मुसलमानी सेक्सी बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,लड़की को सेक्सी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

गुजराती सेकसी विडियो: मुसलमानी सेक्सी बीएफ फिल्म, मैंने उसकी चूत मैं टोपा फंसाया और लेट कर उसके हाथों को अपने हाथ में पकड़ लिया.

सेक्सी वीडियो में चोदते हुए

उसके भूरे निप्पल पूरे टाइट हो गए थे और मेरा लंड भी फूलकर औकात से ज्यादा बड़ा हो गया था. बीपी सेक्सी वीडियो सुहागरात वालीसुसर जी को चोदते हुए करीब 2 मिनट ही हुए थे कि उन्होंने अपना सारा माल मेरी चूत में उड़ेल दिया.

यह बात सुनकर मैं बोला- मौसी, कसम से आपकी चूत मारकर मैं तो धनी हो जाऊंगा. खुला सेक्सी पंजाबीमैंने उसकी आंखों में देखते हुए, अपना हाथ ले जाकर उसकी चुन्नी सीने पर से हटा दी.

जब दो लंड साथ चुदाई कर रहे हों, वो भी एक ही लड़की की चुदाई हो रही हो, तो वो चाहे कितनी भी साइज के लौड़े हों, पर आखिर में हार लड़की की ही पहले होगी.मुसलमानी सेक्सी बीएफ फिल्म: थोड़ी देर बाद अदिति के धक्कों से मैं भी कामुक हो गया और नीचे से अपनी गांड उठाकर अदिति को साथ देने लगा.

हम दोनों बड़ी बेताबी से एक-दूसरे को चूमने लगे और जमाने भर की सुधबुध खोकर संभोग में लीन हो गए.इससे मैडम मदमस्त हो गयीं और मुझसे बोलीं- अब उंगली निकाल कर सकिंग करो … बहुत मजा आ रहा है.

हिंदी सेक्सी व् - मुसलमानी सेक्सी बीएफ फिल्म

चुदाई के बाद हम तीनों को खूब जोरों की भूख लगी थी तो एक बाबा ने हम सबके लिए खाना बनाया.धीरे धीरे मालिश करते हुए अब उसने वीरू का सीना, पीठ, गर्दन सब तेल से चमका दिया।इस दौरान जब भी मौका मिलता था, वीरू उसके चूचों को आँखे फाड़-फाड़कर देख रहा था और शब्बो चाची भी अपने यौवन को वीरू के सामने परोस रही थी.

उसकी समझ में आ गया कि लौंडा मस्त हो गया है; वो गांड उठा कर अपनी चूत में मेरी उंगली घुसवाने लगी. मुसलमानी सेक्सी बीएफ फिल्म मैंने उसे समझाया और बताया कि मैं अपनी गारंटी पर अधिकतम 30 लाख तक का लोन पास करवा सकता हूँ लेकिन ब्याज की दर थोड़ी बढ़ जाएगी.

नमस्कार दोस्तो, उम्मीद है आप सभी ठीक होंगे और अपने अपने तरीक़े से इस सर्दी का मज़ा ले रहे होंगे.

मुसलमानी सेक्सी बीएफ फिल्म?

मैंने उसे अपनी तरफ मुँह करके सीधा लेटने को कहा और मैं उसकी एक टांग ऊपर उठा कर उसकी चूत में फिर से लंड पेल कर फकाफक चोदने लगा. ज्योति- हां दीदी, मैं भी एक दिन बिना लंड के नहीं रह सकती और आकाश बोल रहे हैं कि एक हफ्ता के लिए बाहर जा रहे हैं. क्या मेरी रेखा से फिर मुलाकात हुई या नहीं … मैंने उसके साथ चूत चुदाई का मजा पुनः लिया या नहीं? ये मैं आपको जरूर बताऊंगा.

आप रहने दीजिए, मैं उनसे बात करके कुछ करती हूँ।यह बोल माँ वहाँ से मुखिया जी के घर को निकल गयी. कुछ ही देर के दर्द के बाद भाभी को मजा आने लगा और वो लंड की चुदाई से पागल हो उठीं. उसकी ऊपर उठती गांड बता रही थी कि उसे भी मेरे लौड़े से चुदवाने में मजा आ रहा है.

