देसी बीएफ सेक्सी पिक्चर

छवि स्रोत,ট্যাক্সি 69

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ वीडियो भेजिए तो: देसी बीएफ सेक्सी पिक्चर, अगर तुम ठीक हो जाओगे तो ही मैं सारा को तलाक़ देकर तुमसे शादी करवाऊंगा.

बीपी हिंदी में बीपी

उत्तेजना में मैंने किसी तरह एक हाथ पीछे ले जाकर उसके चूतड़ को पकड़ना चाहा, पर वहाँ तक मेरा हाथ नहीं पहुंचा. नेपाली वीडियो सेक्सी फिल्महम दोनों ने एक दूसरे को ओरल सेक्स देने के बाद एक दूसरे को किस किया और उसके बाद चुदाई की कबड्डी शुरू होने की स्थिति बन गई.

इधर काम-संवेदनाएँ फिर सिर उठाने लगी थी और मेरे लिंग में फिर से तनाव आना शुरू हो गया था. छत्तीसगढ़ी नाचामैं थोड़ा सा आगे होकर बिस्तर पर बैठ गया और उसके हाथ पर अपना हाथ रख दिया.

काफी देर एक दूसरे को चूमने के बाद उसने मेरी गांड को अपने दोनों हाथों में थामा और मेरी गांड हो थोड़ा ऊपर उठाया.देसी बीएफ सेक्सी पिक्चर: उनको अपने बाहुपाश में भरते हुए मैंने पूछा- कैसा रहा रिटर्न गिफ्ट?मेरी चुदासी मामी मुस्कराकर बोली- लाडो, मैं तो तेरे लिए डिल्डो ही लेकर आई थी मगर तूने तो सच-मुच में असली का लंड मेरी चूत पर न्यौछावर कर दिया.

वह उठने लगीं, पर मैंने उनकी कमर पकड़ कर उन्हें फिर से अपने लंड पर बैठा लिया.आज मेरी सासू माँ ने तुमको बुलाया था और मैंने आप दोनों की सारी बात सुन ली है.

भाभी की देसी सेक्सी - देसी बीएफ सेक्सी पिक्चर

मेरे इतने तेज धक्कों के बाद भी संगीता के चेहरे पर एक मस्ती सी चढ़ती जा रही थी.रानी ने मुझे प्यार से कई बार चूमा और फिर मूर्छित सी होकर मेरे ऊपर ढेर हो गयी.

हम दोनों को कब नींद आ गयी पता नहीं चला। उस दिन हमारा ‘सुहागदिन’ था. देसी बीएफ सेक्सी पिक्चर फिर मैंने 2 झटके और मारे और मेरा पूरा लंड उसकी फ़ुद्दी में समा चुका था, उसकी आँखों से पानी बह रहा था.

मार डालोगे क्या?इस पर सारा बोली- मियां जी, ज़रीना अभी कुंवारी है, इसकी चूत बहुत टाइट है.

देसी बीएफ सेक्सी पिक्चर?

वह मेरे अंडकोष को पहले चूमने लगी और फिर उसने मेरे टोपे को अपने होंठों से लगा लिया. अमर ने उस चीख को नजरअंदाज करते हुए धीरे धीरे झटके देने शुरू कर दिए. उससे कुछ नहीं हुआ था, मेरी सील कैसे किसने तोड़ी थी, यह तो आप जब उस मेरी कहानी को पढ़ेंगे, तभी सच्चाई का पता चलेगा.

मैं कभी उसके बालों को सहला देता तो कभी उसके नंगे बदन को छू लेता था. विशाल भैया के आने के बाद अब हमें ज्यादा मौका तो नहीं मिल पाता मगर जब भी विशाल भैया कहीं बाहर जाते हैं शगुन भाभी मुझे चुदाई के लिए बुला लेती है. उसके बाद ठीक से उनको अच्छी तरह नहलाया और अपनी तरफ उनको घुमाते हुए जमाई जी की गर्दन पर लटक गई.

मैंने उससे कहा- अरे कितनी बार धन्यवाद कहोगी, हो गया … अगर कोई और भी काम हो तो बता देना. कमाल की बात ये थी कि इस रगड़न से मुझे उसकी मुलायम गांड का अहसास कुछ ज्यादा ही हो गया था मगर बंदी ने कुछ नहीं कहा. वो कहते हैं न कि दाने दाने पर लिखा है खाने वाले का नाम … और हर चूत पर लिखा है चोदने वाले लंड का साईज.

