बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स २ २०१७

छवि स्रोत,हेमा मालिनी के बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

फॅमिली पोर्न: बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स २ २०१७, इसके पीछे कारण था क्योंकि यह सब सोचने के लिए उसे यह भी सोचना पड़ेगा कि वह रीना की अपनी बीवी की तरह चुदाई कर रहा है। उसके बाद सीमा की चुदाई कर रहा है और वह भी दोनों की मर्जी से, अपने पूर्ण रूप के मजे के साथ.

आदिवासी नंगा वीडियो

उसने बोला- तुमको मुझसे बात करने में कोई ऐतराज तो नहीं होता है?मेरे मन तो किया कि उससे कह दूँ कि मैं तुमको ही अपनी गर्लफ्रेंड बना लेता हूँ. सेक्सी वीडियो बीएफ बीएफ एचडीउसने तुरंत अपने एक हाथ को बढ़ाकर मेरी सलवार के ऊपर से ही मेरे चूत अपने हाथों में भींच दिया.

उन्होंने अपनी आंखें बंद कर लीं और सोफे पर एक साइड सर टिका कर पैर दबवाने लगीं. छोटी लड़कियों की बीएफमगर मैं तो जानती थी कि हमारे बीच भाई-बहन वाली साधारण लड़ाई नहीं हुई है.

थोड़ी ही देर के बाद हम दोनों उठे और मैंने उससे कहा- तुम घोड़ी बन जाओ.बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स २ २०१७: मैं अभी उन्हें देख ही रहा था, तभी उस लड़की के पापा ने मुझे बुलाया और कहा- बेटा क्या आप हमारी थोड़ी हेल्प कर दोगे?मैंने हां में सर हिलाकर उनकी मदद करने लगा.

खाली दिमाग शैतान का घर! इस वक्त मेरा शैतान लंड फिर से मुझे मुट्ठ मारने के लिए उकसाने लगा.मैंने भाभी को औंधा कर दिया और पीछे से भाभी की चुत में धक्का मारा, तो आधा लंड चुत में घुस गया.

भाभी की सेक्सी चुदाई बीएफ - बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स २ २०१७

मैंने अपना लंड दांये हाथ में पकड़कर बीवी की गांड के छेद पर लगाकर पूरा सुपाड़ा गांड में डाल दिया.तो मेरा भी इस उम्र दिल मचलने लगा था कि कोई लंड की प्यास बुझाने का छेद मिल जाए.

जब वो चल कर जा रही थीं, तो उनकी गांड एकदम ऐसे मटक रही थी, जैसे दो बॉल आपस में हिल रही हों. बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स २ २०१७ उस वक्त मैंने इस बात पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया और सोचा कि शायद कोई उनके घर में भी मेरी तरह ही जगा हुआ होगा.

वो चिल्लाने लगी उम्म्ह… अहह… हय… याह… मैंने उसका मुँह अपने हाथ से दबा दिया.

बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स २ २०१७?

कल्पना मेरी तरफ ऐसे देख रही थीं, जैसे पूछना चाह रही हों कि इसका क्या करोगे. मैं हामी भरकर नफीस चाचा को रूपये देने लगा तो नवाज भाई बोले- अरे मेरी तरफ से …पर मैंने चाचा को कीमत बिल के मुताबिक दे ही दी और नवाज को अपने घर का पता बता दिया. मगर एक दिन सीमा के जाने के बाद श्लोक के साथ शराब पीकर मैंने नशे में उसकी बीवी वीणा की चुदाई कर दी.

मैं अभी तक उसके बारे में कुछ नहीं जानता था कि वह कौन है और मुझसे क्या चाहती है. अभी अमर कुछ समझ पाता कि पिंकी ने अमर के होंठों पर अपने होंठ रख दिए. नैना बोली- मुझे यूं ही प्यासी क्यों छोड़ के जा रहे हो?मैंने कोई जवाब नहीं दिया और अपने फ्लैट में लौट आया.

जैसे जैसे मौसी अपनी चूत में उंगली करती जातीं, वैसे वैसे मेरा लंड अकड़ने लगा. मैंने सरिता से पूछा- विलास सो गया क्या? अगर वो जाग गया तो बहुत मुसीबत हो जाएगी. मैंने लंड को अंडरवियर की इलास्टिक में दबाया ताकि किसी को मेरा खड़ा हुआ लंड दिखाई न दे और सीधा बाथरूम में चला गया.

