सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी

छवि स्रोत,मोटी औरत का सेक्सी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

चोदा चोदी बताइए: सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी, अगर ज्यादा दर्द हुआ, तो ठीक से नहीं चल पाऊंगी और मेरे हसबेंड को शक हो जाएगा.

काला की सेक्सी

मैंने उसको अपनी कजिन के पास जाते देखा और उससे कुछ बात कहते हुए देखा तो मैं बाहर आ गया. सेक्सी लहंगेफिर मैंने पलंग पर बैठे बैठे मॉम के दोनों बूब्स को ज़ोर से ऊपर की ओर खींचने लगा जैसे रबड़ को खींचते हैं.

कुछ देर बाद मॉम, मेरे पापा की तरफ पीठ करके खड़ी हो गईं और रसोई की पट्टी पर अपने हाथ टिका कर झुक कर खड़ी हो गईं. गुजराती लेडीस सेक्सीमैं- कैसा लग रहा है शिखा तुमको … शर्माओ मत!शिखा- मुझे समझ नहीं आ रहा है, क्या बोलूं?मैं- क्यों?शिखा- आपसे ऐसे बात करने में मुझे अच्छा नहीं लगता, आप मुझसे कितने बड़े हैं.

मेरा वीर्य निकलने वाला था, मैंने उसके गाल पकड़े और मुँह खोल कर अपना लंड जोर से अन्दर पेल दिया.सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी: मैंने सबसे पहले उसे अपनी तरफ खींचा और अपनी बांहों में लेकर उसको किस करना चालू कर दिया.

निम्मी नशे में बोल रही थी- सर … मुझे नंगी क्यों कर रहे हो? मुझे शर्म आ रही है.मेरी गर्म जीभ का स्पर्श जैसे ही आंटी चूचियों पर हुआ तो आंटी के मुंह से सिसकारी सी निकल पड़ी.

ब्लैक लैंड वाला सेक्सी वीडियो - सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी

मैंने मैम से नज़र हटाई, तो देखा कि प्रियंका मेरे उभरे लंड को गौर से देख रही थी और उसका एक हाथ उसकी स्कर्ट में था.मेरे लंड ने महसूस कर लिया था कि उसकी कुंवारी बुर की फांकों से पानी भी कुछ ज्यादा आने लगा था … जिससे एक प्राकृतिक चिकनाई ने चुदाई के लिए लंड रास्ते को सुगम बनाने में मदद करना शुरू कर दी थी.

अब आगे:कुछ देर बाद सैंडी, बड़ी जुड़वां बहन को लेकर बाहर आता दिखा तो मैं समझ गया कि आज सैंडी ने इसकी ढंग से चुदाई कर दी है. सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी वो तेजी के साथ मेरे लंड को चूस रही थी और मैं उसके गीले बालों में हाथ फिरा रहा था.

और उसके बाद भी हमेशा ऐसे ही सेक्स किया।शुरू शुरू में तो मुझे पता ही नहीं था कि कैसे होता है.

सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी?

थोड़ी देर बाद अनिल ने एकता के चूचों को सहलाते हुए पूछा- मजा आया?एकता बोली- हां … बहुत मजा आया भैया. फिर मैंने मॉम के होंठों पे अपने होंठ चिपका दिए जिससे मॉम की आवाज़ भी बंद हो गई और मॉम को मस्त जबरदस्त चुम्मा दे रहा था. मैंने भाभी से पूछा कि मैंने आपको पूरी तरह खुश कर दिया या नहीं?उन्होंने मुस्कराते हुए हां बोला और बाहर जाकर सोफे से कपड़े ले आईं.

मगर जब रहा न गया तो दो महीने के बाद मैं एक सरकारी अस्पताल में एचआईवी टेस्ट करवाने के लिए गया. मैंने उसे बांहों में कस रखा था जिससे वह छुटने की पूरी कोशिश कर रही थी ताकि लंड को बाहर निकाल सके. नूर दर्द से कराहने लगी उसकी गांड बहुत टाइट थी लेकिन फिर भी उसने हिम्मत रखी और लंड अपनी गांड में घुसवाती रही.

