सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ

छवि स्रोत,रेखा के बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी गाने देखने के: सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ, मैं समीर के लंड को सहलाने लगा ताकि वो उत्तेजित हो जाए और उसे दर्द भी कम हो.

भोजपुरी सेक्सी बीएफ पिक्चर

तभी मैं अपनी सास के कमरे में गई, वहाँ मैंने इधर उधर देखा, कुछ नहीं दिखा फिर मैंने उनकी अलमारी खोली, देखा कि वही प्लास्टिक का लंड रखा हुआ था. हीरोइन की सेक्सी बीएफबड़े भाई ख्याल नहीं करेगी क्या? जरा मेरा भी लंड चूस दे मेरी प्यार बहना.

क्योंकि काफी अरसे के बाद चुदने के कारण उसे प्रथम चुदाई का अनुभव हो रहा था. माँ ने बेटे से चुदवायानीचे मेरा लंड चुत में जड़ तक समाया हुआ था और ऊपर से दीपक का लंड उसकी गांड फाड़ने को तैयार था.

मैंने आराम से दरवाज़ा खोला तो देखा सामने देख कर मेरी आँखें खुली ही रह गईं.सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ: मैंने अंजलि को बेड के किनारे पर डॉगी स्टाइल में किया और एक पैर बेड पर.

कुछ पल उसने मुँह बनाया और फिर लंड को जीभ से चाटना शुरू किया तो काफी देर तक तक चाटती रही.मैंने देवर के लंड को अपने मुँह में ले लिया और तेजी के साथ चूसने लगी.

इंडियन बीएफ वीडियो दिखाइए - सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ

आपने पिछले भाग में पढ़ा कि मेरे मामा ने कैसे मेरी चुदाई किचन में की, खड़े खड़े चुदाई के बाद हम दोनों इतने थक चुके थे कि चुदाई पूरी होते ही एक दूसरे के बाहों में गिर गये, 5 मिनट यों ही हम दोनों एक दूसरे से लिपटे रहे, फिर हम दोनों ने एक दूसरे के कानों में अपनी अपनी ख्वाहिश बताई.मैंने उसे माफी मांगी, लेकिन उसने कातिलाना नजरों से मुस्कराकर कहा- यह मेरी गलती है.

कहानी का पहला भाग :साली की कमसिन बेटी मेरे हत्थे चढ़ गईकहानी का पिछला भाग :सगी भानजी की कोरी गांड मारीअभी तक आपने पढ़ा कि मैंने अपनी सगी बहन की बेटी यानि भानजी की चूत मारी, अपनीबेटी की चूतको चोदा, फिर अपनी बेटी के सामने भांजी की गांड मारी. सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ मैंने कहा कि मुझे नींद आ रही है और अब चल कर ट्रेन में ही सोना चाहता हूँ.

पिंकी उसे समझाने लगी- यार, अभी तो पहली बार है, दर्द होगा ही लेकिन कुछ ही देर में मजा आने लगेगा.

सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ?

फिर उन्होंने मुझे छोड़ा करीब 2 मिनट बाद मैंने नोटिस किया कि मेरे गांड पर एक लड़की कोई जैल लगा रही है. और वो चुत की मिट्टी पोंछ मेरे चेहरे पर बैठ गई और मेरा सर उठा कर अपनी चूत पर लगा दिया. वो बोली- कैसी दिख रही हूँ?मैं बोला- एक नंबर का सेक्सी माल आयटम!वो शरमा गई.

मैं इशारे से उन्हें मना कर रही थी और चाचाजी इशारे से मेरे नाड़े को खोलने के लिए कह रहे थे. अब आप लोग परेशान हो रहे होंगे कि मैं ये सब फ़ालतू की बात बता रहा हूँ. मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और उसे बुरी तरह चूसने लगा.

सुमन- बस बस ज़्यादा दाँत मत निकाल… नहीं सारे तोड़ दूँगी चल अब जल्दी से लंड को घुसा भी दे… चुत में आग लगी है. तभी वो वापस आई, तो मैं देखता ही रह गया, उसने स्कर्ट और टॉप पहन लिया था, वो कपड़े चेंज करके आई थी. बहूरानी मेरे लंड से लय ताल मिलाती हुई चुदाई में दक्ष, पारंगत कामिनी की तरह अपनी चूत उठा उठा के मुझे देने लगी.

