ब्लू पिक्चर हिंदी में बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,सेकसि बिडयो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी छोटी वाली सेक्सी: ब्लू पिक्चर हिंदी में बीएफ सेक्सी, सबके चले जाने के बाद जब पम्मी आंटी वापसी अपने फ्लैट में गईं, तो मैं भी उनके पीछे पीछे उनके फ्लैट में चला गया.

ओन्ली सेक्स बीएफ

घर की परिस्थितियों की वजह से मुझे काम की जरूरत पड़ी तो मैं अपने ही शहर में काम की तलाश करने लगा. नौकरानी का बीएफ वीडियोअब वो मेरे सामने सिर्फ ब्रा और पैंटी में थी।मेरा 7 इंच लम्बा लन्ड अब बिल्कुल सख़्त हो चुका था जैसे अभी पैंट फाड़ कर बाहर आ जायेगा।मेरी चाची ने मेरे लन्ड को खड़ा देखा और हल्का सा मुस्कुराते हुए मुस्कान को कहा- पूरी नंगी हो जा बेटी!मुस्कान ने अब अपनी ब्रा ओर पैंटी भी निकल दी.

हॉट सिस्टर Xxx कहानी मेरे भाई के साथ शुरू हुए सेक्स के आकर्षण की है. बीएफ फिल्म चोदा चोदीसेक्स कहानियों को पढ़ते पढ़ते कब एक महीना निकल गया, कुछ पता ही नहीं चला.

मैं स्क्रीन पर उसका नाम देख कर सोचने लगा कि ये मुझे क्यों फोन कर रही है?कुछ पल बाद मैंने फोन उठाया और कहा- गुड आफ्टरनून डाक्टर!तो उसने कहा- थैंक्स हर्षद … तुम्हें भी.ब्लू पिक्चर हिंदी में बीएफ सेक्सी: मैं जल्दी से चाभी को लेकर ऊपर आया और निशा के रूम के बाहर खड़ा हो गया.

भावेश के पापा काफी हट्टे-कट्टे थे और अपनी धुन में ज्यादा ही रहते थे.मुझे इस तरह से देखते हुए निशा बोली- क्या हुआ … ऐसे क्या देख रहे हो?मैंने कहा- तुमको देख रहा हूँ … सच में बहुत हॉट लग रही हो.

ब्लू पिक्चर दिखाइए चुदाई वाली - ब्लू पिक्चर हिंदी में बीएफ सेक्सी

आह … आह … आह … आह … आह … आह … आह!”उसके काफी देर बाद उन्होंने मेरी चूत में अपना रस बरसा दिया और मुझे दबोच कर बिस्तर पर लेट गए.मैंने चाची से कहा- चाची, अब आप यह क्या कर रही हो?चाची बोलीं- आ जा … तुझे तो बिना आज मेरी चूत मारे नींद नहीं आने वाली है.

तभी मैंने अचानक से एक जोरदार धक्का से मारा और मेरा पूरा लंड चुत को चीरता हुआ अन्दर समा गया. ब्लू पिक्चर हिंदी में बीएफ सेक्सी जिस वजह से उसे मुँह बना लिया था और मुँह में आए हुए लंड रस को थूक कर अपने आपको ठीक करने लगी.

ये सब देख कर मेरा आठ इंच का लौड़ा तो जैसे निक्कर फाड़ कर बाहर आने को हो गया था.

ब्लू पिक्चर हिंदी में बीएफ सेक्सी?

अब दीदी को बुर और गांड से इतना ज्यादा दर्द हो रहा था कि वो ठीक से चल भी नहीं पा रही थी. टीना को रात को मैंने बड़ी बेदर्दी से चोदा था तो उसे चलने में थोड़ी दिक्कत थी लेकिन वो किसी तरह से अपने घर चली गयी. रेखा कसमसाकर बोली- हर्षद अब बेडरूम में चलो, मुझसे और सहा नहीं जा सकता.

भैया बोले- क्या बोला था मेरी जान?मैं- भूल गए, मुझे बच्चा चाहिए आप बोले थे न कि मैं दूंगा. उसने मेरे लिंग का स्पर्श पाकर अपना गाल लंड पर रख दिया, जिससे मेरे लंड में और उफान आ गया. फिर वो एकदम मेरे लंड पर तेजी से नीचे हो गई जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया.

