हिंदी बीएफ बात करते हुए

छवि स्रोत,सुहागरात एक्स एक्स बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

अच्छा नया सेक्सी वीडियो: हिंदी बीएफ बात करते हुए, अर्पित और हर्षदीप वहाँ पहुंचे और उन्होंने घर की डोरबेल बजाई तो अंदर से वही आंटी बाहर आई.

आदमी जानवर के बीएफ

थोड़ी देर बाद जब वो शांत हुईं, तो मैंने आखिरी झटके के साथ अपना 6 इंच का पूरा लंड चूत के अन्दर डाल दिया. थ्री एक्स बीएफ चुदाईमैंने बाहर निकल कर भाभी से कहा- मेरे बाथरूम में पानी नहीं आ रहा है.

फिर कल्पना पूछने लगी- तो तुम साक्षी को कब चोदोगे?मैंने पूछा- पहले मुझे ये बताओ कि साक्षी के पीरियड्स कब से हैं?साक्षी ने फिर खुद ही बताया- 3 दिन पहले ही मुझे मासिक धर्म ख़त्म हुआ है. सेक्सएक्सएक्सएक्सेक्स बीएफउनकी गोरी गोरी चूचियां चूसने में मुझे ऐसा मजा आ रहा था कि शब्दों में मैं लिख ही नहीं सकता.

मैं ब्रा पैंटी पहनकर अपने मम्मों को दबाता था और अपनी गांड में पेन डालता था, तो मुझे बहुत ज्यादा मजा आता था.हिंदी बीएफ बात करते हुए: फिर मैंने उसको नीचे लिटा लिया और उसकी पीठ पर आकर उसकी चूचियों को दबाते हुए उसकी गर्दन को चूमने लगा.

मैं सुमन के बैक साइड में चला गया और अपना लंड सुमन की चूत में डाल दिया.हाय … हेमा चाची का नंगा गोरा बदन ऐसे लग रहा था कि जैसे मेरे सामने कोई जन्न्त की हूर नंगी पड़ी हो.

बेंगोली बीएफ वीडियो - हिंदी बीएफ बात करते हुए

जब मैंने उनका कड़ियल शरीर देखा, तो उसी पल मेरा मन किया कि इनसे लिपट जाऊं!पर वो मेरे ससुर थे और मैं ऐसा नहीं कर सकती थी.मैं यही सोच रहा था कि चाची अपनी चूत कब चुदवाएगी?दोस्तो, इस सेक्सी चाची की गरम कहानी को पढ़कर आपको अच्छा लगा या नहीं? मेरा उत्साहवर्धन करें.

लेकिन मैंने मेरा लन्ड भाभी की गांड में से बाहर नहीं निकाला और गांड में ही लंड को फंसाए रखा।भाभी दर्द से बिलख रही थी लेकिन मेरे ऊपर तो भाभी की गांड मारने का भूत सवार था इसलिए मैंने भाभी की चीखों पर कोई ध्यान नहीं दिया।अब मैंने एक और जोरदार धक्का लगाया और मेरे लन्ड को भाभी की कसी हुई गांड में आगे घुसाने की कोशिश की. हिंदी बीएफ बात करते हुए आज मंडी खुली है, तो सड़कों पर सब्जी मिल भी गई … वरना ये भी नहीं मिलती.

तब उसने बताया कि उसका पहली बार है।मैंने पास में पड़ी क्रीम की डिब्बी से क्रीम निकली और अपने लंड और उसकी चूत पर लगा दी.

हिंदी बीएफ बात करते हुए?

मैंने मां से कहा कि मेरा सामान ढूंढ दो तो मां मुझे दीदी के पास बैठने का बोलकर चली गयी. पीछे मुड़ा तो दीदी बोली- बस पैंटी को चाटता रहेगा? अरे तू थोड़ी हिम्मत करता तो मैं तुझे चूत ही दे देती मेरे भाई. क्लासरूम सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी क्लास के एक हैंडसम लड़के को मैं पसंद करती थी.

फिर उसने विरोध करना बंद कर दिया और वो आराम से उंगली करवाने का मजा लेने लगी. मैंने उसकी नंगी चूत को सहलाना शुरू कर दिया।थोड़ी देर बाद उसने मेरे लौड़े को मुंह में लेकर चुसना शुरू कर दिया. इधर प्रिया परेशान हो गई।प्रिया- अरे उसे क्यूं बुलाया ऊपर? अब वो मेरा मजाक बना लेगी यार … जल्दी से कपड़े पहनो और मुझे भी दो कपड़े।मैंने कपड़े पहने और प्रिया को भी उठा कर दिए.

