सेक्सी बीएफ मूवी एचडी हिंदी

छवि स्रोत,खुला चुदाई वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेस्की पिक्चर: सेक्सी बीएफ मूवी एचडी हिंदी, बातें खत्म करने के बाद नम्रता ने अपनी टांग को मेरे ऊपर चढ़ाया और अपनी जांघों के बीच हाथ डालकर मेरे लंड को पकड़कर अपनी चूत में फंसाकर फिर बाहर निकाल लेती.

सेक्स ब्लू वीडियो ओपन

जिससे मुझे दर्द हो रहा था और मैं आआअ आह आअ आआउम्मआ आआआ किये जा रही थी. बफ हिंदी चुड़ैमेरे ऐसा करने से काजल ने दोनों पैर मेरे सर पर दबा दिए और एक तेज़ सिसकारी निकाली ‘अह्ह्ह्ह … शह्ह्ह्ह … ओह्ह … हीईईई … मैं मर गई … ओह्ह्ह्ह.

आंटी के मुँह से ऐसे शब्द सुनकर हैरान हो गया कि देखो ये हवस भी क्या चीज है. सेक्सी सेक्सी एक्स वीडियोइसीलिये मैं धीरे से घर के मेन दरवाजे से बाहर निकल गया और पास ही एक किरयाने की दुकान पर जाकर खड़ा हो गया.

फिर अचानक एक दिन उसका कॉल आया- तुम कहां हो, मैं अजमेर में ही हूँ … तुम आ सकते हो क्या?मैंने उससे पूछा- अजमेर में तुम कहां हो?उसने बताया तो मैं जल्दी से उसे मिला और उसको लेकर एक रेस्टोरेंट में ले गया.सेक्सी बीएफ मूवी एचडी हिंदी: मैं कई बार सोचती कि किसी को इनकी हरकतों के बारे में बता दूं, पर अजीब से डर और गुदगुदी के कारण मैं किसी से कुछ नहीं बोली.

यूं वीरवार को वसुन्धरा के शिमला वाले घर में होने की संभावनाएं अत्यंत क्षीण थी लेकिन फिर भी मैंने हामी भर दी.वहां पेशाब करने के बाद जब बाहर आई तो मैंने पूछा- कैसा लगा अपने भाईजान से चुदवा कर?वो मुस्कुरा कर बोली- चुदाई मस्त थी.

सनी लियोन का हॉट सेक्स - सेक्सी बीएफ मूवी एचडी हिंदी

’ उसका लंड जैसे ही मेरी चूत के अन्दर गया, तो मेरे मुँह से चीख निकल गई.मैं कुछ बोलती या समझती, इतने में उन्होंने अपनी शर्ट उतारी और बनियान में ही मुझे आकर गले लगा लिया.

मैंने आधा लंड निकाल के एक बार में ही पूरा लंड झटके से उसकी गांड में डाल दिया. सेक्सी बीएफ मूवी एचडी हिंदी अब मुझसे रुका नहीं जा रहा था और मैंने उसकी चूत में अपना लौड़ा डालने की तैयारी कर ली.

फिर अंकल मेरे मम्मों को देख कर बोले- मस्त लाल टमाटर लग रहे हैं और आज तो मैं गांड में भी लंड डालूंगा.

सेक्सी बीएफ मूवी एचडी हिंदी?

वैसे तो उसको देख कर ही मेरे मुंह में पानी आ गया था लेकिन मुंह के साथ-साथ लंड में भी पानी आने लगा था. धीरे-धीरे लंड भी फुंफकार के साथ तनने लगा और एक झटका लेते हुए उसकी गांड से लड़ जाता. तभी दिशा और राधिका दोनों एक दूसरे से लेस्बियन किस करने लगीं और मम्मे सहलाने लगीं.

तभी राधिका अपने मुँह में सिगरेट दबाए हुई आई और मेरे पास आकर लेट गई. उसके जाते ही घर पर खुद को अकेला पाकर अपने सारे कपड़े उतारकर अपनी चुचियों को दबाने लगी और अपनी चूत में उंगलियां डालने लगी. एक दिन सुबह बाहर निकला तो देखा गुप्ताइन अपने पोर्टिको में बैठकर चाय पी रही थी और उसके साथ एक लड़की बैठी थी, सुन्दर सा गोल मटोल चेहरा और गदराया हुआ भरा पूरा जिस्म.

