बीएफ की वीडियो सेक्सी

छवि स्रोत,बीएफ सेक्सी वीडियो सनी लियोन

तस्वीर का शीर्षक ,

देहाती सेक्सी पिसातुरे: बीएफ की वीडियो सेक्सी, डॉली का हमेशा ज्यादा ही पानी निकलता है, जो डॉली की चुत से होते हुए हिप्स पर होते हुए एकता की चूत पर आ गया.

औरतों से सेक्स

फिर मेरा मंतव्य समझ कर चेहरा घुमा लिया। यहां भी उसने चेहरा कवर कर रखा था और मैं बस उसकी आंखें देख सकता था।कैसे जानते हैं आप आरिफ को?”फेसबुक से. मारवाड़ी सेक्सी सुहागरातमधु का एक लवर यानि प्रेमी है राजकुमार… मैं हमेशा उन दो प्रेमियों को आपस में मिलने की मदद करती, अक्सर वे दोनों एक सूने पड़े घर में मिलते और आपस में प्यार करते थे.

तो खाला ने मुस्कुरा के पूछा- फिर तो बहुत मजे किये होंगे?इससे पहले मैं जवाब देता, खाला का फ़ोन आ गया और खाला उठ कर चली गयी. पंजाबी एक्स एक्स एक्स एक्स वीडियोहोंठों को करीब 10 मिनट चूसने के बाद मैंने ग्लिसरीन उसकी गीली और बिल्कुल कुंवारी चूत में लगा दी.

मैंने आज दीदी और जीजा जी को जल्दी ही नमस्ते कहके अपने सोने की जगह आ कर उनको फुल मस्ती करने के लिए छोड़ दिया.बीएफ की वीडियो सेक्सी: क्योंकि दोनों का पहली बार किसी लड़के से बुआ का और किसी लड़की से मेरा स्पर्श हो रहा था.

मैं उसने होंठों को खा जाना चाहता था और वह मेरे होंठों को काटना चाहती थी.अब मुझसे नहीं बर्दाश्त हो रहा, तुम दोनों ने क्या कर दिया कि मैं मदहोश हो गई.

बीएफ वीडीओ - बीएफ की वीडियो सेक्सी

आधा घंटे तक हमने बातें की होंगी कि भाभी ने अब अपनी गांड में उंगली करते हुए मुझे गांड मारने का इशारा दिया.मैंने फिर से झूठ बोलते हुए कहा- अच्छा जी… अब की याद है आपको… जब नशे की हालत में मैं आपको कमरे में लेकर आई थी और आप मेरे चुचों को मसल रहे थे.

तुम उसे मेरे साथ चोदना ताकि वो भी संतुष्ट हो जाए।मैं समझ गया कि मैं यहां शिकार करने की योजनाएं बना रहा था और यहां तो शिकार मेरे लिए पहले से तैयार था। मैंने थोड़ी आनाकानी की दिखाने के लिए और फिर हाँ कह दिया।जैसे ही मैंने हाँ कहा, शीतल और काजल दोनों हाथ मेरे शरीर पर रेंगने लगे। मैं तो अब जन्नत में था. बीएफ की वीडियो सेक्सी लेकिन मैंने उन्हें बताया कि उनकी बेटी के गर्भवती होने के कारण मैं काफ़ी टाइम से सेक्स रिलेशन नहीं बना पाया हूँ तो काफ़ी दिक्कत है.

अपनी दो जवान बहनों को इस अधनंगी हालत में देख कर मेरा सात इंच का लंड पत्थर से भी ज्यादा कड़क और टाइट हो गया, उसे मैंने अपने हाथ से नीचे दबा लिया ताकि वो कुछ गलत न समझे.

बीएफ की वीडियो सेक्सी?

मैं- जीजाजी! तब मैं कम उम्र का ही था। आपका जबरदस्त हथियार है, आपने फाड़ कर रख दी थी।फिर उन्होने दिनेश का एक जोरदार चुम्बन ले लिया व उसके चूतड़ सहलाते रहे, मेरी गांड मारते रहे. फिर मैंने भी अपनी जींस और अंडरवियर खोल दी, तो मेरा खड़ा लंड देख कर वो बोली कि ये तो मेरे उनसे काफी बड़ा है. उनकी फेवरेट मूवी इमरान ख़ान की जहर आ रही थी, जिसमें इमरान हिरोइन को प्रपोज करता है.

मेरे को अशोक ने कहा कि यह चोदू राम आज मेरे सामने तुम्हारी चुत में अपना लंड डालेगा. सुन कर मुझे भी खुशी हुई और फ़िर मैंने वही दवाएं कंटिन्यू कर दीं एक और सप्ताह के लिए. अपना मज़ा मैं अपने हिसाब से लूंगी और चुदाई का कंट्रोल मैं अपने पास रखूंगी आप तो चुपचाप लेटे रहना!” बहूरानी मुझे चूम कर बोली.

