बीएफ इंग्लिश बीएफ बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,सेक्स बिहारी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

अंजना सेक्स: बीएफ इंग्लिश बीएफ बीएफ बीएफ, हमारा घर गांव के एक कोने पर बना हुआ है और घर का सिर्फ एक मुख्य दरवाजा है.

बीएफ सेक्सी हिंदी जबरदस्ती

शाम को मैं सुमीना के यहां गया ये देखने कि उसके बच्चे की तबियत अब ठीक है या नहीं. नई बीएफ सेक्स वीडियोमेरे चूतड़ जो करीब 34 इंच चौड़े थे, उनकी मजबूत और जांघों के नीचे पिस गए.

और जैसे ही मैंने अंगूठे को चूसा उसने अपनी चूत को जांघों में भींच कर दो तीन बार हिलाया, अपने सिर को हिलाया और आ … आ … करके झड़ गई. बीएफ अंडेफिर अंधेरे में हम दोनों ने अपने अपने गीले कपड़े उतार दिए और एक दूसरे की तरफ पीठ करके बैठ गए.

उसका दरवाजा खुला और अंदर से वही मामा के दोस्त अंकल ने हमें गाड़ी में बैठने के लिए कहा.बीएफ इंग्लिश बीएफ बीएफ बीएफ: तभी रॉबर्ट ने अपनी वासना में डूबी हुई आवाज में घरघराते हुए मुझसे कहा- हम्म … अब मेरी फ्रेंची भी उतार दो डार्लिंग … जल्दी करो प्लीज़.

और ये भी पूछा- तुम रहती कहां हो? शादी कहां होगी, मुझे आना कहां है? तुम घर पर मेरा क्या परिचय दोगी?ढेरों सवाल मैंने एक सांस में ही कर डाले।उसने कहा- यार, तुम इतना क्यों सोचते हो, मैं हूँ ना! जब मैं तुम्हें अपना मेहमान बनाकर बुला रही हूं तो मुझे भी तो इतनी चिंता होगी.मेरी दोनों टांगें खोलकर बीच में आकर उसने गप से मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया.

अंग्रेजी बीएफ नया - बीएफ इंग्लिश बीएफ बीएफ बीएफ

कुछ देर चुचियों को चूसने के बाद मैंने उसकी सलवार की डोरी पकड़ी और खींचने को हुआ.उसने झुक कर मेरे लंड के टोपे को मोहक अंदाज में ऐसे चूसा, मानो कह रही हो कि तुम ही तो हो, जो मेरी गांड को सुख देने वाले हो.

दरअसल एक बार तो लण्ड कुछ अंदर तक भी जाने लगा था जिससे बिन्दू ने मेरी छाती पर हाथ लगा कर रोक दिया और बोली- अभी नहीं, बाद में कर लेना. बीएफ इंग्लिश बीएफ बीएफ बीएफ मैंने शर्ट के ऊपर के तीन बटन खोल रखे थे, जिसमें से मेरे पूरे बूब्स नजर आ रहे थे.

मैंने भाभी के होठों को चूसा और उनकी चूचियां और पेट के ऊपर हाथ फिराने लगा.

बीएफ इंग्लिश बीएफ बीएफ बीएफ?

तुम अपनी उम्र और मरी उम्र का फर्क तो देखो!पायल मेरे मन की बात तो नहीं सुन सकती थी, इसलिए वो चुप रही. अम्मी ने मेरे लंड से निकले रस को पूरा पी लिया था और वो अब भी मेरे झड़े हुए लंड को चूस रही थीं. अंकुश- अरे तुम तो यहां स्विमिंग सीखने के लिए ही आती हो न … तो यहां के ट्रेनर ने अब तक तुम्हें तैरना नहीं सिखाया क्या?मैं- हां वो ट्रेनर सिखाती तो है, पर मुझे तो लगता है कि उसे खुद ही ठीक से स्विमिंग नहीं आती है.

उसने लंड को बुर के छेद पर रखा और मेरी आंखों में ऐसे देखा … जैसे मुझसे इजाजत मांग रहा हो. उसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।दोस्तो, आपने मेरी पिछली कहानी पढ़ीऐसी प्यारी भाभी सबको मिलेआप सबने बहुत पसंद की. कालगर्ल चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे एक दोस्त ने दूसरे दोस्त बेटी को भी रंडी बना दिया.

कुछ देर आराम करने के बॉस ने उस दिन समय से पहले गर्लफ्रेंड को उसके घर छोड़ दिया. कामुक स्त्री को जितना सेक्स के लिए तड़पाओगे उसे उतना ही ज्यादा सेक्स का मज़ा आता है. मगर मेरे महान गांडप्रेमी दोस्त हसीन से हसीन चुत को देख कर लंड मोड़ लेते थे.