मैं बस लड़कियों से नजर मिलते ही शर्मा जाता और दिल की धड़कन तेज हो जाती. मुझे यकीन नहीं हुआ कि एक बाप-बेटी इस तरह से आपस में चुदाई कर सकते हैं. नीचे से अंडरवियर न पहना होने के कारण मेरी निक्कर मेरे वीर्य से गीली हो गयी.

मैंने उनसे कहा कि अगर दीदी को इसके बारे में पता चल गया तो दीदी को बहुत बुरा लगेगा. इसको वापस से लड़की बनाने में मेरा भी हाथ है।महेश क्या बड़बड़ा रहा था मुझे इसकी खबर नहीं थी.

वो चीख निकालती, इससे पहले मैंने उसके मुँह की तरफ जाकर अपना लंड उसके मुँह में अड़ा दिया.

मैं अब ये समझ चुका था कि भाभी पूरी तरह गरमा गयी है और अपनी गर्म चुत में मेरा लंड डलवाने को मचल रही है.

मैंने उसका लंड पकड़ा और हिलाने लगा लेकिन उसने मेरा पकड़ा, तो मुझे बहुत अजीब महसूस हुआ और मैंने अपना लंड छुड़ा लिया. आंटी बोली- ये सब क्या है सुमित?मैंने कहा- कुछ नहीं आंटी …इतने में ही वरूण ने पीछे से आकर आंटी को पकड़ लिया. थोड़ी देर में नैना पानी और नाश्ता लेकर आई, तो मैं उसे देखता ही रह गया.

लंड बुर से बिल्कुल चिपक के अंदर बाहर हो रहा था। मैं आअह आअह उम्म्ह… अहह… हय… याह… अह्ह ऊऊऊ उईई ईईई उफ अह कर रही थी. हां, मगर ये भी सत्य है कि एक पुरुष एक साथ दो औरतों के साथ आराम से सेक्स कर सकता है किंतु वह एक ही समय पर दोनों को एक साथ सन्तुष्ट कर पाये ये जरूरी नहीं है. उसके बालों को पकड़ कर खींचा और उसका सिर ऊपर की तरफ उठ गया। मैंने उसके कंधों पर दांत गड़ा कर चुम्बन किया.

नहाकर अपने साथ लाई हुई टी शर्ट व लोअर पहनकर कमरे में आया तो वो सो चुकी थी.

मैं नम्रता के ऊपर लेट गया और नम्रता ने मुझे चिपका लिया, मेरा लावा बहते हुए नम्रता की चूत को गीला कर रहा था और उसका लावा मेरे लंड को गीला कर रहा था. वो भी दूध चुसवाते हुए आहें भरने लगी उम्म्ह… अहह… हय… याह…मैं एक हाथ से उसके एक बूब को दबाता रहा और दूसरे को चूसता रहा. मौसी बोलीं- किसे देख कर मुठ मारी है?मैं चुप रहा तो बोलीं कि अब क्यों शर्मा रहा … जब तू मेरी गांड बड़े मज़े से मार रहा था तब तेरी शर्म किधर थी.

कंजूस गुप्ता जी के मुकाबले मेरा राजसी खर्च देखकर डॉली खुश भी थी और प्रभावित भी. मैनेजर बोले- ये तो बस ट्रेलर हुआ, अगर कुछ जुगाड़ बना, तो बहुत कुछ करना पड़ेगा. उन दोनों को सगे बाप से चूचियों को दबवाते देखकर मुझे अजीब तो लगा, पर मज़ा भी बहुत आया.

उसके गदराए चूतड़ों को चाटते हुए मैंने चुत से खीरा निकाला, वो उसके रस से भीग चुका था.

काजल की चूत मेरे वीर्य से भर गई … और उसके साथ ही काजल भी और एक बार मेरे साथ ही झड़ गई. दोस्त ने मुझे ये कह कर मना कर दिया कि रूम सुबह पांच बजे लिया जाएगा.

सेक्सी बीएफ मूवी एचडी हिंदी अब जब मुझसे रहा न गया तो मैं उठा और दबे पांव गौशाला की तरफ बढ़ने लगा ताकि किसी को शक न हो।मैं जैसे-जैसे गौशाला की तरफ बढ़ रहा था पायलों की आवाज बढ़ती जा रही थी. जब कई बार उसकी चूत का पानी निकल चुका तो सुमन का मन भी अब लंड लेने को करने लगा.

