एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,पुलिस पुलिस वाली सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ एचडी वीडियो गुजराती: एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ सेक्सी, फिर दस मिनट के बाद पापा ने मम्मी को बाहर भेज दिया और अन्दर से कुंडी लगा दी.

बिहार का सेक्सी चाहिए वीडियो में

इसके बारे में मुझे पता नहीं था तो मैंने कुसुम से पूछा- ये लड़की ये क्या कर रही है?कुसुम- ये लड़के का लंड मुँह में लेकर चूस रही है. बीपी सेक्सी पिक्चर झवाझवीमैं अपना पूरा लंड उसकी चूत में अन्दर बाहर करते हुए अपनी बहन को धकापेल चोदने लगा.

मैंने उसको पकड़ कर पहले अपनी गोद में बिठाया और उसके दूध मसल कर उसके होंठों का रस चूसा. सेक्सी पिक्चर के वीडियो हिंदी मेंवो कुछ सेकंड्स के लिए रुक गए और मेरे पेटीकोट के ऊपर से ही मेरे मम्मों को जोरदार तरीके के दबाने लगे.

मैं चोदते हुए पीछे से ही संगीता मैम के दोनों मम्मों को जोर जोर से मसल रहा था.एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ सेक्सी: थोड़ी देर दर्द झेलने के बाद मैंने आत्मसमर्पण कर दिया क्यूँकि मेरे पास और कोई रास्ता भी नहीं था.

मीनू की चूचियां बहुत टाइट थीं, इतनी टाइट चूची मैंने आज तक नहीं देखी थीं.हालांकि उसकी चुत में कुलबुली होने लगी थी तो उसे अय्यर के साथ अच्छा लगने लगा था.

याक्स याक्स याक्स सेक्सी - एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ सेक्सी

जिमी ने फोन करकर अपने कमरे में खाना हल्का मंगवाया, उसे दूसरी बार चोदना था.फिर मैं अपने एक हाथ की उंगली से उसकी चुत चोदने लगा था और दूसरे हाथ से उसके चुचे दबा रहा था.

मैंने नशीली आंखों से उसे देखा और सवालिया नजरों से देखा, तो उसने मेरे कपड़े मेरी तरफ कर दिए. एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ सेक्सी जिस दिन मेरी इवनिंग शिफ्ट हुआ करती तो रात एक बजे मैं ऑफिस से निकलता था.

अब्बू आप आज मेरी बुर फाड़ ही डालो … और मेरी बिल्कुल कुंवारी कोरी प्यासी बुर को फाड़ फाड़ कर इसमें से खून निकाल दो अब्बू … आप मेरे गर्भ में अपना एक बच्चा भी डाल दो.

एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ सेक्सी?

मैं- जानू, बच्चों का ही ख्याल रखोगी या मेरा भी?बुआ का भी रिप्लाई आ गया- नहीं, तू सो जा … रोज तो अकेला सोता है. रेनू मेरी मौसी की बेटी है … मतलब मैंने अपनी ही मौसेरी बहन के साथ मज़े किए थे. फिर उन्होंने अपने कपड़े भी उतार दिए और अपना लंड मेरे मुँह में दे दिया.

मेरी बहन ने उस लड़के से कहा- ये क्या बदतमीजी है … छोड़ो मुझे, मैं शोर मचा दूंगी. मेरे चूसने से उसकी कामुक आंह निकल गई और वो अपने हाथ से मुझे दूध पिलाने लगी. जल्दी ही हम दोनों नंगे हो गए और एक दूसरे के लंड चूत चाट कर गर्म करने लगे.

पूर्णिमा जी मेरी तरफ देखने लगीं तो मैंने अपने लंड को पैंट के ऊपर से ही सहला दिया. साले मैं पेशाब कर दूंगी तुम्हारे लंड पर … मेरी पेशाब भी बहुत गर्म है भोसड़ी के. फिर जब मैंने उसकी फेसबुक खोली, तो मैंने देखा कि वहां भी वो कई फीमेल आईडी से बातें करता है.