वो बोला- मैं विश्वास दिलाता हूं कि जब भी आप इस गलती को याद करोगी तो आपकी जवानी मचल जायेगी. वो इठला कर बोलीं- एक एक हिस्से की कैसे करोगे?मैंने कहा- मैं देखता जाऊंगा और तारीफ़ करता जाऊंगा.

मैं अब आहें भरने लगी थी- आह आह आह्ह आह्ह थॉमस फक मी बेबी!वो हब्शी मेरे नीचे आ गया.

दोस्तो, कैसी लगी मेरी न्यू बुर चुदाई कहानी? कमेंट्स करके मुझे बताएं.

आप भी मजा लें पढ़ कर!नमस्कार दोस्तो, एक बार फिर आपका दोस्त राहुल सिंह कानपुर के पास से आपके सामने एक नई सेक्स कहानी के साथ हाजिर है. बड़े बड़े सुडौल स्तन व कूल्हे गोरे रंग के होने के कारण साड़ी के अंदर से ही चमक रहे थे।मैं अपना होश संभाल पाता इससे पहले ही रकुल ने कहा- आपको ऐसे ही सीधे कमरे में नहीं आना चाहिए था।राजवीर- माफ कीजिए, मैं बाहर चला जाता हूं. ” उसने अपनी नज़रें झुकाए हुए ही उत्तर दिया।पर कपड़े उतारे बिना यह सब कैसे होगा?”मैं अपना पायजामा नीचे कर देती हूँ.

वो बेसब्र सी होकर मेरी शर्ट को खींचने लगी, जिससे नीचे के बटन टूट गए. सोचा कि जल्दी जाकर फ्रेश होते ही अर्जुन के लंड को अपने चूत में ले लूंगी. मैंने उससे कहा कि आपको अगर पता हो तो देख लीजिए … और मुझे भी बता दीजिए कि कौन सा बटन है.

प्रतिभा ने जैसे ही गांड मारने की स्वीकृति दी मानो मेरे लंड में फुरफुरी आ गई थी.

उस समय मुझसे रहा नहीं गया, तो मैंने उसकी सलवार का नाड़ा खींच दिया और उसकी जालीदार पैंटी पर दो उंगलियां रख के सहला दिया. मैंने उसके बूब्स को फिर से छेड़ना शुरू कर दिया और धीरे धीरे उसके होंठों पर अपने होंठों को रख कर स्मूच करने लगा. ” मैंने अपना गला खंखारते हुए कहा।ऐसे थोड़े ही होता है?”क्या मतलब?”अच्छा चलो मैं एक गिफ्ट मांगती हूँ पर पहले तुम प्रोमिज (वादा) करो मना नहीं करोगे?”अब मैं सोच रहा था पता नहीं नताशा क्या चाहती है? कहीं यह मुझसे शादी के लिए तो दबाव नहीं बनाना चाहती?क्या सोचने लगे?”ओह … हाँ … ना कुछ नहीं … तुम बोलो मैं उसे जरूर पूरा करने की कोशिश करूंगा.

लेकिन बॉस ने अपने हाथ से गर्लफ्रेंड का मुँह बंद कर दिया और उसके मम्मों को पीते हुए दबाने लगा. अब जाओ।रमेश ने रीता को चिढ़ाते हुए उसकी पैंटी से अपना चेहरा पौंछ लिया. उसको आप सभी बतायें कि उसने ये सब ठीक किया या गलत किया? पाठिकाओं से विशेष अनुरोध है कि वो खुद को विनीता की जगह रख कर एक बार जवाब जरूर दें.

उसके बाद इसका रात को 8 बजे मेरे पास फोन आया, उसने मुझसे 1 घण्टे तक बात की.

उसने कहा- इसके लिए तो बहुतों की दीवानगी होगी!मैंने भी मुस्कुरा कर प्रतिभा को खुद के ऊपर से उठाया और बिस्तर में बिठा कर उसकी चूत को मुट्ठी में भींच कर जवाब दिया- वो सब तुम छोड़ो … बस इतना जानो कि ये इस परी का दीवाना है, जिससे ये अब तक दूर है. मैंने भी इसका कोई विरोध नहीं किया, तो वो धीरे धीरे जांघ को सहलाने लगे.

बीएफ इंग्लिश बीएफ बीएफ बीएफ वो कभी मुझे पूरी जान से कस लेती और कभी मेरी गर्दन तो कभी कंधे पर काट लेती. फिर कभी पीछे मुड़कर रवि के होंठों को चूस कर फिर से रमेश के होंठों को चूसने लगती.

