बीएफ मूवी दिखाएं बीएफ मूवी

छवि स्रोत,सेक्सी ब्लू फिल्म वीडियो वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

पोर्न वाली सेक्सी: बीएफ मूवी दिखाएं बीएफ मूवी, सिम्मी एक हाथ से अपनी फुद्दी को कस के दबाने लगी और दूसरे से मेरे लंड को अपनी फुद्दी में डालने की नाकाम कोशिश करने लगी.

सेक्सी पिक्चर दंगल

’यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !फिर उसने मेरा लंड होंठों में पकड़ कर चूसना शुरू किया। जिन्दगी में अगर कोई लड़की पूरे मन से आपका लंड चूसे. सुपर सेक्सी बॉय imzमैंने अब उससे पूछा कि क्या हुआ?” तो उसने मेरी बात का तो कोई जवाब नहीं दिया मगर उसने अब अपनी ब्रा को उठा लिया और मेरे लंड पर ढेर सारा थूक कर उसे अपनी ब्रा से साफ करने‌ लगी.

तुम कम्प्यूटर कोर्स क्यों नहीं कर लेते हो? आजकल कम्प्यूटर की हर जगह जरूरत भी है. நியூ ப்ளூ ஃபிலிம்मैं उसको बेड पर ले गया और पहले उसको पीठ के बल लेटा दिया और तेल लेकर उसकी पूरी बॉडी पर लगा दिया.

अभी तक की इस मस्त चुदाई स्टोरी में आपने जाना था कि जगत देव अंकल के मोटे लंड ने मेरी चूत से खून निकाल दिया था और इस बात को राज अंकल ने सबसे कहा कि मेरी चूत की सील जगतदेव अंकल ने ही तोड़ी है.बीएफ मूवी दिखाएं बीएफ मूवी: और फिर पानी तो मैंने किनारे रखा और कमर के कटावों पर अपने हाथ को रखकर होंठों पर अपने जलते होंठ रख दिये और गहरी और गोल नाभि में अपनी उंगली डाल कर सहला दी और रसभरे होंठों को एक गहरा चुम्बन अंकित कर दिया.

हम दोनों ने मौक़ा देखा तो प्लान बना लिया था कि हम दोनों सम्मेलन में नहीं जाएंगे.पर वो खुश लग रही थी।मैंने अपने कपड़े पहने और उसको कहा- अब तुम अपने बेडरूम में जाओ.

హిందీ సెక్స్ వీడియో బిఎఫ్ - बीएफ मूवी दिखाएं बीएफ मूवी

उसने कहा- मैं समझी नहीं?तो मैंने कहा- वो अपने बॉय फ्रेंड के साथ मस्ती करती है।‘मस्ती मतलब.वह धीरे से अपने होंठों को खोलकर मेरे लंड को अपने मुंह में ले लिया और उसको चूसने लगी।सच कहूं दोस्तो … यह मेरा पहला अनुभव था लेकिन मैं इस समय स्वर्ग में था, प्राची ने मुझे जन्नत दिखा दी थी।मैं उसके मुख को चोदता रहा जिससे उसे भी बहुत ही आनंद आ रहा था.

अब मैं बेड पर बैठी और वो दोनों बेड पर चढ़ कर खड़े हो गए, जिससे दोनों के लंड मेरे मुँह पर आ गए और मैं बारी बारी से दोनों के लंड मुँह में लेके चूसने लगी. बीएफ मूवी दिखाएं बीएफ मूवी तो मैंने भी जानबूझ कर अपना लण्ड गाण्ड पर रख कर अन्दर डालने की कोशिश की.

मैंने इतनी ही गोलियां डाली थीं कि असर 5 से 6 घंटे तक रहे।कुछ देर बाद मैं स्वाति के कमरे में गया तो देखा कि वो सुध-बुध खोकर बिस्तर पर पड़ी थी। मैं उसके पास गया और प्यार से उसके गालों को चूम लिया।क्या गज़ब लग रही थी.

बीएफ मूवी दिखाएं बीएफ मूवी?

कुछ देर बाद कार का शीशा नीचे उतरा और एक खूबसूरत लड़की ने मुझे मेरे नाम से पुकारा. और मैं अपने घर जाने के लिए उठ गया।आरती ने मेरे पास आ कर ज़ोर से किस की. संजय ने भी अपने लंड से गीत की गाण्ड को नहला दिया।जैसे ही संजय ने अपना लंड साइड में किया.

मैंने पास ही रखी वैसलीन की डिब्बी उठाई और वैसलीन निकाल कर अपने लंड में अच्छे से लगा ली और भाभी की गांड में भी मैंने वैसलीन लगा दी, जिससे लंड घुसने में आसानी हो. मुझे भी कुछ मज़े लेने दे।वो मेरे ऊपर चढ़ कर मेरे पूरे शरीर को चाटने लगीं।सच यार. मेरे भैया और रामेसर चाचा का लड़का बातें कर ही रहे थे कि तभी उनकी छोटी लड़की प्रिया हमारे लिये चाय नाश्ता ले आई.