मैंने पूछा- क्यों तेरा खसम नहीं चोदता तुझे?वो बोली- तेरे लंड से आधा लंड है उसका … वो तो किसी तरह से काम चला रही हूँ वरना अब तक तो कभी की मर जाती. उनके जाने के बाद मैंने सोचा कि अभी मैं घर में अकेला हूं, आज हॉट वीडियो देखा जाए.

चूँकि मेरे पास और पैसे नहीं थे तो मैंने गांड मारने का विचार त्याग दिया और फिर से उसकी चूत में लंड डाल दिया और हॉट कॉलगर्ल की चुदाई करने लगा.

अब मैं भी नीचे से अपनी गुदगुदे गद्देदार चूतड़ उछाल उछाल कर अपने लंड को दीपक की गांड में जड़ तक घुसा कर उसे चोदने लगी थी.

और उससे ज्यादा अफ़सोस यह था कि ये सब मेरी एक चुतियापे की वजह से हो रहा था. दोस्तो, जो लोग दिल्ली में रहते हैं, वो ये बात जानते होंगे कि फ्लैट में रहना कितना आरामदायक होता है. तभी पता नहीं मुझे क्या सूझा … मैं आपा के आगे आ गया और अपना लंड उनके मुंह की पास कर दिया.

चड्डी को बिना उतारे ही भाभी को लिटा कर उनकी योनि में उंगली की तो गर्म भट्टी से मानो उसका लावा मुझे पुकार रहा था. वो बोली- आप क्या कर रहे हो?मैंने कहा- आपा आओ चलो ना, एक बार और करते हैं. तब उसने खुद से बोला- हाय कैसे हो?मैंने भी हंस कर जवाब दिया- जी मैं अच्छा हूँ, आप कैसी हैं?उसने कहा- जी, मैं भी एकदम अच्छी हूँ.

उधर मुझे दो लड़के दिखे जो चारों ओर देखते हुए गन्ने के खेतों में घुस गए.

उनके पति ने लंड डाल कर चोदने का प्रयास किया मगर वो लंड चुत में डालते ही झड़ गया. आप लोगों को क्या बताऊं दोस्तो, उसकी तेज़ चलती सांसें जब मेरे चेहरे पर मुझे महसूस हुईं, तो मेरे दिल की तो जैसे धड़कने ही बढ़ गईं. मैं बोला- तूने ये सब और किसी के साथ भी किया है?वो बोली- हां गन्नू के बापू मुझे उठा कर खेत में ले जाकर ये सब करते हैं.

मैंने उसकी गांड भी मारी, उसकी गांड चुदाई की कहानी मैं बाद में बताऊंगा. वो मेरी तरफ मुड़ी और बोली- अच्छा यहां पर आपकी सीट थी, सॉरी मुझे पता नहीं था. फिर मुझे चुप कराने लगी और मुझसे बोली- कि अम्मी कहाँ है?तो मैंने उन्हें बता दिया कि वह बराबर वाली आंटी के साथ बाजार गई हुई हैं.

मैंने कहा- तुम चिंता मत करो मैं तीन दिन से उस जगह की रेकी कर रहा हूँ.

प्यारे भाइयो और भाभियो, हिन्दी में चुदाई की कहानी में आपका स्वागत है. उसने मेरी पीठ पर नाखून से खरोंच भी दिया लेकिन मैंने फिर अपनी पुरानी तकनीक मतलब किसिंग चालू की और उसकी चूची को मुँह में भरकर चूसता रहा.

एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ सेक्सी फिर हमने खड़े होकर एक दूसरे को चूमा और साथ में नहाकर दोनों बाथरूम से बाहर निकल आये. मैंने कहा- आपको मजा तो बहुत आया है ना कि नहीं आया?मामी ने हंस कर कहा- हां, पर तुम्हारे बालों ने बहुत दिक्कत दी.

एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ सेक्सी थोड़ी देर में मेरा पानी निकलने को हुआ तो मैंने कहा- जानेमन तुम्हारा लस्सी पीने का टाइम हो गया है, नीचे आ जाओ. मेरी आंख खुली, तो मैंने देखा कि मेरे मुँह की तरफ मेरी बहन के चुचे थे.

