हिंदी ब्लू सेक्सी बीएफ पिक्चर

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो चाची

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लेयर आइवरी: हिंदी ब्लू सेक्सी बीएफ पिक्चर, फिर सुबह उठकर उन्होंने कॉफ़ी बनाई और हम दोनों ने बात करते हुए कॉफ़ी पी.

सेक्सी वीडियो मुंबई इंडियन

मैं कुछ देर बाद भाभी की चुत में लंड को तेजी से अन्दर बाहर करने लगा. वीडियो सुहागरात की सेक्सीतभी भैया ने काफी सारा तेल मेरी गांड के छेद पर गिराया और कसके दबाते हुए मेरी गांड के छेद तक हाथ से मसलने लगे.

दादी मस्त आवाज कर रही थीं- अंह अंह उँह!जब मेरा होने वाला था तो मैं रुक गया. राधा राधा सेक्सीलगे भी क्यों न … मेरी नई-नई शादी हुई थी, साल भर भी नहीं हुआ था और करन को भी आये चार महीने हो चुके थे।मेरी चूत कब तक उंगली से मानती?और बाहर का लंड किसका लेती?इसलिये मैं मन मार कर रह जाती.

जब मैं शाम को घर पहुंचा तो मेरी वाइफ के साथ क्षिति पहले से बैठी थी.हिंदी ब्लू सेक्सी बीएफ पिक्चर: वो दोबारा अपना लंड मेरे चूतड़ों के बीच में घुसाने की कोशिश करने लगा.

अगर आपने अच्छे से सेक्स किया है तो दो बार में ही आपके साथी और आपके औजार सूज जाते हैं.आंटी का पेट थोड़ा बाहर को था, उसको भी मैंने अपनी जीभ से चाटा और पसीने का स्वाद लिया.

सेक्सी नगीना - हिंदी ब्लू सेक्सी बीएफ पिक्चर

दवाई और दो तीन ड्रिप लगने के बाद दीदी ठीक हो गईं मगर अभी उन्हें हस्पताल से छुट्टी नहीं मिली थी.जैसे ही उसने अपनी पैन्ट उतारी, उसकी पैंट से उसका लंड जिसकी लंबाई 8 इंच और मोटाई 3 इंच थी, बाहर आया.

उसके साथ गर्म बातें करते हुए मेरा लंड पहले से ही खड़ा था और चड्डी के ऊपर से भी उभरा हुआ दिख रहा था. हिंदी ब्लू सेक्सी बीएफ पिक्चर [emailprotected]कहानी का अगला भाग:मेरी यौन अनुभूतियों की कामुक दास्तान- 2.

मंजू के मुँह से चीख निकल गई- आआह उम्म्ह … आशु क्या करते हो!पर पहला अनुभव दिल मेरा धाड़ धाड़ करके आवाज कर रहा था.

हिंदी ब्लू सेक्सी बीएफ पिक्चर?

उस समय मेरी आंखें दर्द से बंद हो गईं और मैंने ‘रुको रुको …’ करके चिल्ला दी. एक मर्तबा समता को एक राज्य के चुनाव के लिए प्रचार के लिए बुलाया गया. उसके बाद मैं दीदी के मुंह की तरफ मुंह करके लेटा और दीदी दीदी के होठों को चूसने लगा.

खाना खाने के बाद मैं बोला- मैं सोने जा रहा … आज मैं ज्यादा थक गया हूँ. इतना मोटा लंड कैसे अन्दर घुसेगा … ये ख्याल मन में आते ही उसकी चूत और ज्यादा कामरस छोड़ने लगी थी मानो आज चूत खुद को पूरी तरह से गीला कर लेना चाहती थी. दस मिनट बाद वो बोला- चल लंड साफ कर!मैंने अपनी ब्रा से लंड साफ किया और फिर से लंड हिलाने लगी.

मुझे बहुत तेज़ दर्द उठा और मैं चिल्लाने लगी; उसे अपने ऊपर से दूर करने लगी. चल शुरू हो जा!मैंने भाभी की पैंटी हटा दी और अपने कपड़े भी अलग कर दिए. मैं अपनी दोनों उंगलियों को और तेज तेज चूत में चलाने लगा और दूसरे हाथ से उनका एक दूध पकड़कर कसकर दबा दिया.