तब मैंने कोशिश करते हुए आखिर वो झिर्री तलाश ही ली, जिसके अन्दर मेरा टोपा घुस गया, फिर मैंने थोड़ा जोर लगा कर अपना आधा लंड नताशा की गांड में घुसेड़ दिया! अब आर्थर ने फिर से अपने धक्कों की रफ़्तार बढ़ानी शुरू कर दी, और उसके समान्तर घुसे मेरे लंड को भी उसी अनुपात में चुदाई तेज करनी पड़ी!नताशा थोड़ी बहुत कुनमुनाई, लेकिन उसे कुछ विशेष परेशानी हुई हो, ऐसा मुझे नजर नहीं आया. पर मेरा अभी बाकी था; मैं थोड़ा सा ऊपर हुआ, उसके दोनों बूब्स कसके अपने हाथों से पकड़ लिए और पूरी रफ़्तार से धक्के लगाने लगा और कुछ ही देर में मैं उसकी चूत में ही झड़ गया और उसके ऊपर निढाल होकर चिपक कर हग कर लिया।हम दोनों इतनी ठण्ड में भी पसीना पसीना हो गए थे और इसी तरह एक दूसरे से चिपक कर थक कर सो गए।थोड़ी देर बाद नींद खुली और हम दोनों फिर शुरू हो गए. वह सीधे अपने कमरे में गया और पद्मिनी के पास बैठ कर अपने कपड़े उतारने लगा.

इसी घमासान में आख़िर लंड का पसीना छूट गया और वो ढीला होकर बाहर आ गया. फिर भैया ने भाभी का घूँघट उठाया और ठोड़ी पकड़ कर उनका चेहरा ऊपर किया, फिर भाभी की तारीफ करने लगे.

और अब मैं सोच रहा हूँ कि इसके साथ यह सीरिज भी यहीं रोक दूँ क्योंकि मुझे ऐसा लगता है कि आगे थोड़ा बहुत पचड़ा होगा और वो कहानियाँ कुछ खास भी नहीं होंगीं.

मेरे रूम पे आते ही उसने इशारे से मुझे पास बुलाया, मैं उससे कुछ पूछता, उससे पहले ही उसने कहा- वाशरूम में छिपकली है, मैं कपड़े कैसे चेंज करूं?मुझे उसकी बचकानी बात पर हसीं और प्यार दोनों आ रहा था.

फिर उसने मुझे 1000 रुपए दिए और बोला कि अब जब भी मैं बुलाऊंगी तुम आ जाना. एक पैर रखने के बाद मैंने अपना एक हाथ भी उसकी 24 इंच कमर पर रख कर उसको अपनी तरफ उसको मोड़ लिया. रानी अच्छे से मस्ता गई थी, वो कुछ बोलना चाहती थी लेकिन मुंह से केवल आहें ही निकल रही थीं.

मैंने उसकी बांहों में लेटे हुए ही उसकी चुत पे हाथ रखा तो महसूस हुआ कि जैसे मैंने किसी भट्टी पे हाथ रख दिया हो. अब तो मैं बिल्कुल उछल पड़ी और कसकर लाल जी के होंठ काट दिए, साथ ही लाल जी की बांहों में मैं प्यासी मछली की तरह मचलने लगी. तभी थोड़ी देर बाद वो लड़की फिर आई और खाने की टेबल की ओर चली गई तो मैं भी उसके पीछे चला गया और खाने की प्लेट लेकर खाना खाने लगा.

सच में मुझे अगर तुम्हारे जैसी दुल्हन मिल जाए तो मेरी जिंदगी बन जाए.

पानी पीने के बाद हम दोनों नाश्ता करने लगे और फिर इधर उधर की बातचीत करते हुए हँसी मजाक करने लगे. थोड़ी देर में मॉम ढीली पड़ गईं और दोनों हाथों से कुर्सी पकड़ कर खड़ी हो गईं. सोचो अगर किसी शादीशुदा औरत का पति यदि महीनों महीनों तक घर पर नहीं रहता है तो उसका क्या हाल होता होगा.

थोड़ी देर आराम करने के बाद मैंने चॉकलेट सॉस उनकी चुत पे डाल के चूसने लगा. फिर मैंने उनके मम्मे को दबाया, मुझे ऐसा लग रहा था कि किसी पत्थर को छू रहा हूँ. वो भट्ठी जैसे तप रही थी, मैंने कुर्ते के अंदर हाथ डाल दिया और जैसे ही छुआ बूब्स को… क्या बताऊँ दोस्तो, वो मेरी जिन्दगी का पहला अनुभव था, कसम से मजा ही आ गया। फिर उसने अपना हाथ हटाया और मेरे हाथ को पकड़ कर जोर से रगड़ने लगी और अपनी सलवार में ले जाने लगी।मैंने भी अपना हाथ वहाँ फिरना शुरु कर दिया, वो अपना पिछवाड़ा उठाने लगी और मुझसे लिपट गई, मेरे हाथ को अपनी चूत में ले जाने लगी.

शरीर एकदम अकड़ गया और योनि जैसे बह चली। लेकिन यहाँ वह अहाना की तरह थमा नहीं बल्कि उसे अपना भी निकालना था तो चलता रहा और थोड़ी देर के बाद मैंने महसूस किया कि उसकी मुनिया फूल रही थी और कुछ गर्म-गर्म मेरी योनि में भरने लगा।वह मेरे ही ऊपर गिर कर भैंसे की तरह हांफने लगा।यह हमारे पहले राउंड का अंत था जहाँ हम तीनों ही अपनी मंजिल तक पहुंचे थे.