जो पति अपनी पत्नी की जरूरतों को पूरा ना करे वो किस काम का पति?फिर मैंने मौसी की घूँघट उठाया और उनके होंठों पर किस करने लगा. मैंने उससे कहा- तुम वहीं रुको, मैं तुम्हें लेने के लिए पहुंच रहा हूँ. मैंने रेखा की चूत की सील कैसे तोड़ी, आप इस सत्य यंग गर्ल Xxx स्टोरी का आनन्द लें.

मेरी आंख शाम को 7 बजे खुली, तो देखा कि दोनों बाबा मेरे दोनों चूचे पकड़े सो रहे थे. ‘आह उम्म्ह … मुझे छोड़ दो मैं तुम्हारे लंड नहीं झेल सकती … अहह … फाड़ दी मेरी कमसिन चुत हाय … याह … भैया!’वो लगातार बिलबिलाती रही.

मैंने उसका भी हाथ पकड़ा और उसे उठाते हुए उसे घुटनों के बल बैठा दिया.

हम दोनों अंदर जाने लगे।तभी मैंने उसका हाथ पकड़ते हुए कहा- तुम्हें डर नहीं लगता ऐसी जगह पर?उसने न में सिर हिलाया.

वो बोली- रुचिका का इतना खून बहा, पर उसके रोने की आवाज सुनाई नहीं दी. प्यारी पाठिकाओं को बताने के लिए यदि मैं अपने लंड के बारे में बात करूं, तो मेरे लंड महाराज जी काफी लंबे और मोटे हैं. चूंकि मैं सोफे पर बैठा था और उससे नीचे था, तो मुझे उसके अंडर आर्म्स दिख गए.

मेरी चूत ओर गांड एकदम टाइट थी क्योंकि मैंने आज से पहले अपनी गांड में कभी लंड नहीं लिया था और चूत इसलिए टाइट थी क्योंकि मेरे दोनों बच्चे सर्जरी से हुए थे, तो चूत ढीली नहीं हुई थी. कुछ देर बातें करने के बाद मैंने कहा- तो चलो अब जो करने आए हैं, वो करते हैं. अब मुझसे चला भी नहीं जा रहा था क्योंकि मेरी चूत और गांड में दर्द और जलन बड़ी तेज़ हो रही थी.

आधी सांकल खोल कर मैं कुछ सोच कर रह गया और फिर से चुपके से ऊपर चला गया.

वो सिर्फ काम में ही दिमाग लगाए रहता है … बहुत अच्छा हुआ कि तू आ गया. मेरा लंड उसके गर्भाशय के मुँह पर अपने वीर्य की पिचकारियां मारने लगा. मेरा लंड पूरा खड़ा होने बाद वो हैरान हो गयी कि और बोली- आज मेरी चूत का क्या हश्र होगा, मुझे पता नहीं.

वो मेरे सामने केवल एक पैन्टी में ही थी और मैं भी केवल अंडरवियर में ही था. अन्तर्वासना के प्रिय पाठकों को एक बार फिर से आशिक़ राहुल का नमस्कार. भाभी मेरे मुँह को एक चूत समझ कर चाटने लगीं और अपनी जीभ अन्दर देकर मुझे चूसने लगीं.

वो हंस कर बोली- नहीं तो, ऐसा क्यों कहा?मैंने कहा- आज बहुत सेक्सी लग रही हो.

भाभी एकदम ऐसे चीख पड़ीं, जैसे उनकी चूत में गर्म सरिया दाखिल कर दिया गया हो. फोन लेने के लिए रूम की तरफ बढ़ते हुए मैंने फ्लैट के मुख्य दरवाजे की कुंडी पर नजर डाली, वो भी सही से बंद थी.

मुसलमानी सेक्सी बीएफ फिल्म मुझे देख कर वो जोर से मुझ पर चिल्लाई- घूर घूर कर क्या देख रहे हो?उसके चिल्लाने से मैं होश में आते हुए बोला- अरे, मैं तो बस शिराज से मिलने आया था, आप उसकी बहन हो?अब तक अंधेरे से मैं उजाले में आ गया था और उस जवान लौंडिया ने मुझे देख लिया था. मैं अपने शरीर की अच्छी देखभाल करता हूँ क्योंकि अच्छा शरीर ही इस काम में सफल होने का कारण है.