बीएफ इंग्लिश बीएफ बीएफ बीएफ उसके मुंह से बहुत ही कामुक आवाजें निकल रही थीं- आह्ह … शुभम … आह्ह और जोर से! चोदो यार … आह्ह मजा आ रहा है. गरीब परिवारों में बेचारी लड़कियों की भावना के बारे में कोई नहीं सोचता बस किसी तरह पैसा आना चाहिए।अगर तुम्हें सौ रुपये और मिल जाएँ तो तुम क्या करोगी?”मैं तो बल्गल और आलू की टिक्की खाऊँगी और साथ में पेसपी (पेप्सी) पीउंगी.

मैंने बाँहें फैला दीं तो साली जी तुरंत मेरी बांहों आ गयीं और दो मिनट के भीतर हमारे कपड़े फर्श पर पड़े थे और हम दोनों बिस्तर पर मादरजात नंगे चूमा चाटी करने लग गए थे.

बीपी पिक्चर सेक्सी मराठी वीडियो

इस सबमें मुझे भी मज़ा आ रहा था … तो मैंने भी इसका कभी कोई विरोध नहीं किया. दोस्तो, मुझे उम्मीद है कि आप सभी को मेरी गर्लफ्रेंड की बॉस के संग सील टूटने की चुदाई की कहानी अच्छी लगी होगी. उन्होंने पूरा लंड मेरी चूत में घुसा दिया और मेरी चूत जैसे फैल कर फटने को हो गयी.

उनकी चुत इतनी गुलाबी थी … मानो मामी ने अपनी चुत में गुलाबी लिपस्टिक लगा रखी हो. शाम को हम दोनों थोड़ा मेरठ घूमे औऱ वापस गेस्ट हाउस में आ गए।मैंने उससे कहा- रात की तैयारी कर लो, आज रात हमें खूब मजे लेने हैं।उसने कहा- अब रहा नहीं जा रहा है, एक राउण्ड अभी मार लें क्या?मैंने मना कर दिया. जब खीरे जैसा लम्बा मोटा लिंग हलक़ तक फंसा हो तो जान तो निकलेगी ही!उस समय भाभी को साँस लेने में भी दिक्कत होती है और भैया दस मिनट से पहले तो बिल्कुल भी नहीं निकालते हैं, बहुत देर तक चुसवाते हैं।ये तो रही इधर की बात … अब दूसरी तरफ भैया क्या करते हैं.

और जोर से … फाड़ दो मेरी चूत … हाह … मांआह्ह … चोद दो मुझे।रमेश अपने दोनों हाथों से रीता के बूब्स को पकड़ कर लगातार धक्के मार रहा था.

मेरी इस कहानी के पिछले भागस्कूल टीचर का तबादला-1में सोनल ने अपने शब्दों में आपको अपनी आपबीती सुनाई थी. अभी बाथरूम के गेट तक ही पहुंची थी कि ‘स्टॉप चाहत … वहीं रुको!”तो मैं रुक गयी- क्या हुआ जान?मैं पलटी तो वहाँ का नजारा देखकर मेरी चूत अपना पानी निकालने लगी, मेरे जिस्म का पानी अन्दर कहीं छुप गया. पूरे जोश में था अंकुश … वो शेफाली को गंदी गंदी ग़ालियां भी दे रहा था- ले साली रंडी … मेरा पूरा लंड अपनी चूत में ले … चुद मेरे लंड से साली … बहन की लौड़ी मादरचोद आओहह आअहह …अंकुश की गर्म आवाजें सुन कर तो मैं शॉक्ड हो गई.

मैंने पिताजी को बुलाया, फिर हम तीनों इधर उधर की बातें करते हुए खाना खाने लगे. वो भी मेरे लंड से अपनी चुत की सील खुलवाने के लिए पूरी तरह से मन बना चुकी थी. हर एक धक्के के साथ उसकी चूत से पच-पच और उसके मुंह से आह्ह … आईई … ओह्ह … जैसी आवाजें आ रही थीं.

जब भी अमित बाहर होता था तो मैं सेक्सी ड्रेस पहन कर अपनी बालकनी या अपने घर की टेरिस पर आ जाती थी. फिर मेरे ऊपर से उठकर मुझे निर्देश दिया- अभी जल्दी से नहा धोकर लंच कर लो … फिर मायरा शुरू हो जाएगा, तो हम सब व्यस्त हो जाएंगे.

मम्मी ने कहा- थोड़ी देर में मैं अतुल को कुछ सामान देकर भेज रही हूँ … तुम घर पर ही हो ना!मामी ने कहा- हां दीदी जी … मैं घर पर ही हूँ … मैं कहां जाऊँगी. प्रतिभा कुछ देर पहले भी मेरा लंड चूस चुकी थी, लेकिन इस बार का उसका अंदाज और भी निराला था. मेरी मन्नत की ऑफिस सेक्स स्टोरीज आपको कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल करके जरूर बताएं.