सेक्सी बीएफ मूवी एचडी हिंदी मैंने मुस्कराहट के साथ हैलो कहा और उन्होंने भी मुस्कराहट दे कर रिप्लाई दिया. भाबी के इस तरह झपटने से मेरा लंड अचानक ही भाबी की चुत को चीरता हुआ थोड़ा अन्दर घुस गया.

जिन पाठकों को मेरे बारे में नहीं पता है, पहले उनको मैं अपने बारे में बता देती हूँ.

साड़ी वाली की चुदाई हिंदी में

मैं सुमिना से भी इस बारे में बात नहीं करना चाहता था क्योंकि वो मेरी बड़ी बहन थी; इसी कश्मकश में फंसा था कि अब आगे क्या किया जाये. तो वे बोलीं- तो तुम यहाँ पर आए क्यों?मैं बोला- एक काम करो, लगे हाथ दर्शन कर लो और पाँच बजे की ट्रेन से वापस चलते हैं. दूसरे! मेरे बहुत सारे पाठकों को मुझ से शिकायत है कि मैं बहुत धीरे या कम लिखता हूँ … बोले तो! मेरी कहानियों के बीच में एक-एक साल से ज्यादा का अंतराल होता है.

मुझे उनको चिढ़ाने का एक मौका मिल गया और हम दोनों का सुहागदिन अधूरा रह गया. मेरा हाथ उसकी चिकनी जांघों पर फिसलते हुए सीधा उसकी पेंटी तक पहुंच गया. उसने कपड़े से पौंछते हुए जब कपड़ा चूत से हटाया तो चूत एकदम चिकनी सफाचट हो गई थी.

इसलिए उस दिन के बाद से मैंने सुमिना की गतिविधियों पर नजर रखना शुरू कर दिया.

तभी बाप बेड पर नंगी लेटी अपनी बड़ी लड़की की चूचियों को पकड़कर बोला- उठो बेटी, तुम ज़रा नीना की चूचियां चूसो … तो में इसकी चूत को उंगली से चोद दूं. हम दोनों फ़ोन पे बात करने लगे कि न्यू ईयर का क्या प्लान है, पार्टी करते हैं. वो अपने आप को नंगी देख कर घबरा गई और गुस्से से बोली- तू ये क्या कर रहा है मेरे साथ … तुझे शर्म नहीं आती क्या?मैं चुपचाप उसके सामने नंगा खड़ा हुआ था.

शुरूआती समय में कुछ दिन तक तो मेरा ध्यान सिर्फ अपनी एक्सरसाईज पर होता था और एक्सरसाइज पूरी होते ही मैं रूम पे आ जाता था. उनके जाने की सुनकर मैं तो परेशान हो गई कि मेरा क्या होगा? उनको साथ में फैमिली को ले जाने की परमीशन नहीं थी, तो मुझे मुंबई अपने घर ही रुकना पड़ा. फिर हमने डिटेल्स में जाके स्टडी की और कैसे अंजाम देना है, इसका होमवर्क कर लिया.

धकापेल चुदाई के बाद इससे पहले मैं खलास होता, मैंने नम्रता को पेट के बल लेटाकर उसकी गांड मारने लगा. तनने के बाद सो चुके लंड से कामरस की एक बूंद निकल कर अंदर ही अंदर अपने मुझे मेरे लंड के टोपे पर ठंडा-ठंडा अहसास करा रही थी.

मेरे बॉस ने पूरा लंड फिर अंदर किये और अब धीरे धीरे मुझे चोदना शुरु कर दिए. मैंने पूछा- किस लिए?वो बनावटी गुस्से से बोली- अरे बाबा खाना खाने के लिए. वीणा की इस धुआंधार चुदाई से हम दोनों की टांगों ने जवाब दे दिया था क्योंकि ज्यादातर चुदाई हमने हमारे टांगों के बल पर ही की थी.

काफी देर तक मानसी जीजू के होंठों को पीती रही और जीजू ने नीचे से अपना हाथ निकालते हुए उसकी चूत को सहलाया तो मानसी के मुंह से निकल पड़ा- आआह्ह … जीजू का हाथ उसकी चूत पर लगते ही उसकी वासना ऐेसे भड़की जैसे जलती हुई आग में किसी ने घी डाल दिया हो.