मैं बतायी गई जगह पर पहुँचा तो वो औरत गजब का मेकअप किए हुए सूट सलवार में बैठी छज्जे पर मेरे आने का इंतजार कर रही थी. उसने भी अपनी चुत साफ की, मुझे गले से लगा लिया और बोली- आज बहुत मजा आया विराट.

बीएफ की वीडियो सेक्सी वो कभी अपनी चूत को देखती, जिससे मेरा बीज, उसकी चूत का रज और खून का मिश्रण रिस रहा था. मैं बोला- क्यों झूठ बोल रहा है यार तू?तो बोला- अरे नहीं… सच में ऐसा होता है! अगर यकीन नहीं तो इस बार कोई मिले तो तू उसकी तरफ देखकर मुस्कुरा देना, फिर देखना क्या होता हैं।मैं बोला- ठीक है, देखता हूँ.

बीएफ की वीडियो सेक्सी शुरू शुरू में हाय हैलो से बात हुई, फिर पता चला कि वो अहमदाबाद की ही है. फिर उसने हँसते हुए अपने हाथ पीछे ले जाकर अपनी ब्रा के हुक खोल दिये अब मैं आराम से उसके बूबस को दबा सकता था.

अच्छा लग रहा था।” मैंने सिसकारते हुए कहा।बस यह जो अच्छा लगना होता है न यही मुनिया की खुजली होती है। अकेले ही मजे लोगी क्या… मुझे भी तो दो। उस दिन देखा था न राशिद को मुझे रगड़ते, सहलाते, चूमते-चूसते.

हावड़ा के सेक्सी वीडियो

शाम को जब वो खाना बनाने आईं तो मैं उनकी हेल्प कर रहा था और उसी समय हम दोनों बातें भी कर रहे थे. कुछ समय बाद ही उसके पियक्कड़ पापा के चिल्लाने की आवाज़ आयी तो मैं दौड़ के ऊपर गया और मुन्नी के साथ मिल कर उन्हें पकड़ कर एक कमरे में बंद कर दिया. फिर मैं मसाज करते करते पेट से होते हुए चूत तक आया और चूत के आस-पास तेल लगाकर मसाज करने लगा.

अब आगे:मैं अपने बेड रूम के सामने ही खड़ी थी। मैंने रूम के अंदर जाकर रूम का दरवाजा हल्के से लगा दिया। अंदर जाते ही मैंने सलवार कमीज उतार दी। मैं ब्रा और पैंटी में ही आईने के सामने खड़ी हो कर अपने आप को निहारने लगी।अहह. मैं करीब 15 मिनट तक उसके मम्मों से खेला होऊँगा, तभी मुझे लगा कि शबाना की नींद खुलने वाली है. आंटी झट से घोड़ी बनी, मैं उनके पीछे से मैंने अपना लंड उनकी चूत में एक फच्च की आवाज के साथ घुसा दिया.

चूंकि हमारे गाँव में कोई कॉलेज नहीं था, इसलिए मुझे सिटी में जाकर पढ़ना पड़ा.

पहले तो मैंने मना कर दिया, लेकिन बाद में सोचा इतने दिनों कोई लड़की नहीं पटी है, अब जब खुद पट रही है तो क्यों छोड़ू. जब उन्होंने मुझे देखा तो बोलीं- हाँ जी, कोई जगह मिली?तो मैंने कहा- हाँ, यहीं ऊपर कोई कमरा देख लेंगे जो ठीक हो! वैसे भी 70% मेहमान तो जा ही चुके हैं. मैं भी उसकी चूत और चुचियों को मसलता रहा और उसके होठों को चूसता रहा.

और अब मैं सोच रहा हूँ कि इसके साथ यह सीरिज भी यहीं रोक दूँ क्योंकि मुझे ऐसा लगता है कि आगे थोड़ा बहुत पचड़ा होगा और वो कहानियाँ कुछ खास भी नहीं होंगीं. जैसे ही मैंने स्पीड बढ़ाई वह आह… आह… आई… जोर से… किल मी…फ़क मी… आई… हाय… हाय… करने लगी और कुछ देर बाद उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया. रेखा रानी- ओये… लड़की हूँ… तुझे और कैसे संदेशा देती अपनी इच्छा का… मैंने कहा अगर समझदार होगा तो यह इशारे पढ़ लेगा, नहीं तो यह है ही नहीं मेरे लायक… अच्छा एक बात बता तू किरण को जूसी रानी क्यों कहता है.

सोनिया इन दिनों लंड के लिए तड़प रही थी और इसकी वजह से घर में लड़ाई झगड़ा होता रहता था. उन दोनों के हाथ मेरे सीने पर थे और ऊपर एक दूसरे के बूब्स दबाना और किस करे जा रही थीं.

इसके बाद उन्होंने कहा कि कब तक मंगवा दोगे?तो मैंने कहा- भाभी आज ही आर्डर कर देता हूँ. मैं भी अपनी सहेलियों की तरह अपनी चुत चुदवाना चाहती थी लेकिन मुझे ये डर लगता था कि कहीं घर वालों को ये बात पता चल गयी तो वो लोग मुझे मारने लगेंगे. मैंने देखा कि राज सामने ही बने बाथरूम में कपड़े लेकर चला गया और मैं सामने खाट में बैठी मधु का इंतजार करने लगी.