मैंने अपने मोबाइल के कैमरा को ऑन किया और उसको मेरे सोशल मीडिया अकाउंट से लाइव कर दिया. अभी तक हम दोनों ने एक दूसरे के माल का ही मज़ा लिया था, चुदाई नहीं की थी. (मेरे घऱ में मुझे सोनू कह कर ही बुलाया जाता था)मैंने महसूस किया कि मोसी मेरे कंधे को इस तरह से सहला रही थी जैसे वो मेरे शरीर की मजबूती को जांच रही हो.

मैं परिवार में अकेला हूँ, इसीलिए मॉम डैड ने मुझे पूरी आजादी दी हुई है. वो चाय बनाने रसोई में चली गई।तब तक मैंने टी वी ऑन किया और मूवी देखने लगा।जब वो चाय लेकर वापस आयी तब मूवी में एक गरमागरम सीन चल रहा था.

मैंने कहा- रीना क्या तुमसे सब बातें शेयर करती है?वो अचम्भित होकर बोली- हां …मैं मुस्कुरा दिया.

मैंने पॉर्न फिल्मों में जैसे देखा था, मैं वैसे ही घुटनों के बल बैठ गया.

मैंने कहा- पापा-मम्मी को छोड़ो अपना और मेरा बोलो … आगे क्या करना है?अर्पणा मुस्कुरा कर बोली- पप्पू को साफ करके आओ … मुझे इसको प्यार करना है. मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि मैं अपनी चूत की प्यास को कहां पर जाकर शांत करूं. यह पहली बार था कि मैं सेक्स कर रही थी, वरना आज तक सिर्फ सेक्स विडियो में ही देखा था।फिर उसने भी अपने सारे कपड़े उतार दिए। और अपना लंड मेरी कुंवारी बुर पर लगाने लगा.

मॉम की चूचियों की निप्पल बड़ी थी तो वो आराम से मॉम के मुंह में पहुंच रही थी. ऐसा करने पर वो एक सांप की तरह मेरे नीचे मचल रही थी और अपनी चूत को ऊपर उठा दे रही थी. जरीन से यह ओरल सेक्स बर्दाश्त नहीं हुआ और उसने मेरे लंड को अचानक ही मुंह में ले लिया.

मॉम ने मुझे बेड पर बैठाया और बोली- बेटा, सिर्फ देख लेना, हाथ मत लगाना!मैं बोला- ओके मॉम!फिर मॉम ने अपना टाईट टॉप उतार दिया.

थोड़ी ही देर में दो औरतें दो छोटे छोटे बच्चों के साथ आईं और मेरे सामने वाली सीट पर बैठ गईं. वे दोनों नीचे उतर गए और ट्रेन धीरे धीरे रेंगते हुए प्लेटफार्म को छोड़ने लगी. मुझसे बात करने के लिए आप नीचे दी गई जीमेल आइडी पर मेल करके मैसेज दे सकते हैं.

वो पूरे चरम सीमा पर थी, पर मुझे लगा कि उसकी चूत काफी ढीली हो चुकी थी. वहां मैं और मेरी बड़ी साली थे, जो मेरे साथ ऑफिस में काम करती है और होटल में चुदाई कर चुकी थी. मेरा ख्याल है उस लड़के का लंड उस समय पूरी तरह साफ़ नहीं था, वैसे भी गर्मी का मौसम था, ऐसे में लंड और टट्टे अगर साफ़ ना हों तो एक नशीली सी बदबू देते हैं जो हर लड़की को पसंद हो यह ज़रूरी नहीं.

मॉम बोली- अजु सही कह रहा है तू, कुछ खास नहीं आ रहा है आज!फिर मॉम ने टीवी बंद कर दिया और बोली- क्या करें? कैसे टाइम पास करें?मैं बोला- मॉम बातें करते हैं या फिर ताश के पत्ते खेलते हैं.

कमरे में आते ही मैंने भाभी को बेड पर लिटा दिया और खुद उनकी टांगों को फैला कर उनके ऊपर चढ़ गया. यदि हम दोनों उनकी चुदाई करें, तो तुमको कोई ऐतराज तो नहीं होगा?पहले तो मिष्टी चुप रही, फिर बोली- मुझे कोई दिक्कत नहीं है बल्कि मैं खुद तुम दोनों की इस काम में मदद करूंगी.

सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी इधर एक बात और बता दूं कि मेरी सलहज काव्या करीबन 6 महीने हमारे यहां रही और इन 6 महीनों में मैंने कैसे कैसे उसको मन भर चोदा … यह मैं अपनी अगली कहानियों में लिखूंगा. मैंने बुआ को पीछे से पकड़ लिया और दरवाजे के सहारे लगा कर उनकी गर्दन पर किस करने लगा.

सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी उसके साथ इतना सब करने से मुझे एक बात तो समझ आ गई थी कि अंजना खुद भी सेक्स करने के लिए राजी है, नहीं तो अब तक वो चिल्लाने लगती या भाग जाती. कोई नौ बजे करीब रवि जी का कॉल आया कि साहब दुकान मंगल करने का टाइम हो गया है, खाना खाने चलते हैं.

मैं धीरे-धीरे उसकी चूचियां दबाता रहा और साथ ही साथ उसके होंठों को भी चूसता रहा जिससे उसे कुछ राहत महसूस हुई.

ત્રીપલ એક્સ ડોટ કોમ

वो मेरी चूची दबा कर बोला- तू चिंता मत मेरी रांड … मैं अब तेरी चुत को भोसड़ा बना दूँगा. उसकी बात सुनकर वो दोनों बहनें, अब एक मेरी जांघ पर और दूसरी सैंडी की जांघ पर बैठ गई थीं. कुछ देर के दर्द के बाद मुझे भी मजा आने लगा और मैं चुत चुदाई का मजा लेने लगी.

मदहोशी में उसके मुंह से निकल रहा था- हहाय … जान…न…नू … आह्ह … और जोर से करो. कैसे?हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम रंजू श्रीवास्तव है और मैं एक हाउसवाइफ हूँ. लेकिन मेरा चोदना एक पल के लिए भी नहीं रूका और मैंने एक पल के लिए भी लौड़ा बाहर नहीं निकाला.

उसका भाई उसके पास ही सोता है, तो उसे डर था कि कहीं भाई जग कर उसे खोजने न लगे.

ऐसे ही प्यार महब्बत की बातें करते करते मेरे पति धीरे धीरे मेरी गांड सहलाने लगे. मैं जैसे ही मैं मिंकी के रूम के बगल से गुजरा, तो मुझे कुछ आवाज सी आई. फिर मैं खड़ा हुआ और लंड लहराते हुए मैंने उससे कहा- अब तुम मुझे उत्तेजित करो.

इस देसी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी पड़ोसन लड़की ने खुद पहल करके मुझे फोन करके मुझसे दोस्ती की. थोड़े ही दिन में हम वीडियो कॉल भी करने लगे और मैं कॉल में उसको नंगी भी करवा देता था. हम दोनों काफी देर एक दूजे को चूमे और फिर भाभी कहने लगी कि रामू मैं तुम्हारे लिये दूध लेकर आती हूं.

एक तरह से उसके होंठों को ताला लगा दिया और अपना ध्यान उसकी चूत पर केन्द्रित करते हुए लंड को उसकी चूत में पेलना शुरू कर दिया. मैंने अपना लंड बाहर निकाला और दूसरा कंडोम चढ़ा कर मैंने उसकी चूत साफ करके दुबारा से उसे चोदना चालू कर दिया.

मुझे मॉम के स्तनों में बहुत मज़ा आ रहा था क्योंकि ये इतने बड़े, सॉफ्ट, गोरे, चिकने और एकदम साफ सुथरे हैं. मेरी चाची की चुदाई कहानी आपको कैसी लगी? आपके मेल का मुझे इन्तजार रहेगा. पहले तो उन्होंने रोका, लेकिन फिर वो भी साथ देने लगीं … क्योंकि हम बस में सबसे पीछे की कोने की सीट पर थे.

नहीं तो तेरे पापा मेरी जितनी चुदाई करते थे दिन रात तो अब तक मेरी यह चूत, चूत नहीं भोसड़ा या बड़ा समुन्दर बन चुकी होती.

