डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ मूवी

छवि स्रोत,हिंदी बीएफ चंडीगढ़

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो बॉलीवुड की: डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ मूवी, उसकी चुदाई की पिक्चर याद करके मुझे भी कुछ कुछ होने लगा मगर मैंने दिल को मजबूत करके अपने आप को सम्भाल लिया.

सेक्सी बीएफ चुदाई लड़की

मुझे भी पूरा मन कर रहा था कि वो मुझे अपने साथ अपने होटल ले जाए और मेरी गांड में अपना लंड डाल दे. बीएफ चुदाई बुरतुम जल्दी से अपने कपड़े उतारो।वो खुश हो गया और जल्दी से अपने कपड़े उतारने लगा। फिर मैंने भी अपनी ब्रा उतार दी और सलवार भी उतार दी।वो- चाची जी.

अलका रानी मेरे बग़ल में लेट गई और बड़े प्यार से मेरे बालों में उंगलियाँ घुमाने लगी. बीएफ वीडियो 10 साल कीकभी कभी तो उसकी आह आह आह की आवाज़ें म्यूजिक की बीट्स से मैच हो जाती थीं तो दोनों एक साथ चलती थीं और गज़ब का मादक माहौल बन जाता था.

मैंने एक दो बार और इस बात पर गौर किया तो पाया कि नीला ऐसा जानबूझकर कर रही थी.डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ मूवी: मैंने अपने अंगूठे और तर्जनी ऊँगली से गोला बना कर अपनी पत्नी को आंख मारते हुए कहा- शानदार!!जवाब में मेरी नताशा झेंप कर मुस्कुराने लगी.

तभी सुरेंद्र जीजा बोले- अंकल, आप वन्द्या की चूत में लन्ड अंदर बाहर करना शुरू कर दो और मैं इसकी गांड में करता हूं.एक बार मेरा लिंग प्रिया की योनि की अंतिम सीमा छू ले तो मैं प्रिया की टांगें सीधी करवा देता लेकिन अगर कहीं अभी से प्रिया ने टांगें सीधी कर ली तो प्रिया को फिर से अक्षत-योनि भेदन वाला दर्द याद आ जाना था.

व्हाट्सएप सेक्सी बीएफ वीडियो - डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ मूवी

उसने आते ही आफिस का गेट अन्दर से बन्द कर दिया और लिप किस के बाद मेरा लंड चूसने लगी.फिर हम दोनों उत्तेजना में होंठों को किस करने लगे और मैं उसकी चुचियों को दबाने लगा.

यदि मैं वहां जाता तो वो मेरे लिए टाइम नहीं निकाल सकती थी क्योंकि ये उसके लिए एक समस्या जैसी था. डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ मूवी जब वो नहा चुकीं तो उन्होंने मुझे आवाज लगाई और कहा- आकाश बेटा जरा वहां मेरा टॉवल पड़ा होगा… दे देना, मैं भूल गई हूँ.

उसने कहा- मैंने तो इस काम के लिए कम से कम 15 दिन का टाइम सोचा था जो आपने एक ही रात में कर दिया अगला दिन भी नहीं रुकने दिया.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ मूवी?

उसने बताया कि पहली बार में लड़की के खून निकलता है और दर्द बहुत होता है. इस तरह से जब पूरी रात बिता दी तो बोला- अब आखरी बार ज़रा दोनों मिल कर मुझे एक और मज़े दो. इस जोरदार ओरल सेक्स से तो वो पागल सी हो गई और दो मिनट में ही मेरी चूत चूसाई से वो झड़ गईं.

आप इस कहानी को पढ़िए… मजे लीजिये और पसंद आए तो अपने मेल्स के जरिये जरूर बताइएगा कि कहानी कैसी लगी. फिर वह भी नीचे से अपनी गांड को उठा उठाकर उसचुदाई का पूरा मजा ले रही थी. वो बोलने लगी- प्लीज़ अब मुझको और ना तड़पाओ, मैं बहुत दिनों से प्यासी हूँ.

मैंने उनकी साड़ी निकाल दी, वो मेरे सामने पेटीकोट और ब्लाउज में रह गई थीं. मैंने उस दिन उसको सिर्फ़ किस किया और मैंने परोक्ष रूप से उससे कहा कि कोई ऐसी जगह चाहिए जहां सिर्फ़ तुम और मैं होऊं, तो वो समझ गई कि मैं क्या कहना चाहता हूँ. इसके बाद मैं अपना हाथ को उसके लोअर के अन्दर ले गया और उसकी चुत को मसलने लगा.

