हॉट हॉट बीएफ

छवि स्रोत,देसी बीएफ वीडियो एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

उप सेक्सी विडिओ: हॉट हॉट बीएफ, होश में आने के बाद शीना ने बोला- भैया मेरी जांघें दुख रही हैं … प्लीज़ अब अपना लंड बाहर निकाल लो.

सेक्स व्हिडिओ चुदाई

मैंने कोमल के नंगे बदन को अपने बदन से चिपका लिया और दोनों के होंठ एक बार फिर चूसने में बिजी हो गए. बंगाल की सेक्सी बीएफमैंने उसकी आंखों में झांका … तो वो मुझे चोदने के लिए गांड उठाती दिख रही थी.

इसके घर मैं जानबूझ कर इतना सेक्सी बन कर आई थी क्योंकि उसके पापा 55 साल के एक मर्द थे और उनकी मुझ पर बड़े दिनों से नज़र थी. डॉक्टर वाली बीएफसरिता भाबी ने मुस्कुरा कर कहा- तो वो ही मेरी सेवा करेगा क्या?दूध वाला बोला- अरे वो तो अभी छोटा है; पढ़ता है.

वह लोकल में ही रहती थी और रोज अपने घर आती जाती थी व अपना टिफिन लेकर आती थी.हॉट हॉट बीएफ: मैं अपने हाथों को उनके बलिष्ठ भुजाओं को सहला कर मर्द के आलिंगन का पूर्ण अनुभव कर रही थी.

मैंने थोड़ा सा खोल कर देखा कि मेरी बीवी अंजलि, रमेश के लंड के साथ क्या कर रही है.वो मुझे फिर से किस करने लगा और खुद ही ज़ोर-ज़ोर से मेरी चूचियों को दबा रहा था.

न्यू एक्स वीडियो एचडी - हॉट हॉट बीएफ

शाम हो गई थी और हल्का अंधेरा होने लगा था।मैं जल्दी जल्दी कदम बढ़ाते हुए घर की ओर बढ़ रही थी।रास्ते में आगे पीछे कोई भी नहीं दिख रहा था और मेरा घर अब नजदीक ही आ गया था।तभी पीछे से किसी के आने की आहट सुनाई दी।मैंने पीछे पलट कर देखा तो आकाश अपनी साईकिल से आ रहा था।जैसे ही वो मेरे पास आया तो उसने साईकिल रोक दी और मुझसे बोला- एक मिनट रुक सकती हो क्या?मैं रुक गई.फिर नीलम बाई बोली- डांस करते समय ग्राहक तुझे कहीं भी टच करे, रोकने का नहीं … समझ गयी!मैं बोली- जी समझ गयी.

अब इस मुद्रा में उनका चेहरा उनकी टांगों के पीछे ढ़क गया क्योंकि उसने सलवार पूरी तरह से बाहर नहीं निकाली थी इसलिए उसको टांगें उठानी पड़ रही थीं. हॉट हॉट बीएफ मेरी वाइफ के फ़ोन से बिना बताए मैंने माधवी भाभी का नम्बर निकाल लिया.

उसने जैसे ही मेरे पैंट को निकाला, मेरा खड़ा लंड अंडरवियर में से बाहर आने को तड़पता हुआ दिखा.

हॉट हॉट बीएफ?

करीब दो मिनट बाद मेरा दर्द कम होने लगा और अमित ने मेरे मुँह को छोड़ दिया. उसी समय भाभी ने मुझे अपनी चूचियों की नंगी फ़ोटो भेज दी और पूछा- बताओ मेरे मस्त हैं कि इस पोर्न ऐक्ट्रेस के!मैंने कहा- वाह भाभी, आप तो बहुत ही हॉट हो. फिर मैंने धीरे धीरे उनसे नजदीकियां बढ़ाना शुरू कर दिया और हमारी दोस्ती हो गयी.