मैंने अपनी नंगी नर्म चिकनी संगमरमरी जांघों को अलग किया और अपने तने लंड को मुठियाती हुई बोली- आजा प्यारे दीपक … मेरा लंड तैयार है.

हिंदी बीएफ बीएफ हिंदी बीएफ हिंदी

मैंने खुश होकर कहा- क्या वो आ रही है?बुआ बोलीं- हां उसका फ़ोन आया था कि वो तुमसे मिलना चाहती है. फिर वो जोश में आकर बड़बड़ाने लगी- कुत्ते साले … अब चुचे ही मसलता ही रहेगा या आगे भी बढ़ेगा?मैंने उसकी एक ना सुनी और उसकी ब्रा पकड़ कर फाड़ दी. तो भाभी बोलीं- मुझे तो तुम बड़े शरीफ लगते थे … न किसी से कोई बात करते हो, न ही कोई बोलचाल लेकिन हवस तो बहुत है तुममें!मैंने कहा- भाभीजी, आप हो ही ऐसी चीज कि कोई न चाहे तो भी आपके जिस्म का दीवाना हो जाए.

उस लड़के ने पूछा- भाई इतनी रात में अकेले ऐसे क्यों घूम रहा है?मैंने कहा- कुछ नहीं, बस ऑफिस से घर जा रहा था. लंड थोड़ा सा चुत से बाहर आया, मगर अगले ही पल एक जोर के झटके के साथ दुबारा भाभी की बच्चेदानी से जा टकराया. वो मेरे लंड को देख कर बोली- ये मेरी पिक्की में कैसे जाएगा?मैंने कहा- तुम बस देखती जाओ कि कैसे ये तुम्हारी बुर में जाता है.

फिर जैसे ही मम्मी पीछे मुड़ीं तो उनका कुर्ता चुचियों के पास गीला सा था, जिसका कारण मुझे पता था.

वैसे तो मेरी गर्लफ्रेंड है और मैंने उसको कई बार चोदा है लेकिन अभी लॉकडाउन की वजह से मैंने उसको काफी समय से नहीं चोदा है. मैंने जाकिरा को इशारा किया तो वो मेरी अलमारी से लंड को ताकतवर बनाने वाले तेल की बोतल उठा लाई और मेरे लंड की मालिश करने लगी. शुरू में जब पहले एक दो बार जब मैंने किस किया, तो उसने कोई जवाब नहीं दिया.

वो अलग हट गईं और मना करने लगीं- दर्द हो रहा है, मुझे अपनी गांड नहीं मरानी. उसकी शादी के बाद पहली रात को उसके पति ने उसे कैसे चोदा, उसी लड़की के मुख से सुनें. मेरी अम्मी अपनी चूत को लंड के ऊपर रगड़ते हुए बोलीं- नहीं, मैं नहीं उठूंगी … ऐसे ही अपना लंड मेरी चूत से चिपका रहने दो.

5 मिनट ऐसे करने के बाद उसने मुझे जमीन पर उतार दिया और मुझे बिस्तर पर हाथ रखकर घोड़ी बनने को बोला. मामी को बेड पर लेटा कर मैंने कहा- आज मैं आपको अपनी मर्दानगी से रूबरू करवाऊंगा … बस अब आप और प्यासी नहीं रहेंगी.

लगभग 10 मिनट बाद मेरा पानी निकलने को हुआ तो मैंने और जोर जोर से झटके देने शुरू कर दिए. मेरा लंड भैया से मोटा है, तो मेरा लंड उनकी चुत में ठीक ठाक से फंस फंस कर अन्दर बाहर हो रहा था. प्रतिस्पर्धी ने हथियार डाल दिए थेउसके पैर खुल चुके थे क्योंकि सिपाही ने दरवाजे पर दस्तक दे दी थी.

आपा ने कहा- हाँ कमीने, तुम तो बस जब देखो मेरी चूत में लंड डालना चाहते हो.