मैंने पूछा- ब्रा कहां है?उसने बताया- मुझे घर में ब्रा पहनना अच्छा नहीं लगता. मैंने बोला- ओके … तुम्हारे रूम में चल कर साथ में पिएं, तो कैसा रहेगा?उसने झट से हां कर दी. मैंने कहा- मगर मां, मैंने तो आज तक किसी लड़की से बात भी नहीं की है.

बेचारी को ये भी नहीं पता था कि मैं तो उसकी गांड ही मारना चाहता हूं. वो उनको पीछे करने लगी लेकिन अब्बू बाजी की चूचियों को मसल कर रख दिया.

नाना-नानी अपने कामों में व्यस्त रहते थे और मामा जी अपनी नौकरी पर ज्यादा ध्यान देते थे. मैं अपने पूरे तजुर्बे का इस्तेमाल कर रहा था और वो पागल हुए जा रही थी. बातों ही बातों में उसने ये भी बताया कि उसके पति ने किसी परायी औरत को सेट किया हुआ है.

ट्रिपल सेक्स वीडियो इंग्लिश

दो मिनट के बाद चाची खुद ही अपनी गांड को पीछे धकेलते हुए गांड चुदवाने का मजा लेने लगी.

उसने कहा- चलो छोड़ो … मैं उस नामर्द के साथ ही ठीक हूँ … तुम बस कभी कभी मुझसे सेक्स कर लेना, ये ही काफी है. और मुझे चाहिए भी वही लड़का।तो मैंने जैसे तैसे करके उस लड़के से सेटिंग कर ली और सरिता से पहले मैंने उससे सेक्स करके सरिता को बता भी दिया कि तेरा यार मैंने छीन लिया है।उसके बाद सरिता उस लड़के से कभी नहीं मिली. अपनी जीन्स को फटाक से उतार कर मैंने अन्डरवियर भी अलग कर दिया मेरा लंड देख कर आंटी के चेहरे पर चमक सी आ गई.

फिर सीधा कॉल डिटेल में गया, तो देखा कि वहां पर प्राची नाम से कोई नंबर था … जिसके बहुत ज्यादा कॉल पड़े थे. मैंने हां कर दी, लेकिन मुझे मालूम था कि मिष्टी इस बात से मानेगी नहीं, वो पूरे समय पर इस ग्रुप सेक्स का हिस्सा बनेगी. vv सेक्सीलगभग एक घंटे बाद नाचते-नाचते मैंने स्वाति का हाथ पकड़ लिया और स्वाति के साथ जम कर डांस किया.

तो भाभी ने आगे पूछा- अब तक किसी लड़की के साथ मजे किए हैं?इस पर मैं समझ गया कि अब मामला साफ़-साफ़ होने लगा है. उनका लंड चूसने का स्टाइल बड़ा मस्त था, मेरे मुँह से भी कामुक आवाजें आने लगीं.

उसने आरिफ़ा की गर्दन को पकड़ कर अपनी चूत पर रख दिया और उसके मुंह को अपनी चूत पर दबाने लगी. मैंने कहा- कोई बात नहीं … आज मुझसे चुद कर देखो … अपने ब्वॉयफ्रेंड का लंड भूल जाओगी. मुझे लगा शयद आप नाराज़ ना हों!अंकल बोले- अब तो मैं तुम्हारे कमरे में तभी आऊंगा जब तुम मुझ को हाँ बोलोगी.

मेरी धीरे-धीरे हिम्मत बढ़ने लगी और मैंने पुष्पा को दूध पिलाने को कहा!और वो शरमा गई उसने अपने दोनों हाथ मेरे मुंह के ऊपर रख दिए!परंतु मैं कहां मानने वाला था … मैं उनकी चूचियाँ दोनों हाथ से दबाने लगा!और वो मुंह से सी … सी … सी … की आवाज करने लगी. उसने अंदर से कुछ नहीं पहना था, उसकी छोटी छोटी और गोल गोल चूची बहुत आकर्षक और सेक्सी थी. मैंने कपड़े उतारे और आशिमा की पैन्टी को चूत वाली जगह से सूंघने लगा, पैन्टी ताज़ी ताजी उतरी हो तो उसमें चूत की खुशबू होती है, बाद में सूख जाए तो ख़त्म हो जाती है.