मुझे तेरी गांड में लंड डालते ही पता लग गया था साले कि तू कहीं से अपनी गांड मरवा कर आ रहा है … उससे फड़वा कर आया था और मादरचोद दोष मुझे दे रहा है?प्रकाश भाई की कड़क आवाज सुनकर नसीम चुप हो गया और दांत निपोर कर बेशर्मी से हंसते हुए ‘भाई साहब … भाई साहब.

भाभी बिना बोले आगे आगे चलती रही और मैं उनके पीछे चलते हुए उनके घर के अंदर चला गया. हालांकि मैं पहली बार नहीं चुद रही थी लेकिन हां इतनी दमदार चुदाई पहली बार हो रही थी।मैंने झट से ब्रेकफास्ट किया और अर्जुन ने मुझे सेण्टर तक ड्राप कर दिया. आपको मालूम है कि पहले हीना की चुदाई, फिर प्राची भाभी की चुदाई हो चुकी थी, लेकिन खासतौर पर जिसकी संतुष्टि के लिए मुझे कहा गया था, उससे तो अभी मुलाकात भी नहीं हुई थी.

रश्मि की आँखों में आँसू आ गए- आह … मैं मर जाऊँगी अंकल … प्लीज़ निकालो … बहुत दर्द हो रहा है … उम्म्ह … अहह… हह … याह … ओफ्फ. मैंने पूछा- मैं कुछ दबा दूँ, सिर या पैर?भाभी- बस तुम्हारी इन्हीं बातों पर तो मैं फिदा हो जाती हूँ.

तो वो बोली- भैया से पूछो कि हमारे यहाँ नहीं आयेंगे क्या?उसके पापा मुझसे बोले- तुम्हारी दीदी पूछ रही है कि हमारे यहाँ नहीं आयेंगे क्या?मैंने कहा- मेरा फोन तो उठाती नहीं हैं, क्या करने जाऊँगा. देखो तुम्हारी गांड कितनी बड़ी हो गयी!रीता के पास आकर रमेश ने उसकी गाँड के दोनों पट को अपने दोनों हाथों से फाड़ दिया. भाभी तो वैसे भी बहुत गोरी हैं तो पानी की बूँदें मोतियों की तरह चमक रही थी.

भिखारी सेक्सी

इस बार रॉबर्ट ने मुझे लगभग बीस मिनट तक चोदा और उसके बाद वो अपनी चरम सीमा पर आ गया.

फिर रमेश ने रीता की एक टाँग पकड़ कर बेड पर रख दी और खुद उसके पैरों के बीच में नीचे बैठ कर उसकी चूत चाटने लगा।चूत चटाई करवाते हुए रीता बहुत गर्म हो कर सिसकारने लगी- आह्ह … आआहा … हाह्ह … ओह्ह … ओ … मां … हूंह … अम्म … उम्ममा आह्ह…वो चूत चटवाने का मजा लेती रही. भैया अंडरवियर फ्रेंची में थे और भाभी ब्रा पैंटी में थी।भैया बोले- मेरी जान आज दोनों साथ में नहायेंगे. हम लोग लेबर रूम के बाहर ही बेंच पर बैठे इन्तजार कर रहे थे कि खुशखबरी अब आई कि तब आई.

साली जी ने मेरी बात एक बार में ही समझ ली और धीरे धीरे ऊपर नीचे होने की प्रैक्टिस करने लगी. मैं ये पल कभी नहीं भूलूंगी … आज का ये सुनहरा दिन मेरी जिन्दगी में मुझे हमेशा याद रहेगा. ब्लू फिल्म बीएफ हिंदी फिल्म बीएफमैं चुपचाप उसके बगल से उठा और नित्यकर्म से निवृत्त हो बाहर टहलने निकल गया.

रीता के मुंह से लंड चूसने की कामुक आवाजें निकलने लगीं- आऊम्मम … चप्पचप्प … आह्ह. फिर मैंने हाथ बढ़ा कर शैम्पेन की बोतल उठाई और थोड़ी सी शैम्पेन उसके लंड पर डाल दी.

तुम्हारा लंड जींस में उठा हुआ था, तो मैं समझ गई कि तुम्हारे लौड़े को मेरी चूत चाहिए. अम्मी ने मेरी ओर देखा और बोलीं- बेटा, जा इसके मन के अरमान पूरे कर दे. और हां मुझे यह भी बताएं कि इस सेक्स कहानी पढ़ने के दौरान आपने अपने लंड को मेरे नाम से कितनी बार हिलाया.

रस्म अदायगी की नियत से मैंने बाल्टी में रंग घोला और निष्ठा के ऊपर उड़ेल दिया और अलग हट गया. उन्होंने बोला- एक कन्सट्रूक्शन कंपनी में बॉस को पीए की जरूरत है, अगर काम करना है … तो आ जाओ. उसे देखकर मुझे अपनी किस्मत पर फख्र हुआ कि मैं इतना शानदार माल चोद रहा था.