तब मीना की ओर देखा तो वो मदहोशी में कभी अपने होंठों को काट रही थी, कभी अपने स्तनों को जोर जोर से नोंच रही थी. यह बात सही भी है लेकिन यह बात भी मान लीजिए कि लड़कियों में भी सेक्स को लेकर उतना ही जोश होता है बस हम लड़कियां लड़कों को पता नहीं लगने देती।आज मैं आप सभी से जो कहानी शेयर कर रही हूँ … इससे बस यही साबित होता है कि एक लड़का और लड़की के बीच सिर्फ एक ही रिश्ता हो सकता है और वह आप सभी जानते होंगे.

मैंने उनका हाथ अपने लंड पर रख दिया तो भाभी मेरे लौड़े को सहलाने लगीं.

उस दिन उसके पापा दिन में सो गए और मैं उसको अपने साथ मेरे ऑफिस में ले गया.

अपनी गर्दन घुमा कर मेरी तरफ गुस्से से देखा, जैसे आगे से वैसा न करने को बोल रही हों. शादीशुदा भाभी की कुंवारी बुर के चोदन की कहानी के इस भाग से संबंधित आपके सुझाव मुझे भेजें. फिर मैंने उसकी कुर्ती को उतरवा दिया और नीचे उसने काले रंग की ब्रा पहनी हुई थी.

आपका बहुत बड़ा और मोटा है मैं सहन नहीं कर पाऊंगी, प्लीज मुझे छोड़ दो. चाचा जी ने बोला कि कल उनको कहीं जाना है तो मुझे उनके घर पर रहने को बोला. मैंने कैसे भी करके उसको मनाया और उसके बाद मैं रिम्पी को लेने के लिए होटल में गयी.

अब आगे मैंने उसको कैसे चोदा और कैसे उसका मजा लिया, ये मैं अगली सेक्स कहानी में लिखूँगा.

मैं अन्दर ही अन्दर बहुत खुश था कि आज मेरे सपनों की रानी मेरे साथ सोएगी. मैंने उंगली से सहला कर उसकी चूत देखी और अपनी बड़ी उंगली उसकी चूत में डाल दी. उसने कहा- किस बात पर ध्यान लगा रहे थे … और क्या बात है, आजकल तुम मुझसे बात ही नहीं कर रहे हो.

रितेश ने उसको पेट के बल लेटने को कहा और बोला कि मैं चादर के अन्दर से ही हाथ डाल कर ये क्रीम लगा देता हूँ. चूत चुदाई की प्यासी मेरे दोस्त की बीवीअब तक आपने पढ़ा था कि रात को ग्यारह बजे सरिता मेरे पास चुदने के लिए आ गई थी. मैंने अपनी साड़ी और पेटीकोट एक साथ उठाकर अपनी फूल की डिजाइन वाली चड्डी को निकाल दिया और अपने पति की तरफ अपनी गोरी गांड करके आगे की तरफ झुक कर खड़ी हो गई.

तभी मुझे थोड़ी देर में अहसास हुआ कि वो जागी हुई हैं और मेरे इस लंड के काम को एंजाय कर रही हैं.

हालांकि उसकी ये सैटिंग ज्यादा दिन तक नहीं चली और उन दोनों की आपस में लड़ाई हो गई. इसके लिए एकांत की जरूरत थी, जिसके लिए मकान मालिक का घर पर नहीं रहना जरूरी था.

बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स २ २०१७ इससे पहले मैंने कभी नहीं पी थी मगर उनकी ज़िद के आगे में झुक गया और मैंने थोड़ी सी पी ली. इसके लिए मैं उसकी चुदाई करते करते सोच रहा था कि इसकी गांड मारने के लिए इसको कैसे पटाया जाये.

बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स २ २०१७ उस जल्दी की वजह से वो गलती से दरवाजा बंद करना भूल गयी और उसी समय मैं अपनी बुक लेने उस कमरे में चला गया. जैसे जैसे मेरी हरकतें बढ़ती गईं, वैसे वैसे उनकी सिसकारियां और आहें कराहें भी बढ़ती गईं.

उसके यार हमेशा उसके घर के आस पास इस उम्मीद में घूमते थे कि ना जाने कब उनकी बारी आ जाए.