जय जब अपना लंड मेरी चुत में अन्दर घुसाने लगता तो वो मेरे पैरों को मेरे कंधे पर जोर से दबा देता था. यार सबको पता है कि थोड़ी देर बाद यहाँ ग्रुप सेक्स होने वाला है तो ये झूठ-मूट का नाटक किसलिए?अतुल- बात तो सही यार, जब ये लड़की होकर नहीं शर्मा रही है, फिर हमें किस बात का डर है?अतुल की बात सुनकर सबने ‘हाँ’ में ‘हाँ’ मिलाई और हंसने लगे.

गोपाल- अच्छा ये बात है, मगर तुम्हें ये कुछ ज्यादा छोटी नहीं लगती?मोना- अरे मैं कौन सा इससे ज़्यादा काम करवाया करूँगी.

मैं दायें हाथ से उसकी चूत को छेड़ने लगा जो बहुत ज्यादा पानी छोड़ रही थी.

पर मैं कहा मानने वाला था, मैं थोड़ा रुक गया और दीदी को किस करने लगा. ” कह कर चला गया। नीचे जा कर कुछ देर बाद मैंने अपना हिलाया और सो गया।इस तरह अगले दस दिन तक तो उसने खूब पेशाब किया और मुझे पिलाया. फिर मैं आकाश को खेलने के बहाने उनके घर जाने लगा और भाभी से धीरे-धीरे बातें करने लगा.

बहूरानी की चूत बहुत गीली होकर रस बहा रही थी यहाँ तक कि उसकी झांटें भी भीग गईं थीं. अब मेरे शरीर में थोड़ी सी भी हिलने की ताकत नहीं रह गई थी, इसलिए दो बार चुत और तीन बार गांड मारकर हम एक दूसरे को पकड़े पता नहीं कब सो गए. मैंने उस खीरे जैसे कड़क लंड को मसलना शुरू कर दिया और दूसरे हाथ से उस के जिस्म से चिपकी काली शर्ट के बटन खोलने लगा, जिससे धीरे धीरे उस का मर्दाना जिस्म नंगा होने लगा.

जल्दी ही लंड ने लावा उगल दिया और चूत फैल सिकुड़ कर लंड को निचोड़ने लगी.

शरमाओ मत…यह कह कर उसने मुझे आँख मारी और दिनेश का लंड निकाल कर चूसने लगी. फिर उसने कहा- थैंक्स अनीता, इससे अच्छा और दूसरा गिफ्ट नहीं हो सकता था. मैंने उससे जीने से ऊपर जाने को कहा, क्योंकि मैं ऊपर वाले फ्लोर पे अकेला ही रहता हूँ.

मैंने अपनी एक छोटी सी सवालिया कहानी में आपको अपनी कामना को लिखा था. ‘कहाँ चली गयी?’ मैं बड़बड़ाया और उसी तेज बारिश में मैं खंडहर की तरफ बढ़ने लगा. उसके बाद जीजू और मैं एक दूसरे को किस करने लगे और नंगे एक दूसरे से गले मिलने लगे.

तब आंटी ने मुझे चाय पीने के लिए रोका, तो मैं भला कैसे ना बोल सकता था.

मगर जब सुमन ने मेरा नाम लिया, तो मुझसे रहा नहीं गया और मैं अन्दर आ गई. सुमन- आह… चोदो मॉंटी आह… फास्ट करो तुम छोटे हो लेकिन मुझे मजा पूरा दे रहे हो आह… करो… आह दम से चोदो मुझे.

सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ नई पाठिकाओं को बता दूँ कि मेरा कद 167 सेमी, लंड 7 इंच, वजन 68 किलो एवं चुत मर्दन की कला का पारंगत खिलाड़ी हूँ, जिसकी विधिवत ट्रेनिंग मुझे मेरी मामी से मिली. लेकिन चूँकि मैं लौंडियों की गांड का शौकीन आदमी हूँ, लिहाजा मैंने विनीता की गांड का मुआयना किया.

सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ सुमन- नहीं पीनी थी तो आपने ये ली ही क्यों?पापा- उसने ज़िद की, तो ले ली. मैं गुड़गांव में एक ऑटोमोबाइल कम्पनी में नौकरी करता हूँ और अपने परिवार के साथ यहीं रहता हूँ.

तो मैं फिर से आगे को खिसकी और अपने पर्स में से नेल कटर निकाल कर उसके चाकू से सलवार में हाथ डाल कर सलवार को उतना फाड़ दिया, जितने से लंड अन्दर चला जाए.

