नीग्रो बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,চিনা সেক্স

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडिया पोर्न: नीग्रो बीएफ वीडियो, मैंने बोला- चिंता न करसाली रंडी, तेरी चूत की प्यास मैं अच्छे से बुझाता रहूंगा.

सोती हुई लड़की की सेक्सी

अब मुझे चैन नहीं था … मैं ज्यादा से ज्यादा उसके बारे में जानने की कोशिश कर रहा था. भोजपुरी वीडियो चाहिए सेक्सीउन्होंने कहा- लगता है, मैं तुम्हें पंसद नहीं आई हूँ इसलिए तुम बहाने बना रहे हो.

कुछ देर बाद उसने मेरा हाथ अपने लंड पर रख दिया और मैं उसका लंड सहलाने लगी. नौकरानी की सेक्सी कहानीमैंने लंड को हाथ से पकड़कर जोर से चाची की गांड के छेद के अन्दर घुसेड़ दिया.

उसने अपना सारा माल मेरे मुंह पर … और थोड़ा मेरे मुंह के अंदर … बाकी मेरी चूचियों पर चुवा दिया.नीग्रो बीएफ वीडियो: ठाकुर ने मंजू के हाथ बाजू में करके उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर चूसना शुरू कर दिया.

मैं लंड चुत में अन्दर बाहर करते हुए कभी उसे किस करता, तो कभी उसके मम्मे काटता.उसको मैंने पेट के करीब से पकड़ा हुआ था और वो पानी में हाथ पैर मार रही थी.

सुहागरात की जानकारी - नीग्रो बीएफ वीडियो

मैं ये जानता था कि उन्हें चोदना एक सपना ही है क्योंकि कुछ भी अगर गलत हुआ, तो मेरी बड़ी बदनामी होगी.मगर दीदी को डिस्टर्ब न हो इसलिए अक्षय ने झट से आगे हाथ बढ़ा कर मेरा मुँह दबा दिया और बोला- मरवाओगी क्या?मैंने हंसते हुए उसके लंड को झेला और कहा- मरवा ही तो रही हूँ मेरे अक्षय!अक्षय ने भी हंसते हुए फिर से झटके देने शुरू कर दिए.

तो अमित ने कस कर मेरे बीवी के मुँह में लंड घुसा दिया और लंड का पूरा माल मेरी बीवी के गले में निकाल दिया. नीग्रो बीएफ वीडियो लंड के चुत पर स्पर्श होते ही वो मचलने लगी और उसकी गांड ऊपर उठ कर लंड लेने को बेताबी दिखाने लगी.

मैं गरिमा के क्लिटोरिस को चाटने लगा और वो जोर जोर से आह्ह … आह्ह … करने लगी.

नीग्रो बीएफ वीडियो?

झीनी नाइटी में से मेरी बीवी के निप्पल के चारों ओर का गोल घेरा अमित को दिख रहा था और उसका असर उसके लंड पर हो रहा था. बहुत दिन तक सोचने के बाद जब कुछ समझ नहीं आया तो मैंने सोचा क्यों न ससुर जी को ही ट्राई किया जाये. बलविंदर ने हंस कर उसे फिर से चूमा और उसकी चूत को गर्म पानी से पहले अच्छे से धो दिया.

बीच रास्ते में कई बार उसने मेरी जांघों पर हाथ फेरा लेकिन मैंने ज्यादा उतावलापन नहीं दिखाया, बस उसका मन बहलाने के लिए कभी उसके कंधे सहला देता था तो कभी उसकी जांघें. मैंने पूछा- तुमने पहले किससे चुदाई करवाई हुई है क्या, सच बताना?वो हंसते हुए बोली- क्या करोगे जानकर?मैंने कहा- बताओ, नहीं तो मैं फिर तुमसे कभी बात नहीं करूंगा. आज ठकुराईन को चेकअप कराने जाना था, तो सास-ससुर, ठकुराईन, साली … सब जा रहे थे.

मैंने उठने के बाद उसकी बहन से बोला- दीदी मैं अब आपकीगांड मारनाचाहता हूँ, क्योंकि आपकी गांड बड़ी मस्त है. गांड चोद सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने घर आने वाले धोबी लड़के को पटाया और उसके लंड चूसने की अपनी तमन्ना को पूरा किया. हम दोनों पसीने से तरबतर थे और गिरने के बाद हम दोनों को ही अपने नंगे बदन पर ठंडा फर्श बहुत ही अच्छा लग रहा था.

