बीएफ चुदाई पिक्चर सेक्सी

छवि स्रोत,मां बेटे की चुदाई वीडियो सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

अलार्म की सेक्सी फोटो: बीएफ चुदाई पिक्चर सेक्सी, सतीश बोला- तेरी चूत बहुत गर्म है … ऐसा क्यों?मैं बोली- मुझे नहीं पता है कि क्यों चूत इतनी ज्यादा गर्म रहती है.

सनी लियोन सेक्स मूवी

बाद में तेज-तेज।” उसने नया आदेश जारी किया।और हमारी कमरें चलने लगीं. हिंदी ट्रिपल एक्समैं उसको बांहों में लेकर चूमता हुआ उसे पीछे से हचक कर चोदने लगा।अब उसे भी मज़ा आ रहा था और वो मुंह से आह्ह उम्म्ह… अहह… हय… याह… आह्ह करने लगी.

जब एक ताजा जवान शक्ति से भरपूर लंड उसके यौवन दवार को खोलता हुआ मज़ेदार घर्षण करता हुआ उसके अन्दर की औरत को जगा रहा था. बीपी सेक्स वीडियोपर मैं नहीं गया, मैं उस वक्त उनके हॉल में था और मुझे सामने भाभी की पैंटी टंगी दिखी.

सुबह बारह बजे मेरी आंख खुली तो भाभी जा चुकी थीं और मनीष जाने के लिए तैयार हो रहा था.बीएफ चुदाई पिक्चर सेक्सी: मुझे लग रहा था जैसे मेरी जीभ और लंबी होती तो मैं उनके गालों को भी अन्दर की तरफ से चाटता.

उन्होंने ड्राइवर को कहा कि गाड़ी थोड़ा आगे मॉल के आगे ले लो, जहां एकांत सा हो.प्रिया को देखते ही मैं थोड़ा घबरा सा गया और तुरन्त उठकर बैठ गया, जिससे प्रिया के चेहरे पर हल्की मुस्कान सी आ गयी.

दारू वाला गाना - बीएफ चुदाई पिक्चर सेक्सी

थोड़ी देर आराम करने के बाद नेहा मैडम फिर से मेरे लंड से खेलने लगीं.ये जानते ही मैंने उनको अपनी तरफ घुमा लिया और उनके पैर को ऊपर करके अपनी कमर पर रख लिया.

पर उसने मेरी एक नहीं सुनी और कसके मेरे कूल्हों पर हाथ मार कर बोला- चुप कर रे साली रंडी … अभी कोई आ जाएगा … तू चिल्ला मत. बीएफ चुदाई पिक्चर सेक्सी कुछ देर ऐसे ही रहा, फिर वो मेरे कंधे पर चूमने लगा, कंधे से चूमता हुआ वो गले पर आ पहुंचा.

” सुलेखा भाभी ने मुझे हल्का सा डांटते हुए कहा और फिर कमरे से बाहर चली गईं.

बीएफ चुदाई पिक्चर सेक्सी?

अब मैंने भी कल के लिए ज्यादा सोचना छोड़ दिया था, आज जो होगा, आज जो है. जब मेरा आधा लंड उसकी चुत में घुस गया … तो फिर उसकी चुत से हल्का हल्का खून आने लगा. बुद्धू … उस रात मैं भी तो उसी कमरे में सो रही थी मगर तुम्हारी और नेहा दीदी की उह …आह …” ने मुझे सोने ही नहीं दिया.

उस टाइम उसने बोल दिया- जब मैं आई तो वो टीवी देखते हुए अपने पेशाब करने की जगह को उछाल रहा था और मैंने पूछा तो उसने मुझसे कहा कि मुझे खुजली हो रही है. मेरा उठने का दिल‌ तो नहीं कर रहा था मगर सुलेखा भाभी के डर के कारण मैं भी अब उठकर अपने‌ कपड़े पहनने‌ लगा‌ और प्रिया‌ कमरे से बाहर चली गयी. राज अंकल और मुन्ना अंकल बोले- फाइनली अपन चलते हैं, जल्दी चलकर जल्दी आ जायेंगे.

मेरे कदम भी आगे बढ़ने लगे और मन में कभी हां कभी ना सोचते गेट पर चली गई. बातों-बातों में पता चला कि दीमा अब जर्मनी में रहता था, लेकिन गर्मियों की छुट्टियाँ बिताने के लिए रूस आया हुआ था और इस वक़्त मास्को में ही था. फिर मेरे पास आकर बैठते हुए पूछा- आपने डिनर किया या नहीं अभी तक?मैं- अभी तक तो नहीं, वैसे भी मैं रात को 10-30 बजे तक डिनर करता हूँ.