सेक्सी विडियो हिंदी में पिक्चर

ये देख कर उस्मान से रुका नहीं गया और वो माया का चेहरा पकड़ कर अपने लंड के पास ले आया. इसलिए हमने अपने कपड़े ठीक किए और चादर धोने चले गए। फिर कमरे में आकर दूसरी चादर बिछाई और फिर से चुदाई के काम पर लग गए।उस रात हमने दो बार और चुदाई की और मैंने हर बार वीर्य उसकी चूत में ही छोड़ा।जब सुबह उठे तो उसने अपनी एक सहेली को फ़ोन किया. वह मेरे पास आकर घुटने के बल बैठ कर मेरी चुचियों को मुँह में लेकर चूस रहा था और दूसरे हाथ से दूसरी चुची को दबाने लगा था.

फ्लॉरा- ओ हैलो… मेरा आज कोई इरादा नहीं है तेरे बाप से चुदवाने का… और ऐसे अचानक ही तूने खुद ही फैसला कैसे किया?सुमन- अरे आप ग़लत समझ रही हो पापा रात से गए हैं और मैं अकेली हूँ इसलिए बस कंपनी के लिए आपको बुलाया है. खाली पैसे के बंडल मेरे हाथ में देता और बोलता है रख दे अलमारी में, तुझे चाहिए तो खर्च कर. इसी बहाने आप दोनों से बात भी हो जाएगी और आपके ब्वॉयफ्रेंड के बारे में भी मुझे पता लग जाएगा.

चाचाजी ने अपने धक्के और तेज कर दिए, जिससे मैं समझ गई कि वो भी अब झड़ने वाले हैं.

फिर मैंने दीदी की चुत को चाटना शुरू किया, तो दीदी ने कहा- मेरे राजा. घर में जैसे उनसे बात करना सम्भव ही नहीं है क्योंकि उन्हें बात करना ही पसंद नहीं! घर में एक वीरान सी खामोशी और सन्नाटा छाया रहता है टीवी की आवाज के अलावा और कुछ सुनाई नहीं देता. जैसा कि आप सब को पता है कि मैं कामुक कहानियाँ लिखने के अलावा अन्तर्वासना के पाठक पाठिकाओं की सेक्स जिज्ञासा, सेक्स समस्याएं एवम् सेक्स सलाह भी मेल या वाट्सएप्प पे देता हूँऔर इस लेख को लिखने का आईडिया भी आप में से कुछ लोगों से, जो मुझे मेल करते हैं, उन से ही आया और तो और मैं खुद इस फेंटेंसी से उत्तेजना फील करता हूँ.

उस दिन तो तो मैं डिनर के बाद वापस लखनऊ आ गया लेकिन अब अपने लंड को नियंत्रण में रखना मेरे लिए संभव में नहीं था लिहाजा मैंने लखनऊ की अपनी सहेली पर जाते ही चढ़ बैठा और भरपूर ठुकाई की. मेरे बाजू में बैठते ही उसकी जांघ मेरी जांघ से लग गई, पर उसने अपनी जांघ हटाई नहीं तो मैंने भी नहीं हटाई. जब वह मेरी गोद में बैठी थी तो मेरे लंड को वह अपनी गांड के नीचे नाप चुकी थी.

मैंने खुद अपने दोनों हाथों से उसके नंगे मुलायम चूतड़ नीचे से पकड़ते हुए उसे साध लिया. मैं उसकी कमर पकड़ कर उस की गांड में शॉट पे शॉट लगा रहा था और वो भी मजा लेकर चुदवा रही थी.

एक खाली हरा स्थान देख कर उसने अपनी शर्ट और स्कर्ट उतार दी और बड़े से पत्थर पर सहारा ले कर खड़ी हो गई. वो एकदम बेजान हो गई, पर मैं उसे चोदता रहा और थोड़ी ही देर बाद मेरा भी होने वाला था तो मैंने भी लम्बे लम्बे शॉट लगाने शुरू कर दिए और फिर उस की चूत में झड़ने लगा. इतनी देर में सुगंधा की नजर मेरी शर्ट पर पड़ी जो पीछे से गंदी हो गई थी.

राज का लंड देख कर तो मेरा मन कर रहा था कि अभी इस लंड को अपनी चूत में ले लूँ, पर में जीजू से गुस्सा होने का नाटक करने लगी.

उसके बाद मैंने भाभी को बोला- सुरैया, अब मैं तुम्हारी इस तंग गांड को चोदना चाहता हूँ. फिर मैंने मॉम से कहा- कमीज़ ऊपर कर लो, मैं कमर की भी ढंग से मालिश कर देता हूँ. वो मेरे निप्पलों को मसल रहा था, मेरी कमर को अपने हाथों में जकड़े हुए गर्दन को चूम रहा था, उसकी हर एक हरकत मुझे पागल कर रही थी.