हम दोनों की आहह आहह आहह के साथ पानी छोड़ दिया और चिपक कर लेट गए।मैंने उसे बताया कि मैं पहले कभी पुलिस वाली को नहीं चोदा इसलिए डर रहा था।फिर वो बोली कि उसने पहले से कंडक्टर से पूछा तो कंडक्टर ने बताया कि ये लड़का आपके लिए ठीक रहेगा।मैं समझ गया कि ये सब उसकी चाल थी. कैसे?दोस्तो, कैसे हो आप सभी?मैं राज हूं और आपके लिए अपनी एक और नयी कहानी लेकर आ गया हूं. उसके सेक्स का राज खुलने के बाद हम दोनों की छिपी हुई वासना भी उजागर होने लगी और उसी की ये इंडियन वाइफ चीटिंग कहानी आपके सामने पेश है.

उसने लाल साड़ी पहनी हुई थी जोकि कमर से नीचे नाभि को दर्शाती हुई बंधी थी. कभी वो अपनी जुबान से भाभी की चूत के दाने को चाटता, तो कभी सरिता चूत की फांकों को पूरा मुँह में लेकर चूसने लगता, कभी अपनी जुबान भाभी की चूत की गहराई में डाल देता. इस बार मेरा निकलने को तैयार नहीं था … बल्कि मेरे पैरों में दर्द होने लगा था.

इस कॉस्ट्यूम में उसकी जांघ तक की लैगिंग्स टाइप की चिपकी हुई हाफ पैंट थी. वो बोली- राज तुम मेरी तरफ खिसक जाओ।अब मेरी हिम्मत धीरे धीरे बढ़ने लगी थी। मैंने उसकी नाईटी ऊपर करके उसकी जांघों पर हाथ फेरना शुरू कर दिया।उसे भी मज़ा आने लगा था, उसने अपनी टांगें मेरी कमर पर लपेट दी।मैं समझ गया कि उसकी तरफ से हां है।मैंने उसकी नाईटी में अपना हाथ डाल दिया उसके बूब्स मसलने लगा.

मैं भी उसकी चूत का सारा रस पी कर उसके ऊपर आ गया और उसके होंठों को चूमने लगा.

मैं भी अपने हाथों को पहले उनके कंधे पीठ कमर पर लाया फिर उनकी मोटी मोटी गांड पर सहलाते हुए मसलने लगा.

नमस्ते, आप सभी को मेरी भानजा मामी सेक्स कहानीमामी की चूत और गांड का आनन्दपसंद आयी, उसके लिए बहुत धन्यवाद. कुछ 15 मिनट बाद रमेश अन्दर आया और नासिर जी ने बाहर से दरवाजा बंद कर दिया. मैंने राज के साथ जाकर अपनी बीवी को ट्रेनिंग सेंटर छोड़ा और राज ऑफिस निकल गया.

तो मैंने फोन उठाया तो उसकी आवाज आई- मैं बोल रही हूँ, तुम मेरे कमरे में आ सकते हो. थोड़ी देर बाद मैंने अंजुमन को बेड पर लिटा दिया और उसकी टांगों को अपने कंधे पर रख दिया. इतना कहने के बाद मैंने उसके होंठ पर अपना होंठ रख दिए और उसे चूमने लगा.

जोया- चुप कर कमीने, मैं तेरी फ्रेंड हूँ … कोई सड़कछाप लड़की नहीं हूँ … समझा!मैं- तो क्या हुआ मेरी जान तो ये तो और भी अच्छी बात है.

वो कभी कभी लंड की खाल को पीछे खिसका कर सुपारे को खोल देती और नंगे सुपारे को अपनी जीभ से चाटने लगती।ऐसा उसने करीब 10 मिनट तक किया।हम दोनों उसके बाद 69 की पोजीशन में हो गये।हालांकि हम दोनों ही सैक्स में नये थे लेकिन उसे मुझसे कुछ ज्यादा ही ज्ञान था क्योंकि वो अक्सर अपनी भाभियों से बात करने से थोड़ा बहुत सीख गई थी. सरिता भाबी बोली- तो इतने दिन तक मेरी सेवा कौन करेगा?दूध वाले ने कहा- एक महीने इंतजार कर लेना. वो मेरे होंठों से अपने होंठों को लगाने लगीं और मैं उनको चूमते हुए उनके कमरे के बेड की तरफ जाने लगा.