अब सलीम अपनी अम्मी की दोनों चूचियों को दबाने लगा और नफीसा उछल कर गांड पटक रही थी. मैंने उनका मुँह तिरछा करके उनके होंठ चूसना शुरू कर दिए तो वो भी मेरा साथ देने लगीं.

मीना का एक हाथ मेरे सर पर आ गया उसने मेरे लम्बे बालों को जोर से पकड़ लिए और मेरे होंठों को चूसने लगी.

मैं फ्री सेक्स कहानी का नियमित पाठक हूं और अन्तर्वासना की कहानियां भी पढ़ता हूं.

मेरे चौड़े सीने को देखते हुए सपना ने अपने ही हाथों से अपनी ब्रा निकाल दी. मैं ऑफिस के बाद जब भाभी के घर गया तो भाभी ने चाय बनवाई और बोलीं- आज मेरे सास ससुर घर पर नहीं है, तो तुम यहीं सो जाओ. मैंने उसकी उठी हुई टांगों को पकड़ लिया और लंड को चूत में पिस्टन की भांति चलाने लगा था.

मैंने उसकी चूची को ऊपर से दबाया, उसकी चूत को साड़ी के ऊपर से सहलाते हुए बोला- इसकी प्यास मैं बुझा कर रहूंगा।उसने भी मेरा मजा लेते हुए कहा- अच्छा जी, देखते हैं बुझा पाओगे कि नहीं।मैंने सोचा था कि उसी रात में हमारे बीच कुछ ना कुछ हो जाएगा. मैं- यही तो जन्नत है मेरी जान!उसी समय प्रिया की चुत से कुछ सफेद रस निकलने लगा था. मैं चुत के दाने को अपने होंठों से पकड़ कर खींचते हुए चुत चटाई का मजा लेने लगा.

मैंने प्रकाश और दीपक को एक तरफ बैठने का इशारा किया और वो दोनों बेड के एक कोने पर बैठ गए.

फिर मेरे पूछने पर उसने बताया कि उसके पति का बिज़नेस, उसके देवर व जेठ ने धोखा देकर हड़प लिया. लड़कों को भी चाहिए कि इत्मीनान के साथ अपने साथी को गर्म करे, बांहों में भर कर उससे प्यार से बात करे, जब वो सहज हो जाए … तो उसको चुम्बन करे. मैंने दीदी के कान में पूछा- दीदी कैसा लगा मेरा औजार?दीदी ने शर्माते हुए कहा- अच्छा है भाई!तब मैंने कहा- दीदी, आप इसको हिलाओ न!दीदी मेरे लंड को ऊपर नीचे करने लग गई.

वैसे भी मामा तो ठरकी है ही … तो मामा पर हल्की सी कोशिश की जाए तो मामा को भी मजा आएगा और मुझे भी!तो उसने अब अपने मामा में सिर्फ मर्द को देखना चालू किया और सोचने लगी जो होगा देखा जाएगा. आप अपने रिव्यू मुझे मेल कर सकते हैं … और हां मैंने सेक्स विद फ्रेंड स्टोरी आपके साथ शेयर की है तो इसका मतलब ये नहीं है कि मैं किसी के लंड से चुदने के लिए रेडी हो जाऊंगी. मैं शिखा आंटी को रूम में लेकर गया और आज उन्हें अपने लंड पर बिठा कर कहा कि आपकी ये ख्वाहिश बाकी थी तो अभी ये भी पूरी कर लेते हैं.

इधर दूसरा लड़का मेरे माथे को तो कभी गालों को, कभी कान को चूसता हुआ मेरे नाजुक होंठों पर आकर टिक गया था.

बंगाली लड़की के बाद पंजाबी लड़की और फिर गुजराती माल को चोदना मेरी पसंद रहा है. मैं फिर से एक बार एक साथ तेजी में आया और कुछ ही पलों में डिस्चार्ज हो गया.

