सेक्सी बीएफ हिंदी में मूवी

छवि स्रोत,जानवर का सेक्सी पिक्चर वीडियो में

तस्वीर का शीर्षक ,

गोरी चूत सेक्सी वीडियो: सेक्सी बीएफ हिंदी में मूवी, लेकिन हसित ने पेटीकोट को जबरन जांघों तक ऊपर कर दिया और रीना के नंगे पैरों और जांघों को किस करने लगा.

सेक्सी ब्लू पिक्चर एक्स एक्स एक्स

अब आगे देसी हॉट गर्ल्स कहानी:जब मैं कुच्ची के साथ शब्बो के गांव की तरफ चल पड़ा तब मैंने कुच्ची से पूछा- अब तो बता मादरचोद. न्यू सेक्सी वीडियो हिंदी वीडियोअब मेरे दिमाग़ में एक तरकीब आयी कि मैं बड़ी आसानी से दीदी को मेरे लंड की दीवानी बना सकता हूँ.

हमारा घर दो मंजिल था जिसमें मॉम-डैड नीचे की मंजिल में रहते हैं … और मैं ऊपर रहता हूं. पिक्चर सेक्सी वीडियो मूवीप्रकाश की बीवी मायके से वापस आयी तो उसने बीवी को कहा- आराम से बैठो … मुझे तुमसे कुछ बात करनी है.

मेरे प्यारे पति ने मुझे धीरे से बेड पर लिटाया और मेरी पूरी मैक्सी उठाकर गले तक ला दिया.सेक्सी बीएफ हिंदी में मूवी: हसित रीना के पूरे दूध को अपने मुँह के अन्दर लेने की कोशिश करने लगा तो रीना कामुक भाव से बोली- मेरे बहुत बड़े हैं … आपके मुँह में नहीं आएंगे.

इस पर शिल्पा बोल पड़ी- ओह ये सही है … तुम कोई राजा हो क्या?फिर ऐसे ही कुछ देर हंसी मजाक चला.फच फच की आवाज के साथ लंड को चूत में आने जाने में सुगमता होने लगी थी.

गढ़वाली वाली सेक्सी - सेक्सी बीएफ हिंदी में मूवी

थोड़ी देर बाद उन्होंने अपना लंड का पानी मेरी गांड में छोड़ दिया और थक कर मेरे ऊपर गिर गए.पोर्न भाबी सेक्स कहानी मेरे गांडू दोस्त की जवान बीवी की चुदाई की है.

आंटी ने मुझे दो झापड़ और मारे और बोलीं- मैं अभी तुम्हारे पिताजी और पुलिस को फोन लगाती हूँ. सेक्सी बीएफ हिंदी में मूवी मैंने जब देखा कि चुत की आग तेज हो गई तो मैंने उसके मुँह पर हाथ रख कर दबाया और पूरा बूब मुँह में भर लिया और अपनी उंगलियां उसकी चूत में अन्दर डाल दीं.

‘उम्म मम्मआआ आआ नहीं रुको …’ की मदमाती आवाज कमरे में गूंजने लग गयी थी.

सेक्सी बीएफ हिंदी में मूवी?

वो रमेश सर से कहने लगी- आह मेरी जान इनमें दूध नहीं आ रहा है मगर तब भी कितना मजा रहा है … आह जोर जोर से खींचो मेरी चूची को आह मेरी जान चूस लो इसका सारा रस पी लो … आह. मैंने सामान को किचन में रखा और फ्रिज से पानी की एक ठंडी बोतल निकाली. मैं विलास के रूम में गया और अल्मारी में एक बक्से में कुछ दवाइयां थीं.

मैं- लेकिन कब?जमीला- बस थोड़ा सा सब्र रखो … मैं खुद तुम्हारे लिए तड़प रही हूँ. 21 साल की उम्र में भी उसका लौड़ा इतना मोटा और लम्बा हो चुका था जो आज अपनी कामवाली शब्बो चाची की चूत को भोसड़ा बनाने पर तुला था. फिर वो रीना की आंखों में वासना से देखते हुए उससे मूक भाषा में बात करने लगा.