तो तनु बोली- दीदी, बताओ ना … आप भी पहनती हो क्या?मैंने कहा- हाँ, पहननी पड़ती है. एक दो धक्का देने के बाद उसके लंड से माल निकल गया और मेरी मां ने राजेश मास्टर के माल को पी लिया.

हम छत पर पहुंचे और थोड़ी देर में कुछ करने ही वाले थे कि मेघा भी आ गयी।मेघा ने भी छोटा कॉटन का शॉर्ट्स पहन रखा था और टीशर्ट डाली हुई थी.

सेठानी को उसका बोझ ज्यादा देर सहन नहीं हुआ और उसने अपने पति को अपने ऊपर से एक तरफ धकेल दिया.

अब मेरे मन में तो लड्डू फूट रहे क्योंकि मामी ने कभी भी मुझसे ऐसा नहीं कहा था. जो रियल हुआ है वहीं सब लिखा है।पसंद आई या नहीं? बताना जरूर!मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]. दांत साफ करते हुए मैं सोच रहा था कि कैसी अजीब विडम्बना है ये कि मैंने मंजुला को किस भी कर लिया उसके होंठ चूस लिए, उसकी चूत चाट ली, उसने मेरा लंड चूस लिया और चुदाई भी कर ली पर दूसरे का टूथब्रश इस्तेमाल करने में ये झिझक क्यों होती है?चाय पीकर मैं अपने होटल चला गया और वहां से जल्दी नहा धोकर तैयार होकर अपना सामान समेटा और चेक आउट करके वापिस मंजुला के पास आ गया.

सागर भी नहा लिया और हमने साथ मिल कर नाश्ता किया।मित्रो, आपको इस गांड मारी स्टोरी में काफी मजा आया होगा. चाची मेरे पीछे चिपक कर बैठी थीं और चालू बाइक पर मेरे लंड को हाथ लगा कर सहला रही थीं. अब मेरी आँखें पूरी तरह बंद थीं और मैं पिछले डेढ़ घंटे से गहरी निद्रा में थी.

बादाम, मेवे की खीर और मेरी मादक अदाओं ने ससुर जी के शरीर में तूफान मचा रखा था.

तभी उसने मुझे चुप देख कर कहा- आपको बात नहीं करना है क्या?मैंने कहा- मैं हमेशा अकेला ही रहा हूं, तो मेरे ज्यादा दोस्त भी नहीं है और किसी से बात करने की आदत भी नहीं है. अब मैं उसके पेट को चूमते चूमते उसकी नाभि तक आ गया। उसकी नाभि में मैंने अपनी जीभ को घुमाया। नाभि में मैं गोल गोल करके जीभ को घुमाता रहा।निशा अपनी आँखें बंद करे हुए मज़ा लेती रही। नाभि के बाद मैं उसकी चूत के ऊपरी हिस्से तक पहुँचा।उसकी गेहुंए रंग की चूत मेरी आंखों के सामने थी जिसमें मैंने धीरे से एक उंगली अंदर सरका दी. लेकिन नीरजा देवी के पति की आंख से नींद उड़ गई थी और उनका लंड पानी भी छोड़ चुका था.

जो पाठक नये हैं उनको बता दूं कि मेरा नाम प्रिया है और मैं मध्य प्रदेश की रहने वाली हूं. एक दिन की बाद है … जब वो घर में स्लीवलैस टॉप और टाइट शॉर्ट्स पहनी हुई थी. मम्मी कपड़े सिलने लगी तो सपना बोली- दीदी, चलो हम चारों छुपनछुपाई खेलें?उसके लिए सागर और मामी भी तैयार हो गए तो मैंने भी हाँ कर दी।अब हत्थी कटी तो मुझे सब को ढूँढना था.

मैंने उससे पूछा तो उसने बताया कि उसके मां पापा दोनों नौकरी करते हैं और उसकी बहन शिफ़ा कोचिंग क्लास गयी हुई है.

मैं समझ गया कि ये अब चुदने को तैयार हो गई है … और इसका दर्द कम हो गया है. मैं उसकी इस हरकत से एकदम से मीठी कराहें भरते हुए फिर से बोली- आह अक्षय मत सता यार … अब लौड़ा डाल दे.