मैंने उसे समझाया- कल को कोई ना कोई तो तुम्हें चोदता ही, तो मैंने ही चोद दिया, तो क्या हुआ. मैंने अपनी बीच वाली दो उंगलियां चुत में डाल दीं ओर आगे-पीछे करने लगा. मैंने फिर से लंड पेला और एक तेज झटके में आधा लंड चाची की कसी हुई चुत को फाड़ता हुआ अन्दर घुस गया.

पर मैंने तो आज अन्दर ब्रा नहीं पहनी थी और बारिश की वजह से मेरे बूब्स साफ दिखने लगे थे. तू बहुत ही कमाल का मर्द है और मेरा अच्छा दोस्त है … सच में यार बहुत मजा आ रहा है.

मैंने जल्दी ही उसको बिस्तर पर लिटाते हुए उसके पेट पर अपनी जीभ चलाना शुरू कर दिया.

मैंने उससे पूछा- क्या रहा?तो उसने मुझसे कहा कि कंपनी वाले अभी बताएंगे.

मैंने भी उससे कहा- हम दोनों सब साझा करते हैं, अब जब भी तेरी इच्छा हो, तब शनाया को बुलाकर चोद लेना. ये हॉट सिस्टर Xxx कहानी हमारे मतलब हम दोनों भाई बहन के 19 वें जन्मदिन की है. शाम को खाना खाने के बाद टीवी देखी और नीरजा को आवाज दी मगर नीरजा को नींद आ रही थी तो वो नहीं आई.

मन का हालचाल क्या बताऊं … इधर भी धड़कन बेहाल थी और उधर भी धड़कनें उखड़ी हुई थीं. मैं- पर भाभी टेस्ट ट्यूब बेबी भी तो कर सकते हैं न!भाभी- हां पर स्पर्म डोनेट कौन करेगा. इसका फायदा ये था कि जब मेरा मन करता था, तब मैं अपना लंड उसकी चुत में डाल देता था और हमारी घमासान चुदाई शुरू हो जाती थी.

हर्षातिरेक में मैंने आंखें बन्द करके उस क्षण का मज़ा लेना शुरू कर दिया.

मैंने बातों ही बातों में अमित का हाथ पकड़ा और उसको अपने पेट पर रख लिया. मैं अब उसके लंड को किसी कुल्फी की तरह चूस रहा था और वो मस्त आहें भर रहा था. वो मेरे साथ ऐसे व्यवहार कर रहा था जैसे वो मेरा पति हो या ब्वॉयफ्रेंड हो.

फिर थोड़ी देर बाद उसने मुझको अपनी टांगों के बीच में आने को कहा और अपनी दोनों टांग उठाकर मुझको सैट का लिया. मैंने अपनी पैंट और टी-शर्ट निकालकर बेड पर रख दिए और सिर्फ अंडरपैंट में ही बाथरूम में जाकर फ्रेश होने लगा. मैंने पूछा- क्या हुआ?तो बोली- कुछ नहीं।मैंने उसे कहा- खाना बनाकर कमरे में आ जाओ।आगे की कहानी कभी बाद में!पाठको, कुछ बातें जाने अनजाने मैंने इस कहानी में नहीं लिखी हैं.

कुछ ही देर में मैंने होंठों को चूसते हुए उसकी और अपनी शर्ट उतार दी.

मैंने उसकी आंखों की पट्टी थोड़ी सी हटाई और उसके सामने खुद भी बिल्कुल नंगा हो गया. आज मैंने भी सोचा कि मैं भी अपने जीवन के सेक्स अनुभव में से एक मस्त सेक्स कहानी आप सभी के साथ साझा करूं.

ब्लू पिक्चर हिंदी में बीएफ सेक्सी फिर एक घंटे बाद उसका फिर से फ़ोन आया अब मैं समझ गया था कि आग उधर भी लगी है. दो तीन कोशिशों में जब कामयाबी नहीं मिली तो उसने खुद अपने ब्लाउज को ऊपर खिसका दिया।ब्लाउज अब भी था तो सीने पर मगर मम्मे आजाद थे।मैंने उनको अपने हाथों में भर लिया.