मैं सोचने लगा कि इसकी बहन भी मेरे दोस्त की बहन है … मगर जब ये खुद से कह रही है तो मुझे हां कर ही देनी चाहिए. कल तुमने मेरे साथ सेक्सी हरकत करके मुझे गरम कर दिया था तो मुझे फिर से आग लग गई थी.

फांकों के बगल का क्षेत्र भी सूज गया था … उनकी काफी अच्छे से चुदाई हुई थी.

पांच मिनट तक लंड चूसने के बाद चाची बोली- चल अब चोद जल्दी से … बहुत देर हो जायेगी तो कोई ढूंढता हुआ आ जायेगा.

फिर उठकर उसने से मेरे बाल पकड़ लिये और मेरे होंठ अपने होंठों में लेकर बेताहाशा चूसने लगी. मैं- आपके दिमाग में आपके लड़के का लंड आता है ना बार बार … क्या कभी ये नहीं ख्याल आया होगा कि उसके लंड से चुदवा लूं?मां- हां ये तो हमेशा आता है … लेकिन आज आपका लंड अपनी चूत में लेने के बाद शायद मैं अपने बेटे के लंड के बारे में न सोचूं. वो मस्त हो गई और बोली- बस रवि जो करना है … जल्दी करो … मुझसे रहा नहीं जाता.

रानी ने मुझे प्यार से कई बार चूमा और फिर मूर्छित सी होकर मेरे ऊपर ढेर हो गयी. उसने लाइट ब्लू कलर की झीनी सी साड़ी और स्लीबलैस मैचिंग का ब्लाउज पहना था. मैंने अपनी तर्जनी उंगली और अनामिका उंगली से वसुन्धरा की योनि की दरार को ज़रा सा फैलाया और इस बार भगनासा की ओर बढ़ती मेरी मध्यमा उंगली, वसुन्धरा की योनि की दरार के ऊपर नहीं अपितु योनि की पंखुड़ियों के जरा सी अंदर-अंदर ऊपर को उठ रही थी.

आप मुझको जानते है … मैं शरीर से हट्टा कट्टा हूँ और 5 फुट 10 इंच का जवान लड़का हूँ.

खैर जैसे ही मेरी योनि लाइन में लिंग प्रवेश हुआ, मैंने खुद को संतुलित कर हल्के हल्के कमर हिलाते हुए धक्के देने लगी. कुछ देर रगड़ने पर निशा बोली- यश अब डाल भी दो यार … कितना तरसाते हो तुम!मैंने निशा की चूत पर अपना लंड रख कर हल्के से धक्का मारा. मैंने मौक़े की नज़ाकत को देखते हुए वसुन्धरा के बाएं निप्पल को अपने मुंह में लिया और चुमलाने लगा.

मैंने भी अपना हाथ थोड़ा और टेबल के बाहर किया और आंखें बंद करके लेटा रहा. जब उसके द्वारा बताए गए पते पर पहुंचा तो मैंने वहाँ पहुंच कर दरवाजे की बेल बजाई और एक 21-22 साल की लड़की ने दरवाजा खोला. एक तरफ मेरा मुंह उसके चूचों पर लगा था और नीचे की तरफ मेरा लंड उसकी चूत को चोद रहा था.

मैं मम्मी से बोला- जब आपको मेरी जरूरत पड़ेगी, तो आप ही मेरे पास मुझसे चुदने आओगी.

मुझे मालूम था कि इसका मन बहलाने के लिए ऐसा करना जरूरी है वर्ना ये चूत नहीं चुदवाएगी. तभी पता नहीं, कहां से एक चूहा बेड पर चढ़ गया, जिससे मायरा डर कर मुझसे चिपक गई.

देसी बीएफ सेक्सी पिक्चर कभी उसकी चूत में उंगली कर देता और कभी मैं अपनी सुन्दर बहन के ऊपर के बूब्स को चूस रहा था. उन दोनों को ये नहीं पता था कि इस टॉयलेट में पीछे से भी एक दरवाजा था जिससे मैं धीरे से अन्दर घुस गया था.