नीग्रो बीएफ वीडियो उस दिन उसने लाल रंग की ब्रा और पेंटी पहनी हुई थी।मैंने उसकी ब्रा और पेंटी को निकाल फेंका. मैंने उससे पूछा- क्या हुआ?तो वो मेरे सीने पर मुक्का मारते हुए बोली- बड़े जालिम हो … मार ही दिया.

नीग्रो बीएफ वीडियो वो बोली- अच्छा ठीक है, लेकिन मैं तुम्हारे सामने कपड़े नहीं उतार सकती, तुम दूसरी ओर मुंह करो. ज़ोहरा बोली- अशफ़ाक भाई … जो करना है, ज़ल्दी कर … अम्मी और शनाज़ आने वाली होंगी.

धीरे धीरे उनकी सिसकारियां चिल्लाने में बदल गईं और वो अपनी कमर को हिलाने लगीं.

एमसी वाली बीएफ

अब मैंने समर को चेक करने का सोचा कि देखती हूं कि ये क्या सोचता है मेरे बारे में?जब मैं नहाने के लिए गयी तो मैं जानबूझकर अपने कपड़े वहीं बाहर ही छोड़ गयी. उसकी कमर के झुकाव से उसकी गांड का गोलाकार बढ़ गया था।इस वक़्त कोई लड़का प्रियंका को चोद रहा होता तो और मजा आ जाता।मगर उस वक्त हम दोनों ही एक दूसरे का सहारा थे।प्रियंका मेरी चूत चाटते हुए एक हाथ से अपनी चूत में उंगली कर रही थी और मैं अपनी चूत के दाने को सहला रही थी. बनारस से ट्रांसफर होकर लखनऊ आया तो जो फ्लैट मैंने किराये पर लिया, उसके सामने वाला फ्लैट चौरसिया जी का था.

अब कुछ ही झटकों में मेरी चुत ने अक्षय के लंड से दोस्ती कर ली थी और मैं उसके लंड से चुत की चटनी बनवाने लगी थी. जब कभी भी मैं बिल्डिंग में आता हूँ … मैंने देखा है कि तुम मुझे देखते रहते हो. तो मैंने क्या किया?हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम विवेक है, मैं हरियाणा का रहने वाला हूं.

वो किराये के मकान में रहता था।वो सुबह साढ़े आठ बजे घर से निकल जाता था और शाम को छह बजे वापस आता था।उसका घर से बाहर काफी औरतों के साथ चक्कर था। उसकी बीवी हरप्रीत कौर 30 साल की थी.

बुआ की मादक आवाजों ने मेरी कमर की गति को खुद ही रफ्तार दे दी थी और मैं ज़ोर ज़ोर से बुआ की चूत चोदने में लगा था. और मैं उसके लंड से झड़ गई पर अभी उसका होना बाकी था। तो वह और तेज धक्के लगाने लगा. मुझे बतायें कि मैं आपको अपनी सेक्स लाइफ की और क्या क्या कहानियां बताऊं.

पहली बार उसकी चूत ने लंड लिया था इसलिए उसे चलने में परेशानी हो रही थी. मैंने मंजुला के दोनों हिप्स पर चार चार चाटें मारे और उसकी पीठ चूम चूम कर अपने हाथ उसके सामने ले गया. अब रमेश ने गाड़ी पीछे की ओर ली और उल्टी दिशा में चलाता हुआ ही फिर से भिखारी के सामने ले गया.

दस मिनट बाद जब मैं वापस जाने लगा तो वो कहने लगी- अब यहीं रूक जाओ न!मैं उसके इस आमंत्रण को मना नहीं कर सका और उसके बगल में लेट गया. ऐसे करते हुए कब मेरा हाथ उसकी लैगी से होता हुआ उसकी चूत पर पहुंच गया पता ही नहीं चला.

अमित- आह्ह चूस रंडी तेरा मुँह नहीं … भोसड़ा है साली … और चूस आहह आहह मेरे लंड का माल पियेगी मादरचोद रांड?मेरी बीवी गुं गुं करते हुए हां में सर हिला रही थी. नमस्कार दोस्तो, मैं विक्की एक बार फिर से अपनी सेक्स कहानी में आपका स्वागत करता हूं. जब मैडम को लगा कि ये नहीं दबेगी तो मैडम ने कहा- चल ठीक है, मैं तो वैसे ही डरा रही थी तुझे.

