लेडीस जानवर का बीएफ

छवि स्रोत,पीरियड में सेक्स करना

तस्वीर का शीर्षक ,

पकड़ने का तरीका: लेडीस जानवर का बीएफ, मैं अपने दोस्तों से सुन सुन कर ये जान चुका था कि पहली चुदाई में लड़की को बहुत दर्द होता है, वो बिल्कुल कुतिया की तरह चीखती है.

भाभी की सुहागरात सेक्सी

असल में मैं बता दूँ कि उस तेल का प्रयोग सेक्स के दर्द को कम करने और आसान सेक्स के लिए किया जाता है,मैं उस तेल का प्रयोग फ़लक के साथ करना चाहता था जिससे गांड में लंड पेलने में उसको ज्यादा दर्द न हो. दिल्ली का जीबी रोड का सेक्सी वीडियोमाया दीदी- पागल, अभी नहीं … मैं एक घंटे बाद आती हूँ … फिर तुम अपनी प्रेमिका से जितना चाहे प्यार कर लेना.

उसकी गांड जबरदस्त उछल रही थी और उसके मम्मे तो ऐसे उछल रहे थे जैसे निकल कर कहीं भाग ही जाएंगे. प्ले स्टोर फंक्शनमैंने कहा- वो कौन भाग्यशाली बंदा था, जिसने मेरीदीदी की सील तोड़ीथी?दीदी बोलीं- वो सब छोड़ … अभी उन सब बातों का समय नहीं है.

क्या बताऊं दोस्तो … मुझे तो ऐसा लगा कि हे भगवान आप मुझसे किस बात का बदला रहे हो.लेडीस जानवर का बीएफ: फिर मैं वापस पीछे से उसकी चुत और गांड चाटने लगा और मैंने जबरन अपनी दो उंगलियां चुत में और एक गांड में डाल दीं.

अब जब मेरा जब भी मन होता है, मैं अपनी चाची के पास आ जाता हूँ और उन्हें पेलने में लग जाता हूँ.‘उन्हहंह गंग गों …’अगले ही पल वो अपने मुँह से मेरा लंड निकालकर एक तरफ खड़ी हो गयी.

दुल्हन लहंगा डिजाइन hd - लेडीस जानवर का बीएफ

पहले मैंने यही समय सही समझा और उसके पीछे जाकर देखने लगा कि रास्ते में कौन सी जगह ऐसी है, जिधर रुचिता से बात की जा सकती है.उन्होंने मेरी तरफ गुस्से से देखा और बोलीं- साले क्या इरादा है तेरा?मैं माफी मांगने लगा.

मुझे उनकी आंखों से साफ़ नजर आ रहा था कि वो न जाने कब से इस जूस के लिए तड़प रही थीं. लेडीस जानवर का बीएफ हॉट भाभी फ्री सेक्स स्टोरी मेरे दोस्त की बीवी की दो साल बाद दोबारा चुदाई की है जब मैं उसके बेटे के जन्मदिन पर उसके घर गया था.

ध्यान से सोचा तो मुझे सब समझ में आ गया कि भाभी का मूड आज ही चुदने का है.

लेडीस जानवर का बीएफ?

लगातार 5-7 मिनट मेरी चूत चूसने के बाद विलियम खड़ा हो गया और मुझे भी हाथ पकड़ कर खड़ा कर दिया. वो फिर से लंड हिलाने लगी तो मैंने उसे घोड़ी बना दिया और चुदाई करने लगा. राहुल ने चाची को कॉल करके अगले हफ्ते के लिए कह दिया और उन्हें पास के होटल मिलने की बात कह दी.

मैंने आंखें खोल कर देखा तो चाची का हाथ रानी की चूचियों के थोड़ा नीचे था और उनका गाउन घुटनों के थोड़ा ऊपर सरक गया था. ये कैसे मेरी चुत में जाएगा?मैंने उससे बोला- जरूर चला जाएगा वीना … तुम इसको पहले अपने मुँह में लेकर गीला कर दो. अब मेरा लंड भी बहुत फड़फड़ाने लगा था, बहुत दिनों से मैंने भी चुदाई नहीं की थी.