मुसलमानी सेक्सी बीएफ फिल्म मैंने नीरजा को लेटा दिया और दीदी ने तेल लेकर मेरे लंड को चिकना किया. मुझे तो बार बार थ्रीसम सेक्स की ही याद आ रही थी तो उसी चक्कर में और उन दोनों की मेहनत से जल्दी ही मैं फिर से उत्तेजित हो गयी.

मेरे हाथ में मेरा मोटा लंड उनकी सेक्सी लाल कलर की चड्डी को चोद रहा था.

एक्स एक्स एक्स भेजिए वीडियो में

वो अपने घुटनों के बल बैठकर मेरा लंड अपने हाथ में पकड़कर बोली- अब मुझे तुम्हारे इस अमृत को पीना है हर्षद. जब मैंने पहली बार उसको देखा था, तब उसने मेरे सामने घूंघट ले रखा था क्योंकि मैं उसके हसबैंड से उम्र में बड़ा था. पिछली बार मेरी गांड की चुदाई की कहानीअनजान लड़के की गांड चाटकर गांड मरवाईआप लोगों ने पढ़ी होगी.

‘आउच्च … उऊफ्फ …’सविता भी जोश से भर गई और मेरी पीठ पर अपने नाखून गड़ाते हुए मुझे अपने सीने पर चिपकाने लगी. ख़ास दोस्त को गांड मरवाने का शौक लगामें अब तक आपने पढ़ा था कि भाभी खाना बनाने किचन में थी और हम दोनों दोस्त कमरे में टीवी देखने लगे थे. मैंने अपनी सभी तैयारियां पूरी कर लीं और तीन दिन बाद ट्रेन से उसके शहर पहुंच गया.

कुछ दिन बाद उसने अपनी सहेलियों को भी मेरे पास भेजना शुरू कर दिया था.

उसने अपने भारी भरकम शरीर से मुझे मुझे अपने नीचे दबा लिया और मेरी कलाइयों को उसने जोर से पकड़ लिया. एक हाथ से लंड पकड़ कर उसकी गांड पर टिकाए था, दूसरा हाथ उसकी कमर पीठ पर रखे था. इस बार मैंने सीमा की चूत चोदी और ना जाने क्यों मुझे हमेशा से कहीं अधिक आनन्द आज सीमा की चुदाई उसके पति सामने करने में आ रहा था.

मैं बड़ा अचम्भित हुआ और उससे पूछा कि क्या हुआ?तो उसने मुझे रुकने का इशारा किया. मैंने भाभी को उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और उनकी एक टांग उठा कर चोदना शुरू कर दिया. मैं उन्हें रिझाने के लिए अक्सर गाउन के अन्दर चड्डी ब्रा नहीं पहनती थी जिससे गाउन मेरे जिस्म पर चिपका रहता था और मेरे अन्दर के अंग गाउन से झलकते थे, जिन्हें देखने के लिए मेरे ससुर बार बार मेरे सामने आते थे.

विलास ने कहा- मेरी मौसी से मिले कि नहीं हर्षद?मैंने कहा- हां, भाभी ने मेरी उनके साथ पहचान करवा दी है. पर जब मैंने देखा की वो अकड़ने लगी है तो मैं रुक गया और उसे तड़पता हुआ देखने लगा.

वीरू भी शब्बो चाची के मन की बात समझ रहा था, शब्बो के बदन को किसी भूखे भेड़िये की तरह देखते हुए वो भी उनके सामने ही अपना लौड़ा अपने पैजामे के ऊपर से सहला देता था।एक दिन वीरू जल्दी ही उठ गया और अपनी माँ के कहने पर सुबह सुबह दौड़ लगाने चला गया।1 घंटे की दौड़ से उसका बदन दर्द करने लगा और जैसे तैसे वो अपने घर पहुंचा. वो बोली- मुझे लगता है कि तुम्हारे रहने से मेरी आजादी में खलल पड़ता है. बाप बेटी Xxx कहानी में पढ़ें कि अपने पापा के साथ सेक्स करने के लिए मैं जानबूझकर उनके सामने नंगी होने लगी थी.

फिर कुछ आधा घंटा के बाद मोनिका ने उससे कहा- राज, भाभी के बेडरूम से चादर ले आओ.