पति हमारे बारे में क्या सोचेगा हम इसी शर्म के मारे लंड को चूसने का लुत्फ नहीं ले पाती लेकिन किसी और का लण्ड तो आप जैसा मन करे वैसे चूस सकती हो.

और मुझे आजादी तो इतनी है कि हमने एक बार स्वैपिंग भी की थी।मैंने कहा- स्वैपिंग? सच में?खुशी का जवाब था- क्या ये जानकर तुम मुझसे प्रेम नहीं करोगे?मैं- नहीं, ऐसा कुछ भी नहीं है. मैं तिरछी नजरों से रोहन की तरफ देखा तो उसका लंड भी फूलना शुरू हो गया था और वो अपनी बीवी को अपने सामने ही एक गैर मर्द का लंड चूसते हुए देख रहा था.

तभी रमेश बोला- रश्मि … थोड़ा चूसकर और गिला कर न इसे?रश्मि ने अपने हाथों से रमेश के लंड को मुँह में लिया और उसके आंड सहलाने लगी।रमेश- आह्ह्ह ,. अब रवि ने अपनी बेटी की चूत में थूक दिया और अपने लंड को उसकी चूत के छेद पर सेट कर दिया. कुछ देर सोचा, तो पाया कि मेरे बेटे की सभी दोस्त मुझे भी बहुत घूर घूर कर देखते हैं और वो मुझे छूने या बात करने का कोई बहाना नहीं छोड़ते हैं.

कुछ देर बाद अंकुश ने मुझे उठने के लिए कहा और मेरा हाथ पकड़ कर मुझे बेडरूम की बालकनी में ले आया. गुरजीत की कमर पकड़कर जब मैंने चुदाई शुरू की तो वो भी जोश में आ गई और जवाबी धक्के मारने लगी. वहां पहुंच कर मुझे पता चला कि हमारे डांस कॉम्पिटिशन की डेट आ चुकी थी.

बीएफ इंग्लिश बीएफ बीएफ बीएफ पुलिस वालों ने भी अपनी पैंट और शर्ट उतार कर अपने अपने साइड में रख लीं. नेहा के कहते ही मैंने अपने लंड पर दबाव बढ़ाया, सुपारा अंदर जाने लगा, ऐसा लग रहा था जैसे लौड़ा कोरी चूत में जा रहा हो.

सेक्सी सेक्सी वीडियो नेपाली

झुक कर उसने रमेश के लंड को अपने मुंह में भर लिया और उसके लंड को जोर जोर से चूसना शुरू कर दिया. मगर तभी उसने अपना मुँह मेरी चूत से हटा लिया और मेरे बूब्स चूसने लगा. और बाद में इल्जाम लगा दोगी कि मैंने तुम्हें बहकाया है।इस पर खुशी का संयमित जवाब आया- वैसे तो प्यार की कोई उम्र नहीं होती.

अंकुश हांफ रहा था, उसने अपनी अंडरवियर को पहनते हुए लंड के ऊपर किया और बाहर आने लगा. वो बोली- बहन के लंड कहाँ था इतनी देर से?तो वो बोला- मुझे छुपकर आना पड़ता है. सेक्सी फिल्म सेक्सी बीएफ फिल्मपूजा ने कमरे की तरफ से ऊपर से नीचे की ओर खिसकाई और गांड ऊपर उठा कर पैंटी को जांघ तक खींच लिया.

उसने मेरी दोनों कोमल टांगें उठा कर अपने कंधों पर रख लीं और अपने लंड को मेरी चुत के छेद पर रखकर अन्दर पेल दिया.

साली जी एकदम फ्रेश लग रहीं थीं और खूब अच्छी तरह से टिपटॉप होकर आईं थीं. मैंने झट से लण्ड को पैंट के अन्दर किया और भाभी के पीछे नीचे उतरने लगा.

अब आगे की X स्टोरी इन हिंदी:सुबह के कोई आठ बजे का समय रहा होगा। मोबाइल की घंटी बजने से से मेरी नींद खुली।ओह … इतनी सुबह कहीं मधुर का फ़ोन तो नहीं आ गया?मैंने मोबाइल में नंबर देखा। यह तो गौरी का नंबर था। कमाल है इतने दिनों बाद गौरी का फ़ोन आया था।हेलो … कैसी हो गौरी? तुमने तो हमें बिल्कुल ही भुला दिया?”सल! नमस्ते … मैं सानू बोल रही हूँ. अंकुश के मुँह से इन गालियों को सुन कर मैं और गर्म हो गई और चुदाई के मजे लेने लगी. सनम ने मेरी निक्कर भी उतार दी और मुझे भी पूरी तरीके से नंगी कर दिया.

’अब तक मुझे थॉमस के लंड पर उछलते हुए दस मिनट हो गए थे और मेरा शरीर अब अकड़ने लगा था.