जिसके बाद रागिनी का मुंह लेकर उसमें लन्ड में घुसा दिया।अब हम दोनों बहनें बारी बारी साहिल का लन्ड चूस रही थी. मैंने दुबारा से सही से सैट करके एक धक्का मारा, तो लंड आधा अन्दर चला गया. अलीमा को इस समय कुछ भी समझ नहीं आ रहा था कि बलविंदर उसे क्या खिला रहा है.

उसको लेटे हुए देखा तो मैंने अपने सारे कपड़े उतार कर रजाई उठा ली और उससे चिपक कर लेट गया. फिर आंटी उठ कर बाथरूम में गयी और अपने आप को साफ किया और एक नाइटी पहन कर हॉल में आ गयी.

मुझसे चिपक कर वो भी मेरे साथ ही झड़ गई।फिर मैंने अपना लोड़ा निकाल के उसके मुँह में दिया और उसने सारा लंड चाट चाट के साफ कर दिया।उसके बाद इन 2 दिनों में मैंने उसे कई बार हर एक पोजिशन में जवान लड़की की चुदाई की.

मैंने सुमन को पकड़ कर बेड पर लिटा दिया और उसके ऊपर लेट कर उसके होंठों को चूम कर गालों से होते हुए उसके गले पर अपने होंठ रख दिए.

वो मुस्कराते हुए बोली- क्या बात है, काम नहीं करने देंगे क्या आप?मैं भी हवस भरे लहजे में बोला- जब आप जैसी कामदेवी सामने हो तो बाकी काम की किसे फिक्र है?ये कहते हुए मैंने उसके कोमल हाथ को जोर से भींच दिया और सहलाते हुए उसके होंठों के करीब बढ़ने लगा. दीदी उठ गयी और उन्होंने मेरा हाथ हटाकर नीचे मेरे पैर की तरफ रखवा दिया और फिर करवट बदल कर सो गयी. चूमते हुए हर्षदीप ने आंटी की साड़ी को खोल दिया और उसके ब्लाउज के ऊपर से ही उसके बूब्स दबाने लगा.

जब मैं अपने झटके की रफ्तार तेज करने लगा तो ‘ईई उईई हह’ की सिसकारियां चाची के मुंह से निकलने लगी।मैंने चाची को बताया- मैंने बुआ, सुमन और सुनील की बहन को चोदा. अमित की अभी अभी शादी हुई थी, तो उसको घर बदलने में कोई परेशानी नहीं थी. मैंने कपड़ा निकाला और धीरे से शॉल के नीचे ही अपनी सलवार में कपड़ा डालकर अपनी चूत का पानी पौंछ दिया.

भाभी हंसते हुए बोलीं- वो कैसे?मैंने- मेरी जान आप बस कैसे भी मुझसे मिल लो.

बाद में मैं आंटी की चूत को चूसने लगा और उन्होंने चूसते समय ही एक बार फिर से अपनी चुत की मलाई की पिचकारी दे मारी. और मेरे साथ काम में मेरा थोड़ा हाथ भी बटा लेना।यह बात मैंने दादी से बतायी तो उन्होंने बोला- कि जल्दी तैयार हो जाओ. [emailprotected]इंडियन आंटी सेक्स स्टोरी का अगला भाग:घरेलू औरत की प्यार भरी चूत चुदाई- 2.

अब मैं मालिश करते करते उनके बालों में तेल लगा रही थी और मेरे दूध उनके चेहरे के ऊपर थे. जब मैं जिज्ञासवश उनके पास गया तो उन्होंने मेरी गांड ही चोद दी!दोस्तो, ये मेरी पहली कहानी है. मैंने उसको बेड पर ऊपर लिया और उसको नंगी करके खुद के कपड़े भी निकाल लिये.

कुछ देर के बाद शालू ने अपने ससुर के गले में बांहें डाल लीं और अच्छी तरह टांगें खोलकर चुदवाने लगी.

अब लंड और अन्दर तक जाने लगा।अब मेरा लौड़ा बच्चादानी में टकराने लगा।मामी आनन्द से भरी की चीख से कमरा गूंजने लगा. देसी चूत की चुदाई की कहानी में पढ़ें कि कैसे गाँव के परचून के दुकानदार ने अपने गोदाम में अपनी जवान ग्राहक लड़की की चूत उसकी उधारी के बदले मारी.

हिंदी बीएफ बात करते हुए दरअसल उस दिन शाम होने से पहले ट्रांस्फार्मर में आग लग गयी थी और कई घंटे से लाइट गई हुई थी. मैंने फिर से उससे मोबाइल नंबर माँगा लेकिन उसने फिर से मुझे इग्नोर कर दिया.