अभी उनकी जवानी को सोच ही रहा था, कि वो बता रही थी- हम दोनों माँ बेटी साथ में योगा करने जाती हैं.

पर मैंने उनकी दोनों कलाइयां कस के पकड़ीं और अपने लंड को जरा सा पीछे खींच के फिर से पूरे दम से बहू की चूत में पहना दिया. थोड़ी देर में भाभी को भी मज़ा आने लग गया और भाभी ने मुझे अपने लिटा कर मेरे लंड के ऊपर बैठ कर गांड उचकाने लगीं. इसका वचन दे सकते हो?मैंने उनकी आँखों में आँखें डालते हुए कहा- बस इतना.

वो भी मेरे गले लग गयी थी और बोल रही थी- जानू आई मिस यू… मैंने तुमको कितना मिस किया. इतना कह कर वो मेरे पास रखी कुर्सी पर बैठ गईं और हम दोनों हंसी मजाक करने लगे.

यह कोई कहानी नहीं मेरी सच्ची कहानी है जो कि मुझे अपना पहला सेक्स अनुभव 18 साल की उम्र में मिला था!मेरी कहानी कैसी लगी बताना जरूर![emailprotected]. तो लालजी आ गया, मैं पेटीकोट में थी और ब्लाउज का पीछे बटन बंद करना था. साली के चूचे कस कर जकड़ लिए और दोनों पंजे अकड़ा कर उँगलियाँ अंगूठे उनमें गाड़ कर ऐसे मसलने लगा जैसे सचमुच में उनका कीमा बनाना हो.

मुंबई की सेक्सी वीडियो बीपी

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम रॉकी है, मेरी उम्र 32 वर्ष और मैं उदयपुर राजस्थान से हूँ। कभी कभी आपके हमारे जीवन में ऐसी घटनाएं घट जाती हैं जिनको हम कभी भुला नहीं पाते। कुछ ऐसा ही एक वाकया मेरी जिंदगी के साथ भी जुड़ा हुआ है जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता.

फिर काजल ने तुरंत ही मुझे फोन किया कि तुमको माधुरी के घर पहुँचने में कितना टाइम लगेगा?मैंने कहा- बस समझ लो, लगभग एक घंटा लग जाएगा. पीयूष बोला- अभी नहीं वन्द्या, पहले तुम अच्छे से तैयार हो जाओ, दुल्हन बन जाओ. इसके मैं अपनी सहेली के कमरे में जाकर सो गयी और अब हम दोनों को जब भी मौका मिलता है, हम दोनों लोग सेक्स कर लेते हैं.

तो फिर लिया या नहीं चुत में?” रंजू ने पूछा।हाँ लिया ना… एक बार… बहुत मजा आया था…” चेतना सब याद करते हुए बोली।पर मैं शर्त लगाकर कहती हूं कि राजू का उससे भी बड़ा होगा. उसके मुंह से हाय उम्म हाय मम्म आह आह ऊ ऊ ऊ जैसी आवाज़ें मेरी ठरक को कई गुना करे जा रहीं थीं. वीडियो एचडी बीएफफिर वो बोलने लगी- इतना मज़ा आज तक न तो मेरे बॉयफ्रेंड ने दिया है न ही मेरे पति ने.

मैं उसे जल्दी से उसके होटल छोड़ने निकल गया, रास्ते में हमने किस किए. इस बार तो मुझे इतना मजा आ रहा था कि लंड रस किधर निकालूँ, ये पूछने का ध्यान ही नहीं रहा भी.

कसम से उसके मम्मों को देख कर मैं पागल हो गया और पूरी ताकत से उसके मम्मों को दबाने लगा. उन्हीं दिनों एक लड़की ने क्लास ज्वाइन की, वो दिखने में तो कोई हीरोईन से कम नहीं थी. मैंने आज दीदी और जीजा जी को जल्दी ही नमस्ते कहके अपने सोने की जगह आ कर उनको फुल मस्ती करने के लिए छोड़ दिया.

हम दोनों इस बारे में सोच ही रहे थे कि इतने में उन्होंने कहा- मैं नहाने जा रही हूँ, तुम वहाँ आ जाना, हो सके तो वहीं कर लेंगे, नहीं तो बेडरूम में आकर कर लेंगे. रेखा रानी ने धीमे धीमे चूतड़ और चूत हिला हिला कर चोदना शुरू किया और आगे को जितना झुक सकती थी, उतना झुक गई. लेकिन अगर आप चाहें तो बता सकते हैं कि अगला पार्ट आना चाहिए या कहानी यहीं खत्म करूँ।शायद यह भाग आपको बोरिंग लगा हो या पसंद ना आया हो.

उससे कुछ बात हुई औऱ बातों बातों में उसने बताया कि वो पीजी कर रही है.

कुछ देर बाद दीदी की मस्त चिकनी कमर को सहलाने के बाद मैंने उसको बोला कि दीदी अब कहाँ लगाऊं तेल?वो बोली- पहले तो तू मुझे दीदी नहीं विभा बोल. इससे पहले कि बिंदु कुछ करती या कहती, वो मेरी चुत पर उस लोमड़ी की तरह टूट पड़ा, जैसे कि मेरी चुत ना हो वो कोई मांस का टुकड़ा हो.

