बीएफ पिक्चर इंग्लिश बीएफ पिक्चर

छवि स्रोत,ब्लू फिल्म चुदाई वीडियो सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

পারিবারিক সেক্স: बीएफ पिक्चर इंग्लिश बीएफ पिक्चर, ” कहते हुए ममता जी ने दोनों हाथों से मेरे सिर को‌ पकड़ लिया और तुरन्त उठ कर बैठ गयी.

सेक्सी पिक्चर वीडियो मारवाड़ी सेक्सी

एकदम मलाई की तरह गोरी हैं, छाती थोड़ी कम उठी है लेकिन पेट और गांड एकदम भरे हुए हैं. एक्स एक्स वीडियो बंगाली सेक्सीअब हम दोनों यानी मैं और सानिया एक ही चादर ओढ़े हुए बैठे थे और मेरे फ़ोन से गाने सुन रहे थे एक एक इयर प्लग लगा के… तो मैंने हिम्मत करके अपनी थोड़ी सी कोहनी सानिया के बदन से सटका दी।फिर ट्रेन के हिचकोले के साथ मैंने कोहनी उसके बूब्ज़ से टकरा दी और उसकी तरफ देखा.

ये सुनकर मेरे दिल को बड़ी तसल्ली हुई क्योंकि इसी लिए तो मैंने ये सब प्लान किया था. सेक्सी चुदाई वाली एचडी मेंकहो तो मैं अकेली आ जाऊं?अंजू- दीदी आप आएँगी ना तो आपका पता नहीं क्या होगा.

इससे उनको हल्की सी गुदगुदी हो रही थी, लेकिन लगता था कि उन्हें मजा आ रहा है.बीएफ पिक्चर इंग्लिश बीएफ पिक्चर: पहली बार मैंने प्लेन में बैठ कर सफर किया था तो मुझे बहुत अच्छा लगा.

मैंने उसको नजर भर कर देखा तो वो शरमा गई, मैंने भी उसकी ब्रा को निकाल दिया और मम्मों को मुँह में लेकर चूसने लगा.मैंने सोच लिया था कि आंटी से भाभी ज्यादा चोखा माल हैं, इन पर भी जादू चला कर रहूँगा.

बीपी सेक्स वीडियो सेक्सी - बीएफ पिक्चर इंग्लिश बीएफ पिक्चर

फिर भी मैं कुछ अकेलापन महसूस कर रहा था। मैंने अपनी ड्रिंक ली और लोगों को नाचते हुए देख रहा था। मैंने देखा एक तरफ कुछ जाने-पहचाने लोगों का ग्रुप था। ध्यान से देखने पर मुझे समझ में आया यह लोग मेरे ही ऑफिस के हैं.पूजा तुम्हारा आज का काम ये है कि तुम्हें गोलू का लंड दस मिनट तक कंटिन्यू खड़ा करके दिखाना है.

एक बोतल व्हिस्की की लेकर मैं उन लोगों से मिलने चला गया। बातों ही बातों में पता चला कि वो लोग मेरे ही ऑफिस में इंटर्न बेसिस पर जॉब करते हैं। सबकी उम्र लगभग 22-23 साल होगी। सबसे बात तो मैं कर रहा था. बीएफ पिक्चर इंग्लिश बीएफ पिक्चर जब झूला चालू हुआ तो सोनी ने मुझसे कहा- नवीन, तुझे शर्म नहीं आई अपनी बड़ी बहन के साथ ऐसा करते हुए? मैं तो तुझे अपने भाई के साथ साथ अपना एक बहुत अच्छा दोस्त समझने लगी थी, पर तूने तो सब पे पानी फेर दिया.

उसने बिना रहम किये मुझे ऐसा चोदा कि मुझे अधमरी कर दिया, अंकल बीस मिनट तक लगादार चोदने के बाद मेरी चूत में झड़ा, उसका वीर्य भी बहुत निकला था, वो थक गया था, जोर से सांसें ले रहा था.

बीएफ पिक्चर इंग्लिश बीएफ पिक्चर?

जब मैं उस कार के पास पहुँची तो उस आदमी ने फिर से कहा- मैडम आपको मैं आगे तक छोड़ देता हूँ. मैं फ्लो में आ गई थी, ब्रायन अपने मोटे नीग्रो लंड से मेरी चुदाई कर रहा था. दोस्तो, गैर मर्द से मेरी चालू बीवी की चुदाई की कहानी कैसी लगी, मुझे मेल कीजिएगा.

वैसे तो मेरा लंड पहले से ही टाइट था लेकिन माँ का हाथ पड़ते ही और टाइट हो गया, लग रहा था कि लंड की नसें बाहर हो जाएँगी. उसके आने से मेरी नींद खुल गई और मैं बिना टीशर्ट के ही कोमल के सामने चला गया. अवी ने कहा- मेरी जान, वो तुम्हारे लिए ही है, तुम्हारे लिए ही लाया था.