हिंदी बीएफ बात करते हुए प्यासी पड़ोसन Xxx कहानी में पढ़ें कि पड़ोस की जवान लड़की की चूत में उंगली करने के बाद वो चुदाई के लिए तैयार थी. चार सहेलियों की एक साथ चुदाई- 1अब तक आपने पढ़ा था कि मैं स्वीटी की चुत में लंड पेल कर उसकी सीलतोड़ चुका था.

उस दिन भगवान की ऐसी मेहर हुई कि मेरे साथ ऐसी लड़की बैठ गयी जिसको देखने मात्र से ही लंड खड़ा हो जाये.

செக்ஸ்ய் படம் தமிழ் வீடியோ

दोस्तो, जब भी आप किसी लड़की की पीठ को अपने सीने से चिपका कर उसकी चूचियों को दबाते और सहलाते हो, तो उस लड़की को इससे बड़ा मजा आता है. मेरे प्यारे दोस्तो, आपने मेरी एक कहानीभूसे वाले कोठे में भाभी की चुदाईपढ़ी होगी. सेठ ने अपने बेटे से संतो को सामान देने के लिए कहा और खुद सेठ थका हारा सा गद्दी पर बैठ गया.

उन्होंने मुझे काला टीका भी लगाया और बोली- किसी की नज़र ना लगे तुमको।अब मेरी नज़र सिर्फ साहिल को ढूंढ रही थी. रीति ने मेरी चड्डी खींची तो लंड को देखकर वो हैरान रह गयी और बोली- ये तो पोर्न मूवी वाला लंड है. मैंने लंड से कॉन्डम हटाया और मुठ मारते हुए उसकी चूत के मुंह पर लंड को टिका दिया.

इस प्यार के लिए आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद।आज की यह मैरिड गर्ल सेक्स स्टोरी मेरी और मेरी गर्लफ्रैंड कुलदीप कौर की है। इसलिए अब मैं आपको सीधे स्टोरी की ओर ले चलता हूं.

अब तुम ज्यादा सवाल मत करो, जब ये तैयार हो जायेगी तो खुद ही देख लेना. फिर वो बोली- अब तू जा और उसे अन्दर भेज दे।ये बोल आंटी ने अपनी ब्रा से अपने मुंह पर गिरे हर्षदीप के माल को पौंछा. मैंने उनके मुंह में अपना हाथ रख दिया और झटके मारने लगा।अब उनका दर्द कम हो गया, वो कमर को नीचे ऊपर करने लगी.

मैंने उसे इशारा किया तो उसने हां में गर्दन हिला दी।फिर वो भाभी से कुछ बात करके बाहर आ गई और बोली- चलो घर चलते हैं।मैं उसके साथ चल दिया- बोलो, क्या बात करनी है?प्रिया- कुछ खास नहीं. उसके बाद मुंह उसकी गांड के पास ले जाकर उसकी गांड में मुंह डाल कर चूसने लगा. पर हेमा चाची ने कहा- अरे रुको तुम यहीं नहा लेना … और मैं तुम्हारे लिए अदरख वाली चाय बना दूंगी, वो पीकर चले जाना.

अगली बार मैं बताऊंगा कि कैसे उसके बाद जब मैं साक्षी से मिला तो हम दोनों के बीच में क्या क्या हुआ।मैं अपनी और भी कहानियां आपके साथ शेयर करूंगा. अंजलि घुटनों के बल बैठकर दोनों के काले लन्ड हाथ में लिए हुए थी और बारी-बारी से दोनों के लंड चूस रही थी।दूर दूर तक उन्हें कोई चिंता नहीं थी किसी के आने की, गजब की रांड बन गयी थी मेरी बहन!फिर वो खड़ी हुई तो वो दोनों उसकी चूची दबाने लगे.

मेरा लंड बिल्कुल टाइट और गीला हो गया था … तो मैंने नेहा को सीधा लिटा दिया और उसके भोसड़े पर लंड रख कर धक्का दे दिया. उस दिन के बाद मुझे ये तो पता चल गया था कि नेहा की दीदी यानि मेरी कविता रंडी बहुत हरामी है और उसके दिमाग़ में भी यही सब चल रहा है. अब आगे की कहानी रुखसार की जुबानी …मैं राज से मिलकर उसके साथ सेक्स मजा लेना चाहती थी.

करीब आधा घंटे तक मेरे जिस्म को चूमने चाटने के बाद उन्होंने मुझे पूरी नंगी कर दिया और कहने लगे- खुशबू बहू … तू तो एकदम माल है रे … कोई भी तुझे अपनी रंडी बना लेगा.

