एक्स एक्स एक्स हिंदी बीएफ हिंदी

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो चिल्ड्रन

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो सील तोड़ना: एक्स एक्स एक्स हिंदी बीएफ हिंदी, मैं हैरानी से मॉम की ओर देखने लगा तो वो बोली- ऐसे क्या देख रहा है? मुझे इन कपड़ों में खुजली हो रही थी.

गुजराती सेक्सी वीडियो सेक्सी

इनका दूध मैं आज निकाल ही दूंगा … आह्ह … इनको चूस चूस कर मोटी कर दूंगा … आह्ह … सेक्सी।फिर मैं नीचे की ओर चला. मराठी सेक्सी पुणेवो बोला- डार्लिंग मैं अभी पार्टी कर रहा हूँ और मुझे आने में परेशानी है.

मगर मोनिषा ने करवट ले रखी होने के कारण उसका लोअर पूरा नीचे नहीं हुआ. सेक्सी आसनसंगीता- मैं रवि को फोन करके पूछती हूँ कि वो कितनी देर में आ रहा है.

कोई 10-12 मिनट बाद भाभी का कॉल आया और उन्होंने मुझे टिकट काउंटर पर बुलाया.एक्स एक्स एक्स हिंदी बीएफ हिंदी: सिमरन ने कहा- तुमने मुझे मेहमान कहा है … और मेरी दीदी कहती हैं कि मेहमान की मेहमानवाजी सिर्फ 3 दिन की जाती है.

मुझे लगा कि इस हादसे से दोनों परिवार के बीच के सम्बंध बिगड़ने वाले हैं.कमरे की हवा में उसके बदन से बहुत अच्छे किस्म के परफ्यूम की महक फैल गई थी.

ब्लू पिक्चर चाहिए सेक्सी वाली - एक्स एक्स एक्स हिंदी बीएफ हिंदी

अचानक उसके तो स्वर ही बदल गए; उसने तो गालियाँ देना शुरू कर दिया- साला कैसा हरामखोर है तू, जवान लड़की अकेली होटल के रूम में है और साला तू चोद ही नहीं रहा है? मर्द है या नहीं?ये सुन कर मुझे गुस्सा आ गया.[emailprotected]माँ बाप सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरे भाईजान और अब्बू ने मुझे चोदा- 2.

कुछ देर तक मैंने उसको इसी पोजीशन में चोदा और फिर उसको आसन बदलने के लिए कहा. एक्स एक्स एक्स हिंदी बीएफ हिंदी कुछ देर के बाद उसने पूछा- आप कहां जा रहे हैं?मैंने कहा- मैं तो ग्वालियर जा रहा हूं.

मैं उसकी तरफ आश्चर्य से देख रहा था, मगर उसने मुझे आंख दबा कर चुप रहने का इशारा कर दिया.

एक्स एक्स एक्स हिंदी बीएफ हिंदी?

चुदाई का नशा मेरे ऊपर पूरी तरह से हावी होने लगा था और मुझे ज्यादा कुछ पता नहीं लग रहा था कि मैं क्या बड़बड़ाये जा रही हूं. पहले से ही रमेश बाबू के बेटे राहुल ने मां से मेरी फिगर व साइज़ के बारे में पूछ लिया था. मैं उसकी बुर में जीभ डालने लगा और एक उंगली को उसकी बुर में अन्दर बाहर करके लंड के लिए जगह बनाने लगा.

फिर मैं पूरी तरह से उसके ऊपर लेट कर उसके होंठों को चूसने लगा और नीचे से लंड उसकी चूत में पेलता रहा. पानी निकलने के बाद सुरेश वहीं लेट गया और उसने सुमन को बांहों में भर लिया. फिर एक दिन मैंने सोचा कि क्यों न अपने मामा की लड़की पर ही कोशिश कर लूं.