किस ग्राहक को कैसी लड़की भेजने से काम निकल सकता था, उसे सब मालूम था. आपा को पीछे से पकड़कर उनके बूब्स दबाकर मैंने कहा- आपा यार, चुदाई का मन कर रहा है. फिर मैंने धीरे से उनकी चड्डी को सामने से नीचे किया और उनका लंड अब मेरे सामने आ गया जो कि पूरा ढीला और सोया हुआ था.

‘क्यों बेगम बनोगी न … मेरी जायदाद!’उसने मेरे छाती पर सर रखा और हाथ को पीछे घुमाते हुए लंड पर हाथ फेरते हुए कहा- तुम्हारा ये तैयार हो, तो जरूर. अब आगे हॉट कॉल गर्ल की कहानी:अगले 3 दिन तक आपा और मैं जाने की तैयारी करने लगे.

जैसे ही मैं उसके पास पहुंचा, उसने मुझसे कहा- सलीम, तू बता तू कितने रूपए दे सकता है?तो मैंने उससे कहा- मैं ज्यादा से ज्यादा 1 हजार दे सकता हूँ!यह सुनकर पंकज ने कहा- यार 1 हजार तो बहुत कम हैं. अब आगे Xxx फैमिली स्टोरी हिंदी में:मैंने देर ना करते हुए उनके बाल पकड़ लिए और अपना लंड उनके मुँह में देने की कोशिश करने लगा. विशाल ने उससे कहा- मेरी जान इसके बदले में मुझे क्या देगी?तो आपा ने कातिलाना हंसी हंसते हुए कहा- जो तुम्हें चाहिए, वह दे दूंगी,यह सुनकर विशाल ने कहा- मेरी जान, तेरी चूत मारने का बहुत मन कर रहा है.

एक्स एक्स एक्स पंजाबी बीएफ

मैं तुझे ही याद कर रही थी। मैं मम्मी को बता रही थी कि उस दिन मैं बाजार में मिली।फिर आँटी किचन में चली गयी हमें कहकर- बेटा तुम दोनों बात करो, मैं चाय नाश्ते का प्रबंध करती हूँ।हम लोग बस कॉलेज लाइफ के बारे में चर्चा कर रहे थे.

मैंने पकड़ कर उसे अपनी जांघों पर बिठाया, पर चूत में उंगली चलानी जारी रखी. मेरी दोनों चूचियों को चूसने के बाद हम दोनों एक दूसरे की आंखों में देखने लगे. वो खाट पर निढाल पड़ी हुई थीं और मैं उनको पेलने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहा था.

थोड़ी देर बाद भाभी ने मेरे लौड़े को मुँह में ले लिया और चूसने लगीं. तो दोस्तो, बताइए कैसी लगी आपको यह फ्रेंड वाइफ सेक्स स्टोरी?मुझे मेल जरूर करिएगा. देसी बीपी सेक्सी फोटोमैंने बाहर आकर फैजान को कुछ पैसे दिए और टॉफ़ी लेकर पड़ोस में उसके दोस्त के साथ खेलने जाने के लिए कह दिया.

अगर तू अपने घर में ऐसे रोएगी और तेरे मम्मी पापा ने देख लिया … तो और प्राब्लम हो जाएगी. जब अगली बार उसकी माहवारी नहीं हुई, तो वो खुश हो गई और ये बात उसने अपने पति को भी बता दी.

वो आकर नसरीन आपा के पास बैठ गया और उसने अपना हाथ नसरीन आपा की जांघों पर रख दिया और उसको धीरे-धीरे सहलाने लगा. अब हानिया सिर्फ नीली ब्रा और पैंटी में थी और वो सच में बहुत गज़ब लग रही थी. लेकिन जो भी हो जो मजा सील पैक लड़की के साथ सेक्स करके उसकी सील तोड़ने में आता है, वैसा मजा किसी और में नहीं आता है.

मामी- ओके, पर तुम बाथरूम में ये सब क्यों कर रहे थे?मैं- मामी, मेरी कोई जीएफ नहीं है न इसलिए … आपकी तो शादी हो गई है, आपको अब क्या समझ आएगा कि मुझे क्या दिक्कत हो रही थी. वो परिवार की एक शादी में शामिल होने आई थी और यहीं से हमारे बीच वो सब शुरू हुआ जिसके लिए मैंने ये लेख लिखा है. वो सब क्या था, इसे मैं अपनी हॉट मॉम पोर्न कहानी के अगले भाग में लिखूँगा.