मैंने कहा- मेरी जान, ज़रा सा और अन्दर लो, फिर देखना तुम ही पूरा लंड अन्दर डालने को कहोगी. मैं जब बाइक लगा कर उसके रूम में गया तो देखा कि लिविंग रूम में कोई नहीं था. दीदी- ठीक है, तुम जाओ करण के रूम में… मैं ज़रा घर का काम करने लगी हूँ.

मैं भी उसका साथ देने लगी, क्या करती कई दिनों से मैं लंड की भूखी थी. तभी सुरेश अंकल बोले- क्या गजब स्टाइल है आपका समधी साहब!पापा मेरे ऊपर चढ़ गए… यह सोच कर मेरी नसों में अजीब सी सिरहन दौड़ गई.

फिर हम दोनों ने कपड़े पहने ओर मैंने उससे इजाजत ली, उसे हग किया और अपने घर वापस आ गया.

उसने मेरा हाथ अपने लंड पर अचानक से रखवा दिया और मैंने तुरंत ही अपना हाथ हटा लिया.

तभी चाची ने कहा- आलम मैं तौलिया तो वहीं रख कर भूल आई हूँ, मुझे जरा तौलिया उठा कर दे देना. वो बीच बीच में मेरा लंड को दाँत से भी काट रही थी?मुझे और रहा नहीं गया मेरे अन्दर का शैतान अब जाग गया था. अब मैं अपना हाथ भाभी के पेटीकोट के नाड़े पर ले गया और उसे ज़ोर से पकड़ कर खींच डाला, जिससे भाभी का पेटीकोट एकदम से नीचे गिर पड़ा.

जैसे ही तूफ़ान शांत हुआ, माया ने अंकित को बिस्तर पे लेटा दिया और उसका पूरा का पूरा लंड मुँह में भर के कस कस के चूसने लगी. मोहन लाल की पत्नी के पिता यानि के मोहन लाल के ससुर भी उसको उतना ही प्यार करते थे, जितना वो उसको करता था. ये कहते हुए उसने मुँह छिपा लिया।मैंने उसके हाथ हटाते हुए बोला- कभी मना तो नहीं करोगी?नहीं.

उन्होंने बताया कि वो और उनकी पत्नी साथ में ही अन्तर्वासना साइट पर कहानियाँ पढ़ते हैं.

जब अंजलि पूरी उत्तेजित हो गई तो मैंने उसके लोअर के अंदर हाथ घुसाया. मैं उदास थी क्योंकि मेरे इतना कुछ करने के बाद भी रोहण अपनी ओर से कुछ नहीं कर रहा था. तो मैं क्या करूँ?वो- दीदी मुझे आपको नंगी देखना है प्लीज़ एक बार।मैंने सोचा शायद इस लौंडे को मुझ पर प्यार आ गया है। मेरी भी जवानी मुझे कुछ हरामीपन करने को खींचने लगी।मैं- ओके, ठीक है।मैंने झट से अपने कपड़े उतार दिए.

और आप कौन से कॉलेज में पढ़ती हो?”वो कहने लगी- आपको इतना क्यों जानना है?ठीक है, मत बताओ!”फिर थोड़ी देर तक हमारी बात नहीं हुई और मैंने अपने हैडफ़ोन निकाले और गाने सुनने लग गया और वो कभी मुझे देखती तो उसे मैं भी कभी कभी देखता. हमने वो बहुत टेस्टी लगी तो मैंने दो गिलास सिकंजी डिस्पोजेबल में ले ली हम वहां से चल दिए. भाभी अपनी गांड मटका कर जब चलती थीं तो लगता था जैसे कोई अप्सरा चल रही हो.

कुछ बात जिसका अंदाजा मयूरी नहीं लगा पा रही थी, वो था मोहन लाल का अतीत या उसका गुजरा हुआ कल.

मैंने संजय की तरफ देखकर मना करना चाहा, पर मैं कुछ कहती उससे पहले संजय ने मेरे होंठों को अपने होंठों में भर के लिपलॉक कर लिया और अपनी उंगलियों से मेरी पेन्टी के ऊपर से सहलाने लगा. ! मुझे अभी शादी थोड़ी करनी है, पहले जॉब, फिर कहीं शादी की बात सोचूंगी.

बीएफ पिक्चर इंग्लिश बीएफ पिक्चर मेरा सात इंच का लंड रीना के कंठ तक फंसने लगा तो मैंने देर नहीं करते हुए उसकी दोनों टांगों को चौड़ी करके चुत पर लंड टिका दिया. मैंने अपने लंड पर और उसकी गांड थूक लगाया और लंड गांड पर रख दिया और जोर लगाया तो मेरे लंड का टॉप अंदर चला गया और वो आगे सरक गई और लंड बाहर आ गया.

