बीएफ सुहागरात वाली चुदाई

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो हिंदी दीजिए

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगी फिल्म ब्लू पिक्चर: बीएफ सुहागरात वाली चुदाई, मैंने नाराज़ होकर उससे कहा- यार, तुझे मुझसे मिलना ही नहीं है तो मना कर दो न.

इंग्रजीतील

थोड़ी हवा को महसूस किया और जैसे ही पीछे मुड़ा, शैली अपने घुटनों के बल हाथ में गुलाब का फूल लिए हुए बोली- आई लव यू अवि!मैं एकदम से हड़बड़ा गया, पर अपने आपको संभालते हुए मैंने पहले तो उसे खड़ा किया. राजस्थानी नागी सेक्सीचप चप की आवाज़ के साथ बुआ लंड को गपागप लॉलीपॉप की तरह जमकर चूस रही थी.

उसकी आंखों से आंसू बहते हुए बता रहे थे कि उसको कितना दर्द हो रहा है. హిందీ సెక్సీ వీడియోनंदा आगे बोली- क्या ये मुझे परेशान करेगा?जब मैंने उससे कहा- नहीं करेगा, आज से पहले जिनका तुमने लिया है, ये उनसे ज्यादा मजा देगा.

मैंने उसके ऊपर झुककर उसके दोनों स्तन अपने दोनों हाथों से मसलते हुए कहा- नीता, मेरा शैतान पूरा तुम्हारे बिल में घुस चुका है.बीएफ सुहागरात वाली चुदाई: Xxx ब्रदर सिस्टर सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने अपने बड़े भाई का लंड चूस कर उसे अपने साथ सेक्स के लिए तैयार कर लिया था.

चूत में उंगली डलवाने के पहले तक तो वो मेरा भरपूर विरोध करती रही पर जैसे ही मेरी उंगली उसकी चूत में घुसी, वो पूरी तरह बदल गयी और उसने अपनी टांगों को फैला दिया.दूसरी तरफ मम्मी, इन्द्रेश अंकल के लंड को ज़ोर ज़ोर से हिला रही थीं.

राजस्थानी सेक्सी पिक्चर भेजें - बीएफ सुहागरात वाली चुदाई

अब आप सोच ही सकते हो कि मैं दीदी के घर दो हफ्ते के लिए रहने गया था और इन दो हफ्तों में मैंने क्या क्या किया होगा.इस जोरदार चुदाई के बाद हम दोनों ही थक गए थे और उसी पोजिशन में नंगे ही सो गए.

उसके बाद क्या हुआ?नमस्ते दोस्तो, मैं आप सबका अभी चहेता तो नहीं बना हूँ, पर आशा है कि आप मेरी हॉट सिस फक़ स्टोरी पढ़कर जल्द ही अपना चहेता लेखक बना लेंगे. बीएफ सुहागरात वाली चुदाई मैंने देखा कि जॉन और सुदिति किस कर रहे थे और जॉन सुदिति के बूब्स दबा रहा था.

मुझे तो अपने आप पर गर्व हो रहा था कि मैं इतनी तेजी से उछल कूद भी कर सकती हूं.

बीएफ सुहागरात वाली चुदाई?

मुझे क्लासेज में पढ़ाते हुए करीब डेढ़ से दो महीने हो गए थे, उसी क्लासेज में एक लड़की रेसेप्सनिस्ट के तौर पर काम करती थी और उसका नाम शिल्पा था. पीछे से कुणाल मेरी बीवी की चूत चोद रहा था और स्नेहा की गांड पर थप्पड़ मार रहा था. आकाश ने बताया- यार, बात ये है कि मैं रसिका को संतुष्ट नहीं कर पाता हूँ, इसी लिए वो मुझ पर गुस्सा रहती है और लड़ती रहती है.

फिर उसने अपने लंड को मेरी चूत में रगड़ा और झटके से लंड अन्दर पेल दिया. पर मेरे लौड़े अब जान नहीं बची थी, सारा माल रीना और उसके पति को पिलाकर बेचारा सो गया था. उस दिन के बाद हम अक्सर लॉज में जाने लगे और सब कुछ भूल कर एक दूसरे के साथ समय बिताने लगे.