वो एकदम से चुदासी सी हो गई और मुझे अपनी चूची अपने हाथ से पिलाने लगी. मैंने उससे अपने लंड की साइज़ के बारे में पूछा तो उसने कहा कि इसका नाप चुत ही जानती है यदि तुम अपने लंड को मेरी चूत में पेलो, तो अभी जानकारी मिल सकेगी कि लंड का साइज़ कितना हुआ है और कितना होना अभी बाकी है.

जब दीदी फ्रिज से वापस लौटीं तो दीदी के हाथ में एक बड़ी साइज की ककड़ी थी.

चुत चुदाई के बाद बाद उसने कहा- ज़रा बाथरूम में जाकर साफ़ सफाई कर आओ.

मैं पानी लेकर आई, तब वो पानी पी कर बोला- मेम एक बोतल और हो, तो दे दो प्लीज़. माँ- और फर्स्ट??मैं- माय माँ…माँ- रियली??मैं- यप, क्या कुछ ग़लत है इसमें?माँ- ग़लत नहीं है… अगर वे तुमको बिस्तर में पसंद करती हैं तो इसमें क्या गलत है. साले ने मेरे मम्मों को देख लिया था, इसलिए वो अपने लंड का पानी हाथ से निकालने लग गया.

सच में पिंकी जैसी पिंक थी वो, उसके निप्पल एक छोटी सी पिंक कलर की गोल गोल रसभरी जैसे थे. मैं धीरे धीरे उसी को निहार रहा था, बीच बीच में इधर उधर देख लेता था. फिर मैंने उसके दोनों हाथ पकड़ लिए और कहा- मैं तुम्हें चोरी के इल्जाम में गिरफ्तार करता हूँ.

मैंने उनके जबाव का इन्तजार नहीं किया और उनको फिर से झुका कर उनकी गांड के छेद पर लंड का सुपारा टिकाने का प्रयास किया.

फिर मैंने उसे ज़ोर से चोदता हुआ उसके ऊपर लेटकर उसकी चुचियों में टपकते हुए दूध को पीने लगा. और फिर जब उसने अपना आग उगलने को तैयार लंड बाहर निकाला तो सहमी हुई लड़की ने झट उसे अपने मुंह में लिया और जी जान से चूसना शुरू कर दिया. अचानक से मेरा फ़ोन भी बजने लगा, शायद राजेश वापस आ गया था और मुझे ढूंढ रहा था.

तभी प्रिया ने अपने दोनों हाथ मेरी पीठ पर ऐसी सख्ती से जकड़े कि प्रिया का ऊपर वाला धड़ हवा में मेरी छाती के साथ चिपक गया. निकाल जल्दी भैनचोद प्लीज निकाल!पर मैं कहां सुनने वाला था, मैंने धक्के मारना स्टार्ट कर दिया. वो बीच बीच में मेरे सिर को पकड़ कर मेरे मुँह में अपने लंड को अन्दर बाहर करता रहा.

उस टाइम वहां कोई फंक्शन चल रहा था, तो स्टेज पर कुछ डांसर डांस कर रहे थे.

हम दोनों को एक ही फील्ड के होने के कारण एक दूसरे से बात करने का मौका मिल जाता था. कुछ देर बाद वो भी ‘आआह…’ की आवाज के साथ मेरी चूत में झड़ गये और मेरे ऊपर ही गिर गये। हम दोनों लेट गए।फिर मैंने उठ कर अपने कपड़े पहने.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ मूवी कुछ देर ऐसे ही मुझे बहुत स्पीड के साथ चोदते रहे, बीच बीच में उनका लंड भी फिसला, पर उन्होंने फिर से मेरी चूत में डालकर मेरी चूत को चोदा. जब ये सब आंटी बता रही थीं, तब वो थोड़ी सी झुकी हुई थीं, तो मैं पीछे से उनकी गांड देख रहा था.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ मूवी उनको थोड़ा बहुत दर्द हो रहा था क्योंकि उनकी बहुत महीनों से ऐसी चुदाई नहीं हुई थी. उनकी नज़र मेरी तरफ चली गई और उन्होंने अपनी साड़ी झट से नीचे करके कहा- तू यहां क्या कर रहा है?तो मैंने बोल दिया- मुझे लगा आप कुछ काम कर रही हो तो मदद करने आ गया था.

वो मुझे सहारा दे कर गाड़ी से रूम तक ले गया और मेरे बिस्तर पर लिटा कर मुझे चादर उढ़ा दी.