बीएफ पिक्चर इंग्लिश बीएफ पिक्चर मुझे उम्मीद ही नहीं थी कि इतने कम समय में जान पहचान में ही उन्होंने मुझे टाइटली हग कर लिया. तो उन्होंने कहा कि मेरे हाथ में दर्द बहुत है, मैं कपड़े नहीं पहन पाऊँगी, मैं तौलिया लपेट लेती हूँ.

यह देसी सेक्स कहानी है एक भाई बहन के बीच हुए वासना के उस आकर्षण की, जिसने प्रेम का रूप ले लिया.

सेक्सीxxx

इसके बाद उसने अपना लंड मेरी गांड के छेद पर रख कर धक्का दिया तो मुझे बहुत ज़ोरों से दर्द हुआ. उन्होंने थोड़ा शर्माने जैसा अभिनय किया, और मैं 69 की पोजिशन में तनु के ऊपर झुक गया ताकि तनु के मुंह में मेरा लिंग आ जाये और मेरे मुंह में उसकी योनि।और मैंने एक बार फिर आँटी को देखा, उनकी आँखों में एक चमक आ गई थी, वे अपने एक पैर के ऊपर दूसरे पैर को रख कर खुद को संभालने की नाकाम कोशिश कर रही थी।कहानी जारी रहेगी…आप अपनी राय इस पते पर दें…[emailprotected][emailprotected]. मैं यह देख के परेशान हो गई कि आखिरकार अवी क्या देखना चाहता है, जो उसने मुझे ये ड्रेस दी है.

थोड़ी देर जीभ चुसाई करवाने के बाद किड ने दोबारा अपना खड़ा हुआ बैंगन जैसा लंड नताशा की मुंह रूपी सुरंग में घुसेड़ दिया, जिसे वो जोर जोर से कराहते हुए चूसने लगी. कुछ मिनट के बाद साफ सफाई करके मैंने अपने कपड़े पहने और घर जाने के लिये तैयार हो गया. उसने अपने दाहिने हाथ को मेरी पीठ के पीछे से दाहिनी तरफ की कमर पर खुले में रख दिया.

तभी अमित मेरे होंठों को अपने होंठों से चबाने लगा और कसके दबाए हुआ था तो उसका लंड मेरे पेट पर बढ़ता हुआ लग रहा था.

’ये कहते हुए रीना के साथ मैं भी भलभला कर अपनी बहन की गांड में झड़ गया. मैंने ऑटो वाले को अपना एड्रेस बताया तो कमल ने कहा- कितने पैसे हुए?कमल को मना किया मैंने पर वो नहीं माना, उसने ऑटो रिक्शे वाले को पैसे दे दिए. ”जैसा कल्याणी ने बोला, मैंने कल्याणी का मुँह में मुँह चिपका कर एक धक्का पेला.

तभी कमल ने अपना अंडरवियर उतार दिया, उसके लंड पर एक भी बाल नहीं था, उसने बालों को साफ किया हुआ था. मेरी खुशी उसे मेरे चेहरे पर साफ दिखाई दे रही थी, जिसे देख कर वो भी बहुत खुश थी. अन्दर आते ही उसने रूम का दरवाजा बंद कर लिया और उसने मुझे बैठने के लिए कहा.

तो मित्रो, ये थी मेरे और मेरी बहूरानी के बीच बने अनैतिक सेक्स संबंधों की संक्षेप गाथा जिसे मैंने पहले की कहानियों में विस्तार से लिखा है. मैंने सुबह सुबह ही चाची की चुत याद करके मुठ मार ली और नहाने चला गया.

चाची बोलीं- थोड़ा सब्र तो करो मेरे राजा, अब मैं तुम्हारी ही रानी हूँ. तो दोस्तो, आपको सीधा कहानी पर लेकर चलता हूँ।हुआ यूँ था कि मेरा एक दोस्त था जिसका पहले अपने घर के सामने वाली लड़की के साथ चक्कर चल रहा था जिसका नाम समीरा था और वो दोनों कम से कम साल भर साथ में रहे थे. मैंने पीछे से लंड उनकी चुत पर थोड़ी देर रगड़ा और फिर लंड को चुत के अन्दर घुसा कर उनकी कमर पकड़ कर धक्के मारने लगा.

अब मेरा पूरा लंड अन्दर ही अपना माल छोड़े जा रहा था- आआहा आआहा… आह एयाया… ले आंटी मेरी मलाई खा ले…मेरा सारा बीज आंटी की चूत के अन्दर ही छूट गया.

