ऐश्वर्या राय की बीएफ मूवी

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ दिखाइए सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

घोड़ा की फिल्म सेक्सी: ऐश्वर्या राय की बीएफ मूवी, अपना एक हाथ नीचे ले जाकर अपना लंड उसकी बुर पर सैट किया और दोनों हाथों से उसे टाइट पकड़ लिया.

बीपी में सेक्सी बीएफ

मैं भी अब थोड़ा चालाक हो गया था, जल्दी किसी के अंटे में नहीं आता था. बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में सेक्सीएसी की ठंडक में गरम पानी पीकर मुझे और जोश चढ़ गया और मैंने उन्हें संभलने का मौका न देते हुए अपनी उंगली उनकी चूत में डाल दी और अंगूठे से उनके दाने को रगड़ने लगा.

अब तो मुझे मजा आने लगा था, मैंने उन्हें नीचे लेटने को बोला, वो झट से लेट गईं. भाभी की बीएफ सेक्सी हिंदीउन्होंने कहा- देखो मैं तुम्हें पसंद करती हूँ और तुमसे चुदना चाहती हूँ.

दीदी ने अपने हाथ को मेरे सर पर रख दिया और दूसरे हाथ से अपने बूब को मसलने लगी.ऐश्वर्या राय की बीएफ मूवी: फिर मैंने पूरे दिन इस बात के बारे में सोचा पर मेरा मन नहीं मान रहा था।रात को राजीव घर आ गए, रोज की भान्ति हम दोनों ने डिनर किया और फिर हम लेट गए।मैं पूरी रात काल बॉय के बारे में सोचती रही। सुबह हो गयी पर मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था।फिर हम फ्रेश हुए और राजीव ऑफिस चले गए.

प्यारा प्यारा सा…तो यह थीप्रेमिका की चूत चुदाई उसके घर में… मेरी चोदन कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करें[emailprotected].ऐसा बोल कर मैं कंडोम लेता हुए सैंडी के यहां गया, तो वो बोला- मेरा कूलर उनके घर ले जाओ, या नहीं तो हमारे यहां ही चुदाई कर लो, मुझे कोई तकलीफ नहीं है.

बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर वीडियो - ऐश्वर्या राय की बीएफ मूवी

मेरे 2 बच्चे हैं, बड़ा बेटा 10 साल का है, उसका नाम साहिल है और छोटी बेटी है, जो अभी 5 साल की है, उसका नाम समीना है, उसे हम प्यार से गुड्डी बुलाते हैं.आंटी के चूतड़ों पर जोर से चमाट मारते हुए उन्हें एक तरह से भंभोड़ने लगा.

मैं बोली- तुम समझ नहीं रहे, मुझे फर्क पड़ता है, तुम सब कुछ कर सकते हो, तुम को हक़ है मुझे चोदने का क्योंकि मैं तुमको प्यार करती हूं, तुम्हें शर्म नहीं आती यह कहते हुए… वो मेरे बाप जितना है. ऐश्वर्या राय की बीएफ मूवी भैया जैसे ही पूजा के ऊपर चढ़े, उसने अपने नागिन जैसे हाथों से भैया की पीठ को जकड़ कर अपनी बाँहों में भर लिया.

मैं- सर लंड को अन्दर से कैसे खुश करते हैं?बॉस- लंड को अपने अन्दर लेकर.

ऐश्वर्या राय की बीएफ मूवी?

मेरे धक्का देने से मेरा लंड नीचे खिसक गया क्योंकि उसकी चूत फिर से उतनी ही टाइट हो गई थी, जितनी पहली चुदाई के वक्त थी. कुछ देर बाद बहन ने ठंडी का बहाना बना कर बैग में से शॉल निकलकर ओढ़ ली. उधर वो आईटम उसी भाव में मस्ती से गांड उठा उठा कर फसल की कटाई कर रही थी.

थोड़ी देर बाद मेरा पानी निकलने वाला था, उन्होंने वीर्य अन्दर ही छोड़ने के लिए कहा. मैं चाची के रूम से तौलिया ले आया और बाथरूम के बाहर खड़े होकर बोला- अब आपको अन्दर आकर कैसे दूँ?चाची बोलीं- तू तो मेरे बेटे जैसा है, फिर शरम कैसी?इतना कह कर उन्होंने अपना हाथ बाथरूम के दरवाजे में थोड़ी जगह करके बाहर निकाला और मैं उन्हें तौलिया पकड़ा ही रहा था, मगर उनके साबुन लगे होने के कारण उनका पैर स्लिप हो गया और वो बाथरूम में ही फिसल गईं. मैंने दीदी के एक निप्पल को किस किया तो उन्होंने मेरा सिर पकड़ कर कसके अपने निप्पलों पर दबा लिया.