उसके स्तन बिल्कुल गोल थे। ग़ुलाबी रंग के निप्पल तन कर खड़े हो गए थे।उसने मुझे धकेल कर नीचे लेटाया और खुद मेरी कमर पर बैठ गयी. कुछ देर के बाद मैं उनके ऊपर से उठकर उनके बगल में ही बिस्तर पर लेट गया. अपने घर की इज्जत का सवाल है … और मैं अपने घर की इज्जत पर कोई दाग नहीं लगने दूंगी हर्षद.

बीपी ओपन बीएफपैर दीवार में अड़े होने से लंड की मार चूत में अत्यधिक गहराई तक होने लगी थी. दोस्त की वाइफ की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे वाइफ स्वैप में मेरे दोस्त ने अपनी बीवी मेरे हवाले कर दी चुदायी के लिए.

एक्स एक्स सेक्सी विदेशी

तुम दोनों हस्बैंड वाइफ हो … और रही बात चुदाई की, तो ये तो हर कोई करता है. जब मैंने देखा कि मेरे भाई का लंड काफी मोटा और लम्बा है, तो उसके लंड को देखकर मेरी नींद उड़ गयी. [emailprotected]जेठ बहू सेक्स कहानी का अगला भाग:जेठ जी ने मेरा काण्ड कर दिया- 2.

तो मैंने उस पर ही अपना सारा प्रेम उड़ेल दिया और प्रतिभा को एकाकार होने की चेष्टा से बांहों में और कस लिया. अमित को गये 3 दिन हो गये थे और मेरी चूत से अब ज्वाला निकलने लगी थी जो किसी लंड को भस्म करके ही थमने वाली थी. एक दिन मैं स्विमिंग इंस्टिट्यूट से घर जाने के लिए निकली और ऑटो के लिए इन्तजार कर रही थी कि तभी शेफाली अपनी कार लेकर आई.

जब वो अपने क्लाइमेक्स पर पहुंचेगा तभी तो रस छोड़ेगा न!मित्रो, अपने आने वाले पहले बच्चे की खुशी तो मुझे भी बहुत थी. एक स्त्री हमेशा ये सोचती है कि उसकी इज्जत पुरूष की नजर में तब तक है, जब तक कि पुरुष ने कामरस नहीं त्यागा हो. क्योंकि लड़कियां सिर्फ उन्हें ही बुद्धू कहती हैं जिन पर वो अपना हक समझती हैं।मैंने भी जवाब दिया- वो तो मैं हूँ ही! पर अभी मेरी किस बात से तुम्हें लगा कि मैं बुद्धू हूँ?खुशी- यार सेक्स कहानी तुम लिखते हो, डरने की जरूरत तुम्हें होनी चाहिए। अपनी पहचान तुम्हें छुपानी चाहिए.

मेरे होंठ उसके लंड को टच होने लगे, जिसमें से मुझे बहुत नापसंद आने वाली महक आ रही थी. उसने मुझे अपने ऊपर चढ़ा लिया और नीचे से मेरी चूत में लंड को पेल दिया.

मैंने पूछा- कैसी गर्मी?उसने एक झटके में ही अपने लंड को बाहर निकाल लिया और बोला कि आपकी उस गर्मी को मेरा ये लंड अपने पानी से ठंडा कर सकता है.

ये बात मैंने सुमीना को बताई तो वो सन्न रह गयी और बोली कि मैं इतने पैसे लाऊंगी कहां से?सच तो ये था कि मैं भी उसकी मदद नहीं कर सकता था क्योंकि मेरे पास भी इतने रूपये नहीं थे. बीएफ नया बीएफतो उसने पैंट अलग करके गाड़ी के अन्दर डाल दी और मेरे घुटने के नीचे से हाथ निकाल कर मेरी गांड पर सहारा देकर मुझे अपनी बाजू में उठा लिया. बीएफ फिल्म सेक्सी बीएफ हिंदीजब हम लोग रास्ते में थे तो उसके भाई के फोन में कई बार उसका फोन आया- कहाँ तक पहुँचे?मेरे बारे में कोई चर्चा नहीं होती थी. वो भी पूरे मूड में आ चुका था और मेरे बूब्स को जोर जोर से दबा रहा था.

तो मैं जल्दी से भाग कर ट्रेन के टॉयलेट में चली गयी और वाशबेसिन के सामने एकदम किनारे सट कर खड़ी हो गयी.

जब भी किसी की चूत की याद आती है मैं यह कपबोर्ड खोल कर इनकी खुशबू सूंघ लेता हूँ. मौसी ने अपनी भानजी की चुदाई करायीआप इस लिंक पर जाकर मेरी इस सेक्स कहानी का मजा ले सकते हैं. कुछ देर बाद सर आ गए और उन्होंने मेरे स्तनों को बड़े ध्यान से देखा और मुझे एक सिंगल बेंच पर बैठने को बोला, जिसमें दो लोग बैठते थे.