मेरा लंड 6 इंच का है, उसकी खास बात यह है कि कुदरत ने मुझे केले के आकार का लंड दिया, जिसे सारी औरतें और लड़किया पसंद करती हैं. फिर दीदी ने मुझे लेटने को कहा और खुद अपनी गांड के छेद को मेरे लंड पर रख कर अपनी गांड मरवाई. चाची मेरे लिए चाय बना लाईं और कहने लगीं- बेटा जूता उतार कर आराम से बैठ जा मैं जरा कपड़े धो कर अभी आई.

उसने वर्षा के छोटे से चुचे पूरे मुँह में ले लिए और इतना चूसा कि चुचे सूज कर लाल टमाटर हो गए. मैंने तुरंत ही फिर से उनके होंठों पर जीभ फिराते हुए भाभी की जीभ को चूसने लगा.

मेन लाइन से लूप लाइन पर जाती ट्रेन फिर वापिस मेन लाइन पर आती हुई… पटरियों की खटर पटर सच में एक मीठा उन्माद भरा संगीत सुनाने लगी. हम लोगों ने खाना खाया और इसके बाद अपनी पुरानी ट्रेन की चुदाई की बातें करने लगे. मैं भी भाभी की चुत चोदने के लिए उतावला हो रहा था तो मैंने अपना लंड भाभी की चूत के छेद पर रखा और धक्का मारा.

काला लोड़ा

इसलिए मैं बिल्कुल ही चुपचाप दुबक कर अन्दर खिड़की की छेद से झांकने लगा.

अंधेरे का फ़ायदा लेते हुए मेरी बहन उस लड़के के लंड के साथ खेलने लगीं. यह बहुत दिनों तक चला, इसी बीच दोस्त को दूसरी आंटी मिलीं तो वो बोला इधर का कुछ नहीं हो सकता. मैंने पूछा- क्या हुआ?तो वो बोली- सुबह से थोड़ा कमर में दर्द है, इसलिए चक्कर से आ गए.

मैं डर गया, तभी मुझे रोशनी की गांड पे चमकते हुए मोती जैसे गाढ़े जूस की दो बूँदें नजर आई- अरे वो रोशनी तुम्हारी गांड पर भी जूस लगा है. मैंने अपने हाथों से उनकी कमर पकड़ी और अपना लंड उनकी गांड पर सैट करके एक करारा झटका मार दिया. गोरा की सेक्सीकरीब 2 मिनट के बाद संजय ने मेरे होंठों से होंठ मिलाए और हमने फुल स्लीव किस की.

कुछ देर बाद मुझे मालूम हुआ कि मम्मी पापा घूमने जाने वाले हैं और वे तीन दिन में वापस आएंगे. ये पहला समय था जब मैंने किसी का लंड छुआ था और कोई मेरी चूचियां दबा रहा था.

मैंने मौका देखा और दीदी के हाथ को अपनी चेस्ट पर रखा और अपने हाथ से पकड़ कर अपनी चेस्ट पर घुमाने लगा. मैंने विशाल की तड़प को और ज्यादा बढ़ाते हुए अपना स्मार्ट फोन निकाल कर उसे उस जुगाड़ की तस्वीर भी दिखा ड़ी जिसमें वह बेहद सेक्सी और खूबसूरत लग रही थी। मेरी जुगाड़ की फोटो देख कर उत्तेजना के मारे उसका गला सूखने लगा इसलिए विशाल ने उसे घर पर बुलाकर मिलने की इच्छा जाहिर की. अब तक अवी भी आ गया था तो केक कटा, फिर सभी डांस करने लगे मैं भी कर रही थी.

दीदी ने एक स्वीट स्माइल दी और लंड पर हाथ चलाती रही, तभी मैंने खुद का पूरा भार दीदी के जिस्म पे डाल दिया जिस से दीदी का हाथ मेरे लंड से हट गया और मैंने खुद अपने हाथ से लंड को पकड़ा और दीदी की चूत के ऊपर अपने लंड की टोपी को रगड़ने लगा और फिर से दीदी के बूब को मुँह में भर लिया. लेकिन कमल ने एक ऑटो रिक्शा रुकवाया और मुझे ऑटो में बिठा दिया और ऑटो रिक्शे वाले को कहा कि इनको घर तक छोड़ देना. मैं ज़िद करने लगा तो वो मान गईं, फिर बोलीं- ओन्ली टच करने की बात हुई है.

’ मेरा पूरा तन और मन अब वासना की आग में डूब चुका था और मैं अपनी सारी मर्यादा भूल चुकी थी, मैं भूल चुकी थी कि मैं शादीशुदा हूँ और अपने शौहर से बहुत प्यार करती हूँ, मैं दो बच्चों की अम्मी हूँ, किसी के घर की इज्ज़त हूँ.

