एसएस बीएफ वीडियो में

छवि स्रोत,बीएफ फिल्म दिखा दो बीएफ फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

देहाती मां बेटे की बीएफ: एसएस बीएफ वीडियो में, ललिता भाभी ‘आह मर गई …’ कह कर कसमसाने लगीं और मैं लंड अन्दर बाहर करने लगा.

देहाती चोदी चोदा बीएफ

मैंने उससे पूछा- तैयार हो काव्या?वो बोली- मैं नंगी लेटी हूं, अब तुझे किस चीज की इजाजत चाहिए?मैंने बैडरूम के ड्रेसिंग टेबल से एक क्रीम निकाली और उसकी बुर की फांकों को फैलाकर उस पर क्रीम मल दी. ब्लू फिल्म बीएफ भोजपुरी मेंबस फिर क्या था, मुझे भी अपनी हवस मिटानी थी … तो मैंने उससे कुछ नहीं कहा.

उन्हें आजाद करके मैं उसके एक चूचे को चूसने लगा और निप्पल पर दांतों से काटने लगा. एक्स एक्स एक्स सेक्स हिंदी बीएफजब से मेरी और मेरे भाई का चुदाई का सिलसिला शुरू हुआ था, तबसे मैंने पैंटी पहनना बंद ही कर दिया था क्योंकि उसको हर वक्त बस मेरी चूत ही चाटनी होती है और उत्तेजना में न जाने उसने मेरी कितनी पैंटी फाड़ दी थीं.

मैंने लंड चूत पर रखा और चाची ने हाथ से लंड पकड़ कर फांकों में सैट कर दिया.एसएस बीएफ वीडियो में: अब ससुर जी ने अपने नीचे लगाए हुए हाथ की एक उंगली मेरी चूत में डाल दिया.

कुछ मिनट अच्छे से लंड हिलाने के बाद मैंने पूनम से कहा- मेरा निकलने वाला है, थोड़ा और तेज़ करो.अब आगे चुत गांड Xxx सैंडविच सेक्स कहानी:रेशमा को अचानक से अपनी चूत में घुसे ब्लाउज से थोड़ी परेशानी हुई, पर वो तो बस किरण के गांड के नीचे दबी पड़ी थी.

इनका चोपड़ा बीएफ - एसएस बीएफ वीडियो में

मैंने कहा- कभी कहा ही नहीं भाभी आपने … मैं खुद कबसे आपके जिस्म को भोगना चाहता था.वो पहली बार ये सब अनुभव कर रही थी इसलिए गीता का शरीर जल्द ही अकड़ने लगा था.

पाटिल- हां विराज जी, आज इन दोनों रंडियों को ऐसे चोदेंगे कि इनकी अगली सात पुश्तें भी हमारे लौड़े का नाम जपेगीं. एसएस बीएफ वीडियो में ये भी स्लीवलेस और बैकलेस था मतलब पीछे बस एक डोरी और आगे से भी काफी डीप गला था.

मैंने उससे कहा- क्या आगे मजा नहीं है?वो बोली- मजा तो आगे ही आता है मगर बच्चा पैदा होने का खतरा कौन मोल ले.

एसएस बीएफ वीडियो में?

वो बोल रही थीं- हिम, तुम बहुत अच्छे हो … हिम तुम बहुत अच्छे हो मेरी जान आज से तुम मेरे हो. पूरा मुझे इतना जोश चढ़ गया था कि मैंने मॉम के मुँह में ही अपना सारा माल निकाल दिया. अगले दिन शादी थी तो तैयारियां बहुत जोरों से चल रही थीं, किसी के पास टाइम नहीं था.

साबिरा डरते हुए उठकर बैठने लगी, पर पहली बार चूत फटने से उसको बहुत दर्द हो रहा था. उसकी 40 इंच की गांड का उभार भी बता रहा था कि गांड भी पैंटी विहीन है. उसने मेकअप से मेरा पूरा शरीर किसी लड़की की तरह चिकना गोरा कर दिया था.