मैंने एकता भाभी की कुंवारी गांड पर लंड टिकाया और इतनी ज़ोर से धक्का दे मारा कि एकता भाभी के आंसू निकल आए, पर कुछ ही पल में उन्हें दर्द कम हो गया और हम दोनों गांड चुदाई का मज़ा लेने लगे. हिंदी सेक्स कहानी की दुनिया की सबसे बड़ी और पसंद की जाने वाली साईट अन्तर्वासना पर ये मेरी पहली कहानी है.

कुछ देर बाद मैंने उससे कहा- मुंह में लो ना!पहले तो वो मना करने लगी, फिर मैंने जब थोड़ी नाराजगी जताई, तब वह मान गई और फिर उसने जो लंड को पकड़ कर चूसना शुरू कि तो मैं तो बस अपने आपे से बाहर हो गया इतने सबसे मेरा मन नहीं भरा था और शायद उसका भी फिर मेरी तरफ देख कर बोली- कहीं चलें जहां सिर्फ हम और आप हो!तो मैंने उसे किस करते हुए कहा- ठीक है, चलो!जैसे ही हमने अपने कपड़े ठीक किए, मूवी ख़त्म हो गई.

मैंने 10-15 धक्के ही नीरू की चूत में लगाए होंगे कि नीरू ने मेरा लंड चूत से बाहर निकाल दिया और लंड मुंह में लेकर चूसने लगी.

उसने पकड़कर मेरी स्कर्ट खींच दिया, फिर मेरी समीज और टी-शर्ट को ऊपर करके मेरे हाथों को पकड़कर उतार दिए. मैंने कहा- चाय चढ़ा दो, नहाने जा रही हूं,मैं नहाते वक्त अपनी फुद्दी पर हाथ फेर बोली- मेरी लाडो … आज तेरी प्यास बुझने वाली है. उसके दोनों बेटे भी उसकी चूचियों से धीरे-धीरे खेल रहे थे और उसकी जांघों को सहला रहे थे.

फिर बोले कि एक बात बोलूं आपकी बेटी सोनू बिल्कुल आप पर गई है … और वैसे तो सच यह है कि ये आपसे भी ज्यादा सुंदर है. मैंने तभी आंटी की चूत में, एक साथ दो उंगली डाल दीं और जोर जोर से धक्के लगाने लगा. फिर बोला कि जो सच था वो मैंने बोला कि आप बहुत अच्छी है आपके पति बहुत अच्छे हैं.

मैंने चाची की चूत के दाने को अपनी दो उंगलियों के बीच में दबा कर मींजना शुरू कर दिया.

अगर तू अपनी मम्मी से उसकी बात जमा देगी, तो तुझे मैं मालामाल करवा दूंगा. मैंने दिमाग लगाया और एक नए सिम कार्ड से उस नम्बर से व्हाट्सअप शुरू किया और उसे हाय कहकर भेजा. कुछ होगा तो नहीं? दर्द कितना होता है?नीरू ने कहा- नहीं, बहुत थोड़ा सा दर्द होगा जब शुरू में लंड चूत में जाएगा.

मैं जब नहा चुकी तो ख्याल आया कि क्यों ना उसे बाथरूम में ही किसी बहाने से बुला लिया जाए और यहां ही सब कर लिया जाए. जब मुझे कुछ समझ में नहीं आया तो मैंने चांदनी जी से बात की तो उन्होंने कहा कि उन्होंने भी 3-4 साल से कुछ नहीं किया. बोलने लगी- मैं आप दोनों को छुप कर देख रही थी और मेरी हालत बहुत खराब हो चुकी है.

टी-शर्ट उतारते ही उसके दोनों सफेद कबूतर एकदम से आजाद हो गए और फड़फड़ाने लगे.

मुझसे रहा नहीं गया, मैंने कहा- जानू, प्लीज़ इसको पी लो ना!मैंने कमलेश के सिर को अपने बूब्स पर दबा दिया और वह ज़ोर से मेरे दूध को पीने लगा. पर तेरी मम्मी के यहाँ रहने से तेरी मौसी के घर में फ्री में बहुत सारा सामान आ जाता था, इसलिए वो भी चाहती थी कि तेरी मम्मी यहीं रहे.

बीएफ चुदाई पिक्चर सेक्सी शीतल (हैरानी से)- मतलब तुझे अपने बाप से के लंड से चुदने का मन करता है?मयूरी- मेरा तो मन किसी भी मर्द के लंड से चुदने का करता है माँ… फिर चाहे वो कोई भी हो अपना बाप या कोई और मर्द… और वैसे भी, दुनिया के हर लड़की का पहला प्यार उसका बाप होता है… जैसे दुनिया के हर लड़के का पहला प्यार उसकी माँ होती है. मैंने उसे कुछ लिखने के लिए बोला तो मेरे सामने तिपाई के बाजू में कुर्सी लेकर बैठ गयी और झुककर लिखने लगी.