देसी बीएफ सेक्सी पिक्चर कहानी में और भी पात्र हैं, उनका परिचय उनके आगमन के साथ ही मिल जायेगा।शारदा चाची का घर मेरे ही नगर में कुछ ही दूरी पर है. उसे मैंने कैसे सेट करके चोदा?हैलो मित्र, मैं क्रिस रोहतक हरियाणा से हूँ.

पापा के गुजर जाने के बाद मम्मा को उनकी जगह बैंक में नौकरी मिल गई थी.

साउथ की नई पिक्चर

’मैंने राजिंदर के और शैली ने उपिंदर के कपड़े उतारे और फिर दोनों के लंड चूसे. मैंने अपनी अधखुली नजरों से देखा तो डाक्टर की आंखों में और चेहरे पर कामुकता नजर आ रही थी. हम दोनों ने एक ही कप में चाय पी और उसके बाद मेरा लंड काबू से बाहर हो गया.

मगर यार तुम सच में शादी के बाद ही अपने बदन को छूने दोगी क्या?इन्दु – जी, बिल्कुल सही समझा आपने. दिलिया को भी मजा आने लगा, उसने अपने टाँगें उठा कर मेरी पीठ पर लपेट ली. वह भी मेरे साथ काम करने लगा और हम दोनों ने मिलके सारा रूम साफ कर दिया.

सलोनी- पर आज तक मेरे से किसी ने कहा क्यों नही? मेरा भी दिल करता था कि कोई मेरी तारीफ करे.

ऊपरी कपड़े उतरने के बाद वो सिर्फ काले कलर की ब्रा पैंटी में रह गई थी. कुछ ही देर में मैं झड़ गया और चादर से ही अपने लंड को पौंछ कर सो गया. वो बोलीं- बेटा तुम कहां हो?मैं बोला- मैं तो अभी अपने घर आ गया हूँ, बोलिए क्या बात है?वो बोली- कल घर आने का मन है.

उसकी हाइट करीब 5’4″, बिल्कुल सोने जैसा रंग और फिगर भरीपूरी यही कोई 32-30-36 का होगा। अब ऋजु को देख मैं अपने आप पर कंट्रोल नहीं कर पा रहा था और मैंने आगे बढ़कर अपना हाथ ऋजु के हाथ पर रख दिया। वो नीचे नजर करके मन्द मन्द मुस्कुराने लगी. सच में किसी लड़की को कभी अधूरा पूरा संतुष्ट किये बिना नहीं छोड़ना चाहिए. पसीने की वजह से बग़लों में ब्लाउज और जांघों के बीच पैंटी चिपक कर बैठ गई थी.

अब हम दोनों एक से हो गये थे … एकदम नग्न! लेकिन वसुन्धरा को इसका अभी अहसास नहीं था और बिना एहसासों के न तो जिंदगी सार्थक होती है न कामक्रीड़ा. फिर मैंने बड़ी हिम्मत करके अपना एक हाथ उसके पेट पर रख दिया, वो सोई थी इसलिए उसने कुछ नहीं कहा.

जब मैं रूम में गया तो मायरा ने एकदम झीनी नाइटी पहनी हुई थी जिससे उसके बूब्स और चुत दोनों झलक रही थीं. इसका असर हमेशा हमारे मंथली बजट पर पड़ता, इसलिए नितिन हमेशा कमाई बढ़ाने के लिए प्रयास करता रहता था. मैं उसका निचला ओंठ चूस कर अपना लण्ड हल्का से पीछे करता था फिर कस कर धक्का लगा कर उसका ऊपरी ओंठ चूसने लगता था जिससे चूत लण्ड को जकड़ लेती थी, उसकी जीभ को चूसने लगता था तो जैसे चूत लण्ड को अंदर खींच कर चूसने लगती थी.

कुछ सेकंड ही बीते होंगे कि मौसी ने झटके से मेरा हाथ और पैर दोनों हटा दिया.

वहां से मैं अपनी जीभ फैला कर उनकी चूत को चाटते हुए ऊपर की तरफ जाने लगा, जैसे कुत्ते चाटते हैं वैसे. मैंने उन्हें बताया कि अब तक मैं चार लंड अपनी गांड में लिए हैं और आज आप पांचवें मर्द होंगे, जो मेरी गांड मारेंगे. वह बोली- क्या सोच रहे हो मेरे राजा?मैंने कहा- कुछ नहीं मेरी जान, तुम्हारी चूत को चोदने का मजा ले रहा हूँ.

