बीएफ चोदाचोदी व्हिडिओ

छवि स्रोत,सनी लियोन की फुल एचडी सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स: बीएफ चोदाचोदी व्हिडिओ, वो मेरे लिए दूध लाई तो मैंने उसको किस करते हुए कहा- मुझे तो आपका दूध ही पीना है.

बीएफ कहां है

तुम मेरी मारोगे? मैं तैयार हूँ, बहुत दिन हो गए किसी से मराई ही नहीं. बीएफ चाहिए खुला खुलाथोड़ा सुस्ता लेने के बाद, किड ने दुबारा अपना सामान उसके मुंह में घुसेड़ दिया लेकिन इस बार लंड ना घुसेड़ कर अपने अण्डों को मुट्ठी में इकट्ठा कर मेरी बीवी के मुंह में डाल दिया.

मैंने हाँ में अपना सर हिलाया तो भाभी ने कहा- वीशु तूने मुझे आज असली औरत अब बनाया है. 10 साल की लड़कियों का बीएफअच्छे नहीं है क्या? पहन के देख लो, अभी मैं यही हूँ अगर ना अच्छे हों, तो वापस करके दूसरे ले लाऊंगा.

फिर उन्होंने इशारे से पूछा कि क्या हुआ?तो मुझे होश आया लेकिन मेरी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा कि इतनी खूबसूरत भाभी मुझे मिल गई.बीएफ चोदाचोदी व्हिडिओ: मैंने कहा- मैं अब और नहीं रुक सकता मामी… रात बड़ी मुश्किल से निकली है.

तो मैं देखना चाहता हूँ कि क्या वाकयी कमेंट आते हैं या सिर्फ बातें ही हैं, यही सोच कर मैं भी अपनी सेक्स स्टोरी लिख रहा हूं, कमेंट जरूर करना क्योंकि फ़िर आपको एक लेखक और मिल जाएगा.और ऐसा भी नहीं है कि मैं उसकी चुदाई कम करता हूँ हफ्ते में कम से कम 4 दिन चोदता हूँ।तो बताइये दोस्तो, आपको मेरी चुदाई स्टोरी कैसी लगी? कृपया अपने विचार अवश्य दें।[emailprotected]आप मुझे फेसबुक पर भी मिल सकते हैं, मेरी फेसबुक आई डी है :[emailprotected].

शिल्पी राज का बीएफ वायरल - बीएफ चोदाचोदी व्हिडिओ

मेरे भाई के लंड में अलग ही नशा छा रहा था, ऐसा मजा फरीद की चुदाई में भी नहीं मिला था.आप सभी को बता दूं कि हमारी बातचीत सभी अंग्रेजी और कुछ कुछ हिंदी में हो रही थी.

मैंने बिना ब्रा के फुल टॉप पहन लिया क्योंकि मेरे चूचे बहुत दर्द करने लगे थे. बीएफ चोदाचोदी व्हिडिओ उन्होंने पूछा कि क्या हुआ इतनी सुबह क्यों बुलाया है आपने? क्या काम है?मैंने कहा- प्यार करना है आपको.

फिर मैंने उनकी जांघ को अपने हाथ से सहलाते हुए कहा- आज अपनी सलहज को भी प्यार कर लो.

बीएफ चोदाचोदी व्हिडिओ?

फिर हम दोनों ही क्लाइमेक्स पर पहुँच गये तो उसने कहा- मुझे कुछ हो रहा है, जैसे कुछ छूटने वाला है अंदर से!तो मैंने कहा- हाँ, मुझे भी कुछ ऐसा ही लग रहा है. हमारे पास दो ही कंबल थे, एक को मौसी ने अपने पैरों से लेकर ओढ़ लिया और मौसा जी ने दूसरे कम्बल को पाने ऊपर ओढ़ लिया और कुछ मुझे दे दिया. वो लड़का इस लिए हंस रहा होगा क्योंकि सपना देखते वक्त मेरे मुंह से अजीब अजीब आवाजें निकाल रही होगी और मेरा लंड भी तम्बू बनाए खड़ा था.

मेरी इच्छा है कि मेरी भाभी बेड पर नंगी सोई हो और मैं कम से कम एक घंटे तक भाभी के नंगे बदन पर चूमता रहूँ और उनके बदन की हर जगह पे चूमता रहूँ. वो भीड़ की वजह से चुपचाप थीं और मैं पूरा लंड का ज़ोर उसकी गांड में लगा रहा था. अब उसकी भी शादी हो गई है और वो जब भी आती है, हम दोनों दबा कर चुदाई करते हैं.

मेरे चेहरे की राहत देखकर चचा जान भी समझ गए कि कोई दिक्कत नहीं है और खुश होते हुए मेरी चुत पे हल्की किस करके धीरे धीरे चुत चाटना शुरू किया. उसके मुँह से हल्की हल्की कामुक सिसकारी निकल रही थी- उहह आअहह एस इस्स्स्स. शायद उसके विचार भारत के लिए बहुत अच्छे थे और वो मुझसे मेरे भारत के बारे में बहुत कुछ जानना चाहती थी.

अब मैंने झट से उसको बिस्तर में पटका, उसका लंड छत की ओर इशारा कर रहा था, मैं अपने भाई के ऊपर चढ़ा गई और लंड को चूत में लेकर उस पर कूदने लगी।मेरा भाई नीचे से अपनी बहन की चूत में झटके दे रहा था, मैं ऊपर से धक्के मार रही थी, हम दोनों भाई बहन को चूत चुदाई का भरपूर आनन्द मिल रहा था. मैंने अपने लंड पर और उस की चूत में बहुत सारा तेल लगाया और चूत के छेद पर लंड सैट करके हल्का सा धक्का मारा, तो मेरे लंड का टोपा उसकी चूत में घुस गया.