ब्लू पिक्चर हिंदी में बीएफ सेक्सी मेरी तरफ देख कर वो हंसती हुई बोली- अभी तक नंगे ही घूम रहे हो क्या हर्षद?मैं बोला- बस मैं अभी नहाकर आया हूँ सरिता … और तुम अन्दर आ गईं. लगभग 5 मिनट चूसने के बाद आंटी का शरीर कांपने सा लगा और आंटी मेरे मुँह में ही, दबी दबी सिसकारियों के साथ झड़ गईं.

मेरे लैटर के जवाब में उसने अपना नंबर दे दिया और हमारी बातचीत शुरू हो गई.

सेक्सी चुदाई ओपन

अब मैंने अपने धक्के देने की गति बढ़ाई तो चूत और लंड के घर्षण से पच पचा पच फच फच की आवाजें गूंजने लगी थीं. मुझे इस उम्र में झांट तमीज नहीं थी कि मम्मे का निप्पल कड़क होने का मतलब है कि लड़की या औरत को मजा आना शुरू हो गया है. मैंने हंस कर कहा- अरे वाह … तुमने तो उसके साथ गंगा जी में डुबकी भी लगा ली?वो भी हंस दी- नहीं यार!फिर मैं बोला कि अगर मैं कभी तुम्हारे गांव आया, तो मेरे साथ घूमने चलोगी?शिल्पा बोली- हां चलूंगी … पर ये सब बातें दीदी को मत बताना ओके.

मैंने अपना लंड हाथ में पकड़कर पत्नी की चुत में प्रवेश करा दिया तो पत्नी ने मुझसे कहा- धीरे धीरे चोदो, मुझे अन्दर तक पेट में दर्द हो रहा है. विलास ने मेरे लंड पर हाथ रखकर कहा- अरे यार, तेरा तो अभी भी इतना बाहर है हर्षद … बता न कितना अन्दर गया है?मैंने बोला- बेटा अभी आधा ही अन्दर गया है. मैंने कहा- क्या डाल दूँ जान?वो बिंदास हो गई और बोली- मेरी चूत तड़प रही है.

उन्होंने जीजा के सामने फॉरमॅलिटी के लिए मुझसे फिर से घर आने को कहा.

ऊपर के दो बटन खुलने से उसके गोल मटोल दूध से भरे स्तन मेरे सीने पर दब गए थे. फिर मैंने एक वीडियो देखी, जिसमें लड़की लाल रंग की ब्रा पैंटी पहने लड़के से मालिश करवा रही थी. मैंने दोनों हाथों पर थोड़ी थोड़ी मेहंदी लगा दी थी ताकि उसके दोनों में से कोई भी हाथ खुजली न कर सके.

लंच में उसने मुझसे कहा- आप मुझे बहुत अच्छे लगते हैं।ये कहते ही वो मेरे गले लग गई और कब हमारे ओंठ आपस में मिल गये, हमें पता ही न चला. कुछ देर बाद जब अदिति को थोड़ा आराम हुआ तो मैंने लंड को पीछे खींचकर एक जोर का झटका मारा. पहले दिन जब वह आयी, तो उसको अपने सामने देख कर मेरे मुँह से आवाज नहीं निकल रही थी.

उसने पूछा- खाना खाया?मैंने कहा- अभी तो आया हूँ यार, अभी कहां से … अब बनाऊंगा तब ना खाऊंगा. देखते ही देखते मैं पोर्न, कामुक किताबें, सेक्सी कहानियां इनका नियमित एडिक्ट बन गया.

अब पापा ने मेरे सभी कपड़े और ब्रा पैंटी को उतार दिया और मुझे पूरी नंगी कर दी. मैंने सोनाली की पीठ सहलाते हुए उसके ब्लाउज के हुक खोल दिए और नीचे हाथ डालकर उसके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया तो पेटीकोट जमीन पर गिर गया. मैंने जींस की चैन खोली और लंड पर थूक लगा कर और हाथ से पकड़ कर आगे पीछे करने लगा.

हम दोनों कुछ देर इधर-उधर की बातें कर ही रहे थे, तभी शिखा की सहेली के पास किसी का फोन आया और वह थोड़ी देर बाद चली गई.