इससे निशा भाभी का भी जोश बढ़ने लगा और हमारे बीच वाइल्ड स्मूच होने लगी. मौका मिलने पर मैं लड़कियों के साथ पूरी ताकत से चुदाई करता हूँ और लड़कों के साथ उनकी गांड मारने का या उनसे अपनी गांड मरवाने का मजा लेता रहता हूँ. मेरा पूरा बदन अच्छी तरह भरा हुआ था और मेरा फिगर उस समय 34-30-36 का था.

अब सुबह करीब 4 बजे मैं अपनी गाड़ी के पास आई, तो वही पर एक हैंड पम्प लगा था.

धीरे धीरे अब कोमल के होंठ भी खुलने लगे थे और हम दोनों एक दूसरे से और ज्यादा चिपक गए थे. मुझे सोचते देख कर भाभी बोलीं- अच्छा तुम कुछ मत करना … जो करूंगी कि वो मैं करूंगी, तुम सिर्फ बैठे रहो और मजे लो.

हॉट हॉट बीएफ मैंने मामी जी को समझाते हुए कहा- हम पास में कोई होटल में रुक जाते हैं. थोड़ी देर बाद शीना अपना एक हाथ पीछे करके पीयूष के लौड़े को, जिसको वो चूहा समझ रही थी … हटाने लगी, तो उसका हाथ सीधा अपने भाई के लौड़े से टकरा गया.

हॉट हॉट बीएफ पर रोहन को ये नहीं पता था कि उसकी मॉम लंड देखते ही उसे चूसने तक पहुंच जाएगी. चूंकि मेरा ब्लाउज स्लीवलैस रहता है, तो ये और भी ज्यादा कामुकता बिखेरता है.

कुछ ही समय में मैंने अपने हाथों को उसकी गांड की गोलाइयों तक पहुंचा दिया और उसकी गांड को सहलाने लगा.

भाभी की चुदाई होटल में

पिछली चुदाई से जो जेठजी ने मेरे स्तन पर दांतों से चबाया था, उस वजह से अब जब मेरे स्तन में मुझे दर्द का अहसास भी हो रहा था. कुछ देर बाद अंकल भी बाहर आ गए, तो मैं उनके चिपक कर बैठ गई और उनके साथ लैब आ पहुंची. सारा भी कमल की नज़र बचा कर बेडरूम में गयी और लिपस्टिक ठीक करके डिनर लगाने चली.

उसके बड़े बड़े बूब्स मेरे लौड़े को टाइट करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे थे. कार्तिक ने मुझे बांहों में ऐसे भर लिया था कि हमारे बीच में से हवा निकल ही न सके. वो मेरे थोड़ा पास आया और उसने मेरी नंगी कमर पर पीछे से हाथ डाल कर मुझे अपनी ओर खींचा और बोला- जब पसंद हूँ … तब बात करने में क्या दिक्कत है.

मैंने उसके टॉप के अन्दर से ही उसके एक चुचे को पकड़ लिया और मसलने लगा.

वो अब तक दो बार झड़ चुकी थीं और उनके चेहरे पर एक अलग ही चमक सी खुशी देखने को मिल रही थी. हम दोनों इनकी मौत के सदमे से उभर भी नहीं पाए थे कि हमको पैसों की दिक्कत आने लगी थी. मेरी नजरों में वो सब चेहरे आने लगे, जो मेरी चुत के लिए आराम से सैट किए जा सकते थे.

मुझे पूरा अहसास हो रहा था कि मेरी चूत की गहराई में जेठजी का पोषक वीर्य एक तेज धार की तरह मार कर रहा था. मैंने उस डिल्डो को नजर भरके देखा और उस भाभी को बोला- लो आपकी जल गई. जो सेक्स कहानी काल्पनिक होती है, उसमें शुरू में ही उसके बारे में लिख दिया जाता है.

करीब 15 मिनट तक ऐसे ही मैं आयशा की चूत चाटता रहा और नाजिया मेरा लंड चूसती रही. आपकी आंखें आपसे भी ज्यादा सुन्दर हैं, जी करता है कि आपको और आपकी आंखों रोज देखता रहूँ.

वो 23 साल की मासूम सी दिखने वाली लड़की, तीखे नैन, गुलाबी होंठ, चौतीस की चूचियां. वो बोली- हां पूछो, क्या पूछना है?मैं- तुमको सेक्स करके कैसा लगा?मेरी बहन ने मेरी बात का कोई जवाब नहीं दिया. बीवी के पीरियड के टाइम ही मैं उसे नहीं चोद पाता हूँ … बाकी समय तो न उसे चैन पड़ता है और न मुझे.