यंग हॉट लेस्बियन फ्रेंड स्टोरी के पहले भागजवान लड़की के कामुकता भरे अरमानअब तक आपने पढ़ा था कि मैंने राहुल से मिलने के बाद अपने जिस्म में आग सी लगती महसूस कर ली थी, जिसे मैं खुद ही अपने बिस्तर पर बुझाने का प्रयास कर रही थी. अम्मी कासिब और अब्बू का लंड चूसना छोड़ कर बोलीं- दिलकश मेरी प्यारी बिटिया, अब तू भी अपने भाई और अब्बू का लंड चूस, वरना ये दोनों तेरी चूत को ऐसे फाड़ेंगे कि फिर तू कभी चुदने की बात भी नहीं सोचेगी. चचा का लंड लुंगी में उठा हुआ था और वो कोई बात सुनने के मूड में नहीं था.

मैं भी उसको चोदने की जल्दी में था इसलिए मैंने भी फटाक से अपनी टीशर्ट और लोअर को निकाल फेंका. वो देख भी लेगा, तो मुझे ही कहेगा न!मुखिया- अरे मेरी रानी डर तो इसी बात का है कि वो तुझे कुछ ना कहे.

बुआ पूरी तरह से उत्तेजित हो चुकी थीं और उनकी लाल रंग की पैंटी पूरी गीली हो चुकी थी.

साथ ही साथ वो मेरे स्तन भी मीड़ मसल रहे थे, मेरे निप्पलस भी मसलते जा रहे थे.

मैं ऐसे ही बाहर लड़कियों के पीछे पड़ा था और घर में इतना बढ़िया माल है. इस वजह से अम्मी मुझसे बोलती थीं कि बेटा तू अभी अपनी पढ़ाई पर ध्यान दे. कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको अपनी मां के बारे में बता देती हूं.

सच्ची तुझे भी एक बार चूस कर देखना चाहिए, लंड चूसने में बहुत मज़ा आता है. उसके बाद भाभी ने सोनिया की गांड चुदवाने में भी मेरी हेल्प की क्योंकि भाभी की गांड चुदाई तो अब हो ही नहीं पाती थी. मैं भी देख कर खुश हो रहा था कि मेरे लंड ने आंटी की चूत की प्यास को कुछ हद तक तो शांत किया ही होगा.

तभी पीछे से कालू बोल पड़ा- आप ठीक बोल रही हो मैडम जी, यहां से आवाज़ आती है.

अम्मी को कुछ समझ पातीं कि राज ने मेरी अम्मी को अपनी बांहों में भर लिया और उनके होंठों को पीने लगा. उसके होंठ सूख रहे थे, मन कर रहा था बस किसी का लंड मुँह में लेकर चूसे. उधर नीचे मेरी योनि भी कुलबुला रही थी और मैं सबके बीच आंख बचा कर हर दो मिनट में योनि को कपड़ों के ऊपर से ही खुजला लेती और उसका मोती दबा के रगड़ डालती.

मैंने उसके चेहरे की तरफ देखा, तो वो मेरी चुत के नमकीन अमृत से सराबोर था. तभी उसने मेरा मुँह पकड़ कर अपना लंड मेरे गले तक उतार दिया और मेरा मुँह चोदने लगा. मेरे बीस प्रहार जब पूरे हो गये तो वह कराहने लग गयी और बोली- आह्ह … मेहता जी … बहुत दर्द हो रहा है … आह्ह … मैं झड़ने वाली हूं.

मगर धीरज रखिए, रुक्मणी भाभी की चुदाई की कहानी को पूरे विस्तार से अगली बार लिखूंगा.

एक दो वीडियो मैंने कॉमेडी के चलाये और फिर एक पोर्न वीडियो चला दिया. उसकी क्लिट को दांतों में लेकर खींच देता, तो कभी उसकी चूत के अन्दर अपनी जीभ डालकर अन्दर बाहर करने लगता.

एक्स एक्स एक्स हिंदी बीएफ हिंदी छोटी चूत की कहानी में पढ़ें कि भाभी ने अपनी जवान ननद को रात को उसके भाई से अपनी चूत की चुदाई का सीन दिखा कर कैसे गर्म किया. वो मचल उठी और जब उससे सहन नहीं हुआ, तो वो मेरे लंड को पकड़ के बुर में डालने लगी.

एक्स एक्स एक्स हिंदी बीएफ हिंदी मैंने अपनी सास की चूचियां दबा दीं और कहा- अभी जब अन्दर लोगी मम्मी जी, तब मालूम पड़ेगा कि मेरे लंड की ताकत क्या है. सुलक्खी ने मुनिया को एक तरफ़ लिया और पूछा- क्या हो गया, जो मुखिया जी गुस्सा हो गए.