मैंने देखा कि सपना के मुलायम से गोल गोल मम्मों के बीचों बीच मेरा कन्धा फंसा था. मैंने अन्दर आकर बैग खोला तो हैरान रह गई क्योंकि उस ड्रेस में सभी चीजें थीं, मतलब सैंडल से लेकर नेलपॉलिश तक.

इधर मोहन लाल ने मयूरी के होंठों के रस का स्वाद लेते हुए पहले तो उसका दुपट्टा निकाल फेंका. मेरे घर वालों ने मेरी जान रोशनी और मेरे भैया जो दूसरे शहर में जॉब करते थे, उनके साथ करने का फैसला लिया. भाभी के पापा बोले- आपकी अनुपस्थिति में हम लोगों ने सिर्फ इसे गर्म किया है। पहले आप इसे अपने स्टाइल में चोदें, यह बाजारू छिनाल नहीं है.

मेरे घर में मेरे मम्मी पापा और मेरे दो चाचा चाची रहते हैं और उनके बच्चे भी हैं. अब आगे:एक लंबे किस के बाद महेश ने मुझे बिस्तर पे गिरा दिया और मेरे कपड़ों के ऊपर से ही मेरे मम्मों को चूसने लगा. जब मैंने लड़की को देखा तो मेरा मन ललचा गया और उसकी चुत चुदाई के बारे में सोचने लगा.

बीएफ पिक्चर इंग्लिश बीएफ पिक्चर उसने मेरे कपड़े निकालने शुरू कर दिये और थोड़ी ही देर में हम दोनों नंगे हो गए. उस ऊबड़-खाबड़ जमीन पे नंगे पैर चलना मेरी जैसी आराम से पली बढ़ी लड़की के लिए आसान ना था.

मुस्लिमों को काबू में कैसे करें

अब ओमार अत्यधिक उत्तेजित हो तेज आवाज में सिसकियाँ भरते हुए धीरे धीरे अपने टोपे को मेरी पत्नी के मुंह में धकेल रहा था और उसी समय किड ने मेरी गुड़िया के सैंडल उतारने चालू कर दिए. ये… वो…मैं बीच बीच में बहू का हाथ अपने हाथ में लेकर सहलाता रहा, बहू के बदन को भी बिना किसी हिचक के यहाँ वहां छूकर बातें कर रहा था. दुर्गा पूजा के टाइम मैंने उसे रूम पर आने को मना लिया क्योंकि उस हर कोई मस्ती में खोया रहता है और कोई रोक टोक और समय की पाबंदगी नहीं होती है.

चूसते चूसते ही मैंने अपनी शर्ट उतार दी… फिर अपनी बनियान भी उतार दी. यह सुनते ही सेल्स गर्ल ने भाबी से हंसते हुए कहा- भाबी जी क्या भैया को आपकी साइज़ की बारे में पता नहीं. वीडियो सेक्सी चलाएं2-3 मिनट में ही दोनों धक्के लगाने बन्द कर दिए और दोनों ने ही लण्ड को बाहर निकाल लिया.

मेरे चूतड़ आंटी के आगे लग गए, कुछ इस तरह की स्थिति बन गई, जैसे कि आंटी मेरी गांड मारना चाहती हों.

मैं बोला- दीदी, मैंने कभी किस नहीं किया, मुझे नहीं पता कि किस कैसे करते हैं. ये लो मेरी रानी…” मैंने भी कहा और लंड को बाहर तक निकाल कर पूरी दम से पेल दिया चूत में!हाय राजा जी… ऐसे ही चोदो अपनी बहूरानी को!” बहूरानी कामुक स्वर में बोली और मेरे धक्के का जवाब उसने अपनी चूत को उछाल कर दिया.

क्या मिल कर खुश नहीं हो?मैं- नहीं ऐसी बात नहीं है, मैं तो ऐसे ही रहती हूँ और मेरे पास कोई इतनी अच्छी ड्रेस भी नहीं थी, तो सोचा कि यही पहन लूँ. मेरा एक हाथ उनकी पीठ से होकर उनके चूचे तक था और दूसरा उनकी कमर के नीचे था. ऐसे ही कुछ दिन और निकल गए और रवि की मदद से मैंने महेश से बात कर ली.

मैंने कहा- अगर आपको ये सब गलत लगता है तो मैं जा रहा हूँ, और छोटी के लिए भी कुछ और सोचूंगा.

तो वो बोली- तुझे मुझमें सबसे ज्यादा क्या पसंद है?मैं कुछ नहीं बोला, वो अपने चूचे उठा कर कहने लगीं- देख शर्मा मत. मैं आ रही हूँ मेरे राजा…इतने में ही भाभी झड़ चुकी थी और उसका सारा पानी चादर पर निकल गया. अब तुम्हारा क्या मूड है?”तो उसने मुस्कराते हुए अपने दूध खुजाए और कहा- वही.