एमडी ने सबका परिचय माया से करवाया और जैसे ही माया अपनी प्रेजेंटेशन स्टार्ट करने वाली थी, उसकी नज़र अमित पे पड़ी, जो की सबसे पीछे बैठा मुस्कुरा रहा था.

आकांक्षा ने मेरे लंड को अपनी आँखें बंद कर के सूंघा और आँखें बंद किए किए ही उसने मेरे लंड पर अपने होंठ फिराने शुरू कर दिये, आकांक्षा मेरी अपेक्षाओं के बिल्कुल उलट एक हॉर्नी लड़की की तरह बर्ताव कर रही थी और अब वो मेरे लंड को अपने चेहरे पर फिराने लगी, उसने मेरा लंड अपने माथे पर फिर आँखों फिर नाक गालों होठों और ठोड़ी पर फिराया.

मेरी जवानी की चुदाई की इस पोर्न कहानी के लिए आपके मस्त कमेंट्स का मुझे इन्तजार रहेगा. मन ही मन वो सोच रहा था कि साली इस कंजरी मंजरी की सील बंद चूत पहली बार मिली है, इससे पहले तो सब रंडियां ही चोदी है. लंड क्या घुसा वो सारी मुहब्बत भूल गई और दर्द के मारे निकालने के लिए चिल्लाने लगी.

उन्होंने मुझसे भी कुछ शेयर नहीं किया, बस थोड़ी टेंशन में दिख रही थीं. फिर हमने एक रात संभोग किया, उस रात उसने पहली बार मुझे अपना पति स्वीकार किया. मैंने अपना लंड उसके हाथों में दे दिया उसने मेरे लंड से अपनी गीली चुत पर मालिश करना चालू कर दिया.

आपको मेरी आपबीती इंडियन सेक्स स्टोरी अच्छी लगी या नहीं,[emailprotected]पे मेल ज़रूर कीजिए.

और मेरे साथ भी यही हुआ, कोई भी भाई अगर वो जवान है तो कभी मना नहीं करेगा. अब मेरे लंड का तो बुरा हाल हो रहा था तो अब मैंने ज्यादा टाईम बर्बाद ना करते हुए उसकी टाँगें खोली और कूल्हे के नीचे दो तकिये लगा दिए ताकि वीर्य अच्छी तरह से गहराई से अंदर जाये और उसे जल्दी प्रेग्नेंट करे. अगले दिन रविवार था, मैंने रात में होटल में स्टे किया था, रात को घर रहना ठीक नहीं था.

अब मैंने तेल लिया और उसकी गांड पर लगा दिया और एक उंगली से उसकी गांड के अन्दर तक तेल लगाने लगा. भाभी बोलीं- अब सर ही हिलाता रहेगा या अब मुझे गरम भी करेगा?मैंने भाभी से कहा- मुझे नहीं आता आप ही बताओ?भाभी ने अपना माथा पकड़ लिया और बोली कि मैं किस अनाड़ी के चक्कर में पड़ गई?मैं उनकी तरफ चूतियों सा मुँह बाए खड़ा था. जब माधुरी कमरे में घुसी तो बोली- यह कैसी अजीब से गंध आ रही है कमरे से?मगर पुलकित और मंजरी दोनों मुकर गए- कैसी गंध? हमें तो नहीं आ रही, कहीं बाहर से आ रही होगी.

शायद रात भर जगे होने की वजह से मेरे पैर थक रहे थे और उसकी टाइट गांड की वजह से मेरा लंड भी अपना रस छोड़ने को तैयार था.

काजल सिसकारियां भी नहीं ले पा रही थी क्योंकि रमेश ने अपने होंठों से उसके होंठों पर ताला लगाया हुआ था. कितना गंदा सीन है… तुम्हें शरम नहीं आती?तो मैंने कहा- इसमें शरम की कौन सी बात है आंटी.

बीएफ चोदाचोदी व्हिडिओ उस रात हम तीनों ने बहुत चुदाई की, कई बार रिया झड़ी और मैं 4 बार झड़ी. सागर- क्यों मेरे जीजू का बड़ा नहीं है क्या?मीना- उनका नाम भी मत लो भैया.

बीएफ चोदाचोदी व्हिडिओ जैसे ही भाभी फिर से अन्दर किसी काम से गईं तो मैं भी पीछे चला गया और भाभी को पीछे से पकड़ कर दीवार से चिपका दिया और अपनी जेब से रंग निकाल कर उनकी टी-शर्ट के अन्दर हाथ डाल कर उनके चुचों को दबा दिया और रंग दिया. हाँ… चलो, जाकर अपने नए दोस्त को ठीक से चेक कर लो!” कुटिल मुस्कान के साथ नताशा को मोलेट, जिसका नाम किड जमैका था, की ओर भेजते हुए ओमार बोला.

और मैंने जैसे ही धक्का लगाया लंड फिसल गया, क्योंकि चूत टाइट थी और मेरे लंड का टोपा फूल कर मोटा हो गया था.