वीडियो ब्लू पिक्चर वीडियो

भाभी ने मेरे कपड़े मेरे शरीर से एकदम अलग कर दिए और मैंने भी भाभी का गॉउन उतार फेंका. मेरा लंड थोड़ा बड़ा और मोटा है तो हो सकता है कि शुरू में दर्द ज्यादा हो… लेकिन यह गारंटी है कि बाद में बहुत मजा आएगा. तू कुछ बोलेगा तो नहीं?मेरे हामी भरने के साथ उसने ये कहते हुए कि तू चिंता मत कर कोई नहीं देखेगा.

ताकि मेरी आवाज़ बाहर ना चली जाए।उसने लंड को आधे से ज़्यादा अन्दर कर दिया. उसके सामने कपड़े उतारने की बात सोच कर मैं शर्म से पानी पानी हो रहा था. 5 मिनट के बाद ही मेरा लंड फिर फुफकारने लगा और भाभी बोली- बहुत गरम हो यार तुम तो? इतनी जल्दी फिर से मूड में आ गए?मैंने कहा- भाभी, अभी असली काम करना तो बाकी है ना तो गर्म तो होना ही था.

इसको पहनने पर मेरी चूची के आगे के निप्पल ही थोड़े से बंद हो रहे थे बस बाकी निप्पल से ऊपर की पूरी चूचियां पूरी खुली थीं.

नीचे से चूत को हवा का लगना तो कभी कूद कूद कर चूचियों को उछालना अच्छा लगता है. हमारी ये धक्का पेल चुदाई लगभग 15 मिनट तक चली होगी, उस समय तक भाभी एक बार झड़ चुकी थी और अब मेरा भी निकलने वाला था तो मैंने अपनी स्पीड बढ़ाई और लगभग 15-20 शॉट के बाद मैं भी भाभी की चूत में झड़ गया. शनै:शनै: प्रिया के शरीर में एक अकड़न सी उभरने लगी और मुंह से अस्पष्ट से शब्द निकलने लगे ऊँ… ऊ… ऊँ… ऊँ… हाँ… आँ… हा… हाय… उ… हक़्क़… ई… ई… इ… ई… ई.

फिर मैंने उनकी जर्सी उतारनी चाहा तो उन्होंने मेरे हाथ पकड़ लिए और बोलीं- क्या मैं ये सही कर रही हूँ. मैंने अपना परिचय देते हुए कहा कि मैं इस कम्पनी से बोल रही हूँ और आपसे काम के सिलसिले में मिलना चाहती हूँ. मेरे स्पर्श से पिंकी की चूत में करंट लगा, फिर उसमें से रसीला जूस निकलने लगा.

मैं साढ़े पांच फुट की हाइट थी और तब जिम जाता था, तो मेरी बॉडी भी ठीक ही थी. रंग एकदम दूध सा गोरा, आँखें ऐसी कजरारी कि जिसे कोई नजर भर के देख ले, तो वो कुछ और देख ही नहीं सकता.

मैंने चाची से कहा- चाची, हमें परेशान नहीं करना, हम दोनों ऊपर कमरे में खेलने जा रहे हैं. मैंने पूछा कि सर आंटी (सर की वाइफ) दिखाई नहीं दे रही हैं?सर ने कहा- वो 2-3 दिनों के लिए अपने मायके गई हैं. भाई साहब को छुट्टी नहीं मिली, जिस कारण भाभी कह कर गईं कि थोड़ा भाई साहब को देखती रहिएगा, अगर हो सके तो खाना बना कर बाई के हाथ भिजवा दीजियेगा.

दो-एक महीने बाद मैंने गौर किया कि प्रिया भी सुधा के साथ हर शनिवार शाम को ब्यूटी-पॉर्लर-कम-स्पा जाने लगी थी.

माँ ने मुझे पीठ की तरफ से पकड़ा था, जिस कारण उनके स्तन मेरी पीठ से चिपके हुए थे और चूत का हिस्सा मेरे गांड से सटा था. थोड़ी देर इसी प्रकार चूसने के बाद बोली- राजे… तुमने मस्त कर दिया… अब बड़ा मज़ा आ रहा है… पता है राजे ऐसी मस्त कर देने वाली चुदाई मुझे अपने पति से कभी न मिली… तू तो यार चुदाई का कलाकार है… राजे राजे राजे…उसका सुन्दर मुखड़ा अपने मुंह से चिपका के मैंने उसके होंठ चूसने शुरू कर दिये. घर के आस पास खाली जगह थी, मैंने घर के पीछे अपनी बाइक खड़ी कर दी और पीछे चला गया.