मेरे मुँह से केवल गूं गूं की आवाज ही निकल पाई और उसका पूरा का पूरा लंड मेरी चुत में समा गया. मैंने सोचा कि वो साला तो बाहर चुदाई करके मजे करता फिर रहा है, मैं भी क्यों ना मजे करूं.

मैं- अगर तूने मेरा लंड नहीं चूसा तो ये उंगली तेरी गांड में डालूँगा. उसके पीछे से मैं भी उस कमरे में चला गया और तभी अर्चना ने मुझे कस कर जकड़ लिया और चूमते हुए धीरे से बोली- रात को काफी मज़े आए; अब कब चोदोगे?मैं उसे मौका मिलते ही चोदने की कहते हुए एक लम्बी लिप किस कर कमरे से बाहर निकल गया. तो उसने स्माइल दिया और बोली- चले जाना, हम कौन सा तुम्हें खा जाएँगे.

वीडियो सेक्सी मूवी फुल

ना सिर्फ माया अमित और उस्मान का लंडों से चुद रही थी, बल्कि खुद अपनी चुत भी मसल रही थी.

करीब 1 घंटा रुकने के बाद हम निकल ही रहे थे कि चाचाजी ने इरफान से कार चलाने को कहा और चाची से पूछा कि तुम पीछे आ रही हो कि यहीं बैठोगी. एक साथ दोनों लंड का मज़ा ले लेना, एक चुत में घुसा रहेगा और दूसरा गांड में मजा देगा, तभी तो पार्टी में रोमांच आएगा. उसने संदेह जताया कि इस बात को कैसे सिद्ध किया जा सकता है कि तुमने अपना कौमार्य अब तक सुरक्षित रखा है.

”हाँ अंकल, मेरा जिस्म गर्म हो रहा है, जल्दी चोदिये न… अपनी प्यारी बेबी को. दीपक भैया इन हरकतों से अनजान तैरने में मशगूल रहे और रंजु उन पर पानी की थपेड़े मारती, हम दोनों को देख कर गंदे इशारे करते हुए हंसती रही. शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो एचडीउसने फिर से मेरी चूत पर ढेर सारा थूक लगाया… अपने लंड को फिर से सैट किया और जोर से धक्का मार दिया.

इसके बाद हम दोनों वापस तैयार हो गए और हमने निश्चित किया कि अगली बार पूरी रात के लिए मिलेंगे. तो वो जाग गई और कहने लगी- क्या कर रहा है?तो मैं उसे बताने लगा- तुम्हारी शर्ट ऊपर हो गई थी और तुम्हारी छाती दिख रही थी।पहले तो वो शरमाई.

इस चुदक्कड़ परिवार की चुदाई की सेक्सी स्टोरी की रसधार का अगले अंक में फिर से मजा लीजिएगा. मेरी माँ की चुदाई की कहानी कैसी लगी, मुझे जरूर बतायें, मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]. लंड कभी उस के पेट के नीचे जांघों के बीच में चला जाता तो कभी उस की गांड के छेद पर रगड़ खाता.

अब ज़बरदस्त चुसाई शुरू हो गई और सुमन की चुत का सारा दर्द गायब हो गया. इसके बाद हम देवर भाभी को जब भी मौका मिलता है, मैं भाभी को बार बार चोदता रहा. मैं तुम्हारी चुत में पूरा का पूरा लंड घुसाते हुए तुम्हें बहुत ही बुरी तरह से चोदूँगा.

दोस्तो बोर हो गए क्या… चलो आगे तो देखिए, आपके काम का सीन शुरू हो गया.

लंड का सारा जूस निशा की चुत में निकाल देने के बाद जय ने अपना लंड उसकी चुत से बाहर निकाला तो निशा ने तुरंत ही उसके लंड को अपने मुँह में ले लिया और उसके लंड को चाट चाट कर साफ़ करने लगी. इस बार गुस्सा होने के बजाय रूपा को लगा जैसे उसकी ही गलती है और वो थोड़ी शिष्टाचार के लिए मुस्कुराते हुए बोली- ओह आय एम सारी, भीड़ की वजह से मैंने आपको गुस्से से देखा.

मेरी तो जैसे पूरी थकान गायब हो गई और उसे देख कर मैं बहुत खुश हो गया. मेरी चूत के अंदर फिर से पानी भरने लगा था, मुझ में थोड़ी थोड़ी हिम्मत आने लगी थी, मेरी मन में एक ही ख़याल आ रहा था कि आज गांड मरवानी है और उसकी तैयारी भी करनी है. एक दिन अंकल को एक दो दिन के लिए बाहर जाना था, तो मैं ऊपर छत पे आंटी के साथ सोया हुआ था.