मैंने उसके घुटनों को मोड़ा और उसके धक्कों के साथ मैंने भी धक्के लगाने शुरू कर दिए. मैंने पूछा- बोलो जान क्या सोचा!मॉम बोलीं- लेकिन ये सब एक बार होगा … और वीडियो डिलीट करनी पड़ेगी. दोस्तो, इसके बाद भी हम जब भी अकेले में होते हैं, तो एक दूसरे साथ चुदाई कर लेते हैं.

मैंने आंटी को बिस्तर पर लिटा दिया और चूचियों को बारी बारी से चूसने लगा. ब्लाउज का कपड़ा एकदम हल्का पीला और झीना था, जिसमें मैंने स्लीवलेस और आगे से काफी डीप रखा और पीछे से एक बस दो उगल बराबर एक पट्टी थी हुक वाली.

कंपनी के हर वर्कर को मैं व्यक्तिगत रूप से पहचानता हूँ और कंपनी को आगे बढ़ाने के लिए हम सब एक परिवार की तरह मेहनत करते हैं.

मैं बोला- एक शर्त है, तुम अपनी मम्मी की किसी बात का मना नहीं करोगी.

इस पर वो संजीदा हो गई थी और उसने मुझसे कहा था- काश मैं तुम्हारी गर्ल फ्रेंड बन सकती!मैंने कहा- क्यों ऐसे क्यों कह रही हो?तो वो चुप हो गई थी. गांड पर वलय के निर्माण हो रहे थे और पीछे से रेशमा की गांड का मजा लेते हुए मैं उस मनमोहक नज़ारे को देख रहा था. जाम पर जाम टकराते रहे और समां अब धीरे धीरे कामुकता की तरफ बढ़ने लगा.

मैं दबे पांव बाथरूम पहुंचकर गेट से ही उसकी चूत को निहारकर सीसी की मधुर आवाज को सुनने लगा. मॉम ने मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसना शुरू किया और थोड़ी देर में वो गपागप गपागप लॉलीपॉप के जैसे मेरे लंड को चूसने लगीं और मौसी ने मॉम की चूत चाटना शुरू कर दी. मेरा ठोकू भी अब समस्तीपुर से बाहर चला गया था तो मुझे भी अपनी चुत की खुजली मिटाने के लिए एक मोटे लंड की जरूरत थी.

हीरा बाबू इसी कोचिंग का एक पूर्व छात्र था जो अक्सर यशवंत भैया के यहां आता जाता रहता था.

उठ गए, जूस पी लो … थकान मिट जाएगी!” धारा ने बड़े ही प्यार से शेखर को कहा. जब वो तीनों ब्रा और पैंटी में आ गईं तो नंदा ने मुझसे पूछा- अब आगे?मैंने कहा- ड्रिंक लेते हैं. साथ ही उसके मुँह में धक्के देते हुए अपना पूरा लंड उसके मुँह में अन्दर बाहर करने लगा.

फिर मैं बोला- सीमा, तुम बहुत अच्छी हो यार! मुझे इतनी खूबसूरत लड़की मिली है, मैं बहुत खुशकिस्मत हूँ. लेकिन मैं जब भी मॉम से उनकी चुदाई के लिए बोलता, वो साफ मना कर देतीं. अब आगे भाबी की चूत की कहानी:देविका बोली- हर्षद, तुम्हारे लंड का अमृत मुझे जी भरके पीना है.

कुछ देर ऐसे ही उसका मुँह चोदने के बाद मैंने लौड़ा बाहर निकाल लिया और दोनों पैर ऊपर करके सोफ़े पर रख दिए.

यह मेरी पहली कहानी है एक हॉट बेब सेक्स की!मैं 2019 में अपनी पढ़ाई पूरी करके जॉब करने के लिए दिल्ली गया था. वो मुझे भींच कर बोला- क्या सच में मनीष, मैं तुम्हारे साथ जो चाहूं कर लूं, तुम मुझे मना तो नहीं करोगे और न रोकोगे!मैं बोला- हां अजय, आज बस हम दोनों हैं और मैं बस तुम्हारा हूं.

एसएस बीएफ वीडियो में थोड़ी देर बाद गीता सामान्य हो गयी और आहिस्ता आहिस्ता अपनी गांड ऊपर नीचे करने लगी. वाह क्या नजारा था!वो जल्दी से अपने साड़ी के पल्लू को कंधे पे ले गई और बोली- क्या हुआ, कुछ चाहिए क्या?मैंने कहा- भूख लगी थी, भाभी खाना दे दीजिए।भाभी मुझको खाना देने के लिए उठी, हाथ धुलकर वो मुझे खाना दिया और मैं खाने लग गया.