अब मेरे दिमाग में बस चाची ही चाची थीं, मैं अब सिर्फ उनको भोगना चाहता था. मैंने सोचा कि लोहा गरम है, इस पर अभी ही अपनी जवानी का गरम हथौड़ा मार देना चाहिए.

इतनी देर में पूजा आ गई और भाभी को दर्द से तड़फने का खेल देख कर खुश हो गई- अमित जल्दी डाल… एक बार में ही तेज़ी से लंड पेल दे अन्दर… धक्का मार साली की गांड में…मैंने पूरा लंड अन्दर डाल दिया. हमारा सेक्स करने का तो पक्का नहीं था, पर मैंने ठान ली थी कि आज मैं चोद के रहूँगा. मैं आपका रूम दिखा देती हूँ। मैंने अपने कमरे के साइड वाले कमरे में ही आपका इन्तजाम किया है।वो जल्दी से खड़ी होकर चल दी। मैं भी उसके पीछे चल दिया। अब मेरा ध्यान सिर्फ उसके चूतड़ों पर था.

रंडी वाला सेक्सी

थोड़ी देर बाद हम दोनों ने पानी छोड़ दिया और दोनों ही एक दूसरे का पूरा पानी पी गए.

जब भी मैं घर पर अकेला होता था तो लड़की की ड्रेस पहन लेता था, जैसे कि ब्रा-पेंटी और ऊपर से लड़कियों की ड्रेस जैसे सलवार सूट आदि पहन लेता था. मैंने जल्दी से आंटी के कपड़े उतार दिए और आंटी ने मेरे कपड़े उतार दिए. फिर मैंने भाभी को घोड़ी बनाया और पीछे से चोदने लगा, थोड़ी देर चोदता, फिर लंड बाहर निकाल कर अपनी उंगलियाँ अंदर डाल कर चोदता और फिर लंड अंदर डाल देता और उंगली उनकी गांड में डाल देता जिससे उनका मजा दुगना हो जाता.

जब मैं उनके चूचों को चूसते हुए उन्हें चोदता तो वो ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगतीं- आ आहह मज़ा आ रहा है. वो दोनों एक दूसरे में खो चुके थे पूरी तरह; कामिनी ने अपने जीभ बाहर निकाली, वो विवेक चूसने लगा, फिर उसने धीरे से कामिनी का बेबी डॉल उतार दिया, अब कामिनी का गोरा गोरा बदन सिर्फ लाल कलर की ब्रा और पेंटी में था. बीएफ ब्लू पिक्चर भोजपुरीबीच में एक बार उसके लंड का सुपारा मेरी गांड के छेद पर लगा तो मुझे दर्द हुआ और मैं उठ गया.

प्रिया की आँखें समर्पण के आनन्द के अतिरेक से बंद थी और प्रिया का पूरा जिस्म रह रह कर हल्के-हल्के झटके खा रहा था. उसकी बात सुनकर मेरा लंड फनफना गया कि लौंडिया खुद चुदने के लिए कह रही और मैं उसको न चोदूँ, ये तो सरासर बेइंसाफी है.

हमारा सफ़र धीरे धीरे अपने मुकाम की तरफ पहुँच रहा था कि तभी मुझे सोनी ने रोक दिया और बोली- बस नवीन, अब इससे ज़्यादा नहीं हो सकता. आज अपनी आपबीती सुना रहा हूँ, जो बिल्कुल सच्ची है, जो मेरे साथ हुआ था. इतना कहकर उसने मेरी शर्ट के बटन को खोल दिया और मुझे बिना शर्ट के पलंग पर बिठा दिया.

लेकिन दूसरे दिन मैंने अभिलाषा से पूछा कि क्या तुम मुझे प्यार करती हो?उसने हां कहा और चली गई. और फिर मैं मैं उसको अपने साथ बाथरूम में नहाने के लिए ले गया, वहाँ जाते ही मैंने हम दोनों के कपड़े उतार दिए. दोनों हाथों से मैंने उसकी कमर तो थोड़ा सा उठाया और उस मखमली गोरे दूध जैसे सफ़ेद पेट पर किस करने लगा.

अब स्वाति मेरे सामने सिर्फ पैंटी में थी और मैं उसकी चूचियों को देख कर अपने लंड को मसलने लगा.

वो नहा कर आईं और इठला कर बोलीं- अब खुश!मैं भी नहाया और हम दोनों एक ही बेड पर सो गए. इस वक्त मेरा लंड बहन के मुँह में था और उसके मुँह में मेरा पानी निकल गया था.