और मैं आपके मामा के घर में किसी को जानती भी नहीं हूँ तो मैं वहां बोर हो जाऊंगी. मैंने उसे बताया- मैं क्रीम लगा दूँ इसमें प्रिया?प्रिया- हां जल्दी से लगा दीजिए बहुत जलन हो रही है. वो सोच रही थी कि तभी मैं सोचूं कि हज़ीरा की चुचियां नारंगी जैसी बड़ी कैसे हो गई हैं, जबकि मेरी चुचियां कागजी नींबू के समान ही हैं.

कान के नीचे का मुलायम हिस्सा मुँह में लेकर चूसने लगा तो उसकी जोर से अहह निकल गयी. उस दिन मैंने फिर से उससे उसके और उसके पति के बारे में पूछा पर वह रोने लगी.

मैंने उसे बांहों में भर लिया और कुछ देर बाद उसकी चूत में उंगली डालने की कोशिश की तो देखा कि वहां से खून निकल रहा था.

उसकी जीभ ने मेरी चूत की फांकों को तीन चार बार ऊपर से नीचे तक चाटा तो मेरी टांगें खुलने लगीं और रवि ने भी मुझे ढीला छोड़ दिया.

उम्मीद है आपको भोजपुरी भाभी की चुदाई का मजा आया होगा और आप अपने विचार मुझे ईमेल जरूर करेंगे. मैं अपनी साली को चोदने के सपने देखने लगा तो मेरा लंड फुंफकारने लगा. उसने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे अपनी बांहों लेकर मेरी पीठ को सहलाने लगा.

मेरे प्यारे पति ने लंड का सुपारा चुत पर रखकर दबा दिया, तो लंड का सुपारा मेरी चुत के अन्दर सट से घुस गया. आंटी कहने लगीं- केतन मुझे जब भी मन करेगा, मैं तुम्हें बुला लूंगी और जब भी तुम्हारा मन करे, तुम आ जाना. गहरी काली बड़ी बड़ी आंखें, सपाट पेट, मस्त कमर और एक तनी और कसी हुई गांड.

उस समय बर्गर वाले के पास खड़े होने की जगह कम होने के कारण अधिकतर लोग बर्गर पैक करवाकर घर ले जा रहे थे.

तब मेरी बीवी ने उसे पहला अनुभव बताया और उसे चुदने के लिए तैयार कर लिया. हम दोनों ऐसे ही एक दूसरे के हाथ में झड़ गए और मैंने अपने हाथ को बाहर निकाल कर चाट कर साफ कर लिया. मैं भी ससुर जी के पास चली गयी पर मैंने रूम का दरवाजा नहीं लगाया और उसे खुला ही छोड़ दिया.

मैंने कहा- कौन सा काम?वो बोले- तुम जानती हो मेरी रानी कि मैं किस काम के लिए कह रहा हूँ. जब मैं नहा धोकर बाहर आया तो दीदी अभी भी वैसे ही चूत फैलाये हुए लेटी हुई थी. वो बोली- फिर झूठ?मुझे मस्ती सूझी तो मैंने उसके दूध दबाते हुए कहा कि इनकी कसम और कुछ नहीं किया.

वो मेरा लंड अपने दोनों हाथों से मसलकर बोली- और मेरी नींद तुम्हारे इस मूसल जैसे लंड ने चुरायी है.

दीदी की चूत एकदम से मेरे लंड को कसने लगी तो मैं समझ गया कि अब दीदी किसी भी वक्त झड़ सकती है. कुछ देर बाद हसित उठा और उसने कंडोम उठा लिया तो रीना ने कंडोम उसके हाथ से छीन लिया.

सेक्सी बीएफ हिंदी में मूवी उसके बाद वो उठी और उसने मेरे शॉर्ट्स में हाथ डाल दिया, अंदर हाथ डालकर उसने लंड को हाथ में पकड़ कर देखा. नरपत का मोटा लंड मेरी गांड की दीवारों को चौड़ा करके अन्दर घुसता जा रहा था.

सेक्सी बीएफ हिंदी में मूवी फिर विशाल ने पता करके प्रकाश को बताया कि उसकी बीवी किसी से प्यार करती थी. https://thumb-v3.xhcdn.com/a/eOCVov7L--cEpeNk5HqMMQ/022/309/323/526x298.t.webm.