मुझे पता चल गया था कि ऋतु मेम अभी सीलपैक माल हैं और उन्होंने कभी ना तो सेक्स किया है … और ना ही चुत में उंगली डाली है.

मेरी बातचीत से वह काफी खुश थी और मैंने भी उससे पूरी शिष्टाचार से बात की थी. मैंने जैसे ही चीखने के लिए मुँह खोला, संतोष ने अपना लंड मेरे मुँह में ठूंस दिया और मेरा मुँह चोदना शुरू कर दिया.

मैं एक 20 साल का औसत देहयष्टि का लड़का हूँ और मैं बहुत ही खुले व हंसमुख मिज़ाज का लड़का हूँ. आज एक कमसिन सीलपैक चुत चुदाई का आनन्द और भाभी जी के साथ का आनन्द दोनों ही अपनी अपनी जगह अव्वल थे. उनकी चूचियों का आकार खरबूजे के जैसा हो गया था और वो दोनों एकदम लाल हो गई थीं.

उन्होंने तुरन्त उसे अपने मुँह के अन्दर डाल लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगीं. सुबह मेरी बीवी ने मुझे चूमा और बोली- सच में कल आपके दोस्त ने मेरी फाड़ कर रख दी, मैं ऐसी ही चुदाई चाहती थी. लेकिन उसने यह शर्त रखी कि वो अभी और पढ़ना चाहती है और पढ़ाई के बाद उसे जॉब करना है.

एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ सेक्सी मैं सोफे पर बैठ कर देख रहा था, मैं उठा और उसके पास जाकर उसका पल्लू खींच लिया. मैं उनके होंठों को बड़े प्यार से चूमने लगा और संगीता मैम को आगे की ओर सरका कर उन्हें गोद में उठा कर चोदने लगा.

बीएफ सेक्सी बंगाली में

ससुर का लठैत कल्लू एक मजदूर की लड़की के साथ सेक्स भरी हरकतें कर रहा था. थोड़ी देर बाद जब देखा कि सभी सो गए हैं तो मैं धीरे से उठा और ऊपर भैया और भाभी के कमरे के बाहर आकर उस खिड़की पर खड़ा होकर अन्दर झांकने लगा. उस रात को फिर से भाभी की फोटोज देख देख कर ख्याली पुलाव बनाते हुए मुठ मारकर सो गया.

भाभी को मजा आ रहा था उसकी तेज सांसें बता रही थीं कि ये अब गर्मा गई है. शाम को जब मैं उठा तो देखा कि मैं नंगा लेटा हुआ था और सनोबर अपनी अम्मी के साथ चली जा चुकी थी. डॉगी की सेक्सी चुदाईवो बोली- आप क्या कर रहे हो?मैंने कहा- आपा आओ चलो ना, एक बार और करते हैं.

वरना जसवंत भैया मेरी अम्मी को सारी बात बता देंगे और अम्मी मुझे जान से मार देंगी.

यार उसका चेहरा तो मैं अभी भी नहीं भूल पाता हूँ, उसकी वो कातिल मुस्कान और रसीले होंठों की याद मेरा लंड खड़ा कर देती है. वो बोली- बात सिर्फ चूत चुदाई की तय हुई है, गांड के 5000 अलग से लगेंगे.

मेरी पिछली कहानी थी:भाई की शादी में किरायेदार से चुत चुदाईआज जो मैं आपको सेक्स कहानी बताने जा रहा हूँ, वो बिल्कुल सच है … और सच इसलिए है क्योंकि ये सेक्स कहानी मेरी बीवी ने खुद मुझे बताई है. मुझे लगता था कि मुझे देख कर हर कोई मेरी चुत चोदने के बारे में सोचता ही होगा. वो बैगन अभी मॉम की चूत में दो इंच तक अन्दर घुसा था कि मॉम की जोर से सिसकारी निकली.