जैसे ही हम रूम में पहुंचे तो मैंने उन्हें पीछे से पकड़ लिया, अचानक हुई इस हरकत से वो सहम गईं- क्या कर रहे हो ये. अब इस ऑफर में भैया के बॉस का मूड था वो आपको अगले और अंतिम भाग में जानने को मिलेगा. उसका दूध किसी अमृत से कम नहीं लग रहा था, जिसे मैं सारा का सारा पिए जा रहा था.

मैंने धीरे से देखा तो देख कर दंग रह गया, कामिनी ने जांघों तक की छोटी बेबी डॉल ड्रेस पहन रखी थी, उसकी गोरी गोरी टांगें नंगी थी और उसकी बैक भी आधी से ज्यादा खुली थी और वो विवेक से चिपक कर बैठी थी. कुछ देर बाद रेखा का बदन अकड़ने लगा और एक चीख के साथ रेखा झड़ गई, पर पंकज का अभी नहीं हुआ था. वह मुझे गालों पर चाटें मारने लगीं और फ़िर जोर जोर से मुझे किस करते हुए काटने भी लगीं.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ मूवी इस तरह उस दिन मैंने उसे तीन बार चोदा ओर फ़िर वो जाने के लिए कहने लगी. जैसे ही ब्रा खुली उसके मदमस्त दोनों कबूतरों को उछलते थिरकते देख कर मैं पागल ही हो गया और उन पर टूट पड़ा.

आंटी की छूट

वे अंकल के दोस्तों से कहने लगीं- आज तो आप लोगों ने इतना ज्यादा चोदा कि मेरी जान ही निकाल दी. पारुल ने मेरी जिप खोल कर हाथ मेरे अंडरवियर में डाल कर लन्ड पकड़ लिया. रोका किसने है!उसकी सीत्कार निकली, वैसे ही मैंने और जोर जोर से उसकी चुत को चाटना शुरू कर दिया और वो अपनी गांड ऊपर करके मेरी जीभ को अन्दर तक लेने की कोशिश करने रही थी.

मेरी भी शादी किसी ऐसी लड़की से हो जाएगी, जिसके लिए ये सब एब्नार्मल होगा, पाप होगा. मैंने मदद की तब थोड़ा सैट हुआ, पर भैया इतना गरम थे कि उनका पानी जल्दी ही छूट गया. सपना के बीएफ सेक्सी वीडियोमैं अभी सोच ही रही थी कि क्या बोलूँ और राजेश मुझे ढूंढता वहां पहुँच गया.

उसे पता था क्या करना है, उसने एक हाथ से मेरे लंड को पकड़ के अपने चूत के मुँह पर रख दिया और आँखों से इशारा किया.

साथ ही मैंने भाभी को कस कर अपनी बांहों में भर लिया, जिससे भाभी के मोटे चुचे मेरी छाती पर पिस कर रह गए. अब भाभी मेरी अंडरवियर खींचने लगीं और जैसे ही मेरा अंडरवियर मेरे लंड से हटा, मेरा 7″ का लंड किसी गुस्साए हुए नाग की तरह फन उठा कर हवा में झूलने लगा.

कामिनी और वो एक दूसरे की बांहों में बाँहें डाल के डांस कर रहे थे, उसने कामिनी को गांड के पीछे से पकड़ रखा था और कामिनी ने उसके सीने पर!उसने धीरे से कामिनी के छोटे से बेबी डॉल में नीचे से हाथ डाला और नाचने लगा. भाभी मेरे लंड पर उछलने लगीं और उन्होंने मेरे लंड को अपनी चूत में कसकर जकड़ लिया था. मुझे आज भाभी के साथ लिपटना कुछ अलग ही सुख दे रहा था क्योंकि आज मेरे लंड को मालूम था कि आज बिना कंडोम केभाभी की चुतमें गोता लगाने का मौका मिलने वाला है.

इस तरह से अगले 2 दिन तक हम दोनों ने चुदाई का भरपूर मजा लिया, फिर मैं घर आ गया.

थोड़ी देर बाद सैम बोला- शालू यहाँ की लहरों का मज़ा नहीं लोगी क्या?मैं- लूँगी. मैंने रूम को अन्दर से लॉक किया, फिर सबके सामने जाकर अपनी पेंट की ज़िप खोलकर लंड को आजाद कर दिया. ख़ैर वह दिन आ ही गया मैंने घर में बोल दिया कि मैं घूमने के लिए कानपुर जा रहा हूँ.