फिर जब संजय कमरे में आ गया, तो मैं से बाहर आ गयी और अपने कमरे में चली आयी.

तो वो जिस व्यक्ति की शिकायत कर रहा है, वो कितना भी विश्वसनीय क्यों ना हो, अपने बच्चों की बात को सुनें, अनसुना ना करें. इसके बाद हमने पूरे साल भर रात को अलग अलग पोजीशन में सेक्स के मज़े लिए और आज संगीता मरे जुड़वा बच्चों की माँ है।मित्रो, आपको मेरी यह शुद्ध भारतीय सेक्स कहानी कैसी लगी? मुझे मेल करके बताये. मैं भी जाकर उसके पास बैठ गया और अपना हाथ आकांक्षा की जांघ पर रख दिया.

वो अंदर ही अंदर चिल्ला रही थी क्योंकि चाची ने उसके होंठों को अपने होंठों से दबाया हुआ था. करीब 15 मिनट के बाद मैंने उसके मुँह में ही अपना वीर्य छोड़ दिया और उसे दोबारा से किस करना शुरू कर दिया; उसके बदन को सहलाने लगा, वह फिर से गर्म हो चुकी थी.

फिर मैंने उसको नीचे पीठ के बल लेटाया और उसकी टांगों के बीच में आकर लंड की मुठ मारने लगा. इस सेक्स कहानी में एक बात ध्यान देने योग्य है कि कुंवारी कमसिन लड़की की मानसिकता कुछ ऐसी होती है कि वो पहली बार चुदने में डरती तो है … मगर उसके मन में लंड लेने की कामना भी होती है. कुछ देर बाद मैंने जिया को चूमा, तो उसने पूछा- असलम जी, तुम्हारी बीवी को औलाद है?मैं बोला- अभी मेरी बीवी पेट से है.

बी एफ बीएफ न्यूज़

उसे ये भी नहीं पता कि उसकी मां को भी मुझसे चुदाई करवाना पसंद है।मगर मैंने उसको ये सच्चाई नहीं बताई.

न चाहते हुए भी मैं उसको छोड़ कर उठा और मैंने उसको प्यार से किस किया और फिर अपने कपड़े पहन कर वापस अपने रूम में आ गया. क्या बला की खूसबूरत लग रही थी वो उस वक्त!उसने गुलाबी रंग की पारदर्शी नाईटी पहनी थी और उसमें उनकी गुलाबी ब्रा और जालीदार पैंटी साफ़ दिखाई दे रही थी।रूम में आकर भाभी ने दरवाजे को अंदर से लॉक कर दिया. हे भगवान, अब और कितना सताओगे सर … चोदो मुझे जल्दी से!” वो मिसमिसा कर बोली.

मैं थोडा़ नीचे सरक कर लेट गई और एक मेरे सर को गोद में लेकर बैठ गया और मेरे होंठों को गले गाल को चूमने लगा. मेरी चूत का पानी निकल चुका था जो भाई के लंड को पूरा गीला कर गया था. सेक्सी ब्लू पिक्चर हिंदी हिंदीउसके लण्ड के घुसते ही दूसरे ने मेरी गांड के छेद में अपना लण्ड घुसाने लगा.

मैंने भी कुछ ही देर में डिम्पल की चूत सहला कर उसे इतना गर्म कर दिया कि वो बिन पानी के मछली की तरह छटपटाने लगी. वो ब्रा पर टूट पड़ा और जोर से मॉम की चूची ब्रा के ऊपर से ही दबाने लगा.

तुम्हें कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए मेरे साथ एक ही बेड पर सोने में?वो बोला- हां, बिल्कुल चाची, मुझे क्या तकलीफ हो सकती है. आखिर आधा घंटे की चुदायी के बाद ठाकुर ने अपने मूसल से पूरी चुत को भर दिया. पापा ने मेरी चूत चाटना शुरू किया तो मेरे मुंह से सिसकारी शुरू हो गयी.

फिर वो उह आह करने लगी और बड़बड़ाने लगी- जबसे मैंने तुम्हारा मैसेज पढ़ा … तब से पता चल गया था कि तुम माहिर खिलाड़ी हो. हम जैसे सामान्य दर्जे के और पिछली सीटों पर बैठने वाले छात्रों का सेक्शन अलग था. उसके कबूतरों से छेड़छाड़ करते करते मैंने अपने होंठ गुरप्रीत के होंठों पर रख दिये.