हिंदी देसी सेक्सी ब्लूफिर देर तक उसकी चूत के ऊपर घुमाने पर एक उंगली को मैंने चूत के अन्दर घुसा दिया. चिंटू और परीक्षित तो उनका वीर्य निकलते ही रानी के साथ लिपट कर सो रहे थे, रवि भी फर्श पर बेसुध होकर सो रहा था तो मैं भी रवि के सा फर्श पर हो सो गई।[emailprotected].

ब्लू सेक्सी खुला

जब डांस की बारी आई तो सर ने बोला- कौन डांस करेगा?मेरे दोस्त ने बोला- सर, आयुष डांस करेगा. वैसे भी उस रात के बाद, प्रिया का और हमारे परिवार का साथ भी थोड़ा ही रहा. मैं उसे धक्का देते हुए बोली- सुबह आना, अभी तेरी तबीयत ख़राब है, तू अपने होश में नहीं है.

मैंने हाथ पर थोड़ा सा तेल लिया और चाची की टांग के निचले हिस्से घुटने पर लगाने लगा. मैं उससे गले मिला और बोला- जो मेरे साथ किया, वो किसी और के साथ ना करना. कहो तो मैं अकेली आ जाऊं?अंजू- दीदी आप आएँगी ना तो आपका पता नहीं क्या होगा.

मैंने पूछा- क्या हुआ?उसने कहा- मुझे नहीं पसंद…मैंने कहा- कुछ भी करना था लेकिन सनी का इगो हर्ट नहीं करना था. बॉस- अब इस ख़ुशी के बदले मुझे क्या मिलेगा?मैंने बॉस के होंठों को अपने मुँह में दबा लिया और उनकी जीभ को चूसते हुए अपना एक हाथ पीछे ले गई. मैंने उसको बोला- तुम कैसी हो?रिया बोली- मैं भी ठीक हूँ! कैसे फोन किया?मैं तुतलाता हुआ सा बोला- रिया, तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो!वो बोली- ओह हो… हाँ.

राहुल मोना की चूत को बडे ही प्यार से चाट रहा था, ऐसा लग रहा था कि कोई थाली में फैला हुआ शहद जीभ से चाट रहा हो. पर कमल को क्या पता कि इस उसकी प्यारी रानी सरिता कितनी बार लंड ले चुकी है.

पर आज जब वह ख्याल आता है मैं उसकी चूत को याद करके मुठ जरूर मारता हूँ.

अह्ह्ह… ह्ह्ह्ह… उह्ह्ह्ह… ओह…’ उसके मुँह से मादक आवाजें निकलने लगीं. देसी देहाती सेक्सी वीडियो हिंदीअब मुझे लगा कि अब अंजलि को नीचे से नंगी किया जा सकता है, मैंने अपना हाथ बाहर निकाला और उसके लोअर को नीचे खिसकाने लगा. देसी रंडी की चुदाई सेक्सीअब मुझे शर्म आ रही थी क्योंकि वो मुझे घूर रहा था।फिर उसने मेरी पेट की मसाज की. भाभी की चुत चुदाई की यह रियल स्टोरी तब की है, जब मैं फर्स्ट ईयर में था.

मतलब जो मेरी गांड बजा रहा था, वो अब चुत चोद रहा था और जो चुत मार रहा था, वो अब मेरी गांड ठोक रहा था.

मैंने उससे जाने के लिए कहा तो उसने साफ मना कर दिया और मुझे धमकी दी कि अगर उसे भी नहीं करने दिया तो वह शोर मचा देगा. उसे थोड़ी देर पहले जो मयूरी ने सिखाया था, उस ज्ञान का वो सम्पूर्ण उपयोग कर रहा था. पुलकित को यह भय था कि अगर मंजरी का भाई और मम्मी घर आ गए तो कहीं उसे यह मौका भी न गंवाना पड़े, तो पहले एक बार मंजरी कंजरी को ठोक लो, चुदाई कर लो, प्यार बाद में करते रहेंगे.

विनोद को लगा कि आप सेफ आदमी हो और बाद मैं भी पैसों के लिए तंग नहीं करोगे. वो भी मस्ती में पागलों की तरह मुझे किस कर रही थी और मैं उसे चूमे जा रहा था. भाभी बोलीं- आह… क्या कर रहे हो… आह…मैं बोला- मैं नहीं चाहता कि हमारे प्यार की एक बूँद भी वेस्ट हो.

𝘀𝗲𝘅 𝘃𝗶𝗱𝗲𝗼𝘀

कैसे भाभी?”एक दोपहर को मैं नीचे भाभी के फ्लैट में गई तो दरवाजा खुला हुआ था. मैं स्कूटर चलाते चलाते सोच रहा था कि ये साली अंजलि कितनी बड़ी रंडी है… इसकी चूत में चुदवाने की आग लगी पड़ी है. वो रूम के अन्दर आया और मेरे रूम पार्ट्नर को बोला- अभी तुझे कुछ टॉपिक पढ़ना था ना.