कुछ महीनों बाद हमारे बीच लड़ाई होनी शुरू हो गयी और हमारा सम्बन्ध ख़त्म हो गया.

कुछ देर बाद मैं निशा को बिस्तर के किनारे में लाया और खुद नीचे खड़ा होकर उसकी चुदाई में मशगूल हो गया. वो गांड उठाते हुए बोली- तो ठीक है, तुम हर्षी की में से खून निकाल लेना.

साल भर पहले ही एक नर्स का किस्सा सामने आया था जिसमें उसने जानबूझकर बेबी स्वैपिंग की थी. मैं उसके पूरी तरह से खड़े लंड को देख कर गहरा गई लेकिन मुझे मेरी चुत की आग लगातार गर्म कर रही थी. मैं जोश में आकर भाभीजान को लिप किस करने लगा और साथ ही उनके बोबे दबाने लगा.

अब तक की इस सेक्स कहानी में आप सभी ने पढ़ा था कि मिष्टी नाम की कुंवारी लड़की को मैंने और मेरे दोस्त सुजन ने एक साथ चोदा था और उसने अपनी मम्मी को चोदने के लिए न केवल अपनी रजामंदी दे दी थी बल्कि खुद भी अपनी मम्मी को सैट करके चोदने के काम में मदद करने की भी कह दी थी. सच में दीदी की चूचियां चूसने की मेरी इतने दिनों की तड़प आज निकल रही थी. बच्चा पेट में तब आएगा, जब आदमी अपना रस लड़की की बुर में छोड़ देता है.

सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी मुझे बड़ा मस्त लग रहा था, इसलिए मैंने लगातार चुत को चाटा और उसको एकदम साफ़ कर दिया. ये क्या कर रहे हो तुम … इधर से चले जाओ तुम!”वो- एक तो तेरे लिए इतनी मेहनत की और बिना कुछ दिए बोल रही हो कि अब जाओ.

पोर्न सेक्स वीडियो एचडी

अब तक वो भी नहा चुकी थी और उसने पिंक टॉप पहन लिया था, जिसमें उसके गहरे गले से लाल ब्रा साफ़ दिख रही थी. मैंने कपड़ों के ऊपर से ही उसके मम्मों को दबा कर मजा लेना शुरू कर दिया. उसके लंड के पानी इतना ज्यादा निकला था कि मेरी पूरी चूत भर गई थी और रस बाहर निकलने लगा था.

मैंने उसको बिस्तर से खींच कर फर्श पर घुटनों के बल बैठाया और उसके मुँह में वीर्य से भरा अपना भारी लंड डाल दिया. वो मुझको देख कर बोला- साली तुम चुदासी औरतें ऐसे गांड मटका मटका कर चलती हो कि हम लोगों का लंड खड़ा हो जाता होता. तब्बू की सेक्सी चुदाईमैंने उसे शांत किया और कहा- कल सुबह में बच्चा न ठहरने वाली गोली ला दूंगा … सब ठीक हो जाएगा.

उसने शायद अपना अंडरवीयर उतार दिया था पहले ही … मेरा हाथ डायरेक्ट उसके लंड पर था.

मेरा मतलब मम्मी को देखने से कुछ पता नहीं चलेगा कि मेरी चुदाई हो चुकी है. उसने कहा- मेरा गिफ़्ट तो अभी बाक़ी है … और तू चाहे तो मैं हमेशा के लिए तेरी जीएफ बन सकती हूँ.

उस दिन पहली बार मैं ज्यादा देर नहीं टिक पाया, एक तो कई दिन से टट्टे वीर्य से भारी थी, और ऊपर से जो आज मैंने देखा उसका प्रभाव. इससे पहले कि मेरी नजर हटती मोसी की नजर मुझ पर पड़ गई और वो समझ गई कि मैं उनकी चूचियों को घूर रहा हूं. मुझे भगवान् ने बहुत ही प्यारा और खूबसूरत बनाया है मेरा कद पांच फुट आठ इंच का है.

अब मैंने उसे फिर से अपनी गोद में इस तरह से बिठाया कि उसकी छाती मेरी छाती से रगड़ खाने लगी.