एसएस बीएफ वीडियो में उसने खुद ही सरक कर अपनी गांड के छेद को शेखर की ज़ुबान के हवाले कर दिया और अपनी गांड का छेद ढीला छोड़ दिया. मेरी भाभी का गेंहुआ रंग, बड़ी चूचियां यही कोई 34″ साइज की हैं वो खुद अपने ब्लाउज और बाकी कपड़े सिलती हैं।बड़ी गांड के साथ जब वो इधर उधर काम करती हैं तो उनका बदन देखकर कोई भी उन्हें चोदने का सपना देखने लगेगा.

लेकिन मैं जब भी मॉम से उनकी चुदाई के लिए बोलता, वो साफ मना कर देतीं.

सपना चौधरी के गाने

ये बात सुनकर उन्होंने भी हां कर दी और मैं उन दोनों को बस पर छोड़ कर उनके घर दस बजे के करीब पहुंच गया. करीबी 10 बजे तक मुझे बेडरूम में किसी भी तरह की कोई हलचल नहीं नजर आई. कोमल- नितिन और जोर से दबाओ, आज बहुत दिनों के बाद ऐसे कोई दबा रहा है.

पहले मैं एक कंपनी में काम करता था, जहां मुझे सिरोही में किसी प्रोजेक्ट के काम के लिए जाना पड़ा. उसके चूचे एकदम से उछल कर मेरे सामने ऐसे आ गए जैसे उन्हें काफी दबा कर जकड़ा हुआ हो. दोपहर के समय जब सब लंच करने को गए हुए थे तो उसी वक़्त वहां कोचिंग का चपरासी भोलू मेरे पास आ गया.

उसकी आँखों में मिन्नत सी नज़र आ रही थी जो धारा से विनती कर रही थी कि आओ धारा … मेरा लंड अपने मुँह में भर लो और निचोड़ डालो सारा रस.

उसी वक्त मैंने सुमैत्री को झटके से सीधा किया और उसकी चूत में अपना लंड डाल कर उसकी चूत चोदने लगा. एक दिन इन दोनों के नामर्द शौहरों के सामने ही इनकी चूत का भोसड़ा बना देना चाहिए. मेरा पूरा लंड उसके पानी से गीला हो गया और अब चूत से पच पच की आवाज आने लगी.

वो फिर से हंसी और बोली- साले, जरा सी ढील दी और तूने हनी कहना शुरू कर दिया. अब आ जाओ और मुझे चोद दो!मैं अभी भाभी को और गर्म करना चाहता था इसलिए मैं उनकी चूत में उंगली और जुबान दोनों डालने लगा था. रेशमा ने अपना मुँह ऊपर करके कहा- आपको क्या लगता है? मैं हां करूं या ना?मुझे इस सवाल की बिल्कुल भी अपेक्षा नहीं थी, उल्टा मुझे लग रहा था कि रेशमा इस बात से बुरी तरह से गुस्सा होने वाली है, पर यहां तो रेशमा ने मुझे एक अलग ही दुविधा में डाल दिया.

मैंने देखा उनकी चूत जोकि पेंटी के अलग होने के बाद एकदम पाव रोटी की तरह फूली हुई थी और बिल्कुल गुलाब की पंखुड़ियों की तरह गुलाबी थी. थोड़ी देर बाद मैंने गति बढ़ाई और तेजी से अपना लंड सुपारे तक बाहर निकाल कर तेजी से धक्के देकर चूत की दीवारें चीरकर देविका की गहराई में उतारने लगा.

वो ‘उईई ऊईईई आह आहहह मर गई बचाओ …’ चिल्लाने लगीं और मैं ताबड़तोड़ चुदाई करने लगा. चूत में 5-6 बार जीभ चलाते ही मौसी मेरे सिर को अपनी चूत पर दबाती हुई कराहने लगीं- आहह … उमह … यस्स … ओइ मां … आह आह जोर से … खा जाओ इसे राहुलहह … साली बहुत परेशान करती है. जब भाभी छत पर बर्तन मांजती थी तो मैं रोज उनके पास बैठ कर उनसे बातें किया करता था.