मैंने बुआ को उठाकर 69 की पोजीशन में कर दिया और मैं उसकी चूत को चाटने लगा. चाची मुझे खाना खाने के लिए आवाज देने लगीं पर टीवी चलने की वजह से मुझे आवाज आई नहीं. लेकिन मैं ठहरा फट्टू, बस सोच सोच कर जीवन गुज़ारने वाला सिड़ी लंड टाइप का लौंडा.

मेरे बॉस ने मुझे कुछ दिन दिए और कहा- दो चार दिन में सोच कर बता देना. उन दोनों ने अपने हाथों से मेरे हाथ पकड़ कर अपने अपने लौड़ों पर ले जाकर सहलाने के लिए इशारा कर दिया.

शीरीं को वासना बढ़ाने वाली दवा दी गई थी, उसके साथ शराब की गहरी खुमारी चढ़ी थी.

अपने बालों को उसने पीछे ढीला सा बांध लिया था और माथे पर लाल रंग की छोटी सी बिंदी लगा ली थी.

[emailprotected]इससे आगे की कहानी:हनीमून पर होटल में बीवी की गांड फाड़ी. वो कड़क स्वर में बोलीं- कब से देख रहे हो ये सब?मैं बड़े धीमे स्वर में बोला- बस ऑन्टी आज पहली बार था. वह मुझे हर बार कहती थीं- तू कितना अच्छा दिखता है, तेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या?मैं उन्हें हर बार कह देता था- मामी कोई आप जैसी मिलती ही नहीं, आप ही बन जाओ न!इस पर वो मुस्कुराकर चली जाती थीं.

मैंने कुणाल से कहा- डियर … स्नेहा तुम्हारे सामने है, जाओ जो करना है, करो और मजे लो. बहुत लोगों ने उनकी चूत चुदाई की और उनकी चूत को चाटने का मज़ा लेने का मौका लिया. ये सुनकर वंदना अंकित के ऊपर चिल्लाने लगी- मेरे भाई को दारू क्यों पिलाते हो, तुम लोग बहुत बुरे हो.

अब वह भी काफी ओपन होने लगी और बातों ही बातों में कहने लगी- लगता है आपकी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.

तब मैंने भी भैया के मोटे लंड से चुदने की सोची और अपने घर में पापा को कॉल करके बहाना बना दिया कि मेरी स्कूटी पंक्चर हो गयी है और अभी कोई बनाने वाला नहीं है, तो आज मैं एक सहेली के घर रुक रही हूँ, कल ही आ पाऊंगी. वो भी सिनेमा हॉल में किसी लौंडिया को चोदने का जो सुख मिला था, वो मेरे लिए एक अलग अनुभव के रूप में मिल गया था. काफी दिनों से मैंने चुदाई नहीं की थी इसलिए मेरे अन्दर उस वक्त ज्यादा ही उतावलापन था.

इसके बाद हमारा यह खेल कुछ हफ्ते और चला फिर मैं अपने गांव चला गया।गे स्टूडेंट सेक्स कहानी पर अपने विचार मुझे कमेंट्स में भेजिए. गीता बोली- फिर वापस कब आओगे?मैंने कहा- तुमसे अच्छी सी खुशखबरी सुनने के बाद जरूर आऊंगा. वो भी सिनेमा हॉल में किसी लौंडिया को चोदने का जो सुख मिला था, वो मेरे लिए एक अलग अनुभव के रूप में मिल गया था.

अब मैं उन्हें गोद में उठा कर बेडरूम में ले गया और एक बार फिर से उनके ऊपर चढ़ कर उन्हें किस करने लगा.

ये याद आते ही मेरी मम्मी को चोदने की इच्छा होने लगती थी और मम्मी को देख कर लंड खड़ा हो जाता था. ‘आअहह रेश्माआ …’ की आवाज देते हुए मैं अपने लंड का सारा माल रेशमा की चूत में निकालने लगा.

बीएफ सुहागरात वाली चुदाई मैंने उन्हें बिस्तर पर बैठा दिया और मेरा लंड उनके चेहरे के सामने लहराने लगा. फिर गीता ने मुझे गले से लगा लिया तो हम दोनों ने एक दूसरे को चूम लिया.