जब भी मैं कुर्सी पर बैठती तो मुझे उसके लन्ड पर अपनी गांड रगड़ते हुए जाना पड़ता.

वो कहती थी कि राज अब तो कैसे भी करो, लेकिन मुझे चोद दो, मेरे भोसड़े को चूसो. बातें करते करते मैंने एक दिन खुशी को प्रपोज़ कर दिया लेकिन उसने उस समय मना कर दिया. मैंने उसकी चूचियां दबाई और फिर उसको अपनी तरफ घुमाकर उसे किस करने लगा.

विजय ने दरवाजे को बंद किया और तब तक भाभी ने भी खाने का टिफिन टेबल पर रख दिया था. वो मेरे बगल में बैठ गयी और उसने अपना हाथ मेरी पैंट की ज़िप पर रख दिया.

मैं बिहारी में कहूँ, तो बिल्लो रानी कही, तो जान दे देयी, हाय रे मोर बिहार वाली विपाशा. कार्तिक ने भी मेरे ब्लाउज के बटन कब खोले और कब मेरी नंगी छाती कार्तिक के सामने आ गई, मुझे पता भी नहीं चला. मैंने उनको चूमा और कहा- भाभी आपको भी मज़ा आया और मुझे भी … अब क्या हुआ?पर भाभी कुछ नहीं सुन रही थीं.

सनी देओल सेक्स

उनका लन्ड करीब 7 इंच का था। इतना बड़ा लंड मैंने कभी किसी मर्द का नहीं देखा था.

मैं थोड़ी देर ऐसे ही उनको चोदता रहा, फिर मैंने उनको आगे पलटा दिया और उनके मम्मे पीते हुए उनको चोदने लगा. अंकल को जब इसका अहसास हुआ तो उन्होंने मुझे एकदम से पकड़ लिया और मुझे अपने से एकदम सटा लिया. पर पंकज मेरी बहन को चोदे बिना कहां मानने वाला था; फिर वो मेरी बहन को किस करने लगा और उसकी चूत पर लंड सैट करके अन्दर डाल दिया.

मैंने उससे पूछा- बताओ क्या काम है, जिसके लिए तुम मुझे बुला रहे थे?लड़का- मुझे आपका नंबर चाहिए. इधर मैंने भी लंड को धक्का मारा तो मेरा मोटा लंड उस रांड की चुत में घुस गया. लंड कैसे जाता हैअब भाभी भी फुल एन्जॉय कर रही थीं और मेरा पूरा साथ दे रही थीं- आह आह उह आह राजा … अह उम्म अह चोदो मुझे … और ज़ोर से … आह औरज़ोर से चोदो मेरी जानआह आह.

वो बोली- मुझे मालूम है कि तुम मुझसे क्या कहना चाहते हो!मैंने उसकी बात सुनकर उससे पूछा- तुम क्या जानती हो कि मैं क्या पूछना चाहता हूँ?वो बोली- कुछ नहीं … तुम बताओ. और क्या चुचियां थी … बिल्कुल टाइट कैनवास के बाल जैसी!मेरे एक हाथ में तो पूरी आ भी नहीं रही थी, इतनी बड़ी बड़ी थी। उनको मसलने में मुझे बहुत मजा आ रहा था.

मामी आह भरते हुए कहने लगीं- इतनी देर से क्यों तड़पा रहे थे?मैंने कहा- बस अब नहीं तड़फाऊंगा मेरी जान. एक दिन रात में उन्होंने मुझे नॉनवेज जोक्स भेज दिए, जिसमें चुदाई की बातों का खुल कर बखान किया गया था. मैंने दस बीस तेज शॉट मारे और लंड बाहर निकाल कर उसके पेट पर वीर्य छोड़ दिया था.

अपनी टांगों को मेरे कंधों पर रख कर मेरे गले को एकदम से दबा कर मुझे अपनी चूत में लगभग बांध लिया था. दीवाली की छुट्टियां खत्म होने की वजह से मुंबई जाने के लिए बहुत भीड़ थी. इसी तरह बात करते हुए एक दिन उसने कहा कि मुझे तुमको देखने का बहुत मन कर रहा है.