बीएफ चुदाई पिक्चर सेक्सी जब मैंने पूछा- ब्रा नहीं पहनी क्या?तो उसने कहा कि आते समय उतार कर रख ली है. उसने अपने हाथों से लंड साफ किया और बोली- उठो अब तुम्हें घर जाना है.

मैंने कहा- मुझे पता नहीं ना है कि बच्ची को क्या पहनना है … तो कैसे और क्या पहनाऊं.

टॉयलेट करते हुए सेक्सी वीडियो

नीचे उसने कुछ नहीं पहना था। उसके दोनों चूचे आज़ाद हो गए और मैंने उत्तेजना में आकर उसके चूचे ज़ोर से दबा दिए। उसके मुंह से सिसकारी निकल गई. मैंने उसे अपना लंड हिला कर इशारा किया तो झट से उसने मेरा लंड मुँह में भर लिया और 5 मिनट तक लंड चूसा. मुझे पकड़कर हिमांशु पीछे घूम गया और थोड़ा मुझे पीठ के बल लिटा दिया.

उन्हें मजा आ रहा था और मैं मन में सोच रहा था आज तो एक साथ दो दो चूत मारने को मिलेंगी. पिछली कहानी में आपने जाना था कि मैंने कैसे अपनी दीदी की सहेली की चुदाई की थी. तब भी मैंने बात क्लियर करने के इरादे से उससे पूछा- मैंने क्या किया था?वो बोली- वही … जो तुमने रात में निक्की के साथ किया था.

मैं और जीजू हम दोनों लोग बाथरूम में शावर के नीचे खड़े होकर नहाने लगे और हम दोनों ने अपने आपको साफ़ किया.

उसने मेरी चूत में उंगलियां डाल डाल कर चूत को खोला और थोड़ी देर बाद उठी और बोली- मैं आती हूँ. इतना कह कर अब राज अंकल ने अपनी हथेली से मेरे पेट को सहलाना शुरू किया और अपनी एक उंगली मेरी नाभि में बहुत हल्के हल्के से डालने लगे. वो आंख दबाते हुए बोली- तो फिर आज कोई दिखी हॉट सी?मैं बोला- हाँ शायद!उन्होंने फिर पूछा- कौन?तो मैंने बोला- थी एक … लेकिन अभी तो आप ही हो.

मेरे पति को चूत से कुछ लेना देना नहीं है, वैसे उसे छोड़ कर मेरी ससुराल में सब एक से एक गांडू इंसान हैं. मौसी मेरे लंड के कारण छटपटा रही थीं और उनकी कुंवारी बुर से खून बह रहा था … वो दर्द से तड़फ रही थीं. इससे पहले की मौका हाथ से निकल जाता, मैंने सोचा क्यों ना गरम लोहे पे हथौड़ा मार दिया जाए.

अब वो और खुल कर मुझसे बात करने लगीं और हँसी मज़ाक़ में हम दोनों एक दूसरे को छूने भी लगे. आओ ना जीजू!मैंने देर ना करते हुए नीरू की जंघाओं को चौड़ा कर उसकी चूत के छेद पर अपने लंड को सेट किया तो नीरू बोली- अभी लंड नहीं डालना है.

अगली बार एक और कहानी लेकर आऊंगा आपके समक्ष, तब तक के लिए लंड-चूत का प्रणाम![emailprotected]. उसकी आँखों के सामने उसके दोनों भाई उसके इस कामुक शरीर से खेल रहे थे और वो उन हर एक छुअन का आनन्द ले रही थी. तो राज अंकल बोले- एक मिनट का टाइम दो … मैं बताता हूं, इसकी मम्मी साथ में हैं.

ऊपर से मैंने भी उसके साथ इतना कुछ कर दिया था, फिर भी उसने बिल्कुल भी बुरा नहीं माना, इसका मतलब था कि उसके दिल में भी कुछ ना कुछ तो चल ही रहा है.

टाटा कर लेना चाहिये था। नया चेक करती, कोई तो काम का निकलता।”पहले एक ही बनाया था, बाद में चेक करने-करने में तीन हो गये। बस टाटा किसी को नहीं किया कि नेट पे इन्हीं के सहारे थोड़ा टाईमपास हो जाता है।”तो मतलब अट्ठाईस तक कुंवारी ही हो।”इस बार जवाब देने के बजाय वह हंस पड़ी। निगाहें झुक गयीं और कहते हुए शब्द थोड़े लहरा गये- नहीं. विशाल सर मंद मंद मुस्कुरा रहे थे, उनकी नज़र में वासना की लहरें दौड़ रही थीं. अब जो सब्जेक्ट छेड़ दिया है… उसके बाद नींद कहां आयेगी। अब तो खुद ही दिल कर रहा है और बातें करने का।”उन लड़कों में से किसी ने शादी करने में दिलचस्पी न दिखाई?”तीनों दूसरे धर्म से थे.