मैंने जब दीदी से पूछा तो बोली- तुम रात में मुझे छोड़कर मम्मी को क्यों चोद रहे थे?मैंने कहा- तुमने अपनी जगह पर मम्मी को क्यों सोने दिया?दीदी बोली- मम्मी पहले से ही वहाँ सो रही थी. मेरे ससुर भी काफी उतावले हो गए थे और वो तुरंत ही मुझे चोद लेना चाहते थे. छत से मैं मिहिका के घर जाने का रास्ता सोचने लगा कि छत से कैसे उतरना है.

थोड़ी देर को जावेद ने झटके बंद कर दिए थे मगर अब उसने रुक कर फिर से गांड मारना चालू कर दिया था. मेरी माँ के अलावा मेरे दादाजी और दादीजी भी है घर में!माँ की शादी कम उम्र में ही हो गयी थी और उसके एक साल बाद मेरा जन्म हो गया था.

धीरे धीरे पता नहीं क्या कैसे हुआ, हम दोनों एक दिन, रात में मेरे कमरे में बैठ कर आपस में बातचीत कर रहे थे कि तभी हमारे बीच सेक्स की बातें शुरू हो गईं. फिर उन्होंने मम्मी को ऊपर खींचा और उनके मुँह पर पाना मुँह लगाकर उन्हें किस करने लगे. मैंने अपने बालों को झटकारते हुए अपना सर पीछे की तरफ किया और पीछे का नजारा देख कर मेरे पैरों के नीचे से जमीन सरक गई.

বাংলা ব্লু ফিল্ম সেক্স

मगर पापा मूड में थे, वो बोले- यहीं करते हैं न यार … तुम्हारी चूत के रस को तो मैंने पिया ही नहीं है.

‘आह मर गई …’मैं लगा रहा तो कुछ ही देर में आंटी की मादक आवाजें निकलने लगीं- आह उह्ह्ह … और तेज और तेज मजा आ रहा है … और करो आज फाड़ दो मेरी चूत!कुछ देर बाद मैंने आंटी की टांगें हवा में उठा कर हचक कर चोदना शुरू कर दिया. एक दिन मेरा बागपत जाना हुआ तो मैंने उसको फोन किया कि मैं बागपत आया हूँ. मैं उसका एक हाथ अपने लंड पर रख दिया और वो चड्डी के ऊपर से ही मेरे लंड को सहलाने लगी.

पापा उसके हाथ में अपना लंड पकड़ाते हुए बोले- तू भी तो आज से बड़ी हो गई है. दोस्तो, जिसकी ऐसी तारीफ खुद उसका पति करे, उसका मेरी तरफ आकर्षित होने लाजिमी था. सेक्सी वीडियो बुर चोदने वाला देहातीमैंने उसके पास से सोहम को लेते हुए उसकी एक चूची को जोर से रगड़ दिया.

यह सुनकर मेरा लन्ड खड़ा हो गया, मैंने प्यार से उसकी गांड पर चपत लगाते हुए पूछा- तो ये सिर्फ मेरे लिए ही बचाई है क्या?वो मेरी बात पर कुछ नहीं बोला, बस शरमा कर रह गया. दूध दबा दबा कर पीने में उस वक्त बड़ा मजा आता है, जब चूची चुसवाने वाली खुद से दूध पिला रही हो.

सच में मुझे तो उसके लटकते हुए बड़े बड़े चुचे 42 के नहीं बल्कि 55 के लग रहे थे. मैंने उसे नंगा किया और देखा कि उसका लंड काफी मोटा और 6 इंच लम्बा था. मैं चुद कर शांत तो हो गई थी मगर मेरे कानों में मेरी मां की आवाज गूंज रही थी कि मुझे ही अपने बाप से चुदने के लिए रंडी बनना पड़ेगा.

यह सुनकर मम्मी स्वाति ने कहा- अगर तुम चले जाओगे तो हमारा क्या होगा? मैं तो एक दिन भी बिना चुदे रह नहीं सकती. हम दोनों चरम पर आने लगे थे, इससे हमारी वासना भरी सिसकारियां निकलने लगी थीं. तब दीदी ने कहा- आधे घण्टे से जब तुम मेरी चूचियों को दबा रहे थे … तब ये ख्याल नहीं आया?मैं चुप था.

मैंने भी फ्लर्टिंग करते हुए कहा- तुम्हें नहीं देखेंगे तो बेशक मर जाएंगे.