उसमें से तीन सीडी के कुछ अंशों का मैंने क्लोन बनाया तथा उन्हें अलग कर रख लिया.

उन दिनों काम की वजह से भाई रात को देर से आते थे और कभी कभी उन्हें अपनी साईट पर 2-3 दिन रहना भी पड़ता था.

आपने मेरी पिछली कहानी तो पढ़ी ही होगी कि कैसे रवि और विवेक ने मेरी खूब चुदाई की. मेरे बुर चूसने पर उसके मुँह से बहुत ही मादक आवाज़ निकल रही थी, वो अपने मम्मों को दबा रही ही और साथ में मेरे सर को अपनी बुर में ऐसे घुसाए जा रही थी, मानो आज वो मेरा पूरा सर अपनी बुर में घुसा लेना चाहती हो. ओपन सेक्सी व्हिडिओ फुलफोन पर ही उन्होंने मुझसे ये सब बताते हुए पूछा- आपको चुनने का एक कारण और ये भी है कि हम अगले हफ्ते आपके शहर सूरत में एक शादी में सम्मलित होने आ रहे हैं तो आपकी क्या राय है?मैंने उनसे कहा- मैं आपकी बात समझता हूँ पर पहले मैं आपकी बीवी से पूछना चाहता हूँ कि वो भी ऐसा ही चाहती है.

तभी सिराज के धक्के तेज हो गए और एक ही मिनट में उसने अपना सारा पानी मेरी गांड में भर दिया।सिराज की कम से काम दस पिचकारी मैंने अपने अंदर महंसूस की. अब मैं उनकी में फंसे हुए मस्त रसीले मम्मों पर टूट पड़ा और उन्हें ज़ोर से दबाने लगा. इस बार उसकी चीख पहले से भी तेज थी, लेकिन मुँह में लंड होने की वजह से उतनी तेज नहीं निकली, लेकिन उसकी आँखों से निकलने वाले आंसू सारी कहानी खुद ही कह रहे थे.

मेरी सहेलियाँ तो रोज अपने बॉयफ्रेंड से चुदवाती थी और मुझे भी बोलती थी चुदवाने के लिए लेकिन मेरा अपने बॉयफ्रेंड से ब्रेकअप हो गया था लेकिन जब भी मेरा बॉयफ्रेंड मेरे साथ था तो वो मुझसे सेक्स की बातें करने की कोशिश करता था लेकिन मैं तब उससे ऎसी बातें नहीं करना चाहती थी क्योंकि मैं तब इन बातों को बुरा मानती थी. इंटरव्यू हुआ और इसमें उन्होंने मुझसे पर्सनल सवाल ज्यादा पूछे औऱ फिर उन्होंने अपने बारे में भी बताना स्टार्ट किया.

”वो हल्के से मुस्काई और बोली- अच्छा चलो मैं ही तुम्हारी पार्टनर रहूँगी, तो तुम कैसे मुझे मनाओगे?”मना लूँगा, जब तुम सच में तैयार हो जाओगी.

उनके लंड हाथ में लेते हुए मैंने सिराज से कहा- मेरी दोस्त को देखना। कुछ नहीं होना चाहिए उसको। उसको मेरी कार में सुला देना प्लीज!आगे मैं बोल ही नहीं पायी।किसी का मुँह मेरे मुँह पे चिपक गया था. मैं- ठीक है दीदी, मत करना लेकिन लंड तो चूसो ना!मैंने दीदी के सर को पकड़ कर अपनी तरफ किया और लंड पर झुका दिया; दीदी ने भी लंड को मुँह में लिया और आधे लंड पर सर को ऊपर नीचे करते हुए चूसने लगी. मैंने दरवाजा खोला तो खुल गया, वो अचानक डर गयी, मैंने उससे कुछ नहीं कहा और अपना साढ़े छः इंच का लंड निकाला और मुठ मारते हुए पेशाब करने लगा, वो मेरे लंड को देख कर मुंह खोल के ही रह गयी और हा… हा… कहते हुए पाजामा पकड़ के बाहर आ गयी।मैंने लंड को अंदर नहीं डाला और वैसे ही बाहर आते आते लंड अंदर डालने का नाटक करने लगा.

आदिवासी सेक्सी हीरो मैंने पूछा- क्या हुआ?उसने कहा- मुझे नहीं पसंद…मैंने कहा- कुछ भी करना था लेकिन सनी का इगो हर्ट नहीं करना था. पूरा का पूरा लंड अंदर बाहर खींच कर वो बड़ी ताकत के साथ मुझे चोद रहा था.