इससे वो एकदम से उत्तेजित हो रही थी; मुझे अपने दूध पीने के लिए उकसा रही थी.

सेक्सी न्यूड

मैंने कहा- हमारे यहां से तुम्हारे कॉलेज का रास्ता तो दो घंटे का होगा!शिल्पा- हां … और आपका गांव कहां है?मैंने उसको अपने गांव का नाम पता आदि बताया. वो मेरे चुम्बन से खुश हो गई और बोली- मैं बेकरारी से तुम्हारा इंतजार करूंगी. लेकिन फिर भी वो हर हाल प्रयास कर रही थी कि उसके मुंह से कराहने की आवाज़ न निकले.

दिन भर उनके पास बैठकर बातें करता, हंसी मज़ाक करता रहता, जोक्स वगैरह सुनाता. मुझे लगा था कि चाची अभी तक नींद में ही हैं लेकिन वो इस सबका मज़ा ले रही थीं. मेरी पिछली सेक्स कहानीलॉकडाउन में पुरानी क्लासमेट डॉक्टर से सेक्समें अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने कैसे पुरानी क्लासमेट प्राची की चूत के मजे लिए और जब वो चुदने के बाद बाथरूम की ओर जाने लगी, तो उसकी मस्त गदराई हुई गांड, मांसल चूतड़ देखकर मेरा लंड फिर से झटके मारने लगा था.

मैंने हामी भर दी और हम दोनों ने सुबह टहलने की जगह मिलने का प्रोग्राम बना लिया.

वो बोली- मुझे तो लगा था कि इतना बड़ा नहीं होगा, पर ये तो ज़्यादा ही बड़ा है. पहली बार किसी गोरे अंग्रेज का हाथ मेरे बूब्स था और मेरा हाथ उसके लंबे मोटे लण्ड पर!मुझे विलियम पर बहुत प्यार आ रहा था क्योंकि उसने बिना सेक्स की ही मुझे झड़ा दिया. मैंने जैसे ही थूक लगाया, उसने कहा- रूको बाबू … आज थूक से काम नहीं चलेगा … मेरा पहली बार का मामला है.

शिवम मां के होठों को चूसते हुए बोला- मां, आज के बाद सारा काम मैं सही कर दूंगा लेकिन आप मुझे धोखा नहीं देना. वो अपनी उंगलियों आगे पीछे करने लगे, उससे मुझे और भी ज्यादा मजा आने लगा. मैंने उससे पूछा कि क्या हुआ तुमको … ऐसे क्या देख रही हो?वो बोली- कुछ नहीं.

पहले मैंने ब्लाउज उतारा, फिर ब्रा उतारी और फिर साड़ी को उतारने लगा. वैसे मैं पहले ही बता दूं कि उस वक़्त तक मुझे सेक्स के बारे में कुछ भी नहीं पता था.

दो दिन बाद उसका मैसेज आया ‘आज मूवी देखने चलें?’मैंने हामी भर दी और कॉलेज से बंक करके हम दोनों मूवी देखने आ गए. थोड़ी ही देर में सोनाली के पैरों की पकड़ ढीली हो गयी तो मैंने सोनाली को चूमते हुए पूछा- सोनाली, कैसा लग रहा है?सोनाली ने अपने दोनों हाथों से मेरी गांड और कमर सहलाते हुए कहा- हर्षद बहुत अच्छा लग रहा है. उसे हम दोनों की चुदाई दिखा दूंगी और वो झट से आपके लौड़े से चुदने के लिए अपनी चुत खोल देगी.

वो रात को भी खाना लेकर आई लेकिन अबकी बार उसके चेहरे से साफ लग रहा था कि वो मुझसे नाराज है.

लंड सकिंग सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी सेक्स स्टोरी पढ़कर एक लड़की ने मुझसे मिलना चाहा. मैंने कुच्ची से कहा- ये पक्का कर लेना भोसड़ी के कि तुम बस शब्बो को चोदोगे … और मैं जमीला को. फिर हम काफी देर तक बात करते रहे और एक दूसरे के अंगों के साथ खेलते रहे और कब गोरखपुर आ गया पता ही नहीं चला।बस अभी गोरखपुर शहर में घुसी नहीं थी।मैंने उससे उसके फिगर के बारे में पूछा तो उसने कहा कि ये सारी बातें हम लोग फ़ोन पर करेंगे.