अमित ने एक हाथ से अपने लंड को चूत पर रगड़ा और चूत के छेद पर लंड के सुपारे को सैट कर दिया.

तो मैंने धीरे धीरे अपना हाथ चलाना शुरू कर दिया।तभी उसने करवट बदल ली अब उसकी नाईटी पैरों से ऊपर चढ़ गई।मैंने उसे कहा- थोड़ी खिसको, मैं किनारे पर हूं. फिर हॉल से निकलते ही मैंने अपना मोबाइल कान से लगाया और फाल्स कॉल किया.

मैं भी यह सोच कर खुश हो रहा था कि अगर अंजलि वाइफ स्वैप सेक्स के लिए मान जाए, तो आज मंजू की चुत चुदाई का मज़ा आ जाएगा. समीक्षा के पास मेरा नंबर था, अगर उसे कोई प्रॉब्लम या परेशानी होती थी, तो वह मुझे कॉल कर देती थी. इस बात पर मैंने ज्यादा ध्यान नहीं दिया क्योंकि मैं उनकी उदासी को कैसे दूर कर सकता था.

सारा कमल पर ज्यादा हावी नहीं हो सकती थी क्योंकि उसके सारे महंगे शौक तो कमल के पैसों से ही पूरा होते थे. उसने मेरे लंड को लोअर के ऊपर से ही हाथ में भर लिया और फिर पास आते हुए मेरे कंधे पर सिर रखकर मेरे कान में धीरे से सुबह के लिए सॉरी कह दिया. [emailprotected]देसी मामी सेक्स कहानी का अगला भाग:सबसे छोटी मामी जी को बीहड़ में पेला- 2.

हॉट हॉट बीएफ जेठजी उठे और मेरी दोनों टांगों को अपने दोनों बलिष्ठ हाथों से पकड़ कर फैला दिया और अपने लंड को मेरी चूत के ऊपर टटोलते हुए चुभाने लगे. आज मैंने पहली बार किसी का लंड अपने मुँह में लिया था, तो मुझे भी कुछ देर बाद लंड चूसने में मजा आने लगा.

लिंग को बड़ा करने की दवा

एक दो दिन तो मैंने किसी तरह सब्र किया लेकिन फिर ससुर का लंड मेरे दिमाग में घूमने लगा. मस्त गोरी चुत और उसके गुलाबी होंठ … उसके ऊपर हल्की हल्की रेशम सी झांटें …आह … मेरा मुँह खुद ब खुद उसकी चुत पर चला गया. रोमी बोला- क्या तुम्हारी गांड अभी तक किसी ने नहीं मारी है?सरिता भाभी बोली- नहीं … मेरी गांड अभी तक किसी ने नहीं मारी.

चूंकि मेरा ब्लाउज स्लीवलैस रहता है, तो ये और भी ज्यादा कामुकता बिखेरता है. पर थोड़ी देर तक ही खेला … आज पता नहीं क्यों हम दोनों को खेलने में मजा नहीं आ रहा था. इंग्लिश सेक्सी बीपी बीएफउस दिन भी मैंने दो खिलौने खरीद लिए और उसकी मादक जवानी को अपनी कामुक आंखों से चोद कर आ गया.

उनको मैंने पूरी नंगी करके ठोका और वो भी दोनों चुदकर मेरी दीवानी हो गयीं.

उसने मुझे मैसेज पर तुरंत जवाब दे दिया कि मैं आपको बाद में फोन करूंगा. मामी की चूत हाथ में आते ही मैं उसको जोर जोर से दबाने लगा और उनकी गांड पर लंड के धक्के देने लगा जैसे कि मैं उनको चोदने की कोशिश कर रहा हूं.

मैंने बोला- यार मैं तो तुम्हारा अपना भाई हूँ, कोई बाहर का नहीं … पंकज तो बाहर का है. वो मेरी जीभ की खुरदुराहट को अपनी चुत पर महसूस करने लगी और सिसकारियां लेने लगी, अपने मम्मों को दबाने लगी. दीदी की चूत को उंगली से चोदने के बाद अब मेरा लंड पूरा गीला हो चुका था।उठकर मैंने तुरंत अपने कपड़े उतार फेंके और नंगा हो गया।मैंने तुरंत अपना लन्ड नेहा की चूत पर रखा और एक धक्के के साथ उसकी चूत में लंड घुसा दिया.