यह सुन कर वो हंसने लगीं, मुझे बड़ा गुस्सा आया, मैंने उनसे पूछा- इसमें हंसने वाली बात क्या है?तो वो बोलीं- कुछ नहीं, बस ऐसे ही मुझे हंसी आ गई. वैसे वो चरित्रहीन नहीं थी, क्योंकि अपने पिता के एक दुर्घटना में गुजर जाने के बाद उसने किसी और मर्द की तरफ नज़र भी नहीं उठाया. वो मेरे गोरे बदन पर टूट सा पड़ा। मुझे पता था कि इस उम्र के लौंडे के अन्दर एकदम ताजगी भरा जोश होता है और इस उम्र में उनकी उत्तेजना बहुत अधिक होती है।फिर उसने मुझे सलवार उतारने को कहा। मैं पहले तो ना करती रही.

हम थोड़ा आगे गए ही थे कि रुबीना ने मेरे गालों पर एक पप्पी की और बोली- अरविंद, आप हमें बहुत पसंद आए. सामने ही आँगन में पुलकित खड़ा था, वो उसका पास आई, उसके गले में अपनी बाहें डाल दी, पुलकित ने भी उसकी कमर में अपनी बाहें डाल दी उसे अपनी तरफ खींचा और कस कर अपने सीने से लगा लिया.

खाना खाकर मैं सोने लगा तो माँ दूध लेकर आयी तो मैं जान कर नहीं उठा तो वो चली गयी और कुछ देर बाद फिर आयी और मेरे सिर पे तेल लगा के मालिश करने लगी.

मोना- ये क्या कर रहे हो आप? अभी तो मेरी लेग की कुछ एक्सरसाइज बाकी है.

कॉलेज में सब टीचर और स्टूडेंट्स उसके बारे में जानते हैं कि वो कितनी सरलता से जिस लड़की को चाहे पटा लेता है. विवेक ने कामिनी को अपनी जाँघों पर बिठा रखा था और वो दोनों एक ही गिलास से सिप कर रहे थे. मैंने फिर उसे आई लव यू बोला, तो उसने मेरे होंठों को चूमा और हम दोनों एक दूसरे के होंठ चूसने लगे.

आपको आंटी की चुत चुदाई की मेरी यह फ्री सेक्स स्टोरी कैसी लगी, मुझे मेल करना न भूलें. खैर दिन इसी तरह से बीते जा रहे थे और मैं था, जो कुछ नहीं कर पा रहा था. तब तक के लिए तुम रुक जाओगे?तो मैंने भी ‘हाँ’ कह दिया और उसने मुझे चूम लिया।क्या गुलाब की पंखुड़ियों जैसे होंठ थे उसके।उसके बाद उसने अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी और मैंने भी ऐसे ही अपनी जीभ उसके मुँह में डाली और वो चूसने लगी। मैंने उसकी कमर में हाथ डाल कर उसे खींचा.

फिर शाम को राजीव घर आ गए, हमने डिनर किया, मैंने राजीव से चुदाई की कहा तो उन्होंने आज फिर से मना कर दिया और मैं रोज़ की तरह अपनी चुत की खीरा चुदाई कर के सो गई.

अन्दर आकर जब उसने व्हिस्की की बोतल और गिलास देखा और टीवी को बंद देखा तो बोल पड़ी- लगता है कि आज फिर मूड बनाया जा रहा है. मम्मी ने पूछा- क्या हुआ? तबियत नहीं सही है क्या?तो मैंने बोला- नहीं, वो सपना देख रहा था तो डर गया!माँ बोली- कोई बात नहीं, खाना खाकर मेरे पास ही सो जाना यदि डर लग रहा हो तो!मैं बोला- नहीं माँ, अब ठीक है!और खाना खाने लगा. मैंने भी धन्यवाद बोला और फिर हम वापस उसके अपार्टमेंट में आ गए।अब कर भी कुछ नहीं सकते थे। एक ही बिस्तर पर हम दोनों दूर दूर बैठ गए और बातें करने लगे। हम दोनों बहुत थके हुए थे.

मेरी बीवी तीन मर्दों से चुद कर मेरे साथ बेवफाई करने के बाद मुझसे ऐसे बर्ताव कर रही थी जैसे कुछ हुआ ही ना हो. माधुरी और माणिक उनका ही इन्तजार कर रहे थे, उनके आते ही वे दोनों जल्दी से शादी में चले गए. उसे बेडरूम में से कुछ जानी पहचानी आवाज आने लगी और वो बेडरूम की तरफ बढ़ चला.

दीदी- सन्नी, लंड चूसने के लिए तुमने सारे कपड़े क्यूँ उतार दिए?मैं- अरे दीदी जब मस्ती ही करनी है तो पूरी तरह करो ना!दीदी- नहीं सन्नी, मैं इस से आगे कुछ नहीं करूँगी.