अब फूफा जी का लंड मेरी चुत में घुस चुका था, मुझे काफी दर्द हो रहा था. वो मुझसे मिली तो उसने मुझे अपने गले से लगाने की बजाए मेरा हाथ पकड़ा और मुझे खींचती हुई स्टोर रूम में ले गई.

जानबूझकर मैं सरिता की गांड के छेद पर अपनी जीभ गोल गोल घुमा देता था, जिससे सरिता की कामुकता और बढ़ जाती थी और वो अपनी गांड को ऊपर उठा देती थी. आंटी हंसने लगीं और बोलीं- क्यों आज क्या मैं तेरी सैटिंग बन सकती हूँ!मैंने कहा- सच में यार ऐसा हुआ न … तो मैं खुद को बड़ा नसीब वाला समझूँगा. उसकी उम्र तो 18 साल से कुछ माह ऊपर ही थी, लेकिन उसकी गांड और चूची इतने बड़े हो गए थे कि वो 20-21 साल की कमसिन हसीना लगती थी.

ब्लू सेक्स बिहारी

बंशी सीमा के गांव से पांच किलोमीटर की दूरी पर रहता था, जहां से वह कॉलेज जाया करती थी.

वो मुझसे अलग हुई और बोली- झूठ?मैंने कहा- नहीं यार सच में!वो बोली- तो तुमने पहले क्यों नहीं कहा?मैंने उससे कहा- यार सच बताऊं, तो बात ये है कि भले ही हम दूर के रिश्तेदार हैं, पर रिश्ता तो हमारा भाई बहन वाला है. इतना कहकर आंटी ने मेरी पैंट की जिप खोल दी और अपना हाथ अन्दर डालकर मेरे लंड को बाहर निकाल लिया. कमरे के अन्दर आते ही मैंने भाभी के गुलाबी होंठों पर अपने होंठ लगा दिए और जम कर किस करने लगा.

उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा- तुमको मेरे बारे में सोचकर झटके लग रहे होंगे. उसने पारुल को पीछे से पकड़ कर झुका दिया और बोला कि आज तो तेरी चुत पीछे से चोदूंगा. गुजराती सेक्सी वीडियो हिंदी आवाज मेंउसकी गीली चूत इतनी गर्म थी कि मेरा लंड उसकी चूत की दीवार की रगड़ महसूस कर फुंफकारने लगा था.

उसमें एक हॉट सीन आया जिसमें एक लड़का अपनी गर्लफ्रेंड को किस कर रहा था. मैंने मन में सोचा कि गांव से है … मतलब गांव में भी इतने मस्त माल होने लगे हैं.

दीदी मुझे सेक्सी स्माइल देते हुए आंख मार कर बोलीं- इतना क्या घूर रहे हो … मुझे नजर लग जाएगी. वो अपनी चुत को मेरे मुँह पर दबाए जा रही थीं और उनकी आहों कराहों से कमरे का माहौल एकदम कामुक हो गया था. मैं उनकी चुदाई को तब तक देखता रहा जब तक वो दोनों थक कर अलग नहीं हो गए और सो नहीं गए.

गगन ने प्रियंका को देखा तो बोल उठा- देख साली छिनाल ने मेरा लंड अपने मुँह से निकाल दिया साली कह रही है कि सांस नहीं ले पा रही है. हमारे बीच इतना अधिक अपनापन हो गया था कि मैं कभी कभी बातों बातों में उनके गालों की चुटकी काटकर कह देता कि हाय भाभी आपके गाल कितने मुलायम हैं. हुआ ये कि एक दिन मेरा दोस्त मुझसे बोला- यार मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई करने के लिए जगह का इंतजाम नहीं हो रहा है.

मैंने कहा- और?वो बोली- वो और भी बता सकती थीं लेकिन मैंने ही तुम्हारे बारे में बात करना ठीक नहीं समझा.