बॉयफ्रेंड सेक्स चुदाई हिंदी कहानी आपको पसंद आई हो तो अपने मैसेज और कमेंट्स में जरूर बतायें.

उसके जंगली तरह से किस करने से मैं भी गर्म होने लगी और मैं भी अरमान का साथ देते हुए उसको किस करने लगी. अरे मेरी जान … शादी के बाद शुरू शुरू में उसे तकलीफ होती थी, चुदाई के नाम से ही दूर भागती थी.

क्योंकि 7 साल से मैं चुदी नहीं थी तो उन दोनों की इस हरकत से मैं एकदम पागल सी होने लगी. जब संजय नहाकर तौलिया बांध कर बाहर निकला, तो मैं अन्दर नहाने चली गयी. पर तुम अपने ऑफिस में मेरे बारे में क्या बताओगी कि मैं कौन हूं, तुम्हारा क्या लगता हूं.

उनकी चूत को चूसने के बाद मैंने भाभी के पेट और कमर को चूमते हुए चूचियों के पास आ गया. उसके बाद मैंने लंड को बाहर निकाला और बोला- इसको चूस कर अब फिर से खड़ा करो. पिछले कुछ दिनों से हमारी जिंदगी बहुत नॉर्मल चल रही थी खास करके मेरी.

नीग्रो बीएफ वीडियो लेकिन जब वो 15 मिनट तक वापस नहीं आया तो मेरे शौहर के चेहरे की रंगत उड़ने लगी. दामाद जी ने अपना लंड चुसवाने के बाद एक राउंड में पहले मेरी चूत और गांड मारी.

एक्सएक्सएक्स बीएफ हद

लेकिन मुझको एक बार में पूरा पैग पीना पड़ा … क्योंकि वहां सब लोग घर के भी थे. मामी एकदम मदहोश होकर हल्के हल्के से सिसकारी लेकर सागर के सिर को पकड़ कर उसको अपने गले में घुसाने लगी. उसके बाद उसने मॉम की टांगों को चौड़ी किया और बेड पर नीचे घुटनों के बल बैठकर मॉम की चूत को चाटने लगा.

अब बाजी की उभरी हुई गांड साफ सामने आई और मैं अपना लंड चूत के सुराख में डालने लगा. मॉम उसकी बात सुनकर मुस्करायी और बोली- साहब, इस लंड को हिलाकर जल्दी खड़ा करो. सेक्सी में डाउनलोडइतना करके वो लोग कम्पाटमेन्ट की तरफ वापस आ गये और अंदर घुस कर दरवाजा बंद कर दिये.

सेक्स रिलेशन स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपने ननिहाल की तरफ एक शादी में गया तो मैं किसी को पटा कर चोदना चाहता था.

मैं बोली- अरे, इसे नहीं उतारेगी तो चोली कैसे पहनेगी?तो वो शर्म से लाल हो गई, बोली- दीदी आपके सामने?मैं बोली- अरे, मैं तो तेरी बहन हूं. फिर ठाकुर ने मंजू के एक दूध को अपने होंठों में दबा कर उसका दूध पीना शुरू कर दिया.

जब उसका हल्का दर्द कम हुआ, तो फिर मैंने धक्का लगाना शुरू किया और उसकी जम कर चुदाई करने लगा. मैंने आज तक किसी के लंबे और देर तक चुदाई करने वाले लंड से चुदाई नहीं की है. अभी थोड़ा रिलैक्स हो लूं तभी भूख लगेगी और खाने का मज़ा भी आएगा; और हां, मैंने आपके लिए एक मकान देखा है आज.

अब वो मेरे मम्मों को चूसने लगा बिल्कुल एक छोटे बच्चे की तरह। बीच बीच में वो निप्पलों को काट भी लेता था।तब हम दोनों पूरे नंगे हो गए। मैं उसका लंड हाथ में लेकर हिलाने लगी।वो बोला- मुंह में नहीं लोगी मेरी जान … मुंह में ले लो ना … एक बार इसको अपने मुंह की गर्मी दे दो.