मैंने प्यार करते करते उसे बेड पर लिटा दिया और खुद अपना लंड हाथ में लेकर उसके मुँह के ऊपर चढ़ गया. इधर उसकी चूत बहुत कामरस छोड़ रही थी, जो मैं पीता जा रहा था और बीच बीच में पूरी की पूरी चूत अपने मुँह में भर के उसका सारा पानी खींच लेता. हम दोनों लेट गए; मैंने उसकी चूचियों को देखा, तो मुँह में पानी आ गया.

सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ जोशना ने अपनी चूत को हाथ से दबाते हुए कहा- इतनी बुरी तरह से कोई चोदता है? कितना दर्द हो रहा है…मैं- मेरा भी पहली बार ही था… सॉरी… अगली बार से ध्यान रखूंगा…जोशना- कोई अगली बार नहीं… अब कभी नहीं चोदने दूँगी. दोबारा चुदाई का संग्राम छिड़ गया और अब तो हम दोनों में से कोई भी पीछे नहीं रहना चाहता था.

सेक्सी वीडियो नंगी फुल

क्या बताऊँ!मैंने उसे लिटाया और फिर उसके पेट पर अपनी जीभ घुमाना चालू किया। उसको गुदगुदी होने लगी और उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगी थीं- अहह्ह ह्ह म्म्म म्म्म्म. उसकी अपने पति से भी इसीलिए नहीं बनी क्योंकि विनीता बिस्तर में उसके नीचे आ कर चुदवाने को तैयार नहीं थी और लंड की सवारी ही गाँठना चाहती थी. मैंने मौका देख कर बाल ठीक करते टाइम उस की चूचियों को टच कर लिया, वो मेरे तरफ़ देखती हुई हंस दी और बोली- तुम अपनी बीवी को बहुत खुश रखोगे क्योंकि तुम रसोई में बहुत अच्छी तरह से हेल्प करते हो.

मैं भी अपनी टोली के साथ दशहरा घूमने की सोच रहा था, तभी रात्रि 9 बजे मामा जी का फोन आया कि मामी घर में अकेली हैं और मुझे काम पर जाना है, तुम तुरंत घर पहुंच जाओ. फिर मैं धीरे धीरे अपने लंड को अन्दर बाहर करने लगा और अब भाभी पूरा चुदाई का मजा ले रही थी. सनी लियोन की सेक्सी वीडियो बीएफफ्लॉरा ने दोनों हाथों से लंड को पकड़ा और जोर जोर से उसको चूसने लगी.

अगले कुछ सप्ताह मौसी ने मुझे उनके चूचियों से खेलना सिखाया, मेरी सहन शक्ति बढ़ाई, चुत को रगड़ने से सुख प्राप्ति होती है, ये बताया.

अब वो मजे में बोलने लगी- फक मी फक मी उम्म्ह… अहह… हय… याह… अअअअअ हम्मम्म. मेरे गर्म गर्म वीर्य की पिचकारियां मुझे उसकी चूत की गहराइयों में जाती हुई साफ महसूस हो रही थीं.

फिर उसने पूछा- तुम क्या लोगे?मैंने डबल मीनिंग में बोला- तुम क्या दोगी?वो भी समझ गई और बोली- जो तुम्हें लेना हैं. यह हिंदी ऑडियो सेक्स स्टोरी सुना रही है दिल्ली सेक्स चैट गर्ल लावण्या जो असल में अलाहाबाद उत्तर प्रदेश की रहने वाली है लेकिन अपनी पढ़ाई के लिए वो राजस्थान के वनस्थली में गर्ल हॉस्टल में रह रही है. जब कोई लड़का 8 इंच का लंड डालेगा तब क्या करेगी… तू तो मर ही जाएगी… कोई बात नहीं तेरी सील नहीं टूट गई.

नशे में होते हुए भी उसके दिल में एक कोना ऐसा था जिसमें दया थी… और उसने फोन मुझे दे दिया.

मैं अभी तक झाड़ा नहीं था, मैंने उनके मुँह में अपना लंड डाल दिया और आंटी पूरे मज़े से लंड चूसने लगी. उसने आँखों से इशारा करके पूछा- चाहिये क्या?मैंने भी सर हिला के ‘हाँ’ बोल दिया. क्योंकि दीपक भैया लंड जब रीना की कोरी गांड में पेलते तो मेरा लंड भी चुत में जाकर बच्चेदानी में ठोकर मारता.