उस दिन तीन बार चुदाई करने के बाद मैंने देसी गर्लफ्रेंड को वापिस मार्केट में छोड़ दिया. मेरी सौम्या डार्लिंग अभी झड़ी नहीं थी तो मैंने सौम्या की चूत में अपनी दो उंगलियां डाल कर कुछ देर हिलाईं. उसके बाद …दोस्तो,मेरी पिछली गे सेक्स विद मेन कहानीगांडू दोस्त की गांड चुदाई और बेवफाईआपने पसंद की.

लंड से चुदती हुई चाची ‘आह आआ …’ करती हुई अपना भोसड़ा राहुल से चुदवाने में मस्त होने लगी थीं. मैं भी होने ही वाला था, मैंने भी अपनी स्पीड तेज कर दी और हम दोनों एक साथ स्खलित हो गए.

जब शाम के 5 बज गए, तब खाला ने कहा- तेरी अम्मी आने वाली होगी, खाना भी बनाना है. अदिति के एग्जाम के बाद उसकी मम्मी पापा और भाई की एक एक्सिडेंट में मौत हो गई थी. मैंने भाभी से पूछा कि आप तो बहुत सुंदर हो, तो आप ऐसे बिना सजधज के क्यों रहती हो?भाभी ने उत्तर दिया- किसके लिए सजना.

വലിയ മുലകൾ

मैंने हंसते हुए ज़ोर से एक शॉट मारा और वो चीख उठी- आंह फाड़ दी रे … आह क्या मस्त लौंडा है तू साले … आंह चोद … और चोद … फाड़ दे मेरी चूत को … मस्त आआ.

वो बोले- नहीं सन्नो, मेरे दो दोस्त हैं, उनको भी तुम्हारे जैसे ही किसी का इंतज़ार है. दूध चूसते चूसते मैं उसके निपल्स को अपनी दांतों से कुरेदने लगा और हल्का हल्का सा काट भी देता तो रेखा सिहर उठती थी. फिर गुस्से से बोलीं- तो ये सब टच कर रहा है तू मेरे पीछे?मैं- सॉरी मौसी ग़लती से हो गया, आगे से ऐसा नहीं होगा.

दोस्तो, मैं यश हॉटशॉट एक बार फिर से आपके सामने अपनी कहानी को लेकर हाजिर हूँ. फिर मैं अपना लंड भी साफ करने लगा और उसी कपड़े से बेडशीट भी साफ कर दी. एक्सएक्स हिंदी मेंफिर से लंड पर और ज्यादा क्रीम लगाकर उसकी गांड में एक ही धक्के में पूरा डाल अन्दर दिया.

इस पर वो राज़ी नहीं हुई लेकिन रास्ते में थोड़ी देर बाद उसने हां बोल दिया. मेरा एक हाथ उसकी चूत पर रगड़ रहा था और अब दूसरा हाथ मैंने उसके सीने के ऊपर लिपटी हुई चादर को नीचे कर दिया.

शाम को 6:00 बजे तैयार होते हुए मैंने लाल ब्लाउज और गोल्डन बॉर्डर वाली काली साड़ी पहनी. मैंने सोचा कि अब देर करना ठीक नहीं है, वर्ना चाची का पता नहीं क्या हाल होगा. फिर उसने मेरी पैंटी उतार कर किनारे रख दी और मेरी चूत पर तेल लगाने लगा.

मुझे देख कर बोले- कहां?मैंने कहा- सर, ये मेरा दोस्त है, इसे मुंबई जाना है. उसे इस तरह देखकर मैं भी नंगी हो गई और दोनों पूरे नंगे होकर पूल में मस्ती करने लगे।अगले दिन एलिस्टर ने केविन और लांस के साथ एग्रीमेंट केंसिल करने वाले पेपर्स पर साइन कर दिए।एलिस्टेयर ने बिना कुछ कहे मुझे साथ घर चलने के लिए कहा और थोड़ी देर में वापस आने का बोल दिया।मुझे भी समझ नहीं आया कि उसने ऐसा क्यों बोला. मैं हमेशा सेक्स करने के बारे में सोचता रहता था पर मौका नहीं मिल पाया था क्योंकि मैं बहुत ज्यादा शर्मीला था.

और विशाल ने ये भी बताया कि उसने देखा था कि मोनिका की मां जब मोनिका के पिता से झगड़ा करती थी.