सेक्सी बीएफ वीडियो देहाती वालाजैसे ही सुपारा चुत में घुसा, उसको बहुत दर्द होने लगा, उसके मुख से निकला- उम्म्ह… अहह… हय… याह…हालांकि वो सील पैक माल नहीं थी, वो अपने ब्वॉयफ्रेंड से 3-4 बार चुद चुकी थी, लेकिन उसके ब्वॉयफ्रेंड का लंड मेरे जितना मोटा नहीं था और अब उसे काफी दिनों से लंड मिला भी नहीं था. अभी आप चाहें तो कम्पनी के गेस्ट हाउस में नैनीताल घूमने जा सकती हो, मज़े मानने के लिए.

बस में सेक्स करते हुए

मैं खड़े होकर उसके दोनों पैरों के बीच आ गया और अपना लंड उसकी चूत पे रगड़ने लगा. लड़की- तुम तिजारा से हो?मैं- हां, क्यों?लड़की- तिजारा में हमारी रिश्तेदारी है इसलिए कहा. इसके बाद जब मैं झड़ने को था तो मैंने दिव्या को बताया कि मैं आने वाला हूँ तो उसने कहा- मामा जी, आप मेरी चूत में ही अपना माल छोड़ दो! मेरे पास इसका इलाज है.

मैंने पूछा- आप कहाँ की रहने वाली हो?उसने बताया कि वो बंगलोर की है, अभी शादी हुई है, हज़्बेंड का बिजनेस है, वो ज़्यादातर टूअर पर रहते हैं. भाभी की गांड दीवार से सटी हुई थी और नीचे टाँगें लेफ्ट राइट मुड़ कर खड़ी हुई थीं. उन्होंने कहा- ठीक है लेकिन अभी मैं नहाने जा रही हूँ और तुम थोड़ी देर आराम करो.

अगली सुबह हम फिर सुबह छत पर मिले, तो मैंने उनसे पूछा कि बेटा कैसा है आपका?वो बोलीं- ठीक है, सोया हुआ है अभी. इसलिये हम दोनों ने ही उनके साथ जाने से इन्कार कर दिया कि इतनी गर्मी में तेज धूप में हम बाहर नहीं जा रहे हैं. मैंने उसके लंड की गोटियों पर भी हाथ फिराना और सहलाना चालू कर दिया, जिससे उसकी गरम आवाजें निकलने लगीं.

पहले मैंने अपनी जीभ से उसके होंठ को चाटा, फिर उसके नीचे के होंठ को अपने दोनों होंठों के बीच दबा कर चूसने लगा. माँ हमारे लिए चाय बना रही थी, मैं दीवान पे बैठा था और नेहा दीदी न्यूज पेपर पढ़ रही थी.

मैंने लंड को उसके बुर पर रख कर थोड़ा सा ज़ोर लगाया, तो वो दर्द से कराहते हुए बोली- आह नहीं भैया.

दूसरे दिन सुबह मेरी बड़ी दीदी नेहा मुझे राखी बांधने के लिए सज धज कर तैयार थी. सेक्सी बीएफ इंग्लिश भेजोमैंने कौतूहल वश उसके नजदीक जाकर उसके काले धब्बों को अपने हाथ से सहलाते हुए सवाल किया कि ये काले काले क्या हैं?उसने गरम होकर मेरे हाथों को मजबूती से अपने उन काले धब्बों को दबवाते हुए जवाब दिया- इनको चूची कहते हैं. कुमारी लड़की की चुदाई बीएफतभी मेरी नज़र उसकी तरफ पड़ी तो मैंने देखा कि उसकी आँखों में आँसू थे. मैंने उनसे इस बात का इशारा भी किया है और शायद आंटी को भी मालूम है कि उनको चोदते समय मैं बॉबी की चूत में उंगली कर देता हूँ या उसकी चूचियां मसल देता हूँ.

तो बस मेरी ज़िन्दगी यूँ ही भाभी और बीवी के बीच गुजर रही थी कि तभी एक और सुखद हादसा हो गया.

मेरे घर के थोड़ी दूरी पर मेरी एक फ्रेंड रहती थी, जिसका नाम अदिति (बदला हुआ नाम) था. मैं तुम्हें पूरी मालामाल कर दूंगा, अगर तुम मुझसे जब तक चुदवाती रहोगी. जो तुम साउंड बंद करके देख रही थी?उसकी हालत पतली हो गई कि मुझे कैसे पता चला.