फिर उन्होंने पर्ची पर अपना फोन नम्बर लिखा और मुझे वो पर्ची पकड़ा कर उठने लगे.

এক্স ভিডিও বিপি

भाभी न्यूली मैरिड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरे चचेरे भाई की शादी हुई तो भाभी मुझे बहुत अच्छी लगी. तेरे रंजीत भाई तो पूरा लंड मेरे मुँह में घुसा देते हैं … और दे दनादन मुँह को चोदकर मलाई भी मुझे खिला देते हैं. सुमन- ओह अच्छा … तो फिर वो बच्ची कहां है और उसका नाम क्या है?कालू- वो जब पैदा हुई, तो चाँद जैसी चमक रही थी.

मैंने रुक्मणी भाभी को खाना दिया और सुमन भाभी को खाने के लिए फोन किया. मेरी बीवी बोली- मैं भी चलूंगी और वहां पर हम लोग ताजमहल भी देख आएंगे. मैंने अपना अंडरवियर नीचे खिसका कर पूरा घोड़े जैसा लंड बाहर निकाल दिया। वह चौंक गई और मेरे लंड को उसने कस कर अपने हाथ में भींच लिया और उस पर एक चोपा मार कर मेरे अंडरवियर को अगले ही पल खोल कर फेंक दिया.

मैं- सच मामी?वो बोली- हां, तु्म्हारे अंदर मुझे कहीं से कोई कमी नहीं नज़र आती.

तुम्हारे ऑफिस के रास्ते में जिनके घर पड़ते हैं, उनको ये कार्ड तुम्हें पहुंचाने होंगे. अब मौसी भी परेशान हो गयी कि मुझे इतनी ज्यादा ठंड कैसे लग रही है! वो उठ कर मेरे पास आयी और मेरे बदन को छूकर देखा. मुझे उनकी पीठ की गरमी इस तरह महसूस हुई कि मेरा लिंग लोहे सा टाइट हो गया.

जब वो फिर से तैयार हो गयी तो उसने अपने नीचे एक पीले रंग का तौलिया बिछा लिया. उनको दबोच कर उनके गुलाबी, रसीले, फूल की पंखुड़ी जैसे होंठों पर किस करने लग गया।वो नखरे करते हुए कहने लगी- छोड़ो मुझे, कोई आ जायेगा।अब मैं पीछे हटने वाला नहीं था. सन्नो- लंड चूसने की बड़ी जल्दी है तुझको … चल तू भी क्या याद करेगी, मेरे रहते तुझे फ़िक्र की जरूरत नहीं है.

मेरा हाथ भाभी की चूत पर पहुंच गया था लेकिन फिर वो छुड़ाकर भाग गयी और मैं भाभी को चोद नहीं पाया. समीक्षा कहने लगी- दीदी सॉरी, जीजू ने जबरदस्ती आपकी कसम दे कर ये सब किया है.

अब उसने मुझे अपने हाथों की जकड़न से आजाद कर दिया और मैं उसे अपने काले खीरे से गुलाम बनाने लगा। मैंने अपनी गति तेज कर दी. डॉक्टर ने बोला कि घबराने की कोई बात नहीं है, बस अभी एक हफ्ता इन्हें हॉस्पिटल ही रहना पड़ेगा. अब मैंने अपने लौड़े की रफ्तार बढ़ा दी और ताबड़तोड़ झटके मारने लगा। मुझे आंटी की चुदाई करने में मस्त मजा आ रहा था.

मेरी नंगी चूत से रस की धार बह रही थी जिस पर जीभ टिकाने में मेरे चोदू पति सोनू ने देर न की.

मुझे वो अपने सभी छोटे कपड़ों वाले फोटो भेजती थी, क्योंकि उसके बीएफ को वो सब पसंद नहीं था. मैंने कहा- अरे यार आकर जरा मेरी पीठ घिस दो न!वो बोली- घिस तो दूँगी, पर उसके बदले मुझे क्या मिलेगा?मैंने भी गुस्से में बोला- साली रंडी चुपचाप इधर आ जा और मेरी पीठ मल दे. मेरी सास की बड़ी बहन अकेले ही रहती थीं, क्योंकि उनके पति ने उन्हें शादी के कुछ दिन बाद ही छोड़ दिया था.