मैं उसकी इस हरकत पर थोड़ा सहम भी गई लेकिन मैंने कोई जवाब नहीं दिया. मुकेश भी हमेशा शांति से उनकी बात सुन लेता और मेरी ओर देख कर हंस देता था.

मेरी गांड भी बहुत दिनों से प्यासी थी, उसके हाथ के टच से मेरे लौड़े में जान आ गयी थी. उसने मेरी आंखों में देखा और कहा- अब ये ही चूसते रहोगे क्या?मैं तुरंत बोला- मैं इतना भी लुल्ल नहीं हूँ मेरी जान … मुझे मालूम है कि जन्नत का सुख किधर से मिलेगा. फिर अपने मुंह से उसके मुंह में मयंक का सारा माल दिया।कुछ मिनट तक हम दोनों मयंक का वीर्य अपने थूक के साथ एक दूसरी के मुंह में डालती रही और फिर थोड़ा मैं तो थोड़ा सीमा उसका वीर्य पी गयी।हम दोनों खड़ी हुई और मयंक को बारी बारी लिप किस करके थैंक यू बोला.

अभी वो दो साल बाद बाहर अपने मामा के घर रह कर वापस आई थी तो कुछ अलग ही माल बन कर आई थी. जी देखिए, अभी निकल पाना मुश्किल है और बाहर का माहौल आप देख ही सकते हैं. उन्होंने दीदी से कहा- अपने भाई का लंड भी चूस!दीदी हंस कर बोली- ये मेरा भाई है.

ब्लू पिक्चर हिंदी में बीएफ सेक्सी इस तरह की चुदाई में शिल्पा की हालत ज्यादा खराब हो रही थी क्योंकि लंड पूरा जड़ तक जा रहा था जिससे उसको दर्द हो रहा था. मेरा सगा देवर तो कोई नहीं है लेकिन वह गांव में मेरे पड़ोस का एक लड़का है.

डब्लू डब्लू सेक्सी वीडियो देहाती

इस पर वो राज़ी नहीं हुई लेकिन रास्ते में थोड़ी देर बाद उसने हां बोल दिया. मैं भी वहीं खड़ा होकर देखने लगा और अपने मोबाइल से उसकी वीडियो बनाने लगा. मैंने भाभी को करीब 5 मिनट इस पोजीशन में चोदा, फिर उनको अपने ऊपर आने को बोला.

कुछ ही देर में उसने अपनी उछलने की स्पीड को तेज कर दिया और उसकी आवाजें भी जोर जोर से निकलने लगीं. ” मयंक ने सिर्फ इतना ही कहा।अच्छा एक काम करो मयंक … उस गैराज वाले के पास जाकर सायकिल लेकर आओ. ٹرپل ایکس ایکس ویڈیوमैं उसके मुंह से अपनी गांड चोदने की बात सुनकर शरमा गई … शर्मा कर उसके गले लग गई.

कुछ देर बाद मैंने धीरे धीरे लंड को आगे पीछे करना चालू किया और उनको मजा आने लगा था.

फिर मैंने उसका सर पकड़ा और उसके मुँह में ही धक्के मारने शुरू कर दिए. असल में मैं बता दूँ कि उस तेल का प्रयोग सेक्स के दर्द को कम करने और आसान सेक्स के लिए किया जाता है,मैं उस तेल का प्रयोग फ़लक के साथ करना चाहता था जिससे गांड में लंड पेलने में उसको ज्यादा दर्द न हो.

मैंने उन्हें चुम्मी ली और कह दिया कि अच्छा भाभी सपनों में याद कर लेना और जब चूत में खुजली हो, तो फोन कर देना. पहले तो वो मना करने लगीं लेकिन मेरे बार बार कहने पर मान गईं और वो मेरे बेड पर लेट गईं. मैं लगातार तड़फ रही और चीख रही थी- अहहह उउईइ मांआ मर गई …मेरी चुत फट गई.

फिर उन्होंने मुँह खोला तो मैंने धीरे से पूरा लंड उनके मुँह में दे दिया और उनके मुँह को चोदने लगा.