मैंने उसकी गांड सहलाते हुए हमारा किस खत्म किया और लिफ्ट से प्लेटफॉर्म पर आ गए. कुछ देर उसकी कमर के इर्द-गिर्द उंगलियों से सहलाने के बाद मैंने हाथ उसकी लैगी के अन्दर से डाल दिया. वहां खूंटी पर टंगी चाची की चुन्नी और पैंटी पर मेरी नज़र पड़ी तो मैंने चाची की पैंटी उठाई और अपनी नाक से लगा कर सूंघी.

मैंने कहा- साली साहिबा अभी प्यार करने का मौका मिला है, तो जी भरके प्यार कर लो. पैंटी काफी टाइट थी जिससे चाची की चूत की दोनों फांकें अपनी शेप दिखा रही थीं.

भाभी को शायद पहले से पता था कि मैं क्या चाहता हूँ … मगर वो गर्म मसाला लेकर अपने फ्लैट पर वापस चली गईं.

लेडी डॉक्टर पोर्न स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक प्यासी डॉक्टर ने मुझे अपने घर बुलाकर अपनी गर्म चूत मेरे हवाले कर दी.

पर उसका लंड अंदर नहीं गया क्योंकि मैंने इससे पहले कभी चुदाई नहीं की थी तो मेरी बुर टाईट थी।जय ने अपना लन्ड हटाया और एक तेल की शीशी लेकर आया. अब मैं सोचने लगा कि कैसे चाची की चुत मार सकता हूँ, तभी मेरे दिमाग में एक आइडिया आया. उसने ज्यादा समय खराब करना ठीक नहीं समझा, वो बोली- हां कर दूंगी ठीक है … पर अभी उठो.

मौका पाकर मैंने एक और तेज़ झटका मारा तो पूरा लंड अन्दर चूत में चला गया. चाची को मेरी बात पर विश्वास नहीं हुआ क्योंकि उनको तो पता था कि मैं उनके घर क्यों नहीं गया. मैं मौसी के पीछे बैठ कर उनकी मालिश कर रहा था तो मेरा लंड मौसी के चूतड़ों पर बार बार टच हो रहा था.

इससे पहले कि सौम्या कुछ समझ पाती मैं बेड के नीचे से निकल आया और सौम्या को देख कर बोला- सरप्राइज़.

एक दो बार उसने मेरे हाथ को चूमा भी और मुझे रुकने के लिए बोल भी रही थी, पर वो संभव नहीं था. मैंने एक मिनट बाद चुत से मुँह हटाया और गांड के नीचे एक तकिया रख दिया. रोज रात को सौम्या को मन भरकर चोदता और दिन में टाइम मशीन में जाने की कोशिश करता रहा.

मैंने उसे धक्का देकर दूर किया और अपने हाथों से अपने स्तन छुपाते हुए बेडरूम की ओर जाने लगी. उसने कहा- जाओ आज तुम्हारा मूड न डर्टी डर्टी चल रहा है, हम कल मिलेंगे. मैं उन्हें पूछने लगा- लंड कैसा लगा मेरी पम्मी आंटी?उन्होंने कहा- क्या बताऊं यार गौरव … तुमने आज मेरी प्यास बुझा कर मुझे अपना दीवाना बना दिया है.

उस दिन का उसका गले लग कर रोना अक्सर मुझे उस रात में आए सपने में उसके करीब होने का अहसास कराता रहा था.

कभी मैं एक दूध को पीता और दूसरे को हाथों से बड़ी बेरहमी से मसलता, उसकी निप्पल को चुटकी काट देता, तो कभी दूसरे दूध को मुँह में ले लेता और दूसरे वाले को अपनी हथेली से भींच देता. फिर मैं धीरे से उसका कुर्ता ऊपर करने लगा और उसके शरीर से कुर्ता अलग कर दिया.

लेडीस जानवर का बीएफ थोड़ी ही देर बाद सरिता मेरे होंठों को चूसती हुई बोली- बहुत शैतान हो तुम … इतनी जोर से कोई डालता है क्या हर्षद. मैं उनका दर्द समझता था क्योंकि भैया के छोटे लंड से चुदने की वजह से उनकी चूत एकदम टाइट थी और मेरे लंबे लंड को तो बड़ी जगह चाहिए थी.