मैं महसूस करने लगी थी कि वीर्य की पहली पिचकारी में माइक का जिस्म सहम गया. मेरा लण्ड ज़ोर-ज़ोर से हिचकोले ले रहा था और बाहर आने के लिए बेकरार था.

मैं अपने कमरे में वापिस आ गया और सोचने लग गया कि इतने ख़ुशमिज़ाज चेहरे पर आंसू क्यों. प्रिया ने कराहते हुए एक बार फिर से मुझे अब रोकने की कोशिश की, मगर मैं अब रूका नहीं और अपनी पूरी तेजी और ताकत से लंड से धक्के लगाता रहा. रहने दो अगर तुम्हें डर लगता है! अरे अंकल तुम बस चुपचाप गेट खोल देना, हम लोग ऊपर चले जाएंगे.

बीएफ नंगी चुदाई दिखाओ

अब तक की इस सेक्स स्टोरी के पहले भागग्रुप सेक्स का ऑनलाइन मजा-1में आपने जाना था कि मुनीर तारा और माइक का थ्री सम सम्भोग चल रहा था, जिसे मैं ऑनलाइन देख रही थी.

उन्होंने भी अपना ग्लास उठाया और मेरे ग्लास से हल्का सा टच करा कर चियर्स बोला और धीरे से मुस्कुरा दी. ऊपर उसने एक ढीली सी टी-शर्ट पहनी हुई थी, जिसका गला कुछ ज्यादा ही खुला हुआ था. शाम को 6 बजे जब मैं उस जगह पर पहुंचा, वो वहां पर पहले से ही खड़ी थी.

उसने आखिरी धक्का मारा और अपने वीर्य की आखिरी बून्द गिरा कर मेरे ऊपर सुस्त पड़ गया. चुत की फांकों के पास वाले बाल कामरस से भीग कर उनकी चुत से ही चिपक गए थे इसलिए चुत की गुलाबी फांकें और दोनों फांकों के बीच का हल्का सिन्दूरी रंग इतने गहरे बालों के बीच भी अलग ही नजर आ रहा था. जवान लड़की की चुदाई दिखाओसुमन- अगर नई मिल गई तो क्या दोगे?उधर से- जो तुम कहोगी। मगर माल बढ़िया होना चाहिए!सुमन- माल की चिंता ना करो, मेरे से बहुत बढ़िया है.

समय बीतता गया मेरी पढ़ाई पूरी हो गयी और मुझे घर के पास ही जॉब मिल गई, जिसके कारण मैं घर पर रहने लगा. मैंने उसको अपनी तरफ खींचते हुए उसको अपनी बाजुओं में भर लिया और उसकी गर्दन पर किस करने लगा.

मुझे पता था कि ये कई सालों की भूखी हैं, तो मुझे ख़ुद से ज़्यादा उन्हें संतुष्ट करना था. भाभी उठीं और कमरे से बाहर आ गईं फिर मुझे दरवाजा खटखटाने की आवाज आई. फिर वो मेरे दोनों मम्मों को पकड़ कर कस कस के मसलते हुए मेरे होंठों को चूस रहा था.

उसने कहा- फिर बहाना!मैंने कहा कि ये बातें शादीशुदा लोगों की होती हैं. जब वो वाराणसी आती हैं, तो मेरे सारे दोस्त भाभी की जवानी के नाम पर मुठ मारते हैं. मनीष और भाभी बेड पर बैठ कर बातें कर रहे थे, मनीष भाभी का सर सहला रहा था.

अगर कहो तो दो-चार मिनट आगे चल कर ‘ठीक से …’ देख लें, कोई दिक्कत तो नहीं है.

सुनील ने तुरंत फोन लगाया दो-तीन घंटी के बाद फोन उठा तो सुनील बोला- अब्दुल भाई आप और रमीज भाई दोनों आ जाओ … कनका से आने की जिसकी बात हुई थी … वह आइटम आ गई है. हमने अपनी अपनी तरह का एक एक पैग और लगाया और फिर वो बोली कि चलो छत पर चलते हैं.