दिखने में अच्छा खासा होने के वजह से मैंने जल्दी ही उसके दिल में अपनी जगह बना ली थी. मामी उठकर कपड़े पहनने की तैयारी करने लगी तो मैंने उनको मना कर दिया.

हाय! पूजा की चूत … ओह्ह … उसके चूचे … उफ्फ मिल जाये तो उसकी चूत को चोद दूँ. उसकी आह सुनकर मुझे लगा कि इसे दर्द हो रहा है तो मैंने उससे पूछा- तुम्हें सील टूटने की वजह से दर्द हो रहा है ना?उसने मुझसे कहा- मेरी सील तो पहले ही टूट चुकी है. वसुंधरा के पैरों के तलवे गहरे गुलाबी रंग के, गद्दीदार और वलय वाले थे और पैरों की सारी उंगलियां रोमरहित एवं समानुपात में थी.

अंग्रेजी सेक्सी नंगी

हॉट गर्लफ्रेंड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैंने कैसे अपनी क्लास की सेक्सी लड़की को पटाया.

लेकिन उसे तो कुछ और देखना था न कि उसकी नींद की गोली ने कितना काम किया है. मगर असलियत तो यही है कि वो मेरी चूत का और मैं उसके लंड की दीवानी हूँ. मैं उसकी चूत में उंगली करने लगा और साथ-साथ में अंजलि को किस भी कर रहा था.

उसकी इस बिंदास भाषा को सुनकर मैंने कहा- चुप रह पगली, मैं वहां पर ये सब करने नहीं गया हूं कि गर्लफ्रेंड पटा लूं. मैंने शिखा से दोबारा ट्राई करने के लिए कहा तो वह बोली कि अबकी बार आराम से करना, बहुत दर्द होता है. सेक्सी इंग्लिश व्हिडिओ ओपनकुछ देर बाद भाभी आईं और पर्ची उठाकर देखा और उसे उन्होंने अपनी ब्रा में डाल ली.

मैं पहले तो चित लेटा था, फिर मैंने भी करवट बदल कर चेहरा उनकी तरफ कर लिया. पर मैं करूं तो क्या ये मेरी समझ में नहीं आ रहा था क्योंकि मैं इन चक्करों से बिल्कुल अनजान थी.

उसने टांगें हवा में उठा दीं और मैंने भी सही मौका देख कर उसके छेद पर मेरा लंड सैट करके एक जोरदार झटका मारने को रेडी हो गया. मैंने एक दिन सही मौका देख कर उससे कह दिया- अब दूरी सहन नहीं होती, मैं तुम्हारे साथ सेक्स करना चाहता हूँ. वो हंसकर जाने लगी तो मैंने उसे पीछे से पकड़ा और अपनी बांहों में कस के जकड़ लिया.

com पर पोस्ट की थी तो उनमें से एक-दो कहानीदोस्त की चालू बहन की चुत में मेरा लंड https://www. अब मैं तो कभी सात बजे के पहले उठने वाली हूं नहीं … तो फिर से एक तकिया अपने सीने से चिपटाया और फिर से सोने की कोशिश करने लगी पर नींद फिर आई ही नहीं. एक दिन शीतल भाभी ने मुझसे कहा- तुम शाम को फ्री हो क्या?तो मैंने उन्हें झट से हां बोल दिया.

मैंने पापा के सामने एक शर्त रख दी कि माँ के आने के बाद भी मुझे आपके लंड से चुदाई करवानी है.

जिस तरह दूध में उफान आकर वह पतीले से बाहर आ जाता है वैसे ही वीर्य निकलने के बाद धीरे-धीरे शरीर की ऊर्जा कम होने लगती है. मेरे मुँह से आह आह निकल रहा था- आह चूसो भाभी … आह चूसो इसे! बहुत परेशान करता है ये लंड।भाभी- चिंता न कर, आज इसे ठीक करती हूँ मैं!और मुँह में लेकर चूसने लगी।मैंने भाभी की ब्रा तेज़ी से निकालने के चक्कर में फ़ाड़ ही दी.