लेडीस जानवर का बीएफ मैंने हंस कर कहा- अरे वाह … तुमने तो उसके साथ गंगा जी में डुबकी भी लगा ली?वो भी हंस दी- नहीं यार!फिर मैं बोला कि अगर मैं कभी तुम्हारे गांव आया, तो मेरे साथ घूमने चलोगी?शिल्पा बोली- हां चलूंगी … पर ये सब बातें दीदी को मत बताना ओके. वो अपनी चड्डी उतारने ही वाला था कि शनाया ने उसे चड्डी उतारने से मना कर दिया.

रात के समय तो हम दोनों पूरे नंगे ही रहते हैं इसलिए कपड़े निकालने का तो कोई सवाल ही नहीं था।उसके बाद … आप समझ गए होंगे।2 दिन बाद एलिस्टेयर को काम से दूर जाना था तो मैंने भी सोचा कि लांस और केविन से मिलकर एलिस्टेयर का भी काम कर लूंगी.

क्सक्सक्स क्सक्सक्स

यह कहते हुए उसने दोबारा मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया और पागलों की तरह लंड चूसने लगी. उधर से एक कटोरी में सरसों का तेल लिया और उसे थोड़ा भी गर्म कर लिया. मुझे राहुल की बात सुन कर कुछ समझ नहीं आया कि मैं अपने घर में क्या कह कर राहुल के साथ उसकी चाची के घर जाऊंगा … और राहुल भी मुझे साथ ले जाकर अपनी चाची को क्या बताएगा कि मैं कौन हूँ और इधर क्यों आया हूँ.

मैं सुपारे को धीरे धीरे अन्दर बाहर कर रहा था और मिनी की चुत में जगह बना रहा था. हालांकि मेरा काम ऐसा था कि जो भी महिला ग्राहक मुझे अपने घर बुलाती थी, मैं उसको उसके घर जाकर फुल बॉडी मसाज देने लगा था. मेरे पास अपने लौड़े को हिलाने के अलावा (हस्तमैथुन) कोई इलाज नहीं रहता था.

एक हाथ से मैंने पेटीकोट का नाड़ा खोलना चाहा लेकिन नहीं खुला तो मैंने झटके से तोड़ दिया.

उसके मुँह से जोर जोर से बड़बड़ाने की आवाज आने लगी- हर्षद अब कुछ करो, नहीं सहा जाता उफ्फ स्स … स्स हूँ हुह उफ. वो सरक कर मुझसे सटकर बैठकर बोली- क्या सच कहते हो हर्षद?मैंने मुस्कुराकर कहा- सच में डाक्टर. मैंने उनके मम्मे को टटोलना शुरू किया और जल्द ही मुझे चाची के मम्मे का कड़क होता निप्पल मिल गया.

वो मेरे इस सवाल पर एकदम से फट पड़ी- उस भैन के लौड़े का खड़ा ही नहीं होता है, तो साला अन्दर बाहर क्या करेगा. मैं वादा करता हूं तुम्हें शादी के बाद भी दबा कर चोदूंगा और तुमसे ही सबसे ज्यादा प्यार करूंगा. बस वाले लड़के और होटल के स्टाफ ने मिलकर सारे टूरिस्ट का सामान बस से नीचे उतार दिया.

तो जेठ जी भी मेरे साथ बर्तन करने लगे।मैं बोली- आप रहने दो, मैं कर लूंगी।कैसे रहने दूं? तुम इतना काम करती हो. इसलिए मुझे अब तक ऐसा कोई लगा ही नहीं, जो मेरी कसौटी पर खरा उतर सके.

दोस्तो, यह लॉकडाउन की कहानी है जब मुझे ऑनलाइन डेटिंग एप पर एक लड़की मिली जिसकी मैंने उसके शहर में जाकर सेक्स विद Xxx गर्ल का मजा लिया. वो तो थी ही उत्तेजित, फिर वो पीछे को हुई और अपने जिस्म पर साबुन लगाने लगी. वो कहती हैं कि ये सब गलत है, जो पहले हो गया, सो हो गया मगर अब नहीं.

आप समझो कि एक जवान लड़की पूरी रात रुकने के लिए मेरे साथ थी और मेरी हिम्मत नहीं हो रही थी कि कपड़े उतार कर उस पर चढ़ जाऊं और उसे पेल दूँ.