वो मुझसे नाराज हो गया कि बिना बताए दोनों साथ में कैसे घूम रहे हो वगैरह वगैरह.

फिर मैं सुहैला के ऊपर चढ़ गया और उसके दोनों निप्पलों को बारी बारी से चूसने लगा. अगले ही पल वो घुटनों के बल बैठ गई और मेरे खड़े लंड के सुपाड़े को मुँह में लेकर चूसने लगी. उनकी चूचियां 36 के साइज की थीं और उनके सूट में उनके सीने पर पूरी कसी हुई रहती थीं.

सेक्सी देना हिंदीमेरी दूल्हा दुल्हन सेक्स कहानी के पहले भागशादी के बाद सुहागरात की तैयारीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने अपनी बीवी के ब्लाउज को खोलने लगा था. अब आगे कुकोल्ड सेक्स कहानी:फिर मैंने भाभी से पूछा कि आपने जब मेरा लंड अन्दर लिया तो क्यों रो रही थीं.

टाइगर सेक्स वीडियो

इसी के साथ आंटी ने मेरी कुछ तारीफ भी की और रिट्ज से बोलीं- आज से तुम दोनों दोस्ती कर लो. मुझसे रहा नहीं गया और मैंने भाभी को पीछे से पकड़ कर उनकी गर्दन पर किस करने लगा. साले इस कोरोना के चक्कर में बहुत दिनों से कोई नई चूत ही चोदने को नहीं मिली.

मैंने जोर से उसको अपनी बांहों में भींच लिया था, जिससे उसके बोबे पिचक कर मेरे सीने से पिसने लगे थे. कुसुम को मज़ा आने लगा और उसकी कमर नीचे से उठ कर लंड में धक्के लगाने लगी. कुछ देर बाद अंकल भी बाहर आ गए, तो मैं उनके चिपक कर बैठ गई और उनके साथ लैब आ पहुंची.

चूत के रस से मेरी गांड भी पूरी तरह भीगी हुई थी जिसके कारण बड़ी आसानी से फच फच करके उंगली मेरी गांड में घुस गई. वो 19-20 साल का जवान लौंडा था और मुझे चुदता देख कर लंड हिला रहा था. कुछ देर बाद मैं सत्यम के लंड से हटी तो मम्मी सत्यम का लौड़ा चूसने लगीं और मुझे भी अपने साथ सत्यम को लौड़ा चुसवाने लगीं.

वो उठने को हुई ही थी कि तभी रोहन ने अपनी मॉम को पकड़कर बेड पर गिरा लिया और उसे अपने नीचे लेकर उसके ऊपर चढ़ गया. क्या मॉम मुझे अपने साथ चुदाई करने के लिए आए इस मौके के बारे में रास्ता दिखा रही हैं कि लंड घुसेड़ने का मौका है.

उसने तुरंत अपना लंड बाहर निकाल लिया और अपनी मॉम को पलट कर उसके चेहरे के पास लंड ले आया.

बहुत मुश्किल से उसकी गांड पर टोपा घुसा और गांड के छल्ले पर टोपा अटक गया. भोजपुरी देहाती बीएफइसी बीच अंकल अंजाने में या जानबूझ कर मेरी गांड में एकदम घुस से गए थे. सेक्सी बीएफ भाभी जीमैंने कहा- पूजा, तूने पंकज को मना कर दिया था मगर मैं तो तेरा भाई हूँ. इस समय भी उसी निप्पल को जेठजी अपने मुँह में भरे हुए थे … लेकिन वासना के मजे का अनुभव, उस दर्द से कहीं ज्यादा था.

दीक्षा मामी ने घर की इज्जत बनाये रखने और अपनी बेटी की वजह से दूसरी शादी नहीं की थी.

वो 19-20 साल का जवान लौंडा था और मुझे चुदता देख कर लंड हिला रहा था. मैंने दोनों हाथों से जेठजी के सर पकड़ कर ज़ोर से अपने सीने पर दबा दिया. पति के गुज़र जाने के बाद शुरुआत के कुछ साल मेरे और मेरी बेटी के लिए बहुत मुश्किल के थे.