बीएफ सुहागरात वाली चुदाई पिंकू धीरे-धीरे सिसकारियां लेती हुई झड़ गई।यह सब नजारा देख कर मैं धन्य हो गया।पिंकू नहा के बाहर आने वाली थी इसलिए मैं वहां से चला गया. बुआ अब अपनी गांड आगे पीछे करके मस्ती से लंड को अपनी गांड में अन्दर तक ले रही थी.

मैंने घड़ी में समय देखकर नीता से कहा- अभी साढ़े सात बजे हैं, कितनी देर का रास्ता और समझें.

पीके फिल्म

मैंने ब्रा न खोलते हुए ऊपर से ही उसके मम्मों को सहलाना शुरू रखा और उसके साथ साथ गर्दन, कंधे को चूमता ही रहा. कुछ देर तक मैंने लौड़ा रीना की फुद्दी में फंसाये रखा और जब रीना थोड़ी शांत हुई तो मैंने फिर से उसी जंगली तरीके से रीना को चोदना चालू कर दिया. साले ने यह कहकर एक उंगली मेरी गांड में डाल दी, जिससे मैं चिहुंक गयी.

पहले तो वो बाहर रेस्टोरेंट में ही मिलने का बोल रही थी पर मैंने उसे होटल में मिलने के लिए मना लिया. फिर मैं जब यहां नहीं थी, तब शालिनी ने भी मेरे पति के साथ सेक्स किया है, तो मैं ऐसा क्यों नहीं कर सकती और वैसे भी मेरी शालिनी से बात हो चुकी है. मेरी नज़रें अपने मम्मों पर देख कर वो बोली- देखना छोड़ो महोदय जाओ, जा कर नहा लो.

अपना गिलास खाली करते हुए मैं किरण के पीछे जाकर खड़ा हुआ और उसके नीचे दबी रेशमा के मुँह के पास जाकर लौड़ा उसके मुँह में दे दिया.

थोड़ी देर वो आज दिन के बारे में और अर्णव के साथ हुई बातचीत, उसके साथ कैफे में जाने के बारे में ही सोचती रही. मैंने जितना सोचा था, सुहानी मेरी उस सोच से ज्यादा ही प्यासी लग रही थी. इंडियन भाभी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि फेसबुक पर चुदाई का माल ढूँढते हुए मेरी दोस्ती एक भाभी से हुई.

बहुत देर से वो साली हम मर्दों को रेशमा का बदन भोगते हुए देख रही थी. दोस्तो, मैं अनुष्का अपने भाई के साथ चुदाई कहानी के पहले भागमेरी अन्तर्वासना और बड़े भाई की मर्दानगीमें आपको बता रही थी कि मैं एक सेक्स कहानी पढ़ कर अपने भाई से चुदने की सोचने लगी थी. लड़के का नाम पॉल था और लड़की का नाम रीना, दोनों पिछले चार साल से शादीशुदा थे और केरल के एक बड़े शहर के निवासी थे.

पेटीकोट के नीचे ऑन्टी ने पैंटी नहीं पहनी थी इसलिए ऑन्टी अब पूरी तरह नंगी हो गईं और मेरे बगल में लेट कर अपनी दो उंगलियां अपनी योनि में फिराने लगीं. फिर मार्च का महीना आया और मैंने होली के लिए ऑफिस से एक हफ्ते की छुट्टी ले ली क्योंकि मैं हर त्यौहार पर गांव जाता था.

ये सुनकर अदिति ने अपनी गांड मेरे लंड पर जोर रगड़ी और बोली- हर्षद, प्लीज आधा घंटा रुक जाओ, मैं खाना बना दूँगी. पहले जो मेरे मुँह से दर्द निकल रहा था, अब वह कामुक सिसकारियां में बदल गया था. फिर मेरी नजर अचानक से उस पर पड़ी तो मैंने उठते हुए कहा- अरे आप!वो बोली- अंकित, मुझे कमरे में झाड़ू पौंछा करना है.

मेरी बुर से टपकते पानी की वजह से फच फच की तेज आवाजें पूरे कमरे में फैलने लगी थीं.