ओन्ली बीएफ फिल्म

वो झट से मेरी कमर के दोनों तरफ टांगें डाल कर ऐसे बैठ गई, जिससे मेरा लंड उसकी चूत से रगड़ने लगा. एक नारी लगभग अपनी आधी जिंदगी गुजरने के बाद आज पहली बार अपने नारीत्व को प्राप्त हुई थी. थोड़ी देर बाद फिर से माया भाभी ने मेरा लंड अपने हाथ में ले लिया और खेलने लगी.

सुधा बोली- देखो, तुम्हें (ममता को) कहानी सुनाते-सुनाते मैं तो फिर से पिघलने लगी. मैं ज्यादा तड़प रही थी या विलियम … यह तो पता नहीं लेकिन तड़प दोनों में जबरदस्त एक दूसरे को पाने की थी. मेरे लंड का साइज़ 8 इंच लंबा और गोलाई में नापा जाए तो 5 इंच की परिधि का मोटा है.

अपनी बहन की चूत में उंगली डाली मैंने तो वो मचल उठी- आआ अहह!मैंने प्रिया की चूत को जीभ से चाटा … बहुत नमकीन थी.

मैंने प्रिया की साड़ी उठाई और उसकी पैंटी नीचे खिसका कर उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया. अगर दुनिया में कोई मजा है तो वह मेरी इस बहन की चुदाई करने में ही है. फिर घस्से मारते मारते मैंने उसकी फुद्दी का दाना भी सहलाना जारी रखा.

उनके घर और मेरे घर के बीच में उनके मकान की खुली जगह है, जिसमें वो अपनी भैंसें बांधती हैं. पम्मी आंटी ने भी, मैं गिर ना जाऊं, इसके डर से जल्दी से मेरे पैर पकड़ लिए. उसने मेरे परिवार के बारे में जानकारी ली और मेरे परिवार की हैसियत जानकर वो मुझसे प्रभावित हो गई, लेकिन तब भी उसने मुझसे मेरे डैड से बना कर चलने की सलाह दी.

वो ‘राज नहीं … राज नहीं …’ करती रही लेकिन इस ‘ना ना’ को मैंने अनसुना कर उंगली उसकी चूत में डाल कर उसे और उत्तेजित करना चालू कर दिया. मेरा लिंग वसुन्धरा की योनि में करीब डेढ़ इंच प्रवेश कर चुका था कि वहीं अटक गया.

उस दिन रूपाली बड़ी खुश लग रही थी और वो मुझसे बहुत बेतकल्लुफ होकर बात कर रही थी. अब आगे गरम भाभी बस सेक्स कहानी:मैंने अपना चेहरा उसके कंधे से हटाकर बिल्कुल उसके गाल के पास अपना गाल कर टच कर दिया. मैं कब से इस बात के इंतजार में था कि सलोनी मौसी कब अपनी चूत में साबुन लगाएंगी और मुझे उनकी चूत के दर्शन होंगे.

मैं जब भी उठना चाहता था, तो बीवी अपने पैर से मेरी गांड को पकड़ लेती थी.

वो अपना मुंह मेरे कान के पास लाकर धीरे से मेरे कान में बोला- मिस राठौड़, प्लीज ओपन योर आइज़!अब मैंने भी इस नाटक को बंद करना ही उचित समझा. गोल गोल गोल गोल, एक बार क्लॉकवाइज (घड़ी की चाल के अनुसार), फिर एंटी क्लॉकवाइज (घड़ी की चाल के विपरीत)घुमाने लगी. अब अंकल के घर जाने का टाइम हो गया था, मैंने हल्का सा मेकअप किया, होंठों को मम्मी की लिपस्टिक लगाई और अंकल के रूम की तरफ जाने लगी.

’तभी मेरा ख्याल टूटा और मैंने अपने मन में कहा कि सच में हवस में इंसान जानवर बन जाता है!अजय ने लाइट को कम कर दिया और म्यूजिक चालू कर दिया. फिर उन्होंने मेरे एक चूतड़ पर एक जोरदार चपत मार दी, जिससे मेरे मुँह ससे एक मीठी कराह निकल गई और मेरी गांड लाल हो गई.

साली तेरे लिए मैं कुछ भी दवाई खाकर अपने लौड़े का साइज बड़ा करूंगा, तू बहुत चुदासी है. उसके कोमल मुलायम बदन से टच होने के बाद तो हालात मेरे काबू से बाहर हो गये. एक दिन फिर से मैंने जब उसे किसी और तीसरे लड़के के साथ पकड़ा जो मेरा दोस्त था, तो मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ और हम दोनों अलग हो गए.

www.com एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो

कुछ और देर मैंने खुद को रोकने की कोशिश की लेकिन मैं अपनी मम्मा सौम्या की छलकती जवानी के आगे बेबस हो गया था.