मोना बोली- कुछ नहीं … अन्दर कोई टेबलेट थी, वह उन्होंने मेरी चुत के अन्दर डाली थी. अब आगेXxx पड़ोसन की चूत कहानी:अब मैं अगले दिन उठा और जल्दी से नहा धोकर तैयार हो गया. फिर उसने आंटी की चूत पर अपना थूक लगाया और अपने लन्ड को उसकी चूत पर रगड़ने लगा।आंटी- अब चोद भी दे … तड़पा मत!ये सुन हर्षदीप ने अपना पूरा लन्ड उसकी चूत में डाल दिया.

मैं रूम में जाकर पैंट निकाल कर नंगा हो गया और आँखें बंद करके चाची के साथ हुई बातों को याद करके मुठ मारने लगा. मामा की इस बात पर मामी ने मेरी तरफ ऐसी नजर से देखा कि मैं कुछ समझ ही नहीं पाया कि क्या कहना चाहती थीं.

फिर मैंने अपने लंड पर भी थूका और अपने लंड का सुपारा उनकी गांड के छेद पर रगड़ने लगा. उसके बाद कई बार उन्होंने कभी एक साथ दो करके और कभी तीनों ने मिलकर अपने दोस्त की बीवी को चोदा. फाड़ दो मेरी चूत … आह आह कर रही थी।इस अवस्था में मेरी चूत मारने के बाद उसने मुझे कुतिया बना कर मेरी चूत में अपना लन्ड घुसा दिया.

बाबू चाचा

मैं मस्ती में बड़बड़ाने लगा- आह चूसो मेरी जाआन … आआह … आई और चूसो … खाली कर दो मेरी जान … इसे बहुत दिन हो गए.

मम्मी और पापा गाँव गए हुए थे। उन लोगों का वहाँ 2 दिन रुकने का प्लान था।मम्मी-पापा चले गए. वैसे ही फिर मैंने नीचे वाले होंठ के साथ किया और फिर एक लंबा चुंबन दे दिया उसको. भाभी ने गिलास अभी तक पकड़ा ही नहीं था, तो वो उनके ऊपर ही गिर गया और भाभी का ब्लाउज भीग गया.

मैं सोई हुई हेमा चाची की गोरी जांघ पर कभी अपना हाथ मलने लगा, तो कभी हेमा चाची की चिकनी चूत पर अपना हाथ फेर देता. सुबह जब जागा तो अंडरवियर पहना था।उसके बाद मैं जितने दिन गांव में रहा चाची की खूब चूदाई की. जानवरों की बीएफ पिक्चर दिखाओउसे बिस्तर में लिटा कर मैंने उसकी टी-शर्ट उतार दी और उसके बूब्स चूसने लगा.

उस समय मैं एक शॉपिंग मॉल में प्लमबिंग और इलेक्ट्रिसिटी के सुपरविजन का काम देखता था. वो मेरा लौड़ा बाहर निकाल कर मसलने लगी। थोड़ी देर में प्रतीक भी कपड़ों के ऊपर से ही दी के बूब्स दबाने लगा.

अलीमा लंड को इस तरह से कड़क होते महसूस करके बड़े ही आश्चर्य भाव से लंड को देखने लगी. बारिश का पानी हेमा चाची के चेहरे और होंठों पर इस तरह टपक रहा था कि मेरा मन कर रहा था कि मैं हेमा चाची के लाल रसीले होंठों से रिसते पानी को अपने होंठ को लगा कर पी लूं. तो मैंने पूछा- क्या हुआ भाभी?भाभी- कुछ नहीं … तुझे कुछ पूछना हो तो पूछ ले।मैं- भाभी बस नू पूछ लो या शादी करना चाहती है क्या?भाभी- अरे इससे पूछ ले। मेरी शादी तो गई। मुझे दोबारा नहीं करनी है।अब हम दोनों भी भाभी के साथ हंसने लगे।भाभी- चलो अभी तो 10 बजे एक फिल्म ही देख लेते हैं.

ये लगभग साढ़े पांच इंच की होगी मगर मोटाई कुछ ज्यादा ही है, जो चुत की फांकों को चीर कर उन्हें मजा देने के लिए अद्भुत है. अमित मेरी बीवी को लाने के लिए चला गया और कुछ देर बाद वो नेहा को लेकर घर पहुंच गया. अब मेरी चीखें फिर से सिसकारियों में बदल चुकी थीं और मैं भी गांड को हल्का सा पीछे धकेल कर उसका पूरा साथ दे रही थी.

मगर इस पर जब मोना नहीं मानी, तो उस औरत ने कहा- रूको, मैं तुमको इसका हथियार दिखाती हूँ.