हिंदी ब्लू सेक्सी बीएफ पिक्चर वो ना ना हां हां कहती रही और बहुत ज़ोर से मेरे दूसरे हाथ को पकड़े हुए भी थी. दो बार हुई तगड़ी चुदाई से चूत पूरी तरह से सूज गई थी, जिसके कारण वो लाल हो चुकी थी.

हिंदी ब्लू सेक्सी बीएफ पिक्चर तब मेरे लंड के सुपारे के ऊपर की त्वचा पीछे नहीं होती थी और जोर लगा कर खींचो तो दर्द होने लगता था. खाते समय मैं भाभी के चहरे पर वो ख़ुशी देख रहा था … जो किसी तृप्त महिला के चेहरे पर दिखती है.

मुझे लगा कि शायद अब मेरी बीवी की चुदाई उसके यार से करवाने का मेरा सपना सच हो सकता है.

सोनी भाभी

पति गाँव गए तो अकेली रहने पर मैंने अपने मामा के बेटे को अपने घर बुला लिया. अब मुझसे रुका नहीं गया, मैंने मीना और दीपक दोनों को बांहों से भर लिया और खड़ी होकर दोनों को बेडरूम की ओर घसीटने लगी. मैंने अभी तक इतनी महंगी बस में सफर नहीं किया था, इसलिए काफी उत्साहित था.

मैंने उसको मैसेज किया कि अब बस करो जानू मुझे सोना है, नींद आ रही है. उसने मेरी पेंटी को थोड़ा नीचे को सरका दिया और अपने लंड पर थूक लगा कर मेरी चूत के ऊपर रख दिया. मतलब एक या दो, पर अब पूरा बॉक्स ब्लू फिल्म की डीवीडी से भरा हुआ था.

फिर भाई मेरी जांघों को सहलाने लगे और बोले- स्कर्ट भी छोटी लग रही या ठीक है?भैया का लंड अब एकदम तन गया था और मेरे गांड से रगड़ रहा था.

ये कह कर मीना ने मुझको फुसलाया और अपनी चूचियां मेरी पीठ पर दबा कर रगड़ दीं. मीना के चूतड़ जब मेरी जांघ से टकराते, तो फट फ़ट … पट पट की आवाज आने लगती. जब उनकी टांगें मुझसे चिपकीं, तो मेरे तो तनबदन में मानो आग सी लग गई.

तो मैंने सोचा कि एक बार में ही पूरा डाल देता हूँ, जो होगा सो देखा जाएगा. मैंने हाथों से उसकी चूचियां दबाते हुए उसको अपने पास खींचा और अपने लंड को उसकी गांड से चिपका लिया. भाभी के मोटे मोटे बूब्स साफ़ नजर आ रहे थे और बारिश में भीग कर उनकी कुर्ती उसकी गांड से बिल्कुल चिपक गयी थी, जिससे उनकी मस्त गांड का आकार एकदम साफ दिख रहा था.

फिर मैंने सोचा कि मां चुदाए … साली को देखा तो देखा … अब अंकल भगाएगा तो दूसरा कमरा देख लूंगा. मैंने मजाक करते हुए पूछा- मेरा वो क्या दीदी?वो मेरे गाल पर चिकोटी काटती हुई बोली- अब इतना भी शैतान न बन.

एक और जोड़ी साथ में नंगी सीमा को वीर के साथ गुत्थम गुत्था देख कर और चुदासी हो जा रही थी. हैदराबाद में तब मेरे कुछ स्कूल के दिनों के क्लासमेट भी अपनी इंजिनियरिंग की पढ़ाई पूरी कर जॉब सर्च कर रहे थे, स्ट्रगल कर रहे थे. थोड़ी देर काम करने के बाद मैं राहुल के कंप्यूटर में सेक्स वीडियो देखने लगा.

उसके बड़े बड़े गोल चुचे और उठी हुई मोटी सी गांड है जिसे मैं खूब चोदता हूँ.

ऋतु ने अपना मुँह खोल कर अपना थूक अपने हाथ में लिया और नीचे सनी के लंड पर ले जाकर बाकी बचे हुए लंड को पूरा गीला कर दिया. मैंने उससे कहा- प्लीज़ आगे ही कर लो, आपका बहुत बड़ा लंड है और मेरी गांड बहुत टाइट है. मैंने पूछा- क्या हुआ जान तू हंस क्यों रही है?वो बोली- तू मेरी बगलों को चाट रहा है न … इसलिए गुदगुदी हो रही है.