समय के साथ आर्थर ने अपनी जानी-पहचानी रफ़्तार पकड़ ली और मेरी वफादार पत्नी की अब तक पूरी फ़ैल चुकी गांड को अपने गर्दभ लंड से फाड़ता हुआ भयानक चुदाई करने लगा. एक दिन मेरी बहन ने आना था, मैं बाजार गयी, बाजार से लौटी तो मुझे सिसकारियों की सी आवाज सुनायी दी. दीदी ने डॉक्टर के लिए कहा तो मैं वहाँ से निकला और डॉक्टर को साथ लाया.

जैसे ही लंड धक्का मार कर बाहर आना चाहता था, चूत उछल कर उसे बाहर जाने से रोक देती थी. मैं भी डॉली की चुत में उंगली अन्दर बाहर कर रहा था और उसकी गांड को जुबान से चाट रहा था. जब तक सोनू के पापा थे, चिकन के साथ एक दो पेग दारू जरूर पीते थे और मुझे भी पिलाते थे.

बीएफ की वीडियो सेक्सी मुझे अभी मजा आ रहा था तो मैंने सोचा माँ चुदाए अपुन को क्या करना इसकी चुत में अपने लंड का पानी निकाल कर मजा लो और आगे बढ़ो. अपने बापू की बांहों से रिहा होते ही अलमारी के पास से एक कँघी से अपने बालों में फेरने लगी.

जबरदस्ती चूत मारने वाली सेक्सी

छोटी चाची की मादक आवाजें उनके कंठ से बाहर आने लगीं- आह्ह्ह… उम्म्ह्ह… उह्ह्ह… यस फक माय पुसी यू फक सो गुड…उनकी आवाज निकलने के साथ साथ वे बड़ी चाची की चुत भी चाट रही थीं. तो मैंने कहा- इनके भूत के साथ कहीं आपकी चुड़ैल तो नहीं जागेगी ना?मैडम बोलीं- नहीं, अभी तो नहीं! बस देखते हैं कि कब तक शांत रहती है. मैंने उसका हाथ पकड़ा और जैसे ही मैंने खुद अपना हाथ रखा, वह पैन्ट के ऊपर से ही बहुत बड़ा सा लगा.

भाभी ने मेरी आँखों में झांकते हुए कहा- मुझे सिर्फ तुम्हारा प्यार चाहिए, बेहिसाब प्यार और हमारे बारे में किसी को पता नहीं चलेगा. उसकी इस तड़प से ये भी पता चल रहा था कि वो कितनी चुदासी और प्यासी और चुदक्कड़ थी. भाभी नंगी पिक्चरअब मैं भी देर न कर करते हुए भाबी के ऊपर चढ़ गया और अपना लंड उनकी चुत पर रगड़ने लगा.

तो क्यों न हम लोग भी मस्ती करें, टेंशन लेकर क्या फायदा! सब लोग मिलकर मम्मी को नंगी कर के खूब मज़े लेंगे और फिर भैया इसकी कोख में अपना बच्चा भी टिकायेंगे!इतना कहकर शीतल सुनील की गोदी में में जाकर बैठ गयी! उसने भी झपट लिया उसे और शीतल की जाँघें सहलाने लगा.

ऐसे कोई तीन चार मिनट तक मेरी बहू अपने ससुर से चुदाई का मज़ा लेती रही, फिर …पापा जी, अब मैं आपके ऊपर आऊँगी. शबाना का फिगर 32-26-32 का था, जिसे देखकर किसी का भी लंड खड़ा हो जाए और रंग ऐसा, जैसे कि बॉलीवुड की पुरानी तारिका सायरा बानो दूध से नहाकर आई हो.

मुझे अंदाजा था कि उसके लिये सोना कितना मुश्किल रहा होगा। जबकि मेरी सेहत पर इससे कोई खास फर्क नहीं पड़ना था क्योंकि मैं उसकी तरह तरसा नदीदा नहीं था, बल्कि खाया पिया और अघाया हुआ था।मैं परिपक्व था. कभी कभी मैं ही अंकल को कहा देती- अंकल, आज आप मम्मी को पहले चोद दीजिये. मैंने दोनों का रस चाट कर साफ कर दिया, दोनों का एकदम टेस्टी पानी था.

मैंने पूछा- वो क्या डाल दूं?उन्होंने नशीले अंदाज में कहा- मेरी चूत में अपना लंड डाल दो.

थोड़ी देर बाद मेरे लंड ने हरकत की और अपनी औकात पर आने को हुआ तो माधुरी ने मुझे पलंग पर बिठा कर खुद नीचे उतर गई. मैं लाल जी को बोली- लाल जी तुम बहुत मस्त मर्द हो!और पीयूष को कहा- एक बार अपने दोस्त को और जल्दी से फोन लगा दे भोसड़ी के. और एक बात याद रखो कि लड़की सिर्फ़ एक चूत होती है, उसका काम हैं लंड को अपनी चूत में ले कर स्वागत करना.

हिंदुस्तान की बीएफ सेक्सीभाभी घर आईं तो मैंने उन्हें बैठने को कहा, वो बैठी ही थीं कि उनकी नज़र मेरे लैपटॉप पर चली गई, उसमें ब्लू फिल्म का एक शॉट था, जिसमें लड़की अपने पार्टनर के कंधे पर एक टाँग करके लेटी थी और लंड उसकी चुत में था. घर आया तो पता चला कि गांव में पापा के किसी ख़ास रिलेटिव की डेथ हो गई है.