मॉम बोली- बेटा, यह मेरी योगा और एक्सरसाइज का कमाल है और साथ में कुछ क्रीम भी लगाती हूं जिससे चूत हमेशा टाईट रहे. वो मुझ से पूछने लगे- तुम तैयार हो अपनी चूत की चुदाई के लिये?मैंने कहा- इतनी दूर तुम्हारे साथ आयी हूँ. आंटी की चूत को देख कर मैंने कहा- हां, मेरे लौड़े को भी बहुत मजा आने वाला है आज.

सेक्सी गाना व्हिडिओ भोजपुरीमैं वाराणसी में एक निजी कॉलेज में एकाउंटेंट के पद पर कार्य करता हूँ. भाई के हर धक्के से मेरी सिसकारी निकल रही थी- आहहह उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओह … चोदो और जोर से चोदो भाई … आहह हहह!इस तरह मैं लगातार सिसकारियां ले रही थी.

কনডমের ভিডিও

किंतु तुरंत बाद परायी चूत चोदने के ख्याल से ही लंड में गुदगुदी होने लगी. हर रात तीन-चार बार हम दोनों सेक्स करते और एक दूसरे को संतुष्ट करते रहे. दोनों ने आकर पूछा- आपके पलंग पर ही धुले कपड़े रख सकती हूँ क्या?मैंने कहा- अरे पूरा घर आपका है … जहां चाहो वहां रख दो.

वो मुझे धक्का दे रही थीं, लेकिन मैंने एक उन पर अपनी पकड़ मजबूत करके एक झटका और दे मारा. उसका सिर दीवार के साथ लगाया और पीछे से उसकी चूत में लंड को पेल दिया. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:बिजनेस डील में क्लाइंट की बीवी चुदी-3.

वो मेरे लंड को बाहर निकालना चाहती थी, मगर अभी मैं सेक्सी भाभी से सेक्स ना करके उसे तड़पाना चाह रहा था. मेरी सेक्स कहानी पढ़ कर आप लोग मुझको मेल करके जरूर बताएं कि कहानी कैसी लगी. मॉम ने मुझसे कहा- आराम से … अपनी चाची को आराम से चोदो … आज तुम इसे बहुत समय तक चोद सकोगे.

उसने अंदर से कुछ नहीं पहना था, उसकी छोटी छोटी और गोल गोल चूची बहुत आकर्षक और सेक्सी थी. वो पानी लाकर मेरे पास बैठ गई और बोली- आप सिखा दोगे न मुझे मसाज करना!मैंने कहा- जब आया हूँ … तो सिखाना क्या खुद ही कर दूंगा.

उसके मम्मों पर गुलाबी निप्पलों को देख कर मुझे मदहोशी छाने लगी और मैंने उसके एक निप्पल को अपनी दो उंगलियों के बीच पकड़ कर उमेठ दिया, वो एकदम से सीत्कार कर उठी और उसके निप्पल एकदम कड़क हो गए.

अब मुझसे भी सहन नहीं हो रहा था … आज मुझे टीन सेक्स का अवसर मिला था. सेक्सी अंग्रेज चुदाईदोस्तों कई बार हमारे जीवन में ऐसे क्षण आते हैं, जिनको हम चाह कर भी भुला नहीं सकते. सेक्सी वीडियो बताइए खतरनाकवो बोली- तो फिर हमारे साथ करोगे क्या?हम भाभी की तरफ हैरानी से देखने लगा. मॉम बोलीं- तुम एक काम करना, अबकी बार तुम अपने सारे पेमेंट के कागज मेरे पास रख देना.

सामने मुझे दिखाई दिया कि मेरे मॉम पापा रसोई में बिल्कुल नंगे एक दूसरे से चिपके हुए थे.

मैं हर किसी लड़की से इसलिये बात करता था ताकि किसी तरह उसको पटा सकूं और जल्दी से जल्दी उसके साथ सेक्स करने का मौका मिले. मैंने उसकी चूत को उंगलियों से चोदना जारी रखा और फिर एकदम से उसकी चूत में फिर से जीभ डाल दी. इससे भाभी की वासना पूरी प्रज्ज्वलित हो गयी और उन्होंने जल्दी से मेरा अंडरवियर उतार दिया.