उसकी आँखों में बहुत सा प्यार और संतुष्टि थी।उसने बताया- शादी से लेकर आज तक मेरे पति ने कभी भी मेरे पूरे कपड़े उतार कर सेक्स नहीं किया और ना ही मुझको कभी नग्न किया. पर माल एकदम पटाखा थी।मैंने एक दो बार छत पर उन दोनों की बातों से जाना था कि ये दोनों शिमला की हैं. दर्द होगा।लेकिन सरिता के कहने पर वो मान गई।फ़िर मैंने धीरे-धीरे अपना लन्ड उसकी टाइट गाण्ड में डाला.

अब मैं भी उनसे चिपके-चिपके अपने बदन पर पानी डाल कर नहाने लगा।मेरी मॉम अब मेरे बदन पर साबुन लागते हुए मेरे सीने को मसल रही थीं. रीतिका भाभी की उम्र 26 साल है और उसका फिगर 34बी 30 36 है। वह दिखने में बुहत ही हाट लगती है।बात है मनाली में मेरे छोटे भाई और भाभी के हनीमून जाने की जब मैंने रीतिका के साथ लेस्बीयन सेक्स किया। मुझे पापा ने भाई के साथ इसलिये भेजा था कि मैं वहाँ बहुत बार जा चुकी थी।हम वहाँ 23 तारीख को पहुँच गये थे.

पर उसने कुछ नहीं कहा।मैंने फिर से सुपारा उसकी चूत के छेद पर रखा और इस बार थोड़ा ज़ोर से धक्का लगाया मेरे लण्ड का सुपारा अन्दर चला गया.

अपनी पत्नी का इशारा पाकर मैं उसको बेडरूम में ले गया और मैंने जाते ही उसको किस किया.

तो वो हल्के दर्द से चीख उठती।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !जब वो पूरी गरम हो गई और उसकी चूत भी पूरी गीली हो चुकी थी. उसने अब पहले तो मेरे लंड पर हल्की सी जीभ लगाकर उसके स्वाद को चखा और फिर धीरे से उसे अपने मुँह में भर लिया. भाभी का फ़िगर तो बस ऐसा कि साला मेरा जूस हलक से नीचे नहीं उतर रहा था.

प्लीज मुझे गुदगुदी होती है।मैंने वहाँ से हाथ हटा लिया और उसके पेट पर और मम्मों को चूमने लगा। वो पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी।फिर उसने कहा- अब रहने दो और ऊपर आ जाओ।फिर मैं उसके ऊपर आ गया और उसे समझाया- पहले थोड़ा दर्द होगा सहन कर लेना।रेणु ने कहा- हाँ. मैं उसे हचक कर चोदने लगा, वो मेरी पीठ पर नाख़ून गड़ाने लगी।मैं लगातार पेले जा रहा था. ’मैंने 5 से 10 मिनट तक उसकी गाण्ड मारी और अब मेरा भी माल निकलने वाला था। मैं जोर-जोर से फुल स्पीड से चोदने लगा। लगभग 20 से 30 झटके मारने के बाद मैंने उसकी गाण्ड में ही सारा माल डाल दिया और उसके ऊपर ही लेट गया।एक मिनट बाद दरवाजे की घंटी बजी.

उसकी चूत अभी काफ़ी टाइट थी। मैंने उसे किस किया ताकि उसकी आवाज़ ना निकले और अपने लण्ड को अन्दर-बाहर करना शुरू कर दिया।वो तड़फ रही थी पर अब मैं उसकी कहाँ सुनने वाला था.

परेजू डरा डरा सा था, वो कुछ खास नहीं कर रहा था … मैं उसकी छोटी बहन जो थी. मैं खड़ी होके उनके ऊपर बैठ गई और अपने हाथ से लंड को अपनी गांड में डालकर लेने लगी. पर पिछले कुछ सालों से दिल्ली के आस-पास ही मस्ती कर रहा हूँ।मैं पिछले 7 सालों से अन्तर्वासना का पाठक हूँ.

वो भी क्या दिन थे जब मैं अविवाहिता थी तो मुझे बहुत लंड मिलते थे चुदवाने के लिए … लेकिन ससुराल में तो डर लगता है. तो चाची मेरे सामने खड़ी थीं।वे एकदम से बोलीं- कितनी देर से आवाज़ दे रही हूँ. मीठानंद ने प्रीति की पैंटी को एक झटके में खोल दिया और उसकी मस्त और चिकनी बिना बालों की चूत पर अपने होंठों को रख दिया.

तो मुझे और भी जोश आ जाता और मैं और जोर-जोर से पिंकी को चोदता।करीब 10 मिनट तेज चुदाई करने के बाद पिंकी अब अकड़ने लगी और बोलने लगी- आह्ह.

हालांकि हम दोनों ने कभी अपने प्रेम का इजहार नहीं किया था, लेकिन ये बात हम दोनों ही समझते थे कि हमारा लव अफेयर हो चुका है. बल्कि बुआ की चूत के रस से चूत में मेरा लंड सटासट अन्दर बाहर होने लगा था.

बीएफ मूवी दिखाएं बीएफ मूवी अब मैं भी उनसे चिपके-चिपके अपने बदन पर पानी डाल कर नहाने लगा।मेरी मॉम अब मेरे बदन पर साबुन लागते हुए मेरे सीने को मसल रही थीं. समझी मेरी रानी?और मैंने लंड को उसकी गाण्ड पर सैट करके ज़ोर लगा कर धक्का दिया जिससे लंड गाण्ड के अन्दर दाखिल हो गया।‘अहह मैं मरीईई ईईई.