उसने जोर से आवाज निकाल कर कहा- आह ये क्या कर रहा है भाई … धीरे से कर!लेकिन मैं नहीं माना और उसकी गांड में लंड आगे पीछे करने लगा.

उन्होंने तभी घूम कर खिड़की की तरफ को मुँह किया तो मैं घबरा कर वापस आ गया. कुछ देर बाद मैं मामी के पास से उठ गया और उनसे कहा- मैं अभी जा घूम कर आता हूँ. वो- आ आ … ओह या चाटो अपनी बहन की चूत भाई … और चाटो … मैं बस आने वाली हूँ.

भाई बहन की सेक्सी हिंदी चुदाईक्या अप्सरा सी लग रही थी वो … मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था कि राजश्री इतनी सुन्दर है. मैं उन सबके बीच घुटनों के बल बैठी हुई थी और वो सभी मेरे चारो तरफ खड़े होकर अपने अपने लंड सहलाने लगे.

बंगाली सेक्सी वीडियो बीएफ एचडी

वासना और हवस से सारी रंडियां पूरी नंगी मुझसे लिपट चिपक कर चुम्मी कर रही थीं. मैंने सलीम को बोला- मेरे साथ चलो!तो वो बोला- मैं जाकर क्या करूंगा?मैंने उससे कहा- यार, मेरा यह पहली बार है, तो चाहे तू मुझे छोड़कर वापस आ जाना!सलीम मान गया. घर में ज्यादा चारपाई ना होने की वजह से हम सारे मर्दों को जमीन पर ही सोना पड़ा.

भाभीजी- अच्छा ऐसा क्या … तो चलो दिखाओ तो अपना नाग?मैं- कहां घर आकर?भाभीजी- पहले फ़ोटो. बेड में जाते ही मैं रानी के रसभरे होंठों को चूसने लगा और वो मेरा साथ देने लगी. मेरे मामा गांव में खेती करते हैं और वो खरबूज और तरबूज की खेती भी करते थे.

मैं धीरे से उनके पास आ गया और कहा- क्या हुआ भाबी … आप ऐसी आवाज क्यों कर रही हैं?भाबी मुझे करीब देख कर एकदम से शांत हो गईं और घबरा गईं. फिर केस चला तो डॉक्टर पर कोई केस बनता ही नहीं था तो उस डॉक्टर को और नर्स समेत को सभी को जमानत मिल गई. फिर भी आप पूछ रही हैं कि शिवानी को पता है या नहीं!तो उसने कहा- ठीक है, आ जाइए.

सलीम के बहुत मनाने के बाद मैंने उसको बोला- अच्छा चल ठीक है, इसके बारे में मैं सोचूंगी. मुझे अब चुदाई का चस्का लग गया था इसलिए मैं अपनी शादी होने तक हर हफ्ते में एक बार योगेश से जम कर चुदाई करवा लेती थी.

मैंने नींद में उस रंडी को चोदने के लिए जैसे ही उसके चुचों को मसला तो मेरी मम्मी सिसकियां भरने लगीं.

ससुर ने अपने हाथ आगे लाकर अपनी बेटी के दूध पर हाथ रखे और धीरे धीरे से मम्मे दबाने लगे. लड़कों लड़कों की सेक्सी फोटोआपको सेक्स वर्कर लाइफ स्टोरी कैसी लगी, कृपया[emailprotected]पर मेल लिखें. सेक्सी फुल बॉडी मसाजनसरीन आपा कॉलेज में पढ़ती थी और रोज सुबह अच्छी तरह से तैयार होकर बुरका पहनकर कॉलेज जाती थी. तभी उनके भोसड़े में सुरसुरी हुई और उन्होंने मेरा मुँह भोसड़े में दबा दिया.

उस दिन भी मुझे आवाज आई- उह आह … उह आह … आराम से करो … फुद्दी में डाल लो यार ,,, गांड में दर्द होता है.