फिर हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए और वो गपागप गपागप लंड चूसने लगीं.

मैंने अपनी उंगली का सिरा चूत की दरार के ऊपरी हिस्से पर स्थित चने के दाने के साइज़ के भगनासे पर लाकर रोक दिया. मैंने अपने होंठों को को उसके लंड पर कस लिया और उसे धीमे धीमे धक्के मारने का इशारा किया. अब इस उम्र में मेरे पति से तो कुछ होता नहीं है और जीजू तो बस तुझे ही चोदते हैं.

पाटिल जी- ले मादरचोदी, अच्छे से साफ कर मेरा लौड़ा … साह रंडी की जनी, इस मादरचोद ने तो दो मिनट में पानी छोड़ दिया बहनचोद. मैं अपने सुपारे को बार बार चमड़ी से बाहर निकाल कर लंड को सहला रहा था.

फिर सरिता भाभी ने पिताजी को नमस्कार किया और पिताजी ने पांच सौ का नोट सरिता के हाथ में देकर कहा- बेटी सरिता इस पैसे से सोहम के लिए कुछ खिलौने खरीद लेना. हम दोनों ने अपनी अपनी रफ़्तार बढ़ा दी थी और दोनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया. मैंने कहा- अच्छा, इसका मतलब हम दोनों एक दूसरे के बारे में ही सोच रहे थे.

माँ की चुदाई कहानी

चाची का गहरे गले वाला ब्लाउज भी पूरा भीगा हुआ और साड़ी का पल्लू भी उनकी कमर पर बंधा था जिससे चाची के मम्मे बड़े ही कातिल लग रहे थे.

हम दोनों की रफ्तार अचानक तेज हो गई और बिस्तर पर राजधानी एक्सप्रेस दौड़ने लगी. कुछ देर इसी पोजीशन में मेरी चूत चोदने के बाद उसने मुझे घोड़ी बना दिया. मॉम ने उसकी गांड चाटनी शुरू कर दी जिससे दीपाली की गांड गीली हो जाए और उसमें मेरा लंड आराम से जा सके.

हॉट मेड सेक्स स्टोरी में मैं अपनी सेक्सी नौकरानी को एक बार चोद चुका था, वो मेरी बगल में नंगी पड़ी थी. पता नहीं कितनी देर तक वो ऐसे ही झड़ता रहा और उसका वीर्य मेरी चूत से होते हुए मेरी बच्चेदानी को भरता रहा. बीएफ का फुल फॉर्म क्या होता हैउनके ऊपर आकर चूत को चाटने लगा और लंड घुसा कर तेज़ी से अन्दर बाहर करने लगा.

सरिता बोली- हर्षद, मेरे पास समय कम है … जल्दी से अपना मूसल मेरी गीली चूत में पेल दो. कुछ मिनट चूत चाटने में वो गर्म हो गईं और बोलीं- मुझे पेशाब आ रही है … मैं मूत कर आती हूँ.

इतने में ही बॉस ने मेघना को अपनी गोद में उठा लिया और उसे अपनी गोद में उचकाते हुए चोदने लगा. कुछ देर और जीभ चलाने से मेरी मौसी फिर से गर्म हो गईं और मुझसे कहने लगीं- ये सब बाद में कर लेना राहुल, अभी पहले मुझे चोद कर शांत कर दो. कुछ देर और जीभ चलाने से मेरी मौसी फिर से गर्म हो गईं और मुझसे कहने लगीं- ये सब बाद में कर लेना राहुल, अभी पहले मुझे चोद कर शांत कर दो.

मैं रोज ड्यूटी पर जाता और वहां से अपने मोबाइल फोन पर अपने बेडरूम का पूरा वीडियो लाइव देखता रहता था. तो सुची ने हाथ से लंड पकड़ लिया और उंगली से उसकी गांड का सुराख में रगड़ने लगी. Xxx चाची चुदाई कहानी में पढ़ें कि पढ़ाई के लिए मैं चाचा के घर रहता था.

अब उसकी आदत तो थी ही चुदक्कड़पने की, तो वो मुझमें भी एक चोदू लंड देखने लगी.