चूत संकुचित करते हुए चुदाई करते उसे दस मिनट भी नहीं हुए कि उसकी चूत ने एक बार और पानी छोड़ दिया. आंखें खोल कर मैंने एक बार रेशमा को देखा, तो पता चला कि वो भी एक हाथ से अपनी चूत में दो उंगलियां घुसा रही थी.

तुम्हारा मोटा लंड अपनी चूत में पाकर मेरी बरसों की तमन्ना आज पूरी हो गयी है. नंदा ने बात शुरू करने से पहले माफी मांगते हुए कहा- यार चन्दन, वादे के मुताबिक मैं हार गई. ये बात कर ही रहे थे कि तभी रुचिका की आवाज आई- मम्मी, किचन में आओ ना.

काफ़ी देर लंड चूसने के बाद मेरा मन हुआ कि अब बहुत हुआ लंड चुसवाना, अब उसकी कच्ची चूत चूसने का मजा भी ले लिया जाए. उसके बाद मैंने उसकी हेयर पिन निकाल दी और गले के आस-पास चुम्बन करने लगा. पूरे दस मिनट तक दीदी की गोरी गोरी चिकनी गांड पहली बार चुदाई कर तृप्त होकर थोड़ी देर में सुमंत उनसे अलग हो गया.

मुसलमानी सेक्सी बीएफ फिल्म कहानी के पहले भागदोस्त की साली के साथ सेटिंग हो गयीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं सो रहा था कि मुझे महसूस हुआ कि मेरे लंड पर कोई दबाव डाल रहा है और एक मादक महक आ रही है. मैं एक हाथ उसके पेट पर सहलाते हुए उसकी लैगी के अन्दर चूत पर ले जाने लगा तो उसने रोक दिया.

चोदा चोदी चोदा सेक्सी

अर्चना दीदी की टांगों ने जल्द ही जवाब दे दिया और वो महंत के ऊपर हांफती हुई औंधे मुँह गिर पड़ीं. अब मैंने उसके दोनों पैर अपने हाथों से पकड़कर ऊपर उठा दिए और दोनों तरफ फैलाकर पकड़ कर रखे. मास्टर ने कहा- अभी इतनी जल्दी क्या है … अभी तो मुझे तुम्हारी चूत का रस चाटना है.

क्या मस्त झाग आता है यार … एकदम गाढ़ी गाढ़ी मलाई खाने में … जिसने भी ये स्वाद लिया होगा, वही जान सकता है. उधर मेरे लंड का अहसास करते ही वो एकदम से बोली- उई माँ, ये तो तुम्हारा कितना बड़ा है. बीपी सेक्सी ब्लू फिल्म सेक्सीपहली बार लेने में जरा दर्द होता ही है नीता, बस तुम जरा सहन कर लेना.

इतने में मेरी नजर खिड़की के पर्दे पर गयी, तो मैंने देखा कि पर्दा हिल रहा था.

Xxx कज़िन सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे मामा की बेटी अपने दोनों भाइयों से चुदना चाहती थी. उसने लंड को देखा और आश्चर्यचकित रह गयी, वो हाथ में लंड लेकर टटोलने लगी.

तुम्हारे दोस्त भी कुछ नहीं बोलेंगे, उन्हें पता है कि मौसी को हमेशा बेड पर सोने की आदत है. उसके दांत निकल आए, उसने पूरी तरह तो स्वीकार नहीं किया, पर बोला- तुम जो समझो, मगर अब काम पूरा करो. चाची समझ गईं, उन्होंने अपनी सलवार का नाड़ा ढीला कर दिया और टांगों से निकालते हुए मेरी मम्मी से कहा- दीदी आप भी अपनी सलवार उतारो न … अपना विक्की शर्मा रहा है.

पर हम दोनों कैसे भी करके महीने में 2-3 मौके निकाल ही लेते हैंउसके बाद उसने दो ब्वॉयफ्रेंड भी बनाए, पर वो उसकी उम्र के ही थे तो वो उनसे संतुष्ट नहीं हो पाई.

पर वो कहते है ना जब पूरी थाली ही राजसी पकवान से भरी हुई हो, तो एक ही सब्जी खाने का क्या फायदा. कुछ देर बाद वो आवाज देकर बोली- पंडित जी, आप मेरे रूम में आ जाइए, पूजा यहां पर ही करवानी है. हम दोनों अब भी मिलते हैं और मौका देख कर प्यार भरी चुदाई कर लेते हैं.