वो बहुत तेज तेज आवाजें निकालने लगी क्योंकि घर पर कोई नहीं था तो हमें कोई डर नहीं था. पुलकित ने यह बात साफ तौर पर मंजरी से कही थी- जिस दिन मौका मिला चोद दूँगा तुझे!मंजरी भी कहती- यार… मैं तो खुद उस दिन का इंतज़ार कर रही हूँ.

ऐश्वर्या राय की बीएफ मूवी मैंने उसे टेबल से तेल लाकर दिया।मैंने अपनी गाण्ड को हाथों से खोला उसने काफी सारा तेल अन्दर तक डाल दिया, फिर लण्ड को छेद पर रखा. ”नाटक मत कर रंडी… लोग देसी भारतीय औरत को नीग्रो के साथ हर तरह से चुदता हुआ देखना चाहते हैं.

ऐश्वर्या राय की बीएफ मूवी ममता बोली- अब क्या हुआ उस समय तो बड़े गुस्से में बोले थे कि दूसरी खोज लेंगे तो अब जाइए, मुझे अब आपके साथ उतना भी नहीं करना. मैंने सुबह सुबह ही चाची की चुत याद करके मुठ मार ली और नहाने चला गया.

मैंने सिगरेट बुझाई और पूछा- अब कौन आएगा?इतना पूछते ही वो तीनों जिन्होंने रिया को चोदा था, वो लपक कर मेरे पास आये.

मोटी आंटी की चुदाई सेक्सी

आज एक पतिव्रता बीवी, जिसने कभी किसी गैर मर्द की तरफ आंख उठा कर भी नहीं देखा, वो आज गैर मर्द को अपना सब कुछ सौंपने जा रही थी. थोड़ी ही देर बाद भाभी ने भी मुझे गले पे किस करना शुरू कर दिया और बोलने लगीं- मैं तुमसे प्यार करती हूँ, पर किसी को पता चला तो मेरी बहुत बदनामी होगी. गुड नाईट बेटा जी!” मैंने भी कहा और उसका सिर अपने सीने से सटा लिया और उसे थपकी देने लगा जैसे किसी छोटे बच्चे को सुलाते हैं.

दुर्गा पूजा के टाइम मैंने उसे रूम पर आने को मना लिया क्योंकि उस हर कोई मस्ती में खोया रहता है और कोई रोक टोक और समय की पाबंदगी नहीं होती है. मैं फिर रुक गया, कमरे में गया, मैंने देखा कि कामिनी विवेक की बांहों में बेशर्मों की तरह लेटी थी, उसने अलग होना भी ठीक नहीं समझा. दुर्गा पूजा के टाइम मैंने उसे रूम पर आने को मना लिया क्योंकि उस हर कोई मस्ती में खोया रहता है और कोई रोक टोक और समय की पाबंदगी नहीं होती है.

उसने बताया कि दोनों घरों के बीच एक दरवाजा है उसको दोनों तरफ से खोल लो तो भाभी को इधर लाया जा सकता है.

हम दोनों एक दूसरे के लंड पकड़ कर हिलाते, एक दूसरे के गाल चूमते, साथ साथ घूमते खेलते पढ़ते. मैंने उसकी चूत पर लौड़ा रखा और अपने लण्ड पर ढेर सारा थूक लगा लिया। एक हाथ से उसके मम्मे दबा रहा था. फिर मयूरी खुद ही दरवाज़े की तरफ बढ़ी और ऐसे झुकी जैसे पीछे से मोहन लाल को अपनी गांड के दर्शन करवाना चाहती हो और दरवाज़े को अन्दर से बंद करने की कोशिश करने लगी.

अभी लंड पेला भी नहीं था कि वो मादक सिसकारियां लेते लेते फिर से झड़ गई. मैंने बॉस को चेयर पर बिठा दिया और झुक कर उनके लंड को चाटने लगी, जिससे उनका लंड गीला हो गया. उसने पूछा- तुम क्या देख रहे हो?मेरे मुँह से निकल गया- कुछ नहीं भाबी.

लेकिन उन्होंने बताया कि बिना डॉक्टर की पर्ची के वो दवा नहीं बेच सकते. एक रात वर्षा मुझे बोली- दीदी, अब कब उस मजदूर से चुदवायेंगे? आठ दिन कब के हो गये हैं?मैं बोली- वर्षा, क्या तेरी चूत पहले की तरह अंदर से जल रही है?वो बोली- दीदी वैसे तो नहीं जल रही, पर जलने से पहले चुदवा लें तो ठीक रहेगा ना?मैं बोली- नहीं वर्षा, ऐसे बार बार नहीं चुदाते, और मेरा और किशोर का भी अब झगड़ा हो गया है.