दीदी की सिसकारियाँ भी तेज होने लगी और मैंने भी उंगलियों की स्पीड को तेज कर दी. उसने एक पारदर्शी जालीदार काले रंग की ब्रा पहनी हुई थी। मैंने उसके कानों पर लिकिंग करते हुए उसके गर्दन से नीचे आते हुए उसके ब्रा के हुक को अपने दांतों से खोला, बहुत देर लगी मुझे ब्रा का हुक खोलने में… फिर मैंने अपने होंठों और दांतों से ही उसकी ब्रा पूरी उतार दी. वैसे तो हम काफी अरसे से अच्छे फ्रेंड थे, हमारी दोस्ती बहुत गहरी थी.

प्रियंका चोपड़ा xnxx

क्या मतलब? मेरी छाती में कौन से मम्में लगे हैं… हहहहा” मैंने हँसते हुए कहा. रात के सन्नाटे को चीरती हुई बंगलौर दिल्ली राजधानी अपने पूरे वेग से आंधी तूफ़ान की तरह अपने गंतव्य की ओर भागी दौड़ी चली जा रही थी. तुम बहुत अच्छी हो बस एक कमी है, जो दूर हो जाए तो तुम बहुत अच्छी लगने लगोगी.

संजय मेरे इतने करीब आ चुका था कि हम दोनों की सांसों की गरमाहट एक दूसरे में समा रही थी. हम दोनों ऊपर चले गए और मैंने डण्डे की मदद से रिमोट बाहर निकाल दिया.

कम से कम इसी का फायदा थोड़ा उठाकर कुछ नया एक्सायटमेंट ट्राय करते हैं.

” माया ने अपना सर नीचे किया और उसे लगा जैसे सुमित अब भी अपने घुटनों के बल नीचे बैठा है. मैं तो बस यही सुनना चाहता था और मैं समझ भी गया कि अब ये पूरी तरह से गर्म हो चुकी है. इससे उनको हल्की सी गुदगुदी हो रही थी, लेकिन लगता था कि उन्हें मजा आ रहा है.

रियल चुदाई कहानी का पिछला भाग :छोटी बहन की कामुकता जगा कर बुर चोदन करवाया-1आपने मेरी इस रियल चुदाई कहानी में अब तक जाना कि मेरी बहन ने मुझे मजदूर लड़के से सेक्स करते देखा और मुझे धमकाने लगी. मैंने बाहर निकल कर देखा रोज की तरह मोना केपरी और शार्ट टी-शर्ट में योग करती थी. एक 18 साल के गर्म लौंडे के सामने पूरी नंगी हो चुकी थी।वो- चाची जी आपने हाथों.

मैं उसके सर पर हाथ फेरती रही और बोली- वर्षा, मेरी प्यारी गुड़िया थोड़ी देर के लिए है, फिर कभी तुझे ऐसा नहीं होगा.

बीएफ पिक्चर इंग्लिश बीएफ पिक्चर: इतने में वो उठ गईं और बोल पड़ीं- यह क्या कर रहा है तू?मेरे तो जैसे होश उड़ गए. दस मिनट लंड चूसने के बाद पदमा बेड पर लेट गई और उसने अपनी चिकनी टांगों को फैला दिया.

आज मेरी क्लास में कुल 10 लड़कियां और 20 लड़के पढ़ने आते हैं और सभी की झांटों पर वी तथा एल का शेप भी बना हुआ है. चूत के चारों तरफ जंगल की भांति काली घास उनकी गोरी चूत की अनुपम छटा में चार चाँद लगा रही थी. मैं शब्दों से बयान नहीं कर सकती, मैं बहुत खुश थी कि बहुत दिनों बाद आज एक मर्द मेरी चुदाई करने वाला है.

उसके सामने ही खोला तो उसमें एक लेटेस्ट ब्रान्डेड वाच थी, मुझे भी घड़ियों का काफी शौक है, इसलिए मुझे काफी पसंद आई.

मुझे खुद को भी पता है कि वर्षा को अच्छे बुरे की समझ नहीं है, वो पढ़ाई में टॉपर है पर इस काम में कच्ची है, वो एकदम शरीफ किस्म की है और मैं एकदम कमीनी किस्म की हूँ, मैं हद से भी ज्यादा चुदक्कड़ हूँ, पर क्या करू मेरी मजबूरी है, अब मैं सुधर नहीं सकती, कितनी बार सुधरने की कोशिश की पर परिणाम कुछ नहीं आया. अब वो और भी ज्यादा उत्तेजित होने लगी और पागलों की तरह तड़पने लगी, बोली- आह. वो बोली- हम्म… तो ये बात है जनाब… फिर अब तक मेरे को बोला क्यों नहीं तुमने?मैं बोला- बस मैं कहने से डरता था, कहीं तुम मना ना कर दो.