मैं कोई भी जल्दबाजी करने के मूड में नहीं था इसलिए ना मैंने उनका मोबाइल नंबर मांगा, ना ही कोई सोशल आईडी मांगी. राजे, कुछ देर गहरी गहरी सांसे ले कुत्ते … नहीं तो झड़ जायगा … हाँ ऐसे ही … और ले इसी तरह गहरी सांस. हमारी चुचियां मसलना, चूसना, होंठ चूसना, जांघें और चूतड़ दबाना, लंड चुसवाना सब साथ साथ चला.

उसने दबा कर मेरी चूत को चोदा, कभी मुझे लंड पर चढ़वाया और कभी खुद चूत पर चढ़ा, कभी गोद में ले कर चोदा तो कभी खड़ा करके चूत में लंड को पेला. उसकी चूचियां मेरे सीने पर लगीं तो मेरा लंड खड़ा हो गया जो शायद उसको भी फील हुआ. मैंने अपनी क्लास की एक लड़की आकांक्षा को प्रपोज किया था लेकिन उसने मना कर दिया था.

देसी बीएफ सेक्सी पिक्चर कहकर मैंने शिखा की चूत पर लंड को फिर से सेट कर दिया जो पहले से ही गीली थी. चार साल पहले मैं जब राजकोट में रहता था, मेरे पड़ोस में एक फैमिली थी, जिसमें अंकल आंटी, उनका बेटा और उनकी बहू नफीसा थे.

লোকাল ব্লু ফিল্ম

मैंने कहा- भाई जान, मेरे पुट्ठे भले थोड़े ज्यादा हों, पर हथियार तो आपका मजबूत है. इसलिए मैंने उससे बातों ही बातों में पूछा- क्या तुमने कभी अपने पीछे वाले छेद में भी लंड लिया है?वह बोली- नहीं, मेरा पति तो आगे वाले छेद को ही शांत नहीं कर पाता. मम्मा मेरा लंड मुँह में लेकर चूसने लगीं और 2-3 मिनट में मैं भी झड़ गया.

इससे मेरी मम्मा दर्द के मारे चीख उठीं और उन्होंने अपनी टांगों को भींच लिया. मैंने पोजीशन बनाई और उसकी दोनों टांगों को फैला कर अपने लंड को बुर में सैट कर दिया. सेक्सी पाकिस्तानी सेक्सीरितेश को भी ये अहसास थोड़ी देर बाद हुआ क्योंकि वो भी मीरा के चूतड़ों की गर्माहट में खो गया था.

वो भी मेरा हल्के काले रंग और 8″ और 3″ मोटा लंड देख कर घबरा गई और अपनी नजरें झुका लीं.

मैंने भाभी के बूब्स को बड़े प्यार से ब्रा के ऊपर से ही चूमना शुरू किया. सरिता बोली- हर्षद, तुमने अब तक मुझे बहुत सारा सुख दिया है, जो मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था.

मैं देख रहा था कि लड़के तेरे को कैसे स्कूल में और अभी यहां भी लाइन मार रहे थे. देसी मॉम की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मैं अपनी मम्मी की जवानी की ओर आकर्षित हुआ. ’‘अंकल आप सब इतने प्यारे हैं, आपके लंड इतने खूबसूरत हैं कि देखते ही चूत में गांड में आग लग जाती है.

उसे देख कर लग ही नहीं रहा था कि ये शादीशुदा होगी या इसकी बेटी होगी.

पापा बोले- वाह मेरी रानी, क्या चूत है तुम्हारी! मेरे लंड ने तेरे भोसड़े को खोल दिया. मेरा एक हाथ उसके स्तनों को दबा रहा था, दूसरा हाथ उसके पेट पर और उसके गालों को सहला रहा था. बहन की गोरी चुत देख कर अब मुझे नींद नहीं आ रही थी; मेरा मन कर रहा था कि अभी अपनी बहन को चोद दूं.

सेक्सी एक्स एक्स एक्स चुदाईमुझे ऐसा लगा जैसे उसके लिंग का सुपारा मेरी बच्चेदानी के मुँह से चिपक गया हो. फिर परी ने बताया कि उसने मुझे भी देख लिया था और वो जान-बूझकर मुझे दिखाने के लिए बाथरूम में ऐसी हरकत कर रही थी क्योंकि वो खुद ही मेरे लंड से चुदना चाहती थी.