मैंने एक हाथ अपनी पैंट में लंड को सहलाने के लिए लगा लिया और एक हाथ से उसकी गांड में हाथ फेरता रहा. उस दिन दोपहर में मैं प्रिया भाभी को अपने लंड से धकापेल चोद रहा था तो शालिनी चुदाई की आवाज़ सुनकर बेडरूम में आ गई. अब मैंने उनकी चुत को उंगली से गर्म करके उन्हें झाड़ दिया और उन्हें देखने लगा.

जब रात की शिफ्ट हुई तो अब्बू रात 9 बजे चले ही जाते हैं, तो उस हफ्ते मैं रात 12-1 बजे तक पढ़ाई करूं और सुबह 9 बजे सोकर उठ जाऊं. उसने मुझे आंख मारी और कमरे का दरवाजा बंद करके मुझे वासना से देख कर बोली कि आज आप हम दोनों को एक साथ चोदिये. उससे रहा नहीं जा रहा था, वो बोलने लगी- आंह सोनू अब और मत तड़फाओ … जल्दी से अन्दर डालो.

ब्लू बीएफ पंजाबी

उसमें व्हाट्सैप पर बहुत सी लड़कियों के नंबर थे, जिनसे वो बहुत फ्लर्ट करता था. मेरा हाल बहुत बुरा होता जा रहा था और समझ में नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं और उससे कैसे कहां मिलूं. मौसम की गर्मी और उसकी चुत की गर्मी के कारण मैं इतना ही टिक पाया और तेज झटकों के साथ ही मैं थोड़ी देर बाद झड़ गया.

उसने कपड़े से अपनी चूत पर लगा वीर्य साफ कर दिया और मेरे बाजू में लेट गई.

अब आरिफा और वाजिहा मुझसे प्यार से और हवस से चिपक लिपट कर चुम्मी करने लगीं.

मैं उन्हें रंडी कह कह कर लंड चुसवा रहा था और वो पूरा लंड मुँह में लेकर बाहर निकाल रही थीं. मैंने भी वाजिहा के सब कपड़े उतार कर फेंक दिए और उसको पूरी तरह से नंगी कर दिया. सुहागरात की सुहागरात सेक्सीलगभग 2 महीने बाद आपा का कॉलेज ख़त्म हो गया तो उन्होंने एक दिन अम्मी से जॉब की बात की.

मेरे दोनों हाथ उसकी जाँघों पर थे और आँखें बंद!मैं परम आनंद की तरफ बढ़ रहा था।मैंने उसके धक्कों को अपने हाथ का सहारा देकर और तेज़ किया. मैंने एक हाथ अपनी पैंट में लंड को सहलाने के लिए लगा लिया और एक हाथ से उसकी गांड में हाथ फेरता रहा. उधर पीछे से मैं आपा की कमर को चाट रहा था और हाथों से आपा के बूब्स दबा रहा था.

मैं लड़कियो, भाभियो … और लंड वालों से गुजारिश करूंगा कि उस सेक्स कहानीएक गलत कॉल ने चुदाई का मजा दिलवायाको भी एक बार जरूर पढ़ें. उसने मेरे दोनों मम्मों को खींच खींच कर चूसा और मेरे मम्मों को पूरा लाल कर दिया.

मैंने मन में सोचा कि हां आपने लंड चूस कर अच्छे से सफाई कर दी थी मॉम, मैंने देखा था.

आपा अपना मुंह नहीं खोल रही थी तो मैंने अपना लंड पकड़ कर उनके होंठों पर सहलाना शुरू कर दिया. उसकी चूत बहुत कसी हुई थी तो पहले शुरुआत में लंड अंदर बाहर करने में थोड़ी परेशानी हुई थी. अब आगे हॉट वाइफ की चुदाई कहानी:सामने का सीन देख कर जेठालाल एकदम से चौंक गया और उसने चिल्ला कर कहा- ये क्या हो रहा है अय्यर? मेरी जान बबीता को छोड़ दे साले.

रितु सिंह की सेक्सी वीडियो प्रिया मेरा जल्द से जल्द साथ देना चाहती थी, उसने मेरे भी कपड़े पूरे उतार दिये, हम दोनों अब नंगे हो गए. वो फिर से चार्ज हो गई थी और गांड हिलाती हुई चूत चुदाई का मजा ले रही थी.