बीएफ मूवी दिखाएं बीएफ मूवी इसलिए मैंने लंड बाहर कर दिया और अपने मुँह में लेकर चूसने लगी।फिर एकदम से उसने एक पिचकारी के साथ अपना माल मेरे मुँह में निकाला और मेरा मुँह उसके माल से भर गया।उसके माल का टेस्ट बहुत नमकीन सा था और फिर मैंने सारा माल निगल लिया।उसका बहुत माल निकला था।फिर हम दोनों वॉशरूम गए और एक साथ नहाए और शावर लिया।अब हमें अन्दर दो घंटे हो चुके थे. तो मैंने यह बात बताई। हम दोनों दोस्त एक-दूसरे से झूठ नहीं बोलते थे.

लेकिन कभी ऐसा नहीं लगा कि भाभी हम लोगों को कुछ दिखा रही हों या कुछ ऐसे-वैसे इंडिकेशन.

बीएफ बीएफ अंग्रेजी बीएफ

और मुझे महसूस हुआ कि मेरी बुर पर अब कोई हरकत नहीं हो रही है। मैं कल्पना में जिस सर को पकड़ कर बुर पर दाब कर चटा रही थी. यह कहानी मेरी सच्ची कहानी है और मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को बहुत पसंद आएगी. तब मैंने लाइट फिर से ऑफ कर दी और अपने कपड़े उतार कर फिर से सोने चला गया.

आपने तो जैसे इसमें नई जान ही डाल दी है।मैंने भी थोड़ा मजाक करते हुए कहा- किसमें?तो भाभी ने एक और धक्का मेरे लंड पर लगाया और बोलीं- इसमें. सलोनी की चूत से लगातार पानी आ रहा था।सलोनी को भी पूरा मज़ा आ रहा था उसकी चूत मक्खन से कम चिकनी नहीं थी।दस मिनट बाद विजय झड़ गया. उसके मुँह से लंड सुन कर मुझे मजा आ गया और मैंने कहा- अब मुझे तेरी चुत चूसनी है, हम दोनों एक साथ चुसाई करेंगे.

दोनों अंकल मेरे आजू-बाजू हो लिए, राज अंकल मुझ से सामने से लिपट गए और मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया बोले- सोनू तुझे पाकर आज बहुत अच्छा लग रहा है.

तभी प्रिया का हाथ भी पीछे को आया और वो मेरे लंड को जीन्स के ऊपर से ही सहलाने लगी. फिर स्विमिंग पूल में डुबकी लगाकर हल्के हल्के स्ट्रोक के साथ तैरने लगा. मैंने पीछे से लंड एक ही झटके से चूत में डाल दिया। कोमल की दर्द के मारे चीख निकल गई और वो ‘आआह्ह.

उसका उसने उत्तर दिया।उसका नाम अभिजीत था। धीरे-धीरे हमारी बातें होने लगीं। सेक्स के बारे में एक्सपेरिमेंट करने का उस लेखक को जैसे चस्का था। उसकी बीबी नीलम उसका इस लेखन में साथ देती थी। उसकी भाषा उत्तेजित करने वाली, किन्तु बहुत शालीन थी। सेक्स के अंतरंग पलों में जब नर-नारी उत्तेजित हो जाते हैं तो किस भाषा का प्रयोग करते हैं. मेरी सील टूट चुकी थी और दिमाग की बत्ती खुल चुकी थी कि लंड और चूत का खेल क्या होता है. उसने बिना आवाज के गेट खोला और चुपचाप मुझे ऊपर जाने का इशारा किया और खुद वो रसोई में चली गई.

साला कैसे अपने लौड़े को पैंट पर से ही मसल रहा है। साली तू तो जान लेकर रहेगी एकाध की. तो मुझे कोई आवाज़ सुनाई दे और मैंने देखा कि अंकल जी भाई को शराब पिला रहे हैं जबकि वो मना कर था।मैं कुछ नहीं बोली और सो गई.

इधर प्रीति ने अपना सारा काम निपटाया और नहाने के लिये बाथरूम में चली गई. आप लोगों को तो पता ही होगा कि भाभियों के हँसी-मज़ाक वगैरह सब चलता रहता है. जब उसे होश आया तो कुछ ही पलों में वो चुदाई का मजा लेने लगी।अब वो ऊपर उठ-उठ कर मेरा साथ दे रही थी।फिर मैंने उसको घोड़ी बनाकर चोदा, उसकी 15 मिनट तक चुदाई करके मैंने वीर्य की पिचकारियाँ उसके मुँह में छोड़ दीं।मैंने 2 बार और चुदाई की.

मेरी चूत को अपने फौलादी लंड से भर कर ऐसे धक्के मारे कि मेरी चूत निहाल हो गई.

विकास भी खिड़की की तरफ देखकर भौंचक्का रह गया और उसका लंड भी कुछ ही सेकेंड में ढीला हो गया. अब तक वो भी गर्म हो गयी थीं, क्योंकि वो मुझसे कह रही थीं कि वो मेरा लंड चूसना चाहती हैं. फिर मैंने एक तकिया उसकी कमर के नीचे रख दिया जिससे चूत थोड़ा और ऊपर आ गयी और चुदाई का मज़ा दोगुना होने लगा.