विनोद ने खुश होते हुए मुझे बताया कि यहां पे कल मेरी कजिन की शादी है. फिर वो झड़ गई और मुझे बिस्तर धक्का देकर मेरी टी-शर्ट और पेंट उतार दी. मुझे चोदने वाले दोनों थोड़ी ही देर पहले मेरे अंदर अपना पानी गिरा चुके थे तो जाहिर था कि वो अब की बार जल्दी नहीं छूटने वाले थे.

मैंने अन्दर आकर बैग खोला तो हैरान रह गई क्योंकि उस ड्रेस में सभी चीजें थीं, मतलब सैंडल से लेकर नेलपॉलिश तक.

मेरे मुँह में लार बन गई थी और मैं अब पूरे लंड को अच्छी तरह मुँह में भर कर लंड चूस रही थी. मेरा दोस्त एक घंटे में आने वाला था तो मैंने ज्यादा देर न करना उचित समझा और उसके होंठ चूसते हुए उसे बेड पर लिटा दिया और खुद उसके ऊपर चढ़ कर उसके होंठों को चूसता रहा. मेरी हालत ख़राब होने लगी और बस मैं भगवान से यही प्रार्थना कर रहा था कि माँ रात वाली वीडियो ना देख ले.

क्योंकि पदमा की चीख निकल गई और मैंने उसे दर्द से दांतों को दबा कर लंड सहन करते हुए देखा. होम थियेटर की वजह से आवाज चाहे जितनी भी करूँ, उस रूम के बाहर नहीं जाती थी.

तुम बहुत अच्छी हो बस एक कमी है, जो दूर हो जाए तो तुम बहुत अच्छी लगने लगोगी. मैंने अवी से कहा- ज्यादा कॉल या एसएमएस ना करना, मैं बात नहीं कर पाऊँगी. मुझे गुस्सा आ गया लेकिन मैंने अपना गुस्सा दबा लिया और अपना लंड उसके मुंह में डाल कर आगे पीछे करने लगा.

सेक्सी फिल्में नंगी वीडियो

दीदी- देखो सन्नी, मैं करण की बेहन हूँ तो तुम्हारी भी बहन हुई ना! क्या तुम अपनी बहन को ऐसे बदनाम करते कभी?मैं जानबूझ कर नाटक करते हुए बोला- मेरी बहन ऐसा कोई काम नहीं करती कभी, और अगर करती तो मैं उसकी जान ले लेता.

फिर शाम को राजीव घर आ गए, हमने डिनर किया, मैंने राजीव से चुदाई की कहा तो उन्होंने आज फिर से मना कर दिया और मैं रोज़ की तरह अपनी चुत की खीरा चुदाई कर के सो गई. तुम तो ऐसा नहीं सोचती हो, चलो फिर कहीं मुझे ले चलो कोई मुझे कुछ नहीं कहेगा. माया के तन बदन में आग लग गई और उसके मुँह से एक मादक सीत्कार निकल गई.

”क्या सेक्स में ये सब करना पड़ता है?”नहीं, पर बहुत से लोग करते हैं. तब मैं अवी के पास गई और कहा- शाम को पहनने वाली ड्रेस लाए हो?अवी ने कहा- हाँ लाया हूँ, उस रूम में जाओ, अलमारी में एक बैग रखा है, उसी में है, वो भी तुम्हारी है. नेपाल की सेक्सी बीएफ हिंदीसामान के नाम पर उनके पास केवल एक बैग था, जिसमें उन दोनों के कपड़े और शायद किताबें थीं.

फिर पता नहीं उसका कोई दोस्त था, उसने अवी से कहा कि क्या मैं भी कर लूँ, तो अवी मुझे छोड़ दिया और कहा कि बिल्कुल. जब चूत चटवाने का सीन आया तो वो बोली- क्या ये भी देखना अच्छा लगता है?हाँ.

खैर, अब मैं उनकी कमर की मालिश करने गया तो मेरी उंगलियाँ उनके मम्मों को छू गईं, उस पर वो सिर्फ थोड़ी से सिकुड़ीं, पर कहा कुछ नहीं. मैं पिंकी का इशारा समझ गया, रोशनी ने झट से कहा- ठीक है विक्की की लंबी ककड़ी घुसा देते हैं. दो मिनट बाद मैंने देखा कि अब उसकी पकड़ मेरी पीठ पर ढीली हो रही है, इससे मैं समझ गया कि अब उसे दर्द नहीं हो रहा है.