उससे पहले मैं जिगोलो बनने की प्रैक्टिस कर रहा हूँ।आप लोग मुझे प्लीज़ बताएं कि जिगोलो बनने के लिए मुझे क्या करना होगा. मेरे घर और मेरी कोचिंग के बीच एक सब्जी मंडी या हाट लगती थी, जहाँ से मैं सब्जी लेता था. प्रिया अब भी कराहती रही, मेरे हरेक धक्के के साथ वो जोरों से ‘आआआ … अह्हह … मम्मीईई … मरीईईई … आआआह … इह्हह … ओय्य्य …’ कर रही थी, मगर फिर भी मैं धक्के लगाता रहा … क्योंकि मैं भी अब चरमोत्कर्ष के करीब ही था.

” कहते हुए नेहा ने तुरन्त ही अपने हाथ को झटक कर ऐसे हटा लिया, जैसे कि उसने कोई बिजली की तार को छू लिया हो. दोस्तो, मुझे रिप्लाई देकर बताएं कि मेरी इस हिंदी सेक्स स्टोरी के बारे में आपको क्या लगा. अब आगे …आह … ये क्या कर रहा है? जाने दो मुझे … अभी मुझे ढेर सारा काम है घर में … प्लीज जाने दो अभी … फिर कभी?” सुलेखा भाभी ने कसमसाते हुए कहा और मेरे बांहों से निकलने का प्रयास करने लगीं.

बीएफ चुदाई पिक्चर सेक्सी इतने में बहन ने पूछ लिया- बताना भी है या सिर्फ टाइम वेस्ट कर रहे हो?मैंने कहा- मेरी एक शर्त है. दीपक इसी मौके की तलाश में था, उसने अपना लंड मानसी की चूत से निकाला और सीधे सुशीला के ऊपर झपट पड़ा.

नव क्सक्सक्स विडिओ

पर उसका छोटा बेटा रजत, उसको अपनी माँ की गांड मारने में थोड़ी दिक्कत हो रही थी. चूंकि दिन के समय कुछ हो नहीं सकती इसलिए मैं शाम को वापस लौटने का इन्तजार करता रहा. इस अचानक से हुई हरकत के लिए मैं तैयार नहीं था, तो पहले तो मैं थोड़ा सहम गया.

मैं चुप रही, शाम को मैंने बहुत सोचा और पता नहीं क्या मन में आया कि मैंने वैसा ही किया. किरण चाची साड़ी पहनती हैं, जो नाभि के नीचे से पहनती हैं, उनकी नाभि की गहराई देखकर मेरा लंड खड़ा हो जाता है व उसकी हालत खराब हो जाती है. क्सक्सक्स सेक्सी हिंदीनेहा, प्रिया और सुलेखा भाभी साथ में ही खाना खा रही थीं, इसलिए मैं भी अब उनके साथ ही खाना खाने के लिए बैठ गया.

चाचा किसी सांड की तरह हुंकार भरते हुए चाची को चोद रहे थे- तुम्हारी चूत की गर्मी कभी शान्त होने वाली नहीं है मेरी छिनाल.

और मैं चाची को किस करके जाने लगा तो उन्होंने कहा- ओये मादरचोद … रुक भोसडी के … चूत चाट के मर्द बन रहा है? अभी तो मैं दर्द में थी. फिर मैंने अपने हाथ उनके पेटीकोट के ऊपर से ही उनकी गांड पे ले गया और उंगलियों से जैसे ड्रॉइंग बनाने लगा.

वैसे भी जो जानना और समझाना था, वह हो चुका।”मैं अपनी बात कर रही भाईजान. अब मैंने भी काफी तेजी से धक्का देना चालू कर दिया और इसका नतीजा यह निकला कि मैं काफी जल्दी ही झड़ गया. मैं बहन को खिड़की तक ले गया, पहले मैंने अन्दर का नजारा देखा और बहन को बोल दिया- कुछ भी पूछना हो तो याद रख लेना और बाद में पूछियो.

पूछने पर उसने बताया कि कंपनी ने उसे दूसरी फैक्ट्री में ट्रांसफर कर दिया जो दूसरे रास्ते पे थी और वहां मॉर्निंग में टाइम पे पहुँचना काफी मुश्किल लग रहा था उसे.

थोड़ी देर के बाद पूजा बोली- तुमने मेरी गांड को क्यों चोदा? मैंने तुम्हें मना किया था ना? जाओ अब मैं तुमसे अपनी चूत नहीं चुदवाऊँगी. बगल में वाशरूम था, वे बोले- अन्दर चली जाओ यार … सब धो लो जल्दी से … और यह नई ड्रेस पहन कर बाहर आ जाना. उन्होंने मेरी तरफ़ तिरछी नजरों से देखा और कहा- आपका क्या पीने का इरादा है?जवाब में मैंने भी उनकी आँखों में झाँक कर कहा- आप जो भी पिलाएंगी, मैं पी लूँगा.