निशा बोली- ओह तो तू ये सब देखता है?मैंने कहा- क्यों कोई गलत है क्या? जब तुम हो ही इतनी मस्त, तो देखना तो बनता है न यार!निशा हंस दी और बोली- चल मैं तेरा काम करूंगी, पर तुझे भी मेरा एक काम करना होगा. जब वो किसी आटे की लोई के जैसे मेरी दीदी के दूध मसलता तो मेरी बहन कोमल दर्द से ऊपर की तरफ उठ जाती.

अब तो मेरी गांड खुल गयी थी और मेरे पति का तगड़ा लंड मेरी गांड में अन्दर तक जाकर चोद रहा था. अब तक मैं वर्जिन हूँ … लेकिन किस्मत ने चाहा और जिया दीदी ने साथ दिया, तो मैं आज उनको जरूर चोदना चाहूँगा. हमारा पुराना घर बहुत छोटा होने के कारण अब हम सब हमारे नए घर में रहने के लिए शिफ्ट हुए थे, जो कि कोटा शहर के बोरखेड़ा में स्थित है.

अब आगे देसी हॉट टीन गर्ल सेक्स कहानी:अब आगे मुझे देखना था कि जमीला की चूत मेरे लंड के नीचे कैसे आएगी. मैं- आपकी परमिशन हो तो आज की हसीन रात की शुरुआत में आपके साथ डांस करके करना चाहूँगा. भाभी इतरा कर बोलीं- सारा कुछ यहीं पूछ लोगे तो फोन पर क्या बात करोगे?मैंने रास्ते पर नजर मारी और जल्दी से भाभी के गाल पर किस कर लिया.

सेक्सी बीएफ हिंदी में मूवी मैं दिन रात उनको चोदने का सपना देखने लगा, उनकी नाम की मुट्ठ मारने लगा. हम दोनों काफी थक गए थे तो हम वहीं चादर पर लेट गए और बातें करने लगे.

घरेलू सेक्सी हिंदी

हनी की गांड खुल कर बुलंद दरवाजा हो गई थी तो एक ही शॉट में पूरा लंड गांड को फाड़ता हुआ अन्दर चला गया. मैं भी उसको गाली देने लगी- चोद डाल साले बहन चोद …अब वो उठकर बैठा और उसने अपना लंड निकाल कर मेरे मुँह में डाल दिया. फिर मैं भी वहां से हसित के साथ ही निकला और वह मुझे मेरे ऑफिस तक छोड़ कर चला गया.

दोस्तो, ये मेरी रियल कॉलेज स्टूडेंट सेक्स कहानी आपको कैसी लगी, प्लीज़ मेल करें. मैं हड़बड़ा कर पलंग के नीचे ऐसे देखने लगा, जैसे मैं कुछ खोज रहा होऊं. सेक्स सेक्स बंगाली सेक्सीकुकोल्ड वाइफ सेक्स स्टोरी मेरी बीवी के साथ मेरे दोस्त की चुदाई की है.

पहले तो वो कुछ नखरे करने लगी, फिर धीरे धीरे वो खुद ही मेरे लंड को चूसने लगी.

मैं अपनी बहन के बिना नहीं रह सकता था और मेरी बहन भी मेरे बिना नहीं रह सकती थी. अब जब उसका दर्द कम होने लगा, तो मैंने फिर से लंड को बाहर खींचा और उसे किस करने लगा.

आपको मेरी Xxx देसी गर्लफ्रेंड की चुदाई कहानी कैसी लगी, कमेंट में जरूर बताएं. प्रकाश सोनम के पीछे चिपक कर खड़ा था, वह सोनम के स्तन दबाने और गर्दन चूमने लगा. मौसी स्टूल से उठीं और एक तौलिया को अपने मम्मों के ऊपर लपेट कर एक ओर होने लगीं.

वैसे मैं आपको बताऊं, मैं तो लवी की फ्रेंड को देख कर ही हैरान था कि क्या मस्त माल है.

अब भाभी ने बोला- शुभ अचानक से लाइट चल गई और मुझे बहुत डर लग रहा था, तो मैंने तुम्हें फोन कर दिया. वो इठला कर बोली- ऐसे क्या देख रहे हो?मैं बोला- आज तक मैंने किसी के ऐसे बूब्स नहीं देखे. हॉट सेक्सी गर्ल पोर्न स्टोरी मेरी मकान मालकिन की भानजी की सील तोड़ चुदाई की है.