वो होंठ छुड़ा कर बोली- उखाड़ ही लोगे क्या इनको … आराम से दबाओ ना, मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूं … और मेरे ये भी कहीं भाग कर नहीं जा रहे है, प्यार से दबाओ थोड़ा. इसी दौरान कभी हैंडल सही करने और कभी हॉर्न और इंडिकेटर बताने के लिए मैं अपने हाथ उसकी साइड से आगे ले जाता और उसकी चूचियों से मेरा हाथ टकरा जाता. जब मैं उन्हें पेल रहा था तो वो मेरी गांड को जोर जोर से दबा कर ‘हूँ आंह …’ कर रही थी.

[emailprotected]नंगी बहन की कहानी का अगला भाग:गांव में फुफेरे भाई के साथ रंगरलियां- 3. वो भी अपने घर से इसी भवन में रहने आ गया था जबकि उसका घर इसी गांव में था.

बाद में मैंने अपनी एक पड़ोसन सुनीता से उसके बारे में पूछा तो उसने बताया कि ये जैन साहब की छोटी वाली लड़की है जो पुणे में फैशन डिज़ाइनिंग का कोर्स कर रही है. अर्णव ने अपने एक हाथ में एक दूध को ले लिया और दूसरे मम्मे के निप्पल पर हल्के से जीभ फिराने लगा. तभी तो मैंने मन में बोला कि धोखे से दबोच मत लेना, वरना खूब अच्छे से चोदे देगा.

संदेश को चोदा

मामा ने एक जगह उस अनजान लड़की को उसकी सेक्सी पिक भेजने को कहा लेकिन उस लड़की ने मना कर दिया और पिक नहीं भेजी.

ऐसे बारिश के मौसम में एक लड़की साथ में हो, तो सफर में कितना मजा आएगा. अर्णव ने उसके गाउन में उसके बूब्स बाहर निकाल लिए और उन्हें मसलने लगा. एक बूब में पहले से दर्द हो रहा था लेकिन आज मैं रुकना नहीं चाहती थी.

सुहानी बस अपनी आंखें बंद करके होंठ चूसने के मज़े ले रही थी और अपनी चूत मेरे लंड पर रगड़ रही थी. दस मिनट के बाद मैंने लंड उसके मुँह में से निकाला और से धक्का देकर सोफे पर लेटा दिया; उसकी चूत में मैंने अपना मुँह डाल दिया और चूत चूसने लगा. काजल सेक्सी काजल सेक्सीदोस्तो, मैं आपसे अगली सेक्स कहानी में मिलूंगा, जिसमें मामा के रहते मैंने मामी को कैसे चोदा.

तो रीना ने चुम्बन रोकते हुए मुझे आंखों से ही दरवाजा खोलने का इशारा किया. फ्रेंड्स, मैं आपको अपनी सेक्स कहानी में सुना रही थी कि मेरी पहली चुदाई किस तरह से हुई और मेरी कुंवारी चूत की सील कैसे टूटी.

जिन्हें देखने के लिए पूरा मोहल्ला लालायित था, आज वो मेरे सामने एकदम नंगे सर उठाये खड़े थे. मेरी मम्मी पापा से ही खूब चुदवाती हैं और पापा को भी खूब मस्ती के साथ चोद चोद कर बेहाल कर देती हैं क्योंकि दस में से आठ बार तो मम्मी ही पापा को चुदाई के लिए निमंत्रण देती थीं. उसने खुद ही ब्रा निकाल दी और मेरा मुँह अपने एक निप्पल पर रगड़ने लगी.

विलेज सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मैं गाँव में दो चूतों को एक साथ पटा रहा था. मैं सवालिया नजरों से पूछा कि वो कैसे?भैया बोले- तुम्हारी गांड भी इतनी मस्त है और अगर उसकी सील मैंने न तोड़ी … और इसका मज़ा तुमने ना लिया, तो हमेशा तुम चुदाई में अधूरी रहोगी. मैं अपने टीचर से कैसे चुदी?दोस्तो, मैं आपकी चुलबुली सी सीना चतुर्वेदी एक बार पुन: अपनी सेक्स कहानी के माध्यम से आपका मनोरंजन करने हाजिर हूँ.

उस वजह से मेरा मन हुआ कि ऊपर रहने वाले लौंडों से चुद लिया जाए!पर कुछ सोच कर रह गई.