उसके गोरे सपाट पेट को चूमते हुए मेरी नजर उसकी जांघों के बीच में उसकी कमसिन चूत पर कसी पैंटी पर ही गड़ी हुई थी. फिर कुछ मिनट बाद मैंने अपने हाथ उसके कंधे पर रखे और उसके होंठों को अपने होंठों में जकड़ लिया.

एक बार जब उनसे गांड मरवा ली, तो मैंने भी उनकी गांड मारी और इस तरह से मैं गांड मरवाने और मारने का शौकीन बन गया. कुछ देर बाद जब उसका दर्द कम हुआ, तो मैंने धीरे धीरे उसको चोदना शुरू कर दिया. वहां पर मुझे देखकर सभी लोग बहुत खुश हुए क्योंकि मैं उनके घर 3 साल बाद गया था.

मैंने कहा- कुछ नहीं होगा भाभी जी आप टेंशन मत लो … दो दो औलादें निकल गई इस छेद से … तब नहीं फटी तो इस लंड से कैसे फटेगी!भाभी जी हंस दीं और बोलीं- इस छेद से कहां निकलीं देवर जी, वो तो ऑपरेशन से हुए हैं. मगर एक बार मेरी बात खराब होने के बाद मैं दुबारा किसी से बात नहीं करूंगी. उसकी चूत की प्यास इतनी थी कि उसने सोचा कि जो लंड मिल रहा है उसी से चुदवाकर शांत होना ही ठीक है.

हिंदी बीएफ बात करते हुए हॉट क्लासमेट सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मेरी क्लास के सारे स्टूडेंट्स स्कूल में मिले तो एक बहुत सुंदर लड़की दिखाई दी. ये कह कर वो और तेज़ रोने लगीं और रोते हुए ही बोलीं- साहब, मुझे कैसा भी काम नहीं मिल रहा है.

बांग्लादेशी सेक्सी पिक्चर

प्रतीक दी की चूत के मजे ले रहा था।थोड़ी देर यूं ही चलता रहा। फिर दी प्रतीक के ऊपर आकर चुदने लगी।मेरा भी मन दी को चुसवाने की जगह चोदने का हुआ।मैंने कहा- दी एक साथ करें? मजा आएगा. अलीमा के लिए तो यह पहला आनन्द था और उसी बेहोशी की हालत में उसके शरीर पर बलविंदर गिर गया और दोनों को नींद आ गई. हॉट अंटी सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैं एक आंटी के घर गया और हालात ऐसे बने कि हम दोनों सेक्स के लिए आतुर हो चुके थे.

मेरा लन्ड गीला हो गया अब मैं नीचे से तेज़ी से झटके मारने लगा।चूत लंड के बीच में पानी से फच्च फच्च फच्च फच्च फच्च की आवाज तेज होने लगी।मैंने मामी को उतार दिया और उसके होंठों को चूसने लगा।मैं उसके बूब्स मसलने लगा।फिर मैंने उसे बिस्तर पर नीचे लिटाया और उसके ऊपर चढ़ गया।मैं मामी की चूत में लन्ड रगड़ने लगा. मैं आशा करती हूं कि मेरी पहली चुदाई की ये सच्ची कहानी आप लोगों को पसंद आई होगी. मम्मी बेटे की बीएफपिछले भागभाभी ने अपनी ननद से सेटिंग करवा दीमें आपने अब तक पढ़ा था कि मैं नन्दा के साथ बिस्तर पर था और उसकी पैंटी उतार कर उसे नंगी कर दिया था.

मेरी उस समय छुट्टियां चल रही थीं, में छुट्टियां बिताने अपनी बुआ के यहां गया था.

ऐसे ही उनको देख देखकर मेरी प्यास हर दिन बढ़ती रही और मैं उनको चोदने के प्लान बनाता रहता. जिसको देखते हुए अब मैंने अपने हाथ में उसका लन्ड लिया और उसको सहलाने, दबाने लगी.

दीदी मेरी जगह आ गयी और मैं दीदी की जगह!और कुछ देर बाद साहिल ने हम दोनों को नंगी करके चोदना शुरू किया. वो चाय बनाने लगी, चाय बना कर वो फिर से ठाकुर के कमरे में पहुंची और शर्मा कर बोली- साहब चाय. वो बाथरूम बहुत ही छोटा था, जिसमें हम दो जन भी आराम से फिट नहीं हो पा रहे थे.

वो मेरे बिस्तर से उठ कर खड़ी हो गई और हंसते हुए अपने कपड़े ठीक करके चली गई.