नगर सेक्सी बीपीमैं चौंक गया और मैंने इधर उधर देखा कि कहीं ये मुस्कान किसी और के लिए तो नहीं है. मैंने रास्ते में 2-4 बार जानबूझ कर ब्रेकर पर जोर से ब्रेक मारे … तो भाभी के दूध मुझसे रगड़ खा गए.

राजस्थानी सेक्स खुला वीडियो

कमरे में दो खाट पड़ी थीं, जिसमें एक पर बिस्तर लगा था और रजाई खाट पर किनारे रखी हुई थी. लेकिन वो टेस्ट करके क्या करेगी, इस सवाल के जवाब में उसने कहा कि वो बाकी सब मैं बाद में बताऊंगी. रास्ते में मैंने मेम को मैसेज किया कि मैं नहीं आ पाऊंगा, मुझे पापा के साथ नागौर जाना पड़ रहा है.

मैंने दीदी को घोड़ी बना दिया और उसकी मोटी गांड को अपने हाथों में ले लिया; अपना लंड धीरे धीरे करके दीदी की चुत में घुसा दिया. मेरा लंड गांड में अन्दर बाहर होने लगा और उसकी गांड से फ़च फच की आवाज आने लगी. भाभी- जवाब दो!मैंने कहा- भाभी, मैं आपको 5 साल से पसन्द करता हूँ … और देखता हूं.

प्रत्यक्ष में मैंने जमीला को छोड़ दिया और उसने फिर से मुझे अपनी बांहों में जकड़ कर होंठों से होंठों सटा लिया और चूसने लगी. मैं उन भाभी के यहां तो चली जाती थी लेकिन हम तीनों लड़कों से मेरा कोई संपर्क नहीं रहा था क्योंकि यह सब मैं अपने हस्बैंड को नहीं बता सकती थी. मैं तुरंत उठकर उनकी टांगों के बीच में आ गया और उनकी चूत में फिर से लंड डाल कर उनका बाजा बजाने लगा.

सच बताऊं दोस्तो … इस पोज में मेरी चुत में पति के लंड के जबरदस्त स्ट्रोक लगते हैं और पति का पूरा लंड मेरी चुत में घुस जाता है. मैंने उससे बोला- हां ये ठीक है … अब दिक्कत नहीं है ना बैठने में?वो बोली- नहीं.

कुछ देर के बाद मैंने अपने सारे कपड़े उतारे और भाभी को भी पूरी नंगी कर दिया.

मैं मन ही मन बोला कि दीदी आप तो इतनी सुंदर हो कि फैसपैक की जरूरत ही नहीं है. सेक्सी वीडियो चोदने वाली जबरदस्तीफिर भैया ने कहा- अब चूसना छोड़ और चढ़ जा लंड पर … कर सवारी लौड़े की भैन की लौड़ी. मम्मी सेक्सी पिक्चरXxx अम्मी सेक्स कहानी में पढ़ें कि जब मैंने अपने ख़ास दोस्त को उसकी अम्मी की चुदाई करत देखा तो मेरे ऊपर क्या बीती. मैं अभी कुछ करता कि अचानक से उन्होंने अपने होंठ मेरे होंठ पर रख दिए और मुझे चूमने लगीं.

वो उठी और सामने बनी अलमारी से शराब की बोतल लेकर और सिगरेट की डिब्बी लेकर मेरे पास बैठ गई.

अब भईया ने भाभी के दोनों पैरों को अपने कंधे पर रख लिया और जोर से धक्का दे मारा. फिर वो अपने दोनों हाथों को रीना के चेहरे से निकाल कर उसके बालों के अन्दर ले गया और रीना के चेहरे को ऊपर उठा कर अपने होंठ आगे बढ़ा दिए. इस दिन के बाद जब भी मैं अपनी साली की तरफ देखता था तो वह मुस्कुरा देती थी लेकिन बोलती नहीं थी.