चूंकि उन्होंने इस बात को साफ़ शब्दों में कहा था कि उनके पति बिस्तर में नाकारा हैं, तो मुझे काफी आस जग गई थी. मैंने प्रिया की कमर को पकड़ कर थोड़ी ऊपर नीचे की तो वो मेरे हाथ पकड़ कर मुझे रोकने लगी.

पर चैट में उसने कहा कि शायद विजय ये पसंद न करे कि वो संजीव से चैट कर रही है।संजीव बोला- निश्चिंत रहो, मैं उसे कभी कुछ नहीं बताऊंगा. उसने खुद लड़कों को उकसाया था इस सेक्स के लिए!हैलो फ्रेंड्स, मैं दीपक यादव एक बार फिर से आपको अपनी बहन की चुदाई की कहानी में मजा देने आ गया हूँ. वो कभी मेरे आंड छूती, तो कभी लंड की टोपी को देखती, तो कभी लंड की चमड़ी पीछे करके स्किन को नाख़ून से हौले से सहलाती.

ओसी ब्लू फिल्म

मेरी पिछली कहानी थी:दोस्त की मम्मी ने चूत चुदाई करनी सिखाईयह मेरे दोस्त राहुल की कहानी है.

मैंने उसके सारे कपड़े उतार दिए और वो सिर्फ ब्रा और पैंटी में रह गई थी. आग तो दोनों नौसिखियों को लगी थी, साथ ही ये भी पता था कि ऐसा मौका दोबारा शायद न मिले, तो आज क्यों न पूरा फायदा उठा लिया जाए. फिर उन्होंने मेरे पास आकर कहा- तू शांत लेटी रह, नहीं तो अभी ही तेरी सारी करतूतें तेरी दीदी को बता दूँगा.

शायद मीना भी बेचैन हो गई थी तो वो खुद ही लेट गई और पास में रखे बैग से कुछ निकाला. कॉलेज में संजय मिला- अब दर्द कैसा है सीमा!अचानक से पता नहीं कब वो मेरे बराबर चलने लगा था, मुझे पता ही नहीं चला. सेक्सी फिल्म चोदा चोदी एचडी वीडियोमैं- मैं भी ठीक हूँ भाई … भाई एक मस्त सेक्सी लड़की है, चोदेगा?राहुल- भाई दिला दे, वैसे भी न जाने कब से नहीं ली किसी की.

मैं जीजू के लंड के गर्म गर्म टोपे को अपनी गांड के छेद पर महसूस करने लगी. पन्द्रह मिनट की जबरदस्त रगड़ाई के बाद चचा थक गए और मेरे बगल में लेट गए.

पिछले भागरात को छत पर दीदी ने लंड चूसामें अब तक मैंने दीदी को स्कूटी सिखाने के बहाने ले जाकर एक जगह स्कूटी पर ही दीदी को चोद दिया था. भाभी अलसाई सी बोलीं- कुछ नहीं यार … वही सब, खुद को संतुष्ट करने की कोशिश कर रही थी. पिछले भागहोटल में चुदी मेरी बीवी यार सेमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी बीवी ने सनी का लंड अपनी चुत में ले लिया था.

जो दीदी ने सुन ली और पूछने लगी- यह तुमने क्या किया, पजामा क्यों नीचे कर दिया मेरा?मैंने कहा- दीदी, पजामा भी तो बचाना है और यह नीचे रहेगा तो फिर कमर पर अच्छे से मालिश हो पाएगी. दोस्तो, लंड चुसवाने में इतना आनन्द की अनुभूति होती है कि मैं उसे शब्दों में बयान नहीं कर सकता. इसे मैंने लिखना तो कई बार चाहा पर समय की कमी और संकोच के चलते नहीं लिख पाया.

फिर मैंने धीरे से नीचे चुत में हाथ लगाकर उसे दबाते हुए उसकी फांकों को चाटने लगा.