क्या मैं आपकी कोई मदद कर सकता हूँ?ये सुनने के बाद मैं पक्का हो गयी कि ये भी मुझे चोदना चाहता है. किसी गड्डे में बाइक अचानक से गिरती तो नीता की चूचियां मेरी पीठ पर जोर से रगड़ जाती थीं.

मैं उसकी चूत चाटने लगा, वो मेरेलंड को लॉलीपॉप की तरह चूसे जा रही थी. थोड़ी देर में उसके धक्कों की स्पीड इतनी बढ़ गई कि लौड़ा पूरा बाहर आकर एक झटके में पूरा घुसने लगा था. वो घोड़ी बनकर बोली- कुत्ते, देख क्या रहा है भैनचोद … पेल मुझे भोसड़ी के.

इससे उसको समझ आ गया कि मैं आज बहुत गर्म हो गई हूं और शायद उसकी बात बन सकती है. उस वजह से मेरा मन हुआ कि ऊपर रहने वाले लौंडों से चुद लिया जाए!पर कुछ सोच कर रह गई. मेरे मुँह से निकल रहा था- आह आह आह … एआईई ऊह … अम्मी अम्मी मर गया … हाय निकालो … दर्द हो रहा है.

बीएफ सुहागरात वाली चुदाई फिर मोहिनी ने अपनी बांहें अर्णव के गले में डाल दीं और बोलने लगी- बस धीरे धीरे यूं ही कुछ देर चोदते रहो, बहुत मज़ा आ रहा है इस धीरे धीरे वाली चुदाई में!अर्णव स्लो मोशन में चूत में लंड आगे पीछे करने लगा. नीता ने अपने एक हाथ से अपनी गांड को सहलाकर मेरे लंड को चैक किया कि पूरा अन्दर गया या नहीं.

अंग्रेजों की ब्लू पिक्चर सेक्सी

मैंने भी उनको अपने पूरे जिस्म के दर्शन कराने में कोई कोताही नहीं की. ’मैं पैंटी नहीं पहनी थी, जिससे मेरी गांड का छेद भी पापा को दिख रहा था. उसका गाउन उसके घुटनों के ऊपर तक सरक गया था, जिससे उसकी जांघ दिख रही थी.

उस समय पापा अलग बिस्तर पर सोते थे और मैं और मम्मी अलग बेड पर सोते थे. [emailprotected]हॉट Xxx बेहन सेक्स कहानी का अगला भाग:बड़े भाई ने मेरी बुर की सीलतोड़ चुदाई की- 2. हिंदी सेक्सी कॉमिक्सफिर पता नहीं भाभी को क्या हुआ कि भाभी ने अपने दोनों हाथ मेरे कूल्हों पर रखे और इशारा किया.

मैंने शॉवर लिया और रसिका भाभी भी नहा कर ब्लैक साड़ी पहन कर तैयार हो गई.

हॉट गर्लफ्रेंड गोवा सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी कहानी पढ़ कर गोवा की एक लड़की ने मुझसे दोस्ती की. मैंने और तेजी से धक्के मारने शुरू कर दिए और कुछ ही देर में मैं भी झड़ गया और बिना सफाई किए हम दोनों वैसे ही एक दूसरे से चिपककर सो गए.

मैंने अपना पैग खत्म किया और शालिनी से कहा- बस लंड चूसोगी ही या और कुछ भी करना है?शालिनी ने कहा- जीजू आज तो मुझे आज इस लंड का पूरा मजा लेना है. जिससे ना मुझे सांस आ पा रही थी और ना ही मेरी हालत ऐसी थी कि मैं उन तीनों को अपने से दूर धकेल पाऊं. उसकी ये बात सुन मैं एकदम से चौंक गया कि बहनचोद ये एकदम से कैसे बदल गई और क्या बोल रही है.

फिर वो 10 मिनट के बाद आया और उसने कहा कि मॉम ने कहा है कि वो और पापा कल गाड़ी से 10 दिन के लिए उनके दोस्त की बेटे की शादी में जा रहे हैं और उन्होंने मुझे व आपको घर की रखवाली करने के लिए बोलने के लिए बुलाया था.