ওপেন সেক্স মুভিकहानी का दूसरा भाग:मेरी बीवी पांचाली-2एक बोला- अरे भाभी, अब क्या शर्म करती हो, अब तो हमने आपके मम्मे देख लिए, क्या मस्त गोल मम्मे हैं। अब तो ये साड़ी उतार ही दो. नीता आंटी- कैसे चल रही है बेटा स्टडी?मैं- कुछ नहीं आंटी … आजकल मेरा पढ़ाई में बिल्कुल मन नहीं लगता.

நடிகைகள் செக்ஸ் வீடியோக்கள்

उनके खुले बाल थे, वो गुलाबी रंग की कसी लैगिंग्स और शार्ट कुर्ते में थीं. उसकी हालत देख कर एक बार को तो मैं भी डर गया कि इसको कुछ हो तो नहीं गया. अगले दिन मैं वहाँ गया, तब चांदनी जी तो नहीं थीं पर वो भाभी मिल गईं.

बाद में मेसेज या कॉल करने को बोल कर वो ऑफलाइन हो गयी और मैं भी अपने काम में लग गया. उसकी चुम्मी करने का अंदाज ऐसा था मानो मैं इमरान हाशमी हूँ और वो ज़रीन खान है. गैब्रियल का जो लोहे के रॉड जैसा लौड़ा था, वह मेरी जांघ और पेट में रगड़ खाने लगा.

यह कहकर मीता ने मेरे लन्ड को अपने हाथों में थमा और अपने होंठों से सुनहरे सुपारे को चूम लिया. और यह क्या … लन्ड मीता की पेंटी को किनारे से चीरता हुआ चूत के छल्ले में जा फंसा. मगर हां ये खेल वो पहले भी खेली हुई थी, इसलिए मेरे इशारों को‌ वो अच्छे समझ रही थी.

मैं एकदम से शर्मा गयी क्योंकि माइक से मेरी ये पहली मुलाकात थी और सहज होने में थोड़ा तो समय लगता ही है. लेकिन कहीं नौकरी पसंद नहीं आई तो कहीं नौकरी देने वालों को मैं नहीं पसंद आई। अब यहां देखो क्या होता है।”यहां न बन पाये तो कह देना कि लखनऊ में करोगी। यहां मैं नौकरी की भी सेटिंग करा दूंगा, रहने की भी और लड़के की भी। रोज ही करना तब.

वो भी मेरे पीछे बैठ गयी और मेरी कमर में हाथ डाल कर मुझे कस कर पकड़ लिया.

अबकी बार जैसे ही रेवती ने अपनी गांड को उठाकर नीचे पटका, मैंने अपना आधा से ज्यादा लंड रेवती की चूत में उतार दिया. ಪೋರ್ನ್ ಸೆಕ್ಸ್उसकी पेंटी की वो जैस्मिन और गुलाब की सुगंध के साथ हल्की नमकीन वाली मादक खुशबू मानो मुझ पर ऐसा जुल्म ढहा रही थी कि मेरे लंड की सारी नसें फट कर बाहर आ जाएंगी. सनी लियोन पोर्ंस वीडियोमैं भी बीच बीच में बेबी की गांड पर हाथ साफ कर लेता था और वो भी मुस्कुरा देती थी. उसने कुछ और दम लगाते हुए जोर के झटके लगाए और तारा को स्थिति बदलने को कहा.

मैंने अपना लंड चूत में से बाहर खींच लिया और बहन को सीधी करके उसके होंठों को चूमने लगा.

इस पर सभी हंस पड़े और मयूरी भाभी ने मुझसे कहा- अबे यार तुम चोदते टाइम भाभी भाभी मत बोला करो. मेरी अब ज्यादा किसी से बात करने की या पूछने की हिम्मत नहीं हुई इसलिये मैं चुपचाप अपने कम्प्यूटर कोर्स के लिये निकल गया. दूसरे दिन क्लास में उसने मेरे को उसका घर का पता बता दिया और बोली- ठीक 6 बजे आ जाना.

तो मेरी इच्छा हुई कि आपकी सुंदरता के लिए आपको कुछ इनाम दूँ, तो मैंने दे दिया. विक्रम- प… प्… पापा…अशोक- विक्रम, तुम्हारे लिए तो यह नया नहीं है ना? तुमने ही तो सबसे पहले मयूरी की चूचियों के दर्शन किये थे. नीरू ने कहा- जीजू, अभी इसकी ब्रा नहीं उतारो, पहले इसकी सलवार निकालो!मैंने उसकी सलवार को भी निकाल दिया.