फिर एकदम से उसने मेरे सिर को अपनी जांघों के बीच में जोर से भींच लिया. कार में बैठाने के बाद मैं मुड़ा ही था कि वो बोली- सुनो यार, मुझे तो गाड़ी चलानी नहीं आती. मुझे भी आज आशिमा की जरूरत थी, मैं इसी उधेड़बुन में था कि कैसे मैं अपना लोड़ा अपनी बहन की चूत में घुसाऊँ.

क्सक्सक्स विडियो हिंदी देसी

जब मैं यहां आयी थी, तो आपकी नजर से ही मैं जान गई कि आप मुझे चोदना चाहते हैं. चूंकि अब दोनों दोस्त पहुंचने ही वाली थी तो मैंने पार्टी की तैयारी शुरू कर दी. अगले दिन मैं अपने ऑफिस में था तो लड़के के पापा का फोन आया कि वो मुझसे मिलना चाहते हैं.

जब शायद उसकी बुर को कुछ आराम महसूस हुआ या उसकी बुर में कुछ हलचल तेज़ हुई, तो उसके हाथ मेरे गले के इर्द गिर्द पहुंच गए और कमर कुछ मूवमेंट लेने लगी.

मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरी साड़ी उतार कर मुझे नंगी कर दिया और मेरी बड़ी बड़ी सेक्सी चूची दबाने लगा.

एकदम तोप सी फूली हुई गांड देख कर, कसम से मेरा लंड तो फिर से टाईट हो गया. रास्ते में गाड़ी में ड्राइवर से बातें होने लगीं, तो उसने बताया कि मैडम को शराब पीने का शौक है. भोजाई के सेक्सीमैंने जैसे ही उसकी नंगी अनछुई कमसिन चूत पर अपनी जीभ से नीचे से ऊपर की तरफ चाटा, तो मानो शीनू के अन्दर एक बिजली सी कौंध गई.

मैंने कहा- कर रही थी से क्या मतलब है? क्या अभी अन्दर नहीं लिया था?वो शर्माते हुए बोली- नहीं. नहीं तो कोई और होता तो मेरी जैसी हॉट और सेक्सी औरत की चूत को चोदकर फाड़ डालता. फिर हम दोनों ने अपने अंडर गारमेंट्स पहन लिए और ऐसे ही एक दूसरे के पास बैठ गए.

अब हम अपनी मंज़िल पर पहुंचने वाले थे, तो उसने मुझे बोला कि उधर जैसा मैं बोलूं, तुम वैसा ही करना. फोन पर किसी काम के बारे में बात कर रही थीं आप?वो बोली- काम नहीं होता तो मिलने के लिए नहीं आते क्या?मैंने कहा- नहीं, वो बात नहीं है.

उसकी चूत में माल को गिराते हुए मुझे इतना मजा आया कि मैं बता नहीं सकता.

छोटे चाचा भी हर समय वो खेती के काम और बाहरी काम के चक्कर में लगे रहते. एकता इस सबसे अनजान थी कि उसका बड़ा भाई उसकी जवानी का दीवाना हो गया है. तभी वो मुझे होश में लायी, बोली- कहा खो गए राज़? क्या सोच रहे हो?मैं- कहीं नहीं … बस यूँ ही.

प्लेबॉय सेक्सी आपने मेरी पिछली कहानीप्यासी भाभी पड़ोसी यार से चुद गईपढ़ी और पसंद की. मैंने बोला- ओके … तुम्हारे रूम में चल कर साथ में पिएं, तो कैसा रहेगा?उसने झट से हां कर दी.

अपना लंड मेरी चूत पर लगा दिया और मेरे ऊपर लेटते हुए मेरी चूत में लंड घुसाने लगे. मैंने गलती से उसके पजामे को नीचे खींच दिया … मुझे पता ही नहीं था कि कौन सी लड़की का पजामा खिंचा था. उसके लंड के पानी इतना ज्यादा निकला था कि मेरी पूरी चूत भर गई थी और रस बाहर निकलने लगा था.