बंगाली सेक्सी ब्लू पिक्चर

उसी समय इंग्लिश मीडियम वाले सेक्शन में एक लड़की पढ़ती थी, जिसका नाम अनु था. कुछ धक्कों के बाद मैंने पूछा- कहाँ निकालूं?भाभी बोली- अंदर ही निकाल दो. मेरे हाथ पकड़े, ये सब इतना जल्दी हुआ कि मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था.

वहां मुझे एक तीस बत्तीस के सज्जन दिखे, वे मुझे ध्यान से देख रहे थे. मैं भी तैयार हो गया और फिर हम मम्मी को लिविंगरूम में छोड़कर बाथरूम में आ गए।हम दोनों बिल्कुल नंगे खड़े होकर शॉवर के नीचे नहा रहे थे और मम्मी की पैंटी को सूंघ और अपने लण्ड पर रगड़ रहे थे।मेरी कहानी आप लोगों को पसंद आई या नहीं … मुझे जरूर बतायें, उसी के बाद आगे की कहानी को जारी करूँगा। मुझे मेल करने के लिए और इंस्टाग्राम पर जोड़ने के लिए बिल्कुल भी संकोच ना करें।[emailprotected]Insta/weekendlust_tales. तब उसने कहा- सारिका जी क्या आप ऊपर आकर धक्के मारोगी? मैं अब थकने लगा हूँ प्लीज.

मैंने उसके चूचों को ब्रा के ऊपर से ही क्लीवेज पर से चाटना शुरू कर दिया. कुछ सेकंड ही बीते होंगे कि मौसी ने झटके से मेरा हाथ और पैर दोनों हटा दिया. आंटी ने अपनी शर्ट निकाल दी और ढीले पड़े मम्मों पर मेरा मुँह लगा दिया.

बाद में कल्पना ने बताया कि नेक्स्ट टाइम वो अपना अधूरी फैंटसी पूरा करना चाहेंगी. अपनी अगली कहानी में मैं आपको बताऊंगी कि जीजू ने कैसे मेरीकजिन सिस्टर को चोदाऔर अपनी दोनों सालियों के साथ कैसे ग्रुप में चुदाई की।धन्यवाद.

यह सोचते ही मेरी धड़कन और सांसें तेज हो जा रही थीं और नीचे मेरी पैंटी बार-बार गीली हो जाती.

मैं सौम्या के साथ लिपट कर लेट गया जिससे अपनी मम्मा सौम्या की गांड पर मेरा लम्बा लंड रगड़ लगाने लगा. भाभी ननद की सेक्सी वीडियोअब मेरे हाथ उनकी मस्त जगह पर लग गया, मतलब कि मेरी हथेली चाची की चूत पर थी. రేష్మి సెక్స్ వీడియోउसकी चूत देखते ही उसमें घुसने की जिद करता, पर करूँ क्या … लौंडिया सील पैक कमसिन माल थी और अभी पूरी तरह पकी भी नहीं थी. मैंने बाथरूम का दरवाजा बंद कर दिया था और उन्हें अपनी बांहों में भर लिया.

पति के सामने जेठ जी का लंड चूसने में शर्म तो आएगी ही।वीणा की इस बात पर हम चारों की हँसी एक बार फिर कमरे में गूंज उठी।मैं- तो ठीक है.

कुछ ही देर में उसका दर्द मजा में बदल गया और अब वो अपनी कमर उठा उठा कर चुदाई का मजा ले रही थी. बल्कि भाभी को इतना मजा आ रहा था कि वह बड़े भैया के चूतड़ों को पकड़ कर अपनी गांड की तरफ धकेल रही थी. उसने मेरे टॉप के अन्दर अपना हाथ डाल दिया और वो मेरे पेट को सहलाने लगा.

मैं अपने आपको सम्भालकर रूम के अन्दर गया तो देखा मम्मी बिल्कुल नंगी थीं. अपनी देसी गर्लफ्रेंड की Xxx कहानी को आज मैं आपके सामने बयान कर रहा हूं जो कि एकदम सच्ची घटना पर आधारित है. इतना बोलकर मौसी जल्दी जल्दी अपने रूम में चली गईं और मैं पीछे से उनकी हिलती गांड को देखता ही रह गया.