उससे मेरी बातें फोन पर होती रहती हैं, मैंने उसको कमोड पर बैठते समय अपनी गांड में उंगली करने की सलाह दी है. मैं उत्तर प्रदेश के एक छोटे से शहर के एक मध्यम वर्गीय परिवार में रहने वाला लड़का हूँ. उसने मुझसे बोला- पंकज आपकी फीस कितनी हुई?मैंने कहा- हिना जी बस 13000 मात्र.

मैंने पूछा- तुम मुझसे मालिश करवाने के लिये तैयार हो?वो बोली- हाँ, बिल्कुल तैयार हूँ. हम रात को ट्रेन से जा रहे थे, ग़लती से ट्रेन में लेडीज कोच में चढ़ गए, उस डिब्बे के गेट पर कई औरतें खड़ी थीं, उन्होंने मुझे रोक लिया.

मौसी कंप गईं, पर कुछ देर बाद उनका दर्द कम हुआ और मौसी भी गांड हिला कर मेरा साथ देने लगीं. उसके बाद मैंने उनके चूचों को छेड़ते हुए कहा- अगर इन दूधों पर भैया ध्यान नहीं दे रहे तो क्या हुआ, मैं उनका ही भाई तो हूं. उसकी की चीख निकल गयी- आआआअ … आआआहहह बस करो! …बचाओ … प्रीतम मर गई … अह्ह… उम्म!मेरी प्यारी गीतू की चिकनी चूत को मेरा सर्प बिल समझकर उसमें घुस गया था.

मेघा मूवी

जब उन्होंने कुछ नहीं कहा, तो मैंने धीरे से उनकी कमर में अपना हाथ डाला और गांड पर लंड का दबाव बढ़ा दिया, जिससे उनकी आह निकल गई और वे थोड़ा कसमसा कर आगे को खिसक गईं.

जैसे ही बुआ बाथरूम से बाहर निकलीं … मैं फिर से सोने का नाटक करने लगा. मैं वनिता के ससुर राजेन्द्र जी के बारे में सोचने लगी और अपनी प्यासी चुत में उंगली करने लगी. मैं बेड पर जाकर टांगें फैला कर बैठ गया और सायमा मेरे केक लगे लंड को मुंह में भर कर फिर से चूसने चाटने लगी.

थोड़ी देर के बाद जैसे ही मैंने थोड़ा सा और जोर लगाया, तो उसने जोर की आह भरी और इसी के साथ मेरा लंड उसकी गांड में 2″ तक घुस गया. ‘उन्नह … जीभ डालो मेरे मुँह में अपनी … चाटो न मेरी जीभ को …’एक लंबे किस के बाद माँ बोलीं- राजा … आअअअ … अब बर्दाश्त नहीं हो रहा … जल्दी से डाल दो अपने लंड को मेरे चूत में प्लीज़ … चोदो इसे आज फाड़ डालो इस निगोड़ी फ़ुद्दी को. राजस्थानी संभोगचूचियां चूसने में कुछ सख्ती और चूत में उंगली अन्दर बाहर करने की रफ्तार बढ़ी तो उसको मजा आने लगा.

फिर अंकल जी नीचे कालीन पर बैठ गए और मेरे दोनों पांव उठा कर अपने सीने से लगा उन्हें चूमने लगे. धक्के लगाने के लिए लंड को आगे पीछे करने की कोशिश करने लगा मगर लंड थोड़ा सा हिलकर रह जाता.

मगर उनकी आवाज इतनी ज्यादा तेज नहीं थी कि बाहर आकर बच्चों के कानों तक पहुंच पाये. बलवन्त बिना रुके जोर जोर से मेरी गांड मार रहा था और मैं दर्द से कराहते हुये रो रही थी. रीना मेरे कान में फुसफुसायी- कुछ हो नहीं सकता क्या?मैंने कहा- चाहो तो बहुत कुछ हो सकता है.

मगर अभी तक उन्होंने एक दूसरे को इस बात की भनक नहीं लगने दी कि मैं दोनों की ही चूतों के मजे लेता हूं. मेरा दोस्त बोला- पहले एक एक राउंड चुदाई कर लेते हैं, फिर खाना खाया जाएगा. मैं- भाबी, आपकी ये नटखट सी चुत कुछ मूसल जैसा बड़ा सा खाना चाह रही है.