नंगी भाभी सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे भाभी मुझे अपना देवर बना कर अपनी सहेली के घर ले गयी. मेरा जी हुआ कि अपनी पैंट और जांघिया खोलकर नदी के पानी में उन सुन्दर औरतों के बीच में कूद जाऊं और काम-क्रीड़ा का भरपूर आनंद लूं.

इसके बाद होंठ छोड़कर कर अब्बू अम्मी को देखते हुए उनके दूध मसलने लगे. उसने दोनों हाथों से मेरी कमर को पकड़ लिया था और मेरी गांड की जबरदस्त मरम्मत कर रहा था. जब मुझसे बर्दाश्त न हुआ तो मैंने उसको नीचे पटका और उसकी चूत से उसकी पैंटी को फाड़कर अलग कर दिया.

नई एक्स एक्स एक्स वीडियो

मैंने मोनिषा के आधे उतरे लोवर में हाथ डाला और गांड की तरफ से उसकी चुत पर हाथ फेर दिया.

मैं समझ गया था कि इसका मतलब भैया अपने घर चले जाएंगे और मुझे पूरे रूम में एक महीना अकेला ही रहना था. इससे भाभी सिहर उठीं- राजा स्टॉप इट, इस सबके लिए यह सही समय नहीं है. मैंने भाभी को पलट लिया और अब वो पीठ के बल लेट गयी और उसके मोटे मोटे चूचे ऊपर आकर विपरीत दिशाओं में डोल गये.

तो उस साए ने उसके मम्मों को मसलना शुरू कर दिया और एक दूध के निप्पल को मुँह में लेकर चूसने लगा. मॉम की नज़र बार बार मेरे अंडरवियर पर ही जा रही थी लेकिन जैसे ही मैं मॉम की ओर देखता था, वैसे ही वो नज़र को हटा लेती थी. तरुण सेक्सी व्हिडिओरघु समझ गया कि मीता के सामने डॉक्टर साब कुछ बताना नहीं चाहते, तो वो चुपचाप उठा और अन्दर चला गया.

मेरे बीस प्रहार जब पूरे हो गये तो वह कराहने लग गयी और बोली- आह्ह … मेहता जी … बहुत दर्द हो रहा है … आह्ह … मैं झड़ने वाली हूं. कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते मेरी जॉब से छुट्टी हो गयी थी और भाई वहीं मुम्बई में ही फंस गये थे.

कुछ देर बाद उसका दर्द जाता रहा और उसकी कमर ने चुदाई का मजा लेना शुरू कर दिया. अब तेरे पति का इंतजाम करना पड़ेगा ताकि मैं तेरी बाकी की खीर आराम से खा सकूं. मैं उन दोनों को देख रहा था, मुझे संजना के दूध कसम से काफी बड़े लग रहे थे.

वो इतनी ज्यादा तड़फ रही थी कि अपनी चीख को रोकने की भरसक कोशिश कर रही थी. तभी इकबाल ने मेरा ब्लाउज उतार दिया और धीरज ने मेरे पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया. एक दिन मैंने उसकी चूचियां देख लीं तो मैं उसकी चुदाई के लिए तड़प उठा.

भाभी ने भी इधर उधर देखा और जल्दी से वो कागज़ उठा कर अपने ब्लाउज में खोंस लिया.

वो एकदम से उठकर मेरे सीने से लिपट गयी और मुझे अपने साथ नीचे लिटाते हुए मेरे होंठों को चूसने लगी. लेकिन मुझे उनसे बात करने की चुल्ल थी, तो मैं उनकी प्रोफाइल चैक करने लगा.

मैंने राजेश को रिक्वेस्ट करते हुए बोला- डार्लिंग … पानी पी लेते हैं, प्यास लगी है. होंठ चूसते चूसते अपने दोनों हाथों से दीदी की दोनों चूचियों को मसलने लगा. वैसे भी रूम में हम दोनों के अलावा और कोई थोड़ी है? आप कर दो, कुछ फर्क नहीं पड़ता।ये कहकर कपिला ने अपनी जीन्स का बटन खोल दिया और बोली कि इसको पकड़ कर नीचे की ओर सरका लो.