मैंने अपनी पेंट से कंडोम का पैकेट निकाला और चढ़ाने लगा तो आंटी बोलीं- ये किसलिए?मैंने कहा कि कहीं आप प्रेग्नेंट हो गई तो?वो बोलीं- तब तो और अच्छा है वैसे भी मेरे हज्बेंड में इतनी दम नहीं थी जो मैं प्रेग्नेंट होती. मैंने भाभी से कहा- मैं इसे छूकर देख सकता हूँ?भाभी ने पीछे टिकते हुए अपनी टांगें पसार कर कहा- जो करना है जल्दी करो मेरे प्यारे देवर जी. फिर एक रात हम सब बातें कर रहे थे तो मैं चिंटू के बेड पर उसके साथ ही लेटा था.

ಸನ್ನಿ ಲಿಯೋನ್ ಎಕ್ಸ್ ಎಕ್ಸ್ ವಿಡಿಯೋ

हालांकि मेरी तड़फ की वजह से उसका लंड गांड के छेद से स्लिप कर गया और मैं झटके से घूम गई. अब मैं वापस रूम में आया और अन्दर से लॉक कर दिया और इस बार मैंने अपना पूरा पेंट और अंडरवियर उतार कर शर्ट को ऊपर करके कहा- रोशनी हम तीनों का लंड देख कर बताओ, किसका बड़ा है?इतने में पिंकी ने मेरी एल शेप की झांट देखकर एकदम से बोली- सर ये आपने कैसे बनाई?मैंने हँसकर कहा- तुम्हारी दीदी की भी वी शेप में बनाई हैं. जब रात को मैं रूम पर पहुँचा, तो वो भूखी शेरनी के जैसे मुझ पर टूट पड़ी और मेरा लंड निकाल कर चुसकने लगी.

अंजलि गर्म होने लगी; अब अंजलि अपने पैरों के बल नीचे बैठ गयी और मैं खड़ा रहा.

प्लीज़ एक बात याद रखें कि यह सोच कर कि मैं कोई गे हूँ और मुझे कोई गांड मरवाने का शौक है, ऐसा मैसेज मत करना.

भाभी ने मेरे कपड़े मेरे शरीर से एकदम अलग कर दिए और मैंने भी भाभी का गॉउन उतार फेंका. मैं उनके होंठों को चूसने लगा, वो पीछे जा कर दीवार से सट गईं मैंने उन्हें जकड़ लिया. बीएफ फिल्म हिंदी में बढ़िया वालीभाभी बोली- तुम भी पेंट उतार दो!मैंने जल्दी से पैन्ट और चड्डी उतार दी, मेरा 7 इंच का लंड देख कर बोली- मस्त है तुम्हारा हथियार… आज मजा आएगा!फिर हम लोग बेड से नीचे आ गए, कालीन बिछी हुई थी तो कोई प्रॉब्लम नहीं हुई.

इसके बाद मैंने उसकीगांड और चूतको सुबह 4:00 बजे तक मजा दिया और लिया भी!दोस्तों, आप हैरान होंगे कि एक कुंवारी लड़की ने ऐसे कैसे अपने रूम पर बुला कर चुत चुदाई करवा ली. मैं भी उस वक्त पता नहीं किस मूड में आ गई थी कि मुझे उसका ये जबरन पकड़ कर चूमना बुरा नहीं लग रहा था. मैं सीधे आंटी के पास जाकर बैठ गया और बोला- आंटी, मैं आपको बहुत पसंद करता हूँ.

दोस्तो, मेरा नाम है अंकित शर्मा, मैं कुरुक्षेत्र हरियाणा में रहता हूँ. मुझको तो ये फील होने लगा, जैसे मैं आसमान में उड़ रहा हूँ और लंड चुसवाने जैसा मजा किसी और चीज़ में नहीं है.

थोड़ी देर वैसे ही रहने के बाद मैंने एक और शॉट लगाया और पूरा लंड अन्दर हो गया.

मैं झट से उठा अपना कंडोम निकाल कर बाहर फेंका और फटाफट कपड़े पहन कर तैयार हो गया. जीजा बोले- वन्द्या, तुम्हारा जिस्म तो आग की भट्टी की तरह बहुत गर्म है, तुम प्यासी हो, बहुत चुदासी हो!मैं यह बात समझ नहीं पा रही थी. धीरे धीरे परवीन मेरे लंड की तरफ को आई और उसे हाथ से पकड़ कर सहलाने लगी.

गुड्डी की सेक्सी बीएफ अब हम रोज़ रात को 2-3 बजे तक फोन पर सेक्स चैट करते और कब सो जाते, पता ही नहीं चलता था. तभी मैंने महसूस किया कि दीदी का हाथ मेरा लिंग को हल्का हल्का दबा रहा है.