इंडियन सेक्सी मटकादस बजे के लगभग हम लोग पूरी बोतल खत्म कर चुके थे और बहुत नशे में थे. वीरू के मर्दाना हाथ उसको पिंघला रहे थे।शौहर की नामर्दानगी से छुटकारा पाने के लिए उसकी चूत शब्बो को रांड बनाने पर तुली थी.

इंडियन ब्लू फिल्म नंगी

शादी कैसी भी सादगी या धूमधाम से हो, दुल्हन तो मन पसंद है न क्यों भाई … जिसके लिए पापड़ बेले. मैंने उससे पूछा नहीं कभी, पर दिखता था कि वो दिमाग से ज्यादा स्मार्ट नहीं थी, भोली मासूम थी. कुछ देर चाटने के बाद उसने अपने लंड पर थूक लगाया और मुझे घोड़ी बनने को कहा.

मेरी मस्ती में सिसकारी निकल रही थी- ओह फ़लक … ऐसे ही … आह उह्ह्ह … तुम वर्ल्ड की बेस्ट पार्टनर हो. फिर मैंने उसका 3 इंच मोटा टमाटर सा लाला सुपारा मुँह में भर लिया और अन्दर ही अन्दर अपनी जीभ को सुपारे के चारों तरफ फिराने लगी. तो नीता कसमसा कर बोली- आहिस्ता से रगड़ो ना हर्षद … मुझे दर्द हो रहा है.

मुझे थोड़ा डर भी लग रहा था कि कुछ बवाल न हो जाए, मगर लंड में हरकत भी हो रही थी. मेरी कहानी के तीसरे भागबाप बेटी ने लिया ओरल सेक्स का मजामें आपने पढ़ा कि पहले पापा ने अपनी जवान बेटी की गुलाबी चूत को चाट कर उसे परमानन्द दिलाया. थोड़ी ही देर में वेटर खाना लेकर आ गया और हम दोनों आराम से बातें करते हुए खाना खाने लगे.

सरिता हंसती हुई मुझसे मेरे कान में बोली- हर्षद … मेरी दीदी से बचके रहना. मैंने इसी तरह खड़े खड़े उसके शरीर को भींचकर जकड़ लिया और पूरी स्पीड से चोदने लगा.

फिर मुखिया जी ने माँ को अपनी जाँघों से उठाया और माँ की साड़ी को खोलने लगे.

हमारा इश्क़ कई महीनों से चल रहा था, आंखों में देखना, एक दूसरे को छूना, वो पहली बार खुल कर प्यार की बातें, वो उसका मेरे प्यार का इक़रार हम दोनों को कम उम्र के प्यार के जोड़े जैसी फीलिंग देते थे. रांची वीडियो सेक्सीवह हवाई जहाज से मुंबई जा रहे थे।वहां से लौट कर आई और अपनी कार पार्क कर रही थी। तभी मुझे अरविन्द अंकल दिखाई पड़े।मैंने आवाज़ लगाई- अंकल जी!वे पीछे मुड़े, मुझे देखा और बोले- अरे तुम हुमा … कैसी हो?मैंने कहा- अंकल मैं अच्छी हूँ, आप कैसे हैं?वे बोले- मैं मस्त हूँ. देसी सेक्सी लोकलउस फकीर ने जब से मेरी बीवी को देखा तो पता नहीं क्यों उसका व्यवहार कुछ बदल सा गया था. उसने मुझसे अगला सवाल पूछा- क्या तुम प्यार मुहब्बत में भरोसा करते हो?मैंने उसकी तरफ देखा और कहा- मैं उसमें घर का खाना … और बाहर खाना जैसा फर्क ही समझता हूँ.

बारिश में भीग चुकने के बाद अब हम दोनों नंगे होकर एक दूसरे को चूम चाट रहे थे.

उसकी मादक, शर्मीली मुस्कान, नागिन जैसी चाल और जिस्म का कटाव देखकर कोई भी उस पर फिदा हो सकता था. मैं नीता को बांहों में कसकर चूमने लगा तो उसने भी मुझे अपनी बांहों में भर लिया. भाभी ने ओके कहा और हम दोनों ने स्पून पोजीशन में सेक्स करने का सोच लिया.