वो भी पूरी मस्ती में चूर हो गई और सिसकारियां भरने लगी- आह … आह … आह … आराम से करो … आह … धीरे से … आह्ह … ओह्ह …ऐसे करते हुए पांच मिनट के बाद फिर से भाभी की चूत ने पानी छोड़ दिया. फिर उसे चूमते हुए नीचे तक आयी और उसकी बेल्ट निकाल कर उसकी पैन्ट उतार दी. फाड़ दो मेरी चूत … आह आह कर रही थी।इस अवस्था में मेरी चूत मारने के बाद उसने मुझे कुतिया बना कर मेरी चूत में अपना लन्ड घुसा दिया.

नंगा डांस वीडियो बीएफअलीमा दवाई खाकर बिस्तर पर लेटी हुई बलविंदर को बड़ी हसरत से देख रही थी. मेरा लंड और आसानी से गपागप गपागप अंदर बाहर होने लगा।चाची बोली- राज, आज तक मैंने इतनी चुदाई करवाई लेकिन तेरे लंड जैसा मज़ा कभी नहीं मिला!अब तो मेरे लंड को जैसे पंख लग गए गपागप गपागप गपागप अंदर बाहर करने लगा.

जुदाई सेक्सी फोटो

मेरे भाई बहन भी अपने स्कूल गए थे और अब्बू तो घर में रहते ही नहीं थे. कुछ समय बाद उसने मुझे घोड़ी बनने के लिए कहा और मैं झट से घोड़ी बन गई. मेरे लन्ड से वीर्य की पांच छह पिचकारी निकली और उसका मुंह मेरे वीर्य से भर गया.

प्रीति को इतने जोर से दबाने से दर्द होने लगा था, पर उसके होंठ मेरे मुँह में होने की वजह से वो आवाज नहीं कर पा रही थी. वर्ना हमारा परिवार तो बर्बाद हो जाएगा बिना बच्चे के।मैं- दीदी फिर अपनी सास को कैसे बताओगे कि किससे चुदवायी है?वो बोली- कोई बात नहीं. मैं समझ गया कि आज मेरी बहन की खूब चुदाई होगी।कोमल तो खुश थी। वो एकदम पोर्नस्टार लग रही थी।मैंने फिर लड़कों को बोला- कम से कम इसकी चूत की फाँक में लेगीज जो धंसा है उसे ठीक कर दो।वो बोला- नहीं, सोनू ने ऐसा ही करने के लिए बोला है.

मैंने लगातार किस करना शुरू कर दिया और अपनी जीभ से उसकी गर्दन को चाटने लगा. ये सुनकर उसने कहा- मेरे साथ एक बार छत पर चलोगे?दोस्तों हमारी अकादमी की छत पर कोई नहीं आता था. चादर में सिलवटें और बहन के खुले बिखरे बाल चुदाई के साफ इशारे दे रहे थे.

बिल्कुल डबल रोटी के समान फूली हुई मखमली सफाचट चुत जैसे मेरे लंड से चुदने के लिए ही झांटों को साफ़ किया गया था. जो तूने आदीबा के साथ किया, वो सब मेरे साथ करना चाहेगा?मैंने कहा- आंटी, अभी तो मैं बहुत थक चुका हूं.

आंटी ने अपना एक पैर हर्षदीप की कमर पर रखा और हर्षदीप ने अपना लन्ड उसकी चूत में डाल दिया और उसे खड़े खड़े चोदने लगा.

वो मेरा लौड़ा बाहर निकाल कर मसलने लगी। थोड़ी देर में प्रतीक भी कपड़ों के ऊपर से ही दी के बूब्स दबाने लगा. मां बेटे की चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफथोड़ी देर गांड चोदने के बाद उस आदमी ने अपना लंड निकाला और मेरी बहन की चूत में डाल दिया. mosi बीएफमैंने कहा- आप बैठो, आप ऐसी ख़राब सब्जी अपने बच्चों का ना खिलाया करें वरना उनकी तबियत काफी बिगड़ सकती है … और हॉस्पिटल में इलाज होना भी मुश्किल हो जाएगा. अब वो प्रतीक और मेरे बीच में सेन्डविच की तरह हो गयी। मैंने दी को पीछे से गले की तरफ पकड़ा और नेक किस करते हुये अपना लण्ड दी की गांड में उतार दिया।श्वेता नहीं-नहीं … करती रही मगर तब तक उसकी गांड में पूरा लंड उतर चुका था.

वो समझ गया कि अलीमा अब बिना चुदे नहीं मानेगी, या इसका कम से कम एक बार किसी तरह से पानी निकाल दिया जाए, तो मान सकती है.