बहुत देर तक हम लोग एक दूसरे को चूमते रहे, मैं उसके नाजुक अंगों को उसके कपड़ों के ऊपर से ही मसलता रहा. अगर तुम अपने दोस्त के साथ मेरी बात करवा सकते हो तो बताओ?मुझे इस वक्त उसके साथ बहस करना ठीक नहीं लगा. उसकी कसी हुई चूचियां मेरे सीने पर रगड़ रही थीं, उसके निपल्स मेरे सीने में चुभ रहे थे.

तो उसने बनावटी खुश हो कर कहा- बधाई हो … कौन है यार वो खुशनसीब?मैंने कहा- पहले तो तुम ये बताओ कि मैं तुम्हें लगता कैसा हूँ? क्योंकि मैं जिससे प्यार करता हूँ, उसको मैंने अभी तक प्रपोज़ नहीं किया है, इसलिए एक बार तुम से एडवाइस लेना चाहता हूँ. एक बार मैंने उसे गर्म करके चोद दिया तो उसे चुदाई में मजा आया और वो लंड मांगने लगी. दादा और पोती का बीएफफिर मैंने रूपा को इशारा किया तो वो मेरे लंड को अपने मुँह में लेने लगी और मस्ती से लंड चूसने लगी.

मैंने हाथ लगा कर महसूस किया तो उनका जरा सा भी लंड मेरे अन्दर नहीं घुसा था. मेरी जवानी की कहानी के दूसरे भाग में आपने पढ़ा कि मेरी चूत में उंगली करने के बाद सर ने मुझे पेपर करने की परमिशन दे दी थी.

उसका नाम पिंकी है, वो देखने में इतनी सुंदर और सेक्सी है कि कोई भी उसे एक बार देख ले तो मुठ मारे बिना नहीं रह सकता. शारदा चाची- और जोर से कपिल, और जोर से … शादी में बहुत थक गयी हूं, तू पूरी थकान उतार दे मेरी आज. फिर धीरे-धीरे मेरे लंड पर बैठते हुए मेरे लंड को उसने अपनी चुत में ले लिया और जोर जोर से हिलने लगी.

आज न जाने क्या बात हो गई थी कि मेरे पति का लंड मेरी चुत के चिथड़े उड़ा रहा था. लंड को रगड़ रगड़ के सहलाते हुए लंड की सफाई होने से मुझे ये लग रहा था कि कहीं मेरा पानी उनके मुँह पर न फिक जाए. मम्मा को सभी ने दूसरी शादी की सलाह दी थी लेकिन तब तक मैं 4 साल का हो गया था और मम्मा ने मेरे साथ कुछ गलत ना हो, इसीलिए मेरी खुशी के लिए अपनी खुशी छोड़ दी थी.

जब भाभी चलती हैं, तो उनके कूल्हे कुछ इस तरह से ऊपर नीचे चढ़ते हैं कि किसी का भी लौड़ा खड़ा हो सकता है.

उस रात की चुदाई के बाद माया मुझे जानू बोलने लगी, लेकिन सबके सामने जानू नहीं बोल सकती थी, तो उसने मेरा नाम जॉन रख दिया. तभी राधिका आगे बोली- अब हम चारों को पता ही चल गया है कि आगे क्या होने वाला है, तो क्यों ना हम डायरेक्टर फ़ाइनल टास्क वाला गेम खेलते हैं.

मैंने तौलिया लपेट कर दरवाजा खोला तो देखा गेट पर गोरी-चिट्टी जूली एक लाल रंग की साड़ी और ब्लाउज में खड़ी हुई थी. बाहर बादल टूट कर बरस रहे थे और बाहर की ठिठुरती सर्दी में, कमरे के अंदर आदम और हव्वा के सम्पूर्ण जीवन के सब से जादुई पल आन पहुंचे थे. परंतु बाद में धीरे धीरे वो अब लंड को गपा गपा करके पूरा अन्दर लेने लगी थीं.