यदि वो मुझे डांट देती या प्यार भरी नजरों से देख लेती तो मुझे आगे बढ़ने या पीछे हटने में निर्णय लेने में सहूलियत हो जाती. चल घोड़ी बन जा, आज तेरी गांड मारूँगा!मेरा इतना कहना ही था कि आपा घोड़ी बन गयी. वो बोली- तो बताओ साहब मैं फिर क्या करूं?मैंने बोला- कोई बात नहीं, तुम परसों आ जाना.

मोटे लंड का बीएफ

यह सुनकर मैं ख़ुशी से पागल हो गया क्यूंकि आज मुझे ज़िन्दगी में पहली बार चूत मिलने वाली थी. भाभी जी- क्या कहना चाह रहे हैं … क्या वो सीधे मुझसे नहीं कह पा रहे हैं?कलावती जी- भाभी जी, बात कुछ ऐसी है कि मैं भी आपसे सीधे सीधे कहने में हिचक रही हूँ. उसके पूरे जिस्म पर से पूरे कपड़े उतार दिए और उसको पूरी नंगी कर दिया.

फिर मैं कपड़े पहन कर रोहन के कमरे में लौट आया और भाभीजी मेरे लिए संतरे का रस लेकर आईं. पहली बार तो मुझे कुछ हिचकिचाहट हुई, पर काम भी जरूरी था तो मैंने हां कह दी.

फिर संगीता मैम नीचे को सरक कर मेरा सुस्त लंड अपने मुँह में दबाने लगीं.

गरम लड़की की गोरी चूत की पहली चुदाई करने का अवसर मुझे मिला ट्यूशन मैम के घर में! उस दिन मैम नहीं थी, मैं उस लड़की को गणित पढ़ा रहा था. हम दोनों निढाल हो गए और एक दूसरे को बांहों में भरकर प्यार करने लगे. इससे थोड़ी ही देर में बबीता बहुत गर्म हो गई और अय्यर का लंड पकड़ कर सहलाने लगी.

जैसे ही मैं घर पहुंचा, पहुंचते ही मैंने देखा कि घर पर सिर्फ मैं और आपा थी. जब हम उसके गांव पहुंचे तो मुझे थोड़ा अजीब लगा क्योंकि वहां सब उसके सम्प्रदाय के थे … बस मैं ही एक अलग था. मेरी बातचीत से वह काफी खुश थी और मैंने भी उससे पूरी शिष्टाचार से बात की थी.

मगर अब्बू नींद में थे तो उन्होंने अम्मी को को रेस्पांस नहीं दिया था.

एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ सेक्सी: मैंने मन बना लिया कि जब इसका मन है ही, तो आज ही इसकी चूत चोद ली जाए. वह अपने लंड को छुपाने लगा और शायद उसे बिठाने के लिए वो मुठ मारने बाथरूम की तरफ चल दिया.

फिर मैंने उसकी ब्रा को खोल दिया और बारी बारी से अपनी बहन रानी के दोनों मम्मों को चूसने लगा और दबाने भी लगा. मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था लेकिन मेरी भी वासना जाग उठी और मैंने उसके होंठों के ऊपर अपने होंठ रख दिए. पर ठकुराईन की चूत की गहराई और चौड़ाई मैंने बढ़ा रखी थी, तो उसे दर्द नहीं हुआ.

कुछ दिन बाद मेरा काम भी वहां से खत्म हो गया तो मैं वहां से वापिस घर आ गया.

अब वह आपा के मुंह में धक्के देने लगा क्योंकि जसवंत का लंड मेरे लंड से काफी ज्यादा मोटा था. वो नाखूनों से मेरे हाथ को नौंचने लगी, तो मैंने उसकी कमर पर हाथ डाल कर अपनी तरफ खींच लिया. मैंने उनसे कहा- मामी, क्या मैंने कुछ ग़लत बोल दिया है आपको, आप उदास क्यों हो गईं … मेरी बात बुरी लगी हो, तो सॉरी.