मुझे लगा अपनी मम्मा सौम्या मुझसे पूछेगी कि मैं कहां था इतने साल!लेकिन सौम्या ने कुछ कहा ही नहीं. मैंने बिना देर किए उसके बदन से सारे कपड़े उतार फेंके और मैं भी पूरा नंगा हो गया. सरिता की चूत अन्दर से पूरी तरह से गर्म हो गयी थी, पूरी चूत गीली होकर मेरे लंड को भी गीला कर रही थी.

मैं भी अपने दोनों हाथ उसके गले में डाल कर चुदाई का पूरा मजा उठा रही थी. उनकी कमर के नीचे का शरीर ऐसा मादक था कि किसी भी लड़की को मात दे दे.

मैं चूत चाटने लगा और शिल्पा आवाज निकालने लगी ‘आअह्ह ऊओह ऊओह्ह आआह …’उसको अब और भी अच्छा लगने लगा था. राहुल बोला- अरे तो अब क्या टेंशन है चाची … मैं आ गया हूँ ना आपकी सारी बोरियत उतारने. उसने अपनी दोनों टांगें मेरे दोनों बाजू कर दीं और अपने हाथों से लंड पकड़ कर अपनी चूत में अन्दर रख लिया.

हिंदी इंडियन ब्लू फिल्म

मैं सौम्या डार्लिंग की कुंवारी चूत चोदने के लिए बहुत जोश में था इसीलिए मैंने सौम्या की चूत में लंड बहुत ही तेज़ से और बहुत फोर्स के साथ दबा दिया.

मेरे शहर से उसका शहर मेरे शहर से काफी दूर था तो मैं उससे मिलने के लिए रात 11 बजे ही ट्रेन में बैठ गया और सुबह 7 बजे में लुधियाना पहुंच गया. जब मुझे महसूस हुआ कि उसकी चूत की कसावट कम हो गयी है तो मैंने अपने धक्कों की स्पीड बढ़ा दी. मैं बारी बारी से उसके दोनों स्तनों को चूसकर उसका सारा दूध पीने की कोशिश कर रहा था.

सौम्या मेरी बातों में पहले तो इंटरेस्ट लेने में झिझक रही थी लेकिन बाद में वो मेरे साथ ऐसे खुल गई कि हम दोनों में से किसी को भी पता ही नहीं रहा कि 10:30 कब बज गए. उसकी चुत न जाने कितनी गीली हो चुकी थी कि पूरा कमरा फच फच की आवाज से गूंज रहा था. काजल राघवानी की सेक्सी फिल्मजब वो उठकर जा रही थी, तो उसके चूतड़ों की थिरकन देख कर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

थोड़ा चोदने के बाद विशाल ने रवि को पलंग के किनारे घोड़ी बनने को कहा, खुद ज़मीन पर खड़े होकर रवि की कमर पकड़ कर उसकी गांड मारने लगे. कुछ धक्के मारने के बाद मैंने सारा पानी उसकी गांड के ऊपर गिरा दिया और शांत हो गया.

आप सभी को मेरी ये सेक्सी हॉट बेब की सेक्स कहानी कैसी लगी, जरूर बताना. हम लोगों को अंधेरे में ये दिख नहीं पा रहा था कि कौन कहां देख रहा है लेकिन सांसें हमें अहसास दिला रही थीं कि हमारी मर्यादा धीरे धीरे खत्म हो रही थी. उसके लंड का उभार काफी बड़ा था और उसने मुझे आकर्षित कर लिया।मैं उसको आजमा कर देखना चाहती थी।मैंने उसके लंड को पकड़ लिया और उसके सहारे उसको कॉरिडोर के दूसरी तरफ ले गई जहां पर ज्यादा सेफ लग रहा था।प्रियंका मुझे उसे छोड़ने के लिए कहती रही।लेकिन मैं पहले भी एक बुक स्टोर में चुदाई का खेल कर चुकी थी तो मुझमें आत्मविश्वास भरा हुआ था.

विशाल ने मोनिका की नंगी गांड पर थप्पड़ मारा और बोला- बोल साली रंडी … मूत पिएगी?मोनिका बोली- हां, पियूंगी. उसकी चूत कुछ टाइट थी तो आधा लंड तो घुस गया … बाकी के लिए मुझे और जोर लगाना पड़ा. किस करते करते मैंने चाची की साड़ी उतार दी और ब्लाउज के ऊपर से बोबों को दबाने लगा.