मुझे ये डर भी था कि कहीं अंकित गुस्सा ना हो जाए या उसने मेरी इस चाहत को घर में किसी को बता दिया तो मेरी क्या हालत होगी. इतना कहकर अदिति उठकर चाय के कप लेकर किचन में चली गयी और अपना काम करने लगी. उधर बातचीत के दौरान भी हमारी बातों में सेक्स एक अहम टॉपिक होता, हम खुल कर एक दूसरे से सेक्स की बातें करते.

सेक्सी वीडियो नंगी चोदते हुएमैं रसिका भाभी की सुराहीदार गर्दन को चूम रहा था और मेरे हाथ उसके नर्म मुलायम पेट के साथ खेल रहे थे. जिस दिन मम्मी और अंकित मौसी के घर गए, मेरे मन में अपने भाई से चुदने के लिए लड्डू फूटने लगे.

सट्टे का नंबर देने वाले बाबा

पर मैंने तुरंत ही दूसरे धक्के के साथ अपना पूरा लंड रसिका भाभी की चूत के अन्दर कर दिया. चूमता हुआ जैसे ही अर्णव नीचे आया तो उसने मोहिनी की चूत के ऊपर पेड़ू पर कई चुम्बन लिए. पहले तो अम्मी ने इन सब चीज़ों को नज़रअंदाज़ किया और खुलकर मुझसे गले लग कर चूम लेतीं.

मैं शर्ट उतारते ही शैली के ऊपर टूट पड़ा और शैली के होंठों को अपने होंठों के बीच दबा कर उसे बेतहाशा चूमने लगा. मैं बिना रुके झटके देने लगा और उसकी चूचियों से प्यासे की तरह दूध पीने लगा. मैंने उस मिडी पर बेडशीट को उठाकर ठीक से ओढ़ लिया और बोली- चलो शुक्र है, ऐसे मैं घर जा सकती हूं.

’‘अरे ये खराब थोड़ी हो जाएगा, दो साल की एक्सपायरी है … और सही है ना … भाभी जी के साथ एंजॉय करना. मैंने उनको दीवार से लगा दिया और उन्हें स्मूच करते हुए उनके चूचों को मसलने लगा. मैंने कहा- अंजलि, एक बार मेरे इच्छा है कि मेरा लंड अपने मुँह में डालो.

वो मेरे नानाजी के बिजनेस पार्टनर थे, उनका नाम नट्टू पटेल था।वे हमें देख के मुस्कुराये और बोले- हरी, तुम तो बड़े हो गये।उन्होंने मुझे उठा कर बहुत चूमा और बोले- मेरे बच्चे, मैं तुम्हारे लिए खिलौने और चोकलेट्स लाया हूं. अली- अबे इतनी जल्दी कुश्ती भी?मैंने कहा- और क्या … बिना कुश्ती के काहे का मजा.

वंदना ने फोन उठाया और बोली- हां बाबू क्या कर रहे हो … सॉरी बाबू कल मम्मी पास में लेटी थीं, इसलिए बात नहीं हो पाई.

उसने मुझसे वासना से देखते हुए कहा- चाची मैंने ऐसी मदद करने के लिए नहीं पूछा था. मधु त्रिशा करके सेक्सी वीडियोइस बीच कोरोना के कारण वर्क फ्रॉम होम रहने के कारण मेरा भी समय आसानी से कटने लगा. ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೋಸ್ ಪ್ಲೇमैंने नीचे फोन पर देखा, तो उस पर मेरी ही फोटो खुली हुई थी और इधर विपिन का लंड खड़ा हो रखा था. मेरे दिल की धड़कन इतनी बढ़ गयी कि मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था क्या करूँ.

मेरे ऐसा करने पर उसने मेरा लंड छोड़ कर मेरे हाथ को पकड़ लिया और मना करने लगी.

बल्कि भाभी ने मेरे पूरे लंड पर अपना सर रख लिया और मेरे लंड की गर्मी महसूस करने लगीं. अब मैंने अपने लंड को उसकी चूत के छेद पर रखा और एक ही झटके में अन्दर डाल दिया. अर्णव बोला- हां जान … मेरा भी होने वाला है, जल्दी बोलो कहां डिस्चार्ज करूं?मोहिनी ने कहा- मेरे अन्दर ही आ जाओ, मैं तुम्हें महसूस करना चाहती हूँ.