मेरा संयम भी खत्म हो रहा था; मैंने उसको सीधा लिटाया और उसकी एक टांग अपने कंधे पर रख कर अपना 6″ का लंड उसकी चूत पर रख दिया. वो बनारस की रहने वाली थी और एकदम से देसी इंडियन गर्ल लग रही थी, इंडियन साड़ी में बहुत खूबसूरत लग रही थी। उसके बदन की खूबसूरती, जिस्म का आकार, चूची का आकार, चूतड़ों का साइज़ बढ़िया दिख रहा था. उसका फिगर भी इतना कमाल का है कि इतनी उम्र की होने के बावजूद वो लगती 30 की ही थी.

सनी लियोनी सेक्स

मैं समझ गया था कि पसंद तो ये भी करती है मुझे, पर ऐसे एक दूसरे को देखते रहने से कुछ नहीं होने वाला है, बात तो आगे बढ़ानी ही पड़ेगी. कुछ देर बाद जब मैं एग्जाम देकर घर आने लगी, तभी मुन्नालाल सर कहने लगे कि तुम्हारा ईको का एग्जाम बहुत बुरा हुआ है और तुम ईको में फेल हो. इससे पहले मैं अलका को चोदने के लिये धक्के लगाता, उसने मेरी दोनों कलाईयों को झटका दिया, मैं सीधे अलका के ऊपर गिर पड़ा.

करीब दस मिनट लंड चूसने के बाद मैंने उनका मुँह लंड से हटाया और खड़ा होकर उनको अपनी गोद में उठा लिया. कैसे जाएगा?मैंने उसे समझाया कि थोड़ा बहुत दर्द होगा, ज्यादा कुछ नहीं होगा.

पर वो गाड़ी मेरे घर की तरफ जब जाने लगी तो मैं जल्दी से शर्ट कट से घर पहुंच गया.

खैर उस वक्त तो वो सब हमारे पड़ोसियों ने दे दिए कि बाद में लौटा देना. मैं भोपाल का रहने वाला हूँ, मेरी हाइट 5 फीट 6 इंच है, बॉडी एथलेटिक है, देखने में स्मार्ट हूँ, बहुत आकर्षक तो नहीं पर अच्छा दिखता हूँ. रेखा को देख कर सिर्फ ये कहा जा सकता है कि ऊपर वाले ने उसे सिर्फ चुदाई के लिए ही बनाया है.

मैं भी उसको गले लग कर हैप्पी मैरिज एनीवर्सरी कहना चाहा, लेकिन उसका मूड देखा तो बिना गले लगे ही अपनी आँखों प्यार भर के उसको देखा और विश किया. अगर मेरी इस स्टोरी को अच्छा रिस्पॉन्स मिलेगा तो मैं इस स्टोरी का सेकेंड पार्ट भी पोस्ट करूँगी कि जब एक बार चुत चुद जाती है तो क्या होता है. भाभीजान ने हमें दूध दिया, हम दोनों ने पिया और फिर मैं अपने घर आ गया.

उसके साथ साथ मैं उनके निप्पल अपनी चुटकी में लेकर बेरहमी से मसल रहा था.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ मूवी: करीब 15 मिनट की चूसा चुसाई के बाद अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था तो मैंने उसे सीधा बेड पे लिटाया और उसके होठों पे होंठ रख दिए. भाभी हँसने लगी और बोली- यार यहाँ तो बहुत भीड़ है, सुना है कि होटल में भी रूम बुक है.

कोई पूरी तरह से देख भी नहीं सकता था, पर सब चोरी छुपे मुझे और ख़ास कर मेरी टांगों के अन्दर देखने की कोशिश कर रहे थे. कल तुम्हें मैं अपनी चुदाई की पिक्चर दिखाऊंगी मगर यह सीक्रेट ही रहना चाहिए. लेकिन बर्थ छोटी थी, जिस वजह से परीक्षित को थोड़ी सी समस्या हो रही थी.

फिर मैं अपनी रफ्तार बढ़ाता रहा, अब आंटी की फुद्दी पूरी तरह से खुल और खिल चुकी थी.

20 या 25 धक्के मारने के बाद मैं और पारुल दोनों एक साथ झड़ गये, मैंने अपना पूरा माल पारुल की चूत में ही झाड़ दिया. दूसरी बात ये कि मेरे पहले भी बहुत से अफेयर रहे हैं तो मुझे शादी के बाद किसी भी किसी भी तरह की रोक टोक नहीं करोगे. मैंने करवट लेने के अंदाज में पलटते हुए अपने हाथ सीधे मां के ऊपर रख दिया तो भौंचक्का रह गया.