सोनाली मेरे लंड को चूसते हुए अपनी चूत को सहला रही थी और उसके मुंह से गूं … गूं … की आवाज आ रही थी. रास्ते में वो थोड़ा थोड़ा मुझे छेड़ने लगी थी, ये शायद बियर की वजह से था. फिर मैंने एकदम से हाथ आकांक्षा की चूत पर रख दिया, तो उसने हड़बड़ाकर मेरी तरफ देखा और मेरा हाथ पकड़ लिया.

rani की सेक्सी वीडियोउसके बाद उन दोनों ने मुझे अपने घर पर पार्टी और मस्ती करने के लिए आमंत्रित किया. उसने कंडोम चढ़ाने से पहले मेरे लन्ड को अच्छे से चूसा और कंडोम चढ़ा कर उसके ऊपर बैठ गई जिससे मेरा पूरा लन्ड उसकी चूत में चला गया.

हिंदी में बीएफ दिखा

प्रियम … उफ्फ … छोड़ दो न प्लीज, मत सताओ मुझ अभागन अबला को!” मंजुला के मुंह से धीमी मीठी आवाज में मेरा नाम निकला और उसने मेरा सिर अपनी छातियों में दबा लिया. मेरे सामने एकदम नंगी पड़ी भाभी जी अपनी एक टांग को उठा कर मेरे हाथ में देकर मुझसे अपनी टांग पर चुम्बन का मजा ले रही थीं. [emailprotected]कज़न सिस्टर सेक्स स्टोरी का अगला भाग:ममेरी बहन ने मॉम की चुदाई करवायी- 2.

मैंने उसके गले में जिधर तक लंड जा सकता था, उधर तक लंड पेल कर चुसाई करवाई. मुझे सेक्स वीडियो देखना, सेक्स चैट करना और सेक्स वीडियो कॉल करना बहुत पसंद है. फिर उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और उसको अपने हाथ में लेते हुए मुझे धन्यवाद कहा.

उसने ऊपर से नीचे तक लण्ड को चूसा, बहुत प्यार से उसको सहलाया और तब तक वो फिर से गर्म हो गयी थी।अब वो खुद ही अपनी चूत पर मेरे लंड को रगड़ने लगी. शालिनी बोली- जैसे मैं तो आपको जानती ही नहीं? सब पता है मुझे! आपकी ठंडी बीवी ने चोदने नहीं दिया, इसीलिए मेरी याद आ रही है. मैं सेक्स कहानियों में पढ़ा करता था कि कोई अनजान लड़की बस में या ट्रेन में बगल में बैठी थी फिर ये हुआ फिर वो हुआ इत्यादि और बात लंड चूसने और चुदाई तक जा पहुंची.

उसने अपने बर्थडे वाले दिन अपनी सहेलियों के साथ जन्मदिन मनाया और शाम को 6 बजे मुझे फोन किया. उनमें से ज्यादातर लड़कियां ही होती थीं क्योंकि यहां के कॉलेज में लड़कियों की संख्या लड़कों से ज्यादा है.

वो समझ गई थीं कि मैं जगा हुआ हूँ … पर इसके बावजूद वो नहीं रुकी और अपनी चुत चुदवाना जारी रखा.

दो मिनट की किस के बाद मैंने उन्हें गोद में उठाया और बेड पर लिटा दिया. भाई बहन का सेक्सी वीडियो सेक्सीउसने मेरी चूत पर लंड को रखा और अपने लंड के सुपाड़े मेरी चूत पर रगड़ने लगा. तारक मेहता का उल्टा चश्मा की सेक्सीफिर मैंने पूरा लंड उसकी चूत में पेल दिया और फिर उसके ऊपर लेटकर लंड को आगे पीछे करने लगा. इससे पहले कि वो कुछ बोलती मैंने उसके होंठों पर उंगली रख कर चुप रहने का इशारा किया.

दारू पीकर मैं सबके साथ शामिल हो गयी और संजय सब मर्दों के साथ पीने लगा.

मैंने चाची से कहा कि मैं सोनी की बहन की चूत भी चोदना चाहता था लेकिन नहीं चोद पाया. उसने मेरी पैंट में मेरे उठे हुए लौड़े को देखा और उसको हाथ से सहला कर देखने लगी. मगर कुछ देर के बाद निधि ने उस बच्चे को धीरे से अपनी तरफ खींच कर सरका दिया और खुद उसकी जगह आ लेटी.