ब्लू ओपन सेक्सी वीडियो

वसुन्धरा के दोनों बाज़ू मेरी पीठ के इर्द-गिर्द सख्ती से लिपट गए और वसुन्धरा के दोनों पुष्ट स्तनाग्र मेरी छाती में छेद करने पर आमादा थे. खैर, हम दोनों में यह सब बातें हुईं और कुछ देर बाद नफीसा भाभी वहाँ से चली गईं. अपनी छाती से मैं उसके मोटे मोटे मम्मों को रगड़ रहा था और मेरा 8 इंच का भारी भरकम लौड़ा उसकी चिकनी चूत पर टच हो रहा था.

हॉट भाभी सेक्सी चुदाई कहानी के अगले भाग में सृजन भाभी मेरे लौड़े से कैसे चुदीं, इसको विस्तार से लिखूंगा.

उनका हाथ लंड पर लगते ही मैं एकदम सकपका सा गया और इसी वजह से मेरा बैलेंस बिगड़ने लगा.

आशीष मेरे होंठों को अपने होंठों से चूमने लगा, मेरी सांसें उसकी सांसों से. मैं अब अंडरवियर में था और मेरी मोटी गांड अंडरवियर में बहुत सेक्सी लग रही थी. సెక్సి వీడియో ఫిలింमैं इस बार उसको अपने कमरे में ले जाकर तौलिया से पौंछ कर बुर में महलम लगाकर कर उसे लेटने के लिए कह दिया.

मेम ने मुझे कंडोम पकड़ाते हुए जल्दी से चुदाई करने को बोला और अपना पजामा खोल दिया. क्यूंकि उसमें बहुत सारी पोर्न वीडियोज थीं, वो भी फुल एचडी फॉर्मेट में. अभी तक मैंने कई चूत के दर्शन भी किये और अपने लंड को चूत में भ्रमण भी कराया था, पर मुझे आज तक ऐसी चूत कभी नहीं मिली थी.

दूसरी बात मम्मा की चूत को बहुत दिनों से लंड का स्वाद नहीं मिला था तो बहुत ज्यादा सम्भावना थी कि वो मुझे चोद लेने देतीं. मेरा मुंह मेरी बांहों में छिपा था पर इस तरह कि मैं तिरछी नज़र से अंकल जी को देख सकूं.

इस बीच निशा अपनी गांड को जोर जोर आगे पीछे करने लगी और वो मेरे लंड को भी जोर जोर से आगे पीछे कर रही थी.

मेरी यह बात सुनकर पहले तो वह कुछ ना-नुकर करने लगी मगर उसके बाद फिर मान गई. मैंने सोनू से पूछा- तुम्हारी मम्मी की चूत से ऐसे ही निकलता है?उसने कहा- हां, ऐसे ही निकलता था लेकिन वह तो कुछ एक बूंद होती थीं, यह तो निकले जा रहा है. उसमें एक खिड़की है, जिसमें कुछ भी नहीं लगा है, केवल एक पर्दा डाल दिया गया है.

मुझे सेक्स करना है तुम्हारे साथ रात के 9:30 बज गए और नींद का मेरे लिए दूर दूर तक नामोनिशान नहीं था. उसने अपने हाथ से लंड को चूत पर सैट किया और मुझे आंखों से इशारा किया.

उसने सुबह 4:00 बजे मुझको फोन किया, तो मैं गुस्से से उससे नाराज हो गया. इस कहानी को मैं अपने पाठक की जुबानी ही आप सबके साथ साझा कर रहा हूं. करीब पांच मिनट तक हम दोनों यूं ही बिना कुछ किये बस एक दूसरे से लिपटे हुए एक दूसरे को महसूस करते रहे.

चोदाचोदी व्हिडिओ चोदाचोदी

फिर मैंने उसकी गांड में एक जोर का धक्का दिया और पूरा लंड जड़ तक अंदर घुसा कर फिर से उसके चेहरे के पास उंगली ले जाकर अपने होंठों पर रख कर समझाने की कोशिश की. मैं उसके कानों में बोला- रिमेम्बर … टूडे यू आर माय स्लट? (तुम्हें याद है न तुम मेरी रखैल हो आज …)वो मुस्करा कर चुप हो गयी और गांड चुदाई का मजा लेने लगी।कुछ देर इसी पोज में चोदने के बाद मैंने उसे डाइनिंग टेबल पर बैठा दिया और उसकी चूत से बह रहे रस को पीने लगा। वो आंख बंद करके चूत चटाई का मजा लेने लगी। मैं उठा और उसी पोज़ में उसकी एक टांग को उठाये एक ही झटके में अपने लण्ड को उसकी चूत में पेल दिया. इससे पहले वो शायद छोटे लंड से चुदी थी इसलिए वो एक बार को तो चिल्ला उठी.