सोनल ने तुनक का कहा- भाई, क्या मैं इतनी हॉट नहीं हूँ?मैं- तुम भी हॉट माल हो, लेकिन दिशा के मम्मे और उसकी लचकदार गांड को देखकर मैं अपने आपको कन्ट्रोल नहीं कर पाता हूँ.

फिर जीजू ने पीछे से ही अपने खड़े हुए लंड को मानसी की उबल चुकी चूत में सट से घुसा दिया तो मानसी खुद ही अपनी गांड को जीजू के लंड पर ऊपर नीचे पटकती हुई उनके गोरे लम्बे लंड से चुदने लगी. मैं आपके कमेंट्स के इंतजार में रहती हूं हमेशा और उसी से मेरा उत्साह बढ़ता है, जिसके कारण मैं अपनी अगली कहानी आपके लिए लिखने की हिम्मत जुटा पाती हूं.

जैसे ही उसे समझ आया कि मैं भी तैयार हूँ, तो तुरंत ही उसने अपने हाथों से मेरी पेंटी को नीचे की ओर खींच दिया. दूसरा हाथ मेरी गर्दन से लिपटा हुआ मेरे मुंह को उसके मुंह से दबाए हुए था. यहां तक कि उन्होंने मुझे मुझ पर भरोसा करके अपने लीगल आइडेंटिटी डाक्यूमेंट्स भी शेयर किये ताकि मैं उन्ही कोई फ्रॉड न समझूं.

मेरे हाथ अपने आप उनकी पीठ पर चले गए और मैंने अपने नाख़ून पीठ पे गड़ा दिए. जबकि उसकी मम्मी बिल्कुल कुलजीत की मम्मी थी, गोरा चिट्टा रंग, बड़े बड़े बूब्स, मोटे मोटे चूतड़. मैंने बोला- आपने पापा के अलावा किसी और के साथ भी चुदाई की है क्या?मां बोली- हाँ शादी से पहले जब मैं अपने घर में थी तो वहाँ पर एक लड़के ने मेरी चूत चोदी थी.

सेक्सी बीएफ मूवी एचडी हिंदी अपने इसी स्वभाव के चलते वो मेरे साथ और मेरे पति के साथ भी मजाक करने लगे. मैंने कहा- अगर आपको मसाज करानी है … तो आपको पहले नहाना होगा, फिर मैं आपकी मसाज कर सकता हूँ.

सेक्स पिक्चर गाना

मैंने अदिति को फोन किया और उससे पूछा कि वो कौन सी ट्रेन से आ रही है. मैं बोली- यस हनी ही कहना … मम्मी नहीं … बल्कि तू मुझे कविता डार्लिंग बोल. बाली रानी ने विशेष मुट्ठ मारने के लिए लौड़े की सुपारी नंगी करके मुंह में ले ली और उस पर जीभ फिराते हुए खाल आगे पीछे करके मुट्ठ मारी.

फिर मैंने उसकी शर्ट को उतरवा दिया और उसकी काली ब्रा में उसका गोरा चिकना बदन देख कर मेरे मुंह में पानी आ गया. हम लोग जब तक बाजार नहीं पहुंचे, तब तक वो मेरी चूची को दबाता रहा और उसने मेरे हाथ को उठा कर अपने लंड पर रखवा लिया. एक्स एक्स सनी लियोनीपढ़ते पढ़ते मेरी चूत गीली हो गयी और मैं अपनी चूत में उंगली घुसाने लगी.

मैं- दिशा चल उठ, बाथरूम जाना है … तुम मेरे साथ नहाना पंसद करोगी?दिशा- हां जीजू, चलिए.

उन्होंने उस दिन हाथ में बेलन लिया हुआ था और उन्होंने उस बेलन को अपनी चुत पे सैट कर रखा था. तभी अचानक उसने मेरा लण्ड अपने हाथ में लेकर जोर से दबा दिया और उसे हिलाने लगी। मेरे मुँह से आह निकल गयी। इसी तरह उसे अपनी उँगलियों से चोदने के बाद उसकी चूत ने एक बार फिर पानी छोड़ दिया और वो ढीली पड़ गयी। पर वो मेरा लण्ड भी आराम आराम से हिला रही थी।फिर मैंने उसे लण्ड को मुँह में लेकर चूसने को कहा तो उसने साफ साफ मना कर दिया.