मैंने उस फोन में नेट का रीचार्ज करवा लिया था और अपनी दिल की ख्वाहिशें पूरी करने लगा था. मैं कोई कामदेव से भी बड़ा देव तो हूं नहीं … इसलिए मैंने भी अमृत कलश छल्का ही दिया, जिसे प्रतिभा ने बड़े चाव से ग्रहण कर लिया. फिर कम से कम बीस पच्चीस काबिल लौंडे बाजों से मरवा मरवा कर गांड ढीली करवा ली हो.

हिंदी मारवाड़ी बीपी सेक्सी वीडियो

मैंने मुँह घुमा कर अर्पित के लिप्स पर किस किया और फिर एक ही घूँट में मैंने अपनी ग्लास की शैम्पेन ख़त्म कर दी. पिछले सात महीनों से मैं अपनी एक महिला सहकर्मी के साथ काम कर रहा था. रवि- आह्ह … फक यू … आह्ह … फाड़ दूंगा तेरी चूत को … ये ले साली रांड … और ले … आह्ह … ऐसे ही चुदती रह मेरे लंड से … तेरी चूत का भोसड़ा कर दूंगा आज मैं … आह्ह ले … और ले साली … रंडी बनने का शौक पूरा कर तू।रमेश- हाय … रंडी … आह्ह … तेरी गांड … आह्ह् क्या गांड है साली … ऐसी गांड को तो मैं दिन रात चोदता रहूं … आह्हह ले ले पूरा लंड … अपनी गांड में साली … आह्ह चुद मेरे लंड से….

अगर आपने फिर से सुमीना को बीच में लाने की कोशिश की तो मैं चला जाऊंगा.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:पंजाबन की बेटी के बाद पंजाबन भी चुद गयी.

पानी भरने की वजह से उसे सांस लेने में तक़लीफ़ हुई, तो उसने खुद अपने हाथ से लंड सहलाना शुरू कर दिया. मैं भी उसकी बात को सच मान कर अपने आपको तसल्ली दे देता था कि जब सिम बदलेगी तब खुद ही फोन करेगी. बीएफ बीएफ बीएफ चोदने वालीतभी मेरे इतना सोचते ही फिर से सुपारा मेरी चूत में घुसता चला गया और मेरी मीठी कराह निकल गई.

मेरा लिंग उसके कूल्हों की दरार को स्पर्श कर रहा था। करीब 10 मिनट लगातार अपने स्तनों को चुसवाने के बाद रकुल ने अपने कूल्हों को मेरी कमर से हटाकर मेरे मुंह पर टिका दिया और खुद मेरे लिंग को चूसने लगी. फिर मैं जाने लगा तो वो बोली- रुको, मैं तुम्हारे लिये चाय बना देती हूं. मैंने जल्दी से जाकर देखा, तो भाभी वहां पर टंकी जैसा कुछ था, उसमें गिर गयी थीं.

तब अंकल ने बताया कि अगर वे हमें झज्जर छोड़ने गए तो बुत देर हो जायेगी. वो वापस जाने के लिए मुड़ी ही थी कि मैंने उसकी बांह पकड़ ली और कहा- पहले बताओ कि तुमने मुझे माफ किया या नहीं!नेहा ने कहा- मैं तो आपसे नाराज ही नहीं हूँ सर … फिर माफी कैसी … और मुझे अपनी औकात पता चल गई है, मैं आपसे नाराज होने की गुस्ताखी कैसे कर सकती हूं.

उसकी तरफ देख कर मैंने अपना सीना फुलाया, तो उसने मेरे दूध देख कर बोला- मुझे सेब भी बहुत पसन्द हैं.

जीजू, ये क्या मुझे तो पूरा गंदा कर दिया आपने; अब मुझे फिर से नहाना पड़ेगा!” साली जी विचलित होती हुई बोली. प्रतिभा मेरा पूरा साथ देने लगी … पर कुछ देर बाद उसने मुझ रोकते हुए कहा- तुम थोड़ा इंतजार करो, पहले मैं उससे बातें कर लूं!मैं सोचने लगा कि ये इस वक्त किससे बात करेगी … पर दूसरे ही पल मुझ जवाब मिल गया. मीता जैसी लौंडिया की कुंवारी अनछुई चूत तो गर्म होती ही है … और संकरी भी होती है.

बघेली बीएफ अब आगे की Xxx न्यू गर्ल स्टोरी:रमेश ने रश्मि का हाथ अपने लंड पर रखवा दिया और उसकी चूचियों को भींचने लगा. मैंने फिर से पूछा- शेफाली कहां है … दिख नहीं रही?वो बोला- शेफाली तो किटी पार्टी में गई है … वो अब रात में डिनर करके ही लौटेगी.