वो बोली- पंडित जी, सन्तान प्राप्ति के लिए कौन सी पूजा करवानी चाहिए. उसने ये कह कर परिचय करवाया कि स्नेहा, कमल मेरे बड़े भाई जैसा है, तो तुम भी इसे अपना जेठ समझ कर मिलो. अब तुम मुझे बताओ कि तुम मुझसे क्या चाहते हो?मैं उसे अपनी इच्छा बताने से डर रहा था.

ब्लू पिक्चर सेक्सी हिंदी में सेक्सी

ब्रा पैंटी में उनके सामने से मटकती हुई मैं गई और ग्लास उठा कर पैग डालने लगी. फिर जब हम दोनों नहाने एक साथ बाथरूम में गए तो उधर उसने अपनी हसरत मुझे बताई. मेरी उंगलियां गांड की दरार में अन्दर जाकर उसके गांड के छेद पर घूमने लगी थीं.

हां दोस्तो, चूत की चुदाई तो पता नहीं लगता है, पर चेहरे का चुम्बन खतरनाक होता है.

लेखिका की पिछली कहानी:ब्यूटी पार्लर में लिया पहले लंड का मज़ाकहा जाता है कि ‘बीवियों की अदला बदली’ का खेल यानि ‘Wife Swapping’ पश्चिमी देशों में बहुत होता है, हमारे देश में बहुत कम होता है लेकिन ऐसा नहीं है।हमारे देश में भी यह खेल होता था और आज भी होता है लेकिन हां … खुले आम नहीं होता, चुपके चुपके छिप छिप कर होता है।लोग इस खेल का मज़ा लेते हैं और खूब लेते हैं.

उसने मुझे देख लिया और गुस्से में कहा- ये आप क्या कर रहे हो अंकल?ये कह कर उसने कंबल से अपना नंगा बदन ढक लिया. फिर उसने कहा- आप शादी करते तो आपकी बीवी खूब मजे लेती इससे!मैंने भी हिम्म्त जुटाकर उससे पूछ लिया- तुम्हें अच्छा लगा क्या?उसने भी शर्मा कर हां कह दिया. सेक्सी आना चाहिए वीडियोवो- हां मेरे राजा पेल दो मेरे अन्दर अपना पूरा लंड ठोक दो … आंह और जोर से चोदो.

फिर मैंने उसकी चूत पर दो उंगलियों से फांकों को जरा फैला दिया और अपना लंड का सुपारा घुसा कर ठेल दिया. उसने आगे बताया कि उसकी बीवी मर गयी है, वो यहीं किराये के मकान में रहता है. विलास ने अपनी लुंगी निकाल कर फेंक दी और मेरी ओर गांड करके बेड पर सर रखकर अपनी पोजीशन में आ गया.

आयशा को चोदने में मुझे बहुत मजा आ रहा था, वो अपनी दोनों टांगें हवा में उठा कर मेरा साथ दे रही थी. उसे अस्पताल में भर्ती कराया, जांच में पाया कि उसे गर्भ ठहर गया है, इसी से उल्टियां हो रही हैं.

कुछ देर बाद ऊपर वाले बाबा ने मेरे मुँह से अपना लौड़ा निकाला तो मुझे राहत सी मिली.

कभी कचरा उठाने के बहाने तो कभी कुछ और बहाने से … मगर वो अपने जवान बदन को वीरू को दिखाकर उसका खून गर्म करने में जुटी हुई थी. दोनों तरफ से हो रहे हमले से मेरा लौड़ा भी झट से चुदाई की लड़ाई के लिए खड़ा होने लगा. मैं उससे बोला- क्या हुआ मैडम? मजा आने लगा क्या?वो हंस दी मगर कुछ बोली नहीं.

सेक्सी वीडियो चूत और लंड चूत बस ये कह कर मैंने अपने मुँह से थूक लंड पर छोड़कर लंड फिर से अन्दर डालने लगा. कुछ देर मेरे गालों को चूमने के बाद उन्होंने मेरे चेहरे का दोनों हाथों से थामा और मेरे होंठों पर अपने होंठ लगा दिए.

कुछ मिनट की धुंआधार चुदाई के बाद हम दोनों ही चरम सीमा पर पहुंच गए थे. वो भी बड़ी हैरानी से मुझे देख कर हल्के से मुस्कुरा दी और बोली- अरे आपका ध्यान कहां है. लगभग 20 मिनट की चुदाई के बाद मैं उसकी चूत में ही झड़ गया और हम दोनों ऐसे ही चूत में लंड डाले सो गए.