ब्लू वीडियो चुदाई

धुंध की वजह से गाड़ी भी नहीं चला पाएंगे। सारा कुछ बंद रहेगा। आखिर चाहती क्या है तू?मैंने कहा- तू सोच मत, बस चली चल. मैं करवट से हो गया, फिर किसी ने मेरे चूतड़ सहलाए, वह मेरी गांड उस अंधरे में टटोल रहा था. घर आकर वाशरूम में मैं हाथ मुँह धोने गया, तब नजर मेरी बनियान पर पड़ी, जो नीचे से सारी खून में लाल सी हो रही थी.

ऑफिस के बाद दारु पीना और लेस्बियन सेक्स करना इतना ही काम बचा था हमारे पास. कर…रहा…है…!!?” कहते हुए ममता जी धीरे से फिर से फुसफुसाई मगर तब तक मैंने ममता जी को अपनी बाँहों में भर लिया, मेरी इस हरकत से ममता जी एक बार तो जैसे सहम सी गई, ममता जी को मुझसे इतनी जल्दी इस तरह की हरकत की बिल्कुल भी उम्मीद नहीं थी इसलिये वो‌ बुरी तरह से घबरा गयी थी। डर व घबराहट के कारण कुछ देर तक तो उनके मुँह से आवाज भी नहीं निकल सकी और वो गुमसुम सी हो गयी. मैंने उसके मुँह से हाथ हटाया तो वो चुप रही और रोते हुए मेरे धक्कों को सहने लगी.

मम्मी?”बोलो?”यह सब क्या है? आप कैसे जानती हो अंकल को?”तुम्हारी कॉलेज की हर छिनाल हरकत से मैं वाकिफ़ हूँ बेटा.

वो ऐसे ही मेरे लंड पर बैठी रही और देखने लगी कि खून की एक पतली सी लकीर मेरे लंड के ऊपर से मेरे पेट पर आ रही थी. तभी थोड़ी देर में ही मॉम ने नहाते हुए ही दरवाज़ा खोला और वाइपर से बाथरूम के अन्दर पानी खींचने लगीं, जिससे कमरे में पानी ना आ जाए. बाकी तो आप सबको अंदाजा हो ही गया होगा की वहाँ मेरा उन दोनों ने क्या हाल किया होगा।इस तरह कॉलेज टूअर परमेरी चूत का बाजा बज गया!तो दोस्तो, आप सबको मेरी कहानी कैसी लगी, ये आप सब मेल करके मेरी सेक्सी बहन फेहमिना को बता सकते हैं।आप सबके मेल का इंतज़ार रहेगा।[emailprotected]पर आप अपने विचार भेज सकते हैं।और जो लोग मुझसे फेसबुक पर जुड़ना चाहते हैं वो मुझे https://www.

तीस पेंतीस तक की गांड मराने वालों की गांड मारने को भी तैयार रहते थे. गोरा चिट्टा रंग, साढ़े पांच फुट की हाइट और ऊपर से उसका 36-28-34 का फिगर. मैं धीरे धीरे उसके कपड़े उतारने लगा अब वो बस ब्रा और पेंटी में ही थी.

मैंने फुसफुसा कर पूछा- कैसा लगा?वो बोली- अच्छा लगा मामा!मैं उस टाइम में उसे नहीं चोद सकता था क्योंकि उसकी चुत बहुत टाइट थी, मेरे लंड को बर्दाश्त नहीं कर पाती इसलिए मैंने सोचा उसे घर पर तसल्ली से चोदूंगा. मैंने लंड को उसकी चूत के छेद में रखकर दबाया और सुपारा चूत की फांकों में फंसा कर उससे बोला कि थोड़ा दर्द होगा.

मैं राज दिल्ली से हूँ। मैं एक कंप्यूटर इंजिनियर हूँ, और यहाँ जॉब करता हूँ। यह नोन वेज स्टोरी मेरे जीवन की एक महत्वपूर्ण घटना है जिसे मैं आज आप सबके साथ शेयर करना चाहता हूँ। मैं पहली बार अपनी कहानी पेश कर रहा हूँ। आप मेरे किरदार और उनकी परिस्थिति को समझ सकें, उसके लिए बीच बीच में आस पास की चीज़ों का अंदाज़ा लगवाने की कोशिश मैं करूँगा।यह कहानी सेक्स से लेकर जीवन का भी ज्ञान करती है. फिर मैं मुड़ा तो देखा कि रश्मि भाभी एकदम नंगी बैठी थीं और अपनी चूत में उंगली कर रही थीं. करीब 10 मिनट तक चोदते चोदते मेरा पानी उसकी चूत में ही निकल गया और मैं उसी के ऊपर लेट गया.

मेहनती और काबिल पति की वजह से जल्दी ही अंजलि के पास लाखों का बैंक बैलेंस भी हो गया था.

मुझे लगा कि इनको लंड का मजा भी दिलवा दूं तो कमरे में एक लंड जैसा चिकना डंडा था, तो दोनों की चूत के बाच में रख दिया. बस चली तो एक दम से मुझे आवाज़ सुनाई दी, मैंने देखा कि ये वही माल थी, जिस को मैंने देखा था. 7 फुट लम्बा और हल्क जैसा चौड़ा दानव था, और सबके सामने बिल्कुल बेफकूफ होने का नाटक करता था, ऐसे नादान बनता था जैसे कोई बच्चा हो इसीलिए उसका नाम ही पड़ गया सिल्ली।पापा सिल्ली की कई साल पहले अफ्रीका से लाये थे। मुझे लगा इसका लन्ड देख सकती हूँ मैं… इसीलिए मैं कोई मौका तलाशने लगी जहाँ उसे नंगा देख सकूँ.