हाय हैलो के अलावा मैं उसको गंदे चुटकुले भी भेज देता और उसके जवाब पर चुम्बन के इमोजी भेज देता.

वो मेरी तरफ आश्चर्य से देखने लगी तो मैं हंस दिया और बोला- आज तुमको बहुत मजा आएगा. फिर शिखा के पांव के अंगूठे को चूसते हुए मैं उसकी जांघों तक आ चुका था.

अपनी चुत पर मेरी जीभ का स्पर्श पाते ही शिखा उचक पड़ी और उसके मुँह से एक गहरी सांस के साथ ‘आह्ह्ह …’ निकल गई. उसने मेरी गांड को अपने हाथों से ऊपर करके मेरे नीचे से बेड का पूरा चादर हटा लिया और उसी भीगे हुए चादर से मेरी चूत और अपने बदन और चेहरे को साफ करने लगा. मैं उसे अपना लंड को दिखा कर बोला- इसका क्या करूं?वो बोली- अच्छा चलो इसको हाथ कर देती हूँ.

दीदी को टीवी देखते देखते नींद आ गयी और दीदी वहीं मेरी जांघ पर सर रख कर सो गईं. वो साली इतनी ज्यादा झीनी चुन्नी थी कि उसमें से आरपार का सब देखा जा सकता था. पत्नी ने एक हाथ पीछे लाकर मेरा लंड मुट्ठी में पकड़ा और मुठ मारने लगी.

लेडीस जानवर का बीएफ जिस दिन मेरा सेकंड लास्ट एग्जाम था, उस दिन मैंने फेसबुक खोली तो देखा नैना का जन्मदिन है. समीर मुझे देख कर मेरे भाई से बोला- अरे वाह, तेरी बहन तो इस ड्रेस में मस्त माल लग रही है.

इंग्लिश ब्लू फिल्म नंगी

’सर ने मुझे उठा कर मेरी चूत को फैलाया और चूत पर एक जोरदार चुम्मा कर लिया. भाभी लगभग चिल्लाती हुई बोलीं- पागल है क्या … तुम मेरे बारे में ऐसा सोच भी कैसे सकते हो!वे खड़ी हुईं और सीधा कमरे में जाकर दरवाजा बंद कर लिया. देसी साली Xxx कहानी में पढ़ें कि मेरी पत्नी के गर्भवती होने पर मेरी साली उसकी देखभाल के लिए आई.

मैंने ऊपर टी-शर्ट नहीं पहनी थी, तो वो मेरी चौड़ी छाती और गठीला बदन देख रही थी. वो अपनी खुरदरी जीभ लंड पर चला रहा था और एक हाथ से मेरी गांड पर अपना हाथ फिरा रहा था. papa की चुदाईभैया- पागल है क्या … बिना उनकी मर्जी के उनका लंड कैसे लेगी तू?मैं- तू बस देखता जा.

मेरा हाल भी ऐसा ही था लेकिन तभी शिल्पा ने मुझे एक बात बताई, जिसे सुन कर मेरे हाथ रुक गए.

मेरे लंड से थोड़ी ही देर में पानी निकलने वाला था, मैंने सारा माल आंटी की पैंटी पर छोड़ दिया और वापस धीरू की चुदाई के मज़े लेने लगी. मैं कहने लगा- हां पम्मी आंटी, चूसो इस लंड को … आंह कितने समय से मेरा लंड आपके इन सुंदर होंठों को छूना चाहता था, कितने समय से मेरा लंड आपके मुँह की चुदाई करना चाहता था.

वो भी मजे में पागल हो रही थी, अपने मम्मों को मेरे मुँह में देती हुई मुझे अपने मम्मों का रस पिला रही थीं. फिर मैं गर्म पानी जग में लेकर सरिता की चूत सेंकने लगा तो सरिता को आराम महसूस होने लगा. वो कुछ देख तो नहीं पा रही थी पर उसे मुझ पर विश्वास था कि मैं उसका कुछ बुरा नहीं करूंगा.

लेडी हॉर्नी सेक्स कहानी का मजा लें उसी के शब्दों में!मैं जीनी हूँ, मेरी उम्र इस समय बत्तीस साल है.