एक्स मूवी हिंदी

लेकिन उसने भाभी से मजाक में बोल दिया कि भाभी इतना क्यों खा लिया कि आप इतनी मोटी हो गई हो?भाभी इसका दूसरा मतलब निकाल बैठीं. और मुस्करा दी। फिर बोली- मैं जानती थी कि आज हमारे बीच सब हदें टूटेंगी क्योंकि तुम्हारी आँखों में मैं अपने लिए प्यार पढ़ चुकी थी और मैं भी तुम्हें चाहने लगी थी. इस बार ये हरकत खुद भाभी की तरफ से हुई थी और उनके ऐसे करने से मेरा लंड मेरे पैन्ट में तम्बू बना रहा था.

मानसी तो थोड़ी देर पहले अपनी माँ की चुदाई देख कर गर्म हो चुकी थी, वो भी कम नहीं थी। उसने सीधे दीपक की पैन्ट के ऊपर हाथ रख करके लंड को सहलाने लगी और आँख भी मिलाने लगी एक कामुक मुसकुराहट के साथ!जब दीपक ने उसकी ड्रेस उतार दी तो वो धीरे से नीचे बैठ गयी और दीपक की जिप खोलने लगी.

ये बात रिया भाभी ने अपनी चूत दिखाते हुए सभी के सामने बिंदास कही, जिसे सुनकर मयूरी भाभी भी हंस पड़ीं और उन्होंने कहा- गांडू को झांटें वाली चूत पसंद है, वाह.

जब मेरी नज़र उनके नाम की तरह उनके विशाल लंड पर गई, जो मेरी रेशमी दूध सी सफेद जांघों पर घिस रहा था. नीता आंटी- दीदी, आज से हर फ्राइडे मैं यहीं सोया करूँगी क्योंकि मुझे हर शनिवार सुबह स्कूल जाना पड़ता है और घर से यहां आने में बहुत वक़्त जाया हो जाता है … इसीलिए मैंने सोचा कि आपसे पूछ लूँ … यदि आपको कोई दिक्कत न हो तो मैं ऐसा कर लूँ?मॉम- अरे पगली … ये कोई पूछने की बात है … तू यहीं रुका कर. देसी गुजराती सेक्स वीडियोदस मिनट मेरे लंड को चोदने के बाद ख़ुशी लंड से नीचे उतर गई और उसने मेरे हाथ खोल दिए.

पुरुष के हाथों की छुअन का असर, उसकी तासीर लड़की के जिस्म पर जादू के जैसा असर दिखाती है. मैं चुदास से तड़प रही हूं साले … मुझे अभी चुदवाना है … किसी को भी भेज दो … नहीं तो मैं ऐसे ही तड़पती रहूंगी. मैं बाहर से उनके कमरे का दरवाजा बंद कर आया हूं, बिल्कुल खुलकर आराम से करो, जो मन पड़े! कोई दिक्कत नहीं होगी.

अब जो सब्जेक्ट छेड़ दिया है… उसके बाद नींद कहां आयेगी। अब तो खुद ही दिल कर रहा है और बातें करने का।”उन लड़कों में से किसी ने शादी करने में दिलचस्पी न दिखाई?”तीनों दूसरे धर्म से थे. हम लोगों के बीच अब जिस्मानी सम्बन्ध बनने की राह तैयार होने लगी थी, पर मौका और जगह की कमी के कारण चुदाई में देरी हो रही थी.

मान लो मम्मी या कोई घर में हैं, उनको मौका नहीं मिल रहा है तो पढ़ाने के बहाने से तीन चार, पांच घंटे तक बैठे रहते थे.

दोस्त अपनी सेक्स स्टोरी बताते थे … लेकिन मुझे ये बातें थोड़ी अच्छी लगती तो थोड़ी बुरी भी, क्योंकि घर में यही बताया जाता था कि इस तरह की बातें करना गंदी बात होता है. उसी रात को ही क्रीम से मैंने अपनी सील पैक चूत को चिकनी किया और अगले दिन स्कूल ड्रेस में ही स्कूल निकली. मैंने दीमा को पीवा (बियर) ऑफर की तो उसने बिना किसी औपचारिकता के अपने ब्रीफ़केस से कोनियाक की बोतल निकाल कर कहा- इस सुन्दर मुलाकात को तो ढंग से सेलिब्रेट करना चाहिए.

सनी लियोन की नंगी मूवी मैंने रिया भाभी की गांड काफी देर तक मारी और मयूरी भाभी के दूध चूसे. आज उनकी वजह से हम सबको यह सुख मिला था, तो हमने सोचा हम तीनों मिलकर उनको चाटेंगे.

मेरे मां बाप ने मुझे बाहर नहीं रहने दिया बल्कि मुझे कॉलेज के होस्टल में दाखिल करवा दिया. कुछ देर बाद नताशा को खासा नशा हो चुका था और वो दीमा के बगल में बैठी-बैठी उसकी गोद में गिर पड़ी. वो बोले- इस लाइन में कब से हो?मैं बोली- अभी बिल्कुल नई हूं … एकदम फ्रेश हूं.