सेक्सी वीडियो देसी गुजराती

इधर रात भी हो रही थी, तो मैंने सोचा- छोड़ो यार … किसी रेस्ट हाउस में चला जाता हूँ. उन्हीं दिनों मेरी चचेरी बहन भी आई थी … जो मुझसे अपनी कुंवारी चुत चटवा चुकी थी. जब वह आगे की ओर मुड़ी तो मेरा मुंह एकदम से खुला का खुला रह गया उसने काफी गहरे गले का ब्लाउज पहन रखा था.

आशी- आःह्ह्ह पापा और जोर से आह्ह्ह … मजा आ रहा है … आज चोद दो अपनी बिटिया को … आह्ह्ह म्म्मुह्हा आज से आशी आपकी रखैल बन कर रहेगी … चोदो पापा … आह्ह्ह … आज से आशी अपने पापा से रोज चुदेगी … आह्ह्ह … पापा मजा आ रहा है … चोदो ना और जोर जोर से चोदो अपनी बेटी को … आज मेरी चूत के चीथड़े उड़ा दो … चोद चोदकर आज मुझे रांड बना दो. आपको मेरी मामी की चुदाई की कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मेल करके जरूर बताईएगा.

जब मैंने बरखा को अपनी गोद में उठाया हुआ था तब मेरा लंड बरखा की गांड को टच कर रहा था जिससे मुझे बहुत मजा आ रहा था.

उसने मेरी तरफ अपने होंठों को किया, तो मैं उसके होंठों में दबी उस चॉकलेट को अपने होंठों में लेकर उसके होंठों के रस का मजा लेने लगा. हर बार की तरह वो जिम आई वॉशरूम में चेंज किया और योगा पैंट्स (लेगिंग्स) और टी-शर्ट पहन लिया. बाजी भी अपनी चूचियों को आराम से अब्बू के मुंह में देकर मस्ती में लग रही थी.

इस भाई बहन सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे जवान भाई ने अपनी बहन को चोदा. मगर पति और ससुरराल वालों के डर से कभी हिम्मत ही नहीं हुई।मगर तीन साल पहले जब मेरे पति की मृत्यु हुई, उसके बाद मेरे जीवन में काफी कुछ बदल गया।पति की मौत के बाद साल छह महीना तो मेरा रोने पीटने में ही गुज़र गया। उसके बाद जब हालत कुछ संभले, तो बड़ा बेटा तो पति की दुकानदारी संभालने लगा. मेरा लंड मॉम की चुत की गहराइयों में अन्दर तक गोता लगा कर बाहर तक आता और फिर से झटके के साथ अन्दर घुस जाता.

दोस्तो, इस तरह इस सत्य घटना का माँ बेटे की चुदाई की कहानी का यहीं अंत होता है.

सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स एचडी: मैंने मॉम को अपनी तरफ आने के लिए इशारा करते हुए कहा- कोई बात नहीं … तुम तो हो ही. मैंने बेड के दूसरी तरफ रखा उसका पर्स उसको दिया और बोला- अभी चलना नहीं है … एक राउंड और करेंगे.

ऐसे वक़्त पर मुझे उसका साथ देना चाहिए, ना कि उसे डांटना-डपटना चाहिए, या फिर पापा-मम्मी को उसकी शिकायत करनी चाहिए. मैं उसके एक बूब को पूरा मुँह में भरता … और फिर थोड़ा सा दांतों में दबा कर धीरे धीरे सा बाहर निकालता. सैलरी भी अच्छी खासी मिल जाती है, जिससे मैं अपना परिवार बखूबी चला लेता हूँ.

उधर मैं उसकी योनि में उंगली किए जा रहा था जिससे जोश में आकर अब वह मेरे लंड को आइसक्रीम की तरह चूसने लगी थी.

मैं भाभी को अभी कुछ देर और तड़पाना चाहता था, लेकिन ये मेरी पहली चुदाई थी … इसलिए मैं अपने आपको रोक ना सका. सर्वप्रथम मैं आप सभी को अपने बारे बता दूँ कि मैं एक 28 वर्षीय विवाहित पुरूष हूँ. मैं भी एक हाथ से दूध दबा रहा था और मुँह से उसका दूसरा दूध चूस रहा था.