सुमेर बोला- इसे तुम जब मर्जी चोद लेना पर ये राज किसी पर जाहिर मत करना, बेचारी लड़की बदनाम हो जाएगी. लेकिन जब वो पैर से ऊपर नहीं हुए तो अब नशे-नशे में मैं उन्हें अपने हाथ से भी खींचने की कोशिश करने लगा. भाभी ने चूत में लंड की ठोकर लेते हुए मुझसे कहा- आज पहली बार मुझे औरत होने का मजा आ रहा है.

पहले दिन ही स्वीटी को देखते ही मेरी पूरी बॉडी में करेंट सा दौड़ गया था.

जब मैंने अपनी पैंटी पर हाथ लगा कर देखा तो मेरी पैंटी भी गीली हो चुकी थी. मुझे जानकारी थी कि किसी भी विदेशी को साड़ी वेस्टर्न ड्रेसेस से ज्यादा सेक्सी लगती है. अन्तर्वासना की सेक्सी कहानियों के सभी पाठक पाठिकाओं, लेखक, लेखिकाओं को देव कुमार का नमस्कार.

देसी सेक्सी वीडियो पिक्चरमैं सोनल को छोड़कर बेड पर लेट गया और वो दोनों फ्रेश होने के लिए चली गईं. मुझे देख कर बोला- कहां थे?मैंने कहा- जन्नत में … कल दोनों जन जाएंगे.

सेक्सी ब्लू इंग्लिश में

उसने मेरी चूत को मसलने के बाद मेरी चूत पर अपना लंड रख दिया और मेरी चूत को लंड के सुपारे से रगड़ने लगा. वो तो शर्मा कर सिमट गई और उसने अपनी जांघों को सटा कर अपनी चूत को ढक लिया और अपने हाथों से अपने चुचियों को छिपाने लगी. अपने लंड को अपने हाथ में लेकर ताऊ जी ने बुआ को हिला कर दिखाया तो बुआ मुस्कुराने लगी और बोली- बहुत दिनों बाद आज इस औजार से मुझे प्यास बुझाने का मौका मिला है.

चूंकि उसकी चूत बिल्कुल नई-नवेली कुंवारी कली की तरह थी इसलिए उसकी दोनों फांकें आपस में लगभग चिपकी हुई थीं. मैं राधिका के पास जाकर बैठ गया और सोनल तरफ देखकर हल्की स्माइल दे दी. उसने मुझे दिखा कर उंगली से निकाल-निकाल कर हर एक कतरा पीया मेरे रस का। फिर उठी और मेरी गोद में आ कर बैठ गयी.

कुछ देर हम ऐसे ही नंगी चूत और लंड के मिलन के साथ रजाई में लेटे रहे. भाई बोला- साली कुतिया तुझे आज मैं रंडी बना दूंगा और आज के बाद तू मेरी रखैल बन कर रहेगी. माहौल कुछ हल्का हुआ तो मैंने बताया- मैं तुम्हें स्कूल के समय से ही पसंद करता हूँ.

उसके बाद मैंने आज रात को ही माँ को चोदने की प्लानिंग करना शुरू कर दिया. मैं भी कभी उसकी फैमिली से नहीं मिला था, इसलिए सोचा कि चलो आज मिल लेते हैं.

मुझे अच्छा लगेगा और मैं आप लोगों के लिए कोई और किस्सा या घटना लेकर वापस आऊंगा.

मेरी छाती पर बैठ कर ऐसे चूस रही थी जैसे बरसों बाद मिला हो।अचानक से वो अलग हुई और मेरे फेस को अपने फेस से सटा लिया और आँखें बंद कर लीं. बीपी व्हिडिओ इंडियनवहां पेशाब करने के बाद जब बाहर आई तो मैंने पूछा- कैसा लगा अपने भाईजान से चुदवा कर?वो मुस्कुरा कर बोली- चुदाई मस्त थी. हिंदी वीडियो एक्सफिर वो मेरे ऊपर आ गया और अपना लंड को चुत में लगा के धक्का मारा, एक बार में ही लंड पूरा अंदर चला गया. उनकी लुंगी अभी भी ऊपर उठी हुई थी और अंदर से जीजा जी ने अंडरवियर भी नहीं पहनी हुई थी.

आअहह जैसे ही उसने मेरी गांड को छुआ, तो मुझे पता चल गया कि ये तो मेरे भाई अर्पित का लंड था.