रानी की सेक्सी मूवीफिर बस 7:00 पर रवाना हुई, थोड़ी देर बाद मैंने पीछे से महसूस किया कि किशोर एकदम से मेरे से टच होते हुए खड़ा था. गुलशन जी ने उसकी मैक्सी ऊपर कर दी, अब नीचे का पूरा हिस्सा नंगा उनके सामने था.

हिंदी सेक्सी हिंदी मराठी

क्यों नहीं, हम भी देखें तुम में वो कौन है जो हमें कुतिया जैसा महसूस कराएगा. आम्म्म…” मैं कार की पिछली सीट पर उन अंकल की गोद में बैठी उनका मोटा लम्बा लंड खा रही थी. एक बार साली कायदे चुद जाए और इसे लंड का चस्का लग जाए फिर तो ये मेरी पर्सनल रंडी बन जाएगी.

हमारे और हमारे पड़ोसी के घर के बीच एक हमारी बैठक है या चाहे बाड़ा कह लें. आवाज सुनकर मैंने अर्चना को दरवाजे की झिरी से झांकते हुए पाया, जिसकी नजरें मुझसे मिलीं, तो वो वापस चली गई. फिर डॉक्टर मैडम आई, उसने टेबलेट्स दीं, उसको रात को यूज़ करने के लिए और बोला- कल और आना है बस.

लेकिन मोहन तो ठाप मारे जा रहा था और कुछ ही देर में वो भी शमशेर की तरह ही मम्मी पर औंध गया और वो भी अपनी गांड को खुल्लु भिच्चु करने लगा. अब तो मैं अपनी बहन की चुदाई के सपने को किसी ना किसी तरह पूरा करने की कोशिश करने लगा. शाम को थोड़ा अंधेरा भी होने लगा था तो अन्दर कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था.

वो जोर से कहने लगी- चोदो ना प्लीज़, मुझे चोदो ना, क्या कर रहे हो, ला दे ना अपना लंड, डालो ना. मम्मी ने मेरा हाथ पकड़ा और वापस मुड़ने को कहा तो वो तीनों हमारे पास आ गए और हमसे पूछा कि हमें कहां जाना है.

उसने पूजा के होंठों को अपने होंठों में जकड़ लिए और एक लंबा किस शुरू हो गया.

दोस्तो, ये थी मेरी पहली गैंग बैंग चुदाई की कहानी, जिसमें प्यार के नाम पर मेरे साथ धोखा हुआ था. ससुर और बहू का बीएफ सेक्सीतो मैंने अन्दाजे से अपना लंड चूत पर रखा और बहुत सारा थूक लंड पर मल दिया।मैंने लंड का सुपारा चूत की दरार में लगा कर थोड़ा जोर लगाया. बीएफ सेक्सी ब्लू देसीफिर क्या था, वह बड़े आराम से अपना लंड मेरी गांड के अंदर बाहर करने लगे। लेकिन यह अनुभव मेरे लिए कल्पना से परे था, मुझे बहुत आनन्द मिल रहा था, मेरे मुख से हलकी हलकी दर्द मिश्रित आनन्द भारी सीत्कारें निकल रही थी. मैंने पूछा- अभी तक सोई नहीं?मेरी बहन ने कहा- मम्मी की चीख सुनकर नींद खुल गई.

अल्का बोली- माया हिम्मत रखो सब लड़कियों को, सब महिलाओं को यहाँ तक तुम्हारी और मेरी दादी नानी तक का यह समय आया था.

जल्द ही मेरी अगली चुदाई की कहानी लिखूंगी जो मेरी और मेरे सगे भाई जिगर, जो कि थोड़ा सा भोला (मंदबुद्धि) है के बीच की है. मैंने उस के चूतड़ों पर अपनी ठोड़ी रखी और धीरे धीरे उस के चूतड़ों को किस करते हुए उस की चूत को चाटने लगा. पूरी नंगी शीलू कुछ ऐसी लग रही थी कि उसके बदन की तारीफ़ करे बगैर मैं कैसे रहता.

वो एकदम टूट गई, उसमें अब जरा भी हिम्मत नहीं थी, उसका सर चकराने लगा था. अब मामा मामा जी को कोचिंग जाना था, जाते वक़्त मामा जी मुझे अपनी बाहों में भर कर किस करने लगे, जाते जाते मामा बोल गये- याद है ना कल रात का वादा?मैं बोली- हाँ याद है अच्छी तरह से! और आप को भी मेरी ख्वाहिश पूरी करनी है याद रखिएगा. उसकी ज़िद देखकर रवि बोला- ठीक है, तुम लोग चलो, मैं आता हूँ थोड़ी देर में…वापस आकर रवि ने कहा- तू मुझे लंगोट में देखना चाहता था ना… ले तेरी ये ख्वाहिश भी आज पूरी कर ही देता हूँ… चल उठ हम अखाड़़े में जा रहे हैं।मुझे पता था वो तीन बार चुदाई के बाद थका हुआ है लेकिन फिर भी केवल मेरी खातिर अखाड़े में जा रहा है.