अब भाभी भी कहने लगीं- और कुछ न करो … नहीं तो किसी ने देख लिया, तो आफत हो जाएगी. तभी मुझे ध्यान आया कि घर की तीसरी मंजिल पर एक कमरा है जिसमें फ़ालतू सामान पड़ा रहता है. आने के बाद मैंने भाभी से बात की और उनसे कहा कि वो सोनिया को और ज्यादा उकसाये.

एक्स एक्स एक्स हिंदी बीएफ हिंदी इसके बाद मैं आपको अपनी गोद में उठा कर बेड पर ले जाऊंगा और धीरे धीरे आपकी साड़ी को हटा दूंगा. तभी एक मीठी सी आवाज धीरे से सुनाई दी- कान्ता, दरवाजा खुला ही है, अन्दर आ जाओ.

xxx गांव की

आप सामने से हाथ करके ले लो वरना कपड़े नीचे गिर जायेंगे और गीले हो जायेंगे. वो भी पलंग से नीचे उतरी और अपने कपड़ों को ठीक करने लगी। सारे कपड़े नीचे बिखरे पड़े हुए थे. मेरे धक्के से वो बिस्तर पर गिर पड़ी जिससे लंड बाहर निकल आया।मैंने पूछा- अगर इसमें दिक्कत हो तो दूसरे आसन में करते हैं?वो बोली- नहीं, कोई दिक्कत नहीं है, हम दोबारा कोशिश करते हैं।मैंने बोला- ठीक है.

मुझे उनका इंटेशन समझ नहीं आ रहा था कि आखिर वो मुझसे क्या चाहती हैं. अब मैं जो देसी चूत चुदाई स्टोरी आप सबको बताने जा रहा हूँ, वो एक सच्ची कहानी है. हिंदी सेक्सी चुदाई चुदाई वीडियोगीता- मुझसे से क्या काम है काका?मुखिया- ज़्यादा सवाल मत कर … और तू अपने बाप को ना बताना कि मैं तुझे मिला था.

बस फिर क्या था, मुखिया ने सुमन की कमर को पकड़ा और लौड़े को ज़ोर से पेलने लगा.

मेरी गांड, मेरी चूत, मेरे बोबे सब राहुल ने थोड़ी ही देर में अपने गुलाम से बना लिए थे. जिस लौड़े ने मेरी आंखों में आंसू ला दिए, उसी लौड़े का अहसास फिर से चुत में करने को मचलने लगी.

मैं चाची से बोला- चाची, इसने पेशाब कर दिया है और इसके सारे कपड़े भीग चुके हैं, अगर जल्दी से कपड़े नहीं बदले तो इसको सर्दी लग जायेगी. ऐसे करने कसे मेरे जिस्म में एक ज्वार सा उठता और योनि से रस की नयी लहर निकल कर मेरी जाँघों तक को भिगोने लगती. देखते देखते तभी लाइट चली गई। अब मैंने मेरा मोबाइल निकाला और मामीजी को वीडियो दिखाने लग गया। वीडियो देख देखकर हम दोनों बहुत हंस रहे थे और एक दूसरे को टच कर रहे थे।तभी मेरे दिमाग में एक शातिर विचार आया। मैंने सोचा कि इनको कुछ ऐसा दिखाया जाए जिससे ये खुद चुदने को तैयार हो जाए। अब मैंने सोच लिया था जो होगा वह देखा जाएगा.

मैडम जी ने किस करना छोड़कर मुझसे कहा- अब तुम मत करो, मैं ही करूंगी.

नीचे से पेटीकोट उठा कर पैंटी को निकाला और पेटीकोट को जांघों के ऊपर ही रहने दिया. मैंने अपने हाथ भाभी के मम्मों पर रख दिए और उन्हें सहलाने लगा, जिससे भाभी भी गर्म होने लगी थीं. आपकी पिंकी सेन[emailprotected]कहानी का अगला भाग:गांव की चुत चुदाई की दुनिया- 7.