रीता ने फिर से लिखा- तो आज तक कभी सेक्स भी नहीं किया होगा?मैं सेक्स का नाम सुनकर चौंक गया और पूछा- ये क्या कह रही हो?रीता- जो तुम पढ़ रहे हो. मम्मी अपना हाथ अपने मुँह पर रख कर अपनी कामुक आवाजें रोकने की कोशिश कर रही थीं. पत्नी कहने लगी- आ…ह स्स मेरा पानी छूटने वाला है … छोड़ दो पानी तुम्हारे लंड के पानी के लिए तड़प रही मेरी प्यारी चुत.

सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदीकुछ ही पलों में मैंने इतनी जोरों से चुदाई चालू कर दी कि उसकी चीखें निकलना शुरू हो गईं. मैंने नीरजा के तने हुए मम्मे देखते हुए उससे पूछा- दीदी कहां हैं?उसने मेरी नजरों को भांपते हुए कहा- मम्मी, ऊपर कमरे में आराम कर रही हैं.

ब्लू फिल्म हिंदी

उन्होंने 69 में होकर राहुल के मुँह पर अपनी रसभरी चूत रख दी और राहुल के लंड को अपने मुँह में लेकर किसी भूखी कुतिया की तरह लंड चूसने लगीं. कुछ देर तक हम होंठों के रसपान में डूबे रहे और अब मैंने भी अपने कपड़े निकाल दिए. मेरी लंबाई साढ़े पांच फुट के आस-पास है और लिंग का साइज 7 इंच का है, कभी पैमाने से नापा नहीं है.

मैंने उसकी चुदाई की स्पीड बढ़ा दी और कुछ ही देर में मुझे लगा कि अब मेरा भी होने वाला है. अब मैं चाची को सीधा लेटा कर उनके ऊपर आ गया और अपना मोटा लंड चाची की चुत की फांकों में रख दिया. मुझे बड़ा अच्छा लगता कि अच्छा ना दिखते हुए भी मेरी बहुत सी खूबसूरत महिला मित्र हैं.

चुदाई खत्म होने के बाद प्राची ने मुझे किस करते हुए धन्यवाद कहा और बदले में मुझे एक और चूत दिलाने का वादा किया. उन्होंने कहा- अरे हर्षद तेरे पिताजी घर में रहते हैं … तो हम वो सब कैसे कर सकते हैं. आह खा जाओ मेरी चुत को आज … मेरी बरसों की तमन्ना पूरी हो गई आज तक इतना मजा मुझे किसी ने नहीं दिया … आह आह.

मैंने टीना को दूसरी तरफ करके उन लड़कों को अपनी उपस्थिति से अवगत कराया तो वो शांत हो गए. किस करने के बाद वापिस गर्दन चूमते हुए क्लीवेज पर आकर चूमने लगे और जीभ फेरने लगे, मेरी टी-शर्ट खींचने लगे.

होटल वाले लड़के सभी टूरिस्ट का सामान होटल में उनके अलग-अलग रूम में लेकर जाने लगे.

इतना कह कर मैंने उसके गालों पर किस कर दिया और मैंने उसे इतनी जोर से अपने से चिपकाया कि मेरा लंड उसकी गांड की दरार में गाउन के ऊपर से फंसता चला गया. सरिता भाभी की कहानीबीच बीच में मैं उसकी मखमली गांड के छेद पर भी जीभ फेर देता था जिससे रिया एकदम से तड़फ उठती थी. चोदा चोदी सेक्सी ब्लू पिक्चररनवीर- अरे यहीं ठीक बैठा हूं, न जाने कितनी दूर होगा?मैं- अरे यार पास ही है, चल कर देख ले. मैंने पूछा- आपको कैसे पता?उन्होंने कहा- मैंने नीचे गाड़ी रुकने की आवाज़ सुनी है और उनके आने का टाइम भी हो गया है.

तो मैंने करवट बदलकर उसे अपनी बांहों में कसकर कहा- क्या सच बोलती हो सरिता?‘हां हर्षद सच में.

मैं अपने बारे में बता दूँ कि मैं एक बाईसेक्सुअल लड़का हूं और आधी औरत मुझमें बसती है, जिसे हर तरह के लंड आकर्षित करते हैं. चूत चूसने के बाद हार्दिक ने शनाया की टांगों को फैला दिया और अपने लंड को चूत में पेलने के लिए तैयार कर लिया. भाई मेरे पूरे शरीर को किस करके मुझे इतना ज्यादा गर्म कर चुका था कि बस अब मेरा मन हो रहा था कि वो मेरी चूत फाड़ दे.