अब तो लगभग रोज ही चुदाई होती है। मेरी बहन भी मुझे काफी पसंद करती है. उसी दिन मुझे यह ज्ञान मिला कि बुर का मोती छेड़ने या चाटने से विशेष मजा आता है और तन मन चुदने को मचल उठता है. आपने मेरी कहानी का पहला भागदेसी भाभी का प्यार और सेक्स-1पढ़ लिया होगा.

एक बार आंटी ने मुझे कोरबा मिलने के लिये बुलाया तो मैं उनके घर जाने के लिए राज़ी हो गया. वो मेरे सामने नाड़ा जब बांधती थी, जब उसका मन और चुदने को करता था क्योंकि उसे पता था कि मैं ये देख कर गर्म हो जाता हूँ. मैंने उससे गिलास और बर्फ मांगी, तो वो किचन से दो गिलास और नमकीन के साथ बर्फ आदि ले आई.

माँ को चोदा कहानी

नजर उसकी छाती पर गई तो आसमानी रंग के नीले सूट में उसकी चूचिचों के उभार भी काफी सुडौल व गोल लग रहे थे. थोड़ी देर बाद मेरे मुँह में उसका लंड रहने से मुझे भी मज़ा आने लगा और मैं उसका लंड चूसने लगी. तकरीबन 6 साल तक मैं एक क्रेन ऑपरेटर हूँ … इसलिए एक जगह अस्थायी नहीं रहता हूँ.

अब जब भी मैं लंच टाइम में बाहर जाता तो वो खूबसूरत लड़की भी एक बार नज़र भर कर मेरी तरफ देख कर नज़र फेर लेती थी.

इसके बाद मैंने उसके होंठों पर किस किया और पूछा- क्या तुम्हारी सलवार भी निकाल दूँ?उसने मुझे चूमते हुए कहा- अब क्या दिक्कत है … निकाल ही दो बेबी.

इस बार राधिका को दो पॉइंट्स, दिशा के तीन और सोनल के पास भी तीन पॉइंट्स थे. हम लोग भी मतलब (मैं और मेरा दोस्त) उसे देखने लगे … पर कभी एक दूसरे से बात ना होने के कारण मेरी उससे कुछ बोलने की हिम्मत नहीं हो रही थी. फुल एचडी ब्लू फिल्मचूंकि मैं अपनी कॉलेज की फीस और पढ़ाई का खर्च खुद ही उठाना चाहता था इसलिए मैंने एक इंस्टिट्यूट में टीचर की जॉब भी कर ली थी.

भाभी मुंह खोलने से बचना चाहती थी क्योंकि अगर आवाज बाहर जाती तो किसी को भी हमारी चुदाई के बारे में शक हो सकता था. मेरे लंड पर बैठने के बाद वह उछलने लगी और खुद ही अपनी चूत को चुदवाने लगी. मामी जी मुस्कुराते हुए बोलीं- ये हुई न बात, चलो छत पर चलो, वहीं बैठ कर बात करते हैं.

दूसरे दिन अंकल तो चले गये लेकिन मैंने कुलजीत से उसके घर में ही पढ़ने को कह दिया. अपनी अपनी जीभ निकाल के एक दूसरे की जीभ चूमते रहो और चुदाई का मज़ा लेते हुए अपने पार्टनर के चेहरे पर आते हुए मधुर आनंद के भाव देखते देखते प्यार की बातें फुसफुसाते रहो.

उसी तरह मैंने एक बार फिर नम्रता को अपनी गोद में लेकर लंड उसकी चूत में डाला और चूत की मथाई शुरू कर दी.

दोनों ने करवट ली और एक दूसरे को अपने आगोश में ले लिया और पता ही नहीं चला कि कब नींद आ गयी. प्रस्तुत कहानी ऐसी ही एक कथा का वर्णन है जिसका बीजारोपण तो अनजाने में कई साल पहले ही हो गया था लेकिन उस बीज़ को प्राणवायु प्रिया की शादी-समारोह में ही मिली. आपके लिए वसुन्धरा का संदेसा है कि आप हरगिज़ भी उससे मिले बिना ना जाएँ.

বাংলা থ্রি এক্স মুভি नहाकर अपने साथ लाई हुई टी शर्ट व लोअर पहनकर कमरे में आया तो वो सो चुकी थी. मैं ग्लास उसके मुँह के पास ले गया, वो पीने के लिए मुँह आगे करने लगी.