आरूषि सोफे पर लेटी हुई थी और उसका सिर उसने अपने दाहिने हाथ पर संभाला हुआ था. उसने एक मूव बताया और चिल्लाया- गाइज डू योर वर्कआउट!मैं पुसअप्स की पोजीशन में आ गयी लेकिन ये कुछ और था. मैंने नेहा से कहा- मुझे माफ कर दो यार नेहा … उस दिन मेरी वजह से तुम्हें डांट सुननी पड़ी.

मोना सेन के सेक्सी वीडियो

मुझसे रुका नहीं गया, मैंने फटाक से एक मम्मे को अपने मुंह में भरकर चूसना शुरू कर दिया. तूने अब तक केवल दो ही चालू किए हैं … अब तक तो सब चालू हो जाने चाहिए थे. भाभी मैं तो आपकी इन बातों से पागल हो गया था और आपको उसी वक्त चोद देना चाहता था, पर आप तब तक तेल लाकर मेरे पेंट को खोलकर मेरे लंड और गांड के चारों ओर लगाने लगीं.

मैं रोज की भांति मेल चेक कर रहा था, तभी एक पाठिका का मेल देखा जिसमें लिखा हुआ था- हैलो राज जी, मैं विनीता हूं. इसका गला गहरा होने से इसमें से मेरे मम्मों की क्लीवेज भी नज़र आती थी.

लंड खड़ा होने के बाद आंटी बोलीं- राज तू अब जल्दी से अपना लौड़ा मेरी चुत में डाल दे … मैं तड़प रही हूँ.

वो- अन्दर ही निकालते तो अच्छा होता … मैं तुम्हें अपने अन्दर महसूस करना चाहती थी. मेरी बच्चेदानी में मुँह पर जेठ जी के लंड ने करीब 9-10 बार रह रह कर धारें मारीं और वो मेरी छाती के ऊपर फैलते चले गए. उसका आधे से ज्यादा लंड मेरी चुत में चला गया और मैं जोर से चिल्ला उठी ‘आह सर.

मैंने पूछा- आप कैसा महसूस कर रही हो?जबाव में उन्होंने एक प्यारा सा किस दिया और बोलीं- इस खुशी के लिए तुम्हारा धन्यवाद. उस लौंडे ने लंड लेने में बहुत नखरे किए, पर इस बार सब उसे मना रहे थे. बहुत टेस्टी है आपका माल तो अंकल।रमेश- हम्म … लौड़े को माल भी तो खिलाता हूं मैं.

नेहा ने अपना हाथ मेरी छाती पर लगा लिया और बोली- राज, धीरे धीरे करना, पता नहीं इतना बड़ा अंदर ले पाऊंगी या नहीं?मैं नेहा की चुचियों पर झुक गया और मैंने अपनी दोनों कोहनियां नेहा के अगल बगल में रखकर हाथों से नेहा के कंधों को पकड़कर उसे बिल्कुल अपने नीचे काबू कर लिया और लंड को अंदर धकाने लगा, आधा लंड अंदर चला गया था.

बीएफ इंग्लिश बीएफ बीएफ बीएफ: चुदाई हो तो कैसे हो? मैं उसके कमरे में जा नहीं सकती थी और उसे अपने कमरे में ला नहीं सकती थी. तभी मैंने उसको पकड़ा और बोला- राजू भोसड़ी के … अंदर डाल!राजू ने धीरे से अपना लंड मेरी चूत में डाला.

चुदाई में दर्द तो बहुत हो रहा था लेकिन मजा उससे भी ज्यादा आ रहा था. मैंने अब तक चार लड़कियों को चोदा है, मगर उन्हें चोदने में भी इतना मजा नहीं आया जितना तुम्हारी चुत चुदाई में मजा आया. रमेश ने अपना हाथ रश्मि के सर पर ले जाकर रश्मि के बालों की पिन निकाल दी जिससे उसके लंबे बाल खुल कर पूरी पीठ पर फैल गये।फिर रमेश ने मादक से स्वर में पूछा- लंड चूसना आता है? ये पूछते हुए रमेश अपने टॉवल के ऊपर से ही अपने तने हुए लंड को सहला रहा था.

फ्रेश चुत का सेक्स मजा लेते हुए मैंने अगली रात दोबारा भाभी की छोटी बेटी को चोदा.

यद्यपि उसका बदन इतना अभी भरा नहीं था, पर उम्र के हिसाब से वो भरपूर बदन की मलिका थी. मैं उनको बता दूं कि मैं कोई रांड नहीं हूँ, जिससे मेरा मन करता है, मैं उसी से सेक्स करूंगी. मामी मुझे उत्तेजित करते हुए बोलीं- जरा धीरे धीरे कर … मुझे लग रही है.