मैंने मोना को किस किया, फिर उसकी नाइटी उतारने लगा तो मुझको दूर कर दिया. तो मैंने अपनी मम्मी और पापा से अनुमति माँगी, उन्होंने भी मुझे झट से हाँ कह दी.

शनिवार को जाऊँगी मतलब 4 दिन बाद सन्डे को बुला लो और दुबारा माफ़ी मांगने के लिए 2 दिन बाद मंगलवार को बुला लो लेकिन बुलाना दुबारा तो ऐसे. उन्होंने मेरी चूत में अपने गर्म रस को छोड़ दिया और मुझे चिपका कर सो गए. मूवी ख़त्म होने के बाद हम घर को जाने लगे, वो कार में मेरे साथ बैठी थी तो कार में चलते चलते मैं पूनम को छेड़ता रहा, उसके मैं कभी गुदगुदी करता तो कभी उसकी जाँघ पर पिंच करता.

इंडियन चुदाई

’ की आवाजें निकालने लगीं और मेरे सर को बालों से पकड़ कर अपनी चूत पर दबाने लगीं.

ऐसे ही अब हमारे बीच प्यार की शुरूआत हो गई थी मगर उस किस के बाद दोबारा मौका नहीं मिला. उसने चैनल बदल कर हिस्ट्री चैनल लगा दिया, जिसमें हाउ सेक्स चेंज दि वर्ल्ड. मेरा लंड तन कर तंबू होने लगा और पेटीकोट के ऊपर से ही रेणुका भाभी को मेरा लंड अपनी चुत की तरफ चुभता हुआ सा फील होने लगा.

फिर मीना सागर के पास गई, शरमाते हुए उसका लंड अपने हाथ में लिया और वैसे ही हाथ में लेकर दोनों मेरे पास आये. सुमन मामी ने बड़े ही मस्त अंदाज में लंड को पकड़ कर मुँह में अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया. एक्स एक्स एक्स नेकेड बीएफलेकिन मैंने उस पर कोई रहम न करते हुए 3-4 धक्के पूरी ताकत से तब तक मारे, जब तक मेरा पूरा लंड उसकी चूत में नहीं घुस गया।उसके बाद मैंने सिमरन के एक दूध को मुँह में भर लिया और दूसरे को हाथ से दबाने लगा और धीरे धीरे उसकी चूत में अपने लंड से धक्के लगाने लगा। कुछ देर बाद वो नीचे से अपनी कमर उचकाने लगी तो मैंने भी अपनी स्पीड धीमे धीमे बढ़ा दी और उसे शताब्दी की स्पीड से चोदने लगा.

हैलो दोस्तो, मैं सुकृति 18 वर्ष की हूँ, मैं दिल्ली यूनिवर्सिटी की बी कॉम पहले साल की स्टूडेंट हूँ. अंजलि थोड़ा मुस्कुरा कर बोली- मैं नहीं जा रही कहीं…अंजलि दीदी को मुस्कुराती देख मेरी जान में जान आई मैं कुछ बोल पाता कि वो फिर बोल पड़ी- देखो… घबराओ मत, मुझे भी आज किसी की जरूरत है… कितने समय से बस इस डिल्डो से मास्टरबेट कर रही हूँ.

मोना- तमीज से बात करो रवि, मैं अपने पति की बेइज्जती बर्दाश्त नहीं कर सकती. वह कामुकता से बहुत ज्यादा पागल हो गई थी और कहने लगी- रोहन, अब डाल दो, मत तड़पाओ मुझे अब!फिर मैंने भी देर ना करते हुए उसकी पैंटी उतारी और अपनी अंडरवियर भी उतार दिया और आकर उसके ऊपर लेट गया तो फिर से गले पर किस करने लगा. मैंने मामी के मम्मों को बहुत दबाया और मेरा हाथ सीधा उनकी नीचे चूत पे आ गया.

पुलकित बोला- जानेमन, मेरा भी अभी मन नहीं भरा है, मैं तो बस इस जल्दबाज़ी में के कहीं तुम्हारे घर के ना आ जाएँ, जल्दी गेम खत्म कर दी. सब कुछ भुलकर में अब बस चाचा ससुर की कामुक फिंगर सेक्स का भरपूर आनन्द ले रही थी. अब मैं धीरे से उसके ऊपर लेट गया और मेरा तना हुआ 6 इंच का लंड उसकी चूत के ऊपर आ गया जो उसे फील हो रहा होगा.

मेरी पिछली एडल्ट स्टोरीभाभी ने मेरा लंड चूस कर दिया ब्लोजॉबभी ऎसी ही थी.

पहले मैं समझ नहीं पाई कि ये ऊपर नीचे क्यों हो रहा है, लेकिन उसके ऊपर नीचे होने से उसका मोटा लम्बा लंड भी ऊपर नीचे हो रहा और जब वह ऊपर आता तो उसका लंड मेरी गांड में लगता और नीचे जाने पर पैरों को रगड़ता हुआ नीचे चला जाता. अब वो भी गर्म होने लगी थी और मैं उसकी कमर को सहला रहा था और धीरे धीरे उसके मम्मों को मेरा हाथ छू रहा था.