अगर तुम ऐसा कर सकते हो तो ठीक, नहीं तो हम दोनों ने एक दूसरे को देख तो लिया ही है. ये सेक्स कहानी आज से दो साल पहले उस समय की है जब मैंने इंटर पास किया था. जीजू की आंखें मुंद गईं और वो मेरे सर पर हाथ रख कर लंड चुसाई का मजा लेने लगे.

xxcxx जीथब 2017

कुछ देर तक मैं उसके मम्मे मसलते हुए उसे अपने लंड पर झूला झुलाता रहा. दूध वाले की आंखें फट गईं और वो सरिता भाबी की गोल मस्त उभरी हुई गांड और काली रसदार चिकनी चूत देखकर पागल हो गया. और उसके बाद धीरे फिर से वो पानी छोड़ने लगी।उसकी कमर चलती रही, उसको सांस चढ़ने लगी।मैंने पूछा- मैं ऊपर आऊँ”?वो बोली- नहीं, अब तो मर कर ही नीचे उतरूँगी।वो मुझे पेलती रही.

वो एक पल के लिए चौंका क्योंकि उसे घर का मेन दरवाजा खुला ही मिला था.

थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि वह लड़की छत पर गई और अपने कपड़े उतारने लगी.

सबसे पहले उसने अपने कुर्ती ऊपर की और उसे अपने बदन से अलग कर दी अन्दर से काले रंग की ब्रा उसे मादक बना रही थी. फिर बताना।प्रिया बहुत जोर से हँसने लगी।फिर हमने दो दिन बाद मेरे फ्लैट पर मिलने का प्रोगाम तय किया।वो निर्धारित टाइम पर आ गई. बीएफ सेक्सी व्हिडिओफिर मेरे नाना ने मुझे भी वहीं रोक लिया क्योंकि रिया की देखभाल अच्छे से हो जाती.

सरिता भाबी की की चुदाई के लिए न जाने कितने ऐसे मर्द थे, जिन्होंने सरिता भाबी को देख देख कर अपनी आहें भरी थीं. मैंने पूछा- तो तुम्हारी सुहागरात नहीं मनी?वो दुखी स्वर में बोली- नहीं. तब तक कुसुम ने रोहन को आवाज देकर बुलाया और उसे शेखर के सामने खड़ा कर दिया.

पहली बार मुझे दीदी के चूचे नंगे देखने को मिले।एकदम से मेरा लंड फनफना उठा. मैंने कहा- दूध निकलता भी है?वो बोली- अभी नहीं, लेकिन मजा दूध पीने का न आए तो कहना.

पर आपने रोना शुरू कर दिया, तो मुझे कुछ सूझा नहीं और मैं ये सब कर बैठी.

सोनू बीच बीच में मेरे लंड के नीचे गोटियों को हाथ से सहला देता था तो मेरा लंड और भी ज्यादा फड़फड़ा उठता. थोड़ी देर तो कोमल ने कोई रिस्पांस नहीं दिया, लेकिन जब मैंने उसे और जोर से अपनी बांहों में भींचा, तो उसने मेरी जीभ को चूसना शुरू कर दिया. मेरे पूछने पर उसने बताया कि वो कल से एक हफ्ते के लिए अपनी नानी के घर जा रही है.

सेक्सी फोटो भाभी मैं- वैसे तुम दोनों का तो ठीक चल रहा है ना!समीक्षा ने कहा- हां लड़ाई खत्म हो गयी लेकिन बात ढंग से नहीं होती. इंदौर के इस एक कमरे के घर में मैं औऱ बहन ही थे, खाने पीने का सब इंतजाम था … लेकिन बीवी की कमी थी.

जब लाइट ऑन की, तब हम सबको देख पहले वह चौंक गई और जल्दी से आकर मेरे गले से लग गई. कुछ 15 मिनट बाद रमेश अन्दर आया और नासिर जी ने बाहर से दरवाजा बंद कर दिया. अपनी जीभ निकाल कर मैं उसके घुटनों से लेकर उसकी चूत के नज़दीक तक जीभ फिराने लगा। मेरे इस तरह करने से वो कामुक आवाज़ें निकालने लगी।उसने अपने हाथों से मेरे सिर को पकड़ा और चूत की तरफ खींचने लगी।मैं जानबूझकर उसको सता रहा था।छोटी अब कंट्रोल से बाहर हो चुकी थी। उसने मुझे बेड पर लेटने को बोला।मैं बैड पर लेट गया.