हिंदी सेक्सी फिल्म चलाइए

इसे मैंने उसके बदन पर, उसके गले पर, होंठों पर, चूचियों पर और चूत पर लगा दिया. डॉली का हमेशा ज्यादा ही पानी निकलता है, जो डॉली की चुत से होते हुए हिप्स पर होते हुए एकता की चूत पर आ गया. यही जानने का बहाना करते हुए मैंने उसके लंड को पैंट की ज़िप खोल कर बाहर निकाल लिया और उसके मूसल लंड को लंड को जोर से दबा दिया.

फिर उसने अपने मुंह से थोड़ा सा थूक निकल कर अपनी उँगलियों पर लगाया और उससे मेरे प्यार की गांड के छेद को तर कर दिया, फिर अपने सांप की छतरी जैसे चौड़े टोपे को मेरी धर्मपत्नी कि गांड से भिड़ा कर जोरदार धक्का मार दिया. हटो जल्दी से कपड़े पहनो!बहूरानी बेसब्री से बोलीं और बेड से उतर कर खड़ी हो गयी, उसकी चूत से मेरे वीर्य और उनके रज का मिश्रण उनकी जांघों पर से बह निकला जिसे उसने जल्दी से अपने घाघरे से पौंछ डाला और अपना घाघरा चोली पहनने लगी. मैं उसके ऊपर ही लेट गया, उसने भी मुझे कस के अपनी बांहों में ले लिया।घड़ी में देखा तो 5 बज चुके, अब उसे अपने घर जाने की जल्दी होने लगी… अगली बार मिलने का वादा करके वो चली गयी।और उसके बाद कई बार मैंने उसकी चुदाई की और गांड भी मारी। अब वो मुझसे ब्रेकअप करके अलग हो गयी है। अब मैं नई चूत की तलाश में घूम रहा हूँ।कैसी लगी मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई कहानी?आपके मेल का मुझे इंतज़ार रहेगा।[emailprotected].

आखिर में बापू ने पद्मिनी की दोनों पैरों को दोनों तरफ फैलाते हुए खुद को बीच में घुसा लिया. दोनों ही आह्ह्ह्ह… ऊउईई… यू सक गुड… सक माय पुसी… उम्म्ह… अहह… हय… याह… कम ऑन फास्ट…”उनकी मादक आवाजें निकलने लगीं. उस वक्त मैं उसको दारू पिला कर पहले नशीला बनाती हूँ, फिर वो मुझे अपने नशीले लंड से मुझमें चुदाई का नशा भर देता है.

धीरे-धीरे उनकी स्पीड बढ़ती ही जा रही थी और वो लगातार धक्के लगा रहे थे. उस दोस्त को उसने कहा था कि मैं तुम्हारे पास अपनी कज़िन को भेज रहा हूँ.

वो कभी मेरे होंठों पर किस करती, कभी मेरा मुँह अपने दूध पर दबा देती.

मैंने मुस्कराते हुए कहा- फूफा जी क्या करूँ, आपका लंड है ही ऐसा… मेरी चूत आपके लंड की दीवानी हो गयी है और चाहती है कि ऐसा लंड रोज उसके अंदर घुसे. ब्यूटीफुल बीएफ सेक्सीउसके बाद याना अब तक कई बार अपनी माँ को बिना बताए गुरुग्राम आकर मुझे चुद कर गयी है. राजस्थानी बीएफ फिल्मजैसे जैसे नैना सिसकारियां भरती, तो मैं जीभ की नोक चुत के अन्दर तक डाल कर जोर से चाटता. वो एक बार फिर बुर में लंड डलवाना चाहती थी लेकिन मेरी हिम्मत जवाब दे गयी थी.

मैं सीढ़ी पर चढ़ कर बैठ गया और अन्दर का नजारा देखने लगा।दोस्तो, अब जो मैंने देखा वो आपको बताता हूँ:भैया भाभी से बातें कर रहे थे, भाभी उसका जवाब धीरे-धीरे दे रहीं थीं जो मेरी समझ में नहीं आ रहा था.

उसने जल्दी से एक कपड़े से अपनी बेटी की गांड को पौंछा और फिर उसको वापस पेंटी पहना कर उसको अपनी बाँहों में लेकर सो गया. लेकिन अब डर लगने लगा है कि दूसरा पति भी अगर मुझे ऐसा ही मिला तो? दूसरी बात यह कि मैं यहीं इसी घर में रहकर किसी गैर लड़के को पटा कर अपनी यौनवासना ठंडी कर लूं लेकिन इसमें बदनाम हो सकती हूँ और कोई लड़का मुझे ब्लैकमेल भी कर सकता है. उसके सोफे पर गिरते ही नताशा ने उसके खुले हुए पैरों के सामने घुटनों के बल बैठते हुए उसके अब तक काफी कठोर हो चुके लंड को अपने मुंह में भर लिया और आगे पीछे चलते हुए मेहमान के अभी तक अधूरे खड़े लंड को चूसना शुरू कर दिया.