हमारे पड़ोसियों को यानि कि लवी और उसकी फैमिली को पता लग गया कि मेरे पास कहीं भी आने जाने की पर्मिशन है. कुछ ही मिनट में मेरी चुत ने पानी छोड़ दिया लेकिन अंकल का लंड अभी भी टाइट था. भाभी बहुत ही ज्यादा गर्म हो रही थीं और बहुत जोर जोर से आवाज निकाल रही थीं- आंह जान … मजा आ रहा है … कितना मस्त चूस रहे हो.

देसी कॉल गर्ल्स

सेक्स कहानी के अगले भाग में आपको एक कमरे में दो चूतों की दो लौड़ों से चुदाई लिखूँगा. एक मिनट में ही भाभी एकदम शिथिल हो गईं और भैया अभी भी भाभी की चूत से निकले रस को चाट रहे थे. मेरी कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि क्या करूं और किस तरह से अपने लंड को बैठा लूं.

फिर बिना देरी किए मैंने अपने होंठों को अम्मी के रसीले और गुलाबी होंठों पर रख दिए.

मैंने देखा कि वह खड़ी हो गई थीं और अपनी चूत को हाथों से फैला कर रगड़ रही थीं.

लेकिन लगभग 10 मिनट दबवाने के बाद मौसी मां ने दूसरा हाथ दबाने को कहा।मैं उठा और मौसी मां के बांयी ओर चला गया।चूंकि बायीं ओर मुझे बेड पर ही बैठकर उनके हाथ दबाने थे तो मैंने उनका हाथ उठाकर अपनी जांघ पर रख दिया और दबाना शुरू किया. मेरे नीचे उतरने के बाद उसका साथी सीट से उठकर ऊपर स्लीपर केबिन में चला गया और उसने पर्दा लगा लिया. सीकर की सेक्सीबात कैसे बढ़ी?नमस्कार दोस्तो, यह मेरे जीवन की सच्ची घटना है जो पड़ोस की भाभी की चूत चुदाई की कहानी के रूप में पेश है.

मेरा एक हाथ उसके स्तन दबा रहा था, दूसरा उसकी चिकनी टांगों पर घूमे जा रहा था. फिर एक दिन दीदी की शादी हो गयी और दीदी अपना फटा भोसड़ा लेकर किसी और से चुदवाने चली गयी. प्रकाश और विशाल अपनी फंतासी के अनुसार मोहिनी और सोनम को हाथ और घुटनों के बल खड़ा कर देते.

मुझे बहुत मजा आता था क्योंकि मैंने जवानी में नया नया कदम रखा था, ऊपर से इतनी हॉट जवान भाभी मेरे साथ होती थीं. मेरी बबीता भाभी से बहुत अच्छी जमने लगी थी तो हम दोनों मैसेज भी कर लिया करते थे.

इतनी ज्यादा वासना बढ़ गई थी कि मुठ मारते मारते हाथ में दर्द शुरू हो गया था.

मैंने हंस कर कहा- हां आंटी मुझे भी आपके बारे में ऐसा ही कुछ लगता था कि आप बहुत चुप रहने वाली लेडी हैं. सरिता की पैंटी गीली होने के कारण मेरे लंड का सुपारा पूरा गीला हो गया था. नीचे मेरे पापा ड्यूटी गए हैं और मम्मी और आंटी दोनों मार्केट में थीं, तो मुझे ये अच्छा मौका मिला था.

देसी सेक्सी वीडियो गीत पहली बार टास्क करके मैं फूली नहीं समा रही थी लेकिन इस बार कुछ अलग था. जब जब मैं अपने हाथ से उसकी नाभि को सहलाता, उसकी चूत तक हाथ ले जाता, वो सिहर उठती और अपने आपको मेरी छाती में छुपा लेती.

भाभी ने मुझे नीचे ही रखा, खुद ऊपर आ गई, लंड को अपनी चूत पर सेट करके धीरे धीरे पूरे लंड को चूत के अंदर ले लिया और उछल उछल के चुदवाने लगी. मैं अपनी गोरी गांड ऊपर उठाने लगी और अपने प्यारे पति से कहा- मेरी जान, अब मत तरसाओ … अपना लंड मेरी चुत में उतार दो … आंह जल्दी से चोद दो मुझे … आह ऊई मां. एक दिन भाभी मुझसे बोलीं- मैं तुम्हारे सामने कपड़े उतार कर बाथरूम चली जाती हूँ तो तुम्हें खराब तो नहीं लगता!मैंने कहा- नहीं भाभी मुझे तो कुछ खराब नहीं लगता.