चाची की चूत से रिस रहा रस इतनी मादक गंध वाला था कि मुझे नशा सा होने लगा. उस समय उनके लिए मेरे मन में ऐसा कोई इरादा नहीं था मगर मुझे भी वो काफी हॉट एंड सेक्सी लगी थीं. वो बोली- नहीं … ना तुम दारू पियोगे और न ही मैं … हम दोनों सिर्फ बियर लेंगे और वो भी एग्जाम के बाद.

सेक्सी गाने दिखाओमैंने उसको कॉल किया तो उसने बताया कि अभी उसका पति घर पर है, इसलिए उसे थोड़ा टाइम लगेगा. और मैंने जैसे ही दरवाजा खटखटाया … जेठजी ने अचानक मुझे अपनी बीवी समझकर हाथ अंदर खींचा और मुझे पीछे से पकड़ लिया और मेरे बूब्स दबाने लगे।ऊपर शावर से पानी गिर रहा था.

सेक्सी वीडियो मोटा लंड वाला

मुझे उसकी चूत एकदम गर्म भट्टी जैसी लगी और ऐसा लगा कि लंड पिघल सा गया हो. मैंने शिल्पा की टांगों को खोल दिया और उसकी चूत पर लंड रख कर तेज धक्का दे मारा. उसमें एक अंग्रेज आदमी और अंग्रेज लड़की किस कर रहे थे, जिसको वो बहुत मजे से देख रही थी.

जब सौम्या डार्लिंग से रहा नहीं गया तो उसने कहा- अब और मत तड़पाओ राजा … चोद दो अपनी इस खूबसूरत जानू को. उसके चेहरे से मुझे समझ आ रहा था कि उसको चुदाई से पूरी तृप्ति मिली है. मैंने ये बात अपनी मौसी से कही, तो पहले वो गुस्साईं लेकिन फिर वो मान गईं.

सरिता जब मेरे लंड का सुपारा अपनी चूत के छेद पर रखकर अपनी गांड हिलाने लगी तो मैं समझ गया कि अब सरिता लंड अन्दर लेना चाहती है. मैंने खुश होते हुए लिखा- आज नींद नहीं आने वाली है भाभी!भाभी- क्यों, क्या तुमने कोई भूत देखा लिया है?ये लिख कर उन्होंने आंख मारने वाली इमोजी भेज दी. मैंने एक मिनट भी वेस्ट किए बिना अपने दोनों पैर सामने की सीट पर रख दिए.

देसी न्यूड गर्ल सेक्स कहानी मेरी भाभी की चचेरी बहन के साथ सेक्स की है. हमारा घर तीन मंजिला है और इसकी छत के कमरे तक आने का सिर्फ एक रास्ता है.

भाई जब सो कर उठा तो मैंने उसे चाय दी, जिसमें उसकी सेक्स की गोली डाल दी.

जैसे जैसे वक़्त बीत रहा था, हमें सामने लगी घड़ी की सुई की आवाज़ और दिलों की धड़कनें साफ सुनाई दे रही थीं. एक्स वीडियो अमेरिकातुम्हें कैसे बताऊं मेरे राजा!मैंने उससे कहा- अरे सरिता, अब बता भी दो ना. पति और पत्नी का सेक्सीउसने बताया कि वो और उसके हस्बैंड अक्सर आपस में बात करते हैं कि मेरी पर्सनैलिटी और आवाज़ एकदम अलग है. इतना सुनकर मेरी चाची ने मेरे अंडरवियर में अपना हाथ डाला और लंड पकड़ लिया.

हमारे घर में एक उत्सव था, जिसके लिए घर में हलवाई और टैंट वाले आये थे.

आप बैठिए, मैं खाना लगा देती हूँ।मेरे जेठ जी बोले- ओह … अच्छा उसने फोन किया था. मैंने बिना चाची को उठाए और चाची को बिना आभास कराए अपने लंड को चुत में सैट कर दिया और पूरी ताकत से पेल दिया. जहां मैं और मेरी खूबसूरत मम्मा या फिर कहना चाहिए खूबसूरत होने वाली पत्नी रहती थी.