तू टेंशन क्यों ले रहा है, सच्ची मोहब्बत में ही तो फटी है गांड, अच्छे अच्छों की फट जाती है, तेरी तो सच में ही फट गयी. जिस दिन मैंने सोनी को प्रोपोज़ किया था, ठीक 10 दिन बाद सोनी का बर्थडे था.

नीता बोली- आज किसी भी तरह से पूरी रात गीता को चोदकर उसके माँ बनने का सपना पूरा कर दो ना. चाची को अच्छा लगने लगा तो मैंने उंगली की जगह लंड गांड में डाल दिया. मैंने बिना कुछ बोले उसे अपनी गोद में उठा लिया और अपने कमरे की तरफ चल दिया.

15 मिनट चुसवान के बाद मुझे लगा कि मैं झड़ जाऊंगा।मैंने उससे कहा कि मैं झड़ने वाला हूं तो वो रुक गई और बोली- मैं तुम्हारा रस पीना नहीं चाहती बल्कि अपनी बंजर जमीन की सिंचाई करवाना चाहती हूं। जल्दी से इसे मेरी चूत में डालो।मैं- ठीक है. खैर … उस दिन दोनों लोग पानी में भीगते हुए सुमैत्री के घर पहुंचे और मैं सुमैत्री को ड्रॉप करके अपने घर के लिए निकलने लगा. गर्मा गर्म लंड का सुपारा जैसे ही उस नाज़ुक भाग से टकराया तो साबिरा उस कामुक चुभन को बर्दाश्त नहीं कर पायी.

एसएस बीएफ वीडियो में और उन दिनों इंटरनेट पर एमएमएस बनाए जाने की खबरों की बाढ़ भी आई हुई थी, जो हमारे डर को और भी ज्यादा बढ़ा रही थी. आज तक कभी उन्होंने चूत को छुआ तक नहीं है, तो चूसना तो दूर की बात है.

सेक्सी फुल वीडियो भोजपुरी

मैं साबिरा की जांघों को प्यार से सहलाते हुए अपने हाथ उसकी कमर के नीचे ले गया और उसको थोड़ा ऊपर उठा दिया. देविका अपना सर मेरे सीने पर रखकर एक हाथ से मेरे लंड के साथ खेल रही थी. उसके बाद एक दिन उसने मेरे पूछने पर बताया कि उसकी शादी को लगभग तीन साल हो चुके हैं लेकिन अब तक वह अपनी शादी वह खुशी नहीं पा सकी है जिसके लिए सभी लड़कियां ख्वाब देखती हैं.

एक हाथ से मैं उसके एक दूध को पकड़ कर चूस रहा था; दूसरे हाथ को मैंने पैंटी के अन्दर डाल दिया. लंड और चूत कामरस से लबालब होने के कारण पच पच पचाक पचक पच् फच् पचक की मादक आवाजें निकल रही थीं. बीएफ सेक्सी सीरियलऐसे ही एक दिन मेरी नजर उसके टी-शर्ट के अन्दर गयी तो उसके निप्पल नजर आ गए.

अब उसने मुझे धकेलना शुरू किया और मुझे धकेलती हुई वहां रखी टेबल पर बैठा दिया.

अब मैंने अपना दूसरा पैर लंबा करके सामने बैठी सरिता के पैर पर रख दिया तो सरिता मेरी तरफ देखकर शर्मा गई. उसके बाद आसिफ भी मेरी गांड में झड़ गया और मुझे आगे गिरा कर मेरी पीठ पर ही लेट गया.

आज मैंने एक काले रंग की नेट वाली साड़ी पहनी, जिसका ब्लाउज मैंने ही सिला था. मगर भैया कुछ उठे तो समझ मैंने देखा कि भैया का लंड भाभी की चूत के अन्दर नहीं गया था, वो बुर को चोट देता हुआ फिसल कर साइड में हो गया था. फिर उंगली और अंगूठे से मेरी गांड का छेद हल्का सा खोल कर उसमें तेल उड़ेल दिया.

अगले कुछ ही पलों में भाभी की चूत ने रस छोड़ दिया और उनकी जांघों से चूत की मलाई बहने लगी.