मोहम्मद सेक्सी वीडियो

लंड तन कर घोड़ा हो गया, तो वो कहने लगीं कि ज्यादा समय नहीं है जानू, तुम जल्दी मेरी आग शांत कर दो. एक दिन मुझे सुनील का मेल आया और उसने किसी प्रशंसक की तरह मुझे बताया कि आपकी कहानियां मुझे बहुत पसंद हैं. मेरे लिंग महाराज जोर-जोर से उसकी चूत के अंदर गर्भाशय तक जोर की चोट मार रहे थे और हर एक जोर के धक्के के साथ नैना भी आनंदित हो रही थी.

मैंने उसके एक दूध को अपने मुँह में भर लिया और जोर जोर से चूसने लगा. सुबह जब वो दूध देने आता, तब सरिता भाबी जानबूझ कर दूध वाले के सामने रात की खुली हुई नाईटी में आती और झुक कर दूध लेती.

देखने में बहुत बोल्ड सी थी और उम्र उसकी 23 साल थी जो उसने मुझे बाद में बताया था.

मेरे घुटने मोड़ कर उसने चुत का एक चुम्मा लिया और दोनों पैर को अलग करके जगह बना ली. मैं मस्ती से नीचे से झटके मार रहा था और बार बार बिखर रहे चंचल के बालों को सही किए जा रहा था. उसके घुटनों के नीचे तकिया लगाने से उसकी गांड थोड़ी ऊपर की साइड में हो चुकी थी, जो मुझे मजेदार लग रही थी,मैं रुक नहीं पा रहा था तो मैंने फिर से अपना मुँह उसकी चूत में डाल दिया और उसको पूरा चूस लिया.

वो बोली- रमेश, तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है और मोटा भी … इसलिए मुझे दिक्कत हो रही है. मैं- अरे तुमको नहीं पता, मैं शादी शुदा हूँ और मेरी और तुम्हारी उम्र देखी है … पागल हो क्या तुम?लड़का- अब देखो आप मुझे अच्छी लगीं, तो मैंने आपको बोल दिया. किसी तरह भीगते बचते हुए हम होटल आए, उधर कपड़े बदले और राज को, उसके घर से लिए हुए कपड़े वापस करके हम दोनों स्टेशन आ गए.

हालांकि मैं भी जवानी के नशे में मुठ मारने लगा था मगर मैंने अभी तक कभी भी अपनी बेहन के बारे में गलत नहीं सोचा था.

हॉट हॉट बीएफ: लकी ने सारा की फ्रॉक में ऊपर से अंदर हाथ डाल दिया और उसके निप्पल दबा दिए. इसके बाद मैं उसी के मुँह पर झड़ गयी और मेरी चूत का सारा पानी सत्यम पी गया.

दूसरे हाथ से मेरे बूब्स को भी दबाए जा रहा था।कुछ समय बाद सागर ने मुझे खड़ा किया, मुझे हल्का सा झुका के मेरे होठों पर अपने होंठ रख कर चूसने लगा. फिर उसका काम भी ज्यादातर बाहर टूरिंग का है तो उसने भी मुझे यहां रहने के लिए हामी दी है. मैंने अन्दर उंगलियों को खोलना शुरू कर दिया, जिससे छेद खुल जाए और बड़ा हो जाए.

काफी समय तक उसने मुझे ऐसे ही चोदा, फिर वो मेरे पीछे आ गया और मैं पलंग पर झुक गई.

इससे वो गुस्सा हो गईं और बोलीं- निकाला क्यों?मैंने कहा- मेरा होने वाला है, कहीं अन्दर निकाला तो गड़बड़ हो जाएगी. चंचल मुझे देख कर बोली- जीजू आप मेरे कमरे में इतनी लेट नाईट … अगर दीदी ने देख लिया, तो गजब हो जाएगा. अब मैं उसके कोमल कोमल होंठों को चूमने लगा और उसकी चुचियों को सहलाने लगा.