इस समय दिशा की पीठ मेरी छाती से लगी थी और मेरे दोनों हाथ उसके तने हुए चूचों की चटनी बनाने में लगे थे. थोड़ी ही देर में कल्पना भी तैयार होकर हॉल में आ गईं और मेरे सामने वाले सोफे पर बैठ गईं. उसकी बुर अभी भी टाईट थी, जिसके कारण रूपा फिर से बोलने लगी- दर्द हो रहा है भैया, प्लीज़ धीरे धीरे से चोदो.

बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स २ २०१७ मैंने उससे कहा- मेम, आपको कहाँ जाना है, आइए मैं आपको छोड़ देता हूँ. उसने टाइट सफ़ेद कलर की पजामी और हल्के नीले कलर का कुरता पहन रखा था आंखों पे धूप का चश्मा.

बीएफ सेक्स सेक्स चुदाई

चाचा भी कुछ कम नहीं थे, परिवार में शायद ही कोई बचा हो जिसे उन्होंने नहीं चोदा हो. भाभी ने चड्डी निकाली, तो मैं बोला- अब आप औंधी होकर अपनी चूत मेरे मुँह पर रख कर हो जाओ. पहली बार वो अपनी मांसल गांड के छेद पर मेरे लंड के स्पर्श का अनुभव कर रही थी.

इसी तरह पूरा महीना निकल गया, मैं उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ कर ही पानी निकाल पा रहा था या कभी उसके मुँह में लंड डालकर पानी छुड़ा देता था. करीब पांच-छ: मिनट बाद दरवाजा खटकने के साथ एक आवाज यह कहते हुए सुनाई पड़ी- निकला नहीं क्या अभी तक?मैंने भी जवाब दिया- बस जान रूको, खलास होने वाला हूं. साड़ी वाली भाभी को देवर ने चोदाउन्होंने अपनी आंखें बंद कर लीं और सोफे पर एक साइड सर टिका कर पैर दबवाने लगीं.

रात को करीब एक बजे के लगभग मेरी नींद खुली तो मैं पेशाब करने के लिए बाथरूम में गयी.

”अंकल जी ने मेरी बात अनसुनी करके अपना मुंह मेरी खुली चूत में घुसा दिया और मेरे दोनों बूब्स कसकर पकड़ लिए और चूत की गहराई में चाटने लगे. जब मुझसे रहा न गया तो मैंने हिम्मत करके अपना एक हाथ उसके पेट पर रख दिया और धीरे-धीरे उसके बूब्स की तरफ बढ़ाने लगा.

मैं घर में रहता तो कोई प्रॉब्लम नहीं होती क्योंकि घर में मैं सिर्फ लुंगी ही पहनता था और अन्दर से नंगा रहता था. तब उसने कहा- यार मगर उसे यह ना बताना कि तुमने मुझे भी ये सब देखने को दी थी. वो पागलों की तरह उसे खा जाने की नीयत से चाट और चूस रही थी।मैंने उसे 69 के पोजीशन में अपने ऊपर लिटा लिया और उसकी चूत को चाटने लगा.

तभी मैं झड़ने वाला था तो उसने कहा- जीजू, प्लीज मुंह में छोड़ना!मैंने सारा माल उसके मुंह में छोड़ दिया, वो बहुत खुश हो गयी.

दो-एक मिनट बाद अचानक मेरा लिंग वसुन्धरा की योनि के अंदर फूलने लगा और मैंने अपना लिंग अपने लिंग-मुंड तक वसुन्धरा की योनि से बाहर खींच कर पूरी शक्ति से वापिस वसुन्धरा की योनि में धकेलना शुरू कर दिया. दस मिनट तक चुत चूसने के बाद मैंने उसे अपने लंड को मुँह में लेने को कहा पर उसने मना कर दिया. मैं- नहीं देना तो कोई बात नहीं, आपने मेरी मर्जी गिफ्ट देने को कहा था, तो मांग लिया.

सनी लियोन sexyतभी स्नेहा बोली- क्या भैया … इतने हैंडसम लगने लगे हो … कोई गर्लफ्रेंड बनाई है या ऐसे ही हाथ से काम चला रहे हो. वो ये कि मौसी जब चूत को मलतीं, तो वे अपनी एक उंगली भी चूत में डाल कर हिलातीं.