आगे की बात अगले भाग में!अभी तक की गांडू सेक्स की कहानी पर अपने विचार आप मुझे मेल जरूर करें. और अगर तुमने जबरदस्ती से पेला, तो फिर मैं तुमसे कभी भी सेक्स करूंगी ही नहीं. वो साली इतनी ज्यादा झीनी चुन्नी थी कि उसमें से आरपार का सब देखा जा सकता था.

एचडी ब्लू पिक्चर वीडियो

इस संबंध में काफी लोगों ने अपने एक्सपीरियंस मेरे साथ शेयर किए जिनको पढ़कर मुझे भी बहुत अच्छा लगा और अपने मोटे मोटे हथियारों की फोटोज भी मेरे साथ शेयर की. उसके ऊपर चढ़ कर मैंने उसके होंठों से चूमना शुरू किया और कमर पर सरक आया. नैना को कोई और मिल गया था और उसने मुझे एक दिन कोचिंग में रिसेप्शन पर बैठी लड़की के साथ देख लिया तो हमारी बात होना ही बंद हो गयी.

थोड़ी देर पेट को सहलाने के बाद मैंने शिखा को पलटा और मेरे हाथ उसके भरे हुए उरोजों को मसलने लगे थे.

फिर मैंने अपने लंड के आजू बाजू के बाल साफ कर दिए और पूरे बदन पर लिक्विड सोप लगाकर दस मिनट तक मस्त नहाया.

फिर मोहन ने रवि को सब बताया और कहा- शाम को मेरे घर आ जाना, परीक्षा के लिए तैयार रहना. उसके वो मखमली संतरे जैसे चुचे और बालों से घिरी हुई चुत की एक झलक मुझे मिल गयी थी, जो उसने ट्रिम की हुई थी. अमेरिका सेक्सी वीडियो ओपनउस समय मैंने सिर्फ एक नाइट पैंट पहना हुआ था और वो भी भाभी की टी-शर्ट की तरह ढीला था.

मैं समझ गया कि चाची ने अपनी बेटी के सामने खुद की वासना को दबा लिया था. जिसकी हाइट 5 फिट 3 इंच, पतली कमर, चूची की साइज 32 इंच हो और जिसके होंठ सुर्ख गुलाबी हों. इसमें हालांकि मुझे भी हल्का हल्का दर्द हो रहा था पर मजा भी आने वाला था।दोनों ही धीरे धीरे उनके लण्ड को चूत के अंदर बाहर कर रहे थे.

मैंने कहा- क्यों मुस्कुरा रही हो?वो मेरे गले से लग गई और बोली- आई लव यू बोथ … क्या दोस्ती है तुम दोनों की यार … मैं तो फ़िदा हो गई तुम्हारे ऊपर!मैंने उसे चूमते हुए कहा- क्या हुआ शनाया … क्या अभी तक तुम मुझ पर फ़िदा नहीं थी?वो हंस दी और हम दोनों ने उसी समय एक मस्त चुदाई का मजा लिया. वो मेरे एक एक अंग को चूमते हुए नीचे आ गया और मेरी चुत और भग्नाशय तक पहुंच गया.

मैंने निशा से कहा- आप पेट के बल लेट जाओ, मैं आपके पैरों की मालिश कर देता हूं.

उसके सफेद पेटीकोट से मांसल, गदरायी और बाहर निकली हुयी गांड, उसकी बीच की दरार देखकर, मेरा लंड अंडरपैंट में ही फड़फड़ाने लगा. वो मुझे चूमने चाटने लगी, कभी मेरे मुँह में अपनी जीभ डालने लगी तो कभी मेरी जीभ को चूसने लगी. एक बार के लिए तो हम दोनों ही डर गए थे कि अंजलि भाभी कहीं ऊपर तो नहीं आ गईं.

x वीडियो galaxy 2 aeo फिर ऊपर देख रहा लड़का भी नीचे आ गया उसने भी दीदी की गांड और बुर दोनों छेदों को चोदा और अपना पानी दीदी के मुँह में झाड़ दिया. वहां वो घर पर अपनी सहेली के साथ बाजार से खरीदारी का बहाना करके आने वाली थी.