आधे घंटे तो मैंने खून की बूंदों से सनी हुई और दर्द से तड़पती हुई रोती रही, पर मुझे मेरे प्यार पर भरोसा था. यानि कि मैं थोड़ा अगर पटाने के लिए सोचूं तो आराम से अपने दोस्त की बीवी को चोद सकता था.

मीना चिहुंक सी गई और एक सिसकी सी ली- आआआ … आअहह!मैंने तेज़ी सी उंगली को अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया. ऋतु ने नीचे से अपनी चूत को ऊपर की तरफ उभार दी और सनी के मुँह को ललचाने लगी. जैसे ही मैंने चिराग का टॉवल खोला, तो मेरा हाथ चिराग के गर्म लंड पर जा पड़ा.

जॉन ने अब नेहा को सोफे पर लिटा दिया और 69 में होकर अपना लंड उसके मुँह में डाल कर खुद उसकी चूत को चपर चपर करते हुए ऊपर से नीचे तक चाटने लगा. दो धक्कों में ही उसका पूरा लंड शिल्पा दीदी की चूत के अन्दर घुस गया था. वाइफ फ्रेंड सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी पत्नी की सहेली की सेक्स की जरूरत को समझा और सेक्स का जो आनन्द मुझे मिला, इस कहानी में प्रस्तुत है.

हिंदी ब्लू सेक्सी बीएफ पिक्चर जब स्कूल से वापस आई तो मैंने पूछा- तुम्हारा लास्ट पेपर कैसा हुआ?वो हंस कर बोली- मस्त. इसको हम प्यार तो नहीं कह सकते हैं, लेकिन हां लगाव है … दिल से भी और तन से भी.

डाउनलोड्स वीडियो डाउनलोड

पिंकू को बहुत मजा आ रहा था।उसने मेरे लंबे लंड को जोर जोर से चूसना शुरू कर दिया।अभी दोपहर की लगभग 12:30 बजे दे और हम दोनों भाई बहन जीवन का असली आनंद उठाने में व्यस्त थे।तभी मम्मी का फोन आया, मम्मी ने बताया कि वो लोग आज नहीं आ पायेंगे. भाभी मेरी इस हरकत से एकदम चौंक गईं और मुझसे बोलीं- ये क्या बदतमीजी है. अब आगे यंग Xxx चुत स्टोरी:मामा के घर के पीछे एक दालान बनी थी, जिसमें आलू प्याज की फसल आदि सब रखते थे.

सलीम अम्मी अम्मी अम्मी चिल्लाने लगा और झटकों की रफ्तार तेज होने लगी।सलीम नफीसा की चूचियों को दबाने लगा और जोर जोर से झटका लगाने लगा. जिसकी उम्र बढ़ती जा रही थी लेकिन शादी न हो पाने या सेक्स न मिल जाने के चलते यौनकुंठा का शिकार होने लगी थी. सेक्सी सेक्सी पोर्नपिछली सेक्स कहानी पर मुझे बहुत ही ज्यादा मेल्स आए और आप सबने मुझे बहुत ही ज्यादा प्रोत्साहित किया.

पी लो मजे लेकर!तब मैंने दीदी से कहा- अगर आपको मेरे लंड का रस पीने में कोई प्रॉब्लम हो, तो मेरा लंड मुंह से बाहर निकाल दीजिए मैं आपके मुंह के बाहर ही झड़ जाता हूं.

मैं हिम्मत जुटा कर उठ कर बैठ गया और दोनों तरफ से लैंगिंग्स को पकड़ कर एक ही बार में उसके घुटनों तक कर दिया. जुबैदा आंटी ने कहा- आंह बस कर मरदूद … मेरी चुत में जलन होने लगी है.

सनी ने सुपारे से ही धक्के मारने शुरू कर दिए और अपने दोनों हाथ आगे ले जाकर उसकी चूचियां पकड़ कर निप्पल मसलने लगा. मैंने पूछा- क्या हुआ?मामी- अब मैं और नहीं रुक सकती … मेरे बाद तुम संभाल लेना. बस तू कुछ गज़ब की माल है तो मैंने बोला था कि सबको तेरी चूत दिखा दूंगा.