मैंने बहुत जल्दी से सारे कपड़े उतार दिए तो बाजी ने भी सलवार सूट उतार दिया और मुझे बोली- इमरान मेरी पैंटी उतार दो. अगले दिन सुबह मैं रात के भीगे हुए बादाम लेकर बाबूजी के पास गई और बोली- बाबूजी आप यह खाइये, मैं दूध लेकर आ रही हूँ. इसी बीच चाची की बुर ने पानी छोड़ना शुरू कर दिया जो उनकी जांघ पर अलग से दिखाई दे रहा था.

एक्स एक्स एक्स बीएफ हिंदी आवाज

हुआ कुछ यूं कि मुझे अपने सरकारी कार्य से सम्बंधित एक कांफ्रेंस में भाग लेने के लिए अचानक गुवाहाटी जाना पड़ रहा था. इस पर मैंने बोला कि इनका ध्यान कौन रखेगा?सासु मां बोलीं- कि मैं रख लूंगी. उसी वक्त उसने मेरे मोबाइल में अपना मोबाइल नंबर डायल कर दिया और फिर वो बाय कह कर चली गई.

अब मैं अंकल को सहयोग करने लगी और नीचे से अपने चूतड़ों को उछालने लगी.

तो अन्तर्वासना के मित्रो, मेरी सेक्स वासना कहानी पढ़ कर जैसी भी लगे … आप अपने विचार नीचे कमेंट्स पर जरूर लिखियेगा या मेरी मेल आईडी पर भी भेज सकते हैं.

बलविंदर सिर्फ अलीमा के पापा के सामने बहुत अच्छा बनता था कि वो बहुत अच्छा आदमी है लेकिन वास्तव में अन्दर से बहुत ही बड़ा कमीना था. मैं तब भी नहीं रुका तो उसने सोनाली का कंधा पकड़ लिया और उस चुदास को बर्दाश्त करने की कोशिश करने लगी. রাজস্থান সেক্সअभी भी मेरे अंदर इतनी हिम्मत नहीं आ रही थी कि मैं उसके साथ कुछ छेड़खानी कर सकूं.

मैं घर से बाहर निकली, तो मैंने साड़ी का पल्लू साइड में कर लिया और सामने से थोड़ा हटा लिया, जिससे मेरे दूध अच्छे से दिखने लगें और नाभि को भी दिखाते हुए जाने लगी. जैसे ही आधा अन्दर गया, तो वो पैरों को फटकारने लगी … और आरती की पीठ पर नाख़ून लगाने लगी. दीदी कहने लगी- तुझे रोका किसने है?मैंने फटाक से दीदी की पैंटी उतार दी.

मैं गरिमा के क्लिटोरिस को चाटने लगा और वो जोर जोर से आह्ह … आह्ह … करने लगी. जब मालिश करते हुए मैंने अपने हाथों से उसके मम्मों को दुबारा छूने की कोशिश की, तो उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और सीधी हो गई.

ये सब करते हुए मुझे डर तो लग रहा था लेकिन उनके अर्धनग्न शरीर का दीदार भी हो रहा था.

वो दिसंबर 2018 की बात है सर्दी में उसके गर्म होंठ मेरे लंड के टोपे पर मस्त हरकत कर रहे थे।वाह क्या लंड चूसा उसने!मैं करीब 10 मिनट में ही उसके मुख में ही झड़ गया और वह मेरा सारा माल पी गई. मैंने आगे हाथ बढ़ा दिए और भाभी की चूचियों को पकड़ कर उन्हें दबादब चोदने लगा. उसके जंगली तरह से किस करने से मैं भी गर्म होने लगी और मैं भी अरमान का साथ देते हुए उसको किस करने लगी.

जंगल बुक कार्टून उस रात को फिर से हमारी बात हुई और हमारी बात सुबह के चार बजे तक चलती रही. जिससे उसे छेद में लंड अन्दर डालने में आसानी हो गई और उसके एक तेज झटके से लंड के आगे का भाग चुत में घुस गया.