हनिमून म्हणजे काय

हम दोनों की इस तरह बातें चल रही थीं और मैं मॉम के बदन को इधर-उधर टच कर रहा था. मगर उसे कैसे सुंदर बना सकते हो?मैंने भाभी के एक मम्मे को दबाते हुए कहा- नारी की सुन्दरता उसकी इस भाग के फूलने से बनती है. तब तक उसकी बेटी भी सो चुकी थी तो अब मैंने उसके दूसरे उरोज को मुँह में भर लिया और दूध पीने लगा.

फिर भी ये सोचा कि उसकी ज़रूर कोई मजबूरी रही होगी, बिना वजह कोई बेवफ़ा नहीं होता. विशू बोला- यार, कोई ये भी तो नहीं सोच सकता कि इस जैसी घरेलू औरत इतने लोगों को एक साथ सह ले और फिर भी अपनी टांगों पर खड़ी रह सके.

मेरे बूब्स बड़े बड़े हो गए थे।मेरे चूतड़ भी उभर आये थे, मेरा कद भी 5′ 4″ का हो गया था।मुझमें लण्ड पकड़ने की तमन्ना भी जोर पकड़ने लगी थी। लड़के मुझे अच्छे लगने लगे थे.

उस वक्त मुझे भाभी की चूत के अलावा और कुछ नहीं दिख रहा था जिससे भाभी उस वक्त मुझसे जो भी बोल रही थीं, उसका मुझ पर कोई प्रभाव नहीं पड़ रहा था. कुछ देर बाद सोहल ने अपने लंड को हनी के मुँह से निकाल लिया और वो बेड के नीचे खड़ा हो गया. वो हर बार मेरे ऊपर गिरती और बार बार और मैं उसके मम्मों को महसूस करता.

अब मोनू सोफे पर बैठ गया था और मेरी बहन उसकी तरफ मुँह करके उसकी गोद में बैठी थी. मेरा मन था कि उसे यही पकड़ कर ठोक दूँ!पर फिर मैंने खुद को संभाला और मैं उसकी कमर पर हाथ फेरने लगा. मैंने पीछे से जाकर उसकी लोवर नीचे खींच दी और सीधे उसकी चूत को चूसने लगा.

इस तरह पांच से सात मिनट आराम करने के बाद मैं बाथरूम गया और फ्रेश होकर आ गया.

सेक्सी बीएफ हिंदी में मूवी: थोड़ी देर बाद वो बोला- क्या हुआ कोमल, आपको मेरा टच अच्छा नहीं लगा क्या?कोमल- नहीं ऐसी कोई बात नहीं. वो चादर को धोते समय उसे अपने हाथों से फुलक रही थीं इससे उनकी चूचियां मस्त हिल रही थीं.

मैं तो अपना लंड मम्मी को दिखाना चाहता था इसी लिए और ज्यादा टाइम लगा रहा था. वो बोली- हम्म … बस बूब्स देखना है या और कुछ भी?मैंने बोला- हां बबीता जी, जो हम दोनों चैटिंग में करते थे … वो रियल में करना चाहता हूं. रीना को किस करते हुए हसित उसके पेट तक पहुंच गया और पेट पर किस करते हुए पेटीकोट के ऊपर से किस करने लगा.

enjoysun[emailprotected]हॉट हनीमून सेक्स कहानी का अगला भाग:एक रात नए बेड पार्टनर के साथ- 3.

लेकिन हसित ने पेटीकोट को जबरन जांघों तक ऊपर कर दिया और रीना के नंगे पैरों और जांघों को किस करने लगा. दीदी को बहुत मजा आ रहा था और मैं भी उसकी चूत को चाटने का पूरा मजा ले रहा था. वो हंसती हुई बोली- देख लो … कहीं कुछ देर बाद बोलो कि तुम अब ज़्यादा मस्त लग रही हो.