सेक्सी वीडियो होटफिर सांय को सोनिया ने भाभी से कहा (जो भाभी ने मुझे बाद में बताया था)- भाभी आप तो भैया से मज़ा ले लेती हो, मेरा भी करो कुछ. कासिब मुस्करा कर बोला- जा साली रांड … वहां तेरा बाप तेरी चूत का भोसड़ा बनाने के लिए अपना लंड हिला रहा है.

पिया सेक्सी

उधर 2 बजने से पहले सुरेश ने मीता को घर भेज दिया कि वो खाना खा आए और वापस कैसे छिप कर आना है, सब उसको समझा दिया. मेरा हाथ पीछे से भाभी के चूतड़ों को सहला रहा था और मेरा मूड फिर से बनने लगा था. सुरेश- अरे बाप रे, इतना अंधविश्वास … चल जाने दे, इसके बारे में बाद में बात करेंगे.

फिर हम उस दिन सुबह को निकले और रोडवेज पकड़कर शाम को 5:00 बजे आगरा पहुंचे. इसके साथ ही मैंने नीला को भी बता दिया था कि हमारे पास एक हफ्ता है … तुम रेडी रहना. रुक्मणी- कुणाल क्या देख रहे हो? जल्दी से मेरी सलवार झाड़ो और मुझे पहनाओ.

मैं उसको हल्की सी स्माइल दे देता था और वो भी उधर से हल्का मुस्करा देती थी. और चूस … और चाट … जैसे शब्द कह कहकर मेरा मुंह बुरी तरह से चोद रहे थे. एक बार तो मेरे पति ने बताया कि वो इनके फोन में मेरी साड़ी-ब्लाउज वाली सेक्सी फोटोज़ देख कर खुद को रोक नहीं पाया और इनके सामने ही मेरी फोटो देखते देखते मुट्ठ मार कर झड़ गया।वो फोन पर तो कई बार मेरी चूत का पानी निकाल चुका था और अब सच में मुझे चोदने के लिए वो कितना बेताब था ये मैं अच्छी तरह जानती भी थी और ये बताते भी थे।खैर! अपनी बात पर वापस आती हूँ.

उसने एक बार मेरी ओर देखा और फिर नीचे देखकर मुझे भी आई लव यू बोल दिया और नीचे ही नीचे मुस्कराने लगी. इसके बाद हम दोनों के फिर से होंठ मिल गए और वो मुझसे फिर से चिपक लग गई.

वैसे तो मैं चाहती थी कि सर को अपनी गर्म जवानी दिखा कर इतना तड़पा दूं कि वो खुद आकर मुझे चोद जाएं.

नौकरी लगते ही मेरे पापा ने मेरी शादी के प्रयास शुरू कर दिए और जल्दी ही मेरा विवाह नमन से हो गया जो कि किसी सरकारी दफ्तर में अधिकारी की पोस्ट पर कार्यरत थे. ब्लू सेक्सी वीडियो सॉन्गमैंने नीचे एक सफ़ेद टी शर्ट और छोटी सी स्कर्ट पहनी थी।विक्रम ने भी अपनी टी शर्ट उतार दी। वो ऊपर से नंगा हो गया और नीचे तो वो सिर्फ़ शॉर्ट्स में ही था।अब हम ड्रेस कोड में थे। उसने कार स्टार्ट कर दी। रास्ते में कभी वो मेरी चूची दबाने लगता तो कभी चूत पर हाथ मार देता था. कच्ची उम्र की सेक्सी वीडियोलंड अन्दर घुसा तो अम्मी को चैन मिल गया मगर धीरज की दर्द से आह निकल गई. अब मैं तीन-चार दिन तक बिना लंड के रहने वाली थी जो मेरे लिए बहुत ज्यादा मुश्किल था.

सन्नो सोचने लगी कि कहां वो इसको मुखिया के लिए तैयार कर रही है … और ये उसकी सौतन बनने के चक्कर में पड़ी है.

फिर भी मैंने उनके ब्लाउज के बटन खोल दिए और ब्रा को ऊपर उठाकर उनके निप्पल चूसने लगा. उनके बड़े बड़े मम्मों को देख कर मैंने अपना लंड हाथ में लेकर मसलने लगा. एक तो शराब का नशा था और ऊपर से उसकी जबरदस्त चुदाई मुझे मदहोश किये जा रही थी.