फायर सेक्सी

वो टीवी देख रही थी उसने गुलाबी रंग का पंजाबी सूट पहना था, जिसमें वो एक सेक्स-बम लग रही थी. कभी देखी है?”उसने कहा- नहीं कभी नहीं देखा, पर अपनी सहेलियों से इस बारे में सुना है. मीना ने नाइटी पहनी हुई थी और उसमें से उसकी काले कलर की ब्रा साफ साफ दिखाई दे रही थी.

वैसे मैं बहुत शर्मीला किस्म का हूँ लेकिन बिस्तर पर मैं हैवान से कम नहीं हूँ।आज की तारीख तक मैंने कई लड़कियों और भाभियों की चूत और गाण्ड मारी है। लेकिन इसके पीछे भी कुछ वज़ह है.

मैंने उस के लटकते संतरों को अपनी मुठ्ठियों में भींचा और धकापेल लंड पेलना जारी रखा.

रवि के दिल में मेरे लिए क्या था, यह तो मैं नहीं जानता था लेकिन मुझे लगने लगा था कि उस पर मेरा ही हक़ है. इस चुदक्कड़ परिवार की चुदाई की सेक्सी स्टोरी की रसधार का अगले अंक में फिर से मजा लीजिएगा. सेक्सी एक्स एक्स हिंदीतुम अपने होंठों को जोर से जकड़ लो, जिससे तुम्हारे मुँह से चीख ना निकले.

तो वो कहने लगी- जब इसमें इतना दर्द हुआ तो उस में तो बहुत ज्यादा होगा. मैंने ‘हाँ’ में सर हिलाया तो आगे कहने लगीं- प्लीज़, यह बात अपने अंकल (यानि उनके पति) को मत बताना. साथ में उस के प्लाजो में टांगों के बीच उभरी उस की पकोड़ा सी चूत को हाथ से सहला रहा था और साथ ही उस के पटों पर हाथ फिरा रहा था.

कभी कभी रीना को उसकी पहले दिन की चुदाई की वीडियो दिखा कर मैं आज भी उसे चिढ़ाता हूँ. आज का दिन मेरे लिए सच में बहुत अच्छा था, मेरे पास तीन तीन माल जैसी लड़कियां थीं.

उस परिवार में एक लड़की जो की MBBS कर रही थी और एक लड़का बीटेक कर रहा था.

मैं कराह उठी लेकिन अब लंड अन्दर हो गया था इसलिए मुझे भी सुकून सा हुआ था. तभी दीदी बाथरूम में चली गईं और अंजलि मेरे पास बैठ गई और हम दोनों इधर उधर की बातें करने लगे. फिर 15-20 मिनट के बाद जय बोला- भाभी तुम मेरा लंड सहआओ, अब मैं तुम्हारी चुदाई करूँगा.

ब्लू फिल्म सेक्स सेक्स वीडियो उस की शादी को 4 साल हो चुके थे, लेकिन उस की चूत को देख कर लग रहा था जैसे उस ने एक भी बार सेक्स नहीं किया हो. कुछ देर बाद पड़ोस के गांव का एक आदमी आया और पापा से कहने लगा कि तुम्हारी बुआ सास बहुत बीमार हैं और वो कुसुम से मिलना चाहती हैं.

पूजा की बात सुनकर संजय को हँसी आ गई क्योंकि उसने कही ही ऐसे थी- हा हा हा अरे मजाक कर रहा हूँ मेरी जान… तुझे दर्द देकर मुझे मजा थोड़ी आएगा. रंजु ने बताया कि अभी सभी रसोई के काम निपटा कर बुआ को दूध के साथ एक गोली और दी है. वैसे तूने बताया नहीं कि कितने लड़कों ने तेरा यह जिस्म सहलाया है और तुझे उन लड़कों को अपनी ब्रा का साइज़ बताने में क्यों शरम आती है?नीता को पहली बार मर्द के सामने अपना नंगा सीना दिखाने और निप्पल को मर्द से मसलवाने में मज़ा आने लगा था.