और मैं धीरे धीरे लंड डालने लगा।काफी देर कोशिश करने के बाद लंड उस की गांड में गया और मैं उस की गांड मारने लगा। मैं धीरे धीरे लंड उस के गांड में अंदर बाहर करने लगा, बड़ी गांड में लंड अंदर बाहर होते देख बहुत मजा आ रहा था।मैंने देखा कि उसे दर्द हो रहा है, शायद उस ने गांड ज्यादा नहीं मरवाई होगी।मैंने लंड निकाल लिया।फिर मैंने उसे बेड पर लिटा दिया और उस की चूत में लंड पेल दिया और धक्कम पेल चुदाई करने लगा. थोड़ी देर बाद भी उनकी कुछ हरकत नहीं हुई तो मैंने भी थोड़ा उनके ब्लाउज के हुक को खोला और ऊपर से ही जोर से एक चूचे को दबाया. उसके आगे की ना मैंने सोची थी न मोनिका ने, मैं बस अपने दिल की फीलिंग्स उसे बताना चाहता था.

फिर वो किचन में चली गई, पर मेरा तो पूरा मन उसको चोदने का हो गया था. चचा जान जी ने पहले मेरी चूत के आस पास हल्के से चुम्बन किये और फिर अपनी गर्म जीभ मेरी चुत पे रख दी. लेकिन मुझे राजधानी पकड़नी थी तो मैं इस बस को छोड़ने की हालत में नहीं था.

बीएफ चोदाचोदी व्हिडिओ मेरी इच्छा है कि मैं अपनी जीभ बाहर निकालूं और मेरी भाभी मेरी जीभ को ऐसी चूस रही हों जैसे वो मेरा लंड चूस रही हों, और उसका मुंह आगे पीछे होता रहे. चुत का रस पीने के बाद भी मैं भाभी की चूत को चाटता रहा, इससे भाभी फिर से गरम हो गईं.

देवर भाभी के सेक्सी वीडियो

अब मैं डर गई कि आखिर अमित क्या करने वाला है, कहीं मेरे साथ कुछ गलत ना करे… लेकिन उसने अपने लंड को 3-4 बार ऊपर नीचे किया. तभी बाहर के दरवाज़े की घंटी बजी, हम दोनों को जैसे शॉक लग गया, साक्षी भाग कर दरवाज़े पे गयी तो कोई सेल्समेन था, उसे वापस कर के साक्षी दौड़ के मेरे कमरे में आयी. तभी रश्मि मुझसे बोली- भाई साहब आज खाना खाने मेरे यहां ही आ जाना, वैसे भी दीदी घर पर नहीं हैं.

भाई सुबह ही जॉब पर चले जाते तो घर में भाभी और मैं ही रहते थे तो मैं और भाभी ज्यादातर बातें करते रहते थे. ”अंकल बोले- आरती अगर मम्मी आ गई तब?तो मैं बोली- जब तक गेट में मम्मी ना आ जाए तब तक चोदना!अंकल ने कहा- गेट बंद कर दें?मैं बोली- कर दीजिए अंदर से लॉक अभी, देरी मत करो!ओके…” सुरेश अंकल भाभी के पापा को बोले- अंदर से गेट बंद कर दो, जैसे ही आरती की मम्मी खटखटायेगी, तभी हम आरती को चोदना छोड़ देंगे. बीएफ सेक्सी फिल्म वीडियो में हिंदी मेंमैंने उसकी ब्रा को उसकी बाजुओं से निकाल कर एक तरफ फेंक दिया और अब मैं पागलों की तरह उसके बड़े बड़े मम्मों को मुँह में लेकर रसपान कर रहा था और वो अजीब सी सिसकारियां निकाल रही थी- अह्ह ऊह्ह्ह… उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओह्ह्ह.

विवेक धीरे धीरे पीछे से मेरी चुत में धक्के लगा रहा था और आगे से रवि अपना लंड मेरे मुँह में पेल रहा था.

मैं करीब 11 बजे मुरादाबाद पहुँच गया और मैंने रास्ते में ही शालिनी को फ़ोन कर दिया कि मैं आ रहा हूँ मेरी रानी. 18 वर्षीया वर्षा का रंग रूप, वो मुझसे कई गुना गोरी है, उसकी लंबाई मुझसे थोड़ी कम है, वो मेरे कानों तक आती है.

फिर उन्होंने मेरी पैंटी में हाथ डाल दिया और मेरी चूत को सहलाने लगे. मैं अपने कमरे में बैठी रो रही थी और सासू माँ मेरी बेटी को लेकर हॉल में थीं. अपने बाएँ हाथ से उसके अण्डों को जकड़ कर पकडे हुए वो इतनी नाजुकता के साथ काले हब्शी लंड के टोपे पर अपनी नर्म-गुलाबी जीभ फेर रही थी कि साधारण इन्सान तो सिर्फ देखते ही झड़ जाए!हालाँकि अब तक मेरी नताशा काफी हद तक विशाल आकार वाले लंडों की अभ्यस्त हो चुकी थी, लेकिन पर्याप्त अभ्यास न होने के कारण कभी कभी हाथी जैसे लंड को बाहर निकाल कर खांसने लगती थी.

तो यह सब देख कर दंग रह गया, मेरी नज़र उनके मम्मों पर टिक गई।उन्होंने शायद मेरी नज़र को पकड़ लिया.

सच कहूँ तो उसके मम्मों का आकार बहुत प्यारा है, वो एक क़यामत की तरह लगती है. ओमार की नजरें लंड की गति की दिशा में ही घूम रहीं थीं! उसकी ऐसी उत्तेजित अवस्था देख कर मुझे लगा कि वो खुद ही किड के लंड को अपने मुंह में लेने का इच्छुक है!!किड खड़ा हुआ मेरी पतिव्रता पत्नी के मुंह में अपना कठोर लंड ठोके जा रहा था, ओमार नर्म सोफे पर अपने चूतड़ टिकाए बैठ, किड के लंड को रुसी बाला के मुंह में घुसता देखते हुए उसकी गांड में हौले-2 अपना लंड चला रहा था. नंगी माँ की कामुकताशांत नहीं हुई और फिर में बेड पर जाकर सो गई।जब सुबह मेरी नींद खुली तो मैंने देखा कि रोहण ने मेरी एक चूची को अपने मुह में ले रखा था पर मेरी पूरी चूची उसके मुंह में नहीं जा रही थी क्योंकि वो बहुत बड़ी थी.

बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ सेक्सीअब धीरे-धीरे उसे भी मजा आने लगा था और वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी. उसके बाद मैं उसकी बाँहों में ही लेटा रहा उस रात मैंने उसकी 4 बार चूत की चुदाई की और मैं सुबह घर वापस आ गया.

इंग्लिश सेक्सी एक्स एक्स एक्स वीडियो

नमस्कार दोस्तो, मेरा गन्दी कहानी एक जवान मैडम की चूत चुदाई की है जो मुझे एक मॉल की कार पार्किंग में मिली थी. अब मॉम ने इस बार फिर से हाथ को अन्दर ही हटा दिया और थोड़ा साइड में सरक कर उस कज़िन से बोलीं- क्या हुआ तुझे? क्या कर रहा है?वो मॉम को देखने लगा, मॉम उसको देखने लगीं. फिर तो रोज़ ही हम दोनों के बीच स्माइल पास होने लगी, लेकिन मैंने बात करना शुरू नहीं किया… क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि उसे लगे कि लड़का चिपकू लग रहा है और मेरी इमेज गिरे.

ये क्या जिद है बेटा, तू फ्लाइट से आजा मैं यहां से ट्रेन से आ जाता हूं; इसमें क्या प्रॉब्लम है?”पापा जी, हम दोनों साथ में और छत्तीस घंटे का सफ़र… जरा फिर से सोचो तो सही आप?”हां हां, पता है छत्तीस घंटे लगते हैं ट्रेन में इसमें सोचना क्या. कभी कभी तो दोनों साथ में ही मुझे आगे पीछे से लंड पेल कर सैंडविच बना कर चोदते थे. मामी ने पूछा- कब आए हो?मैंने कहा- आज सुबह ही आया हूं… और अब आपको मिलने आ गया.

लगभग 15 मिनट बाद मैंने उसके दूध दबाए और एक हाथ से उसकी चूत मसलने लगा. तो दोस्तो, कैसे लगी मेरी मॉम की चुदाई की आँखों देखी कहानी, अपने रिप्लाई मुझे मेल जरूर करें. मैं भाभी के पास गया और उनसे इस बारे में पूछा कि वो कुछ ना बोली और मुँह धोने बाथरूम चली गयी.

मेम से आगे बातचीत में जानकारी हुई कि उनका और उनके पति का तलाक 2 महीने पहले ही हुआ था; उनके पति का क़िसी दूसरी औरत के साथ अफेयर था, ये बात मेम को बहुत बाद में पता चली. वो रज़ाई में एक साइड लेटी थी, में उसके पीछे लेट गया और पीछे से हाथ जोड़ रहा था कि एक बार किस कर ले प्लीज़.

मगर मंजरी का भी यह पहला मौका था, किसी लंड को चूसने का, तो वो सिर्फ पुलकित के लंड को अपने मुँह में लेकर बैठी रही तो पुलकित बोला- सिर्फ मुँह में मत लो, इसे चूसो, जैसे मैंने तुम्हारी चूची पी थी, और अपनी जीभ से इस को चाटो भी.

मैंने बोला- क्या देख रहा है आकाश?तो आकाश बोला- विशाखा तुम इन कपड़ों में बहुत ही अच्छी लग रही हो. सेक्सी मूवी इंग्लिश बीएफतब उन्होंने कुछ याद आया और मुझे मना किया कि अभी नहीं करो क्योंकि मेरा बेटा बाहर खेल रहा है. हिंदी बीएफ मादरचोदऔर अब हमें याद आया कि हमें ताऊ जी के यहां जाना है तो हम फिर बाथरूम में गये और फिर दोनों ही साथ नहाये और फिर हमने अनार का जूस पिया ताकि हम में ताक़त आ सके वहाँ जाने की!फिर हम तैयार होकर निकल पड़े. तो बोलीं- ओके सबसे पहले मुझे यह बता कि तेरी कोई गर्लफ्रेंड है या नहीं?मैंने मना कर दिया- नहीं भाभी, मेरी अभी तक कोई गर्ल फ्रेंड नहीं है.

लेकिन जाते ही उसी स्पीड से भागते हुए वापस आई तो उसने बोला कि उसने वहाँ पर एक सांप देखा.

मैं मादक सिसकारियां लेती हुई अपना चेहरा इधर उधर घुमा रही थी और चचा जान मेरी गरदन को चूम रहे थे. जैसे ही भाभी ने मेरा लंड अपने हाथ से पकड़कर अपनी चूत के छेद पर रखा, तभी मैंने जोरदार धक्का पूरी ताकत के साथ लगा दिया, जिससे मेरे लंड का सुपाड़ा भाभी की चूत में 3 इंच तक घुस गया. उसकी चूत काले बालों के बीच ऐसी लग रही थी जैसे घने जंगल में कोई गुलाबी अप्सरा.