वो ठीक से चल भी नहीं पा रही थी।मैंने उसे किस किया और कहा- मज़ा आया?तो उसने बदले में मुझे भी किस किया और मुस्कुराते हुए अपने घर चली गई।फिर कई साल तक पिंकी और मैंने मज़े किए। एक साल पहले उसकी शादी हो गई. ना ही वह गुस्सा हुई। मैंने सोचा शायद आज ही काम बन जाएगा। फर्स्ट फ्लोर पर हम दोनों और उसके छोटे-छोटे बच्चे ही थे.

अगले ही पल मैंने एक हाथ को उसकी गर्दन को सहला रहा था, तो दूसरा हाथ उसके कपड़े के ऊपर से उसके चूचों को सहलाने लगा. मैंने ज़्यादा देर ना करते हुए एक धीरे से झटके से अपने लण्ड को उसकी चूत में सरका दिया। वो इतनी टाइट भी नहीं थी इसलिए आधा लण्ड आराम से चूत में चला गया। अब मैं लौड़े को आगे-पीछे करने लगा. फिर कपड़े बदल कर आ गया और बोला- अब खाने चलें?कीर्ति ने कहा- हाँ चलो.

लड़की लड़की की बीएफ सेक्सी

तुम?मैंने कहा- हाँ हमारा कुक 10 दिनों के लिए घर गया है और पानी की मोटर भी खराब हो गई है.

मैं यह भी कह सकता हूँ कि शायद भाभी को भी मेरे जैसे जवान लड़के के लंड की जरूरत थी. चिड़िया जाल में फँस गई थी। उसने बड़े प्यार से निधि को विश्वास दिलाया कि वो बस पूछ रहा है. तो मेरा जब लण्ड खड़ा हो जाता है तो लोवर में दिख जाता है।मैंने अपने लण्ड पर हाथ रख लिया और अन्दर की तरफ दबाने लगा.

मेरे मुँह से भी सिसकारियां निकल रही थीं और मैं आह्ह्ह … आअह्ह्ह …’ करती हुई अपनी गांड को विकास के लंड के साथ आगे पीछे कर रही थी. उसने तुरंत मेरे कच्छे को उतारा और मेरे लंड को मुँह में ले लिया। मैंने सोचा साली बिल्कुल रंडी है. देसी सेक्सी लड़कियांमेरे लंड पर उछलते हुए प्रिया ने अब एक‌ हाथ से मेरे सिर के बालों को पकड़ कर मेरी गर्दन को ऊपर उठा लिया.

फिर रात को बिस्तर पर हम बातें कर रहे थे। मैंने बोला- तुम उसका बड़े चाव से चूस रही थीं।कीर्ति- हटिए ना. तो दोस्तो, कैसी लगी आपको मेरी कहानी, आशा करता हूँ आप सब 2 बार जरूर झड़े होंगे.

बड़े प्यार से करूँगा।पुनीत ने दोनों हाथों से गाण्ड को फैलाया और टोपे को छेद में फँसा कर हल्का सा झटका मारा. सुन्ना आंटी जल्दी से खड़ी हुईं और देखने लगीं, वो समझ गईं कि ऊपर छत पर कोई तो है।वो छत पर आ गईं. ऐसा लगा जैसे एक बिजली का झटका मेरी योनि से होता हुआ मेरे दिमाग में चला गया।फिर क्या था.

उसने सनी को नंगा होते देखा तो हैरत से बोली- अरे ये तो फिल्म की हिरोइन है. तो अब उनके घर में सिर्फ़ मामी ही बची थीं।मैं बहुत खुश हुआ और मैंने घर में बोला- आज मैं अपने फ्रेंड्स के साथ उसके गाँव जा रहा हूँ. वो मान गई।मूवी बहुत सेक्सी टाइप की थी।मैंने अंजलि को नहीं बताया था कि कौन सी मूवी है.

और उसका लण्ड पैन्ट से बाहर झाँक रहा है। लड़की भी बहुत कांप रही थी।^वो लड़के के खुले लण्ड को झुकी नज़र से घूर रही थी। अचानक लड़की को घूरते देख लड़के को होश आया कि उसने पैन्ट की चैन खुली कर रखी है। लड़का चैन लगाने लगा। लड़की उसके और करीब आ कर उससे चिपक गई। लड़के के शरीर में गुदगुदी होने लगी.

और राज अंकल मेरे दूध दबाने लगे और बोले- सोनू तू ऐसी है कि बस तुझे कोई देख ले तो उसकी जिंदगी बन जायेगी, तू तो पागलपन है, क्या मस्त आइटम हो गई है और गजब की है. कुछ देर बाद मैंने उसके गोद में से नीचे उतार दिया और उसका मुँह दीवार की तरफ कर दिया.