मेरे इलाज के दौरान उसने मेरा लंड देख लिया, वो तो मेरे लंड की प्यासी हो गयी. उसने मुझसे पूछा- तुम मुझे शुरू में घूर क्यों रहे थे?मैंने कहा- मेरी आंखें चुंधिया गई थीं. हम दोनों खो गए … इस हवस की आग में भूल गए थे कि मेरा दोस्त और उसकी मम्मी घर पर ही हैं.

চুট চুদাই ভিডিও

उसने मुझसे कहा- क्या हुआ?मैंने कहा- कुछ नहीं, चीनी का डिब्बा तुम्हें मिल गया हो, तो थोड़ा पीछे हटो … मुझे नीचे से एक बर्तन निकालना है. मैं उसके मम्मों को ऐसे ही अपने हाथों में पकड़ कर भींचता रहूं- अहह भाभीईईई और जोर से चूसो मेरे लंड को प्लीज़ … आंह खा जाओ मेरे लंड को … चबा जाओ. ऐसा लग रहा था कि धीरू का लंड मेरी गांड की दीवारों को चौड़ी कर देगा.

धकापेल चुदाई करते हुए मैंने अपना रस चाची की चुत में टपका दिया और उनके ऊपर ही ढह गया.

उसकी उठी हुई गांड, चौंतीस की साइज के चूचे, एकदम गोरा बदन और वो कातिल सी मुस्कराहट मेरे दिल को घायल कर गई.

जैसे ही उसकी चूत में मेरा लंड जाता, वो उछलती और दर्द से कराह उठती ‘आहह हह आअ ह्हह ऊऊह्ह …’उसकी आवाज मेरे कानों में मिश्री सी घोलती. आपको मेरी ये हॉट गर्लफ्रेंड Xxx कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें. हिंदी देसी एक्स एक्सउनकी चूत बहुत टाइट थी और तीन चार धक्के में लगभग आधा लंड चाची की चूत में उतर गया.

सौम्या- अरे अगर तेरा बाप मेरी चुदाई नहीं करेगा, तो तू पैदा कैसे होगा?‘अरे यार, पैदा ना होने में एक रात रुक जाऊंगा तो क्या हो जाएगा. हर झटके के साथ लगभग 3 हिस्सा मेरे लंड का उसकी चूत में जाता और बाहर आता. भाभी मेरा हाथ पकड़ कर बोली- अरे सॉरी यार … मैंने गुस्से में चांटा मार दिया.

फिर रात के खाना के बाद मैं चाची के साथ चाची के रूम में आ गया और पूरी रात में चाची को तीन बार चोदा. मेरा एक हाथ शिखा के दांए उरोज पर जम गया था और उसका बायां उरोज मेरे मुँह में था.

जब वो झड़ा तो उसने अपने लंड से वीर्य की पिचकारियां मेरे स्तनों और चेहरे पर मार दीं.

मैंने कैसे उसे सेट करके चोदा?अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार. बाइक वाले आदमी ने उस लड़के से पूछा- तुम इतनी लू लपट में यहां पर क्या कर रहे हो बे?वो लड़का बोला- कुछ नहीं भैया, दोस्तों के साथ घूमने आया था. मैंने उसकी टांगों को फैलाया और पूछा कि कभी किसी का लंड लिया है?जीजू आप खुद अपना लंड डाल कर देख लीजिए.

बीएफ फुल बीएफ वीडियो ‘काहे का मजा … सुहागरात हुई ही नहीं तो क्या बताऊं, पता नहीं यार, कब सुहागरात होगी. बेडरूम के अंदर सच में क्या सीन था वो!उन्होंने मुझे बेड पर पटका और जल्दी जल्दी अपने सारे कपड़े उतार लिए.

जल्दी से मैंने उसके शर्ट को ऊपर किया, तो देखा कि शिल्पा ने ब्रा नहीं पहनी थी. मुझे सच में ऐसा लगने लगा था कि अंकल मेरे पति ही हैं और मैं उनकी सेक्सी हॉट लुगाई हूँ. मैंने कहा- दादी के रहते हमारा मिलना कैसे सम्भव हो पाएगा?उसने कहा- दादी की तबियत खराब रहती है और वो रात में दवा लेकर सो जाती हैं.