मैं घर के मंदिर में भगवान की पूजा करके वापिस आती हूँ, फिर इस चुदाई के कार्यक्रम में मैं भी तुम्हें ज्वाइन करती हूँ. सुबह को तो अक्सर शौच के लिए तालाब के पास किनारे पर लड़के, मर्द बैठते रहते तो जब वहां से निकलती तो एक आध बार कोई ना कोई लंड जरूर देख लेती… लंबे, काले, मोटे, गोरे सभी देखती और मजे लेने लगी।मैं 12वीं कक्षा में थी कि बगल के एक लड़के से टांका फिट हो गया और हम दोनों मौका देख चौका मारने लगे. सन्नी- कॉन है अमित सर वो…अमित- तू उसकी टेन्शन छोड़, तू बता तेरे वाली कौन है?मैं सोचने लगा कि अब किसका नाम लूँ… तभी मेरे दिमाग़ में हमारी क्लास की एक लड़की जिसका नाम सपना था… बहुत ज़्यादा शरीफ और स्टडी में सबसे आगे.

चुत क्सक्सक्स

दीदी- हो गई तेरे मन को शांति, कर ली अपनी मनमानी तूने, चल अब जल्दी से मेरी वीडियो डेलीट कर और दफ़ा हो जा यहाँ से!मैं- अरे दीदी, इतनी भी क्या जल्दी है, अभी तो एक बार ही हुआ है. उसका फिगर इतना अच्छा तो नहीं था पर फिर भी एक लड़के के लिए उत्तेजित करने लायक था. 1 बजे के करीब अंजलि आ गयी और मुझे देखकर मुस्कुराई बोली- बहुत गर्मी है… नहा कर आती हूँ, फिर कुछ खाएंगे… तब तक तुम दूध पीना चाहो तो पी लो… फ्रिज में रखा है.

कभी कभी इरफान से किसी बात पे झगड़ा हो जाता तो वो ही मुझे समझा के मनवा लेते.

जैसे ही दरवाज़ा बंद हुआ मॉम ने एकदम से दरवाज़े की तरफ देखा, वहां उन्हें थोड़ा सा कुछ दिखा, वहां लाइट का स्विच था, मैंने झट से लाइट ऑफ कर दी, अब पूरे रूम में अंधेरा हो गया.

चाची की मदद से कैसे उनकी बहन की सील तोड़ी, वो भी आपको बताऊंगा, जिसके बदले उन्होंने अपनी गांड भी मुझसे मरवाई, यह सब आपको बताऊंगा. मेरा बड़ा भाई लगातार मेरी चुदाई में लगा हुआ था, लगभग 10 मिनट होने को थे, वो लगातार मुझे चोद रहा था और मेरी गांड लाल करने में लगा हुआ था, उसके थप्पड़ मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहे थे तो मैंने नीचे हाथ डाल कर उसके आंड को दबा दिए. दीपक बीएफमेरी बात सुनते सुनते ही एड्रिआना खड़ी हो गई थी और उसकी आँखों से आंसू बहने लगे.

वो जैसे खुद से बात करते हुए ऐसे ऊपर छत पर देख कर बोली- हे भगवान मुझे तूने लड़की क्यों बनाया. उसकी आँखों को चूमने लगा, उसके कानों को, उसके गालों को, गर्दन पर, फिर से होंठों पर बेतहाशा चूमा. मैंने कहा- ये मेरे कजन की…पर तो वो बात काटते हुए बोला कि साले जब तेरे में ही दम नहीं थी, तभी तो ये बाहर तो मुँह मारेगी ही ना!वो बात मेरी ऐसे दिल पर लगी कि मैंने भी सोच लिया कि मैं एक बार इसे कह कर देख लेता हूँ, मान गई तो ठीक वर्ना अपना क्या जाता है.

दो दिन बाद मुझे उसी नम्बर से कॉल आया, मैंने उठाया तो रश्मि भाभी थीं और उनकी बोली से लगा कि वे कुछ उदास सी लग रही थीं. मैं उनके मम्मे को अच्छी तरह नहीं देख पाया था तो मैंने डिसाइड किया कि वापिस ऊपर चला जाए और उनके चूचे को निहारा जाए.

‘हम्म…’उन्होंने मुझसे पूछा- क्या तुम ये सब करके देखना चाहोगे?मैं बोला- पर मेरे साथ करेगा कौन? मुझे तो ये सब नहीं आता.

मैं मुँह आगे पीछे कर करके लन्ड चूस रही थी बिल्कुल किसी पोर्न स्टार की तरह!काफी देर तक कुछ नहीं हुआ पर अचानक उसका लन्ड और अकड़ने लगा और उसने झड़ना शुरू कर दिया, उसके सफेद गाढ़े वीर्य से मेरा मुँह मेरे मम्मे सब लथपथ हो गए।मैं काफी थक गई थी, वहीं पास में एक चट्टान पर बैठ गयी।इतने दिनों से वो चुपचाप मज़े ले रहा था, उसने कभी कुछ नहीं कहा था. हो सकता है कि आपको मेरी ड्रेस की डिटेल से समझ में न आए तो बस इतना समझ लीजिएगा कि इस ड्रेस में केवल पैंटी और आगे से चूचे थोड़े थोड़े इतने खुले रहते थे कि अंग विशेष बंद रहें. मैंने अपने हाथ को उनके नेकर में डाल कर उनके लंड को पकड़ लिया और सहलाने लगी.

बीएफ सेक्सी वीडियो गांव की लड़की उसने लाल रंग का टॉप पहना हुआ था और नीचे जीन्स थी, वो बहुत ही हॉट लग रही थी. 5 मिनट बाद भाई के लंड का लावा फूट पड़ा और उसने पूरा माल मेरे चूत में ही छोड़ दिया और मेरे ऊपर लेट गया.