इंडियन ब्ल्यू पिक्चर

लेकिन अब अर्चना मदहोश हो गई थी, वो महंत के बालों में हाथ फिराने लगी. जब दोस्त कहते हैं कि यार तू बड़ा नमकीन है, तेरे ऊपर तो लौंडियां मरती हैं. मैंने महसूस किया कि गांड का छेद ढीला तो था मगर साले ने शायद अब तक गाजर मूली से ही का चलाया था या झूठ बोल रहा था कि लंड नहीं लिया है.

उसने एक मनमोहिनी मुस्कान के साथ मुझे चाबी दी और बोली- आपकी चाबी?मैंने बोला- जी मेरी चाभी नहीं, नीचे वाले फ्लैट की चाबी. चूत शान्त हुई तो मैंने अपना लंड अन्दर पेल दिया और धकापेल चुदाई करने लगा.

ये अन्तर्वासनाX पोर्न कहानी दिसंबर 2019 से उस वक्त शुरू हुई थी, जब मैंने अपनी जॉब चेंज की थी.

और मैं चीख पड़ी- ओह माई गॉड अह हअअ … अह मार ही डालोगे … तुम अअह … बहुत दर्द दे रहा है हाय साले हरामी … मेरी चूत को फाड़ डाली रे!मैं रोने लगी मगर उसे कोई फर्क नहीं पड़ रहा था. कुछ देर बाद वो तड़फ कर बोली- ओह छोड़ दो अहह … दईया … अहह मैं मर गईई उईई. नंदा बोली- ड्रिंक बना दूँ?‘हां अगर रुचिका साथ में बैठ कर एन्जॉय करे.

चूंकि मेरी चूत एकदम गीली हो चुकी थी जिसके कारण उसका लंड एक बार में अन्दर तो चला गया लेकिन मुझे दर्द और जलन बड़ी तेजी से होने लगी. फिर हम तीनों नंगे एक दूसरे से लिपट कर चुम्मा चाटी करते हुए पैग लगाने लगे. तभी आयशा का हाथ मेरे लंड पर आ गया और उसने मेरे लंड को पकड़ कर अपनी बुर के छेद पर लगा दिया.

मैंने अपनी पूरी रफ्तार से ललिता भाभी की चुदाई शुरू कर दी और तेज़ी से सटासट अन्दर बाहर करके चोदने लगा.

मुसलमानी सेक्सी बीएफ फिल्म: मैंने उसके बूब्स को जगह जगह काटना और चूसना शुरू कर दिया।वो आह आह शी करते हुए आवाज़ें करने लगी और मेरे कपड़े भी उतारने लगी।हम दोनों ऊपर से नंगे थे. मैंने भी उसकी बात समझते हुए उसका हाथ छोड़ दिया और उसे भी ऊपर आने का इशारा कर दिया.

इस काम में बड़ी मेहनत करनी पड़ी थी … और भी कई तरकीबें भिड़ाना पड़ी थीं. छोटी से छोटी जानकारी भी उसने मुझे दी, जिसके आधार पर मैंने आप लोगो के लिए ये कहानी लिखी है. मैंने भी कहा- हां खूब चोदो यार … ये तो तुम्हारेघर की ही चूतहै, जब चाहो तब लौड़ा पेल देना इस बुरचोदी की चूत में.

फिर मैं उसकी चूचियों और निप्पलों को चूमा और नीचे सरककर पेट और नाभि को चूमने लगा.

दीदी के चौड़े चूतड़ों के बीच गुलाबी गांड में थूक लगा लंड का टोपा टिका कर दबाने लगा. मैंने उसकी एक नहीं सुनी और उसकी गांड में लंड को अन्दर बाहर करने लगा. बाथरूम के बाहर मेरे सामने बिना किसी कपड़ों के एक पूर्ण नग्न लड़की ने बाथरूम के अन्दर दाखिल होने के लिए सिर्फ एक पैर अन्दर रखा था कि उसे बाथरूम के अन्दर मैं दिखा, वो भी बिल्कुल नंगा और ऊपर से सोनम की बिल्ली संग सम्भोग मिलन की प्यास से टनटना कर नत्थूलाल साहब कड़क, खूंखार और विकराल लाल स्ट्रॉबेरी जैसा अपना फटा सिर टोपे से बाहर निकाले हुए थे.