फिल्म सेक्सी नंगी

पत्नी की चुत से मेरा वीर्य बाहर बह रहा था लेकिन मेरी प्यारी Xxx वाइफ ने उसे साफ नहीं किया, वो वैसे ही मेरी बांहों में पड़ी रही. Xxx पेनफुल सेक्स कहानी में पढ़ें कि जब NRI भाभी की चूत में मेरा मोटा लंड घुसा तो उसे बहुत दर्द हुआ. वो साली इतनी ज्यादा झीनी चुन्नी थी कि उसमें से आरपार का सब देखा जा सकता था.

इस काम में ही हम दोनों को इतना मजा आने लगा था कि हमारे बीच की सारी झिझक खत्म हो गई थी. वो फिर से कुछ बोलती, उससे पहले मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से बंद कर दिए.

मैंने निशा को गोद में उठाया तो मेरा एक हाथ उसके चुचे के बगल से टच हो रहा था और दूसरा चूचा मेरी छाती से टच हो रहा था.

मेरी पिछली कहानी थी:मामा की साली की वासनामैं कुरुक्षेत्र हरियाणा का रहने वाला हूं. जबकि मैं तो ये सोच रहा था कि कहीं मौक़ा मिला, तो मुझे भी चाची कि जवानी पर हाथ फेरने का मौका मिल जाएगा. निशा ने आज काले रंग की जींस पहनी हुई थी, उस पर लाल रंग का टॉप पहना हुआ था.

उसके मुँह से भी कामुक आवाजें आ रही थीं- आंह फाड़ दो बलविंदर … आह आई लव यू उन्हह आहह हहह आहहह. क्योंकि मैं अक्सर ऐसे ही मेरी गली की कुतिया को उस वक्त हिलते देखा था, जब कुत्ता बीच में ही संभोग से हटा दिया जाता था. हालांकि दूसरे कमरों में घर के अन्य लोगों की मौजूदगी होती थी इसलिए हमेशा किसी के आने का डर तो बना ही रहता था.

मैंने कहा- ऐसा नहीं कि मैंने झूठ कहा था, आज तुम्हें देखने से ज्यादा जरूरी ये जानना था कि तुम्हारी तबियत कैसी है, तो नहीं बोल पाया … पर तुम सच में काले रंग में बहुत ही आकर्षक लगती हो.

ब्लू पिक्चर हिंदी में बीएफ सेक्सी: मैंने ध्यान दिया कि दीदी जल्दी जल्दी में ब्लाउज में से निकल रहे अपने दूध को अन्दर करना भूल गयी थीं. मेरे हाथ उसके नंगे हिप्स पर आ गए और मैं उसको दबाव देकर अपने अंदर लेने लगी.

पहले तो मेरी बहन अन्दर आकर बैड पर लेट गई और उसके हाथों से अपने स्तन खोलकर कामुकता से दबा रही थी. चाचा जिस रूम में काम कर रहे थे, मैं उस रूम के पास गया तो फुसफुसाने जैसी ध्वनि में कामुक आवाजें आ रही थीं. रात के समय तो हम दोनों पूरे नंगे ही रहते हैं इसलिए कपड़े निकालने का तो कोई सवाल ही नहीं था।उसके बाद … आप समझ गए होंगे।2 दिन बाद एलिस्टेयर को काम से दूर जाना था तो मैंने भी सोचा कि लांस और केविन से मिलकर एलिस्टेयर का भी काम कर लूंगी.

रोमिल ने उसकी एक न सुनी और उसके ऊपर आ गया उसकी गान्ड में उंगली घुसा दीपिंकी ‘उईई ऊईईई ऊईईई मम्मी बचाओ मर गई बचाओ बचाओ’ चिल्लाने लगी.

उन दोनों ने मुझे किसी काम के लिए बुलाया था तो सोचा दोनों ही काम एक साथ हो जाएंगे।एलिस्टेयर के जाने के कुछ देर बाद मैं केविन और लांस से मिलने चली गई. थोड़ी ही देर में मैंने सरिता के आने की आहट सुनी, उसने बाहर का दरवाजा बंद किया तो आवाज आयी. जब मैंने ध्यान दिया, तो मेरी तो गांड फट गई कि ये क्या हो गया, कहीं रीता मुझ पर भड़क ना जाए.