मैंने कुणाल से कहा- डियर … स्नेहा तुम्हारे सामने है, जाओ जो करना है, करो और मजे लो. मैंने कहा- तो उससे क्या होता है?मेरा आशय उसकी चूत को लेकर था कि किसी भी लड़की की चूत तो होती ही है. उसने अपना हाथ अन्दर डाल दिया और ज्यों ही उसकी उंगली अन्दर मेरी चूत ले दाने तक पहुंची, मेरे मुँह से एक तेज आवाज के साथ मादक सिसकार निकली.

सेक्सी वीडियो गाने के साथ

अब मैंने अपनी बांहों का घेरा उसके पूरे जिस्म में कस दिया और उसको जकड़ लिया. राकेश का भी ये मौका पहला था और मैं भी गांड उठा उठा कर उसका साथ दे रही थी. इतना बोल कर मैंने अपना पैंट खोलकर अपने लंड को आज़ाद कर दिया और रीमा के हाथ में दे दिया.

हां आपका लंड गर्म हो जाए तो बेशक मुझे याद करके मुठ मार लेना, पर पहले Xxx ब्रदर सिस्टर सेक्स कहानी पर अपने मेल लिख देना.

मोहिनी के मुँह से मादक सिसकारियां निकल रही थीं, उसकी आंखें बंद थीं.

खिले खिले बाल हैं और शरीर भी अच्छा है, रंग भी गोरा है और फ़िगर भी 34-25-36 का है. बिना शादीशुदा होकर भी सब जानते हो कि औरत को क्या चाहिए और उन्हें कैसे खुश करना है … ये कोई तुमसे सीखे. हेलो गूगल चांद धरती से कितना दूर हैउसने मुझे आवाज दी- चाची क्या आप मेरा तौलिया ले आएंगी?मैंने कहा- ठीक है, मैं अभी लेकर आती हूँ.

फिर हमने फ़ोन नंबर भी एक्सचेंज कर लिए और हमारी फ़ोन पर भी बातें होने लगीं. मैंने उसकी दोनों चूचियों को पकड़ा हुआ था, तो कभी जोर से बूब्स को दबा देता और बीच बीच में बूब्स को चूस लेता. उनके जाने के बाद बच्चियों साथ में सोती थी और उन अचानक जाने का गम उनकी नौकरी की जगह मुझे नौकरी मिल गयी.

मैंने कहा- रागिनी, तुम मुझे कितना प्यार करती हो!वह बोली- बहुत ज्यादा. मैंने कुछ देर तक उसकी चूत पर लंड रगड़ा और एकदम से उसकी चूत में लंड ठूंस दिया.

मैंने भी धीरे से थोड़ा-थोड़ा करके अपना लंड उसके मुँह में डाल दिया और सरक-सरककर 69 की पोजीशन ले ली.

दोस्तो, ये मेरी पहली और सच्ची सेक्स कहानी है, मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको देसी गर्ल न्यू चूत कहानी में मजा आया होगा. अब मैं सिर्फ रेड ब्रा और पेटीकोट में फिर से बाहर आई और जाकर रोहण की गोद में बैठ गयी. मैंने उन्हें मना किया और उनसे पूछा- आप आज तक मेरे अलावा कितने मर्दों से चुदवा चुकी हो?उन्होंने कहा- चार.

बाल काटने का डिजाइन आज मैं उसको गले लगा कर मिली और थोड़ी देर उससे बात करने के बाद मैंने उसको अपनी कल वाली फोटोज मुझे भेजने को कहा. मैं अम्मी की चूत को फैला कर सीधा बिना कुछ कहे उसकी चूत चाटने लगा और जोर जोर से अम्मी की चूत को चूसकर गीला करने में लग गया.

सोनी ने दीवार का सहारा लेकर अपनी एक टांग को मेरे कंधे पर रख दिया और मेरे बालों को सहलाने लगी. मेरी बहन मेरे लंड का सारा रस खा गई और उसके बाद भी उसने मेरे लंड को चूसना जारी रखा. कभी हम लड़कियों को कुछ काम होता था तो हम उन तीनों में से किसी एक को भी बता दिया करती थी … या फिर उनको हमारी से कुछ हेल्प चाहिए होती थी, तब वे भी हम लोगों को यह चीज बता दिया करते थे.