मेरी गर्लफ्रेंड की बुआ की लड़की है संजना! एक बार वो भोपाल आई हुई थी. मैंने उनको पेट के बल लिटा लिया और उसकी गांड में थूक लगाकर छेद को चिकना कर दिया. भाभी की चुदाई का प्लान मैंने आज ही बना लिया था और सीमा मामी को भी इस बारे में बता दिया था.

बीएफ सेक्सी देसी सेक्सी

लेकिन आपको कैसे पता चला कि मेरी ये टाइट हैं!तो मैंने कहा कि भाभी मैं चूची देख कर ही समझ जाता हूँ कि वो कितनी टाइट हैं. वॉट्सएप खोला, तो उसमें मैंने देखा दीदी की मीनाक्षी (मेरी मैडम) से बात हुई थी. हालांकि इस मामले की पूरी जानकारी के लिए आपको एक बार मेरी पिछली कहानी को जरूर पढ़ना चाहिए.

वो बोलीं- सिर्फ बोलोगे ही, या कुछ करोगे भी!मैंने उनसे कहा- मैं आपको अपने पास खींच लूंगा और आपके कोमल सी कमर में हाथ डाल कर आपके इन सेक्सी होंठों को अपने होंठ के अन्दर ले लूंगा.

मैंने भाभी की टांगों में टांगों को फंसा लिया और मेरा लंड भाभी की चूत पर टकराने लगा.

मैंने कितना कहा कि डॉक्टर बाबू को दिखा आओ, तो बोला कि नहीं आराम करूंगा तो ठीक हो जाऊंगा. फिर हम दोनों एक दूसरे की आंखों में देखने लगे और अगले ही कुछ पलों में एक दूसरे से चिपक कर हॉट किस करने लगे. इंडियन सेक्सी देहाती चुदाईइस साली को पकड़ने में मेरी मदद कर।उस समय श्वेता ने शर्ट और शॉर्ट्स पहने हुए थे.

फिर मैंने कहा- भाभी, अगर आप प्यार से दे दोगी तो किसी को कुछ पता नहीं चलेगा. उस दिन हम दोनों होटल के कमरे में अन्दर जाकर पहले हमने एक दूसरे को ज़ोर से हग किया और स्मूच किया. उसकी जगह आज कपड़े कौन धोयेगा?मुखिया- ये उसका हर दूसरे दिन का नाटक है.

कोई 10-12 मिनट बाद भाभी का कॉल आया और उन्होंने मुझे टिकट काउंटर पर बुलाया. फिर हम दोनों एक दूसरे की आंखों में देखने लगे और अगले ही कुछ पलों में एक दूसरे से चिपक कर हॉट किस करने लगे.

जब मुखिया को लगा कि अब इससे कोई भी बात मनवाई जा सकती है, तब उसने धीरे से कहा- सुमन तुमसे एक जरूरी बात करनी है.

सेक्स विद रोमांस स्टोरी में पढ़ें मेरे मनपसन्द लड़के से शादी के बाद हमने अपनी सुहागरात की चुदाई कैसे की. फिर मैंने अपने एक दोस्त को बोला, तो उसने मेहनत से लगकर अपने किसी दोस्त का रूम ढूंढ दिया. लड़की की सेक्सी आवाज में सुनें यह कहानी!तो प्रिय पाठको, पाठिकाओ, यह थी मेरी पाठिका रीमा की कहानी.

एचडी वीडियो हिंदी में सेक्सी हा … अहा!शबाना दर्द से तड़फने लगी- आह … खुदा के वास्ते निकाल लो … नहीं तो मैं मर जाऊँगी. मेरी पिछली कहानी आप लोगों को पसंद आई और आप लोगों ने बहुत सा प्यार दिया, इसके लिये आप सभी पाठकों का बहुत बहुत शुक्रिया.