जिससे वो दो बार झड़ चुकी थी।मैं उसके झड़ने के साथ ही उसकी चूत का सारा नमकीन रस पी गया। चूत चाटते हुए मैंने उसकी गांड में उंगली डाल दी. पायल की बात सुन कर रोहन के लंड ने एकदम से खड़े होकर सलामी दी। उसने भी बिलकुल फिल्मी स्टाइल में पायल का घूँघट उठाया। पायल ने भी स्टाइल से उसको पास में रखा दूध पिलाया, आधा रोहन ने पिया और बाकी पायल को पीने के लिए दे दिया।‘पूरा पी लो भाई… आज रात बहुत मेहनत करनी है तुम्हें. ’ करने लगी।कुछ टाइम बाद भाभीजान बोली- अब अपना लण्ड मेरे अन्दर डालो।तो मैंने अपना लण्ड भाभी की चूत के ऊपर रख दिया। लण्ड गीला था.

यह घर है और भाई जी बाहर बैठे हैं। यह सब काम अभी नहीं हो सकता और अभी रात में तेरी चूत को दो बार चोदा है न. मेरे हर झटके पर उसका सारा बदन हिलता था, जिसे मुझको और जोश आ जाता था. अचानक, बाहर घंटी बजी और चाची एकदम फुर्ती से मेरे लंड से अपनी चुत को अलग करते हुए कपड़े पहन कर उठीं और बाहर दरवाजा खोलने चली गईं.

बीएफ मूवी दिखाएं बीएफ मूवी तब मैं पेपर जमा करने के लिए उनके पास गया, उन्होंने मेरी तरफ देखे बिना पेपर बंच में रख दिया।मैं क्लास से बाहर जा ही रहा था कि तभी टीचर की आवाज आई- सुनो. वो मुझे जोर से अपने बाहों में ले रही थी।उसके बाद मैं और नीचे सरक गया, अब मैं उसके पेट पर किस करने लगा।मैं अपनी जीभ से उसकी नाभि में भी जीभ से गुलगुली करने लगा.

इंग्लिश बीएफ ओपन में

क्योंकि हर रोज़ तो हम खुद इनका नाम लेकर चुदाई करते थे और आज ये मौका खुद मुझे मिल रहा था।इसी बीच दीप्ति ने मेरे पास आकर सुनील का लंड मेरे हाथ में पकड़ा दिया।उसके मोटे लंड को पकड़ते ही मेरी चूत और भी गीली हो गई. कमरे तक पहुँचते पहुँचते पूजा बुरी तरफ से भीग गयी और उसकी गोल गोल चूचियां भीगे टॉप के ऊपर से ही साफ साफ दिखने लगीं. मैंने मौका देखकर अपने बॉयफ्रेंड से एक दो बार होटल में जाकर चुदाई भी करवा ली थी.

जिस पर भरोसा कर सकूँ।मैं- कोई नहीं मिली? कैसी लड़की चाहिए आपको?भाई- बोले तुम बुरा तो नहीं मानोगी।मैं बोली- बोलो भाई. और कोई भी उस कालोनी क्या पूरे शहर में मुझे कोई किराए पर कमरा नहीं देगा।जहाँ तक उस औरत ‘कोमल’ की बात है, वह सांवले रंग की 28 वर्षीय सेक्सी महिला है. హిందీ సెక్స్ బిఎఫ్ హిందీ సెక్స్ బిఎఫ్थोड़ी देर बातों ही बातों में बुआजी पूरी गर्म हो चुकी थीं और अन्दर ही अन्दर उनका मन सेक्स करने का हो रहा था.

जहां मैंने दुकान खोली थी, वहां आस पास घर थे और कुछ दूर एक मंदिर था.

उसकी आँखों में वासना साफ दिखाई दे रही थी।निधि की बात सुनकर उसने निधि का हाथ पकड़ा सीधे उसके मम्मों पर हाथ रख दिया।दोस्तो, उम्मीद है कि आपको कहानी पसंद आ रही होगी. मेरा देवर मुझे जोर जोर से चोदने लगा और मैं अपनी गांड उछाल उछाल कर अपने देवर से चुदवाने लगी.

जो मुझको और उकसा रहा था। मैंने उसकी ब्रा की स्ट्रिप खोल दी और ब्रा निकाल कर अपना मुँह उसकी चूची में लगा कर उसको चूसने लगा।ममता- आअह राजी. आम्ही बागेत बसलो असताना भाऊजींनी आणि ताईने मला काल घडल्या गोष्टीबाबत समजाउन सांगितले. क्या बताऊं दोस्तो कि कितना मजा आ रहा था! मन तो हो रहा था कि वहीं उसके पास सो जाऊं और उसको अपनी बांहों में भर लूं लेकिन ट्रेन में होने की वजह से मैंने ऐसा कुछ नहीं किया; बस अपने हाथों से कभी उसके गालों को कभी उसके स्तनों को दबाता।मैंने प्राची के कान में धीरे से कहा कि वह थोड़ा ऊपर आ जाए.

बेडरूम में चलो।फिर मैं उससे गोद में उठा कर बेडरूम में ले जा कर बिस्तर पर उसे गिरा दिया और उस पर चढ़ कर उसे किस करने लगा। किस करते-करते उसके मम्मों को दबाने लगा। मम्मों दबाने के बाद उसकी ब्रा खोल दी और उसके संतरे मुँह से चूसने लगा।फिर मैं उसे कान के पास किस करने लगा.