मेरे फूफा जी दिल्ली में काम करते थे और उनका इकलौता बेटा भी वहीं पढ़ता था.

तुरंत तुरंत आंटी को बिस्तर पर खींचा और दोनों हाथों से उनके चूचों को मसलता हुआ उनके ऊपर चढ़ गया. कज़िन सिस्टर Xxx चुदाई कहानी दो साल पहले की है जब मैं पच्चीस साल का था।वैसे उससे पहले मैं अपने बारे में भी बता दूं आपको।मेरी हाईट 5. अब आप लोग सोच रहे होंगे कि मुझे ये सब कैसे पता है, तो मैं बता दूं कि वो मेरे साथ रूम में मेरे सोने के बाद चुदाई करते थे और बहुत सी बातें ऐसी हैं … जो मैं आप सबको फिर कभी बताऊंगा.

हिंदी भोजपुरी सेक्सी डांसकभी पेड़ के नीचे चोदता तो कभी कहीं दुकान के बेसमेंट में मजा ले लेता. या यूं कहिये कि जिस चीज की वो अपने घटिया पति से उम्मीद करती थी, आज मुझसे उसे मिल रही थी.

वीडियो गाने सेक्सी वीडियो

फिर मैंने उसके भगांकुर को अपने होंठों में लिया और उसकी चूत में अपनी दो उंगलियां डाल दी. ज्योति की बेटी नीता हमारे साथ इसलिए रहने लगी थी क्योंकि उसका काम लॉकडाउन के वजह से अभी बंद था, वो वर्क फ्रॉम होम कर रही थी. मुझे सेक्स या हस्तमैथुन में ज्यादा दिलचस्पी नहीं थी किन्तु कभी कभार मन हो जाने पर हस्तमैथुन कर लेता था.

’मैंने उनको और ना तड़पाते हुए उनकी दोनों टांगें अपने कंधों पर रखीं और बड़े प्यार से अपना लंड उनकी चूत में आधा पेल डाला. मेरे फूफा जी दिल्ली में काम करते थे और उनका इकलौता बेटा भी वहीं पढ़ता था. फिर रसोई में जाकर एक कटोरी में तेल लिया और दीदी के कमरे में चला गया.

भाभी ने अपनी टांगें खोल दीं और अपनी चूत पर मेरे हाथ का मजा लेने लगीं. वो मुझे पहले भी कई बार बता चुकी थी कि वो अपने पुराने बॉयफ्रेंड का लंड चार पांच बार मुँह में ले चुकी थी … लेकिन चूत में नहीं लिया था. कुछ देर बाद पिंकू फिर से गर्म हो गई और मुझे जोर जोर से किस करने लगी, मैं सटासट चुदाई किए जा रहा था।मुझे महसूस हुआ कि पिंकू दोबारा झड़ चुकी हैमैं पिंकू को नीचे करके उसके ऊपर आ गया, मैं रुकना नहीं चाहता था.

पिछले भागरिश्तेदार कुंवारी लड़की को चोदामें आप अब तक पढ़ चुके थे कि मैं मीना की चूचियां चूस रहा था और वो मस्त आवाजें निकाल रही थी. तीसरा इससे मजा भी खूब आता है, तो हमारे हॉस्टल में भी लड़कियां धड़ल्ले सेगुदा मैथुन का मजालेती थीं.

उनका लंड थोड़ा टेढ़ा और ऊपर की ओर उठा हुआ था, जिसके कारण वो और भी विकराल लग रहा था.

धीरे धीरे मैं ऊपर आया और साड़ी को कमर के ऊपर रख कर पैंटी के ऊपर से चूत चाटने लगा. ब्लू सेक्सी चलतीअगली कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने रूही भाभी को उनके घर पर उनके पति की मौजूदगी में चोदा और उनकी आया को भी पेल दिया. नंगी लड़कियों की सेक्सी पिक्चरपापा अभी भी नहीं आए थे तो मम्मी परेशान हो गई थीं कि खेतों पर हल कौन चलाएगा. मैंने कहा- जब मैं हॉट लग रही थी, तो दारू क्यों पी … मुझे देख कर ही गर्म हो जाता.