मुझे थोड़ा अजीब सा लग रहा था क्योंकि मैंने पहले कभी किसी लड़की के होंठों को किस नहीं किया था।मगर चूत की गर्मी ने आग में घी डाला और मैं भी प्रियंका के होंठों को अपने होंठों में दबाने लगी।हम दोनों आँखें बंद करके किस का मजा लेने लगीं. मेरे सामने ड्रेस चेंज करने की उसकी हिचक शुरुआती दो तीन दिनों में ही खत्म हो गई थी. भाभी की गांड और चूतड़ों का आकार ऐसा लग रहा था कि कोई दिल के आकार का गुब्बारा मेरे सामने थिरक रहा था.

बीएफ सेक्सी हिंदी में ब्लू पिक्चर

मुझे बहुत आनंद मिल रहा था जैसा कभी मैं सोचती थी आज वैसा सेक्स मेरे साथ हो रहा था. इसके बाद मैंने आकांक्षा की दोनों टांगों को खोला और खुद बीच में बैठ गया. रूम में जाकर नहा-धो कर खाना खाने के बाद लेट कर उन्हीं के बारे में सोच रहा था, तभी अचानक भाभी मेरे रूम में आ गईं.

मैंने जैसे ही अपनी जीभ उसकी चूत पर लगाई तो उसकी सिसकारी निकल गयी- आह्ह … आआआह्ह … नहीं. वो मेरे दूधिया मम्मों को पीते चूसते हुए मुझे दुबारा से गर्म करने लगा था.

यह पुरातन काम युद्ध न जाने कितनी देर चला होगा कि मुझे लगा कि अब मैं झड़ने वाला हूं.

उस जवान लड़की मनमीत का एक संतरा मैं चूस रहा था और दूसरा सहला रहा था. मेरा नाम अभिमन्यु है और मैं मंडला में रहता हूँ पेशे से एक कॉन्ट्रेक्टर हूँ। इसके पहले मैं बालाघाट में रहता था और पढ़ाई जबलपुर से की है. वो कल्लू की नजर को भांप गयी और अपनी चूचियों पर हाथ फेरते हुए बोली- चाय पिओगे क्या?कल्लू बोला- दूध नहीं है क्या तुम्हारे पास?कातिल मुस्कान के साथ अनु ने कहा- वो तो तुम्हें निकालना पड़ेगा.

हालांकि मेरी मां ने डायरी में बताया था कि उस वक्त उनको उस आदमी से अपने दूध मसलवाने में अन्दर से मजा आ रहा था, लेकिन ऐसे अचानक से किसी राह चलते आदमी के साथ सेक्स नहीं किया जा सकता था. मेरे उम्र के लड़कों के साथ साथ कई अंकल भी मेरी खूबसूरती को निहारते रहते थे. अंदर आते ही पापा ने मुझे गोद में उठा लिया और मुझे बेड पर ले जाकर पटक दिया.

मैंने उसे बेड पर गिरा दिया और उसके ऊपर जाकर उसकी गर्दन को बेतहाशा चूमने लगा.

नीग्रो बीएफ वीडियो: मुझे जैसी लेडी गर्ल्स पसंद हैं, वो बिल्कुल वैसी माल थी … कुल मिलाकर मेरी फ़न्तासी से भरपूर मॉल नताशा. चुत पर होंठ लगते ही मंजू के शरीर में तेज कंपन हुई और उसने एक तेज रस की धार ठाकुर के मुँह में छोड़ दी.

हम अपने शहर से बाहर गए थे, मगर उस शहर में जहां गए थे, वहां से शादी वाली जगह ज्यादा दूर नहीं थी. काफी देर बाद मेरा पानी निकलने को हुआ तो मैंने आरिया की चूत के बाहर ही वीर्य छोड़ दिया. मैंने अपने होंठ उसके होंठ से हटा कर उसके मम्मों पर लगा दिए और एक हाथ से उसकी चूत से खेलने लगा.

जिया बोली- असलम जी आप सब कर सकते हो … पिछली बार आपने आसमा को भी लोन दिया था.

ये कहानी यूं तो पूरी हो गयी है, लेकिन अभी भी सेक्स कहानी में बहुत बाकी है अपना एक एक पल मैं आपके साथ शेयर करूँगा, लेकिन मुझे आपका साथ चाहिए. तुम्हें अपने लिए नहीं पर शिवांश को पिता का साया जरूर चाहिए होगा आगे जाकर. बुआ की मादक आवाजों ने मेरी कमर की गति को खुद ही रफ्तार दे दी थी और मैं ज़ोर ज़ोर से बुआ की चूत चोदने में लगा था.