’मेरा इतना कहना था कि चाचा मेरी जाँघों के बीच मुँह डाल कर मेरी मुनियाँ को चाटने लगे। अपनी चूत चाचा की जीभ का स्पर्श पाकर मैं गनगना उठी, मेरे मुँह से सिसकारी फूट पड़ी- आई सीईईई. बात उन दिनों की है, जब मेरा बड़ा भाई ऑस्ट्रेलिया से 4 साल बाद वापिस आया था. तो उठ कर साथ में शावर लिया।नहाते हुए भी लंड फिर से खड़ा हो गया और हमने एक राउंड चुदाई का और खेला।घर वालों के आने से पहले हमने सब कुछ वैसा ही कर दिया था.

सेक्सी मूवी डाउनलोड एचडीइस गर्म कहानी के पिछले भागजब चुदी-चूत की हुई सिकाई-2में अभी तक आपने पढ़ा कि मेरी चुदी हुई चूत की सिकाई पहले मैंने की, फिर मेरे यार देवेन्द्र ने गाड़ी में अपने होठों से उसको सेंका। लेकिन सेंकते-सेंकते इतना मज़ा दे दिया उसने कि मैं खुद ही उसके लिंग से दोबारा चुदने के लिए तड़प गई। मगर जहां मज़ा होता है, वहां सज़ा ना मिले, ऐसा कभी होते देखा है …. कहाँ तारे कहाँ धरती…मैंने सब कुछ एक ही बार में बोल दिया।मैडम- सन्नी.

बीएफ सेक्सी वीडियो चाहिए सेक्सी वीडियो

बड़ा मजा आ रहा था। वो भी मेरे बालों को कस कर पकड़ कर मुझे कह रही थी- औऱ जोर से. अभी घर में कोई नहीं है और कितने दिनों से मेरे लंड का पानी अन्दर ही सूख रहा है। मेरा लावा अपनी चूत में ले लो मौसी।उन्होंने कहा- प्लीज़. मैंने भैया से पूछा कि उसे जब तक नौकरी नहीं मिलती, वो हमारे साथ ही रह ले?तो वो मान गए.

उसके बाद सबने एक-एक बार उसकी चूत भी चोदी।अब शाम होने वाली थी। सलोनी की चूत पूरी तरह से लाल हो गई थी. अपनी निक्कर उतार कर मेरे चेहरे पर डाली।उसकी निक्कर से उसकी चूत के रस एवं उसके मूत की मिली-जुली महक आ रही थी।मैं उस खुशबू से बौरा गया।जैसे ही वो मेरे पास आई. मगर जब मैं सबके सामने उससे बात करता था, तो मेरी बातों का वो हंस हंस कर ही जवाब देती थी.

पर जल्दी से उठे और दोनों ने कपड़े पहन लिए और खराब चादर को बाथरूम में रख दिया।पिंकी ने टेबल पर खाना रख दिया. और मुन्ना अंकल सीधे मेरे दोनों टांगों के बीच अपना मुंह रख कर अपने होंठ, जीभ पूरी नाक घुसाकर मेरी चूत में रगड़ने लगे. प्रीति ने अपने एक हाथ से मीठानंद के कच्छे का नाड़ा खोला और पूरा नंगा कर दिया.

उस दिन गुरुवार का दिन था।मैं बेटियों को स्कूल जाने के लिए नाश्ता बना रही थी. मैंने रेवती की तरफ देखा तो उसकी आंखों में मुझे रोकने के लिए एक अजीब सा अनुरोध था.

उनकी फिगर देखने में इतनी कमाल की है कि जो एक बार उन्हें देख ले, तो समझिए उसी वक्त उसका लंड खड़ा हो जाएगा.

आरती उठ बैठी और अपने बालों को लपेट कर जूड़ा बना लिया और बेड पर नंगी ही बैठ गई और वत्सला को खींच कर लिटा दिया।वो भी अपनी भाभी की गोद में सिर रख कर लेट गई और मेरी तरफ देखने लगी. ओपन चोदा चोदी सेक्सीमुन्ना अंकल लोवर और अंडरवियर पहले ही उतार चुके थे, बाकी बची ऊपर की बनियान भी उतार फेंकी. मराठीमध्ये सेक्सी दाखवाचलो होटल चलते हैं और जो गर्लफ्रेंड और बॉयफ्रेंड करते हैं, वही आज हम दोनों भी करेंगे. इसके बाद मैंने नीचे बैठ कर उसकी दोनों टांगों को खुला किया और पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत को चाटने लगा.

5 इंच का लौड़ा उसकी गुलाबी चूत को सलामी देने लगा।मैंने देर न लगाते उसको बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी चूत पर टूट पड़ा। उसकी चूत को चाटने लगा। क्या मक्खन सी मुलायम चूत थी उसकी.

मैंने कहा- छी नहीं होता, यही तो मजा देता है। मैंने भी तो किस्सी की थी ना तुम्हारी पिंकी को. अंकित ने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और मेरे होंठों को जमकर चूसते हुए बोला- वन्द्या मां की लौड़ी साली छिनाल. पर एक दिन दो‍पहर को वो मेरी दुकान पर आई और कहने लगी कि मैं घर को लॉक करके मार्किट गई थी और मेरे घर की चाबी कहीं गुम हो गई है, तो प्लीज़ किसी चाबी बनाने वाले को बुलवा दो या आप खुद ले आओ.