फिर मैंने मनोज से कहा- देखो, तुम मां से सुनील के बारे कुछ मत बोलना.

मुझे सपना के मुँह से यह सब सुनकर बड़ा अच्छा लगा कि प्रिया को कुछ नहीं होगा. उसे मालूम था लड़की को चोदने से पहले जितना तड़पाओ, वो उतना मजा देती है, आगे भी चुदाई की गुलाम हो जाती है।फिरोज उससे अलग हुआ और अपने कपड़े उतारने लगा. दो बार हुई तगड़ी चुदाई से चूत पूरी तरह से सूज गई थी, जिसके कारण वो लाल हो चुकी थी.

पर जैसे ही बिस्तर पर मैं उसके ऊपर आया तो वो मुझे धक्का देकर बाहर आ गई।फिर सलीम बोला- राज मेरे भाई, आज मेरा जन्मदिन है. पर बार बार मुझे वो पापा मम्मी वाली बात याद आ रही थी जो वो दोनों कर रहे थे. इस समय हम दोनों एक दूसरे की आंखों से आंखें मिला कर चुदाई का मजा ले रहे थे लेकिन मौन थे.

ब्लू फिल्म दिल्ली वाली

मंजू को भी मेरे साथ मस्तराम की कहानी पढ़ने और सम्भोग की पिक्स देखने का शौक लग चुका था. भाभी ने चूँकि फोन उठा लिया था और वो स्क्रीन पर चल रही वीडियो को बड़ी गौर से देख रही थीं. आप मेल करना न भूलें कि यह सेक्सी दीदी Xxx कहानी आपको कैसी लगी?[emailprotected].

मगर नीता ने शायद मुझे अपनी मां के पति के रूप में अभी भी स्वीकार नहीं किया था.

मामी फकफका कर रोने लगीं- आंह आआ मेरी मां चुद गई … निकालो इसको … आंह आज के बाद कभी नहीं कहूंगी.

मैं नंगा हो गया था और मेरा लंड बुआ की नंगी जवानी को खा जाने के लिए एकदम रेडी था. मैंने भी उनकी पैंट और पैंटी उतार दी, मम्मों पर लटकी ब्रा भी उतार दी. सेक्सी नंगा पिक्चर दिखाओमैंने अपना हाथ आगे बढ़ाने के लिए एक अंगड़ाई ली और हाथ दादी के घुटने तक ले गया.

वो बोली- ठीक है बता क्या काम है?मैंने कहा- मुझे तेरे साथ सेक्स करना है. मैंने ऋतु को मनाया कि वह सनी से बात करे और उसको अपनी बातों से अपनी तरफ आकर्षित करे. कुछ देर बाद मम्मी ने किताब इतनी ऊपर रख दी, जहां मैं पहुंच नहीं सकता था.

नीचे पैरों में हो रही गुदगुदी और इधर चुसते हुए होंठों ने मेरी सोई आग फिर से भड़का दी थी. कुछ पल बाद मामी का दर्द कम हुआ तो उन्होंने हाथ पैर मारना बंद कर दिया.

मैं चाची के सामने आने में कतराने लगा था लेकिन मैं अभी भी चाची को पाना चाहता था.

हर बार मीना सिसकारी भरने लगती और दर्द से कराहने लगती- आह्ह्ह … आशु … ये क्या कर रहे हो … आह्ह … मैं मर जाऊंगी … आंह मत करो … उम्म्म बहुत मज़ा आ रहा है … ओह्ह … उफ़ आशु लगती है दर्द हो रहा है … प्लीज रुको … धीरे से ह्म्म्म … ओह्ह … उफ्फ कुछ हो रहा है कोई देख लेगा!उधर ये सब चलता रहा और इसी बीच मेरे हाथ उसकी बुर तक पहुंच गया. कोई पांच मिनट बाद बुआ ने मेरे लंड को निचोड़ लिया था और रस को खा गई थीं. अब चाची मेरे लिए दूध गर्म करने लगीं और मैं उनके कमरे में टीवी देखने लगा.

eric church सेक्सी तब मैंने पहली बार अपना हाथ ऊपर ले जाते हुए अपना लंड दीदी की गांड में हल्का सा दबा दिया. अब आगे हॉट फॅमिली सेक्स कहानी:कोई 5 मिनट तक हम एक दूसरे की चुसाई करते रहे.