फिर जीजू ने धीरे धीरे अपने लंड को मेरी चूत में भीतर बाहर करना शुरू कर दिया और धीरे-धीरे अपनी प्यारी साली को चोदने लगे. मेरी सेक्स कहानी में अब तक आपने पढ़ा कि मेरा यार मेरी चूत की बजाये मेरी गांड मारने की कोशिश करने में लग गया.

मैं ऐसे ही एक हाथ से पीठ और दूसरे हाथ से उसकी गांड सहलाता रहा और उसे शांत होने दिया.

आप अपने सुझाव या शिकायत मुझे मेरी मेल आईडी[emailprotected]पर कर सकते हैं. मैं तो सिंगापुर चला जाऊंगा, तो अभी अपना मिलन होगा कि नहीं, वो मैं नहीं बोल सकता कि तुझे कब मिलूंगा. बाकी दोनों नीग्रो लड़के ज्यादातर बाहर ही अपने देश के दूसरे लड़कों के साथ उनके रूम पे रहते थे और लेट नाईट हॉस्टल में आते थे.

मम्मा ने गुस्से में कहा- अपनी मां से शादी करनी है तुझे … पागल है क्या? मां से भला कौन शादी करता है?मैंने बेशर्मी लेकिन अपराध भरे स्वर में बोल दिया- मैं तो करना चाहता हूं. थोड़ी देर हम ऐसे ही खड़े रहे। फिर हम डर की वजह से जल्दी ही अलग हो गए।उसके बाद मैं उसके साथ बैठ गया. मैं ज्यादा खुलकर बात नहीं करना चाहता था लेकिन फिर भी सोचा कि जब अब बात चल ही गई है तो क्यों न पूरी बात का ही पता लगा लिया जाए.

उसकी ब्रा जैसे ही मैंने उतारी, मैं उसकी नीबू जैसी चुचियों को देख कर पागल हो गया था.

देसी बीएफ सेक्सी पिक्चर: कुछ ही देर में मैं झड़ गया और चादर से ही अपने लंड को पौंछ कर सो गया. थकान की वजह से अब मेरे मन में ख्याल आने लगा कि या तो अब वो झड़ जाए या मैं झड़ जाऊं.

अब जब कभी भी भाभी को चोदने का मन होता, तो भाभी की जबरदस्त चुदाई करके मजा ले लेता. मैंने ज्यादा देर न करते हुए उसकी चूत पर अपने मुँह को लगा दिया और अपने होंठों से उसकी चूत के होंठों को चूमने लगा. मैं अभी उन्हें देख ही रहा था, तभी उस लड़की के पापा ने मुझे बुलाया और कहा- बेटा क्या आप हमारी थोड़ी हेल्प कर दोगे?मैंने हां में सर हिलाकर उनकी मदद करने लगा.

मुझे आंटी ने अपने पास बुलाया, मुझे बांहों में भरा, मेरे गालों को चूमा और बोलीं- बड़ा अच्छा गिफ्ट लायी है अपने अंकल के लिए, भारी चूतड़, भरी भरी चुचियां, मस्त माल है तेरी मम्मी.

सन्जू की चूत अभी तक गीली ही थी सो फच की आवाज के साथ मेरा लंड अन्दर चला गया और मैं उसे रोहित के सामने ही चोदने लगा।ये सब देखकर रोहित का लंड पैन्ट में हरकत करने लगा और कुछ पैन्ट में उभार भी आ गया। ये सब सन्जू देख रही थी. अब राधिका ने मेरे 7 इंच के लंड को मेरे निक्कर से बाहर निकाला और हाथ में लेकर लंड को हिलाया. मुझे बहुत मजा आ रहा था लेकिन इतनी उत्तेजना को मैं बर्दाश्त नहीं कर पा रही थी.