जैसे ही मेरी जीभ उनके लिंग को टच हुई तो जीजा जी उछल पड़े और मेरी चूत को और जोर से चूसने लगे. कैसे भी करके मिलो न!रीना- आप पागल हो गए हो? शादी के पहले तक तो बिल्कुल नहीं. इधर मैंने बीयर के सील को तोड़ दिया और फिर हम दोनों ने जाम लड़ाने के बाद अपनी-अपनी बीयर खाली करने लगे.

रानी जेठानी

मैं जाने लगा, तो उसने कहा- पंकज जी मैं आपको 20000 और दूंगी, पर जो मैं करूं, मुझे करने देना होगा. मैंने एक बार फिर एक और जोर का झटका मारा, जिससे मेरा लंड उनकी चूत की दीवारों को चीरता हुआ जड़ तक घुस गया. मुझे चुदाई का बहुत शौक है और जवानी भी मुझे इस बात के लिए मजबूर कर रही थी कि कोई चूत मिल जाए तो बस चोद दूँ.

धीरे धीरे मैं अपने हाथों को उनकी सलवार की तरफ़ ले गया और ऊपर से ही सहलाने लगा. मुझे बहुत कस कर गुस्सा आया और मैंने उसको बोलने के लिए उसकी तरफ अपना सर उठाया, तो मेरा सारा गुस्सा गायब हो गया और मेरी गांड फट के हाथ में आ गई … क्योंकि ये पूजा नहीं थी कोई और थी … जो सिर्फ उसके कपड़ों को पहने हुए थी.

वो परिवार बहुत ही मिलनसार था, तो थोड़े ही दिन में मेरी मम्मी से उन आंटी की दोस्ती हो गई और हमारा एक दूसरे के घर आना जाना चालू हो गया.

मैंने अंडरवियर पहना हुआ था और उसके उभरे हुए चूचों के बीच में तने हुए उसके निप्पल देख कर मेरा लंड मेरे अंडवियर में फिर से खड़ा होना शुरू हो गया. मैं उसके होंठ चूसने लगा और मैंने अपना औज़ार एक ही झटके में उसकी चूत में दे मारा. अब जब दीदी के साथ इतनी सारी बात हो ही गई थी तो मैंने सोचा क्यों न इससे आगे बढ़ा जाये?मैं- मगर दीदी मैंने तो आपको केवल कपड़ों में ही देखा है.

बाद में फिर तकरीबन डेढ़ घण्टे बाद हम लोग वापस आए, तो पूरी तरह अन्धेरा हो चुका था. उसने तुरंत मेरी तरफ देखा, मैंने आंखों से इशारा किया- मैं हूँ डरो मत. पानी निकलने के बाद मौसी मुझे धक्के लगाने का इशारा करके मेज़ पर एकदम चित लेट गईं.

वो मस्ती से चिल्ला रही थी- आआहह ओह प्लीज़ अब छोड़ दो … मुझसे सहन नहीं हो रहा है.

सेक्सी बीएफ मूवी एचडी हिंदी: मैं वाशरूम में जाके हल्का होके बाहर निकला तो देखा कि आंटी ने नाइटी पहनी हुई थी. नीचे देखा तो भाभी की झांट रहित सफाचट छोटी सी चूत अपना जलवा बिखेर रही थी.

उसने कहा- अभी मेरा और मन है तेरी चुदाई करने का!मैंने उसे बताया- मन तो मेरा भी है … पर मेरे सास ससुर आ जायेंगे. एक टाईट सा पैग पी कर थोड़ा राहत मिली और हम लोग रजाई लेकर बेड पर बैठ गए. मैं उनको बाथरूम में ही किस किए जा रहा था और उनकी चूत को सहलाए जा रहा था.

दीदी के आने के बाद उस रात मैं उनके बच्चों के साथ दूसरे कमरे में सो गयी.

एक चुदासी औरत को लंड के लिए कैसे तड़पाया जाता है, अंकल ये बखूबी जानते थे. पांचवे नम्बर का लड़का मेरी गांड को चोदने लगा और उससे दूसरे वाला मेरे मुंह को चोदने लगा. मगर मेरा रुकने का मन नहीं कर रहा था और मैं चूत की चुदाई करता ही रहा.