जब मैं अब्बू, फहीम चाचू को ऊपर चाय देने गया, तो वो लोग रात के बारे में बात कर रहे थे. मैंने उसकी दोनों टांगों को फैलाया और उसकी कमर के नीचे एक तकिया लगा दिया. इतना सुन कर मैं फिर से उन पर टूट पड़ा और सारी रात मैं मोना भाभी की मक्खन जैसी चूत मारता रहा.

आसपास की लड़कियों के नंबर

अगले ही पल मैंने अपने सारे कपड़े उतार दिए और भाभी की तरफ वासना से देखने लगा. ये देख कर मैंने और मज़े से उनके लंड को पूरा मुंह में ले लिया।मानो उनका लंड मेरे मुंह में गायब ही हो गया हो. हमारी फ्लाइट से एक दिन पहले मैं पार्लर गयी और फुल बॉडी वैक्स करवाई ताकि मेरी गांड और मेरे मोटे चूचे और भी चमकदार बन जाएं.

यकीन मानिए यदि लड़की का मन आपके साथ सेक्स करने का है, तो वो लड़की बिना कहे आपको इतने मौके दिलवा देगी कि आप उसके साथ सम्भोग या ओरल सेक्स कर ही लोगे. पापा से ये सुनकर मेरा आत्मविश्वास काफी बढ़ गया और मैं फिर से चुत की चर्चा करने लगा.

उसका नाम सोनाली था वह भी अपने फोन में कुछ देख रही थी और अपनी चूत में तेजी से अंदर बाहर उंगली कर रही थी.

लगातार मुठ मरवाने के कारण मेरे लंड का साइज भी बढ़ गया था और लंड की चमड़ी भी अब पीछे होने लगी थी. उसने घुटने के बल बैठ कर मेरी टांगें फैला दीं और मेरी चूत पर अपना लंड सैट करने लगा. उसके बाद फिर मैंने वापस गांड से लंड निकाला और फिर चूत में एक बार डाला.

तभी मैंने पूरा लौड़ा टोपी तक बाहर निकाला और ज़ोर से झटका मारा, पूरा लौड़ा गांड में जड़ तक घुस गया. फिर क्षिति ने फोन काट दिया और मुझे रोकते हुए कहा- आज के लिए बस इतना ही! चलो जल्दी जाओ, मुकेश आने वाला है. दरअसल मुझे उसके लंड रस लगे अंडरवियर को सूंघने और चाटने में बड़ा अच्छा लगता था.

आज मैं आप लोगों के सामने अपनी एक सच्ची सेक्स की कहानी पेश कर रहा हूँ.

हिंदी ब्लू सेक्सी बीएफ पिक्चर: पहले दीदी कुछ सोचती रही फिर उन्होंने कहा- ठीक है रात में मालिश कर देना. दस मिनट तक मेरा मुँह चोदने के बाद भैया ने मेरे सर को अपने लंड पर पूरा दबा दिया.

मैं भी उनकी तरफ देखकर मुस्कुरा दिया और उनको दिखा कर लंड हिलाने लगा. दोस्तो ये उन दिनों की बात है, जब मार्च 2020 में कोरोना का कहर शुरू हुआ था. मैं होंठों में सिगरेट दबाए और कानों में हेड फोन लगा कर गाना सुन रहा था.

थोड़ी देर बाद जब मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ तो मैंने मौसी का हाथ पकड़ लिया.

लेकिन मम्मी ने बोला- चलो प्रिंस, तुम और पापा और मैं बुआ जी के यहां चलते हैं. यहां तक कि अब्बू मौका मिलते ही रिश्तेदारों की औरतों और बेटियों को भी दोनों तरफ से बजा देते हैं. चाची ने किचन से आवाज देकर मुझसे पूछा- तुम दूधे पियोगे या चाय?मैंने मन में मुस्कुरा कर सोचा कि चाची मुझे आपका दूध ही पीना है.