हिंदी बीएफ देखना है वीडियो

तो कुलीन मुझ पर लाइन मारने लगा था और ऐसे ही हम दोनों लोग की दोस्ती भी हो गयी. मेरे ऐसा कहने पर उसने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया, वह बोली- इस दिन का तो मुझे कितने समय से इंतजार था!वह मुझे किस करने लगी और मैंने उसके बदन को चूमना शुरू कर दिया. साली जी लो संभालो अपने जीजू का पूरा लंड अपनी गोरी गुलाबी चूत में!यह कहते हुए जीजू ने एक जोर का धक्का और मार दिया इस बार जीजू का पूरा 8 इंच का लंड मेरी चूत में समा गया.

मैंने एक दस का नोट और निकाला और उसे दिया और किचन में से शहद लेकर आया और उसे अच्छे से अपने लंड पर चुपड़ लिया. भाभी मेरा खड़ा लंड देख कर बोलीं- रोहन इतनी उम्र में तुम्हारा ये इतना बड़ा कैसे है? तुम्हारे भैया का तो इससे काफी छोटा है … अगर तुम कहो तो इसकी भी मसाज कर दूँ?मैंने हां में सर हिला दिया. फिर अचानक…तीनों ने लौड़े बाहर निकाले और हमारी छातियों के बीच में दबाए, हमने अपनी चुचियां के बीच में दबा लिए.

इस पूरे मजे के लिए आप सभी दोस्तों को मेरी कहानी के अगले भाग का इन्तजार करना होगा, जो मैं आप सभी के मेल आने के बाद लिखूँगा. उसकी बातों से मैं रोमांचित हो उठा था, मन में मीना को भोगने की इच्छा और तेज हो उठी थी!मैं मीना को जबरदस्ती जाकर भी चोद देता तो भी अजय मना नहीं करता. फिर मैं उसके आगे आ गया और अपने होंठ उसके गुलाबी होंठों पर रखकर किस करने लगा.

अंकल ने बोला कि मेरे औजार को तूने ही बाहर निकाला और सहलाया था, तो अब कोई फायदा नहीं है. मेरी जीभ लगते ही उन्होंने अपनी आंखें बंद कर लीं और मादक सिसकारियां लेने लगीं.

मैंने यह कह कर फोन कट कर दिया कि आप मेरी मम्मी को बिना कपड़े के बेड पर लेटे रहने को बोल देना, उन्हें आंखों पर पट्टी लगाने की बोल देना.

पर वो खुद को बेखबर जतलाते हुए सोई रही; उसने उठने की भी कोई जहमत नहीं की. बीएफ सेक्सी बीएफ हिंदी में बीएफ सेक्सीआन्या तो कुछ बोलने की हालत में नहीं थी, वो ‘बस बस …’ कहे जा रही थी. हिंदी बीएफ एचडी हिंदी बीएफ एचडीअगर मैं अपना हाथ पर मुंह पर नहीं देती तो शायद मेरी इतनी जोरदार चीख निकलती कि पूरी बस के गोरे रात को 3: 00 बजे जग जाते. मैंने उसकी चुत पर अपने होंठ रख दिए और उसके चुत के छेद में जीभ घुसा घुसा कर चूसने लगा.

कुछ दिन बाद सालियों को कहानी सुनाने के बाद मैंने दिल्ली में कुछ जरूरी काम का बहाना बना कर दिल्ली का प्रोग्राम बना लिया और सारा भी मेरे साथ हो ली.

वसुंधरा का छोटी सी पेंटी के इलास्टिक तक सपाट और साफ़-सुथरा गोरा पेट और पेंटी के इलास्टिक के बाद जाली में से झलक दिखाती कुंदन सी साफ़-सुथरी गोरी त्वचा इस बात की चीख-चीख कर गवाही दे रही थी कि वसुंधरा ने आज प्युबिक एरिया की भी वैक्सिंग करवाई है. भाभी ने जैसे ही तेल लगा कर मेरी मालिश शुरू की, मुझे बड़ा मज़ा आने लगा. उसने श्लोक की जगह काम को संभाल लिया और हम चारों हँसी-खुशी एक परिवार की तरह रहने लगे.

अगले साल से कॉलेज का मैनेजमेंट इस कोर्स के बैच बढ़ाना चाहता था, शायद इसीलिए ये सब सुविधाएं दी जा रही थीं. बारह-चौदह बार मेरे लिंग वसुन्धरा की योनि के अंदर योनि के हाईमन को बस छू कर वापिस लौट आया. हालांकि मैं भी सेक्स का मजा लेना चाहती थी लेकिन पहली बार के होने वाले दर्द से डरती थी.