दीदी- नहीं प्लीज़ सन्नी, ऐसा मत करो मेरे साथ!मैंने कोई बात नहीं की और खड़ा होकर पैंट उतार कर नीचे कर दी और लंड को हाथ में पकड़ लिया जो अब तक बातों ही बातों में पूरा औकात में आ चुका था. मैंने उनको दोनों मम्मों को अपने दोनों हाथों में लेकर सहलाने लगा, तो दीदी के मुँह से गर्म सिसकारियां निकलने लगीं, ‘म्म्म्मो… उम्म्ह… अहह… हय… याह… उहाआआ. मैं कामुकता में इतनी मदहोश हो चुकी थी कि संजय की हर बात को माने जा रही थी.

जैसे-तैसे खुद को संभाला मैंने… दुनियावी तौर पर प्रिया पर मेरा किसी किस्म का कोई हक़ ही नहीं बनता था और सब से बड़ी बात यह थी कि मुझे अपना परिवार, अपनी बीवी जान से ज्यादा प्यारे थे.

फिर उसने पास ही पड़ा एक दुपट्टा उठाया जो 90% तक पारदर्शी था, उस दुपट्टे को उसने अपनी चूचियों पर डाला, जैसे उसको छुपाना चाहती हो. उन्होंने कहा- जान बाहर मत निकालना… अन्दर ही कर दो… अपना गरम पानी मेरी चुत में भर दो.

शादी में जाने के कारण उसने लिपस्टिक, बिंदी, काजल और न जाने क्या क्या मेकअप किया हुआ था. मैंने उन्हें करीब दस मिनट तक लगातार किस किया, उसमें मुझे काफी मजा आया. जैसे ही मैं सही से खड़ी हुई कि अमित तेजी के साथ ऊपर बढ़ा और उसका थोड़ा सा लंड मेरी गांड में घुस गया.

मैं कुछ समझती उससे पहले तो मेरा नाड़ा खिंच चुका था और मेरी सलवार जमीन पर थी. उसकी कोमल जीभ का स्पर्श मुझे अपने लंड पर मिलते ही मेरे मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं. कुछ ही पलों में वो सिर्फ ब्रा और पैंटी में ही रह गई थी और मैं अंडरवियर में था.

ऐश्वर्या राय की बीएफ मूवी मैं सिंपल सा जीन्स टॉप पहन कर तैयार हुई और उसी तरह का एक और लेकर चल दी. फिर मैं धीरे धीरे अपने हाथ को उनकी चूचियों की तरफ़ बढ़ाने लगा और चुची तक आकर अपने हाथ को रोक दिया, फिर हिम्मत करके उनकी चूचियों को सहलाने लगा.

फुल एचडी सेक्सी वीडियो मारवाड़ी

हम दोनों में से कोई किसी को हाथों से छू नहीं रहा था; बस अपने पैरों से ही एक दूजे को मजे दे रहे थे. लेकिन लड़कियां शर्म की वजह से अपने पार्टनर से बोल नहीं पाती है और अकेले में पोर्न, सेक्स स्टोरीज या हस्तमैथुन का सहारा लेती हैं. इसका लिंक भी भेज रहा हूँ, जिन्होंने नहीं पढ़ी हो, वे प्लीज़ एक बार इस कहानी का मजा जरूर लें.

इसके कुछ ही दिनों बाद मेरी 12 वीं क्लास के पेपर खत्म हुए थे और मैं रोज़ दोपहर को घर पर अकेला होता था. मैंने कहा कि ये गन्दा है, मैं इसे मुँह में कैसे ले लूँ?उसने कहा- ये लड़कियां मुँह में लेकर मजा करती हैं. गधे वाला बीएफतो चाचा को मैं फ़ोन करके बोली- आज मेरे घर कोई नहीं है!और वो मेरे घर आ गए, वो एक कोल्ड ड्रिंक लेकर आये थे.

मैंने देखा कि सपना के मुलायम से गोल गोल मम्मों के बीचों बीच मेरा कन्धा फंसा था.

किड का लंड अब बहुत सख्त हो चुका था, जिसके फलस्वरूप वो किसी खंजर की तरह मेरी अर्धांगिनी की गांड में घुस गया. फिर उस दिन जान बूझ कर नखरा कर रहे थे, कर रहे थे कि नहीं? बाद में तो लंड की ठोकरों से ढीली हो ही जाती है.

आपको मेरी गरम कहानी अच्छी लगी या नहीं, मुझे मेल ज़रूर करें ताकि मैं अपनी अगली गर्म कहानी भी आपके सामने ला सकूं. उस दिन मैंने ब्रा पहनी तो बहुत टाइट हो गई थी, तो जो अमित ने ही दूसरी ड्रेस दी थी, मैंने उसी को पहन लिया. अब भाभी को पलटा कर उनके तने हुए चूचों को देखा तो मेरा लंड और अकड़ कर खड़ा हो गया.