हिंदी में सेक्सी ब्लू फिल्म हिंदी में

मेरी पिछली कहानी थीचूची चूस चूस कर दोस्त की गर्लफ्रेंड को चोदायह नयी कहानी करीब तीन साल पहले की बात है, मैं काम के सिलसिले में हैदराबाद गया था. वो आज इतनी खूबसूरत लग रही थी कि मन कर रहा था कि उसे पकड़ कर उसके बूब्स और गुलाबी होंठों तब तक चूसता रहूँ, जब तक कि उनका पूरा रस खत्म नहीं हो जाए. नेहा को तड़पाने के लिए मैं उसकी चुत को ऊपर से नीचे तक तो चाट रहा था.

घर के बाकी सारे लोगों की हालत गंभीर हो रही थी और वो इस स्थिति को समझ नहीं पा रहे थे. आखिर मैं एक जवान लड़की हूं, वह भी कच्ची कली; बिल्कुल जवानी की दहलीज पर मचलती हुई महक रही थी.

एक हाथ से मेरी चुची दबाने लगा और दूसरे हाथ से मेरी पैंटी के ऊपर से मेरी चूत सहलाने लगा.

बातों के दौरान ही कभी उसने बताया था कि उसको ओरल सेक्स यानि चूत चटवाना और लण्ड चूसना बहुत पसंद है।मैंने उसको कहा- ये तो मुझे भी पसंद है।फिर कई दिन इंतज़ार के बाद वो दिन आ ही गया जिसका इन्तजार मैं काफी बेसब्री से कर रहा था और शायद उसे भी इस दिन की प्रतीक्षा होगी. इतने में सतीश पैंटी और टॉप स्कर्ट लेकर आ गया और बोला- मैडम, यह हम दोनों की तरफ से आपको गिफ्ट है. अब मुझे दूर दूर तक ये ख्याल नहीं था कि मैं जिसके बारे में सोच रही हूँ वो कोई और नहीं मेरे भाई का बेटा है.

मैं सोनाली की चुदाई करने के बाद उसकी रूममेट की चुदाई के सपने देखने लगा. किचन की खिड़की में एक प्लास्टिक लगा हुआ है वाइट कलर का, जिससे रात में अन्दर लाइट रहने पर अन्दर (किचन) का सब दिखता है और बाहर का कुछ नहीं दिखता. मेरी रेड ब्रा और पैंटी को देखते ही वह मेरे ऊपर टूट पड़ा और बोला- जान, आज तो मैं तुम्हें जन्नत में लेकर चलूंगा.

एकदम से उसकी तरफ देखते हुए बोली- अरे सर, आप यहां हैं?श्यामा ने कहा- इनको तो तुम जानती ही हो.

बीएफ चुदाई पिक्चर सेक्सी: कम्मो ने भी अपना जिस्म ढीला छोड़ दिया और आनन्द से आंखें मूंद लीं और और अपने पैर और चौड़े कर दिए इससे उसकी चूत और खुल गयी और मुझे उससे खेलने के लिए ज्यादा स्थान मिलने लगा. अब भाभी मनीष के ऊपर चढ़ गईं और किस करते हुए लंड को अपनी चूत में डालने लगीं.

मैंने बस एक दो बार ही उसकी चुत को सहलाने के बाद अपने‌ हाथ को उसके लोवर व पेन्टी से बाहर निकाल‌ लिया और धीरे से उठकर उसकी बगल में बैठ गया. ये देख कर मुझे बहुत बुरा लगा था कि हमारे ब्रेकअप को कुछ ही दिन हुए थे और उसने एक और लड़की को अपनी गर्लफ्रेंड बना लिया. मुझसे तन्त्र योग की बातें सुन कर वो जान गया कि जो वो कर रहा था, वो और कुछ नहीं पर तन्त्र योग ही था.

मेरी पत्नी डिल्डो को अपनी गांड में लेने को तैयार होती हुई नर्म सोफे पर अपने पैर फैलाती हुई लेट गई.

अच्छा! अभी मेरे वहां हाथ नहीं लगाया आपने उस गन्दी जगह में!” वो सिर झुका कर बोली. इतना सब होने के बाद मैंने कम्मो की वो ब्रा पैंटी अकेले में चुपके से उसे दे दी जिसे उसने झट से अपने बैग में छिपा के रख लीं. नीता आंटी- अरे शशि तुम तो बहुत हैंडसम हो … तुम्हें कोई ना कोई गर्लफ्रेंड ज़रूर मिलेगी.