कुमारी लड़की की सेक्सी चुदाई वीडियो

मैंने देखा कि मेरे सामने एक पचास साल का स्वस्थ आदमी डेस्कटॉप या लैपटॉप कम्प्यूटर के सामने एक कुर्सी पर बैठा था और उसके पीछे एक बेबीडॉल फ्रॉक में एक तीसेक साल की मस्त भरी हुई भाभी खड़ी थीं. और इतनी सर्दी में स्कर्ट टॉप सर्दी नहीं लगेगी तुझे?”एक दोस्त की पार्टी है. तुम्हारा मेरा नाता है चोदने चुदने का, इसके अलावा तुम और मेरे में कोई दूसरा नाता ना तुम तैयार करो, न मैं तैयार करूँगी.

मैंने तुरंत अपना अंडरवियर निकाल कर अपना लंड आंटी की चुत की फांकों पर रखा और एक ही झटके में अन्दर पेल दिया. मैंने उसके हाथों को अपनी पतली कमर पर लपेट लिया और उसके हर एक चुम्बन को जी भर के जीने लगा.

रूपा समझी कि पप्पू ब्लाउज खोलना चाहता है, इसलिए उसने झट से मुड़ कर पप्पू का हाथ वहाँ से खिसका दिया, पर ऐसा करने से पप्पू का हाथ उसके पूरे कड़क मम्मों को छू गया.

अब बाथरूम के दरवाजे से लॉक निकल जाने से उस छेद से बाथरूम के अन्दर का सीन दिखने लगा था. आपके बेटे ने ही सुहागरात को मेरी योनि की सील तोड़ कर मेरा कौमार्य भंग किया था फिर उसके बाद आप मेरे जीवन में अचानक अनचाहे ही आ गए. मैंने उसके डोलों को भी ऊपर नीचे करते हुए चाटा, साथ ही उसके हाथ को ऊपर उठा कर उसकी बगल से आती मदहोश खुशबू का भी आनन्द लिया.

नीलिमा तैयार नहीं थी, वो गाली देने लगी- साले गांडू मैं क्या तेरी वाईफ हूँ क्या. जैसे हम अंदर गई तो मेरी ने दरवाजा हमारे पीछे बंद कर दिया।हम थोड़ी आगे बढ़ी तो सारी आवाजें रुक सी गयी. वो बोलीं- तो चल… सबसे पहले मेरी चूत को चाट कर साफ कर चूतिये… जो तूने मेरी चुत को छूकर उसका माल निकाल दिया है.

मैं तो चली जाऊँगी इस बेटीचोद का ख्याल रखना, बड़ा मस्त चुदाई करता है.

सेक्स बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ: मैं महिला पाठकों के लिए ख़ास बताना चाहता हूँ कि मेरे लंड का साइज 7 इंच है. मैं उसकी टांगों के बीच बैठ गया और उसने मेरे लंड को अपने हाथ से पकड़ कर अपनी चूत के मुँह पर रख दिया.

बरखा वैसे ही लंड घुसवा कर संजय की छाती पर गांड ऊंची करते हुए लेट गई और पीछे से साहिल ने अपना मोटा लंड उसकी गांड में घुसा कर झटके देने लगा. आत्मा- देख तू सच से भाग नहीं सकता, आज वो जिस तरह तेरे लंड को चूस रही थी, उससे तुझे लगता है वो चीज को पहचानने की कोशिश कर रही थी और तो और वो गिरी घुटनों तक थी तो जाँघ और कमर पर कहाँ चोट लग गई. जीजू ने मुझे घोड़ी बनने को कहा और फिर उन्होंने पीछे से अपना लंड मेरी चूत में घुसा कर मुझे चोदने लगे.

और सोचता था कि इसे कैसे चाटूं।कुछ दिनों बाद वो किराएदार आंटी जाने लगी। तब उसने मुझसे माफी मांगी और उसने कहा- तुम्हें जो कुछ करना है कर लो!मैंने आंटी की चूत चोद दी।चोदना ही होता.

तेरे साथ आऊँगा रूपा लेकिन मेरे वक्त की क्या कीमत देगी तू?पप्पू ने रूपा का हाथ कुछ ऐसे पकड़ा कि वो हाथ उसके लंड तो छू गया. अंकल ने मेरे हाथ से मेरा सेल लिया और मम्मी का फोटो देखने लगे- मेघा, तेरी मम्मी तो अभी भी बिल्कुल माल हैं!धत्त…”सच्ची यार मेरा तो दिल कर रहा है कि तेरी मम्मी को भी एक दिन चोदूं. बेडरूम में बहूरानी की कामुक कराहें और उसकी चूत से निकलतीं फचफच फचाफाच की आवाजें गूंज रहीं थीं उसकी चूत मेरे लंड से लोहा लेती हुई संघर्षरत थी.