पहले तो लड़का आकर मेरा खाना दे जाता था मगर अब सुनीता खुद ही खाना देने मेरे कमरे में आने लगी थी. बच्चे स्कूल चले जाते थे तो मैं भी ज्यादा से ज्यादा वक्त चाची के साथ ही रहने की कोशिश करता था. अब आगे पेनफुल एनल सेक्स:मैं- चूस ले रंडी … चाट साली अपने मालिक के टट्टे बहन की लौड़ी … मेरी गांड पर अच्छी तरह से जीभ घुमा वर्ना इसी बेल्ट से बांध कर तेरी नूरानी गांड का फीता काट दूंगा.

सेक्सी मूवी नंगी बीएफथोड़ी देर में मॉम बोलीं- तनु आज नहीं चुसाएगा क्या?मैंने कहा- नहीं मॉम … आज मेरा मूड नहीं है. मैं भाभी की खूबसूरत जवानी को यूं नंगी देख कर एकदम से पागल होने लगा था.

घोड़े का बीपी

मेरी कमर को दोनों हाथ से थाम लिया और लंड मेरी गांड की तरफ से चूत में डाल कर जोर जोर से चोदने लगे. जैसे ही मेरा लंड चूत की गहराई में जाता, उसके मुँह से निकलता ‘ऊउ ईई आआ आह. रेशमा- वो तो समय ही बताएगा कि आज कौन पछताता है और कौन नहीं पाटिल जी.

आखिरकार हम होटल पहुंचे और हम कमरे में दाखिल हुए कमरे में घुसते ही हम एक दूसरे से से लिपट गए, मानो दो जिस्म एक जान!इतना तो मैं भी गर्म नहीं था जितनी वह गर्म थी. मैं लगातार उसकी चूचियों को दबाते हुए बदल बदल कर एक दूसरे का रस पीता रहा. भाभी के घर में निर्माण का काम चालू था, जिस वजह से छत पर जाने के लिए उनको मेरे घर से हो कर जाना होता था.

आखिरकार मुझे मौका तब मिला जब वो जाने के टाइम सर से कुछ नोट्स मांगने लगी. आप ऐसा सीन सिर्फ कल्पना में ही सोच सकते हैं कि एक भाई अपनी बहन की सील टूटने वक्त उसे हो रहे दर्द को सहने के लिए उसका सर सहला रहा हो. उसने एक बहुत बारीक रबर या सिलिकॉन की कच्छी सी निकाली, जिसके बीचों बीच रबर की चूत बनी हुई थी.

कुल मिलाकर शेखर के होश उड़ाने के लिए धारा का ये रूप काफ़ी साबित हो रहा था. वो नाश्ता करने भी नंगे ही आते थे, बस आफिस जाते समय ही कपड़े पहनते थे.

मैंने भाभी से पूछा- आप क्या खाओगी भाभी जी?भाभी जी बोलीं- आपको जो पसंद है, मंगवा लीजिए.

वो हाथों से मुझे ऐसे मारने लगी जैसे कह रही हो कि बाहर निकालो अपने लंड को. हिंदी भाषा में एचडी बीएफपहली बार मुझे उसके बूब्स का कोमल अहसास हुआ, लेकिन सुमन को गिरने के कारण दर्द हुआ. प्रियंका बीएफ वीडियोमैं अपने घर आ गया और अपने लंड को अपने हाथ से शांत करके खुशी में सो गया. मैंने तपाक से एक ही झटके में उसे निकाल फेंका।भाभी की चूत एकदम साफ थी, शायद भाभी ने अपनी झाँटें आज कल में साफ की थी।मैंने भाभी को लिटा के सीधा उनकी चूत के दोनों होंठ खोले.

लेकिन शेखर इतनी मुद्दत के बाद सच हुए अपने सपने को टूटने भी नहीं देना चाहता था.

रुचिका वन्दना से बोली- अभी तो कुछ नहीं है, जब ये वापिस मुम्बई जाएंगे, तब तुम रोकर विश करोगी. मैंने मौका मिलते ही उसका ब्लाउज के बटन खोल दिए और ब्रा के ऊपर से ही और तेजी के साथ उसकी चूचियों को दबाने लगा. उसने मुझे अपनी चूचियों से चिपका लिया और मैं उसके चेहरे को चूमने लगा.