बिस्तर पर ही बैठ कर आँखें मूँद ही रहा था, तब धीरे से आधी नींद में पद्मिनी ने आँख को मुंदे हुए ही कहा- आप खाना खा लेना बापू. वे खुश हो गए, मेरे चूतड़ सहलाने लगे, फिर थूक लगा कर अपना हथियार मेरी गांड पर टिका दिया. तो वो रुक गईं, मैंने अपने कपड़े उतार कर रख दिए, मैं भी नंगा हो गया और कुर्सी पर बैठ गया.

सेक्सी भेजो सेक्सी चुदाई

तो वो बोली कि मुझे मूवी देखनी है इसलिए मैं भूपेन्द्र भैया के पास सोऊंगी. सुकन्या- देखो, मैंने ज्यादा ट्राई तो नहीं किया है लेकिन वीडियो देखती हूँ तो उसमें डॉगी स्टाइल पसंद है. मैंने भी देर ना करते हुए उसे सीधे लेटा दिया और उसकी दोनों टांगों को चौड़ा कर दिया.

[emailprotected]भाभी सेक्स स्टोरीज का अगला भाग:भाभी के जिस्म की चाहत-2.

लंड की नीचे वाली मोटी सी उभरी हुई नस को दबाते हुए रानी ने गप्प से लौड़ा होंठों में दबा लिया और लगी चूमने.

जिससे मेरा लंड ज्योति की चूत में जड़ तक घुस गया, इधर ज्योति को बहुत तेज़ दर्द हो रहा था. धीरे धीरे उसको मैं होटल में ले जाने लगा और कॉलेज मिस करके घुमाने ले जाता. গুজরাটি বিপি সেক্সিदुबारा बापू ने फिर वही किया और इस बार जैसे ही उसका लंड पद्मिनी की चूत के छेद में घुसने को था, पद्मिनी ने फिर एक चीख़ देते हुए गांड को ऊपर उठा लिया और लंड फिर निकल गया.

और कल मैं कुछ अलग इंतजाम करती हूँअब तक सुबह के 4 बज चुके थे तो वो जाने लगी. यह बात मैंने इसलिए सोची थी क्योंकि मैं एक टीचर था और मेरे टच में बहुत सी लौंडियाँ आती रहती थीं. मेरा साइज जहां बत्तीस डी था, वहीं उसका साईज चौंतीस बी था।इसके अलावा उसकी घुंडियां बाहर निकली हुईं और बड़ी थीं जबकि मेरी घुंडियां छोटी और पिचकी हुई थीं। कुछ हद तक मुझे हीनता का अहसास हुआ।मेरी छोटी हैं।” मैंने थोड़ी मायूसी से कहा।हां.

मैंने नीचे फर्श पर बैठ कर रेखा रंडी के पैरों के गुलाबी तलवों पर जीभ फिरानी शुरू कर दी. और फिर मैंने अपना लंड वैशाली की चूत में डाल दिया और पहले झटके में ही उसकी सील टूट गई.

फिर मुझे देखते हुए बोला- पहले ही कर लेना चाहिये था, लेकिन कई बार जल्दबाजी भारी पड़ जाती है। यहां आओ।फिर वह मुझे पकड़ कर अंदर घसीट लाया जहां अहाना तख्त पर अब बैठ गयी थी और कपड़े भी उसने पहन लिये थे और डरी सहमी मुझे देख रही थी।राशिद ने परली साईड की खिड़की बंद की, दरवाजा वापस बंद किया और बत्ती जला दी। मैं उन दोनों को ही घूरे जा रही थी.

आहह जल्दी बोल कहां निकालूँ?मैंने लंड को मुँह से बाहर निकाल कर कहा- भाईजान प्लीज़ मैं आज पहली बार झड़ते हुए लंड को देखूँगी इसलिए लंड का पानी निकलते देखना चाहती हूँ, पर भाईजान मुझे आपने प्यारे भाईजान के मोटे तगड़े लंड के पानी को पीना भी है इसलिए पानी मेरे मुँह के अन्दर ही गिराना. तभी मेरी नताशा ने सर्बियन मेहमान के अण्डों को चाटना शुरू कर दिया जिससे मेहमान के मुंह से तेज कराहें निकलने लगी, अब उसका लंड मुंह से बाहर आ चुका था और उसका सही आकार हमारी आँखों के सामने थे, जो कि दिल को दहला रहा था. पद्मिनी की मस्ती से आह निकल गई और वह ‘आह आह उफ़्फ़, बापू और ज़ोर से चोदो.

सेक्सी बीएफ हिंदी देहाती सेक्सी एक बार मैं उसके घर गया हुआ था और किसी काम से दोपहर में झुंझुनू शहर आया. मैंने जब लंड उनके मुँह से बाहर निकाला, तो आंटी ने बेड पर ही उल्टी कर दी.

उसके खास यादगार लम्हों के बारे में। अगर वह लिख सकती है इतना, तो लिखे या बताना चाहे तो मैं कॉल कर सकता हूँ।लिखा हुआ रिकार्ड बन जाता है, जो मुझे पता था कि वह नहीं चाहेगी. रिंकू भाभी के पास खुद का फोन नहीं था इसलिए उनके पति मेरे ही नंबर पर कॉल करते थे. मैं आज तक यह कला ठीक से नहीं सीख पाया, कई बार मामला बिगड़ गया, जूते पड़े सो अलग… मेरे दोस्तो, मेरी मदद करें.