सबसे बढ़िया बीएफ सेक्सी

आंटी बोलीं- मैं यहां बड़े वाले सोफे में ही बैठ जाती हूं, तुम मालिश कर दो. वह सही वक्त पर पार्क में आ गई और उसके पार्क में आते ही मौसम ने भी हमारा बहुत साथ दिया. पानी निकलने के बाद भी वो बस चुत चाट रहा था तो मैं कुछ ही देर में फिर से गर्म हो चुकी थी.

उसके बाद मैंने अपनी बीवियों और सालियों को गुलाबो के साथ अपनी पहली चुदाई की कहानी सुनाई और रात को दिलिया के साथ सुहागरात मनाई.

मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रखा और बोला- अब ले … इसे छू कर भी देख और बता कैसा है ये?उसने लंड को अपने हाथ में पकड़ा और बोली- अंकल ये तो बहुत गर्म है.

मैंने उसके पति को प्रेगनेंसी चैक करने वाली किट दी और कहा- चैक करके आओ. अभी तक तो मैं वसुन्धरा की योनि से सिर्फ हल्की-फ़ुल्की छेड़-छाड़ ही कर रहा था ताकि वसुन्धरा आगे की काम-केलि की परम काम-उत्तेजना को सहन करने लायक हो जाए. देसी भाभी सेक्सी वीडियो हिंदी मेंपिंकी कामुकता की अतिरेकता में अपनी आंखें बंद किए हुए अपनी गर्दन को अपनी सांसों के साथ ऊपर नीचे करने लगी.

मेरा इस बार का प्रयास कैसा लगा, आप नीचे दिये गए मेल आई-डी पर जरूर बतायें. तीन डिशेस थीं, जिसमें वेफर, काजू, चिकन लॉलीपॉप थे और एक आइस बकेट थी. ये वाकया करीब डेढ़ एक साल पुराना है, इसको मैंने अप्रैल में लिखना शुरू किया था मगर अपनी व्यस्तता के कारण पूरा नहीं कर पाया.

तभी मेरे अण्डों में मुझे ऐसा लगा कि कोई विस्फोट हुआ हो और धड़ाम … धड़ाम … धड़ाम … लंड से लावा तेज़ पिचकारी जैसे रानी की चूत में छूटा. इधर मैंने अपने बाएं हाथ को वसुन्धरा की योनि से उठा कर हल्के हाथ से वसुन्धरा की पैंटी घुटनों तक उतार दी और फिर उसी हाथ से वसुन्धरा की रेशमी जाँघों पर हाथ फेरते-फेरते, वसुन्धरा के घुटने खड़े करके वसुन्धरा की पैंटी को भी उसकी ड्यूटी से फ़ारिग कर दिया.

घर पहुँच कर मैंने महसूस किया कि मेरी चाल बदल चुकी थी, मेरे चलने फिरने में वो पहले वाली बात नहीं रह गई थी, मेरी चूत में भी अजीब से फीलिंग हो रही थी पता नहीं क्यों?अगले दिन मैं स्कूल नहीं गयी, मन ही नहीं कर रहा था तो सारे दिन अपने रूम में बेड पर पड़ी रही और अपनी पहली चुदाई की एक एक बात याद करती रही.

मैंने मेरी बहन को कभी गंदी नज़र से नहीं देखा था पर एक बार मेरी बहन बाज़ार जाने के लिए कपड़े बदल रही थी. कपिल- सही कहा, जब तुम ये दर्द होने का नाटक कर के चिल्लाते हुए चुदवाती हो, तब अपार आनंद आता है. इतना आज्ञाकारी पुरुष मैंने आज तक नहीं देखा था, शायद वो प्रीति से भी डरता होगा, तभी अपने मन की बात उससे नहीं कह पता होगा.

बीएफ सेक्सी फुल एचडी हिंदी कुछ देर में उसका दर्द कम हुआ तो वो भी अपनी कमर हिला हिला कर चुदवाने लगी. मैं समझ गया कि मेरी बहन की जवान बेटी भी वही चाहती है, जो मैं चाहता हूँ.