मगर दूसरे के घर बन्धन में रहना मुझे अच्छा नहीं लग रहा था, इसलिये मैंने भैया को बताया कि दूसरे के घर रहना मुझे अच्छा नहीं लगता, इससे अच्छा तो मैं रोजाना घर से ही आना जाना कर लूंगा. उसका बदन देख कर अब मुझे रहा नहीं जा रहा था।मैं सीधे अन्दर गया और उसे पीछे से पकड़ लिया।उसने कहा- जान. और मुझे चाचा वहीं छत पर ही पटक कर नंगी करने लगे।मैं मन ही मन बड़बड़ाई कि यह तो मेरा ही दांव उलटा पड़ रहा है.

बीएफ सेक्सी राजस्थान का

फ़िर रात में हम एक-दूसरे से जुदा हो गए और मैं पुणे लौट आया।यह मेरे जिन्दगी की सच्ची घटना है, आपको मेरी सेक्सी कहानी कैसी लगी. जब मैं शादी के एक महीने बाद गाँव गई थी।मैं कार से अपने गाँव जा रही थी. तो बाहर से ही लाते हैं बस वो सामने वाले होटल से खाना लाने जा रहा हूँ।बिहारी- अरे उस साला छोड़ के पास काहे खाना लाते हो.

मैं विकास के सामने घोड़ी बनी हुई थी और विकास का लंड मेरी चूत में था.

पर मैंने आपसे यह बात छिपा ली लेकिन नायर यह जान चुका था कि मैं आपसे चुदती हूँ और वह मुझे बोला कि नेहा मैं आपके राज को राज रख सकता हूँ.

फिर उन जांघों के बीच बैठकर अपना चेहरा उसकी चूत के पास ले गया। वो बड़े आश्चर्य से मेरे काम को देख रही थी।‘क्या कर रहे हो?’‘जानू. इसके लिए आपका बहुत धन्यवाद।साथियो, आज मैं एक नई कहानी पेश कर रहा हूँ. फुल सेक्सी वीडियो सेक्सीयह कहानी आप अन्तर्वासना डाट काम पर पढ़ रहे हैं।भाभी की गदराई गाण्ड मेरे लण्ड पर रगड़ रही थी। भाभी के मुँह से ‘आहह.

भाभी नीचे लैंगिंग्स पहने हुई थी, जिसमें उसकी जाँघें और गांड देखते ही मैं समझ गया कि यह पक्का जिम जाती होगी. मैं उसके नीचे थी वो मेरे ऊपर था और अपना लंड मेरी चूत में डाल कर अपना लंड अन्दर बाहर कर रहा था. वेटर ने हमको रूम दिखाया और कुछ सामान की जरूरत के बारे में बताते हुए कहा- सर कोई भी जरूरत हो तो प्लीज़ फोन कीजियेगा.

दादा जी की सफेद और काले बालों से भरी छाती, मेरे गोरे मुलायम चुचों पर रगड़ने लगी. आप लोग आराम से वन्द्या को यही चोद दीजिए।यह बात अंकित ने जैसे ही बोली, तुरंत मुन्ना अंकल धीरे से बोले- अंकित तू सम्हालना, हम दोनों वन्द्या को चोद के मस्त कर देंगे.

यहाँ तक कि पेशाब करने के बाद भी पानी से धोती हूँ।इस पर वो मुस्कुराए.

फ़िर उसके होंठों पर किस करना चालू किया। उसके होंठ इतने रसीले थे कि ऐसा लग रहा था बस इसे चूसता ही रहूँ।मैंने उसे अपनी गोद में उठाया और अन्दर बेडरूम में ले गया, बिस्तर पर लिटा दिया और उसके ऊपर लेट गया।अब मैं उसे किस करने लगा, किस करते-करते मैं नीचे आ गया, मैं उसे गर्दन पर किस करने लगा. अंकित बोला- थैंक्यू फूफाजी, यह बहुत मस्त माल है, आप दोनों भी इसके साथ कर लो. कि उन्होंने मेरे ऊपर एक जग रंग डाल दिया। उन्होंने रंग पहले से ही घोल कर रख रखा था और रंग डाल कर वो भाग कर बाथरूम की तरफ जाने लगीं।मैं भी उनकी तरफ पीछे-पीछे भागा उन्होंने जल्दी से बाथरूम का गेट बंद कर लिया था.

एचडी फोटो सेक्सी वीडियो मुझे भी अलग अलग तरीके से चुदवाने में मज़ा आता है इसलिए मैंने झट से अपनी 36 इंच चौड़ी गांड को ऊपर उठा दिया. मैंने कभी किसी लड़की की चूत नहीं चाटी, पर उसको देख कर नहीं रह सका और मुँह लगा दिया ज्योति की चूत पर … अपनी जीभ चुत की दरार में डाल कर ऊपर नीचे करने लगा.