सुरेश वहां से चला गया और सुमन सीधी मुखिया के पास आकर झुक कर खड़ी हो गई. अब आगे की देसी हिंदी कहानी लड़की का सेक्स की:मैंने अब उसके ब्लाउज को खोला और दोनों हाथों से उसके चूचों को दबाने लगा. अब मैं और नहीं रुक सकता भाभी … आह्हह … चोद दूंगा आपको आज।इतना बोलकर मैंने भाभी की मैक्सी को ऊपर उठा दिया और उसके कंधों से निकलवाकर उसके बदन से अलग कर दिया.

बीएफ चालू हिंदी

सुरेश- अरे रघु आओ बैठो … ये मीनू है ना तुम्हारे साथ!रघु- जी बाबूजी, मैंने इसको सब समझा दिया है. मैंने लंड को लोअर के अंदर डाला और हाथ पौंछ कर बाहर देखने के लिए उठा. जिनमें एक हवलदार नंदू था, जिसे मुखिया पहले से जानता था और दूसरा इंस्पेक्टर बलराम चौधरी था, जो गांव में नया आया था.

मैंने उसरशियन लड़की के रूम के दरवाजे पर दस्तक दी और हल्के से धक्का दिया. कुछ पलों बाद जब उसका दर्द कम हुआ … तो उसकी उठती बैठती हुई गांड मुझे बुला रही थी.

मैंने पूछा- कभी लंड का पानी पीया है?उसने चूसते हुए ना में गर्दन हिला दी.

धीरज ने बेशर्मी से पूछा- दोनों से करूंगा, तो कितना लोगी?अम्मी ने पेशेवर रंडी के जैसे कहा- हम दोनों से करोगे तो 8 हजार लगेंगे. अब मैंने अपनी उंगली को धीरे-धीरे उसकी चूत में अंदर बाहर करना शुरू कर दिया और साथ ही उसकी दोनों चूचियों को बारी बारी से दबाने लगा. मैंने संगीता को आश्वासन देते हुए कहा- कोई बात नहीं, समय रहते सब ठीक हो जाएगा.

दूसरी गर्लफ्रेंड के बेक्रअप के बाद आज पहली बार सेक्स करने का मौका मिला था. इस बार मेरा आधे से ज्यादा लंड चुत के अन्दर चला गया और बुआ की मादक सिसकी निकल गयी. फिर उन्होंने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और मेरे ऊपर चढ़ कर मेरे पूरे बदन में किस करने लगे.

मैंने आंखें खोलीं तो ऐसा दिखावा किया कि ये सब अनजाने में ही हो गया है.

एक्स एक्स एक्स हिंदी बीएफ हिंदी: आपको प्रेम रोग हॉट लव स्टोरी के लिए क्या कहना है, प्लीज़ मेल से बताएं कि आपको इस कहानी में रस मिला या नहीं?[emailprotected]प्रेम रोग हॉट लव स्टोरी का अगला भाग:मैं तेरा तू मेरी- 2. मुझसे और नहीं सहा जा रहा था, तो मैंने उसकी कोमल टांगों को हाथों से फैला कर एक जुल्मी की तरह एक झटके में आधा लंड अन्दर डाल दिया.

सुजाता की चूत ने कब मेरे पूरे लंड को एडजस्ट कर लिया उसे पता भी नहीं चला. कामवाली बाई की चुदाई की कहानी सुनकर तो नीरज के लिए मेरी दीवानी जवानी और चूत और ज्यादा मचलने लगी थी. उस वक्त मैं अपने लंड को सहला रहा था और मेरा ध्यान मेरे मोबाइल में था.

भाभी के बारे में और बताऊं, तो भाभी दिखने में एकदम सुंदर, सेक्सी स्माइल, नशीली आंखें, स्टाइलिश अंदाज, मधुर आवाज़ और हॉट फिगर है.

मैं इस उत्तेजना भरे माहौल में कभी दीदी की गर्दन पर किस करता, तो कभी कंधे पर. मैं उसकी चूत को रगड़ते हुए कहा- हां मेरी जान … आज तेरा पति बनकर तेरी चुदाई करूंगा. मैंने उनके पैरों को मोड़ दिया और साड़ी और पेटीकोट को ऊपर उठा दिया। साड़ी को ऊपर उठाते ही उनकी गोरी चिकनी जांघें मेरे सामने आ गईं। अब मैंने उनकी एक टांग को मेरे कंधे पर रख लिया और दूसरी को चूमने लगा.