से फोन पे बात करता था और उसे समझाता था कि अभी समय ठीक नहीं आया है, हमें थोड़ा और सावधान रहना होगा. इस बार मैं नीचे था, वो मेरे लंड को अपनी चूत में लेकर मेरे ऊपर चढ़ गई और हिलने लगी. मैं उठा कर ला रहा था तभी मेरी वासना इतनी प्रबल हो गई, मन किया कि पूजा को भी चोद दूँ.

जबकि एक्सप्रेस ट्रेन मुझे 12-30 तक पहुँचाती, इसलिए मैंने इसी ट्रेन से जाना सही समझा. मेरी मम्मी और उसकी मम्मी बहुत अच्छी दोस्त थी इसलिए मेरे भाई को मेरे घर आने में कोई दिक्कत नहीं होती थी. ”मैंने नेहा का हाथ रोक कर कहा- एक मिनट रुक भाभी यहाँ नहीं, चल नीचे चलते हैं.

मैं वो दर्द दुबारा महसूस करना चाहती हूँ पंकज प्लीज़ एक बार में ही पूरा डालना.

बीएफ सेक्सी फिल्म दीजिए: उसके मुँह से भी आहें निकल रही थी पर वो अपने आवाज़ पर काबू किये हुए था. मैंने उससे कहा- कैसा लग रहा है?उसने मेरी छाती में एक मुक्का मारा और शर्माकर आंखें बंद कर लीं.

अब मैंने मुस्कान से कहा- जान, मैंने तो तुम्हारी चूत को गीला कर दिया है, अब मेरे लंड को भी थोड़ा प्यार दे दो. अंकल जी, कहां खोये हुए हो इतनी देर से?” कम्मो ने बोलते हुए मुझे कंधे से हिलाया. इसके बाद मैंने डरते डरते मौसी को टच करना शुरू किया और उनके मम्मों को दबाने लगा.

अब मैं चाचा ससुर के लम्बे लंड को अपनी चुत में लेकर पूरे मजे ले रही थी.

इस पोज़ में काफी अच्छा लगा और अब जोर जोर से प्रिया की चुदाई हो रही थी. तभी मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और हम दोनों अगले राउड के लिए तैयार हो गए. मुझे कॉलगर्ल, रंडी या दलाल समझ कर मेल ना ही करें तो अच्छा रहेगा क्योंकि मैं ऐसे मेल नहीं पढ़ती हूँ और सीधे डिलीट कर देती हूँ.