मैंने उस की पैंटी को भी उस की चिकनी जांघों पर से खिसकाना शुरू किया और उस की नंगी चूत मुझे दिखाई देने लगी. मैंने उससे कहा- मैं बाथरूम होकर आता हूँ!तो उसने बड़ी कातिलाना ढंग से हंसते हुए मुझे शरारत भारी निगाहों से देखा. फिर उसने मुझे अपने आपसे अलग किया, मुझे बिठाया और मेरे लिए पानी और कॉफ़ी लेकर आई.

बीपी सेक्स गुजराती

पूनम अब और भी शर्मा गई और वो मेरी तरफ थोड़ा सा अपनी पीठ को घुमा कर बैठ गई और मूवी देखने लगी. लेकिन ट्रेन धीमे धीमे चलने लगी तो उसने विनीत से बोला की मुझे ट्रेन के साथ साथ लेकर चलो, जब तक राज मेरे अंदर ना झर जाए।ट्रेन चलने लगी और विनीत आरजू को लेकर चलने लगा, आरजू ज़ोर ज़ोर से हिल कर मेरे लंड पर धक्के लगाने लगी और बोली- राज मुझे तृप्त कर दो!तभी मैं उसकी चूत में झर गया और ट्रेन तेज हो गई थी, हम बिछुड़ गए. मेरे दोनों चूचे चचा जान के हाथों में खेल रहे थे और उनके गीले होंठ मेरी मखमली गरदन को मसाज दे रहे थे.

मंजरी अपने दोनों हाथों से पुलकित का सर अपनी दोनों जांघों से निकालना चाहती थी, वो चाहती थी कि पुलकित के होंठ उसकी चूत से हट जाएँ, मगर पुलकित उसको शांत होने से पहले छोड़ना नहीं चाहता था इसलिए उसने मंजरी को खूब तड़पाया. शनिवार था बच्चों का स्कूल नहीं था, तो रात को सागर आते वक़्त सबके लिए व्हिस्की लेकर आया था.

महेश- अच्छा यानि तुम खुद आज मुझ से अकेले मिलना चाहती थी?मैं- ऐसा कुछ नहीं है.

कई बार मेरी बीवी मेरी गर्दन पे भी लव बाइट कर देती थी, जिसके कारण मेरे दोस्त काफ़ी मजाक़ उड़ाते थे. उसने मुझे पीछे मुड़ कर देखने के लिए बोला लेकिन मैं तो उसके पहले ही पीछे की तरफ देख रहा था. और मुझे तो खुश होना ही था, मुझे एक बढ़िया सी चूत, वो भी बिल्कुल मुफ्त में, जो चोदने को मिल गयी थी.

कॉलेज के पुराने टूटे क्लासों के पीछे वहां अन्दर का नज़ारा ही कुछ और था. इससे काजल की चूत का चिकना पानी उसके लंड पर लग गया और लंड भी गीला हो गया. मैंने उस के हाथ में अपना लंड दिया, वो ना ना करने लगी लेकिन मैंने उस को लंड छोड़ने नहीं दिया.

ये मुझे बाद में पता लगा कि राधे चाचा विधुर थे, उनकी पत्नी चार पांच साल पहले गुजर गई थीं.

बीएफ चोदाचोदी व्हिडिओ: मैं सोचता था अगर मैं मॉम के साथ कुछ सेक्स जैसा ट्राइ करूँ और उनको बुरा लगा तो क्या नतीजा निकलेगा. थोड़ी देर में हम ऐसे ही सो गए, जब हम जागे तो पूनम से बिल्कुल खड़ा नहीं हुआ जा रहा था.

मैंने खोलकर देखा तो बोला- देखो लिखा तो 34″ ही है, लो सही से चेक करो जाकर!वो बोली- कर चुकी हूँ! नहीं आ रही है. जब खाना-वाना हो गया तो हम लोग आग के पास बैठ गपशप करने लगे।कुछ देर बात करने के बाद स्वीटी को पेशाब का प्रेशर बना, जिसके चलते उसने अपनी सलवार उतार दी। उसका कुर्ता कमर तक दोनों तरफ से कटा हुआ था, जिसके चलते उसकी पैंटी उन कट से दिख रही थी। ऐसा लग रहा था मानो मेरे सामने कोई कॅबरे डान्सर खड़ी हो, और कैबरे डांसर की तो फिर भी पैंटी नहीं दिखती है, मुझे तो मेरी बहन की नंगी टाँगे और पैंटी दिख रही थी. मैंने किचन में ही वर्षा की सब्जी में एक कैप्सूल कूट कर पावडर करके मिला दिया, फिर थोड़ा सोच कर एक और कैप्सूल और कूट कर मिला दिया.

मैं समझ गया कि आग दोनों तरफ बराबर की लगी है, तो मैंने उसकी टॉप उतार कर उसके मम्मों हल्के से चूसने लगा.

मोनिका ये समझ गई थी कि ये साइको (पागल) है, वो पीछा नहीं छोड़ रहा था. दीदी ने भी मेरे को रेस्पॉन्स दिया और मेरे सर को हाथ से पकड़ कर लिप्स की तरफ़ खीच लिया और एक ही पल में मेरे लिप्स दीदी के लिप्स से जकड़े गये. फिर रवि ने अपने लंड को मेरी गांड के छेद पर रखकर एक जोरदार धक्का लगा दिया.