जीन्स का मुझे कोई शौक नहीं है।यह कहानी उस वक्त से शुरू होती है जब मैं अपनी पढ़ाई कर रही थी। मेरी गाण्ड पीछे को निकलने लगी थी और मम्मे एकदम फूल गए थे.

उसके बाद कमल लंड को उसी जगह पर अन्दर बाहर करके मेरी चूत में जगह बनाने लगा. मैंने मोना को पलटने को कहा, वो पलट गई, जिससे उसकी गांड मेरे सामने आ गई थी. भाभी के पापा बोले- आपकी अनुपस्थिति में हम लोगों ने सिर्फ इसे गर्म किया है। पहले आप इसे अपने स्टाइल में चोदें, यह बाजारू छिनाल नहीं है.

हिंदी व्हिडीओ हिंदी बीएफपहले मैं आपको उसके बारे में बता दूँ, उसका नाम सृष्टि (बदला हुआ) है. एक बार तो वो चुदाई के लिए मां गयी थी लेकिन अगले ही दिन बदल गई थी और मुझे मना करने लगी थी.

चाइनीस लड़की सेक्सी वीडियो

क्या तूने कभी सेक्स किया है?मैंने झूठ बोलते हुए कहा- नहीं भाभी!भाभी ने हंसते हुए कहा- क्या तेरा मन करता है या सिर्फ़ हाथ से हिला कर सो जाता है?मैं भाभी के मुँह से ये शब्द सुन कर हैरान हो गया, पर अन्दर ही अन्दर खुश भी बहुत हो रहा था कि चलो बात तो बन रही है. हम दोनों को ही मिसमिसी छूट रही थी लेकिन खुद पे काबू किये हुए जैसे तैसे एक दूसरे की हथेलियों में हथेली फंसाए होंठों को चूस रहे थे. अब ये ऐसा क्यों कर रही है? मुझे उस पर इतना गुस्सा आ रहा, सोचा रात होने दो, फिर देख लेंगे.

आह्ह्ह अह्ह मर गईई!” मैंने कहा- जल्दी अपना काम कर लो, कोई आ जायेगा. मैं पिंकी का इशारा समझ गया, रोशनी ने झट से कहा- ठीक है विक्की की लंबी ककड़ी घुसा देते हैं. वो मेरे पास आई और मुझे हिलाते हुए कहा- कहां खो गए जनाब?मैं होश में आया और कहा- तुम बहुत सुंदर हो स्वाति.

उन्होंने मुझे देखा और हंटर लहराते हुए कहा- चल बहन के लंड, आज तेरी माँ चोदती हूँ. एक दिन अमित के पापा को किसी ने कॉल किया और कहा कि आप सैम को लेकर जल्दी से गोवा आ जाईये, यहाँ उसकी मम्मी बीमार हो गई हैं. मेरा पति तो चूत भी नहीं चाटता, बस थोड़ा सा लंड पेल कर चुदाई की और सो जाता है भोसड़ी का.

इसी बीच इत्तफाक से मैंने ग्रुप सेक्स की कुछ फ़िल्में भी देखी थीं जिससे मेरी चूत ने लंड की मांग करना शुरू कर दी थी. ”जैसा कल्याणी ने बोला, मैंने कल्याणी का मुँह में मुँह चिपका कर एक धक्का पेला.

अब तो मम्मी सातवें आसमान पर थीं, खूब जोर जोर से ऊपर से झटके मार रही थीं.

पर जब तक वो जिन्दा थे, उसको चुदाई का मजा सबसे ज्यादा तभी आता था, जब उसके पिता और पति दोनों एक साथ उसको जोर जोर से चोदते थे. सील बंद बीएफ वीडियोमैंने पूछा कि चूत में मूली क्यों नहीं की?तो बोलीं- मैं चूत की सील लंड से ही खुलवाना चाहती थी. एक्स एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ एचडीफिर उसने अपना माल मेरी गांड में ही छोड़ दिया और मेरे ऊपर ही लेटा रहा. मैंने उनकी पीठ पर फेरते हुए एक हाथ से उनके पेटीकोट को थोड़ा सा अलग कर अन्दर झाँका तो उनकी गोरी और गोल गोल गांड दिख गई.

जब उसने नहीं रोका तो मैंने उसकी जीन्स में हाथ डाला और पैंटी के अन्दर हाथ डाल कर उसकी गांड दबाने लगा.

मैंने उन्हें खड़ी करके उनकी मैक्सी को ऊपर उठा कर उतार दिया और अपने कपड़े भी उतार दिए. फिर मुझसे रहा नहीं गया, मैं उधर ही अपनी लुंगी के अन्दर हाथ डाल कर मुठ मारने लगा. फिर दीदी मुझे किस करने लगी लेकिन मैंने आज तक ये सब कुछ नहीं किया था इसलिए मैं थोड़ा हिचक रहा था.