मैं किरण को देख कर बोला- साली रंडी, अपने घुटनों पर रेंगते हुए आ जा मेरे पास … आज तू पूरी रात ऐसे ही दो कौड़ी की कुतिया बनकर चुदेग़ी. वो सीट तो 4 के बैठने के लिए सही थी लेकिन वो दो आदमी कुछ ज़्यादा हैवी थे जिससे जगह कुछ बची ही नहीं. मैं कमरे में गया तो भाभी ने बेड में नई बेडशीट बिछाई थी और पूरा कमरा इत्र की सुगंध से महक रहा था.

सेक्सी गाना फुल वीडियो

भाभी कहने लगी- थोड़े दिन तक के लिए तुम ऑफिस से छुट्टी ले लो क्योंकि मुझे रोज़ ऐसी ही चुदाई चाहिए. मैं साथ देने लगी तो भैया ने मेरे होंठों को छोड़ दिया और मेरे दूध चूसने मसलने लगे. गीता ने इस सुख को जज्ब करने के लिए अपनी दोनों टांगों से मेरी कमर को जकड़ लिया.

अब वो मेरे बिस्तर पर मेरे ऊपर चढ़ चुके थे और मेरे मम्मों के दोनों निप्पलों को बारी बारी से अपने मुँह से से चूस रहे थे.

देविका सीत्कारने लगी- ओह हर्षद, जल्दी से कुछ करो, अब नहीं सहा जाता.

मैंने भी आंटी को बोला- इसको सुधारने के बाद भी ये ठीक तरीके से काम करेगा भी या नहीं इसका भरोसा नहीं. इस बार मैं कोई चार पांच साल बाद मामा जी के घर आया था तो सुमन से भी अभी मिला था. हिंदी बीएफ गाना के साथअब मैं भाभी की तरफ बिना देखे ही जाता था ताकि वो अपना पल्लू डालकर अपना सुंदर मुखड़ा न छिपा ले.

उसके बाद सोनी मेरे घर से चली गयी, पर जाते जाते हमने एक दूसरे को टाइट वाली झप्पी और किस किया. सोफे के ऊपर से खड़ा होकर मैं उसको बेल्ट के सहारे से खींचने लगा तो वो भी किसी कुतिया की तरह मेरे पीछे पीछे चलने लगी और मेरे इशारे से वो बिस्तर पर चढ़ कर कुतिया बन कर झुक गई. मेरा हाथ उसके पेट पर पड़ते ही वो गुदगुदी की वजह से उछल सी पड़ी और उसने मेरा हाथ पकड़ कर बाहर कर दिया.

जब कभी भी मेरे पति मेरे निप्पल चूसते थे तो मैं बेकाबू हो जाती थी।आज भी वैसा ही कुछ हुआ. मेघना ने अपने दोनों हाथों को बॉस के गले में डाल लिया था और मस्ती से चुदवा रही थी.

मैंने भी शिराज को आवाज़ देते हुए कहा- अब नीचे क्या देख रहा है गांड मरवाने वाले गांडू? देख कैसे तेरी बहन तड़प रही है चुदने के लिए.

वो पूछने लगी- इधर किसी को लेने आए थे?मैं पहले तो सकपका गया और मन में आया कि हां कह दूँ कि तुम्हें ही लेने आया था. अजय मुझसे चिपका हुआ था और धीरे धीरे मेरी गांड के होल में उंगली डाल रहा था. उस दिन के बाद हम जब भी मिलते या जब भी हमें मौका मिलता, तब किस के साथ साथ मैं उसके चूचों से भी खेलने लगता.

इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर वीडियो क्योंकि मैं हमेशा घर में खुले और छोटे कपड़े पहने रहती और समीर भैया मुझे बड़ी अजीब नज़रों से देखते थे और मौका मिलते ही मुझसे चिपकने लगते थे. मेरा नौकर गोपू सब जानता था और जब कोई लड़की मेरे घर आती तो वो उसका ख़्याल भी रखता था.