कुछ ही पलों में भाभी को थोड़ा शान्त देख कर मैंने फिर से एक जोर का धक्का मारा और अपने पूरे लंड को उनकी चूत की गहराई नापने के लिए छोड़ दिया. पर उसका लंड अंदर नहीं गया क्योंकि मैंने इससे पहले कभी चुदाई नहीं की थी तो मेरी बुर टाईट थी।जय ने अपना लन्ड हटाया और एक तेल की शीशी लेकर आया. मेरी जांघें रेखा की जांघों पर प्रहार कर रही थीं और मेरे अंडकोश रेखा की गांड के फूले हुए छेद पर प्रहार कर रहे थे.

नंगा सेक्सी हिंदी

हम कुछ दिन यूं ही वीडियो कॉल करते रहे और एक दूसरे को गर्मी निकालते रहे. हम एक दूसरे को किस करने लगे, चाची के प्यारे गदरये बदन को में दबाने ओर मसलने लगा था. सौम्या डार्लिंग की कुंवारी चूत पर मेरा लंड अभी भी सिर्फ रगड़ ही खा रहा था क्योंकि सौम्या की चूत बहुत टाइट थी.

मैं लैब में आई तो सर मुस्कुरा कर बोले- कैसी हो?मैंने भी हंस कर कहा- एकदम अच्छी. मैंने उसके कुर्ते को पूरी तरह से ऊपर करके जैसे ही गले से ऊपर किया, उसका नंगा जिस्म मुझे फिर से मस्त करने लगा.

दीदी ने अपनी जीभ मेरे मुँह में दे दी थी … इससे लंड एकदम से खौल उठा और मुझे चुदाई की इस विधि से भरपूर मजा आने लगा.

राहुल ही दरवाजा खोलने आया जबकि गेट तो खुला हुआ ही था, बस यूं ही उड़का था. जीजा जी सो रहे थे और दीदी अपनी साड़ी कमर तक ऊपर करके अपने एक हाथ की उंगली से अपनी चूत में अन्दर बाहर करके मजा ले रही थीं. कुछ पल बाद चाची ने राहुल को बेड पर धकेल दिया और उसे अपने नीचे लिटा लिया.

मैंने उसके गोल गोल मस्त मम्मों को अपने हाथों में पकड़ा और एक को मुँह में भरकर चूसने लगा. [emailprotected]हॉट चुत की सेक्स कहानी का अगला भाग:दोस्त की बीवी और साली मेरे लंड की दीवानी- 3. आते ही मैंने रिया को पास में ही पड़े पलंग पर पटक दिया और खुद अपनी शर्ट निकाल कर उसके ऊपर चढ़ कर गया.

मैं गुरुग्राम में जॉब करता हूं, मेरा अच्छा खासा पैकेज है और कंपनी में मुझे हफ्ते में एक या दो दिन ही जाना पड़ता है … बाकी के दिन में खाली रहता हूं.

लेडीस जानवर का बीएफ: मैंने उन्हें एक झटके में पीछे घुमा दिया और उनके मुँह को पकड़ कर किस करने लगा. उस वक्त तो सच में मुझे कुछ समझ नहीं आया था पर अब जब मुझे वो बातें याद आती हैं तो सब समझ आता है.

उसने चाची से पूछा- चाचा तो वहीं ड्यूटी पर होंगे?इस पर चाची बोलीं- हां 10 बजे गए थे … अब रात 11 बजे ही आएंगे और तुझे तो पता ही है कि मेरा बेटा नीरज अपनी स्कूल की छुट्टियों के कारण अपने मामा के घर गया हुआ है. उसने बताया कि ये कमरा कारखाने के मालिक का है, वह उससे किराया नहीं लेता है. वो लोग मेरे लिए चॉकलेट लाते, कभी चुपके से बाजार ले जाकर आइसक्रीम या गोल गप्पे खिलाते थे.

तभी मुझे कुछ समझ आया कि भाभी ने मेरे कमरे में चुदाई के समय ही किराने का काम करने के लिए क्यों बोला था और बच्चों को वापस क्यों भेजा था.

देवर और भाभी की चुदाई के बाद हम दोनों नंगे ऐसे ही बेड पर एक दूसरे के पास लेटे रहे. ‘उईई ईईई मां सर आराम से करो न … मैं यहीं तो हूँ …’अब सर ने मुझे लिटा दिया और पैरों से लेकर होंठों तक जीभ फेरने लगे. ‘मुआआ … आह …’अब मैंने भी थाली को रख दिया और उसके पीछे अपने हाथ ले गया.