उसके छोटे चाचा दिलजीत सिंह 42 साल के हैं और उनके छोटी चाची अमनदीप 40 साल की हैं. मैंने अपनी जीभ पूरी तरह से भाभी की चूत में डाल दी और उन्हें जीभ से चोदने लगा. मैंने बहूरानी का हाथ पकड़ के अपने पास खींचा और पहले तो पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत की जो दरार दिख रही थी, उसमें उंगली फिराई, फिर बहू की पैंटी थोड़ी सी साइड में सरका कर उसकी नंगी चूत की दरार में उंगली फिराई और फिर चूत को चूम लिया.

एक्स एक्स एक्स एक्स हिंदी सेक्सी मूवी

कार 70 की स्पीड पर जा रही थी तो मुझे भी अपनी बाइक उसी रफ्तार से दौड़ानी पड़ी. अदिति के चचेरे भाई की शादी थी तो बेटे बहू का जाना ज्यादा अच्छा लगता. वो बोलीं- अब जल्दी से अपना लंड मेरी चुत में डाल दो… नहीं तो मैं मर जाऊंगी.

अब मुझे अपनी बेबकूफी और उसकी चालाकी पर हँसी आने लगी, यानि उसने इशारे में ही मुझसे चुदवाने की बात बोल दी थी.

लेकिन मैं अभी शांत नहीं हुआ था, मेरा लंड अभी भी खड़ा था, मैंने कहा- दीदी मेरा अभी भी खड़ा है, इसे तो शांत करो.

ये तो हम दोनों के हथियारों को एक साथ बिना उफ़ करे दोनों छेदों में ले सकती है. तभी दीदी ने अपना सर नीचे कर लिया; मैंने भी हाथ से दीदी के सर को पकड़ा और उसका फेस ऊपर कर दिया, दीदी ने एक पल मेरी तरफ देखा. मराठी की बीएफमम्मी ने होटल में काम करते करते अपनी साड़ी ऊपर की होगी और किसी टूरिस्ट का मन ललचाया होगा.

और मयूरी ने मोहन लाल के स्थिति का लगभग बिल्कुल सही अंदाजा लगाया था. मैंने भाभी की गांड मारने का मन बना लिया था तो वे भी डरते हुए राजी हो गई और बोलीं- पहले क्रीम लगा लो. रीना जाने लगी तो उसके मटकते चूतड़ों को देखकर दीपक भैया अपना लंड मसलते रहे.

वो बैठने की कोशिश करने लगी पर मेरा लंड बार बार उसकी चूत से फिसल रहा था. सिराज ने अपने लंड से एक दो बार मेरे गांड के छेद को सहलाया और धीरे धीरे अपना लंड मेरी गांड में पेल दिया।मैंने खुद को फिर से एक बार ढीला छोड़ दिया। आनन्द से मेरी आँखें बंद होने लगी और शायद कुछ सेकण्ड के लिए मैं नींद के आगोश में भी चली गयी, मगर तभी सिराज ने कस के मेरे चूतड़ पे तमाचा मारा तो मैं हड़बड़ा कर जग गयी.

फिर अचानक वो एक बार मेरे होंठ के पास आई और मेरे होंठों पर किस करके उसने सीधे मेरे लंड को पकड़ कर सुपारा अपने मुँह में भर लिया.

मैंने भाभी को वहां रुकने के लिए कह कर, नीचे जाकर से बाहर रोड से जूस ले आया. चाचा कुछ देर रुक गए और उसके बाद वो मुझे धीरे धीरे चोदने लगे, मेरा दर्द थोड़ा कम हुआ था तो चाचा मुझे थोड़ा तेज तेज चोदने लगे और जोर के धक्के मेरी चूत में मार मार कर जल्दी जल्दी चोद रहे थे और मैं सिसकारियाँ ले रही थी. रीना के थूक से लिपटे लंड को दीपक भैया अपनी बहन रीना की चौड़ी गांड को फांक करके लंड डालने लगे.

एक्स एक्स में बीएफ जोया भी हमारी बातें गौर से सुन रही थी और इस तरह से अलग तरह के मुँह बना रही थी. दीदी शर्मा कर- लेकिन पीछे से नहीं करना और जब मैं बोलूं मुझे छोड़ देना.

मैं भी मामी की चूत में हाथ फेरने लगा और वो भी मादक सिसकारियाँ भरने लगीं. मैंने बोला- क्या हुआ?उसने बोला- पता नहीं, क्या मैं तुम्हारे गले लग सकती हूँ?मैंने बाँहें फैला कर बोला- ज़रूर…उन्होंने मुझे हग कर लिया. अब तक अवी भी आ गया था तो केक कटा, फिर सभी डांस करने लगे मैं भी कर रही थी.