उसने आंह आह करते हुए सीत्कार भरी और खुद ही अपने सारे कपड़े निकालने लगा. आसिफ एक मिनट के लिए शांत हुआ और बोला- चल एक और ऑफर है और ये तो तुझे मानना ही पड़ेगा, वरना मैं चाचाजान को फातिमा और तेरे चक्कर के बारे में बोल दूंगा. पहले तो लच्छो डरती हुई लंड को पकड़े हुई थी, फिर उसने लंड को आगे पीछे करना शुरू कर दिया.

सेक्सी पीडीएफ

दोनों रंडियां बड़े मजे से एक दूसरे को चूम रही थीं, मेरे वीर्य को एक दूसरे को खिला रही थीं. मैंने सर से पास होने के लिए नकल की जुगाड़ के लिए पूछा, तो सर ने उस दूसरे आदमी की तरफ इशारा करते हुए कहा- अरे तुम चिंता मत करो, यही सर सब करवा देंगे. मैंने उसका ध्यान हटाते हुए उसको अपना परिचय दिया कि मैं पूनम पांडेय हूँ और मेरा भाई आपका स्टूडेंट है.

भाभी भी अपनी मेरे लंड को अपनी गांड से दबा दबा कर उस पर अपनी गांड घुमा रही थी. वो भी नशीली आंखों से मेरी आंखों में देख रही थी और अपने होंठ चबा रही थी.

उन्होंने मुझे बिस्तर पर बिठाया और बोलीं- तूने क्या सोचा?मैंने कहा- वही … जो आप बोलोगी मैं करूंगा, बस आप किसी को मत बताना.

मैंने भी अपना झड़ा हुआ लौड़ा और चुसी हुई गांड को उन दोनों रंडियों के मुँह से रिहा करवाया और सोफे पर जाकर बैठ गया. ये सुन कर दिल को तसल्ली हुई कि चलो कल भी इस खूबसूरत हसीना का दीदार करने का मौका मिलेगा. मैंने आंटी की चूचियों को दबाते हुए झटके लगाने शुरू कर दिए और सटा सट सटा सट अन्दर बाहर अन्दर बाहर करके चोदने लगा.

इस सबसे मैं झल्ला उठी और मैंने नीरज से बाहर जाने के लिए कह दिया- जब संभलती नहीं तो पीते क्यों हो?मेरी आवाज सुनकर रमन और विजय अंदर आ गए और मेरा गुस्सा शांत करने लगे. मैंने उस पैकेट को खोला तो उसमें गुलाबी रंग की बहुत ही खूबसूरत सी फ्रॉक थी. उसने उस रात मेरे साथ बातें करते करते हुए ही मेरे दरवाजे पर नॉक किया.

आप इस मॉम Xxx चुदाई कहानी को पढ़ें, जोकि तन्मय के द्वारा बताई गई और मेरे द्वारा लिखी गई है.

एसएस बीएफ वीडियो में: हम सबके परिवार दिल्ली के पास के गांवों से आए थे तो हमें बचपन में खेलने के लिए बहुत समय व बहुत सारे खेल मिले. आसिफ मेरे ऊपर आया और झुक कर मेरी आंखों में देखते हुए बोला- यार निखिल, तू लड़की के रूप में ही बहुत अच्छा लगता है, बहुत सुंदर लग रहा है.

कुछ देर बाद ऑटो स्टार्ट हुई तो ड्राइवर ने मेरे बगल का परदा डाल दिया क्योंकि पानी अन्दर आ रहा था. कुछ देर इसी पोजीशन में मेरी चूत चोदने के बाद उसने मुझे घोड़ी बना दिया. मैंने उसे अपनी बांहों में कस लिया और हम दोनों ऐसे ही कुछ मिनट लेटे रहे.

मैंने साफ़ कहा- तुम अपने ऐसे फिजिक की फोटो भेजो, जो मैंने देखी न हो.

रेशमा की चूत को आज सच में मजा मिल रहा था, उसकी चुदाई की हवस आज पूरे जोरों पर थी और वो अपनी चूत की प्यास बुझाने के लिए पाटिल जी के लौड़े पर कूद कूद कर चुदवा रही थी. मेरे पति का तो इतना काला लंड है कि चूसने की बात दूर … चूमने को भी दिल नहीं करता. गीता कराहने लगी तो नीता बोली- क्या हुआ गीता?गीता मुस्कुराती हुई बोली- यार, बहुत दर्द हो रहा है नीता.