एक्स वीडियो डाउनलोड शेयर

जैसे जैसे पापा ने अपना काम मुझ पर डालना चालू किया, वैसे वैसे मैं घर पर कम रहने लगा. ”मेरी बात सुनकर वो मेरी पीठ को सहलाती हुई मुझे चूमने लगी और बोली- हां हर्षद, मुझे भी पता है कि हम दोनों इस पल के लिए कितने दिनों से बेकरार थे. उसके 36 इंच के भारी भरकम मांसल चूचे बिना ब्रा के मेरे सामने नाच रहे थे.

वो बोली- कमाल है यार!मैंने कहा- क्या करूं, मुझसे कोई दोस्ती नहीं करता।वो बोली- ऐसा मत बोलो, अब हम दोस्त हैं।फिर हम बात करते हुए अपनी सीट तक आ गए. अब मेरे होंठ रानू दीदी के होंठों से ऐसे खेल रहे थे, जैसे वो किसी गैर मर्द के साथ खेलने की अभ्यस्त हो.

मैंने देखा कि उसका लंड खड़ा हो गया था और तौलिया के अन्दर लंड ने तम्बू बना दिया था.

मैंने उसकी कमर को कस कर पकड़ लिया ताकि ऐसा ही लगे कि पैर में चोट होने की वजह से ऐसे चल रही है. मेरे सीने को सहलाया, मेरा पेट ऐसे छुआ जैसे किसी मर्द को वो पहली बार छू रही हों. मैंने उसे बिस्तर के बगल में खड़ी कर दिया और उसके बूब्स को जोर-जोर से चूसने लगा.

अब इतना सब कुछ होने के चलते मैं भी मदहोश होने लगा और भाभी को बेतहाशा चूमने लगा. आपा- उम्म अबे साले कुत्ते धीरे चोद मादरचोद … कल के बदले आज ही बच्चों को सारे राज बताएगा क्या!मैं- अब पता चल ही जाने दो कि उनके मामू ने ही अपने बहन के पेट में अपना बीज़ डाला था. उनके शरीर की खुशबू, उनकी नशीली आंखें, उनके रसीले होंठ, उनके गोल सुडौल चूचे, उनकी मटकती हुई विशाल गांड पर तो कई लोग लट्टू हैं.

इसी बीच मैं जिस सर से कंप्यूटर सीखता था, उन्होंने मुझे एक प्राइवेट क्लासेस में पढ़ाने का प्रस्ताव दिया.

बीएफ सुहागरात वाली चुदाई: फिर मोहिनी अर्णव के नीचे की तरफ आयी और उसकी जींस के बटन खोल कर जींस को उसकी टांगों से आज़ाद कर दिया. दो दिन के बाद सुबह 10:00 बजे फिर उसका फोन आया, उसने मुझसे कहा- मेरी स्कूटी खराब हो गई है.

तभी मैं उसके ऊपर 69 की पोजीशन में आ गया और अपना 6 इंच का मोटा लंड उसके मुँह में डाल दिया. दोस्तो, मेरी कहानी में पहले प्यार हुआ, फिर इकरार हुआ और अब इससे आगे का मजा मैं अगले भाग में लिखूंगा. मेरे भाई ने मेरी गांड में शैम्पू लगाया और अपने लंड को मेरी गांड में पेल दिया.

नेहा ने मेरे लंड को चूसना शुरू कर दिया और जल्द ही मैंने उसे अपनेलंड की सवारी का सुखदेना शुरू कर दिया.

मुझे गुस्सा आ गया, मैंने कहा- बहन चोद … तू अपनी माँ चुदा ले! मुझे लंडों की कोई कमी नहीं है!मैंने कह तो दिया पर मेरे पास लंड का कोई इंतजाम नहीं था. हालांकि मैंने उसे अपनी चूत में उंगली करते हुए देखा था और इससे मुझे अंदाजा लग लगा था कि उसको भी चुदाई का मन करता है इसलिए वो उंगली करती है. करिश्मा खुश हो गई और उसने मुझे बताया कि शिमला पहुंच कर एक सरप्राइज भी है.