आ…और मजे से अपनी कमर उठा कर मेरा साथ दे रही थी।मैं उसे किस करते हुए धक्के मार रहा था।मुझसे रहा नहीं गया मैंने रफ्तार और बढ़ाई, वह भी तड़प रही थी. लेकिन साहिल ने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और मुझे दीवार के सहारे सटा कर अपनी गोद में लिए लिए मेरी चूत में लन्ड थोक कर पेलने लगा. उसकी कमर के नीचे तकिया लगाया मैंने … तो चूत थोड़ी खुलने की स्थिति में आ गयी.

मैंने कहा- तो फिर रोकने को कौन कह रहा है जान … मेरी रानी … उतार दो ना अब तुम भी मैक्सी. मैडम ने कहा- कितना मस्त अहसास था ये … मुझे आजतक ऐसा अनुभव पहले कभी हुआ था. नन्दा भय और लालसा से मेरे लंड को चुत की फांकों में सैट होते हुए देख रही थी.

घोड़ा कैसे बनता है

फिर पांच मिनट तक ऐसे ही गांड को चाटने के बाद मैंने रिया को सीधी कर लिया. साली की चूचियां बहुत ज़्यादा सेक्सी लग रही थीआपको तो पता ही है कि मुझे लड़कियों के होंठ और चूचियों से खेलने में बहुत ज़्यादा मज़ा आता है. पिछले भागभाभी ने अपनी ननद से सेटिंग करवा दीमें आपने अब तक पढ़ा था कि मैं नन्दा के साथ बिस्तर पर था और उसकी पैंटी उतार कर उसे नंगी कर दिया था.

तो फिर सबके जाने के बाद घर में मैं, रीना भाभी और उनकी छोटी बेटी ही बच गये थे.

मैं अपने हस्बैंड का लंड चूस रही थी और वह मेरी चूत को चूस और चाट रहे थे.

मैडम अपनी सीट पर थी और मैं उनके सामने अपना काम कर रही थी।मैम मोबाइल में कुछ देखने लगी. मैंने खूब सारी लाल चूड़ियां पहनी और मैंने पायल भी पहनी।मैं बिल्कुल इस तरह तैयार हुई जैसे आज मेरी सुहागरात है. करीना कपूर का बीएफ सेक्सकल हम लोगों को जाना है शादी में!तो रागिनी बोलने लगी- मैं तो कल नहीं जा सकती क्योंकि मेरे कॉलेज में कल एक टेस्ट है.

करीब आधे घंटे बाद मंजुला खाना बेडरूम में ही ले आई और फिर बिस्तर पर ही अखबार बिछा पर उस पर प्लेटें सजा दीं. मेरे ससुराल में मैं, मेरे पति, मेरे दो जेठ और जेठानी, सास-ससुर रहते हैं. वे बोले- तो क्या हुआ … मोहल्ला तो भरा हुआ है और भला घर में अकेले रहने में कैसा डर?चाचा बोले- अरे घर बहुत बड़ा है और हेमा को अकेले घर में डर लगता है … इसीलिए कोई रात को हेमा के पास रुक जाएगा, तो अच्छा रहेगा.

मैं ये सब कॉल पर सुनकर ये सोच रहा था कि मेरे दोस्तों ने तो रंडी बना लिया है मेरी बहन को!अनमोल- हाँ ठीक है. चूचियों को बलविंदर एकदम आटे की तरह गूंथता हुए अलीमा की चूत की चुसाई और चटाई करता जा रहा था.

उस वक्त हेमा चाची ने गुलाबी रंग की नाईटी पहन रखी थी और सिर पर काला दुपट्टा डाल रखा था.

मैंने फोन करके अपने घर पर बोल दिया कि आज मैं बाहर बारिश में फंस गया हूँ इसलिए अपने एक दोस्त के घर ही रुक गया हूँ. वो बहुत खुश लग रही थी क्योंकि उसने सुना था कि चुदाई के वक्त चोदने वाले और चुदवाने वाली दोनों को मजा आता है. बहुत अच्छा लगा मुझे!मेरा मन किया कि गांड को मामा के गर्म होंठों पर लगा दूं और वो मेरे छेद को जोर जोर चाटें और चूमें.

बीएफ वीडियो देसी हिंदी बीएफ मैंने कहा- पहले एक बार लंड का पानी निकाल लेने दे, बाद में ये सब देखता हूँ. वैद्य को दिखाया पर वो ठीक नहीं हुई।तो लाजों की माँ को किसी ने कहा कि मंदिर वाले बाबा को भी दिखा ले एक बार!कि कुछ भूत प्रेत का साया ना हो।तो वो लाजो को लेकर बाबा के पास गई.