सेक्सी ब्लू जानवर वाली

कुछ देर बाद मैं उसे अपने दोनों पैर फैलाकर गोद में लेकर चोदने लगा और उसकी चूचियों को चूसता रहा. हम तीनों के पास बाहर के गेट की चाभी रहती थी ताकि मॉम को दिक्कत न हो. मैंने रात को अपने पति को फोन किया कि जो तुम ने करना था, सो कर लिया.

चूत पर हाथ लगाया तो पूरी गीली हो रही थी, जिससे उसकी पैंटी भी गीली हो रही थी. आपके लिए मैं फिर से उस घटना के आगे की कहानी लेकर आया हूँ कि कैसे मैंने अपनी गर्लफ्रेंड की चूत में अपना डाल कर उसकी सील तोड़ी, उसको जवानी का पूरा मज़ा दिया और अपनी ज़िंदगी का पहला सेक्स किया.

इसका मतलब ये भी हुआ कि आपको लंड का इन्तजार रहता है, अब वो चाहे मेरा हो या भैया का हो.

की आवाज निकाली और नीचे से अपने चूतड़ों को थोड़ा हिला कर लण्ड को चूत में एडजस्ट किया और मेरी कमर पर हाथ डाल कर चिपक गई. उसके बाद मैंने बाथरूम में जाकर पेशाब की और उसके बाद मैं दुबारा बिस्तर पर आकर लेट गयी, तब मेरी सहेली का भाई दुबारा मेरी चूत को चाटने लगा और उसके बाद मैंने भी उसका लंड चूसा और हम दोनों लोग ओरल सेक्स करने के बाद अलग हो गए. उनके दोहरे मतलब वाले शब्दों का मर्म मैं समझ गया, मैंने कहा- मुझे तो केले का रस पिलाना है.

वो बोली- मैं सारी रात के लिए चलूंगी मगर मुझे बताओ कि घर पर क्या बोलना होगा?मनोरमा ने उससे कहा- ठीक है मैं तुमको कल एक लैटर दूँगी, जिस पर लिखा होगा कि तुमको किसी विशेष काम के लिए एक दिन के लिए बाहर जाना है, इसके लिए कंपनी तुमको पांच सौ रूपए और रहने का कमरा देगी. मैंने शीतल से कहा- चोदने का मन कर रहा है!तो शीतल ने कहा- आगे जंगल की तरफ झाड़ियों में चलते हैं!हम लोग झाड़ियों में पहुंच गए, वहां कुछ कपल पहले से चुदाई में मगन थे, ये सब देख के शीतल भी गर्म हो गयी, शीतल तुरंत घुटनों पर बैठ गयी और मेरा लंड बाहर निकाल के चूसने लगी. इस तरह मैं उसकी चूत में जड़ तक अपने लंड को डालता और फिर से निकाल लेता।थोड़ी देर बाद जब उसका निकलने वाला हुआ तो आरुषि ने मुझे जोर से पकड़ पकड़ लिया और अपने नाखून मेरी कमर में गड़ाने लगी.

किचन के पीछे का दरवाज़ा जो बैकयार्ड में खुलता है, अक्सर खुला रहता है.

बीएफ की वीडियो सेक्सी: बस थोड़ा सा ठीक?तब पद्मिनी अपने बापू की गोद में बैठी और बापू ने एक हाथ को उसकी कंधों पर रखा और एक हाथ को पद्मिनी की जाँघ पर. मैंने उससे कहा था कि अभी तो मेरा खुद का कोई जुगाड़ नहीं बन रहा, जैसे ही बनेगा.

वो ऐसे किस कर रही थीं कि मैं अपने आपको रोक नहीं पाया और उन्हें अपनी बांहों में पकड़ लिया. हिमानी की मम्मी सुजाता तो बड़े ही प्यार, अदा और सेक्सी तरीके से चूत मरवाती थी, जो आज तक याद है. तब तक मेरी चुत इतनी गरम हो चुकी होती थी कि वो लंड के लिए भीख मांगती थी.

” वह फिर से बोला पर मुझे होश कहाँ था।राजू… मेरा एक और काम करोगे?” मैं नशे में बोली।क्या मेमसाब?” उसने पूछा।मुझे अपना मक्खन खिलाओगे ना राजू??” सुनते ही वह चौंक गया।क… क… का” उसने पूछा वैसे ही मैं जोर जोर से हँसने लगी।मुझे भी तुम्हारा मक्खन चाहिए जैसे तुमने सीमा को खिलाया है.

मैंने भाव विभोर होकर उसकी चूत को चूम लिया और धीरे से चूत के पट खोल कर इसकी भगनासा और भगान्कुर को झुक कर चूम लिया और जीभ से छेड़ने लगा. प्रिय अन्तर्वासना पाठकोमई 2018 प्रकाशित हिंदी सेक्स स्टोरीज में से पाठकों की पसंद की पांच बेस्ट सेक्स कहानियाँ आपके समक्ष प्रस्तुत हैं…मैं आप सब पाठकों को अपनी आप बीती बता रही हूँ. यह सोचते हुए बापू कुछ घबराया भी, फिर भी इंतज़ार नामुमकिन था… सो वह आगे बढ़ता गया.