5 सेंटीमीटर से कम वाले हम जैसे लोग अक्सर बॉटम रोल में रहते हैं।फिर मैं बिस्तर पर गांड ऊपर कर लेट गया और अनिला को पास रखे डिल्डो पर क्रीम लगा कर अंदर डालने को कहा।वह बोला- सरजी यह तो ज्यादती है, मेरा अच्छा खासा खड़ा है और आप नकली लंड यूज करने को कह रहे हैं?मैंने कहा- तेरा एकसाइटमेंट इतना ज्यादा है कि तू दो मिनट में ख़लास हो जाएगा. मैंने कहा- जो भी हो बताओ, मैं तो आपका हर काम करने के लिए तैयार हूँ. कोई एकाध मिनट तक हम लोग ऐसे ही आपस में लिपटे हुए खड़े रहे फिर अंकल जी ने मेरे दोनों गाल बारी बारी से चूम कर मुझे छोड़ दिया.

सेक्सी बीएफ डबल

रात ग्यारह बजे के बाद मुझे अक्सर अपनी मम्मीं की आहें कराहें सुनाई देनें लगतीं और मैं समझ जाती कि मम्मी की चुदाई हो रही है. लेकिन पैर चौड़े करके बैठने में दिक्कत दे रही थी तो मैंने मेरी सलवार और पैन्टी को मेरे पैरों से निकालकर सीट पर पटक दिया. कहानी के पिछले भागपैसे के लिए विवाहेतर सम्बन्धमें अब तक आपने पढ़ा कि सनी और रोज़ी ने डेविड और लिजा को अपनी हरकतों से प्रभावित कर दिया था.

गड़बड़ यह हुई कि रानी की गर्म गीली जीभ द्वारा चाटे जाने से लंड फिर से अकड़ गया. इसलिए तुम मेरे मुंह में ही निकाल दो साहिल … आह्ह् … उम्म … करती हुई वह और जोर से मेरे लंड को चूसने लगी.

मैंने पूछा- अब तक आपने क्या सिर्फ लड़कों की गांड मारी है या औरतों की गांड भी मारी है?वो बोले- मैंने अब तक छह लुगाइयों की और चार लड़कों की गांड मारी है.

अब वो बस ब्लाउज और पेटीकोट में मेरे सामने थी और मैं अकेली जींस में था. जीजू- शिवांगी, तुम घबराओ मत, आराम से डालूंगा तुम्हारी चूत में … तुम को जरा भी परेशानी नहीं होने दूंगा. उसने मेरे लंड के सुपारे को अपनी चूत की फांकों पर महसूस किया, तो वो कमर उठाते हुए लंड को लेने की कोशिश करने लगी.

तब पटेल मेरी पेंटी को भी नीचे करने लगा और उसने मेरी पैंटी को उतार के फेंक दिया. राधिका तो जैसे यही सुनने के इन्तजार में थी उसने तुरंत अपना लंहगा निकाल दिया. भाभी- मेरे लैपटॉप में डिस्पले कभी कभी ब्लैंक आ जाती है, क्या आप देख लेंगे?मैंने कहां- हां क्यों नहीं, देख लूंगा.

तभी मकान मालिक किराया लेने आ गया और मुझसे बोला कि तेरे पापा से बात हुई थी.

बीएफ वीडियो सोंग लिरिक्स २ २०१७: लेकिन तब सामाजिक बंधन इतने मजबूत हुआ करते थे कि पड़ोसन की लड़की को बहन ही मान लेना पड़ता था. बाथरूम में खड़ा होकर मैं जोर-जोर से लंड को रगड़ने लगा और वीर्य निकालने के बाद ही कहीं जाकर मुझे शांति मिली.

मेरा लंड उसकी चूत के अंदर पूरा समा जाता था तो दोनों की आह निकलती थी. अपने ब्वॉयफ्रेंड को बोल देना कि जगह का इंतजाम कर ले और वहां आराम से अच्छे से उसके साथ सुहागरात मना लेना. वे दोनों गर्म हो गए और एक दूसरे को लिप किश करते हुए चुदाई में लग गए.

वैसे मैं विशाल भाई की इज्जत करता था मगर जब भाभी खुद ही मेरा लंड लेने के लिए तैयार रहती थी तो मुझे भी इसमें कोई बुराई नहीं लगी.

मैं तो सच में भूल गया था कि हफ्ते में दो बार गांड चोदने के जो दिन तय हुए थे, उसमें से आज का दिन गांड बजाने का था. मगर आपको भी मेरे साथ होना होगा और मैं केवल एक बार ही करूँगी!रोहन ने कहा- थैंक्स अंजलि. बाली रानी काम क्रिया में बहुत सिद्धहस्त थी, ताड़ गयी कि कब मेरा नियंत्रण हो गया, और तभी उसने अपनी कमर को गोल गोल घुमाना शुरू किया.