और जब साहिल के सामने आऊंगी तो उसको अपना सेक्सी जिस्म दिखा दूंगी।साड़ी पहनने के बाद मैंने बहुत अच्छे से मेकअप किया और तैयार होकर बाहर आ गयी।मेरे बाहर आते ही सबसे पहले साहिल की मम्मी ने मेरी सासु माँ ने मेरी बहुत तारीफ की. थोड़ी देर के बाद बुआ ने चाय बना दी और मुझे चाय को ऊपर वाले रूम में देने के लिए कहा. मेरे लंड का पानी निकलने ही वाला था, तो मैंने अपने लंड को हेमा चाची की चूत के हिस्से पर ही लगाये रखा.

खतना के फायदे

अब नीचे से प्रतीक और पीछे से मैं दोनों साथ में दी को झटके देने लगे। श्वेता अब दर्द में कराह भी रही थी और सिसकार भी रही थी. मैं बोला- अब कैसी शर्म है? अब तो जल्दी ही तुम मेरे बच्चे की मां बन जाओगी. वो अब गर्म होने लगी और जोर जोर से चिल्लाने लगी- आह अन्दर पेल पहले … आह क्यों तड़फा रहा है आह उह उइ मां अब चोद भी दे.

हमें शादी में जाना था लेकिन पति ने कह दिया कि मुझे बाहर जाना जरूरी है और शादी में नहीं जा पायेंगे. मुझे उम्मीद है कि इस चाची Xxx स्टोरी को पढ़ कर आप सभी के चुत लंड भी फड़कने लगे होंगे.

सलमान ने एक झटका मारा तो न जाने कैसे उसका लंड चुत से निकल कर बाहर फिसल गया और अम्मी की तेज चीख निकल गई.

मेरे हाथ में मामा का मूसल लंड था और मेरी हालत खराब हो रही थी क्योंकि पहली बार मैंने वो लंड पकड़ा था जिसको मैंने अभी तक मामा के अंडरवियर में उभार के रूप में ही देखा था. बस में अँधेरा था तो किसी को कुछ नहीं दिखने वाला था और वैसे भी रात काफी हो गयी थी तो सब सो चुके थे. थोड़ी देर बाद मैं उठकर तैयार हो गया और उससे कहा- तुम अभी लेटी रहो ऐसे ही.

नन्दा के मम्मों पर दो काले काले जामुन के समान निप्पलों का बहुत मदमस्त नज़ारा था. मेरे चूचियों को देखकर वो मदहोश हो गया और चूचियों को जोर से दबाने और चूसने लगा. तो भाभी ने भी कामुकता से आह की सीत्कार भरके मुझे हरी झंडी दे दी थी.

वो पूछने लगी- अच्छा ये बताओ, जो तुम उस दिन वो बाथरूम में कर रहे थे वो क्या तुम रोज करते हो?मैंने नाटक करते हुए कहा- मतलब मैं समझा नहीं.

हिंदी बीएफ बात करते हुए: भाभी बात की नजाकत को जानकर बोलीं- मुझे गांव के किसी प्रोग्राम में जाना है, तुम दोनों बातें करो. सलमान ने लंड पर दबाव दिया तो अम्मी ने कहा- तेरा बहुत बड़ा है … धीरे से अन्दर करना.

नेहा- हां जान जोर जोर से चोद दो अपनी इस रंडी को … आहह आअह्ह्ह मैं बहुत दिनों से नहीं चुदी हूँ … आअह्ह आअह्ह्ह आअघ्ह्ह जोर जोर और जोर से … बुला ले अमित को भी वो भी तेरे सामने मुझको चोद देगा. मगर वो भूखे शेर की तरह मुझपर टूट पड़े और फुल स्पीड में मुझे चोदने लगे. मतलब कि किसी तरह की कोई शर्म नहीं। बुर और गांड चाटना, गाली देते हुए जोर जोर से चोदना।चाची ने कहा- इसमें बुरा मानने वाली क्या बात है? सबकी अपनी अपनी पसंद होती है।मैंने चाची से पूछा- आपको कैसे चुदवाना पसंद है?उसने मुस्कुराते हुए कहा- जैसे मेरे दोस्त को पसंद है वैसे ही.

उसने मॉडलिंग का कोर्स किया हुआ था जिससे उसकी बॉडी एकदम स्लिम और पूरी शेप में थी.

फिर मैंने उसकी चूचियों को पर थप्पड़ मारकर कहा- बता साली रांड, ये क्या चल रहा था?अब भी उसने कोई जवाब न दिया. एक दिन की बात है, जब मैं उसकी मंगाई हुई चीजें लेकर उसके घर गया, तो जया अपना सिलाई का काम कर रही थी. [emailprotected]आंटी की सेक्स कहानी का अगला भाग:पड़ोसन चाची के साथ मस्ती भरी रंगरेलियाँ- 2.