राजस्थान लड़की सेक्सी

उसी रात गांव में चोर आ गये, बड़ा हल्ला गुल्ला हुआ और दीक्षा अकेली थी तो वो डर गई. तभी भाभी के पापा बोले- यार, बहुत गजब माल हो तुम आरती, जब तुम्हारे घर अपनी बेटी का रिश्ता लेकर गया था, तभी तुम पसंद आ रही थी और सोच लिया था कि अगर बेटी की शादी हो गई तो एक बार तुम्हें चोदूंगा जरूर!और मुंह को लंड से चोदने लगे और बोले- आरती, शर्ट उतारो, तुम्हारे बूब्स चूसने हैं. इस वक्त मेरे लंड में ना के बराबर दर्द था और उधर चूत का दर्द भी खत्म हो गया था.

वहां ज्यादातर इंडियन ही थे।वहां मैंने अपने कपड़े उतार दिए और ब्रा पैंटी में आ गयी. इसी दौरान मैं उसके टीशर्ट के अंदर अपना हाथ डाल कर उसका पेट सहलाने लगा जिससे उसके चेहरे के भाव थोड़े बदले, वो कुछ कामुक सी होने लगी.

उनका लड़का चिंटू दिखने में अपनी माँ पे गया था, वो ज़्यादातर मेरे संग खेला करता था.

मुझको पता था कि इसके लिए पहले मुझको उसकी चूत को पानी निकाल कर चिकना करना था सो मैं उसके उसके बगल में लेटा और उसके शरीर को सहलाने लगा. एक दिन उसने मुझे बताया कि उसका एक पेपर लखनऊ में है, लेकिन समस्या यह थी कि वह अकेली नहीं आ सकती थी. आंटी- बेटा, ये तेरी ही है, मार ले जितनी मारनी है, तेरे अंकल पे तो कुछ बनता नहीं.

पापा जी… मेरे पांव छोड़िये… मुझे अच्छा नहीं लगता!” मेरी संस्कारशील बहू रानी बोली और अपने पैर पीछे खींचने लगी. लंड चूत की कसी हुई दीवारों पर रगड़ खाकर और भी मस्ती में झूम उठा।प्रेरणा छोटी के पीछे सट गई और उसकी पीठ पर अपने स्तन घिसते हुए अपने हाथ सामने लाकर छोटी के मदसमस्त करते उरोजों को दबाने लगी। छोटी को मस्ती चढने लगी और उसकी गति बढ़ने लगी. मैंने अवी से कहा- ज्यादा कॉल या एसएमएस ना करना, मैं बात नहीं कर पाऊँगी.

मुझे लगा कि ये लड़के मीनू के साथ छेड़खानी कर रहे हैं, तो बस मुझे पता नहीं क्या हुआ, मैं सीधा उन लड़कों से जा भिड़ा कि ये क्या लगा रखा है?उन लड़कों ने बोला- क्या ये तेरी बहन लगती है या तेरी गर्लफ्रेंड है, जो तू इतना भड़क रहा है.

ऐश्वर्या राय की बीएफ मूवी: मैं भी भाभी की चुत चोदने के लिए उतावला हो रहा था तो मैंने अपना लंड भाभी की चूत के छेद पर रखा और धक्का मारा. मैंने उससे कहा कि मूवी हॉल में कोई जानकार न देख ले, मेरे दोस्त के रूम में चलते हैं.

”ट्राय करोगी क्या?”ट्राय कर सकती हूँ, पर अच्छा ना लगे तो कंटिन्यू नहीं करूँगी. मैंने भाभी को उनके कानों के पास किस करना स्टार्ट कर दिया तो वो फिर से गर्म हो गईं. मैंने उसकी प्रोफाइल चेक की तो वो मैंने शहर से थोड़ी दूर वाले शहर की ही रहने वाली थी। मैंने उनकी फोटोज देखी तो उनमें वो बहुत सुन्दर लग रही थी।तो मैंने उसे ‘हाय’ लिख कर मेसेज भेजा तो उसने भी रिप्लाई कर दिया।मैंने उससे चैट करनी शुरू कर दी। उससे की गयी चैट से मुझे पता चला कि वो एक 27 साल की शादीशुदा भाभी है। वो एक काफी बड़े घर की बहू है.

क्योंकि मम्मी पापा के जाते ही वो अब केवल नाइटी में ही रहने लगी थीं.

ये देख कर अंकित का जोश दुगना हो गया और अंकित नीचे से धक्के लगाने लगा. वैसे एक बात बताऊँ आज तुम बहुत अच्छी लग रही हो, इतनी अच्छी कि मैं शब्दों में बयान नहीं कर सकता हूँ. उन सबके हाथ पीछे पीठ पर हथकड़ी से बंधे हुए थे और उनके सामने मेरी दीदी थीं.