मेरा नाम अर्जुन है, मैं बैंगलोर का रहने वाला हूँ।यह मेरी पहली कहानी है। इस कहानी की शुरूआत हुई सन 2012 में. मयूरी के लिए ये नया नहीं था, वो पहले भी कई बार अपनी चूत अपने दोनों भाइयों से चटवा चुकी थी पर एक औरत के होंठों और जबान की बात ही अलग होती है और विशेष रूप से अपनी सगी माँ आपकी चूत चाट रही हो तो उसकी बात ही थोड़ी अलग होती है. नहीं उसका लौड़ा छिल जाता। थोड़ी देर बाद पुनीत ने लौड़ा पूरा बाहर निकाल लिया।पायल- ऑउच.

अमेरिका बीएफ चुदाई

उस वक्त तक डैड और मॉम ड्यूटी पर चले गए थे। छोटा भाई बाहर खेलने चला गया था. पर मुझे तो जैसे भी भाभी की गांड को चोदना ही था, इसलिए मैंने कहा- बस एक बार दर्द होता है भाभी … अब नहीं होगा. क्यों चिल्ला रही है?आप इस मस्त सेक्स कहानी पर अपने ईमेल भेज सकते हैं.

पायल की बात सुन कर रोहन के लंड ने एकदम से खड़े होकर सलामी दी। उसने भी बिलकुल फिल्मी स्टाइल में पायल का घूँघट उठाया। पायल ने भी स्टाइल से उसको पास में रखा दूध पिलाया, आधा रोहन ने पिया और बाकी पायल को पीने के लिए दे दिया।‘पूरा पी लो भाई… आज रात बहुत मेहनत करनी है तुम्हें. वो बोली- सीधे सीधे मैं जो कह रही हूँ, वो कर वरना…मैंने धीरे धीरे उसकी चूत के ऊपर किस करना शुरू किया.

देखते हैं इसकी चूत को संजय ने कैसे बनाया है।फिर उसने मेरी गर्म चूत पर हाथ लगा कर देखा और फिर बोली- अरे जानू.

मैं शर्मा गई और बोली- आप मुझे इस तरह बोल कर मेरा अपमान कर रहे हो।भाई- चलो तो ठीक है. मैंने फिर से अपनी चूत को और ज्यादा से खोला, तो अंकल ने थोड़ा जोर का धक्का लगा दिया. यहां ये भी बता दूँ कि पुरुष के पहली पत्नी से 2 बच्चे हैं और इस महिला से भी 2 हैं.

बस उनकी तरफ देखता रहा। वो भी मेरी तरफ प्यासी निगाहों से देख रही थीं।कुछ पल की ख़ामोशी के बाद मैंने उन्हें अपनी बाँहों में ले लिया, वो भी बिना किसी हिचकिचाहट के मेरी बाँहों में समां गईं।अगले ही पल हमारे होंठ आपस में टकराए, वो मुझे. इसलिए आपको इस सच्ची घटना के कामरस की धार से सराबोर करके पूरा मजा देने की कोशिश करूँगा।कहानी जारी है।हिंदी सेक्स स्टोरी का अगला भाग:कमसिन लड़की और चूत की भूख -2. मेरे कंठ से कामुक सिसकारियां निकलने लगीं ‘हूउ … उह … आहा … अहा … और ज़ोर से हां … हां … बस मेरा अब निकलने ही वाला है … आह … रवि मेरी जान आह … एयेए … आआ … आह मर गई … मेममरा … निकल गया … आह … बस हो गया!’मैं समझो कट कट कर रिसने लगी.

दोस्तो, अभी मैंने उसके चीरे पर टोपा रखा ही था कि वो चीखने लगी… सन्नी बहुत मोटा है… ऐसे नहीं जाएगा.

बीएफ मूवी दिखाएं बीएफ मूवी: मैं बरेली (उप्र) का रहने वाला हूँ, मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ। मेरा अपना खाली समय ज़्यादातर अन्तर्वासना पर ही बीतता है और जहाँ तक मुझे लगता है. ट्रेन में मिली महिला की सेक्स की प्यास-2से आगे की कहानीमैं विक्की एक बार फिर से अपनी कहानियों को लेकर आपके सामने हाजिर हूं.

एक्सपीरियंस तो उसे भी बड़े लंड का लेना ही होगा ना?’ मेरे पति ने दोषी से कहा।ये चूत-लंड का संग्राम बड़ा ही दिलखुश करने वाला होने वाला था।कहानी जारी है।[emailprotected]. मेरा नाम राहुल है, मैं काफ़ी समय से अन्तर्वासना पर कहानियां पढ़ रहा हूँ।कई बार मैंने सोचा कि अपनी कहानी भी सबको बता सकूँ. मैंने उसके होंठों को चूसते हुए लंड को पूरी ताक़त से अन्दर तक धकेला और सुनयना भी पूरी चूत ऊपर करके मुझे कस कर पकड़े हुई थी।‘अहहसीए.

उसने होटल पहुंच कर अपना बुक किए हुए कमरे की बात की और हम दोनों एक वेटर के साथ रूम तक पहुंच गए.

पर जल्दी से उठे और दोनों ने कपड़े पहन लिए और खराब चादर को बाथरूम में रख दिया।पिंकी ने टेबल पर खाना रख दिया. और कामुकता से मुझे देखते हुए एक जोर का झटका लगा दिया। मेरी चीख निकल गई- ओहीईई. जीभ को एक-दूसरे से लिपटा रहे थे और हम मानो एक-दूसरे में खो गए थे।फिर मैंने उसे लिटा दिया.